पिक्चर बीपी बीएफ

छवि स्रोत,hindi सेक्स video

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ chudai: पिक्चर बीपी बीएफ, मुझे काफी गुस्सा आ रहा था और मैंने गुस्से में सोनिया को तीन-चार झापड़ लगा दिये.

हिंदी ट्रिपल सेक्सी

इस समय जेनिफर की हालत काफी खराब हो गई थी, क्योंकि उसको दर्द हो रहा था. அகிலா nude அந்தரங்க sexहाय फ्रेंड्स, मैं अमित एक बार फिर से हाजिर हूं लेकर अपनी पड़ोसन भाभी के साथ सेक्स स्टोरी का दूसरा भाग आपके लिये.

मैंने बड़ी मुश्किल से मामी की उत्तेजना के वेग से खुद को छुड़ाया और उठ कर बुरी तरह से हांफने लगा. मद्रासी हीरोइन का सेक्सीभाभी- आंह कितना बड़ा और गर्म है तुम्हारा हथियार … लगता है भाभी को ठंडा कर ही देगा.

घर में सिर्फ मेरे दोस्त और भाभी ही रहते हैं, दोस्त के पिता जी भी नौकरी में हैं, इसलिए वो बाहर रहते हैं.पिक्चर बीपी बीएफ: मैंने उसकी मोटी मोटी चूचियों को कस कर दबाने लगा और धक्के मारता रहा.

मैं चुत सहलाते हुए बोली- बेटा झांटों को साफ़ करने का टाइम ही नहीं मिला और वैसे भी बाल वाली चूत का भी अपना ही मजा है.उन्होंने उस समय तो कुछ नहीं बोला और ‘ठीक है …’ बोलकर वे अन्दर चली गयीं.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो एचडी फुल - पिक्चर बीपी बीएफ

सोनाली- आं आह … और जोर से चोद साले … मादरचोद कितना अन्दर तक पेल रहा है … आह मजा आ रहा है … रगड़ दे साले …वो किसी प्यासी भाभी की तरह चुद रही थी.डॉक्टर बोली- सब कुछ नॉर्मल है, जब आपका पीरियड आएगा … उसके पांच दिन बाद फिर से आना.

आप ज्यादा ही समझ लो!मैं- सभी जगह मतलब वहाँ भी? और ज्यादा से क्या मतलब है? सब हो गया?वह- क्या बोल रही हो? कहाँ अरे … सब नहीं, अभी रह गया. पिक्चर बीपी बीएफ दीदी बोलीं- शिव, मुझे पता है कि तुम राधिका को पसंद करते हो, इसलिए ही तो मैंने इसको बुलाया है.

लंड पर चढ़ा कंडोम वीर्य से भर गया था और जेनिफर की चुत लाल हो चुकी थी.

पिक्चर बीपी बीएफ?

जेनिफर की चुत इतनी मस्त थी कि मैं जोश में तेज तेज धक्के लगाने लगा था. नमस्कार मित्रो, मैं आज अपने अब तक के जीवन में हुए एक बहुत ही खुशनुमा पल को आप लोगों के बीच में रखना चाहता हूँ … कृपया आनन्द लीजिये. बीस मिनट तक उसकी चूचियों को चूसने के बाद मैंने अपने मुंह को चूत में डाल दिया और जीभ से चाट कर गर्म करने लगा.

मॉल से लौटते समय मैंने रिशा से पूछा- कल तो तुम्हारा कॉलेज होगा?रिशा के हाँ कहने पर मैंने उससे कहा- तुम्हारी आज की पार्टी की जानकारी तुम्हारी मम्मी को है लेकिन डैडी को नहीं है. मैंने लवली से जाकर पूछा- तुमने पापा को कब बताया था अपने बारे में?वो बोली- बहुत दिन पहले. मैं बोला- पागल हो गयी है क्या, मैं पूजा के अलावा किसी और को अपनी बीवी नहीं बना सकता हूं.

वो बुड्ढा था पर मेरी गांड में खुजली हो रही थी तो मैंने उसी से गांड मरवाने की सोची. मुझे महसूस हुआ कि मेरा लंड अब छोटा हो गया था, पर कोमल दीदी ने लंड को छोड़ा ही नहीं. फिर मैडम एक लम्बी चुदाई के बाद झड़ गईं और मैं भी उनके बाद ज्यादा देर नहीं टिक सका.

