एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला

छवि स्रोत,नंगी सेक्सी फिल्में

तस्वीर का शीर्षक ,

7 साल की बुढ़िया की बीएफ: एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला, पूरी चादर खून से लथपथ हो चुकी थी और उसकी टांगें हिल ही नहीं रही थीं.

बंगाली औरत की चुदाई

उसकी चूत में लन्ड घुसा कर मैं वैसे ही लिपट कर सो गया।1 घंटे बाद दोनों की नींद खुली तो फिर से मूड बन गया।मैंने उसके मुंह में लंड डालकर घुसाना शुरू कर दिया और उसकी चिकनी गुलाबी चूत में उंगली डालने लगा।अब मैं लेट गया और वो मेरे ऊपर लेट गई. जापानी एक्सएक्सएक्सउसके झड़ने के बाद मैंने उसका लन्ड एकदम चूस चूस कर साफ कर दिया।इस दिन बाद से हमारा रोज का ही काम हो गया था.

उसने अपनी पिता को कॉल कर दिया था कि वो रात के 10 बजे तक पहुंच जाएगा. ఇండియన్ బిఎఫ్ సెక్స్उसकी तड़प अब इस हद तक बढ़ गई थी कि वो मेरे होंठों को काटने भी लगी थी.

इस बताने के चक्कर में उसका लंड भी टाइट होने लगा और मैं इन सब बातों को जानते हुए भी अनजान बन कर उसके लौड़े पर बैठी रही.एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला: मैंने उसका जींस का बटन खोल कर जींस को भी उसकी जांघ से नीचे खींच दिया।उसकी गदराई जवानी देख के मेरा लंड फुफकार मारने लगा.

बातों बातों में एक दिन उसने मुझसे मिलने की इच्छा जताई तो सही, लेकिन फिर मना कर दिया.कोरोना लॉकडाउन में मुझे चूत की जरूरत हुई तो मेरी दोस्त ने अपनी सहेली से मिलवाया.

कोमल भाभी सेक्सी वीडियो - एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला

कुछ देर बाद मैंने उसको बिस्तर पर खींचा और अपने नीचे किया और उसके ऊपर चढ़ गया.अब कुसुम ने बोलना शुरू किया- देखो रोहन … जो हम लोग आज करने वाले थे, वो एक तरह का पाप है.

उसी समय ये सब कुसुम ने सुन लिया था क्योंकि वो रोहन के झड़ने के कुछ पल पहले ही यहां पर उसे तौलिया देने आई थी. एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला मतलब हमारा ग्रुप एक बड़ा वाला चोदू था और मैं उस ग्रुप का एक बड़ा वाला चोदूभगत था.

फिर वो बोला- मैं प्रोड्यूसर से बात करता हूँ और डेट फ़िक्स करता हूँ.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला?

मैंने नाजिया की चूत के छेद पर अपने लौड़े को टिका दिया और एक तेज झटके से दबा दिया. इसी तरह मेरे दोस्त के रूखे रवैये के चलते मेरी उसकी गर्लफ्रेंड से नजदीकियां बढ़ती जा रही थीं. मैंने वैसे ही एक और झटका मारा, जिससे मेरा पूरा लौड़ा सुरीली की चूत में चला गया.

मैंने नीचे से गांड उठा कर उसकी चुत में आहिस्ता आहिस्ता पूरा लंड पेल दिया. अगर आप अभी भी कुंवारी होतीं तो इस उम्र में भी मैं निश्चित ही आपसे शादी करके आपको अपनी बीवी बना लेता. मैं रात में बहन की चुत चोदता औऱ दिन में आपा जीजाजी से फ़ोन पर सेक्स करती ताकि जीजा जी को लगे कि आपा ने अपनी उंगली से चूत का ये हाल किया है.

मैंने उसके चेहरे को थोड़ा सा ऊपर उठाया और उसके कोमल से होंठों को धीरे से अपने होंठों से छुआ. इधर लवली ने मेरे दोनों हाथों को अपने दोनों दूधों पर रख लिया और मेरे दोनों हाथों को दबाने लगी।लवली का इशारा था कि मैं अपने दोनों हाथों से उसके दोनों दूधों को दबा दबा कर सहलाने की कोशिश करूँ जिस से उसे कुछ अलग सा मजा आये।तभी मैंने अपने एक हाथ को हटाकर अपने होठों को लवली के दूध के निप्पल से लगा दिया और चूसने लगा. मैं उनके ऊपर चढ़ गई और उनके लंड को अपनी चुत में लेकर गांड उछालने लगी.

