बिजली बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी विडियो को

तस्वीर का शीर्षक ,

वीडियो सेक्सी गांव का: बिजली बीएफ, फिर उसने मेरी चूत पर थूका और उसको तीन उंगलियों से मेरी चूत पर मसलने लगा.

घाघरा सेक्स

आते ही मैं उसके चूचों पर फिर से टूट पड़ा और जोर जोर से पीने लगा; उसके निप्पलों को दांतों से काटने लगा. वीडियो सेक्सी फिल्म दिखाएंचूत और लंड की चिकनाहट इतनी ज्यादा थी कि चूत में लंड फिसलता चला गया और ऐसे जा घुसा जैसे कि केक में चाकू घुस जाता है.

हम दोनों एक दूसरे में डूबते जा रहे थे कि तभी फ्लश चलने की आवाज आयी और तुरंत ही मैंने कपड़े ठीक करके पंकज को सोफ़े पर भेज दिया और खुद बिस्तर पर ही बैठी रही. 10 साल लड़की के सेक्सीहम दोनों बहुत खुश हो गये थे।उसके बाद तो रोज ही हमारी बातें होने लगीं; धीरे धीरे हम दोनों फोन पर ही सेक्स की बातें भी करने लगे.

शॉवर की उन गिरती बूंदों से, जो उसके होंठों से मेरे होंठों से होते हुए हमारे बदन तक जा रही थीं … बस एक दूसरे की प्यास को ही नहीं, बल्कि हमारी हवस को भी बढ़ा रही थीं.बिजली बीएफ: जब तक मेरा एक चौथाई लंड नई चुत के अन्दर पहुंचा, तब तक तो अविना ने आसानी से लंड सहन कर लिया.

उसके लंड में से मेरी चूत के रस और उसके वीर्य दोनों की सुगंध आ रही थी.उसको भी पता लग गया कि उसकी चूत में जाने के लिए उसके आशिक का हथियार एक बार फिर से तैयार है.

इंग्लिश शॉर्ट सेक्स वीडियो - बिजली बीएफ

कई मिनट तक गांड की दरार में रगड़ने के बाद उसने अचानक से उस डिल्डो को अपनी चूत में ले लिया.भाभी के सीने पर दो सुडौल पपीते की आकार की चूचियाँ लटक रही थीं और उनकी टांगों के बीच में हल्के बालों से भरी हुई चूत उनकी जवानी को चार चाँद लगा रही थी.

फिर उन्होंने सूरज से पूछा- तो बेटा जी क्या सीखा अपने चाचा से आज? कुछ समझ आया कि चुदाई कैसे करते हैं. बिजली बीएफ तब मैं बोला- जब ऐसा कुछ नहीं हुआ, तो एक तरफा याद करने से क्या फायदा.

सलोनी की बुर से रिसते खारे पानी को चाटते हुए मैंने उसकी बुर के लब खोलकर अपनी जीभ फेर दी.

बिजली बीएफ?

शायद और भी बहुत से लोगों को इस तरह के अनुभव से गुजरना पड़ा होगा और उसके बाद वो भी इस तरह के अनुभवों को अपना चुके होंगे. फिर व्हाट्सएप पर मैसेज करके वो मुझे डांटने लगी क्योंकि सबके सामने तो हम बात कर नहीं सकते थे. उसका लंड एकदम से रॉड की तरह सख्त था और मेरी चूत को चोदकर कुछ फूल सा गया था.

कसरत वगैरह भी करते होंगे, इसीलिए अब तक पेट नहीं निकला … वरना निकल आता है. मेरा छोटा चिकना छेद, और सलीम भाई का मोटा भारी सा लंड, कोई बराबरी ही नहीं थी. चाची की चूत मारकर मैंने अपनी पहली चुदाई का सुख ले लिया था और वो सुख सच में स्वर्ग जैसा था.

