मारवाड़ी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,योनि के फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉलीवुड एक्स एक्स एक्स: मारवाड़ी वीडियो बीएफ, डिंपी- सारे मज़े अकेले नहीं होते, कुछ के लिए बीएफ जीएफ होना जरूरी होता है.

अंग्रेजी सेक्स सेक्स अंग्रेजी सेक्स

मामी घुटनों तक वाली नाइटी पहन कर सो रही थीं, उनके बूब्स नाइटी में से बाहर आ रहे थे. यूरोपियन सेक्स वीडियोआपको यह Xxx गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी, कमेंट में जरूर बताएं और अपनी प्रतिक्रिया मेरी मेल पर भेजें.

थोड़ी देर में पीछे को हटते हुए उसे कमर से पकड़ा और हंसकर कहा- अब तो टॉप उतार दे. आदिवासी सेक्स मूवीआज मैं आपके लिए एक और नई सेक्स कहानी लेकर आया हूँ जो मेरी एक पाठिका की है.

नीना बहुत उत्तेजित हो गयी- रवि बहुत मजा आ रहा है, मेरी एक और इच्छा पूरी करोगे प्लीज!मैं- नीना बोलो, मेरे बस में होगा तो जरूर करूँगा.मारवाड़ी वीडियो बीएफ: कुछ मिनट की ज़ोरदार धक्का पेल चूत चुदाई के बाद चाची की चूत ने फिर से रस छोड़ दिया.

मैं नीचे से अपनी गांड उठा कर अपने लंड को साक्षी की गांड में और भी ज्यादा गहराई तक घुसाने लगा था.जलालुद्दीन मेरे जिस्म की रगड़ाई करके और मेरी चूत की जोरदार ठुकाई कर के चलते बने.

सेक्स वीडियो hot - मारवाड़ी वीडियो बीएफ

कुंवारे होने का मतलब ये कि अभी तक तुम्हारे लंड ने किसी को चोदा नहीं है.उसके चूचों को दबाने से मुझे जो मज़ा मिल रहा था, वो लिख पाना मुश्किल है.

पूनम आंटी मस्तियाने लगीं और बोलीं- ये मज़ा तो आज तक तेरे अंकल भी ना दे पाए. मारवाड़ी वीडियो बीएफ हमारी लगभग रोज ही बात होने लगी, थोड़ी देर के लिए ही सही पर रोज बात होती थी.

बीवी जल्दी से अपने आप को ठीक करने में जुट गयी लेकिन हल्के हल्के नशे ने उसकी कोशिश पर पानी फेर दिया.

मारवाड़ी वीडियो बीएफ?

साक्षी आते समय अभी भी थोड़ी लंगड़ा कर चल रही थी क्योंकि आज पहली बार उसकी गांड का उद्घाटन हुआ था. अब जीजू ने मुझसे अपने हाथ पर थूकने को कहा तो मैंने ढेर सारा थूक दिया. इतने में मोहित ने मेरी एक टांग उठा ली और अपना लंड पकड़कर मेरी चूत में डाल दिया.

उन्हें बेड के किनारे लाकर मैं खुद फर्श पर खड़ा हो गया और भाभी की एक टांग उठा कर उनकी चूत के निशाने पर लंड रख दिया. भाभी पूरे मौज में चिल्ला रही थी- आह आदी … और कसके चाटो आह मजा आ गया. कहानी के पिछले भागदोस्त की बीवी को गांड मरवाना सिखायामें आपने पढ़ा था कि सोनी, तापोश कॉलेज के समय मेरी गांड मारते थे.

कुछ देर में उसने अपनी पोजीशन चेंज करते हुए पेट के बल लेटकर कोहनी बेड पर टिका अपना चेहरा हाथों के बीच भरकर लेट गयी. जितनी तेजी से मैं दूध खींचता, उतनी ही तेजी से उसकी चूची से दूध की धार मेरे मुँह में आने लगती थी. फिर मैं मोमबत्ती उठाकर मोहित के पास आयी और मैंने मोहित की गांड के छेद में मोम गिरा दिया.

वो दूसरे रूम के बाथरूम से फ्रेश होकर पहले ही सोफे पर बैठकर मेरा इंतज़ार कर रहा था. मैंने जैसे ही गांड मटकाना शुरू किया, वो मुझ पर दारू और पैसा उड़ाने लगे थे.

