बीएफ मूवी के

छवि स्रोत,मियां खलीफा की सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीयफ: बीएफ मूवी के, अगले ही पल चाचा के लंड का टोपा भतीजी की चूत को भेद कर अंदर घुस गया.

संगीत साड़ी

मैंने उनके व्हाट्सैप नम्बर पर एक ब्लू फिल्म की क्लिप भेज दी और उन्हें उत्तेजित कर दिया. बीपी मूवी बीपी मूवीउसने भी अब धीरे धीरे अपनी गांड हिलाना शुरू कर दिया … ताकि लंड अन्दर बाहर होने लगे.

प्रतिभा ने मोबाइल निकाल कर कॉल अटैंड करते हुए कहा- हां वैभव, हम पहुंच गए. एलेक्सा priceमैंने भी बिल्कुल पोर्न एक्ट्रेस के तरह सर के लंड को डीप थ्रोट देना शुरू कर दिया मतलब मैं लंड को अपने मुँह में गले तक लेकर चूसने लगी थी.

मनोज तो बोल रहा था कि मसाज का तो केवल नाम है, सेक्स ही करना होता है.बीएफ मूवी के: मैंने नेहा की पैंटी में हाथ डाला और उसकी पैंटी को थोड़ा नीचे कर दिया जिससे उसकी चूत दिखने लगी.

मैंने उससे कहा था- प्रीति मैं तुम्हें चांदनी रात में खुले आसमान के नीचे रेत के टीलों पर पूरी नंगी करके, पूरी रात तुम्हारी जमकर चुदाई करना चाहता हूं.खैर जो भी हो … कुछ लोगों से प्रस्तुति दिलवाई गई … उसमें सारे लोग बहुत आनन्दित हुए और हर प्रस्तुति के साथ ही मेरा संकोच भी कम हो रहा था.

बीवी की चुदाई कहानी - बीएफ मूवी के

अगले ही पल मेरी चुदासी हो चुकी साली ने मेरे लंड को मुंह में भर लिया.पर कुछ तो नशे का सुरूर और कुछ शरीर में जल चुकी कामोत्तेजना, अब उसे अच्छा लग रहा था.

अपनी सेक्स लाइफ को भरपूर बनाने के लिए मैंने इंटरनेट का सहारा लेने की सोची. बीएफ मूवी के उसमें लवी खुल कर अपने से चुदाई की बातें कर रही थी।मैं तो पढ़ कर हैरान रह गया के जिसे हम सभी बच्ची समझ रहे थे, वो तो कब की जवान हो चुकी है। कितनी तड़प थी उसको अपने पति से मिलने की!और उस से भी ज़्यादा, उसके साथ सेक्स करने की।लेकिन इस बार कुछ और भी नया दिखा.

इतने में राजीव बोला- मैं बहनचोद नहीं हूं … रानी मैं तो तेरा पति हूं.

बीएफ मूवी के?

कुछ देरे नंगे चिपके हुए किस का मजा लिया और फिर मैंने भाभी को गोद में उठा लिया और बेड पर ले जाकर पटक दिया. प्रीति ने पीछे से मेरी बांहों में अपने हाथ डाल दिये तो मैं जानबूझकर बाइक को धीरे चलाने लगा।जब उसने मेरी कमर में हाथ डाले तो लगा जैसे सारी दुनिया का प्यार भगवान मेरे ऊपर ही बरसा रहा है. मैंने उसकी एक चूची के निप्पल को मुँह में दबाया और दूसरे दूध को अपनी हथेली में भर कर मसलने लगा.

भैया ऑफिस जा चुके थे और भाभी रसोई में चाय बना रही थी।भाभी ने मुझे तिरछी नजर से देखा और कहा- उठ गए देवर जी … चाय नाश्ता तैयार है, दे दूँ?मैंने कहा- भाभी मैंने अभी ब्रश नहीं किया है. उसने मुझे देखा और मुस्कुराकर लंड हाथ में लेकर अपनी चुत पर रगड़ने लगी. मेरे लिए वो बिल्कुल शॉर्ट मिडी ले कर आया और बोला- जल्दी से आप इसको पहन कर तैयार हो जाओ.

इस दौरान वो आनंद में आहें भरती रही और मुझे लगातार डैडी कह कर बुलाती रही. मेरे हिलते हुए मम्मों से एकदम साफ पता चल रहा था कि फिटिंग की टी-शर्ट में मैंने ब्रा नहीं पहनी हुई है. भाभी एकदम उठी और मुझसे बोली- चलो मेरी तो किस्मत ही ऐसी है, पर तुम्हारा तो हो ही गया.

