हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू बीएफ भोजपुरी

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी नंगा का वीडियो: हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ, पहले तो उसने मना किया फिर बहुत कहने पर उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया। मेरा मजा सातवें आसमान पर पहुंच गया था.

दुबई वाला बीएफ

अब वो अपना लंड डालना चाहता था, तो उसने थोड़ा तेल अपने लंड पर लगाया और थोड़ा मेरी गांड पर लगा कर छेद को फैला सा दिया. सुहागरात के बीएफ सेक्सी वीडियोवो दर्द से कराहने लगी लेकिन मैंने धीरे-धीरे अपना लंड उसकी चूत में चलाना शुरू कर दिया ताकि उसकी चूत में उसको मजा आने लगा.

मेरे भैया एक कंपनी में काम करते हैं।भैया की शादी को दो साल हो चुके हैं। मेरी भाभी की उम्र 24 साल है. बीएफ सेक्सी छोटी बच्चियों कीफांकों को भींचते हुए उसने अब अपनी उंगली चूत के अन्दर डालती, फिर वही उंगली मुँह में लेकर चूसती और फिर चूत के अन्दर पेल देती.

अभी तक उसने ड्रेस भी चेंज नहीं किया था और थोड़ी मदहोश भी हो गयी थी। उसका सर मेरे सीने पर था और उसके सारे बालों से उसका चेहरा ढका हुआ था.हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ: अब मैंने उसके पूरे मम्मे को मसलते हुए मुँह से तेज तेज चूसना शुरू किया.

फिर मैंने प्यार से उसके मुंह को पकड़ा और उसको होंठों को पूरा का पूरा अपने मुंह में ले लिया ताकि बाहर किसी तरह की आवाज न निकल सके.रीना ने मेरी आँखों में वासना का अनुभव किया फिर इतराते हुए बोली- उन्होंने मेरी कुर्ती उतार दी, मैं गुलाबी ब्रा में थी। वो पागलों जैसे मेरे बूब्स दबाने लगे, फिर मेरी ब्रा खोल दी और मेरे बूब्स चूसने लगे, मेरे निप्पलों को हल्के हल्के चाटने लगे और बीच-बीच में काटने भी लगे.

बीएफ वीडियो कुत्ता और लड़की - हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ

अंदर आने के बाद मैं मेन डोर बंद कर दिया और उसके बाद उसको अपने बेडरूम में ले गयी.मैंने कहा- भाभी प्रोटेक्शन नहीं है, आप प्रेगनेंट हो गयी तो?वो बोलीं- होने दो … उसी के लिए तो सोयी हूँ तुम्हारे नीचे.

जब मैंने अपनी सहेली शाहीन को ये बताया कि मुझे लड़के देखना अच्छा लग रहा है. हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ जब तक मैं वहां पर रहा मैंने भाभी की चूत को चोद-चोद कर चौड़ी कर दिया.

अब तो मैं रोज छत पर जाकर उसे देखने लगा और शायद ये बात उसने भी नोटिस कर ली थी.

हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ?

कुछ देर बाद उसके नर्म होंठ मेरे गालों को छू कर निकल गए और अपनी लिपस्टिक का निशान छोड़ गए. अब शादी आ गई है तो अपना वादा भूलना नहीं और पूरे परिवार के साथ चार-पांच दिन पहले पहुँच जाना और शादी की जिम्मेदारी संभालो आकर!मैं भी बहुत उतावली हो रही थी अपने भाई की शादी में जाने के लिए तो मैंने चाचा और चाची को बोला- ठीक है, हम सब पांच दिन पहले पहुंच जाएंगे. यह बच्चा मामा का ही था, लेकिन ऐसा मैनेज किया गया कि किस अंजान लड़के की जिम्मेदारी आ जाए.

उसके बाथरूम में होने के समय मैं रोज उसके नाम से 4 से 5 बार मुठ मारता था. उसने मुझको बेडरूम में चलने के लिए बोला और हम दोनों बेडरूम में आ गए. रात की चुदाई से मेरी बॉडी में जो अकड़न आ गई थी अब वो रिलैक्स होने लगी थी.

इस घर में रहने वाली मैं टीना रांड का आज से तू मालिक है … चोद दे चोद दे … ठोक दे उइ इ इ आह. मैंने दरवाजा खटखटाया, तो उसने अन्दर से आवाज दी- कौन?मैंने कहा- मैं हूँ. जिस कारण नताशा वहां और रुकने की इच्छा जाहिर कर रही थी, मैं उसकी बात मान गई हूँ.