जब वो मेरे पास आईं और बोलीं- कहां खो गए … चलो!वो मेरे पीछे एक तरफ पैर करके ऐसे बैठ गईं जैसे बीवियां बैठती हैं. मैंने जिस तरह से तुमसे बात की, उसके लिए मुझे माफ़ कर दो और प्लीज चलो न मेरे साथ!मैं तो यही चाहता था कि इतनी पटाखा माल मुझे तेल लगाए.

मैंने सोच लिया कि दीदी को इस सामूहिक चुदाई के लिए मैं कैसे भी मना लूंगा, पर पहले सुनील को ये बात याद दिलानी पड़ेगी.

मैंने उससे फिर से पूछा- क्या राज ने ऊपर ले जाकर किस कर दिया, जो आजकल इतनी गर्म हो गई हो.

उस अद्भुत नजारे को छूने के लिए रोहन के हाथ अपने आप बढ़ गए और उसने अपना एक हाथ मॉम के एक चूतड़ पर रख दिया. अब मेरा नंबर था तो मैंने उसके सिर को पकड़ा और अपने लौड़े को उसके मुँह में अन्दर तक घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा. मेरा जोश बहुत ज्यादा था तो मामी कराहने लगी और बोली- आराम से कर राजा … मैं यही हूं.

इस बात पर मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया क्योंकि मैं उनकी उदासी को कैसे दूर कर सकता था. मैंने देखा कि उनके रूम का टीवी चालू था और वो पलंग पर लेटी हुई अपने पैरों के बीच में अपने हाथ से कुछ कर रही थी. मैंने भी उससे कहा- मैं ठीक हूं, तुम अपना बताओ?उसने हालचाल बताया और बोला- जान … तुम्हारी बहुत याद आ रही है.

मैंने मधु को बिल्कुल भी इंतजार नहीं करवाया और उसकी साड़ी को उतार कर उसकी चूचियों पर टूट पड़ा.

उसकी कुर्ती को मैंने उसकी ब्रा तक उठा दिया ताकि उसकी ब्रा के हुक मुझे दिख सकें. कुछ ही देर में मैंने मधु को पूरी नंगी कर दिया और खुद भी केवल अंडरवियर में आ गया. लकी आया तो उसने कमल से हाथ मिलाया और सारा को हाथ जोड़े तो सारा ने अपना हाथ आगे बढ़ा कर उससे हाथ मिलाया.

मगर अब मुझे उनसे कोई परेशानी नहीं क्योंकि दिन में अब मैं अपने कमरे में अपनी कामवाली की आवाज़ें निकलवाता हूँ अपनी ही बेटी के ब्रा पेंटी पहना कर।[emailprotected]. अब मैं आराम से उसके मोटे, गुलाब से सुर्ख होंठों को आराम से चूस रहा था. आईआ … आह्ह … चोदो ना जान … आह्ह … चोदते रहो।उसकी कामुक सिसकारियां सुनकर मैं उसकी चूत को तेजी से पेलने लगा और जाकिरा ने अपनी बहन का हाथ पकड़ा और उसकी उंगली को चूत में डलवा लिया.

तभी प्रिया का पैर मेरे चेहरे को लगा।वो बोली- राज, तुम वहां मत लेटो पैरों की साइड … अच्छा नहीं लगता।फिर मैं सीधा होकर उसके साथ आ गया.

