एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो कुछ कुछ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ हीरोइन वाला: एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो, चूत की लकीर में फंसे लंड को अपने भारी चूतड़ हिला कर उसमें रगड़ रही थी.

भाग्यश्री की शादी कब हुई

फिर उन्होंने मेरी दोनों चुचियों को उंगलियों से मींजना शुरू कर दिया. 16 साल की लड़की की वीडियोउसकी नंगी जवानी देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैं उसके ऊपर चढ़ कर उसकी चुत में लंड रगड़ने लगा.

सनी बार बार लंड चुत से पूरा बाहर निकालता और जोर से अन्दर डाल देता हैं. लड़कों के सेक्सगिलास गिरने की आवाज से उसका ध्यान मेरी तरफ चला गया और वो जल्दी से भाग कर अपने कमरे में चली गयी.

उसी बात सुनकर मैं एकदम से सकपका गई और बोली- नहीं, मैं कुछ नहीं देखती थी.एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो: कुल मिला के उसे चुदाई की आदत थी।मैं साफिया के बारे में बताना ही भूल गया.

उसके मुँह से यह सब सुन कर मुझे और भी जोश आ गया और मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी.मैंने उंगलियों से उनकी चूत खोली और जीभ को गोल करके उनकी चूत जीभ से चोदने लगा.

दुर्गा पिक्चर - एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो

मैंने सोचा कि जब मेरे पति का लंड मोटा है, तो झेलना तो पड़ेगा ही!मुझे यह सोच हंसी आ गयी कि स्वाति अब मेरी सौतन होने वाली है।शर्माजी ने बेताबी से कंडोम पहना, उसके उपर के-वाइ जैल लगाया.जब मैंने लंड निकाला तो मेरा वीर्य मेरे दोस्त की अम्मी की गांड निकलने लगा।अब मैं भी साइड में लेट गया।थोड़ी देर बाद नफीसा उठी और उसने मेरे लंड को चूस कर साफ़ कर दिया।तब वो रसोई से बिरयानी लेकर आई; हम दोनों ने साथ में खाना खाया।बिरयानी खाकर दोनों बैडरूम में आ गए.

फिर जब तक सब लोग वापस नहीं आ गए, मैंने भाभी की चुत को चोद कर भोसड़ा बना दिया. एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- क्या हुआ?मेरे मुँह से न जाने किस झौंक में निकल गया- आप बहुत सेक्सी लग रही हो.

तो जैसे तैसे जब हम गोवा अपने होटल में पहुंचे तो जो बॉय सामान उठा कर मेरे पीछे चल रहा था उसका सारा ध्यान मेरी मटकती हुई गांड पर ही था।वो मेरी मटकती हुई गांड में इतना खो गया था कि उसे ये अहसास ही नहीं हुआ कि मेरे पति उसके साथ चल रहे थे और उसको मेरी गांड की और घूरते हुए देख रहे थे.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो?

मेरी मम्मी और वह दोनों हंस हंस कर बात किया करते थे और एक दूसरे के पास बैठते थे. लेकिन उन्होंने ऐसी कोशिश ही नहीं की और इस रगड़-घिसाई में ही मैं झड़ने की हद तक गर्म हो गई थी. तभी मैं उनके रूम में आयी और बोली- मां कौन 6 चढ़ गए थे और आपको क्या मिला?तब मां बोली- कुछ नहीं.

सनी ने धीरे से ऋतु के चेहरे को ऊपर उठाया, तो ऋतु की आंखें बंद हो गईं. आप लोग अगर मेरी सेक्सी चुदाई कहानीमुंह बोली बेटी ने पापा से औलाद मांगीको पढ़कर मुझे इतना प्यार न देते और मुझे इतना मोटीवेट न करते, तो मेरी इतनी हस्ती कहां थी … जो आपके सामने ऐसा नया नजराना पेश करने की हिमाकत करता. मेरे तने हुए मूसल ब्रांड के लंड देखकर वो हैरान ही रह गई और बोली- अरे धर्म ये क्या है … तुम्हारा लंड तो बहुत ही बड़ा और मोटा है.

