बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स

छवि स्रोत,देसी मारवाड़ी सेक्सी बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

सीमा की सेक्सी चुदाई: बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स, मैं- सर मुझे बाथरूम में ले जाकर ही लंड बाहर निकालना, नहीं तो पूरा बाहर गिरेगा और मुझे साफ करना पड़ेगा.

सुहागरात सेक्सी वाला

ये सुनते ही मैंने परी मैम को बेड के किनारे किया और चुत पर लंड लगा कर रगड़ने लगा. एक्स एक्स सेक्सी मारवाड़ीमुझे सीमा की चुत का पानी थोड़ा अजीब सा लगा, पर मैंने पूरा पानी पी लिया.

बांए हाथों ने मम्मों को थाम लिया था और संजय के कारनामों की तरह ही निप्पल को उमेठने लगे थे. सेक्सी वीडियो देहाती 2021 कापता नहीं उस वक़्त मेरे मन में न जाने क्या आया, मैंने उससे कहा- ऐसा जरूरी नहीं है.

जब पहली बार चाची ने मेरे लंड की टोपी अपने मुँह में ली, उस टाइम तो मैं समझो स्वर्ग में पहुंच गया था.बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स: प्रतीक- साफ़ साफ़ बताओ, तुम क्या चाहती हो?मैं- यही कि मैं मयूर से शादी कर लूं ताकि वो भी लाइफ का मजा ले और जिंदगी भर कुंवारा ना रहे.

लेकिन परेशानियों का अंत केवल खुद के विरोधाभास पर नहीं बल्कि इस काम के लिए किसको चुना जाए उस पर भी था.खुद की भावनाओं को कंट्रोल करते हुए मैंने शॉवर लिया और इस बार अपनी नाइट ड्रेस टॉप पजामा पहना.

सनी लियोन की फिल्म सेक्सी वीडियो - बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स

कुछ देर आराम करने के बाद हमने अपने कपड़े ठीक किए और चलने के लिए जैसे ही तैयार हुए, तो मैंने देखा कि सबा ठीक से चल भी नहीं पा रही है.आदी- ये क्या है?उसने मेरे हाथ से सजा लिया हुआ गिफ्ट ले लिया और खोलने लगा.

मेरी चूत ऊपर की ओर थी जबकि मेरी चूचियां नीचे की तरफ लटक कर झूलने लगी थीं. बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स जब उसकी चूचियां मेरी पीठ पर स्पर्श होने लगीं तो फिर मेरे अंदर भी हलचल सी मचने लगी.

मैंने अपनी फेसबुक की नकली वाली आई-डी पर महिला का ही नाम लगा रखा था.

बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स?

नित्या- जानू मेरी चूत वीर्य से भर दो। कई दिन से मेरी चूत सूखी पड़ी है।फिर मैं अपना सारा वीर्य चूत में भर कर उसी के ऊपर सो गया।थोड़ी देर बाद नित्या उठ कर पेशाब करने बाथरूम में चली गई।अब जो मैं लिख रहा हूँ, ये पूरी बातें मुझे नित्या ने बताई. मैं अपनी जीभ से चटखारा लेते हुए बोला- हां मेरी जान … अब आप मेरा लंड मुँह में ले लो और इसे भी चूस दो. उसके बाद मैंने किसी के साथ कुछ नहीं किया और मैं अपनी ग्रेजुएशन के लिए दिल्ली आ गयी.

मां बोली- तू उसी की बात कर रही है ना वो जिसके साथ तुमने सोनम चाची पकड़ी थी, उसी का भान्जा है न वो?मैंने हां में मुंडी हिली दी. उसके चूचों को देख कर लग रहा था कि वो 36 के साइज के तो होंगे ही।रीता के चूचे देखने के बाद उस दिन मैंने मुठ मार दी. इस बार महेश ने पूरा लंड बाहर खींच कर एक ज़बरदस्त धक्के के साथ पूरा लंड जड़ तक ज्योति की गांड में पेल दिया और ज्योति दर्द से फिर चीख पड़ी.

उसके बाद उन्होंने मेरी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया और मैं गर्म हो गई. हमारे यहां शादी में दुल्हन के साथ कोई एक आदमी जाता है जो कि दुल्हन को दो दिन के बाद वापस लेकर आ जाता है. आपने अब तक मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि हम दोनों ने 69 का मजा लेते हुए एक दूसरे को झाड़ दिया था.

