देहाती साड़ी में बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो देसी पोर्न वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स कसे करावे: देहाती साड़ी में बीएफ, ये कहकर अम्मी ने अब्बू की टांगों में अपनी दोनों टांगें फंसा कर पूरी खोल दीं, जिससे अम्मी की गांड खुल गयी.

सेक्सी सुहागरात सेक्सी सुहागरात

उसने सुमन की चुदाई शुरू की और आधे घंटे तक सुमन की ताबड़तोड़ चुदाई करता रहा. पूनम पांडे का सेक्सीमैं उनकी बात सुनकर मस्त हो गया कि हो न हो आज लंड की किस्मत में इनकी चुत लिखी है.

उसके बाद तो सिर्फ हस्बैंड ने मेरी चुत चोदकर मेरे जिस्म की आग को शांत किया है. खेसारी का सेक्सी फिल्मएक बार झड़ने के बाद मैं कोई दस मिनट बाद फिर से गर्म हो गया और फिर से स्यू मामी की चूत का बखिया उधेड़ना शुरू कर दिया.

उस सेक्स कहानी को पढ़कर मेरे मन में आया कि फिर तो मेरे अम्मी अब्बू भी खूब चुदाई करते होंगे.देहाती साड़ी में बीएफ: उन्होंने मुझे देखा और पूछने लगे- अरे बेटा, तू शहर से कब आ गया?मैंने उनको प्रणाम किया और बताया.

वो अपनी गांड से लंड निकलवाने के बाद दूसरे बाथरूम में नहाने जाने लगी और जाते हुए कह रही थी कि डियर सोनू आज जेनिल को मर्द की शक्ति का अहसास करा ही दो.इस बीच एक बात जरूर हुई कि राज अपनी सास को देख कर अपना लंड सहलाता रहा और पापा ने मुझे देख कर अपना लंड सहलाया.

फुल सेक्सी पिक्चर राजस्थानी - देहाती साड़ी में बीएफ

कॉलेज के टॉयलेट में भी उसकी चूत चुद चुकी थी इसलिए वो अधूरी रहकर ज्यादा ही गर्म हो गयी थी.मैंने कहा- मैंने तुम्हारा पानी पी लिया है जेनिल … अब तुम्हारी बारी है.

चौधरी का लन्ड एकदम लाल था मेरी चूत के खून से!फिर उसने मेरी चूत के ऊपर एकदम पिचकारी छोड़ दी. देहाती साड़ी में बीएफ मैंने उसकी नाइटी की डोर को खोल कर उसकी नाइटी को उसके जिस्म से अलग कर दिया.

जब मैं एक पोजीशन से थकता तो कभी उसे उठा कर कभी घोड़ी बनाकर चोदने लगता या उस समय जो भी पोजीशन सही लगती, उसी पोजीशन में उसकी चूत का भर्ता बना रहा था.

देहाती साड़ी में बीएफ?

जब मैं बाहरवीं में था तो उस वक्त मेरे अंदर की ये क्रॉसड्रेसर की इच्छा बहुत तेज हो गयी थी. उस वक्त मैंने बैलेंस करने के बहाने एक हाथ से हैंडल और एक हाथ को लगभग उनके एक बूब पर टिका दिया. शायद उसे मेरे लंड का स्वाद अच्छा लगने लगा था, इसलिए थोड़ी देर बाद वो लंड को जितना अन्दर मुँह में ले सकती थी, उतना लंड मुँह में ले कर चूसने लगी.

कुछ देर बाद मेरी अम्मी ने भी दारू पीना शुरू कर दी और रौनकी के साथ नंगी हो गईं. मैंने उनकी फोटोज को एडिट किया और जब उनको दीं, तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ कि ये उनकी ही फोटो हैं. आखिरी में गिलास उसके होंठों से हटाते वक़्त थोड़ी से बियर उसके मम्मों के बीच जा गिरी.