फिर उसने मम्मी को लिटा दिया और अपने लंड पर कंडोम पहन कर मम्मी को चोदने में लग गया. प्रकाश मेरी पतली सेक्सी साड़ी को हटाकर मेरी गहरी नाभि में उंगली करने लगा, तो मेरे मुँह से सीत्कार निकलने लगी- आह … ओह … अहम्म!मेरी वासना में डूबी हुई मादक आवाजें निकलने लगीं. कुछ देर के बाद अंकल ने मम्मी का पेटीकोट खोल दिया और उनकी पैंटी को उतार दिया.

कुछ दिन बाद दीपक को एक मल्टीनेशनल कम्पनी से जॉब कर अपायंटमेंट लेटर भी मिल चुका था. देसी कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे कहने पर एक लड़की जो मुझसे कई बार चुद चुकी थी, ने दूसरी लड़की की चुदाई के लिए जुगाड़ किया.

सनी- किसलिए, चुदाई के लिए?ऋतु का चेहरा शर्म से लाल हो गया, वो प्यार से बोली- सनी मुझे अपना जीवन साथी बनाने और इतनी अच्छी चुदाई के लिए!सनी- ओए होए तुम मेरी जान हो यार.

क्योंकि उसका अपनी गांड की मांसपेशियों पर पूरा नियंत्रण होता है और लड़का बेचारा सोचता है कि वो 15-20 मिनट तक टिक गया.

साली की चूत बहुत गर्म थी, चुदाई के बाद मेरा लंड उसकी चुत के गर्मी से जलने लगा. पहले दादी और छोटी बहन का बिस्तर ठीक किया, फिर मेरे बगल में बैठ गयी. जैसे ही उंगली घुसी, उसकी सूजी हुई चूत में दर्द का अहसास हुआ लेकिन मजा बहुत था.

एक दिन रात को मेरी आंख खुली, तो मैंने भैया को देखा कि वो किसी से फोन पर बात कर रहा है और लंड सहला रहा है. तभी विकास ने उसका हाथ अपने हाथ में लेकर उससे कहा- पिताजी के चुनाव जीतने के बाद मैं आपकी सिफारिश करूंगा. बुआ ने जैसे ही अपनी चूत को मेरे खड़े लंड पर रखा, लंड सट्ट से अंदर घुस गया.

कुछ देर बाद भाभी ने लंड को चूसना बन्द कर दिया और सीधी होकर मेरे सर को अपनी चुत में दाबने लगीं.

उसने कहा- पापा घूमने चले गए ना!मुझे फिर भी यकीन नहीं था कि उसके पापा कहां है. इस तरह मैं अंजू और मंजू एक दूसरे को खुश करते हुए अपने अपने एग्जाम में पास होकर अगले साल में प्रवेश कर गए. सनी का लंड उसकी चूत को फाड़ते हुए आधा अन्दर घुस गया था, जहां आज तक इतना मोटा लंड कभी नहीं घुसा था क्योंकि मेरा लंड सनी के लंड से पतला और छोटा था.

मैं जानता था कि भाभी जी के मन में बहुत दिनों से मेरे लंड से चुदने की ख्वाहिश है. ऋतु की चूत के नाजुक होंठ कुछ यूं खुल और बंद हो रहे थे मानो कली फूल बनने की तैयारी कर रही हो. अब वो मुझे चुमते हुए धीरे धीरे बोले जा रही थीं- प्रतीक अब अपनी चाची की प्यास बुझा दे.

मैंने कहा- सुन ना, क्या तुझे अपनी आग बुझाने के लिए गर्म लौड़ा नहीं चाहिए?उसने कहा- ठीक है, पर मैं सिर्फ तुझसे चुदना चाहती हूँ.

ऐसे कई पॉइंट हैं कि आपको महसूस हो जाएगा कि लड़की आपको मौके दे रही है कि आप पहल करो, आओ मुझे बांहों में भरके जी भरके प्यार करो, मेरे जिस्म से खेलो, मेरे तन को रगड़ रगड़ कर चोदो. कुछ पल बाद मैं उसके कुरते को ऊपर करके उसके नंगे पेट पर किस करने लगा.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो उस दिन के बाद अब जब हम दोनों का मन होता है, तब हम दोनों एक दूसरे से सेक्स कर लेते हैं. मैंने देखा कि रोज की तरह बहेन सो चुकी है इसलिए मैंने भी अपना लौड़ा निकाला और सोने लगा.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो घर चलते हैं, घर भी तो खाली है न!ये कहकर वो मेरे सिर के बालों में हाथ फिराने लगीं. वो बोला- मुँह खोल दो जान जल्दी से!मैं मुँह नहीं खोल रही थी तो उसने मेरे एक दूध को अपने एक हाथ से जोर से दबा दिया.

