2021 की बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स वेब सीरीज

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो आंटी का: 2021 की बीएफ सेक्सी, उसके मुँह से गुँ … गुँ … की आवाज़ निकलने लगी; साथ ही मोटे मोटे आंसू की लकीरें उसकी आंखों से निकलने लगीं.

देवर भाभी का सेक्सी पिक्चर

शाम को उनका फोन आया तो उन्होंने पूछा- कैसा लगा था सैट?मैंने कहा- बहुत ही मस्त!वो खुश हो गए. ट्रिपल एक्स सेक्स सेक्समेरी इस देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी में अगर कोई गलती हो जाए तो अपना यार समझकर माफ कर दीजिएगा.

लंड का टोपा उसके मुँह में ठीक से एडजस्ट नहीं हो पा रहा था लेकिन फिर भी वो मुँह में खींच खींच कर लंड चूस रही थी. सेक्स करने वाली वीडियोजुनैद मुझे चूम कर चले गए और जाते जाते वो मुझे अपना मोबाइल नम्बर लिख कर दे गए.

इधर मेरी पत्नी ने एक लड़के को जन्म दिया और उधर में अमिता के प्रेगनेंसी के 2-3 महीने तक मैंने जमकर चुदाई का मजा लिया.2021 की बीएफ सेक्सी: मैं देखकर दंग रह गई कि ये वही उंगली थी, जिस पर मैं अपना योनि रस छोड़ रही थी.

यही सब सोच कर मैंने आज स्कर्ट और एक हाफ टॉप जो कि बस मेरे पेट के ऊपर तक का था उसे पहनने का निश्चय कर लिया.निशा की नजर सीधे मेरे पजामे पर पड़ी और बिना कुछ हाव-भाव लाए वह अन्दर आ गयी.

বিএফ দেখাইয়ে - 2021 की बीएफ सेक्सी

मैं रानी की इस बात पर शॉक हो गया कि इसको सब पता है कि मैं इसको घूरता था.लगभग आधा घंटे तक उसने मेरी गांड मारी और सक्सेना ने अपने लंड का पानी भी मेरी गांड में ही छोड़ा.

उसका लंड इतना मोटा था कि मैं चिल्ला उठी और मैंने अरविन्द को अपने दोनों हाथों से अपनी ओर खींच कर उस दर्द को सहने की कोशिश करने लगी. 2021 की बीएफ सेक्सी उस समय मैं अपने जीजू के घर गई थी क्योंकि उनके घर पर उस टाइम कोई नहीं रहने वाला था.

पिछले साल जब पूरे देश में लॉकडाउन लग गया था और इसकी वजह से पूरा देश बंद हो चुका था.

2021 की बीएफ सेक्सी?

फिर वो पलट गई और उसने इस बार मेरे लंड को अपनी गांड के छेद पर लगा दिया. मेरी बीवी ने आज घुटनों के थोड़ा ऊपर तक आने वाली और डीप नेक वाला एक वन पीस पहना हुआ था. मेरा तो पानी निकला नहीं था … तो लौड़ा रह रह कर उसकी चूत को ठोकर मार रहा था.

मैं भी गेट खोलकर बाहर देखने लगा ताकि वो अपने रूम में जा सके और उसे जाते हुए कोई और न देख सके. मैंने उसको कंधे से थोड़ा हिलाया, लेकिन अर्शिया का कोई रेस्पॉन्स नहीं आया. यही हरकत अगर बन्द कमरे में होती … तो शायद मैं इतनी जोर से चीखती कि बगल मकान वाले सुन लेते.

अब से मैं तुम्हारे साथ ही सेक्स करूंगी और तुमसे ही अपना बच्चा पैदा करूंगी. गोपनीयता के कारण मैं उसका असली नाम नहीं बता रहा हूँ, यहां हम उसे संजना कह लेते हैं. बाद में उसने बताया कि वो घर में ब्रा पैंटी नहीं पहनती थी क्योंकि उसकी भाभी के मम्मे बड़े बड़े हैं और उन्होंने उसको घर में कभी पहनने नहीं दिए थे.

