हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो

छवि स्रोत,फिर आज का सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ चायना: हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो, मैं करवट से हो गया, फिर किसी ने मेरे चूतड़ सहलाए, वह मेरी गांड उस अंधरे में टटोल रहा था.

आंध्रा सेक्सी शॉट

मैं चुपके से जाकर मॉम की चारपाई पर लेट कर उनके साथ रज़ाई में घुस गया और उनको अपनी बांहों में ले लिया. सनी लियोन की सेक्सी मूवी दिखाएंमाँ ने नीचे झुक कर सड़क के किनारे देखा और फिर मुड़ कर मेरी तरफ देख कर बोलीं- मेघा बड़ा दिल कर रहा क्या घूमने जाने का?हालाँकि पहले वो मुझसे इस तरह की बात नहीं करती थीं.

दोनों भाई काजल के अगल बगल में गिर गए और अब तीनों भाई बहन आराम करने लगे थे. सेक्सी लड़कियों के फोटो दिखाओमगर जैसे ही मेरे होंठ ममता जी के होंठों के पास जाते वो अपना चेहरा घुमा ले रही थी.

ये सब शुरू हुआ मेरी तबियत ख़राब होने के दौरान! पापा ने मुझे एक सफ़ेद रंग की दवाई दी और बोला- इसे सटक जाओ, इससे तुरंत ठीक हो जाओगी.हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो: अपनी चूत को और गांड को भी पोंछा और फिर पैंटी, टॉप और जीन्स धुलने के लिए डाल दी.

अब मैंने भी मेरा कैमरा चालू कर दिया और अन्दर का सब रिकॉर्ड करना शुरू कर दिया.जब तक तू बूढ़ी नहीं होगी, तब तक तुझे कम से कम हर 5 दिन के अन्दर चुदाई करवानी ही पड़ेगी, नहीं तो तू इस तरह रोज तड़पेगी.

देवोलीना भट्टाचार्य की सेक्सी वीडियो - हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो

मैंने उसके लंड को पकड़ा और कसके दबाते हुए नीचे ले गई, तो लाल वाला सुपारा पूरा बाहर आ गया.एक प्रकार से लेकिन सीधे नहीं कहा था बस लेकिन मुझे डर भी लग रहा था कि कहीं दिव्या से बता ना दे.

फिर उसने थूक लगा कर कोई गुदगुदी सख्त सख्त चीज गांड पर रखी, मेरी लंड की टक्करें झेली गांड जल्दी समझ गई कि वह लंड है. हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो पर आप तो और ज्यादा करने लगे।मैं उसके चूचों पर दांतों काटने लगा और वो चिल्लाने लगी- भैया, आप ये क्या कर रहे हैं?मैंने उसकी बात को अनसुना कर दिया और चूत के पास जाते हुए उसे जगह जगह काटता जाता और वो सिसकारियों से कमरे में मधुर ध्वनि भर रही थी।मैं उसकी चूत चाटने लगा और एक हाथ से उसके चुचे की बेरहमी से मसलने लगा जिससे वो एकदम लाल हो गए।15 मिनट तक चूत चुसाई से उसकी चूत ने पानी फेंक दिया.

हालांकि मेरी भाभी से बातचीत होती रहती थी और उनकी सास यानि मेरी पड़ोस की चाची भी मुझ पर बहुत भरोसा करती थीं.

हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो?

बात करते करते मीतू मेरी जांघ पे हाथ रखते हुए बोली- भाई पैर ऊपर कर लो!इतना सुनते ही मेरा हाथ उस की जांघ पे चला गया और सहलाने लगा, उसे भी ऐसा करवाने में मजा आ रहा रहा था, परन्तु अचानक वो खड़ी हो गयी और पंखे की स्पीड बढ़ा कर मेरे पास में ही खड़ी हो गयी. दो साल बाद एक बार भाई अपने दोस्तों के साथ टूर पर गए, तब मैंने निश्चय किया कि अब जो भी हो, मैं भाभी को अपने दिल की बात बोल कर रहूँगा. अब कौन आ गया?”अरे तू तो जा रही थी न?”तूने ही कहा था कि एक घंटा और रुक सकते हैं.

मैं धीरे धीरे उनके पैरों पर पैर फेरने लगा, उनकी जाँघों तक पैर भी लाया, पर डर के मारे हालत भी खराब थी और मज़े के लिए डर को भी सह रहा था. 36 साइज कहने से ही समझ आ जाता है कि उसकी मादकता कितनी ज्यादा थी, और उसके सपाट और चिकने पेट ने मेरे मन में हलचल मचा दी।कोई भी औरत जब साड़ी पहनती है तो उसकी कमर किसी भी आवरण से परे होती है और उस जगह से ही आप किसी स्त्री को बिना छुये या बिना पास जाये भी अनावरित कर सकते हो। मतलब स्त्री के नग्न रूप का आभास किया जा सकता है, आंटी ने काम करने के लिए कमर में साड़ी बांध रखी थी. फिर उसने एकदम से पलट कर मुझे गले से लगा लिया, मुझे चिपक गया और मेरे चूचे दबाने लगा.

