चोरों की बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी में सेक्सी वीडियो चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

न्यू सेक्सी सीन वीडियो: चोरों की बीएफ, वैसे उम्र में वो मुझसे 7-8 साल बड़ी थी इसलिए मैं उसको आंटी ही कहना चाहूंगा.

अरे सेक्सी सेक्सी

इस बार उसका माल निकल गया और मेरी जांघ गीली हो गई, पर मैं वैसे ही लेटी रही. साली की चूत की चुदाईमैंने नीचे झांक कर देखा तो मेरी मां की चूत से मेरा वीर्य रिस कर नीचे टपक रहा था.

मैंभाभी की चूत में जीभअन्दर तक डाल कर चाटने लगा, तो रेखा भाभी मेरे सर को अपनी चूत पर और ज़ोर से दबाने लगीं. एक्स एक्स एक्स सेक्स हिंदीदस मिनट तक मैंने खूब जोर से उसके लंड को चूसा और उसका लंड तैयार हो गया.

ये समझ कर मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और उसी के साथ उसकी चुत में झड़ गया.चोरों की बीएफ: मैंने बोला- ठीक है, आप मुझे अपना एड्रेस सेंड करो, मैं आता हूं एक घण्टे के भीतर।उसने मुझे अपना एड्रेस सेंड कर दिया और मैं सर को कुछ जरूरी काम का बोल कर जल्दी से एक टैक्सी लेकर उसके बताये पते पर पहुंच गया.

मुझे जी भर के तुम्हें देख तो लेने दो।अब हम दोनों एक दूसरे के पास बैठे और कुछ बातें करने लगे।कविता बिल्कुल क़यामत लग रही थी.इस पर उन्होंने हाथ के इशारे से कहा कि मुँह में ही निकल जाओ … मुझे चखना है.

जवान लड़की की चूत की चुदाई - चोरों की बीएफ

वो समझ गया और धीरे से बोला- मैंने अब तक हाथ के अलावा किसी को भी अपनी मर्दानगी से नहीं खेलने दिया.जैनब ने मुझे कसके जकड़ लिया और दबी जुबान से चिल्लाई- उई ममउम्मी … मर गई!मैं उसे चूमता रहा.

मैं और रिशा महीने में एक या दो बार इसी तरह होटल में मिलते हैं, मेरी बाकी जरूरतों के लिए रेखा तो उपलब्ध रहती ही है. चोरों की बीएफ मैं आंटी की गर्दन पर चुम्बन करने लगा ‘पुच्च्च पुच्च उम्म्म’थोड़ी देर मना करने के बाद वो गर्म होने लगी तो वो धीरे धीरे सिसकारियां भरने लगी- आह्ह्ह उफ्फ आइईईई आह्ह्ह!और बोली- मैं तो तुम्हें बहुत सीधा समझ रही थी.

और हाँ उसने किस की थी 2 बार उस पर!मैं- ओह्ह … तो हमारी वजह से खड़ा हुआ है.

चोरों की बीएफ?

रिंकू और शिवम दोनों ने भी अपने अपने कपड़े पहन लिये और वहां से निकलने की तैयारी करने लगे. मैं उनकी गांड देख कर सोचने लगा कि आज भाभी की चुत में लंड पेल कर ही दम लूंगा. मैंने देखा कि उसके शरीर पर कई जगहों पर लव बाईट बने हुए हैं।मेरे इस प्रकार लव बाइट देखने से वो भी उन्हें देखने लगी.

उसने पहले चड्डी के ऊपर से ही मेरे लंड को छूकर देखा।उसके चेहरे पर एक बड़ी आश्चर्य वाली मुस्कान थी क्योंकि उससे प्रेम प्यार करते मेरा लंड भी पूरा अकड़ चुका था।मेरे तने हुये लंड को देख कर वो बोली- आप तो पूरे तैयार हुए फिरते हो।मैंने कहा- हाँ तैयार तो रहना पड़ता है. हालाँकि मुझे बहुत अच्छा लगा लेकिन मुझे एक ग्लानि ये भी है कि मैंने अपनी गर्लफ्रैंड को धोखा दिया।यह मेरी पहली सेक्स कहानी थी. घर पहुंच कर मैंने मेरी बीवी को बोला कि हरप्रीत को फ़ोन करके बोल दो कि मैं घर पहुंच गया हूं.