फिर हम दोनों की धक्कम पेल चुदाई शुरू हो गई।20 मिनट तक चुदाई की जिसमें नित्या 2 बार झड़ गई।मेरा भी निकलने का हुआ तो मैं लंड बाहर निकालने लगा तो नित्या बोली- क्या हुआ?मैं- वीर्य निकालने वाला है. चुदाई के बाद हम दोनों ने कपड़े पहने और मैं उसके साथ ही उसकी सहेलियों की तरफ आ गया.

सीमा समय से आ गयी … पार्लर को फोन किया तो मालूम पड़ा लड़कियां अभी आधा घंटे देर से पहुंचेंगी.

तो चलें ड्रॉयिंग रूम में प्रिन्स के पास?” वो बोली- अगर वो सो गया हो तो उसको डिस्टर्ब नहीं करेंगे.

सोफा थोड़ा साइड में था। इसीलिए महेश को वहां पर बैठने में कोई झिझक नहीं हुई. रोहन- प्लीज जान बताओ ना!सोनिया- हां जानू बहुत गीला है … यहां तक कि मेरी पेंटी तक पूरी भीगी पड़ी है. दोस्तो, अगर सब कुछ प्लान के हिसाब से चला, तो जरूर मेरे और यौवन से भरपूर शरीर की मालकिन शिखा मामी के बीच चुदाई हो जाएगी और मैं इसकी सजीव सेक्सी कहानी अवश्य लिखूंगा कि मेरे कानपुर जाने पर क्या क्या हुआ.

उसने मेरे लंड को बहुत गौर से देखा, शायद उसके पति का मुझसे छोटा लंड था. आह आह आह्ह्ह मजा आ रहा है सर … पहले क्यों नहीं चोदा दोनों ने मिलकर … आह … मैं आज से दोनों की रंडी हूँ … चोदो मुझे … आह्ह्ह आह्ह्ह मजा आ रहा है और जोर से. वो चुदास से भरे स्वर में कहने लगी- आंह … उंह अब जल्दी से अन्दर डाल दे.

यशिमा के साथ मेरे किस तरह के सम्बन्ध आगे बढ़े … उसी की कहानी का मजा लीजिएगा.

पहले तो वो मना कर रही थी और बोल रही थी कि मुझे थोड़ा अजीब लग रहा है लेकिन जब मैंने उसको सेक्स की बातें करके गर्म किया तो वो मान गयी. फिर मैंने थोड़ा जोर दिया, तो वो बोली- ठीक है … चादर एक ही है, तो हम दोनों चादर का इस्तेमाल कर सकते हैं … आप मेरी सीट पर आ जाओ. उसकी बाद सुहास ने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया और लंड चूसने को बोला.

चुदाई की लय इस कदर बनी हुई थी कि लंड चूत का मिलन एक दूसरे के साथ बड़ी मस्ती से हो रहा था. ‘आह कविता चाची … आपकी क्या मस्त चूचियां हैं … आह तेरी चूत की बड़ी याद आती है … एक बार दे दो चाची. मैं अन्य लोगों की तरह ये नहीं कहता कि मेरा लंड साढ़े 8 इंच या 9 इंच लंबा व साढ़े 3 इंच मोटा है.

कहने का तात्पर्य यह है कि वहां पर ज्यादा खुलेपन का अहसास किया जा सकता है और किसी भी तरह का मजा लिया जा सकता है.

वो बोली- ये भी बता दो कि पैसे कितने लोगे?मैंने कहा- मुझे पैसों की कोई जरूरत नहीं है. मेरी साली अब मेरे लंड की आदी हो चुकी थी इसलिए उसको साढ़ू की मौत का ज्यादा अफसोस नहीं था.

बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स मैंने तकिया को हटा कर अपनी कमर के पीछे रख दिया और बोला- लो देखो … शर्म कहाँ पर दिख रही है?पूजा- हट बेशर्म!कहते हुए बाहर रसोई में चली गयी. जीजा की बातें सच निकली, यह विवेक का लौड़ा तो बिल्कुल लोहे की पाइप जैसा बड़ा मोटा है और बहुत मजेदार है.

बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स मैंने आहिस्ते से हाथ अपने मम्मों पर फेरा और रंडियों की तरह मुस्कुराते हुए शर्ट के बटनों को खोलने लगी. सर से चुदने के बाद एक अरसा हो गया था, मेरी चूत को लंड नसीब नहीं हुआ था.

