बीएफ ब्लू नंगी चुदाई

छवि स्रोत,राजस्थानी सेक्सी वीडियो एक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

अंग्रेजी बीपी वीडियो: बीएफ ब्लू नंगी चुदाई, अब मुझे लड़कों को देखना अच्छा लगने लगा और मुझे सेक्स की भी इच्छा होने लगी.

मराठी लड़कियों की चुदाई

तो नताशा सुस्त कदमों से चलते हुए सोफे पर बैठ गई और अपने हाथ में पकड़ा काले रंग का ऑफिस बैग टेबल पर रख दिया।वह एक हाथ से अपने लम्बे बालों की चोटी को सहलाती हुयी पता नहीं क्या सोचे जा रही थी।आपने तो सुबह चलने से पहले मुझे फोन ही नहीं किया?”ओह. ट्रिपल एक्स मसाजउसके बाद थॉमस बेड पर लेट गया और उसने मुझसे फिर से लंड चूसने को कहा.

मैंने अपने द्वारा लिखने का बहुत प्रयास किया, पर उस याद को सोच कर ही मेरे हाथ खुद ब खुद चूत पर चले जा रहे हैं और चुचे के निप्पल कड़क हुए रहे हैं. चूत का वीडियो दिखाओपर साली जी अपनी ही धुन में अपनी चूत आगे पीछे करती हुईं खुद चुदने लगी और मैं उसकी पीठ चूमते चाटते कभी दूध मसलते मजे लेने लगा.

फिर मैंने भाभी के ऊपर चढ़कर पीछे से हाथ डालकर स्तनों को पकड़ा और मथने लगा.बीएफ ब्लू नंगी चुदाई: अब आगे:नसीम गांड मराने के बाद अपनी गांड पर हाथ रखे सहलाता हुआ बिलबिलाता रहा- भाई साहब … आज तो पूरी कसर निकाल दी … गांड की मां चोद दी.

मैं बाथरूम से होकर आया और प्राची भाभी के पास बैठकर उन्हें निहारने लगा.सनम का ये रूप देखकर मैं फिर से चौंक गयी कि इस साली की चूत में कितनी आग लगी हुई है।यह दुनिया के लिए तो सीधी दिखने वाली लड़की थी.

बीएफ मूवी पंजाबी सेक्सी - बीएफ ब्लू नंगी चुदाई

एकदम ताजे गुलाब की खुशबू पूरे कमरे में फैली थी, पूरा रूम सजा हुआ था साफ़ सुथरा … और बेड पर एक योगा पैंट जो ज्यादा मोटा नहीं था, झीना कह सकते हैं लेकिन काला होने के चलते सायद सिर्फ मेरे उभार ज्यादा दीखते.पर इससे पहले कि मैं कुछ और करता सुहाना ने मेरा सिर पीछे धकेल दिया।और वो जोर-जोर की साँसें लेने लगी। उसे इस हॉट ओरल सेक्स का पूरा मजा मिला था.

फिर उन सभी ने जल्दी से ट्रेन के इस डिब्बे के सारे दरवाजे खिड़कियों को बंद कर दिया. बीएफ ब्लू नंगी चुदाई फिर अचानक ही उन्होंने मेरी पैंटी को खींच दिया और मेरी नंगी चूत को रगड़ने लगे.

अपना लंड चुसवाते हुए ससुर जी मुझे गंदे गंदे इशारे कर रहे थे जिससे मैं और ज्यादा चुदासी हो रही थी.

बीएफ ब्लू नंगी चुदाई?

मैं बेडरूम में जाकर सभी अंडरगार्मेंट्स ले आयी और मैंने सभी अंडरगार्मेंट्स टेबल पर रख दिए. मेरी बच्चेदानी में मुँह पर जेठ जी के लंड ने करीब 9-10 बार रह रह कर धारें मारीं और वो मेरी छाती के ऊपर फैलते चले गए. नेहा ने मेरा हाथ पकड़ कर चूम लिया और कहने लगी- राज, देखो, बेड शीट का क्या हाल हो गया है.

मैंने लंड ज़रा भी हिलाया तक नहीं, ऐसे ही अन्दर रहने दिया और चूची को चूसने लगा. इस पर मैं बोला कि भाभी मैं पागल हो गया था भाभी, अब मैं कुछ नहीं करूंगा भाभी … बस आप ही मुझे चोदो. वो ये कि प्रतिभा ने कहा था- संदीप मैं चुदी तो बहुत हूँ और तुमसे बड़े लंड भी देखे हैं.