लेकिन जब मैंने अगले दिन उसे नहाने के बाद देखा तो मेरी आंखें खुली की खुली रह गईं. उसके बाद हम सभी ने नाश्ता किया और चाय पीने के पूरे समय तक मैं आंटी को देख कर सोचता रहा कि काश एक बार आंटी की चुत को चोदने को मिल जाए.

दोस्तो, मेरी कंपनी में एक शादीशुदा औरत काम करती थी, उसकी उम्र कोई 23 साल होगी.

”मैं थोड़ा सा और करीब होते हुए बोला- पिछले तीस सालों में मैंने हर मौके पर आपके परिवार की मदद की है और इज्ज़त पर आँच नहीं आने दी.

कई लोगों ने बहुत सारे प्रश्न किए कि इतनी जंगली तरीके से क्यों चोदते हो और उसकी चुदाई के बाद क्या और किया. आशा करता हूँ कि आप लोगों को भाभी की चुदाई की कार सेक्स कहानी पसंद आएगी. मैंने नाज को लिटा लिया, उसकी चूत में लण्ड पेल दिया और मुमताज की चूत चाटने लगा.

दो मिनट बाद मैं उनके पास गया, तो वो अपने पति से बात भी करती जा रही थीं और लंड को सहलाती भी जा रही थीं. अब आगे माँ बेटी सेक्स कहानी:समय बीतने पर शबाना और मुमताज दोनों ने हष्ट पुष्ट और सुन्दर बेटे पैदा किये. कोई कब किससे क्या बोल दे … मुझे एक्सपीरियेन्स लेना है, शादी नहीं करनी उससे.

मुमताज ने मेरे लण्ड को चूमा तो मैंने लण्ड का सुपारा उसके मुँह में दे दिया.

मैंने तुरन्त सोच लिया कि लोहा गर्म है और चोट कर ही देना चाहिए क्योंकि अगर मैं ऐसा नहीं करता हूँ, तो जरूर ये किसी और से चुदवा लेगी. फिर मैंने पैंटी के ऊपर से ही अपने हाथ दीदी की गांड पर रख दिए और उनकी गांड की मालिश करने लगा; दीदी के मोटे चूतड़ों को खूब दबा दबा कर मालिश की. मैंने अपनी बांहें फैला दीं और रानी एक कटी हुई डाल की तरह मेरी बांहों में समा गई.

उस दिन सुबह के 11:30 बज रहे थे और हाउस क्लीनिंग की घंटी बजाने से हम दोनों की नींद खुली. वो मुस्कुराते हुए कहने लगीं- अब मुझे चोदो राजा … मेरी चूत तेरे हवाले है. उसके बाद हम दोनों स्टेशन से बाहर निकले, तो वहीं पास में एक रेस्टोरेंट था.

जहां पहले छोटा सा छेद भी नजर नहीं आ रहा था, अब वहां पर आराम से उसकी चूत का छेद बड़ा सा दिख रहा था.

मैं जोधपुर राजस्थान का रहने वाला हूँ, दिखने में मैं इतना गोरा लम्बा और सुन्दर हूँ कि किसी को भी अपनी ओर आकर्षित कर लूं. इस बीच सक्सेना की मृत्यु हो गयी है, मैं अब राजीव से और नवीन से सेक्स करती हूँ.

2021 की बीएफ सेक्सी ” सोढ़ी ने ऐसा बोलते हुए फिर से रोशन को सोफे पर कुहनियों बल पर झुका दिया और खुद घुटनों के बल बैठ कर रोशन की चूत चाटने लगा. सांडे का तेल लगाने से लण्ड जल्दी डिस्चार्ज नहीं होता और बुर को चिकना भी कर देता है.

