आज का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,इस्नोफीलिया की दवा

तस्वीर का शीर्षक ,

टीवी चालू: आज का सेक्सी बीएफ, बिना सेक्स कहानी पढ़े मेरी टट्टी नहीं उतरती है, यह बिल्कुल सत्य है.

रावण tattoo

वो शादी रात की थी, मैं भी सौम्या की शादी में गया था, जाता कैसे नहीं … सौम्या को दिया हुआ वादा भी तो पूरा करना था. बिहार विलेज सेक्सी वीडियोनिशा ने बताया था कि वो कभी माँ नहीं बन सकती, उसे गर्भाशय में कुछ दिक्कत है.

दोस्तो, उसकी इस बात से मेरे लंड ने इतनी जोर का झटका मारा कि मुझे लगा कि मेरा पानी अभी निकल जाएगा. अजगर की लड़ाईवो दिखने में काफी खूबसूरत थीं, उनका रंग एकदम दूध की तरह सफेद था और फिगर 34-24-36 का था.

वो मुझसे बोलीं- अपने जीजा जी के साथ तुमने भी शराब पी है क्या?मैं- हां दीदी थोड़ी सी पी ली.आज का सेक्सी बीएफ: कमरा रात को 8 बजे से पहले नहीं मिलना था तो मैं उसे अपने साथ ले गया.

अब मेरा एक हाथ उसके पेट पर आ गया और दूसरा उसके हाथों को अपनी गर्दन पर रखवा दिया.लेकिन मैं रिहर्सल में अकेले डांस करते हुए किसी को जमा नहीं इसलिए सिलेक्शन कमेटी ने मुझे डुओ डांस परफ़ॉर्मेंस करने के लिए कहा.

इंग्लैंड सेक्सी वीडियो डाउनलोड - आज का सेक्सी बीएफ

ट्रेन अपने राईट टाइम पर आ गयी और मैं अपनी पसंदीदा विंडो सीट पर जाकर बैठ गया.मैं चूत चाटने लगा और शिल्पा आवाज निकालने लगी ‘आअह्ह ऊओह ऊओह्ह आआह …’उसको अब और भी अच्छा लगने लगा था.

फिर कुछ देर बाद मैंने मम्मी को इशारा किया कि मुझे भैया का लंड चाहिए. आज का सेक्सी बीएफ वो हार्दिक से बोली- अब नहीं रहा जा रहा … जल्दी से लंड डाल दे चूत में.

विलास ने मेरे लंड पर हाथ रखकर कहा- अरे यार, तेरा तो अभी भी इतना बाहर है हर्षद … बता न कितना अन्दर गया है?मैंने बोला- बेटा अभी आधा ही अन्दर गया है.

आज का सेक्सी बीएफ?

मुझे मेरे टीचर ने चोदा अपने घर में! मैं ट्यूशन पढ़ने जाती थी। वो टीचर अकेले रहते थे और मुझे छोड़ते थे. अब वो भी मस्ताने लगी थी- आह जोर से … और जोर से जीजू … आज से मैं आपकी हुई … आपका जब मन करे, मुझे प्यार करो, जब चोदने का दिल करे तो अपने ऊपर लेटा लो … आप जैसा बोलोगे, मैं वैसा करूंगी … बस मुझे जिंदगी भर चोदते रहना. सौम्या का लहंगा भीग गया होता, अगर मैंने उसकी चूत का पूरा रस ना पिया होता.

मैंने अपने लंड के सुपारे को उसकी चूत की छेद पर सैट किया और एक धक्का मारा तो वो चूत से फिसल गया. मैं रात को समीर को सब बता रही थी कि सर ने आज कॉलेज में क्या क्या किया और घर पर कैसे चोदा. मैं- भाभी आप कह रही थीं कि महीने मैं एक दो बार … आप ऐसा ही कुछ बोल रही थीं शायद?भाभी- तो तुमने वो भी सुन लिया!मैं- हां, पर मैं किसी को भी नहीं बताऊंगा.