पर मैं उनकी कहां कुछ सुनने वाला था … मैंने लंड के टोपे को भी बाहर निकाल लिया और चाची के बंधे हुए हाथ पकड़ कर एक हाथ से लंड को चूत पर सैट करके एक ज़ोरदार धक्का लगा दिया.

मैंने उसे इशारा किया तो वो अपनी चूत में मेरे लंड को समायोजित करते हुए मेरे मुँह के पास अपने एक दूध को झुलाने लगी.

मेरा शरीर बिल्कुल औरतों जैसा है, बिल्कुल चिकना और बाल रहित है इसलिए मुझे नहाकर तैयार होने में ज्यादा वक्त नहीं लगा. डिंपी- कल का कल देखेंगे, अभी चलो यहाँ से … वरना कोई ढूंढते हुए आ जाएगा तो प्रॉब्लम हो जाएगी और ये हमारी आखिरी चुदाई रह जाएगी. मैंने उसके हाथों को अपने हाथों में लिए और उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर जोर से उसकी बुर में अपने लंड के धक्के मारना शुरू कर दिए.

उधर जाकर पंकज ने मेरी गांड तो मारी ही और जिसने मेरा इन्टरव्यू लिया, उसने भी मेरीगांड का मजालिया. रचना- मेरी जवानी आपके लिए है मेरी जान … जी भरकर इस जवानी के मज़े ले लो. उसने मुझे कंडोम भी दे दिया और कहा कि ऐसे दिखाना कि उन्हीं के लिए लिया है.

फिर एक दिन जनवरी में सेकंड टर्म के एग्जाम थे तो मैं कॉलेज के नजदीक वाले गार्डन में बैठ कर पढ़ रहा था.

कुछ देर की ताबड़तोड़ चुदाई में वह बार बार बोले जा रही थी- मादरचोद और जोर से चोद बहन के लंड … आंह और जोर से चोद. नमस्कार दोस्तो, मैं कोमल मिश्रा अपनी एक नई सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. फ्रेंड्स, मैं आपको साक्षी की चूचियों का रस पीने और चूत गांड चुदाई की कहानी में पुन: स्वागत करता हूँ.

मैं अंगूठे के बाद कोमल के पैर की उंगलियों को बारी बारी से चूसे जा रहा था. मैं ख़ुशी से ऑफिस से अपना चार्जर लेकर आया और मैंने माधुरी से कहा- आज तो आप बहुत ख़ूबसूरत लग रही हो. मैंने उसको पूरी गहराई तक चोदा, मेरा पूरा 6 इंच का लंड उसके अन्दर तक आ जा रहा था.

फिर कुछ ज्यादा मात्रा में उंगलियों पर लेकर शबाना के पास आकर उसकी चूत पर लगाना शुरू कर दिया.

फिर उन्होंने मेरी गांड के छेद पर थोड़ा तेल लगाया और अपने लंड पर भी थोड़ा तेल लगा लिया. उनकी हवस इतनी बढ़ गई थी कि उन्होंने मुझे एक दो पल में पूरा नंगा कर दिया और धक्का देकर मेरे ऊपर चढ़ गईं.

मारवाड़ी वीडियो बीएफ मामी ने कहा- तुम यहां क्या कर रहे हो … मैंने अगर तेरे मामा से कह दिया ना, तो वो तुझे बहुत मारेंगे. मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगा.

मारवाड़ी वीडियो बीएफ दोस्तो, मैं गुड़गांव में रहता हूँ और मेरी विधवा बबली बुआ मानेसर में रहती हैं. मैंने उसको पूरी गहराई तक चोदा, मेरा पूरा 6 इंच का लंड उसके अन्दर तक आ जा रहा था.

विधवा हूँ, अगर मेरे बारे में ऊलजुलूल खबर फ़ैल गई तो हर कोई मेरी सवारी के लिए लंड उठाए घूमेगा.

जबरदस्ती सुहागरात सेक्सी

पैंटी मेरी चूत से निकलकर नीचे झूल गई क्योंकि पैंटी की पीछे की डोरी मेरे गांड की दरार में घुसी हुई थी. अब मेरा जब भी मन करता है, आंटी को या दीदी को चोद कर शांत हो जाता हूँ. वो इससे एकदम से पागल हो चुकी थीं और बार बार अपना हाथ मेरे लंड पर ले जाने की कोशिश कर रही थीं.

