बीएफ सेक्सी चोदा वाला

छवि स्रोत,इंसान और जानवर के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

દેશી બીપી સેક્સ: बीएफ सेक्सी चोदा वाला, मेरी चूत इस समय इतनी ज्यादा गीली और रसीली हो चुकी थी कि उसका पूरा लंड एक बार में ही अन्दर तक घुसता चला गया.

बीएफ फिल्म देखनी है बीएफ

उसकी चूत पर बहुत सारा साबुन लगा कर एक उंगली सटाक से आधी उसकी चूत में सरका दी. हिंदी वाली बीएफ एचडीनजदीकियों का मतलब शारीरिक सम्बन्ध, उपभोग या जिसे आज की खुली भाषा में सेक्स कहते हैं, वो सब नहीं था.

भाभी ने घुटनों के बल बैठ कर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. ब्लू फिल्म भेजो हिंदी में बीएफकुछ देर आराम करने के बाद सुशी जी को देख मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

तभी बुआ की सिसकारियां एकदम से बढ़ गयी थीं- उम्म्ह हह अह्ह ह्ह्ह्ह … मैं कट गई … आह!मैं समझ गया था कि वो अब झड़ने वाली हैं.बीएफ सेक्सी चोदा वाला: मैं झट से कुतिया बन कर अपनी गांड हिलाने लगी और उससे जल्दी से लंड पेलने की कहने लगी.

मैंने दीदी से कहा- तुम्हारी सास बड़ी मस्त माल हैं, उनकी मुझे लेने का मन है … कैसे मिलेगी.मैंने एक बार तो सोचा कि साला बिल्कुल ही भोसड़ है क्या?इस बार मुझसे रहा नहीं गया.

खुल्लम खुल्ला चुदाई वाली बीएफ - बीएफ सेक्सी चोदा वाला

मेरी आंखों से आंसू ही बह रहे थे और मुँह से दर्द भरी चीख निकल रही थी.भाई ने आव देखा न ताव … और सीधे-सीधे अपना लंड एक झटके में मेरी गांड में पेल दिया.

लंड क्या घुसा … मेरी सारी जवानी निचुड़ गई और मेरी चुत में इतनी जोर से दर्द हुआ कि मैं छटपटा कर कार्तिकेय के होंठों से अपने होंठ छुड़वाने की जद्दोजहद करने लगी. बीएफ सेक्सी चोदा वाला मैंने उनकी चूत चाटना चाहा पर उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया, बोली- मुझे यह अच्छा नहीं लगता.

अब मेरी हिम्मत और भी बढ़ गई और मैंने अर्शिया के होंठ अपने होंठों में दबा लिए और उनको चूमने लगा.

बीएफ सेक्सी चोदा वाला?

लेकिन उस दिन दोस्त कहीं बाहर गया हुआ था … तो मुझे नहीं मिला और मैं वापस घर आने को निकला. मैंने उसकी ब्रा को उतारा और उसके एक मम्मे को अपने मुँह में भर लिया. अब तो मैंने अपने दोनों हाथों से उसका चेहरा पकड़ा और उसके पतले पतले होंठों को चूसने लग गया.

हम दोनों बाहर आ गए और साथ में हॉल में सोफे पर नंगे बैठ कर खाने लगे. अब तक सिर्फ पांच बजे थे, तो कुछ देर बाद मैं उठी और मैंने हम दोनों के लिए चाय और कुछ नाश्ता बनाया. ‘ये लेस्बियन है इसका क्या मतलब हुआ?’‘मतलब उसे लड़कियां अच्छी लगती हैं.

मैंने सोचा कि ये मैंने क्या कर दिया, अब स्वाति मेरे बारे में क्या सोचेगी. ये कह कर जेठ जी आगे बढ़े और उन्होंने मेरे होंठों पर हल्का सा चूम लिया. लेकिन मैंने अपनी पसन्दीदा क्रिया अर्थात उसकी चूत की चुसाई की और उसकी चूत से मलाई निकाल कर चाट ली.