फिर रानी और चाची की चुदाई कैसे हुई, ये मैं आगे की सेक्स कहानी में लिखूंगा. मैंने वक्त की कमी देखते हुए उसे न तड़पाते हुए आगे बढ़ना शुरू कर दिया, उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर अपने हाथ उसके उरोजों पर दबाते हुए कड़क धक्का लगा दिया. मेरा फिगर 34D-32-36 का था और उस पर मेरा गेहुंआ रंग और कमर तक लंबे बाल मुझे सेक्सी बनाते थे.

नमस्ते दोस्तो, मैं रवि कुमार सोलापुर से, बहुत लोगों ने मेल करके मेरी मेरी Xxx वाइफ हॉट कहानियों की प्रशंसा की, उनका धन्यवाद. साथियो, मैं अगम एक बार फिर से आपके सामने अपनी प्रेयसी फ़लक के साथ हाजिर हूँ.

जैसे ही उसने अपने कपड़े उतार कर ब्रा पैंटी पहनना शुरू किया, तभी उसका भाई उसके रूम में आ गया.

वह तो देखते ही रह गयी- उफ्फ ऊई मां … देखो ना इधर इतना सारा कामरस हर्षद!मैं उठकर उसके पास गया और देखकर बोला- रेखा तुम तीसरी बार झड़ी हो, तब भी कितना सारा चूतरस निकला है.

जिस प्रकार लोगों को तंबाखू, सिगरेट की तलब रहती है, उसी प्रकार मुझे अन्तर्वासना की कहानी पढ़ने की चुल्ल रहती है. मैंने कहा- अरे उसमें कुछ नहीं होता है यार!फिर शिल्पा बोली- तुम भी तो बहुत अच्छे लगते हो, तो क्या तुमको किसी लड़की का ऑफर आया था?मैंने कहा- हां आया तो था. वो अपनी चड्डी उतारने ही वाला था कि शनाया ने उसे चड्डी उतारने से मना कर दिया.

मैंने अब सरिता को ऐसे ही नीचे ले लिया और मैं अपने घुटने के बल बैठ गया. अब मैं अपनी उन दोनों उंगलियों को अन्दर बाहर करने लगा और उसकी जांघों को चूमने लगा. नाचते नाचते मेरा हाथ पुलकित के लंड पर लग गया तो पता चला कि उसका लौड़ा एकदम हार्ड था.

उसने लाल रंग की नाइटी पहन रखी थी जिसमें वह इतनी ज्यादा सेक्सी लग रही थी कि लंड फुदकने लगा था.

सौम्या अपनी गांड मरवाना भी बहुत पसंद करती है और सौम्या को उसकी रेगुलर चुदाई नहीं होने की वजह से गुस्सा भी बहुत आता है. कुछ ही देर में उसकी नींद खुलने लगी और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं. मेरी बात सुन कर कर आंटी बोलीं- अच्छा जी, ऐसा क्या क्या दबा देते … बताओ तो ज़रा?मैंने कहा कि आपकी नीचे की कलियों को तो मैंने दबा ही दिया था, बस आपके सुंदर सुंदर दोनों दूध और सेक्सी हिप्स ही बचे थे.

थोड़ी देर बाद उसे जोरों की पेशाब लगी और उसकी तीव्रता बढ़ने पर उसने मुझे बताया. मैंने अपने दोनों पैर सामने वाली सीट पर रखे हुए थे तो वो एकदम मेरे पैर के पास बैठ गयी. यह सुनकर वह खुश हो गया लेकिन वो आज किसे चोदेगा, उसे ये पता नहीं था.

कोचिंग क्लास शुरू किए हुए एक महीना हो गया था, सब कुछ सही चल रहा था.

दो चार दिन ऐसे ही फ़ेसबुक पर हमारी बात होती रही, तो अपने अपने पुराने प्यार-क्रश की सारी बातें हमने एक दूसरे को बताईं. मैंने भी हाँ में सर हिला दिया और वो मुझे गोदी में ही उठाकर पूल तक ले गया.

आज का सेक्सी बीएफ ये कैसे मेरी चुत में जाएगा?मैंने उससे बोला- जरूर चला जाएगा वीना … तुम इसको पहले अपने मुँह में लेकर गीला कर दो. फिर मैं अपना एक हाथ नीचे ले जाने लगा, उसकी सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत को छेड़ने लगा.