मैंने उसकी बात मान ली और कहा- मुझे डर लगता है इसलिए तुम मेरे पास को आ जाओ. मैं थोड़ा हंसा तो उन्होंने बोला- कुछ नहीं!बस मुझे ऐसे देखकर खुश हो गयी और फिर से गले लग गई।फिर मैंने भाभी का कुर्ता निकालने की कोशिश की तो उन्होंने मेरी मदद की.

इस तरह मेरे करीबी दोस्त अविनाश ने अपनी बीवी ऋतु को गैर मर्द से चुदवा दिया था, लेकिन मैं अपनी बीवी कुसुम की उसकी मर्ज़ी से किसी गैर मर्द से चुदवाना चाहता हूँ.

उसके गुलाबी होंठ सुराज के लंड के गुलाबी सुपाड़े को चूस और चाट रहे थे.

कहानी के पिछले भागमेरी चालू बीवी लंड की प्यासी-6में मैंने अपनी बीवी और पिता के साथ मिल कर अपनी मां की चुदाई करने की पूरी प्लानिंग कर ली थी. मैंने उसको फुल स्पीड में चोदना चालू किया और 10 मिनट तक उसकी चूत को रगड़ रगड़ कर ढीली कर दिया. अब तो हम दोनों के बीच में अपने भाइयों से चुदने का राज भी साझा हो गया था, तो हम दोनों एक दूसरे के पक्के राजदार बन गयी थी.

फिर मैंने पूछा- हम जैसों की गर्लफ्रेंड न हो … तो कोई आश्चर्य की बात नहीं है, पर तुम जैसी सुन्दरी का कोई ब्वॉयफ्रेंड न हो … ये सुन कर बड़ा अजीब लगता है. फिर रिया जी ने मुझे मिलने के लिए अपने होटल का एड्रेस बताया और उनकी बताई जगह पर मैं पहुंच गया. मैं बोला- आपको कोई दिक्कत तो नहीं है?मां बोली- हमने कुछ गलत तो नहीं कर दिया है?मैंने कहा- भगवान ने दो ही तरह के लोग बनाये हैं.

कोमल दीदी बोलीं- अभी तो ये एक बार और खड़ा होगा … तुम और मैं दोनों मज़ा लेंगे.

इसलिए जब रोहित ने आलिया को देखा तो उसकी नजर भी आलिया के बदन को ऊपर से नीचे तक नापने लगी. मेरे दोस्त ने बताया कि वो इतनी ज्यादा शराब पीता है कि उसको कुछ होश ही नहीं रहता. फिर हम लोग और रिलैक्स हो कर अगल बगल में बैठ गए, जिसके वजह से मैं कभी कभी उसकी जांघ या कमर पर टच हुए जा रहा था.

मैं उसका विरोध करने के लिए खड़ी होती इससे पहले ही आकाश ने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिये. मैंने फिर उसकी उंगलियों में अपनी उंगलियां फंसाईं और उसके हाथ ऊपर कर दिए. रात का खाना होने के बाद मैंने सोनिया से कहा कि वो नीचे सो जाये और मैं ऊपर सो जाती हूं.

मैंने कहा- क्यों नहीं करते हैं? अगर तुमसे नहीं करते तो और किससे करते हैं?सोनिया पलट कर बोली- अगर मुझसे प्यार करते तो रात भर तुम्हारे साथ नहीं सोते.

साला पैंट में फूलने लगा था, जिससे लंड का उभार साफ़ साफ़ पता चल रहा था. फिजा इस तथाकथित समाज के बनाये हुए सिद्धांतों और लाज-ओ-शर्म व मान-मर्यादा की दीवार को धवस्त करके आसिफ की बांहों में समा जाने के लिए उत्सुक रहने लगी थी.

पिक्चर बीपी बीएफ मैंने तुरंत उसके मोबाइल की सिम को निकाल दिया और उसको हल्का सा तोड़ कर फिर उसके मोबाइल में डाल दिया. कुछ मिनटों की मेरी ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मोनिका खुद से गांड उठा कर जोर जोर से धक्के लगाने लगी.