2021 की बीएफ सेक्सी कुछ इजी हो जाइए न!मेरी बात सुनकर उन्होंने सोने से पहले अपनी साड़ी उतार दी और पेटीकोट और ब्लाउज में लेटने लगीं. उसने बड़ी तेजी से मेरी पैंटी को मुझसे अलग किया और सीधे नीचे जाकर मेरी गीली चुत को चूमने लगा.

अह्ह्ह्ह … उफ्फ्फ …फिर उसने मुझे डेस्क पर लेटा दिया और लिक्विड चॉकलेट मेरी चुत में टपका कर मलने लगा और अपनी जीभ डालकर चुत चोदने लगा.

चूत की चुदाई वीडियो दिखाइए

उधर से उन्होंने अपने घर में फोन कर दिया कि मेरी ट्रेन छूट गई थी और मैं अब बाद में आऊंगी. शरद की ये बात मुझे बहुत अच्छी लगती थी कि चाहे कुछ भी हो जाए, वो मुझे पूरी संतुष्टि देता था. मैंने उनकी चूत चाटना चाहा पर उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया, बोली- मुझे यह अच्छा नहीं लगता.

मैं चौंकते हुए बोला- मुझे भी नहीं पता कि खुद पर कैसे कंट्रोल कर पाया. इस सेक्स कहानी में कैसे मैंने एक शादीशुदा औरत को उसी के घर में चोदा था, इसकी कहानी लिखी है. उसके मुँह से ये सुनकर मेरा तो खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा- लव यू जानू.

शाम को 4:00 बजे उनका फोन आया तो मैंने उनका फोन नहीं उठाया और ना ही मैं उनके घर गया.

इस बार उन्होंने मेरे लोअर पर हाथ डाला और मुझे भी नंगा होने के लिए कह दिया. मैंने मैडम के साथ दो पैग खींचे और उसके बाद मैडम ने एक सिगरेट सुलगा ली. वो मुझसे बोले- क्या हुआ?मैंने कहा- आप थक गए हो, मैं आपकी मालिश कर देती हूँ.

दोनों मम्मों के रस को पीने के बाद मैंने अपना हाथ उसकी बुर की तरफ बढ़ा दिया. जब तैयार होकर बिस्तर पर आया तो मैम का मैसेज आया हुआ था जिसे देख कर मैं मस्त हो गया. [emailprotected]गाँव की देसी चूत चुदाई कहानी का अगला भाग:मकान मालकिन की बेटी चुदाई कराने आयी- 2.

मैंने मैम को अपनी तरफ खींच कर फिर से उनके मुंह में अपनी जीभ घुसा दी और उनकी गांड को मसलते मसलते उनकी पैंटी उतार दी. उसकी चूत से मेरा लौड़ा टकरा रहा था और उसके छोटे से बोबे मेरे सीने से पिस रहे थे.

निशा- हां, चूस भोसड़ी के … और जोर से चूस मां के लवड़े … पी जा सारा चूत का रस … आह आज तुझे मैं अपना मूत भी पिलाऊंगी साले गांडू. तभी अनन्या की मदभरी आवाजें आने लगीं और मैं फिर से कामवाली बाई से लेस्बियन को लेकर सवाल करने लगा. अंकल ने मेरी टी-शर्ट इस तरह से उठाई की उनके हाथों ने मेरे पूरे पेट का स्पर्श किया.

उन्होंने बताया कि वो जब मेरे उम्र के थे तो वो भी नंगी फोटो वाली किताबें देखते थे.

मेरे लंड का साइज 6 इंच है और मोटा 2 इंच है … वो अपनी औकात में आ गया था. मैं थोड़ी देर रुक गया इसके कुछ देर बाद जब लता का दर्द कम हुआ तो मैंने फिर से अपनी चुदाई का काम शुरू कर दिया. मुझे अभी यह समझ में नहीं आ रहा था कि निशा के साथ चुदाई की शुरुआत कैसे की जाए.