आज का सेक्सी बीएफ मैं मॉम को लेकर मामा के घर पहुंचा, तो नाना ने पूछा- अरे राजेश, तुम कब आए और तुझे तेरी मम्मी कहां मिल गयी?मैं बोला- मैं घर से आ रहा था तो मॉम अपनी सहेली के साथ पैदल आ रही थीं. फिर मैंने ख़ड़े होकर उसको घुटनों के बल बिठा दिया और अपना लंड उसके होंठों पर रगड़ने लगा.

अब वीना ने मुझे अपने ऊपर ले लिया और बोली- अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

xxx माधुरी दीक्षित2021

वो मानो बेहोश हो गई थी, उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे और उसका शरीर कांप रहा था. उसने मुझे पूरी रात की बात बताकर मुझे कहानी लिखकर अन्तर्वासना पर भेजने को कहा. इस बार उन्होंने मुझे छोड़ कर तकिया को पकड़ लिया और अपने दांत भींच कर मेरे लंड को सहन करने लगीं.

कुछ ही दिनों में उन्होंने मुझे अन्तर्वासना सेक्स कहानी की एक लिंक भेजी और मुझसे उसे पढ़ने को कहा. फिर ऐसे ही धीरे 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने उसकी गांड में ही अपना पानी निकाल दिया. रोहित लंड धोकर मेरे पास आया और मेरे होंठ चूसने लगा, साथ ही मेरे निप्पल दबाने लगा.

मैं बीच बीच में उसकी चुत के दाने को दांतों से पकड़ कर हल्के से उसको काट भी देता था जिससे वो चिहुंक जाती थी.

मैंने धीरे से उसकी पैंटी निकाल दी और उसकी चूत की बगल में किस करने लगा. लंड खड़ा हुआ तो चाची को भी मेरा लंड साफ दिख रहा था जिससे उनकी सांसें तेज़ हो गयी थीं. अब मेरे सामने चाची ने अपने पल्लू को ढलका दिया और मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगीं.

भाभी की चूत चोदते चोदते मैंने उनकी गांड मारने का भी मन बना लिया था. मैं जाकर एलिस्टेयर की गोद में बैठ गई।पर तीनों पता नहीं क्यों मुंह लटकाए हुए बैठे थे. हार्दिक ने इस बार शनाया को घोड़ी बनाया और अपना लंड उसकी गांड पर रख दिया.

मेरे दूध पीते हुए मस्त चोदते हो, आह थोड़ा जोर लगा दो आ…ह स्स…स मैं म…र ग…यी रे … मुझे कुछ हो रहा है … आँहह मेरी चुत में चींटियां चल रही हैं … ऊई मां … मेरे होंठ कांप रहे हैं … मेरे होंठ अपने होंठ में ले लो. उस एक पल में मेरे लंड ने ऐसे तुनकी मारी, जैसे भोसड़ी का अभी पैंट फाड़ कर बाहर आ जाएगा और स्वीटी को कहेगा कि एक बार चोदने दो ना.

उसने अपनी आंखें खोल दीं और थोड़ी सी घबराहट के साथ बोली- यह क्या कर रहे हो, कोई देख लेगा. फिर रात में हमने थोड़ा शोर किया लेकिन किसी भी कमरे से कोई नहीं आया।मैंने मुग्धा से कहा कि दवा ने अपना काम कर दिया है अब कल हम करेंगें ठीक से तैयार होना।उसने हाँ में सिर हिलाया. वो दिखने में सुंदर, कद साढ़े पांच फिट और फिगर 34-30-36 का, बाहर निकले कूल्हे, बहुत ही सेक्सी फिगर.

वह सीधा मेरे ऊपर गिरते हुए फिर से मेरे होंठों को चूसने लगा; काफी वहशी तरीके से चूस रहा था.

जब उसने मुझे निशा के साथ सेक्स करते देखा था तो वही पर अपना पानी भी निकाला था. सौम्या डार्लिंग ने नीले रंग की साड़ी पहनी थी और वो इतनी हॉट लग रही थी कि मन कर रहा था कि उसे बिना कुछ कहे, सबके सामने सीधे चोद दूं. मोनिका के वापस आने तक विशाल ने रोज मेरी गांड मारी और काफ़ी रुपये इनाम में दिए.