लेकिन उदय सर ने बिना रुके एक और ज़ोर का झटका दे दिया, जिसकी वजह से उनका लंड मेरी चूत के पार हो गया. ये देख कर मैं गुस्से से बोली- तुम लोग पागल हो गए हो क्या? छोड़ो मुझे नहीं चुदना है.

मैं ऑफिस से निकल कर बिल्डिंग की सीढ़ियों से नीचे आया और बेसमेंट की पार्किंग में गया.

उस दिन मैंने तीन बार भाभी को चोदा और वो तो शायद 6-7 बार स्खलित हुईं.

कोई आधा घंटे बाद मुझे चाय की तलब लगी, तो मैंने एक ढाबे के सामने कार रोक दी. मैंने उस बून्द को एक उंगली से उठाने की कोशिश की तो बून्द का लेसदार धागा बन गया. मैंने उसके लंड को मजे से सहलाया, तो उसने मुझे टेबल पर बिठा दिया और मेरे पैरों को फैला कर मेरी चूत में अपना मुँह लगा दिया.

वहां पर आने-जाने वाले लोग प्रीति को घूर घूर कर देख रहे थे और जैसे मुझे चिढ़ा रहे हों कि लंगूर के मुहं में अंगूर दे दिया. नेहा की चूत भी बहुत टाईट हो गई, नेहा ने कमर को नीचे करते हुए लंड तो जड़ तक निगल लिया, लेकिन दर्द और मजे से दोहरी हुई नेहा ने अपने होंठों को अपने ही दांतों से काट लिया. मैं भी शांत भाव से उसे देखता रहा, जैसे मैं उसे मौन स्वीकृति प्रदान कर रहा होऊं.

हम तीनों साथ में नहाये। वहां जाकर भी उन दोनों ने अपना लंड मुझे चूसने को कहा.

एक दोपहर की बात है कि मैं घर के बाहर बैठा हुआ आती जाती औरतों को ताड़ रहा था. जब लंड ने पिचकारी मारना बंद कर दिया, तो उसने फिर से लंड को मुँह में भर लिया और बचे हुए रस को पी गयी. मेरी हाउस मेड सेक्स स्टोरी कैसी लगी? अपने विचार मुझे लिखियेगा[emailprotected]पर.

कैप्री में कसे हुये उसके गोल चूतड़, बलखाती कमर, चिकनी जांघें, मोटी पिंडलियाँ।और ऊपर से गोरा रंग, 5 फीट 5 इंच का कद।चेहरा तो सुंदर था ही!मेरे दिमाग में ये भी ख्याल आया कि यार मैंने आज तक इतनी औरतों और लड़कियों के बारे सोच कर हिलाया है. मां ने मुझे पानी लाकर दिया और बोलीं- हर्षद मैं नहाने जा रही हूँ, मुझे बहुत गंदा लग रहा है. जब ब्लाउज का हुक्क लग गया तो भाभी हँसते हुए मजाक में बोली- जिसने हुक लगाया है, वही खोलेगा भी!तो मैं भी हँस दिया।फिर मैं और भाभी नीचे आ गये.

स्कीम के मुताबिक मैं रात को खाने के बाद ड्राइंगरूम में दीवान पर लेट गया और सोने का बहाना करने लगा.

पर आकाश जब नीचे गया तो नैन्सी ने उसे अलग ले जाकर पूछा- रात को तुम वापस क्यों नहीं आये?आकाश ने उसे टालने की कोशिश की पर नैन्सी ने उसे धमकाकर सच उगलवा ही लिया. फिर कुछ देर बाद मुकेश आया और मैं उसके साथ बाहर सिगरेट पीने चला गया.

बीएफ मूवी के मुझे किसी से कोई बात नहीं करनी!इस पर वो लड़का बोला- देखिये, वैसे तो मैं आपको नहीं जानता. शीला ने राजेश को कहा कि अगर राजेश को कोरोना के डर के कारण कोई आपत्ति न हो तो शीला रोज की तरह उसका काम कर सकती है.

बीएफ मूवी के एक तरफ शराब की खुमारी दूसरी तरफ मदमस्त सलहज मेरी बांहों में मचल रही थी. तो उसने धीरे से मेरे चेहरे को अपने से अलग किया और बोला- तुम अभी नशे में हो.

मैंने हैप्पी बर्थडे गाना गाया।मोमबत्ती बुझाने के बाद उसने केक काटा और एक टुकड़ा मुझे खिलाया।मैं भी उसको एक टुकड़ा खिलाया।उसने कहा- मेरा गिफ्ट कहाँ है?मैं बोला- मैं गिफ्ट देने के लिए ही आया हूं.