मैंने ही उन्हें मजबूर किया था क्योंकि मैंने उनकी चुदाई की रिकॉर्डिंग उन्हें दिखा दी थी. मैंने उसे बहुत जल्दी से ऊपर से नंगी कर दिया और उसके नंगे मम्मों को अच्छे से चाटने लगा; उसके निप्पलों को चूसने लगा. ऐसे कहते हुए प्रियंका फिर से नीचे आ गई और उसने अनामिका की चूत को दो उंगलियों से चोदना शुरू कर दिया.

अब आगे सेक्सी इंडियन वाइफ स्टोरी:विक्रम फ्लैट के अन्दर दाखिल हुआ, वो बोला- वाह भाभी, आप कितनी सेक्सी लग रही हो. पहले तो हम पुरानी हिन्दी फिल्मों के हीरो हीरोइन की तरह कॉलेज में यहां वहां घूमकर ही एक दूसरे की आंखों की प्यास बुझाते थे.

मैंने बोला- प्लीज़ कर दो न!मेरी बहुत रिक्वेस्ट के बाद उसने मेरे मुँह में मूत दिया.

मैं- तो असलम भाई अपने मजा लिया?असलम- हां कई बार उन्होंने मजा दिया, बिलकुल आप जैसा ही उनका मस्त हथियार था.

मैं- तो फिर ठीक है … मैं भी यहां से तब तक नहीं जाऊंगा, जब तक तुम बताओगी नहीं. मैंने पूछा कि क्या मैं शुरू करूं?भाभी बोलीं- आओ न जानू … अब और मत तड़पाओ … डाल दो अपना लंड … मेरी चूत को फाड़ दो आज … साली इतनी बार चुद चुकी है, फिर भी इसकी गर्मी शांत नहीं हो रही है. मैं बोला- मुझे चूत चाटना बहुत पसंद है … आप दो बार बोल रही हैं … मैं तो कहता हूँ कि आप बोलो तो सही, मैं हमेशा आपकी चूत में मुँह लगाए रहूँगा.

पहले तो वो बोलीं- मैं एक गृहिणी हूँ कोई पोर्नस्टार नहीं, जो ऐसी फोटो हमेशा अपने साथ रखूं. वो भी मेरा साथ देने लगी।फिर मेरा एक हाथ उसके चूचों पर गया और मैं उसके चूचे मसलने लगा।थोड़ी ही देर में उसकी सांसें गर्म होने लगीं और वो भी मेरे लंड को सहलाने लगी।मैंने उसका टॉप निकाल दिया और उसने मेरा टी शर्ट निकाला।फिर मैंने उसकी ब्रा के हुक खोले तो उसके चूचे आज़ाद हो गए और मैंने उसकी चूचियों को पागलों की तरह चूसना शुरू कर दिया. मेरा सुपारा चूत के आगे पीछे होता हुआ कई बार चूत के छेद पर अड़ चुका था.

मैं कभी कभी उसके निप्पलों को भी मसल देता, फिर अपने अंगूठे और उंगली के बीच में दबा कर दोनों निप्पलों को जोर से खींच देता.

फिर संध्या चाची उठ कर कर राजू चाचा की बगल में अधलेटी होकर उनके बैठे हुए लंड को सहलाने लगीं. रंग का थोड़ा ज्यादा सांवला था लेकिन पति के शरीर के साथ मिलता था।पास में रखी शीशी उठाकर उन्होंने अपने लिंग पर तेल लगाया।फिर वो शीशी रख कर मेरे पास आ गये और मेरे ऊपर चढ़ गये; अपने लिंग के टोपे को उन्होंने मेरी चूत पर टिकाया और उसको ऊपर नीचे रगड़ने लगे. मेरी इस बात पर भाभी हंस दीं और बोलीं- हां न तू छोटा है और न तेरा!इतना कह कर वो चुप हो गईं, मैं समझ गया कि भाभी मेरे लंड के लिए कह रही थीं.

मैं थोड़ी देर पास पड़ी कुर्सी पर यूं ही नंगी बैठी रही और डॉक्टर को एकटक देखने लगी. अगर दिल की जगह मैं दिमाग़ से चुदाई कर रहा होता … तो अभी तक मैंने गति बढ़ा दी होती और मेरा वीर्य शायरा की चूत में होता. पर इस बार सूरज रुक नहीं पाया और कुछ पलों में ही मेरी चूत में ‘आह … आहह … आहह … सुहानी मैं गया … आहहआ … आह.