आज काफी दिन बाद किसी मर्द ने मेरी चूत को इस मस्ती से चाटा था, तो मैं भी अपनी गांड उठा उठा कर चूत चटवाने के मजे ले रही थी. एक हाथ से मैंने उसके एक बोबे को दबाया और दूसरे हाथ से उसके ब्लाउज के हुक खोलने लगा.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला वो ये सुनकर एकदम से खुश हो गयी और मुझे गले से लगा कर थैंक्यू कहने लगी. उन्होंने अच्छे से थूक लगाया, तो मैंने भी उनकी चुत को थोड़ा सा चाट कर गीला किया और उनकी फुद्दी पर लंड रख तेज झटका दे मारा.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला चॉकलेट खाकर मैंने पानी पीने के लिए अपना गिलास उठाने की कोशिश की, तो उसने मुझे अपने ही गिलास से अपना जूठा पानी पिलाया. भाभी भी मेरे अंडरवियर में फूले हुए लौड़े को बड़ी ललचाई नजरों से देख रही थीं.

उसने अपनी टांगें पूरी तरह से चौड़ा दी थीं और चुत ने नमकीन पानी छोड़ दिया था.

हिंदी बीएफ सेक्सी बोलने वाली

इसलिए मां मेरी मौसी के यहां चली गयी और नाना-नानी भी अपनी दूसरी बेटी से मिलने के लिए चले गये. हमें अब ये सब बंद कर देना चाहिए और अपने रिश्ते का लिहाज करना चाहिए. इसलिये मैं कितनी भी जोर से चीखूँ, चिल्लाऊँ लेकिन तू मुझ पर जरा सा रहम नहीं करेगा और ना ही तू रुकेगा.

कार्तिक अपने हाथ को धीरे-धीरे मेरी साड़ी के अन्दर चलाते हुए उन्हें जांघों तक ले गया. उस रात को जब सरिता भाबी का पति बाहर गया, तब वो दोनों सरिता भाबी के घर में चुपके से चले गए. मगर निधि मैं भी तुम्हें बहुत चाहता हूँ और अपने दोस्त की खातिर तुमको भी पूरी तरह से खुश कर सकता हूँ.

हमारी जीभ एक दूसरे के मुँह में थीं और आपस में लड़ कर मस्ती कर रही थीं.

उसने झुक कर मुझे अपनी बांहों में ले लिया और पांच मिनट तक मेरी और चुदायी की. फिर कुछ देर बाद हमारा मूड बना, तो हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूमने से शुरूआत की. कल भले ही मेरे ओर पूजा के बीच बहुत कुछ हुआ था, पर आज मुझे फिर से डर लगने लगा था.

मगर कमल को न जाने क्या सूझी कि उसने अपने होंठों को सारा के होंठों से सटा दिया और लकी को भी आगे आने का इशारा कर दिया।लकी ने भी सारा के बाल हटाकर उसकी गर्दन पर चूमना शुरू किया और उसने अपना एक हाथ आगे से ऊपर करके उसके मम्मों को दबाना शुरू किया. उन्होंने इतने मन से बोला था कि मैं मना नहीं कर सका और जाकर सोफे पर बैठ गया. हम दोनों ने कॉलेज में प्लान बनाया था कि घर जाकर हम कहीं घूमने जाएंगे.

शाम को सात बजे जब मैं उठी, तो जेठानी ने खाना बना लिया था और मांजी को भी खाना खिला कर सुला दिया था. हैलो साथियो, मैं आकाश आपको इस सेक्सी लेडी पोर्न स्टोरी के पिछले भागआखिर मेरे लंड को चूत मिल ही गयीमें आंटी की चुदाई के बारे में लिख रहा था कि आंटी मेरे लंड को चूस रही थीं.

उसके मोटे मम्मे मेरे सीने पर जैसे ही लगे, मेरे लंड का मौसम एक बार फिर से बनने लगा. मेरी पिछली कहानी थी:गैर मर्दों के लंड से चुत चुदवाकर मां बनीआज मैं एक और नयी सेक्स कहानी लेकर आयी हूँ. तभी मैंने उसका टॉप नीचे करके उसके मम्मों को दबाया और एक आम अपने मुँह में भर लिया.

वो आह आह करके आवाज निकालने लगी और कहने लगी- जीजू, थोड़ा धीरे दबाओ यार … दर्द होता है.

दोनों को नींद आ गई।फिर शाम को दोनों घूमने निकल गए उसने अपनी मां को बोल दिया वो सुबह आ जाएगी. अब मैं खड़े-खड़े ही उसकी चूत में लौड़ा पेल रहा था और जोर-जोर से अन्दर बाहर कर रहा था. मैं समझ गया कि मेरी चालू साली ने मुझे अपने बाथरूम में नहाने को क्यों कहा था.