देवर+भाभी+की+सेक्सी+वीडियो

वो बराबर जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी और बराबर कुछ न कुछ बड़बड़ा रही थी. शर्मिष्ठा बार बार प्रतिवाद करती कि नयी साड़ी पहिन कर कल मंदिर चलेंगे उसके बाद आप जो चाहे सो कर लेना; पर मैं कहां मानता था. राजेश बातों बातों में यह भूल ही गया कि वो जूली मूवी देख रहा है और अब बहुत ही सेक्सी सीन सामने था.

नैना कॉफ़ी का कप रखते हुई बोली- रमित, निशा ने मुझे बहुत अच्छे से समझाया है कि प्यार को पाना ही प्यार नहीं है. बहुत दिनों तक खुद पर काबू रखते हुए मैंने उसके अंदर की वासना को जगाने की कोशिश की और फिर एक दिन मुझे अपनी इच्छा पूरी करने का मौका मिल ही गया. मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी स्टोरी पढ़ने में उतना ही मजा आया होगा जितना मुझे करवाने में आया.

उसने एक घुटनों तक की एक स्कर्ट पहनी हुई थी जो कि उसके सफेद छोटे टॉप के साथ मैच कर रही थी.

इस कहानी को पढ़ रहे सभी लंड और चूत को मेरे तरफ से नमस्कार!मेरी पिछली कहानी थीचुदाई की शुरूआतमेरा नाम आर्यन है ओर मैं जमशेदपुर से हूँ। यह वर्जिन लड़की की सेक्सी चुदाई स्टोरी एक सच्ची कहानी है, उम्मीद करता हूँ कि आपको पसंद आएगी।तो मुझे एक दिन एक लड़की का इंस्टाग्राम पर एक मैसेज आया। उसका नाम रितिका (बदला हुआ नाम) था।वो मेरे ही शहर की एक प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान की छात्रा है।धीरे धीरे बातें शुरू हुई. अगर तुमको कोई दिक्कत ना हो तो बताओ, मैं उनसे बात करूं।मैं तैयार हो गयी और वो मुझे अपने साथ एक घर में ले कर गयी. नहाते हुए मैंने अपने लंड को देखा और उसे हिलाते हुए कहा- खुश हो जा भाई, तेरी किस्मत में साफ़ सुथरी, सुंदर और गजब की सिंगल हैंडड चूत लिखी है.

उसी बीच भाभी ने मेरे कान में कहा कि तुम मुकेश से मांजी को हस्पताल में एडमिट करवा सकते हो?मैंने कहा- हां, ये तो आराम से हो जाएगा. फेरों के लिए भाभी सूट लायी थी।मैंने पूछा- भैया कहां हैं?तो भाभी बोली- आपके भैया को उनके हरामी दोस्तों ने इतनी पिला दी है कि वे चल भी नहीं पा रहे हैं और नीचे वाले कमरे में ही सो गये हैं।फिर भाभी बोली- देवर जी, प्लीज ये हुक खोल दीजिये. मैंने नेहा के दोनों चूतड़ों को कस कर पकड़ रखा था और अपने एक अंगूठे को उसकी गांड के छेद पर दबा रखा था.

उत्तेजना में मैं हर चैट सेशन के नीचे का विवरण पढ़ना ही भूल गया लगता था. तब ईशिता ने ऊपर का ब्लाउज़ पहन लिया था … पर मेरा अभी पहनना बाकी था.

फिर उसने मेरे सोये हुए लंड को दोबारा मुंह में भरा और जोर जोर से चूसने लगी. मैं इतना अधिक एक्साइटेड हो गया था कि मैं अपने कंट्रोल से बाहर हो गया था. रमित मैं तुम्हारी रुक्मणि नहीं, तुम्हारे जीवन की मीरा बनना चाहती हूँ.

इस पर गुड्डी रानी ने झल्ला कर कहा- हरामज़ादे क्या मुझे उछाल के टॉस करेगा या बेबी को?मैं हँसते हुए बोला- रानी तुम दोनों को तो मैं लौड़े पर उछालूंगा जान … सुन … मैं तुम दोनों की तरफ पीठ करके खड़ा हो जाता हूँ.

