माधव का बीएफ

छवि स्रोत,बिल्ली गेम डाउनलोड

तस्वीर का शीर्षक ,

अमीषा पटेल की बीएफ: माधव का बीएफ, मैं मस्ती से आउच कर देती, तो वो और भी कामांध होकर मेरे चूचे भींच देते.

सेक्सी देसी इंडियन

मुझे लड़कों से बुर चुसवाना, चूचियां दबवाना, निप्पलों को दांतों तले कटवाना और कठोर चुदाई करवाना बहुत पसंद है. गांव की सेक्सी मूवी वीडियोअब मैं भी कोई न कोई मौका ढूंढता रहता था कि कैसे न कैसे करके भाभी से मज़ाक किया जाए और उनके क़रीब जाने की कोशिश की जाए.

मैं सारे दिन में पागल हो गया था कि इतनी मस्त माल साथ है … और मैं कुछ कर भी नहीं पा रहा हूँ. राजपूताना सेक्सी वीडियोबच्चों के अलग सोने का कारण था कि मैं और मौसी आपस में बहुत बातें किया करते थे.

मौसाजी की गैरमौजूदगी में मैं मौसी के यहां पहुंच जाता था और किसी तरह दोनों मौका पाकर एक दूसरे को जमकर चूसते थे.माधव का बीएफ: अब भाभी ने लंड चुत और चुदाई जैसे शब्दों का खुल कर प्रयोग करने में शुरू कर दिया था.

उसके बाद मेरा जब भी मन करता, मैं उस फोरेनर गर्ल के कमरे पर चला जाता और उसकी चुदाई के मज़े ले लेता.मैं उसको और तेजी से चोदने लगा और तीन-चार धक्के लगाकर उसकी चूत में ही झड़ गया.

मूवी वीडियो सेक्सी - माधव का बीएफ

उस वक्त उसने नीले रंग की सलवार कमीज पहनी थी, जिसमें उसके चूचे बेहद गोल मटोल लग रहे थे.जीजाजी से फोन पर बात हुई, तो उन्होंने समझाया कि केवल 21 दिन की ही तो बात है, जल्दी मत करो, बाद में आ जाना.

दोस्तो, मैं आपका किशोर मेरी और नीला भाभी की सेक्स कहानी का अगला पार्ट लेकर फिर हाजिर हूँ. माधव का बीएफ कुछ ही देर की चुदाई के बाद उसकी चूत इतनी गर्म हो गयी कि उसने एक बार फिर से पानी छोड़ दिया.

वो आने वाली थीं तो मैं भी कुछ ज्यादा परेशान नहीं हो रहा था क्योंकि घर में सारी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति और व्यवस्था का इंतजाम था.

माधव का बीएफ?

शैलू- ना ना मैडम जी, मुझे नहीं जाना इस हवेली में … और आप भी मत रहो यहां भूत रहते हैं. दोस्तो, मेरी इंडियन रंडी सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी, मुझे मेरी ईमेल पर बताएं. मैं उसको बेड के एक कोने पर ले गया और उधर तेल की शीशी उठा कर उसकी बुर में … और अपने लंड में लगा लिया, ताकि उसको दर्द न हो.

फिर मैंने उसको कस कर पकड़ लिया और पूरा जोर लगाकर लंड को उसकी चूत की पूरी गहराई में घुसा दिया. मगर मुझे इस बात की खबर नहीं थी क्योंकि मेरे कान में इयरफोन लगे होने के कारण मैं उसकी एक्टिविटी पर नज़र नहीं रख पाया. दूसरे हाथ से उनके पेटीकोट को ऊपर करके पैन्टी उतार दी और उनकी चूत सहलाने लगा.

मेरे लंड के धक्के उसकी चूत में लग रहे थे और हर धक्के के साथ उसके दर्द भरे शब्द बाहर आ रहे थे. उसकी बीमारी का इलाज करने में मुझे तुम्हारी मदद की जरूरत पड़ेगी, बोलो करोगी?मीता- मेरी मदद! मैं क्या कर सकती हूँ भला?सुरेश ने मीता की अच्छी तरह समझाया कि उसका लंड खड़ा नहीं होता, तो उसको थोड़ा मज़ा देना होगा, जिससे उसका लंड खड़ा हो जाए. पानी निकल जाने के बाद उसने अपना लंड निकाला और बाथरूम में साफ़ करने चला गया.

