बीएफ वीडियो देहाती सेक्स

छवि स्रोत,चूत लेते हुए सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी वीडियो सेक्सी देसी: बीएफ वीडियो देहाती सेक्स, 10 मिनट तक उसने मेरी गांड मारी, फिर उसका माल निकल गया।कुछ देर बाद मैंने कहा- अब घर चलो!वो मान गया.

देसी सेक्सी वीडियो अच्छी वाली

कुछ देर बाद वो चुत की सफाई करके वापिस आई तो उसके मुँह से कुछ नहीं निकल रहा था. सेक्सी वीडियो मंडीउस लिफाफे में एक गुलाब और कुछ पैसे और एक थैंक्यू नोट था।जब सब ख़त्म हुआ तो मैं चाची के साथ झाँसी आया.

प्रदीप कन्स्ट्रुक्शन कॉन्ट्रेक्टर का काम करता है, बहुत लेट आता था कुछ महीनों से मुझे कभी घर पर नहीं मिलता था, मैं इसी बात इंतज़ार करता था, मेरी पूजा से बात हो जाती थी। मैं उसे चोर नज़रों से देखता… जब वह नीचे झुकती तो मैं उसके सुडौल बूब्स को देखता!थोड़े दिन ऐसे ही चलता रहा। पूजा भी समझती थी कि मैं उसे किस नजर से देखता हूँ, वो भी जानबूझ कर मेरे साथ शरारतें करती थी. हिंदी हीरोइन का सेक्सी फिल्मलगभग 8-10 मिनट चूची चूसने के बाद मैंने उनका हाथ अपने लंड पर रख दिया.

मैंने पूजा को बताया कि शुक्रवार से सोमवार तक ऑफिस की चार दिन की छुट्टी है.बीएफ वीडियो देहाती सेक्स: होली वाले दिन उसने अपनी तीन सहेलियों के साथ मिल कर अपने युवा नौकर से भांग बनवा कर पी ली और सबको चढ़ गयी.

आपने क्या एड्रेस किया!वगैरह वगैरह… वे कमरा आते तक लगे ही रहे।कमरे में एक ही खटिया थी, मैंने कहा- नीचे बिछा लें?वे बोले- ठीक है।हमने नीचे फर्श पर बिस्तर लगाए, मेरे पास एक ही रजाई थी, मैंने कमरे पर आते ही अपने कपड़े उतार दिए, अंडरवियर बनियान में आ गया.तो मैं अनजान बनते हुए ऐसे कहा- मैं कुछ समझा नहीं?तो उसने कहा- तुम्हारा हाथ कहाँ था आज?मैंने कहा- कहीं नहीं… क्यों क्या हुआ?तो उसने कहा- तुम्हारा हाथ आज मेरे सीने पे था.

बिहार वाला हिंदी सेक्सी - बीएफ वीडियो देहाती सेक्स

फिर बलवीर ने जो आशंका जताई थी वह हो ही गई।आज शादी का दिन आ गया था, मेहमानों की भीड़ बढ़ गई, रात बारह बजे तक बारात आई, टीका व बारात की दावत हुई, हम सबने खाना खाया, फिर मामा जी हम दोनों को एक दूर झोपड़ी में ले गए.सगाई हो गयी तो अम्मी अब्बू ने बुलाया और कहा- बेटा आमिर, नूरी खाला से तो तुम मिल ही चुके हो, एक जरूरी काम से तुम्हें नूरी खाला के पास कश्मीर जाना होगा, उनका बहुत जरूरी काम है हम शादी बीच में छोड़ कर जा नहीं सकते और वहाँ जो खाला कहें, वह हमारा हुक्म मान कर पूरा करना.

उहकी चूत के लघु भगोष्ठ अभी भी आपस में चिपके हुए नजर आने लगे थे जैसे नो एन्ट्री का साइन हो. बीएफ वीडियो देहाती सेक्स अब जब मुझे एक ब्वॉयफ्रेंड की जरूरत थी, जो कि मुझे जवान होने का मज़ा दे, मेरी चुत और चूचियों को प्यार करे और मेरा कुँवारापन तोड़कर मुझको औरत होने का मज़ा दे.

मैंने किसी को कुछ नहीं बताया, मुझे डर था कि वो मम्मी को न बता दें, पर कुछ दिनों तक डर के साथ जीने के बाद अहसास हो गया कि आंटी ने कुछ नहीं बताया है, तो मैं सामान्य जीवन जीने लगा.

बीएफ वीडियो देहाती सेक्स?

उनकी सामने की दो हेडलाइट्स (स्तन) काफी उभरी हुई थीं, जैसे वो मुझे आमंत्रण दे रही हों कि इसी को खाने के लिए ही तो तुम्हें दावत पे बुलाया गया है. मैंने हाथ नीचे ले जा कर उसकी टी-शर्ट को ऊपर करके दिया और उसकी कमर और पीठ को सहलाने लगा. इसके बाद चुहलबाजी शुरू हो गई तो मैं फिर से चूत चुदाई के लिए तैयार था.

