बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो हिंदी मूवी फुल एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सैकसिविडियो: बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग, पहले पहल तो नम्रता अपनी चूत को मेरे कूल्हे पर चलाती रही, फिर थाप देने लगी.

सामंथा विंसेंट

उसने मेरे बाल पकड़े और खींच कर मेरा मुंह चूत से लगा दिया- ले भोसड़ी के … ज़ोर से अमृत छोड़ना है … पी कुत्ते पी …तुरंत ही धक्कों में ब्रेक लग गया. स्मार्ट वैल्यू ऑफिसथोड़ी ही देर में मैं पूनम के पास पहुंच गया और दरवाज़े के अंदर जाते ही मैं उसे किस करना शुरू हो गया.

मैंने अभी मेरी पढ़ाई खत्म की है और नौकरी की तलाश में इंटरव्यू आदि दे रहा हूँ. सेक्स वीडियो औरत काराहुल- एक बार दिखा दे प्लीज।उसी मैसेज के साथ राहुल ने अपने लंड की कुछ फोटोज भी दे दीं.

साली- भाई आप कहां रह गए थे? मुनीर भाई से मुलाकात हुई? वो आपको ढूंढ रहे थे.बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग: मजे लेकर देर तक खाना खाया, बहुत सी बातें हुईं और हम अपने अपने कमरों की तरफ रूख कर गए.

उन लोगों को एक पार्टी में जाना था, तो मैं उन सबको छोड़ने के लिए रेलवे स्टेशन गयी.दूसरी बिल्डिंग में जो कोई एक-दो लोग दिख भी रहे थे, वो भी बारिश की वजह से छत से चले गए थे.

செக்ஸ் வீடியோ சாங் - बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग

कहते हैं कि उम्र के इस पड़ाव में आने के बाद अक्सर भाई-बहन एक-दूसरे के राज़दार हो जाते हैं।हम दोनों कुछ दिन पहले तक दिनभर एक-दूसरे से लड़ते और झगड़ते रहते थे, किंतु अब हम साथ बैठकर बातें करते थे, पढ़ाई करते थे और कभी-कभी पढ़ते-पढ़ते रात को साथ सो भी जाते थे।अब ये दोस्ती हुई कैसे? ये भी जान लें.अब जीजा जी ने मेरे स्तनों पर धावा बोल दिया और अपना लंड मेरे हाथ में ही दिये रखा.

धीरे धीरे उसकी मोनिंग तेज़ हो गई- आहह उम्म्ह… अहह… हाय … याहह हहह और चोदो मुझे कस कर चोदो … चोद दो मुझे प्लीज़ … मुझे चोदो और मत तड़पाओ।जब उसने ऐसा कहा कि और मत तड़पाओ तब मुझे पता चला कि उसे कुछ नहीं हुआ है. बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग इस बारिश में ही तो चुदाई का असली मजा आयेगा सर।वह मेरे से अलग हुई और उसने मेरी बनियान भी निकाल दी.

रिया के बार बार कहने पर उसने लण्ड आखिरकार बाहर निकाला और रिया भूखी कुतिया की तरह लण्ड चाटने लगी।लण्ड पर चिपचिपा लसलसा पदार्थ लगा हुआ था। रिया ने उसे जी भर कर चाटा। रिया की चूत में से उसकी पैंटी बाहर आ रही थी.

बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग?

”कोई बात नहीं नाश्ता बाद में करते हैं … पहले तुम्हें चाय पिलाता हूँ. फिर खाना खाते वक्त दिखने वाले सेक्सी मम्मों को देख कर मैं गर्म हुए जा रहा था. धीरे धीरे मुझे वस्तुस्थिति का भान हुआ और मैंने धीरे से वसुन्धरा को अपने आगोश से मुक्त किया.

इधर मौसी के गर्म गर्म हाथों का स्पर्श पाते ही मेरे लंड महाराज और अकड़ने लगे. आई लव यू प्रतोष!मैंने भी कहा- सेम टू यू डार्लिंग।तो दोस्तो कैसी लगी मेरी यह कहानी आप सब अन्तर्वासना पाठकों को?मुझे आपके जवाब का इंतजार रहेगा।आप सबका दोस्त प्रतोष सिंह फिर अगली बार हाज़िर होऊंगा एक भाभी की चुदाई के साथ! और आशा करता हूं कि आप सब मुझे आप अपना प्यार[emailprotected]पर जरूर भेजेंगे।तब तक के आप सब अपना ध्यान रखिए और पढ़ते रहिये कामुक और मजेदार कहानियां![emailprotected]. मैंने जीजा का लंड अपने मुंह से बाहर निकाल लिया तो जीजा बोले- 2 मिनट रुक जाओ नहीं तो मैं तुम्हारे मुंह में ही पानी निकाल दूंगा अभी.