उसके बाद मामूजान ने एक जोरदार धक्का जोर से दिया कीबोर्ड में दे दिया और 8 इंच का लंबा और 3 इंच का मोटा लंड साफिया की चूत में एक झटके में समा गया.

अंग्रेज लोगों का सेक्स

फिर एक दिन मैंने मोनाली की एक फेसबुक आईडी बना दी और उसकी प्रोफाइल में उसका काम रंडी लिख दिया. थोड़ी देर बाद मेरे लन्ड से बहुत गाढ़ा और चिपचिपा पदार्थ निकलने लगा जिसे नीतू सारा का सारा पी गई. साले की जब से टांग टूटी है, तब से वो न तो मुझे सेक्स का सुख देता है और न लेने देता है.

कुछ देर बाद उसने मेरे बाल पकड़ कर अपने ऊपर खींचा तो मैंने उसके टॉप को ऊपर कर दिया और उसके मम्मों को आज़ाद कर दिया. अब आगे हॉट फॅमिली सेक्स कहानी:कोई 5 मिनट तक हम एक दूसरे की चुसाई करते रहे. थोड़ी देर बाद अब्बू अपना लंड खाला के मुँह में डालने लगे, तो वो मना करने लगीं.

जब भाभी को अगला पीरियड नहीं हुआ … तो वो खुश हो गईं और उन्होंने गर्भ चैक करने वाली किट से अपना प्रेगनेंसी टेस्ट किया.

मैंने अपनी टी-शर्ट उतार दी और अपनी बहन को अपनी बांहों में लेकर प्यार करने लगा. अब तक हमारे कपड़े भी सूख गए थे, तो सबने अपने अपने कपड़े पहने और घर चले आए. राहुल मेरी गर्लफ्रेंड को जानता था, पर उसे ये नहीं पता था कि ये सब नंगी फ़ोटो इक्शाना की ही हैं.

मां बोली- हम दोनों के बीच जो हुआ उससे कोई फर्क तो नही पड़ेगा!अनिकेत बोला- तो उससे क्या हुआ, शादी तय करा दे, फिर मैं समधन के साथ मजा करूंगा. मैं- आह ह आह … ओह्ह ओह्ह ओह्ह … मुझसे पहले झड़ गई … आअहह लो संभालो आह!दो-चार धक्कों के बाद मैं एकदम से रुक गया और मामी की चूत को पानी पिलाने लगा. चचा मेरी गांड के छेद को अपने खुरदरे अंगूठे से सहलाते हुए बोले- अरे बेटा चिंता मत करो, तुझे बहुत मज़ा आने वाला.

भाभी कुछ नहीं बोलीं तो मैं भी समझ गया कि भाभी अब फुल जोश में हैं और अब इनका भी मन चुदवाने को कर रहा है. वह स्वाति के होंठ, स्तन और चूत कभी नहीं चूसता था और लंड भी नहीं चुसवाता था।मोहिनी ने कहा- स्वाति, तुम हमारे पास आ सकती हो, अपनी चूत और स्तन की चुसाई के लिए। मैं और तेरे जीजाजी मिलकर तेरी इच्छा पूरी करेंगे।मेरी पत्नी मोहिनी स्वाति को बता चुकी थी कि अब मुझे भी पता है कि उन दोनों के बीच में लेस्बियन संबंध हैं.

मैंने उसके चूतड़ों को पकड़ लिया और नीचे से अपनी पूरी जीभ उसकी चूत में डाल कर चाटने लगा. प्लीज देख लेने दो ना!यह सुनकर दीदी मुझसे चिपक गई और कहने लगी- नहीं ना भाई, ये सब मत करो. आज मैं आपको मेरे भाई से चुदाई बहन की रसीली सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ.

साल भर बाद वह लड़का एक दिन मेरे घर आया और उसने बताया कि मेरे कहने पर चाट का ठेला चालू किया और साल भर में छोटा सा रेस्टोरेंट हो गया.

