बीएफ सेक्स देवर भाभी

छवि स्रोत,फुल सेक्सी फिल्म बताओ

तस्वीर का शीर्षक ,

ગામડીયા સેકસી વીડિયો: बीएफ सेक्स देवर भाभी, उन्होंने ऊपर बैठ कर लंड को चूत में डाला और गांड हिलाती हुई चुत चुदवाने लगीं.

एक्स एक्स एक्स मूवी सेक्सी वीडियो एचडी

मेरी कई ऑफिस की सहेलियां बाहर से किसी कॉलब्वॉय को बुलाने के लिए भी बोलीं मगर मेरा मन नहीं माना. ट्रिपल सेक्सी फुल एचडी वीडियोदोस्तो, अपनी देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको अपनी भाभी की चचेरी बहन शिल्पा की चूत चुदाई लिखूँगा.

मैं बोला- सॉरी शिल्पा मुझे पता नहीं था कि तुम यहां हो!शिल्पा बोली- सॉरी क्यों बोल रहे हो, कोई बात नहीं. एक्स एक्स एक्स इंडियन सेक्सी डॉट कॉममैंने उसकी आंखों की पट्टी थोड़ी सी हटाई और उसके सामने खुद भी बिल्कुल नंगा हो गया.

हाय … मैं तो शर्म से मर जाऊंगी आज!”उन्होंने मेरी पीठ पर किस किया और फिर कमर पर!फिर हाथ आगे करके मेरे बूब्स को पीछे से पकड़ लिया.बीएफ सेक्स देवर भाभी: मैंने कहा- क्यों मुस्कुरा रही हो?वो मेरे गले से लग गई और बोली- आई लव यू बोथ … क्या दोस्ती है तुम दोनों की यार … मैं तो फ़िदा हो गई तुम्हारे ऊपर!मैंने उसे चूमते हुए कहा- क्या हुआ शनाया … क्या अभी तक तुम मुझ पर फ़िदा नहीं थी?वो हंस दी और हम दोनों ने उसी समय एक मस्त चुदाई का मजा लिया.

सीमा सायकिल पर अपनी गांड टिकाकर सही तरीके से बैठी और धीरे-धीरे सायकिल के पैडल लगाने लगी।अब मैंने कैमरा मयंक के हाथों में थमा दिया और मैं सीमा के पीछे केरियर पर बैठ गयी।कभी में उसके निप्पल पर चिमटी काटती तो कभी उसकी चूत पर सहलाती!उसे दर्द और प्यार का अनुभव एक साथ मिल रहा था, वो धीरे-धीरे कराहती भी थी।और यह सारी घटना कैमरे में कैद हो रही थी।मयंक हमारे पीछे पीछे भाग सा रहा था.उसने मुझे उसी तरह 15 मिनट तक चोदा और जब उसने मेरी चूत में अपनी उंगली घुसा दी और लगातार 10 मिनट तक उससे चोदता रहा.

हिंदी सेक्सी देसी मूवीस - बीएफ सेक्स देवर भाभी

उसने अपने दोनों हाथों से मेरा सर अपनी चूत पर दबा लिया और वो झड़ने लगी.अब वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी।मेरा 7 इंच लम्बा लन्ड अब बिल्कुल सख़्त हो चुका था जैसे अभी पैंट फाड़ कर बाहर आ जायेगा।मेरी चाची ने मेरे लन्ड को खड़ा देखा और हल्का सा मुस्कुराते हुए मुस्कान को कहा- पूरी नंगी हो जा बेटी!मुस्कान ने अब अपनी ब्रा ओर पैंटी भी निकल दी.

मैं उससे बोले जा रही थी- देखो तुम गलत कर रहे हो और यह बात मैं सबसे बता दूंगी. बीएफ सेक्स देवर भाभी शायद आंटी को भी अब ये खेल अपने आवेश में लेने लगा था क्योंकि अब वो भी सोफे में और नीचे की ओर खिसक कर लेटने सी लगी थीं.

मैंने रिंकू से कहा- तुम नीचे वाले फ्लोर में खड़े हो जाओ और निगरानी करो.

बीएफ सेक्स देवर भाभी?

