बीएफ वीडियो में बीपी

छवि स्रोत,प्लास्टिक के लैंड

तस्वीर का शीर्षक ,

करवा चौथ का व्रत 2020: बीएफ वीडियो में बीपी, ” उसने बेडरूम के अंदर चार पैरों पर जाना शुरू करते हुए कहा।वह बिस्तर के सामने घुटने के बल बैठकर धैर्य पूर्वक मेरे आने की राह देखने लगी।मैं अभी भी कपड़े पहने हुए था.

पीरियड्स में क्या करना चाहिए

मैं आपको अगले भाग में मम्मी की चुदाई की कहानी को लेकर लिखूँगा कि राजेश अंकल ने मम्मी की चुत गांड कैसे चोदी और उन्हें लंड चुसवाया. आईपीएल वीडियो डाउनलोडऐसे ही कुछ समय बीता, भाभी से जब भी मिलता तो हमारी हंसी मजाक की होती है.

जब तक सन्नी ने मेरी गांड में अपने लंड को पेल नहीं लिया, तब तक जीजू ने मुझे नहीं छोड़ा. नंगा डांस नंगा डांसमैंने कहा- दीदी आप मेरे मेरे औजार पर किस करेगी क्या?दीदी ने धीरे से हम्म कह दिया.

बुआ मेरे मुँह में एक दूध देने लगीं और मैंने बुआ के उस दूध का निप्पल अपने मुँह में दबा लिया और दबाते हुए चूची चूसने लगा.बीएफ वीडियो में बीपी: [emailprotected]सेक्स विद फ्रेंड वाइफ कहानी का अगला भाग:दोस्त की खूबसूरत सेक्सी वाइफ- 2.

जैसा कि मैंने आप लोगों को बताया कि मेरी दीदी के बाल बहुत लंबे लंबे हैं और और मम्मी अक्सर दीदी के बालों में तेल लगाया करती थी.हालांकि किशन अपनी मां से कुछ नहीं बोला मगर मन ही मन सोचने लगा कि मम्मी विजय की फोटो इस तरह क्यों देख रही थीं.

रोमानसेक्स - बीएफ वीडियो में बीपी

पर मैंने थोड़ा जिद किया और कहा- थोड़ी देर और देखने देने के लिए!तो वो बोलीं- इतनी अच्छी लगी तुम्हें मेरी चूत? बस देखते ही रहोगे क्या?हाँ मासी!” मैं बोला.थोड़ी देर बाद खाला की गांड फ़ैल गई और उनको भी गांड मराने में मज़ा आने लगा.

आप सबने मेरे और मेरी मां के फिगर उम्र आदि के बारे में सब जान लिया है. बीएफ वीडियो में बीपी थोड़ी देर बाद उसने मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया और मेरे टोपे को चूसने लगी.

काफी बार तो मैं उनके साथ रात में उनके बिस्तर पर भी सोया था लेकिन अब तक हमारे बीच मामी भांजे के रिश्ते के अलावा और कुछ नहीं था.

बीएफ वीडियो में बीपी?

आप अपने विचार मुझे अवश्य बताएं मेल या कमेंट्स के माध्यम से![emailprotected]भाई और बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:बड़े भाई और छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2. मैंने अपने हाथ दीदी के बूब्स के ऊपर रख दिए और एक झटके में लंड को बुर के अंदर डाल दिया!इससे मेरा लंड दीदी की बुर की सील तोड़ते हुए आधा अंदर चला गया और दीदी की आंखों से आंसू आ गए!फिर से दीदी के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और उनके बूब्स के निप्पल्स जोर जोर से मसलने लगा. ये कह कर जीजू मेरे पीछे आ गए और मेरे कान में बोले- अब तक कितने लौड़ों से चुद चुकी हो?मैंने उनको बताया- जीजू, मैंने सिर्फ अपने ब्वॉयफ्रेंड से ही सेक्स किया है या आपने अपने दोस्त के साथ मुझे चोदा था.