मेरे छोटे मामा मीनू से 15 साल बड़े हैं।मेरी मामी उस वक्त अपने मायके में गयी हुई थी. वो मचलने लगी तो मैंने कल्पना की दोनों टांगों को अलग करते हुए उसकी बुर पर किस कर दिया.

तब मैंने अपना लंड एक ही धक्के में लवली की चूत में पेल दिया।मैंने धीरे धीरे धक्के लगाए तो लवली मजे से बड़बड़ाने लगी- हाँ विशु, ऐसे ही थोड़ा तेज़ … और तेज़ … हाँ इसी तरह धक्के लगा!और लवली का शरीर ऐंठने लगा और वो फिर से एक बार झड़ गई. अब लकी ने सारा को नीचे लिटाया और उसकी टाँगें फैला कर उसकी चिकनी चूत में अपनी जीभ घुसा दी. इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी मेरी दोस्त की एक मस्त माल सहेली की है.

बिहारी का बीएफ वीडियो

जैसे ही उसने मेरे लौड़े को अपने हाथ में लिया, मेरे शरीर में करंट दौड़ने लगा और मैंने उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए; उसकी साड़ी अलग कर दी और उसको लेकर बिस्तर में आ गया.

मेरा लंड फच की आवाज करके पूरा का पूरा अन्दर उतर गया और उसी के साथ मैंने चुत में धक्के लगाना शुरू कर दिए. मैं उसको गोदी में उठा कर दूसरे कमरे में ले गया और वहां उसके ऊपर चढ़कर फिर से किस करने लगा. फिर भाभी इस शहर से चली गईं और उन्होंने अपना नंबर भी हमेशा के लिए बंद कर दिया.

उस दिन जब शाम को मैं उस दुकान पर गया तो वहां एक 35-37 वर्षीय महिला बैठी थीं, लेकिन वो अपनी उम्र के हिसाब से बहुत लाजवाब आइटम थीं. फिर मैंने 3 से 4 धक्के पूरी ताकत से तब तक ताबड़तोड़ लगाए जब तक मेरा लंड लवली की चूत में पूरा नहीं घुस गया. चोदी चोदा फुल एचडीदो मिनट बाद मैंने स्पीड थोड़ी बढ़ा दी और धकापेल चुदाई करना शुरू कर दी.

आप कहानी पर कमेंट करना न भूलें। मुझे आप लोगों के रेस्पोन्स का इंतजार रहेगा।मेरा ईमेल आईडी है[emailprotected]. सारा चीखी- साले पराया माल है तो क्या फाड़ ही देगा?मगर अगले ही पल वो सिसकारते हुए बोली- आह … मजा आ गया जानू … अब धक्के लगा.

वो जल्दी से बेड के सिरहाने की ओर जाकर लेट गयी और अपनी टांगों को फैला दिया. बीस मिनट की चुदाई के बाद मैंने चाची की चूत में अपने लौड़े का रस भर दिया. मैं और मंजू बाथरूम से साफ़ होकर निकले और देखने चले गए कि रमेश क्या कर रहा है.

अगले दिन तेईस तारीख की देर शाम को मैं बहन को लेकर वापस इंदौर पहुंचा. मेरा लंड फिर खड़ा हो गया, जो अभी मेरी गोद में बैठी पल्लवी की गांड में घुसने की कोशिश कर रहा था. उधर बसंत भी पागलों की तरह मेरी चुत के दाने को होंठों से खींच खींच कर चूस रहा था.

दरअसल ये सेक्स कहानी, जिसमें मैंने हॉट बहन को चोदा, लॉक डाउन के पहले शुरू हुई थी.

इस समय मेरे दोनों मम्मे उसकी छाती से चिपक गए थे और वह मेरी गर्दन पर किस करता ही जा रहा था. उसने मुझे वो दिखाई और बोली- ये देखो, ये वाली … बाद में मत बोलना मुझे क्या पता.

उससे रुका न गया और उसने मेरा एक हाथ पकड़ा और अपनी चूत में मेरी उंगली डलवा ली. थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि वह लड़की छत पर गई और अपने कपड़े उतारने लगी. सारा बोली- तो लाओ मेरे लिए भी कोई मोटा सा लंड, जिससे मैं अपनी खुजली मिटाऊं.