राजधानी से भी तेज स्पीड से चोदूँगा तुझे पूरी दो रातों तक; तेरी तंग चूत का भोसड़ा न बन जाए तो कहना!” मैंने कहा. मेरा लंड उसकी गांड में फँस गया और वो मेरी तरफ देख देख कर रोने लगीं कि मैं कब उन्हें छोड़ूँगा. मैं इस कदर बहशी होकर चुसाई कर रहा था, मानो आज उसको मम्मों का पूरा रस ही निकाल लूँगा.

लेकिन मैं 100% पक्की थी कि भाई कुछ नहीं कहेगा क्योंकि भाई कैसे भी लड़ते भिड़ते हों लेकिन एक जवान लड़की की दावत कभी नहीं छोड़ेगा, चाहे वो उसकी सग़ी बहन क्यों ना हो. फ़िर वो रात को 11 बजे आई और एक लंबी सी सिसकारी लेते हुए मेरे गले से लग गई.

इस तरह हमारा प्रोग्राम सेट हो गया और मैं छह दिसम्बर की सुबह बैंगलोर जा पहुंचा.

पति ने चोदना छोड़ दिया तो अपनी वासना की पूर्ति के लिए और धन अर्जन के लिए मैंने अपने तन का सौदा करने का फैसला किया.

मैं थोड़ा साइड में हट गया तो मामी बोलीं- क्या हुआ? साइड में क्यों हट गए… मैं तो तेरे को बहुत सेक्सी लगती हूं ना… तो फिर क्यों दूर हट रहा है?मैं मामी से बोला- मामी मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं, मुझे आपकी रोज याद आती है. ’ कहते हुए चुप्पी साध ली।तब मैंने फिर थोड़ा झिझकते हुए कहा- मेरे पास एक उपाय है, मगर उसके लिए आपकी सहमति जरूरी है।यह कहते हुए मेरी जुबान लड़खड़ा सी गई।तब फिर आंटी ने कहा. चुदाई की फच फच की मधुर आवाजें और बहूरानी के मुंह से निकलती संतुष्टिपूर्ण किलकारियाँ और अपनी पूरी रफ़्तार से दिल्ली की ओर दौड़ती राजधानी एक्सप्रेस…पापा जी… अच्छे से कुचल डालो इस चूत को आज!”हां बेटा, ये लो… और लो… अदिति मेरी जाऽऽऽन!” मैं भी यूं बोलते हुए अपने हाथों और पैरों के बल उस पर झुक गया.

वो भी कभी कभी शिवानी को चोदता था तो बिना किसी हिचक के शिवानी ने उसको बोल दिया- पापा पिछले दरवाजे से अंदर आ जाओ. ’मैंने भी बोल दिया- आह… चाची ले… मैं तो आपके मम्मों और गांड का दीवाना हूँ… आह क्या रसीली गांड है आपकी… आह… क्या मस्त चुचे हैं… आह… मजा आ गया मेरी जान… आज तो आज मैं पहली बार किसी को चोद रहा हूँ… आह कसम से क्या सुख है इसमें… जन्नत है जन्नत चाची आपकी चूत बहुत मस्त है…’मैंने चाची को 4 पोजीशनों में 15-20 मिनट तक हचक कर चोदा. मैं उनसे कुछ लंबा था, तो मुझे उनकी चूचियों की क्लीवेज साफ़ दिख रही थी.

शादी जयपुर में थी क्योंकि भैया जयपुर में सेटल थे, उनकी शादी को मैंने अटेंड किया जोकि किसी मैरिज गार्डन से थी.

अभी मैं कुछ समझ पाता कि भाभी ने नीचे बैठते हुए मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. लेकिन मुझसे कोई बात नहीं होती; बस सास बहू आपस में ही बतियाती रहतीं हैं. मैंने बोला- एक दिन मौक़ा मिला था और उस दिन मैं करना तो बहुत कुछ चाहता था, पर प्रेक्टिकल रूम में अटेंडेंट आ गया था.

मेम से आगे बातचीत में जानकारी हुई कि उनका और उनके पति का तलाक 2 महीने पहले ही हुआ था; उनके पति का क़िसी दूसरी औरत के साथ अफेयर था, ये बात मेम को बहुत बाद में पता चली. तो इस पर पूनम अब समझ चुकी थी कि मेरा क्या इशारा है, पूनम बोली कि शेखर शादी से पहले ये सब ठीक नहीं है. फिर मोहन लाल के मन में कुछ ख्याल आया, वो मुस्कुराया और उसने काजल को रोका- पर रुको.

1 बजे के करीब अंजलि आ गयी और मुझे देखकर मुस्कुराई बोली- बहुत गर्मी है… नहा कर आती हूँ, फिर कुछ खाएंगे… तब तक तुम दूध पीना चाहो तो पी लो… फ्रिज में रखा है.