बैंकॉक में वे उसी कंपनी का होटल व्यवसाय देखते हैं।यहाँ मेरी माँ उसी मारवाड़ी कंपनी के मालिक के कार्यालय में काम करती हैं। मूल रूप से कोलकाता में कंपनी के मालिक श्री रमेश बाबू और उनके बेटे राहुल मुझे और मेरी माँ को एक रखैल की तरह रखते हैं. उससे छोटी बहन रूसी जिसकी उम्र 32 साल है और मेरी सबसे छोटी बहन खुशबू की उम्र 28 साल है.

तभी समधी जी ने पीछे से मुझे पकड़ लिया और मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरे दूध दबाने लगे.

वैसे तो भाभी अक्सर शॉर्ट और टी-शर्ट पहनती हैं … लेकिन इस समय मेरा नजरिया एकदम बदल गया था.

भाभी पहले भैया के साथ बैठी थीं, फिर भैया ने भाभी को मेरे बाजू वाली सीट पर बैठने के लिए भेज दिया. सुमन- उउउह सुरेश, क्या कर रहे हो … कितनी अच्छी नींद आ रही है … मत करो ना. हम दोनों चिपककर लेटे रहे और चुदाई से पैदा हुए इस आनंद का मजा लेते रहे.

मैं सोफ़ा पर पैर पसारे हुए बैठा था और वो मेरे ऊपर चुदाई की पोजीशन में बैठी थी. पिता सामान मौसाजी से जो मेरा जिस्मानी रिश्ता बन गया था उसके बारे में सोच कर मुझे दिनभर आत्मग्लानि और मानसिक पीड़ा होती रही. उसे गर्म करने के लिए मैंने क्या किया?दोस्तो, मैं सोनू सैम आपको अपनी हॉट रोमांस सेक्स स्टोरी के पिछले भागलॉकडाउन में मिली अनजान लड़की- 1में बता रहा था कि लॉकडाउन के दौरान एक लड़की सिमरन मेरे साथ मेरे कमरे पर फंस कर रह गई थी.

मैं- भाभी, आप किसी को बताओगी क्या?रुक्मणी- मैं क्यों बताऊंगी?मैं- मैं तो बताने से रहा.

उन्होंने शायद बगल कुछ 10-15 दिन पहले साफ की थीं, क्योंकि उसमें छोटे से रोयेंदार बाल उगे थे. एक दिन मैं हिसार बस स्टैंड से बैंक जाने के लिए ऑटो का इंतजार कर रहा था. आप सब अपने अपने कमेंट्स यहां पोस्ट कीजिये और अपने अमूल्य सुझाव मुझे भी मेरे मेल के पते पर भेज दीजिये.

दीक्षा- अच्छा ठीक है … बता क्या करना है रोल प्ले सेक्स में?मैं- आप मेरी बहन ही बनी रहो और मैं आपका क्या बनूं?दीक्षा- तू भी मेरा भाई ही बन जा. कुछ ही धक्कों में कासिब का पूरा लंड मेरी चूत में समा गया और मुझे भी दर्द के साथ साथ मजा आने लगा. मेरे दोनों स्तनों को उन्होंने बेरहमी से गूंद डाला और मेरी चूत पर बेदर्दी से लंड के प्रहार कर रहे थे जैसे किसी दुश्मन को सबक सिखाना हो.

मेरे लहंगे को जैसे ही उतारने लगा, मैंने अपनी गांड उठा कर लहंगा उतारने में उसकी मदद की.

फिर दिमाग में आया कि जिस तरह से सीमा मामी को योजना बनाकर चोदा था उसी तरह पूजा भाभी को भी चोदने के लिए कोई न कोई योजना बनानी ही पड़ेगी. इतने में मैंने अपने बैग से दारू की बोतल बाहर निकाल ली और पैग बनाने की तैयारी करने लगा.

माधव का बीएफ फिर मैंने तेल की शीशी लेकर चाची की गांड में उंगली से तेल अंदर तक लगा दिया. घर में चोदा चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे रसोई में मैंने बुआ की चूत चाटी.

माधव का बीएफ अब मेरी स्पीड बढ़ने लगी और मामी के मुंह से कामुक आवाजें भी और तेज होने लगीं- आह्ह … राजू … आईईई … आह्ह … मार ही डालेगा तू तो … आह्ह मेरी चूत … आह्ह मजा आ रहा है राजू … चोदता रह … ऐसे तो कभी तेरे मामा ने भी नहीं चोदा. मैंने इशारे में आंटी से पूछा कि क्या हुआ तो उसने ना में गर्दन हिला दी और फिर अंदर चली गयी.