चुत पर हाथ लगाते ही मैंने महसूस किया कि उसकी चुत पूरी गीली हो गई थी. इससे पहले मैंने मासी के ब्रा पैंटी सिर्फ बाथरूम में लटके देखे थे और कभी कभार तो हाथ में लेकर भी देखे थे।मैंने उन्हें सफ़ेद ब्रा पैंटी दे दिए. मैंने कहा- फिर किस क्यों किया था?वो बोली- वो तो ऐसे ही, पर तुमको तो अच्छा ही लगा होगा न!मैंने बोला- हां अच्छा तो लगा था मगर तुमको शर्म नहीं आई?वो हंसी और बोली- शर्म कैसी, तुम भी तो छिप छिप कर मुझे नंगी देखते थे और कई बार मुझे वो सब करते हुए भी देख भी चुके हो.

लड़कियां और सेक्स मेरी जिंदगी के हिस्सा बनते जा रहे थे और पढ़ाई पीछे छूट रही थी. अब वो बेकाबू हो गया था।लेकिन नफीसा भी पुरानी खिलाड़ी थी। नफीसा बिस्तर पर सीधी लेट गई और सलीम ऊपर आकर चोदने लगा.

न ही शैंकी के झटके रुके और न ही मेरे मुँह से ‘अअह …’ निकलना बंद हो पाया. लेकिन मेरा वादा है कि अगली हक़ीक़त में मैं आपको वो बातें खुल कर बताऊंगी, जो आप सुनना चाहते हैं और अहसास करना चाहते हैं. चूत गांड डबल सेक्स कहानी मेरी गर्म गर्लफ्रेंड की दोहरी चुदाई की है.

हिंदी सेक्सी मूवी हिंदी सेक्सी मूवी

लेकिन उसने कुछ भी लाने से मना कर दिया।मैं पूरी रात चोदने के मूड में था तो मैंने सुमन से कहा कि उसके घर आने जाने में किसी ने देख लिया तो दिक्कत हो सकती है।सुमन कुछ सोच में पड़ गई और प्लान को बाद में करने को बोलने लगी.

मैं भी अब अपने आप पर से नियंत्रण खो चुका था और और उनकी जवानी को किसी कुत्ते की तरह पेले जा रहा था. मैंने पूछा- दीदी क्या हुआ, आराम मिला क्या?दीदी ने कहा– नहीं भाई, बहुत दर्द हो रहा है कमर में! मुझसे रहा नहीं जा रहा. ये आप मेरी … या फिर अपनी ही यौन दास्तान समझ कर पढ़िएगा, आप सबको यह रचना काफी पसंद आएगी.

नहाते वक्त मैंने आंटी को घोड़ी बना कर चोदा और अपना रस उनके मुँह में छोड़ दिया. उसके दोनों मदमस्त कर देने वाले चुचों के मैंने भरपूर दीदार किए और मुठ मार कर बाहर आ गया. एचडी मूवी डाउनलोडमेरा भी उत्तेजना के मारे बुरा हाल था, पर घबराहट इतनी थी कि कुछ समझ में नहीं आ रहा था.

ऐसे ही मैंने उस रात में कई बार सिस्टर की चुदाई की और नंगे ही चिपक कर सो गए. मैंने बेड पर एक बड़ा गद्दा लगाया और छोटे गद्दे अपनी बांहें रखने के लिए अगल बगल में लगा दिए.

ब्यूटीफुल हॉट गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं पति के साथ गोवा गयी तो दो जवान लौंडे हमारे दोस्त बन गये. मैंने अपने घुटनों को उनकी गांड के थोड़े से नीचे रखकर उनके कमर की मालिश करना चालू कर दिया. मैंने बाद में फ्रेश होकर आंटी के घर जाकर अपने घर वालों से बात की तो मालूम हुआ कि वो हमारे बड़े ताऊ जी का हाल-चाल पूछने दो दिन के लिए गांव गए थे.

उसकी चूत अच्छे से चाटने के बाद मैं उठा औऱ अपने दोनों हाथों से उसकी गांड को फैलाकऱ छेद खोल दिया. ये ख्याल जैसे ही ऋतु के मन में आया, उसकी चूत से रस निकलना शुरू हो गया. बेड पर बड़ी हुई सफेद चादर पूरी तरह ऋतु की चूत से निकले रस से भीग चुकी थी.

माय सेक्स लाइफ स्टोरी में आपको कोई गलती दिखे, तो प्लीज़ आप अपनी रांड समझ कर माफ कर देना.