आप सभी ने बहुत सारे ईमेल भेजे, लेकिन मैं सभी को जबाब नहीं दे सका, इसके लिए माफ कर देना दोस्तो. गांड़ की थप थप थप थप थप थप की आवाज़ और तेज़ आने लगी।अब रोमिल अपनी पूरी रफ्तार से चोदने लगा और लंड गपागप गपागप अंदर बाहर करने लगा, पिंकी की चूचियां दबाने लगा।रोमिल का लंड पिंकी की टाइट गांड में फंसने लगा।अब रोमिल ने झटके के साथ लंड का पानी गांड में ही छोड़ दिया और दोनों एक दूसरे से चिपक कर लेट गए दोनों की नींद लग गई।सुबह 7 बजे जब राशि दीदी ने दरवाजा खटखटाया तो दोनों जाग गए. सरिता उठकर बैठ गयी तो हम दोनों का कामरस उसकी चूत से बह रहा था, नीचे तौलिया गीला हो रहा था.

ये बात विमला को पता थी, फिर भी उसकी विनती पर मैं पिघल गया और उसके हाथों पर मेहंदी बनाने के लिए तैयार हो गया. उसने लंड महसूस करते हुए कहा- राज तुम्हारा तो बहुत बड़ा है … मेरी तो फट ही जाएगी. मैंने सोनाली की पीठ सहलाते हुए उसके ब्लाउज के हुक खोल दिए और नीचे हाथ डालकर उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया तो पेटीकोट जमीन पर गिर गया.

मैं झट से उठा और आंटी के दोनों पैरों को सोफे पर रखकर उन पर चुम्बन की बरसात करने लगा. चाची के बारे में जितना राहुल ने मुझे बताया हुआ था, चाची उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत थीं. मिनी बोली- मेरी चुत में थोड़ी जलन और दर्द हो रहा है, तुम थोड़ा सहला दो.

इसी दौरान मुझे पता चला कि राहुल और संजना एक दूसरे को चाहने लगे हैं।मुझे यह समझते देर नहीं लगी।अब राहुल और संजना कॉलेज बंक करके एक दूसरे के साथ घूमने जाने लगे. हमने मयंक का नम्बर लिया और उस सुनसान रास्ते पर बड़ी बड़ी मयंक को लिप किस किया।थोड़ी ही देर में हमारी बस आयी और हम मयंक को उधर छोड़ एक सुनहरी याद को फिर से संजोये हुए आगे निकल पड़ी।आपको हमारी न्यूड गर्ल फन स्टोरी कैसी लगी? प्रतिसाद जरूर भेजें।[emailprotected].

पर उन सबमें से एक, जिसका नाम स्वीटी (बदला हुआ नाम) था, मुझे हमेशा अपनी ओर आकर्षित करती थी.

दीदी की चूत से सारा रस चाट लेने के बाद भी मैं दीदी की चूत को चूसता रहा था.

उन्होंने कहा- ऐसे मत तड़पाओ … सीधा डाल दो न!मैंने कहा- मुझे मेरी तरह से मजे लेने दो. दूसरी ओर मेरी चाची मेरे लन्ड को सहलाते हुए मेरे शरीर को चूम रही थी।मैंने मुस्कान को थोड़ा सा दूर करके मेरी चाची को बांहों में उठाया और उनके बदन चूमने लगा।कुछ देर चूमने के बाद मैंने उनके बड़े बड़े बूब्स को चूसना और चूमना शुरू किया. फिर 3-4 दिन हम लोगों ने फेसबुक पर बात की उसके बाद उन्होंने अपना व्हाट्सएप नंबर दे दिया.

मुझे खुशी हो रही थी कि आज मैंने भाभी की सील तोड़ दी … वो भी इतनी मस्त भाभी की. मैंने भी अब जोश में आकर आंटी के बाल पकड़ लिए और अपना लंड आंटी को चुसवाने लगा; उनके कोमल मुँह को अपने लंड से चोदने लगा. मैं अपने घर जा रहा था, तब वो बोली- धन्यवाद बेटा, आज तुमने सच में मेरी बहुत मदद की.

मुझे सच में ऐसा लगने लगा था कि अंकल मेरे पति ही हैं और मैं उनकी सेक्सी हॉट लुगाई हूँ.

बातों बातों में उन्होंने बताया कि उनका शादी से पहले कोई अफेयर नहीं था, पति के साथ ही पहली बार संभोग किया था, पर पति बाहर रहता था, इसलिए वो डिल्डो वगैरह का उपयोग करती थीं. मामी के घर आया तो शादी में एक से बढ़कर एक मोटी गांड और बड़े बड़े चूचों वाली लड़कियों और भाभियों को देखकर लंड खड़ा हो गया. उनके मुँह से लगातार आवाज़ें आ रही थीं- ओह … ओह … आ अ अ अ … इईईई … आह फाड़ दो मेरी चुत को … आंह आज न जाने किनते दोनों बाद मेरी चुत में ठंडक पड़ी है.

