हिंदी बीएफ 18 साल लड़की

छवि स्रोत,செக்ஸ்படம் ஆன்ட்டி வீடியோ

तस्वीर का शीर्षक ,

सुबह सुबह एड़ी में दर्द: हिंदी बीएफ 18 साल लड़की, मैं उनकी पूरी बॉडी को चूम रहा था और वो कामुक सिसकारियां ले रही थीं- आह … उम्म!उनकी मादक आवाजें मुझे और ज्यादा उत्तेजित कर रही थीं.

चूत चुदाई पिक्चर

फिर बात को संभालते हुए प्रिंस ने कहा- अरे यार मैं तो मज़ाक कर रहा था, जिसे मर्ज़ी तुम उसे दो, हमें मत देना. সেক্সি সেক্সি বিএফथोड़ी देर में मुझे महसूस हुआ कि शेखर के हाथ मेरे स्तनों तक पहुँच गए हैं; शेखर बड़े ही प्यार से मेरे स्तन सहला रहा था.

उसने मेरी शर्ट को खोला और जल्दी जल्दी से मेरी बेल्ट को खोल कर मेरी पैंट की जिप को खोलने लगी. भाभी की देसी चुदाईअब आगे सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई:मैंने लंड को चूत से बाहर निकाला और चाची के हाथों को खोल कर उनको बेड पर सीधा लेटा दिया और उनकी टांगों को ऊपर उठा कर फैला कर उनकी चूत का रस पान करने में जुट गया.

वो इतनी हॉट लग रही थी कि मेरे लंड महाराज अपनी औकात से बाहर होने लगे थे.हिंदी बीएफ 18 साल लड़की: मगर क्या वो अपनी सेक्स की आग बुझाने के लिए ऐसा करती है या पैसों के लिए ऐसा करती है.

तुम लोगों से मिलने के बाद लगता है की अब हमारी दोनों इच्छाएं पूरी हो जाएंगी.कुछ देर तक मैं पान खाती रही और आलिम साहब मुझे देखकर मुस्कुराते रहे.

गर्ल्स मसाज - हिंदी बीएफ 18 साल लड़की

इसी बेचैनी में मुझे ध्यान नहीं रहा और एक बड़ा स्पीड ब्रेकर आगे आ गया.मैं वहीं रुका रहा और उसे बुर में उंगली करते देख कर खुद को भी नहीं रोक पाया.

उसने मुझे धक्का दिया और एक पैर मेरे कंधे पर रख दिया, जिससे उसका स्कर्ट थोड़ा ऊपर को हो गया. हिंदी बीएफ 18 साल लड़की मैंने उसकी स्कर्ट के अन्दर से ही एक हाथ, जो उसके चूतड़ों को मसल रहा था, उसकी एक उंगली से उसकी चूत को स्पर्श किया.

उन्होंने मुझे देखते ही खुश होते हुए कहा- मैंने ही तुम्हें यहां बुलाया है.

हिंदी बीएफ 18 साल लड़की?

उसकी मांसल जांघें, उसका भरा पूरा बदन देखकर मैं एकदम पागल हो गया और अपनी शर्ट को निकाल फेंक मैं कमरे में घुसा, कुंडी लगाई और सीधा रम्भा के ऊपर चढ़ गया।अब रंडी रम्भा मेरे शरीर के नीचे थी, उसके बदन की गर्मी को मैं अपने बदन पर पास महसूस कर सकता था।मैंने रम्भा को बेतहाशा चूमना शुरू किया. उसने मुझे कंडोम भी दे दिया और कहा कि ऐसे दिखाना कि उन्हीं के लिए लिया है. अब हम दोनों बस खो गए थे मानो जन्मों की प्यास बस होंठों से ही बुझेगी.

इतना सुनते ही उसने कहा- नहीं बिल्कुल नहीं, मैं नहीं खेलती, ऐसे सिंपल खेलना है तो खेल … नहीं तो रहने दे. मुझे भाभी को चोदने का मौका एक दिन अनायास ही मिल गया, जब एक दिन मैं मित्र के घर गया था. सोनी बहुत उत्तेजित था, उसने अपना लंड नीना की प्यारी चूत में डालना शुरू किया.