” नीलम ने जल्दी से अपने ससुर से अलग होते हुए कहा।क्या हुआ बेटी अब माफ़ी किस बात के लिए माँग रही हो?” महेश ने हैरान होते हुए कहा।वो … पिता जी हमें इतना आगे नहीं बढ़ना चाहिए था.

सेक्सी टट्टी

चाची ने कहा- दीपू ऐसा नहीं है, मैं सिर्फ तुम्हारे चाचा से ही प्यार करती हूं और उनके अलावा मैंने किसी की तरफ नहीं देखा. गुलाबी चूत के होंठों पर मेरे लंड का चिकना सुपाड़ा लगते ही उसकी भी सिसकारी निकल गई. मुझसे फ़ोन में यही बात कर रहे थे!”वो बोली- ओके यार … चल मजा ले ही लूंगी मैं भी! वैसे भी मुझे कब से सेक्स नहीं मिला.

उसने पूछा- अन्दर करने का रास्ता किधर है?मैंने उसकी उंगली को अपनी चूत पर रखा और कहा- ये है रास्ता … अब इसके आगे कुछ पूछा तो मैं तुम्हारा मर्डर कर दूंगी. अनिता भाभी अपने पेट पर हाथ रखते हुए बोली- ये जो पहले का फल है इसे तो बाहर निकालूं!मैं- इसमें मेरा क्या कसूर है. वो मेरे कान में कहने लगी- मुझे तुम्हारे साथ सेक्स करने का मन कर रहा है.

इसलिए मुझे उसकी बात का बुरा नहीं लगा क्योंकि वो मेरे अच्छे के लिए कह रहा था.

उसके बाद जब देखूंगा कि उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, तो बात करते हुऐ ही थोड़ा दबाना शुरू कर दूंगा. ऊऊ ऊऊईई माँआआ आऊउच उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओओओ ओह मम्मीईई आआआ नहीईई रुकोओओ आआअह्ह”बस मैं यही बोले जा रही थी और मेरी चुदाई होती जा रही थी. ”प्लीज… गौरी यह दर्द तो बस थोड़ी देर का है पर वह आनंद तो हमें कितना रोमांच से भर देता है तुम अच्छे से जानती हो.

दीदी को नशे के कारण दर्द कम होने लगा था और उन्होंने अपनी चुत पूरी तरह से ढीली कर दी थी. मगर वह ऐसा नहीं कर सकता था।महेश मन ही मन में दुआ कर रहा था कि उसकी बेटी एक दफ़ा सीधी हो जाये ताकि उसे अपनी बेटी की असल जन्नत का दीदार हो सके। महेश सोच रहा था कि जब उसकी बेटी की गांड ही इतनी प्यारी है तो उसकी चूत और चूचियों का क्या आलम होगा और यही सोच कर उसका हाथ अपने आप उसकी धोती के अंदर अपने लंड तक पहुंच गया था. उस समय मेरी उम्र 21 साल की थी जब मैं दो दो लौड़े एक साथ मेरी चूत ओर गांड में ले लेती थी.

ऐसे ही कुछ देर तक धीमी चुदाई करने के बाद एकदम से उन्होंने दोबारा से अपने लंड की स्पीड को बढ़ा दिया. उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था, तो उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर लगा कर सीधा ही खुद को नीचे धक्का देने लग गयी, जिससे मेरा आधा लंड उसकी चूत में चला गया.

उसने अपने दोनों हाथों से चादर को पकड़ लिया था और वो जोरों से उस चादर को भींच रही थी. मैंने उसको बोल दिया था कि जब मैंने फोटो दी है तो उसको भी मुझे फोटो देनी पड़ेगी. हम दोनों को इधर उधर की बातें कर रहे थे कि कॉलेज में किसका क्या चल रहा है और किसकी ज़िंदगी कैसी चल रही है.

कुछ दस मिनट में मेम अपनी गांड उठाते हुए चीखने लगीं और उन्होंने अपनी चूत का रस मेरे मुँह में छोड़ दिया.

ज्योति ब्रा उठाने के बाद जैसे ही सीधी होकर उसे पहनने लगी उसकी नज़र अपने पिता पर गयी, जो अपने हाथ को अपनी धोती में डाले हुए था. प्रिन्स ने पीछे से उसकी चूत में अपना मस्त लंड डाल के घमासान चुदाई चालू कर दी. इस वक्त हम दोनों में कोई बात नहीं हो रही थी, बस वासना का समन्दर अपनी हिलोरें ले रहा था.