इस सीन को देख कर सुरेश भी सकपका गया … मगर वो जानता था कि बीच में बोलकर कुछ नहीं होने वाला है. मैंने आंखें झुका कर कहा- सर आपका मतलब ये कि मुझे आपके साथ सोना पड़ेगा … सेक्स करना पड़ेगा!उन्होंने आंख दबाते हुए कहा- तुम काफी समझदार हो … अब फैसला तुम्हारे हाथों में है. थोड़ी देर बाद जब मेरी नींद टूटी, तो मैंने देखा कि मामी का एक हाथ मेरे सीने पर था और उनका एक पैर मेरे पैर के ऊपर चढ़ा हुआ था.

मैं रुकी और मैंने उसकी अंडरवियर के ऊपर से ही उसका वीर्य पूरा चाट लिया. इस तरह से उन दोनों का पानी मिल गया और एक कुंवारी कली इस चुदाई से खिल गई.

मेरे होंठ, मेरी चूचियां और मेरी बुर चूमकर, चाटकर सर ने मुझे गर्म कर दिया, मैं पूरी तरह से उत्तेजित हो चुकी थी.

प्लान के मुताबिक हमने ऐसा समय तय किया था जब उसके बच्चे स्कूल चले जाते थे और उसका पति काम पर चला जाता था.

मैंने उसकी चूत में जीभ दे दी और वहां से उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया. वर्ना तेरी मां फोन करती ही होगी अब!मैंने फोन में टाइम देखा तो घंटा भर बीत गया था. एक दिन मामी के क्या किया?लेखक की पिछली कहानीमॉम की चुदासी चुत को मेरा लंड मिलानमस्कार दोस्तो, मेरा नाम विक्रांत है.

वो आज बड़ी बेताबी से अपने हाथ मेरे मुँह में अपना एक दूध देकर चुसा रही थी. वो धीरे से मेरे पास आकर बोली- इनकी आज से वही नाइट ड्यूटी शुरू हो रही है. पम्मो के पीछे आकर जब उसकी चूत में लण्ड डाला तो पम्मो की चूत हनी की चूत जैसी टाइट थी.

थोड़ी देर डराने के बाद चाचा ने मुझसे कहा- रो मत, मैं किसी से नहीं कहूंगा.

भाभी की चुत पर हाथ फेरते ही मुझे पता चला कि आज जिस पैंटी में मैंने मुठ मारकर अपना माल टपकाया था, वही पैंटी भाभी ने बिना धोये पहनी हुई थी. मैंने भाभी को जल्दी से बाथरूम में छुप जाने को कहा और वो भी एक पल में उधर जाकर छिप गईं. बाकी मीता की चुदाई भी आपको देखनी होगी तो बस मेरा जरा सा इंतजार कीजिए.

वो बोली- तेरे भाई ने आज तक मेरी चुत नहीं चूसी … बस किसी बाज़ार की रंडी की तरह चूत में लंड घुसाने में लग जाता है. दोस्तो, मेरा नाम अंजलि है। मेरी उम्र 19 साल है। मेरा रंग गोरा है और मेरा फिगर 32-30-34 का है। मेरी हाइट 5. तो वो उठी और उसने अपने हाथों से खुद की एक फेवरेट डिश बना कर मुझे खिलाई.

मेरा भी खड़ा होता था कभी। शर्माओ नहीं बेटा! अपना ससुर नहीं, दोस्त समझो.

भाभी ने मेरी पैंट निकाल दी और मेरे खड़े लंड को पहले अपने मम्मों के बीच रख लिया. बाथरूम में तौलिया टंगा था, मैं उसे लपेट कर बाहर आई, तो देखा बेडशीट पर बहुत सारा खून था.

देहाती साड़ी में बीएफ वो दीवार से हटने को हुईं, तो मैंने फिर से उनको धक्का देकर दीवार से सटा दिया और अपना लंड उनकी गांड की दरार पर ऊपर नीचे करने लगा. लेकिन तब भी मैं वास्तव में पुष्टि करना चाहता था कि आखिर मैडम क्या चाहती हैं.

देहाती साड़ी में बीएफ जब राहुल ने मेरा एक पैर, सामने बांधने के लिए उठाया तो मैंने उसे मना किया. मैंने कहा- अब और मत तड़पाओ … आह्ह … लंड को डाल दो न प्लीज???आसिफ़ ने मेरी चूत टाइट सोचकर लंड को धीरे से चूत में धकेला.