क्या कोमल मेरे साथ सात जन्मों का साथ देने को तैयार हो?आज से मेरा सब कुछ तुम्हारा. मैंने कहा- पर मैं बाहर ही रस निकाल दूँगा … और वैसे भी एक बार में कुछ नहीं होता है. वो पूरी ताकत से धक्के मारते थे और मेरे बदन के सारे पुर्जे हिला डालते थे.

नीना, तापोश अपने दोस्त के फार्म हाउस जाते और दिन भर ग्रीन हाउस में सब्जी उगाना सीखते. एक बार हुआ यूँ कि मेरे साथ रहने वाले दोस्त की चाची और मेरी मामी जोधपुर वाले रूम पर आई थीं.

चाची बोलीं- मैं भी तुझे पसन्द करती हूँ राकेश … जब से ससुराल आई हूँ तबसे मैं तेरे साथ ही चुदने की सोच रही हूँ.

मैंने चाची के पैरों की उंगलियों को चूसा और ऊपर आते हुए उनकी टांगों को चूसा और चाटा.

फिर उसने कहा- मेरे घुटने दर्द कर रहे हैं जान … मैं अब नीचे लेट जाती हूँ. मम्मी ने मेरे मुँह को अपने बूब्स के बीच दबा कर मुझे हग किया, फिर लिप किस करने के बाद बोलीं- चल अब जल्दी से नाश्ता कर ले. मेरा नाम राज है और मेरी पत्नी का नाम वंदना है।मैं 40 साल का हूं और वह 36 साल की है।हम दिल्ली में रहते हैं।यह वाइफ चीटिंग सेक्स कहानी मेरी अपनी पत्नी की है.

मैंने उससे कहा- जान अपनी पत्नी की चूत नहीं पियोगे?इतना सुनते ही उसने मेरे पैर ऊपर उठा कर चौड़ा दिए और मेरी चूत पीने लगा. आंटी- आह जान अब रुकना मत, मैं इस चुदाई से पागल हो रही हूं … मुझे जोर जोर से चोदो … आह मुझे चोदो. यह कहकर मैंने आयशा को फिर से इशारा किया तो अबकी बार आयशा 4 मोमबत्ती ले आयी.

जब भी वह मुझे भोजन के साथ भोजन परोसने के लिए झुकती थी, वह मुझे अपने मदमस्त स्तनों का एक दृश्य भी परोस दे रही थी.

फिर कोमल रोड पर लाकर मुझसे बोली- अब जहां मुझे ले जाने वाले थे, वहीं ले चलो. वो मेरे बाजू में आईं और बोलीं- अभी तक कितनी लड़कियों के साथ सेक्स किया है?उनके इस सीधे से सवाल से पहले तो मैं सकपका गया. Xxx गांड पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि मैं लड़की बनकर अपनी गांड मरवा कर सुहागरात मनाना चाहता था.

चूंकि हमारी बड़ी फैमिली है, सबके साथ में हल्का सा भी शोर होने पर मेरी पिटाई होने की पूरी गुंजाईश थी. ब्रा में कैद मेरी मोटी चूचियां एकदम तनाव में आ गई थीं जो ब्रा को फाड़कर बाहर आने को बेताब हो रही थीं. मम्मी मेरी पैंट में हाथ डालकर लंड को सहलाने लगीं और मैं उनके बूब्स को चूसने लगा.

सुरेंद्र जी ने मेरे एक दूध को सहलाते हुए अपने दूसरे हाथ से पैंटी की डोरी खींच दी.

चाची अन्दर जाने लगीं और मैं पीछे से उनकी ठुमकती गांड को निहारने लगा. मैंने उसकी गांड पर बहुत सारा थूक डाला और उंगली से धीरे-धीरे उसकी गांड को ढीली करने लगा.

हिंदी बीएफ 18 साल लड़की मैंने कहा- कैसी हरकत?भैया हंस कर बोले- जैसी गाली दी, साला वैसी ही हरकत कर रहा था. अभी जैसे ही मैं बाथरूम में घुसता, मुझे मां की सिसकारियां सुनाई दीं.