दो खाटों की वजह से पूरा लंड उसकी चुत में डालना मुश्किल हो रहा था … इसलिए बस लंड का अगला हिस्सा ही अन्दर जा पाया था. मेरी चूची पर से चॉकलेट को चूसने के बाद वो मेरी पेंटी को निकालने लगे. सर मेरे पास आकर मेरे होंठों पर अंगूठे से फिराते हुए बोले- वाह रे रांड, तू तो बहुत ही चुदक्कड़ चीज है.

अचानक बाली रानी ने जीभ की नोक सुपारी के छेद में घुसाने की कोशिश की. दोस्तो, कुछ देर बाद एक बार फिर से उसने मेरा लंड चूसना शुरू किया और जब मेरा लंड दोबारा चुदाई के लिए तैयार हो गया तो वो मुझसे बोली- पापा, इस बार धक्के थोड़ा ज़ोर से मारना.

फिर उसके दोनों दूधों को मुंह में लेकर चूसने के बाद मैंने उसकी सलवार को खोल दिया.

अंडरवियर को भी उसने उतार फेंका और मेरे लण्ड को हाथ में लेकर देखने लगी.

मम्मी परसों मेरे एग्ज़ाम खत्म हो जाएंगे, अगर आप कहो तो हम दोनों कहीं घूमने चलें, इससे आपका भी मूड फ्रेश हो जाएगा. एक दिन सीमा जी ने कहा- मुझे इस तरह छिप कर मिलना अब अच्छा नहीं लगता, हमें शादी कर लेना चाहिए. पर जब खेल खेल में मैं उससे हार जाती या वो मुझसे हार जाता तो हम दोनों धींगा मुश्ती करने लगते थे.

15 हजार?” मेरे मुंह से निकल पड़ा।देखिये इससे ज्यादा आपको सैलरी नही पाऊंगा. मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी कमर को कस कर पकड़ा और लंड को चूत पर लगा दिया. दो तीन बार तो उनका हाथ मेरे लंड को भी लगा पर मुझे लगा कि गलती से हुआ होगा.

रात 9 बजे मैं उनके घर आ पहुंचा- भाभी दरवाजा खोलिए … बहुत ठण्ड लग रही है.

हमारी कोशिश रहती है कि हम दोनों ज्यादातर घर में ही सेक्स का मजा ले लें. वो तुझे हो गया … चल अब तुझे थोड़ी दवाई लगा देता हूँ … ताकि सब ठीक हो जाए. उसके बाद वो उठा, तो मैंने उसका सर अपनी गोद में रख कर उसको कॉफ़ी पिलाई.

जिस तरह से चाची मेरे वीर्य को पी कर संतुष्ट हो रही थी मैंने भी चाची की चूत का रसपान किया. वो इस प्रक्रिया में लंड निकालने के साथ ही मेरे मुँह की तरफ लंड कर देता और अपना मुँह मेरी चूत पर लगा देता था. कहानी का मजा लेने से पहले अगर आप मेरे और परिवार के बारे में कुछ जान लें तो आपको कहानी समझने में सुविधा होगी.

उसने कहा- बात चैलेंज की है … तो मैं बताना चाहूँगी कि मैंने उम्र भर व्यस्त रखने की हिम्मत रखती हूँ.

लेकिन आज सुबह से ही वो भी काफी खुश दिखाई दे रही थी, खुश तो मैं भी था. मनीषा ने मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया लेकिन वो बार-बार मनोज और जागृति की तरफ देख रही थी.

बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग ”ओह …”क्या हुआ?”पर उसमें तो बहुत दर्द होता है?”हाँ पहली बार में थोड़ा तो जरूर होता है पर बाद में बहुत मज़ा भी आता है।क्या तुमने पहले कभी किसी के साथ किया है?”मैंने मधुर के साथ एक बार कोशिश की थी पर बीच में ही हमें रुकना पड़ा था. कुछ समय पहले जब मैं लखनऊ गया था, तब मेरे बंगले के बगल के दुकानदार से दोस्ती हो गई थी.

बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग उसका एक भाई जो कि कनाडा रहने लगा है, वो इस शोक की हालत में भारत आया था. उन्होंने बताया कि इधर नानी चाहती हैं कि मैं कुछ दिन यही रुकूं … तुम्हारे पापा आ रहे हैं.