आजकल ऑन लाइन ऐस प्लग मिल जाता है, पहले छोटा वाला ऐस प्लग बीवी की गांड में लगाकर जितनी देर हो सके, पेले रखना, आस प्लग लगाकर चलने में मजा आता है, ऐसा मैंने पढ़ा है. राहुल कहने लगा- तेरा भाई तेरे लिए कोल्ड ड्रिंक्स लाया है, चल पीते हैं. जलालुद्दीन आलिम का बड़ा सा घर था जिसमें कुछ हिजड़े खादिम का काम करते थे.

अब बस पानी बिल्कुल लंड के सुपारे तक आ चुका था और तभी लंड ने जहर उगल दिया.

फिर बात को संभालते हुए प्रिंस ने कहा- अरे यार मैं तो मज़ाक कर रहा था, जिसे मर्ज़ी तुम उसे दो, हमें मत देना. तो राहुल, सुमित और शुभम सामने खड़े थे और उनके हाथों में कोल्ड ड्रिंक्स के गिलास थे. मुझको चुदाई करते करते अभी कुछ मिनट ही हुए थे कि भाभी की चूत का पानी निकल गया और उनकी फुद्दी बहने लगी.

अब हमारी रूममेट के आने का समय हो चला था, तो मैं उठकर खुद को साफ करने लगा और बाथरूम में घुस गया. आप भी जाने कि चुदाई के वक़्त मर्द को जब कोई लड़की औरत किस करती है या उसके लंड को मसलती है, उसके सीने के निप्पलों को चूसती है, उसके लंड के नीचे की गोटियां दबाती है, तो किसी भी मर्द के मुँह से मादक आवाजें निकलना स्वाभाविक होता है. कुछ दिन बीतने के बाद भाभी की मम्मी को कॉल आया कि भाभी के मामा की तबियत खराब हुई है और उनको बुलाया गया है.

फ्रेंड्स, मैं संजू पंडित एक बार फिर से आपको अपनी चचेरी बुआ की चुदाई के बारे में बता रहा हूँ. मैं बोली- जान, पानी जब निकालना हो तब निकालना लेकिन गांड में मत निकालना.

कुछ देर तक एक ही जैसे धक्के मारते मारते जलालुद्दीन ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उल्टा सीधा चिल्लाने लगे- ले मादरचोद रंडी, आज तेरी चूत का भोसड़ा बनाकर छोडूंगा. मैं हर बार माधुरी को देख कर सोचता था कि काश मुझे भी इस भरी हुई कमसिन जवानी का रस चखने मिले, तो ज़िन्दगी बन जाए. आह आह के जैसी मादक आवाज निकलती हैं, इसका मतलब ये कदापि नहीं होता है कि किसी को दर्द हो रहा है.

मैंने लंड पर थोड़ा और दबाव डाला और लंड को थोड़ा और अन्दर घुसा दिया.

हम लोग एक वीक मजे मार के आएंगे।राजवीर ने हिल स्टेशन का नाम बताया तो मुझे याद आया कि अंजलि भी वहीं की रहने वाली है. इसी आने जाने में उसकी अपनी बड़ी साली मिष्टी के साथ हंसी मज़ाक काफी बढ़ गया था. उन्होंने मेरे छेद को चाटते चाटते मुझे इतना मदहोश कर दिया था कि मैं खुद उनका लंड पकड़कर अन्दर लेने को उतावली हो उठी थी, पर वो मुझे और तड़पा रहे थे.

मैंने मॉम की दोनों टांगें मोड़ कर उन्हें कुतिया बना दिया था और मैं बहुत तेज तेज उनकी गांड में धक्के लगा रहा था. थोड़ी देर चूसने के बाद मुझे लगा कि अब मैं निकलने वाला हूं, तो मैंने उससे कहा- मेरे लौड़े का पानी निकलने वाला है, बता कहां निकालूं?उसने इशारे से कहा कि सारा रस मेरे गले में उतार दो, मुझे इस अमृत को पीने दो.

मैं- जलालुद्दीन साहब, आपको पाने के लिए मैं एक महीने का इन्तजार करने को तैयार हूँ लेकिन इसके लिए मेरी एक शर्त है कि आप मुझे एक बार फिर वही दर्द देंगे जो आपने मुझे मेरी पहली चुदाई के वक्त दिया था. मैं और सोनी ने दोनों नौकरों के लिए फार्म हाउस से दूर दो मकान बना दिए थे. आज मॉम का जन्मदिन था तो मॉम काफी खुश थीं इसलिए वो शराब के लम्बे लम्बे घूँट भर रही थीं.