चाची को भी शक था कि मैं उन्हें छुप छुप कर देखता हूं, लेकिन मैं कभी पकड़ में नहीं आया. मैं उठ कर बाथरूम जा रहा था कि दादा जी ने मम्मी के कान में कुछ बोला और मम्मी मुस्करा दीं. मैंने कहा- फिर आपने मुझे धक्का क्यों दिया?भाभी मुस्कुराने लगीं और बोलीं- तुम्हारा दम चैक कर रही थी कि तुम्हारे अन्दर कितनी हिम्मत है कि तुम मुझे चोद सको.

एक मुंत बाद भाभी बोलीं- एक से ही मजा ले लेगा क्या?मैंने दूसरे दूध के निप्पल को अपने मुँह में भर लिया. मोना भाभी थकी हुई आवाज में बोलीं- आंह राज … आज जो तुमने मुझे मज़ा दिया है, इसके लिए मैं कबसे इंतज़ार कर रही थी. फिर मैंने उसे पकड़ कर देखने की कोशिश की तो पता चला कि वह पूरा अंदर समा चुका था।मैंने अपने हाथ उसकी पीठ पर कर लिये और उसकी पीठ से ले कर उसके नंगे चूतड़ तक सहलाने लगी।जब उसे लग गया कि मैं संभल चुकी थी और वह धक्के लगा सकता था तब उसने अपने घुटनों पर जोर देते खुद को संभाला और अपनी कमर पीछे खींची।योनि में वापस खालीपन पैदा हुआ और सांप जगह छोड़ता बाहर सरका.

लॉकडाउन सेक्स कहानी में पढ़ें कि भांजी अपने मामा के घर गयी हुई थी कि लॉकडाउन लग गया. तभी मैंने सोचा कि लोहा गर्म है, क्यों न अभी ही हथौड़ा मार दिया जाए.

दो मिनट ऐसे रहने के बाद मैं उठी और फिर से गद्दे पर पीठ के बल सो गई.

चुदाई में और कुछ मिनट तक सटासट करने के लंबे समय बाद मेरे लौड़े ने उसकी चुत में ही पानी छोड़ दिया और मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेटी रही.

नाइटी जांघों तक पहले से ही उठी हुई थी, नीचे लगा हुआ लड़का एक पैर हाथों से सहलाता, तो दूसरे पर जीभ फेर देता. पहले दीदी कुछ सोचती रही फिर उन्होंने कहा- ठीक है रात में मालिश कर देना. वो मेरे पीछे आ गए लेकिन मुझे सन्नी से ज्यादा जीजू के लंड का डर लग रहा था.

उनकी उम्र ज्यादा नहीं थी।हमने तय किया कि बकरी का खेल खेलने के बाद स्वाति और मोहिनी, मेरे लंड को चूस कर मुझे शांत करेंगी. com/imranovaish2कहानी का अगला भाग:अन्तर्वासना से भरी हॉर्नी नगमा- 6. अब पापा ने मुझे इशारा किया कि गांड में उंगली डालो और तेल को अन्दर तक डालते हुए गांड की मालिश करो.

चचा लंड हिलाते हुए बोले- कैसा लगा?मैं बोला- चचा इससे तो मेरी गांड फट जाएगी, इतना मोटा मैं बर्दाश्त ही नहीं कर पाऊंगा.

तो नीतू ने हम दोनों को अलग किया और कहने लगी- मैंने यह सब नहीं कहा था।अभिषेक ने नीतू से कहा- तुम तो मजे कर चुकी हो, हमें भी मजे कर लेने दो. मैंने अपने भाई को लड़की की नजर से देखा तो …यह कहानी सुनकर मजा लीजिये. जब तक भाभी चिल्लातीं, मैंने दूसरी ठोकर मार दी और अपना पूरा लंड गांड की जड़ में पेल दिया.

मैंने पूछा- दीदी क्या हुआ, आराम मिला क्या?दीदी ने कहा– नहीं भाई, बहुत दर्द हो रहा है कमर में! मुझसे रहा नहीं जा रहा. सनी हल्के हल्के से ऋतु की चूत के होंठों को हाथ से ऐसे सहलाने लगा, जैसे कि उसकी मालिश कर रहा हो. मामी घूमकर मेरी तरफ मुँह करके मेरे ऊपर आ गईं और मैंने उनको कसकर हग करते हुए अपने ऊपर ले लिया.