जुगाड़ शब्द सुनकर चाची ने मेरी पीठ पर धौल जमाई और बोलीं- अच्छा बच्चू, गर्लफ्रेंड को जुगाड़ कहता है … किस चीज की जुगाड़ होती है वो?मैं बस शरमा कर रह गया.

सविता भाभी कार्टून बीएफ वीडियो

जब उसने बेडरूम का दरवाजा खोला तो मैं मनीषा को पलंग की साइड में लेटा कर उसके ऊपर लेट गया. मैंने कहा- यार निहारिका तू है ही इतनी सेक्सी … किसी का भी मन न भरे. पर जो गाड़ी समय पर आनी थी, वो धीरे-धीरे डिले होने लगी, आखिरकार वो समय भी आ गया, जब नम्रता भी अपनी फैमिली के साथ स्टेशन पहुंच चुकी थी.

मैंने भी पार्टी की तैयारी कर ली और कुछ सामान खाने के लिए ले आया और पीने के लिए ड्रिंक्स भी ले आया. फिर मैं उसके दोनों हाथ को पकड़ कर अपने लन्ड को जबरदस्ती उसकी चूत में घुसाने लगा. एक किनारे खड़े होते हुए मैंने नम्रता से पूछा- अब आगे का क्या इरादा है?वो मेरी नाक पकड़ते हुए बोली- बस मेरी जान … चुदाई और सिर्फ चुदाई.

से बहुत मिन्नतें करने के बाद वह कुछ रूपये में एक बर्थ देने के लिए तैयार हुआ.

मेरी उंगली करने की प्रक्रिया को गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थी. सोनल की बात सुनकर दोनों बहनें एक-दूसरे के पास आ गईं और एक दूसरे के मम्मे मसलने लगीं. वहाँ मैंने उसकी चूत देखी तो वो वो लाल होकर पूरी तरह से सूज गई थी। मैंने उसकी फूली चूत पर एक किस किया तो वो शरमा कर रूम में भाग आयी।थोड़ी देर आराम करने के बाद मैंने और उसने एक और राउंड चालू किया.

जगह बनाकर जैसे ही मैं फ्री हुआ, तुरंत मौसी से लिपट गया और मौसी को किस करने लगा, थोड़ी ही देर बाद मौसी मुझे दूर करते हुए कहने लगीं- इतना टाइम नहीं है, जो करना है जल्दी करो और अपनी जगह पर पहुँचो. बस हम दोनों आज भी अपनी हवस मिटाने के लिए कहीं ना कहीं मिलते रहते हैं. उसकी इस बात से मैंने उसका मन समझ लिया और मैंने उसे गाल पर एक किस करके कहा- ठीक है … तू मेरा इंट्रो किसी से भी मम्मी बता कर नहीं करना.

और रही निचोड़ डालने वाली बात, तो प्रतिभा जबसे तुम्हें देखा है … बस एक ही ख्वाब देखा है कि कब मौका मिले और मैं तुम्हें अपने प्रेम रंग में नहलाकर सराबोर कर दूं. अब मैं जोर-जोर से उसकी योनि को मसलने लगा।अब वह अपनी योनि को ऊपर उठाने लगी। जोश में आकर मैं कभी उसके दूध को मसल देता था तो कभी उसकी योनि में उंगली कर देता.

ऐसा होने के बाद मैं क्या ‘मैं’ रह पाऊँगा? लेकिन कुछ फैसला तो लेना ही था और फिर मैंने फैसला ले ही लिया. ”सच में नीतू दो दिन में बहुत अच्छा सीख गई हो, तुम्हें तो इनाम मिलना चाहिए. मैं बोला- तुमने तो अपना चूत दूध तो पिला दिया और अब तुम लंड दूध पिओगी.

मैं कुछ देर तो टीवी देखता रहा फिर टीवी के साथ-साथ मैने लाईट को भी बन्द कर दिया और धीरे से नीचे मोनी की बगल में जाकर लेट गया।मोनी अपना मुँह दूसरी तरफ करके सो रही थी इसलिये अपना एक हाथ धीरे से मोनी की कमर पर रखकर मैं आज फिर से उसके पीछे चिपक गया। मेरा तरीका वही पुराना था कि नींद बहाने से मैं मोनी के बदन को छूने की कोशिश करूं.

मंजू ने मौका भाम्प कर हाथ से टटोल कर मेरे लंड का आकर महसूस किया और मेरी ओर देख कर मेरे मूसल को मसल दिया. मेरी सेक्सी कहानी के पहले भागमेरी चूत चुदाई से पति का प्रमोशन-1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे पति मुझे अपने बॉस के घर डिनर के लिये ले गये. मुझे उसकी चूत से चॉकलेट मिक्स चूतरस का इतना मस्त स्वाद आ रहा था कि मैं सब भूल ही गया था.