सेक्सी फिल्म चूत चूत

उसके 32 इंच के भरे हुए दूध मस्ती से उछाल भर रहे थे और उनमें से हल्का-हल्का दूध रिस रहा था जिसे देख कर बहुत मज़ा आ रहा था.

कमरे में आकर सोनी बोला- मैं बहुत जल्दी झड़ गया, मैं बहुत जोश में आ गया था. जलालुद्दीन साहब बोले- अभी तो पार्टी शुरू हुई है, अभी से थोड़े ही पानी निकलेगा. काम करते करते मोबाइल की घंटी बजने पर मैं बार बार अपना फ़ोन चैक कर रहा था क्योंकि मुझे हर बार ऐसा लगता कि माधुरी का मैसेज आया होगा या फिर कॉल होगी.

आपको यह Xxx गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी, कमेंट में जरूर बताएं और अपनी प्रतिक्रिया मेरी मेल पर भेजें. इतना कहकर मैंने उनकी जांघ पर हाथ रखते हुए कहा- उससे भी ज्यादा सुंदर तो आप हैं. सुपर सेक्स एचडीमैं हंस पड़ी- बहुत चालाक निकले आप तो!फिर मैंने पूछा- क्या सच में मुझे आपका बच्चा भी पैदा करना होगा या चुदाई के समय आप बस यूँ ही कह रहे थे.

तय टाईम के अनुसार उसके इंस्टीट्यूट के पास से मैंने उसे अपनी बाइक पर बैठा लिया. उन्होंने मेरे छेद को चाटते चाटते मुझे इतना मदहोश कर दिया था कि मैं खुद उनका लंड पकड़कर अन्दर लेने को उतावली हो उठी थी, पर वो मुझे और तड़पा रहे थे.

भाभी बोली- आराम से करो अमन! मुझे पता है कि हम दोनों ही प्यासे हैं पर फिर भी आराम से करो. थोड़ी देर बाद मोहित ने कहा- वैसे यार, ये इतनी बड़ी बात नहीं थी कि तुम सब हमारी गांड मारने पर आमादा हो रही हो. उसने अपनी उंगली से लंड की लंबाई और मोटाई का जायजा लिया और फिर दूसरे हाथ से लुंगी को हल्का ऊपर उठाई और लंड को देखने लगी.

उसने मुझे घुमा दिया और मेरे भारी भरकम कूल्हों की दरार में वो लंड रगड़ने लगा. मैं गुस्से में बोली- मेरे अब्बू पुलिस में हैं, शिकायत कर दूंगी तो तुम लोगों को उल्टा टांग कर कूटेंगे. अचानक से उसे याद आया कि शहर से उसके दोस्त कमलेश और प्रमोद आए हैं, जिनकी इच्छा गांव घूमने की थी.

थोड़ी सी हड़बड़ा कर वो सीधी हुई और बोली- हां हां, मैं तो भूल ही गयी.

हम दोनों एक साथ इस होटल से बाहर नहीं जाना चाहते थे क्योंकि किसी को कुछ पता न चल जाए. मैं इसी तरह बैठा हुआ पीछे को लेट गया और उसकी गांड को दबा ऊपर को उठाना चाहा.

समीर मुझे किस करते करते मेरे कपड़ों के ऊपर से मेरे मम्मे दबाने लगा और धीरे धीरे उसने मुझे ऊपर से नंगी कर दिया. फिर वो जैसे ही मेरे करीब आई, मैंने झटके से उसे अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद कर दिया. मेरी बात सुनकर सुनकर सब लड़के कहने लगे- यार तुझे हमारी गांड मारनी क्यों है?मैंने कहा- हम भी तो देखें कि तुम लड़कों को हम लड़कियों की गांड मारने में ऐसा क्या मज़ा आता है.

वो अपने हाथ से मुँह को पकड़े हुए अपनी आवाज को दबाने की कोशिश कर रही थी. मेरी मीना भी बहुत ही प्यार से इस रस में डूबी हुई बस आआह्ह ओह कर रही थी. यह देसी लड़की की चूत कहानी तब की है, जब मैं बहुत समय बाद लंबे समय के लिए मेरे गांव आया था.