मैंने सारा पानी उसकी चूत में छोड़ दिया और वो मुझे फिर होंठों पर किस करने लगी. जब इसके बदन का सारा हुस्न अपनी आंखों से पी लेंगे उसके बाद हम इसको बेड पर पटकेंगे.

वैसे तो लंड को चूत में लेने में मुझे कोई परेशानी नहीं थी लेकिन यहां पर बात पति के लंड को चकमा देने की थी. वो बोला- मां कह रही थी कि पहली बात तो वो लोग दस लाख रूपये हमें दे नहीं पायेंगे. मैं पूछने लगा- घर पर कोई नहीं है क्या?वॉयलेट- मॉम फ्रेंड्स के साथ बाहर गई हैं.

नीग्रो सेक्सी सेक्सी

उसे देखकर मैंने सारिका की तरफ देखा, तो उसने कहा कि ये मेरी कजन सिस्टर है.

रात में उसने मुझे कॉल किया- गिफ्ट कैसा लगा?मैं- अच्छा था, पर साइज छोटा है. मैंने तुरंत राज को फोन करके पूछा- राज, तू कहाँ है?राज बोला- वसूली में 2 घंटे तक लग जाएंगे. लगातार दस मिनट तक मैंने इसी तरह धक्का दर धक्का लेडी डॉक्टर की चूत की चुदाई की.

मैं मोना की नजरों को उसी वक्त नोट कर लिया था, जब वह भाभी के गेट की तरफ आ रही थी. यह बात बात बताने के बाद आशीष मुझसे कई दिन तक नॉर्मल बातें करता रहा. सेक्सी ब्लू फिल्म दिखाओ पंजाबीमुश्ताक ने लाईट बिल्कुल बंद कर दी अब केवल चांदनी रात की चांदनी थी … माहौल बेहद सेक्सी हो गया था.

तभी मैंने गौर किया कि साकेत भैया का लंड इतना मोटा था कि पूरी तरह से दीदी की मुट्ठी में नहीं आ रहा था. इसी के चलते मैंने इसे तुम्हारे बारे में बताया, तो इसके भी मन में फीलिंग उठने लगी.

मैं उसको तुम्हारे साथ सेक्स के लिए कैसे तैयार करूंगी?वो बोले- वो तुम्हारा काम है. महेश ने अपनी बहू को चोदा और फिर अपनी बेटी की चूत और गांड भी चोद डाली. दोस्तो, उनके उन रसीले बोबों का प्रथम बार मसलने का आनन्द आज भी महसूस कर पा रहा हूँ.

वो उसी अवस्था में मेरी बीवी के उन्नत वक्ष अपने मुंह में लेकर चूसने लगा, उनको चाटने लगा. अब मैं और मनु उन्हीं के पास लेकिन थोड़े साईड में बैठे और हमारे अलावा बाकी सभी एक घेरा बनाकर बैठ गए. मैंने कभी सपने में भी नहीं सोच था कि पहली चूत इस तरह मिलेगी और इतनी स्पेशल होगी.

लंच लेकर बाहर आते समय पिंकी ने चार बियर की केन ले लीं क्योंकि इस बृहस्पतिवार चंडाल चौकड़ी उसी कि घर इकट्ठी होनी थी और यह शबनम की फरमाइश थी कि चिल्ड बियर होनी चाहिए उस दिन.

उसके हाथ मेरी चूचियों के साथ साथ मेरे नंगे पेट पर भी घूम घूम कर मेरे मखमली शरीर का आनन्द ले रहे थे. काफी देर तक सबा इस चॉकलेट चुत चुसाई के बाद कांपते हुए मेरे मुँह को जोरों से पकड़ कर दूसरी बार झड़ गई और दूसरी बार झड़ते ही एकदम से शान्त हो गई.

उनकी चूचियों और भाभी के सेक्सी जिस्म को देख कर मैंने दरवाजे और दीवार को सान दिया था. मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था कि मैं इतने समय तक रुक पाऊंगा … क्योंकि ये मेरा पहली बार था. भल्ल भल्ल करता हुआ ढेर सा गर्म लावा लंड से गोली की रफ़्तार से छूटा और बेबी रानी का मुंह भर गया.