थोड़ी देर में मैं झड़ने ही वाला था कि लण्ड बाहर निकाला और दी को सीधा किया. मैंने बीच पर घूमते हुए मां से पूछा- आज क्या पहनोगी?वो बोली- शादी का जोड़ा. उन्होंने लिखा कि पहले आप बताओ कि आपने सेक्स में कैसे देर तक चोदाई की.

वो पूछने लगा- मम्मी तुमको अच्छा लग रहा है?मैंने हां में सिर हिलाया. ऐसे ही मेरा ध्यान उस पर गया, तो मोटी आंटी के भरे हुए मम्मे मुझे ललचाने लगे.

जब उसका तलाक हुआ तो वो लड़का बोला कि मैं अपने पापा के साथ साथ रहूंगा.

गेट खोलते ही एक हुस्न की परी मेरे सामने लाल रंग के टॉप पहने खड़ी थी.

लंड और चूत ये दो ऐसे अंग हैं जो एक दूसरे की झलक भर भी पा लें तो तुरंत मचलने लगते हैं. इससे पहले कि मैं उसको लंड मुंह में लेने के लिए कहता, उसने खुद ही मेरे लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी. अब इसे ही उसकी तारीफ़ कहें, तो बस उसे फिगर के नजरिये से ही कामुक माना जा सकता था.

कभी कभी मैं सोना को भी बोल देती मजाक में कि सनी मेरा है!सोना के पास मोबाइल नहीं था. मैं बस जल्दी से अपने लंड का वीर्य अपनी मां की चूत में गिरा कर परम सुख का आनंद लेना चाह रहा था. जब से उसने सेक्स स्टोरी पढ़ना शुरू किया था अब वो मर्दों के साथ सम्भोग का आनंद लेने के लिए उत्सुक सी रहने लगी थी.

मैंने राधिका की तरफ देखा, तो वो अपनी जींस के अन्दर हाथ डालकर चुत रगड़ने में लगी थी.

इन 50 मिनट में मां पूरी तरह से ठंडी हो गयी थी और अब मेरा पानी भी निकलने वाला था. डॉक्टर ने कोई बड़ी दिक्कत की मना करते हुए दवा दे दी और आराम करने का कहा. यह कहानी पूर्ण रूप से काल्पनिक है और मेरा इरादा किसी की भावनाओं या किसी के मान को क्षति पहुंचाना नहीं है.

तो अब तो कभी सोचती भी नहीं कि जीन्स पहनूंगी।मगर बुटीक वाले दर्जी से पक्का कह रखा है कि मेरी साड़ी के सभी ब्लाउज़ पीछे से बैकलेस और सामने से कम से कम 8 इंच गहरे होने चाहिए।अब यार मेरी ब्रा का साइज़ 38 है. मैं भाभी की चूचियों को चूसने लगा और हल्के हल्के से दांतों से काटने लगा. मैं- ऐसा नहीं है मोनिका … तुम्हारी कब सूजी?मोनिका बोली- अरे मेरी गांड में तो चूत से भी ज्यादा दर्द हुआ … कल पूरा दिन और पूरी रात मेरी गांड दर्द से बिलबिलाती रही.

थोड़ी देर में मेरा भानजा जाग गया और दी उसे सुलाने चले गई। मैं फिर से इंतजार करने लगा लेकिन इस बार दी नहीं आई।मैं भी टीवी बन्द कर अपने रूम में चला गया और सोने की कोशिश करने लगा।मगर दी के गोरे गोरे बूब्ज़ मेरे ध्यान से नहीं जा रहे थे।मेरे दिमाग में एक शैतानी आईडिया आया.

आसिफ ने एक हाथ से फिजा के बूब्स को दबाते हुए बोला- नहीं, फिजा आज मुझे मत रोको. रात का खाना होने के बाद मैंने सोनिया से कहा कि वो नीचे सो जाये और मैं ऊपर सो जाती हूं.