मेरा कड़क लंड देखकर वो हैरान हो गई और बोली- वाह अमित कितना बड़ा लंड है … आज तो मुझे मजा आ जाएगा. रात में अंकल ने मुझे पास खींच लिया और कहा- सन्नो, कहीं तू औरत तो नहीं है?मैंने बोला- अंकल हूं तो नहीं, पर आप मुझे बना रहे हो.

जब वो अपनी गांड मटका कर चलती थी तो ऐसी लगती थी मानो कोई हंसनी चल रही हो. अब आगे हॉट गर्ल फक स्टोरी:कुछ पल बाद मैंने एक कपड़े से उसके पेट को साफ किया और उसको कसके अपनी बांहों में ले लिया. आज समझ आया कि दीदी की आवाज कमरे से इतनी मीठी मीठी क्यों आती थी, जब भी आप उन्हें चोदते थे, मैं आप दोनों की सब आवाजें सुना करती थी.

जौनपुर की चुदाई

वीना कुछ देर सोचने के बाद बोली- चाचा मेरे पैर और कमर में चोट लगी है.

सौम्या की कराह भरी मीठी आह निकली और मैं अपनी घोड़ी की सवारी करने लगा. वो कहते कि वीर्य में काफ़ी पोषक तत्व होते हैं, वीर्य पीना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है. रीता लंड लेने के लिए अपनी चूत को मेरी तरफ दबाने लगी और ‘आह … आंह पेलो …’ की आवाजें निकालने लगी.

जैसे लंड टाइट हुआ, चाचा जी ने जरा भी देर नहीं की, वे तुरंत अपना लंड दीदी की बुर में डालने लगे. मैंने जींस की चैन खोली और लंड पर थूक लगा कर और हाथ से पकड़ कर आगे पीछे करने लगा. कूकू वेब सीरीजमैं मौसी के पीछे बैठ कर उनकी मालिश कर रहा था तो मेरा लंड मौसी के चूतड़ों पर बार बार टच हो रहा था.

कुर्सी पर बैठती हुई बोली- हर्षद अब कैसा लग रहा है?मैंने कहा- पहले से काफी अच्छा लग रहा है. एक दिन मेरे दोस्त भावेश का फोन आया कि उसे एक मीटिंग के लिए कुछ दिन के लिए बाहर जाना है, तब तक मैं उसके घर रह कर उसके पापा का ध्यान रख लूं.

वो एक हाथ से अपनी चूत के दाने को मसल रही थीं और दूसरे हाथ से उन्होंने मेरे कंधे को थामा हुआ था. मैंने पूछा- हंस क्यों रही हो?तो उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा- क्या सच में ये तुम्हारा पहली बार है?मैंने चाची को कसम दिलाते हुए बताया- हां चाची, आज से पहले मैंने कुछ नहीं किया. सौम्या अन्दर से ही बोली- हां, जैसे ही मेरा पेट दर्द खत्म होगा, मैं आ जाऊंगी.

मेरा वीर्य आंटी के मुँह पर गिरने लगा, कभी गालों पर, कभी माथे पर, तो कभी होंठों पर. अपनी कहानी के अगले भाग में आगे लिखूँगा कि मैंने उसकी गांड मारने में सफलता पायी या नहीं!हॉट न्यूड गर्ल फक स्टोरी पर आप मुझे मेल जरूर करें. रेखा की कमर के नीचे एक तकिया रखा ताकि चूत का मुँह ऊपर रहे और आसानी से खुल जाए.

मैंने पूछा- वो तुम हो ना!उसने कहा- तुम आ गए सच में?मैंने कहा- अब इतनी खूबसूरत लड़की सामने से डेट पर बुलाए … और वो भी रोते हुए, तो कोई गधा ही होगा जो सब छोड़ कर डेट पर ना आए.

टीना के मम्मे दबाते दबाते मेरा चोदने का मन तो हो ही गया था मगर टीना उस दिन की चुदाई से अभी तक डरी हुई थी. प्राची ने रूम में आते ही मेरे चड्डी में हाथ डाल दिया और मिनी के ऊपर से चादर हटा दिया.