सौम्या ने डर कर, चिल्लाकर नाना नानी को बुला लिया … लेकिन कोई भूत होता तो दिखता ना!मैंने भी बोल दिया कि मैंने तो कोई भूत नहीं देखा. वो हल्की सी मुस्कुरा दी और बोली- फ्लर्ट कर रहे हो!मैंने कहा- सच कह रहा हूँ यार … मैं कोई गप नहीं सुना रहा हूँ. इतना होने साथ मेरे अन्दर की औरत धीरू के सामने धराशायी हो गई और उनसे लिपट गई.

वीना बोली- अभी ज्यादा कुछ न कीजिएगा चाचा … क्योंकि आपकी मसाज बहुत ही मस्त थी.

[emailprotected]हॉट सिस्टर Xxx कहानी का अगला भाग:भाई से चूत की सील तुड़वा ली- 2. वो अपनी चड्डी उतारने ही वाला था कि शनाया ने उसे चड्डी उतारने से मना कर दिया.

बीएफ सेक्स देवर भाभी दरअसल इस पोर्न वीडियोज ने मेरी जिंदगी खराब कर दी है, इसलिए मुझसे तुम्हें पोर्न देखते हुए गुस्सा आ गया था. मॉम का एक हाथ मेरी पीठ पर था और दूसरे हाथ से वो मेरे लंड को पकड़ कर सहला रही थीं.

बीएफ सेक्स देवर भाभी अगर आप हां करो, तो मैं तो आपको ही अपनी गर्लफ्रेंड बनाने के लिए तैयार हूँ. मेरी जीभ उसकी भगनासा से खेल रही थी और शिखा का बदन जोर से कांप रहा था.

दीदी बोलीं- अच्छा मतलब हिला चुका है?मैंने कहा- नहीं अभी हिला ही रहा था कि आपका फोन आ गया.

हिंदी में दिखाएं बीएफ

फिर मेरे घर आने के 10 मिनट बाद पम्मी आंटी ने मुझे कॉल किया और पूछा- हां बताओ क्या स्कीम थी?मैंने कहा- आंटी अगर आप मुझ पर भरोसा करो, तो एक जुगाड़ है … जिससे आज रात ही हम एक दूसरे की तड़प मिटा सकते हैं. फिर मैं उठा और उसे अपनी ओर खींच कर उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया. होली के बहाने उसने नशे के बहाने कैसे अपनी चाची के चूचे दबाए और नशे में अपने खड़े लंड का दीदार चाची को करवा दिया.

मैंने देखा तो वो लोअर और टी-शर्ट में बेहद खूबसूरत और सेक्सी लग रही थी. मैंने सरिता के घुटनों को दोनों बाजू फैलाकर गांड और चूत की दरार बढ़ा दी और अपनी जीभ से चूत को सहलाया. और उस दिन शायद मैं उसे अपनी चूत भी दिखा देती लेकिन मेरे जेठ की बीवी यानि अंकेश की मम्मी कंचन आ गई और मुझे खुद को रोकना पड़ा.

मैं पीठ के बल होते हुए आंखें खोल कर जागने का नाटक करते हुए बोला- सरिता तुम यहां?तो सरिता बोली- हां मैं ही हूँ.

गर्म लड़की की लोकल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे पड़ोस की एक लड़की ने मुझसे फेसबुक पर दोस्ती की. मुझे उसके दिल्ली वाले रिश्तेदारों का पता था … तो मुझे घर में एंट्री मिल गई. जब मैं दीदी की तरफ मुँह करता था तो वो लोग मुझे दीदी की तरफ मुँह करने ही नहीं दे रहे थे.

उस समय राहुल ने मेरी खिंचाई करते हुए कहा- साले तू चाची पर ट्राई कर रहा था और बाथरूम में जाकर चाची की पैंटी में ही रस टपका आया. मैंने उससे पास में अपने होटल चलकर बैठने का प्रस्ताव रखा जिसे शिखा ने थोड़ी सकुचाहट के बाद मान लिया. उसका एक हाथ चूत के ऊपर था, जिससे वो कभी अपनी चूत को सहलाती, तो कभी दाने को रगड़ती.

मैंने भी मुस्कुरा कर तौलिया उठा कर एक तरफ रखी और अपने कपड़े पहन लिए. पर जब से मेरे देवर की शादी हो गई … तो मेरी, अपनी देवरानी के साथ बनती नहीं है.