दूसरी तीसरी बार का मामला होता तो ऐसी मखमली चूत का रस तो मैं पहली बार में ही निचोड़ कर पीता. हमारा मकान काफी बड़ा था तो शरद ने ऊपर का एक कमरा 2 यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों, किरणदीप और सुरजीत को किराए पर दे रखा था.

हॉट बहू की अन्तर्वासना कहानी में पढ़ें कि जब मैं अपने पति से संतुष्ट नहीं हुई तो मैंने अपने जेठ की तरफ देखा.

तभी आरू बोली- भाई आप अपना लंड मेरे मुँह में दे दो … मैं आपका लंड चूसती हूँ … और आप मेरी बुर चूसो.

फ़िर वे बोलीं- अच्छा तुम पहले अपनी उंगली मेरी गांड में डाल देना, जिससे मेरी गांड में लंड जाने की थोड़ी सी जगह हो जाए. फिर मैंने उससे कहा- चलें?वो बोली- हां चलो, पहले कुछ खाने चलते हैं, मुझे भूख लगी है. मैं ये सब सामान कुछ इस तरह झुक कर रखती कि मेरे मम्मों की बीच की काफी गहरी गहराई उन तीनों अंकल को साफ़ साफ़ दिख जाती और सब मेरी जवानी को शराब के नशे में अपने अन्दर उतार रहे थे.

बहन की गांड सहलाते सहलाते मैं हाथ को आगे लाया और अर्शिया की जांघों के बीच में ले गया. और उस समय मेरी नजर वाशरूम के दरवाजे से अंदर गयी तो में अचानक शॉक हो गया. अब मामला शब्बो के बस के बाहर होने लगा था, उसने खींचकर मेरी लुंगी खोल दी और मेरे लण्ड की खाल पीछे खिसकाकर सुपारा चाटने लगी.

मगर मैं अभी भी उसकी बातों को अनसुनी करते हुए उसकी चुत को चाटता रहा.

जिस पर मोहतरमा ने बखूबी से जवाब दिया और कहा- क्या आप मेरे साथ घूमना चाहते हैं?मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है … पर अगर आपके पास समय हो, तो साथ में घूम सकते हैं. लण्ड के धकाधक अन्दर बाहर होने से फच्च फच्च की आवाज से कमरा गूंजने लगा. लंड घुसवाते ही मामी जी जोर से चिल्ला पड़ीं- आई दैया रे मर गई!मैं उनकी चूत में धीरे धीरे लंड पेल रहा था.

पर इस बार मैंने उन्हें रोक दिया- सर आपको पता है ना, हम क्या करने जा रहे हैं. मुझे लगने लगा था कि इस डिब्बे से निकल कर किसी दूसरे डिब्बे में चले जाना चाहिए. मैंने उसके हाथ को झटके से एक तरफ किया और अपने बदन को होटल की सफ़ेद चादर से ढकने लगी.

जेबा आंटी ने सलमा से मेरा परिचय कराया और मुझसे बोलीं- विजय, बेडरूम का एसी ऑन करो और वहीं बैठो, मैं चाय लेकर आती हूँ.

मैंने उससे कहा- तुम्हारी बड़ी बहन कैसी है … क्या वो मेरे लौड़े को सेवा का मौका देगी?सरोज बोली- दीदी तो रांड है … वा तो कुत्ते का भी लंड घलवा लेवे. नहीं शब्बो, चोकर के ढेर पर नहीं, तुम्हारी चुदाई डनलप के गद्दे पर होगी और ऐसी होगी कि तुम अपनी सुहागरात भूल जाओगी.

बीएफ सेक्सी चोदा वाला मैंने उनसे कहा- मेरा निकलने वाला है … कहां निकालूं?तभी मुंतज़िर ने मुझसे बोला- मेरे मुँह में निकालना. जैसे ही रोशन के कानों में सोढ़ी के गाने की आवाज आई वो अपने हाथ में कड़छी लिए हुए किचन से बाहर निकल कर ड्राइंगरूम में आ गई.

