चोदा चोदी बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,हिंदी ब्लू फिल्में सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ पंजाबी के: चोदा चोदी बीएफ हिंदी में, रोहिणी स्टूल खींच कर मेरे सिराहने आकर बोली- अभी दस बजे मैं घर चली जाऊंगी … शाम को फिर से आऊंगी.

जवान लड़की की चूत चुदाई

आदमी तो बिल्कुल साधारण था लेकिन उसके साथ जो लेडी थी वह बला की सुन्दर, दूध जैसी गौरी, हसीन और गजब की सेक्सी लेडी थी. चोदा चुदाईफिर मैं बोली- जीजू आप अपनी आदत से बाज नहीं आओगे ना … दीदी गयी नहीं और आप शुरू हो गए.

वो बोला- छोड़ दी, तो कोई बात नहीं लेकिन मेरे साथ में एक बार तो कर ले. प्यारी भाभी की चुदाईफिर उसने डब्बे में पानी लेकर अपने हाथों से मेरी चूत को साफ किया और मैंने उसके लण्ड पर लगे हुए वीर्य को पानी से धोया.

तो फिर उनकी चूत को जैसे ही मुंह लगाया तो वो एकदम से उछल पड़ी और अपनी योनि में मेरा मुंह घुसा दिया.चोदा चोदी बीएफ हिंदी में: मेरा लंड तो अभी भी सलामी दे रहा था और उस पर भावना का प्रेम रस लिपटा हुआ था, जिसे अनीता ने भावना को गाली देते हुए पौंछा और लंड को चूत में डालकर बैठने लगी.

मगर जब आस पास नजर दौड़ाई तो देखा कि हर दूसरे मरीज के साथ उनके घर का सदस्य हाजिर था.हम दोनों ऐसे अपने-अपने बदन को एक दूसरे के बदन से रगड़ रहे थे, जैसे अपने अपने स्तनों को एक दूसरे के स्तनों से लड़ा रहे हों.

भाभी की चुदाई चूत - चोदा चोदी बीएफ हिंदी में

सुबह से हम सब नंगे एक दूसरे को देख रहे थे और मैं तो अकेली थी और सब मुझे ही नोंच रहे थे.अन्दर मेरे रूम की हालत देखकर भाभी को हंसी आ गई और बोलीं- क्या यार … कमरा तो ठीक कर लेते.

फिर हम दोनों की आंखें मिल कर सिर्फ़ एक दूसरे की आंखों में देख रही थीं. चोदा चोदी बीएफ हिंदी में तभी अनु ने मेरे कंधे पकड़ कर दबा दिए और पूरा लंड मेरी मुन्नी में जा घुसा.

अगर आज मैंने रिलेश के साथ पहली चुदाई की होती … तो मुझे पता ही नहीं चलता कि इस खेल में इतना मजा भी आ सकता है.

चोदा चोदी बीएफ हिंदी में?

वे बिल्कुल किसी क्रिकेट खिलाड़ी की तरह दिखते हैं और मुझसे बहुत हँसी मज़ाक करते रहते हैं. मैं बोली- आओगी कब तक?तो दीदी बोलीं- तू ही बता … तू कितने देर तक चुदेगी?मैं बोली- जब आपका और अमित का हो जाए, तो आ जाना. अब समय आ गया था कि मैं उसकी योनि को चाटूं … सो मैंने उसकी पैंटी उतार दी.

आखिरी रात को उसकी दो बार गांड भी मारी।अब वो लखनऊ में है और मुझे और कोरोना सेक्स को याद करती है।दोस्तो, मेरी कोरोना सेक्स स्टोरी पसंद आयी या नहीं? आप कमेन्ट जरूर करें![emailprotected]. मुझे उम्मीद है कि आप सब इंडियन सेक्सी भाभी का सेक्स कहानी को पढ़कर आनंद लेंगे. इतने में चाची बोलीं- तुमने मुझे देख लिया था न?मैंने पूछा- हां, वो लड़का कौन था?उन्होंने बिंदास कहा- वो मेरा ब्वॉयफ्रेंड है.

जिया झट से कुतिया बन गई और मैंने पीछे से लंड पेल कर उसकी चुत में अन्दर तक उसे लंड का अहसास देना शुरू कर दिया. अब वो अपनी कमर मेरी जीभ के साथ चलाने लगी और अपने मुँह से ‘उह्ह आह …’ की आवाजें भी कर रही थी. मैंने अपने घर पर बोल दिया- मेरे फ्रेंड का बर्थडे है, देर हो जाएगी, तो मैं रात को घर नहीं आऊंगा.