मारवाड़ी वीडियो बीएफ अब आगे Xxx हिंदी भाभी की चुदाई का मजा:मेरा काला लंड एकदम से उछल कर ऐसे बाहर आ गया मानो किसी ने लंड में स्प्रिंग डाला हो. अपने हाथ मेरी पीठ पर ले जाकर शेखर ने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे स्तनों को कैद से आजाद कर दिया.

सेक्सी वीडियो ऐश्वर्या

चलो बिस्तर पर लेट जाओ और बिल्कुल हिलना मत, जिन्न को पता ना चले कि मैं क्या कर रहा हूँ. सवाल था कि लेकिन वो कैसे ड्रिंक करेगी?फिर याद आया कि क्यों ना कोल्डड्रिंक में मिला कर पिलायी जाए!मैंने एक गिलास कोल्डड्रिंक में एक पैग व्हिस्की मिला दी और बीवी को आवाज दी. थोड़ी देर बाद उसका पानी निकल गया तो मैंने अपना मुंह उसकी चूत में लगाया और अपनी जीभ से उसकी चूत की गहराई को टटोलने लगा.

भाभी ने अपने हाथ और पैरों के नाखून पर लाल रंग की नेल पॉलिश लगाई हुई थी. ऐसे ही एक दिन हम दोनों शाम को साथ बैठकर शराब पी रहे थे और बात चल पड़ी सेक्स की. हिन्दी सेक्स विडीयोये महसूस करते ही मेरे चेहरे पर मुस्कान आ गई और मेरे हाथों में एक अलग ही ताकत आ गई.

होटल मुझे मेरी पेमेंट वापस नहीं लौटाएगा इसलिए मुझे होटल में ही रहना होगा.

फिर मैं उसके मुंह के पास आगया और फिर उसने मेरा पैंट उतार दी।मेरा लौड़ा अब उसके मुंह के सामने फनफना कर बाहर निकल आया. पोर्न चाची बोल रही थीं- वाह मेरे शेर … मान गई तुझे … और तेरे इस लंड को … और ज़ोर से आह और ज़ोर से चोद मुझे … फाड़ डाल मेरी चूत को आज.

मैं आज जिस सेक्स कहानी का जिक्र कर रहा हूँ, उसके बारे में मैंने बहुत दिन तक सोचा कि लिखूं या नहीं … पर अन्तर्वासना जैसी साईट पर अपने विचार लिखने में मुझे कोई हर्ज नहीं दिखा तो मैंने देसी औरत की चुदाई कहानी लिखने का मन पक्का कर लिया. तो अजय ने दरवाजा खोल कर सीधा मुझे अंदर खींच लिया और मुझसे लिपट गया।वो बोला- ओ मनीष, बहुत मन था तुमसे मिलने का! मुझे तुम्हें बांहों में लेकर मज़ा आ रहा है।मैंने भी अजय को टाइट पकड़ा और बोला- हाँ अजय, तड़प तो मैं भी रहा हूँ। आज मैं बस तुम्हारा हूं, तुम मेरे साथ जो चाहो करो, मैं मना नही करूँगा।अजय मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगा. फिर मैंने जैसे ही उसकी गांड के छेद पर अपनी उंगली रखी, उसकी गांड का छेद और टाइट होने लगा.

मैंने उससे पूछा कि मैं अपना माल कहां निकालूं?उसने बोला- चूत में ही निकाल दो.

वह उत्तेजित होने लगी और अपनी गांड मेरे लंड पे सटाने लगी, रगड़ने लगी।अब तो मेरा भी मन आप से बाहर हो गया था और मैंने उसकी पेटीकोट को गांड तक ऊपर उठा कर उसकी कच्छी को नीचे करने ही वाला था कि उसने खुद को मुझसे अलग कर दिया. रम्भा ने अब बर्तन धोने शुरू किया और साथ ही उसने मुझसे कहा- बाल्टी में पानी भर दीजिए।बैठकर उसने बैठकर साड़ी अपने घुटने तक उठा ली थी और अपने पल्लू को भी अपने कमर में बांध लिया था जिससे अब उसके बड़े बड़े स्तनों के दर्शन मुझे आराम से हो रहे थे और उसकी मांसल जांघें भी मुझे दिखाई दे रही थी. शहर में तो औरतें बाहर भीदूसरे मर्दों से सम्बन्धबना लेती हैं, पर गांव में महिलाएं कहां पर जाएं.