ये कह कर मैंने चाची के सामने ही चुन्नी हटा दी और उनके सामने ही तौलिया लपेटने लगा. मेरी प्यास नहीं बुझी थी तो मैं बोला- पुलकित करेगा क्या?वो बोला- कंडोम!मैं बोला- मैं जुगाड़ करता हूँ. आशिमा दीदी का रंग एकदम गोरा, कद पांच फुट दो इंच, एकदम सुडौल शरीर और उभरी हुई गोल मटोल गांड … वो एकदम कामदेवी लग रही थीं.

मेरा मन करता था कि अभी के अभी उस पर चढ़ जाऊं और उसकी चुत का सारा रस पी जाऊं.

मैंने उसको कसके अपनी बांहों में जकड़ लिया और उसने भी अपने दोनों पैरों को मेरी गांड के पीछे से लॉक कर दिया. वो बेड के पास आकर बेडशीट की हालत देखकर बुदबुदाई- कितना गीला और गंदा कर दिया है. जिनल- क्या हुआ सर … कहां खो गए?मैं उसके चूचों पर से नजर हटाते हुए बोला- कहीं नहीं बस ऐसे ही!तभी जिनल ने एक धमाका किया.

मैंने ही राहुल को मनाया था क्योंकि चाची मैं आपसे बहुत प्यार करने लगा हूँ और करता रहूँगा. मैंने बाहर से राहुल को मैसेज करके बता दिया कि अब मैं बाहर आ गया हूँ.

जब तक जंगल का सुनसान एरिया खत्म नहीं हो गया, तब तक चाची मुझे कस कर पकड़े रही थीं. इस पोज में हम दोनों को बहुत मजा आता है इसलिए मेरी प्यारी पत्नी को ये पोज पसंद है. उधर ड्रिंक करना मगर यहां गलत हरकत मत करो क्योंकि अभी सामने वाले भैया और भाभी भी हैं.

एचडी बीएफ सेक्सी इंग्लिश

उसने मुझे धकेलते हुए कहा- उन्ह ये सब अभी नहीं, मम्मी कभी भी आ सकती हैं.

उसने जैसे ही दरवाजा खोला तो मैंने देखा कि जल्दी जल्दी में श्रेया मैडम ब्रा पहनना ही भूल गई थी इसलिए उसके गुलाबी बूब्स के उभार टी-शर्ट में साफ़ दिख रहे थे. थोड़ी देर बाद मैं सरिता की चूचियां छोड़कर सीधा होकर अपने दोनों हाथों से उसकी कमर को कसकर पकड़ लिया और लंड अन्दर बाहर करने लगा. पहली बार में किसी लड़की की चुत अपने सामने देख रहा था, इससे पहले तो बस पोर्न में ही देखी थी.

ऐसे लंड से चुदने का हमेशा से मेरा सपना था मेरी जान … आह चोद दो मुझे … बस अब बर्दाश्त नहीं होता. मैं उन्हें उनके बेडरूम में ले गया और कहा- भाभी, आप चिंता मत करो, मैं कैसे भी करके आपका दिल बहलाने आ जाया करूंगा. गुलशन कुमार का सेक्सी वीडियोमैं- पर दीदी आपने आपने तो मेरा प्रपोजल स्वीकार भी किया, उसका क्या?माया- हां, मैंने तुम्हें मना नहीं किया है.

आगे की बात अगले भाग में!अभी तक की गांडू सेक्स की कहानी पर अपने विचार आप मुझे मेल जरूर करें. फिर वह भी ठीक से बैठ गई और कहा- कल आपको ले चलूंगी वहाँ!फिर रात को खाना खाने के बाद सब बैठे थे कि तभी मुग्धा दूध लेकर आ गई।उसने मुझे भी एक ग्लास दिया और आंख मारकर चली गयी।कुछ ही देर में सभी सो गए.

मैंने उससे पूछा- आपका नाम क्या है?उसने अपना नाम पायल बताया और उसने मेरा नाम पूछा. हल्के हल्के से खींच कर उसे चुत के दर्द से निजात दिलाने की कोशिश की. वो मादक आवाजें निकालने लगी ‘आआह … आआह … आऊच … ऊऊह्ह्ह मेरी चूत खा जाओ … आह मेरी चूत को चबा लो … आह इसे पूरा निचोड़ दो …’मैं उसकी बातें सुनकर और भी गर्म हो रहा था और तेजी से उसकी चूत चाटे जा रहा था.