घुँघराले बाल, लंबी गर्दन, पतली कमर कैटरीना जैसा फिगर देख कर लगता ही नहीं था कि कविता भाभी शादीशुदा होंगी. मैंने कुछ देर बाद नैना के घर जाकर उसके साथ ब्रेकफास्ट किया और मैं अपने फ्लैट पर वापस आ गया.

आज के चुम्बन के बाद से अब अभिषेक मुझसे भी बहुत खुल गया था … और मैं भी उससे काफी खुल गई थी.

गीत बजते हुए तो अनगिनत बार चोदा था, किन्तु चुदने वाली घुंघरू पहन के चुदे ऐसा पहली बार हो रहा था.

इस कम्पन से मेरी गांड में तरंग सी उठने लगी थी और मुझे बेहद मजा आने लगा था. बल्कि वो मेरे हाथ से अपने गाल सहलवा कर ये भी कहने लगीं- जरा ठीक से देखो क्या मेरा शरीर बुखार से गर्म लग रहा है?मैंने कहा- नहीं भाभी, ऐसा तो नहीं लगा रहा है. भाभी बोलीं- मैं तो तुम्हारे लंड की गुलाम हूं, तुम बस बोलो, क्या करना है.

एक दिन निशी ने भी पूछा- और बता, कैसी चल रही है तेरी सेक्स लाइफ?शुरू में तो मैंने ऐसे ही झूठ बोल दिया कि सब बहुत बढ़िया चल रहा है. उसका लंबा और मोटा लंड मेरी चुत की दीवारों को रगड़ता हुआ मेरे अंदर तक समा रहा था. आप भी एक बार दिल्ली सेक्स चैट की हॉट मॉडल अन्जना के साथ लाइव सेक्स चैट करके देखें और अपना अनुभव मुझे बतायें.

कभी वो मेरी छाती की घुंडियों को अपने मुँह में डाल कर चूसती जा रही थी.

मुझे मंज़ूर है।रमेश- आज से ही शुरू करते हैं। चल रूम में चल साली रंडी और नंगी हो जा।रिया- नहीं यह नहीं हो सकता।रमेश- तो फिर 10 लाख भूल जा।रमेश को समझाते हुए वो बोली- मगर मैं घर में नंगी कैसे रह सकती हूं? मां भी तो है!रमेश- तू उसकी फिक्र मत कर. मगर भाभी तो खुद ही मेरे लंड की दीवानी निकली! कैसे?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका दोस्त शिवम आपके सामने एक बार फिर से हाजिर हूं।जिन पाठकों ने मेरी कहानीमामी की चूत चुदाई की चाहतपढ़ी होगी वो मुझे पहचान गए होंगे।सर्वप्रथम मैं अन्तर्वासना को हृदय से धन्यवाद देता हूँ जिन्होंने मेरी आपबीती को अन्तर्वासना जैसे विश्वप्रसिद्ध मंच पर प्रकाशित करने योग्य समझा. मैंने विजय के लण्ड को और उसके आण्डों को जोर जोर से चाट चाट कर पूरा गीला कर दिया.

मैं आप सभी का शुक्रगुजार हूँ कि आप सभी ने मेरी पिछली कहानीखूबसूरत किरायेदार भाभी को पटा कर चोदाको बहुत प्यार दिया. रिया सोचने लगी कि कहीं डैड मेरी मां का मर्डर तो नहीं करवाना चाहते! नही-नहीं ऐसा नहीं हो सकता. और उसने बोलना शुरू किया- आप जिसे देख रहे थे वो पार्लर और मेहंदी कंपनी की टीम है.

फच फच की आवाज आना शुरू हो गई और रश्मि की चुचियां भी हिलने-डुलने लगीं.

पांच मिनट में ही भाभी अपनी गांड उठाकर चुत में से कामरस छोड़ने लगीं, जिसे मैं अपनी जीभ से चाटने लगा. मर्द ऐसा नहीं होना चाहिए जो विश्वास के काबिल नहीं हो और जो हमें दो तीन बार चोद कर हमें ब्लैकमेल करने लग जाए.

चोदा चोदी बीएफ हिंदी में उसके पास तो वहां से चुपचाप निकल‌ जाने का भी चांस था, पर वो खिड़की से छुप कर पूरी चुदाई देखती रही. आँटी बहुत देर तक ऊपर उछल कर शांत हो गई और नीचे उतरकर मेरे साथ लेट गई.