गांव की सेक्सी वीडियो देहातीअब मैंने गुस्से में उससे बेड पर चित लिटा दिया और लंड को हाथ में पकड़ कर उसकी चूत पर रख दिया. अब मैं निखिल के सामने सिर्फ पैंटी में खड़ी थी।तभी निखिल मेरी टांगों के पास नीचे बैठ गया और पैंटी के ऊपर से ही मेरी चूत को देखने लगा.

मुस्लिम इंडियन सेक्सी

मैंने गरिमा से कहा- यार ये निशा डर रही है कि किसी को पता ना चल जाए. मिष्टी की चाहत उसकी शादी होने के बाद भी अपने जीजा प्रिंस से ही बनी रही. मैंने पहले से ही स्टोर रूम में अदीबा की चुदाई की व्यवस्था कर रखी थी.

रात को करीब एक बजे चाची ने करवट ली और उन्होंने अपना मुँह मेरी तरफ कर लिया. तभी काकी की हल्की सी आवाज आई- क्या उखाड़ ही लोगे?मेरा ध्यान भंग हुआ और मैंने वापस हॉल में नजरें गड़ा दीं. अभी भी मुझे संकोच हो रहा था कि मैं अपनी चूत में अपने भाई का लंड कैसे ले सकती हूँ.

तो आपका समय ना बर्बाद करते हुए मैं सीधा अपनी हॉट देसी गर्लफ्रेंड चुदाई कहानी पर आता हूं. ‘अब क्या करोगे पढ़ाई के बाद?’जॉब आदि के बारे में बात करते ‌करते मीना को नींद आने लगी और वो मेरी तरफ अपनी गांड करके सोने‌ लगीं. उनके बूब्स बाहर आ गए थे और मैंने उनकी एक चूची को चूसना शुरू कर दिया.

कितना सारा खून निकला है उसका!दोनों हिजड़ों ने मेरा खून से भरा बदन साफ़ किया और कमरे की साफ़ सफाई करके मुझे साफ़ बिस्तर पर लेटा कर चले गए. वीडियो कॉल में मेरे नंगे जिस्म को देख उनका तो पहले से ही बुरा हाल था और मैं भी उनके जैसे हट्टे-कट्टे मर्द से चुदाई के लिए बेकरार थी.

रात को हम सबने डिनर किया और मेरे सोने के लिए भाभी ने कूलर के सामने सिंगल बेड लगा दिया.

साक्षी बोली- अब चूत मारोगे मेरे राजा?मैंने कहा- नहीं जान, तुम्हारी चूत का थोड़ा काम रस लंड पर ले लेता हूँ क्योंकि लंड बहुत ज्यादा तना हुआ है और तुम्हारी गांड का छेद बहुत टाइट है. बस में सेक्सी मूवीसोनी, मैं और नीना ने पुणे से किंग साइज पलंग, गद्दा और फर्नीचर ख़रीदा. देहाती सेक्सी स्टोरीमैंने पूछा- तो इस चुदास वाले जिन्न से हमेशा के लिए छुटकारा नहीं मिल सकता?हिजड़ा बोला- हमेशा वाला छुटकारा तो जलालुद्दीन आलिम ही दिलवा सकते हैं, हम तो बस तुम्हारे बदन को मसल कर कुछ घंटों के लिए जिन्न को थका सकते हैं. मैं बोली- ये सेक्स तो बहुत दर्दनाक चीज है, मुझे तो सोच कर भी डर लग रहा है.

चूमने के साथ ही भाभी ने वो गोली मेरे मुँह में डाल दी और मैंने खा ली.

तुम लोगों से मिलने के बाद लगता है की अब हमारी दोनों इच्छाएं पूरी हो जाएंगी. मैं एक जवान खूबसूरत भरे बदन वाली लड़की हूँ जिसको देखकर मर्दों के ईमान डोल जाते हैं और औरतें जलन के मारे मर जाती हैं. इतना सुनते ही उसने कहा- नहीं बिल्कुल नहीं, मैं नहीं खेलती, ऐसे सिंपल खेलना है तो खेल … नहीं तो रहने दे.

मुझे ऐसा लग रहा था जैसे उसके पति ने कभी उसकी गांड नहीं चाटी थी और वो कमी आज मैं पूरी कर रहा था. अब तक मुझे यही समझ आया था कि मेरे जिस्म पर किसी चुदास वाले जिन्न का कब्ज़ा है जिसको अपना बदन मसलवा कर और चुदाई करवा कर भगाया जा सकता है. फिर वो दबी और घुटी हुई आवाज में बोली- आह मर गई … काफी गर्म और कड़ा है.