भाभी बोलीं- क्यों नहीं बनाई जीफ!मैंने कहा कि मुझे लड़कियों से बात करने में बहुत शर्म आती है. उसमें से उसकी फूली हुई गोल गांड ऐसी लग रही थी कि जैसे किसी ने पीछे कपड़ा ठूंस कर गांड फुला दी हो. वो शीना के साथ और भी बहुत कुछ करने की कोशिश करता लेकिन वो अभी उससे सीधा सेक्स के लिए बोलने की हिम्मत नहीं कर पा रहा था.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला मैं समझ गया और एकदम से खुद को सहज करते हुए बोला- अरे वो तो मैंने यूं ही कह दिया था. आज तो फ़ाड़ डालूंगा इसे मैं!अब मैं बेहोश होने वाली थी कि एक थप्पड़ जोर से मुंह पर उन्होंने मारा और फिर गांड में लंड को धकेलने लगे.

बीएफ वीडियो भोजपुरी देहाती

मैंने कहा- मैं आज तुम्हारी चुत का भोसड़ा बना कर ही छोडूंगा, ताकि किसी से फिर न चुदवा पाओ. वो बोली- बहुत दर्द हो रहा है विहान, मेरी कमर का पहले ही इलाज चल रहा था और आज ये झटका और लग गया ऊपर से।मैं बोला- मैं डॉक्टर के पास ले चलूँ आपको मौसी?वो बोली- नहीं, डॉक्टर के पास तो तेरे मौसा ले जायेंगे. फिर मेरा मन हुआ कि दोनों अंडकोषों को एक साथ मुँह में ले लूँ!लेकिन जेठजी के अंडकोष बहुत बड़े थे और देखने से ही साफ़ पता चल रहा था कि उनमें बहुत से बच्चे पैदा करने वाला वीर्य भरा हुआ था.

उसका नाम सुहैला था और वो बहुत बड़ी चुदक्कड़ लौंडिया थी क्योंकि हर शनिवार रविवार को वो हमारे फ़्लैट पर ही रहती थी. उसने मम्मी से पूछा- क्या ये आपकी है?मम्मी ने ना कही, उन्होंने सोचा शायद किसी और की ब्रा हमारे घर में आ गई. किन्नर का सेक्सीमैं तब भी वैसे ही सोया था लेकिन रात को कब मैं घूम गया पता ही नहीं चला.

मैंने कहा- अच्छा एक काम करो, तुम एक कागज पर लिख कर अपने पास ही रख लो.

मंजू बड़ी मस्ती से अपनी गांड मरवा रही थी और अंजलि ये सीन देखे जा रही थी. उसका नाम सुहैला था और वो बहुत बड़ी चुदक्कड़ लौंडिया थी क्योंकि हर शनिवार रविवार को वो हमारे फ़्लैट पर ही रहती थी.

मेरी सेक्सी नंगी चुदाई कहानी के पिछले भागमेरी चूत की प्यास नहीं बुझतीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे भाई का दोस्त मेरी जवानी से खेल रहा था. ऑफिस जाने से पहले आज शेखर अपने बेटे से कुछ बात करना चाहता था क्योंकि जब से रोहन आया था, वो उससे ठीक से मिल ही नहीं पाया था. इसके बाद हम दोनों में इधर उधर की और प्यार मुहब्बत की बातें होती रहीं.

लंड तन कर घोड़ा हो गया, तो वो कहने लगीं कि ज्यादा समय नहीं है जानू, तुम जल्दी मेरी आग शांत कर दो.

जितना अंदर हो सके मैं उतना अंदर तक ले जाता और चूत के अंदर उसकी छत पर रगड़ता।उसकी रगड़ से वो और जोर से आवाज करती- आम्म्म … म्म्मम!तभी मैंने अपनी दूसरी उंगली भी साथ ही चूत में डाल दी. मैं अपनी बहन की इस मस्त कारगुजारी को देखने में मस्त हो गया और अपने लंड को सहलाने लगा. उन्होंने तकरीबन 50 धक्के मारे तो मैंने महसूस किया कि जेठजी की छाती पर पसीना आ गया था.