चोरों की बीएफ थोड़ी देर फिंगरिंग करने के बाद मैंने उसकी टांगों को और ज्यादा फैला दिया और मैं खुद उसकी टांगों के बीच में आ गया. रात को 11 बजे मेरे कमरे का दरवाजा खुला, मनीषा अंदर आ गई और दरवाजा बंद कर दिया.

चोरों की बीएफ मैंने उनसे प्यार मुहब्बत की बातें करनी शुरू कर दीं और भाभी भी मुझसे अपने दिल का हाल सुनाने लगीं. मैंने अपना एक हाथ उसकी जांघ पर फेरते हुए उससे कहा- काश अगर उसकी जगह मैं होता, तो तुम्हारे जैसी इतनी सुन्दर माल को धोखा नहीं देता.

तुम ही तो कहती थी कि अगर मां भी हमारे साथ मिल जाये तो हम तीनों मिल कर अपनी जिन्दगी में एक नये रीति रिवाज को मिल कर एक साथ निभायेंगे.

बीएफसीएक्सएक्स

दीदी ने पूछा- मोनिका तुम शिव से सीधे सीधे पूछो न कि क्या वो तुमको आगे भी चोदना पसंद करेगा या सिर्फ राधिका के लिए ही उसकी मुहब्बत है. आसिफ की नजर सीधी अपनी बहन की छोटी सी और प्यारी सी उभरी हुई चूत पर चली गयी. मैं इधर आपको उनकी फिगर बता दूँ … ताकि आपको भी लंड हिलाने में मजा आए.

और मैंने उसकी फ्रेंची के ऊपर उसका लंड पकड़ लिया।वह बढ़ने लगा और फिर मैंने उसकी फ्रेंची को नीचे सरका दिया. मैं फिर खड़ा हो गया और उसको सीधी लेटा कर उसकी चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगा. मुझे पता नहीं क्यों डर के साथ गुस्सा आ गया, मैंने कहा बात- पता चलेगी तभी तो कुछ बोलूंगा?इतना बोलने के बाद मेरी फिर अंदर से फटी.

ध्यान से सुनने पर मैं समझ गया कि बहू मनीषा अपनी चूत में उंगली चला रही है.

उसका मुँह बना, तो मैंने उसके मुँह में एक नमकीन काजू का टुकड़ा दे दिया. मैंने पूछा- अब क्या करना है?वो बोली- बस, अब मैं जैसा कहूं वैसे करना. मैं पापा के पास जाती हूं और आप कुछ समय के बाद आना हम दोनों को चुदाई करते हुए देख कर कहना कि पापा आपने तो हमें कभी नहीं दिलाई ऐसी चूत.

कुछ देर तक ऐसे करने के बाद मैंने उसके गालों पर लंड मारना शुरू कर दिया. ऐसा लग रहा था कि मैं किसी मक्खन से भरी कटोरी में उंगली चला रहा हूं. फिर वो लगातार झटके दे रहा था और सौरभ और हसित बैठ कर ये लाइव पोर्न देख रहे थे.

मैं फिर खड़ा हो गया और उसको सीधी लेटा कर उसकी चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगा. उसी ने मुझे बताया था कि मेरी बहन सपना किस तरह से गांव के दूसरे लड़कों से अपनी चूत मरवाती है.

अब वो अपने लंड को उसकी चूत पर अप और डाउन करते हुए उसकी चूत पर रगड़ने लगा. चुदाई के वक्त मेरा भाई मेरी चूचियों को खूब चूसता है, जिस वजह से मेरे दूध फलने फूलने लगे थे. दीदी- पक्का वो किसी को नहीं बताएगी?मोनिका- दीदी, सच में कुछ नहीं होगा.

अपनी कहानी के पिछले भागबहन की ग़लती, मां का राज़-2में मैंने बताया था कि मैं अपनी बहन को बहुत सीधी समझता था.

सुबह नाश्ते की टेबल पर आलिया ने अपने मॉम डैड से कहा कि वो जयपुर में एक महीने का कोर्स करना चाह रही है. फिर सोनिया ने कहा- भैया, आप अम्मी को अकेले नहीं चोद सकते हो क्या?वो बोला- नहीं, ऐसा नहीं हो सकता. मैंने उसे रुकने को कहा और मैंने अपनी नाइटी उतार कर बोली- बेटा, मेरे दूध नहीं पियोगे?राजू बोला- मां आज तेरे दोनों मटकों का सारा का सारा दूध पी जाऊंगा … पूरा निचोड़ लूंगा.