’ की घुटी घुटी सी हल्की आवाजें मेरे और उसके कानों में मादक संगीत बजा रही थीं. मैंने कह दिया- यार जिम में बोतल में पानी रखने की दिक्कत हो जाती है. दस मिनट बाद आंटी ने मुझे उठाया और बोलीं- अब तू जा … मीनू आने वाली होगी.

उसने अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों मम्मों को पकड़ लिया और उन्हें दबाने लगा. धीरे- धीरे अपनी बड़ी सी गाँड मटकाते हुए वो रमेश के पास आई और बोली- क्या देख रहे हो जी?रमेश- बस तुम्हें ही देख रहा हूँ कि कितनी बेशर्म हो तुम! अपने पति और बच्चों के होते हुए भी तुम मुझसे चुदने चली आती हो।रीता- तो इसमें बुरा क्या है? ये मेरी चूत है, मैं चाहे जिससे चुदवाऊँ! इसमें मेरे पति का क्या?उसकी बात पर रमेश बोला- मेरी रंडी रानी.

उसे किस करते करते मैंने उसकी ब्रा में हाथ डाल कर उसके चूचों को दबाना शुरू कर दिया.

हमारी लव मैरिज हुई थी और हम शादी के 2 साल पहले से ही रिलेशन में थे.

पैंटी की डोरी मेरी गांड की दरार में चली गयी थी … जिससे मेरे चूतड़ दिखने लगे थे. पूजा- बस लंड ही चुसवाओगे … या नीचे लगी आग में भी कुछ कर पाओगे?मैं- तुम लंड चूस कर इसे गीला तो करो … तेरी चुत का भुर्ता तो मैं बना ही दूंगा. मैंने भाभी को गोद में उठाया और लंड को दुबारा चूत में सैट करके गोद में उछाल उछाल कर चोदने लगा.

तभी बैलेस बिगड़ने से मैं गिरने को हुआ, तो मेरा हाथ कुछ टेकने को बढ़ा. तब भी मैंने मुँह बनाते हुए कहा- क्या यार … मुझे आज तुम्हारे जिस्म पर खाना रख कर चाट चाट कर खाना था और तुम वहां जाने की बात कर रही हो. सासू माँ बोलीं- दामाद जी, जल्दी से इसे हॉस्पिटल ले चलो, डिलीवरी बस होने ही वाली है.

माहौल को बदलने के लिए मैंने निष्ठा को अपने आगोश में भर लिया और उसे चूमने लगा वो भी मेरे सीने से लग निश्चेष्ट खड़ी रही गयी.

मैंने ये कहते हुए मुँह फेर लिया और नेहा के जाने की प्रतीक्षा करने लगा. अम्मी ने मेरे लंड पर आठ दस चुप्पे मारे और पूरा लंड मुँह में ले लिया. देसी साली की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी साली की चूत को चिकनी करके भोगना चाहता था तो मैंने उसे बाल साफ़ करने की क्रीम लाकर दी.

जैसे ही उसने लण्ड को पकड़ा तो वह एकदम चौंक गई और मेरी ओर देखकर बोली- ये क्या है? इतना बड़ा क्या है?मैंने कहा- लण्ड है, देखना चाहती हो?यह कहकर मैंने लोअर का इलास्टिक नीचे किया और फड़फड़ाता हुआ लण्ड बाहर निकाल कर फिर से उसके हाथ में रख दिया. मिठाई में तो लसमलाई ओल काजू की कतली बहुत पसंद है।” सानिया ने अपने होंठों पर जीभ फिराते हुए कहा।चलो कोई बात नहीं. पांच मिनट तक मेरी चूत को वो ऐसे ही चाटते रहे और मैं बिल्कुल चुदासी हो गयी.

मेरा मतलब वो वाहियात सी मसाज चेयर ही सारा मजा क्यूं लें!मैंने उसकी ओर आंख मारकर कहा.

मेरे दोनों घुटने बेड पर टिके थे और मेरे लंड के ऊपर नेहा अपनी चूत के सहारे टंगी थी. इसलिए आप मेरे नाम की मुट्ठ मार लें और जहां आपका मन करे वहां माल गिरा दें.