हिंदी बीएफ 18 साल लड़की मैं थोड़ी देर रुका रहा फिर मैंने हल्के से मम्मी के दोनों बूब्स बाहर किए और उन्हें हल्के से दबा कर चूसना शुरू कर दिया. मैं निशा के चक्कर में लग गया कि अगर निशा से मेरा जुगाड़ फिट हो जाए, तो घर में ही मौज रहेगी.

लंड बड़े आराम से चूत के अन्दर चला गया और बुआ की बड़ी बड़ी चूचियां मेरे मुँह में लगने लगीं.

हिंदी सेक्सी मोटी लड़की

आंटी अपने घुटनों पर बैठीं और धीरे से मेरे शार्ट्स और चड्डी उतारकर अलग कर दिया. तूने आज मेरी बहुत ज़बरदस्त ठुकाई की है … तेरी इस ख़तरनाक ठुकाई ने तो मेरी चूत की हालत ख़राब कर दी है और जो तूने आज मेरी गांड की सील तोड़ चुदाई की है, उसमें मुझे बहुत मज़ा आया. लेकिन फिर भी मैं कॉपी में लिखने का नाटक करने लगा लेकिन मेरा ध्यान उनकी तरफ ही था।अब मैडम ने मम्मी को बांहों में भर रखा था और उन दोनों के स्तन आपस में टच हो रहे थे.

मैं अन्तर्वासना और फ्री सेक्स स्टोरी डॉट कॉम की एक नियमित पाठिका हूँ. सुबह मैंने उसे दर्द की और गर्भ निरोधक दवा लाकर दे दी और फिर से चोद दिया. निशा ने मेरी बात सुनकर मुझसे नजरें हटा दीं और वो उन दोनों को देखने लगी.

फिर जब थोड़े टाइम बाद दोबारा देखा तो फिर से उस कपल की मेल आई हुई थी.

मैं आपको बता दूँ कि ये मेरी पहली सेक्स कहानी है तो कोई गलती होना लाजिमी है तो माफ़ कर दीजिएगा. बाकी लड़कों को यही लग रहा था कि अब उनके साथ भी ऐसा होने वाला है, तो उस चीज़ का खौफ उनके चेहरे पर साफ़ नज़र आ रहा था. तू जा, मैं कपड़े बदलकर बाहर ही रख दूंगी और तेरे कमरे‌ में बैठी हूं.

मैंने उससे कहा- एक बात कहूँ, बुरा तो नहीं मानोगी?उसने कहा- एक क्या दो बात कहो और बिंदास कहो. आंटी रोज आकर देखती थी कि यह सफेद सफेद क्या हुआ है कपड़ों में!उन्हें क्या मालूम कि मैं मुठ मारा करता था और उनके कपड़ों में अपना सारा माल छोड़ देता था।रोज रात को मैं सोते हुए उन्हें बस चोदने का सपना देखता रहता था. दो तीन बार धीरे धीरे करने के बाद जब दो तीन जोर के शॉट मारे तो मम्मी चिल्ला पड़ीं.

यह मेरी जिंदगी का वो एक महीना था जिसने मुझे पूरी तरह से बदल कर रख दिया. साथ ही दूसरा वाला दूध अपने हाथ में भर कर ऐसे मसल रहा था मानो जैसे वो पके हुए आम हों और उनमें से रस निकलने वाला हो.

उसकी गर्म गर्म आहें मुझे और ज्यादा सेक्स का नशा चढ़ा रही थीं और मैं और जोर जोर से उसका दूध पीने का मजा ले रहा था. मैं हर रोज ऑफिस जाता तो उसकी शॉप को देखता और हमेशा माधुरी को सोच कर अपने तने हुए लंड का लावा निकाल कर लंड को शांत कर लेता. रचना- मैं भी आपने अपनी चूत मरवाने के लिए पागल हुई जा रही हूँ विकास.

मेरे वालिद मुझे उधर नहीं छोड़ना चाहते थे लेकिन मेरी जान बचाने के लिए बेचारे मान गए.