मैं पहले से ही सारी तैयार देख कर जरा चौंका और मैंने कहा- क्या बात है, यहां तो पहले से सब तैयार है?राधिका- मेरे राजा ये सब तुम्हारे लिए ही किया है. उन दोनों से इतनी खुली बातें होने के बाद मेरा मन धीरे धीरे फिसलने लगा था कि कैसे इनको बोलूं कि मेरा मन क्या चाहता है.

उसने मेरे सोये हुए लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया और फिर पता नहीं कब मेरी आंख लग गयी.

पर मैं ध्यान दिए बिना अपनी जीभ चलाता रहा, जब उसने मूतना बंद कर दिया, तो मैंने उसकी चूत को भी साथ ही चाटना शुरू कर दिया.

मैंने उसके मुंह को अपनी तरफ किया और जोर से उसके होंठों को चूस लिया. नींद खुलने के बाद जल्दी से उसने अलमारी से निकालकर पैन्टी-ब्रा, पेटीकोट ब्लाउज और साड़ी पहनी. मेरी रंडी छिनाल, गुलाम बनी है, तो फिर तुझे अपने मालिक का हुकुम तो मानना ही पड़ेगा ना.

परवीन मेरे लंड को अपने दांतों से एक बच्चे की तरह हल्का हल्का काटने लगी थी और मुझे जन्नत का मजा करा रही थी. वो तो बस लंड चूत में डाल कर 4 से 5 मिनट चोद कर शांत हो कर सो जाते थे. फिर मैंने उसके पैर को कंधे से नीचे सरकाया और एक हाथ से जांघ को पकड़ कर उसके होंठों को किस करते हुए धक्के मारने लगा.

चाची- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और कितना तड़पाएगा, डाल दे रे जीशान, अब रहा नहीं जा रहा है.

येलो कलर का लॉन्ग कुरता, उसके नीचे ऊंचा प्लाज़ो पैन्ट टाइप और बालों में फंसा धूप का चश्मा. हम दोनों की आंखें मिली तो उसको पता चल गया कि मैं चेंज करने वाली हूं इसलिए बोला- मैं बाहर जाता हूं आप चेंज कर लीजिए. उनकी वैसे तो 5 बच्चे थे, पर उनकी एक लड़की, जो लगभग 18 साल की गदराये शरीर की मालकिन थी, वो बहुत मस्त माल थी.

मैंने अपनी जीभ की टो चूत के मुहाने पर लगा दी ताकि उसका वो सफेद गाढ़ा रस सीधा मेरी जीभ पर गिरे. मैं अपनी कहानी में आपको बताउंगी कि अपने पापा के दोस्त के लड़के से मेरी की दोस्ती हुई, कैसे हम दोनों ने एक दूसरे के साथ सेक्स किया, मैं अपने पापा के दोस्त के लड़के से चुदी. लगभग 3-4 मिनट ऐसा करने पर अब नैना भी हिल रही थी और मेरे ताल से अपनी ताल मिलने की कोशिश कर रही थी.

मैं काम के नशे में चूर थी, उसने कब मेरे मुँह के अन्दर लंड डाला और कब मैं लंड चूसने लगी, कुछ पता ही नहीं चला क्योंकि ये काफी जल्दी हुआ.

उसी समय मामी के घर का लैंड लाइन वाला फोन बजा तो मामी मुझसे बोलीं- एक मिनट रुको यार … मुझे फोन तो सुन लेने दो. मैं कमरे में अन्दर गया, तो देखा मेरा रूम एक सुहागरात की तरह सजा हुआ था और मधु भी एक साड़ी में दुल्हन की तरह मेरा वेट कर रही थी.

हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ साहिल ने हीना के सिर को पकड़ लिया और उसके मुंह को चोदने लगा और मजे में सिसकारने लगा- उम्म्ह… अहह… हय… याह…फिर साहिल ने हीना की चूचियों को भींचना शुरू कर दिया. उसके बाद मैं चौकीदार के पास आकर बैठ गया। दस मिनट बात करने के बाद चौकीदार हर रोज की तरह मूतने चला गया और मैंने उतने वक्त में ही कंचन को बुला लिया.

हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ उसके मुँह से थूक बह कर मेरे लंड को सराबोर कर रहा था, पर वो उसी थूक को ले कर दोनों हाथों से मेरे लंड की मसाज कर रही थी. मन करता कि बस आँखें बंद करके लेट जाऊं और अपना क्लाईटोरिस या मोती सहला लूं और झड़ जाऊं.

मेरे लिए हर किसी के साथ सेक्स कर पाना या सेक्स चैट कर पाना संभव भी नहीं है.