मामी की तरफ कोई प्रतिक्रिया न होते देख कर मुझे गर्मी चढ़ गई और मैंने उनकी नाइटी को और ऊपर कर दिया. फिर चचा ने ढेर सारा नारियल तेल मेरी गांड में डाला और दोनों उंगलियों से मेरी गांड पेलने लगे.

अगर फिरोज के होंठ उसके होंठों पर नहीं होते तो साफिया की जोर की चीख निकल जाती. अब आगे हॉट सेक्सी गर्ल सेक्स स्टोरी:तो मैं बोला- मैंने तुम्हें अभी तक इसीलिए ही नहीं चोदा. भाई मोबाइल पर पोर्न देखते थे तो मैं अन्तर्वासना की सेक्स कहानियाँ पढ़ती थी.

वो एक ही झटके में उछल गई और रोने लगी- आंह मर गई … आंह निकालो इसे!मैंने उसकी एक न सुनी और दूसरे झटके में मेरा आधा लंड उसकी देसी वर्जिन चूत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया. मम्मी चाचा की बात समझ गईं और उन्होंने अपनी सलवार का नाड़ा ढीला कर दिया. मेरी हाईट छह फीट है और मेरा लंड भी छह इंच का है, जो किसी भी लड़की को खुश कर सकता है.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो मैं बड़े ध्यान से देख रहा था कि उस लड़के की गांड में तेल भरता जा रहा था. करीब 12 बजे भाभी उठीं और मेरे पास आकर बोलीं- अरे अभी तक सोये नहीं!मैंने कहा- मुझे गर्मी लग रही है.

अमेरिका सेक्सी एचडी वीडियो

इसी बीच मेरे दिमाग में ख्याल घूम रहा था कि हमारे बीच कल रात जो हुआ था, वो मेरे लिए जन्नत से कम नहीं था. हम दोनों की इतनी गहरी दोस्ती थी कि हम दोनों हर तरह की बातें कर लेते थे और बहुत कुछ शेयर भी कर लेते थे. उस समय मेरे पास फोन था, जिसे चार्ज करने के लिए मैं भाभी के घर लगा आता था.

मैंने अन्तर्वासना की फ्री सेक्स स्टोरी साईट पर जो सेक्स मूवीज आती हैं, उनको देखने लगी. उधर मेरी दारू की बोतलें आदि सजी थीं कुछ नग्न चित्रों वाले पोस्टर भी लगे थे. भाभी का नंबरअभी बहुत दिन से मैंने सेक्सी भाभी की चूत मारी नहीं … क्योंकि लॉक डाउन की वजह से उनके दोनों लड़के घर वापस आ गए हैं.

मैंने गांड उठाकर लंड चुत में लेने का उपक्रम किया, उसी समय उसने धक्का दे दिया.

करीब 20 मिनट बाद जीजू ने मुझे उठा लिया और हवा में ऊपर ही उठाए हुए नीचे से मेरी चुत में लंड पेल दिया. आंटी अपने पति के मुकाबले काफी पतली थीं और अपने मोटे पति का लंड कैसे झेलती होंगी, वो उनको ही पता होगा.

मीना- फिर दीदी … कहां होता है कुछ!ये कह कर उसने मेरे लंड के ऊपर हाथ रख दिया. उन्होंने उनकी कार के डैशबोर्ड पर रखे कार्ड्स में से एक विजिटिंग कार्ड उठा कर मुझे दिया और कहा- तीन दिन बाद इस नम्बर पर कॉल कर लेना. जब उनका लंड चुत के अन्दर जाता, तब मेरे पेट में एक अलग ही खलबली मच जाती.

‘आह्ह आशु अह्ह … उफ्फ धीरेरेए …’मेरा दूसरा हाथ उसकी चूत को सहलाने लगा था.

वो किताबें और ब्रा पैंटी मेरे हाथ ना लगे, इसीलिए वो मेरे साथ ज़िद करके आई थी. उसी ने बताया था कि जब भी किसी कुंवारी लौंडिया को चोदो, तो निरोध लगा कर चोदना. वो कहती कि तुम कैसे ब्वॉयफ्रेंड हो, जो अपनी ही बंदी को किसी और से चुदवाना चाहते हो.