पायल भाभी हैरानी से बोलीं- क्या मतलब है तुम्हारा…? आज रात क्या करने वाले हो?मैं ज़ोर से हंसते हुए बोला- वो तुम आज रात को ही देखना… मैं क्या करता हूँ तुम्हारे साथ… आज की रात तुम हमेशा याद रखोगी क्योंकि मेरे पास केवल एक ही रात है… कल तो भैया वापिस आ जाएंगे. दो दिन हस्तमैथुन न करते हुए मुझे मेरी वासना बचा कर मेरी भाभी को मेरा लंड चुसवाना है, तब मेरा वीर्य उसके चेहरे पर गिराना है.

हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो ठीक इसी टाइम कोई ट्रेन विपरीत दिशा से आती हुई मेरी राजधानी को क्रॉस करती हुई धड़धड़ाती, हॉर्न देती हुई बगल से निकल गयी. थोड़ी देर में फिर मैंने देखा कि भाभी कहीं दिख नहीं रही हैं तो मुझे लगा कि किसी काम से अन्दर गई होंगी.

हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो उनका साइज होगा करीब 34 30 36… हाईट भी अच्छी थी पांच फुट साढ़े चार इंच. रूचि जी ने कहा- अरे… आपकी शर्ट तो पूरी भीग गई, ये कैसे हो गया?मैंने कहा- वो वाश बेसिन का नल थोड़ा ज्यादा खुल गया था.

पहले तो अप्पी बोली- छोड़ो मुझे, कोई आ जाएगा, और मैं तुम्हारी बहन हूँ.

देसी चाची चुदाई

हम दोनों को इस बात का पता नहीं था, हम तो बस अपनी मस्ती में लगे हुए थे और किसी की तरफ नहीं देख रहे थे. मेरे घर वालों ने भी हाँ बोल दिया क्योंकि मैं कई बार ऐसे ही उनके यहाँ रुक जाता था. मैं भी रोज तेरी तरह तड़पती थी, फिर चाहे मजदूर हो, भाई हो, किसी से भी चुदवा लेती हूँ.

और लड़की पिंकी को लेकर बगल वाले खाली कूपे में गई और उसे वहीं छोड़ आई. जब रमेश की नींद खुली थी और उसने सुरेश को अपना लंड काजल से चुसवाते हुए देख लिया था. मैं दिन भर घर में रही और शाम को विक्की फिर मुझे लेने आ गया और ले जाकर आज एक बार फिर चोदा.

हालाँकि मैंने स्वाभाविक ही बोला था, क्योंकि मैं एक बहुराष्ट्रीय कम्पनी में काम करता हूँ और वहां सब एक दूसरे को नाम से ही बुलाते हैं.

रिया का लंड मेरी सास ने दस मिनट तक चूसा और रिया मेरी चूत चाट रही थी, मुझे मजा आ रहा था कि तभी मैं चिल्लाई- आहहह… हहह… अहह… ओहहहह… मा मरर गई!और मेरी चूत ने बहुत तेजी से रिया के मुँह में चूत का गर्म गर्म पानी छोड़ दिया और रिया मेरी चूत कर सारा पानी पी गई. फिर 8-10 झटकों के बाद उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी और मुँह खोल कर ज़ोर ज़ोर से साँस लेते हुए आवाजें निकालने लगी. वो मेरी हर बात मानती है और सारी उम्र साथ रहने और चुदने को तैयार है, मेरे बुलाने पे मायके आ जाती है और खूब चुद कर जाती है.

मम्मी खेत में चली गयी, हमें पता था कि मम्मी शाम को देर से आएगी, फिर मैं मोबाइल पर कुछ करने लग गया और मीतू पढ़ने लग गयी. उसे देख कर मैं बहुत उत्तेजित हो गया और मैंने पैंट में से अपना लंड निकाल कर हिलाना शुरू कर दिया. पर ड्रेस अच्छी थी और मुझे पसंद भी थी क्योंकि मुझे इस तरह के कपड़े पसंद थे, जिसमें जिस्म दिखे.

फिर मैंने उसे लिटाया और उसकी चूत पर लंड का टोपा रखा और जोर लगाया, वो पूरी तरह से कुँवारी थी तो उसे थोड़ा दर्द हुआ. मुझे तो यही लगा था कि ज़्यादा से ज़्यादा महेश मेरे मम्मों को टच करेगा, या थोड़ा बहुत मसल देगा… मगर उसने जो किया वो सच में ख़तरनाक था.

उसके बाद रवि ने अपने लंड मेरी चुत से बाहर निकाल लिया और जैली क्रीम लाकरमेरी गांड के छेद परलगा कर अपने लंड पर भी जैली क्रीम लगा ली. अंजलि ने मेरे आधे लंड को हाथ से पकड़ा हुआ था और बाक़ी का आधा लंड अपने मुंह में लेकर जोर जोर से चूस रही थी. उषा काकी भी किसी घरेलू रांड से कम नहीं थीं, आख़िर फ़ौजी की बीवी थीं.