कोई पांच मिनट बाद मैंने लंड निकाल कर उसके मुँह में दे दिया और वो लंड को चूसने लगी.

प्रियंका चोपड़ा की बीएफ सेक्सी फिल्म

दोस्तो, मैं रोहित आपको अपनी भाभी की चुदाई की कहानी का दूसरा भाग बताने जा रहा हूं. फिर जब तक उसके लंड से एक एक बूंद न बह गई, उसने लंड बाहर नहीं निकाला. जब भाईसाहब अपने स्टाफ के यहां एक शादी में गये तो उस दिन भाभी ने अपनी ननद सोनिया को चुदवाने का प्लान कर लिया.

रणजीत- अरे करता तो हूँ ना, अब मुनिया नहीं होती … तो खेत से आकर सीधा तेरी चुदाई कर लेता. वो चिल्ला पड़ा- अबे रोहन, मैंने बहुत दिनों से चुदवाई नहीं है, ज़रा धीरे से डाल. सन्नो ने मुनिया को समझा दिया कि कैसे उसको रात को आना है … और वो रणजीत को बिना बताए उसका लंड चुसवाएगी.

शायद अशोक मेरी भावना को समझते हुए जल्दी नहा कर फ्रेश हुआ और अपने घर को निकल गया.

मेरा लंड पूरा उसकी चूत की जड़ में जाकर ठोक रहा था जिससे उसे और ज्यादा मजा आ रहा था. हालांकि उनके हाथों में अभी भी साबुन लगा था, मैं तब भी उनके चेहरे के पास आया और उनके बाल पकड़ कर उनका चेहरा उठा दिया. जैसे ही मूवी चालू हुयी तो ‘आह उह्ह्ह …’ की जोर से आवाज चालू हो गयी.

कितनी तकलीफ़ दी उसको, ये जुर्म है … तुम्हें पता भी है?रवि- बस बस डॉक्टर साहब, मुझे मत सिख़ाओ … मुझसे कुछ छिपा नहीं है. इस तरह मैं अपने पति के साथ खुश रहने की खूब कोशिश करती, जो है जैसा है जितना है उसी में संतुष्ट रहने का प्रयास करती. फिर उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपने रॉड से सख्त हुए लंड पर हाथ रखवा कर बोला- ये है लंड, लौड़ा.

वो बोले- तो क्या इरादा है समधन जी!मैं समधी जी के नेकर के ऊपर से लंड को पकड़ कर बोली- इरादा बिल्कुल साफ़ है, अब आप ही बुझा दो मेरी आग. समधी जी बोल रहे थे- आह कितनी मस्त माल हो तुम … काश तुम मेरी बीवी होतीं तो चोद चोद कर तुमको निहाल कर देता.

उसने दीदी से कहा- दीदी मुझे डर लग रहा है, आप जीजू को बोलो न! मुझे रात को उस कमरे में नींद ही नहीं आएगी. आखिर चुदाई की रात आ ही गयी जब मैं अपने पति के सामने अपने बॉस से चुदने वाली थी. मैं आपको कहानी के अगले भाग में बताऊंगा कि किस तरह मैंने भाभी को पटाकर उनकी चुदाई की.

मैंने कहा- हां जानू आप खुद ही मेरा लंड निकाल कर ले लो न!भाभी बोलीं- हां जानू मैंने आपका लंड पकड़ लिया है.

दिव्या के लम्बे बाल हवा में झूल रहे थे और मैं उसके पतले पेट को पकड़कर उसके चूचुकों को चूसते हुए उसकी चुत चुदाई कर रहा था. कुछ ही देर में उसने मेरे लंड का पानी निकाल दिए और मुझे लंड मुँह से निकालने ही नहीं दिया. मेरा मन कर रहा था उसकी जांघों पर हाथ फिराऊं, किसी तरह से उसकी चूचियों को कोहनी से टच करूं और उसकी चूत का स्पर्श पा जाऊं.

वो मुँह फेरकर खड़ी हो गईं, तो मैंने चैक करने के बहाने पीछे से उनकी सलवार को थोड़ा सा खींचा और मुठ्ठी में दबाई हुई चींटियां उसके अन्दर डाल दीं. अब तक की सेक्स कहानीगांव की चुत चुदाई की दुनिया- 6में आपने जाना था कि मुखिया ने सुमन को हरी से चुदने के लिए राजी कर लिया था.