फिर मैंने एक दिन चाची से पूछा- चाची आप इतने अच्छे अच्छे वीडियो डालती हो, तो कोई रिस्पोंस नहीं मिलता है क्या?वो बोलीं- नहीं, ऐसी बात नहीं हैं. उसको मिल कर ऐसा लगा कि बांहों में भर कर मसल दूँ, उसके बूब्स चूस लूं. फिर उन्होंने कहा- कहीं कोई गड़बड़ तो नहीं हो जाएगी ना?मैंने कहा- नहीं, डरो मत आंटी … कोई गड़बड़ नहीं होगी.

उधर मत करो …प्लीज़!वो अपने होंठों को अपने दांतों में दबा कर अपने मुँह को इधर उधर घुमा रही थी, साथ में नितम्ब उठा कर अपनी चूत को मेरी जीभ से लड़ा रही थी. कुछ पल बाद उसने मुझे पानी पिलाया और बाथरूम में खुद को साफ करके आ गया. फिर मैंने मॉम से पूछा- मॉम मैंने अपना लंड आपको जानबूझ कर दिखाया था, क्या वो आपको अच्छा नहीं लगा था?मॉम बोली- अच्छा तो था, इसी लिए तो तुम मुझे आज चोद पाए.

आज का सेक्सी बीएफ जैसे ही मैं जाने लगा तो साली ने कहा- अरे जीजू, अपने उसको तो यही ठंडा करके जाओ वरना दीदी आपका पूरा जोर निकाल देगी. मैं कुछ बोलने को हुआ कि मैडम …तो उससे पहले उसने मेरे होंठों पर हाथ रख दिया और चुप रहने का इशारा किया.

वीडियो शायरी

कुछ देर बाद जब उसका थोड़ा दर्द कम हुआ तो मैंने अपना लंड पीछे को किया और आराम से अन्दर करने लगा. फिर उसकी पैंटी फाड़ कर पूरी जीभ चुत में डाल दी और चुत चाटने लगा … चूसने लगा. बाजू के रूम में तुम्हारे पिताजी, मम्मी और सोनाली के सास ससुर नहाकर तैयार हैं.

एक दो मिनट बाद भाभी आ गई और मेरी तरफ देख कर बोली- जरा मुझे भी सिगरेट दो ना. कुछ देर बाद जब सारे मेहमान चले गए तो मैं बाहर आया, घर के कुछ काम निपटाए. गली दिसावर सट्टा खबर आज कीXxx गांड हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि एक अमीर आदमी की बीवी उसे छोड़ गयी तो उसे लड़कों की गांड मारने की लत लग गयी.

मैंने चाची से पूछा- मुझे आपको चोदना है, क्या आप तैयार हो?उन्होंने हामी भर दी.

हिन्दी चुत चुदाई कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस से बचता हुआ मैंने एक अनजान घर में घुस गया. मैंने उसे किस करते हुए एक जोर से धक्का मारा, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया.

कार से उतरते समय उसने जब बाय किया तो मैंने कहा- अगर मेरी कोई बात अनजाने मैं बुरी लगी हो तो सॉरी. मैंने भी हाँ में सर हिला दिया और वो मुझे गोदी में ही उठाकर पूल तक ले गया. मैं- ठीक है भाभी, पर कोई दिक्कत तो नहीं होगी ना?भाभी- अरे कोई दिक्कत नहीं होगी.

फिर जैसे ही नव्या भाभी की गांड ऊपर उठी, मैंने मूड बना लिया कि गांड में तो लंड जाकर रहेगा.

वो दोनों पता नहीं क्या बातें कर रही थीं और मेरी तरफ देख कर हंस रही थीं. वो मजे में जोर जोर से आंखें बंद किए अपनी उंगलियों को जोर जोर से अन्दर बाहर करने में लगी थी. जब उसने मुझे निशा के साथ सेक्स करते देखा था तो वही पर अपना पानी भी निकाला था.

हिंदी सेक्सी फिल्म लड़कियों कीसुपारा फंसते ही रेखा चिल्लाने लगी- ऊंई मां हाय मर गई उफ्फ इस्स स्स हुं हुं आहिस्ता डालो ना हर्षद. हमने खाना खत्म किया तो मेरे पति बोले- मैं पांच मिनट में फ्रेश होकर आता हूँ.