उसकी गोरी चिकनी टांगें कहर ढा रही थी, उसके गोर मोटे चूचे जो आधे नंगे थे उसकी ड्रेस फाड़ कर बाहर आने की बेचैन हो रहे थे.

मैं सुबह ही सबके जाने के बाद अपने चूत के बालों को साफ करके नहा कर तैयार हो गई. उसी मजे और दर्द से ऋतु का मुँह खुल गया- आह … मर गई सी ई ईई शैतान कहीं का … एक ही बार मैं पूरा घुस गया ये लौड़ा … उफ्फ कितना दर्द देता है मस्ती भरा डंडा है … आंह.

बीएफ वीडियो में बीपी अब मेरा लंड उसने अपनी चुत पर लगाया और अन्दर डालने की कोशिश करने लगी. ये ख्याल जैसे ही ऋतु के मन में आया, उसकी चूत से रस निकलना शुरू हो गया.

बीएफ वीडियो में बीपी उन्होंने मुँह से काटने का इशारा किया, तो मैंने लंड की तरफ इशारा कर दिया. फिर वो कुछ स्थिर हुई तो मैंने उसके ऊपर पूरी तरह से चढ़ कर एक तेज धक्का दे दिया.

मैं बोला- पिंकू आज मैं तुम को दिखाता हूं कि मैं तुमसे कितना प्यार करता हूं.

गांव की देसी ब्लू पिक्चर

आदर्श ने जब इसे चोदने का प्लान बनाया, तब मैं और मेरा एक और दोस्त सतीश, आदर्श के पास ही थे. चल शुरू हो जा!मैंने भाभी की पैंटी हटा दी और अपने कपड़े भी अलग कर दिए. उसने मुझे लंड चूसने को बोला, मैंने भावावेश में आकर उसका लंड पकड़ लिया और मुँह में ले लिया.

मेरी मम्मी ने दादी से घर का ख्याल रखने की कही और उन्होंने हां कर दी. करीब आठ बजे छोटी बहन ने मुझे जगाया- खाना नहीं खाएगा क्या?मैं उठा और बाहर आ गया. भाभी ने बैंगनी कलर की मैक्सी पहनी थी और उसके अन्दर ब्रा नाम की कोई चीज थी ही नहीं.

मामी लंड चूसने में इतनी एक्सपर्ट थीं कि मुझे लग रहा था मैं ऐसे ही ना झड़ जाऊं.

प्लीज दीदी, मुझे वहां पर भी किस कर लेने दो ना! मेरा सपना है कि मैं एक बार उसे देखूं और किस कर सकूं!यह सुनकर दीदी हंसने लगी. मामी के गोल गोल और गोरे चूतड़ लहरा गए … उनके चूतड़ एकदम शेप में परफेक्ट थे. कुल मिलाकर साफिया एकदम पटाखा माल थी, चोदने में भी भरपूर साथ देती थी।फिर से कहानी पर आते हैं.

इंडियन स्वैप पोर्न कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी पाठिका ने मेरे साथ स्वैपिंग करने का प्रोग्राम बनाया. मेरे नर्म नर्म स्तन उसके बड़े से स्तनों की गर्मी लेकर बहुत ही आनन्द ले रहे थे. अब आगे की कहानी मेरे पति बताएँगे:ऐसे ही फिर एक बार सनी हमारे घर आया.

इस पर भाभी बहुत खुश हो गईं और मुझे एक प्यारा और छोटा सा किस कर दिया. वो सिहर गई मगर मैं लगा रहा और उसकी चुत के प्रीकम को चाट कर साफ कर दिया.

अभी मेरी चुत की फांकों ने लंड को महसूस किया ही था कि जीजू ने एक तेज धक्का दे दिया. मैं जग गया और मैंने कहा- भाभी, आप ये क्या कर रही हो!उस समय भाभी सोने का नाटक करने लगीं. आपको देसी पड़ोसन आंटी जी की चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करना न भूलें.

मैंने उसकी अलमारी से निरोध निकाला और लंड पर चढ़ा कर उसकी चूत में एक बार में ही पूरा लौड़ा पेल दिया.