बीएफ सेक्सी चोदा वाला फिर मैंने सोचा इसके सामने इसकी भाभी खड़ी है, तो मैं कुछ मज़े ले लूं. अरविन्द ने मुझसे कहा- तो ठीक है चली जाइए, मगर अभी मेरा मन नहीं भरा था.

मैंने उसकी चुत में लंड पेला तो वो चिहुंक उठी- अह मर गई … जयन्त प्लीज़ स्लो.

साई पल्लवी का सेक्सी वीडियो

मैम आइसक्रीम की भांति मेरी बांहों में पिघलने लगीं और उनके मुंह से मीठी सिसकारी आने लगी. इस छुअन का मेरे मन पर जो असर हुआ था, वो असर मुझे मेरी चढ़ती जवानी तक ले गया. मेरी बीवी ने आज घुटनों के थोड़ा ऊपर तक आने वाली और डीप नेक वाला एक वन पीस पहना हुआ था.

दादू चोकर भरने में लग जाते थे और मैं आपकी गोद में बैठ जाती थी, आप मुझे टॉफी खिलाते थे. मैं रुक तो गया … पर मैंने लंड बाहर नहीं निकाला और बिना धक्के मारे लंड को अन्दर ही रखा. फिर उसने मुझे देख कर आंख मारी और होंठों को गोल करके एक पुच्ची करने का इशारा किया.

वो सोच रही थी कि उसकी मामी तीज में अपने मायके जाएंगी और उसकी मम्मी रेखा नहीं आएंगी, तो आराम से रात भर चुदवा लूंगी.

थोड़ी देर बाद साहिल उसके गले से नीचे आके निप्पल चूसने लगा और दूसरे हाथ से दूध दबाने लगा. लेकिन आज जब मैंने उसे नंगी किया तो मैंने उसके फिगर का साइज देखा था. अभी जब मैं पानी पीने उठा था … तो तेरा पेटीकोट हवा से तेरी कमर तक आ गया था.

दोस्तो, मैं निर्वाण शाह एक बार फिर से अपने और कोमल के बीच की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूं. तभी मैंने नाज की बुर से अपना लण्ड निकाला और उसकी गांड में ठोक दिया. साली रोज रोज ऐसा करती है, तो क्यों न एक दिन इसको फिर से लंड दिखा ही दूँ.

मैंने उसके दूध मसलते हुए कहा- आपको बड़ी जानकारी है?‘बड़े साहब की मेहरबानी है. हम साथ वक़्त बिताने में इतना मग्न हो गए कि आने वाली परिस्थितियों के बारे में कुछ समय के लिए ही सही, पर भूल गए थे.

आगे की ओर झुकते हुए नाज की चूची मैंने मुँह में ले ली और लण्ड को अन्दर धकेलने लगा. मैं सोफे पर थोड़ा लेटने की स्थिति में आया और अपनी आंखें बंद करके धीरे धीरे अपने लौड़े को सहलाने लगा. मैंने पेशाब करके लंड उसके मुँह की तरफ कर दिया और मुठ मारने जैसे आगे पीछे करके लंड हिलाने लगा.

जेठ से मालिश करते हुए मुझे अपने कमरे में ले गए और मेरी चूची को दबाने लगे.

फिर एक स्माइल देकर मुझे आंख मारकर आगे बढ़ी और मुझसे हाथ मिला कर बोली- डन. मेरा हाथ मुंतजिर के मम्मों पर कस गया और मैं उनके होंठों का रसपान करने लगा. मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था कि अब क्या करूं!राजीव- रश्मि, मैं दरवाजे पर हूँ, प्लीज आओ.

कुछ कहने के लिए मैंने अपना मुँह उसके होंठों से हटाया, तो निशा अचरज भरी नजरों से मुझे देख रही थी. रानी ने बोला कि अब एक बार लौड़ा चुत में घुसा दो ताकि चूत को भी आराम मिल जाए.

