काजोल की बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,खड़े होकर दूध पीने के फायदे

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो चाची वाली: काजोल की बीएफ फिल्म, धीरज ने वाइन की बोतल खोल के गिलास में किया और नायरा के मम्मों पर टपकाते हुए मम्मे चूसने लगा.

सेक्सी नंगी तस्वीर

मैं अभी और ज्यादा उत्साहित हो रहा था, क्योंकि आलिया के साथ आगे में और ज्यादा मजा करूंगा. भारतीय एक्स एक्स एक्स वीडियोवो कहने लगा कि अगर मैंने उसकी बात नहीं मानी तो वो मेरे यार के साथ मेरी चूत चुदाई का सारा प्लान मेरे भाई को बता देगा.

मैं मुस्कराते हुए बोला- माफ़ कर देना … तुम्हें देख कर मुझे कुछ भी होश नहीं रहता. बीपी इंडियन पिक्चरउसने एक निप्पल पर चुटकी ली और स्तन को सहलाते हुए हाथों से पकड़ लिया.

वो बोलती थी- तुमसे चिपकती थी तो पूरे जिस्म में गुदगुदी होने लगती थी! ऐसा लगता था कि बस अब एक दूसरे में समा जायें.काजोल की बीएफ फिल्म: ये मेरी सच्ची कहानी है, जो मैं अपने एक दोस्त के माध्यम से आप सभी तक भेज रही हूँ.

तो वो बोली- मैं आपको ये नहीं कह रही कि उनसे दोस्ती तोड़ दो या पारिवारिक सम्बन्ध बिगाड़ लो.… वो तेरा बूढ़ा खूसट चाचा … आह उसके मरियल लंड से मज़ा नहीं आने वाला था … आह तेरा ये बड़ा लंड मेरे सहारे के लिए आ गया.

सेक्स करते हुए पकड़े गए - काजोल की बीएफ फिल्म

मैं उठ कर बैठा हुआ था और बिस्तर के सिरहाने से टिक कर कमर के बल बैठा हुआ था.कुछ देर बाद स्मृति ने मेरे मुरझाये लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू किया.

उसने मुस्कुराते हुए कहा- पहले तेल तो लगा लो … क्या सूखी ही गांड मारने का इरादा है. काजोल की बीएफ फिल्म मुझे उसके मम्मे दबा दबा कर मसलने का जी कर रहा था, पर उसे दर्द हो रहा था.

प्रिया की चुत के कामरस से भीगकर मेरा लंड और भी चपल हो गया था और वो और भी तेजी से चुत के अन्दर बाहर होने लगा.

काजोल की बीएफ फिल्म?

फिर कई मिनट तक उसने चूसने के बाद दूसरे के लंड को भी मुंह में लेकर इसी तरह मस्ती में चूसा. मैंने पति के न आने की बात कही, तो बॉस बोले- कोई बात नहीं … ये तो मेरे लिए अच्छा ही रहा. बॉस ने मेरी चुदास भड़कते हुए समझ ली और मेरी चूत में अपना खड़ा लंड एकदम से डाल दिया.

उस दिन के बाद से मैं किसी ऐसी महिला की तलाश में हूँ, जो कड़क हो और बिस्तर पर खूब प्यार कर सके. मुझे यह देख कर बहुत खुशी मिलती थी कि कॉलेज का सबसे हॉट लड़का सबसे हॉट कॉलेज गर्ल का बॉयफ्रेंड है और उसको देख कर बाकी सारी लड़कियां अपनी चूत मसल कर रह जाती थीं. मैं सोनी की फुद्दी को ऐसे चूस रहा था, जैसे किसी कुल्फी को चूस रहा हूं.

तुम एक मर्द हो और लड़कियां उन्हीं मर्दों को पसंद करती हैं, जिनमें मर्दों वाली बात हो. फिर अचानक कंपनी को मेरे ट्रांसफर की आवश्यकता हुई और मुझे बात करने के लिए जयपुर बुलाया गया. मैं भाभी जी से बोला- अगर आप मेरी बीवी होतीं, तो मैं आपको बहुत प्यार करता.

मैं समझ तो नहीं पाया, पर इसी बीच उन्होंने मुझसे कहा कि मैं जरा घर जा रही हूँ. लेकिन ये किसी पराये मर्द के साथ करने को मान गयी तो मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था मानो चुदाई से पहले ही जंग जीत ली हो.