मीता तो पहले हे डॉक्टर को सब कुछ दिखा चुकी थी, इसलिए बिना सवाल के वो नंगी होकर खड़ी हो गई. ये मजा और दोगुना हो जाता है जब खुद का पति भी सामने हो और वो लाइव चुदाई देख रहा हो और साथ में चोद भी रहा हो. उन सब फ़ोटो में से एक फ़ोटो में उनकी चूचियां थोड़ी बाहर को निकली दिख रही थीं.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ

यह कॉलेज गर्ल लव सेक्स स्टोरी उस समय की है जब मैंने अपनी 12वीं की पढ़ाई खत्म की थी.

वो अब पीठ के बल लेट गई जिससे अब उसका चेहरा, चूचियां, पेट और चूत ऊपर की तरफ हो गए।मैंने तेल लेकर उसकी मस्त गोरी-गोरी चूचियों की मालिश करना शुरू कर दिया. जानू जल्दी से मेरी चूची को चाटो और काटो जानू अअअअ आआहहह मैं बस जाने वाली हूँ. वहां भाभी ने मुझसे अपनी चूत की प्यास कैसे बुझवायी?दोस्तो, मैं कुणाल एक बार फिर से आपकी खिदमत में नंगी भाभी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैंने उनसे कहा- ठीक तो बताइए क्या बात करना है?उन्होंने मुझसे कहा- फोन पर बात नहीं हो सकेगी, आप रायपुर आ जाओ और अकेले ही आना. शायद सिमरन को लगा होगा कि मैं सो रहा हूँ तो वो बेधड़क कमरे में आ गई. बाल बढ़ाने वाला तेलहाय … सेक्सी भाभी … आह्ह … करने दो ना प्लीज!इतना कहकर मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

उन्होंने उस ब्रा को मेरे सामने ही चूचों से अलग कर दिया और मेरा मुंह खुला का खुला रह गया. आज पहली बार मीता की चुत से रस बाहर निकला था, जो बस ऐसे निकलता चला गया, जैसे बरसों से रुका हुआ हो.

इस पर मैंने मोनिषा से कहा- इतने दिनों से तुझे नींद आ रही थी … और आज तुझे क्या हुआ?मोनिषा ने कहा- भैया मैं ज़मीन पर ही बिस्तर बिछा लेती हूं. यहां या ऊपर की ओर?गीता- डॉक्टर सब नीचे की तरफ दर्द है और पैर भी दुख रहे हैं. चचा का लंड फुफकार रहा था और वो किसी भी हालत में मानने के मूड में नहीं लग रहा था.

ये तो मेरी मर्ज़ी है कि मैं किसके साथ सेक्स करूं, किसके साथ नहीं … समझे!कालू- अच्छा मैडम, जैसी आपकी मर्ज़ी. मैंने भी उसकी अंडरवियर उसी तरह से निकाली, जैसे उसने मेरी अंडरवियर अपने दांतों से पकड़ कर निकाली थी. शाम को तय समय पर सुशी फिर से मौका देख कर घर से निकली और पीछे के रास्ते से मेरे मकान में आ गई.

सेक्स लव स्टोरी इन हिंदी में पढ़ें कि प्यार के इजहार के बाद दोनों एक दूसरे से सेक्स के लिए आतुर थे पर हिचक रहे थे.

मैंने कॉल करके अंकिता से बात की और उससे अगले दिन मिलने का बोल कर फ़ोन रख दिया. कमर भी मस्त 30 इंच की थी और गांड तो ऐसे बाहर निकली हुई थी, जैसे किसी ने बरसों तक बस इसकी गांड ही मारी हो.

फिर दीदी मजाक करते हुए बोलीं- हां हां टाइम हो रहा है … उसका फोन आने वाला होगा. वो बाथरूम से निकल कर जल्दी से अपने रूम में चली गईं और दूसरी लाल रंग की साटिन की नाइटी डाल कर बाहर आ गई. सर बोले कि वो मुझे नंगी देखना चाहते हैं और वो वीडियो कॉल कर रहे हैं.

बलराम- नाम क्या है तेरा … इधर आ तू!गीता- मेरा नाम गीता है साहेब जी. कुछ ही देर में उसने मेरे लंड का पानी निकाल दिए और मुझे लंड मुँह से निकालने ही नहीं दिया. मैंने उसे गाली देते हुए कहा- मादरचोदी साली रांड, कल क्यों नहीं आई!वो हंस दी- बताया तो था यार.

माधव का बीएफ फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में हो लिये और दीदी मेरे लंड को मुंह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. उन्होंने पहले लंड पर तेल लगाया और फिर मुझे नीचे झुका कर अपने लंड को मेरी गांड में लगा दिया.