चोदा चोदी बीएफ हिंदी में अगर पूछेंगे भी तो शायद मैं जवाब नहीं दे पाऊंगी, क्योंकि मैं पहले ही सारे जवाब वहां पर दे चुकी हूँ. लेकिन आपके द्वारा उसे दी गई उतेजना में जो मज़ा उसे मिलेगा तो वो न नहीं कर पायेगी.

मैं अब उस पानी को पैरों से ही उड़ाते हुए चलने लगा … और कहीं कहीं जहां ज्यादा पानी था, वहां तो उसमें उछल उछल कर कूदने भी लगा, जिसे देख शायरा भी हंसने लगी.

सेक्सी मैडम का नंबर

फिर मैं भाभी की पैंटी को निकाले बिना ही पैंटी के ऊपर से ही चूसने लगा. रंडी चूत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी जोरदार चुदाई हो रही थी. मैं उत्तेजित हो गया उसकी बात सुन कर!थोड़ी देर बाद उसे नींद आने लगी। असल में दर्द की गोली में नींद की दवाई भी थी.

ऊपर वाले की मेहर से मेरे पास इतने पैसे तो हैं कि मैं अपनी जिन्दगी राजाओं की तरह जी सकूं. मैं उस समय पूरी चुदाई के नशे में थी तो मैंने कहा- हां, जिसको बुलाना चाहो, बुला लो. मैंने डरते डरते कहा- मैं तेरी छोटी बहन अविना को भी शादी से पहले भोगना चाहता हूँ.

कहीं तुम्हें भी ब्रा और पैंटी इकट्ठा करने का शौक तो नहीं है?रवि- नहीं, ये शौक केवल रमेश का ही है.

अचानक पिंकी रानी ने चुदास से भर्रायी आवाज़ में पूछा- याद है न तू मुझे कैसे पुकारेगा राजे? बता तो ज़रा. मैं उन पर चिल्लाया कि पीछे बहुत दचके लगते हैं, मैं नहीं बैठ पाऊंगा लेकिन मेरी बात का कोई असर नहीं हुआ उस पर. जब तुम्हारी ये बड़ी बड़ी चूचियां किसी मर्द की छाती के नीचे रगड़ा खाएंगीं तब देखना कितना मजा आएगा!हाय भाभी पता नहीं मुझे कब लंड नसीब होगा? लेकिन अभी मुझे तो इस खीरे में भी बहुत मजा आया है.

भाभी ने जैसे ही ड्राइंगरूम के दरवाजे की कुंडी लगाई, मैंने उन्हें पीछे से बांहों में भर लिया. उसके चुपके से ये सब करने से या यूं कहें कि चोरी से बॉय करने के तरीके से मैं रोमांचित हो उठा और मेरे दिल में दीपिका को चोदने की इच्छा एकदम चार गुणा हो गई. फिर पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत को छूने की कोशिश की तो उसने भी उत्तेजना में अपनी टांगें थोड़ी सी खोल दीं.

उस इंडियन मॉडल गर्ल ने पहले मुझे अपना आइडिया बताया और फिर कुछ टिप्स भी दिये कि कैसे मैं अपने वीर्य के वेग को देर तक रोके रख सकता हूं. पर फिर सूरज ने अपने हाथ मेरे गालों से हटा कर मेरी छाती पर ले आया और मेरे स्तनों को बेरहमी से भींचने लगा.

आंटी मेरी तरफ देख कर मुस्कुराई और बोली- अच्छा तो जनाब को गर्म गोश्त खाने का शौक है?उनकी इस बात पर मैं भी मुस्कुरा दिया. निष्ठा मेरी जान, अभी तो खेल शुरू हुआ है, आज मेरी साली पूरी घरवाली बनेगी. फिर मुझे लगा कि अब शायद मेरी जान निकल जाएगी क्योंकि मुझे सांस लेने में बहुत परेशानी हो रही थी.

मैंने पूछा- क्या है ये?बड़ी चाची ने कहा कि तुम अभी नए हो और जवान भी … और हम दो हैं.

’रिलेश- मेरी जान सो गई थीं क्या … फोन नहीं उठाया!प्रिया- हां सो गई थी … क्या हुआ!वो- यार मेरा लंड खड़ा है. अपनी गांड चुत को साफ़ किया और बीस मिनट के बाद बाथरूम से बाहर निकलने लगी. कहने का मतलब कि गीत हम दोनों मर्दों के लंड एक साथ लेकर अपनी जवानी चुदवा रही थी और मेरे होंठों पर नेहा बैठ कर मुझसे अपनी चूत चुसवा रही थी.