मैंने कहा- यस मेरी प्यारी सुमन… अब साड़ी उतार दे… मुझे तो मेरी चूत के दर्शन करने हैं.

अब मेरी सोच बदल चुकी है और मुझे किसी से कोई गिला नहीं दोस्तो… जिंदगी है मजे लेने के लिए!मेरी इस हिंदी एडल्ट स्टोरी पर ईमेल जरूर करें. हाथ कंगन को आरसी क्या और पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या… मैंने उनका इरादा और इशारा दोनों को समझा और तुरंत उनकी ब्रा के हुक को खोल कर दोनों रसीले आमों को बाहर निकाल कर उन पर ऐसे टूटा जैसे कि बरसों बाद चूसने वाले आम मिले हों. हाँ… चलो, जाकर अपने नए दोस्त को ठीक से चेक कर लो!” कुटिल मुस्कान के साथ नताशा को मोलेट, जिसका नाम किड जमैका था, की ओर भेजते हुए ओमार बोला.

मेरे दोनों मम्मों को चूस चूस और काटकर चचा जान ने पूरे लाल कर दिया था. सभी दोस्तो भाभियों और आंटियों को मेरा प्यार भरा नमस्कार, मैं शेखर शर्मा आपके सामने मेरी एक और सेक्स स्टोरी भाभी की चुदाई की पेश करने जा रहा हूँ.

मैं बोली- तू शर्माता क्यों है? मैं तेरी भाभी हूँ, अपनी बीवी समझ!वो बोला- भाभी, आप भी मजाक करती हो।मैंने अपनी छाती से अपना पल्लू हटा दिया और साड़ी उतार दी, मैंने कहा- साफ कर!वो साबुन उठा कर मेरे गाल पर लगाने लगा।मैं बोली- सारी जगह लगा ना!वो बोला- अच्छा भाभी!‌उसने अपने हाथ मेरे ब्लाऊज के ऊपर रख दिये और हुक खुलने लगा. तुम्हें सेक्स का ही नहीं अपितु मानव मन का भी ज्ञान है, आहह ओहहह बहुत ज्यादा मजा आ रहा है संदीप… तुम मुझे यूं ही प्यार देते रहोगे ना… मेरी योनि को सुख देते रहोगे ना!मेरा ना कहने का तो सवाल ही नहीं था, मैंने कहा- बस तुम करती रहो, उछलती रहो. वो अब बोले जा रही थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… प्लीज़ मुझे छोड़ दो… तुम जो कहोगे वो करूँगी… लेकिन अभी रुक जाओ… प्लीज़… आह… मम्मी मर गई… संजू प्लीज़… आह…लेकिन मैं नहीं माना और अपनी जीभ भाभी की चूत के दाने पर रगड़ता ही रहा.

सनी लियोनी एक्स एक्स

मेरे ऐसे करते ही बहूरानी अपनी चूत और ताकत से ऊपर तक उठा उठा के मेरे लंड से भिड़ाने की कोशिश करने लगी.

उसने विवेक को हैलो किया और मुझे भी बोला- हाय सरिता, कैसी हो?मैंने भी कहा- हाय. तभी आगे एक हाथ मेरी चूची पर रख के सहलाने लगा, उसके चूची सहलाने से मुझे भी मजा आने लगा. उनका फिगर भी ठीक था; करीब 32-30-36 था और उन्होंने रेड लिपस्टिक लगा रखी थी, जो मुझे पागल कर रही थी.

फिर जब इसको कोई उम्मीद नहीं दिखी तो मुझसे बात करना ठीक समझा क्योंकि मैं हमेशा से मोनिका के आस पास रहा था. मेरी कहानी के पहले भागमेरी चूत का टैटू-1में आपने पढ़ा कि मुझे अपने ससुराल के गाँव जाने का मौका मिला। वहां रहने वाली मेरी भतीजी के चूतड़ों पर टैटू देख मेरी गांड जल गई. हिंदी में हिंदी वीडियो सेक्सीमैं उसके ऊपर आ गया, मैंने अपने होंठ उसके निप्पल पर रखे और चूसने लगा.

फिर मैं विवेक के लंड को पकड़कर सहलाने लगी और फिर नीचे बैठ कर उसके लंड को अपने मुँह में भर कर फिर से चूसने लगी. फिर उसने अपने लंड को मेरे मुख से निकाल लिया, मैं बाथरूम के फर्श पर लेट गयी, फर्श मुझे बहुत ठंडा लगा लेकिन चूत की कमुकतावश सब सह गई.

इससे पहले कि काकी कुछ करतीं, मैंने झट से उन्हें अपने मजबूत हाथों से पकड़ लिया. मैं भी जोश में ‘मेरी चूत मार… बहनचोद साले… चोद मुझे… रण्डी बना ले मुझे अपनी… और चोद आआहहह… मेरे राजा चोद मुझे!’ पता नहीं मैं क्या क्या बकने लगी, मेरी आँखें बंद थी. फ़िर मैंने सोचा कि चल पहले प्यार से पूछ लूँ, नहीं मानी तो फ़िर कर लूँगा.