बीएफ ब्लू नंगी चुदाई मैं- ठीक है अभी मैं रास्ते में खड़ा होकर बात कर रहा हूँ … तो अभी फोन रख दो. मैं ग्वालियर से रात 11 बजे ट्रेन में बैठा था और सुबह 5 बजे भोपाल पहुंच गया.

बीएफ ब्लू नंगी चुदाई अब उसका 2 घण्टे बाद फोन आया तो मैं बोला- मेरे सभी नम्बर ब्लॉक कर दिये तुमने? मैंने ऐसा तुम्हारे साथ क्या कर दिया?वो बोली- तुमने कुछ नहीं किया है. क्योंकि एक तहजीब में छिपी औरत के साथ एक वाइल्ड सेक्स एक अनोखे सुख की प्राप्ति देता है.

एक का लंड मेरे चूचों पर धप धप कर रहा था, जिसे मैं रुक रुक कर चूस रही थी.

बीएफ फिल्म चुदाई वाली नंगी

मीता की सुराही जैसी गर्दन और उसके कुर्ते के अन्दर उसकी उभरी हुई चूचियां कहर बरपा रही थीं. इतनी देर में हमारे एक साथी ने उनके उतारे हुऐ कपड़े इकठ्ठा किया और दूर भाग गया. एकदम से लंड घुसा, तो अम्मी जोर से चिल्ला पड़ीं- आह आराम से चोद सांड के जने … साले अम्मी हूँ … तेरी कोई बाजारू रंडी नहीं हूँ.

वह शायद कुछ तैयार सा ही था … कुछ नखरे तो करता रहा, पर प्रकाश भाई ने जब धीरे से लंड पर थूक मला, तो नसीम लंड देखता रहा. चलो जीजू खाना खा लेते हैं जल्दी फिर सोना है मुझे तो अभी से नींद आने लगी है. मैं- निकाला तो फिर डालते हुए जलन व दर्द होगा, यदि सह लिया तो 5 मिनट बाद अपने आप ठीक हो जायेगा.

रॉबर्ट ने मुझे काफी देर तक चोदा और उसके बाद वो भी अपनी चरम सीमा पर आ गया.

अब उसने राजू को बोला- धीरे-धीरे लंड को मेरी चूत में डाल!राजू ने लंड डालने की कोशिश की. फिर मैंने झुक कर उसकी गांड की दरार में लंड घुसेड़ा और उसकी पीठ चूमने लगा. अंकल ने मुझे अपनी कुवारी बुर में ऊँगली करते देख लिया था और मुझे सेक्स के लिए मानसिक रूप से राजी कर लिया था.

शाम को हम दोनों थोड़ा मेरठ घूमे औऱ वापस गेस्ट हाउस में आ गए।मैंने उससे कहा- रात की तैयारी कर लो, आज रात हमें खूब मजे लेने हैं।उसने कहा- अब रहा नहीं जा रहा है, एक राउण्ड अभी मार लें क्या?मैंने मना कर दिया. खाना खाते खाते मैंने निष्ठा का हाथ पकड़ लिया और …निष्ठा डार्लिंग, खाना तो बहुत टेस्टी बनाया है तुमने. रात होते होते फिर से मेरा लंड खड़ा होने लगा और मैं डेज़ी के बारे में सोचने लगा.

” मैंने उसे कहा।फिर हम चल पड़े।लोग कहते हैं कि जमाना बदल रहा है लड़कियाँ लड़कों से आगे निकल रही हैं. नंगी चूत की चुदाई स्टोरी के अगले भाग में पढ़ कर जानें कि मेरी चूत में लंड घुसा या नहीं!आपकी सुहानी चौधरी।[emailprotected]नंगी चूत की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-4.

जिस दिन से गुरजीत ने मेरे साथ कार में आना जाना शुरू किया था, मैंने उसी दिन से रोज सुबह शाम शिलाजीत के दो कैप्सूल खाने शुरू कर दिये थे क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि 19 साल की गुरजीत की चूत चोदने में मेरा 50 साल का लण्ड कमजोर पड़ जाये. नीरा मुझे उत्तेजित और स्खलित करने के लिए मेरे लन्ड को चूसते हुए मेरे आंड भी सहला रही थी. जैसा कि आप लोगों ने जाना था कि कैसे मैं तलाक के 2 साल के बाद एक दुकान वाले से चुदी थी.