मेरी यह सच्ची सेक्स कहानी मकान मालकिन की बड़ी बेटी मालती की चुदाई की है, जिसको उसकी सगी छोटी बहन ने ही मेरे बिस्तर तक पहुंचाया था. विजय ने भाभी के हाथ से नाश्ता लिया और कहा- भाभी आप जाओ, मैं ये नाश्ता कुछ देर बाद कर लूंगा.

मैंने पूछा- क्या कुछ स्पेशल है आज?वो बोले कि हां … मिलो तो सही, फिर सब बताता हूँ. मैंने धीरे से उसके एक निप्पल को मुँह में ले लिया और उसको जीभ से चुभलाने लगा जिससे कोमल अपने शरीर को ऐंठाने लगी. फिर धीरे धीरे हौले हौले आंटी के होंठों को चूसते हुए मैं चुत चुदाई का मजा लेने लगा.

बीएफ वीडियो हिंदी में एचडी

थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद मैंने उससे कहा- आरू, अब तुम कुतिया बन जाओ … मैं तुम्हें पीछे से चोदूँगा.

ये सुनकर वो बोली- राज, तू क़िस्मत वाला है कि बिहारी होकर हरियाणा की जाटनी चोद रहा है. आंटी आह आह करके मेरे सर को अपनी चुत में घुसेड़ लेने की कोशिश कर रही थीं. पीठ पर लैपटॉप बैग, एक हाथ में लड़कियों का पर्स … और एक हाथ में एक छोटी ट्रॉली.

फिर मैंने निशा की जांघों को चौड़ा किया और उसकी चूत में घी को टपकाने लगा. चाचा चाची के आने का समय हो रहा था तो मैंने उसे जगाया, तब जाकर वो उठी. देसी सेक्सी पिक्चर वीडियोजैसा कि मैंने आप लोगों को अपनी सेक्स कहानीसांवली सी एक लड़की सेक्स की दीवानीमें बताया था कि पहले मैं सोचता था कि इन्टरनेट पर मिलने वाली सेक्स कहानियां शायद काल्पनिक होती हैं.

उसने भी अपनी गांड मेरे लंड पर सटा दी और धीरे धीरे लंड पर रगड़ने लगी. मैंने अब तक सिर्फ अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों में ही पढ़ा था कि गोरी चुत होती है.

कुंवारी लड़की Xxx कहानी ताजी ताजी जवान हुई एक खूबसूरत पर्दानशीं लड़की की अनछुई बुर और उसके पीछे वाले छेद की पहली चुदाई की है. मैं जेठ जी पर प्यार भरा गुस्सा दिखाते हुए उन्हें आंखों ही आंखों में इशारा करने लगी कि अभी नहीं. रात को 3 बजे मामी अपने पति को छोड़कर हमारे पास आ गईं और हम तीनों ने फिर से थ्रीसम चुदाई का मजा किया.

पता नहीं क्यों … उसको देखते ही मुझे कुछ अजीब से फीलिंग होने लगी और जहां तक मुझे लगता है, उसको भी वैसी ही फीलिंग हो रही थी. वह मेरी गांड में इतनी वैसलीन लगा चुके थे कि वैसलीन की शीशी भी पूरी खाली हो गई थी. तभी मुझे कुछ ध्यान आया और मैं तुरंत जाकर किचन से एक कटोरी में घी ले आया.

मुझे लगा शायद किसी ने देख लिया होगा, पर फिर उसने धीरे से अपनी गांड को मेरी तरफ किया.

अब अंकल ने मां की चूत से लंड को बाहर निकाला तो मां की चूत से रस निकल रहा था. एक बार फिर से मेरे होंठों को चूमते हुए मेरे बदन से कपड़े लगभग उधेड़ते हुए मुझे एक पल में एकदम नंगी कर दिया.