वहां पर क्या क्या हुआ?लेखक की पिछली कहानी:तीन चूतों की गैंग बैंग चुदाईनमस्कार दोस्तो! मैं रवि आप सभी का एक बार फिर से अन्तर्वासना पर स्वागत करता हूँ. भाभी बोली- क्या देवर जी … आपने तो ब्रा का हुक ही खोल दिया?भैया पीछे की सीट पर सो रहे थे।बस में भाभी ने बताया- आपके भैया वहां कमरे में पूरी रात सेक्स करने के लिए बोल रहे थे लेकिन उनके दोस्तों ने बहुत ज्यादा पिला दी थी. मैंने लंड को थाम के आराम से रानी की चूत पर टिकाया और दूसरे हाथ से जो रानी के कंधे को दबाया.

मैंने हँसते हुए कहा- ठीक है जान … तुम हाथ भी बांध दो … मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है. वैसे भी दिवेश ड्यूटी के चलते कई बार रात को लेट आते हैं, तो खा कर आते हैं.

भाभी मेरे लोअर में हाथ मारने लगी और लंड पकड़ कर बोली- ये आज क्यों सुस्त है?मैंने कहा- कल की तैयारी में है. थोड़ी ही देर में निष्ठा कॉफ़ी बना कर ले आई और मेरी दवाई भी मुझे दे दी. मनजीत को धीरे धीरे चोदते चोदते मेरा जोश बढ़ने लगा तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी.

देसी सेक्सी 2022

फिर मैंने कहा- लेकिन मुझे भूखी शेरनी के साथ अनुभवी सलाहकार भी चाहिए.

तो आज तक मुझे इसका ख्याल क्यों नहीं आया।मैं उठा और बाथरूम में चला गया. मतलब इसके आगे भी कुछ होता है ये तो मुझे तुम्हारे साथ ही करने के बाद पता चला. तो क्या तुम एक बार फिर से ऐसा ही गर्म सेक्स चैट सेशन करने के लिए तैयार हो?वानी- आप उसकी फिक्र न करें डार्लिंग.

रगड़ने के बाद हल्का हल्का अन्दर डालने लगा और वो अपने मुँह से सिसकारियां निकालने लगी. कुछ पल के बाद उन्होंने मेरी शर्ट उतार कर किनारे रख दी और ब्रा के ऊपर से ही मेरी चुचियों को दबाने और चाटने लगे. रायली रीडएक वो ही तो थी जिससे मैं अपने दिल की बातें शेयर करता था।कुसुम ने मुझे बहुत सारे सेक्स संबंधों के आफर के लिए बधाई दी.

मैं भी उसकी कमीज में हाथ देकर उसकी नंगी पीठ पर उंगलियां फिराने लगा. भाभी ने अपना नाईट गाउन निकाल दिया और एकदम नंगी हो गई और मुझसे कहने लगी- मेरी चूचियों को पियो.

मैंने भैया से पूछा कि आपकी कब की ट्रेन है?तो उन्होंने बताया- आज रात की है. मेघा के पेज पर विजिट करने के लिए ऊपर उसकी असली फोटो पर क्लिक करें और उसके साथ मज़ा करें।. वानी ने अपनी टांगों को फैला दिया और उस सेक्स डॉल की गोद में बैठते हुए उसके लंड को अपनी चूत में ले लिया.

मामी मेरा लंड अपने हाथ में लेकर सहलाने लगीं और थोड़ी देर मैं ही मेरा 3 इंच मोटा और 9 इंच लंबा लंड तैयार था. जबकि मैं इस घटना के होने के बाद उसी नजारे को अपने ख्यालों में इमेजिन करते हुए बाप बेटी की चुदाई को इंजॉय कर रहा था. मेरी भतीजी नीचे को सरकी और मेरी चादर के अंदर घुस कर मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया।अब कहाँ तो साली भोंसड़ी देखने को नहीं मिलती थी.

अब उनका शरीर मुझे थोड़ा कम था इसी लिए मुझे उनके सारे कपड़े बिल्कुल फिटिंग के आते थे।जब भी मैं काम करती या चलती तो उनका लड़का अखिल और उनके पति दोनों मुझे बड़े ध्यान से देखते।उनका ड्राइवर तो बहुत हरामी था, वो हमेशा मुझसे डबल मीनिंग बातें करता और ताड़ता रहता।कुछ दिन ही बीत गए.

मैं हंस दिया और उसकी चूचियों को मसलते हुए उसे बाहर चलने का इशारा कर दिया. इस बार मेरे आने जाने के लिए फ्लाइट बुकिंग उन दोनों ने ही करवा दी थी और मुझे चोदने के लिए बुला लिया था.

रात को डिनर टाइम पर सभी अपनी अपनी प्लेट लगा कर अपने अपने कमरे में आ गए. मेरे बूब्स से खेलने के बाद कमल ने मेरे पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और उसे नीचे सरका कर मेरी टांगों से अलग करवा दिया. वे पहचान गए और बोले- अरे भैया बहुत दिनों बाद मिले हो … तो एकदम पहचान नहीं पाया … माफी चाहता हूं.

