सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी

छवि स्रोत,గోవా సెక్స్ వీడియోస్

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी देसी सेक्सी ब्लू: सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी, पर भाभी जी मेरे खड़े लंड को चुत में घुसाने का प्रयास करते देख कर समझ गई थीं कि मैं नींद का नाटक कर रहा हूँ.

भाभी देवर भाभी सेक्सी वीडियो

सच बताऊं … तो कमरे में सबसे ज्यादा मेरी ही मादक आवाजें गूंज रही थीं. देहाती सेक्सी नंगी चुदाईमेरे लण्ड का सुपारा अपनी बुर के लबों पर रगड़ते हुए बहार पंजों के बल उचककर बुर के अन्दर लेना चाहती थी.

ब्रेस्ट मिल्क सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी चचेरी बहन की चुदाई करना चाहता था. अनुष्का शेट्टी के सेक्सी फोटोअब आगे भाई बहन की सेक्सी स्टोरी :अफ़रोज़- तो फिर आपा … आज रात का प्रोग्राम पक्का?मैं- चल हट … केवल अपने बारे में ही सोचता है, ये नहीं पूछता कि मेरी हालत कैसी है.

मैंने टाइट कर दी चूत अपनी।वो सिसकारे- ओह्ह रानी … ले … ले ले मेरा लंड आह!उधर से मैं भी चीखी- आह्ह … फट गयी … आह्ह मर गयी.सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी: मैं अगली सेक्स कहानी में आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने उसे और उसकी चाचा की लड़की को एक साथ चोदा था.

फिर भाभी जी खड़ी हुईं और अलमारी से सेलो टेप निकाल कर अपनी चुत को पूरी तरह से कवर करके सो गईं.मैंने जब रिप्लाई दिया- जाग रहा हूँ, बोलो!तो उसने कहा- कल मेरा एग्जाम है और मुझको कुछ दिक्कत हो रही है … वो क्लियर करने के लिए क्या आप अभी मेरे घर आकर मुझे कुछ समझा सकते हैं?मैं थोड़ी देर बाद उसके घर गया, तो घर में सब लोग थे.

अमेरिकन सेक्सी व्हिडिओ ओपन - सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी

इसके बाद मां ने मेरे लंड को अपने हाथों में ले लिया और मसलने लगीं जिससे मुझे सुख की अनभूति होने लगी.ममता चुत से मूत की धार गिराते हुए सोचने लगी कि क्या मैंने भैया से चुदवा कर सही किया … वैसे भैया की बात भी सही है.

कुछ देर बाद मैं झड़ने को आ गया और मैंने मां से कहा- रज्जी, मैं अन्दर झड़ रहा हूँ. सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी आप मुझे मेल के साथ कहानी के नीचे कमेंट्स भी करें कि आपको यह स्टेप मॉम सन सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

जब उसने अपने लंड मेरी चूत से बाहर निकाला, तो मुझे बहुत राहत महसूस हुई.

सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी?

मुझे फ़लक की चूत इतनी पास लगने लगी कि दिल किया कि उसके पास जाऊं और गिरा कर चोद दूँ. बहू सेक्स की कहानी का अगला भाग:मेरी बहू रानी को पुनः भोगने की लालसा- 3. नीचे मेरा कड़क लंड उसकी चूत के पास टक्कर मार रहा था, पर मुझे अभी मिहिका को और गर्म करना था.

जबकि मेरी कामुक नजरें अपनी होने वाली बीवी की मस्त चूत और गांड मारने की कल्पना में ही लगी थीं. मैं अफ़रोज़ के साथ सेक्स करती, तो कुंवारे लंड का मज़ा पहली बार ले सकती थी. मेरे भाई की एक टेलीकॉम की दुकान है, जिस पर कभी-कभी मैं भी भाई के अनुपस्थिति में दुकान पर रहता था.

रात में जब मां सोईं, तो मैंने अपनी चड्डी उतार अपना मुठ मां के दूध पर गिरा कर अपना लंड मां के हाथों में दे दिया और सो गया. तभी किसी ने मुझे हिलाया और आवाज आई- उठ जा राजेश कितने बजे उठेगा … आज स्कूल नहीं जाना क्या तुझे?मैं झटके से उठा और अपने सामने अपनी मॉम को देख कर कुछ सोचने लगा कि मॉम, मैं कितना हसीन सपना देख रहा था. आज रात उसने पहनने के लिए एक फूलदार प्रिंटेड ब्रा-पैंटी सेट चुना।प्रकाश को पकौड़ी बहुत पसंद थीं तो उसने पनीर और प्याज़ की पकौड़ी भी कच्ची करके रख लीं।अनीता ने सेक्स चुदाई और ठुकाई का पूरा माहौल तैयार कर लिया था.