’ की घुटी घुटी सी हल्की आवाजें मेरे और उसके कानों में मादक संगीत बजा रही थीं.

इसके लिए जरूरी है कि किसी कारीगर लौंडेबाज से शुरू शुरू में ही सीखा हो … यह भी एक आर्ट है. मैंने अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं क्या तो वो समझ गया कि मैं गहरी नींद में सो रही हूँ. आह्ह्ह अर्जुन … अह्ह्ह हाह … हानन्न फाड़ दो मेरी चूत … आःह मेरे राजा … चोदो अपनी रानी को!”मैं थक गयी.

”पर तुम्हारे घर वाले?”उन्हें छोड़ो, तीन घंटे मेरे हैं। उसके बाद ही कोई पूछेगा।” उसने कहा. हम लोग दोबारा एसएचओ के कमरे में आ गए और कहा कि इसको थोड़ा अच्छी तरह से धमकाकर यह कहकर भगा दो कि दोबारा इन्हें तंग ना करें.

इतने में मां बोलीं- हर्षद मैं तुम्हें अपना बेटा नहीं बल्कि एक दोस्त मानती हूँ. मैं उसे करन बुलाते हुए बोलने लगी- आहह … करन और चाटो मेरी चिकनी नंगी चूत. पर चुदाई का आनंद भी तो निराला होता है सो साली जी लगातार पूरे वेग से उछल उछल का लंड को अपनी चूत में लीलती रही थी.

হিন্দি ব্লু ফিল্ম ব্লু ফিল্ম

मैं भी उनका साथ दे देता था … पर सांस सम्भालने के लिए मुझे अलग होना पड़ रहा था.

पर अनिकेत पता नहीं क्यों, केवल टोपे को ही अन्दर बाहर कर रहा था और मेरी चूत के ऊपर वाले हिस्से को सहला रहा था. फिर जैसे ही उन्होंने अपना मोटा, पर मुरझाया लंड मेरी चूत से बाहर निकाला, उनकी मर्दानगी देख कर मैं मस्त हो गयी. होता भी क्यों नहीं, मैंने उसे चरमसुख की अनुभूति जो करा दी थी और मुझसे उसे किसी भी प्रकार का डर भी नहीं था.

इससे पहले वाले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे रमेश ने रश्मि को लंड चूसने का ज्ञान दिया. कुछ लोगों ने मुझसे मिलने को भी बोला था, लेकिन समय के अभाव में मिल नहीं पाया, उसके लिए सॉरी … और सभी का धन्यवाद. सेक्स सेक्सी पिक्चर सेक्सीउस मदमस्त कर देने वाली महक से मुझे लग रहा था कि अभी मैं मामी को अपनी बांहों में भर लूं और उनको पूरा का पूरा खा जाऊं.

उसके लंड को चाटने के बाद मैं अपने मुँह में लंड को डाल कर अन्दर बाहर करते हुए चूसने लगी. प्रतिभा की शानदार मखमली अनुभवी चूत पाकर लंड भी बावला हो गया और इसी बावलेपन में उसने बवाल ही मचा दिया.

लंहगे में उनकी सुन्दर गांड और ब्लाउज में उनके बड़े मम्मे उभर कर बाहर आ रहे थे. मैंने भाभी से पूछा- आपके हस्बैंड तो नहीं आ जाएंगे?भाभी बोली- वे जो दवाई लेते हैं उससे आराम करने के लिए जबरदस्त नींद आती है, वे तो सुबह भी नहीं उठते. भाभी मैं तो आपकी इन बातों से पागल हो गया था और आपको उसी वक्त चोद देना चाहता था, पर आप तब तक तेल लाकर मेरे पेंट को खोलकर मेरे लंड और गांड के चारों ओर लगाने लगीं.

रीता दिमाग से भले ही पैदल थी लेकिन वह अपने जिस्म की कीमत अच्छी तरह से जानती थी. इससे अन्तर्वासना से नए लोग भी जुड़ेंगे और मुझे भी नए मित्र मिल जाएंगे. अब उसके बाद फिर क्या क्या हुआ वो सब मैं आपको अपनी आगे आने वाली कहानियों में बताऊंगी.

मैं डेजी का एक निप्पल अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और हौले हौले से काटने लगा.