उठाते समय उसके हाथ मेरे दूध से ऊपर चले गए और हल्के से मेरे दूध दब गए. मैंने मीना से कहा- मेरी बात गौर से सुन … पहले तू प्रकाश को लाइन पर ले, मैं प्रकाश को राज़ी करती हूं. फिर मम्मी ने कहा- एक बैग तू उठा ले … एक मैं उठा लेती हूँ और तेरे भाई को भी ले लूंगी.

दस मिनट तक मेरा मुँह चोदने के बाद भैया ने मेरे सर को अपने लंड पर पूरा दबा दिया. मैं अक्सर अन्तर्वासना और फ्री सेक्स कहानी की साईट पर रसभरी चुदाई की कहानियां पढ़ती रहती हूँ.

प्लीज अपने मोटे लन्ड से मेरी प्यास बुझाइये।अपनी सेक्सी बहन पिंकू की तड़प देखकर मुझसे रहा नहीं गया, मैं भी उसके दूधों को जोर जोर से चूसने लगा और अपने हाथों को उसके पूरे नंगे बदन पर घुमाता रहा जिससे कि पिंकू और भी गर्म हो गई. मामी मेरे खड़े लंड को देखती रहीं, फिर लाइट ऑफ करके मेरे और अपने ऊपर रजाई लेकर लेट गईं. दीपक मेरे गोरे नितम्बों के बीच में से दिख रहे बादामी रंग के गांड के छेद को उंगली और जीभ से चाट रहा था.

सेक्सी ब्लू ओपन पिक्चर

‘आआ … ईई ईईई ज़ऊऊर या आ आ आ … आ आ आ आ अहहह … एम्म्म … एम्म्म … और जोर से चूसो.

कुछ मिनट में वो मेरे मुँह में ही झड़ गया और मैंने राहुल के लंड का सारा माल पी लिया. मामी भी स्लैब पर बैठी हुईं मेरे गले में हाथ डालकर मजे से चुद रही थीं. कुछ समय बाद मुझे जानकारी मिली कि भाभी का पति भाभी को सन्तुष्ट नहीं कर पा रहा था.

चिराग बोला- ठीक है … पर ये तो बताती जाओ कि रात में कितने बजे आओगी?मैं बोली- 10 बजे के बाद और कंडोम लिए रहना, मैं बिना कंडोम के नहीं करूंगी. नीतू ने कहा- क्या तुमने कभी ऐसी नंगी लड़की देखी है?तो मैंने कहा- नहीं, मैंने कभी नहीं देखी. सेक्सी गर्ल्स नंबरमैं उसको और ज्यादा गर्म करने लगा और आखिर नीता भी मेरे करीब आने लगी.

मेरे लौड़े ने भी बहुत तेजी से अपना काम रस पिंकू की चूत में छोड़ दिया।हम दोनों निढाल होकर बिस्तर पर ही लेट गए. यह मैंने अक्सर महसूस किया है क्योंकि जब भी वे चलती हैं तो उनके के बूब्स ऊपर नीचे बिल्कुल नहीं हिलते हैं.

आपने कभी खेत की चुदाई का मजा लिया है? अपने विचार कमेंट्स में जरूर बताएं. मुझे उसको इस तरह देखने से मंजू ने अपनी आंखों को अपने हथेली से बंद कर लिया. फिर मैं उस झोपड़ी से पीछे के रास्ते से बाहर निकल गई और राशन की दुकान से सामान लेकर अपने घर आ गई.

मैं बोला- मादरचोद साली … अब लंड खा तो रही है, क्या तोड़ कर घुसेड़ दूँ?भाभी हंसने लगीं और मस्ती से गांड मराने लगीं. क्योंकि बेबी डॉल ड्रेस में ब्रा की जरूरत नहीं होती तो उसके बड़े बड़े चूचे मेरी हाथों की गिरफ्त में आ गए. फिर चचा ने थोड़ा सा थूक अपने सुपारे पर लगाया और उसे गांड के छेद पर सैट कर दिया.

ये मैं उन मर्दों की नजरों में पढ़कर देख लेती हूँ, जो मेरे दूध देख कर गर्म हो जाते हैं.