ब्लू सेक्सी क्सक्सक्स

अपनी गांड मरवाने से बेखबर आंटी दर्द से चीख उठीं- हाय रे …मेरी गांड फट गई. अब मुझे लेटाकर भैया मेरे ऊपर चढ़ गया और मुझे किस करते करते मेरी चूचियों को दबाने लगा. कॉलेज गर्ल बट्ट सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी क्लास की एक लड़की के चूतड़ मुझे पसंद आ गये.

दोस्तो, मैं प्रियंका परिहार आप सभी का फ्री सेक्स स्टोरी डॉट कॉम में स्वागत करती हूँ.

अब उन्होंने मेरी कच्छी उतार दी और पहले तो उसको जोर से सूंघा फिर एक तरफ फेंक दिया.

दोस्तो, अंकल पोर्न स्टोरी का पूरा मजा लेने के लिए आप अन्तर्वासना से जुड़े रहें. उस दिन तो मैंने कुछ नहीं सोचा, पर बाद में जब मैंने सेक्स का सुख ले लिया तब भाभी की बात कुछ कुछ समझ में आई थी. यूट्यूब पिक डाउनलोडअब मैं उसके सामने खड़े होकर उसके दूध दबा रहा था और हम दोनों पागलों की तरह एक दूसरे की ओर देख रहे थे.

आंटी हंसने लगीं- आज आपको क्या हो गया? शर्म नहीं आती एक मजबूर का फायदा उठाते हुए?मैं- जब मजबूर ही फायदा दे रहा हो, तो क्यों पीछे हटूं?फिर बिना देरी के मैं उनके होंठों को चूसने लगा. कुछ ही मिनट में खाला की चूत का पानी फिर से छूट गया और मैंने सारा पानी पी लिया. लेकिन फिर जैसे जैसे मैं जवान हुआ और जब मैंने मॉम बेटे की सेक्स कहानियां पढ़ना शुरू किया तो मेरी नीयत मेरी मॉम पर ख़राब होने लगी.

यही सब सोचते सोचते और थोड़ा डरते हुए मैंने दरवाजा खोला, तो सामने उन्हें खड़ा देखकर मेरा भय और डर, कई गुणा बढ़़ गया. यह देख कर दो हिजड़े आये और उन लोगों ने मेरे बदन की मालिश करनी शुरू कर दी.

[emailprotected]दोस्त भाभी की X कहानी का अगला भाग:बुटीक वाली सेक्सी भाभी के जिस्म का मजा- 3.

उनका गला जैसे आम की बड़ी सी खाप, जिसे काटो तो ज़िंदगी खुशहाल हो जाए. उसने साड़ी पहनी हुई थी और सामने आंचल में से थोड़ी सी उसके दूध की लाइन झलक रही थी. वो मुझे तड़पना चाहते थे इसलिए रुक गए और बोले- थोड़ा रुकूँ या ठुकाई चालू कर दूँ?मैंने भी मजाक करते हुए कहा- मुझे क्या मतलब … जिन्न नाराज हो जाएगा, जल्दी से उसकी ठुकाई चालू कर दीजिये.

बाप और बेटी की सेक्सी पिक्चर मैंने ध्यान दिया था कि मुझसे बातें करते समय भी वे मेरी तरफ खोयी-खोयी सी निगाहों से देखती थीं. फचाक फचाक करके ना जाने कितनी पिचकारियां उसके लंड से निकलीं और मेरी चूत को उसने वीर्य का तालाब बना दिया.

मैं मुस्कुराते हुए ड्राइवर से बोली- सोच रही हूँ लौटते समय भी ट्रैन की जगह टेक्सी ही कर लूँ. बीच बीच में माधुरी मेरे लंड को मुँह से निकाल कर बोलती- आह और जोर से चूसो मेरे राजा … ओह आउच … हाय … और अन्दर तक डालो … पूरी चूत का पानी निचोड़ डालो … आह बड़ा मस्त चूसते हो तुम. बापू ने कहा- हंस क्यों रही है?काकी ने कहा- तेरी लुगाई छन्नो ने मुझे बताया था कि बहू को पीस कर रख देता है तेरा लौंडा.