मैं- ये क्या … ये तो कुछ भी नहीं है … जब मिलोगी न … तो इतना प्यार करूंगा कि तुम पागल हो जाओगी. सुमित- यार मत तरसा यार, पूरा दिन बिता दिया तेरी गोल-गोल चूची, फूली हुयी चूत और उभारदार गांड देखने को बड़ा जी कर रहा है.

वह सभी के बीच में बैठी बैठी अपनी जांघों को भींचती रही और उसकी चूत पानी छोड़ती रही. मेरा लंड पूरी तरह फ़नफना रहा था।मैंने मोनिका को अपने से लिपटाया और उसका एक पैर उठा कर लंड उनकी पुद्दी में डाल दिया।वो बस सहम कर रह गई।धीरे धीरे मैंने अपनी रफ्तार तेज की और अब उसे भी ज्यादा तकलीफ नहीं हो रही थी।वो भी बस मजे ले रही थी।काफी देर तक मैंने उसे चोदा. साथ ही मैंने अपनी दो उंगलियाँ नेहा की चूत में डाल कर उसकी चूत को अंदर से कुरेदना चालू कर दिया.

कैटरीना की ब्लू फिल्म सेक्सी

उस दिन मैंने काली रंग की ब्रा पैंटी पहनी हुई थी।तभी मैं अल्ट्रासाउंड मशीन की तरफ बढ़ी तो डाक्टर बोला- अरे इस ब्रा को भी तो उतारो; बिना ब्रा उतारे स्तन का अल्ट्रासाउंड कैसे होगा।मम्मी मेरी तरफ आयी.

तब भाभी ने बताना शुरू किया- राज, मैं इन दोनों लड़कियों से तंग आ चुकी हूँ, पहले तो बड़ी वाली की बात सुनो. मैं चूत में जैसे ही जीभ घुसाता, वो लंड को दांतों से दबा देती।लंड अब चुदाई के लिए तैयार हो गया. अब मैं भाभी के बदन को अपनी बांहों में लपेटे हुए उनकी कमर और पीठ को सहला रहा था.

उसकी इन आवाजों से मैं भी उत्तेजित हो गया और उसे जोर से पकड़ कर तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा. आँटी तरह तरह की आवाजें निकालने लगी … हाय राजा … जोर से करो … मेरी जान निकाल दो … हाय मेरे छोटे बालम … अब … तक … कहाँ थे … चोदो … दिल लगाकर चोदो … पूरा मजा लो. सेक्सी हिंदी एक्स एक्स एक्सवैभव की बैचलर पार्टी और उसके लिए बुलाई गई रंडियों की चुदाई की साथ ही प्रतिभा दास से मिलने का समय भी नजदीक आता जा रहा था.

कम रोशनी में भी मुझे दीपिका के 38 साइज़ के भारी भारी मम्में और उन मम्मों पर तने हुए तीखे निप्पल साफ साफ दिखाई दे रहे थे. अब आगे देशी चुदाई की कहानी:डाक्टर ने अगले दिन सुबह दस बजे आने के लिए कहा। कुछ निर्देश दिए जैसे कि खाली पेट आना है.

वो बोला- क्या अगर मैंने शमा को आपके साथ ज्वाइन करवा दिया, तो क्या कभी मुझे भी ये मिल सकता है. जैसे ही हमारी नज़र मिलीं, हमारे चेहरे पर स्माइल आ गयी … मगर हम में से किसी ने कुछ कहा नहीं. अभी तो गीतिका एक हफ्ता यहीं पर रुकेगी, पहले उसकी तो तसल्ली करवाओ? दूसरी भी मिल जाएंगी.

सौरभ एकदम डर गया और लगभग रोने जैसा हो कर बोला- सॉरी, आगे से ऐसा नहीं करूंगा. जी … वो थोड़े राजमा और मिल सकते हैं?शायरा ने एक बार तो मेरी प्लेट की तरफ देखा फिर इधर उधर देखते हुए बोली- वो राजमा तो …शायद उसने इतने ही बनाये थे इसलिए वो शर्मिंदा सी हो गयी. इतने में वो मुझसे दूर होकर बोलीं- ये तुम क्या कर रहे थे?मैंने बोला- आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो.

मैं- हां पर क्यों नहीं आती … इसकी वजह तो होगी!वो- अच्छा तुम क्यों जाग रहे हो अभी तक!मैं- वो … मैं तो सो रहा था … तुम्हारे फोन से मेरी नींद खुल गई.