एसएचओ कहने लगे- यदि दोबारा इस शहर में दिखाई दिया या इन्होंने तुम्हारी कंप्लेंट इस थाने में की तो मैं तुम्हें ऐसा टांग दूंगा कि दुबारा कभी इनकी गली की तरफ मुंह नहीं करोगे. मेरी गर्लफ्रेंड का उस ऑफिस में जो काम था वो बाकी दूसरी कंपनी की एचआर से रिलेटेड एम्प्लॉयज का काम था.

मैंने उसे प्यासी नजरों से देखा, तो उसने झुक कर मेरी एक चूची को अपने मुँह में भर लिया. साली … ले आहहह … आह्ह!”दोनों तरफ़ से वासना भरी गालियों की बौछारों के बीच चुदाई चरम सीमा पर पहुँच रही थी। किशन क्या मजेदार धक्के मार रहा था। उसका मोटा लण्ड अंदर तक रगड़ रहा था। उसके जवान लण्ड ने आज सारी कसर मेरी चूत चोद-चोद कर निकाल दी थी. अच्छा सुनो न जानू … मैं थोड़ी देर बाद में बात करती हूँ … अम्मी बुला रही हैं.

बॉस ने धीरे से अपना हाथ मेरी गर्लफ्रेंड के कंधे पर रखा और बोला- आज काम बंद करो … आओ बैठ कर बातें करते हैं. तभी अमन ने नीरा को गर्म करते हुऐ सारे बदन को चूमना शुरू कर दिया और मुझे भी इशारे से बुलाने लगा. उनके आते ही मुझे दिल से ख़ुशी हुई कि मैं उनको अपनी कला से रूबरू करके उन्हें इम्प्रेस कर लूंगी.

बीएफ ब्लू नंगी चुदाई अगले दिन से मैंने नेशनल कॉलेज की छुट्टी के समय गेट के आसपास मंडराना शुरू कर दिया. धीरे धीरे मेरे लंड ने मुझे जागृत करना शुरू किया … तो ये एहसास होता चला गया कि अब मुझे अपने एयरोप्लेन को किसी एयरपोर्ट पर लैंड करवाना ही पड़ेगा, नहीं तो ये कहीं क्रॅश हो जाएगा.

सेक्सी चुदाई चूत की चुदाई

दोस्तो, अगर आप लोग किसी काम से जा रहे हो और आपको पता लगे कि आपकी कोई मित्र भी आपको मिलने आ रही है तो सफर का मज़ा ही दोगुना हो जाता है और जब सफर पहाड़ों का हो तो क्या कहने!आज देहरादून से श्रीनगर का सफर ऐसा लग रहा था मानो बहुत दूर हो. वहां से अदिति गर्म हुई और वापस आकर निशांत के साथ ये सब करने की सोचने लगी. उसने चुदाई के 4 राउंड लिये और मेरी बीवी को चोद चोद कर बेहोशी के कगार पर ला दिया.

बॉस ने इसका मतलब समझ लिया और उसके कंधे पर हाथ रख कर पूछा- चुदाई की कहानी पढ़ना पसंद करोगी?गर्लफ्रेंड ने सर झुकाए हुए ही हां कर दी. तभी मैंने उसको पकड़ा और बोला- राजू भोसड़ी के … अंदर डाल!राजू ने धीरे से अपना लंड मेरी चूत में डाला. सेक्सी नंगा चुदाईप्रतिभा का शरीर फिर ज्वर की भांति तपने लगा … चूत लपलपाने लगी, गांड का छिद्र खुल बंद होकर सांस लेने लगा.

अब हमारी डील तब ही होगी, जब तुम मेरे साथ रात बिताने को राजी हो जाओगी.

मैंने पिताजी को बुलाया, फिर हम तीनों इधर उधर की बातें करते हुए खाना खाने लगे. फिर कुछ देर के इलाज के बाद डॉक्टर ने बोला कि इसको अभी एड्मिट करना पड़ेगा.

गुरजीत की चूत जब गीली होने लगी तो मैंने अपने अपना चेहरा गुरजीत की टांगों के बीच लाया और अपने होंठ गुरजीत की चूत के होंठों पर रख दिये. मैंने भी अपना हाथ अदिति की जांघ पर रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा. अगर मैं दुबारा इससे मिलना चाहूँ, तो इसे मेरे पास लाओगे ना?मैंने भी प्राची भाभी को बांहों में कसते हुए कहा- तुम जब कहो भाभी, मैं हाजिर हो जाऊंगा.