सुनील और मनोज ने खड़े खड़े ही दीपा को अपने बीच में सैंडविच बना रखा था. मयूर ने मेरे दूध दबाते हुए कहा- अन्दर बाहर का खेल रहने भी दो, तो कम से कम इनसे तो खेलने दो ना. पैंटी तक पहुंच कर मैं वापस आ जाता था क्योंकि मेरा फर्ज मुझे इससे आगे बढ़ने की इजाजत नहीं दे रहा था.

बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स मैं एक हाथ से उसके मम्मे सहलाने लगा, तो उसने मेरे सर को दबाते हुए मेरे होंठों को अपने चूचों पर रख दिया. वहाँ कॉलेज का कोई स्टूडेंट था, वो किताब हाथ में लेकर पढ़ाई कर रहा था.

जानवर और लड़की सेक्सी

मैंने भाई की निक्कर की जिप को खोल कर उसका लंड बाहर निकाल लिया और उसको मुंह में लेकर मजे से चूसने लगी. वो बोली- देखते ही रहोगे या अंदर भी आओगे?जैसे ही उसने मेरे अंदर आने के बाद दरवाजा बंद किया मैंने उसको गोदी में उठा लिया और सीधा उसको बेड रूम में ले गया. थोड़ी देर के बाद हम लोग उठ कर बाथरूम में गए और अच्छे से नहा कर एक साथ बाहर आ कर सोने की कोशिश करने लगे.

”क्यों?” गौरी ने मेरी ओर तिरछी नज़रों से देखा।वह मंद-मंद मुस्कुरा भी रही थी।गौरी तुम बहुत खूबसूरत हो मेरी जान!”बस … बस झूठी तारीफ़ रहने दो … आप कपड़े चेंज कर लो। मैं चाय बनाती हूँ, वैसे खाना भी तैयार है आप बोलो तो गर्म करके लगा दूं?”गौरी तुम्हें अपनी बांहों से अलग करने का मन ही नहीं हो रहा. नित्या- तुम्हें क्या लगा … हमारी लड़ाई होगी?मुझे कुछ समझ नहीं आया तो मैं कुछ देर कुछ नहीं बोला।निधि- यार, नित्या को पता है कि मैंने तुम्हारे साथ सेक्स किया है।मैं बिल्कुल शॉक्ड हो गया और सोचने लगा कि यह क्या हो रहा है।निधि फ्रेश होने के लिए उठी तो लड़खड़ा कर गिर गई। उससे उठा नहीं जा रहा था. ब्लू सेक्सी वीडियो बीपी सेक्सीअभय का लंड मेरी गांड में लग रहा था और मेरी गांड में एक कसक सी उठने लगी थी.

नायरा का पति राहुल, पिंकी का पति धीरज, सीमा का पति राजीव व शबनम का पति मुश्ताक है, और इन सभी के आपस में बहुत ही मिलनसार सम्बन्ध हैं.

मैंने हंस कर बोला- कैसे?वो बोलीं- ये फूला हुआ गुलाबी और मोटा लंड दिखा कर मेरी आग भड़क गई. प्रतियोगिता का मजा तो तब आयेगा जब वो मेरे लिंग जितने आकार का लिंग अपनी योनि में झेल सके.

मैं दिल्ली का रहने वाला हूं और मेरा लंड छोटा मतलब साढ़े चार इंच का है. उसने अंडरवियर पहना हुआ था और पूरा भीगा था, बोला- प्रॉमिस कोई बदमाशी नहीं करेंगे, बस तुम साथ आ जाओ. उसकी चूत बहुत गीली हो गयी थी उसमें से फ़च-फ़च-फ़च का मादक संगीत निकल रहा था.

उसने पीछे से मेरी गांड में थूक लगा कर अपने लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर लगा दिया.

उसने कहा- सच बताऊं, तो तुम्हारे साथ करने पर बिल्कुल नहीं लगा कि तुम्हारा पहली बार है. उनके मुँह से ये सुनते ही मेरे कान खड़े हो गए और मैं उनके मुँह की तरफ देखने लगा. वो आह आह करने लगी और ‘अंदर तक अपनी जीभ डालो … जानू खा जाओ मेरी चूत के दाने को!’ ऐसा बोलने लगी.