भाभी देवर की बीएफ सेक्सी

उंगली डालने से पता चला कि केवल मेरी एक उंगली ही नहीं, पूरा हाथ चुत के अन्दर जा सकता था. वो दोनों फोन पर बातें करने लगीं और मैं चूतियों सा बैठा उनकी बात सुनने की कोशिश करने लगा. शादी में मैं किस किस के सवालों का जवाब देती फिरुंगी कि मैं अकेली क्यों आई.

मैंने फटाफट बिल्कुल कोने में जीने से दूर गद्दा बिछाया और उसे दीवार के सहारे टीन की चादरें लगाकर ऊपर से ढंक दिया. घर में हम दोनों ही अकेले थे और मेरा चूत मारने का बहुत मन कर रहा था. माँ की सेकसीइसको कुछ हो गया तो हम अपनी मंज़िल पर कभी नहीं पहुंच पाएंगे … समझे!हरी- साले मुखिया तू क्या सोचता है अब तू कर पाएगा, नहीं कभी नहीं … मैं मर जाऊंगा मगर इस ग़लत काम में तेरा साथ कभी नहीं दूंगा … समझा तू!मुखिया- इसके मुँह पर पट्टी लगा पहले दो … भैन का लौड़ा बहुत चिल्ला रहा है.

आज तेरी चूत का भोसड़ा बना कर ही दम लूंगा मैं!इतने में ही मेरे पति बोले- आज ये मेरी बीवी नहीं, हम दोनों की रंडी है।अब मैं कुछ बोल पाती उससे पहले ही उन्होंने मेरे मुंह में अपना लंड पेल दिया जो मेरे हलक में फंस गया.

जब मेरे पास आओगी तो उसको यहीं रूम पर बुला लेंगे और तीनों एक साथ चुदाई करेंगे. यारो, अगर कोई भी चूत किसी भी लंड को इस तरह से अंडरवियर में देख लेती है तो फिर उस चूत को बार बार लंड का नज़ारा याद आता है और फिर वो चूत चुदने के लिए धीरे धीरे तैयार होने लग जाती है।उसी दिन सीमा मामी ने पूछा- बात कहां तक पहुंची?मैंने कहा- अभी तो भाभी को केवल लंड के ही दर्शन करवाए हैं।मामी बोली- ये तो अच्छा किया.

उधर पहुंच कर मैंने भाभी को कॉल किया, तो भाभी ने बताया कि वो रास्ते में हैं, दस मिनट में पहुंच जाएंगी. मुझे तुम बहुत पसंद हो और मैं तुमसे किस लिए मिलने आई हूँ, ये तुम्हें सब मालूम है. मेरी सुंदर भाभी का नाम चित्रा है, जो एक्सर्साइज करने से एकदम फिट है.

सुमन ने भी हांफते हुए कहा- ठीक है मुखिया जी … मैं भी बहुत थक गई हूँ.

मैंने तुरन्त अपने होंठ उनके होंठों से लगा लिए और उनका हाथ पकड़कर अपने पैन्ट के ऊपर से ही लंड पर रख दिया, जो कि अब तक रॉड जैसा सख्त हो गया था. फिर धीमे से भाभी की आवाज आई- राजा और!मैंने कहा- भाभी आप मुड़ोगी क्या?उन्होंने हां कर दिया, तो मैंने उन्हें सीधा कर दिया और उनके स्तनों पर अपनी छाती रख कर लेट गया. वो मस्ती में आहें भरते हुए चुदने लगी और मैं भी जैसे जन्नत की सैर करने लगा.

बॉलीवुड सेक्स एचडीमैं खींचने लगा तो चर्र … करके आवाज हुई और मॉम बोली- रुक फाड़ेगा क्या?मैं मन में बोला- आज तो बस आपकी फाड़ ही दूंगा मां. मेरा लौड़ा पूरा सख्त था और मैं उसको देसी आंटी की चूत पर रगड़ने की कोशिश कर रहा था.

पंजाबी बीएफ वीडियो दिखाओ

कुछ ही मिनटों बाद मुझे लंड चूसना बहुत अच्छा लगने लगा तो मैं किसी बेशर्म रंडी की तरह उनके मुंह की ओर देख देख कर लंड चूसने चाटने लगी. माय बॉयफ्रेंड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरा यार मुझे होली खेलने अपने घर ले गया. अब वह सिसकारियां लेने लगी- उउई मां … उई … धीरे-धीरे चोदो … उउई … उउउई … आआआह … मजा आ रहा है … मामा फाड़ दो आज इसे … जोर जोर से चोद दो मुझे।अब मैं उसकी चूत में तेज धक्के मारने लगा.