ऐसा करते हुए उन्होंने मुझे देख लिया और मुस्करा कर चलीं गईं।फिर शाम को घर जाने का समय हुआ और लेबर 5 बजे ही अपने घर को चली गई. अब मेरी चूत की गर्मी और अधिक हो गयी थी और मेरा मन चुदने के लिए करने लगा था.

मोनिका- अरे तुझे शिव तो क्या कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनाएगा … तू किसी को अपनी चूत ही नहीं देगी. जब लवली खाना लेकर आई तो मैंने पूछा- पापा कुछ कह रहे थे क्या?वो बोली- हां, कह रहे थे. उसकी चूचियां उसकी ब्रा में ऐसे फंसी हुई थी जैसे थोड़ा सा दबाते ही बाहर उछल कर आ जायेंगी.

ट्रिपल ट्रिपल

… उन्होंने मेरी बात पूरी होने से पहले ही मेरी टी-शर्ट भी उतार दी और खुद भी बिल्कुल नंगी हो गईं.

अब मैंने भी तेजी से धक्के मारने शुरू किये और अपने लंड का पूरा माल उसकी गांड में गिरा दिया. डिल्डो पर लगे कुंवारी चूत के रस को चाटते हुए वो उसको लंड का रस समझ कर अपनी प्यास को शांत करने की कोशिश कर रही थी. भाभी मेरे लंड को ऐसे प्यार कर रही थी जैसे वो लंड नहीं कोई छोटा बच्चा हो.

मैं थोड़ा जोर से करने लगा, तो दीदी ने मेरी कमर पर हाथ रख दिया और सहलाने लगीं. उसकी कमर को पकड़े हुए सुराज मस्ती में मनुषा वर्मा की गांड चुदाने करने लगा. हार्ड फक्किंगमेरे अंडरवियर में मेरा लौड़ा पूरा टाइट होकर रॉड के जैसा तना हुआ दिख रहा था जिसमें झटके लग रहे थे.

हंसते हुए मैंने कहा- तो फिर इतनी उदासी से क्यों कह रही हो, तुम्हें तो खुश होना चाहिए कि तुम्हारी मुनिया की खातिरदारी करने वाला आ रहा है. अगर कल को वो हमारे घर आयेगा और हम मां बेटे को साथ में देखेगा तो क्या सोचेगा, और फिर जो बच्चा पैदा हम करेंगे उसके बारे में पूछेगा कि ये बच्चा किसका है तो फिर हम उसको क्या बतायेंगे? इसलिए मैंने उसको पहले ही हमारी शादी के बारे में बता दिया है और उससे कह दिया है कि तुम मेरे से 4 साल बड़ी हो.

सोनिया बोली- मम्मी आप दुनिया में अकेली नहीं हैं जो अपने बेटे से चूत मरवा रही हैं. चोपड़ा मेरी बहनों की जवानी देखता हुआ बोला- क्यों मेरी सालियों … तुमको मैं कैसा लगा?शबनम और सुल्ताना उसे देख कर हंस कर बोलीं- मस्त जोड़ी है. मैं मुश्किल से दो मिनट अपने आपको कन्ट्रोल कर पाया और सोचने लगा कि यदि जेनिफर ने ज्यादा देर तक ब्लो जॉब किया, तो मेरा माल निकल जाएगा.

वो अभी तक वर्जिन थी, पर वो हस्तमैथुन करती थी, जिससे उसकी चूत काफी खुल गयी थी. अब रिया जी को मेरा लंड अपनी चूत में डालना था, तो उन्होंने खुद को दुबारा तैयार करना शुरू कर दिया. मुझे मजा आ रहा था कहानी पढ़ते हुए मुठ मारने में और लंड को रगड़ते हुए हिलाने में, रूम में पूरा अंधेरा था.

… उनके रसीले मम्मे … हाय … ऐसे मम्मे तो मेरी गर्लफ्रेंड के भी नहीं थे.