नाश्ता करने के बाद मैं उसका लैपटॉप लेकर अपने रूम में चला गया और रंगोली की एक एक पिक्स को ज़ूम करके देखने लगा. अब उससे रहा नहीं गया और वो गिड़गिड़ाने सी लगी- आह रॉकी प्लीज … मुझसे रहा नहीं जाता … अब मुझे चोद दो. इतने बड़े घर में रात को अकेली सोती थी, तो उस बात से मुझे थोड़ा डर सा भी लगा रहता था.

”लण्ड के सुपारे पर तेल की चार बूँदें मलकर मैंने नाज की गांड में डाल दिया. मगर उस दिन उसको कुछ काम से बाहर जाना था तो वो ये बोला- यार, मैं आज तुमसे माफ़ी चाहता हूँ. मुझे अन्दर से बड़ी उत्तेजना हो रही थी कि सहेलियों की बात आज सच होने जा रही है, जब मेरी चूत में लंड अन्दर जाने वाला है.

2021 की बीएफ सेक्सी मैंने उसकी ओर देखा, वो एक झीना सा नाईट गाउन पहन कर मेरे सामने बैठी थी. मैंने एक बार उसके दोनों नंगी मम्मों को अपने हाथों से पकड़ कर मसला और उसकी एक मीठी आह सुनने के बाद मैं नीचे चूत की तरफ देखने लगा.

इंडियन ब्लू फिल्म दिखाईये

मेरी स्पीड भी रुक गयी, मैं आरू की चूचियां पकड़ कर उसके ऊपर वैसे ही लेट गया. मेरा लण्ड सामान्य से बड़ा है जिसकी वजह से आज मेरी पत्नी एक अच्छी सेक्स लाइफ जी रही है और मैं उसको खुश कर देता हूं. कहाँ निकालूँ अपना माल?उसने कहा- राज, तुम मेरे अंदर ही निकालो!मैंने तेज़ी से अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया और झटके में लंड ने वीर्य छोड़ दिया और खुशबू की चूत मेरे वीर्य से भर गई.

चूसते हुए अब मैं उसकी मखमली जांघों तक पहुंच चुका था और मैंने उसकी संगमरमर सी चिकनी जांघों को चूस चूस कर खूब गीला कर दिया था. मैंने उसकी बहन सरोज को तेज़ तेज़ चोदना शुरू कर दिया था और उसकी गांड थप थप थप थप की आवाज करने लगी थी. बीपी ब्लू फिल्म वीडियोआज की सेक्स कहानी सरिता भाभी की अपने इसी नए पड़ोसी विजय के साथ की चुदाई की कहानी है.

उसने भी मेरे पीछे आकर मेरी गांड फैलाई और झटके से चुत में लंड घुसा कर मुझे चोदने लगा.

निशा ने एक कदम और आगे बढ़ाते हुए मेरे गीले मुँह को अपने होंठों से चाटना शुरू कर दिया. अंकल ने पूछा- किस लड़के से बात कर रही हो?मैंने इठला कर बोला- किसी से नहीं.

मैं लाल रंग की गीली पैंटी में उसकी फूली हुई चुत देख कर एकदम पागल हो गया और मैंने देर न करते हुए उसकी पैंटी को उतार फैंका. पर इस बार खिड़की खुली थी और मुझे रश्मि की आवाज़ साफ़ सुनायी दे रही थी. एक दिन मैंने रात में संजना का मोबाइल चैक किया, तो उसमें इन दोनों की बहुत गर्म बात हो चुकी थी.

मैंने सोचा कि दोस्त है … ये अपनी शादी में थोड़े ही कुछ ऐसा वैसा सोचगा.