फिर वो निप्पलों को मुँह में लेकर कभी चाटता था, कभी काटता था कभी उंगलियों से मरोड़ देता था. भाभी ने मेरा लंड हाथ में लिया और कहा कि ये तो बहुत बड़ा लंड है, इससे तो चुदने में बहुत मज़ा आएगा. क्या बताऊँ दोस्तो, मुझे उससे पहली नज़र में प्यार हो गया!वो देखने में बहुत ही सुन्दर, और हाइट में मुझसे लगभग 4 इंच कम यानि की 5 फीट 6 इंच के आस-पास रही होगी और उसका फीगर यही कोई 32-28-32 के आस-पास का होगा.

बहुत कहने पर भाभी ने लंड पर किस किया और लंड के टोपे पर अपनी जीभ फेरने लगीं।कुछ देर बाद भैया ने भाभी को लिटा दिया और 69 की अवस्था में आ गये. हम गरीब घर से हैं, ज्यादा पैसा नहीं है मेरे मम्मी पापा के पास, मेरे पापा एक साल के लिए मुंबई चले जाते हैं. जब वो दारू पी रहा था तो उसने सुना कि कुछ लोग पद्मिनी की बातें कर रहे थे.

कभी कुछ धक्के हौले हौले, फिर कुछ धक्के तेज़ और फिर एक या दो धक्के बहुत तगड़े. ”चिल्लाते हुए मॉम ने कुर्सी का बैक अपने हाथों से कस के पकड़ लिया और कांपने लगीं.

लेकिन बहरहाल जब एक पोज़ीशन में देर हो गयी तो मैं नीचे हो गया तो नितिन ऊपर से उसकी गांड मारने लगा।लेकिन एक पोजीशन तो रज़िया की भी थी और वह भी थकनी ही थी.

किस करते करते उनके लन्ड तक पहुँच गया, वो बोले- मुँह में लो ना?पहले तो मैंने मना कर दिया लेकिन बाद सोचा एक बार ट्राय करके तो देखूँ कि कैसा लगता है.

वो बीच बीच मेर चूत में उंगली करते समय मुझे किस भी कर रहा था और मेरे होंठों को काट भी रहा था. सुबह के 4 बज चुके थे, मगर मुझे नींद नहीं आ रही थी, बार बार फूफा जी का लंड मेरी आँखों के सामने घूम रहा था और मेरा मन कर रहा था कि एक बार और फूफा जी से चुदाई करवा लूँ क्योंकि सुबह फूफा जी अपने गाँव चले जाएँगे और फिर पता नहीं ऐसा मस्त लंड मिले या ना मिले!इसलिए मैं एक बार फिर से उठी और धीरे धीरे दरवाजा खोल कर फिर से फूफा जी के कमरे में चली गयी और दरवाजा लॉक कर दिया. मैं समझ गया, मैंने खड़े खड़े भाभी की ब्रा निकाल दी और उनके मम्मों को मसलने लगा.

आंटी ने कहा- प्रशांत… आह्ह्ह्ह चोद… और जोर से चोद! मैं झड़ने वाली हूं… तू भी मेरे साथ झड़ जाना! उम्म्म पूरा दम लगा कर चोद… चोद दे मेरी चूत को तू! आह्ह्ह् ऊईईईई… प्रशांत बस मैं झड़ने वाली हूं. मम्मी ने पूछा- तूने तो नहीं बोला?मैं बोली- नहीं मम्मी, वो खुद ही दिला रहे हैं।मम्मी ने बोला- ठीक है, चली जाना, पर उन्हें ज्यादा परेशान मत करना!मैं बोली- ठीक है मम्मी!मैं इंतजार कर रही थी कि तभी सुरेन्द्र जीजा जी बाइक लेकर आये ठीक नौ बजे… मैं तैयार खड़ी थी, मैं आसमानी कलर की फ्राक वन पीस पहनी थी, पिंक कलर की लिपस्टिक लगाई थी, जीजा जी मुझे देखने लगे. मैंने कहा- नहीं मैडम, ऐसा नहीं हो सकता, कल आपने वायदा किया था और कहा था कि मेरे बारे में बाद में सोचेंगे, इसलिए मैं अब आपको यहां से सूखा नहीं जाने दूंगा.

मैंने उससे पूछा कि इतना मस्त लंड चूसना किधर से सीखा है?वो हंस दी लेकिन कुछ बोली नहीं, उसकी इस अदा से मुझे पक्का यकीन होने लगा था कि साली लंडखोर है और चुदी चुदाई चुत है.

इतने में लालजी मेरे सामने तरफ हाथ करके एक उंगली मेरी चूत में रखकर अन्दर जैसे ही घुसाने लगा. फिर उसने अपने मुंह से थोड़ा सा थूक निकल कर अपनी उँगलियों पर लगाया और उससे मेरे प्यार की गांड के छेद को तर कर दिया, फिर अपने सांप की छतरी जैसे चौड़े टोपे को मेरी धर्मपत्नी कि गांड से भिड़ा कर जोरदार धक्का मार दिया. बस वही सब तुम करो। मेरे लिये राशिद बन जाओ, फिर मैं तुम्हारे लिये बन जाऊंगी।”मेरे मस्ती से सराबोर दिमाग को झटका सा लगा और मैं उसे देखने लगी जो मंद-मंद मुस्करा रही थी।चलो ऐसे ही सही…अब वो लेट गयी और मैं अपनी दोनों टांगें उसके इधर-उधर करके उस पर लद गयी और ठीक उस दिन के अंदाज़ में उसे रगड़ने सहलाने लगी। मैंने महसूस किया कि उसके दूध मेरे दूध के मुकाबले थोड़े नरम थे, शायद इस्तेमाल के बाद यह फर्क आता हो.