अब आगे की सेक्स चैट:सोनिया- अब बोलो ना … कैसी है टॉप स्कर्ट?रोहन- बहुत अच्छी है.

जब जेल बाहर आने लगा तो उन्होंने जेल भरना बंद कर दिया।अब उन्होंने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और उस पर भी खूब सारा जेल लगाया।वो अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रगड़ रहे थे, उनको मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था, एक तो गोली का असर ऊपर से इनकी हरकतें।अब इन्होंने अपने लंड को धीरे से मेरी गांड में डाल दिया, लंड का टोपा ही अंदर गया था और इतने में ही मैं दर्द से तड़प उठी।मैंने उनसे कहा- दर्द हो रहा है.

इसके बाद मैंने उसकी टी-शर्ट को उसके गले से ऊपर करके निकाल दिया और उसके दोनों हाथ ऊपर की ओर कर दिए. उसकी सिसकारी सी छूट गई और वो मुझसे लिपटने की कोशिश करने लगी।फिर मैंने उसके होंठों को अपना निशाना बनाया और वहां भी एक सील लगा दी। मैंने प्रीति को वहीं पर किश करना शुरू कर दिया. फिर वो मेरी निप्पलों को चूसने लगे तो मुझे फिर से सेक्स चढ़ने लगा और मैंने उनके लंड को पकड़ कर चूसना शुरू कर दिया.

शायद हमारा ड्रीम गर्ल या ड्रीम बॉय जिसे हम कहानी में दिये गए उसके विवरण से एक शक्ल देते हैं। अब फिल्म तो तभी दिलचस्प लगेगी न जब हम सिर्फ फिल्म देखें और उसी के बारे में सोचे, ना कि जब फिल्म के पीछे की शूटिंग भी देखें।इसलिए आप सब पाठकों से निवेदन है कि मेरी कहानी पढ़ते हुए दिमाग की बजाय दिल से सोचें. ” नीलम ने अपने ससुर के लंड को घूरते हुए कहा और नीचे झुककर उसके गुलाबी सुपारे को चूम लिया।आहहह बेटी क्या कर रही हो?” अपनी बहू के होंठ अपने लंड पर पड़ने से महेश ने सिसकते हुए कहा।पिता जी प्लीज, आप चुप हो जाओ. जब नेहा के दोनों हाथ मेरे सिर को पकड़ने में व्यस्त थे, तभी मौके का फायदा उठाकर मैंने झटके से कुर्ते को उसकी चूचियों के ऊपर तक खिसका दिया.

मैंने पूछा- क्या हुआ … तुम्हारे पति ने तुम्हें अब तक चोदा ही नहीं है क्या?तो वो बोली- अभी तक सिर्फ तीन बार ही हमारे बीच सेक्स हुआ है.

रोहन- इतनी कम उम्र में … मैं यह नहीं मान सकता कि बैंगलोर जैसे शहर के लोग भी कभी-कभी ग्रामीणों की तरह व्यवहार कर सकते हैं. शबनम ने अंकित के कूल्हों पर अपनी उँगलियाँ चुभा दी और अपनी टांगों से अंकित को और पास खींच लिया. आज काफी टाईम के बाद तुझसे जो सुख मिल रहा है, वो मैं कभी नहीं भूल सकता.

अब कब उसने मेरे लंड को शांत किया ये मैं आपको जल्द ही उसकी चुदाई की कहानी लिखता हूँ. सीमान्त मेरे पास आकर बोला- देख साली रंडी कैसे उछल उछल कर चुदवा रही थी. मैं अपनी जीभ निकाल कर पूजा की चुत को पीछे से चाटने लगा और पूजा भी अपनी कमर को हिला हिला कर और घुमा घुमा कर अपनी चूत मुझसे चटवाती रही.

दीपा की प्लानिंग बढ़िया होती है, ये मनोज जानता था तो उसने उस प्रोग्राम को ही अप्रूव कर दिया.

मगर कुछ तो पसंद नहीं आते और कुछ को मैं अपने डर के कारण जवाब नहीं दे पाती थी. भाभी ने कहा- दीपक मैं बहुत प्यासी हूँ … आज मेरी प्यास को अपने प्यार के पानी से बुझा दो.

काजोल की बीएफ फिल्म यह कहकर वो उठीं और सेंटर टेबल के और हमारे बीच में से गुज़र कर जाने लगीं. सोनिया- अच्छा जी … तो आप मुझे टीज़ कर रहे थे … देखते हैं कौन बेहतर टीज़ करता है.