आज मैं आप लोगों के साथ अपना और अपनी प्रेमिका के सेक्स का अनुभव साझा करने आया हूँ. वो बोला- साले बाहर तो लड़कियां सैट करता फिरता है और तेरे घर के आगे से नदी बह रही है और तू डुबकी नहीं लगा रहा. उसके बाद मैंने कई बार उसकी चूत मारी और वो अपनी फ्रेंड्स को भी मेरे पास ले कर आई क्योंकि उसकी सोच मेरे प्रति यह थी कि यहां कोई खतरा नहीं है, ना तो बदनामी का.

लेकिन थोड़ी देर बाद मेरी मॉम अपने कपड़े और बाल सही कर वापस मंडप में आ गईं.

बुआजी अपने ससुराल में हैं और चाचा जी अपनी बीवी बच्चों के साथ हमारे घर के करीब में ही रहते हैं. मैं सिर्फ अपने भाइयों से ही नहीं, बल्कि मैंने अपने पापा से भी चुदाई की इच्छा जाहिर की थी तो मेरे पापा और भाइयों ने मुझे खूब चोदा और प्यार दिया है.

कुछ ने अपने हाथ भी अन्दर किए हुए थे, मैंने और मेरे एक दो कज़िन ने भी अपने हाथ अन्दर किये हुए थे. फिर मैंने टिश्यू पेपर लेकर उसको अच्छे से साफ़ किया और थोड़ी देर तक वैसे ही टेबल पर चिपके पड़े रहे. ‘अच्छा लग रहा है मेरी गुड़िया को? मजा आ रहा है ना कि कैसे मोटा लंड उसकी नन्ही सी गांड में घुस रहा है!! तुम चाहती हो कि तुम्हारी गांड में दो दो लंड घुसें?” मेरी रूसी पत्नी की गांड में घुसेड़ दिया.

भाभी ने पैर पसारते हुए बोला- ऐसे क्यों खींच रहे हो… रूको जरा, खोल दूँ फिर मजे से चूसो. मोनिका ये समझ गई थी कि ये साइको (पागल) है, वो पीछा नहीं छोड़ रहा था. अब तो उनकी हिम्मत और ज्यादा बढ़ती जा रही थी, विनीत ने हमारे सामने ही आरजू का एक बूब बाहर निकाला और उसे अपने मुख में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा.

हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो दीदी अपने हाथों से मेरी पीठ को पकड़ कर मुझे तेज़ी से ऊपर नीचे करने में लगी हुई थी. मेरी चूचियां इतने जोर से दबाने पर दर्द सी करने लगी थीं और जो मेरी पैंटी में लग गया था, वो उस समय इतना ख़राब लग रहा था कि मैं क्या बताऊँ.

इंडियन सेक्सी video.com

मतलब अमित भी जान गया था कि अब पैसा फेंको और जो मन हो कर लो इसलिए मेरे बिना कहे उसने कह दिया कि कोई भी कीमत चुका दूंगा. तीन सीट ही कन्फर्म हो पाई हैं, देखो आगे कुछ ना कुछ इंतज़ाम हो जाएगा. मुझ पर तो जुनून सवार था, मैं कस कस के काकी की चूत में धक्के मार रहा था.

फिर वो मेरे लिए पानी लेकर आ गई और मेरे सामने सोफे पर बैठ कर बातें करने लगी. अब उनके चेहरे पर जो खुशी थी, उस वक्त वो खुशी मैं भी महसूस कर रहा था. करीना कपूर सेक्सी फिल्म वीडियोमैंने उसे गले लगाया और बोला- आई लव यू जान!लेकिन मन ही मन मैंने कहा- ये तो तेरे ब्वॉयफ्रेंड की मेहरबानी है कि तू मेरे लंड के नीचे आ गई है.

जींस उतार कर उसकी पेंत्य्य के ऊपर से चूत पर हाथ लगाया तो उसकी चूत में से पहले ही पानी निकल रहा था और पेंटी को गीली कर रहा था.

रिया होठों को चूमते हुये बोली- बड़ी गरम हो मेरी जान! इतने दिन से कहाँ थी?मेरी सास बोली- तेरा इन्तजार कर रही थी साली, आज मिली है चूस ले इनको!तभी मैंने अपनी सास की साड़ी खोल दी, फिर पेटीकोट का नाड़ा खोला और पेटीकोट नीचे खींच लिया, फिर ब्लाऊज को भी उतार दिया. मैंने लेटे लेटे ही पूछा- तूने उनसे मराई?वह बेशर्मी से लंड सहलाते हुए बोला- हां मैंने दोनों से मराई.