”मम्मी ने मेरे सिर से आँचल थोड़ा सरकाया और उपिंदर ने मेरी मांग में सिंदूर भर दिया।अंशु बोली- कामिनी अब से घर में तू बिना सिंदूर के नहीं रहेगी। हम दोनों में से किसी एक से रोज़ लगवाया करेगी. संकोचवश मैंने कहा- जी ठीक है, आप जैसा कहेंगे मैं वैसा करने के लिए तैयार हूं.

वो तो बस अपने मजे में मस्त थे।ससुर जी ने सुमीना यानि अपनी बेटी की चूत में अपनी पूरी जीभ घुसा रखी थी और बड़े ही मजे उसे खा जाने वाले तरीके चाट रहे थे. अर्चना को धीरे धीरे चुदने में इतना मज़ा आने लगा कि उसकी मदभरी आवाजें ‘आह आह राहुल … और तेज चोदो उम्मह. शायद उसके लिए मेरा लण्ड बड़ा और मोटा होने के कारण उसके मुंह से चीख निकलने वाली थी कि मैंने अपने होंठों से उस के होंठ दबा दिए.

रंडी का बीएफ हिंदी में

अब मैं अपनी गर्मागर्म देसी हिन्दी सेक्स कहानीमैं और मेरी प्यासी चाचीका दूसरा भाग पेश करने जा रहा हूँ.

उसको बहुत अच्छा लग रहा था, वो मेरे सर को जोर से अपने चूत में खींच और दबा रही थी. मैंने बोला- पिताजी आप क्यों रो रहे हैं?पिताजी बोले- नहीं हर्षद, ये ख़ुशी के आंसू हैं. वो चुदने से पूर्व जिस अवस्था में थी, उसे उसी अवस्था में कपड़े पहना दिए.

वो मेरे सीने को, मेरे निप्पल को चाटते हुए मेरी नाभि की तरफ बढ़ रही थी. मुझे लगा कि मुझे अपनी बेटी की चूत पर थोड़ी चिकनायी लगानी पड़ेगी, तभी उसके बाप का लंड उसकी चूत में जा पायेगा. हिंदी सेक्स गांव कीमेरे लंड के बारे में एक और ख़ास बात ये है कि मैं लगातार तीन घंटे तक सेक्स कर सकता हूँ.

उन्होंने इतनी जल्दी मेरे सारे कपड़े उतार दिए कि मुझे कुछ पता ही ना चला. वंश बोला- अब मैं तेरा बेटा नहीं हूँ साली रांड … तेरा पति हूँ कुतिया … से साली छिनाल ले लंड खा.

उसके ऊपर से थोड़ा सा कपड़ा हटा कर उसके बूब्स बाहर निकाल लिया और उसे चूसने लगा और दबाने लगा. यहीं नाड़ा कस दूँ?” मैंने लहंगे को कूल्हे की बाहर को उभरी हड्डियों के ज़रा सा ऊपर टिका कर पूछा. मैंने शिखा के होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और लंड को और ज्यादा अंदर पेल दिया.

धीरे धीरे उसकी मोनिंग तेज़ हो गई- आहह उम्म्ह… अहह… हाय … याहह हहह और चोदो मुझे कस कर चोदो … चोद दो मुझे प्लीज़ … मुझे चोदो और मत तड़पाओ।जब उसने ऐसा कहा कि और मत तड़पाओ तब मुझे पता चला कि उसे कुछ नहीं हुआ है. मैं अपना एक हाथ अपनी बहन शलाका की कमर पर ले गया और धीरे-धीरे उसका लहंगा उसकी कमर से सरकाने लगा. शायद उसने भी दूध में कोई चीज मिलाई थी जो उसकी चूत लंड को चाटने के खेल को मस्त बना रही थी.

मुझे आज भाभी की चूत को चूसने में मजा आ रहा था और दूसरी तरफ भाभी मेरे लंड को चूस कर मुझे और भी मजा दे रही थी.

मैं- हां हां देख लेना, लेकिन मुझे नहीं लगता कि अब तुम्हें इसकी कोई जरूरत पड़ेगी. इस पोज़ में लेटकर लंड सीधा कंचन की चुत में डाल दिया। और चाची जो कंचन के पैरों की तरफ टांगें फैला कर बैठी हुई थी, उनकी चुत चाटने लगा.