मैं अब उसकी बुर में जाना चाहता था इसलिए मैं सीधा हुआ और उसके चूतड़ उचकाकर दो पिल्लो रख दिये. हमने उनको कैसे पटाया और आगे क्या हुआ, वो मैं आपको मेरी अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा.

फिर मैंने उसे घुमा कर उसके हाथ दीवार पर लगा दिया और अपना लंड पीछे से उसकी चूत में डालने लगा.

फिर जो चुदाई शुरू हुई तो इस बार साढ़े पांच बजे तक बहुत ज़बरदस्त तरीके से शहज़ाद ने मुझे चोदा.

हिना उस लड़के के साथ चैट कर रही थी और वो लड़का हिना को लिख रहा था- मुझसे तो साली नगमा ने कहा है कि हिना की भी मार लो एक बार. अफ़रोज़- अब क्या करना दरवाज़ा बंद करके आपा … तुमने तो सब देख ही लिया है. ममता- बाप रे इतने बड़े चोदू हैं हमारे पिताजी, पर उनके पास तो ऑल रेडी एक चूत तो है.

फिर कुछ देर बाद मुझे घोड़ी बनाकर तेज़ तेज मेरी देसी गांड मारते हुए सुरजन भी झड़ गया।फिर मैं बड़ी मुश्किल से उठी. उर्वशी ने मुझे कसके कमर पर से पकड़ा हुआ था और वो मेरी कमर और बालों में हाथ फिरा रही थी. आज की ये सेक्स विद हॉट आंट कहानी भी मेरी और आंटी शन्नो की चुदाई की एक और दास्तान है.

वो मुझसे 5 साल बड़े हैं। दिखने में हैंडसम और हट्ट कट्टे हैं। टूर एंड ट्रैवल्स कंपनी में मैनेजर हैं और काम के सिलसिले में उनका राजस्थान से बाहर आना जाना लगा रहता है।मेरे ससुराल में मेरे सास ससुर और मेरी एक ननद है लेकिन ननद की शादी मेरे आने से पहले ही हो गई थी इसलिए वो अपने ससुराल में रहती है.

ये इंडियन रंडी देसी कहानी उस वक्त की है, जब मैं और हिना साथ में मजा करते थे. फिर मैंने उसकी शॉर्ट्स को भी उतार दिया और उसकी पैंटी में हाथ डाल दिया उसकी चूत तो पूरी गीली हो चुकी थी. सेक्स विद हॉट सिस्टर स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोसरी मेरे दोस्त की बहन से हुई.

इस तरह सगाई के बाद मैं पहली बार अपने होने वाली बीवी से मिलने अपनी ससुराल गया. बहू ने भी धक्के लगाना बंद करके मुझे अपने दूध पिलाने लगी, नीचे उनकी चूत से रिसता दूध भी मेरे लंड को नहलाता हुआ झांटों को भी नहला रहा था. कहानी के पिछले भागमौसी की जेठानी की मालिश करके चोदामें आपने पढ़ा कि मैंने मौसी की जेठानी की मालिश करके ओरल सेक्स किया फिर उसकी चूत चोदी.

‘आह सीईइ हाइ राहुल … जोर से चूसिये मेरे मम्मों को … अह्ह्ह सीईईई आह आह और ज़ोर से चुस्सो अहह.

मैंने चाची के पेटीकोट के अन्दर सर घुसा दिया और सीधा चुत को चाटने लगा. उन्होंने अपने मम्मे आगे से कप में डाले और मैं पीछे से हुक लगाने लगा.

सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी आंटी इस तरह की गांड चुत चुदाई से लस्त हो गयी थीं और आंखें बंद करकी ऐसे ही पड़ी रहीं. अभी तो तुझे और चोदूंगा छिनाल।वे पूरी ताकत से मेरी चूत को भोसड़ा बना रहे थे और मैं भी चुदाई का आनंद लेने लगी।उन्होंने मेरी चूत और गांड को अपने लंड से खोल कर रख दिया था।मैंने कहा- प्लीज़ जेठ जी, मेरी चूत और गांड दुखने लगी है, अब तो जाने दो ना?उन्होंने अपना लंड निकाल लिया.

सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी कुछ मिनट किस करने के बाद उसने मेरा शॉर्ट निकालकर मुझे नंगा कर दिया. बुर पर जीभ फेरने से बहार गनगना गई और बोली- अब देर न करो, मेरी बुर तुम्हारा लण्ड माँग रही है.