काजोल की बीएफ फिल्म मैंने दुपट्टे से उसका माथा गाल सब अच्छे से पोंछ डाले और उसे अपने सीने से चिपका लिया और उसके बालों में हाथ फेरते हुए उसे छोटी बच्ची की तरह दुलारने लगा. मैंने उससे कई बार पूछा- तेरे पास इतना पैसा कहां से आ रहा है?उसने मुझे एक बार 5000 रुपये दिखाए और बोली- भाई मैंने ये सेविंग्स की है.

उसने फिर जोर से आवाजें करते हुए उसके लंड पर अपनी चूत का पानी गिरा दिया.

সেক্সি বিএফ ব্লু ভিডিও

फिर कमलेश बोला- साली तुझे जब से देखा है … तब से तुझे चोदने की सोच रहा हूँ. अंकित ने अपने लंड को शबनम की चूत के अन्दर हिलाते हुए धक्के मारने चालू रखे. दोपहर को वो जब आएगी, तो उसके पहले मैं तुम्हें कॉल कर दूंगा और सामने का दरवाजा सिर्फ लगा के छोड़ दूंगा.

चोदते तो मेरे पति भी तुमसे ज्यादा है, जब वो घर पर रहते हैं, लेकिन चूसना चाटना उन्हें नहीं पसंद है. एक मिनट में मैडम को मजा आने लगा और उन्होंने संतोष के हाथ हटाते हुए कहा- आह तेरा बहुत बड़ा है … बाकी सब टीचरों से बहुत बड़ा लंड है … अब तक मैंने जितने भी लंड लिए हैं, ये उन सबमें बड़ा है. उसने नीचे से अपनी गांड उचकाते हुए बहुत सारा मूत निकाल दिया, जिसे मोहिनी ने अच्छे से चाट लिया.

अब दर्द तो नहीं हो रहा न?” मैंने पूछा तो उसने इन्कार में सिर हिला दिया पर बोली कुछ नहीं.

हालांकि मेरी चूत पूरी गीली हो रही थी उसके बारे में सोच सोच कर … फिर भी मैंने जल्दी करना ठीक नहीं समझा. अब वो बहुत ज़ोर से रोने लगी और मुझसे कहने लगी- प्लीज अब इसे बाहर निकाल लो, उह्ह आह्ह्ह मैं इस दर्द से मर जाऊँगी प्लीज. कई बार लंड ऐसे होते हैं कि जिनको देख कर ही मूड खराब हो जाता है लेकिन कई बार लंड की सुन्दरता भी आकर्षित कर लेती है.

मेरी भी आँखों में नींद नहीं थी तो मैं वहीं बैठ कर उनसे बात करने लगा और साथ साथ मोबाइल में सर्फिंग करता रहा. मेरे लंड में सख्ती आ गई और मैंने मौके का फायदा उठाने का मन बना लिया. उन्हें मैंने अपनी गोदी में ले लिया था और उनकी ब्रा के साइड से ही हाथ डाल कर उनके बड़े मम्मों को सहलाने लगा था.

ढेर सारे गहनों से और फूलों से लदीं प्रीति मेम अप्सरा सी लग रही थीं. उसके जाने के 15 मिनट बाद मम्मी ने मुझसे पूछा- समीरा आ गई?मैंने बोला- कहाँ से?माँ ने बोला- वो खाना देने गई थी दादाजी को … अभी तक नहीं आई, जा देख कर आ, ये लड़की कहाँ रह गई?मैं उठा और कुछ ही सकेंड में दादाजी के घर पर पहुंच गया.

मैंने भाभी के चूतड़ों को, मम्मों की तरह मसला, फिर चूसने और चाटने लगा. अब जहां पर मसाज की बात आ जाती है तो वहां पर फिर सेक्स की बात भी हो ही जाती है. इसी तरह करते करते वो पहली बार मेरे मुंह में अपना झरना दे बैठा और मैं पहले की तरह उसे चाव से पी गया।वो निढाल होकर सीट पर लेट गया।5 मिनट आराम करने के बाद उसने मेरे निप्पल्स पर धीरे से काटा तो मेरी आह निकल गयी.

मुझे लगता है कि आज मेरे मम्मों की जो साइज़ है, वो उसके दबाने से ही हो गई है.