” अलका ने मेरी छाती पर हाथ रखकर मुझे धकेलते हुए मेरे बाहुपाश से निकलने की असफल चेष्टा की. रंजू मूड में आ गयी- है क्या तुम्हारे पास?रंजू ने पूछा।हाँ, भांग तो हमेशा ही मेरे पास रहती है. तभी मैंने अपने लंड का सुपाड़ा खोला और उसे ज्योति की चूत पर घिसने लगा.

उस दिन मैंने सोच लिया था कि अगर मैंने अपनी चूत आपके लंड से नहीं चुदाई तो मेरा नाम भी रीना नहीं.

घर में हम दोनों के अलावा मम्मी और पापा हैं, यह कहानी आज से लगभग 4 साल पहले शुरू हुई. मैंने पहले तो सिर्फ उनके होंठों को अपने होंठों से छुआ फिर कुछ सेकंड बाद अपने होंठों से उनके होंठों को चूसने लगा.

बीएफ वीडियो देहाती सेक्स जो धीरे धीरे ज़्यादा गोरी दिखाई देता है, उन हिस्सों पर, साफ़ दिख रहे थे और पद्मिनी बहुत ही सेक्सी लग रही थी. उसकी पूरी जम कर चुदाई करवाओ और जब उसे पूरा चस्का लग जाए कि उसे रोज़ लंड मिलना चाहिए.

बीएफ वीडियो देहाती सेक्स मैं सोचने लगा कि मेरे पास गर्लफ्रेंड नहीं और उनके पास उनका शौहर नहीं. मैंने उससे कहा कि अगर हम दोनों राजी हो सकते हैं तो ये मज़ा मैं भी तुम्हें दे सकता हूँ.

तो मैंने कहा- बुआ आप किस तरह के लड़के से शादी करोगी?तो वे हंसने लगीं और बोलीं- मुझे तेरे जैसे लड़के से शादी करनी है, जो मेरे साथ एकदम ऐसे ही फ्रेंड्ली बिहेव करे.

सेक्सी वीडियो मोटी आंटी का

सब लोग हंसने लगे।मैंने अंदर से अपने आपको बहुत छोटा महसूस किया। सौभाग्य से मेरे लिंग का दिमाग कुछ अलग ही चल रहा था, उसे पता था कि जब एक कामुक स्त्री छूकर प्यार करती है तो कैसे जवाब देना है, तुरंत ही वो पूरी तरह से खड़ा हो गया, और मैडम से हाथों के झटके मारने लगा।मुझे नहीं पता कि तुम लोगों को ऐसा क्यों लगता है कि यह समलैंगिक है. मैंने अपनी बहन को बिना जगाये उसके पैर दायें बायें सरका कर उसकी चूत को खोला और अपनी जीभ से चाटने लगा. उसने देर न करते हुए अपनी उंगलियों को पद्मिनी की पेंटी पर ठीक चूत के पास फेरा.

पहले तो सिर्फ मैं और पीयूष खेल रहे थे, फिर उसने अपने दोस्त का बताया, तो मैं ही बोली कि पीयूष को कि बुला ले अपने दोस्त को, इतने में तुम आ गए. फिर एक दोस्त ने मुझे सलाह दी कि फेसबुक पर एक एकाउंट बनाओ, जिसमें डिटेल्स के रूप में तेरी बॉडी मसाज से जुड़ी जानकारी डाल देना. वो हमेशा ही मुझसे बोलती थीं कि सब्जी कम खाया कर और दूध ज्यादा पिया कर.

कुछ देर धक्के मारने के बाद वो रुक गया और फिर देखा कि वो दोनों अपना अपना चूतड़ मिला कर एक हो गए हैं और दोनों का मुँह एक दूसरे से उल्टी तरफ था.

मेरी छाती पर, लिप्स पर अपने दूध को मेरे साथ लगाते हुए अच्छे से मेरे साथ चिपक जाती. उस रात भाभी ने भैया कुछ काम से बाहर गए हुए थे तो भाभी ने कहा- आज रात तुम अपनी मम्मी से कहकर यहीं रुक जाना और पूरी रात मेरी चुदाई करना. मैंने डॉक्टर को समझाना चाहा।आप निश्चिन्त रहिये…” उन्होंने मेरी ओर देखते हुए कहा- मुझे कुछ नहीं होगा, मेरे लिए यह कोई नयी बात नहीं है, आप दरवाज़ा खोलिये.

हम दोनों ने कुछ देर बातें की और दोनों बाथरूम में नहा कर कमरे से बाहर निकल आए. इससे पहले कि बिंदु कुछ करती या कहती, वो मेरी चुत पर उस लोमड़ी की तरह टूट पड़ा, जैसे कि मेरी चुत ना हो वो कोई मांस का टुकड़ा हो. मैंने कहा- खाला, बहुत सुन्दर हो आप, आप मेरे सपनों की रानी हो, जबसे आपको देखा है, तब से आपसे बहुत प्यार करता हूँ मैं और आपको पाना चाहता था.