बीएफ बनिया

जब मैंने जीभ अंदर डाली तो उसने अपनी टांगें उठाईं और मेरे कन्धे पर रखते हुए मुझे अपनी टांगों के बीच में जकड़ लिया. मुझे ये बात तो पता थी कि मुस्कान के रहते, मैं शिशिर से नहीं चुद सकती थी. मैं और शिशिर हम दोनों लोग जब भी अकेले में मिलते थे, तो एक दूसरे से खुल कर बात करने लगे थे.

भाभी की उम्र करीब तीस साल के आस पास की रही होगी, क्योंकि उसका एक आठ साल का बेटा भी था, मैंने अंदाजा लगाया. मेरे कूल्हे ज्यादा बड़े होने की वजह से निहारिका के कूल्हे बिल्कुल उभर आए थे. मैंने पूछा- तुम्हारी पढ़ाई कैसी चल रही है और आज क्यों नही गयी कॉलेज?इस तरह की बोरिंग सी बातें करता रहा मैं पुष्पिका के साथ और उसको मेरी बातों का जवाब देना पड़ रहा था.

इसी बीच नम्रता ने अपनी उंगली पर बहुत सारा थूक उड़ेला और फिर अपने चूत की मालिश उसी थूक से करने लगी.

मैं मुनव्वर को लेकर घर पहुंचा तो कौसर कहने लगी- हमारे कमरे में मैंने छिपकली देखी है. इतनी ही देर में मेरा बस स्टॉप आ गया और मैं उसे लेकर मेरे दोस्त के घर आ पहुंचा. उसने मुझसे मदद मांगी, तो मैंने भी बहुत प्रयास किया, लेकिन गाड़ी नहीं चालू हुई.

उसने कहा- कैसा मजा … मस्त वाली फ्रेंड है क्या?मैंने कहा- वो तो समय आने पर ही बताऊंगा. क्या चूस रही थी आंटी मेरे लंड को बड़े ही मस्त तरीके से, जैसे ब्लू फिल्मों में चूसते हैं।एकदम से रंडी की तरह चूस रही थी वो मेरे लौड़े को। उसके मुंह ने मेरे लंड की ऐसी चुसाई की कि दो-तीन मिनट में ही मैंने अपना सारा पानी उसके मुंह में छोड़ दिया. दोस्तों मेरी यह सेक्स कहानी मेरी कामवाली और मेरे बीच हुई चुदाई की है.

शान्ति ने मेरी तरफ देखा जैसे कुछ कहना चाह रही हो लेकिन कह नहीं पा रही हो. लेकिन उसने मुझको अपने पास भी आने नहीं दिया, वो हर बार बोलती रही कि रात तक सब्र करो.

लंड को उसकी चूत की फांकों से लगा दिया और चूत को अपने लंड से सहलाने लगा. चूंकि दिशा (साली) जीत गई थी, इसलिए नियमानुसार मुझे उसका टास्क पूरा करना था. मैं अपने मुँह में सुपारे को लेकर चूस रही थी और एक हाथ से लंड को पकड़ कर गोल गोल घुमा रही थी.

मैं बोर हो जाती हूं, इसलिए सोचा आज तुम्हारी छुट्टी होगी, तो क्यों ना तुमको बुला लूँ.

मैंने उसकी टी-शर्ट को निकाल दिया और देखा कि उसने अन्दर कुछ नहीं पहना था. मैं वहीं पर खड़ी होकर अपने कपड़े बदलने लगी, सबसे पहले साड़ी उतारी फिर अपने शरीर को पौंछने लगी. अपना एक भी कपड़ा नहीं उतारा?तो मैंने भाभी की तरफ इशारा किया कि ये तो आपका काम है.

जिस नंगी किताब के बारे में उसने मानसी को बताया वह सिर्फ मेरे अलावा किसी और को नहीं पता थी. मैंने अपना लण्ड उसके मुंह में दे दिया तो मजे से चूसने लगी, कुछ देर में बेबी थक गई तो बोली- कितनी देर लगाओगे?अभी कहाँ?”मेरी जान लेनी है क्या?”नहीं, गांड लेनी है.

मेरे ससुराल जयपुर से मेरा पीहर लगभग साढ़े तीन सौ किलोमीटर दूर है, अभी मैं आधी दूरी ही तय कर पाई थी तब तक शाम के पांच बज चुके थे और मावठ की बरसात की बूंदें गिरनी शुरू हो गई. उसका लंड सिर्फ पांच इंच का था। वह आदमी मेरी मां के बूब्स मसलने लगा और मेरी मां उसके लंड को हिला रही थी. ”मोहरे जैसी कोई बात नहीं वसुन्धरा जी! सभी, आप के मम्मी-पापा और मैं भी, मैं खुद भी चाहता हूँ कि आप एक खुशहाल और भरी-पूरी जिंदगी जियें.