कोई क्या कहेगा?तब मैंने उनको अन्तर्वासना की चाची भतीजे की चुदाई वाली कहानियां भी पढ़ने को दीं. मैंने कहा- कोई बात नहीं, आज पहली और आखिरी बार थोड़ी ही हम मिलने वाले हैं. मेरा अनुमान सही था कि भाभी ने नाइटी के अन्दर कुछ भी नहीं पहना हुआ था.

अब मैं बिस्तर पर लेटी थी तो जलालुद्दीन साहब मेरे ऊपर चढ़ गए और मेरी चूत में अपना लण्ड घुसा कर एक बार फिर धक्के मारने लगे. फिर करीब एक महीने बाद और उससे काफी बार लंड चुसवाने के बाद मुझे उसे चोदने का मौका मिला.

फिर उसने हंसते हुए कहा- मुझे नींद में पैर चलाने का आदत है, अगर लग जाए तो बुरा मत मानना. जब चाचा चाची मूवी देखने चले गए तो मैं उसके पास आ गया और उससे उसकी पुरानी बातें करने लगा. मेरा लंड चुदाई में काफी देर तक चलता है इसलिए बुआ को मेरे साथ चुदाई में काफी मजा आता है.

गांव की सेक्सी आदिवासी

उसकी चूत से उसका बहुत सारा रज रुक रुक कर अन्दर से बहता हुआ मेरे होंठों के नीचे मेरी ठुड्डी से मेरे गले तक बह रहा था.

फिर वो उठकर शीशे के सामने खड़ी होकर अपने बाल सुखाने लगीं और इधर उनको देखकर मेरी हालत खराब होने‌ लगी थी. मेरे अन्दर गिरता हुआ उसका वीर्य मुझे हारून की बीवी होने अहसास दिला रहा था. जब मेरी बीवी अपनी भतीजी द्वारा मुझसे चुदते हुए पकड़ी गयी थी, तब उसने सारे कपड़े पहन रखे थे.

तभी उसने मुझे बहुत ज़ोर से हग किया और मेरे कान को हल्के-हल्के से काटती हुई चूमने लगी. जैसा कि आप‌ लोग जानते ही होंगे कि शादी ना होने पर भी आपके शरीर की यौन आवश्यकताएं तो पूरी करनी ही पड़ती हैं और जब वो ना पूरी ना हो रही हों, तो खुद से ही उन्हें शांत करना पड़ता है. नौकर और मालकिन की सेक्सी वीडियोशाम 7 बजे तमन्ना का मुझे मैसेज आया कि उसके भाई भी शादी में शामिल होने जा रहे हैं, क्या आप मेरे घर आ सकते हैं.

आज तुम दोनों ने मेरी ये इच्छा भी पूरी कर दी।ये बोल कर अंजलि अपनी आंखें बंद कर के लेट गई।तो ये थी मेरी पाठिका की इच्छा हुई पूरी कहानी।आप सबको मेरी सेक्सी भाभी वांट फक़ कहानी कैसी लगी?प्लीज मुझे मेल और कमेंट्स में जरूर बताएं।[emailprotected]. ठंडे आइसक्यूब से टच होते हुए कोमल के चूचे मुझे बहुत आकर्षक लग रहे थे.

मैंने चाची को उठाकर 69 में कर लिया और अब उनके मुँह में लौड़ा घुसा दिया. मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि जिसके लिए मैंने सब कुछ किया, वो आज मेरी बांहों में समाई हुई है. मैं साथ में बने बाथरूम में जाकर अपने चेहरे पर आंटी की लिपस्टिक के दाग छुटाने लगा.

मेरी पिछली कहानीअल्हड़ लड़की के साथ कामक्रीड़ा का तूफानमें आपने पढ़ा कि कैसे दारू के सुरूर मैंने और पिंकू ने तूफानी सेक्स का टीन पोर्न का आनंद लिया. मैंने पलट कर देखा तो ये वही लड़की थी जो मेरे तम्बू पर नजर लगाए हुए थी. मुझे सोते समय नंगे होकर सोने की आदत है तो मैंने अपना अंडरवियर निकाल दिया था.