उसको बिंदु ने सिखा दिया था कि चुत को जितनी देर तक चाटा जा सके, उतना चाटा करो. उधर से कोयल सी मीठी आवाज़ आई कि क्या मैं वीशु कपूर से बात कर सकती हूँ?मैंने कहा- जी कहिए.

फिर बापू ने पद्मिनी का हाथ उठाया और नल से फव्वारा जैसा पानी बनाते हुए उसे नहलाने लगा और अपने शरीर में भी पानी डालने लगा. तो किसी-किसी टाईम उसकी मुनिया में अंदर की तरफ बड़े जोर की खुजली मचती है, इतनी तेज कि लड़की परेशान हो जाती है।”भक्क. भारतीय नारी जल्दी लंड को मुँह में नहीं लेती है, ये बात मैंने पढ़ी थी.

मैं पसीने से तर हो चुकी थी और वो भी… एक साथ हम दोनों ने एक दूसरे को कस कर पकड़ लिया और चुदाई का अंतिम क्षण का सुख भोगने लगे थे.

” उसने साफ साफ मना कर दिया।झूठ मत बोलो!” मैं जरा ग़ुस्से में ही बोली।सच मेमसाब, उतना ही था हमार पास!” वह फिर से बोला।देखो जी, तनिक थोड़ा होगा ही…” मैं उसकी ही भाषा में बोली।मेमसाब, झूठ ना बोलूं… थोड़ा है पर…” वह डरते हुए बोला।पर वर कुछ नहीं, थोड़ा है ना… थोड़ा तुम पियो थोड़ा मुझे पिलाओ, जाओ जल्दी लेकर आओ. ये सब इतने कामुक ढंग से हो रहा था कि मेरे लंड की तो समझो वाट लग गई थी. वहाँ पहुँच कर मैंने वॉचमैन से कविता के बारे में पूछा तो उसने बताया कि कविता मैम का सुबह फोन आया था कि मैं आज आ रही हूँ, और अभी एक सज्जन आयेंगे इसलिए उन्हें इज्ज़त से बैठने को कहना.

अब तो मेरी जानम मेरी दीपू जिसे मैं दिल की गहराई से सच्चा प्यार करता था, मेरे सामने मेरे ही कारण दर्द से तड़पने लगी और मुझे पीछे की ओर धकेलने लगी और मना करने लगी कि उसे आगे नहीं करना है।मेरा भी तो यह पहला ही अवसर था तो मैं भी उसकी बात मान कर उसकी बगल में लेट गया और उसको धीरे धीरे चूमने लगा. यही जानने का बहाना करते हुए मैंने उसके लंड को पैंट की ज़िप खोल कर बाहर निकाल लिया और उसके मूसल लंड को लंड को जोर से दबा दिया.

उसके गांड उछाल कर लंड लेने से मुझे ऐसा लग रहा था, मानो सोनिया की चूत मेरे लंड के साथ मेरे अंडकोष भी अपनी चूत में भर लेगी. मगर मुझे नहीं पता था कि बिंदु ने अपनी चूत का हिसाब पूरा करने के लिए उसको घर में सैट किया था. मैंने किसी को कुछ नहीं बताया, मुझे डर था कि वो मम्मी को न बता दें, पर कुछ दिनों तक डर के साथ जीने के बाद अहसास हो गया कि आंटी ने कुछ नहीं बताया है, तो मैं सामान्य जीवन जीने लगा.

व्हिडिओ मराठी सेक्सी पिक्चर

आखिर मेरी तमन्ना पूरी होने वाली थी, बरसों की प्यास बहुत जल्दी बुझने वाली थी.

मैं चुपचाप नींद से उठने का बहाना कर उनके रूम से निकल कर मेरे रूम में आ गया और उनके नाम की मुठ मार के सो गया. आधा लंड डालने के बाद मैं थोड़ी देर रुका रहा, जब नेहा का दर्द कम हो गया तो मैंने एक और झटका मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी गर्म भट्टी में समा गया. उसने मुझे फिर अगले दिन फोन कर के आने को कहा तो मैंने कहा- यार आज तो नहीं आ सकता, मुझे कुछ जरूरी काम है.

मैं बोला- पूजा, वो तो ठीक है… लेकिन अब तुम मुझे पापा नहीं, जानू बोला करो ना!हम दोनों बाथरूम में जाकर नंगे हुए और मैंने पूजा की चूत के बाल की शेविंग चालू करी. इधर मैं भी चुक गया और मेरे लंड ने भी रस की पिचकारियां छोड़नी शुरू कर दीं. इंग्लिश सेक्सी बीपी ओपन वीडियोमेरी पत्नी के चूतड़ कभी आगे-पीछे, कभी ऊपर-नीचे चलने लगे थे क्योंकि उसे दो-दो लंडों को अपने छेदों में तालमेल बिठाना पड़ रहा था.

वो एक प्यारी सी स्माइल दे कर जाने लगी, तो मैंने पकड़ कर बेड पर खींच लिया. मेरे होंठों को छोड़ कर दिनेश बोला कि चाचा अब वन्द्या बहुत ज्यादा चुदासी हो गई है.

