मौसी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ कॉलेज सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

जेठानी की चुदाई: मौसी बीएफ, और इस दौरान मैंने दो बार उसे फिंगरिंग भी की लेकिन उसने लन्ड को चूत के अंदर डालने से मना कर दिया और कहा कि मैं जबरदस्ती न करूं।उसने भी मुझे दो तीन बार अच्छेब्लो जॉबदिए।और यह Xx फ्रेंड सेक्स इतने में ही सिमट गया.

बीएफ सेक्सी भोजपुरी वाली

वो दिन भी करीब आ गया जब उसकी मम्मी मुझसे रात में उसके घर पर सोने के लिए बोल कर छोड़ कर चली गईं. कुत्ते से चुदवाने वाली बीएफकुछ मिनट बाद उसने मॉम से पूछा- आंटी कैसा लगा?मॉम बोलीं- बड़ा सुकून मिल रहा है और ऐसे सुकून की तो तू कोई भी फीस मांगेगा, तो मैं दे दूँगी.

कुछ देर बाद मेरा लंड तन गया तो मैं उठ गया और प्रिया भाभी से कहने लगा- ये क्या कर रही हो आप?भाभी बोलने लगीं- आपको प्यार. बीएफ पिक्चर दिखाओ चोदने वालीकुछ ही पल में मैं एक बार फिर से गर्म हो चुकी थी और उसका लंड भी दुबारा खड़ा हो गया था.

माचिस तो होगी?”है … लेकिन मिल नहीं रही है!”चलिए मैं आपके साथ चलता हूँ.मौसी बीएफ: मगर वो बोली- क्यों, क्या तुम मेरे पास नहीं सो सकते?मैंने कहा- हां तुम्हारे पास क्यों नहीं सो सकता हूँ … मगर …वो बोली- अगर मगर छोड़ो … तुम अब ज्यादा सोचो मत.

अब भाभी ने जैसे ही मेरे लंड को हाथ लगाया, मेरे जिस्म में मानो बिजली सी दौड़ गई.इधर मैंने अपनी उंगली में क्रीम लगाई और धीरे धीरे नीतू की गांड में उंगली घुसाने लगा.

बीएफ गाने वाली बीएफ - मौसी बीएफ

फिर मैंने उससे कहा- वैसे तूने अब तक लंड तो अपनी चूत में लिया है न!बहन हंस कर बोली- तुझे क्या लगता है?मैंने कहा- मुझे तो लगता है कि तूने अपनी गांड में लंड पक्का लिया है.हम दोनों हंसने लगे और मैं भी थोड़े मुरझाए लंड को चुत में डालने की कोशिश करने लगा.

ये बोलकर साली किचन में ही मुझसे चिपक गई और मेरे लंड को हाथ में लेकर मसलने लगी. मौसी बीएफ मैंने उनकी साड़ी को ऊपर करना चालू कर दिया, जो कि पहले से आधी उठी हुई थी.

अयाना ने अपने पैर से मेरे पैर पर ठोकर मारी जिससे मेरे पैर एक पल के लिए हवा में आ गए और पूरा वजन गान्ड पर आ गया जिससे डिल्डो मेरी गांड में धंसता चला गया.

मौसी बीएफ?

पति का बड़ा व्यापार था लेकिन वो अपने व्यापार की वजह से अपने घर के माल पर ध्यान नहीं दे पा रहे थे. वैसे चार लोगों से दो राउंड में चुद गई, ये साली भी कम बड़ी रंडी नहीं है. फिर उसने मेरी कच्छी थोड़ी सी हटाई और मेरे बुर के दाने को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

वो मुँह चोद रहे थे, ये इसलिए कह रहा क्योंकि वो लंड चूस नहीं रही थी बल्कि गुरबचन जी अपना लंड अन्दर धकेल रहे थे, जितना उनका मन हो रहा था. पायल के मुँह से मादक आवाजें आ रही थीं- आंह हां और तेज जानू आहह्ह उहहह और तेज़!पायल पसीने से गीली हो चुकी थी. तो मैंने कहा- सॉरी भाभी, रहा नहीं गया मुझसे!पर भाभी का गुस्सा 2 सेकंड का ही था।फिर मैंने थूक लगाकर उनकी गांड में लंड दे दिया और उन्हें 10 मिनट तक चोदा.