मेरी टीचर सेक्स कहानी के पिछले भागट्यूशन टीचर दीदी की वासना-1में अब तक आपने पढ़ा कि दीदी मेरे साथ बातें कर रही थीं. अब मैं भी उसकी चूत में लंड पेलने के लिए और ज्यादा इंतजार नहीं कर सकता था.

वो बोला- क्या हुआ?मैंने कहा- तान्या के बाद आप मुझको तो चोदोगे नहीं?भाई बोला- अरे नहीं यार … तान्या को एक बार खुश कर देता हूँ. आह क्या चूत थी … एकदम गुलाबी और हल्की हल्की झांटें चूत के रस में भीगी हुई चमक रही थीं. उनका दूध सा गोरा बदन, बड़े … पर कसे हुए मम्मे और वो पतली कमर ओए होए … दिल पर मानो छुरियां चल जाती हैं.

जवान लड़की की कुंवारी चूत अब अपने अंदर लंड लेने के लिए मचलने लगी थी. आखिर आज हम पूरे दिन चुदाई करने वाले थे।मैंने उसको अपने कमरे का एड्रेस बता दिया. हम सबने इन बातों का बहुत मज़ा लिया और अपने पुराने सब सेक्सी खेल याद किए.

चोरों की बीएफ मगर आज ऐसा लग रहा था कि उसका साथ पाकर मैंने स्वर्ग को ही पा लिया है. भाभी मस्त होकर कामुक आवाजें निकालने लगी और मेरे सिर को पकड़ कर मेरा मुंह अपनी चूचियों पर दबाने लगी.

रवि सेक्स वीडियो

मैं राधिका को बेहद पसंद करता था मगर मुझे मोनिका की चुदाई करने में भी बड़ा मजा आता था … क्योंकि अब तक एक वही थी, जिसकी मैंने गांड भी मारी थी. [emailprotected]भाभी की चूत की कहानी का अगला भाग:भाभी की चूत का भोसड़ा बनाया-2. सुराज- आराम तो होता रहेगा जान, कितने दिनों से तुम्हारी बॉल्स (चूचियों) की सर्विस नहीं हुई है, तुम्हारी पिच भी मेरे बैट के बिना वीरान हो गयी होगी.

मोनिका का पति शराब पीता था और उस दिन उसके पति के साथ उसकी जबरदस्त लड़ाई हुई थी. खैर हुआ तो कुछ नहीं, मैं अपनी बंदी के साथ कॉलेज चला गया और सीधा शाम को घर आया. लड़कियों का आपस में सेक्सकरीब 5 मिनट बाद उसने मेरे मुँह से लंड बाहर निकाला और मुझे किस खड़ा करके मेरे लंड को सहलाने लगा.

मुझे भी वो अच्छी लगी लेकिन बच्चों के सामने मैं कुछ बोल नहीं पा रही थी.

मैंने कहा- मगर दीदी आपने तो कपड़े पहन लिए, तो मैंने सोचा कि अब आप नहीं करेंगी. उसने पूछा- बात कर सकती हूँ?मैंने हां में जबाव देते हुए पूछा- रात को नींद क्यों नहीं आई? तुमने बताया नहीं था.

इतने में ही चाची बोली- अच्छा एक बात बताओ, मैं तुम्हें सच में इतनी अच्छी लगती हूं क्या?मैंने कहा- मां कसम चाची, आप इतनी सेक्सी और क्यूट लगती हो मुझे कि मेरा तो मन करता है कि बस … आपके साथ …वो बोली- क्या, मेरे साथ क्या?फिर बात को घुमाते हुए मैंने कहा- कुछ नहीं. दिव्या की चूचियां अपने सीने से सटाकर उसके चूतड़ों को मैंने अपनी ओर दबाया तो मेरा लण्ड दिव्या की चूत से सट गया. एक बार की बात है … सर्दियां चालू हो रही थीं और घर का गीजर काम नहीं कर रहा था.

मैंने उसके दूध सहलाए, तो वो सिहर गई और उसके जिस्म में झुरझुरी सी दौड़ गई.