पिक्चर बीपी बीएफ वो मेरी निक्कर के ऊपर से ही मेरे लंड पर हाथ फिराने लगीं और अपनी मुट्ठी में लंड को कैद कर लिया. आप मुझे अपने कमेंट्स में अपने विचार बतायें या फिर नीचे जो ईमेल दिया गया है उस पर मैसेज करें.

ऐसा लग रहा था कि मैं किसी मक्खन से भरी कटोरी में उंगली चला रहा हूं.

सेक्सी दिखाइए बीएफ सेक्सी

इसी वजह से मनुषा भी सुराज जॉली के लंड से चुदने के लिए बेचैन सी हो रही थी. चुदाई के वक्त मेरा भाई मेरी चूचियों को खूब चूसता है, जिस वजह से मेरे दूध फलने फूलने लगे थे. वो बोली- मगर पतिदेव तो अपनी मां की सील तोड़ कर उसकी चूत के रस में खो जाना चाहते हैं.

उसकी गर्म गर्म चूत में अपना लौड़ा देकर चोदने में बहुत मजा आ रहा था. अब रिया जी को मेरा लंड अपनी चूत में डालना था, तो उन्होंने खुद को दुबारा तैयार करना शुरू कर दिया. एक बार रेस्तरां में उसकी चूत में उंगली की और फिर सिनेमा हॉल में मूवी देखते हुए उसकी चूत को चाटा.

मैंने कहा- तुम भी तो इतनी ही खुशनसीब हो जो मेरे ही बेटे से अपनी चूत मरवाती हो.

और इस तरह हम रोज रात फोन सेक्स करते और मौका मिलने पर चुदाई कर लेते. तभी मनुषा घूम गयी और सुराज की ओर घूम कर उसके होंठों को किस करने लगी. इसलिए वो सबको सेक्स कहानियां पढ़ने के लिए कहती है क्योंकि वे हमारे ही जीवन में घटित घटनाओं पर आधारित होती हैं.

कुछ ही समय बाद मैं अपने अंतिम चरम पर आ गया था, इसलिए मैं लंबे लम्बे झटके लगा कर जेनिफर को चोद रहा था. भाभी ने भी मेरे कान में कहा- बुद्धू … इतनी सी बात कहने में तुमने तीन महीने लगा दिए … मेरी जान आई लव यू टू!यह बात सुनते ही मेरे मन में बड़े बड़े लड्डू फूटने लगे. मगर दोस्त के यह बताने पर कि उसकी चुदाई नहीं हो रही है तो तब से मेरे मन में भी उसके साथ सेक्स करने के ख्याल आने लगे.

मैं अपना पूरा लंड मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी की चूत के अंदर डाल कर रुक गया. मैंने उसकी भीगी पैंटी के नीचे छुपी हुई भाभी की गीली चूत को पैंटी के ऊपर से ही अपनी उंगली से सहलाना शुरू कर दिया.

मैं बाहर आकर कॉलेज के गेट के पास एक तरफ छिप कर खड़ा हो गया और बाहर निकलने वाले स्टूडेंट्स को देखने लगा. उसकी बूब्स की शेप देख कर मेरा मन कर रहा था कि यहीं पर इसको नंगी कर लूं. जिस बात की उम्मीद में आलिया उसके पास आई थी उन दोनों के बीच में वैसा कुछ भी नहीं हुआ.

मैंने भी मोबाइल फोन में मां और बेटे के सेक्स की कहानियां और चुदाई की वीडियो बहुत देखी हैं.

उसी ने मुझे बताया था कि मेरी बहन सपना किस तरह से गांव के दूसरे लड़कों से अपनी चूत मरवाती है. मैं- फिर तुम्हारी पैंटी के साइड से एक उंगली तुम्हारी चूत में डाल देंगें।स्वरा एकदम से सिहरते हुए बोली- आह हाए … उफ़्फ़ मार ही डालेंगे क्या सर?स्वरा बुदबुदाईमैं- फिर दो उंगली।स्वरा- हम्म … हाए … उम्म … गंदा लग रहा है सर!मैं-फिर दो उंगलियाँ…तेज़ी से अंदर बाहर करेंगे।स्वरा- नहीं सर … बस कीजिये।स्वरा का फ़ोन बजने लगा. तो कभी न तो पैसे की कमी आई, न कोई काम करने की ज़रूरत ही महसूस हुई।सारा दिन घर में खाली ही होती थी, वही आदत पड़ गई।पति भी बहुत प्यार करते थे, तो किसी चीज़ की कमी नहीं थी.