उसके बाद मैंने कहा- मेरे लोड़े को थोड़ा साफ कर दो अपने मुंह में लेकर!तो हॉट सिस्टर ने वैसा ही किया, मेरा लंड मुंह में लेकर चूसने लगी. लॉकडाउन के दैरान हमें जब भी मौका मिलता, हम दोनों चुदायी कर लेते थे. 8 बजने को थे तो मेरे दोस्त अपने घर चले गए और दिशा के घर से भी कॉल आ गया तो वो जाने को कहने लगी थी.

उस समय हमारे बीच में चुदाई की कोई बात नहीं होती थी, बस किस वगैरह की बात होती थी कि किसने स्कूल में किसको किस किया, कौन किसकी गर्लफ्रेंड है.

उसने दूसरी मूवी शुरू कर दी, जिसमें भाई बहन साथ में नाश्ता कर रहे थे. मैंने भी ऊपर होते हुए विलियम को अपने ऊपर खींच लिया और उसने भी एक झटके में मेरे पैरों से मेरी पैंटी निकाल कर मुझे नंगी कर दिया.

मैं दीदी की चूत में लंड आगे पीछे करता हुआ अपने होंठों से कभी उनके होंठों को चूमता, तो कभी निप्पल पकड़ कर खींच लेता. अन्दर घुसते ही गेट बंद करके मैंने उनको पीछे से कसके पकड़ लिया और उनको चूमने लगा, उनके दूध दबाने लगा. उसके हाथों से मेरे लंड को छूने से और चूसने से मुझे भी बहुत मजा आ रहा था.

फिर उसकी पैंटी फाड़ कर पूरी जीभ चुत में डाल दी और चुत चाटने लगा … चूसने लगा. दोस्तो, यह काल्पनिक कहानी आपको कैसे लगी? मुझे मेल से जरूर बताना। कमेंट्स में भी लिखना कि इंडियन हॉट गर्ल सेक्स कहानी पढ़ कर आपको मजा आया या नहीं!. उसके होंठों और मम्मों को चूस कर मैंने उसे फिर से दर्द से निजात दिलाई.

बीएफ सेक्स देवर भाभी मैंने उससे कहा- तुम कपड़े क्यों उतार रहे हो?उसने कहा- कपड़ों में तेल लग जाएगा तो ख़राब हो जाएंगे. आशिमा दीदी ने मेरा सारा वीर्य मुँह में भर लिया और जल्दी से बाथरूम में जाकर वॉश बेसिन में थूक दिया.

जड़ों की बीएफ

जब मैं अंदर गया तो देखा कि केवल मैं ही आमंत्रित था, कोई और नहीं!मेरे पूछने पर उसने बताया कि कॉलेज में केवल मैंने ही उस विश किया था, और किसी ने नहीं।यह सुनकर कि घर पर हम दोनों अकेले हैं, मेरे दिमाग में हवस का शैतान आना शुरू हो गया लेकिन मैंने कुछ जाहिर नहीं होने दिया. वो मुझे चुप देखकर मेरे पास आया और बोला- आलिया, मैं तुम्हें चोदना चाहता हूं. इशारा पाकर उन चार लड़कों में से दो मेरा पास आ गए और दो लोग जो मेरे पास थे, वो दीदी के पास चले गए.

मुझे देखकर गली के लड़कों के लंड खड़े हो जाते हैं और कई बार तो मैंने लड़कों को अपने लंड मसलते हुए भी देखा है. उसने बोला- टैंट ज्यादा बड़ा है, इसलिए आधा आज लगाएंगे बाकी सुबह जल्दी उठकर. हिंदी सेक्सी वीडियो 2005उधर समीर को भी रोहन के कपड़े नहीं आ रहे थे इसलिए समीर ने बस रोहन का अंडरवियर पहना था, जिससे समीर का आधा लंड अंडरवियर में से बाहर निकल रहा था.

फिर मैं झड़ने लगा तो मैंने लंड चूत से बाहर खींचा और लंड का पानी भाभी के बदन पर फेंक दिया.

मोहन ने रवि को समझाया- मान जा यार … अब की बार विशाल सर प्यार से गांड मारेंगे. दीदी चीख पड़ीं और उन्होंने अपने दोनों हाथों से मुझे रोकने का प्रयास किया पर मैंने फिर से एक जोरदार झटका मार दिया.