खैर चाची तो यह भी नहीं जानती थीं की ये है कौन और ना मैडम को पता कि इतनी भीड़ में चाची कौन?लेकिन जब मैं सुकून से कहीं बैठा होता तो अगल बगल से किसी खजैले कुत्ते की तरह देखतीं. उसको ज़ोर से चिल्लाने को मन कर रहा था, मगर नींद का बहाना जो कर रही थी, तो सब सहना पड़ रहा था. वे उसे हैरान देख कर बोले- मेरा थोड़ा बड़ा है पर दूसरे को तकलीफ न हो इसका ख्याल रखता हूं।वे खड़े खड़े ही मेरी मारते रहे, मैं मस्ती से आंख बन्द किये चूतड़ हिलाहिला कर गांड मरवा रहा था।जीजाजी बोले- इस बार तो मजे ले रहे हो, उस बार तो तुम बहुत फड़फड़ाए थे.

अब आगे:अपनी बहू पूजा को चोद कर मुझे ऐसा लगा जैसे ये मेरी नई सुहागरात है. चूत में लोढ़े(मूसल) से मोटे लण्ड का एहसास होते ही सुकन्या रानी चिहुंक सी गयी और चीख पड़ी- आउच ह्ह्हम्म्म …और मेरा मोटा पिस्टन उसकी नाज़ुक सी टाइट चूत को फाड़ने लगा, फच फच फच बस यही सुर लगने लगे. कुल मिलाकर मैं उसकी बेटी के इलाज को भूल कर उसकी फिगर को मापने लगा था और अपनी आँखों से चोदने लगा था.

मेरी चुत अब तक दोनों के लौड़ों से चुद कर बहुत मस्त हो गई थी और बहुत पानी छोड़ रही थी.

मुझे याद है, जब मैंने हाईस्कूल पास किया था, तो सभी लोग बहुत खुश हुए थे. वे खुश हो गए, मेरे चूतड़ सहलाने लगे, फिर थूक लगा कर अपना हथियार मेरी गांड पर टिका दिया.

!मैंने कहा- देखती जाओ रानी…मैंने कपड़े से चुत साफ की और उसकी चुत पर अपना मुँह रख कर चुत चाटने लगा. उसने अपने लण्ड का पानी मेरे मुंह में छोड़ दिया, मैं भी सारा पानी पी गई. उसके गांड उछाल कर लंड लेने से मुझे ऐसा लग रहा था, मानो सोनिया की चूत मेरे लंड के साथ मेरे अंडकोष भी अपनी चूत में भर लेगी.

इधर मेरा लंड भी खड़ा हो गया था, पर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया हुआ था. फिर भैया ने भाभी का घूँघट उठाया और ठोड़ी पकड़ कर उनका चेहरा ऊपर किया, फिर भाभी की तारीफ करने लगे. फिर खड़े होकर मॉम की नाभि से अपना खड़ा लंड टच किया और फिर उनका ब्लाउज खोल दिया.

बीएफ वीडियो देहाती सेक्स आर्थर ने उसके नजदीक पहुँचते ही उसकी दूधिया टांगें जकड़ लीं और उनको अपने होंठों से चूमने लगा. मुझे पूरा विश्वास था कि आज वो दिन आ गया जिसके लिए मैंने कब से इन्तजार किया था.

ஜப்பான் செக்ஸ் வீடியோ

फिर भैया ने भाभी की दोनों टाँगों को उठा कर खोल दिया और चूत को देखने लगे।अब मेरीभाभी की चिकनी चूत फाड़ने की तैयारीथी तो भैया ने अपना लंड भाभी की चूत के छेद पर लगा दिया और जोर लगाने लगे. मैं बड़े आराम से उसके होंठों को चूमता रहा, वो नीचे दर्द की अधिकता से मचलती और तड़फती रही. वो देखने में इतना मस्त हो गया कि उसे पता ही नहीं लगा कि कब बिंदु उसके पास आ गई.

मैंने कहा- सोनू बेटा, गांड मारेगा या चूत चोदेगा अपनी माँ की?सोनू- मम्मी, आज सिर्फ तेरी चूत पेलूंगा मैं … और एक बात कहना चाहता हूँ मम्मी तुझसे … लेकिन एक शर्त है!मैं- कैसी बात और कैसे शर्त? जो ख़ुशी तू मुझे दे रहा है उसके लिए मुझे तेरी सारी शर्तें और बातें मंजूर हैं. उसने मुझे झांटें देखते हुए देखा और वो शर्मा कर जल्दी से चाय रखकर चली गयी. ऐश्वर्या राय हिंदी सेक्सीभाई की मेहरबानी से उसके दोस्त ने मेरा सिंगापुर का वीसा लगवा दिया और मुझे वहाँ पर काम भी दिलवा दिया.

मैं समझ गया कि काँटा सही जगह जा फंसा है, मैं बोला- ओके, उसको मैंने कई बार चोदा है, वो मुझसे बड़ी खुश रहती है, उसने मुझे कई औरतों से मिलवाया है और वे सभी मेरी चुदाई से खुश हैं.

यह क्या कर रहे हो?इतना कहकर आपा अपने रूम में जाने लगीं, तो मैंने आपा को आवाज दी लेकिन आपा ने मुझे डांट दिया कि आज के बाद मुझसे कभी बात मत करना और यह सब शाम को अम्मी को बोलूँगी. मैं अब उसे पहले की तरह हेट नहीं करता था, कल के बाद सब बदल गया मेरे अंदर.