दस मिनट में मेरी चुत की चमड़ी लटकने लगी और गांड के छल्ले बाहर निकलने लगे. मैडम मेरे अंडकोष को बार-बार अपने दोनों कोमल कोमल हाथों से सहला रही थी. उसने कहा- दीदी कंडोम बाद में लगा लेंगे, पहले चमड़ी से चमड़ी रगड़ लेने दो.

किशोर मेरी चड्डी के अन्दर हाथ डालकर मेरे बड़े बड़े चूतड़ों को सहलाता और दबाता जा रहा था. मदद के बदले मुझे क्या मिला?नमस्कार दोस्तो, मैं प्रवीण कुमार एक बार फिर से अपनी पड़ोस की विधवा भाभी नम्रता के साथ मस्ती भरी फ्री भाभी सेक्स कहानी को लेकर हाजिर हूँहमारे पड़ोस में एक भाभी रहती हैं, जो कि बहुत ही खूबसूरत महिला हैं.

वाटर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि अंकल का साला मुझे पार्टी के लिए एक हाल में ले गया.

थोड़ी देर बाद मेरा लंड अन्दर से टाइट होने लगा, मुझे काफी मजा आने लगा.

फिर विश्वेश्वर जी चोदना रोक कर अरुणिमा के मम्मों को और निप्पलों को चूसने लगे. मेरे जिस अंग पर उसका हाथ पड़ता, वहां के रोम अपने आप खड़े होते जा रहे थे. उसकी पतली कमर और कमसिन जवानी मेरा लण्ड को खड़ा कर चुकी थी।मैं किस करता हुआ नीचे गया और उसकी लोअर को नीचे खींच दिया।सोनी ने अंदर भूरे रंग की पैंटी पहनी हुई थी।उसने खुद से अपने लोअर को अपनी टांगों से निकाल दिया और फिर मेरा टीशर्ट खोल दी।वो अब मेरे शरीर को चूम रही थी.

मुझे हटा कर खुद अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत में घुसाने की कोशिश करने लगी. मैंने अरुणिमा को बोल दिया कि किसी भी सूरत में मेरे मेहमान नाराज़ नहीं होने चाहिए, मेरा शहर में रसूख ही उन लोगों की वजह से ही है. मैंने भी हंस कर कहा- तो क्या तुम नीरज से चुदवा लोगी?वह बोली- मैं अपने शौहर को खुश रखने के लिए किसी से भी चुदवा सकती हूँ.

मैं पीछे से भाभी की चूत के छेद पर आया और लंड चूत पर रख कर सैट कर दिया.

सुरभि ने आंख दबा कर अन्दर पेलने का इशारा किया और मैंने पूरी ताकत से उसकी चूत में लंड पेल दिया. मैं उसके करीब गया तो उसने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ा और आगे मुँह बढ़ा कर मेरे गाल पर किस कर दिया. गुरबचन जी बोले- तो ऐसा बोल न भड़वे कि अन्दर शमशुद्दीन तेरी रंडी बीवी को चोद रहा है.

अब मेरी हालत खराब हो रही थी तो मैंने देर न करते हुए उसको पीठ के बल सीधा लेटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. उसकी चूत और मेरा लंड एक साथ जिस तरह से मस्ती करते थे, वो मस्ती अब मुझे नहीं मिल रही है. मैडम ने मेरे पेपर अपने पास रख लिए और बोली- शाम को 4:00 बजे ले जाना.

क्या इसका कुछ हो सकता है?उस बात पर उस महिला ने मुझे देखकर कहा- शेयर बाजार से पैसा कमाना हर किसी के बस की बात नहीं है, पहले सीखना चाहिए, फिर शेयर बाजार में निवेश करना चाहिए.

उन्होंने एक पल के लिए मुझे हटाया और लिक्विड चॉकलेट की शीशी को अपनी चूत में लगा कर दबा दिया. जब भी लंड का पानी निकालना होता, तो मैं लंड का माल चाची की चूत में या गांड में ही निकालता.