चाचा जी का शायद अभी तक मन नहीं भरा था, उनका लंड दीदी की चूत में जा ही नहीं पाया था. पिछले भागभाभी की चचेरी बहन को नंगी देखामें अब तक आपने पढ़ा था कि शिल्पा अपनी चूत में उंगली करती हुई मादक आवाजें निकाल रही थी. मेरा पूरा रस निकलने के बाद उसने बड़े प्यार से मेरे लंड को अपनी जीभ से चाट चाट कर साफ कर दिया.

दीदी- क्या हुआ … चुप क्यों हो गया?मैं- पर दीदी आपने ऐसा क्यों किया और फेक नाम से एकाउंट क्यों बनाया?माया- मैंने तो टाइम पास के लिए बनाया था, पर तुम मिल गए तो सोचा तुम्हारे साथ मस्ती कर लूं.

मैंने पूछा- आपको कैसे पता?उन्होंने कहा- मैंने नीचे गाड़ी रुकने की आवाज़ सुनी है और उनके आने का टाइम भी हो गया है. पूरी आइसक्रीम लगी चूत चाटने के बाद उसने फिर से अपनी उंगली मेरी चूत में डाली. पहले मैं सौम्या डार्लिंग के बताए अनुसार ही मेरे जन्म के एक महीने बाद की डेट पर जाना चाहता था, लेकिन अब मेरे दिमाग में एक दूसरा आइडिया आ गया.

देवर भाभी सेक्सी चाहिएमैंने पूछा- जी आपके परिवार में कोई नहीं दिख रहा है?वो बोली- ये जी जी करके बात करना बंद कीजिए. जैसे ही उसका पायजामा टांगों से निकला तो उसकी संगमरमर सी खूबसूरत कमनीय काया मेरे सामने आ गई.

बीएफ सेक्सी सनी

मैंने टीना को दूसरी तरफ करके उन लड़कों को अपनी उपस्थिति से अवगत कराया तो वो शांत हो गए. आज तक मेरे पति ने कभी चूत को चूमा नहीं है, तो चूसने की बात … और चूतरस पीने की बात तो दूर की बात है. पिछले भागभाभी की चचेरी बहन को नंगी देखामें अब तक आपने पढ़ा था कि शिल्पा अपनी चूत में उंगली करती हुई मादक आवाजें निकाल रही थी.

मुझे पापा की बात मान लेनी चाहिए थी, कम से कम ऐसा मरियल लंड तो नहीं मिलता. दोस्तो, मैं रवीश कुमार आपको अपनी सेक्स कहानी के पहले भागगर्लफ्रेंड अपनी भाभी को मेरे पास सेक्स के लिए लायीमें बता रहा था कि प्राची नाम की चुदक्कड़ लड़की को मैं बहुत चोदता था. जब सब काम हो गया, उसके बाद भी हमारे पास चुदायी करने के लिए चार घंटे बच गए थे.

इस वक़्त मेरा एक हाथ उसकी कनपटी पर था, मैं होंठ से होंठ चूस रहा था और हल्के हाथ से उसकी चूत को उसकी लैंगिंग्स के ऊपर से सहला रहा था. वह हंसने लगा- जब देखो, तब बताना, पर यह बात मेरी बीवी से मत कहना, कई लोग कह चुके हैं. वो दिन भर अपने काम में व्यस्त रहे और रात 10:00 बजे उनकी ट्रेन भोपाल से इंदौर के लिए थी.

अब आगे फ्री यंग सेक्स कहानी:तब पारुल ने भी रात को रुकना कम कर दिया था क्योंकि अब शीना और तुषार उसके जागते-जागते ही सेक्स में लग जाते तो उसकी भी हालत खराब हो जाती. पर तभी फ़लक ने मेरे लंड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और मुझे किस करना भी शुरू कर दिया.

और वह कामुक आवाज निकाल रही थी- आहं … आंह … चूसो … चूसो मेरे होंठ को और जोर से चूसो!फिर उसके बाद मैंने अपनी बहन के ब्रा और पेंटी अपने हाथों से उतार दी.

दोस्तो, यह काल्पनिक कहानी आपको कैसे लगी? मुझे मेल से जरूर बताना। कमेंट्स में भी लिखना कि इंडियन हॉट गर्ल सेक्स कहानी पढ़ कर आपको मजा आया या नहीं!. अच्छा सेक्सी वीडियो दिखाइएदोस्तो, मैं आपको अपने दोस्त राहुल की चाची अनिता की चुदाई की कहानी सुना रहा था. घोड़ी और घोड़े की सेक्सी वीडियोकरीब बीस मिनट तक मेरी गांड की रेल बनाने के बाद फिर से उसने मुझको सीधा लिटा दिया, लंड से कंडोम निकाल कर उसने अपना लौड़ा मेरे मुँह में दे दिया. मैंने तो अपनी जींस शर्ट पहनी पर फ़लक ने तो शायद कसम खा रखी थी कि जब तक वो मेरे साथ है, मुझे मारे बगैर नहीं रहेगी.