मैं तुझे प्रमोशन दिलाऊंगी।यह सुन कर मैं और ज्यादा जोश में आ गया और जोर से झटके मार रहा था. मैंने मिस्त्री से पूछा- क्या चाहिए तुम्हें?वो भी तुरंत समझ गया और बोला- मुझे भी तुम्हारी बीवी को चोदने दो … नहीं तो मैं ये वीडियो वायरल कर दूँगा.

तब मैंने एक जोरदार धक्का मारा तो सिम्मी की चूत में पूरा अंदर तक चला गया. मैंने फिर पूछा- क्या बात है, बताओ मुझे?वो बोली- कुछ नहीं, मेरे पेट में दर्द है. मेरे पड़ोस में एक शादीशुदा महिला रहती थी जिसका नाम मोनिका (बदला हुआ) था.

पंजाबी गर्ल बीएफ

मैंने बाइक एक रेस्टोरेंट के सामने रोकी और हम दोनों रेस्टोरेंट में चले गए.

मैंने कोमल दीदी को पास करके उन्हें पीछे से पकड़ा और किस किया, तो दीदी ने भी थोड़ा सा रेस्पॉन्स दिया. फिर 69 की पोजीशन में आकर हम दोनों एक दूसरे के यौनांगों को चूसने लगे. पेटीकोट ब्लाउज पहने आंटी स्मृति की बड़ी बहन लग रही थी, बल्कि स्मृति से ज्यादा सेक्सी लग रही थी.

मोनिका ने मेरे 7 इंची लंड को अपने हाथ में पकड़ा और उसकी गर्मी को महसूस करते हुए उसको प्यार से सहलाने लगी. उसके बाद मैंने सपना को पेट के बल लिटा दिया और बहन की गांड में उंगली करने लगा. गांव की लड़की का सेक्स वीडियोआसिफ की नजर सीधी अपनी बहन की छोटी सी और प्यारी सी उभरी हुई चूत पर चली गयी.

लेखक की पिछली कहानी:क्रिकेटर और अभिनेत्री की जोशीली चुदाईनमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राज है और मेरी उम्र 28 साल है. भाभी ने आंख दबाते हुए पूछा- हां अब आए न पटरी पर … तो बताओ उस लड़की में तुमको क्या क्या अच्छा लगा?मैंने कहा- मतलब?भाभी बोलीं- बताओ न … उस लड़की में तुमने क्या क्या देखा?मैं चकरा गया कि अब क्या कहूँ.

जिस तरह से सुराज मैच के दौरान बॉलर की बैंड बजाता है वैसे ही इस समय वो अपनी बीवी की चूत की पिच की बैंड अपने लंड के बैट से बजा रहा था. रोहित अपनी भावनाओं को तो कंट्रोल कर रहा था मगर उसका लंड उसके मन की बात नहीं सुन रहा था. फिर मैंने अपने आप को शीशे में देखा और अपनी चूत पर हाथ रख के सहलाने लगी.

इतना बोझ है कि साला बॉडी का बेलेंस नहीं बन पता। अब मम्में इतने भारी हैं तो उनको संभालने के लिए पीठ और कमर पर ज़ोर पड़ता है, तो इस वजह से चूतड़ भारी हो गए।तो हर कोई जो भी देखता है, सबसे पहले मेरे मम्मो को और फिर मेरी गांड को ही देखता है।वैसे भी मैं गहरे गले पहनती हूँ. दस मिनट के बाद वो एक सेक्सी शार्ट और बड़े गले वाले टॉप में आई तो रोहित उसको आंखें फाड़ कर देखने लगा. दीदी- नहीं … मैं वहां नहीं लूंगी … इसका इतना मोटा लंड है … मेरी तो सूज जाएगी.

जब वो खेत पर आती तो रोज शाम को मैं उससे बात करने के लिए बहाने से बेवजह कोई न कोई बात छेड़ने की कोशिश किया करता था.