ऋतु की कामुक आवाजों से सनी जोश में आ गया और जोर जोर से उसकी चूचियां दबाने लगा. कुछ देर बाद मुझे महसूस हुआ कि उसका हाथ फिर से मम्मी के कम्बल के अन्दर है.

इस समय भाभी मेरे सामने बैठी थीं, वो मुझे झुक झुक कर खाना परोस रही थीं. नीतू ने कहा- क्या तुमने कभी ऐसी नंगी लड़की देखी है?तो मैंने कहा- नहीं, मैंने कभी नहीं देखी. मैंने एक हाथ से उनके चूतड़ को पकड़ा तथा दूसरे हाथ से अपना लंड पकड़ कर उनकी चूत में पीछे से ही डालने लगा.

मम्मी मस्ती में चिल्ला रही थीं- आंह साले जोर से मत कर लगती है भोसड़ी के … आंह राजेश मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है … ज्यादा मत कर. मंजू के घर हम सब तीसरी मंजिल में ही खेला करते थे क्योंकि छत के दरवाज़े पर ताला होता था. फिर क्या हुआ?हैलो फ्रेंड्स, मैं मोना रानी एक बार फिर से आपके सामने हाजिर हूँ.

बीएफ वीडियो में बीपी मैं उठकर चिकन चला आया और वापस आकर घुटने के बल बैठ कर चूत में लंड डाल दिया. हम लोगों को अपनी पढ़ाई करनी थी ऑनलाइन क्लास लेनी थी जिसकी वजह से हम गांव नहीं गए और घर पर ही रुक गए.

मायजिओ वीडियो डाउनलोड

मैं हाथ पीछे किये आंखें बंद करके उस अलौकिक आनंद को अनुभव करने लगी।उसने मेरे घुटने पकड़ लिये थे और पहले तो कुछ धीरे-धीरे धक्के लगाये. मामी के साथ गर्म सेक्स किचन में किया मैंने! वो रसोई में काम कर रही थी. सनी ने देखा कि ऋतु की चूत पूरी गीली हो गई थी और उसकी पैंटी को भिगो चुकी थी.

मैं बोला- पिंकू, तू उसकी उसकी चिंता छोड़ दे, यह सब मैं संभाल लूंगा और किसी को पता नहीं चलेगा।मैंने बिना तेरी करते हुए पिंकू की चादर हटा दी. समता- अअअह धीरे कर ले … मर जाऊंगी … विकास आराम से करो यार … मैं रंडी हूँ कुत्ती नहीं. सेक्स करते हुए दिखाएँउसकी गर्म सांसें मेरी चुत को एक अजब सा नशा दे रही थीं और मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसे सहला रही थी.

मैंने पूछा- किससे दोस्ती कराएगी?वो- मेरे पड़ोस की लड़की से … करेगा!मैंने हां कर दी.

मैं वो स्टोरी पढ़कर बहुत सेक्सी मूड में आ गया और बीवी से फोन पर सेक्स की बातें करने लगा. ये देख कर मैंने और मज़े से उनके लंड को पूरा मुंह में ले लिया।मानो उनका लंड मेरे मुंह में गायब ही हो गया हो.

दूसरे राउंड में भी मैंने भाभी की चुदाई में रुक रुक 45 मिनट तक लंड चुत गांड में बारी बारी से रगड़ा. मैंने पहले भी लिखा है कि उस वक़्त न इंटरनेट था, न मोबाइल, ना ही टेक्नोलोजी इतनी थी … पर सेक्स जरूर था. जब उनकी टांगें मुझसे चिपकीं, तो मेरे तो तनबदन में मानो आग सी लग गई.

’मामा उठकर तैयार होने चले गए और मामी वहीं लेटकर लम्बी लम्बी सांसें लेने लगीं.

मेरी दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई से भाभी कांपने लगीं, उनकी चूत से पानी पेशाब सब एक साथ बाहर आने लगा था. जैसे ही पूरा लंड अन्दर घुसा, दर्द के मारे ऋतु की आंखें फैलती चली गईं और उसकी आंखों में फिर से आंसू आ गए. मैं पीछे से जाकर उनसे चिपक गया और कसकर हग करते हुए दोनों हाथ उनके पेट पर बांध लिए.