मैं बोली- जान, पानी जब निकालना हो तब निकालना लेकिन गांड में मत निकालना.

मैं भी पूरी ताकत से झटके दे दे कर चुदाई करवा रही थी पर मुझे कहीं न कहीं यह डर था कि अमन मुझे बिना कंडोम के चोद रहा था. पैंट की जिप खोलते हुए माधुरी ने कहा- देखो बेचारा कब से इस छोटी सी अंडरवियर में कैद पड़ा है.

फिर हम दोनों नीचे आ गए।सेक्स अग्रीमेंट कहानी पर अपने विचार अवश्य बताएं. मैंने कहा- हां मेरी जान तू डर मत, बस अब तू मेरा लंड अपनी कसी हुए गांड में महसूस कर और मजा ले. फिर मैंने जैसे ही चूत को चूमा, आंटी की आह निकल गयी और वो मुझसे रिक्वेस्ट करती हुई बोलीं- विन्नी प्लीज़, अभी ज्यादा न सताओ … जल्दी से अन्दर डाल दो.

बापू भी मस्ती से काकी ब्लाउज के बटन खोल चुके थे और बिना ब्रा की काकी की भरी हुई नारंगियों को मसकने मसलने का मजा ले रहे थे. अब मेरे दिमाग में मामी की ब्रा पैंटी ही घुस गई थी और मैं मौका मिलते ही उनकी ब्रा पैंटी खोजने लगता था. ऐसे ही पहले एक हफ्ता गुजरा, फिर एक महीना लेकिन उसने कभी मुझे गलत निगाह से नहीं देखा.

हिंदी बीएफ 18 साल लड़की हम सबने उसी दिन तय कर लिया था कि आज तुम सबको वही मज़ा दिया जाए, जो गांड मरवाने में हमें आता है. आप मुझे मेल करें कि आपको इस देसी गर्ल बर्थडे सेक्स कहानी पर क्या कहना है.

सेक्सी वीडियोस देहाती

मैंने जोर से उसका सर नीचे तकिया पर पटका क्योंकि उसकी चीख से कोई और आ सकता था. सोनी से मुझको प्यार और अपनापन मिला था, यौन का भी मन भरकर आनन्द आता था. बारिश का मौसम आ गया था, जिस वजह से छात्रों को इन्तजार करने में भी काफी दिक्कत होने लगी थी.

अब मेरा लंड फूल मूड में आ चुका था और डिंपी की गांड के मजे ले रहा था. मैंने भाभी की चूत के दाने को अंगूठे से मसलते हुए अपनी मिडिल फिंगर को चूत में डाल दिया. सेक्स वीडियो देसीथोड़ी देर बाद चाची ने कहा- जरा मेरा फोन देखना, क्या बात हो गई है, इसमें नेट नहीं चल रहा है.

अपने इस मजे में हम दोनों भूल गए थे कि बगल के बेड पर उनका बेटा सोया है.

कुछ पल लंड को चूत पर रगड़ने के बाद मैंने उसे कमर से पकड़ा और एक झटका लगा दिया. अब मेरा लंड फूल मूड में आ चुका था और डिंपी की गांड के मजे ले रहा था.

मैं पिछले कई सालों से इस साइट से कामुक कहानियों को पढ़ कर मजे लेता रहा हूँ, जो मुझे बहुत ही आनन्द देती हैं. थोड़ी देर बाद चाची का दर्द थोड़ा शांत हुआ तो वो फिर बोलीं कि सागर थोड़ा और अन्दर डालो. मैं थोड़ी देर के लिए चौंक गया और मेरा दाहिना हाथ लगभग कांपने सा लगा था.

जिस लड़की को मैं बहन की नजर से देखता था, उसे अब हवस की नजरों से देखने लगा था.