मौसी बीएफ गुरबचन जी ने अरुणिमा के बाल पकड़ कर पीछे खींचे और विश्वेश्वर जी उसके सामने खड़े होकर, उसकी जांघों को फैला कर आ गए. वो मेरी चूतकी सील का टूटना और बेइंतहा दर्द, आज भी मुझे अच्छे से याद है.

मौसी बीएफ धीरे धीरे मैंने अपनी एक उंगली को बहन की गांड में आगे पीछे की, तो नीतू उचकने लगी. चलो अब मैं आपको पोर्न मॉम सेक्स कहानी में बताती हूं कि ब्रेकअप क्यों और कैसे हुआ था.

जब तक मैं भाभी की चूत न चोद लूं, तब तक मेरे लंड को आराम नहीं मिलने वाला था.

लड़कियों की देसी बीएफ

इसी सुन्दरीकरण नीति के चलते अब नीतू के लिए अच्छे अच्छे रिश्ते आये और बहुत ही जल्दी उसकी शादी भी हो गई. मेरी बात सुन कर ज्योति बोली- आप भी बहुत ज्यादा वो हो!मैंने तुरंत कहा- वो क्या बेबी, खुल कर बताओ न?वो बोली- चोदू हो. एक ने उसी समय अपने दांत से मेरे मम्मों पर काट लिया और निशान बना दिया था.

उससे बात किए हुए मुझे दो महीने हो गए थे, मैं यही सोच रहा था कि क्या क्या करूं. मैं उसे अब और नहीं तड़पाना चाहता था इसलिए मैंने उसे बिस्तर पर लेटा दिया. Xxx भाई बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी छोटी बहन की गांड पर नजर रखता था.

मैं आराम से उसके ऊपर आई और पैरों के बल उसके लंड के टोपे पर चूत टच किया.

उन्होंने मुझे कहा- रात को तुम घर के अंदर आ जाना।उन्होंने उस दिन रात को अपने घर पर अपने दो सहेलियों को और बुला लिया।मैं रात को घर में गया तो मैंने देखा उन तीनों ने बहुत ही सेक्सी ड्रेस पहनी हुई है।मुझे उन्हें देखकर सच में सेक्स चढ़ गया था।उन तीनों ने मेरे कपड़े खोल दिए. जैसे ही उसने मेरे लौड़े पर अपनी चूत को रखा, मेरा लौड़ा उसकी टाइट चूत को चीरता हुआ अन्दर तक चला गया. अब मैं उस लड़की का सारी जानकारी को एक बायोडाटा बना कर रेडी कर चुका था.

उसके बाद कुछ समय बाद जब वहां कोई नहीं था तो हम लोग अपने अपने घर की तरफ चल दिए. मेरा दिल धक् धक् करने लगा और मैंने कुछ कदम आगे बढ़ कर डाइनिंग रूम में झांका. मेरा बस निकलने ही वाला था तो मैंने धक्के लगाना चालू रखे और कुछ ही धक्कों में ही अपने लंड का माल चाची की गांड के अन्दर छोड़ दिया.

अब आगे Xxx लड़की सेक्स कहानी:शर्मा अंकल ब्लू फिल्म दिखा कर अलग-अलग आसनों में मुझे चोदा करते थे. मेरे चेहरे की तरफ देखने के बाद उनकी नजर तुरंत मेरे पैंट में तंबू बने लंड पर पड़ी और उन्होंने गुस्से में अपनी नजर वापस घुमा ली.

मॉम की चूत की गुलाबी फांकों को आंटी ने चूसना चालू कर दिया; मॉम के दाने को भी चूसने लगी. उसने कहा- दीदी कंडोम बाद में लगा लेंगे, पहले चमड़ी से चमड़ी रगड़ लेने दो. चाची ने दोनों हाथ से पलंग की चादर को अपनी मुट्ठी में भर लिया और वो भी गांड उठा उठा कर मेरे हर धक्के का जवाब देने लगीं.

आज काफी दिनों के बाद मेरे लंड की किसी ने मुठ मारी थी, वो भी सीधे मुँह में लेकर चूसा था.