वीडियो में सेक्सी गानाहम होटल के रूम में जैसे ही अन्दर गए, तो मैंने अपने गीले हो चुके कपड़े निकाल दिए और मामी जी ने अपने कपड़े निकाल दिए. चुत की फांकें काफी फूली हुई थीं और आज झांट रहित होने की वजह से उनमें एक अलग सा ग्लो आ रहा था.

बिहारी बीएफ देहाती

सारा ने लकी की टी शर्ट उतार दी और उसके बरमूडा का बटन खोल कर ज़िप नीचे की. वो 19-20 साल का जवान लौंडा था और मुझे चुदता देख कर लंड हिला रहा था. मुझे कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था, सिर्फ कार्तिक के हाथों का स्पर्श ही मिल रहा था.

कुछ देर बाद वो बोला- ठीक है, आप मुझे आप अच्छी लगी थीं … लेकिन शायद मैं आपको अच्छा नहीं लगा. इतने बड़े हैं कि उसके तंग ब्लाउज को फाड़ कर उसके चूचे बाहर निकल आएंगे. वहाँ उसने पहले पेशाब किया किया फिर हम दोनों ने पानी से एक दूसरे के लंड चूत को साफ किया.

भाभी को लंड सहलाने में प्राब्लम हो रही थी, तो उन्होंने मेरी पैंट निकाल दी. मैं जब उनकी चुत में जोरदार धक्कों के साथ लंड को अन्दर बाहर करता, तो धक्कों की पट पट की आवाज पूरे कमरे में गूंजने लगी थी. कुछ पल बाद मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड से कहा कि मुझे अभी ऑफिस के एक क्लाइंट से मिलने जाना है.

मैंने चूस-चूस कर उसकी चूत को लाल कर दिया था और प्रिया लगातार मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाए जा रही थी।5 मिनट तक चूत चुसाई के बाद उसकी चूत झरने की तरह झड़ गई। प्रिया की सांसें बहुत तेजी से चल रही थीं. मेरी पत्नी बताए जा रही थी:आपने पीछे से अपने हाथों को आगे लाकर मेरी चूचियों को दबाने की कोशिश की, लेकिन मैंने आपका हाथ हटा दिया.

इस अर्धनग्न हालत में भाभी को देखकर मेरे लंड का बुरा हाल हो गया और मेरा लंड का चड्डी में तंबू बन गया.

उन मोटे लम्बे लंड की फोटो देख कर मैं यह सोचती थी कि क्या सच में ऐसे लंड होते होंगे. हिंदी पिक्चर बीपी पिक्चरमैंने झट से उसे घोड़ी के पोज में झुकाया और उसकी कसी चूत में अपनी जीभ घुसा कर चाटने लगा. वीडियो सेक्सी गाना वालीउसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था।मैंने भी उसी की तरह उसकी जांघों पर किस किया. वो मुझे अपने उस होटल में ले जाने लगे, जहां उन्होंने अपना रूम बुक किया था.

कॉलेज के दिनों दोस्तों से इतना पता भर चल पाया था कि लड़की को नंगी देखो, तो लंड खड़ा हो जाता है.

मेरा मुँह खुला हुआ था और मैं उनके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसना चाह रही थी. जेठजी ने तुरंत अपनी जीभ को मेरी चूत के और अन्दर डाल दिया और सर को आगे पीछे करते हुए मेरी चूत को चोदने लगे. इस वजह से मेरा हाथ काफी बार उसकी चुचियों पर भी पड़ा, जिससे मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो गया.

प्लीज़ कमेंट करके ज़रूर बताइएगा कि आपको ब्रदर सिस्टर स्वैप पोर्न स्टोरी कैसी लगी. दो मिनट बाद मैं अपने कमरे से निकल कर फिर से छत पर आ गया और उसकी पैंटी को फिर से देखने गया. इससे हुआ ये कि गेट के पीछे से मुँह निकाल कर देख रही रिया के मुँह में वीर्य की पिचकारी जा घुसी.