फिर मैंने उससे पूछा तो उन्होंने बताया- मैं वकालत करती हूँ और इंदौर अपने अंकल के घर जा रही हूँ. फिर रघु ने जैसे ही उसकी चूत पर लंड सैट किया, वैसे ही वो बोली- रघु ड्रिंक और बनाओ, आज चुदाई नहीं करो. मैंने कहा- ठीक है मैडम … मुझे आपको मंथली कितना पेमेंट देना होगा!उन्होंने बताया कि मैं पैसे नहीं लूंगी, तुमको वैसे ही पढ़ा दिया करूंगी.

एक्स का वीडियोहम दोनों अब इतने सहज हो गए थे कि एक दूसरे के रूम में भी आ-जा सकते थे. ये सब बताते हुये मैंने उनके टी-शर्ट के ऊपर से अंदर देखा तो भाभी ने ब्रा नहीं पहनी थी.

हिंदी में ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो में

सेक्सी औरत चुदाई कहानी के पहले भागजुम्मन की बीवी की चूत नहीं मिली तो …में आपने पढ़ा कि मैं जुम्मन की खूबसूरत बीवी कि चूत मारना चाहता था पर वो ना मिली. इसलिए उसकी आंखों में शरारत आई और उसने मुझे ‘हैलो भैया कैसे हो आप …’ कह कर एकदम से होश में ला दिया. उसके सारे कपड़े निकालने के बाद मैंने फिर से उसे किस करना शुरू कर दिया.

मैंने इसी पोजीशन में भाभी को घुमा दिया और उसकी मांसल गांड को चाटना शुरू कर दिया. मगर मैं बेदर्दी की तरह उसकी चूत को बीस मिनट तक अपने लौड़े से पेलता रहा. मेरी अब तक की ज़िंदगी काफी मस्त चल रही है और मैं अपने जीवन में काफी खुश हूँ.

आशीष ने सोफे के सहारे से मेरे हाथों और पैरों को रस्सी से बांध दिया और मेरे मुँह में कपड़ा ठूंस दिया. कसम से मेरी गांड फट गई थी कि मैं बिना टी-शर्ट के एक मादक लड़की मेरे सामने खड़ा था. अब वो भी मादक आवाजों में मस्ती फैलाने लगी थी- आह राज और तेज़ तेज़ चोदो … आहह आह ओहहह और तेज़!मैं उसकी गांड पर थपकी देने लगा.

विराट- हां सर बताइए … क्या बात है? क्या हुआ है … कुछ पता चला?डॉक्टर विवेक- मैं दवाई लिख देता हूं और मैंने इनकी थोड़ी मालिश भी कर दी है. मैंने एक सिगरेट सुलगाई और मुंतजिर की भरी हुई मादक चुचियों का अहसास करने लगा.

औरतों की सबसे बड़ी कमजोरी होती है कि कोई मर्द उनकी गर्दन और उनकी नाभि पर किस करने लगे तो वो सेक्स के लिए मचल उठती हैं.

मेरा उससे कोई खास परिचय नहीं था क्योंकि वो बहुत दूर की रिश्तेदार थी. सेक्सी फिल्म नंगी हिंदी मेंमैं आपकी बहुत इज्जत करती हूं … पर आप मुझसे क्या चाहते हैं?राजीव- रश्मि, मैं हमेशा से तुम्हें चाहता था, बस कभी कह नहीं पाया. चोदने वाली सेकसीइसके बाद दीदी ने अपनी साड़ी नीचे कर ली और हाथ से चुत से टपकते पानी को पौंछने लगीं. फिर हुआ यूं कि 12 लोगों के ग्रुप ने कंपनी को ज्वाइन किया था, जिनमें से 9 लोग हैदराबाद के ही थे.

भाभी के मम्मे उस नाइटी में चिपक गए थे और पूरे चुचे साफ साफ दिखाई दे रहे थे.