मेरे परिवार में हम दो भाई हैं और हमारी एक बहन है, बहन की शादी तीन साल पूर्व हो चुकी है, वो अपने पति के साथ अपनी ससुराल में रहती है. वो इतने प्यार से मेरा लंड चूस रही थीं मानो मुझसे ज़्यादा उन्हें मुझसे प्यार हो गया है. अब मैं बाईस साल का हट्टा कट्टा मर्द था गोरा माशूक था, पर बहुत दिनों से लंड के दीदार नहीं हुए थे.

मैं ज्यादातर सोते टाइम सिर्फ़ शॉर्ट पहनता हूँ और कुछ नहीं, यहाँ तक कि अंडरवियर भी नहीं पहनता हूँ.

फिर जब मुझे एहसास हुआ कि मेरा हाथ उसके कान के पीछे टच हो रहा है तो मैंने सोचा कि ये तो बहुत देर से ऐसे ही रखा हुआ है तो इसने (काजल) कुछ किया क्यों नहीं… जैसे सिर आगे की तरफ करना या साइड में होना आदि!अब मेरा ध्यान केवल काजल पर था कि वो क्या कर रही है. बहुत से तो नहाते हुए भी बाथरूम में कहीं ना कहीं छेद करके देखते हैं और मुठ मारते हैं. उस लड़की ने मुझे तुरंत मैसेज किया- हाय… मैं ममता हूँ!उसने बताया कि उसकी उम्र 24 साल है.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी इंडियनमुझसे चला नहीं जा रहा था, उसने मुझे मेरे सारे कपड़े उठा कर दिए और मैं बाथरूम में गई. मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी मेरी गांड के छेद से मेरे अंडकोष को अपने होंठों से चूमती रहें!39.

औरत की चुदाई औरत की चुदाई

वो गरम होकर आहें भर रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’कभी मैं उसके निप्पल को काटता, तो कभी चूचों को चाटता, कभी उसकी नाभि में जीभ डाल देता, तो कभी कानों के नीचे चूम लेता. हम ओमार संग चप्पू चलाते हुए बातें करने लग गए और नताशा पानी में होने वाली हलचल को देखने लग गई. वो लड़का आँखें फाड़ कर उसकी नन्हीं सी चूचियों को ललचाई नजरों से देखने लगा.

वो चला गया और मैंने बाहर जाकर अंदर से दरवाजे की कुण्डी लगा दी, हालांकि वो दरवाज़ा भी कांच का ही है. ये बहुत अच्छा तरीक़ा है, अगर वो चुदवाना नहीं चाहती तो भी आपके पास बहाना होगा ही कि जानबूझ कर नहीं किया. नताशा भी नम्र मुस्कान के साथ सहमत हो गई और ओमार ने मुझे नाव किनारे पर ले जाकर उतार दिया और फिर वो कांसे के रंग वाले मोलेट की नाव की और नाव चलाने लगा.

कुछ देर बाद मामी फिर बोली- बहन के लौड़े, उनगली से ही छोड़ता रहेगा या अपनी मामी की गांड में लैंड भी घुसायेगा?अब मैंने मामी की गांड के छेद पर लंड का सुपारा टिकाया और अंदर को दबाया, पूरा सुपारा तेल की सहायता से मामी की गांड में घुस गया और मामी हल्के से चीख पड़ी, वो कह रही थीं- यार, गांड में दर्द हो रहा है. अमित से बात करते करते मैं ये सब कहती चली गई मतलब उससे गले लगने को राजी हो गई थी. फिर मैंने जैसे ही उसकी चूत के दाने पर अपनी जीभ लगाई तो वो एकदम ऐसे उछली जैसे उसे 440 वॉट का तेज़ करंट लगा हो.

इसके बाद रेणुका भाभी की कमर में हाथ डाल कर उनके होंठों को किस करने लगा. आकांक्षा मेरी हालत भांप गई थी तो उसने मेरी किचन में जाकर मेरे लिए निम्बू पानी बनाया, मैंने वो नीम्बू पानी पीया, जिसके बाद मुझे उलटी हुई और फिर मैं अच्छा महसूस करने लगा.

इस बार सुरेश को अपने भाई से डर नहीं था और वो एक शानदार चुदाई के लिए तैयार था.

अब मैंने रोहण की तरफ अपना फेस कर लिया और मैंने उसका हाथ अपने बूब्स पर रख दिया और रोहण को एक स्माइल दी. असली वाली सेक्सीवो थोड़ी सी गीली भी थीं और उनके बाल भी वो उनके चूतड़ों के ऊपर तक थे, खुले हुए पानी में भीगे बिखरे हुए थे. सेक्सी नया साल कीमाया के मोटे मोटे मम्मे उस्मान के सीने से रगड़ने लगे, लेकिन इससे बेखबर माया तो बस कैमरा छीनना चाहती थी. मैंने उसकी ब्रा को भी खोल दिया तो अंदर से दो सफ़ेद कबूतर निकले… एकदम गोर और उठे हुए… उसके निप्पल भी उसके होंठों के रंग के थे यानि गुलाबी थे.