रेखा भाभी की सेक्सी फिल्मउस समय मासी ने काली रंग की साड़ी और काले रंग का ही ब्लाउज पहना हुआ था. ऐसा देख कर मैं एक ही बात सोच रहा था कि इस लड़की के नाम से कितने दिन मैंने लंड हिला कर अपना पानी निकाला है आज उसी को चोद रहा हूँ।करीब 10 मिनट की चुदाई के बाद पूजा बुरी तरह से मुझसे लिपट गई और झड़ गई।मगर मैं अभी भी तेज़ रफ्तार से चुदाई किये जा रहा था।अब उसकी सिसकारी तेज़ आवाज में बदल गई थी- बस अंकल, रहने दो … नहीं ना! बस करो न!ऐसा ही कहते जा रही थी.

सेक्सी मेहंदी वीडियो

मैंने ही उसको संभाला और इस दौरान हमारी नजरें मिलीं और हम दोनों वहीं पर स्मूच करने लगे. इसलिए मैंने उस होनहार मर्द को चुना था ताकि वो मेरी चूत को जमकर बजा सके. पर आज जो कुछ हमारे बीच हुआ, उसके बाद समझ में ही नहीं आ रहा था कि जेठजी को कैसे बुलाऊं?फिर सोचा कुछ देर इंतजार ही कर लेती हूं, शायद जेठजी खुद ही बाहर आकर मुझे आवाज दें.

सरसससश्हह अअह अअआ … और कितनी देर करेंगे? आप थकते नहीं क्या?”उम्मम्मम थोड़ा ऊपर हो जाओ … मुझे बूब्स के नीचे हाथ डालने हैं. जॉली इस बार मुस्कुराया, लेकिन रिया पीछे होने के कारण उसकी मुस्कान देख ना सकी. उसने मेरे लंड को बहुत गौर से देखा, शायद उसके पति का मुझसे छोटा लंड था.

लेकिन उन्होंने मेरी नाक को बंद कर दिया और मुँह में लंड पेले रहे, जिससे मुझे न चाहते हुए भी उनका सारा माल पीना पड़ा. वो कहने लगे कि यदि मैंने उनके सेठ दोस्तों को खुश कर दिया तो वो मेरी शादी मेरे यार आशीष के साथ करवा देंगे. मेरे नीचे उतरने से पहले उसने मेरे लंड को किस किया और हल्के से उस पर अपने दांतों से काट लिया.

ये बात तब की है, जब मेरी इंजीनियरिंग के दूसरे वर्ष की परीक्षा ख़त्म हुई थी. मेरे हाथ उसकी कमर पर घूम रहे थे और उसके जिस्म में सेक्स की जो गर्मी भर चुकी थी वो उसकी चूत से भांप बन कर मुझे साफ-साफ बाहर आती हुई महसूस हो रही थी.

थोड़ी देर में ही उनकी बुर ने पानी छोड़ दिया और वो नीचे अपनी बहन पर पसर कर गिर गईं.

सीमा समय से आ गयी … पार्लर को फोन किया तो मालूम पड़ा लड़कियां अभी आधा घंटे देर से पहुंचेंगी. सेक्स सेक्सी ब्लू फिल्म सेक्सीउसका 34-30-36 का लाजवाब फिगर, भारी कूल्हे, भारी उरोज, गोरी मखमली त्वचा, थिरकते गुलाबी होंठ, मांसल पिंडलियां, कमर तक लटकते सुंदर संवरे लहराते से बाल, मासूम चेहरे पर चमकती पसीने की बूंदें, सामान्य सा सलवार सूट, जिसे मनु सलीके से पहनी होती थी, फिर भी ब्रा की पट्टी जो जिस्म पर धंसी हुई सी रहती थी, उसे महसूस किया जा सकता था. हिंदी सेक्सी पिक्चर 2000धीरे-धीरे अब गोवा के खुले माहौल की गर्मी हम चारों पर हावी होने लगी थी. ब्यावर जाते वक्त में राजस्थान रोडवेज की बस में गेट से आगे की 2 लोगों वाली सीट पर बैठा और पास वाली सीट पर अपना बैग रख दिया.

सोनिया- बहुत गंदे हो तुम पूरा हाथ गीला हो गया, मेरी बरसाती नाले की तरह बह रही है … यह इतनी गीली आज से पहले कभी नहीं हुई.