फिर उसने मुझसे कहा- दीदी, मेरी आदत है बार बार करवट लेने की, हाथ पकड़ने की और हाथ पैर पटकने की. मैंने जोर से किस करना चालू कर दिया और उनके मम्मे दबाने लगा, तब जाकर चाची की आंख खुली. वहां मैंने अपने आपको कंट्रोल किया और अपने बाथरूम में जाकर सीन को याद करके अपनी चूत में उंगली करने लगी.

सुबह होने को थी तो मैंने भाभी को चूमा और अपने कपड़े पहन कर घर आ गया. पहले मैं यह बता दूं कि मैं 6 फीट का हूं और मेरा लंड भी 6 इंच का है.

!मैंने कहा- खाली माल नहीं भाभी … आप कांटा माल हो … सीधे दिल में चुभ गई हो. मेरी चूत चुदनी ही थी, इसलिए मैं अपनी सील पहले ही अपने जीजू से तुड़वा चुकी थी. मैं किस करते करते में आंटी के चूचे मसल रहा था जिसके कारण आंटी सेक्सी सिसकारियां भर रही थीं.

नेपाली सेक्सी बीएफ दिखाओ

वो मुझे देख कर बोले- अबे भड़वे! क्रीम या तेल लेकर आ, मुझे इस रंडी की गांड मारनी है.

विक्रम अन्दर आ गया और मुझे बांहों में लेकर चूमने लगा और अपने हाथों से मेरे चूतड़ दबाने लगा. सुकेश बोला- मैं नहीं मानता ये सब … उम्र कुछ नहीं होती और मैं कैसे समझाऊँ कि मैं छोटा नहीं हूँ. थोड़ी जिद करने पर भाभी आखिर मान गयी और औंधी लेटकर अपनी गांड को पकड़कर लेटी रही.

वो जरा उदास होकर बोलीं- कैसे जुगाड़ लगाऊं … बच्चे हमेशा घर में ही रहते हैं. इससे मॉम की थोड़ी कमर भी उठ गई और उनकी चूत और गांड के छेद साफ़ दिखने लगे. साड़ी वाली बीएफ दिखाइएफिर जब मेरी आंख खुली, तब देखा कि चाची अभी भी मेरी बांहों में चिपक कर सो रही थीं.

एक तो उसका लंड चूसने का टेलेंट और इतने दिनों की मेरी बेताबी, सो पांच मिनट भी नहीं लगा और मैं उसके मुँह में झड़ गया. फिर चाची मेरे पास आईं और धक्का देती हुई बोलीं- कहां खोए हुए हो?मैंने आंह भर कर कहा- आपके ही बारे में सोच रहा था.

फिर मैं भाभी को अपने कमरे में ले गया और अपने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया. ऐसे में एक टीचर ने मेरी मदद की पर बदले में उसने क्या लिया?दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की देसी सेक्स कहानी पढ़ना बहुत पसंद करती आयी हूँ और इसलिए आज मैं अपनी एक और भूल यानि Xxx कॉलेज स्टूडेंट सेक्स कहानी को आप पाठकों के साथ शेयर करना चाहती हूँ. ये बात आप सीधे सीधे नहीं बोल सकते हो क्या?मैंने कहा- भाभी आप खुद इतनी समझदार हो, तो खुलकर बताने की जरूरत ही क्या है.

मेरी कहानी के दूसरे भागबॉस की नजर मेरी गर्म जवानी परमें आपने पढ़ा कि मैं वीनस अपने कुलीग्स के साथ बस में थी. आंटी चुदते चुदते मुझे सिखा भी रहीं थीं, खूब सिसकारियां, कराहटें थी।10 मिनट हो गए, मेरा झड़ नहीं रहा था।पर मैं थक रहा था, मैंने बोला- आंटी मैं थक रहा हूं. मेरा नाम स्वाति है और स्वाति कह कर ही बुलाओगे, ठीक है!मैंने भी बोल दिया- ठीक है मेरी जान अब आप भी मुझे आप कह कर नहीं बुलाओगी.

मैं- नम्रता, मुझे तुमसे सब कुछ कराना है और खुद भी मुझे तुम्हारे साथ सब कुछ करना है.