भाभी की चुत और भाभी के देखने अंदाज के एक बात पक्की थी कि भाई का हथियार मेरे हथियार जितना बड़ा नहीं था.

बस में चुदाई सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- क्यों आप अकेली आई थीं क्या आपके साथ कोई और नहीं आया?मैडम- मैं दिल्ली में अकेली रहती हूँ. फिर मैं इसी जुगाड़ में लग गया कि कैसे शीतल को लाइन पर लाया जाये?ऐसे ही सोचते सोचते दिन बीत रहे थे और दो महीने गुजर गये. मैं समझ गया कि वे अंधेरी गुफा में ही झड़ गए हैं। फिर अपने मोटे केले को बाहर निकाल मुझे चालू होने का इशारा करने लगे। उनका लंड वीर्य त्याग के बाद सिकुड़ गया था.

वो मादक आहें भरने लगी थी और अपनी टांगों को आगे पीछे करके मेरी उंगली से अपनी चुत रगड़वाने का सुख ले रही थी. थोड़ी देर बाद मेरे लौड़े ने पानी छोड़ दिया और पुष्पा का मुंह भर गया. अगर दूसरी बार भी चुद लोगी क्या बिगड़ जायेगा? बस तुम मुझे खुश कर दो.

अब आगे पापा बेटी सेक्स स्टोरी:जब मैंने अपने पति राज से पूछा कि ये सब कैसे होगा.

अब मेरा जितना लंड उसकी चूत में था, उतने को ही मैं धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा. जब उसे आराम मिला, तो मैं धीरे धीरे अपने लंड को रेखा की चूत में आगे पीछे करने लगा. मैं चुप था, तो मैडम फिर से बोलीं- आपने बताया नहीं?मैंने कहा- जी मेरी अभी तक कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

कुछ देर बाद मामा के ऑफिस से कुछ लोग आए, उसमें तीन आदमी और दो औरतें थीं. मैं भी कपड़े पहन कर अपने बेड पर लेट गया और रेखा की जवानी के बारे में सोचने लगा. मैंने फोन को वीडियो रिकॉर्डिंग मोड में डाल दिया जिससे उन दोनों की लेस्बियन ब्लू-फिल्म की वीडियो रिकॉर्ड होने लगी.

पापा की बात को बीच में काटते हुए मम्मी बोलीं- हां, दामाद जी का लंड भी बड़ा मस्त है. पिछली कहानीआंटी ने पति बनाकर सुहागरात मनायीमें मैंने आपको बताया था कि कैसे हमें रात में चुदाई करने का मौका मिला और मैंने कैसे आंटी की चूत और गांड की चुदाई कर डाली.

बाहर आकर मैंने पूछा- अच्छा बताओ निगार कितने टाइम में आएगी?यही कोई 20 मिनट में. अब आगे जबरदस्त सेक्स की कहानी:मैंने उसकी चूत में अपना मुँह लगा दिया और उसकी लिलिसाती हुई चूत को भूखे कुत्ते की तरह चाटने लगा. भाई साहब कुर्सी से हट गए और अब मैं कुर्सी पर कुतिया बन गयी, जिससे मेरी गांड ऊपर उठ गयी.

मगर एक दिक्कत थी कि मेरी मां की ब्रा और पैंटी साइज में बहुत बड़ी थी.

वो जाने अनजाने मेरी चूत के दाने को मसल रहा था और मैं पागल हुई जा रही थी. अम्मी बोलीं- क्या हुआ?तो मैंने कहा- पता नहीं क्या था … गीला गीला सा कुछ पैर में चिपक सा रहा है. उसके उस आठ इंच लौड़े को कोई मेरे जैसे भरी और बहुत गर्म चूत वाली लड़की संभाल सकती है.

वो बोली- कहां खो गये आप?मुझे होश आया और मैंने उसको अंदर आने के लिए कहा. पूरा दिन हम लोग प्रोजेक्ट पर काम करते रहे थे, पर तब भी वो पूरा नहीं हो पाया था.