दस हज़ार सुनते ही आदमी की बांछें खिल गईं और बोला- हमें ये फ्लैट पसन्द है, आप दे दीजिए. मैंने भाभी को गले से लगा लिया और उनके गालों को चूमते हुए कहा- आई लव यू मेरी जान!भाभी मुस्कुरा दीं.

उसकी ढीली पोली लुल्ली देख कर अनु बोली- फूफाजी, लो आप खुद ही देख लो, इसकी लुल्ली किस काम की है. मुझे नहीं लगता कि इस पैंटी को फाड़े बिना उनका लंड मेरी चूत में घुस पायेगा. मैं- देखो इस समय तो वो घर पर है नहीं, अगर तुम‌ चाहो, तो ये कोरियर मुझे दे सकते हो, मैं उनको दे दूंगा.

दस पंद्रह मिनट उनके बूब्स चूसने के बाद मैंने दोनों को लंड को चूसने का बोला तो दोनों करवट की स्टाइल में लेटे लेटे ही लंड चूसने लगीं. तभी वो बोली- रमित अभी मत डिस्चार्ज होना … अभी दूसरी पोजीशन में करते हैं. तभी अचानक मुझे महसूस हुआ कि गर्मी कुछ ज्यादा ही बढ़ चली है और लंड महाराज कभी भी धोखा दे सकते हैं.

चोदा चोदी बीएफ हिंदी में मेरा मन लालच से भर गया और मैं उसे चाट लेने को झुकी, पर कविता ने मुझे रोक लिया. ये सुनते ही मैं इतराते हुए बोली- मेरे दीवाने तो वैसे भी बहुत हैं … और जीजू वो सब पुरानी बात है.

हिंदी चुदाई सेक्सी ब्लू पिक्चर

उसकी चूचियां तो इतनी टाइट और कसी हुई लग रही थीं जैसे कि उसके हज़्बेंड ने उनको कभी हाथ ही ना लगाया हो. अनीता ने कहा- चल भाग कमीनी … जितनी जल्दी हो सके भाग जा … समझ ले कि धंधे में ग्राहक को खुश करना रंडी की जिम्मेदारी होती है और तू है कि खुद मजे लेकर पसर जाती है. मेरी कामुक सिसकारियां उसको और उत्तेजित कर रही थीं … वो उतनी ही जोर से मेरी ज्वालामुखी के लावा को बाहर निकालने के लिए मेरी सुरंग की खुदाई करने लगता था.

छोटी चाची बोलीं- तेरी गर्लफ्रेंड ने अपनी चुत में कितनी बार इसको लिया है. उसने कुछ देर बाद अपना हाथ मेरे टॉप के अंदर से डाल कर मेरी एक चूची को धीरे से पकड़ लिया. गुप्ता सेक्स वीडियोशायरा ने ऊपर तो पतला सा कुर्ता पहना ही हुआ था, नीचे भी उसने सफेद रंग की पतली और एकदम स्कीन टाईट लैग्गीस पहनी हुई थी और वो‌ भी‌ अब भीगकर उसके नितम्बों से चिपक गयी थी‌.

उंगली के सहारे मेरी योनि से रिसता हुआ सारा रस बाहर आने लगा, जिसे कविता बड़े चाव से चाटने लगी.

वो- तुम एक लड़के हो, मुझे अकेले पाकर ऐसे ही जाने दोगे?मैंने कहा- तुम्हें क्या लगता है?वो- मुझे नहीं लगता कि तुम मानोगे. जीजू मेरे गाल पर पप्पी करते हुए बोले- आज इन सारी बातों को तुझे प्रेक्टिकल करके दिखाउंगा.

जब वो मेरी तरफ देखती, तब मेरी नजरें नीची हो जातीं, जब मैं उसकी ओर देखता, तब उसकी नजरें नीची हो जातीं. मैं बीए फर्स्ट ईयर की पढ़ाई कर रहा हूँ और अभी कुछ दिन पहले ही यहां रहने आया हूँ. वो भी चुदाई का पूरा मज़ा ले रही थी। वो बोली- राज, मेरी शुरू से इच्छा थी हवा में लन्ड लेने की आज पूरी हो गई।मैंने कहा- मैं चुदाई की तुम्हारी सारी इच्छाएं पूरी करूंगा।उसे मैंने बिस्तर पर पटक दिया; उसकी दोनों टांगों को चौड़ा करके लंड घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके अंदर तक मारने लगा.