कभी मैं ज्यादा दुखी होती तो उनके कंधे पे सर रख कर रो लेती और वो मुझे प्यार से समझा कर चुप करा देते.

मैंने पूछा- तुम यहाँ अकेले ही रहते हो?तो रवि ने कहा- हाँ भाभी जी, मैं यहाँ अकेले ही रहता हूँ. लेकिन वो काफ़ी ज़्यादा गुस्से वाली थी, ऐसा लगता था कि अपनी खूबसूरती का घमंड है. आप तो जानते हैं कि दिसंबर में दिल्ली की सर्दियां कैसी रहती हैं? ऐसे ही एक शाम को हम दोनों सहेलियां घर पे बैठी बैठी उकता गयी थी.

भाभी फिर से छटपटाने लगीं, पर मेरी पकड़ इतनी मजबूत थी कि वो कुछ ना कर सकीं और अपने आपको मेरे हवाले कर दिया. अवी ने मुझसे कहा कि तुम यहाँ आराम करो, मैं 10-15 मिनट में आता हूँ और दरवाजा अन्दर से बंद कर लो. बहुत बड़ी गांड थी उसकी, वैसे भी 19 साल की लड़की की गांड तो बड़ी ही होती है.

इंडियन प्रों

मैंने फिर हाथ से इशारे से ही अपना लंड बुर पे फिट किया और धक्का दिया, लंड का एक हिस्सा बुर में चला गया, साक्षी कसमसा गयी और मुझे धक्का दे के हटाने लगी. फिर मैंने दोनों को अपने आगे बैठा दिया और अपना लंड पिंकी के मुँह में घुसा कर अपना बीज गिराने लगा. उसके हाथ मैंने अपने हाथों से पकड़े, अपने होंठ उसके होंठों पर रखे और उसकी आवाज रोकी.

रोहण ने फिर से मौसी को झुका कर मौसी की चुत में अपना लंड पेल दिया और चोदा चोदी फिर से शुरू हो गई.

माया अमित से लगभग लिपटते हुए बोली- अमित प्लीज वो फाइल मुझे दे दो, बदले में तुमको क्या चाहिए मैं दे दूंगी.

ये क्या कह रहे हैं आप? आप और नाना एक साथ माँ को चोदते थे?रमेश- और माँ हमसे भी चुदना चाहती थी? तो ये बात उसने कभी बताया क्यों नहीं. मैंने उसका कुर्ता उतारा लेकिन वो उतर नहीं रहा था, शायद अटक गया था तो मैंने कुर्ता जैसे कैसे कर उसको हटा दिया. सेक्सी चोदी चोदा चोदी चोदा सेक्सीलेकिन वो मुझे बहुत पसंद आई और सबसे ख़ास बात ये कि ड्रेस मुझे फिटिंग की थी.

मुझे महसूस हुआ कि भाभी मेरे में कुछ ज्यादा ही रूचि लेने लगी हैं, मेरी ओर आकर्षित हो रही हैं. मैं उनसे कुछ पूछ रहा था और वो बोलते हुए अपने रूम में चली गईं मुझसे चेहरा नहीं मिलाया. और एक मिनट बाद ही उसने पूरा लंड एक शॉट में ही मेरी माँ की गीली चूत में पेल दिया.

योगिता कई बार झड़ चुकी थी, उसके चेहरे पर संतुष्टि के भाव साफ दिख रहे थे, मैंने रफ़्तार बढ़ाई और उसकी चूत को जूनून से चोदने लगा. यह बात सुन कर पूनम अब आराम से बैठ गई और मैंने उसके कंधे पे हाथ रख दिया.

मैंने स्कर्ट टॉप निकाल दिया लेकिन इस समय मैंने ब्रा नहीं पहनी थी तो मेरी नंगी चूचियां उसके सामने आ गईं.

वो दूर से मुझको देख लेती और बस मेरे पास आने पर बुक्स पढ़ने लग जाती थी. मेरा लंड धीरे धीरे अन्दर जाने लगा और अब मैंने एक तेज धक्का मारा और पूरा 8 इंच लंड उनकी गांड में पेल दिया. मैं हमेशा लेडीज की तलाश में ही रहता हूँ कि एक अच्छी सी आइटम फंस जाए और लाइफ टाइम मेरे लंड के नीचे बनी रहे.

पेली पेला सेक्सी वीडियो असल में मैंने कमीज़ ऐसी पहनी हुई थी, जिसमें से मेरी गहरी क्लीवेज नज़र आ रही थी. स्टेशन पर बहुत भीड़ थी, मैं कुछ खास नहीं कर सका बस हल्का सा हग किया और सामान लेकर टैक्सी में बैठ गए और सीधे सुमीना के घर आ गए.