सेक्सी ब्लू पिक्चर ब्लू पिक्चरजब उसे पहली बार चोदा था, तब भी उसने लंड को इतने शानदार तरीके से नहीं चूसा था. मैंने उससे कहा- रेणु तुम भी मेरे साथ ही नहा लो, वैसे भी तुम्हारे कपड़े गीले हो चुके हैं.

हिंदी सेकसी विडियो

रात को जब सोने की बारी आई तो भाभी ने मेरा बेड हॉल में लगा दिया और वो अपने कमरे में अन्दर चली गईं. मैं समझ गया कि इसकी कांख में से जो महक आ रही है उसे चाटने में कोई हर्ज नहीं है. [emailprotected]मेरी Xxx कामुकता कहानी का अगला भाग:सगे भाई के साथ सेक्स का आनन्द- 2.

मैंने मीना को गोद में उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया और खुद उसके ऊपर आ गया. कुछ मिनट में ही फिर मेरा लावा बह पड़ा और उसके लंड को जोर से भींचकर उसके ऊपर लेट गई. मैंने भी देर न करते हुए एक जोरदार धक्का लगाया और पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया.

और मैं निढाल सी भाई पर गिर गयी।भाई ने मुझे नीचे उतारा और खुद उठ गए।फिर मेरे सर के पास आकर अपना लंड मेरे हाथो में दे दिया और कहा- किस करो इसे!मैंने भाई के लंड को पकड़ा और उसे किस किया, फिर हल्का सा चाटा. रात को सनी की आंखें खुली तो उसने देखा कि उसका लंड ऋतु की चूत पर लगा हुआ है. साफिया बोली- और उसके बाद?फ़िरोज़ बोला- उसके बाद भी देखेंगे क्या होता है!तो यही कहानी है फिरोज और उसकी भांजी साफिया की चुदाई की!आपको कैसी लगी यह लॉकडाउन सेक्स कहानी? आप मुझे मेल करके बताइएगा.

मैं अपनी दोनों उंगलियों को और तेज तेज चूत में चलाने लगा और दूसरे हाथ से उनका एक दूध पकड़कर कसकर दबा दिया. मगर चाचा का लंड मुरझा गया था तो वो चाची के ऊपर से हट कर बगल में लेट गए.

भाभी अलसाई सी बोलीं- कुछ नहीं यार … वही सब, खुद को संतुष्ट करने की कोशिश कर रही थी.

मेरी चूत चाटने साथ साथ मनोज मेरी चुत के दाने को दांत से काट रहा था, उस समय मुझे हल्का सा दर्द भी होता था लेकिन मजे के कारण मैं कुछ नहीं कह रही थी. हनी सिंह सेक्स वीडियोसनी और ऋतु दोनों इस जोरदार चुदाई के बाद एक दूसरे की बांहों में पड़े हुए थे. बीपी वीडियो भेजोआप लोगों को मैं क्या बताऊं … जब मेरा लंड उनकी चुत में घुसा तब मुझे कैसा फील हुआ. सभी लोग डर डर कर एक दूसरे से मिल रहे थे और अमीर लोग सबसे ज्यादा डरे हुए थे.

पर चैट में उसने कहा कि शायद विजय ये पसंद न करे कि वो संजीव से चैट कर रही है।संजीव बोला- निश्चिंत रहो, मैं उसे कभी कुछ नहीं बताऊंगा.

मैंने सोचा था कि अभी घर पर कोई नहीं होगा, तो मैं किताब देख लेता हूँ. एक शाम मीना ने बताया कि कल उसकी मम्मी एक दिन के लिए दो बहनों के साथ कुछ काम से अपने घर मिर्ज़ापुर जा रही हैं. क्या तुम कपड़े खरीदने में मेरी मदद करोगी?वो मुस्कुराती हुई बोली- ये हुई ना लड़कियों वाली बात, लव यू धारा.

मम्मी की चुत किसी जवान लड़की की तरह टाईट थी क्योंकि लॉकडाउन की वजह से उन्होंने काफी दिनों से अपनी चुदाई नहीं करवाई थी. बहुत रिक्वेस्ट करने के बाद मैंने उससे कहा- ठीक है, पर एक मेरा काम करना पड़ेगा. मैंने नीचे हाथ डालकर उसके लंड को अपनी चुत पर लगाया पर मोहित ने अपना लंड हटा लिया.