मैंने फोन रखकर आलिया की कमर पर एक हाथ रख दिया और हम दोनों नजदीक आ गए. क्या आपके यहां चाय बना सकते हैं?मैंने कहा- ओके … पर ये सब क्यों लाए, मुझे बोल देते, मैं ऐसे ही बना देती. मैंने उसको लेकर शुरुआत में कुछ भी गलत नहीं सोचा था, क्योंकि वो मुझसे कुछ न कुछ नया सीखती रहती थी.

पूजा की चूत से निकलती धार ठीक मेरे मुँह पर गिर रही थी और पूजा ने मेरे सर को पकड़ रखा था. सबका टिफिन बनाना, साफ सफाई करना, उसके बाद जॉब फिर घर पे आके सबका खाना बनाती थी.

गांव की औरतों को बस बातें इधर उधर करने के लिए मसाला चाहिए होता है इसलिए वो ऐसी बातें फैला रही हैं. अब मैंने कहा कि भाबी मेरा होने वाला है … पानी किधर निकालूं?भाबी ने कहा- मेरी चूत में ही झड़ जाओ. फिर मैंने कम्मो की चूत का जायजा लिया, उसकी चूत का चीरा खूब लम्बा था और बुर के होंठ भी खूब भरे भरे से गद्देदार थे.

चुदाई काहनी

मैंने उसके पैरों से ऊपर होकर उसके मुँह पर किस किया और बोला- देखा कैसा टेस्ट है तेरी चूत का … तूने अपनी चूत को कभी टेस्ट किया है?उसने हंस कर मुँह फेर लिया.

मैंने उसे पैग दिया, तो बोली कि यहीं रख दे … मेरा हाथ खराब है, मैं कैसे पकडूँगी या तू अपने ही हाथों से मुझे पिलाता जा. अब मैं बस झड़ने ही वाली थी तो मैंने उससे कहा- और जोर से मनोज!वह भी मेरी कामुकता भरी आवाज सुनकर जोर से धक्के मारने लगा और दूसरे क्षण झड़ गया. हालांकि वो दोनों सगी बहनें ही थीं, मगर फिर भी प्रिया को ये गंवारा नहीं था कि मैं अब नेहा के साथ सम्बन्ध बनाऊं.

अगले ही पल तेज गर्म वीर्य की पिचकारी मेरे पेट पर स्तन पर छूटने लगी। लग रहा था जैसे पिघली हुई मोम बदन पर गिर रही हो और बदन को जलाते हुए ठंडी हो रही हो।न जाने कितनी पिचकारियां मेरे शरीर पर गिरी हुई होगी. अब भाभी बाथरूम में जाकर अपनी योनि धोने लगी और तब तक मैं वहीं लेट गया था. लाइव चुदाईमेरे अन्दर आग लगी थी कि पूरी रात सोनी के साथ सोकर भी उसकी फुद्दी का स्वाद नहीं चख सका.

पर इसमें तुम मेरा साथ दोगे?उन्होंने कहा- क्या करना होगा?मैंने उनसे कहा- क्यों ना कुछ नया किया जाए और कुछ पैसा भी कमाया जाए? ई-मेल पर बहुत सारे लोग जो मुझे प्यार करने वाले हैं, मुझे चोदने के लिए पैसे देने के लिए भी तैयार हैं. मेरी हिंदी सेक्सी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि समीर अपनी विधवा बहन की चूत चुदाई कर रहा था जिसके बारे में उसकी पत्नी को शक हो गया.

उन्होंने फिर कहा- वो रात में भी वो गलती से ही हुआ?मुझे काटो तो खून नहीं … समझ में नहीं आ रहा था क्या कहूँ. चूंकि मुझे वो अच्छे लगते थे, इसलिए मैंने उन्हें अपना मोबाइल नम्बर दे दिया था. कुछ दिन उससे बातें करने के बाद मैंने अपने चचेरे भाई को ये बता दिया था कि मेरा एक बॉयफ्रेंड है.

करीब दस मिनट बाद कमरे में रोने की आवाज आयी, तो मैंने पूछा कि प्रीति क्यों रो रही हो?मेरी आवाज सुनकर वो चुप हो गई और बोली- कुछ नहीं … सो जाओ. थोड़ी देर तक ऐसे ही चलता रहा, फिर मैंने अपना मुँह उठा कर पूजा की गांड को चूम लिया और उसकी गांड के छेद पर अपनी जीभ लगा दी. आमतौर पर मैं तैयार होने में सिर्फ 10 से 15 मिनट लेता हूं, लेकिन उस दिन मुझे आधे घंटे से ज्यादा लग गया.