इस बात में कोई शक नहीं कि सविता अविश्वसनीय रूप से सेक्सी है। उसका फिगर लाजवाब है. हुआ यूं कि हल्की सर्दी के दिन थे, एक दिन मम्मी और दादी ऊपर छत पर थीं. मैंने चाची को आगे से आकर उनको अपनी बांहों में भर लिया और कहा- चाचा से कुछ हुआ ही नहीं आपका?चाची- वो कहां कुछ कर पाता है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो ब्लू सेक्सीअपनी गांड के दर्द को नजरअंदाज करती हुई मैं उठी और रोती हुई कमरे के एक कोने में जाकर बैठ गई. उसकी टी-शर्ट उतारते ही उसकी सेब के आकार की गोल गोल छोटी छोटी चूचियां बाहर आ गईं.

सेक्सी वीडियो औरत का सेक्सी

एक में अम्मी अब्बू सोते हैं और दूसरे में मैं और मेरी आपा, हम दोनों साथ में सोते हैं. वो मेरे कान में बोली- मेरी चूत में पूरी उंगलियां पेल डालो और जोर जोर से चोदो मेरी चूत को. उन्होंने मेरे बाल पकड़ कर मुझे ऊपर खींच लिया- अब नहीं रुका जाता, इससे पहले मैं तड़प कर मर जाऊं, मुझे चोदो मेरी जान … फाड़ दो मेरे छेद को.

वो इठला कर बोली- मैं यहां रुक गयी तो मेरी इज़्जत ख़तरे में आ सकती है. मैंने भी धीरे धीरे अपना लंड अन्दर डाल दिया, जिससे आंटी के चेहरे पर थोड़ा सा दर्द और हल्के से मज़े के भाव आ गए. उसके तने हुए बड़े बड़े बूब्स, छोटी सी चूत देख कर मैं पागल हो रहा था.

मैं अपने अनुभव से कह रहा हूँ कि मुझे चूत को चूसना बहुत ज्यादा पसंद है. अब वो अपने लंड को मेरी बुर की गहराई तक पूरी जोश से पेल कर वर्जिन सिस्टर Xxx मजा लेने लगा. पर उसने मेरे बाल जोर से खींच कर मेरा मुंह खोला और अपना बदबूदार लंड मेरे मुंह में ठूंस दिया.

ये कॉलेज गर्ल बट्ट सेक्स स्टोरी एक साल पहले उस वक्त की है जब मैं सेकंड इयर में था. और अविनाश भी रूपा के मुंह में ही झड़ गया, वह भी मस्ती से लण्ड पीने लगी।बरसात में लण्ड पीने का मज़ा कुछ ज्यादा ही होता है।मैंने कहा- यार रूपा, आखिरकार तुमने मेरी इच्छा पूरी कर ही दी। मैं दोनों लण्ड पी कर मस्त हो गयी।रूपा बोली- हां यार, आज मुझे भी अहसास हुआ कि बरसात में लण्ड पीने का क्या मज़ा होता है.

कुछ देर तक घिसने के बाद उन्होंने धीरे धीरे जोर लगाया और लण्ड मेरी गांड के अंदर दबाने लगे.

हालांकि मैंने ज्यादा देर नहीं करते हुए चूत से मुँह हटाया और अपने लंड पर कंडोम लगा लिया. देसी सेक्सी एक्स एक्स एक्समाधुरी कुर्सी से उठ कर काउंटर पर आक़र खड़ी हो गयी और थोड़ा आगे की तरफ झुक कर खड़ी होक़र मेरी तरफ देखने लगी. सेक्सी वीडियो नंगी चोदने वालीइस बात से मुझे ये कॉन्फिडेंस आया कि मैं किसी भी औरत को भरपूर शारीरिक सुख दे सकता हूँ और उसकी प्यास बुझा सकता हूँ. अब चाची के मुँह से मस्त आवाज़ें निकल रही थीं- आआहह आह ओह … मजा आ गया.

मैं एक चूची को मुँह में लेकर किस कर रहा था और वो पैंट के ऊपर से मेरा लौड़ा पकड़ रही थी.

वो हंसने लगा और बोला- मेरी बात मान ले, तेरा काम पक्के में हो जाएगा. मैंने बर्फ से नीना की गांड की सिकाई की और उसकी गांड में अन्दर तक बोरोलीन लगा दी. जिससे मुझे अपनी चूत का भोसड़ा बनवाना है, वो तो साला बस मुझे देख कर ही मुठ मार लेता है.