दिसावर सट्टा आज की खबर

मैं चाची को पिछले तीन साल से चाहता था और उस दिन हिम्मत करके मैंने चाची को अपने दिल की बात बताई. ’मैंने दीदी को आईडिया देते हुए कहा- दीदी, आप अपने बालों से अपने आगे वाले हिस्से को छुपा लीजिएगा! अगर आपको इतनी दिक्कत है तो! आपके बाल इतने लंबे हैं उनमें वे आपके अच्छे से ढक जाएंगे!तब दीदी हंसती हुई बोली- भाई तुम एकदम पागल हो. वो मेरी मम्मी को इस तरह से चूम रहे थे कि मानो उन्होंने पहले कभी औरत देखी ही ना हो.

उन्हीं दिनों मैंने एक बार मीना से कहा- मुझे मंजू के साथ चुदाई करनी है, तुम कुछ मदद करो ना!मीना- अच्छा बता मैं तेरे लिए क्या करूं?मैं- कुछ एकांत जगह दिलवाओ ना!मीना- अच्छा देखती हूँ.

तो मैंने प्रिया की चुत की एक घंटे तक चुदाई की और हम दोनों तृप्त हो गए.

करीब 12 बजे भाभी उठीं और मेरे पास आकर बोलीं- अरे अभी तक सोये नहीं!मैंने कहा- मुझे गर्मी लग रही है. मैं झटके मार के लंड अंदर बाहर करने लगा और रेखा आंटी बुआ की चूत चाटने लगी।बुआ को तो जैसे जन्नत मिल गई थी उसकी आंखों में चमक आ गई और लंड को गपागप चूसने लगी. विधवा औरत कीमामा ने मामी का ब्लाउज खोलकर ब्रा उतार कर दूर फैंक दी और उनके बड़े-बड़े दूध दबाने लगे.

इतनी सुंदर औरत को चोदता हुआ मैं अपनी किस्मत पर फूला नहीं समा रहा था. नेहा- अरी तू चल तो सही!नेहा धीरे बुदबुदाई- साली, तेरे भाई के चलाए हुए खेल हैं, इसमें सब चुदेंगी. बात आगे बढ़ कर सेक्स तक कैसे पहुंची?सभी चुत वालियों को मेरे खड़े लंड का सलाम और सभी लंडधारियों को नमस्कार.

मैंने कहा- मोहिनी भी राज़ी है।अब मेरे घर जब भी शराब की महफ़िल होती, रात को स्वाति और शर्माजी हमारे घर रुक जाते. सोने का समय आ गया तो वो दोनों अपने कमरे में चले गए और मैं अपने कमरे में आ गया.

सर- आंह जानू लो माल आ रहा है … उउ उउह … ले खा ले रांड साली … माल पी ले चुत में … आह … हो गया रानी.

मेरी जांघें जब मीना की टांगों से टकरातीं, तो पट पट पट पट की आवाज आने लगी थी. वो मेरे घर पर अक्सर आया करते हैं और उनको लेकर मुझे शक तो पहले से ही था. मम्मी की चुत बैठने की वजह से खुली हुई थी और अन्दर से लाल लाल सी दिख रही थी.

अनुष्का सेन वीडियो क्षिति ने उस दिन पटियाला सूट पहना था, लाल रंग का कुर्ता ऊपर था और नीचे पीले रंग की सलवार थी. सनी से रहा नहीं गया और उसने अपना पूरा लंड बाहर निकाल कर अपनी सारी ताकत लगाकर जोर से धक्का मार दिया.

सच में जिस समय मैं दीदी को नंगी नहाती हुई देखता था तो मेरा लंड टनटना उठता था. जैसे चाचा मम्मी के सलवार में हाथ डालते थे, वैसे ही मेरा हाथ भी दीदी की सलवार पर चला गया. इसके बाद क्या हुआ, वो मैं आपको पोर्न मामी की सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगा.

हिंदी सेक्सी फुल मूवी वीडियो

”मैंने कहा- अरे साली रंडी, जब तुम मां ही नहीं बनी हो, तो दूध कैसे निकलेगा?वो कहने लगी- समझ लो न कि दूध निकल रहा है … आंह चूसो न खूब चूसो … मैं बिना बच्चा दिए ही तुम्हें दूध पिलाऊंगी … आह आह आह जान जल्दी जल्दी करो … मैं गई. मीना मेरे लंड के ऊपर हाथ फेरती हुई बोली- तू तो पूरा बड़ा हो गया है रे … और क्या क्या किया. सविता भाभी नई नौकरी के लिए अपनी सहेली की मदद से एक इंटरव्यू के लिए जा रही है.