रचना गाली देते हुए बोली- साले तू बहुत हरामी है … तू एक अबला नारी का फायदा उठा रहा है.

फिर फिर मैंने बिना कुछ सोचे कमलेश का लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी. मेरी सास मोहिनी की चुदाई की गर्म कहानी का अगला भाग जल्द ही आपको पढ़ने को मिलेगा.

एक बार फिर से अपना संक्षिप्त परिचय देते हुए बताना चाहता हूँ कि मेरी हाइट 6 फीट के करीब है और शरीर भी ऐवरेज ही है. उपिन्दर ने मेरी माँ की चुचियाँ मसलीं- वापस घर पे आके तो तेरी लूंगा ही, वहां अंधेरे में प्रोग्राम शुरू करेंगे, मज़ा आएगा. उसी महीने मेरी बुआजी खूब बीमार पड़ गईं और मुझे सनी ने भाग दौड़ के लिए हनुमानगढ़ बुला लिया.

वन्दना ने खाना टेबल पर लगा दिया और मुझसे बोली- नीतू के सामने मुझे शराब सिगरेट को मत पूछना!इतने में नीतू एक गुलाबी रंग का शार्ट और आसमानी टीशर्ट पहन कर आ गयी. मैं उसके रूम पर पहुँच गया और सामान्य औपचारिकता के बाद मेरी गर्लफ्रेंड मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अलग बेडरूम में ले जाने लगी. उन्होंने बोला- आपको किन से मिलना है?मैंने उनके पति का नाम लेते हुए बताया कि उनके लोन का पेमेंट नहीं हुआ है … आज अगर पैसा नहीं मिला, तो रिकवरी के लिए भेज देंगे.

काजोल की बीएफ फिल्म मैंने भी अपना गिलास पूरा खाली किया और एक सिगरेट जलाते हुए कहा- तुम्हारा भी मन हो, तो मैं आज तुमको चोदना चाहता हूँ. मौसी बोलीं- रात को क्या देखा था?मैंने कहा- रात को अंधेरे में मैं चूत नहीं देख पाया था.

हैप्पी बर्थडे अमित

सोनिया बोली- सनी मेरे गांडू पति … चल मेरी चूत को चाट!मैंने उसकी चूत को दबा कर चूसना शुरू किया. हाँ शाम को मनोज ऑफिस से आने के बाद एक सिगरेट जरूर सुलगाता और उसमें से आधी तो दीपा ही पीती. मगर उनके प्रति कुछ गलत मेरे मन में नहीं था, वो मुझसे काफी बड़े उम्र के भी थे.

इसलिए मैं वहाँ पर एक किराए का घर लेकर रहता था और अपनी कम्पनी के ऑफिशियल टूर में हर माह 4 दिन बालाघाट और 3 दिन सिवनी जाया करता था. मुझे यही लग रहा था कि मैं ब्लू फिल्म बना रहा हूं या उसका किराएदार लग रहा हूं. तेल लगाकर चुदाईविक्की बोले- आ आ मेरी रानी और चूस … गीता यार तुम कितना अच्छा लंड चूसती हो।मेरी मम्मी ने भैया का लंड फिर अपने मुंह में ठूंस लिया.

ये कह कर मैंने उनकी चूत की फांकों को खोल दिया और अपनी जीभ से चाटना शुरू कर दिया.

कम्मो बेटा, चूत कायदे से परोसी जाती है लंड के सामने!” मैंने कहा तो उसने असमंजस से मेरी तरफ देखा जैसे मेरी बात उसकी समझ न आई हो. मौसम सुबह से ही बारिश का बन रहा था और दोपहर होते होते, बादलों ने पूरे आसमान को ढक लिया.

वो मेरी पेशानी पर चूमने लगा … धीरे-धीरे उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रखते हुए मुझे लिप किस किया. जब उसने इसका मतलब पूछा, तो मैंने उसे समझाया कि इसका क्या मतलब होता है. शाम को जब मैंने उनके यहां पहुंचा, तो उन्होंने सारा बंदोबस्त पहले से ही कर लिया था और पहले से ही दो पैग लगा लिए थे.

लेकिन शुरूआत में, किसी भी लड़की के साथ बातचीत कुछ मिनटों से आगे नहीं बढ़ पायी थी.