दो तरफ़ा मजा लेते हुए झड़ना मुझे इतना ज्यादा पसंद है कि क्या कहूँ … और इसी वजह से मुझे गांड मारना अच्छा नहीं लगता. मैंने कहा- अच्छा कम्पनी के अलावा और किसका लेती हो?आंटी ने कहा- हफ्ते में 4 बार तो रामू ही चोदता है.

दोस्तो, मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि वो इस तरह से कभी भी अपने पति के पास भी कॉल करके उनको नहीं बोलती थीं. हालांकि उसकी कुछ शर्तें थी मगर वो मेरे साथ चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी. शाम को दीदी ने नहाने के बाद खुले बाल रखे थे व बिना ब्रा के मैक्सी पहनी हुई थी.

मैं बाथरूम से बाहर आया और चाची से पूछा कि आपने ड्रिंक पी लिया न!तो चाची बोलीं- हां पी लिया, अच्छा था. हुसैना भाभी ने कहा- अगर तुम अब भी इसे अपनाने को तैयार हो तो मैं अपने भाई से तुम्हें आज़ादी भी दिलाने को तैयार हूँ. फिर मैं घर जाने लगा तो भाभी बोली- मैं घर में अकेली हूँ, तो तू यहीं सो जा.

मौसी बीएफ बस इन्तज़ार है वापस घर जाने का!यह थी मेरी और मेरी बेस्ट फ्रेंड के साथ लव सेक्स की, पहली चुदायी की कहानी!समय मिला तो जल्द ही आप सभी को जरूर बताऊंगा कि मेरी सबसे प्यारी चीज़ यानि उसकी गांड की चुदायी के लिए मैंने उसे कैसे मनाया।तब तक के लिए इजाजत दें. पता चला कि ये कॉल उसकी मम्मी का था और वो उसको सरप्राइज देना चाहती थीं कि वो दिल्ली आ गई हैं.

प्रियंका पंडित का सेक्सी बीएफ

उसने अपने घर से कुछ दूर मुझे उतरने को कहा। उसने कुछ दूर से अपना घर दिखाया और कहा- मेरे पड़ोसी देख लेंगे तो पापा से शिकायत कर देंगे. ऐसे ही 3 दिन बाद में रूम में कपड़े बदल रहा था और उस वक्त मैं अंडरवियर में था. थोड़ी देर बाद मैंने उनके चूचों पर ही माल छोड़ दिया और आंटी उसे मसलने लगीं.

ऐसा लग रहा था कि वो अभी अभी ही नहा कर कमरे में आई थीं और अपने भिगाए हुए बालों से मेरे मुँह पर पानी छिटक रही थीं. होश आने के बाद में मैंने उनसे पूछा कि मोमबत्ती कहां पर है?उन्होंने कहा कि इसी कमरे में है. करवा चौथ का बीएफ वीडियोराजेश ने शर्मा अंकल को वहां से जाने के लिए कह दिया और कहा कि मेरे दोस्त आपके सामने पार्टी एन्जॉय नहीं कर पाएंगे, इसीलिए आप ललिता को यहां छोड़ कर लेडीज संगीत के कार्यक्रम में चले जाइए.

रात में मैंने अजीब सी आवाजें सुनी तो देखा कि अंकल और आंटी सेक्स कर रहे थे, पागलों की तरह एक दूसरे में लगे हुए थे.

मैंने शेयर बाजार में नया नया काम शुरू किया था मगर नासमझी के कारण मुझे उसमें नुकसान होने लगा, मेरी जमापूँजी खत्म होने लगी, जिससे मैं बहुत ही ज्यादा अवसाद में आ गयाइसके बाद मैं एक मनोवैज्ञानिक सर के यहां अपने आपको इस अवसाद की स्थिति से बाहर निकलने के लिए जाने लगा. उनकी उम्म की आवाज निकली, बोली- तुम्हारा मन नहीं भरा क्या अभी?तो मैंने कहा- देख लेने दीजिए.

मैंने बिना कुछ सोचे अपनी जीभ उसकी गांड के छेद पर लगा दी और उसे भी चाटने लगा. मेरी नजरों को शायद भाभी जी समझने लगी थीं और वह भी कुछ मुस्कुरा कर इशारा कर देती थीं. वो मुझे, आज भाई नहीं … एक मर्द दिख रहा था, जिसको मैं ओरिजनल मर्द बनाने वाली थी.