अब आगे हिंदी चुत सेक्स कहानी:मैं नहाकर ऊपर चला गया, देखा तो भाभी गांड उठाए सोयी पड़ी थीं. तभी बाहर से मेरे बेटे की आवाज आयी- मम्मी आप किधर हो?ये हम दोनों ने सुन लिया था … मगर भाई साहब तब भी धक्के लगाने में लगे हुए थे. फ़ूड सर्विस की असिस्टेंट मैनेजर जो कि मस्त सेक्सी लड़की थी उसका नाम स्वरा था, वो एक सर्विस बॉय के साथ ट्राली पर खाना लेकर आयी थी.

सेक्सी ब्ल्यू फिल्म पंजाबी

चूंकि उसकी लंड चुसाई कुछ खास नहीं थी, तो मैंने उसे बिठा दिया और खुद खड़ा होकर उससे बोला- मेरे लंड को चूसो.

मैंने उसे उठाया और अपना एक दूध उसके मुँह में लगा दिया, जिससे वो दूध पीने लगी और चुप हो गयी. तभी चाची ने अपना चेहरे को धोया और मुझे अपने चूचे देखते हुए देख लिया. हर बार की तरह मधु के घर मैं कोई नहीं था, तो मैं और मधु, हम दोनों का उसके घर में चुदाई का कार्यक्रम चल रहा था.

मुझे कॉलोनी में गए तकरीबन 4 बज कर कुछ ही मिनट हुए थे कि एक घर से बाइक स्टार्ट होने की आवाज़ आई. थोड़ी देर तक वो मेरा लंड ही चूसती रही और मैं उसके मुँह को चोदता रहा. इंडियन सेक्सी मॉडलमैं उम्मीद करता हूं कि आप सभी को ये सेक्सी लड़की की वासना की कहानी पसंद आएगी.

उसको देखकर मैं सोचने लगी कि किसी दिन राहुल ऐसे ही मेरी गांड में भी ये प्लग डालेगा और फिर मेरी गांड की चुदाई भी ऐसे ही करेगा. मुझे जवान लड़कियों से ज्यादा गदराई हुई भाभियां चोदना ज्यादा पसंद हैं और उन्हीं पर मैं डोरे डालता हूँ.

उस वक़्त मेरा लंड तो तूफानी अंदाज में खड़ा हो गया था, लेकिन मैंने खुद को रोका. कुछ देर बाद पापा ने अपने सारे कपड़े उतारे और मम्मी की चुत में लंड पेल कर उनकी चुदाई चालू कर दी. लगभग 2 बजे 2 डॉक्टर आये, सारे डॉक्टर मर्द थे।फिर जब कोमल को देखा और बोला कि तुम नंगी क्यों हो और ये चूत और गांड में क्या है? फिर कोमल ने सारी बात बताई.

राज मेरे दूध दबाते हुए मेरे कान में बोले- जान, तुम भी मुझे अपने पापा के रोल में समझ कर मजे ले लो. उसे दर्द हो रहा था लेकिन वो कह रही थी- जल्दी करो … आह्ह … जल्दी करो. इतना सुनकर सुयश के धक्के और तेज हो गये और फिर दोनों ही साथ में झड़ गये.

फिर मैं अंदर कमरे में आ गयी जहाँ साहिल ने राजसी को अभी कुछ समय पहले ठोका था.

कहानी के पिछले भागदरोगा ने जवान कामवाली को चोदामें अब तक आपने पढ़ा कि सुरेश के क्लिनिक में मीता को उस लड़के के आने का इन्तजार था, जिसका सुरेश को आज इलाज करना था. मेरी बहन किचन का काम निपटाकर दूध में नींद की गोली मिला कर मेरे रूम में आयी.

पलंग के किनारे वाली चुदाई से मैं संतुष्ट तो हो गया लेकिन सेक्स करने की इच्छा में कमी न आई. सच में क्या सेक्सी सीन था दोस्तो!उसके बाद मैंने पूजा से बोला- बगल में रखी मोमबत्ती को अपनी चूत में डाल कर आगे पीछे करो. इसलिये मुझसे रहा न गया और मैंने अपना तन-मन-जीवन सब कुछ आपको दे दिया.