सुपारा अंदर घुस गया था, मेरे मुख से हल्की चीख निकली ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’वे बोले- ज्यादा लग रही है?मैंने इन्कार में सिर हिलाया तो वे बोले- तो पूरा पेल दूं?अपनी गांड की एक जोर दार ठांप से मैंने पीछे धक्का दिया. उसके लिए मैं सबके सामने छुट्टी के समय निकल जाती थी और फिर सबके जाने के बाद फिर से केबिन में आकर बॉस से चुद लेती थी. मैं भी हाँफ रही थी और वह भी!मैंने उससे कहा- यह तुम्हारी इंसानियत का नतीजा है कि मैं आज तुम्हारे साथ इस हालत में हूँ.

नेपाल की बीपीमैंने नैना भाभी से बात की, तो पता चला कि उसने उन्हें कुछ नहीं बताया. मुकुल राय ने अपने दोनों हाथों से परीशा के चेहरे को अपनी तरफ घुमाया.

লেরকি কি চুত

मैं इस काम से बहुत खुश था क्योंकि मुझे अब घर से दूर नहीं रहना पड़ता. कभी कभी वो किस करते करते मेरे पेट पर, मेरी नाभि पर … और कभी निप्पलों को काट लेती. कहानी के पिछले भाग में नीलम ने अपने पति को अपने जिस्म के करीब नहीं आने दिया और वह अपनी बहन के पास जाकर आंसू गिराने लगा.

मुझे पता था कि मेरी मम्मी भी चुदाई के लिए तड़प रही थी क्योंकि पापा के बिना उनकी चूत प्यासी रहती थी. फिर मैंने अपनी टांगों को हिलाते हुए उसके लंड को अपनी चूत में एडजस्ट कर लिया और उसने मेरी चूत में पूरा लंड घुसा दिया. पानी इतना ज्यादा था कि मेरे पेट तक बह रहा था और बह के इधर-उधर गिर भी रहा था.

मैं भाबी की छूट का सारा नमकीन पानी पी गया और भाबी ने भी मेरे लंड के पानी को पीकर लंड चाट कर साफ़ कर दिया. वो मुझे चूमते हुए बोलीं- आज हमारा पहला मिलन है … हमारी सुहागरात है. तुम्हारा यह प्यार देखकर ही मुझे भी चार्ली पसंद आ गया … और मैं चाहती हूँ कि चार्ली तुम्हारे साथ साथ मुझे भी चोदे.

मैंने टाइम पास करने के लिए एक किताब पढ़ना शुरू कर दिया और फिर कुछ ही देर बाद मुझे नींद आने लगी. वीकेंड पर ड्रिंक्स के दो दो पैग लगाने के बाद बातों ही बातों में मैंने बोल दिया- भाभीजी मुझे आपका रोना अच्छा नहीं लगता.

चाचा मुझसे बात करते करते कभी-कभी मेरे गालों को जोर से खींच रहे थे जो कि उनकी आदत थी.

चूत पर एक भी बाल नहीं था, मस्त फूली हुई चूत थी।मैंने उनके बूब्स को चूसना शुरू किया … मैं जैसे टूट पड़ा चाची के बूब्स पर … मेरी चाची बस आहें भर रही थी. यूट्यूब भेजेंमैंने अपना लंड उसके चेहरे के सामने कर दिया और लंड हिलाते हुए उससे कहा- लो देख लो मेरा औजार. जबरदस्ती वालीबहुत बिज़ी थीं क्या?सोनिया- हां … तुम वेट कर रहे थे क्या?रोहन- सच कहूं … कर रहा था. दीपा का हॉस्टल लाइफ में रवि नाम के लड़के से इश्क का चक्कर भी जोरों से चला.

वो दोनों तैयार हो गये और हमने गुड़गांव के होटल को बुक करने का प्लान कर लिया.

सबसे पहले अन्तर्वासना को नमस्कार, जिसने सभी लोगों की हवस की प्यास मिटाने का जिम्मा लेकर बड़े ही मनोरंजनात्मक तरीके से निभाया है. मैंने कहा- प्रीति, तुम बहुत सुन्दर हो … अब जब मैंने तुम्हें आधी नंगी देख ही लिया है, तो अब तुम शर्म छोड़ कर मुझे प्यार करने दो. फिर वो सब लोग सिर्फ अंडरवियर और बनियान में आराम से बैठ गए।विकी मेरे करीब आया और मुझे बांहों में भर कर मेरा टॉप उतारता हुआ मेरे होंठों को चूसने लगा। मैं भी नशे के सुरूर में थी.