तो उन्होंने बड़े आश्चर्य से मुझसे कहा- तुम इतनी बड़ी हो गई हो और अभी तक तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है.

लंड पकड़ कर मैंने चूत पर रख दिया और मुट्ठी से बांध कर पीछे का हिस्सा पकड़ लिया ताकि वो एकदम से पूरा न डाल दे. एक दिन शाम को वो अपने क्वार्टर से बाहर निकली और मुझसे बोली- असलम, जरा सिगरेट ले आओ मेरी सिगरेट खत्म हो गई. मैंने चाची को नहाने के टब में ही लेटा दिया और उसी टब कि दूसरी साइड में मैं भी बैठ गया.

बीएफ भाभी चुदाई वीडियोमैंने कहा- नहीं दीदी, मुझे अच्छा नहीं लगता कि कोई मेरी वजह से परेशान रहे. ये देख कर गुरबचन जी हंस कर बोले- पूरी प्रशिक्षित हो गई है रांड … साली कोठे पर बैठने लायक हो गई है.

बीएफ वीडियो फुल एचडी में बीएफ

मैंने कहा- कैसा काम?उन्होंने मेरे बालों को पकड़ा और मुझे नीचे कर दिया. मैंने भी बैठे बैठे अपनी चूत देखी, उसमें भी बहुत सारा झाग और उसमे हल्का खून लगा हुआ था. जब रंडी से शादी की है, तो भड़वा जितना बेशर्म भी बन जा न!वो कपड़े उतार कर मेरे सामने ही नंगे हो गए और अन्दर जाने लगे.

पर मेरे लन्ड का उभार आंटी ने देख लिया था।वो मुस्कुरा रही थीं।हम दोनों लोग काम करते करते पसीने से भीग गए थे. मैंने कुछ कुछ मंगवाया भी तो विश्वेश्वर जी ने मना कर दिया और बोले- ठीक नहीं लगता. लेकिन मैंने उसकी एक नहीं सुनी क्योंकि मुझे पता था अगर मैंने लौड़े को निकाल लिया तो फिर ये गांड नहीं मारने देगी.

इससे चाची को और जोश आ गया और अपने दोनों हाथ दोनों गद्दे पर रखकर खुद ही पूरी गांड उठाकर उठाकर खुद ही मुझे अपनी चूत पर उछालने लगीं. दोस्तो, कैसे हो आप लोग, मैं संजीव नाथ उर्फ़ आदित्य, फिर से आप लोगों के बीच अपनी दूसरी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूं. वहां जाने के बाद जब हम अन्दर प्रवेश करने गए तो पता चला कि उधर सिर्फ स्विमिंग सूट या अंडरगारमेंट्स ही पहने जा सकते थे; किसी दूसरी ड्रेस में अन्दर जाना मना था.

अंकल अपने बिज़नेस के सिलसिले में अक्सर घर से बाहर कोलकाता रहते थे, वो महीने में एकाध बार ही घर आ पाते थे. पापा ने मेरी शादी की कही तो मैंने उन्हें मना कर दिया था कि मुझे अपना कैरियर बनाना है.

चाची ने जब से मेरे प्यार को ठुकरा दिया, तब से मेरे अन्दर जैसे अजीब से ताकत आ गई थी.

करीब दस मिनट की चुदाई के बाद कामिनी बोली- नक्ष, मुझे तेरे ऊपर आकर चुदाई करवानी है. बीएफ सेक्सी 9 साल कीमैंने कहा- मुझको भी पोर्न भाभी की चुदाई रोज करने में कोई परेशानी नहीं है. बीएफ चुदाई के साथनहाते वक्त मैंने लंड को टाइट करने की बहुत कोशिश की लेकिन बहुत मेहनत के बाद मेरा लंड टाइट हुआ और सलामी देने लगा. बड़ी मादक खुशबू थी उसकी चूत की!उसने अपनी चड्डी से चूत को पौंछ दिया और मुझे चूत चाटने का इशारा करने लगी.