मैं जिस तरह के माहौल में रही थी वहां इससे बच पाना मुश्किल था और मुझे इस बात का डर भी था कि यह बात मेरे शादीशुदा जीवन पे पता नहीं क्या असर डालेगी, लेकिन उन्होंने इस बात पे यकीन कर लिया था कि मुझे हस्तमैथुन की आदत थी।”मैं समझ सकता हूँ. मैंने कहा- तो ठीक है, मुझे तो आप जूली से भी ज्यादा सेक्सी लग रही हो. आर्थर के मजबूत लंड की रगड़ से मेरी कोमल पत्नी की चूत लाल हो चुकी थी, वो उसे निर्दयता के साथ किसी कुतिया की भांति चोदे जा रहा था.

क्या मजा आ रहा था!मैं थोड़ी देर में थक गई, फिर मैं घोड़ी बन गई और उसने पीछे से लण्ड मेरी चुत में डाल दिया, उसका पूरा का पूरा अंदर जा रहा था.

कोई दो दिन बाद मैंने अपनी नाइटी पूरी ही आगे से खोल ली, या यूं कहा जाए कि उस दिन मैं उसके सामने नंगी ही हो गई. उसके लंड में इतना दम न हो या उसका साइज़ इसके जैसा न हो तो फिर तुझे मजा नहीं आएगा. अंकल जी दही बड़े लाऊं आपके लिए?” मैंने देखा कम्मो मेरे पास खड़ी मुझसे पूछ रही थी.

अंग्रेजी सेक्सी वीडियो लाइवपर बिस्तर के नीचे पेंटी देख कर मुझे यकीन हो गया था कि रात तुमने और पूजा ने यहाँ सेक्स किया है. उसके बाद कई बार चेन्नई जाना हुआ, जब भी जाता तो अभिलाषा खुद तो मेरा लंड लेती ही थी, मेरी पसंद की दो तीन लड़कियों की चूत और दिलवाई.

चमार की सेक्सी वीडियो

तब भी मुझसे उनका रोना देखा नहीं जा रहा था, तो मैं थोड़ी देर उनके बूब्स चूसने लगा और दबाने लगा. मैंने भी अब देर नहीं की और उनकी टांगें फैला कर उनकी मक्खन चुत में अपना सुपारा लगा दिया. मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था क्यूंकि रोज़ मैं आपके लम्बे लन्ड को सिर्फ देखती ही थी और उस दिन आपका लन्ड मेरे हाथ में था.

बिस्तर पर ही बैठ कर आँखें मूँद ही रहा था, तब धीरे से आधी नींद में पद्मिनी ने आँख को मुंदे हुए ही कहा- आप खाना खा लेना बापू. और अगर आपको और भी कहानी चाहिए तो मुझे मेल करके बताएं कि मेरी कहानी आप सबको कैसी लगी. सो मैं पीछे के दरवाज़े से सीधा मॉम के कमरे में ही जाके मॉम को सरप्राइज देता हूँ.

या खुदा !! उनका नर्म गर्म हाथ पकड़ते ही मेरे तनबदन की आग और भड़क गयी और मेरा लंड सनसनाता हुआ पूरा 8 इंची बड़ा हो गया और सलामी देने लगा. डिनर के बाद हम दोनों ने थोड़ी देर होटेल के पार्क में टहलकदमी की और ऐसे ही बातें करते हुए वापिस अपने कमरे की तरफ बढ़ने लगे. दीदी समझ गई थीं, उन्होंने भी मेरे लंड के सुपारे पर जीभ घुमानी शुरू कर दी.

मैंने देखा पूजा अकेली है और यहाँ सही मौका है चौका मारने का।मैंने एक कोल्ड्रिंक ली और पूजा को ऑफर करने उसके पास बैठ गया और बात करने लगे. अगर किसी पाठक को ये कहानी पसंद ना आए तो प्लीज़ वो इसे बीच में ही पढ़ना छोड़ दें, क्योंकि अगर अच्छी नहीं है तो फिर इसको आगे पढ़ने में अपना समय किस लिए बेकार में लगाना.

तो दोस्तो, यह थी मेरी पहली चुदाई की कहानी!बाद में मैंने उसकी गांड भी मारी और उसे मेरा लन्ड भी चुसाया, और उसकी सहेलियों को भी चोदा.

मैंने भी उसकी चुत में लंड सीधे सीधे पेल दिया और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो आंटी कीउसने कहा कि वो सब उसके पास है और उसने उस अधिकारी की डीटेल्स मुझे दे दिए. नौकरानी सेक्सी वीडियो देसीवे बोले- गांड बता रही है कि अभी मराने की प्रेक्टिस में है।मैं उनके तजरबे को मान गया, मैंने कोई तीन महीने पहले देवेश सुमेर से कराई थी. मेरे देखते देखते सुरेंद्र जीजा का लन्ड बहुत बड़ा हो गया और वह हांफने लगे.

मेरी हाइट 6 फुट है, दिखने में हैंडसम हूँ औऱ पर्सनालिटी भी अच्छी है.