दूसरे दिन मेरे लंड पर मानो वज्रपात हुआ … अंकल घर वापस आ गए थे और उनको अभी कुछ दिन बाहर नहीं जाना था. उसी समय मैंने साली साहिबा को दूसरे कमरे में जाते देखा तो दस मिनट बाद मैंने उसे व्हाट्सैप पर हाय लिख कर भेज दिया. उफ्फ … क्या गोरापन था अन्दर … पर उसके टिट्स मुझे अच्छे से दिख नहीं पा रहे थे.

हिंदी में सेक्सी वीडियो फुल ओपन

मैंने फिर सोचा कि अनन्या भी यही सोचती है क्या?क्या उसका मन नहीं करता कभी करने का? क्या वो भी अपने हाथों से काम चलाती है?इसी उधेड़बुन में मैंने उसे कॉल किया.

कई सारी तैयारियां करनी पड़ती हैं, उसके बाद भी किस्मत अच्छी रही तो जॉब जरूर मिलेगी. सुबह उठी तो पूरा दिन बस उसकी लंड को लेकर सोच रही थी कि कैसे आज अपनी बुर चुदवा कर ठंडी करूं. हईई … मैम की दिलकश जवानी मेरे सिर से पांव तक 440 वोल्ट का करंट दौड़ा रही थी.

इसके कुछ सेकंड बाद उसने मुझे सहलाना शुरू किया और मेरी चूचियों को पीने लगा. फिर मैंने शीशे से बाहर का नजारा देखा, तो वो तीनों मेरी तरफ ही अपनी नज़र गड़ाए हुए थे. बीएफ सेक्स पिक्चर बीएफ सेक्सीये सुनकर मैं और जोश में आ गया और लंड को तेज़ तेज़ अन्दर बाहर करने लगा.

लेकिन तभी मुझे अहसास हुआ कि मेरे मुँह में हल्का सा अजीब सा स्वाद भी आ रहा था. जब तक मैंने डॉक्टर का लंड चूसा और अपनी चुत चुसवाई, तब तक उसने भी दो बार अपना माल गिरा लिया था.

लंड चुत में घुसा तो वो ‘आहह ओहह ऊईईई ऊईईईई मर गई मर गई अम्मा मर गई. उन्होंने भी अपनी गांड से पैंटी नीचे सरकाई और मेरा सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और अपनी चूत को मेरे होंठों पर रगड़ने लगीं. अब उन्होंने अपनी हथेली पर थूका और उसमें अपना अँगूठा भिगोकर हमारी गांड के छेद पर रगड़ने लगे.

चुदाई के दौरान हर बार मेरी बीवी ने ‘लंड चूसने से मुझे घिन आती है …’ कह कर मुझे मना कर दिया था. तो मेरी पत्नी उधर सभी से मेरा परिचय कुछ अपने रिश्तेदारों से करा रही थी. चार दिन बाद मेरे घर से सबको फिर से बाहर जाना था, उस दिन फिर से मैंने जुगाड़ लगाया कि मैं घर पर ही रुक जाऊं और दिन भर आशीष का लंड चुत में लूं.

थोड़ा रूकते हुए मैंने अपनी पकड़ को ढीला किया तो नील ने मेरे नीचे से निकलने की कोशिश नहीं की.

लंड में तनाव आने लगा और उसने एकदम से मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया. फिर मैंने उससे कहा- चलें?वो बोली- हां चलो, पहले कुछ खाने चलते हैं, मुझे भूख लगी है.

मैं लगातार 2 महीनों तक सबसे उच्चतम मैनेजर के तौर पर चुनी गई थी … और सब मेरे काम से बहुत खुश थे. ट्रेन की लाइट में उसका दूध सा गोरा चिकना बदन उसे और भी सेक्सी बना रहा था. साथ ही चुदाई करते समय ही मुझे समझ आ गया था कि इनसे कुछ नहीं होने वाला है, मुझे जेठ जी से ही टांका फिट करवाना पड़ेगा.