जंगल में मंगल ब्लू फिल्मअब मैं दीदी के ऊपर लेट गया और उन्हें गले लगा लिया और कान में कहा- थैंक यू दीदी, आई लव यू सो मच. मैं अपने मन में सोचने लगा कि मेरी औलाद तनु के गर्भ से जन्म लेगी तो क्या होगा … कहीं उसकी शक्ल मुझसे मिली तो लोग क्या कहेंगे.

सेक्सी गाने के साथ

उन्होंने बताया कि चुत तो मामा ने ही खोल दी थी लेकिन तुम्हारा मोटा लंड था, इस वजह से चुत से खून निकल गया. चौथे भागलंड पर बैठ कर चुद गयी जवानीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं मामी से अपना लंड चुसवा कर वीर्य निकाल कर मामी से खेल रहा था. फिर मैं एक हाथ नीचे ले जाकर उनकी चूत सहलाते हुए उसमें एक साथ दो उंगलियां डाल दीं.

मैं ये ऊपर कर देता हूँ।हाँ … पर आंखें बंद रखना और जल्दी करना।” वो बोलीं. मैं बोला- पिंकू, तू उसकी उसकी चिंता छोड़ दे, यह सब मैं संभाल लूंगा और किसी को पता नहीं चलेगा।मैंने बिना तेरी करते हुए पिंकू की चादर हटा दी. मैं रचना की चुत की आग को भड़काने के साथ साथ उसके एक निप्पल को चूस भी रहा था और दूसरे हाथ से उसके दूसरे उरोज को दबा भी रहा था.

उसका एक हाथ ने जैसे ही मेरे लंड को दबाया, तो मेरी ‘आह्ह्ह्ह …’ निकल गईअंजू- क्या हुआ?मैं- कुछ नहीं. मैं- मुझे आपका रस चखना है मामी!मामी मेरे लंड को सहला रही थीं, जिसकी वजह से लंड फिर से फुंफकार मारने लगा था और लंड छत की तरफ मुँह करके तोप की तरह खड़ा हो गया था. मैं भी धकापेल चुदाई करते हुए उसे गाली देने लगा- ले भैन की लौड़ी … साली लंड खा मां की लौड़ी … तू बस चुत देती रहना … मैं तेरा गुलाम बन जाऊंगा.

जैसे बुआ भतीजा हो लेकिन उनकी उम्र लगभग एक जैसी हो तो पढ़ने में ज्यादा मजा आता है. मुझे नंगा देख कर भाभी पलंग पर पीछे को खिसक कर लेट गईं और उन्होंने अपनी टांगें फैला दीं.

मैं उम्मीद करता हूं इस दीवाली आपकी गांड में जबरदस्त खुजली हुई होगी और आप सबने अपनी खुजली मिटाई होगी.

चुदासी लड़कियों को मेरे साढ़े सात इंच लम्बे और साढ़े तीन इंच मोटे लंड से बड़ी मुहब्बत है. हिंदीचुदाईअब्बू को कोई भी जरूरी काम क्यों न हो … इस चुदाई के चक्कर में वो सब काम स्थगित कर देते हैं. देशी चोदाईफिर जल्दी से पलट कर अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया, जिस वजह से मेरा कुछ पानी उसके अन्दर और बाकी का बाहर गिर चुका था. वो थोड़ा शर्माने लगी थी क्योंकि शायद अब वो वास्तव में चुदने वाली थी.

मीना ने मुझे धक्का देकर चारपाई पर गिरा दिया और खुद नंगी ही मेरे जिस्म पर चढ़ गई.

इसलिये कह रहा था!”शायद वो मुझे आजमाना चाह रहे थे।मैंने भी अपने होंठों को गोल करते हुए कहा- ठीक है बाबूजी, आप कह रहे है तो पहनकर आती हूं।‘हम्म् …’ करते हुए उन्होंने सहमति दी. उसका पूरा चेहरा आंसू से भर चुका था और आंखों में दर्द साफ दिखने लगा. एक बार फिर मंजू चीखी क्योंकि इस बार करीब आधी उंगली अन्दर चली गई थी- ओफ़्फ़ … आह्ह ह ह आइ मां यस हां उफ्फ.