इसलिए उसका भाई ने मेरे हाथ को पकड़ लिया और अपने हाथों से उसे सहलाने लगा. वो बेचारा इसी सोच में था कि अगले महीने उसे कुछ नहीं मिलेगा क्योंकि सारे पैसे कपड़ों में ही कट जायेंगे. दोस्तो, मेरा नाम सौरभ शर्मा है, मैं कानपुर का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र 23 साल है। मैं एक जिम/ फिटनेस सेंटर चलाता हूँ, मैं एक गुड लुकिंग स्मार्ट बंदा हूँ, मेरी हाइट 5 फुट 10 इंच और मैं एक जिम ट्रेनर हूँ तो आप जान ही गए होंगे कि मेरी हेल्थ अच्छी होगी।यह कहानी उस वक्त की है जब मैं बी.

कुछ देर यूं ही माहौल को हल्का करने जैसी बातें हुईं, फिर हमने केक काटा, एक दूसरे को खिलाया और थोड़ी वाइन भी पी. मैं किसी से कुछ नहीं कहूँगी और पूजा तुम बाहर जाओ, मुझे अमित से कुछ बात करनी है. अब उसने मेरी कमर को जोर से पकड़ लिया था और जोर जोर से अपना लंड मेरी चूत में अन्दर बाहर करने लगा.

लूटा ए राजा

मैं- नमस्ते, कैसी हो सोनिया रानी??सोनिया- मैं तो एकदम मस्त हूँ सर जी. मेरी मेल और फेसबुक आईडी दोनों एक ही है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बीवी को गैर मर्द के नीचे देखने की चाहत-3. सुमेर ने शशि से कहा- पैन्ट खोलो!शशि ने अपने कपड़े उतार दिए, फिर सुमेर देवेश से बोला- पहले तुम!देवेश रुका तो सुमेर उसके पैन्ट की चेन खोलने लगा- यार हर समय मजाक बहस नहीं, जल्दी करो।और हाथ डाल कर देवेश का लंड निकाल लिया, तेल की शीशी से तेल लेकर उसके लंड पर मल दिया और बोला- अब तो शुरु हो जा।देवेश ने थोड़ा से तेल अपने हाथ पर मांगा, सुमेर ने दे दिया.

पूजा ने लन्ड के बाद मेरी गोली चूसी तो मेरा लन्ड घोड़े के जैसा खड़ा हो गया.

इसलिए जीभ खूब गीली थी और उसकी टुकुर टुकुर से मेरे तमाम बदन में एक तेज़ झनझनाहट ऊपर नीचे, नीचे ऊपर दौड़ने लगी.

एक दिन सुबह भाभी जान ने मेरे दरवाजे पे दस्तक दी, मैंने दरवाजा खोला तो कहने लगीं कि मेरे घर पे चीनी खत्म हो गई है, थोड़ी चीनी दे दो. चन्द्रमुखी: जब अपनी बीवी बहुत प्यारी लगती है, उसकी डाँट झगड़ा भी शहद से लिपटा प्रतीत होता है. बढ़िया वाली सेक्सी चुदाईफिर मेरी गांड में अपनी उंगलियां बेरहमी से ठूंस दीं, पहले एक, फिर दो, बाद में तीन… मैं दर्द के मारे जाग तो गया.

जब चारों ने उसकी चुत की ज़मीन को अच्छी तरह से अपने लंड से सींच लिया तो बोले- जाओ अब चुत की सफाई करके आओ. वे ठोस हो रही थीं, बाहर उभर रही थीं और नुकीली हो रही थीं। फिर मेरे देखते-देखते वे एकदम तन गयीं और अहाना एक घुंडी को चुटकी से मसलती दूसरी को अपने मुंह में लेकर ऐसे चुसकने लगी जैसे बच्चे दूध पीते हैं।अच्छा लग रहा है न. उस रात भाभी ने भैया कुछ काम से बाहर गए हुए थे तो भाभी ने कहा- आज रात तुम अपनी मम्मी से कहकर यहीं रुक जाना और पूरी रात मेरी चुदाई करना.

मेरे होश फाख्ते हो गए और बस यूं लगने लगा कि साली अभी पटक कर चोद दूँ. क्या किया जा सकता था। मैंने वहां पड़े प्लास्टिक के ड्रम को देखा जो टांड़ पर चढ़ने के लिये वहां रखा रहता था.

फिर हम लोगों ने गाड़ी पार्क की और जाकर दोनों से मिले, हेलो की और फिर बात को आगे बढ़ाया.

उन्होंने कहा- विशाल प्लीज़ अब मत तड़पाओ और मेरे अन्दर अपना वो डाल दो. डॉली की गांड तो मैंने कई बार मार चुका था तो जल्दी ही स्पीड पकड़ ली और तेज़ धक्के मारने लगा. चूत में उंगली डालने के बाद बोले- कितनी गर्म है तेरी चूत वन्द्या… लग रहा है उंगली जल जाएगी, और बहुत गीली भी है!और फिर सीधे अपने जीभ निकाल कर बोले- इतनी सेक्सी चूत आज तक मैंने देखी नहीं!अब सीधे मेरे चूत में अपनी जीभ डाल दी और बहुत जोर-जोर से अंकल मेरी चूत चाट कर बिल्कुल चूस ले रहे थे.