मैंने अशोक से बोला- पकड़ के रख इसे, मैं इसकी चुत और गांड तेल से भर देता हूं. उसकी रजामंदी की बात सुनकर मुखिया खुश हो गया और उसने गीता के मम्मों को ज़ोर से दबा दिए. बर्तन धोने ले जाने के लिए मैं उठा, तो उसने कहा- मैं भी तुम्हारी हेल्प करती हूं.

हमने ऐसा इंतजाम किया था कि हम लोग उसे नहीं देख सकते थे, पर वो तो हमें पूरी तरह से देख सकता था. काफी देर आंटी के बूब्स को चूसने के बाद मैंने उनकी साड़ी को खोलना शुरू कर दिया. इन पांच दिनों में अलग अलग तरीकों से राहुल ने मेरी चुदाई करके चूत को सुजा कर पाव ब्रेड सा बना दिया.

जब मुखिया को लगा कि अब इससे कोई भी बात मनवाई जा सकती है, तब उसने धीरे से कहा- सुमन तुमसे एक जरूरी बात करनी है. मैंने सर से कहा- अब और न तड़पाओ, जल्दी से आ जाओ बस!पहले तो मैंने खूब शर्माने का नाटक किया जबकि मन तो कर रहा था कि सर को अपनी नंगी जवानी दिखा कर उन्हें जल्दी से जल्दी चोदने के लिए तड़पा दूँ.

थोड़ी देर उसके मम्मों से खेलने के बाद उसने मेरी आंखों में देख कर कहा- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं, अब से मैं बस तुम्हारी हूँ.

इस वजह से अम्मी मुझसे बोलती थीं कि बेटा तू अभी अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे. सेक्सी हदमेरी बीवी दीक्षा एकदम कमाल की है, उसकी चूत से मेरा लंड बहुत खुश है. रानी सेक्स मूवीकॉलेज की लाइफ कुछ अलग और बिंदास थी यहां लड़के और प्रोफेसर सब के सब लड़कियों को कामुक और प्यासी नजर से देखते थे. मैं उसके बदन पर हाथ फेरते हुए बोला:अपना काला केला तेरे बुर में घुसा … कर रहा हूं चूतड़ों को ऊपर-नीचे,मेरे लन्ड से निकलता चिपचिपा रस … तेरी सूखी बुर को अच्छे से सींचे।मैं फिर अपने मोटे शेर के दम पर उसकी अंधेरी गुफा की खुदाई करने लगा.

मैंने नीचे एक सफ़ेद टी शर्ट और छोटी सी स्कर्ट पहनी थी।विक्रम ने भी अपनी टी शर्ट उतार दी। वो ऊपर से नंगा हो गया और नीचे तो वो सिर्फ़ शॉर्ट्स में ही था।अब हम ड्रेस कोड में थे। उसने कार स्टार्ट कर दी। रास्ते में कभी वो मेरी चूची दबाने लगता तो कभी चूत पर हाथ मार देता था.

आदिल ने कहा- अगर एक बूंद भी जमीन पर गिरी तो जमीन से चटवा दूंगा।मैंने सारा पानी पी लिया वो भी बिना एक बूंद गिराये।अब दोनों ने मुझे सीट पर बिठा दिया और दोनों मेरे साइड में बैठ गये।हम तीनों पूरी तरह नंगे थे।मुझे लगा कि चलो खत्म हो गया. फिर भाभी बोलीं- तुम्हारा माल तो बहुत ज्यादा निकलता है और बहुत गाढ़ा और टेस्टी भी है. उधर नीचे मेरी योनि भी कुलबुला रही थी और मैं सबके बीच आंख बचा कर हर दो मिनट में योनि को कपड़ों के ऊपर से ही खुजला लेती और उसका मोती दबा के रगड़ डालती.

फिर उसके पेट और नाभि को चूमते हुए मैं उसकी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर चूमने लगा. आखिर आप मेरे भैसुर हैं, सेवा तो करनी ही पड़ेगी।उसके घूंघट से उसका चेहरा छुपा हुआ था. हम दोनों ने साथ में खाना खाया और फिर सारा काम खत्म करके हम बेडरूम में आ गये.