उसने मुझसे पूछा- तुम्हें कैसी लड़की पसन्द है?मैंने तुरन्त रिप्लाई किया- बिल्कुल तुम्हारी जैसी होना चाहिए. फिर मैं अपनी टॉवल लेकर आया और बाथरूम में घुसा ही था कि पीछे से स्नेहा भी आ गयी. निशा ने बड़े ही कामुक तरीके से पूरे लौड़े को अपने थूक से चिकना कर दिया था.

बीएफ सेक्सी चोदा वाला उसका लंड मेरे मुँह के पास हो गया था और मैं कुछ समझ पाती कि उसने मेरी चुत पर अपनी जीभ लगा दी और चुत चाटने लगा. मैंने उसका मुंह पकड़ कर अपनी स्पीड को बनाये रखा और 15-16 झटकों के बाद अपना पानी उसकी चूत में छोड़ दिया.

सुहागरात सेक्सी वीडियो नंगी

मैं भी नीचे से बराबर झटके लगाने लगा, उसकी चूचियां दबाने लगा और उसकी गांड पर हाथ फेरने लगा. परदा में रहना भी पसन्द नहीं करते … और न ही बहू को रखते हैं … तुम चाहो तो अपनी दीदी से पूछ लो. मैंने फिर से मैम को किस करते हुए उनके ब्लाउज का हुक खोला तो मैम ने पूरा सहयोग किया.

लोग कहेंगे कि मैं अमीर हूँ … तो कुछ भी कर सकता हूँ और अनन्या मिडल क्लास है तो मैं उसके साथ कुछ भी कर सकता हूँ क्या?नहीं नहीं … मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए. अब से मैं तुम्हारे साथ ही सेक्स करूंगी और तुमसे ही अपना बच्चा पैदा करूंगी. सेक्सी वीडियो बीएफ फुल एचडी मेंअलीज़ा की मादक सिसकारियां जैसे जैसे बढ़ रही थीं, मेरे लंड की स्पीड भी उतनी ही बढ़ रही थी.

मैंने उसकी ओर देखा, वो एक झीना सा नाईट गाउन पहन कर मेरे सामने बैठी थी.

मैं उनके दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसता रहा और वह मुझे पागलों की तरह किस करती रहीं. सभी लोग अपने अपने काम में व्यस्त रहते हैं, तो किसी से भी ज़्यादा मिलना-जुलना नहीं हो पाता है.

थोड़ी देर में इसी तरह की आवाजें फिर सुनाई देने लगीं, तो मुझे लगा कि दाल में कुछ काला है. वो गपागप गपागप लंड चूसने लगी। वो मस्त लौड़ा चूस रही थी और मैं उसकी चूचियों को मसलने लगा।मैंने उसे लंड पर बैठने को कहा वो चूत को रखकर बैठ गई लंड सट्ट से अंदर चला गया. मैंने स्वाति से कहा- सुन स्वाति मैं जॉब के लिए इंटरव्यू देने जा रहा हूँ.

उनके मुँह से इतना सुन कर मैंने घर पर फ़ोन करके बोल दिया कि आज रात मैं अपने दोस्त के यहां रुक रहा हूँ.

मेरी सहायता करते हुए उसने अपना जींस उतारकर नीचे कर दिया और मैं भी उसकी चड्डी उतारने लगी. काफी देर बाद जब मेरा लण्ड थोड़ा शिथिल हुआ तो मैंने बाहर निकाला तो पता चला कि हमने इतनी पहलवानी कर दी कि कॉण्डोम फट गया था. वो घबरा गईं और बोलीं- तुझे बिल्कुल डर नहीं लग रहा है?मैंने कहा- नहीं, जब मां साथ हैं यहां पर … तो डर किस बात का.

बीएफ फिल्म हिंदी में तुरंतउसकी गरम चुत में मेरा पिस्टन तेजी से अंदर बाहर होता हुआ दिख रहा था. फिर एक पल बाद उनकी प्यारी सी आवाज में एक बार फिर मेरे कानों में मिठास बन कर घुल गई- आप हमारा एसी कल जरूर ठीक कर देना … गर्मी के दिन है … बहुत परेशानी है.