मेरी दीदी हॉस्पिटल में भर्ती थी और रात में कभी उनकी सास दीदी के पास रहती थी तो कभी जीजा जी वहाँ पर रुक जाते थे. विक्रम और प्रिया की चुदाई की स्टोरी का मजा लेने के लिए आपको कहानी के अगले भाग का इंतजार करना होगा. अपने पति की बात सुनात सुनाते नम्रता मेरी तरफ देखते हुए बोली- तुम्हारे वीर्य ने मुझे वीर्य पीने का ऐसा दीवाना बनाया कि मैं राजेश के वीर्य के रस के एक बूंद को भी छोड़ना नहीं चाहती थी, इसलिए मैंने थोड़ा ऊपर की तरफ होते हुए राजेश के मुँह में अपनी चूची को चूसने के लिए दे दिया और खुद उनके वीर्य से सने मेरे हाथ को चाट-चाटकर साफ करने लगी.

भाभी ने एक्टिंग शुरू कर दी- देवर जी, आज इन्होंने ज्यादा पी ली है क्या? चलो, इन्हें अन्दर रूम तक ले जाने में जरा मेरी मदद करो. फिर मैं उनको चूमने लगा, भाभी के दूध मसलने लगा और उनकी साड़ी ऊपर उठा के उनके दोनों पैर खोल दिए. बाहर खिड़की से अंदर आ रही चांद की हल्की सी रोशनी में ज्यादा कुछ नहीं दिखाई दे रहा था मगर इतना जरूर पता लग रहा था कि बेड पर वो सोई हुई है.

बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग एक गैर मर्द के नीचे लेट उसके लिंग का भोग जो कर रही थी मैं!राज मुझे बिस्तर पर मसल रहा था. फिर मैंने धीरे से अपना बरमूडा खोलकर अपनी जांघों तक कर दिया और अपने खड़े हुए लंड को बाहर ले आया.

सनी लियोन की बीएफ फिल्म मूवी

मैंने कस कर अपनी जाँघों को दबोच लिया ताकि राज मेरी चूत पर न छू सके. दो मिनट के बाद हमने एक दूसरे के होठों को एक दूसरे से आजाद किया।अपना खड़ा लंड मैंने हाथ में हिलाते हुए रीना के मुंह के पास कर दिया. जब मैंने कुर्सी पर बैठ कर उनके लंड की सवारी की तो मुझे बहुत मजा आया.

मेरे कंठ से लगातार आहें निकल रही थीं- उऊफ्फ्फ … आउच … आअह्ह्ह!मैं वासना से मदहोश होने लगी. थोड़ी देर बाद मैंने अपने ऊपर से नम्रता को हटाया और उसको सीधा लेटाते हुए, उसके मुँह पर अपनी गांड टिका दी और उसके दोनों चूचों को भींचने लगा. मद्रासी वीडियो सेक्सउसने तुरंत मेरे होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और चाची की चूत का गर्म पानी मुझे अपने लंड को भिगोता हुआ महसूस हुआ.

वो बोली- जैसे ही तू मेरे पीछे से हटा और दौड़कर कमरे की तरफ आया, मैं भी तेरे पीछे-पीछे आ गयी.

नम्रता की बुद्धिमानी देखकर मैं दंग रह गया, मेरे इशारे को समझ गयी थी. मगर मुझे अब किसी बात का डर नहीं था क्योंकि मानसी और मैं तो अब चुदाई करने लगे थे.

हम दोनों दस बारह बार पूरा चक्कर घूमे, मैं घड़ी की उल्टा दिशा में घूमा और दिलिया घड़ी की दिशा में घूमी. फिर अंकल जी ने मेरी चूत का वो बाजा बजाया कि मेरी पोर पोर दुःख गयी और उस रात तीन बार चुद कर मैं तृप्त हो गयी और उनसे लिपट कर नंगी ही सो गयी. चलो सर … ” मैं शर्मा सर के आंखों में आंखें डाल कर मीठी आवाज में बोली.

अबकी बार मेरी चूत को और भी ज्यादा मजा आ रहा था भैया के लंड से चुदने में.

अब तो हर बीतते पल के साथ मेरे लंड का तनाव बढ़ने लगा और देखते ही देखते ही मेरा लंड 8 इंच का होकर उसके मुंह में फिर से भर गया. सुधा ने झट से लहंगा उठाया और मैं उसकी चूत में लंड पेल कर उसे चोदने लगा. हम दोनों की नजरें मिलीं, नम्रता ने अपने दोनों हथेली से अपनी चूत को दबाकर होंठों को गोलकर के मुझे अभिवादन किया.