दरअसल मंजू का कप साईज 38-dd था, पर अभय ने गलती से 38-d का सैट पसंद किया था.

जानवर का सेक्स वीडियो दिखाइए

लेकिन सुबह तक कोई नहीं देखता था और मुझे मन मारकर बिना लंड लिए उठना पड़ता. दीदी ने लंड देख कर उंगली से इशारा किया तो मैं उनके करीब आया और अपना लौड़ा दीदी के मुँह में दे दिया. कुछ देर बाद वो मेरे नीचे आ गई और मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चूसने लगी.

थोड़ी ही देर में उन्होंने मेरे कपड़े उतार दिए और मुझे एक फ्रेंची में कर दिया. अब यूं तो मेरी बहूरानी अदिति के और मेरे अन्तरंग संबंधों को लेकर मैंने पिछले तीन चार वर्षों में बहुत सी कहानियां लिखीं हैं जिन्हें आप सब का भरपूर प्यार मिला है. अब राजकुमारी से महारानी बन चुकी पूजा ने चिल्लाते हुए चुदाई का मजा लेना शुरू कर दिया था- आह … उम्म … चोदो मुझे मेरे पति देव … आह … मैं कब से इसी प्यार के लिए तड़प रही थी … आह … महाराज मुझे अपनी दासी बना लो.

उसकी बुर चाटते वक्त मेरी नजर उसकी छोटी सी गांड पर चली गई और मेरा मूड बन गया.

होटल के रूम में पहुंचने के पांच सात मिनट के भीतर ही हम दोनों के कपड़े फर्श पर पड़े थे और हमारे मादरजात नंगे जिस्म बेड पर एक दूजे से लिपटे पड़े थे. उसने फिर मैसेज किया- हां … दरअसल मैं अपनी फ्रेंड को मैसेज सेंड कर रही थी … मगर गलती से आपके नम्बर पर हो गया. उसके बदन पर सिर्फ एक बनियान और अंडरवियर था।वो बोला- जी, आप कौन?मैं- जी, मुझे गुलाब से मिलना था।उसने सिर से पांव तक मेरे जिस्म का मुआयना किया। उसके ऐसे देखने से मेरे बदन में सिरहन सी उठी।तभी आवाज़ आई- कौन?पीछे से दूसरा एक जवान भी सामने आया.

उधर पार्क में भी बहुत सारे लोग थे इसलिए हम चुदाई की बात ही नहीं कर पाए. एक दिन मैंने अपने इंस्टा अकाउंट में देखा कि एक इंस्टा की तरफ से दिए जाने वाले सजेशन में एक खूबसूरत लड़की दिख रही है. मेरा घर दोमंजिला था जिसमें ग्राउंड फ्लोर पर मेरे किरायेदार रहते थे और फर्स्ट फ्लोर पर मैं!गुप्ता जी का घर भी दोमंजिला था, गुप्ता जी ग्राउंड फ्लोर पर रहते थे और फर्स्ट फ्लोर किराये पर दे रखा था.

तभी बाहर अहमद की आवाज आई- शबनम कहां हो?मैं रूक गई, पर मामा नहीं रुके और चोदते रहे. अब जब भी सवाल का उत्तर गलत होता तो वो मेरी गांड पर एक बहुत जोर का झन्नाटेदार चमाट मार देते.

मैंने उससे कहा- क्या आप मेरी फ्रेंड बनोगी?उसने तुरंत ही ऐसे हां कह दी, जैसे वो भी ऐसा ही चाह रही हो. मैं रुक गया और लंड चुत से निकाल कर दोबारा से भाभी की चुत को चाटना शुरू कर दिया. और हम तब तक नहीं रुके जब तक हमने एक दूसरे का पानी नहीं निकाल दिया।कुछ देर बाद उसने फिर से मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया.

लंड को ऐसे लग रहा था, जैसे चूत की फांकों से उसे प्यार किया जा रहा हो.

मुझसे रहा नहीं गया, मैंने आह करते हुए कहा- आह भाभी, मेरा आने वाला है. यूं ही दस मिनट तक हमने एक दूसरे के लंड चुत को चूस चाट कर बेहद गर्म कर दिया था. आप लोगों ने मेरे बेटे के असली बाप के बारे में पूछा था, तो मैं जब तक प्रेग्नेंट हुई थी, तब तक इन्हीं सब लोगों से मैं जमकर चुदती रही थी.