वैसे तू कब से कर रहा है ये काम?मैं कुछ न बोला, उन्होंने फिर जोर से बोला- मैं कुछ पूछ रही हूं तुमसे?मैंने कहा- जब से कॉलेज शुरू हुआ है. मैं उसका अचानक से फोन आया देख कर पहले तो थोड़ा चौंका, मुझे थोड़ा डर भी लगा कि कहीं सबके सामने वो मेरे छोटे लंड का मजाक न उड़ाने लगे. ” और मेरे से लिपट गयी।हाँ शैली अब न कपड़ों पे सिलवटें पड़ने का खतरा है, न लिपस्टिक बिगड़ने का!”मैंने अपनी बहन शैली का लहंगा ऊपर उठाया और उसकी पैंटी उतार दी, फिर चिकनी चूत पे एक भरपूर चुम्बन लिया।क्या दीदी बस एक चुम्मी?”मेरी बहना, नई नई दुल्हन, सुबह तेरी विदाई होगी और उसके बाद रात को तेरी सुहागरात की चुदाई होगी और अभी विदाई से पहले भी एक रस्म होगी.

मैं काफी खुश थी, कई दिन के बाद मैं किसी बाहर के लड़के के इतने पास थी।अच्छी अच्छी बातें करने के थोड़ी देर बाद वो भी मज़ाक मज़ाक में मेरी तारीफ करने लगा, कहने लगा- आप जैसी गर्लफ्रेंड चाहिए. कोई 15 मिनट की चुदाई के बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए और बिस्तर पर निढाल होकर लेट गए. मैं इससे हमारे रिश्ते पर कोई आंच नहीं आने दूंगी बल्कि हम तीनों को साथ में रहने में और भी ज्यादा मजा आएगा.

हिंदी सेक्सी वीडियो एचडी वाला

उसने मेरी एक टांग अपने कंधे पर रख ली और अपने झटकों की स्पीड बढ़ा दी. इस जगह का एक फायदा और था कि यदि कोई हमारी तरफ आता तो हमें दूर से ही दिख सकता था. वहाँ प्रिन्स शुरू हो चुका था पर उसका लंड अभी पूरा खड़ा नहीं हुआ था.

मैं- तो!दीदी- तो … तू जल्दी से खाना खा कर सो जा … सुबह जल्दी जागना भी है.

उनको भी बारी बारी से चूस कर सहला कर भाभी को गर्म करने में मैं पूरी तरह से सफल रहा.

मेरी एक सहेली ने एक बार मुझे बताया था कि गांड मरवाने में बहुत दर्द होता है. झड़ने के बाद मैं शांत होकर उनकी ऊपर ही पड़ा रहा और उनको किस करता रहा. तमन्ना भाटिया हॉट सेक्सीभाभी इतनी अधिक चुदासी हो उठी थीं कि लंड को खुद अपनी चूत के अन्दर दबाने को मचल उठीं.

मैं पूरे मज़े लेकर सबा की चुत में जीभ डाल कर उसका पूरा रस निचोड़ लेना चाहता था. लेकिन 15-20 मिनट बाद इनके बॉस फिर से तैयार हो गए।मैंने उनसे कुछ देर रुकने के लिए कहा लेकिन वे नहीं माने, मुझे उल्टा लेटा कर मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और मुझे चोदने लगे. मेरे लंड की आग को ठंडा करने में साथ ही वो अपनी भी गर्मी शांत कर रही थी.

मैं जब उन्हें देखता था, तो सोचता था कि यार ये आइटम अगर मिल जाए, तो मजा आ जाएगा. मेम बोलीं- इस परी के साथ शाम रंगीन नहीं करोगे?मैंने उन्हें उसी पल अपनी बांहों में ले लिया और किस करने लगा.

ये देख कर वन्दना बोली- वाह दीदी, आपके सन्तरे तो बड़े ही गए।नीरू- बड़े नहीं होंगे तो और क्या होंगे? तेरे ये जीजू इन्हें क्या कम मसलते और चूसते हैं।मैं- नीरू, अब तुम वन्दना को बिल्कुल नंगी कर दो और खुद भी नंगी हो जाओ।नीरू ने ऐसा ही किया.

यदि तुम कहते कि तुमको उसकी चूत लेनी है, तो खुद उसको नंगी करके तुम्हारे लंड के नीचे ला देती. दोस्तो, अब आगे की कहानी आप अमृता की जुबानी सुनेंगे तो ज्यादा मजा आयेगा. करीब 20 मिनट के बाद हम दोनों ने पानी छोड़ दिया और हम दोनों ने एक दूसरे के लंड चुत को अच्छे चाट चाट कर साफ कर दिया.