सेक्स पिक्चर हिंदी वीडियोपहले मैंने उनके पैरों के नीचे के हिस्से को सहलाया और फिर धीरे धीरे उनकी केले के तने जैसी और मक्खन के जैसी मुलायम जांघों से होते हुए, उनकी साड़ी को अपने पैर से ऊपर खिसका दिया. फिर नाईटी को ऊपर कर कर मेरी जांघों को चूमने लगे और नाईटी के अन्दर हाथ डालकर मेरी बुर में उंगली डाल कर साथ ही दूसरी उंगली से मेरी गांड कुरेदने में लग गए.

हॉट सेक्सी देसी बीएफ

मैं बोली- मेरी कसम मत खा … चल बता मुझे कहां ले कर चलेगा?वो बोला- मम्मी आप तो ऐसे बोल रही हो, जैसे आप मेरी गर्लफ्रेंड हो. दीपाली- नहीं … मुझे सिर्फ चुत ही चटवाना है, क्योंकि मेरी वर्जिनिटी सिर्फ मेरे बॉयफ्रेंड की है. रानी ने लंड को मुस्कुराते हुए सहलाना शुरू कर दिया- यार राजे, यह तेरा सण्ड मुसण्ड तो बड़ा ही शैतान है.

मैंने दोनों अप्सराओं को खींच कर अपनी तरफ करवट से कर लिया और आनंद पूर्वक आँखें मूँद के दोनों रानियों के गर्म गर्म शरीर का लुत्फ़ उठाता हुआ मीठी सी नींद में खो गया. मैंने हंसते हुए उसकी बात को टाल दिया, मैंने कहा- उनमें कोई भी लड़की आपके जैसी नहीं है. मैं डॉली को इस बात के लिए राजी कर सकती थी कि वो मेरे पापा से मिल उन्हें समझा कर इस बात के लिए मना ले कि मेरी पढ़ाई का सारा खर्चा वो मुझे उधार देगी.

मैं धक्के ना मारते हुए नम्रता के ऊपर आ गया और उसके होंठों को चूसने लगा. मैंने शिखा से पूछा- तुम कब उठ गई?शिखा ने मेरी तरफ देखा और कहा- अरे, तुम भी उठ गये. आह … कितना मज़ा आ रहा था जब वो मेरी चूत मसल रहे थे, मेरी चूचियां दबा के मेरे होंठ चूस रहे थे और मेरी चूत से गंगा जमुना बह रही थी.

मैं भी उसको बालों से पकड़ कर सारा लंड उसके गले तक उतार देता था और तब तक लंड घुसेड़े रहता था, जब तक कि उसकी आंखें बाहर न आ जाती थीं. एक बार गांड मरवाने के बाद तो जैसे फिर रह पाना बहुत मुश्किल हो जाता है.

कुछ ही देर बाद मेरा बदन अकड़ने लगा, मैं अपने पैर छटपटाते हुए झड़ने लगी.

फिर पापा ने मम्मी की टांगों के बीच में उंगली डाल दी और आगे पीछे करने लगे. कल्याण कार्टून मटकादोनों भी बहुत ही ज्यादा खुश हैं और दोनों ने अपने पतियों से चुदवाने का नाटक करके यह बात छुपा ली है कि उनके जो बच्चे पैदा होने वाले हैं … उनका असली पिता मैं हूं. मारवाड़ी सेक्सी रिकॉर्डिंगउसकी चूत का द्वार मेरी पहुंच के बहुत करीब था जिसको मैं हर हाल में पाना चाहता था इसलिए मैंने अपने लंड को उसकी चूत के मुहाने पर हल्का सा घिसा और फिर अन्दर की तरफ धकेलने लगा तो मेरे लंड का सुपाड़ा उसकी चूत में घुसते समय कहीं जैसे अटक सा गया. उसने भी अपने दूसरे हाथ का पाना नीचे गिरा दिया और मेरे हिप्स पर अपने दोनों हाथ ले आया और जोर जोर से घुमाने लगा, उसकी उंगलियां मेरी गांड की दरार में, कभी-कभी मेरी गांड के छेद को छेड़ रही थी.

कुछ ही पलों बाद वो मेरा सिर अपनी बुर में ऐसे दबाए जा रही थी, जैसे सर को अन्दर डालना चाह रही हो.