इस पोजीशन में मैं उसकी बुर चाट रहा था और उसके मुँह में लंड डाल कर धक्के देने लगा. मेरी इस बात के बाद मैंने देखा कि भाभी के आंख से आंसू निकलने लगे थे.

तभी मैंने उसकी पैन्टी नीचे खिसका कर अपनी तर्जनी उसकी बुर में डाल दी. जवानी वाली बात तो अब हो नहीं सकती … पर फिर भी दिन में 2-3 बार छेड़खानी कर देते हैं. उसके बाद वो दोनों चीज़ें उन्होंने साइड में टेबल पर रख दीं और मेरे पास बेड पर आकर लेट गये.

సెక్స్ బిఎఫ్ బిట్లు

बीच-बीच में वह मेरे चूतड़ों पर बहुत तेज चमाट मार देता था जिसकी वजह से मेरे चूतड़ एकदम लाल हो गए थे.

मामी जी की बातों से मैं जोश में आ गया और मैंने बिना कुछ बोले अपने लंड को तेज़ी से मामी जी की चूत में तेज़ी से अन्दर बाहर करना चालू कर दिया. पर मेरा पूरा ध्यान उनकी चुदाई पर था तो मेरे लंड से जल्दी पिचकारी निकलना मुश्किल लग रहा था. इसके बाद शहज़ाद ने मेरी ब्रा हल्की सी नीचे करके मेरी चूची बाहर निकाली और मेरे निप्पल को पीने लगा.

उसे मेरे साथ रहते हुए करीब चार महीने हो गए थे, एक दिन अचानक दोपहर में आ गई और मुझसे लिपटकर मुझे बेतहाशा चूमने लगी. वो यहीं से बारहवीं की प्राइवेट परीक्षा दे देगा।चाची ने भी हामी भर दी।मेरा मन ही मन मूड ख़राब हो गया कि वो घर पर रहेगा तो मैं नंगी कैसे रहूँगी?वैसे मेरा भाई बहुत ही सीधा औऱ मासूम था. पुणे कॉल गर्लहस्बैंड एंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि पुरानी सहेलियाँ शादी के बाद मिली तो उन्होंने क्या गुल खिलाये.

जोया ने कहा- नहीं … मुझे जाने दो, तुम मुझे दोबारा परेशान कर रहे हो, जबकि तुम लोगों ने मजा ले लिया है. एक स्तन को दबाता तो दूसरे स्तन को पूरा मुँह में लेकर चूसने की नाकाम कोशिश कर रहा था.

पहले तो मैंने नजरअंदाज किया मगर उसकी निगाहें मेरे चुचों में घुसी जा रही थीं. मैं भी अपनी गर्म सांसें उनके चेहरे पर छोड़ रहा था और उनकी चूचियों को कप में डालने के बहाने उनके दूध मसल रहा था. कुछ ही पलों में मेरा भी बदन अकड़ गया और मेरे लंड ने मामी जी की चूत में अपने गाढ़े पानी की बौछार कर दी.

दोस्तो, आपको प्यासी गरम औरत की सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके ज़रूर बताएं. मगर मैंने इस बार उस दूसरी लड़की हुर्रेम से कहा- प्लीज तुम सिर्फ मेरा लंड चूसो, मैं तुम्हारे पूरे मजे लेना चाहता हूं. उफ्फ … अब और मत सताओ पापा; प्लीज … मेरे भीतर समा जाओ न अब तो!” बहूरानी ने अपनी एड़ियां मेरी पीठ पर ऊपर की ओर रगड़ते हुए कहा जैसे वो अपने पैरों से ही मुझे ऊपर की ओर खींच लेंगी.

अभी तो आप अपनी ड्रिंक एन्जॉय करो!” बहूरानी कोल्डड्रिंक का घूंट गटक कर बोली.

ऐसे तेरे को बच्चा हो गया तो?वो सिसकारते हुए बोली- आह्ह … हां वही तो चाहती हूं मैं. मैं उनके पैर पड़ने के लिए झुका, तो और दर्द हो गया और मेरी आंख से पानी आ गया- सॉरी चाची!चाची- अरे हर बार पैर क्यों पकड़ रहा है … कोई बात नहीं है.

भाभी भी मस्त होने लगीं और अपने दोनों दूध मेरे मुँह में बारी बारी से देने लगीं. मैंने भी उसे अपने ब्वॉयफ्रेंड के बारे में सब बताना शुरू किया और रोने भी लगी. घर पहुंचा तो बहार उसी समय नहाकर निकली थी, मुझे देखते ही उछलकर गले लग गई और बोली- मुबारक हो, जीजू.