मौसी हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा ये बता, तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- नहीं मौसी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

वो फिर से मादक सिसकारियां भरने लगीं और आह आह हम्म की आवाज़ करने लगीं. मैंने झट से अपना हाथ उसके मम्मे से हटा दिया कि कभी कोई उसकी आवाज सुनकर इधर ना आ जाए. कभी कभी वो कहते हैं ना कि ‘फर्स्ट इम्प्रेशन इज लास्ट इम्प्रैशन …’इस कहावत की वजह से कुछ लोग मेरे लिए बुरा विचार बना लेते हैं.

सर मेरे पास आकर मुझे चूमने लगे और मेरी स्कर्ट में हाथ डाल कर मेरी चूत को टटोलने लगे. उस वक़्त उन्होंने मुझसे कहा- बेटा, तू बुरा न माने तो बात बोलूं?मैं बोला- हां बोलो न अंकल जी?वे बोले- तू बिल्कुल भावेश की मां जैसा है. मगर वो दोनों साले आपस में यही बातें किए जा रहे थे कि टीना और दिशा चोदने लायक माल हैं यार!वो टीना की चुचियां देख कर लार टपका रहे थे तो कभी दिशा की चुचियां देख कर … वो दोनों यही सब कर रहे थे.

फोटो फोटो बीएफ

सरिता जब मेरे लंड का सुपारा अपनी चूत के छेद पर रखकर अपनी गांड हिलाने लगी तो मैं समझ गया कि अब सरिता लंड अन्दर लेना चाहती है. अब विशाल खुश रहने लगे थे, वे मोहन को खूब प्यार करते, फिर उसकी गांड मारते. मेरे पास यही एक सप्ताह था जिसमें मैं भाई को अपनी ओर आकर्षित कर सकती थी.

कभी कभी झगड़ा हो जाता है, तो कभी कभी ज्यादा प्यार … बस ऐसे ही चल रहा है.

ऐसे ही ऊपर नीचे करते हुए उसने मेरा पूरा लंड अपनी चूत में ले लिया और थोड़ी ही देर में जल्दी जल्दी ऊपर नीचे होने लगी.

मेरे पास यही एक सप्ताह था जिसमें मैं भाई को अपनी ओर आकर्षित कर सकती थी. आशा करता हूँ आप सबको पसंद आएगा और आपका भी प्यार करने का मन बन जाएगा. गांव की सेक्सी मूवी गांव की सेक्सी मूवीमैंने देखा कि विलास मेरी तरफ मुँह करके सोया था और उसका एक हाथ लुंगी के ऊपर से ही मेरे लंड पर था.

इसलिये मैं एक बार फिर खड़ा हुआ और कमरे में जितने भी लाईट के स्विच थे, सबको ऑन कर दिया।पूरा कमरा रोशनी से भर गया।एक बार फिर मैं उसी पोजिशन पर आकर रिया की स्कर्ट को उठाने लगा तो इस बार रिया ने मेरे हाथों को दबोच लिया. उसने ब्लैक कलर का सैट पहना हुआ था, जिसमें एक पोर्नस्टार की तरह दिख रही थी. आज हमने कहीं जाने का पहले से नहीं सोचा था, आज हम ऐसे ही मस्ती करने वाले थे.

दीदी- मेरी खोल कर देख रहा है या कहानी की लिंक खोल कर देख रहा है?ये कह कर दीदी फिर से जोर जोर से हंसने लगीं. उसने मेरी तरफ एक बार सरसरी निगाह से देखा और फिर अपना काम करने लगी।हालांकि वो कोई खूबसूरत नहीं थी और ना ही मैंने उसे कभी बुरी नजर से देखा था.

देसी सेक्सी हॉट गर्ल चुदाई कहानी मेरी अपनी है कि कैसे मैंने अपने भाई के दोस्त को शह देकर उसे मेरी चूत की चुदाई करने के लिए उकसाया.