बीएफ का सेक्स वीडियो

जब से दीदी ने वो छोटे कपड़े पहनना शुरू किया था तब से ही मेरा आकर्षण दीदी की ओर बढ़ता जा रहा था।अब वो घर में कपड़ों के अंदर ब्रा और पैंटी भी नहीं पहनती थी। मुझे अब कभी उसकी पैंटी और ब्रा बाथरूम में या कपडों में सूखती हुई नहीं दिखती थी. करीब एक घंटे की इस चुदाई में मैं फिर से आंटी की मखमली गांड में ढेर हो गया. कुछ देर बाद जेठानी मेरे लिए चाय बना कर ले आई और मैं चाय पीकर सो गई.

वहां मैंने क्या देखा? साली को मैंने कैसे चोदा?अर्न्तवासना पर ये मेरी पहली काल्पनिक जीजा साली की चुदाई कहानी है.

हम कचहरी पहुंच कर काम निपटाने लगे और करीब दोपहर दो बजे के आसपास हम दोनों घर वापस आ गए.

इसके बाद क्या क्या न हुआ, बीवी के अलावा मेरी साली भी मेरे लंड से चुदी, वो सब अभी बाकी है. फिर मेरे जन्मदिन पर मेरे ससुर जी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर मुझे कैसे चोदा वो मैं आपको अगली कहानी में सुनाऊंगी।मेरी ससुर और बहू की चुदाई की कहानी पर अपने विचार अवश्य प्रकट कीजिएगा. सनी देओल की नई फिल्मजहाँ मैं रहता था वहां मैंने एक रूम लिया हुआ था जिसमें मैंने एक बेड एक टेबल और एक कुर्सी डाल रखी थी.

करीबन ग्यारह बजे उसका पति घर आया और उसने सरिता को देखा कि वह अभी भी सो रही है. आज ये मेरे लिए सबसे ज्यादा खुशी का दिन था, जो मैं राज़ से चुद रही थी. अभी मैं उससे ज्यादा खुला नहीं था, इसलिए हम दोनों आपस में ज्यादा बात नहीं करते थे.

अब अंकल ने मुझसे वो सामान लिया और मेरे पीछे से ही खड़े रह कर आगे हाथ बढ़ा कर दुकान वाले को दिया और बोला- इसको देख लीजिए. मैं उसके होंठों पर किस करने लगा और लंड को चूत में जोर से धक्का दे दिया और आधा लंड चुत में पेवस्त हो गया.

कुसुम की वासना से भरी हुई गर्म सिसिकारियां तेज़ होती चली गईं और उसे बहुत मज़ा आने लगा था.

यह अहसास किसी प्रेमिका के कंधे पर सर रखने पर ही आता है।हर्षिता ने बताया की साले साहब अब उन्हें प्यार नहीं करते, पहले 4-5 साल तो कोई दिन नहीं रहता था जब वो उनके साथ घर आके समय नहीं बिताते थे और रोज़ रात प्यार नहीं करते थे ।पर अब…वो बोलते बोलते रुक गयी।मैंने उत्सुकता वस पूछ लिया- तो अब क्या बदल गया?वो बोली- अब तो महीनों बीत जाते हैं. हालांकि मुझे बहुत अच्छा लग रहा था इसलिए मैंने कुछ भी विरोध नहीं किया, बस अपने लंड में तनाव आता महसूस करने लगा. मैंने अपनी इस सेक्सी लड़की की कहानी पर आपके मेल मिलने की आशा करता हूँ.

मारवाड़ी भाभी का सेक्सी वीडियो जैसे ही उसने मेरा लंड देखा तो वह तो घबरा गई और बोली- देखने में तुम इतने मासूम लगते हो … लेकिन इतना बड़ा लंड … इससे तो मेरी चुत फट ही जाएगीमैंने कहा- मैडम, आप एक बार लेकर तो देखो. तभी मैंने अपना एक हाथ उसकी निक्कर के अन्दर डाल दिया तो पाया कि उसने पैंटी भी नहीं पहनी थी.

कुछ 10-11 किलोमीटर बाद खेत के रास्ते से होती हुई वो मुझे किसी फार्म हॉउस पर ले गयी. उस दिन फिल्म देखने और घूमने के बाद समीक्षा ने कहा- यार, मैं तो बहुत थक गई हूँ. आकृति आंटी बोलीं- ठीक है, लेकिन कहीं सही जगह उसको ले जाना … कोई दिक्कत न हो.