लड़कियों की गांड मारने वाली बीएफ

चूंकि मेरी एक गर्लफ्रेंड है, इसलिए में दूसरी लड़कियों पर ध्यान नहीं देता हूँ. माल गिराने के बाद अब धीरे धीरे मेरा लन्ड ढीला होने लगा। अब मैं निढाल होकर थोड़ी देर तक मामी जी के ऊपर ही पड़ा रहा। उनकी चूत मेरे लन्ड के रस से पूरी भर चुकी थी।थोड़ी देर बाद फिर से मेरा लन्ड सीमा मामी की चूत में जाने के लिए बेकरार होने लगा। अब मैंने फिर से उनकी चूत पर निशाना साधा लेकिन वो मना करने लगी और कहने लगी कि अब बहुत देर हो गयी है. मैं मामी को पूजा भाभी समझ कर चोद रहा था और अबकी बार मैं जल्दी ही झड़ गया.

राज बोला- आपका पहली बार है क्या?अम्मी उसे किस करती हुई बोलीं- हां बेटा … मैं पहली बार अपने शौहर के अलावा किसी गैर के साथ सेक्स कर रही हूँ.

मेरा लन्ड पूजा भाभी की चूत लेने के लिए बैचेन हो रहा था। धीरे धीरे मेरे हाथ उनके बोबे से टच करने लगे। फिर मैं पानी लेकर पीठ को धोने लगा और रगड़ते रगड़ते मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया.

बस बाकी जिंदगी मुखिया जी की सेवा और चाँदनी का भविष्य बनाने में ही लगा दूंगा. रघु ने अपनी बीवी की चुदाई के बाद सिर्फ उसकी चुत में लंड का वीर्य छोड़ने की मना करके बाकी की चुदाई करने के लिए कह दिया था. लिग का फोटोमेरा पूरा रोम-रोम उसके सेक्स के आनंद में डूब गया।मैंने इसके पहले कभी भी गांव की लड़की की जवानी का भोग नहीं किया था। गांव की लड़कियों में शहर की लड़कियों की अपेक्षा ज्यादा सहन शक्ति होती है.

मैंने उनके होंठों को किस करते हुए उनकी चूत को हथेली से सहलाना शुरू कर दिया और वो चुदाई के लिए तड़प उठीं. उसकी पतली कमर के नीचे बड़ी बॉम्ब जैसी गांड देख लो, या तनी हुई मस्त चुचियां हों, या स्लिम पेट हो. लड़की की गर्म जवानी की कहानी में पढ़ें कि शादी के बाद मैं अपने पति के साथ सेक्स करके खुश तो थी पर मन में आता था कि मैं कुछ और भी मजा लूं.

मेरी माय बॉयफ्रेंड सेक्स स्टोरी के पिछले भागहोली की मस्ती में सेक्स का मजा- 1में आपने पढ़ा था कि मेरा बॉयफ्रेंड मुझे होली खेलने ले जाने के लिए मेरे घर आया था. मौसा जी ये क्या कर रहे हो कोई देख लेगा!” मैंने उन्हें परे हटाते हुए कहा.

इधर मैंने उसका इरादा भांपा और कोशिश की कि वो मेरी गांड में लंड न डाल पाए.

पर आज जब वो जा रही थीं, तो नीलिमा आंटी ने मेरा लंड पैंट में खड़ा देख लिया था और हंसकर चली गयी थीं. कुछ देर बाद लंड की नसों में वीर्य दौड़ने लगा और सीधा मीता के गले में पिचकारी आने लगी. फिर हम तीनों ने एक होटल में खाना खाया और मैं उन दोनों से विदा लेकर घर वापिस आ गया.

सेक्सी एचडी व्हिडिओ मराठी अब मैं बिना किसी वजह के यानि चुदाई न करने के लिए भी अपने दोस्त के यहां जाने का बहाना ढूंढने लगा था. मुझे उनका इंटेशन समझ नहीं आ रहा था कि आखिर वो मुझसे क्या चाहती हैं.

लेकिन इस डर को कैसे निकालूं?मैंने कहा- आज रात हम एक रोमांटिक मूवी देखेंगे, वो भी स्पेशल चीज़ के साथ. उसके कमसिन बदन की गर्मी मुझे भी पागल बना रही थी, लेकिन धकापेल चुदाई का मंजर हम दोनों को ही मदहोश किये हुए था. आह रुक जाओ जीजू … अब बस रहने दो … हो गई मेरी चुदाई अहहह!मैं उसकी आवाज सुनकर भी नहीं रुका और किस करते हुए लगा रहा.