छोटे बच्चे बीएफ

मैंने दो तीन मिनट तक ऐसे ही मैम को चोदा, उसके बाद अपना लंड बाहर निकाल दिया और उसे घुमाकर अपने सामने खड़ा कर दिया जिसे उसका मुँह मेरे सामने रहे.

भाभी ने दूसरी नेट वाली ब्लैक कलर की साड़ी पहनी हुई थी, साथ ही लाल रंग का स्लीवलैस ब्लाउज पहना हुआ था जिसका गला बहुत ही ज्यादा खुला था. इसका एक कारण भी था, सुमन भाभी के पति उनसे बहुत रहते थे और शायद उनको सेक्स की भूख परेशान करती होगी. एक बार मैं गर्मियों के दिनों में छोटी मौसी के यहां दस दिनों के लिए गया था और मेरी बहन भी उन दिनों वहीं पर थी.

असली कहानी यहीं से शुरू होती है क्योंकि मेरी बुआ जी की लड़की बचपन से ही मेरी दोस्त रही है. मैं- अगर तुम्हारे शेर ने तुम्हारी चूत के साथ-साथ तुम्हारी गांड में भी लंड पेला तो?नम्रता- मैं कोशिश करूँगी कि अभी कुछ दिन वो मेरी गांड में हाथ भी न लगाये, फिर भी अगर उसने मेरी गांड मारने का मन बना लिया, तो जो होगा देखा जाएगा. बीएफ हिंदी सेक्सी इंडियनमैंने मामले की नज़ाकत समझी और वसुंधरा के निकट एक घुटना ज़मीन पर टेक कर बड़े सब्र से, धीरे-धीरे एक-एक रेशा खींच कर नाड़े की गाँठ खोलनी शुरू की.

उन्होंने अंदर कुछ नहीं पहना था इसलिए वो पूरे नंगे हो गए।जैसे ही अंकल की लुंगी खुल गई उनका लंड मेरी मां के सामने आ गया। मेरी मां उसे देखती रह गई. मैंने अन्तर्वासना की इतनी कहानी पढ़ी हुई थी कि मुझे माल जैसी भाभी के बाजू में लेटे होने के कारण नींद नहीं आ रही थी.

किस करते करते मैंने हाथ उसके टॉप में डाल दिया और उसके 34 के बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा. अब उन्होंने मेरी मां को गद्दे पर लिटाया और खुद उसके ऊपर लेट गए। कभी बूब्स मसलते-मसलते वह मेरी मां की गांड और चूत सहला देते।अब कुछ देर मेरी मां को गर्म करने के बाद उन्होंने अपने मोटे लंड का सुपारा मेरी मां की चूत पर रखा और दबाने लगे. दूसरे दिन जब मैं और मम्मी उनके घर गईं, तो आंटी बहुत शांत शांत सी थीं.

स्कूल की छुट्टी होने तक मैं अपना काम करता रहा और फिर घर आ कर सो गया. मेरी पूरी बॉडी पर तेल लगा हुआ था जिसके कारण मेरी काया शीशे की तरह चमकने लगी थी. लो चाय पी लो वर्ना ये ठंडी हो जाएगी।मैं- पुष्पिका, भाई कहां है?पुष्पिका- वो दोनों तो कॉलेज चले गए.

मगर जिसने भी लंड मुंह में देकर चुसवाया है वो जान पाएगा कि मुझे उस वक्त कैसा लग रहा होगा.

पूरा लंड एक बार में अन्दर जाते ही सीमा की आह निकल गई- आह … सी … क्या जान लेने का मन है … राजा जरा धीरे पेलो … तुम्हारा मूसल बहुत बड़ा है. जी … कहिये?”हुआ क्या था कि जल्दी-जल्दी करने की हड़बड़ी में वसुंधरा ने लहंगे के नाड़े में गाँठ लगा ली थी.

कभी मैं मम्मों को दबाता, कभी मुँह में भर लेता, कभी होंठ चूसने लगता. फिर अब्बू बोले- पर तू ये तो बता कि तू मेरे कमरे में मेरे पलंग पर क्यूँ सोयी थी? और अहमद की अम्मी कहाँ है. शादी के बाद भी उसके फोन आने लगे, तो मैंने मना कर दिया … ताकि उसे कोई मुसीबत ना आ जाए.

आज भी जब मुझे कभी अपने दोस्त की याद आती है, तो मैं उसे फोन पर बातें कर लिया करता हूं. मेरी सेक्सी कहानीदोस्त की शादी मेरी सुहागरातको पढ़ने के बाद कानपुर की ही एक भाभी का मेल आया था. वो ‘आह हम्मम्मय सीसीईई हम्ममम हम्म…’ की आवाजें निकलते हुए जर्क लेते हुए झड़ रही थी … इस वक्त वो कांपते हुए झड़ रही थी.

हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ तो मैंने बेड को जोर से पकड़ कर और दांतों को भींच कर उनके धक्के का जवाब देते हुए अपने चूतड़ों को भाई के लण्ड पर धकेल दिया। पूरा का पूरा तीन इंच मोटा लण्ड मेरी गांड के छोटे से छेद को तहस नहस करता हुआ गांड में घुस गया।मुझसे दर्द सहन नहीं हो पा रहा था; मेरी आँखों से आंसू निकल रहे थे. मैंने अपने एक हाथ से उसके चेहरे को टच किया, तो वो अचानक से जाग गयी.

सेक्सी बीएफ हिंदी सील पैक

वो अपनी गर्म चूत पर मेरे हाथ का स्पर्श पाते ही एकदम से सिसक पड़ी- आह!मैं एक दूध चूस रहा था और दूसरा दबा रहा था. अब मेरी भी रफ्तार बढ़ चुकी थी और चूत रस से पूरी चिकनी हो कर चमक रही थी. यात्रा के दिन जब मैं निश्चित समय पर बस में चढ़ा तो मैंने एक सरसरी निगाह से सारे यात्रियों को देखा और मेरी नज़र मेरी सलहज पर गई.

बीच में ब्रेक लगाने पे वो मेरे ऊपर आ जाती थी, जिससे उसकी चूचियां मेरी पीठ से दब जाती थीं और मैं इसका पूरा मजा ले रहा था. वह कह रही थी- काश तुम मेरे पति होते … मैं तो रात भर तुमको सोने नहीं देती मेरे राजा … रात भर तुम्हारा लंड लेती रहती. हॉट सेक्सी व्हिडिओ बीएफ”फिर मेरा चेहरा अपनी जांघों के बीच में लेके उसने लौड़ा मेरे मुंह में दे दिया। मैं चूसने लगी।तभी अंशु आ गयी।अंशु कल कामिनी की मम्मी को बुला ले!”क्यों उनका यहां क्या काम?”अरे उसकी बेटी से हम दोनों शादी करेंगे तो उसके सामने करेंगे न!”वो मान जाएगी? कुछ गड़बड़ न हो जाए?”तू चिंता मत कर वो बहुत खुश होगी.

कभी जोक भेज देता व्हाट्सएप्प पर और कभी फ़ोन पर भी मजाक करता था।एक दिन मैंने उससे ऐसे ही पूछ लिया- तुम्हारी गर्लफ्रैंड कैसी है?सौरव- मेरी तो कोई भी गर्लफ्रैंड है ही नहीं।मैं- झूठ मत बोलो, इतने हैंडसम हो और कोई गर्लफ्रैंड नहीं है?सौरव- हाँ सच में कोई नहीं है.

मुझे लण्ड शब्द विशेष प्रिय लगता क्योंकि इस शब्द की साउंड में, ध्वनि में एक विशेष शक्ति का भाव निहित लगता था; फिर मैंने समझा कि जिन शब्दों के अंत में ण्ड, आधा ण और ड होता है वे शब्द अत्यंत प्रभावशाली और होते ही हैं जैसे लण्ड, दण्ड, प्रचण्ड, खण्ड, घमण्ड, ब्रह्माण्ड, मार्तण्ड इत्यादि. चूंकि दिशा (साली) जीत गई थी, इसलिए नियमानुसार मुझे उसका टास्क पूरा करना था.

फिर उसके बाद जब भी मैं मामा के घर जाता और हमें मौका मिलता तो हम दोनों एक-दूसरे को खुश कर दिया करते थे. दस बारह मिनट की चुदाई में दीदी दो बार झड़ चुकी थी और अब मैं भी झड़ने वाला ही था. उन्होंने मुझसे कहा कि आपको मेरे से जो कुछ चाहिये हो, तो बेझिझक बोलो … मैं दे दूंगी.

कारण आप अच्छी तरह समझ सकते हैं।कल सुबह-सुबह मैंने उसे सुहाना के साथ हाथ में टेनिस रॅकेट पकड़े स्टेडियम ग्राउंड जाते देखा था। आप को बता दूँ कि मैं भी टेनिस का बहुत अच्छा खिलाड़ी रहा हूँ.