उसका रंग गोरा, सुनहरे बाल, लाल होंठ, पतली कमर, बूब्स का साइज़ 32B, चूतड़ों का साइज़ 34 इंच … वो अपने आपमें कमाल का माल है. फिर कल रात में जब तुम मेरे बूब्स दबा रहे थे, तो क्या मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था?मैंने तभी उसके हाथ को टच किया और उसे अपने पास खींच कर उसके गाल पर किस कर लिया.

मैंने उसकी चूची को ऊपर से दबाया, उसकी चूत को साड़ी के ऊपर से सहलाते हुए बोला- इसकी प्यास मैं बुझा कर रहूंगा।उसने भी मेरा मजा लेते हुए कहा- अच्छा जी, देखते हैं बुझा पाओगे कि नहीं।मैंने सोचा था कि उसी रात में हमारे बीच कुछ ना कुछ हो जाएगा.

देसी सेक्सी हॉट गर्ल कहानी के पहले भागखेल खेल में लड़कियों के साथ मजा कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं मंजू को छत पर ले गया था और उसके मम्मों से खेलने लगा था. इस बार जीजू ने कुछ नहीं कहा और अपना लंड फिर से मेरी चुत में फंसा दिया. थोड़ी देर बाद बहुत तेज बिज़ली कड़की, तो मैं हिल गया और मेरा लंड एकदम से उनकी गांड में घुस गया.

एक साथ सिसकारते हुए दोनों झड़ गए और सनी उसकी चुचियों पर ढेर हो गया. उसने बिना देर किए मेरी दोनों टांगें खोलीं और मेरी चुत को मुँह में ले लिया. मुझे हर बार सेक्स के बाद भी कुछ करते रहना पसंद है, तो मैं उसकी चूत में उंगली फंसा कर कुछ देर वैसा ही लगा रहा.

चाची का चेहरा देख कर कोई भी बता सकता है कि मेरी चाची को चाचा जी अच्छे से संतुष्ट नहीं कर पाते होंगे.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीएफ वीडियो: उस दिन मुझे दोपहर में कॉल आया कि हमारी गाड़ी में कुछ प्रॉब्लम हो गई थी इसी लिए उन्होंने मुझे स्लीपर वाली एक लग्जरी बस के टिकट दे दिए जो कि काफी महंगा था. सबने पी लिया और सलीम बोला- तू आज यहीं रूकेगा।मैं भी जल्दी मान गया और एक एक पैग और लेकर तीनों नफीसा के बेडरूम में आ गए।तभी नफीसा कपड़े बदलने चली गई.

फिर अलग होकर सांस ली, एक बार हम दोनों की नजरें मिलीं और फिर से होंठों से लग गए. यह मेरी और नीता की सुहागरात थी और उस रात मैंने पांच बार नीता की चुदाई की. अब अभिषेक ने मुझसे बोला- जैसे यह तुम्हारा लन्ड चूस रही थी वैसे ही अब तुम इसकी चूत को चाटो।मैं अपना मुंह उसकी चूत के पास ले गया तो मुझे बहुत ही अच्छी खुशबू आ रही थी.

दोनों आहह आहहह आहह आहहह आहह करके चुदाई का मज़ा लेने लगे।थोड़ी देर बाद सलीम ने लंड बाहर निकाल लिया और एक जोर की पिचकारी नफीसा के पेट में छोड़ दी।और नफीसा की साइड में लेट गया।अब मैंने नफीसा को बिस्तर पर लिटा दिया; उसकी गान्ड के नीचे तकिया लगाया और अपना लन्ड चूत में घुसा कर गपागप गपागप चोदने लगा.

कुछ देर बाद मैंने अपने जीभ उसकी नाभि में डाली तो उसके मुंह से आह हहह … उई इशह … ओह … उफ! इस तरह की सिसकारियां निकलने लगी. अब तक हमारे कपड़े भी सूख गए थे, तो सबने अपने अपने कपड़े पहने और घर चले आए. अंजू- एक बात पूछू, ये मंजू को क्या हुआ है?मैंने चौंककर पूछा- क्या हुआ?अंजू- कुछ नहीं, वो मीना दी के घर से आकर सो गई.