जो सोनिया मुझे दिखाना चाह रही थी वह सब मैं पहले ही देख चुकी थी इसलिए मैंने उसके मोबाइल में कुछ नहीं किया और मैं फिर ऊपर चली गयी. तो फिर मैंने भी उसका लण्ड चूसने में कोई कमी नहीं की।फिर चूत चुसाई इतनी हो गई कि मेरी चूत लण्ड मांगने लगी.

अगले दिन दोपहर के समय अल्पना मेरे घर आ गई औऱ मुझे बोली- बुला लूं? कोई दिक्कत तो नहीं है?मैंने बोला- बुला ले, कोई टेंशन नहीं है. वो मादक सिसकारियां ले रही थी और मजे से बोले जा रही थी- अह्ह आह्ह आह्ह जोर से … मेरी जान. अगर आपको लग रहा है कि यहीं पर गिरे होंगे तो आप खुद ही आकर देख लीजिये और तसल्ली से चेक कर लीजिये.

जैसे ही वो लोग रूम से निकले तो मैं अपने रूम को अंदर से लॉक करके साथ वाले रूम की खिड़की के पास गया और अंदर का नजारा देखने लगा. दीदी से मैं बोला- दीदी मैं लोवर उतार दूं क्या?उन्होंने खुद मेरा लोवर और निक्कर दोनों को नीचे खींच कर उतार दिया और अपनी लैगी को पैर मोड़ कर निकाल कर फेंक दिया. सुराज वॉशरूम से निकला और तौलिया से अपने गीले बालों को पोंछता हुआ डाइनिंग टेबल की ओर बढ़ा.

पिक्चर बीपी बीएफ वो मुझे देख कर बहुत खुश हुई और मुझे अंदर रूम में बैठा कर चाय वगैरह लेकर आई. आज मैं उसे चोदते हुए सोच रहा था कि पिछले दो साल से मेरा जिम जाना आज काम आ रहा है … मेरा स्टेमिना इस समय मुझे एकदम मस्त किये हुए था.

बीएफ बांग्ला बीएफ बीएफ

जेनिफर- तो हमारी होने वाली भाभी कैसी है?मैं- अभी तो पता नहीं, जब मिलेगी, तब पूछ लूंगा. मगर बहुत कम ही लोग होते हैं जो इस तरह की सोच और अपनी जिन्दगी में इस तरह के मजे को अंजाम दे पाते हैं. कॉलेज में मेरा भी बॉयफ्रेंड था जिसे मैं मिलने के लिए अपने घर ही बुलाती थी.

मैंने सोचा कि आज तो कोमल दीदी काफी दिन बाद आई हैं, इनको चोदने में मज़ा आ जाएगा. उसका मखमली बदन छूते हुए ऐसा लग रहा था जैसे फूलों के तकिये को बदन से चिपकाए हुए हूं मैं. मेहंदी के डिजाइन बताएंमैं आपको बता दूं कि मेरी कहानी का 80 प्रतिशत हिस्सा सच है और बाकी 20 प्रतिशत इसमें काल्पनिक घटनाएं भी हैं जिनको मैंने कहानी में रोचकता लाने के लिए प्रयोग किया है.

जब वो काम करती, तो मैं उसके मम्मों को देखता रहता, उसकी मटकती गांड देखता.

अब आगे:भाभी बिस्तर पर एकदम नग्न पड़ी हुई ‘आ … उह … ओह गॉड … उम्ह … आह … फक मी. अब रिंकू ने मेरी बहन की चूत पर अपना लंड रगड़ना चालू कर दिया और शिवम अब सपना के होंठों पर लंड फिराने लगा.

मैंने अपनी बहन को बांहों में भर कर कहा- मैं सबके सोने का इंतजार कर रहा था. मैं सबसे छिप कर भाई का लंड चुत में लेने के लिए अपने भाई के पास आ गई. रोहित भी सिसकारते हुए उसकी चूत को पेल रहा था और कह रहा था- होह्ह … आह्ह.

उसने एक उंगली उठा कर मुझे करीब आने का इशारा किया, तो मैं उसके पास जाने लगा.

वैसे भी आलिया अब जवानी के चरम पर थी इसलिए उसके बदन में एक अलग ही आकर्षण आ गया था. कुछ ही पलों में दीदी ने अपने जिस्म को अकड़ाते हुए अंगड़ाई ली और अपना पानी मेरे मुँह पर छोड़ दिया. उस दिन के बाद भी मेरी उससे बातचीत होने लगी थी और नतीजा ये हुआ कि थोड़े ही दिनों में उससे अच्छी दोस्ती हो गयी.