सौरभ- साली रांड … तेरा एक और चाहने वाला आ रहा है … बड़ी खुश हो रही है. मगर दोस्त के यह बताने पर कि उसकी चुदाई नहीं हो रही है तो तब से मेरे मन में भी उसके साथ सेक्स करने के ख्याल आने लगे. करण नाम के उस मर्द ने मेरी बुर में अपने लंड की मर्दानगी कैसे दिखाई … ये मैं हॉट गर्ल की बुर चुदाई की कहानी के अगले भाग में लिखूंगी.

হিন্দি হট সেক্সये सेक्स कहानी 6 महीने पहले की उस वक्त की है … जब मुझे अपने काम के सिलसिले में नागपुर जाना पड़ा. वो बोला- अच्छा ठीक है, अब तुम कहो तो आज का प्रोग्राम शुरू करें?इतना कह कर शिवम ने अपना अंडरवियर उतार कर मेरी बहन के हाथ में अपना लंड थमा दिया और सपना रिंकू के लंड को सहलाने लगी.

एक्स एक्स एक्स सीसी

मैंने कमर के पीछे हाथ ले जाकर मैडम की ब्रा का हुक खोल दिया और उनके हाथ में से ब्रा को खींच कर ढीला कर दिया. प्रिय पाठको, मुझे आशा है कि मेरी बहन की चुदाई कहानी आपको पसंद आई होगी. मेरी इच्छा उनसे मिल कर बात करने की भी थी, लेकिन मुम्बई के उपनगर जैसे हो चुके नासिक शहर में कोई किसी से फ़ालतू बात करना पसंद नहीं करता है.

कुछ देर बाद फिर हम सभी बेडरूम में आ गए पद्माकर ने मेरे पैरों के बीच से हाथ डाला और मुझे उठा दिया. वो बोली- करने वाले की तलाश में जुटे हुए हैं हमारे घर वाले, कभी भी खबर मिल सकती है आपको।तभी उसका फोन बजा और उसने उठा कर हैलो किया. रोज रोज बेटा-बेटी की चुदाई देख कर मेरा मन भी अपने बेटे का लंड चखने के लिए करने लगा था.

चाची बोली- कुछ तो बात किया करो मेरे साथ, तुम मेरे सामने कुछ भी नहीं बोलते हो. भूमिका जो कि 19 साल की थी वह देखने में एकदम अपनी मां की तरह लगती थी. उसके जिस्म में एक अलग ही झुरझुरी सी दौड़ने लगती थी जब आसिफ उसके सामने होता था.

इसीलिए तो वो अन्जान शहर में अकेले ही उसके साथ रहने के लिए चली आई है. मैं भी अन्जान बन कर भाभी को अपने कसरती बदन के हर एक अंग के जी भर कर दर्शन करवा रहा था ताकि भाभी की चूत में खुजली मचना शुरू हो जाये.

आपको मोटी आंटी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मैं उस हॉट भाभी की चूत को धीरे धीरे सहलाने लगा तो उसकी चूत पानी छोड़ने लगी. सेक्सी भाभी पोर्न वीडियोबिल्कुल छोटा सा नुन्नू जैसे लंड को साथ की लड़कियों की चूत के छेद के बाहर ही रगड़ते हुए मज़े लेते रहते थे. सेक्सी दिखाएं सेक्सी सेक्सीवो ऑटो से आयी थीं, तो मैंने बोला कि यार रुको न … कहीं बैठते है … फिर चली जाना. बात तब की है, जब मुझे उनके घर में काम करते हुए 4 महीने से ज्यादा हो गए थे.

उसने पूछा- कैसे करनी है?तो मुझे समझ नहीं आया तो मज़ाक में कहा- मैं अपने करके बता दूँ?उसने झट से हाँ बोल दी.

चाची को मैं पसंद तो बहुत करता था लेकिन उनसे कुछ कहने की हिम्मत नहीं होती थी. वो बोली- अब चोद भी दे मेरी जान … और कितना इंतजार करवायेगा मेरी प्यासी चूत को लंड का सुख देने के लिए?मैंने वैसा ही किया. तेजी से डिल्डो लेते हुए आलिया के बदन में एक लहर सी उठी और उसकी चूत से पहला स्खलन हुआ.