निष्ठा डार्लिंग, चलो अब अपने घुटने मोड़ कर ऊपर कर लो और अपनी चूत अपने हाथों से खूब अच्छे से खोल लो.

फिर उसने अपने हाथ से मेरे गाल दबा कर मुँह खोल कर अपना लंड मेरे मुँह में घुसाने लगा. मैंने भी गोदी में ही से हाथ बढ़ा कर उसके लंड को थामा और लंड के हिलाना शुरू कर दिया. मुझे ये बात समझ नहीं आई कि वो झूला झूलने को बोल रहा था या जो मेरे साथ उसने किया उसको लेकर मजा की बात कह रहा था.

बीएफ भाई बहन वालाइससे पहले कि मैं कुछ और समझ पाती मेरी गांड पर लंड का सुपारा सेट हो चुका था. सभी कमसिन कलियों भाभियों और आँटियों को संदीप साहू का प्रेम भरा नमस्कार.

ट्रिपल एक्स बीएफ सेक्सी

मैंने धीरे से भाभी के मुंह में अपना लंड डाल दिया, भाभी लंड को चूसने लगी. वो अपने हाथ पैर पटकने लगी और अपना सिर इधर उधर झटकने लगी।अभी मेरे लण्ड ने सिर्फ थोड़ी जगह ही बनायीं थी. मैंने रॉबर्ट से कहा- सर, मैं यह नहीं कर सकती, हमारी बात सिर्फ डेमो तक ही की हुई थी.

डॉक्टर ने उसके बेटे की जांच करने के बाद बोल दिया कि उसके बेटे को यहीं अस्पताल में ही भर्ती करना होगा और यहीं पर उसका इलाज होगा. और तुम्हें कार्यक्रम का पता तो है ना? तुम्हें सारे कार्यक्रम में शामिल होना है. लगभग 10 मिनट की चुदाई के बाद फिर उसने मम्मी को घोड़ी बना दिया और पीछे से उनकी चूत मारनी शुरू कर दी.

फिर मैंने प्रतिभा के कानों में आहिस्ते से कहा- पर इस बारे मैं सिर्फ चूत नहीं फाडूंगा … मुझ तुम्हारा एस होल यानि गांड का छेद भी उपहार में चाहिए. मैंने बिन्दू को पानी के साथ एक गर्भनिरोधक गोली खिलाई और उससे कहा- यह गोली जब भी चुदाई करोगी तो याद से खानी है. मैंने अमित को जबरदस्ती हटाया और मादक आवाज़ में उससे बोली- मेरे से अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

तभी अंकुश ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मुझे बेतहाशा चूमने लगा. मैं किसी मेरा दुःख कैसे बताऊं … अगर मेरी मां या बहन होती, तो उन्हें बता सकती थी.

आगे क्या हुआ, ये मैं अपनी टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी के अगले भाग में लिखूंगी.

फिर वापस घर आने के क्रम में उन्होंने मेरा हाथ गाड़ी में पकड़ा और मुझे अपनी तरफ खींचा. बीएफ देहाती हिंदी मेंशायद उसे भी यह पसंद आ गया था, उसने शर्मा कर नज़रें झुका कर प्यारी सी मुस्कान दी और नीचे देखने लगी. हिंदी सेक्सी बीएफ हिंदी सेक्सीमैं इन्हीं बातों को सोचते हुए प्रतिभा के अंग अंग को बारे बार निहार रहा था, प्रतिभा के अंडरआर्म और पांव के तलवे तक मेरे मन को आनंदित कर रहे थे. मॉम ने उनको पानी दिया, फिर चाय बना कर दी और अपने बेडरूम में ले गईं.

निष्ठा रानी, इस ड्रेस में तो तुम बहुत बहुत ब्यूटीफुल और हॉट लग रही हो रियली!” मैंने तारीफ़ भरे स्वर में कहा.

उसने फिर से मम्मी का हाथ अपने लंड पर रखा और जैसे ही मम्मी दुबारा हटाने वाली थी, उसने हटाने नहीं दिया, मम्मी के हाथ से अपने लंड को दबा दिया. मैंने भी उसे इस बार अलग सुख पहुंचाने के उद्देश्य से चूत में उंगली घुसेड़ दी और अपनी जीभ को चूत से लेकर गांड तक सैर कराने लगा. मैं इस कहानी को छोटा ही लिख रहा हूँ … क्योंकि मुझे आजकल समय नहीं मिल पाता है.