उसकी बातें सुन कर मेरे लंड का बुरा हाल हो गया था और कुछ ऐसा ही हाल उसकी चूत का भी हो चुका था. ऐसा मज़ा तो कभी मेरी बीवी ने भी मुझे नहीं दिया था और न ही उससे ऐसा करवाने का ख्याल तक मेरे मन में कभी नहीं आया था. जब हम दोनों की दोस्ती और गहरी हुई, तो मैं भी उन्हें अपने घर ही बुला लेती.

बीएफ मूवी के मैंने फिर से अपने बूब्स को दबाया और विक्की ने मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया. पर भोसड़ी वाले … अभी तो तू मुझे तो चोद माँ के लौड़े … साले चुत बड़ी चुनचुना रही है.

బి ఎఫ్ సెక్స్ బి ఎఫ్ సెక్స్

उन्होंने नीचे से अपने चूतड़ों को एकदम ऊपर उठाकर चूत को लंड के ऊपर मारा, आधा लंड भाभी की चूत में गप से चला गया. हमें भी तो पता चले कि खुद कपड़े उतार कर हमारे सामने आने की कितनी हिम्मत है तुम्हारे अंदर सालियो!तभी नेहा बोली- हिम्मत तो हमारे पास बहुत है. अब पता नहीं खुशी ने उसे क्या इशारा किया।लेकिन फोन पर खुशी की दुबारा आवाज आई- भैया, आप तो कह रहे थे कि इन कपड़ों में फिफ्टी परसेंट आफ है?तो शो रूम वाले ने भी थोड़ी ऊंची आवाज करके कहा- हाँ मैम फिफिटी परसेंट है.

शुरूआत में तो मुझे थोड़ी सी दिक्कत हुई … क्योंकि मैंने कभी अपने मुँह में लंड नहीं लिया था. जिससे मुझे पता चला कि मेरा दोस्त बिजनेस में बहुत व्यस्त रहता है और अपना वक्त काटने के लिए रीना सामाजिक कार्य एवं किटी पार्टी में व्यस्त रहती है. लड़कियां दिखाओराजेश बातों बातों में यह भूल ही गया कि वो जूली मूवी देख रहा है और अब बहुत ही सेक्सी सीन सामने था.

और वो चिहुंक चिहुंक कर मेरे हर धक्के पर झड़ गई।मैं पीठ के बल लेटी रंजु की कसी हुई चूत में बहुत रगड़ कर पेलता रहा और घोड़ी बनीं आएशा की चूचियों को मसलता रहा.

मैंने भाभी को बेड पर धक्का देते हुए लेटा दिया और भाभी के पैरों को चूमते चाटते ऊपर को बढ़ने लगा. मैंने धीरे से उठ कर मीता को सीधा किया और उसकी टांगों के बीच में आ गया.

खाना खाने के बाद हम तीनों सोफे पर बैठकर टीवी देखने लगे, तभी कोमल ने जिया को इशारा कर दिया. तुरंत भाभी को दूर किया मैंने और गोद में उठा कर सीधा पलंग पर ले गया और ऊपर चढ़कर उनके बूब्स पीने लगा. उसने रिया के होंठों से अपने होंठों को जोड़ दिया और उसकी गांड को भींच भींच कर उसके होंठों को पीने लगा.

फिर राजीव ने अपनी दो उंगलियां मेरी चूत में डाल दीं और आगे पीछे करने लगा.

मैं जानता था कि चुदने की चाह तो मैंने निष्ठा के तन मन में जगा ही दी है. मैं- अब मेरा लौड़ा तुम्हारी गीली चूत के अंदर जाने के लिए और इंतजार नहीं कर सकता मधुलिका, जल्दी से इसको अंदर ले लो. मैं हवस भरी आवाज में कहा- आह्ह… मस्त है।वो बोली- क्या?मैंने कहा- खाना!वो बोली- हाथ किसके हैं?मैं- हां जी, हाथ तो आपके ही हैं.

ऐश्वर्या राय का सेक्सी वीडियो एचडीये घटना होने का बाद उस दिन मेरी बेटी अपने रूम से बाहर ही नहीं आई जब तक कि शाम को मेरी पत्नी ऑफिस से घर नहीं आ गयी. इस बात का पता मुझे तब चला जब एक दिन मैंने उनको उनकी बालों भरी चूत में दो उंगलियां घुसाकर मजा लेते हुए देखा.