खैर … उस दिन भाभी से मेरी काफी देर तक बातचीत हुई और मुझे उनका व्यवहार काफी पसंद आया.

संजय बोला- आये भी क्यों न, ये साली आजकल अंग्रेजों के लौड़े चूसती है. सेशन खत्म होने से पहले अन्जना ने मुझे टिप्स दिये कि कैसे मैं अपनी आंटी की चुदाई कर सकता हूं और कैसे उसके साथ मस्ती भरा सेक्स कर सकता हूं. मैं- कप्पो रानी … आह तेरी गांड बहुत मस्त है … पूरे महीने इस ठंड में तुझे ठंड नहीं लगने दूँगा … मैं आपको इतना चोदूंगा कि आप हमेशा मेरे साथ नंगी रहने चाहोगी.

தமிழ் செக்ஸி ஆன்ட்டிऔर नीचे मेरे हाथ में लण्ड को आगे पीछे करते हुए उसने मेरे हाथ में ही वीर्य निकाल दिया. मैं ज़रा सी हिली और अगले ही पल फच्च से सलीम का लंड मेरी चूत में घुस गया.

पंजाबी सेक्सी वीडियो कॉल

तुम भाभी कहते हो तो ऐसा लगता है कि मैं बहुत उम्रदराज महिला हो गई हूँ. मेरी उंगलियां अभी भी निरन्तर उसकी गांड की गहराईयों को नाप रही थीं … तो कभी उसकी दोनों कलियों को मसल कर इठला रही थीं. ये सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी आंटी की है … जो उम्र में मुझसे 7 साल बड़ी हैं.

मैंने कहा- आप जानबूझकर थोड़े ही बैठीं थीं? कोई नहीं, आप ज्यादा मत सोचो, सब चलता है।इससे वो थोड़ा सहज हुईं और ऐसे ही बातें चलने लगीं. फिर सनी ने मेरे पूरे शरीर को अच्छे से गर्म पानी लेकर साफ किया और बोला था कि आज शाम हम पब्लिक सेक्स करेंगे. पर वो कहते हैं ना कि:हर चूत पर लिखा है चोदने वाले का नाम।उसके बाद मेरी और भी चुदाई हुई वह सब बाद में लिखूंगी अगर आप मेल करोगे।दोस्तो, आपको देशी चुदाई की कहानी कैसी लगी मुझे ईमेल करके जरूर बताना।[emailprotected].

मैंने कहा- भाभी, कैसे विश्वास आएगा आपको? मैं सच में बहुत ही विश्वसपात्र आदमी हूँ, मैं कभी दूसरे को धोखा नहीं देता और आपके लिए तो मेरी जान भी हाजिर है. मैंने देखा कि भाभी ने मेरा गिलास उठाया और एक ही झटके में पूरा पी गईं. छोटे वाले भैया की नौकरी शहर में है इसलिए मैं मम्मी और भैया भाभी हम लोग शहर में ही रहते हैं.

वे मुझे लगातार किस भी किए जा रहे थे; एक हाथ से मेरे बूब्स भी दबा रहे थे और नीचे से मेरी चुदाई भी कर रहे थे. दो मिनट बाद मैं भी फिर से मस्त हो गयी और जोर जोर से सिसकारते हुए कहने लगी- आह्ह … कमॉन बेबी … आह्ह … फक मी (चोदो मुझे) … आ्हह … लव यू भाईजान.

अपने हाथ से उसने मेरे लड़ को पकड़ा और एक बार आगे पीछे कर उसे गप से मुँह में ले लिया.

गांड मराने में हुए दर्द के कारण दादी दोबारा गांड मराने को राजी नहीं हुईं. चुदाई वीडियो चुदाई वीडियो चुदाईरिया- हाँ बोल रेहाना, इतनी सुबह-सुबह कैसे याद किया?रेहाना- मुझे तुझसे मिलना है।रिया- ठीक है 1 घंटे में आती हूँ तेरे घर पर!रेहाना- मुझे तुझसे अभी मिलना है।रिया- अभी?रेहाना- हाँ अभी, बहुत ही अर्जेंट काम है।रिया- अब इतना भी अर्जेंट क्या है, तू मुझे फ़ोन पर ही बता दे।रेहाना- अरे यार, यह फ़ोन पर बताने वाली बात नहीं है।रिया- ऐसा भी क्या है जो तू मुझे फ़ोन पर नहीं बता सकती. ब्लू सेक्सी नंगी चुदाईअब मैं वापस उनकी टांगों पर आ गया और भाभी की पैंटी उतारने की कोशिश की, जिसमें सलोनी भाभी ने अपने पांव उठा कर मेरा साथ दिया. देसी गर्ल की चुत कहानी में पढ़ें कि मेरा मौसेरा भाई मेरे साथ रह रहा था.