मैं तैयार होकर अभी बैठी ही थी कि जेठ जी का फोन आ गया- मैं बाहर आ आ गया, तुम जल्दी से आ जाओ. फिर एकाएक मैंने उसकी चुत से जीभ निकाल ली और वो छटपटाने लगी- उन्ह भैया … और करो न … क्यों हट गए?ये कहती हुई वो मेरे सर को अपनी चुत पर दबाने की कोशिश करने लगी. हम दोनों एक दूसरे को ऐसे देख रहे थे मानो हमसे अभी अभी कोई बहुत बड़ा पाप होने से बच गया हो.

थोड़ी देर बाद जेठ जी को सोता छोड़ मैंने अपने कपड़े पहन लिए और रसोई में काम करने चली गयी. वो बोलने लगीं- प्लीज अब और देर मत करो … जल्दी से चुत में लंड पेल दो. घर आकर मैंने अभी तक अपनी बीवी को रानी के साथ हुए हादसे के बारे में कुछ भी नहीं बताया था.

हिंदी सेक्स करना

उसने मुझे वहां से उठने को कहा और मेरा हाथ पकड़ कर अपने साथ अन्दर बेडरूम में लेकर जाने लगा. वो फ्लैट फुल फर्नीचर वाला था, हम दोनों ने एक घंटे में अपना सारा सामना जमा लिया और किचन को भी लगभग रेडी कर लिया था. मैंने उनसे कहा- ठीक है, आप टाइम निकालकर फिर से दिल्ली आ जाइए, मैं भी आ जाऊंगी.

उन्होंने अपनी कमर हिलाना शुरू किया तो मैं समझ गया कि चाची अब मेरा लंड लेने के लिए तैयार हो गई है.

इतने में आंटी पानी लेकर आईं और पूछने लगीं- क्या पियोगे बेटा!मैंने कहा- जी एक कप कड़क चाय मिल जाए तो मज़ा आ जाएगा क्योंकि सफर के कारण थोड़ा सा सर दर्द हो रहा है आंटी.

निशा ने मेरा लौड़ा पकड़ते हुए कहा- डार्लिंग, इतना बड़ा लंड मेरी चुत में कैसे घुसेगा!मैं- सब घुस जाएगा, तू चिंता न कर मेरी रानी. बीस मिनट चुत चोदने के बाद मैंने आंटी को दीवार के सहारे से खड़ा कर दिया. हिंदी में देसी ब्लू फिल्मदोनों के मुँह से लार निकल रही थी, जिसको हम दोनों अपने मुँह में ले रहे थे.

ये सब कैसे हुआ?दोस्तो, मैं अंकित एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. ”कंडक्टर की तेज आवाज से बगल में बैठे अधेड़ मेरे हम उम्र आदमी की नींद टूटी. मैंने उनकी तरफ से ये रुख देखा तो उन दोनों की टांगों को एक साथ सहलाना चालू कर दिया.

उसने मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लंड पर हाथ रख लिया और मेरे सीने से अपनी चूचियां सटा दीं. मैम के अंडरवियर में हाथ डालने से मेरा लंड भी बाहर आ गया था और जो बची-खुची कसर थी, उसको मैम ने अपने हाथ से अंडरवियर नीचे सरका कर पूरी कर दी.

वो काफ़ी गीली हो चुकी थी और यह देख कर मैंने झट से उसकी पैंटी भी निकालते हुए उसकी टांगें फैला दीं.

साहिल अपने 6 इंच के लंड को मेरी बहन की चूत की फांकों में रगड़ने लगा. मैं उसके करीब जाकर उसके ठीक पीछे खड़ा हो गया; उससे लगभग चिपक सा गया. सर्दी अपनी औकात में आ गई थी, उसे दो गर्म प्रेमियों के सामने हार माननी पड़ी.

பிஎஃப் செக்ஸ் தமிழ் हम लोग डांस फ्लोर पर आ गए और तब समझ में आया कि बंगाली लोग डांस कितना अच्छा करते है. उसने मना कर दिया- आज नहीं, अगले संडे को चलूंगी, आज तुम ये कुछ सामान है, तुम ही जाकर ले आओ.