अब चुदाई की कमान मैंने पुनः संभाल ली और उसकी रिसती चूत में आड़े तिरछे शॉट्स लगाता हुआ उसे चोदने लगा. जब घोष की रात की ड्यूटी होती थी तो 15 दिन तक हर रोज रात को मैं दिल लगाकर दीपिका को चोदता था और जब उसके पति की दिन की ड्यूटी होती थी तो मेरी शनिवार और इतवार की छुट्टी होती थी, जबकि शनिवार और इतवार को घोष की ड्यूटी होती थी. उन्होंने मुझसे लगभग चिपकते हुए कहा- मुझे अपनी जुगाड़ बनाएगा?मैंने तुरन्त चाची को गले से लगा लिया और किस करने लगा.

करीब पंद्रह मिनट बाद क्यारा ने मुझे आवाज़ दी और अपने पास आने को कहा. लिटा कर मैं पूरी तरह से उसके बूब्स पर टूट पड़ा और उन्हें जोर जोर से सक करने लगा. पूरे छह महीने मैंने उसकी हर तरीके से चुदाई की, उसकी गांड भी मार ली.

बीएफ सेक्सी टार्जन

आज मैंने शराब भी नहीं पी थी इसलिए मैं भी पूरे होश में था और मोनी भी. यूं लगा कि वसुन्धरा इससे खुश नहीं हुई और वसुन्धरा ने इसका विरोध अपनी कमर, अपनी योनि को मुझसे अच्छी तरह सटा कर जताया. फिर मैं चुपचाप अपने कमरे में आ गयी और सोचा कि इस बारे में बात सुबह को करेंगे.

मैंने तुरंत सभी सामान किनारे कर दिया और सुमन को खींचकर कमरे के बीच में ले आया और एक झटके में उसका गाउन उतार फेंका, वो केवल चड्डी में ही थी क्योंकि उसने ब्रा नहीं पहनी हुई थी.

मैं कभी-कभी मॉडर्न सलवार सूट पहन कर भैया के घर जाती थी जिसमें से मेरी ब्रा और पेंटी का रंग बिलकुल साफ़ दिखाई देता था.

मैंने सुना था कि फंसने पर पुलिस वाले भी लड़की को बहुत चोदते हैं … तो मैं इस तरह की रिस्क नहीं लेना चाहती थी. चूंकि अंतर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है तो जो भी गलतियाँ हों उनके लिये आप कृपया मुझे माफ कर दीजिएगा. हॉट सेक्स वीडियो अमेरिकाआस्स … स्स्स … आह … आह … करते हुए मैं उसकी चूत को अपनी उंगलियों से चोदने लगा.

मैंने कहा- तुम जाकर अब आराम करो, रात को तुम्हारे साथ बहुत कुछ होने वाला है. मेरी हॉट सेक्सी कहानी आपको कैसी लगी?[emailprotected][emailprotected]कहानी जारी है. ”वसुन्धरा ने आँखें तो नहीं खोली पर अपना बायां हाथ मेरे हाथ से छुड़ा कर वो अपने दोनों हाथों की उँगलियों से मेरा चेहरा टटोलने लगी.

अपनी कुंवारी बेटी को अपना लंड चुसवा कर मुझे कितना मजा आ रहा था, मैं बयां नहीं कर सकता. उनकी उखड़ती सांसें और उनकी चूत के मेरे लंड पर गहरे हो रहे धक्के इस बात का सुबूत थे कि वो भी स्खलन के करीब पहुंच चुकी है.

उसने रंडियों की तरह मेरे लंड को हाथ में लेकर हवस भरी नजर से देखा और फिर अपने गुलाबी होंठ खोल कर मेरे गुलाबी गर्म सुपाड़े को मुंह में भर कर मेरा लंड चूसने लगी.

दो मिनट मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेटा रहा, गर्दन, आँखों, कानों पर चुंबन लेने लगा. ऐसा लग रहा था, उसकी बुर मेरे लंड को औऱ अन्दर तक खींच रही थी और मैंने अपनी पूरी जान अपने लंड के रास्ते उसकी बुर में जैसे लबालब भर दी. मैं दिशा की चूत चाटने के बाद खड़ा हो गया और उसे एक किस करके वापस अपनी जगह पर बैठ गया.

सेक्सी मूवी राजस्थानी डॉक्टर जूली ने चेक-अप के बाद प्राथमिक जांच में बताया था कि चुदाई करते वक्त लंड की नसें नीचे दबी रह गई होंगी शायद इसीलिए लंड सामान्य स्थिति में नहीं आ रहा है. दी घर पे नई थी और उनको मालूम नहीं था कि घर में कौन सी चीज कहाँ पड़ी है तो वो बार बार मुझे आवाज लगाकर बुलाती थी और मैं जब भी उनके पास जाता, मैंने देखा कि वो मेरे एकदम नजदीक खड़ी रहती थी ताकि मैं उनकी बॉडी पूरी देख अकूँ और उत्तेजित होऊँ.