काजल अग्रवाल xnxx

मैं- पर दीदी आपने आपने तो मेरा प्रपोजल स्वीकार भी किया, उसका क्या?माया- हां, मैंने तुम्हें मना नहीं किया है. उसका यही सोचना था कि यदि पकड़ी गई तो उसकी दीदी का घर बर्बाद हो जाएगा. अब आगे देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी:ये सुनते ही मैं निशा की चूत को भोसड़ा बनाने के लिए पिल पड़ा.

गेट पर पहुंच कर मैंने पीछे मुड़ कर देखा तो रोहित अपना लंड खुजा रहा था. शैतान कहीं के, इसलिए तुम्हें इतनी जल्दी थी क्या यहां आने की? तुमने तो चालीस मिनट में ही यहां पहुंचा दिया है. मिनी ने अपने पर्स से वैसलीन की डिब्बी निकाली और काफी वैसलीन मेरे लंड पर लगा दी और कुछ अपनी चुत पर.

इस देसी भाभी सेक्स कहानी में मैं आपको अपनी भाभी की चुदाई के बारे में बताना चाहता हूं कि मैंने भाभी के साथ किस तरह से चुदाई का मजा उठाया और उनके बांझ होने के दोष को खत्म किया. वीना के जब मैंने कपड़े उतार दिए, तब मैं पहली बार उसके पूरे शरीर को नंगा देख पाया था. तो मोहन ने उससे कहा कि वो रवि की नौकरी की बात कारखाने के मालिक विशाल से करेगा.

हम दोनों बेड पर सोने के लिए चले गए और बेड पर लेटे लेटे बातें करने लगे. मैं उसकी बात समझता था … इसलिए मैंने उससे उसके पैरेंट्स से हमारी शादी की बात करने को कहा.

मैंने सहलाते सहलाते उसकी पैंटी नीचे कर दी और अपने एक पैर से नीचे खींचकर निकाल दी.

तभी निशा भाभी ने मेरे दोनों हिप्स को बहुत सख्ती से पकड़ा और अपने मुँह की तरफ खींचने लगी जैसे वो मेरे लंड को पूरा खा जाना चाहती हो. हम तो तंबू में बंबू लगाए बैठेहार्दिक बेडरूम में पहुंचा तो देखा कि शनाया का टॉप, जींस, ब्रा-पैंटी सब टेबल पर पड़े थे और शनाया बेड पर कम्बल ओढ़ कर लेटी थी. मराठी सेक्स विडिओ क्लिपमेरा लंड एक ही बार के प्रयास में आंटी की चूत में पूरा अन्दर तक घुस गया. मैं जितना भी उनके साथ रोमांस करूं, उनको गर्म करूं, उन्हें चोदने के लिए उकसाऊं, फिर भी उनकी उत्तेजना में कमी रहती है.

चाची ने राहुल को बाहर जाने का इशारा किया और मैंने चाची की चुदाई की.

मैंने एक हाथ उसकी कमर पर रखा और दूसरे हाथ से उसके मम्मों को दबाने लगा. मैं पहली बार किसी आदमी से और वो भी मेरे दोस्त से अपना लंड चुसवा रहा था. मगर मैं एक बात जानना चाहती हूँ कि कल को हार्दिक ने मुझसे दुबारा सेक्स करने की इच्छा जाहिर की, तो तुम क्या करोगे?मैंने बिंदास कह दिया- शनाया मैं तुमसे शादी करूंगा और उसी मंडप में मेरा दोस्त हार्दिक भी यदि ये चाहेगा कि शनाया हम दोनों की बीवी बन कर रहेगी तब भी मैं इंकार नहीं करूंगा.

तो वो इतरा कर बोली- हां मैंने उसी को ध्यान में रख कर सेक्स कहानी का मजा लिया है. वह बाहर आई तो मैंने हल्की सी आंख मार दी तो बदले में उसने भी स्माइल दे दी. दरवाजे की घंटी बजाने पर जैसे ही उसने दरवाजा खोला, मेरी आंखें फ़टी की फ़टी रहा गईं.

लड़की कुत्ता के साथ

उसने दूसरी मूवी शुरू कर दी, जिसमें भाई बहन साथ में नाश्ता कर रहे थे. हॉट गर्ल्स सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक रिसोर्ट में मिले दो जोड़ों ने आपस में साथी बदल कर चुदाई का मजा लेने का फैसला किया. मैंने हंसते हुए कहा- हां यार, सच में तेरी चाची है ही इतनी मस्त और कांटा माल कि मुझसे रहा ही नहीं गया.