थोड़ी देर बाद मेरे कान के पास आकर बोली- भाई मेरा भी मन करता है लेकिन किसी को पता न चल जाये इसलिए ख़ानदान की इज्जत की वजह से मैं हमेशा अपने ऊपर कंट्रोल कर लेती हूं। आप मेरे भाई हो इसलिए मैंने आपको ये सब बात बता दी। लेकिन हमारे बीच में ऐसा कुछ नहीं हो सकता. परीशा एकदम से बेचैन हो जाती है और जवाब में वो अपना लिप्स को अपने पापा के लिप्स पर रखकर उसे चूसने लगती है।एक हाथ से मुकुल राय परीशा के बूब्स को मसल रहा था और दूसरे हाथों से वो परीशा की चूत को सहला रहा था. कुछ भी गलत महसूस नहीं हुआ, बल्कि ऐसा करके मुझे उसे खुश करने का दिल किया.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स वीडियोअब उसे भी मजा आने लगा था और अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थी।हम दोनों दस मिनट तक चुदाई करते रहे. चाची- अब तुमसे क्या छिपाऊं देव, तुम्हारे चाचा का लंड एक तो बहुत ही छोटा है.

बीएफ सेक्सी 4 साल

मैंने शर्म से आँखें फेर लीं और अपनी गर्दन दीवार की तरफ करके परे देखने लगी. राहुल को सोचते देख संगीता हंस पड़ी, बोली- क्यों पहले कभी कोई लड़की नहीं देखी? चलो अब शुरू हो जाओ. बाद में मेरी सहेली ने मुझे बताया कि बहुत स्मार्ट है तुम्हारे पापा के दोस्त का बेटा!उसके बाद मेरे पापा के दोस्त का बेटा रोज मेरे घर आने लगा.

असल में उसे राहुल से ये समझना था कि वो चूंकि अभी बच्चा नहीं चाहती तो वो क्या उपाय करे. और इतना कहकर मुकुल राय एक पल में अपना हाथ नीचे ले जा कर परीशा की चूत को अपनी मुट्ठी में थाम लेता है। परीशा के मुख से एक तेज़ सिसकारी निकल पड़ती है।फिर धीरे धीरे वो अपना हाथ परीशा की पैंटी के अंदर सरका देता है और उसके क्लिट को अपनी उंगली से मसलने लगता है. अभी तक आपने पढ़ा कि लॉज के मैनेजर नेजीजा के साथ मेरी चुदाईकी आवाजें सुन लीं और वो दरवाजा खोल कर अंदर आ गया.

उसने एक साड़ी दी, मैंने भी खुश होते हुए साड़ी ले ली और ‘थैंक्स कहना शरद को …’ ऐसा कहा. इस बीच मैंने अपनी पैन्ट की चेन खोलकर लण्ड बाहर निकाल कर उससे कहा- अब राजा रानी का मिलन मुनासिब नहीं इसलिये तुम मुंह से और हाथ से मेरा डिस्चार्ज करा दो. आप अपने घर पर बोलो कि तुम और मधु एक साथ लन्दन जा रहे हैं और उसके बाद मधु को हमारे घर छोड़ दो.

मैंने देखा कि उनकी चूत पे एक बाल नहीं था, यानि कि भाभी चुदाई करने का आज पूरा मूड बना के आयी थीं. चूंकि भाभी ने खुद भी पूरे 4 साल बाद सेक्स किया था, तो भाभी को भी बहुत तेज दर्द हो रहा था.

मैंने अन्तर्वासना की इतनी कहानी पढ़ी हुई थी कि मुझे माल जैसी भाभी के बाजू में लेटे होने के कारण नींद नहीं आ रही थी.

उन्होंने मेरी आवभगत की और बातचीत करते हुए मैंने अपने आने का कारण बताया. एचडी के बीएफ सेक्सी वीडियोमैंने उसके सर को दीवार में दबाये हुए पूछा- यू लाइक इट हार्डर (तुम्हें तो जंगली सेक्स पसंद है न)उसने हांफते हुए कहा- हां … हम्म … आई लाइक इट हार्ड (जंगली तरीके से करना मुझे पसंद है)मैंने उसके बालों को हटा के उसकी गर्दन पे किस किया. बीएफ सेक्सी फिल्म ब्लू फिल्म सेक्सीमैंने ओके कह कर ये बात कह दी- नहीं, कोई बात नहीं है, शाम को मेरे फ्लैट पर ही मिलते हैं. वो बोली- बाबू … बहुत जानदार लौड़ा है तुम्हारा!मैंने उसे पकड़ कर उठाया और सोफे पर बैठा कर उसकी टांगें उठा कर अपना मुँह उसकी चुत पर रख दिया और जीभ से उसकी चुत को चूसना शुरू कर दिया.

उन्होंने भी अपनी बांहें मेरे गले में डाल दीं और मेरे बदन पर झूल गयी.