एक्स एक्स एक्स हीरोउन लोगों ने मेरी बहन को एकदम नंगी कर लिया और उसके ऊपर एक लड़का चढ़ गया. भाभी लेट गईं और मैंने नीचे उनकी दोनों टांगें ऊपर उठा कर उनकी चूत पर लंड सैट कर दिया.

सेक्सी जबरदस्त बीएफ

मगर आज बहन की ख्वाहिश मैंने पूरी कर दी थी और अब बहन मेरी ख्वाहिश पूरी करने के लिए खुद को मुझे सौंपने जा रही थी. मॉल से लौटते समय मैंने रिशा से पूछा- कल तो तुम्हारा कॉलेज होगा?रिशा के हाँ कहने पर मैंने उससे कहा- तुम्हारी आज की पार्टी की जानकारी तुम्हारी मम्मी को है लेकिन डैडी को नहीं है. इसीलिए मैंने यह स्टोरी अंतर्वासना में डाली है कि आप सभी व्यूअर्स मुझे बताएं कि मैंने सही किया या नहीं?मुझे कमेंट करिए और भाभियों एवं कुंवारी लड़कियों से मेरा निवेदन है कि वे भी मुझे अपनी भावनाएं बताएं.

फिर राज ने मुझे घोड़ी बना लिया और पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल कर घोड़ी की तरह मुझे चोदने लगा. फिर दो मिनट तक उसके ऊपर गिरा रहा और फिर उसके नंगे जिस्म से लिपट कर सो गया. मैंने उसका वीडियो बना लिया था और जब वो अगले दिन फिर से अपनी चूत को चुदवाने के लिए गयी तो मैंने उसको रोक लिया.

पर मैंने खड़ी होते हुए उसके लंड को दबा दिया जिससे मेरे रंग वाले हाथ का छाप उसके लंड पर छप गई. पर अब वो सोच रही हैं कि आज रात अंकल से बोल कर गांड में ही लंड डलवाएंगी. थोड़ी देर बाद मैं चेंज करके रूम से निकली, तो राजू मुझे बस देखता ही रह गया.

हां, यदि तुम शिवम और रिंकू की तरह एक साथ दो लोगों के साथ चुदवाना चाहती हो तो मैं पापा को भी तैयार कर लेता हूं. फिर आलिया बोली- भैया, मेरी दुद्धू पियो प्लीज!यह सुनते ही रोहित आलिया के ऊपर आ गया.

सौरभ- ये हसित है, इसको तेरे बारे में बताया … तो इससे रहा है नहीं गया.

दीदी की चुत अभी भी एकदम टाइट थी और उनकी चुत का दाना बार बार फुदक सा रहा था. bulu फिल्म महोत्सव 2017फिर मैं और सपना बेड पर लेट कर बातें करने लगे कि मां कहीं पापा को ये सारी बातें बता न दे. हिंदी हीरोइन की सेक्समैंने अपनी घटना को पिछले भागगलती किसकी-4में जहां खत्म किया था वहीं से शुरू करती हूं. उसकी हामी भरते ही मैंने उसकी तरफ अपनी बांहें फैला दीं और वो मेरी बांहों में समा गई.

”मेरी बात सुनकर रिशा ने कोई रिएक्शन नहीं दिया तो मैंने रिशा का टॉप और ब्रा उतार दी.

मगर यहां पर सबसे बड़ी दिक्कत ये थी कि वो अपनी बहन को भी साथ में लेकर जाना चाहता था. मैंने कहा- राधिका, सब कहां गए हैं?वो बोली- फरीदाबाद में किसी रिश्तेदार के यहां गए हैं, शाम तक वापस आएंगे. मैंने उसे इस पोज़ में 7-8 मिनट तक चोदा और जब मैं झड़ने वाला था, तो मैंने सब माल उसके उसके पेट पर गिरा दिया.