ग्रुप चुदाई कहानी का पिछला भाग:55 साल के बुड्ढे से गांड मरवाने का मजालगभग आधा घंटे बाद धीरू अंकल के फोन पर घंटी बजी तो उन्होंने फोन उठाया.

मैंने पूछा- कल तो आपने मना कर दिया था कि रेज़र नहीं है?तब अनु बोले कि हां इसी लिए तो अभी मार्केट से लाया हूँ. जब मैं दीदी के यहाँ जाती तो वह सब मुझे देखते रहते या बात करने की कोशिश करते!दीदी का घर दो मंजिला है. आदमी- तुम्हें बीच में बोलने को किसने कहा? जब कुछ नहीं पता हो तो बेवकूफों की तरह नहीं बोलते.

लगभग 5 मिनट बाद जैसे मैंने थॉमस को कहा था, वैसे ही उसका फ़ोन रोहन के फ़ोन पर आया. उसकी सहेली मेरठ की थी तो घर चली गई।अब मैं जोर जोर से झटके मार रहा था. अगले रोज दोपहर को दीपिका का फोन आया- राज जी, आप आज दफ़्तर से जल्दी आ जाना, शाम को आपको डिनर पर बुलाने घोष बाबू को भेजूंगी, मना मत कीजिएगा.

राजस्थानी आदिवासी सेक्सी व्हिडिओ

दोस्तो, मेरी भाभी का सेक्स प्ले कहानी आपको कैसी लगी … मुझे मेल पर जरूर लिखें. यह भी समझ आ गया कि पिंकी का मासिक धर्म अभी ताज़ा ताज़ा ही पूरा होकर चुका है. मैंने कम्बल को खींचा और गीत और नेहा को कम्बल में ले लिया और अपना मुंह बाहर निकाल कर संजय को कपड़े पहन कर चाय पकड़ने को बोला.

सच में दोस्तो, जब लड़की या औरत लंड के ऊपर चढ़ती है, तो चुत चोदने में बहुत मजा आता है.

हालांकि एक हफ्ते तक मेरी सूरज से कोई बात नहीं हुई, क्योंकि मैं सोच रही थी कि वो माफी मांगेगा.

अब आगे की इंडियन फैमिली सेक्स स्टोरी:अर्चना के सुर्ख लाल होंठों से मैं भी जाम पीने लगा और उसके दोनों कसे हुए मम्मों को निहारने लगा. फिर रॉनी ने बोला- चलो खाना ऑर्डर कर लेते हैं, फिर जब तक खाना आएगा, तब तक कुछ बात करेंगे. सेक्सी ब्लू देसीमैं हंसते हुए बोली- अच्छा … और फोन करके क्या बोलोगे कि दीदी की गांड मारनी है!वो चुप रहा और अपना लंड मसलता रहा.

मैंने पूजा से कहा- रिया को अब छोड़ दो अब यह खुद आकर चुदेगी, देखती चलो. अब मैंने भी सोचा कि मैं भी अपनी कहानी लिखूंगा ताकि आप सबको बता सकूं कि आज के समय में इन्सान के अंदर हवस और कामुकता किस कदर बढ़ चुकी है और वो इन्सान पर कैसे हावी हो जाती है. चूसने चाटने की आवाजें होने लगीं- ऊम्म … हम्म … ऊउहह … याल्ला … चाटो अंकल, आह्ह मजा आ रहा है.

अगर मेरी बात करें तो मैं भी काफी सुंदर हूँ, रंग गोरा है और चेहरा भी बिल्कुल साफ है. जेठ सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी शादी के बाद मेरे पति मुझे नहीं चोद पाए.

भाभी- आह संजू तूने मुझे तो पूरा नंगा कर दिया और अपना एक भी कपड़ा नहीं उतारा … ये तो ग़लत है यार.

इसके बाद मैंने उस इंडियन विलेज भाभी को उसके गांव की बस में बिठा दिया. तब मैंने हां बोल दिया और कहा- यार आराम से करना … कल से अभी तक मेरी गांड सूजी हुई है. कमरे का वातावरण ऐसा शांत था मानो किसी तूफान के निकल जाने के बाद महसूस हो रहा हो.