फिर मैंने देखा कि ज़ीनिया की चुत से खून बह रहा है तो मैं समझ गया कि ये अभी राज से चुदी नहीं थी. हम दोनों निवस्त्र हो चुके थे … पर सर्दी के अहसास का नामोनिशान तक नहीं था. उसके हाथों को ऊपर करके पूरी पीठ को और बगलों को चूमने और सहलाने लगा.

बीएफ मूवी फुल

मुझे दवा लगा देने दो, फिर आप जैसा कहोगी वही होगा।मैंने कहा- ठीक है. नहीं शब्बो, चोकर के ढेर पर नहीं, तुम्हारी चुदाई डनलप के गद्दे पर होगी और ऐसी होगी कि तुम अपनी सुहागरात भूल जाओगी. और एक दिन उसे प्रवेश परीक्षा में सफलता मिल गई और इसके बाद चंडीगढ़ के एक कॉलेज में रिसर्च में सिलेक्शन हो गयी.

वो मेरे मुँह के पानी को ऐसे चूस रहे थे, जैसे उन्हें कोई मीठा शर्बत का झरना मिल गया हो. मैंने फिर से अपने लंड को नील की गांड के छेद पर ले जाकर अपने लंड को अन्दर पेल दिया.

मैं अचानक हुए इस हमले को समझ नहीं पाई और उसे धक्का देने लगी, पर छूट नहीं पाई.

यह बोलते हुए सोढ़ी ने अपनी बीवी को अपनी ओर खींच लिया और उसको अपनी गोद में बिठा लिया. उत्तेजना के चरम उल्लास में शीना की योनि रस से डूबे, मेरे लंड ने स्पीड और बढ़ा दी. मेरी दीदी की देवर के साथ चुदाई खत्म हुई तो मैं वहां से धीरे से चल दिया.

मैं उनसे सच में बहुत प्यार करती हूँ, अभी मैं उनसे रोज फोन पर बात करती हूँ. तो मैंने उन्हें टहोका- हां फिर!भाभी- फिर वो सब होने लगा जो आज तक चल रहा था. उन्होंने मेरे हाथों को दोनों हाथों को एक साथ लेकर चूमा और कहा- आज मैं वाकयी बहुत खुशनसीब हूं कि आज तुम मेरे साथ हो.

मैंने कहा- ठीक हैं मौसी आपकी परेशानी मैं दूर नहीं करूंगा, तो कौन करेगा.

2021 की बीएफ सेक्सी: और दूसरी लड़की की तरफ हाथ दिखा कर बोला- ये पीहू … मेरी दूसरी बहन है. थोड़ी देर आराम से चुदाई करने के बाद मैंने दूसरा जोर का झटका मारा और पूरा का पूरा लंड चूत में समा गया.

रोशन की दर्द भरी कराह निकल गई और वो सीत्कार करते हुए बोली- शु करे छे गांडा … गलत छेद में पेल दिया साले … आगे डाल कमीने. बीवी ने अपने बैग से लिपस्टिक निकाली और अपने चुसे हुए होंठों पर लाली लगा कर मेरे सामने अपनी गांड मटकाती हुई बाहर के लिए चल दी. उसने तुरंत उठकर मेरी टी-शर्ट को उतारा और मेरी पैंट को भी उतार कर अंडरवियर में मेरे फूले लौड़े को देखने लगी.

पहले तो उन्होंने मेरी फ़ोटो देखीं, जो पहले सिंपल, फिर हॉट और फिर कुछ नंगी थीं.

उसका मनोरंजन करने के लिए मैंने उससे पूछा- ड्रिंक लोगी?चैट के दौरान मुझे मालूम था कि वो ड्रिंक करती है. पहले एक फिर दो फिर तीन उंगलियों से मैंने मैडम की गांड को ढीला किया. एक दिन उस डायरेक्टर ने लिखा कि तुम्हारे बूब्स असली हैं … तो फ़ोटो भेजो.