थोड़ी सी सैट की हुई दाड़ी, कान में बाली, चौड़ा सीना, मोटे मोटे मसल्स वाले हाथ … मैं तो उसे देख कर एकदम मदहोश होने लगा. मैंने दोनों हाथों से उनकी चूचियाँ मसलनी शुरू की और दनादन धक्के देने लगा। बहुत दिनों बाद चूत में लण्ड जा रहा था तो बड़ा मजा आ रहा था। चंडीगढ़ जाने के बाद तो मेरे लिए जैसे चूत का अकाल ही पड़ गया था। वहां की सारी कसर मैं अभी भाभी की चूत में निकाल रहा था।भाभी की चूचियों को पकड़ पर भींचते हुए मैं अपने लंड को भीगी हुई गीली भाभी की चूत में पेलने लगा. इतनी मस्त औरत के बेटे से दोस्ती जो की है उसने।मां बाथरूम की ओर गई और अपनी चूत से अंकल का माल निकालने लगी लेकिन काफी देर हो चुकी थी.

उसे देखकर लग रहा था कि साथ लेकर घूमने लायक तो नहीं, मगर ये बंद कमरे में चोदने लायक जरूर हो सकती है. लण्ड अब मेरे कंट्रोल में नहीं था। वो झुक कर अपनी चूत में साबुन लगाने में मस्त थी। मैं चुपके से अंदर घुस गया। साथ में पाजामा और अंडरवियर भी उतार लिए। वो तो झुकी हुई थी और पीछे से मैंने अपना लण्ड उनकी उभरी गांड पर टिका दिया।वो अचानक से हुई मेरी इस हरकत से घबरा गई और मेरी तरफ घूमी. मैंने उससे पूछा- तुमने अपने लिए नहीं बनाई?वो बोली- बनाई है बाबू जी, बाहर रखी है, मैं वहीं पी लूँगी.

बीएफ एचडी मोटी

अब मैडम ने कहा- बहुत देर हो जाएगी इन लोगों को तो … अब हमें यहाँ से चलना चाहिए. सीमा भाबी गुस्से से कहने लगीं- देव, तुम्हें इस तरह मेरे कमरे में अन्दर आकर मुझे देखते हुए शर्म नहीं आई?मैं- भाबी सॉरी … वैसे भी मैंने आपको आवाज़ दी थी. पहले तुम मेरे साथ सेक्स इंजॉय करोगे, उसके बाद मेरा पति मेरे साथ सेक्स इंजॉय करेगा.

मैं उसके होंठों तो चूमने लगा और उसके होंठों को थोड़ा सा काट भी लिया फिर मैंने सुमन का टॉप उतरा और उसके बूब्स को ब्रा से भी आजाद कर दिया और मुँह में लेकर चूसने लगा वो मदहोश होये जा रही थी थोड़ी देर बाद मैंने उसके जीन्स भी उतार दी और उसने भी मेरे कपड़े उतार दिए.

मुझे मालूम था कि मेरा साइज 38 है फिर भी मैंने 36 साइज का बॉक्स खोला, ब्रा निकाल कर पहन ली.

दोस्तो, मैं अंजलि शर्मा एक फिर से वापस आई हूँ अपनी आगे की कहानी लेकर. वो मेरी गर्दन में हाथ डाले हुए थी और अपने पैर मेरी कमर से लपेटे मेरे बदन से चिपकी हुयी थी. बीएफ हिंदी में बीएफ वीडियो बीएफमैं- मधु अब से तुम भी मेरी बीवी हो और जितना हक़ रश्मि का है, उतना ही तुम्हारा है.

मेरा लंड एकदम गबरू जवान फनफनाता हुआ मूसल सरीखा है, आज ये जिसकी भी चूत लेता है, उसकी मां चोद देता है. तो उसने फटाक से मेरा लंड मुँह से बाहर निकाला और कहा- वहां कोने में गिरा दो. करीब 7-40 पर इंदौर पुणे सुपरफास्ट ट्रेन आई, उसी में मैं पीछे लोकल डिब्बे में बैठ गया.

मैंने उनके होंठों को अपने होंठों से दबाते हुए ज़ोर से काट लिया … वो चिल्लाने लगीं. अम्मी बोलीं- ऐसा मत कहिये, अभी तो आप जवान हैं, दूसरी शादी कर लीजिये.

वो रात को ब्रा नहीं पहनती थी, जिससे सुबह के समय उसके चुचे खुले ही आज़ाद हिलते हुए खेलते रहते थे.