सेक्सी मराठी सेक्सी मराठी व्हिडिओ

आपका हिसाब? कौन सा हिसाब चाचा?”इतने साल तुमको चाट खिलाये हैं, कभी एक पैसा नहीं मांगा. इस पर वो जोर सा हंस पड़ीं और बोलीं- अरे ये तो मैं समझ ही गई थी कि कोई बाबा नहीं होगा. सिसकारते हुए मैं बोला- ओह्ह … माँ, मेरा निकल गया है … आह्हह … होह्ह … स्सस … आह्ह।काश मैं अपने माल को कुछ देर और रोक पाता।मेरी तरफ मुड़ते हुए रुचि भाभी बोली- ओह्ह नहीं बेटा, इतनी जल्दी नहीं!! चलो कोई बात नहीं, अगर तुम मेरे साथ कुछ और सेशन ले लोगे तो फिर हम घंटों तक साथ में मजा ले सकते हैं.

क्या मेरी बात समझ में आई तुम्हें?शमा ने हां में सर हिलाया, तो शाही सर ने अपने बटुए से 500 का एक नोट निकाला और बड़ी बेतकल्लुफ़ी से शमा के ब्लाउज़ में फंसा दिया. पर ऐसा करने का नताशा ने मौक़ा ही नहीं दिया था।अब हालत यह थी कि जैसे ही मेरा लंड दाने पर रगड़ खाता उसकी एक हल्की सीत्कार निकल जाती।उसका पूरा शरीर ही जैसे लरजने लगा था और अब तो वह अपने पैर भी पटकने लगी थी। मुझे लगता है वह अपनी उत्तेजना को संभाल नहीं पा रही है। और फिर जैसे अक्सर ऐसा होता है उसकी चूत ने हार मान ली और उसका एक बार फिर से स्खलन हो गया।आईईईइ … मैं मर जाऊंगी … प … प्रेम. और देखते ही देखते अपना पूरा लंड चूत में बैठा दिया और इतने झटके मारे, इतने झटके मारे कि भैंस के पीछे वाले पाँव उखड़ने लगे थे.

वो सेक्स में कोई मिथक नहीं रखता और इसे रोजमर्रा के जीवन का हिस्सा मानता है. मैं सभी को एक एक करके फ्लैट में लाता और बड़े ठाठ से उनकी चुदाई करता. मैं- लंड बाहर निकाल लूं क्या?नीरजा- नहीं बाहर मत निकलना, वरना फिर से अन्दर डालेगा … तो फिर दर्द होगा.

बस तू एक गर्मागर्म कॉफ़ी पिला दे बस; और वो मेज पर दवाई की एक खुराक और है वो भी दे दे साथ में!” मैंने कहा. वो गहने भी पहने हुए थी।उसको लेटाकर मैंने उसके गहने निकाले और उसके पास लेट गया। मैं उसको किस करने लगा.

उसे देखकर लगता है कि भगवान ने खुद अपने हाथों से प्रीति के हुस्न को सजाया है.

भाभी कहने लगी- राज, सालों हो गए हैं, मैं तो ना छोटे से चुदी हूँ ना बड़े से चुदी हूँ. काजल रघवानी का सेक्सीसुबह 6 बजे के करीब नेहा ने मुझे धीरे से हिलाया, तो मैं उठकर बैठ गया. हाउसफुल ४ फुल मूवीमैंने दादी से पूछा- दादी, ये भैंसा क्यूँ रखा हुआ है, ये क्या दूध देता है?दादी मुस्कराई और बोली- भैंसा तो भैंसों को काबू करके रखने के लिए रखा हुआ है. उसके बाद मैंने फिर से उसके नितम्बों को अपने दोनों हाथों से भींच दिया.

मुझे बहुल मेल मिले, जिनसे साफ़ जाहिर था कि भाभियों और लड़कियों ने सबसे ज्यादा मजे किये हैं इस बीच.

फिर हमने एक ही तौलिया अपने तन पर लपेट लिया और धीरे धीरे एक दूजे को चूमते चाटते हुए एक दूसरे के शरीर को पोंछा। इसके बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठा लिया. जब मैंने पूछा- टॉवल लेकर क्यों नहीं गई थीं?तो वो बोली- कपड़े धोने थे तो टॉवल टांगने की जगह नहीं थी. दोपहर एक बजे के करीब हम अस्पताल के लिए निकलने लगे तो निष्ठा भावुक होकर मेरे सीने से लग गयी.