चाय रखते हुए झुक गई तो दोनों उरोज उछल कर ऊपर हो गए।गुलाब की प्यासी नजरें मेरे आँचल पर थीं। चाय रख सीधी हुई और मुड़ी तो आवाज़ आई- वाह ऊपर वाले ने क्या तोहफा बनाया है।सीढ़ियों के पास यह सुनकर बड़ी ही अदा से मुड़कर मैंने देखा।गुलाब ने हाथ हिला नवाज़ा. दोस्तो,कहानी के पिछले भागमौसी को भानजे का लंड पसंद आ गयामें अब तक आपने पढ़ा था कि मीरा ने निखिल और रीमा के साथ थ्रीसम सेक्स की प्लानिंग कर ली थी. अब तो शायद वो जानबूझ कर ही मेरे सामने ही अपने दूध खुला छोड़ देती थीं.

सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी हॉट फॅमिली सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार मेरे ननदोई जी मेरे घर पर रात को रुके तो हमारी वासना उमड़ पड़ी और हम सेक्स के लिए उतावले हो गए. बहुत अकेली हो गई हूँ मैं!मैंने डिब्बी से थोड़ा सा सिन्दूर ले कर उसकी मांग में भर दिया।तब मैंने डिब्बी साइड में रखी, मोबाइल का म्यूजिक बंद किया। मैंने उसकी पैंटी को अपने गले से निकाला और जोर से फूंक मारी.

सेक्स हॉलीवुड मूवी

मैंने पास रखी तेल की कटोरी में उंगली डाल कर भिगोई और उसकी गांड में डाल दी. फोटो शूट के थोड़ी देर के बाद रमेश बोला- अब तुम अपनी ये पैंटी भी निकाल दो. फ्रेण्ड सिस्टर सेक्स का पूरा मजा लेने के लिए मैंने उसकी नाईटी को उतार दिया और उसकी मस्त जवानी को देख कर लंड लार टपकाने लगा.

मामी जी पेट के बल, बेड के एक तरफ सो रही थीं और उनका पल्लू उनकी छाती पर से हटा हुआ था. मैंने उन्हें कई मर्तबा ऐसे ऐसे कपड़ों में देखा था कि उन कपड़ों में आंटी की जवानी मस्त छलकती थी. मोटी भाभी की सेक्सी चुदाईफिर मैंने उसकी गांड के छेद में उंगली की और उसी के साथ आंड चाटने लगी.

तभी लोलिशा भी आ गई।देव के आने के बाद हमने खाना खाया।वह बहुत थक गया था जाम की वजह से।फिर वो सो गया।उसके बाद उस रात मैंने लोलिशा को तीन बार और चोदा।मैं सुबह पाँच बजे जाकर बाहर वाले कमरे में सो गया।फिर देव ने मुझे सुबह आठ बजे जगाया.

उन्होंने बताया कि मेरे पति पुलिस में हैं और किसी चुनाव ड्यूटी में गए हैं. मैं नीचे आ गया, मिहिका मेरे ऊपर आ गई और उसने मेरे होंठों के साथ अपने होंठों को जोड़ लिया.

आपकी प्यारी भाभी मनीषा[emailprotected]हॉट लेडी Xxx कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी ने मेरी अन्तर्वासना को समझा- 2. और फिर दोनों ही साथ में वापस आ जाएंगे।मैं इसके लिए तैयार हो गया और मैं और भाभी दोनों मुंबई के लिए निकल पड़े. बालू में बाइक की स्पीड कम हो गई थी और हम दोनों ही बालू में ही गिर गए थे, इस कारण हम दोनों को ही ज़्यादा चोट नहीं लगी.

जिस कारण मैं भी न जा सका और मैंने ऑफिस में फोन करके झूठ बोल दिया कि मेरी तबियत खराब हो गयी है … तो मुझे थोड़ी और छुट्टी चाहिए.

जेठ जी मस्ती में आकर मेरी हवा में उठी हुई टांगों के तलुवे चाटने लगे. उस दिन मम्मी पापा ने अपने बेटे को चुदाई में सिर्फ चाटने चूमने में शामिल करके खूब मजा लिया. वो बोला- मैडम लंड तो आप मुँह में लोगी नहीं … तो थोड़ा सा हाथ से ही मसल दो ताकि अच्छे से कड़क हो जाए.