वे बोले- सन्नो सही में तुम औरत होती, तो आज किसी की किस्मत चमक उठी होती.

मैंने कहा- तो क्या हुआ … तुम्हें लाने की क्या जरूरत थी!वो बोली- तो क्या हुआ, क्या मैं नहीं ला सकती थी!मैंने कहा- हां ला सकती हो लेकिन ये फ़ोन इतना महंगा लाने की क्या जरूरत थी?वैसे ये फोन और फ़लक का फ़ोन सेम था.

कुछ देर और धीरे धीरे चुदने के बाद सौम्या डार्लिंग ने मुझसे बोला कि क्या तुम अपने हथियार को मेरी जड़ तक डाल सकते हो?मैंने हामी भर दी और अपनी स्पीड बढ़ा दी. वो भी मस्ती में बोलने लगी- आह चोद दे मेरी जान … अब मुझे भी मज़ा आ रहा है … आंह और जोर से चोद. इंग्लिश सेक्स पिक्चर इंग्लिश सेक्सजब वो काम करती हुई नीचे को झुक जाती तो गांड की पूरी दरार चूत तक नजर आ रही थी.

’सर ने मुझे उठा कर मेरी चूत को फैलाया और चूत पर एक जोरदार चुम्मा कर लिया. फिर मैंने दीदी से उनके हालचाल पूछे, तो दीदी ने कहा- अब काफी ठीक हूं. कुछ लेडीज सिर्फ मसाज ही लेती थीं लेकिन कुछ मुझसे चूत चुसाई या चुदाई भी करवा लेती थीं.

मैंने शिल्पा को दीवार से लगा कर सहारा लिया और उसको अपनी गोद में ले लिया. मेरे सर को अपनी चुत पर दबा कर बोली- आह चाटो जान … आज पहली बार किसी ने मेरी चुत को चाटा है.

मेरे पास मेरी बाइक नहीं थी तो पब्लिक ट्रांसपोर्ट से सफर करना पड़ता था.

मैंने उसकी ओर देखा और पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- तुमने मुझे रंडी क्यों कहा, मैंने तुम्हारे साथ सेक्स किया तो तुम मुझे रंडी बोलोगे?मैंने उससे कहा- रंडी का काम क्या होता है … सेक्स करना. मेरा मित्र, जो मेरे बगल वाले ही घर में रह रहा था, वो भी सूरत से अपने घर आया हुआ था. मेरी साली ने मेरे सर को पकड़कर अपनी बुर में घुसा लिया- बस करो जीजू कुछ हो रहा है … आंह जल्दी करो.

साउथ की हीरोइनों के नंगे फोटो उसकी कुर्ती अलग होते ही मेरी मौसी की बेटी का गोरा मदमस्त बदन मेरे सामने था. उसने अपने दोनों हाथ से मेरी चूत को खोलकर चौड़ा किया, मेरी चूत के लाल दाने पर जीभ घूमने लगा और उसको बार बार मुँह में भरने लगा.

नीरजा ने मेरे सीने को देखते हुए कहा- मामा बहुत देर लगाई नहाने में!मैंने कहा- हां, मैं आराम से ही नहाता हूं. अब मैं ब्रा और पैंटी में थी मैं जय की पैन्ट के ऊपर से उसके लंड को सहलाने लगी. तभी उसमें से एक लड़का बोला- क्यों हल्ला मचा रहे हैं भैया, आप भी कर लीजिए न!कुछ देर बाद वह भी मान गया और बोला- इसको किसी ने अभी चोदा है?सबने न बोला.

मंदाकिनी की चुदाई

भाभी- क्या जरूरत ऐसी नौकरी की, वैसे ही तो एक महीने में एक बार कर पाते हैं. तो भाबी जी बोलीं- आज तक मेरी ठीक से चुदाई नहीं हुई थी, ऐसा इसी कारण हुआ. मैंने उसका दूध दबाते हुए पूछा- मैं कितना कमीना हूँ ये तो तुम्हें अभी थोड़ी देर बाद मालूम चलेगा.