पुलिस वाला सेक्सी पिक्चर

वो मुझसे बोले- क्या हुआ?मैंने कहा- आप थक गए हो, मैं आपकी मालिश कर देती हूँ. कार्तिकेय- सच्ची जान … इतनी बेचैन हो?मैं- हां जान … मुझे तुम्हारा लंड मुँह में लेकर चूसना है. उस दिन मैंने बहुत देर तक उनकी गांड चुत में दो दो बार लंड डाल कर कुत्ते की तरह उन्हें चोदा.

कुछ देर बाद मैंने कहा- डार्लिंग, अब कुतिया बन जाओ, पीछे से हमला करूंगा. उन्होंने मुझसे बातें की और बोले- मेरा नाम जुनैद है, मैं तुम्हारे घर के पास वाले घर में ही रहता हूँ. और जब तक कुछ समझ पाता … तब तक भाभी ने मेरे लंड पे हाथ रख दिया और उसे ऊपर से ही सहलाने लगी.

चूंकि अभी तक संजना की सील पैक थी इसलिए शायद चुत चुदाई का कार्यक्रम कहीं और होना तय था. फिर हम दोनों ने जल्दी से कपड़े पहने लेकिन हमारे कपड़े पहनने से पहले ज़ीनिया की मां आ गईं और उन्होंने हमें नंगा देख लिया. मेरी यह कहानी मेरे और मेरे घर के सामने वाली दूकान वाली महिला की है.

उन्होंने अपनी हथेली पर थूका, उस थूक से अपनी ऊँगली गीली की और मेरी बुर में चलाने लगे. एक दिन मैंने रात में संजना का मोबाइल चैक किया, तो उसमें इन दोनों की बहुत गर्म बात हो चुकी थी.

उन्होंने मेरे हाथों को छोड़ दिया और मैंने अपने हाथों से उनकी कमर को पकड़ लिया.

ये उसकी मनोकामना थी या भीड़ में विवशता … इस बारे में मैं कुछ नहीं कह सकती थी. बीएफ मुसलमानी वीडियोउनकी शर्ट् से निकलते छाती के काले बाल और उसकी खुश्बू मुझको नशा सी चढ़ाने लगी. कैटरीना कैफ बीएफ सेक्सऐसा दस मिनट तक होने के बाद राजू ने मेरी बीवी के मुँह में पानी छोड़ दिया. मैं एक प्राइवेट कर्मचारी हूँ और अपने परिवार से दूर उत्तर प्रदेश के ही दूसरे शहर मुरादाबाद में रह कर नौकरी करता हूं.

मैं ज्यादा ड्रिंक नहीं करता हूँ और जब साथ में लड़की हो, तो और ज्यादा सावधानी बरतनी पड़ती है इसीलिए मैं सबका साथ देते हुए धीरे धीरे पी रहा था और कोमल के साथ बहुत फ़्लर्ट कर रहा था.

अभी जब मैं पानी पीने उठा था … तो तेरा पेटीकोट हवा से तेरी कमर तक आ गया था. लेकिन अमिता आज उस दर्द से गुजरने वाली थी जिसका उसे अंदाजा भी नहीं था. बीवी ने अपने बैग से लिपस्टिक निकाली और अपने चुसे हुए होंठों पर लाली लगा कर मेरे सामने अपनी गांड मटकाती हुई बाहर के लिए चल दी.

मौसी धीरे से बोलीं- कितना सारा था रे ऋषि … कब से सम्भाल के रखा था!मैंने कहा- आपको देख कर कुछ ज्यादा ही उत्तेजित हो गया था मौसी. दोस्तो, मेरी ये सिस्टर की गांड की कहानी आपको कैसी लगी … प्लीज़ मेल करना न भूलें. मॉम के चूतड़ पूरे हिल रहे थे चलने में … और उस पेंटी ने उनकी सिर्फ बीच की दरार को ही ढक पाया था जिससे उनके पूरे चूतड़ दिख रहे थे.