पर उसकी सहेली ने उसका कोई जवाब ना सुन कर कहा- तेरी नानी की तबियत ठीक नहीं है. उसने मेरे लिए व्हिस्की का पैग बनाया और हम दोनों चियर्स करके सिप लेने लगे. और डॉक्टरों ने हिदायत दी कि अब उन्हें अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना है.

बीएफ एचडी वीडियो

इस बार वो भी मस्त थी … तो मैंने उसे दबा कर चोदा और उसके कूल्हे पर थप्पड़ मारने लगा. रमेश ने पहले अपने हाथ से रीता के बूब्स को जार से दबाया और फिर उसे अपनी गोद में खींच कर बैठा दिया. मेरी जान, तुम्हारी बिना झांटों वाली चिकनी चूत देख कर खुश हो रहा हूं, तुमने तो कहा था कि वो क्रीम तुमने कमोड में बहा दी?” मैंने उसका बायां निप्पल दबा कर कहा.

चूंकि वहां पर ट्रेन से माल भी उतर कर ट्रकों से शहर जाता है, तो शायद उन्हीं माल को उतारने वाले मजदूर थे.

उधर पूजा भी खिलाड़ी निकली, उसने पैंटी को नीचे खिसकाया और घुटने से नीचे खींच कर पैरों तक हिला हिला कर उतार दी और हल्का सा नीचे झुक कर उसने अपनी पैंटी बाहर निकाल कर पैरों के नीचे से मेरे हाथ में थमा दी.

समय गुजरता रहा, शाम हुई शाम से रात हो गयी शर्मिष्ठा की प्रसव पीड़ा बढ़ती जा रही थी. एक बार तो जोश में मैंने पूरी ताकत से उसके चूचे भींच दिए, तो वो सिहर उठी. सनी का सेक्स वीडियोहम लोग दोबारा एसएचओ के कमरे में आ गए और कहा कि इसको थोड़ा अच्छी तरह से धमकाकर यह कहकर भगा दो कि दोबारा इन्हें तंग ना करें.

इस समय हम रास्ते में थे, तो लाईट की वजह से मैं बस टोपे को चूस कर लंड की खाल को ऊपर नीचे करके फैंटे मार रही थी. पता तो चलेगा कि बाप की इज्जत कैसे उछाली जाती है!रवि- क्या ये रंडी हम दोनों के लंड ले सकेगी? आज तो मैं इसकी चूत और गाँड का भोसड़ा बना दूंगा।रवि की बात सुन कर रमेश खुश हो गया और रश्मि बिल्कुल सरप्राइज रह गयी. मैंने भाभी की चूत के दाने को अपने होठों से चूस लिया तो भाभी का सारा शरीर इकठ्ठा हो गया.

मैं अभी रॉबर्ट के सामने सिर्फ एक छोटी से ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी में थी. एक रात में किसी कपल से बात करते वक्त मुझे हेंगआउट्स पर एक मैसेज आया.

मैंने कारण पूछने पर नीलम ने बताया कि उसका पति जब भी घर आता है तो उसके फोन को चेक करता है और मैसेज भी कर लेता है.

आःह्ह मां… आआआ आअ आह … और जोर से चोदो मेरे राजा … बुझा दो मेरी प्यास … आह्ह्ह!” मेरे मुँह से ऐसे मादक जोश दिला देने वाले बोल निकल रहे थे।अर्जुन ने मुझे जिम की डेस्क पे लिटा दिया और मेरे पैरों को अपने कंधों का सहारा दे दिया. फिर कुछ देर बाद थॉमस रोहन से बोला- रोहन तुम रूम में पहुंचो, हम दोनों आते हैं. मैं चुपचाप उसके बगल से उठा और नित्यकर्म से निवृत्त हो बाहर टहलने निकल गया.

पंजाबी बीएफ सेक्सी चुदाई वो इठला कर बोलीं- एक एक हिस्से की कैसे करोगे?मैंने कहा- मैं देखता जाऊंगा और तारीफ़ करता जाऊंगा. मैंने अमित को जबरदस्ती हटाया और मादक आवाज़ में उससे बोली- मेरे से अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

प्रतिभा मेरे सीने में सर रख कर चौड़ी छाती में उगे बालों को पुचकार रही थी. मगर उस दिन के बाद रश्मि और रिया ने मन बना लिया कि वो अब ये गंदा धंधा नहीं करेंगी और साफ सुथरी जिन्दगी का मजा लेंगी. मैंने मुस्करा कर कहा- बदमाश, मारता है मेरे को? रुक तुझे मैं अभी मजा चखाती हूं.