उसे मालूम ही नहीं चला कि उसका एक हाथ उसकी चूत के ऊपर जा चुका है और वह उसे मसल रही थी. बुआ मेरा लंड पकड़कर सहलाने लगीं और बोलीं- हां, वहां हमें अलग अलग सोना पड़ेगा. जंगल की इस शांति में बस मेरी आहें गूँज रही थी और साथ में शेखर के धक्कों के साथ साथ फट्ट फट्ट की आवाजें गूँज रही थीं.

हॉट वीडियो सेक्सी में

उसको देख कर तो किसी भी बुड्ढे का पानी निकल जाए … तो हम क्या चीज हैं. यदि भाभी सैट हो गई तो ठीक है नहीं तो अपने भैया से कह कर मेरे लिए उसकी बीवी की बात करना. उसके बाद उसके होंठ मेरे पेट से होते हुए नाभि से होकर नीचे मेरी पैंटी तक जा पहुंचे.

नीना बोली- रवि और सोनी तुम लोगों के बारे में तापोश से इतना सुना है कि लगता है तुम लोगों को बरसों से जानती हूँ.

अब जहां कोमल ने पायल बांधी हुई थी, वहां उसे किस करता हुआ लगातार ऊपर को आता गया.

अब बुआ के मुँह में मेरा लंड जा चुका था और वो माहिर रांड की तरह लंड को जबरदस्त चूसने लगीं. मैंने उससे कहा- प्लीज तुम जो बोलोगी, मैं वो करूंगा … बस तुम नाराज मत होना और हमारी दोस्ती मत तोड़ देना. भाभी सेक्सी चुदाईमोहल्ले के सभी लड़के उसको पटाने के कोई न कोई बहाना ढूंढा करते हैं।वो मेरी चचेरी बहन है तो मेरा उसके घर आना जाना लगा रहता है.

पर मैंने सौतेली मां के बारे में मैंने कभी कोई गलत बात मन में भी आने नहीं दी थी. इस तरह बहुत लोगों ने मुझे मेल किया और मुझसे कहा कि आप अपनी जिंदगी की कोई ऐसी चुदाई कहानी बताइए, जो अभी अभी हुई हो. बाद में वो मेरी गांड से लंड हटा कर अलग हुआ, तब मैंने देखा कि मेरी गांड से खून निकल रहा था.

इतना कहकर उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- गर्लफ्रेंड तो थी पर वह अपनी आगे की पढ़ाई करने दिल्ली चली गई. उस वक्त मेरी बहुत फट गयी थी क्योंकि अब मैं अकेला ही उसकी लेडीज आइटम वाली शॉप पर था, तो कहीं वो अपने पति को न बुला ले.

चाची अपनी गांड आगे पीछे करके मस्ती से आह आह करके गांड चुदाई का पूरा मज़ा ले रही थीं.

उन्होंने मेरे एक नीम्बू को मसलना शुरू किया और दूसरे नीम्बू के निप्पल को चूसना शुरू कर दिया. उसकी चूत पे बाल थे।अब मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर फांक के पास अपनी उंगलियाँ फेरने लगा. अन्दर जाते ही उसने मुझे अपने गले से लगा लिया और एक टाइट सा हग किया.

सनी लियोन की हॉट वीडियो उस दिन करीब 3 बजे के आस पास भाभी का फोन आया कि आज उन्हें नॉन वेज खाने का मन कर रहा है. मैंने चाय की ट्रे कमरे के बाहर ही रखी और सोचा कि‌ लाओ कपड़े डालकर मशीन चला‌ देता हूं‌ … और फिर आराम से बैठकर मैं और आंटी चाय पियेंगे.