छोटी लडकी का सेक्सी पिक्चरतो उस दिन मेरे सास ससुर दोनों सुबह जल्दी ही कार से जयपुर चले गए।मैं बेटी की पढ़ाई की वजह से जा नहीं पाई थी तो मैंने सासू मां से कहा- मुझे रात में अकेले डर लगता है. मामी ने अपनी चूची चुसाते हुए कहा- राहुल, मेरी दूसरी चूची में भी रस आता है … आह दूसरी भी चूसो न!मैंने झट से मामी की चूची छोड़ी और दूसरी चूची के निप्पल को अपने मुँह में ले लिया.

प्लास्टर कितने दिन में खुलता है

फिर चाहे उसके पति के बिजनेस का बन्द होना हो या सफलता पर सफलता मिलने का अवसर हो. वो अपनी ससुराल का घर छोड़ कर गांव में ही रहने लगी थी क्यूंकि उसके पति नशा बहुत करता था. इस तरह से मीरा ने रीमा को अपनी बातों के जाल में उलझा लिया और निखिल के जोर देने से रीमा मान गयी.

इस सबसे मैं गर्म तो हो जाता था, मगर अपनी माँ के साथ मैं कुछ भी करने से हिचक जाता था. मैंने अंजान बनते हुए कहा- उसके साथ धचके क्यों नहीं लगते भाभी?भाभी- अब ये मैं कैसे बताऊं … शायद चलाने की अपनी अपनी स्टाइल होगी!मैंने एक बार फिर से चैक करने के लिए पूछा- भाभी आपको दिक्कत तो नहीं हो रही है न!भाभी हंस कर बोलीं- अरे यार मुझे तो मजा आ रहा है … जब तक धचके नहीं लगेंगे, तो मालूम कैसे पड़ेगा कि लम्बी जर्नी की है. चूत की दीवारों से घिस घिसकर लंड फिसल रहा था।तभी मैं सिसकारी- उफ सुरजन … मुँह में दे दो अपना मोटा लंड!उसने मेरे मुंह में लंड दे दिया और सिसकारते हुए चुसवाने लगा।अब नीचे से सुन्दर चूतड़ उठा उठाकर पेलने लगा.

उनका टोपा धीरे से मेरी गांड में घुस गया और मेरी हल्की सी चीख निकल गयी. पड़ोस का एक लड़का मुझे पर्स लौटाने आया तो उससे मेरी दोस्ती हो गयी। मैंने दोस्ती में उसके लंड का मजा कैसे लिया?यहाँ कहानी सुनें. एक दिन मैंने अपने इंस्टा अकाउंट में देखा कि एक इंस्टा की तरफ से दिए जाने वाले सजेशन में एक खूबसूरत लड़की दिख रही है.

बहुत प्यासी नजर से उसको देखती और सास का भी ख्याल रखती कि कहीं वो देख ना ले।वो भी जब मुझे देखता तो बिना नजर हटाए देखता रहता. मैंने टाइट कर दी चूत अपनी।वो सिसकारे- ओह्ह रानी … ले … ले ले मेरा लंड आह!उधर से मैं भी चीखी- आह्ह … फट गयी … आह्ह मर गयी.

वो बोले- क्या हुआ?मैं कंट्रोल करके बोली- कुछ नहीं, आप कब आओगे?वो बोले- जान, मैं तो रात को आऊंगा, किसी को ज़मीन दिखाने दूर आए हुए हैं।मैं- ठीक है, जल्दी आना.

उनके मुँह से चुत का स्वाद आ रहा था और जीजा जी मेरे मुँह से अपने लंड का स्वाद मिल रहा था. ડોગ એન્ડ ગર્લ સેક્સ વીડિયોमेरी मम्मी घर में एक झीनी सी नाइटी पहन कर रहती थीं और जब वो दारू पीकर टल्ली हो जाती थीं तो मैं उनसे कहता था- पापा की डार्लिंग अब मत पियो. ಲೇಡೀಸ್ ಫೋಟೋऔर अपना हाथ बहूरानी की जांघ पर रख दिया और वहीँ रखे रहने दिया, फिर सहलाने लगा. भाभी ने दर्द और उत्तेजना के मारे कूकना शुरू कर दिया- आह आह हई मम्मी इस्स … मम्मी!उनकी दोनों टांगें मेरे चूतड़ों के पीछे कसके जकड़ी हुई थीं, तब भी मैं भाभी की चुत में कस कसके धक्के मार रहा था.

अभय- क्या हुआ मुस्कुरा क्यों रही हो बहना?अब वो भी थोड़ा खुलने लगा था.