उस समय के बाद काया भाभी का नेचर एकदम से बदल गया मतलब उनका उदास चेहरा खिल सा उठा. अब मेरे लंड का तो बुरा हाल हो रहा था तो अब मैंने ज्यादा टाईम बर्बाद ना करते हुए उसकी टाँगें खोली और कूल्हे के नीचे दो तकिये लगा दिए ताकि वीर्य अच्छी तरह से गहराई से अंदर जाये और उसे जल्दी प्रेग्नेंट करे. मुझे उस पर बहुत तरस आया, मुझे उस बेचारी के साथ ऐसा नहीं करना चाहिये था.

और लंड की चुदाई

उसने पूछा- क्या आप मेरे घर आ सकते हो? मुझे अपनी जूली को डॉक्टर के पास ले जाना है. मैं आप सबका थैंक्स करता हूँ कि आपने मेरी हिंदी सेक्स स्टोरी काफी पसंद की. अपने भारतीय प्राचीन सेक्स साहित्य में अनेक दुर्लभ ग्रन्थ लिखे गए जिनमें से कुछ ही आज प्राप्य हैं जैसे महर्षि कोका द्वारा रचित कोकशास्त्र, महर्षि वात्स्यायन रचित कामसूत्र और अन्य ग्रन्थ जैसे गीत गोविन्द, संस्कृत भाषा में रचित मृच्छकटिकम्, रति विलास जैसे अनेक काम्य ग्रन्थ आज भी आदर की दृष्टि से देखे, पढ़े समझे जाते हैं.

गोरा चिट्टा रंग, साढ़े पांच फुट की हाइट और ऊपर से उसका 36-28-34 का फिगर. ’ मैंने वो नोट अपनी पॉकेट में रख लिया और शिवानी भाभी का वेट करने लगा.

अब उसने दोनों हाथों से मेरी चुचियों की मालिश शुरू कर दी, बहुत तेज तेज मेरे मम्मे दबाने लगा.

और हां… वो मेरी बहन जो कहती थी कि ‘मैं कुंवारी हूँ’ मुझे वो कहीं से कुंवारी नहीं लगी, उसी चूत से कोई खून नहीं निकला, कोई ख़ास दर्द नहीं हुआ उसे… बड़े मजे से उसने अपनी चुत चुदाई. देर रात में 2 बजे सागर बेडरूम आया और मुझसे बोला- आज 2 बार चोदा, उसको मज़ा आ गया. भाभी ने संजय को जोर से जकड़ लिया और झड़ गईंमैं खिड़की के बाहर से गैर मर्द से भाभी की चुत चुदाई देख कर अपना लंड सहलाने लगा.

अब मैं उसके बाजू में आ गया और वापस उसको गर्म करने की कोशिश करता रहा. महेश ने मेरे कमीज़ को ऊपर किया और मेरे मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही चूसना शुरू कर दिया. पूनम के मुँह से हल्की सिसकारी निकलने लगी और उसका भीगा बदन मेरी बाँहों में था.

उसने भी मस्ती से कहा- आ जाओ मेरे राजा, मेरी चूत और गांड तो तुम्हारे इंतज़ार में ही है.

हिंदी देसी बीएफ सेक्स वीडियो: मेरी पिछली सेक्स स्टोरीलुधियाना की पटाखा देसी माल गर्ल की चुत चुदाई की वो रातेंआपने पढ़ी होगी. अब मैंने उसे बहुत तेज तेज चोदना स्टार्ट कर दिया, आरजू इतने में पानी छोड़ चुकी थी, अब मैं उसे ऐसे ही चोदता रहा, उसकी आवाजें गूँज रही थी अह्ह हाआ आह्ह्ह्ह्हा आआ आअह्ह ह्ह्हाआअ हीयी यआइ यआ इय आइय आइयी यीययी फक मीईई ईईई ईईईई… अहहां.

जब मैं उन की वक्ष रेखा को चूम रहा था तो उन्होंने अपना एक हाथ मेरे सर पर रख कर मेरे सर को अपने चूचों के बीच लगा दिया. मैं पेंटी के ऊपर से चूत सहलाने लगा तो उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी पेंटी के अन्दर डाल दिया, मैं दीदी की चूत को सहलाने लगा, दीदी गर्म हो चुकी थी। यह सब मैं दीदी के पीछे खडा होअक्र ही कर रहा था. इसके बाद मैंने पूनम को घर छोड़ा और फिर मैं शाम होने का वेट करने लगा.

फिर जब इसको कोई उम्मीद नहीं दिखी तो मुझसे बात करना ठीक समझा क्योंकि मैं हमेशा से मोनिका के आस पास रहा था.

मुझे वह अहसास अच्छा लग रहा था इतना बड़ा लंड था और वो अन्दर घुसाते घुसाते ऊपर की तरफ बढ़ा. तब मीना ने मुझसे पूछा- भाभी, तुमने रात में मस्ती की या नहीं?मैंने कहा- बिना मस्ती के तेरे भैया सोने देते हैं क्या मुझे? यह तो रोज का काम है. फिर मैंने एक हाथ उसकी गले में डाला और उसे पास खींच कर कहा- चलो हम कहीं और चल कर मस्ती से घूमते हैं तुम्हें अच्छा लगेगा.