विदेशी सेक्सी फिल्म दिखाएं बॉस ने मेरे मुँह में मुँह डाल कर अपनी कमर को तेज तेज चलाना शुरू कर दिया, जिससे गांड में भी जल्दी जल्दी लंड घुसने लगा. फिर साकेत भैया ने दीदी को गोद में उठा कर पलंग पर पेट के बल लिटा दिया और दीदी जो चादर लपेटी थी, उसको निकाल दिया.

मैंने मुस्कुरा कर कहा- हां तुम बाजारू तो नहीं हो, लेकिन कुंवारी भी नहीं हो, भोसड़ा बन गया है तुम्हारा छेद … मुझे सब पता है कि तुम गांव के कई लौंडों के लंड ले चुकी हो. पूजा के बाल खींचते हुए मैं उसकी गांड पर थप्पड़ मारते हुए मैं उसे चोद रहा था मानो घोड़ी की लगाम पकड़ उसे डंडी से मारते हुए दौड़ने को कहा जा रहा हो और घोड़ी हिनहिनाते हुए दौड़ रही हो. जीजा बोले- अगर तूने मेरी बात नहीं मानी तो मैं अभी गांव वापस चला जाऊंगा.

हां की सेक्सी

उधर स्पष्ट नजर आती लंड की उभरी नसें दिख रही थीं, तो इधर भी चूत पनियाने लगी थी. इस पर वो और भड़क गईं, बोलीं- डरपोक है क्या तू?मैंने कहा- जो भी समझो. ये सुनकर मैं सीधा हुआ और उसे चित लिटा कर उसके पैरों के बीच मिशनरी पोजीशन में आ गया.

मैंने उसकी सलवार, जो पहले से खुली था, उसको नीचे सरका दिया, वो बिना पैंटी के थी. मेरी और मनु की हालत खराब थी, हालांकि हमारी चूत भी कुलबुलाने लगी थी.

वैसे मन तो था कि प्रपोजल स्वीकार लिया जाए, पर प्रपोज करने वाले हमें पसंद नहीं आए.

उसने बालों को पॉलीथिन कवर लगाया और फिर हम दोनों फव्वारे के नीचे चले गए. इधर मैंने भी अपना कच्छा उतार कर जेब में रख लिया। अब हम दोनों हॉल में आकर बैठ गये. मैंने भी ये सोच कर गोली खा ली कि किसी तरह तो इस चिंता से छुटकारा मिले.

मैं ये सब देख कर पागल हो गई थी कि मेरी माँ ने तो सीन ही बदल दिया था. उसने मुझे अपनी तरफ किया और मेरे कान में कहा- मजा करना है क्या?मैंने उसको कुछ नहीं बोला. उनके मुँह से ये सुनते ही मेरे कान खड़े हो गए और मैं उनके मुँह की तरफ देखने लगा.

वो भी चाची और बेटा की सेक्स स्टोरी निकाल कर और मेरे रूम में चला गया.

बीएफ वीडियो इंडियन सेक्स: फिर बोलीं- मैं भाग नहीं रही हूँ देवर जी, धीरे धीरे मजा आएगा … ऐसे में आप तुरंत थक जाएंगे. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को लगा दिया … और अगले ही पल हटा भी लिए.

आपको मेरी उस ट्रेन में मेरी पंजाबी फुद्दी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल जरूर करें. रोहन- रियली?सोनिया- हम्मम्म … इसलिए जब भी मैं तुम्हें चंपू बुलाऊं, तो समझ जाया करो … मैं तुम्हें चिढ़ा नहीं रही हूं, बल्कि तुम्हारी मासूमियत के प्रति अपनी पसंद जाहिर कर रही हूँ. अगर मैं उसको इस तरह से कहती तो उसको पता चल जाता कि मैं चुदक्कड़ हूं.

हाथ से मुठ मारने से तो तेरी तलैया में गोता लगाना ज्यादा सुकून दे रहा है.

मैंने तीनों के पेग बनाये और उनमें लिम्का डाला जो हमने रास्ते लिया था. तभी मैंने गौर किया कि साकेत भैया का लंड इतना मोटा था कि पूरी तरह से दीदी की मुट्ठी में नहीं आ रहा था. मेरी चूत ऊपर की ओर थी जबकि मेरी चूचियां नीचे की तरफ लटक कर झूलने लगी थीं.