नई दिल्ली की बीएफ

मेरी इस सेक्स कहानी की नायिका का नाम वर्षा भाभी है, जो बदला हुआ है और एक काल्पनिक नाम है. वो बोली- बहुत दर्द हो रहा है विहान, मेरी कमर का पहले ही इलाज चल रहा था और आज ये झटका और लग गया ऊपर से।मैं बोला- मैं डॉक्टर के पास ले चलूँ आपको मौसी?वो बोली- नहीं, डॉक्टर के पास तो तेरे मौसा ले जायेंगे. आंटी मेरी तरफ पीठ करके लेटी थीं और मैं पीछे से उनकी गांड चोदते हुए उनके मोटे मोटे चुचे दबाता जा रहा था.

उसे लकी नाम का एक लड़का पसंद आ गया था जो कुछ दिन पहले ही उनके सामने वाले फ्लैट में रहने आया था. विजय ने बारी बारी से भाभी के दोनों खरबूजों को ब्लाउज के ऊपर से ही चूसा और उसे अपनी गोद में उठा कर सोफे पर ले आया.

वो मेरा लंड पकड़ते ही चौंक गयी और उसके मुँह से निकला- बाप रे बाप … इतना मोटा!लंड बिल्लो रानी के हाथ में क्या गया उसकी तो मानो लॉटरी खुल गई थी.

उसकी चूत का सारा पानी मैंने पी लिया।अब वो फिर से आंखें बंद करके लेट गयी लेकिन मैं उसकी चूत को चाटता ही रहा।वो कुछ देर के बाद फिर से सिसकारियां लेने लगी।मैंने अब सोच लिया कि अब इसकी चूत में लंड डाल दूंगा।अब मैंने अपनी लोअर निकाल दी और उसकी चूत पर लंड को रखकर लेट गया. उसने जैसे ही मेरी अंडरवियर निकाली, उसके चहरे पर अजीब सी ख़ुशी नजर आने लगी. उन्होंने मेरे सिर पर हाथ रखते हुए मेरे बालों को कसके पकड़ लिया और एकदम से मेरा मुँह अपनी चूत में दबा दिया.

इंदौर के इस एक कमरे के घर में मैं औऱ बहन ही थे, खाने पीने का सब इंतजाम था … लेकिन बीवी की कमी थी. उसके साथ मैंने क्या क्या मजे किये और उसने मुझे किस तरह से इस्तेमाल किया. मैं उसके दोस्त के पास गयी और दोअर्थी भाषा में बोली- यार मुझे भी गेम खेलना है … प्लीज़ मेरी भी सैटिंग कर दो.

उन दोनों ने मुझे घुटने के बल बैठा दिया और मैं दोनों के लंड एक एक करके चूसने लगी.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ चोदने वाला: लेकिन मैं अभी उनसे साफ साफ सुनना या उनकी तरफ से ही शुरूआत चाहता था. मैंने पूछा- क्या तुमने उसके साथ सेक्स भी किया था?वो बोली- हां एक बार किया था.

मैंने कहा- नहीं मेरी जान, रस निकाल लूंगा ही नहीं, उसे पी भी जाऊंगा. मैं करीब 20 एक मिनट लेता हूँ, तो मेरी एक चुदाई में वो दो बार स्खलित हो जाती है।उसके बाद नहा धोकर हम दोनों बाज़ार घूमने गए. लकी ने एक बार फिर अपना लंड सारा के मुंह में करके चिकना करवाया और घुसेड़ दिया सारा की मखमली चूत में.

हैलो, मैं कानपुर वाली निशु एक बार पुनः आपके सामने अपनी जबरदस्त चुदाई कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैंने उसके मुँह से हाथ हटाया तो वो लम्बी लम्बी सांस लेते हुए मुझे देखने लगी. लेकिन मसला ये था कि कैसे?इसी तरह कुछ और समय बिता कर दूसरे दिन शाम को आकृति आंटी ने मुझे बताया कि उसकी दो दिनों की छुट्टी है. ये अनुभव मुझे अपनी ज़िंदगी में पहली बार मिल रहा था कि कोई मेरी बुर चाट रहा था.