कुत्ता और लड़की के बीएफ

पेशाब करने के बाद भी उनका विशाल लंड नीचे की तरफ ऐसे लटक रहा था, जैसे किसी सवा दो इंची मोटाई के गोले का ऊपर का एक चौथाई भाग नीचे के तरफ को लटक रहा हो. उफ्फ्फ्फो … बस यही करवाना बाकी रहा था न; आप तो पूरी रंडी बना कर छोड़ना मुझे; पूरे निर्दयी हो आप तो; हे भगवान् कहां आ फंसी मैं तो सच में!” साली जी ने जैसे भगवान से शिकायत की. दोस्तो, मेरी पहली चुदाई की गर्म कहानी के पहले भागकुवारी जवान बुर की चुदाई की लालसा-1में आपने पढ़ा कि मैं अपनी मौसी के घर गयी हुई थी.

उन्होंने मुझे अपनी बांहों में एक बार फिर से भर लिया और होंठों पर कुछ सेकंड अपने होंठ रख दिए. तो सनम ने पहले तो मना कर दिया, बोली- अगर इसने किसी से बोल दिया तो सारे में बदनामी हो जाएगी.

मैं- क्लेरिसा, तुम्हारे निप्पल तो बहुत टाइट हो गये हैं, लगता है तुम मेरी मसाज का पूरा मजा ले रही थी.

ये देख कर मुझे और ज़ोश आ गया और मैंने जमके चोदना चालू कर दिया अपनी स्पीड बढ़ा दी. पानी भरने की वजह से उसे सांस लेने में तक़लीफ़ हुई, तो उसने खुद अपने हाथ से लंड सहलाना शुरू कर दिया. एक दिन उन्होंने मुझे अपने शहर में बुलाया और …आप सभी लोगों को मेरा नमस्कार.

बहुत बार तो हम दोनों ने साथ ही ब्लू फिल्म देखी थी और एक दूसरी की चूत की आग को शांत किया था. तभी तो मैं कहूँ कि तुम्हारी गाँड का छेद इतना गोल कैसे हो गया? मगर जो भी हो, लगती बहुत ही प्यारी है तुम्हारी ये गांड।वो बोली- हां आपको तो बस मेरी गांड चुदाई करके मजा लेने से मतलब है. तब अंकल ने बताया कि अगर वे हमें झज्जर छोड़ने गए तो बुत देर हो जायेगी.

वो बोली- पहले घूम कर आ जाते हैं उसके बाद ये सब करने के लिए सारी रात पड़ी हुई है.

बीएफ ब्लू नंगी चुदाई: मैंने उसकी चूत में धीरे धीरे लंड को चलाते हुए धक्के लगाने शुरू किये. फिर प्रकाश भाई ने मेरे चूतड़ पर हाथ फेरा और बोले- अगला नम्बर इसका; तीन दिन बहुत हैं.

निष्ठा रानी, इस ड्रेस में तो तुम बहुत बहुत ब्यूटीफुल और हॉट लग रही हो रियली!” मैंने तारीफ़ भरे स्वर में कहा. 143 का प्रयोग करके जुड़ सकते हैं, अगर आपका रिस्पांस अच्छा मिला तो मैं आपको अपनी आगे की कहानियां फिर बताती रहूंगी. मेरा दोस्त नसीम से गांड मरा कर थोड़ी देर गांड सहलाता रहा, फिर नॉरमल हो गया.

सपना अपने हाथों से मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी और वो एकदम से झड़ गयी.

लड़की की जांघें चाटने में मुझे वैसे भी अपार हर्ष और आनंद होता ही है. दोस्तो, ये थी वो सेक्स कहानी जो मैंने एक पाठक की रिक्वेस्ट पर उसकी आपबीती लिखी थी, उससे सम्पर्क करना सम्भव नहीं है, इसलिए अप मुझे मेल कीजिए और लिखिए कि ये सेक्स कहानी कैसी लगी. मैंने भाभी से पूछा- लंड चूसने में मजा आ रहा है?तो भाभी ने मुझसे बोला- हां … मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है.