पर फिर भी सिम्मी मेरा साथ दे रही थी।मैंने सिम्मी को कहा- प्लीज मेरे ऊपर आ जाओ. ये कहानी मेरे ख्वाब की एक काल्पनिक उपज है, जो आज में आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूं. मामी- तो फिर मेरी जान … आराम से कर ना! न तो मैं कहीं भागी जा रही हूँ और न तेरी ही ट्रेन छूट रही है।मैंने उनके चूचों को आराम से पीना शुरू कर दिया और मामी भी आहें भरने लगी- आहह … ह्म्म्म … ऐसे ही चूस्स … और चूस्स … हाँ ऐसे ही म्ममा … आ…आ आहाह अहह आऐसे करते हुए मामी मस्त हो गयी.

ब्यूटीफुल सेक्सी बीएफ

ये फिल्म देख कर मेरे मन में एक अलग सा विचार आया और मेरे दिमाग में एक आईडिया आ गया. अब तुम्हें जलन क्यों हो रही है?वो बोली- अब ये मुझे प्यार नहीं करते हैं. मैंने सोचा कि आज तो कोमल दीदी काफी दिन बाद आई हैं, इनको चोदने में मज़ा आ जाएगा.

जैक ने हम तीनों के लिए पैग बनाए और हम तीनों हाथ में ग्लास लेकर चियर्स करके पैग मारने लगे.

अभी ऐसा लग रहा था कि मानो दीदी के साथ पति और ब्वॉयफ्रेंड दोनों साथ में हैं.

कभी कभी मैं सोना को भी बोल देती मजाक में कि सनी मेरा है!सोना के पास मोबाइल नहीं था. भाभी बिल्कुल पिघल सी गयीं और उन्होंने गाल पर हाथ रखकर मुझे अच्छे से किस किया. वीडियो सेक्सी फिल्म भेजोउसका ये अंदाज मुझे इतना पसंद आया कि आज भी उस पल के बारे में सोचता हूं तो पागल सा हो उठता हूं.

रीना ने मेरी धोती में हाथ डालकर जांघिये के ऊपर से ही मेरा लण्ड पकड़ लिया. उसे किशू सुन कर पता नहीं ऐसा क्या हुआ कि वो अचानक से मुझसे चिपक ही गयी और भाभी को भनक लग गयी कि यह लड़की मेरी गर्लफ्रेंड है. उसने मेरे लौड़े को पकड़ा और अपनी बुर के छेद के पास लगाकर बोली- अब धक्का दो.

मैंने पूछा- क्यों पहली बार में क्या चोदाई की टाइमिंग कम रहती है क्या?रिया- हां मुझे लगता है कि लड़के के लंड में सनसनी ज्यादा होती है, इसी वजह से वो जल्दी झड़ जाता है. वो सिसकारियां भरने लगी ‘आह्ह्ह उफ्फ’ और मेरा लन्ड पकड़ कर अपनी चूत में घुसाने लगी.

मैंने कहा- नहीं, मुझे कोई दिक्कत नहीं थी।अभी भी यश के कमरे में एसी काम नहीं कर रहा था।माँ ने कहा- तो आज भी यश को अंजलि के साथ सोना है।मैंने कहा- ठीक है.

हम जीजा-साले इधर उधर की बातें कर रहे थे, थोड़ा बहुत मजाक भी कर रहे थे. मैंने दो बार कोमल दीदी की चुदाई की और दोनों बार उनकी चूत में वीर्य डाल कर थक गया था. चोपड़ा ने अपने ड्राईवर से कहा- इब्राहिम कुछ भी जरूरत हो, तो तुम देख लेना.

बुआ पर शायरी ये कह कर उसने मेरा दुपट्टा हटा दिया और बाहों में लेकर बोला- हाय क्या मस्त माल है तू … बस मुझे तेरी बहन सुल्ताना के साथ सोना है. गेट खोलते ही एक हुस्न की परी मेरे सामने लाल रंग के टॉप पहने खड़ी थी.

जहां से मैं अपने कपड़े सिलवाती हूँ। मैं सिर्फ साड़ी, पंजाबी सूट यार सिर्फ कुर्ती और लेगिंग ही पहनती हूँ। जीन्स वगैरह मैंने कभी नहीं पहनी।अब तो बच्चे बड़े हो गए हैं. वह बहुत ही सीरियस नेचर का लड़का था जिससे मुझे पहली ही बार में प्यार हो गया. मैंने उसके ब्लाउज को उतार दिया मगर उसने अपने चूचों को अपने हाथों के नीचे छुपा लिया.