मगर आज फूल एक काले भंवरे की कैद में था, जो उसका पूरा रस निचोड़ने के लिए उस पर बैठा था. मेरी मम्मी पेटीकोट और ब्रा में अंकल के नीचे लेटी थीं और अंकल एक चड्डी में मम्मी के ऊपर चढ़े थे. पैंटी पहनने से पहले मम्मी ने अपनी गांड में उंगली डाली तो उनकी गांड में लंड का जो पूरा रस भर गया था, वह टपकने लगा था.

भोजपुरी नंगी डांस

राजेश- अरे कुछ नहीं होगा मेरी जान … आज मेरा बड़ा मन है … मैं आज तेरी गांड जारूर मारूंगा. एक बार मैं छुट्टी पर घर आया तो रात को मैंने मम्मी को दादा जी के कमरे में देखा. ‘अह्ह अह्ह आशु …’मैं धीरे धीरे अपने दांतों से निप्पल को दबाते हुए खींच रहा था.

आंटी जोर से तमतमाती हुई मेरी ओर आकर बोलीं- ये सब क्या है?मैं बेशर्मी से लंड सहलाता रहा और बोला- कुछ नहीं.

मैंने अपने धक्के और तेज कर दिए और भाभी कीचुत फाड़ चुदाईफुल स्पीड पर करना शुरू कर दी.

मुझे ये फीलिंग पहली बार मिली थी कि गांड का छेद भी इतना मजा दे सकता है. मेरा लंड चूत में पूरा अन्दर तक जाता … तो मीना की मीठी आह निकल जाती और उसके शरीर में एक ऐंठन सी आ जाती. भाई बहन का चोदा चोदीमामी फकफका कर रोने लगीं- आंह आआ मेरी मां चुद गई … निकालो इसको … आंह आज के बाद कभी नहीं कहूंगी.

दीदी ने मेरा लंड पकड़ा और कहा- ये तेरा लंड मेरी चुत में अन्दर तक जाकर मेरा नशा फाड़ देता है. देसी गर्लफ्रेंड Xxx कहानी मेरी कोचिंग में पढ़ने वाली एक रसीली लड़की की है. यकीन मानिए वो आनन्द के पल आज भी इतने साल बाद दिमाग में तरोताज़ा हैं.

इससे मुझमें एकदम से हिम्मत सी आ गयी और मैं आगे को हुआ तो उसी समय भाभी ने मेरा लंड हाथ से पकड़ लिया. नीतू ने कहा- क्या तुमने कभी ऐसी नंगी लड़की देखी है?तो मैंने कहा- नहीं, मैंने कभी नहीं देखी.

हम दोनों ने मांडव (मांडू) जाने का प्लान बना लिया क्योंकि वहां का मौसम बारिश के समय काफी अच्छा रहता है.

फिर अपने हाथों से तुम्हारी वो ड्रेस उतार कर तुम्हें फिर से नंगी करके चोदूँगा. मैंने कहा- जीजा जी इतने दिन रहे … क्या आपने उनसे मजा नहीं लिया!वो बोलीं- अभी उनकी बात मत करो, लो दूध चूसो. वरना तुम्हें और तुम्हारे इन मम्मों को छोड़कर मैं जा सकता हूँ भला!ये कहकर मामा मामी के दूध दबाने लगे और उनके होंठ चूसने लगे.

सेक्सी गाने बताइए मैंने कहा- कितना मस्त!दीदी बोली- एकदम सांड जैसा है तू … तेरा वो बहुत बड़ा है. विकास समता का हाथ पकड़कर रैली में आगे बढ़ने लगा और जहां भाषण होना था, वहां उसने समता को अपने बगल वाली कुर्सी पर बिठा लिया.