उसने एक ही बार में अपने पैंट की चैन खोल कर अपना लंड बाहर निकाल लिया. मेरे बिना कहे तुम्हें मेरी ख्वाहिशों का पता चल जाता है … यू आर सो नाईस. मैं धीरे धीरे भाभी के पास आ गया और उन्हें बिस्तर से उठा कर खड़ा करके अपने सीने से लगा लिया और उनके होंठों पर अपने होंठ मिला कर चूमने चूसने लगा.

मैंने कमरे की लाइट बन्द करके बस बाहर आंगन का एक बल्ब जलाए रखा जिससे अन्दर तक हल्की रोशनी आती रहे. कुछ देर बाद मैं भी अपनी चरम सीमा पर आने वाला था, मैंने शीना के बाल पकड़े और धक्के लगाकर उसका मुंह चोदने लगा. पूनम बुआ मुझे पहले ही बता चुकी थीं कि बृज उनको अपना लंड चुसाता है और उनके मुँह में अपना पानी भी डालता है.

सेक्सी वीडियो कॉलेज वाली

मैंने अपने लंड को मां के हाथों में दे दिया जिसे मां ने हिला कर वापस खड़ा कर दिया. मैं- इसका मतलब आपने पिछले कई सालों से सेक्स नहीं किया? और आप इस जवानी को कैसे काट रही हो?पूनम बुआ ने हंसी में बात को टालते हुए कहा- कौन सी जवानी? कोई समझता ही कहां है इस बात को? कोई नहीं समझता कि एक औरत की भी जरूरत हो सकती है. मैंने अन्दर पर्चा रखा और सीढ़ियों से ऊपर उधर को जाने लगी, जहां सारी दवाएं रखी रहती थीं.

मेरी उसके साथ दोस्ती हुई और कुछ ही दिनों उसकी मुझसे रोज बात होने लगी.

करीब 10 मिनट के बाद अहमद ने चुत में वीर्य भर दिया और मेरे ऊपर गिर गए.

मॉम- सोच लो, उसने एक बार चोदा, तो फिर आप मुझे हाथ नहीं लगा सकते कभी. उसने आगे बहुत ही भद्दे अंदाज में कहा- आपका तो एक बच्चा है न … तो आपके स्तनों में तो दूध भरा होगा. सेक्सी स्टोरी भाई बहनममता- तो अपनी ही छोटी बहन को ब्रा पैंटी में देखने की इच्छा है आपको?अभय मुस्कुराते हुए बोला- तुम्हीं ने तो पूछा.

मामी जी मेरा लंड अपनी चूत में लिए हुए वैसे ही लेटी रहीं और मेरे होंठों को चूसते हुए बालों को सहलाने लगीं. अदिति … मेरी जान; मत रोको मुझे … आज मैं तुझे अपना बना कर ही छोडूँगा, तू इस पेड़ का सहारा लेकर झुका जा!” मैंने कहा. आज तक तूने अपने लंड का पानी तक नहीं निकाला?वो बोला- नहीं दीदी!मैंने कहा- चल मेरे पास आ.

फिर उन्होंने मेरे हाथों को पकड़ा और तेजी से चुदाई करने लगे।कमरे में मेरी चीखें गूंजने लगीं- आह … आह्ह … आई … आह्ह … आआह … मर गयी … हाय … मर गयी … आह्ह मेरी चूत … फट गयी मम्मी … आह्ह मेरी चूत।दोस्तो, मेरी चूत काफी दिनों के बाद चुद रही थी और इतना मोटा लंड मेरे शौहर का नहीं था. भाभी फिर से हंसी और बोलीं- और मुझे लगता है कि तुम मुझे टैं बुलवा दोगे.

मैंने राजा से प्रस्ताव रखा कि हम राज्य के किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार का नुक़सान नहीं करेंगे अगर आप अपनी तीनों बेटियों की शादी मुझसे करवा दें.

थोड़ी देर बाद वो टॉयलेट करके आ गईं और हम दोनों उनके घर की तरफ चल पड़े. मैंने उससे कुछ रुकने के लिए कहा तो वो मेरी गीली चुत से अपना लंड निकाल कर मेरे बाजू में लेट गया. इतना कहते कहते जसविंदर ने दरवाजे की कुण्डी लगा दी और अपने शरीर से टॉवल हटाते हुए बोली- वैसे मैं हनीप्रीत से कम नहीं.

காஜல் செக்ஸ் வீடியோ मीना की चुदाई से पहले पूजा मुझसे चुदना चाहती थी क्योंकि मंझली वो ही थी. अब दोनों एक-दूसरे को पागलों की तरह चूमने लगे थे।मैंने उसकी साड़ी उतार दी और पेटीकोट खोल दिया.