शाम हुई तो भाभी ने माँ से मेरे लिए कहा- देवर जी को कुछ दिन मेरे यहां लेटने की कह दीजिएगा, मुझे अकेले डर लगेगा. हर कुछ झटकों के बाद मैं लंड उसके मुँह से निकाल देता, तो वो गहरी सांस ले लेती. भाभी ने मेरे लम्बे लंड को देखते हुए कहा- मस्त लंड है … चलो अब देर न करो … मेरी पेंटी भी उतारो … लेकिन इसे तुम अपने होंठों से उतारना.

ब्लू पिक्चर नंगा फोटो

रिंकू बहन की चूची दबा रहा था और नीचे से शिवम उसकी चूत को चूस रहा था. मैंने दीदी से कहा- दीदी, अब आपको और करवाना है क्या?कोमल दीदी बोलीं- नहीं शिव अब तुम राधिका की चूत का मज़ा लो … मैं बाहर चली जाती हूं. एकदम कातिलाना जिस्म था उसका … उफ्फ उसके चूतड़, उसकी कमर और ऊपर से गांड का शेप बहुत मस्त था.

चुत से पानी निकलते ही रेखा भाभी ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और ज़ोरों से किस करने लगीं.

मेरी छोटी डील डौल व चेहरे की कोमलता से मैं लगभग हर तरह के आयु वर्ग व समूह का अंग बन जाता था.

कैसे मजे से लण्ड ले रही थी टू चूत औऱ मुँह में! बड़ी चुड़ैल है तू … कितने मजे से ले रही थी. सपना और मैं रोज रात में चुदाई करते थे लेकिन पता नहीं क्यूं वो मेरे साथ नहीं खुल रही थी. हिंदी चुदाई वीडियो दिखाएंमेरी चाची सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी मस्त चाची के साथ सेक्स किया.

मैंने गांड उठाते हुए दीदी की चुत में जड़ तक लंड को पेला और उनको चूमते हुए कहा- तो फिर मजा लो न दीदी. मैंने कहा- ठीक है … एक महीने में मैं उससे ही खुद को प्रपोज करवा लूंगा. जिस बात की उम्मीद में आलिया उसके पास आई थी उन दोनों के बीच में वैसा कुछ भी नहीं हुआ.

मेरी बहन एक पल के लिए तो सहम गई … मगर अगले ही पल वो बिस्तर के गद्दे पर गिरते हुए टांगें फैला कर उसे अपने पास बुलाने लगी. जब घर पर कोई नहीं होता था तो मम्मी मेरी दीदी को घर पर अकेले छोड़ कर नहीं जाती थी क्योंकि मैं भी घर से बाहर चला जाता था.

उसने मुझे 2-3 बार हिलाया पर मैं सोने का नाटक कर रही थी और नहीं उठी.

अब आप मां-बेटे के रिश्ते को भूल जाओ मां, अब हम ऐसे ही मजे लेकर रहेंगे. उस समय जब मैं शुरू शुरू में इस रास्ते पर चली थी या यूं कहें कि समय और किस्मत को यही मंजूर था, या फिर ईश्वर ने मेरे बेटे को यह पाप करने के लिए मजबूर किया था, उस वक्त इन सभी बातों को लेकर मैं बहुत ही ज्यादा परेशान रहती थी. अब उस पल का इंतजार खत्म हो गया था जिसके लिए मैं इतने दिन से इंतजार कर रहा था.

गन्ने के खेत की सेक्सी वीडियो अब मैंने मोनिका को कहा- तुम कैसे करवाओगी?वो बोली- दीदी की तरह ही डॉगी स्टाइल में. मैंने उसकी चूत में लंड को धकेलते हुए कहा- यार, एक महीने के बाद फिर मैं किसको चोदूंगा? क्योंकि मैं तुझे तो चोद नहीं पाऊंगा.

मुझे इतना तो पता चल गया था कि मेरे लंड को एक नयी हॉट भाभी की चूत मिलने वाली है. उसको मस्त होता देख कर शिवम ने एकदम से अपना लंड मेरी बहन की गांड में घुसा दिया. कुछ देर टीवी देखने के बाद मैंने कराहने की आवाज सुनी, तो दीदी की तरफ देखा.