मैंने चेक करने के लिए कि वो नींद में है, मैंने पूछा- पुष्पा?उसने आलस भरी आवाज में जवाब दिया- हम्म … क्या हुआ?मैं- नींद में हो क्या?पुष्पा- हम्म … क्या हुआ … सो जाओ ना … राज!वो शायद कच्ची नींद में थी. उसने अपने दोनों हाथ मेरी छाती पर टिका दिए और धीरे धीरे वो खुद हिलने लगी. भाभी मेरे सामने घूम गई थीं और मैंने उनके मुलायम होंठों को किस करना शुरू कर दिया.

देहाती साड़ी में बीएफ मैं दस मिनट तक उसको ताबड़तोड़ चोदता रहा और फिर उसकी चूत में ही झड़ गया. मैं नाश्ता देने टेबल की ओर गई, तो मेरी नज़र सीधे पापा के लंड के ऊपर गई.

शाहपुरा की सेक्सी पिक्चर

इससे मैं धीरे धीरे गर्म होने लगा और कुछ ही मिनट बाद मेरा माल निकल गया जो पूरा अंकिता के हाथों में लग गया था. मैं उत्तेजित होकर अपनी क्रिया को और तेज करने लगता, जिससे उनकी उत्तेजना और बढ़ जाती. शायद अपने पति के अलावा वो अपने साथ संसर्ग करने वाले किसी अन्य मर्द के साथ ये सब पहली बार अनुभव कर रही थीं.

फिर जैसे ही मैं चाची की ब्रा को खोलने लगा, तो चाची ने मुझे रोक दिया और बोलीं कि जरा रुक जा … पहले अपने कपड़े तो खोल ले. क्या चुम्बन कर रही थी वो … बिल्कुल अंग्रेजी ब्लू फिल्मों वाला अपनी ज़ुबान मेरी ज़ुबान से लड़ा कर चूमे जा रही थी. सेक्सी वीडियो मारवाड़ी चूत चुदाईइतनी ज्यादा चुदने के बाद जब कोमल की चूत और गांड में फिर से डिल्डो दिया गया तो वो पैर फैलाकर चल रही थी.

मुझे लगा कि इसके बाद वो पलंग के निचले सिरों से मेरे पैर बांधेगा … लेकिन उसने ऐसा नहीं किया.

ऐसे तो दोनों बाहर सिंपल जीवन जीते थे, पर उनका यह रूप देख कर मेरी चुत में भी पानी आना चालू हो गया. फिर मैं चाय बनाने लगा और उसने मेरे लंड को पैंट के ऊपर से सहलाना शुरू कर दिया.

आओ मेरे पास आओ, तेरी जैसी अप्सरा को तो पहले जी भर के चूमूंगा चाटूंगा … फिर कहीं तेरी चुदाई करूंगा. फिर उसने एक तेज झटका मारा और अपने लंड को मेरी गांड में पूरा अन्दर तक डाल दिया. अब्बू मम्मी की चुदाई स्टोरी के पिछले भागकामुक अम्मी अब्बू की मस्त चुदाई- 2में आप उनकी चुदाई को पढ़ रहे थे.

मेरे इसी कामुक फिगर की वजह से मेरा बॉस मुझे देख देख कर अपनी वासना बुझाया करता था.

थोड़ी देर आराम करने के बाद मैंने फिर उसकी चूत में उंगली करनी शुरू कर दी और उसकी चूचियों को मसलने लगा. वो कहने लगीं- मुझे बहुत मन करता है चूत चटवाने का … लेकिन तेरे माना चाटते ही नहीं हैं. अब मेरी बहन की शादी हो गई है और वो दिल्ली चली गई है … उसकी ससुराल दिल्ली में है.