रात को 11 बजे के आस पास मैं मॉम से बोला- मॉम, मुझे अपनी जिंदगी में आपके सिवाए कोई और लड़की नहीं चाहिए. हार्दिक धीरे धीरे उसे चूमते हुए नीचे आ गया और उसने शनाया की चिकनी चूत पर अपने होंठ रख दिए. यह घटना मई 2018 की है, जब मैं मेरी मौसी की बेटी से मिलने उसके घर के पास के शहर गया हुआ था.

लड़की और घोड़ा वाली सेक्सी इस तरह से वो मुझको गाली देता और थप्पड़ मारता हुआ मेरी गांड को नौच रहा था. रेखा ने भी अपने हाथों से मुझे जकड़ लिया और मेरे होंठों और जीभ को चूसने लगी.

उसके मुँह से आवाज निकल गई- अहम्म … उम्म मर गई … यस्य … आंह रुकोऊ …. राहुल उठ कर चाची की टांगें चौड़ी करके उनके दोनों पैर अपने कंधों पर रख कर चुदाई की मुद्रा में आ गया. मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया और उसे सहलाने लगा, उसके मम्मों को दबाने लगा.

बीएफ फिल्मxxx

फिर हम अंदर आ गए।मुग्धा- आपकी शरारत अभी बन्द नहीं हुई।मैं- कैसी शरारत?मुग्धा- बनिये मत … पहले दिन से देख रही हूं. मम्मी बोलीं- तू भी न … यहां कहां सोयेगी?मैं जिद करने लगी तो मम्मी बोलीं- ठीक है … आ सो जा. मन तो कर रहा था कि पांचों को पटा कर चोद दूं … लेकिन मुझे फिलहाल सौम्या पर फोकस करना था.

मैंने बोला- निशा आपने कब चेंज कर लिया?उसने बोला- जब आप घूम कर चेंज कर रहे थे. करीब दस दिन तक ताबड़तोड़ चुदाई हुई और जब माहवारी का समय निकल गया, तो भाभी बेहद खुश हो गईं.

अब वो बीच बीच में बार बार मेरे गालों को, मेरे होंठों को चूम रही थी.

तभी सरिता बोली- क्यों ना आती? तुमने मुझे सोहम के रूप में जो इतना बड़ा तोहफा दिया है, वो मैं जिंदगी भर नहीं भूल सकती. मुझे आज उसकी गांड मारनी थी, चाहे कुछ भी हो जाए … और चाहे वो कुछ भी बोले. वो बोलीं- मार ले मेरी जान … चूत तो चोद ही ली है, अब गांड भी मार ले.

सौम्या ने भी मेरे कपड़े उतार कर एक साइड में ऐसे फैंक दिए जैसे उनका दोबारा कोई काम ही नहीं पड़ेगा. जिसे मैं इतना भोसड़ समझता था, वो तो अब जाकर पता चला कि ये इतना गांडू भी नहीं है. रिया मेरे ऊपर आयी और अपनी गांड मुंह के पास लाकर मेरे लंड के ऊपर झुक गयी और मेरे लंड को चूसने लगी.

इस पर वो किसी बच्ची की तरह जिद करने लगी और बोली- अच्छा नहीं होगा अगर मना किया तो.

बीएफ सेक्स देवर भाभी: चाय पीते पीते मैं एक हाथ से सोनाली की जांघें और चूत को पेटीकोट के ऊपर से सहलाता रहा. फिर मैं खड़ा हुआ और अपना लंड लेकर मम्मी के मुँह से सटाया तो मम्मी ने झट से लंड को अपने मुँह में रख लिया.

इसी के साथ ही चाची की चीख निकल गई- आह मादरचोद धीरे चोद साले … चुत फट जाएगी. वो शर्मा गई और मेरे साथ चिपकती हुई बोली- अभी नहीं … अभी कोई आ जाएगा. मुझे सौम्या डार्लिंग की सभी कमजोरियां पता थीं, जिसकी वजह से मैं सौम्या को जल्दी से जल्दी पटा सकता था.

वो बोली- अब बचो मेरे वार से … बहुत नींद आ रही थी ना … अब सो कर दिखाओ.

वाह क्या स्वाद और खुशबू थी चूतरस की … मैंने अपनी जीभ बाहर निकाली और अपने मुँह को चूत के मुख पर रखकर बहने वाला चूतरस पीने लगा. उसकी गर्दन को ऊपर किया और हम दोनों एक पल के लिए एक दूसरे को देखने लगे. उसके जाने के बाद भी मेरा लंड बैठने का नाम नहीं ले रहा था, तो वहीं बाथरूम में जाकर मैंने मुठ मारी.