खुशबू सेक्स

उसके मुँह से ये बात सुनते ही मैंने उसको एक चुदाई की क्लिप भेज दी … और लिख दिया कि देख कर जो भी पहली बात मन में आए, खुल कर पूछना. थोड़ी ही देर में मैं सोने का नाटक करने लगा तो आंटी ने मेरा सिर दबाना बंद कर दिया. चोपड़ा ने लंड हटाया और अच्छे से तेल लगा कर फिर से गांड में लंड डालना शुरू कर दिया.

मगर आज बहन की ख्वाहिश मैंने पूरी कर दी थी और अब बहन मेरी ख्वाहिश पूरी करने के लिए खुद को मुझे सौंपने जा रही थी. मुझे बस इतना समझ आया कि राधिका का स्कूल में एक ब्वॉयफ्रेंड था और वो दोनों बाथरूम में किस कर रहे थे.

भाभी ने चुत को चूसने से मना कर दिया … तो मैंने एक उंगली को उसकी चूत में डाल दिया और अन्दर बाहर करने लगा.

मैं- क्या हुआ?जेनिफर- तुम्हारा हथियार तो जैक के हथियार से भी बहुत बड़ा है. मेरा थोड़ा सा लंड चुत में घुस गया और उसी वक्त जेनिफर के मुँह से आवाज निकल गई. सिम्मी ने मेरे लंड को अपने गोरे-गोरे हाथ से पकड़ा और उसे मुठियाने लगी.

मेरा 7 इंच का लौडा अब पूरी तरह से दी के अंदर जा रहा था लेकिन दी आवाज नहीं निकाल रही थी।मैंने पूरी जोर से दी को चोदा. मेरे इस वार के लिए वो तैयार नहीं थी और पूरा लंड उसकी चूत में फंस गया. मनु घर पर केवल पतली बनियान और अंडरवियर में ही रहता था जिसकी वजह से मुझे बहुत बार उसका लंड दिख जाता.

मैंने दी की चूत के अंदर ही अपना सारा माल निकाल दिया।माल के अंदर जाते ही दी को जो सुकून मिला, वो उनके मुस्कान से समझ आ गया।थोड़ी देर दोनों एक दूसरे को बांहों में लपटे रहे.

चोरों की बीएफ: कभी उसकी चूत के छोटे से दाने को दांतों से पकड़ कर खींच लेता तो कभी चूत को खींच कर चूसने लगता. उसके मम्मों का बड़ा साइज़ देख कर लगता था कि सलोनी पहले से बहुत खेली खाई है और कई लंड ले चुकी है, लेकिन ऐसा था नहीं.

तो वो कह रही थी- यार, तेरे जैसा लंड मैंने आज तक नहीं देखा, पूरी तसल्ली कर देता था चूत की! मुझे तुम्हारी और तुम्हारे लंड की बहुत याद आती है. भाभी कई दिन से चुदी नहीं थीं और इतना बड़ा लंड उन्होंने कभी लिया भी नहीं था. प्लीज कभी धोखा मत देना।मैंने कहा- तुम्हारी कसम जान, मैं तुम्हें कभी धोखा नहीं दूंगा।और इस तरह हमने रात भर चुदाई की। अगली सुबह जल्दी मैं वहां से निकल गया। कविता बहुत उदास हुई।बाद में फोन पर रोने भी लगी।दोस्तो, कविता को मैंने कभी धोखा नहीं दिया.

मैं अपनी क्लास का सबसे होनहार छात्र था और सभी साथ के लड़के लड़कियां मुझसे दोस्ती करने के लिए लालयित रहते थे.

मनुषा- उहहह … ओहह … आहह … ओह … यस … सुराज … कम फास्ट … अब मैं ज्यादा नहीं झेल सकती हूं. वो बोला- अब बताओ मम्मी, क्या तुम मेरे लंड को अपनी चूत में लेना चाहती हो?मैं उसके गाल पर तमाचा मारते हुए बोली- हां कुत्ते, चोद दे मुझे. ये कह कर फिजा को उसने गोद में उठाये हुए ही अंधेरे में ही अपने कदमों को अपने बेडरूम की ओर बढ़ा दिया.