मौसी की सेक्सी ब्लू फिल्मउसने अपनी गांड में लंड कैसे डलवाया?Xxx गांड चुदाई कहानी का पिछला भाग:मेरी जवानी और सेक्स की प्यास- 3कुछ देर ठोकने के बाद साहिल ने राजसी की पीठ को पकड़ कर अपने सीने से उसकी छाती को चिपका लिया. मैंने पूछा- आंटी, सलोनी कहां है?आंटी- वो अपने नाना के यहां चली गयी.

ಕನ್ನಡ ನ್ಯೂ ಸೆಕ್ಸ್

उधर कुर्सी पर बैठ कर मैंने मामी को अपनी गोद में बिठाया और उनका पल्लू हटा दिया. मैं कल जाने वाला था, इसीलिए स्यू ने मामा और विनी के खाने में नींद की दवाई मिला दी. जिस पाठक या पाठिका ने इससे पहले की दोनों कहानियां नहीं पढ़ी हैं … वो उन्हें पहले पढ़ लें.

मैंने कहा- वो क्या है?स्यू- आज आप मेरी गांड मार लीजिये … अब तक किशोर ने मेरी गांड नहीं मारी है. मैंने पूजा को बेड पर लिटा दिया और एक झटके में अपना लंड पूजा की चूत में डाल दिया. उस छोटे हाफ पैंट से मेरी गोरी जांघें और हाफ टी-शर्ट के कारण मेरा चौड़ा सीना भी साफ झलक रहा था.

लंगड़ा क्यों रही हो?मधु ने जवाब दिया कि ये सब उसी वजह से हुआ, जो थोड़ी देर में आपकी चूत के साथ भी होने वाला है. मैं मैडम को देखने के चक्कर में ये भूल गया था कि मेरे जेब में नकल भरी पड़ी थी. दो-तीन मिनट के बाद मुझे महसूस हुआ कि मेरे लंड पर काफी सारा गर्म पानी आ गया.

धीरे धीरे हम दोनों बिल्कुल गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड की तरह बातें करने लगे. जल्दी ही मैं आपके लिए एक और कहानी लाऊंगा जिसमें मैंने पीछे से हॉट चाची को चोदा यानि चाची की गांड चुदाई की.

सुबह 4 बजे जब चिड़ियों की आवाज मेरे कान में पड़ी तो मेरी आंख खुली और मैंने देखा कि दीपक मेरे सीने से एक बच्चे की तरह चिपका हुआ था.

वो मेरे बूब्स और गांड दबा रहे थे और मैं उनके लंड को पजामे के ऊपर से ही सहला रहा था. सेक्सी खुलासाउसने अपनी आंखों को एक हाथ से ढक लिया और दूसरे से अपनी ब्रा को चूचियों के ऊपर से हटा दिया. सेक्सी मूवी सेक्सी चुदाईअंकित आंखें बंद किए हुए लंड चुसवा रहा था और ज़न्नत की सैर कर रहा था. अब मैंने मेरी बहन को सीधा लेटा दिया और उसकी चूत पर अपना लंड सैट कर दिया.

”ऐसा क्या देख लिया, बेटा?”कैसे बताऊँ, आंटी? लेकिन बिना बताये समाधान भी नहीं हो सकता इसलिये बताना ही पड़ेगा.

मैं आंटी की चूचियों को दबाने लगा और उसने मेरे लौड़े को बाहर निकाल लिया. जाने वाले दिन से एक दिन पहले उसने मुझसे कहा कि आज मैं कोई अच्छी सी इंडियन स्टोरी सुनना चाहती हूँ. मेरा लंड अभी एकदम कड़क नहीं हुआ था, तो मैंने उसे घुमा कर उसके मुँह में लंड पेल दिया.

मधु थोड़ी हरामी टाइप की थी, उसने जो नकली लंड लगाया था, वो 4 इंच मोटा और 8 इंच लम्बा था, जिससे पूजा की गांड की हालत खराब हो गई थी. भाभी ने मेरे पूरे बदन को चूम कर गीला कर दिया था, जैसा मैंने किया था. वो उसकी चुत की फांकों में अन्दर तक जीभ घुसेड़ कर बुर का नमकीन रस चाटता रहा.