हाथ से कपड़े धोने की वजह से उसके बूब्स भी काफ़ी हिल रहे थे और उसके कपड़े गीले होने की वजह से उसके बूब्स सही आकार में दिख रहे थे. मन में ये आ रहा था कि यार आंटी‌ मुझसे बहुत बड़ी हैं और मेरी मम्मी की सहेली हैं, इनके बारे में मुझे ये सब नहीं सोचना चाहिए. जब मेरी बीवी अपनी भतीजी द्वारा मुझसे चुदते हुए पकड़ी गयी थी, तब उसने सारे कपड़े पहन रखे थे.

सेक्सी नौटंकी वीडियो

एक दिन जब तुम बाइक पर बारिश में भीगती हुई अपनी शॉप पर आयी थीं, तो मैं अपने ऑफिस की खिड़की से तुम्हें ही देख रहा था. वो कुछ नहीं बोली, बस अपने हाथ से अपने दूध को मेरे मुँह में देती रही. लंड चूसते हुए भाभी ने कहा- क्या जादू है तेरे लौड़े में … मैंने आज तक अपने पति का लंड अपने मुँह में नहीं लिया था.

मैंने शरमाते हुए अपने हाथ खींच लिए तो जीजू ने मुझे अपनी बाँहों में जकड़ लिया. उसका नाम कोमल था, जो मुझे उसके किसी से फ़ोन पर बात करने के दौरान मालूम चला था.

मैं थोड़ा हट्टा-कट्टा पहलवान टाइप का हूँ और साथ ही साथ मैं थोड़ा सांवला भी हूँ, इसलिए शायद लड़कियां मुझे पसंद नहीं करती थीं क्योंकि लड़कियों को सिर्फ सिर्फ गोरे-चिट्टे और हैंडसम लड़के ही पसंद आते हैं.

अपने लंड को पूरा उनकी चूत में खाली करके मैंने उसे बाहर निकाला तथा देर तक हम-दोनों ऐसे ही एक दूसरे से लिपटे पड़े रहे. मैं उसका लंड मुंह से निकालने लगी तो छोटू ने मेरे हाथ पकड़ लिए और जोर जोर से मेरा मुंह चोदने लगा. साथ ही साथ हमारे कामरस की गंध इतनी मदहोश करने वाली थी कि उसने नशे से हम दोनों बेहद आवेश में आ गए थे.

इस पर उन्होंने कहा- कोई बात नहीं!और उनके चेहरे पर एक मुस्कुराहट सी थी. वो बोली- हां तो कॉल कट क्यों कर दी?मैंने कहा- वो तो बस यूं ही, मुझे लगा कि तुम पता नहीं क्या सोचोगी. हॉट माँ Xxx कहानी मेरी मौसी जो मेरी मम्मी बन चुकी थी, उनकी और उनकी बेटी की चूत चुदाई की है.

जब मैं उनके घर पर गया, तो वो मुझसे सामान्य तरीके से बात कर रही थीं.

हिंदी बीएफ 18 साल लड़की: मैंने सोचा कि एक ट्राई मार ही लेते हैं, क्या पता आज ही मुझे चुदाई का मौका मिल जाए. जल्दी ही मैं एक बार उसके मुँह में झड़ भी गया मगर वो सब रस पी गई और लंड को चूसती रही.

उसके नंगे बदन को ऊपर से नीचे देखते हुए मैंने कहा- वॉव यार रचना, तुम्हारा नंगा बदन तो बहुत मस्त है. मैंने पहले भी गांड में कई बड़े बड़े लंड लिए हैं तो मुझे कोई खास दर्द नहीं हुआ मगर मैं मोहित का जोश और ज्यादा बढ़ाना चाहती थी. कोमल के मुँह से ‘आह … आह्ह … ओह्ह …’ की कामुक सिसकारियों की आवाज़ें निकलने लगीं.

कॉलेज कैंपस में मेरा हॉस्टल काफी अन्दर था और मेरा रूम भी एकदम आखिरी में था.

वो घुटी हुई आवाज में मुझे बोलने लगी- प्लीज, ऊंह उन्नह बाहर निकालो … मैं मर जाऊंगी. आपा अपने घुटने पर बैठ गई और उसने जीजू का लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और बड़े प्यार से चूम लिया. मैं कहानी शुरू करने से पहले आपको अपनी फैमिली की बारे में बता देता हूँ.