चाची की गांड अब थोड़ी ऊंची हुई तो मैंने अपने दोनों हाथ चाची की पीठ के पीछे बांध दिए और मैं अपनी गांड उठा उठा कर फिर से धक्के लगाने लगा.

साथियो, इस हिंदी सेक्सी चूत कहानी की शुरूआत एक छुट्टी की शाम को हुई थी. मैंने भी गुस्से में कहा- आ जाओ भोसड़ी वालो … अब देखो मेरा कमाल … सालो तुम्हारे लंड तो मुर्दे की तरह लटके पड़े हैं और बात चोदने की कर रहे हो!वो बोले- हां तो लंड खड़ा करने के लिए तेरा मुँह तो है कुतिया. फिर उन्होंने दोबारा से अपने लंड को मेरी चूत के मुँह पर रखा और अब की बार धीरे धीरे अपना अपना लंड मेरी चूत में उतार दिया.

जीभ से चूत चूसने के बाद मैंने उसकी चूत में पहले एक उंगली डाली, फिर दो डाल दीं और उंगली से ही उसकी चूत की चुदाई करने लगा. दीदी ने दो दिन बाद मेरी मम्मी को फोन करके कहा- मैं घर पर चिकन बना रही हूं, सब लोगों को आना है. आगे की पढ़ाई के लिए हमें दूसरे गांव जाना पड़ता था, जो 5 किलोमीटर दूर था.

नारी बीएफ

मैंने उस तकिये का कवर निकाल कर अपने पास रख लिया गर्लफ्रेंड सेक्स की निशानी के तौर पर!थोड़ी देर बाद मैंने कोमल को घर जाने को बोल दिया. ट्रेनर- चुदाई की मशीन से तुम लोगों की गांड, चूत के छेद बिना दर्द हुए, बड़ा लंड या डिल्डो लेने लायक बनाया जाएगा. अब उसकी कुंवारी चूत मेरे सामने थी एकदम गोरी चिकनी … जिस पर झांट के छोटे छोटे बाल थे.

वैसे भी विश्वेश्वर जी को ये डर सता रहा है कि तुम तमाशा कर सकते हो और उनके सामाजिक छवि को नुकसान हो सकता है.

मैंने कैसे ना कैसे हिम्मत करके फर्स्ट टाइम उसके कच्छे के बाहर से लंड पर उंगली टच की.

दोस्तो, देसी पड़ोसन भाभी की न्यूड सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, मुझे जरूर बताएं. मैं आपकी मदद कर सकती हूं।मैं डर कर बोला- नहीं बेटा, ऐसा कुछ नहीं है. हिंदी मूवी बीएफ पिक्चर सेक्सीफिर उसने मेरी कच्छी थोड़ी सी हटाई और मेरे बुर के दाने को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

वो अक्सर बातों बातों में ये कह देती थीं कि मेरे पति में अब दम नहीं बची है. उसने कहा कि तुम अपना नम्बर ही व्हाट्सएप ग्रुप में डाल दो, ताकि किसी लड़के वाले का फोन आए, तो आप बात करके मुझे बता देना. उसकी इस बात से मुझे पता चल गया कि ये साली वर्जिन नहीं है, इसे चोदने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

नमस्कार दोस्तो, मैं सुरेंद्र सिंह सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर आप सभी पाठकों के समक्ष उपस्थित हूँ. नहाने के बाद हम दोनों वैसे ही गीले और भीगे हुए कपड़ों में नदी के किनारे रेत पर लेट गईं.

फिर मैंने उससे आज दोपहर के बारे में पूछा तो उसने बताया कि उसके दोनों बूब्स दर्द कर रहे हैं.

मेरे पति तो बिजली की दुकान में रहते हैं और मेरा बच्चा स्कूल जाता है. सोम ने पूछा- राजीव, तुझे कभी मौका मिला तो तुम बॉटम बनना पसंद करोगे या टॉप?मेरे मुँह से निकला- बॉटम. इधर लड़के लड़कियों को सफल कॉल बॉय और कॉल गर्ल बनने की ट्रेनिंग दी जाती थी.

देहाती सेक्सी चाहिए बीएफ इस वजह से मेरा लंड खड़ा होकर टाइट हो गया था और उसकी चूत पर कपड़ों के ऊपर से ही रगड़ खा रहा था. मैंने उसको चित लिटाया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी बुर चाटना शुरू कर दी.