लेकिन यह हुआ कैसे?जब जवान डॉक्टर सविता भाभी के सेक्सी जिस्म का निरीक्षण करने लगा तो उसका लण्ड बेकाबू हो गया।तो क्या सविता भाभी ने डॉक्टर का मजा कराया या नहीं?ये जानने के लिए यह आवाज वाली वीडियो देखें. एक शाम मीना ने बताया कि कल उसकी मम्मी एक दिन के लिए दो बहनों के साथ कुछ काम से अपने घर मिर्ज़ापुर जा रही हैं. सपना भी मेरा साथ दे रही थी लेकिन उसके मुँह से वो दर्द भरी आवाजें निकलना बन्द नहीं हो रही थीं.

भाभी देवर की ब्लू फिल्म

उसकी टांगें चौड़ी करके उसके ऊपर लेटकर मैं उसके चूचों और होंठों का रसपान करने लगा. मैं महसूस करना चाहती थी कि जब गांड में लंड जाता है तो कैसा लगता है. वहां पर रेणु के साथ साथ 2 लड़कियां और रहती थीं जो अभी अपने अपने घर चली गई थीं.

मैंने भाभी को लगातार बीस मिनट तक हचक कर चोदा, जिसमें भाभी 3 बार झड़ चुकी थीं और मैं भी अब आने वाला हो गया था. उनकी चूत बहुत पानी छोड़ रही थी जिससे पूरे कमरे में फच फच्च फच फच्च की आवाज गूंज रही थी.

जानेमन माफ़ करना … मैं अब क्या करूं?मैंने कहा- कोई बात नहीं, मैं इसका ट्रीटमेंट करूंगी.

वो आपको कुछ ऐसे मौके उपलब्ध करा देगी कि आप उसको चूम सकें, उसके बदन को सहला सकें, उसको प्यार से बांहों में भर कर अपने प्यार का अहसास कर सकें. सपना जी ने मुझसे कहा कि यदि आपको कोई प्रॉब्लम न हो, तो मेरे पति वाइफ एक्सचेंज करने की बोल रहे हैं. इस वक्त मेरा लंड आंटी की गांड पर रगड़ कर खड़ा हो गया था और आंटी भी अपनी गांड हिलाती हुई मेरे लंड से मजा ले रही थीं.

मैं कुछ देर बाद भाभी की चुत में लंड को तेजी से अन्दर बाहर करने लगा. हालत ये थी कि मंजू मेरे नीचे दबी हुई कराह रही थी और मेरे अन्दर इतनी हिम्मत नहीं थी कि मैं उसके ऊपर से उठ जाऊं. पैंटी पहनने से पहले मम्मी ने अपनी गांड में उंगली डाली तो उनकी गांड में लंड का जो पूरा रस भर गया था, वह टपकने लगा था.

मेरा उस दिन बहुत दिनों बाद मुठ मारने का मन हुआ तो मैं अपने लंड को हाथ में पकड़ कर हिला रहा था.

बीएफ वीडियो में बीपी: मैंने देखा कि चाची खेलते समय कुछ ज्यादा ही झुक रही थीं जिससे उनके मम्मे मुझे साफ़ नजर आ रहे थे. उधर प्रदीप की आवाज आई- क्या हुआ सपना ठीक तो हो?मैंने कहा- हां, वो ठीक है.

वो मेरे करीब आई तो मैंने कार से उतर कर उसे अपनी बगल वाली सीट पर बिठाने के नजरिये से कार का दरवाजा खोल दिया. अब्बू बोले- इसी लिए जोर से दबा रहा हूँ … जिससे तुझे दर्द हो मेरी रानी. अब मैंने उनकी दोनों टांगें अपने दोनों कंधों पर रख उनकी चूत में अपना लम्बा मोटा लंड रख दिया.

छेद में लंड का सुपारा लगाया तो छेद ने चिकनाहट के कारण लंड के सुपारे को खा सा लिया.

मेरा हाथ पकड़ कर मुझे रोका और लंड बाहर निकाला कर फिर से चुत के अन्दर बाहर करने लगे. मैंने उनकी चुत का नमकीन अमृत पूरा चाट लिया … सच में भाभी की चुत का बड़ा स्वादिष्ट पानी था. गाँव की औरत की चुदाई कहानी के अगले भाग में मैं आपको अपनी मम्मी की चुदाई की कहानी आगे लिखूँगा.