मौसी की सेक्सी फिल्म हिंदी में

मुझे माधुरी की 36 साइज की मलाई की तरह कोमल और दूध सी सफ़ेद चूचियां मस्त दिखने लगी थीं. पहले से ही मैंने ब्रा पैंटी पहनी थी और मेरा मूड भी बना हुआ था तो मुझे उसके पास बैठना बहुत मस्त लग रहा था. कुछ घंटों के आराम के बाद फिर वही दौरे पड़ने शुरू हो गए और मुझे झटके लगने लगे.

साथ साथ मैं उसके चूचों को मुंह में भर कर चूसने लगा, उसके निप्पल को भी काट रहा था।फिर मैंने उसको अपनी कुतिया बनाया और मैं खुद कुत्ता बन कर उसे चोदने लगा।इस बीच शुभी ने एक बार पानी छोड़ा।जब मुझे लगा कि मेरा पानी भी निकलने वाला है तो मैंने अपना लन्ड निकाल कर उसके मुंह में दे दिया. इस वजह से मेरा मन नहीं लगता तो मैं कुछ दिनों के लिए अपने मायके चली जाती थी.

मैंने उसकी चूत में लंड को अन्दर बाहर अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया था.

वो नमकीन रखकर वापिस जाने को मुड़ी तो मैंने उसे रोका- सोनू, एक मिनट रूकना. चचेरी बहन होने के नाते छोटी बुआ ने बबली बुआ को भी शादी में बुलाया था. उसके मुँह से ऐसा सुनते ही मैं भी जोर जोर से उसे पेलने लगा और उसकी गांड पर झापड़ मारने लगा.

उसकी मांसल जांघें, उसका भरा पूरा बदन देखकर मैं एकदम पागल हो गया और अपनी शर्ट को निकाल फेंक मैं कमरे में घुसा, कुंडी लगाई और सीधा रम्भा के ऊपर चढ़ गया।अब रंडी रम्भा मेरे शरीर के नीचे थी, उसके बदन की गर्मी को मैं अपने बदन पर पास महसूस कर सकता था।मैंने रम्भा को बेतहाशा चूमना शुरू किया. मैं भी दबे पाँव उनके कमरे की खिड़की के पास आई और परदे के किनारे से झाँकने लगी. कुछ देर बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाल लिया और चाची को बेड पर ही कुतिया बना कर उनके पीछे से लंड गांड में डाल दिया.

पर उसके बड़े बड़े चुचे उसके हाथों से ढकने वाले कहां थे … और वो अपनी गुलाबी बुर को कैसे ढक पाती.

मारवाड़ी वीडियो बीएफ: मैं निप्पल के चारों तरफ अपनी जीभ फिरा रहा था, जो खाला को बहुत मदहोश कर रहा था और वो सिसकारियां ले रही थीं- उम्म … आह … ओह या बेबी … मेरे निप्पल चूस लो … आहह … कितना मजा आ रहा है. कुछ देर बाद मैंने उसकी मेल को चैक किया तो मेल की ड्राइव में कुछ वीडियो लोड थे जिसमें एक लड़का बिना कपड़ा पहने खड़ा था और अपना लंड हिला रहा था.

5 मिनट तक चाटने के बाद उसने मेरे मुंह में ही अपनी चूत का सारा पानी छोड़ दिया. उन्हें पहनकर मैं शीशे में अपने आपको देखकर उत्तेजित होने लगी थी और अपने आपको एक स्त्री समझकर अपने पति के लिए शृंगार करने लगी. मगर जैसे ही मैंने उसमें अपनी आईडी बनाई, उसी समय मुझे इनबॉक्स में एक मैसेज आया.

और मैं खुश भी था कि मुझे जॉब का अवसर मिल रहा है और उदास भी था क्योंकि मैं भी शादी में जाना चाहता था.

अब दीदी ब्रा में खड़ी थी और उनकी ब्रा पिंक कलर की थी और दीदी के जिस्म के कलर से ऐसे मैच कर रही थी कि ऐसा लगता था मानो कुछ पहना ही ना हो. अम्मीअब्बू जब तक नहीं आए हम दोनों ने सारे घर में चुदाई का खेल खेला. अर्चना की आंखें बहुत सुंदर है, लंबे बाल हैं वह स्लिम है और उसके दूध बहुत ही जबरदस्त हैं जो हमेशा उसके ब्लाउज में से बाहर आने को तड़प रहे होते हैं.