सेक्सी नंगी कांड

दीदी बोलीं- क्या हुआ मेरे विक्की बाबू को?तब विक्की बोला- कुछ नहीं भाभी. मुझे ऐसा लग रहा था कि अर्शिया अपनी जांघों से मेरे लंड की मुठ मार रही हो. तभी अचानक से बूंदा-बांदी शुरू हो गयी और देखते ही देखते बारिश तेज़ हो गयी और हम दोनों भीगने लगे.

उसकी बात पर मैं कुछ कह पाता कि वो उठ कर अपने घरवालों के साथ चला गया.

इंडियन मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे दोस्तों ने घर की एक नौकरानी की चुदाई की.

ये वही सुखद अनुभव होता है, जब आप महिलाओं की भीड़ में खड़ी हों और कोई आकर सिर्फ आपको चुने. मेरी तेज तेज हांफी चल रही थी और मेरी चूत में हल्का सा दर्द भी हो रहा था. व्हिडीओ हिंदी बीएफवो सुंदर तो थी ही और जब बन-ठन कर निकलती थी तो लोग उसे देख कर आहें भरते थे, जिससे उसको बड़ा सुकून मिलता था.

इसके बाद अब हमें जब भी मौका मिलता था, हम दोनों पति पत्नी की तरह रहते थे. चुदाई का मजा किरकिरा हो गया था … तो हम दोनों ने भी कपड़े पहने और मैं सुनीता के घर से चला गया. डर्टी सेक्स विद वर्जिन गर्ल स्टोरी के पिछले भागजवान लौंडिया से सेक्स की गर्म दास्तानमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने निशा की सफ़ेद गीली हो चुकी चड्डी के ऊपर से ही उसकी चुत पर अपने होंठ रख दिए.

लेकिन उस दिन सुबह से ही मैंने अपनी तबीयत खराब होने का नाटक कर लिया और मम्मी मान गईं. मैं- हां मेरे डॉक्टर साहब … मैं भी लंड के लिए तड़प गयी हूँ … लो मेरी चुत में अपना पूरा लंड पेल दो.

मेरे ही अचानक से किए इस हमले से मैम हड़बड़ा गयीं … लेकिन खुद पर कंट्रोल करती हुई मुझे अलग करने की नाकाम कोशिश करने लगीं.

चीटिंग गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी उस लड़की की चुदाई की है जिसे मैं प्यार करता था मगर उसने मुझसे सेक्स नही किया, धोखा दिया. मैंने एक सिगरेट सुलगाई और मुंतजिर की भरी हुई मादक चुचियों का अहसास करने लगा. वो मेरी बीवी को हंसते हुए देख कर बोला- मज़ा तो अभी बाकी है, आज मैं दूल्हा ना होता, तो मैं ही सारा मजा ले लेता.

हिंदी बीएफ चोदा चोदी वीडियो सुमोना तो एक कोने में पड़कर सो चुकी थी और अंजुमन मेरे शरीर से चिपककर मुझे चूम रही थी. फिर अचानक उसने अपना पैर मेरे ऊपर से हटा लिया।मुझे लगा कि उसका माल निकल गया.

उसके बाद एक बार आंटी कीछोटी बहनउनके यहां कुछ दिन रहने को आई थीं तो आंटी ने अपनी बहन की चुत भी मुझे दिलाई. मेरा सीना भी बहुत दुख रहा था और साथ ही मेरे गांड में भी एक अजीब सा दर्द स्टार्ट हो चुका था. बत्तीस साल की उम्र तक शादी नहीं हुई, जब हुई तो महीने भर बाद ही शौहर को छोड़कर लौट आई.