उसके पति की नाइट शिफ्ट और मेरे वीक ऑफ के दौरान ही हम पूरी रात एक साथ समय बिताते थे. उसकी गहरी सांसों और लगातार निकल रहीं सिसकारियों ने मुझे उस बिंदु तक पहुंचा दिया जहां मैं एक तरह के परमानंद में डूब गया था. मैं- ओ शशि!मैं शशि भाभी के गालों को चूमने लगा, वो भी मेरा साथ देने लगीं.

मराठी सेक्सी नंगी चुदाई

अगर आप मेरी गर्लफ्रेंड बन जाओगी, तो दिल की बातें आपके साथ करने में मुझे हिचक नहीं होगी. रोमांच और कामुकता के शिखर तक पहुंचाने का वादा है मेरा।अब कहानी बड़े रोमांचक दौर में पहुंच रही है. तभी मुझे ध्यान आया और मैंने पम्मी से पूछा- क्या तुम्हारी बहन शादी से पहले चुद चुकी थी?पम्मी ने कहा- हां वो बहुत बड़ी लंडखोर है.

दीपक रंजु की पहली बार गांड खोल कर मज़ा ले रहा था।मैं पीठ के बल लेट गया और रंजु उठकर मेरे लौड़े को चूत में गटक गई.

कोई दो मिनट बाद जिया दर्द के मारे मुझे गाली देते हुए मुझसे स्लो चोदने की रिक्वेस्ट कर रही थी.

शर्मिष्ठा की ऐसी कोई भी साड़ी नहीं थी जिसे पहिना कर मैंने उसे न भोगा हो. अंकिता भाभी जैसी अप्सरा मुझे चोदने को मिलेगी … मैंने सपने में भी नहीं सोचा था. मुंह से गैस निकलनामैंने हां करते हुए सिर्फ एक शर्त रखी कि सेक्स तो मैं सभी से करूंगी, मगर बस लाईन बना कर मत आना, मुझे भी हर सेक्स के बाद थोड़ा रेस्ट चाहिए.

मैंने 10-12 धक्के जोर से लगाये और मेरे लंड का लावा भाभी की चूत में गिरने लगा. उनको देख कर जैसे सर का चेहरा ही चमक गया और वो मेरे मम्मों पर झपट पड़े. मैंने अपनी गांड से उसका वीर्य साफ किया और कपड़े पहन कर स्कूल से बाहर आ गयी.

मैं- आंटी, मैं आपको परेशान तो नहीं कर रहा हूं?वो बोली- नहीं, बिल्कुल नहीं. हमें भी तो पता चले कि खुद कपड़े उतार कर हमारे सामने आने की कितनी हिम्मत है तुम्हारे अंदर सालियो!तभी नेहा बोली- हिम्मत तो हमारे पास बहुत है.

वो हंसने लगी और बोली- आपको लड़कियों के बारे में क्या जानकारी नहीं है … और आप उनके बारे में क्या जानना चाहते हो?मुझे उसकी हंसी में एक अजीब सी कशिश दिखाई दी.

मैंने पूछा- इतनी जल्दी खलास हो गई?नेहा- एक तो मज़ा बहुत आया, दूसरे कुछ मन में यह भी था कि कहीं मम्मी न आ जाये?वो उठी और बाथरूम चली गई. फिर मैंने पूछा- अब बताओ, उसको कैसे बुलाओगी?शिवानी बोली- तुम सुमीना को बोलो कि मैं उसके पास आ रही हूं. फिर जो भी तय होता है उसमें होटल मेनेजमेंट को कोई तकलीफ नहीं होती।मैंने लंबी आहह भरते हुए कहा- ओहह … मैं तो हवा में ही उड़ने लगा था.

कैटरीना कैफ की सेक्सी फोटोस अब राजेश ने उसे नीचे झुककर घोड़ी बना दिया और पीछे से अपना लंड उसकी चूत में पेल दिया. अगर तुम उसमें अच्छे से काम करोगी तो वो तुमको रहने खाने और पहनने को भी देंगे.

मैंने मुकेश को कृत्रिम गर्भाधान के लिए आईयूआइ और आईवीएफ की सलाह दी. मैं भाभी की चूत में धीरे धीरे लंड को पेलते हुए चुदाई का मजा लेता रहा. निष्ठा भी लगभग साथ ही स्खलित होने लगी और उसने मुझे पूरी ताकत से अपनी भुजाओं में बांध लिया.

மசாஜ் செஸ் வீடியோ

अब वानी ने एक मेल सेक्स डॉल चेयर पर रख दी जिस पर एक पट्टी के सहारे एक लंड लगा हुआ था. संजय ने भी उसके मम्मों पर अपनी जीभ की स्पीड बड़ा दी थी और गीत अपनी चूत से एक के बाद एक धार मेरे मुंह में छोड़ती जा रही थी. कुल मिलाकर मैं सिंगल थी तो ऐसा कुछ ख़ास नए साल का प्रोग्राम नहीं बनाया था.