मैं बाइक पर आगे होने की वजह से कुछ ज्यादा ही भीग गया था, जबकि उसके कपड़े कम भीगे थे. मगर काजल को जैसे मेरे लंड के साथ-साथ मुझे भी तड़पाने में आनंद आ रहा था, इसलिए वो आराम से अपने हाथ को मेरे लंड पर रखे हुए थी. मेरा लंड लोअर में से ही उसकी मुलायम गांड की दरार में दस्तक दे रहा था.

पंजाबी सेक्सी वीडियो बीएफ बीएफ उसके बाद उसने मेरी ब्रा का हुक भी खोल दिया ओर मेरी ब्रा भी उतार दी. मेरा मन तो कर रहा था कि उसके लंड को हाथ में पकड़ लूं लेकिन अगर मैं ऐसा करती तो वह मेरी चुदाई कर देता.

जैसे ही मैंने उनकी चुत पर अपना मुँह रखा, वो एकदम से उछल पड़ीं और उन्होंने मेरा मुँह अपनी जांघों में दबा दिया. जब उसे पहली बार देखा, तो देखते ही मन कर रहा था कि इसे अभी पकड़ कर चोद दूं. भाई ने फिर मेरे निक्कर को भी निकाल दिया और मेरी पैंटी को खींच कर फाड़ दिया.

जिओगेम्स बीएफ

उन्होंने बहुत देर तक मेरी जांघों को स्कर्ट के अन्दर हाथ डाल कर मसला. करीब 20 मिनट तक हम लोग किस करते रहे और साथ साथ मैं उसकी दोनों चुचियों को भी दबा रहा था. हम दोनों ही रेलवे में काम करते थे लेकिन ये नहीं जानते थे कि हम एक सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी अन्जाने में एक दूसरे से बात कर रहे हैं.

दस मिनट में ही उसकी चूत ने मेरे वीर्य को मेरे अंडकोषों से बाहर खींच लिया और मेरा लंड उसकी चूत में वीर्य की पिचकारी मारने लगा. जोधपुर वापस आने के बाद भी हमें जब भी मौका मिलता, हम कभी उनके रूम पर या मेरे रूम में दो जिस्म एक जान हो जाते थे.

इतने करीब कि मेरे और उसके होंठों के बीच शायद एक या दो सूत का फर्क होगा.

जैसा उससे बात हुई उसके अनुसार आज चूंकि सपना की तबियत खराब थी, इसलिए वो घर पर ही थी. कुछ देर तक उसके रसीले होंठों का रस पीने के बाद मैंने उसका हाथ पकड़ा और अपने लंड पर रखवा दिया. मैंने एक और जोरदार शाट मारा और मेरा पूरा लंड उसकी कसी हुयी चूत की गहराइयों में खो गया.

मैंने दांतों का दबाव थोड़ा सा और बढ़ाया तो भाभी ने मेरे बालों को नोंच लिया. वहां पर सब लोगों ने एक साथ मेरी शादी की वीडियो देखने के लिए प्लान किया हुआ है. कई बार मेरी उससे नजरें भी मिल जाती थीं, तो मैं अपनी नजर हटा लेता था.

ऊपर बढ़ते हुए मैंने उसकी चूत पर देखा, तो उसकी बिना चुदी चूत हल्की झीनी सी कैप्री में फूली हुई नजर आ रही थी.

हिंदी चुदाई वीडियो बीएफ: लगता कि आज मिसेस जायसवाल (मम्मी) और मिस्टर (पापा) बालकनी में काफी मजे कर रहे हैं. मैंने पहले से सुइट को फूलों से सजाने के लिए बुक किया हुआ था, तो मैनेजर मेरे पास आया.

एक दिन जीतू मेरे घर आया और मेरी मम्मी किचन में काम कर रही थी तो जीतू मुझे मेरे बेडरूम में ले गया और मुझे किस करने लगा. मैंने शर्म से आँखें फेर लीं और अपनी गर्दन दीवार की तरफ करके परे देखने लगी. इतने करीब कि मेरे और उसके होंठों के बीच शायद एक या दो सूत का फर्क होगा.

उसकी गांड को अपने बड़े लंड से रगड़ रहा था तथा मम्मों को हाथों से तेज-तेज दबाए जा रहा था.

वह बोला- दम की बात मत कर, कुतिया आज तेरी चुत का भोसड़ा ना बना दिया तो, मेरा नाम बदल देना. बस, इतना करने के बाद अंकल जी चुपचाप मेरे ऊपर लेट गए और मेरा सिर सहलाने लगे और मुझे चूमने लगे. जब कुछ पल बीत गए तो उसने खुद ही मेरा हाथ पकड़ा और नीचे ले जाकर अपनी पैंट के ऊपर से ही अपने लंड पर रखवा दिया.