सेक्सी स्टोरी इन हिन्दी

यह बोलते हुए सोढ़ी ने अपनी बीवी को अपनी ओर खींच लिया और उसको अपनी गोद में बिठा लिया. अक्सर ऐसा कहा जाता है कि जब समय बहुत अच्छा चल रहा हो तो वह आने वाले कठिन समय का ही एक हिस्सा होता है. भाभी का फिगर 38-34-40 का था, काफ़ी भरा हुआ बदन, मस्त चाल और मेरे लंड का हाल-बेहाल कर देने वाली उनकी वो अदाएं लंड को हिनहिनाने पर मजबूर कर देती थीं.

मैंने उसकी तरह ही जवाब दे दिया- देरी के लिए खेद है तो अब ये भी बताओ डियर कि ट्रेन कितनी देर से आएगी?वो समझ गया और हंस पड़ा. प्रकाश ने उसे पीछे से जकड़ लिया औऱ रंगोली के भीगते हुए मम्मों को अपने हाथ से मसलने लगा और गले पर किस करने लगा.

सुमोना भी झटके से चुत मरवाने का मजा ले रही थी और अपनी गांड उठा उठा कर झटकों का जवाब दे रही थी.

काफी देर बाद जब मेरा लण्ड थोड़ा शिथिल हुआ तो मैंने बाहर निकाला तो पता चला कि हमने इतनी पहलवानी कर दी कि कॉण्डोम फट गया था. इस सेक्स कहानी में मेरी जीएफ की एंट्री कैसे हुई और हम तीनों ने थ्रीसम सेक्स का मजा लिया. कुछ महीनों पहले उसके घर में डेकोरेशन का काम चल रहा था … तो रघु ने उसको हम लोगों के साथ रहने के लिए कहा.

मैंने पूछा- अच्छा आप बियर पीकर अपना दुःख भुलाना चाहती हैं?भाभी ने हां में सर हिलाया. तब मैंने उसको उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया और चोदने लगा. मैं इतनी मस्त माल हो गई थी कि सारे टीचर्स के लंड खड़े हो जाते थे और उनकी आंखों में भरी वासना को देख कर मुझे बड़ा मजा आता था.

मैडम छत पर कभी कपड़े सुखाने आती थीं, तो कभी धूप लेने, कभी कुछ सामान सुखाने के लिए आ जाती थीं.

बीएफ सेक्सी चोदा वाला: परन्तु वहां जो लेडी डाक्टर थी वो छुट्टी पर चली गई थी। पता चला कि वो 1 माह तक नहीं आने वाली थी।फिर मुझे किसी ने बताया कि आप डॉ राज शर्मा को दिखा दीजिए, वो बहुत बढ़िया डॉक्टर है।जैसे ही मैं डॉक्टर के पास गई, वो मुझे घूरकर देखते हुए बोले- क्या प्रोब्लम है?मैंने अपनी प्रोब्लम बताई. मैंने सिद्धार्थ से बात करके तय कर लिया था कि हम दोनों को ये राउंड हारना ही है.

जैसे ही मैंने भाभी के आंसू देखे, तो रुक गया और कहा- आपने मुझे बताया क्यों नहीं कि इतना ज्यादा दर्द हो सकता है. दीदी के मुंह से जोर की चीख निकलती, इससे पहले मैंने उनके होंठों को जोरों से जकड़ा और चूसने लगा. मेरा लंड शीना भाभी की चूत की गहराई में उतरकर उसकी चूत को रगड़ रगड़ कर चोदना चाह रहा था.

मैंने करीब 10 मिनट बाद जब उसने अपना हाथ लंड से हटा कर मेरा लोअर नीचे सरकाया, तो मेरा लंड तुरन्त बाहर निकल आया.

उसके मुँह से बहुत ही कामुक सिसकारियां निकलने लगी थीं- हहाईई … मउम्मीईईई. मैंने चुत में लंड के झटके मारना शुरू कर दिए और उसकी चूचियों को मसलने लगा. क्योंकि मेरी चुत का छेद बिल्कुल छोटा सा था और अंकल जी लंड गधे जैसा हब्शी लंड था.