केनिया सेक्सी व्हिडीओ उसने दस मिनट तक मेरे लंड की सवारी की और बोली- जान मैं थक गई हूँ अब मुझसे इस तरह से नहीं हो पाएगा. रोकने की लाख कोशिश करने के बाद भी आंसू गिरने लगे। किसी तरह रूमाल की तहों की नीचे मुंह छिपाता हुआ उसकी गली से बाहर निकल आया… बहुत रोका लेकिन अंदर से दिल रो रहा था। इतना बड़ा धोखा… अगर उसे यही सब करना था तो मेरे साथ रिलेशन में आया ही क्यों… दिल टूट गया मेरा…रोड पर चलते हुए आंसू पौंछता हुआ बस चला जा रहा था… क्या कमी रह गई थी मेरे प्यार में जो उसने मेरे साथ ऐसा किया?कहानी जारी रहेगी.

उसने जैसे ही दोनों तरफ से खींचा वो झट से नीचे गिर गई और मेरी चुत पूरी नंगी उसके सामने थी. कुछ देर बाद मैं भी झड़ने वाला था… तो उन्होंने मेरे लंड से हटते हुए मेरे लंड को मुँह में लिया और ज़ोर जोर से चूसने लगीं. आह कितनी गरम और गीली चुत थी, मैंने उंगली को निकाला और उस पर लगे पानी को अपने मुँह में लेकर चूस लिया.

एंकर जुदाई सेक्सी

भीड़ के कारण मुझे दिखा नहीं किसने पकड़ा और में गेट पास जाकर खड़ा हो गया।थोड़ी देर में एक पचास पचपन साल का आदमी मेरे बगल में आकर खड़ा हुआ और मेरी तरफ देखकर स्माइल करने लगा तो फिर मैंने भी उसको रिप्लाई किया और हँस दिया. डॉली धीरे धीरे दो, फिर तीन उंगलियों को एकता की गांड में अन्दर बाहर करने लगी. अब घर में और कोई तो था ही नहीं, न भाई न बहन, तो सारा प्यार सिर्फ बापू और पद्मिनी में ही बंटता जाता था.

जैसे ही मैंने अभिलाषा के नाजुक और नर्म उँगलियों वाले हाथ पकड़े, मेरा 8 इंच का लंड मेरे लोअर में तन कर खड़ा हो गया. अब मैंने उसके एक हाथ की तरफ इशारा करते हुए अपना हाथ बढ़ाया और अपनी जांघ पर रख लिया.

मैंने भी तुरंत ही मौका देखते ही उनको चूमने लगा और उनके चुचों को दबाने लगा.

मैंने उसकी दोनों बाजू पकड़ी और उसे अपनी ओर खींचा, धीरे से उसे किस करते बोला- आई एम फॉलिंग इन लव विद यू!उसने बोला- डोंट… इट विल ओन्ली हर्ट अस बोथ. उसके लंड चूसने से मुझे मजा बहुत आने लगा और मैं उसकी चुत में उंगली करने लगा. अब तो मुझे भी खुद पर नियंत्रण रख पाना मुश्किल हो गया था और मैं जैसे उस पर टूट पड़ा और पागलों की तरह उसे चूमने चाटने लगा.

जब उनको चोदा था, उस समय चाचा व्यापार में लगे रहने के कारण चाची को चोद नहीं पाते थे. खैर उसने डबलरोटी और अंडे निकाल कर ऑमलेट बना कर मुझे दिया और बोली- अभी तो यह खाओ… सुबह कुछ और व्यवस्था करती हूँ. जब मैं वापिस आई तो उसने दरवाजा बंद किया हुआ था और उसे दरवाजा खोलने में कुछ देर लग गई.

वो दुल्हन जैसी लाल साड़ी पहने हुए थी और ऐसी लग रही थी मानो अभी मेरे पास आकर मुझे वरमाला पहना देगी.

बीएफ वीडियो देहाती सेक्स: बिल्डिंग में से बहुत से लोग छुट्टी पे गए थे, तो ज्यादातर फ्लैट बंद थे. मनोहर ने अपना लंड मेरी चूत में पूरा अन्दर करके उसे वहीं रोक दिया और चाचा ने भी अपना लौड़ा गांड में पूरा अन्दर डाल कर मुझसे लिपट गए और मेरी पीठ और गर्दन को पीछे से चूमने और चाटने लगे.

लेकिन एक दिन मैंने अपने चाचा ससुर को हमारी कामवाली की चुदाई करते देखा. अब मेरी नींद खुल गई थी, गांड में लंड पिला था, मैं समझ रहा था कि बलवीर मेरी मार रहा है. फिर 5 मिनट बूब चूसने के बाद उसने मुझको भी नंगा किया और मेरा लंड पकड़ लिया.

कुछ देर बाद वो चुत की सफाई करके वापिस आई तो उसके मुँह से कुछ नहीं निकल रहा था.

मैंने लंड को बहूरानी की चूत के मुहाने पर टिकाया और उनकी आंखों में झाँकने लगा. अब मेरी वाइफ दो महीने से गर्भवती हो गयी थी तो वो मुझे से बोली- मुझे अपनी सफाई करवानी है. उसने सीधे ही मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और मुझे जमकर चूमने लगा.