कॉल गर्ल की जानकारी

मैंने जैसे ही अपना मुँह खोला की संगीता ने अपनी लार से मेरा मुँह भर दिया और फिर अपने होंठों को मेरे होंठों पर जड़ दिया. तो मैं रुक गया और उसके पैर फिर से अपने कंधे पर रख दिए।अब मैंने अपने एक हाथ से उसकी गांड का छल्ला खोला और उसमें थूक भर दिया. मामी ने झट से अपने हाथ हवा में उठाए और मेरे किस को लपकने जैसा करने लगीं.

तू एक बात बता, तेरी किसी लड़की ते सैटिंग है के!ये सुनकर मैं चुप हो गया.

आपने पिछली बार पढ़ा था कि मैं अपनी मामी स्याली को चोद कर उसे खुश करता रहता था.

ऑफिस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे बॉस मेरे कामुक जिस्म पर वासना भरी नजर रखते थे. अम्मी की जो सबसे ज्यादा आकर्षक चीज़ थी, वो थी अम्मी की गांड और जांघें. 60 साल का सेक्सी वीडियोतेरी कुंवारी चूत देख कर ये पागल हुआ जा रहा है … तू इसको भी ठंडा कर दे.

अब हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए। रेखा आंटी मस्त होकर मेरा लंड चूसने लगी. समता ने अपनी उम्मीदवारी और टिकट की बात पति को बताई तो उसका पति बहुत खुश हुआ. इस बात की पूरी जानकारी डॉक्टर ने मीता को दे दी थी और उसको रवि के सामने खुल कर खेलने के लिए बोल दिया था.

वो सोफे पर बैठ गए और मुझे अपने पैरों के बीच में बिठा कर अपने लंड को मेरे मुँह के सामने रख दिया. तो मेरा प्लान पक्का हो गया कि भाई आज तो सुशीला की चूत गांड का बाजा जरूर बजाएगा।पर अशोक के अलावा उसकी एक जवान बेटी और कालू, अनीता और में और बापू भी खेत पर ही थे।तो आज बापू बोला- थोड़ा काम है, तुम कर लो.

कुवारी लड़की की Xxx Chut कहानी के पिछले भागबेटे की क्लासमेट की कुंवारी बुर की चुदाई- 1में आपने देखा था कि पत्नी की चुदाई की अगली सुबह मेरे सास ससुर मेरे घर आ गये थे.

कमरे में जाते ही मैंने दरवाज़ा लॉक किया और कोमल को पकड़ कर किस करने लगा. चूंकि पूजा की चुत सूज गई थी इसलिए उसे भी चुत में लंड लेने से कुछ राहत चाहिए थी. उसकी ये नाइटी पारदर्शी थी, जिसमें से उसका जिस्म बड़ा ही कामुक लग रहा था.

मराठी लड़कियों की सेक्सी वीडियो फिर थोड़ा रुक कर मैंने अपने फ्रेंड को देखा, तो वो साला लंड हिला कर मुठ मार रहा था और रीति का नाम भी ले रहा था. मैंने उसको गोद में उठा लिया और वो हैरानी से मेरे चेहरे को देखने लगी.

मैंने भी जानबूझकर पूरा झुक कर खाना रखा जिससे उसको मेरे आज रात के इरादे समझ आ जायें।हमने साथ बैठ कर खाना खाया. तो उसने बताया कि उसे पता नहीं क्यों हिंदी और भारत से अनजाना सा लगाव है. भाभी हंसते हुए बिस्तर पर फ़ैल गईं और मैं उनके ऊपर चढ़ कर उन्हें तेज तेज से किस करने लगा.

सेक्सी ऑंटी एचडी

जमींदार और चौधरी ने कैसे चोदा उसे!हाय दोस्तो, मैं आपकी अंजलि!कैसे हो?बहुत दिनों बात फिर से एक नयी कहानी लेकर हाजिर हूँ. फिर मैंने उनको समझाया- जिंदगी एक ही बार मिलती है चाची, इसलिए खुलकर जीना चाहिए. मेरा लंड हल्का छिल चुका था तो ज्यादा जोर नहीं लगा रहा था, मगर गले तक लंड रगड़ रहा था.