उन्हें उकसाने के लिए मैं जानबूझकर कर तेज आवाज में चिल्लाने लगी- आआह आह ऊऊह हह ऊउफ़्फ़ ऊऊम्म मम्म मम्म यययईई आह हह … यस यस ईए फक मी हार्डर, फक्क मीईई हार्डर, फक मी हार्डर, येह बेबी!ऐसे ही ना जाने क्या क्या बोलती रही. फिर उसने सभी खिड़कियों पर पर्दा लगा दिया और मुझे कंप्यूटर के पास लेकर गयी.

मैंने उसकी टांगें नीचे की … और उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर किस किया, उसके नीचे हाथ डालकर उसे अपनी बांहों में कस लिया.

लड़का रूम खोल कर सामान अंदर रखने के लिए चला गया तो विलियम ने धीरे से मुझसे कहा- रूम का दरवाजा खुला रखना, मैं आ रहा हूं थोड़ी देर में!और मेरी गांड को दबाकर अपने रूम की तरफ चला गया. आपके मेल मिलने के बाद मैं शनाया के साथ कुछ दूसरी सेक्स कहानी भी लिखूँगा, जो आपको मस्त कर देंगी. कुछ मिनट तक सरिता की चूत रगड़ने के बाद उसकी चूत ने अपना चूतरस फिर से मेरे लंड पर फैंक दिया और उसको नहला दिया.

फिर वो बोली- मैं पेशाब करती हूँ, तब तक साड़ी और पेटीकोट उठाकर पकड़ कर रखो. मैंने कहा- एक और राउंड हो जाए!शिल्पा बोली- अभी नहीं, अभी थोड़ा आराम कर लेने दो. पर उसका लंड अंदर नहीं गया क्योंकि मैंने इससे पहले कभी चुदाई नहीं की थी तो मेरी बुर टाईट थी।जय ने अपना लन्ड हटाया और एक तेल की शीशी लेकर आया.

थोड़ी देर मनाने के बाद उसने मेरी तरफ मुँह करके हल्की सी मुस्कान दे दी.

आज का सेक्सी बीएफ: वो बोली- तो आज क्या इरादा है?मैंने कहा- आज तुमको कमीनेपन का अहसास करना है और साथ ही तुमको लड़की से औरत बनाने का काम भी करना है. ‘आआह्ह्ह ओह …’मैंने भी अपने झटकों की स्पीड बढ़ाई और राजधानी एक्सप्रेस के तरह घचाघच घचाघच धक्के लगाने लगा.

मैंने कहा- एक चॉकलेट से कोई वजन नहीं बढ़ता और दूसरी बात ये कि तुम अपनी तारीफ सुनना चाहती हो ना … मोटी, अरे एकदम सेक्सी लगती हो. फिर मैंने पापा के लंड को अपनी चूत में ले लिया और उनके मोटे लंड से चूत चुदवाने लगी. मेरे सर को अपनी चुत पर दबा कर बोली- आह चाटो जान … आज पहली बार किसी ने मेरी चुत को चाटा है.

मैंने कहा- आप रहने दीजिए ना!वो मेरी बात को सुन ही नहीं रहे थे, बोले- इसी बहाने तुमसे थोड़ी बात भी हो जायेगी।फिर सारा काम खत्म करके हम लोगों ने कुछ देर बातें की और फिर मैं बोली- अब चलें सोने … रात ज्यादा हो रही है।मेरा मन तो नहीं कर रहा था जाने का … मेरा भी दिल कर रहा था कि आज जेठ जी के साथ ही सो जाऊं!पर यह बात मैं कैसे बोलती?तो मैं अनमनी सी अपने कमरे की ओर जाने लगी.

मुझको पहले से ही लड़कियों से ज्यादा इंटरेस्ट भाभियों में था क्योंकि वो लड़कियों के मुकाबले में दिखने में ज्यादा कामुक और सेक्स करने में बिंदास होती हैं. फिर मुझे बिठाया और अपना लन्ड मेरे सामने रख दिया।मैं सोच रही थी कि क्या करूं इसका! मैं बस आंखे फाड़ कर देख रही थी. उसके आते ही मैंने कमरा बंद किया है और उसको बिस्तर पर लेटा कर उसके बूब्स दबाते हुए उसके होंठ चूम रहा हूं.