उसने कहा- आह … आ रही हूँ मैं …मैंने चूत चूसते हुए ही कहा- उंह … आ जाओ. मगर कुछ लोग और तरह से सोचते हैं कि अगर कोई गश्ती पसंद आ गई, तो वे उसके साथ दोस्ती कर लेते हैं और पूरी तरह से उसके साथ प्यार मोहब्बत के मज़े लेते हैं.

थोड़ी देर में दोनों खाने के लिए नीचे आ जाना।मेरा कमरा पहली मंजिल पर था। मैंने उसे चलने का इशारा किया तो वो मेरे पीछे-पीछे आने लगी। रूम में पहुंचने पर मैंने उसे बैठने को बोला.

चूत एक अज़ब सा शहर है, जहाँ लंड के रस की बहती नहर है!इसी चूत के लिए मैं पिछले तीन साल से तड़प रहा था लेकिन कहते हैं न कि भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं। हां, बस आपकी नीयत साफ होनी चाहिए. अब रवि ने झुक कर अपने दोनों हाथों से रिया की गांड को चौड़ी कर दिया और उसकी गांड और चूत में अपना मुंह देकर चाटने लगा. कुछ देर बाद नैन्सी खड़ी हुई और अपने होंठ आकाश के होंठों से मिला कर फुसफुसाई- अनिल जग जाएगा.

फिर तीनों बेड पर साथ में लेटकर एक दूसरे के अंगों के साथ खेलते हुए सो गये. फिर जो भी तय होता है उसमें होटल मेनेजमेंट को कोई तकलीफ नहीं होती।मैंने लंबी आहह भरते हुए कहा- ओहह … मैं तो हवा में ही उड़ने लगा था. रिया चुदाई के नशे में मदहोश होकर जोर जोर से सिसकार रही थी- आह्ह सेठ … चोदो मुझे … आह्ह मेरे दोनों छेद … आह्ह चोद दो … म्मा … अम्म … आह्ह चोदो … यस्स … आह्ह सेठ और जोर से… चोद दो.

इस बात पर काफी सोच विचार के बाद इस बात पर सहमति बनी कि दोस्त तो सभी छह के छह ही होंगे, मगर औरत एक ही होगी.

बीएफ मूवी के: सरोज ने दोनों कपड़े पहने, दोबारा अपने बेडरूम से होती हुई पिछले आंगन में जो गैलरी खुलती थी, उस गैलरी का दरवाजा बंद किया और बेडरूम के सारे पर्दे लगाकर लाइट जला दी. मन ही मन ब्रा पेंटी के शरीर में धंसे होने का भी अनुमान लगा लिया और कपड़ों को ज्यादा गौर से निहार कर अपनी शंका की पुष्टि कर ली.

उधर मेरी जीभ को अपनी बुर के चारों तरफ पम्मी एकदम से तड़फ उठी और उसने मेरे सर को उसने अपनी चुत पर दबा लिया. मैंने लवी को देखा, उसने ना में सर हिलाया।मैं समझा नहीं, पीछे को हटा, डर गया कि यार ये तो जाग गई, इसको तो पता चल गया. ”कैसे?” उसने रहस्यमयी ढंग से मुस्कुराते हुए पूछा।मैं अपने इस प्रेम मिलन की बात कर रहा हूँ।”हट!”अच्छा तुम एक चुम्बन मेरे होंठों लो और फिर अपनी आँखें बंद करो.

उसने मैक्सी उतार कर एक शॉर्ट नाइट ड्रेस पहन ली थी जो फ्रॉक जैसी थी और उसकी जांघों तक ही आ रही थी.

मैंने पहली बार उसके ललाट को चूमा और उसे कंधों से पकड़ कर अपने सामने रखकर कहा- एक बार फिर सोच लो, तुम एक अजनबी से दिल लगाने की गलती कर रही हो!नेहा ने एक लंबी गहरी सांस ली और आंखें मूंद कर कहा- जब मैं होटल में जॉब करने आई, तब पता चला कि होटल में लड़की को ग्राहक सिर्फ़ भोग का सामान समझता है. वो बोली- मुझे तुम्हारी हर शर्त मंजूर है, जैसा तुम कहोगे, वैसा मुझे स्वीकार है. फिर एक सीन में देखा कि हीरो अपनी हिरोइन के साथ सेक्सी गंदी बातों वाली चैट कर रहा था.