मेरी मूत्र नलिका का दाना जिसे क्लिट कहते हैं, वो बाहर निकला हुआ है. किंतु यदि आपके मन में अपनी समस्या से छुटकारा पाने का दृढ़ निश्चय है तो आप यह आसानी से कर जायेंगे। इसलिए अपने मन को वश में करते हुए प्रयास करते रहें।अगर आप सेक्स करते समय कंडोम का प्रयोग नहीं करते तो कंडोम भी इस समस्या में आपकी मदद कर सकता है. मेरे साथ देते ही बॉस मुझसे एकदम से चिपक गए और अब धीरे धीरे उनका हाथ मेरी गांड पर आ गया.

काजल अग्रवाल का सेक्सी बीएफ वीडियो

इसलिये मैं नहायी भी शाम को! इतना कहकर वो शान्त हो गयी उसकी नज़र शर्म से नीचे हो गई. प्यारी अन्तर्वासना के प्यारे मित्रो, कम्मो की कथा यहीं समाप्त होती है. मैंने कहा- कोई टेंशन नहीं लो सासू माँ … अब अपने को एक हफ्ते तक कोई देखने वाला नहीं है.

हम दोनों ने देखा कि माँ बेड पर आंखें मूंदे अपने एक हाथ से निप्पल को सहला रही थीं और अपने एक हाथ से चुत में उंगली डाल रही थीं.

ये सब करते हुए मेरी आँखें बंद थी कि अगर वो जाग भी रही होंगी तो उन्हें यही लगेगा कि मैंने नींद में ऐसा किया है.

वो हँसते हुए ही बोली- घबराओ मत, मैं किसी से शिकायत नहीं करुँगी तुम्हारी. कबीर ने कहा कि मैं जानता हूं कि राज तुम्हारे साथ सेक्स क्यूं नहीं कर रहा है. देसी चोदी चोदा वीडियोजिस जगह पर उसकी गांड टिकी हुई थी वहां से पूरा बिस्तर गीला हो गया था.

कुछ देर ऐसे ही करने के बाद मैंने भाभी को बोला- भाभी अब असली काम के लिए तैयार हो जाओ. सपना मेरे घर आई, मम्मी पापा से इजाजत ली और मुझे अपने साथ अपने घर ले गई. फिर जब उसकी माँ आ गईं … तो मैं उसके पास बैठ कर पढ़ाई की बातें करने लगा.

और चार पाँच ज़ोर से ज़ोर धक्के लगाने के बाद अंदर चला गया और वो भी आधा … लेकिन मेरी तरह उसे भी अब बहुत दर्द हो रहा था, क्योंकि स्मृति की चूत बहुत टाइट थी और अब वो दर्द से एकदम तड़प उठी, मचलने लगी चीखने चिल्लाने लगी और मुझसे बार बार अपनी चूत से लंड को बाहर निकालने को कह रही थी. अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे मैंने अपने देहाती आशिक के गांव जाकर सोनिया को चुदवाया और उसको गर्भवती करवाया.

कई बार की मुलाक़ात के बाद एचआर एडमिन से मेरी कुछ दोस्ती हो गयी थी और मैं ऑफिस जाने के बजाए उसके मोबाइल पर कॉल करके यह जानकारी प्राप्त कर लेता था.

अब बॉस का लंड अपना लावा निकालने वाला था, बॉस ने लंड निकाल कर मेरी गांड में घुसेड़ दिया और जोर जोर से मेरी गांड में लंड का पानी निकालने लगे. बस मुझे कुछ अलग करना था इसलिए मैं हमेशा फोन में व्हाट्सएप ईमेल और अपनी सहेलियों के साथ बात करती रहती थी. कुछ देर मेरे नंगी पीठ को प्यार करने के बाद उसने मुझे बेड पर दुबारा लिटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गई.

ब्लू पिक्चर खुलेआम अनीता ने अपना दिमाग लगाया और मुन्ने का बहाना करते हुए बोली- मां जी, लगता है कि मुन्ने को नजर लग गई है. उनकी तारीफ़ सुनकर मुझे बड़ा मस्त सा लगा और मैंने सोच लिया कि अब मैं और भी हॉट से दिखने वाली ड्रेस पहन कर आया करूंगी.