मैंने नोटिस किया कि मम्मी की और उनकी कई देर तक रात में चैट एवं वीडियो कॉल होती थी. उनके चूतड़ों को चूसने के बाद उन्हें फैला दिया और भाभी की गांड के छेद को सूंघा. भारी योगिनी थी वो … लंड को अपने वश में कर लेने की हर कला को जानती थी.

नई वाली सेक्सी पिक्चर

फ्री सेक्स कहानी में पढ़ें कि मौसी की रात जेठानी की चूत और गांड की चुदाई हुई. दस मिनट तक चुदाई करने के बाद मां का शरीर अकड़ने लगा और उनकी चूत भी मेरे लंड को दबाने लगी. उसने मेरे लंड को अपने एक हाथ में पकड़ा और कसके दबाया, मगर मेरा लंड बहुत टाईट हो चुका था … इसलिए वो ज्यादा दबा ही नहीं पाई.

भाभी भी जोर जोर से मादक सिसकारियां ले रही थीं- ओह्ह यस्स हहह … मजा आ रहा है … और करो. नियाशा एक पक्की रंडी की तरह मेरे लंड को पूरा अपने मुंह में ले जाती और मैं तो जैसे आसमान में उड़ रहा था.

फिर मैंने भाभी जी को पेट के बल उल्टा लेटा दिया और बालों के नीचे उनकी नंगी पीठ पर किस करने लगा, चूमने चाटने लगा.

उसी से आगे डेलिवरी बॉय सेक्स कहानी:मैंने डिलीवरी बॉय से सीढ़ी पर ही चुदने का प्लान बना लिया. मैं लंड हिलाता हुआ बोला- तो जल्दी बुलाओ भाभी उस दुधारू को … मुझे आपको जल्दी चोदना है. छह महीने से तड़प रही हूँ, इन्टरनेट पर ब्लू फिल्म्स देख देखकर आपके इन्तजार में यह तंदूर की तरह तप रही है.

मेरी पिछली कहानी थी:पेट्रोल पम्प पर झगड़े का हसीन फलअब मेरी नयी कहानी पढ़िए कॉलेज गर्ल सेक्स की. मैं भी जोश में था … मैंने भी मिहिका के नीचे वाले होंठ को अपने होंठों में कैद कर लिया और जोर से खींच खींच कर होंठ चूसने लगा …. मेरा दिल कर रहा था लंड को मुँह में लेकर उसके तनाव को ज्यादा कर दूं मगर मैं पहल नहीं कर रही थी।वो एकदम बोले- रानी, मुँह में लो ना ज़रा … पूरा जोर लगा दो ताकि यह तनकर तुम्हारे हुस्न को भोगने का आगाज़ कर सके।मैं अनजान सी बनकर बोली- छी … मुहँ में?वो बोले- हाँ रानी, यह भी हिस्सा है सेक्स का! खुलकर चूसो और मजा लो।उनके ज़ोर देने पर मैंने लंड को पकड़ा और होंठों पर रगड़ने लगी.

मुझे वो मजा नहीं आ रहा था जो सरपंच के लड़के मगन के साथ आता था।वो मुझे मसल देता था.

सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी: मैं जैसे ही उसके बेड के पास गया, तो देखा कि उसकी नाईटी उसकी जांघों तक उठी हुई थी. तभी उसके मुँह से निकला- ये इतना मोटा होता है?उसका पूरा मुँह खुला का खुला रह गया.

बाथरूम में भाभी की चुत चोदते समय न जाने कैसे उनका पैर फिसल गया और वो गिर गईं. मेरे लंड ने चूत में सैट होना शुरू कर दिया, दो चार झटकों के बाद उसकी चूत ने लंड को घोंटना चालू कर दिया. लण्ड अन्दर तो फंस गया लेकिन यामिना की टाँगें जमीन पर न लगने से उसे ऊपर नीचे होने में परेशानी हो रही थी और वह मेरे ऊपर बैठकर चेयर में धंस गई.

मां- अआह हहहह उम्म …मैंने अपनी जीभ मां की चूत में डाल दी और चूत को अपनी जीभ से चोदने लगा.

और फिर आगे क्या हुआ ये सब जानने के लिए अगली कहानी ज़रूर पढ़ना।आपको मेरी देसी गांड और चूत की दो मर्दों से चुदाई की ये थ्रीसम सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे अपने मैसेज में जरूर बताना. आज मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे पहली बार ही किसी मर्द से चुदाई करा रही थी. बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है, तुम अरिश्का को चोदकर प्रेगनेन्ट कर दो.