एक्स वीडियो जंगल उसके बाद अभिषेक मेरी फ्रेंड के सामने ही मेरे पास आकर बोला- क्या बात है आजकल बहुत सज-संवर कर आती हो, कोई मिल गया है क्या!मैंने हंस कर बोला- नहीं यार … मैं तो पहले से ही स्मार्ट हूँ. आदमी- तुम्हें बीच में बोलने को किसने कहा? जब कुछ नहीं पता हो तो बेवकूफों की तरह नहीं बोलते.

विजय और मैं वही बाथरूम में ही एक दूसरे से चुम्मा चाटी करने लग गए और दोबारा मस्ती में आ गए. एक बार मैंने आंटी से पूछ लिया- आंटी, आपके बदन से ये इतनी अच्छी महक कैसे आती है?इस पर आंटी ने हंस कर जवाब दिया कि मैं रोज नहाने के बाद ही छत पर ठंडी हवा लेने आती हूँ. मैंने कभी नहीं सोचा था कि इस उम्र की औरत की चूत, पट और जाँघें इतने सेक्सी होंगे?डिअर रीडर्स, नंगी आंटी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में आप आंटी की चुदाई का विवरण पढ़ेंगे.

बिहार का सेक्सी वीडियो पिक्चर

हैलो फ्रेंड्स, मैं यतीन्द्र एक बार फिर आपको सलोनी भाभी की चुदाई की कहानी के तीसरे भाग को लेकर हाजिर हूँ. मैं और शायरा चलते हुए आधी दूर ही आए थे कि तभी हल्की हल्की बारिश होनी शुरू हो गयी. संजय लेट गया और संजय के लेटते ही गीत संजय की तरफ मुंह करके उसके लंड पर अपनी चूत रख कर बैठ गयी.

इस भाभी बूब्स सकिंग स्टोरी के अगले भाग में भाभी ने मुझे कैसे अपनी चुत चोदने दी. मेरी योनि अब भीतर से गीली शुरू होने लगी थी और ऐसी चाहत हो रही थी कि कविता की योनि के उभार को मैं बार-बार अपनी योनि की दरारों के बीच फंसा लूं.

पिक भेजने के बाद उन्होंने मुझसे पूछा- आपका मेरे बारे में क्या ख्याल है?मैंने कहा कि आपकी उम्र तो 40 के आसपास लगती है.

वो भी मेरे साथ चिपक कर लेट गया और मेरे लंड को सहलाते हुए मुझे चूमने लगा. फिर एक दिन मैंने और सूरज ने फिर कोशिश की सेक्स की … और जैसा मुझे डर था, वही हुआ. मुझे भी वो पसंद था, उसके जैसा मर्द देखकर कोई भी उसका दीवाना हो सकता था.

करीब 11 बजे तक नर्स ने सासू माँ की ड्रिप उतार दी और दवाइयाँ भी दे दी. फिर क्या था … थॉमस मुझे उठा कर बेड पर ले गया और मुझे बेड पर लेटा कर मेरे ऊपर चढ़ गया और मुझे किस करने लगा. रोहन ट्रॉउजर और टी-शर्ट में थे और मुझे तैयार होते देख कर रोहन भी रेडी हो गए.

सोनम मेरे जिस्म के हर हिस्से को चूमती हुई मेरी चुत के पास आ पहुंची.

चोदा चोदी बीएफ हिंदी में: मेघा- सुनिये, मुझे आपकी दुकान से खरीदी हुई ये पैंटी वापस करवानी हैं. संजय बोला- क्या फाड़ कर रख दी?नेहा तुरंत संजय का जवाब देती हुई बोली- गांड फाड़ दी गीत की.

इस होटल में जगह खाली थी और ये मेरी किस्मत ही थी कि इस होटल में भी एक ही कमरा खाली मिला था. वैसे तो मैंने इससे पहले चार अन्य होटल में भी बात की थी मगर कहीं जगह खाली न होने के कारण इस होटल में आ गए थे. बत्तीस-सी का वक्ष … और बत्तीस-डी के नितंब … नाभि के नीचे बंधी साड़ी.

उसमें पीछे से मेरी ब्रा की दोनों पट्टियां दिखाईं दे रहीं थीं लेकिन मुझे मालूम नहीं था.

फिर मैंने रिजवान के मुंह को अपने हाथों से ऊपर उठाया और उसको किस करना शुरू कर दिया. तो कविता भाभी ने कहा- जो हुआ ठीक हुआ, आगे भी जो होगा, अच्छा ही होगा. मैं उसे दूर करते हुए बोली- ना ना … अभी बिल्कुल नहीं, अब जो होगा, सब पब में होगा.