”मैं सच कह रहा हूँ। अगर कोई इन कपड़ों में तुम बाज़ार चली जाओ तो लोग तुम्हारी खूबसूरती को देखकर गश खाकर गिर पड़ेंगे. अपनी हर महीने की तन्खाह से रंडी चोदने कोठे जाता और हमेशा दीदी के आस पास रहता था. मैंने उन्हें वापस पलंग पर गिरा लिया और कहा- देखूँ तो ज़रा … कितने ज़ोरों की आई है.

बीपी वीडियो गांव की

मैंने अपनापन जताते हुए कहा- नहीं सर अभी चलिये ना … वैसे भी मेरे पति आपसे मिलना चाहेंगे. अब उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में भर लिया और चप्प चप्प करके उसे चूसने लगीं. मुझसे सेक्स की बातें करते हुए मैंने देखा कि चाचा का लंड उनकी पैंट में तन कर खड़ा होने लगा था.

उसके अंदर की पतिव्रता स्त्री ने अब हवस भरी कामुक स्त्री का रूप ले लिया था. ऑटो में बैठते समय उसने बार के सुरक्षा कर्मी को बोल दिया कि भैया बाइक इधर रहने दो, कल सुबह लेकर जाएंगे.

थोड़ी देर बाद अमायरा का दर्द कम हुआ, तो वो खुद ही अपनी गांड हिलाने लगी.

उसने एक सेक्सी नाइटी पहनी हुईं थी, उसके साइज 38 के बूब्स आधे बाहर दिख रहे थे. उसका लंड अभी आधा ही घुसा था कि उसका लंड मेरी चूत में अंदर जाकर टकरा गया. फिर अगले दिन सुबह उसका मैसेज आया कि वह कुछ दिनों के बाद अपने घर वापस चला जायेगा.

मैंने उसके पास जाकर अपनी गाड़ी रोक दी और उससे लिफ्ट देने के लिए में पूछा. जैसे ही वो चुप हुई उसके मुँह से एक ही सवाल निकला- इतना प्यार करते हो मुझसे कि मेरे लिए इतना ख़तरा मोल लिया? और ऐसा मौका गंवा दिया? तुम चाहते तो शीना की चुदाई कर सकते थे पर तुमने मेरे लिए यह सब किया? मैं आज तक ऐसा ही प्यार तलाश कर रही थी जो मुझे तुम में मिला … प्लीज़ कभी मुझसे अलग मत होना, नहीं तो मैं खुद की जान ले लूँगी. नेहा को भी पता चल गया था कि मैं उस रात की असलियत जान गया हूँ इसलिए मुझसे वो डर डर कर रहती थी.

उसके बाद थोड़ी देर बाद उसने आकर मुझसे पूछा- तुम्हें आज कोई और काम है?मैं- ऐसा खास काम तो कोई नहीं है.

काजोल की बीएफ फिल्म: पर जब से आपसे बात करने लगी, मुझे एक नई उम्मीद जगी है कि कोई तो है जो मुझे अपना समझता है. जल्दी ही अगली कहानी में मैं लेकर आऊंगी कि कैसे जीजा जी ने मुझे एक दोस्त के फ्लैट में ले जाकर मुझे पूरी रंडी बना दिया.

वो मेरी टांगों और चुत के बीच के भाग से चाटना शुरू किया और पहले पूरे चुत के एरिया को चाटा. उसने वो मेरे पेट से मेरे हाथों को हटाया और मेरे पेट पर किस करने लगा. ” समीर ने अपने सिर को झुकाये हुए कहा।बेटे तुम ज्यादा चिंता मत करो, यह हवस की आग होती ही अंधी है.

वेटर ने बिना टाइम गंवाए अपने कपड़े उतार दिए और सीधे माँ के शरीर को खाने के लिए उनके ऊपर चढ़ गया.

सोनिया- तुम सारा दिन क्या करते हो?रोहन- थोड़ा अध्ययन, कुछ सर्फिंग, कुछ चैटिंग … थोड़ा सो लेता हूँ. कम्मो लेट गयी तो मैंने दो तकिये उसकी कमर के नीचे लगा दिए जिससे उसकी चूत अच्छे से उठ गयी. फिर मैंने अपने होंठों को उसके होंठों के करीब ले जाने की कोशिश की और फिर उसने मेरी आंखों में देखा.