एचडी बीएफ व्हिडिओ सेक्सी

उसने मेरे हाल चाल पूछे और अपने बारे में कहा कि मैं अपने डैड से मिलने यूरोप आई हूँ. मेरा फ्लैट एक होटल स्टाफ के लिए बनी बिल्डिंग में है, जो 11वीं मंज़िल पर है. उसका एक हाथ अब धीरे धीरे पेट से नीचे होते हुए सलवार से अन्दर घुसने लगा.

इतनी सेक्सी लड़की की कुंवारी चूत मारकर मैं तो जैसे लव सेक्स का विश्व विजेता बन गया था. अब वह सिसकारियां लेने लगी- उउई मां … उई … धीरे-धीरे चोदो … उउई … उउउई … आआआह … मजा आ रहा है … मामा फाड़ दो आज इसे … जोर जोर से चोद दो मुझे।अब मैं उसकी चूत में तेज धक्के मारने लगा.

भाभी ने जल्दी से अपने मुँह पर स्कार्फ बांधा और मुझसे लौट कर आने का इशारा किया.

वो बोली- दीदी को बता दूं?मैंने कहा- तुम क्या बताओगी जानेमन, मैं ही बता देता हूँ. मुझे उस वक्त उनके चूचे अपनी आंखों के बिल्कुल सामने दिख रहे थे, जिससे मेरा लंड एक बार फिर तन गया. मैंने खुद ही अपनी पेन्टी उतार दी और दोनों ने अपने अन्डरवियर उतार दिए.

एक दिन मैं बोला- मॉम, आपनेगांड की चुदाई करवाईहै?वो बोली- नहीं, एक बार तुम्हारे पापा ने जबरदस्ती डाल दिया था और थोड़ा सा किया था. मैंने अपना कौमार्य, अपनी योनि की सील अपने पति के लिए ही बड़े जतन से बचा रखी थी और अब उसे उन्हें ही अर्पण करने की घड़ी आन पहुंची थी. जब हम नए घर में आ गए तो अब हम वो सब करना चाहते थे जो अभी तक नहीं कर पाये थे.

अब मीता का कंट्रोल खोने लगा और उसने हिम्मत करके धीरे से लंड पर होंठ रख कर सुपारे को चूसने लगी.

माधव का बीएफ: वो बिल्कुल भी होश में नहीं थी। अब वो सिर्फ लाल ब्रा और पैंटी में थी।मैंने उसके मखमली कोमल जिस्म पर धीरे से हाथ फेरना शुरू किया। उसने सीधा अपने हाथ से मेरे खड़े लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही पकड़ लिया और सहलाने लगी. मैं उठ कर तेजी से बैठ गया।वह पास पड़े कपड़ों को देखकर बोली- दीजिए, ये सब कपड़ा धो देते हैं।और वह कपड़े लेकर मटकती हुए चली गई।आधे घंटे तक कमरे में आराम करने के बाद मैं नहाने जाने लगा। आंगन में लगे चापाकल (हैंडपम्प) पर नहाने लगा.

लेकिन मेरी चीख निकल ही रही है, मुझे मज़ा भी आ रहा और दर्द भी हो रहा है. वहां पहुंचने के बाद मुझे मधुराज (बदला हुआ नाम) स्टेशन से लेने आए जो कि रीमा (बदला हुआ नाम) के पति थे।फिर हम उनके घर पहुंचे लेकिन पीछे वाले रास्ते से, ताकि उनके घर वालों को मेरे आने के बारे में कोई शक न हो. वो मस्ती में आहें भरते हुए चुदने लगी और मैं भी जैसे जन्नत की सैर करने लगा.

फिर मैंने उसकी काली ब्रा निकाल दी और उसके गोरे चूचे कैद से आजाद होकर मेरे सामने झूल गये.

पिताजी- बेटा, अभी शादी ब्याह का सीजन शुरू हो चुका है और हमारे गांव वाले राजेश चाचा की बेटी की शादी होने वाली है, तो उनके कुछ निमन्त्रण पत्र अपने शहर में सबंधियों को पहुंचाने हैं. भाभी के चूतड़ भी बहुत बड़े बड़े थे। ये पूरा नजारा देखकर मेरा लन्ड भाभी की चूत के लिए बेकरार होने लग गया।अब मेरे लन्ड को उनकी चूत की प्यास लगने लगी और भाभी को चोदने का ख्याल आने लगा।आगे बढ़ने से पहले मैं आपको पूजा भाभी के जिस्म का अंदाजा दे देता हूं. मैं फिर से उसे चोदने लगा। मैं उस जवान लड़की का सारा रस पी जाना चाहता था.