मैं हीना का ध्यान भंग भी नहीं करना चाहता था, लेकिन मैं अंतिम क्षणों में कांपने लगा था. उसने मेरे सीधे हाथ को प्यार से बेहद कोमलता से थामा और अपने होंठों के पास जाकर किस कर दिया. मेरी दूसरी चूची को जोर से चूसने के कारण भी मुझे मीठा दर्द सा होने लगा था.

बीएफ सेक्सी वीडियो भाई बहन के

वो बोल पड़ी- भईया, प्लीज अपनी बहन की चूत में डालो और प्लीज आज जल्दी मत झड़ना. मेरे कड़क हो चुके निप्पल मेरे सिल्की गाउन से साफ़ अपने होने का अहसास करा रहे थे. मोनी मेरे लंड से चुदती हुई अपने हाथ-पैरों को समेटकर बिल्कुल इकट्ठा हो रखी थी.

उस चिट्ठी में लिखा था कि छत का दरवाजा खोलने को सिर्फ इसे ही पहन कर आना है. फिर उसकी चूत की मांसपेशियां सिकुड़ सिकुड़ कर मेरे लंड से वीर्य की एक एक बूँद निचोड़ने लगीं.

मैं उसकी ड्रेस के अन्दर हाथ डाल कर उसके उभरे हुए चूतड़ों को सहलाने लगा.

वो मेरे कपड़े देख कर इतना तो जान चुके थे कि मैं पूरी नंगी हूँ क्योकि मेरी ब्रा और चड्डी वहीं सूख रही थी. वो बोला- मम्मी तो क्या किया जाए … आप ही बताओ?मैं बोली कि मैं क्या बताऊं … तू ही बता. दोस्तो, यह कहानी एक मित्र ने मेरी कहानियां पढ़ने के बाद मुझे भेजी है और गुज़ारिश की है कि उसके इस अनुभव को मैं आपके सबके साथ शेयर करूं.

तब मैं नारी-शरीर के उस गोपनीय और विशेष अंग की झलक पा रहा होऊंगा जिसको कोई भारतीय नारी चाँद-सूरज तक के आगे भी वस्त्रविहीन नहीं करती. उन्होंने बताया कि इधर नानी चाहती हैं कि मैं कुछ दिन यही रुकूं … तुम्हारे पापा आ रहे हैं. वो बोले- तू चिंता न कर, आज मैं तेरा यार आशीष हूं और तेरी जम कर चुदाई करूंगा.

वो रो रही थी, बोल रही थी- ये तूने सही नहीं किया सुहानी, इसका बदला लूँगी मैं!मैंने कहा- क्या बदला लेगी? मैं तो पहले ही मरवा चुकी हूँ, तूने मुझे बेवकूफ बना के फिर से चुदवाया तो मैंने भी तेरी गांड मरवा दी!और हंसने लगी।अब मैंने हर्षिल से कहा- चल बे, अब मेरी बारी … और चूत में डालियो.

बीएफ वीडियो मूवी सॉन्ग: लेकिन वो कुछ नहीं बोलीं, बल्कि थोड़ा और झुक गईं, जिससे अब मुझे बोबों की दरार भी दिख रही थी. मैं- किससे … दोस्त से या सेक्स से या मुझसे!मीता- दोस्त से … मुझे उस पर विश्वास नहीं हो रहा है.

झड़ने के बाद वो मीरा के बाजू में बेड पे लेट गया और अपनी सांसें काबू में करने लगा. यह कहकर उन्होंने मुझे अपनी बांहों में पकड़ा और मेरे होंठों पर अपने होंठ रखकर मुझे चूमने लगे. मुझे कभी कभी पड़ोसी लोग भी लाइन देते हैं, पर मैं उनको भाव नहीं देती हूँ.

मैं जैसे ही सीढ़ी के पास गया, तो देखा कि चाँदनी भाभी भी उतर रही थीं.

अब तो आपको पता है कि यह सौरभ के साथ करती है फिर आपको पता ही नहीं होगा कि वह किसी को भी कहा देगी मुझे चोदो और अपने ऊपर चढ़ा लेगी. हम लोग उस दिन घर पूरा दिन बोर होते रहे इसलिए शाम को मैं और जीजू घूमने के लिए निकल गये. आसमान की ओर देखते हुए नम्रता बोली- शरद भगवान भी कभी-कभी नाइंसाफी कर ही देता है.