कुछ मिनट बाद मैंने लंड निकाला और एकदम से चूत में डाल कर तेजी से सेक्स करने लगा. सोनल मेरे रुकने से बहुत खुश थी लेकिन मुझे दो टेंशन हो गई थीं कि एक तो लॉकडाउन में सब घर में होते हैं तो सोनल की कैसे लूंगा और दूसरी टेंशन ये कि कहीं नैना को पता न लग जाए. उसने यह भी बताया कि वो इसी शहर में एक कमरा किराये पर लेकर रह रही है.

सेक्सी बीएफ बुर चुदाई हिंदी

कोमल ने देखा कि नीतू की चूत पर झांटों के बाल उगे हैं और शरीर पर भी काफी बाल हैं. क्योंकि पहले वो मेरे एक दूसरे फ्रेंड से बात करती थी, ये बात उसी ने मुझे बताई थी. आंटी बोलीं- बड़ा मजा दे रहा है बेटा … अपने लंड का माल मेरी गांड में ही छोड़ना.

ये एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है, जिसके फीचर साधारण व्हाट्सैप से कुछ अलग होता है. इसके बाद हम 69 वाले पोज में आ गए और एक दूसरे के चूत और लंड से खेलने लगे.

प्रिया के मुँह से निकला- आह आह!मैं अपने लंड को एक हाथ में लेकर उसकी चूत में ऊपर नीचे रगड़ने लगा और अपने दोनों पैरों से उसके दोनों पैरों को फैलाकर दबा लिया.

फिर भी मैंने धक्का लगा कर लंड को चुत में अन्दर तक चीरता हुआ घुसेड़ दिया. दिन भर वो नंगी ही घर में घूमती और नंगी मेरी गोद में बैठ कर खाना खाती. उसका एक कारण ये भी था कि मैं अपने दादा जी और दादी जी के रूम में सोती थी.

मैंने आंटी से पूछा- आंटी आपने कभी थ्री-सम सेक्स किया है?आंटी बोलीं- थ्री-सम ही नहीं मैंने बहुत बार कंपनी के बिजनेस के कारण गैंग बैंग भी कराया है. वो मेरी चूत पर हाथ फेरने में लगे हुए थे और मेरे मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं. ’मेरी रफ्तार इतनी तेज हो गई थी कि पूरा पलंग बुरी तरह से हिल रहा था.

उसके पति की बिजली सामान की दुकान है और वह दिन भर दुकान में ही रहते हैं.

मौसी बीएफ: अभी कोरोना की वजह से जल्दी ड्राइवर मिलते नहीं हैं, तो क्या तुम ये जॉब कर लोगे?मैं- जी, मुझे ड्राइविंग करना आता है और मैं कर लूंगा. वो भी समझ गया था और मेरी बुर के दाने को अपने हाथ की उंगली से मसलने लगा.

चाची सास- ओह्ह कितना दुःखी हो तुम!मैं- और क्या हो सकता है सासु मां. शाम को ट्रेनर ने बीडीएसएम की क्लास में सबको कुत्तों की तरह फर्श पर चलाया, चलते समय बेल्ट से पिटाई भी की. उसी के साथ नर्स सुरभि भी किस तरह से मेरे लौड़े के नीचे आई उसकी चूत गांड चुदाई की कहानी भी लिखूंगा.

दोस्तो, यूं तो मैं अच्छे घर से हूँ लेकिन चूत की सन्तुष्टि पाने और दिलाने के लिए सब जायज़ है.

मुझे ये नहीं पता था कि सामने अलमारी पर मिरर लगा हुआ है और उसमें से मैं अपना खड़ा लंड हिलाता हुआ स्नेहा को दिख रहा हूँ. मैंने कहा- बच्चे कब तक सोएंगे?दीदी बोली- सो जाएंगे अभी!मैंने कहा- आज आप कराहने वाली हैं. मैंने कहा- बच्चे कब तक सोएंगे?दीदी बोली- सो जाएंगे अभी!मैंने कहा- आज आप कराहने वाली हैं.