भोजपुरी में बीएफ फिल्म सेक्सी

तभी सपना ने मुझे अपने नीचे लिटा लिया और मेरे मुंह पर अपनी चूत को रख दिया. आकाश ने सोनिया की शादी के एक दिन पहले सोनिया के साथ सेक्स करने की बात कही. बीस मिनट के लगभग तक मैंने उसकी चूत को मसल कर रख दिया और फिर मेरे लंड ने भी अपना लावा उसकी चूत में उगल दिया.

उसके बाद मैं फिर से उनको उठा कर अपने रूम में ले आया और फिर से उनको नंगी कर लिया. जैसे ही उसके हाथ उसकी चूत से हटे तो मैंने उसकी जांघों को चौड़ी करके उसकी चूत पर अपने होंठों को रख दिया.

कोमल दीदी बोलीं- क्या हुआ?मैं थोड़ा सा दरवाजा और खोल कर अन्दर घुस गया.

तभी वो दूर हो गयी और बोली- बेटा, ये जो कुछ हुआ वो सब नशे में हुआ है, ऐसा नहीं होना चाहिए था. मेरा हुआ नहीं था तो मुझे थोड़ा गुस्सा आया और मैंने उसको पीछे पलट कर उसकी गांड पर उसकी चूत का पानी डाल कर अपना लंड घुसाने की जैसे ही कोशिश की, मेरा लंड आराम से मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी की गांड अंदर चला गया. मुझे उस समय ये आभास नहीं था कि यह क्रिया भी यौन क्रियाओं से ही संबंधित है.

रात का खाना होने के बाद मैंने सोनिया से कहा कि वो नीचे सो जाये और मैं ऊपर सो जाती हूं. मैंने उनसे मेल के जबाव में लिखा कि आप मुझसे हैंगआउट पर बात कर सकती हैं. मेरा लंड 7 इंच लम्बा है जो हर तरह की प्यासी औरत, भाभी, आंटी या किसी सेक्सी जवान लड़की, किसी को भी संतुष्ट कर सकता है।दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ.

आपकी गांड पर ज़ोर से झापड़ मारे।उस तेज़, तीखे दर्द का जो आनंद है, वो कहाँ से आए।मगर बहुत चाहत होने के बाद भी मैं कभी इतनी हिम्मत नहीं जुटा पाई कि मैं किसी पर पुरुष की बांहों में गिर जाऊँ।हाँ, मेरी कल्पना में तो सभी मर्द आ चुके थे.

पिक्चर बीपी बीएफ: बीस मिनट तक उसकी चूचियों को चूसने के बाद मैंने अपने मुंह को चूत में डाल दिया और जीभ से चाट कर गर्म करने लगा. वो बोली- साले के लिए मैंने क्या नहीं किया … हरामी कुत्ते के साथ मैंने दो बार सेक्स किया … उस मादरचोद का लंड मुँह में लिया.

पर मैंने कभी हिम्मत नहीं की कि मैं अपनी सेक्स कहानी आप सबके साथ शेयर करूं. दीदी बोलीं- शिव मैं तो बस इस चूत से परेशान रहती थी … पर आज जो मज़ा तुमने दिया, उसके बाद तो मैं पूरी तुम्हारी हो गई हूँ. फिर मैडम ने मालिक की तरफ का गेट खोलते हुए मुझे पास आने का इशारा किया.

एक कुंवारी देसी लड़की की चुदाई की स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने दोस्त की एक रिश्तेदार लड़की को दोस्त के घर में चोदा.

बहन गुस्से में बोली- मुझे रंडी शब्द से नफरत है … तुम बार बार रंडी कह रहे हो … क्या मैं तुमको रंडी दिखती हूँ?ये कहते हुए उसने हसित के लंड पर एक हल्का सा थप्पड़ दे मारा. तभी जेनिफर किचन से बाहर आई और हम दोनों ने गले मिल कर अमेरिकी रवायत का पालन किया. कोमल दीदी सोचते हुए बोलीं- सुबह जब मैं घर आई थी, तब तुम मुठ मार रहे थे बाथरूम में?मैंने कहा- नहीं दीदी.