मैं बोला- भाभी तुझे लगे के मेरे जैसे से कोई छोरी सैटिंग करेगी के!भाभी बोली- नू तो पता बहुत दिन से है … देखने लग रही तू मेरे से भी एक दो बार बोला होगा. मैंने भाभी से पूछा- ये कब साफ़ की आपने?भाभी बोलीं- न जाने कब से इसे साफ़ रखती आ रही हूँ कि कब इसको प्यार करने वाला मिलेगा.

फिर लेटे हुए वो बताने लगी कि एक बार सचिव उसे मनरेगा में काम करने के दौरान एक दिन किसी काम से बाहर ले गया.

तो मेरा प्लान पक्का हो गया कि भाई आज तो सुशीला की चूत गांड का बाजा जरूर बजाएगा।पर अशोक के अलावा उसकी एक जवान बेटी और कालू, अनीता और में और बापू भी खेत पर ही थे।तो आज बापू बोला- थोड़ा काम है, तुम कर लो. उसने कहा- ये चुत नहीं, खिलौना चुत है, मुझे एक बार देखना था कि ये कैसे काम करती है. भाभी ने पूछा- पहले किसी के साथ किया है?मैंने पूछा- क्या?भाभी ने मेरे लंड आर हाथ फेर दिया आया और पूछा- अब तक इसका क्या यूज किया है?मैंने कहा- इसका क्या यूज होता है, सू सू करने जाता हूँ और …भाभी ने मेरी बात काटते हुए कहा- अच्छा मतलब अभी वर्जिन हो.

देखना जब मेरा घोड़े जैसा लन्ड पूरा अन्दर जाएगा तो थोड़ा नहीं, बहुत मज़ा आएगा।अपने मजबूत भारी बदन का सारा भार मैंने उसके बदन पर दे दिया और उसके दोनों पैरों को फिर से फैला दिया। फिर अपनी दोनों कुहनियों को बिस्तर पर टिकाकर मैंने अपने चूतड़ों को तेजी से आगे की ओर करके लन्ड से एक जोर का झटका दिया. उसके बाद कोमल को दवाई खिलाई गयी ताकि वो जल्दी न झड़े और उन सबने भी दवाई खायी ताकि उनके लंड भी जल्दी न झड़ें. उसने सुमन की चुदाई शुरू की और आधे घंटे तक सुमन की ताबड़तोड़ चुदाई करता रहा.

अभी कुछ ही वक़्त में हम अपने दर्द को भूल अपनी चुदाई का मज़ा लेने लगे.

देहाती साड़ी में बीएफ: थोड़ी देर लंड रगड़ते रहने के बाद मैंने उसके होंठों को किस करते हुए चुदाई का आगाज किया. भाभी गिलास मेरे होंठों से लगातीं और मैं सिगरेट उनके होंठों से लगा देता.

पर जैसे ही मेरी उंगली आगे बढ़ी, मैंने पाया कि उसने अन्दर पैंटी पहन रखी थी. कुछ देर इसी पोज में चोदने के बाद मैंने उसको सोफे के हत्थे पर झुकाया और उसकी चूत में पीछे से लंड पेल दिया. उनको देखने से साफ़ लग रहा था, जैसे वो जान गए हैं कि अभी मैं ही उनके रूम में थी.

मगर मुझे ये बात नहीं मालूम थी कि दारू पीने के बाद मर्द ओर जबरदस्त चुदाई करता है.

मैंने अपने मुँह से उसके मुँह में एक गर्भनिरोधक गोली खिलाई और खुद एक ताकत बढ़ाने वाली गोली खा ली. वो ‘अअअह ऊऊह … अंकित रुको अअह प्लीज़ रुको … अअअअ बसस्स अब नहीं … ऊऊउ अअअह …’ कर रही थी. उसने मेरी टाँगें चौड़ी कीं और अपना लंड मेरी चूत पर लगाकर चूत को लंड से सहलाने लगा।मैं अब और ज्यादा तड़पने लगी.