मैंने नीचे मुँह करके दरवाज़े की तरफ चुपके से देखा, तो वो दरवाज़े पर चुपके से खड़ा मुझे ही देख रहा था.

उनको तो इस बात की भनक भी नहीं थी कि उनकी बेटी कौन सी पार्टी कर रही है. इंडियन लंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी चूत एक लंड के लिए बेचैन हुई जा रही थी.

बिजली बीएफ वो मेरी हर एक जिद पूरी करते थे तथा बिस्तर पर मुझे रगड़ रगड़ कर चोदा करते थे. उसकी गांड पीछे की ओर काफी उठी हुई है, जब वो चलती है, तो उसके दोनों चूतड़ जोर-जोर से हिलते हैं.

बिजली बीएफ चाची बोली- गांड मारनी हो त मार लिए … तेरा चाचा भी मारा करता।मैं बोला- ठीक है आज गांड भी मारुंगा. प्रिया ने अजय से ये वादा लिया कि दिल्ली में जब भी मौका मिलेगा वो सेक्स करेंगे.

फ़ोटो देने के बाद उसको मुझ पर यकीन हो गया था कि मैं उसके लायक हूं और फिर वो हर रोज़ ही अपनी फोटो मुझे भेज दिया करती थी.

हीरोइन की सेक्सी ब्लू फिल्म

मैं उठ गई, अपने को दुरूस्त करके मैंने कपड़े पहने और डॉक्टर को थैंक्यू कहते हुए बाहर आ गयी. उसकी बुर से काफी खून निकला था और उसकी छोटी सी बुर फूल कर गोलगप्पे जैसी हो गई थी।अच्छे से उसकी बुर साफ करने के बाद मैंने दुबारा से बड़े ही आराम से अपना लंड बुर में डाला. तभी प्रिया भाभी बोलीं- ट्विंकल डार्लिंग, अगर तुम्हें डर लग रहा हो तो बस करें या फिर और खेलने की हिम्मत है?इस पर ट्विंकल ने आंख मारते हुए कहा- बहन की लौड़ी … तूने अभी मेरी हिम्मत देखी कहां है.

एक बड़ी मीठी सी आवाज में उन्होंने कहा- वाह क्या लंड है तुम्हारा … मन कर रहा है कि अभी इसे कच्चा चबा जाऊं!मैं बोला- सच … लेकिन कैसे चबाओगी?वो बोलीं- चलो आज फोन पर चुदाई करें. फिर से मैंने चाचा जी का पूरा लंड मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगा. नौ दिन तक सलोनी की बुर चाटने के बाद जब दसवें दिन सलोनी आई तो बोली- सर, आज अनुष्ठान नहीं हो पायेगा क्योंकि मेरी माहवारी हो गई है.

उसके चेहरे के उत्साहित भाव मुझे ऐसे बता रहे थे जैसे कि हम दोनों गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड हों.

चाची की चुत गीली हो चुकी थी।वो बोली- बस बाड दे इब वार (देर) ना कर!मैं चाची के पीछे आ गया और लंड को चुत पर लगाया और एक झटका लगाया तो लंड की टोपी अन्दर!चाची ने आहहह की आवाज निकाली।आजकल गांव में डागी स्टाइल बहुत चला हुआ है बस जगह दिखी सलवार नीचे की और झुका कर चुदायी शुरू।चाची कुतिया बनी हुई थी और मैं कुत्ता. थोड़ी कशमकश के बाद कमल का लंड मेरी गांड में, अरुण का निशि की गांड में और रोनी का रोहिणी की गांड में घुस गया. कमरे के अन्दर उसने बाथरूम में जाकर चेंज किया और होटल का बाथरोब पहन कर बाहर आ गई.

जींस खुलते ही मेरे घुटनों तक आ गई थी और मेरे अंडरवियर के ऊपर से ही प्रियंका मेरे टाइट लंड को अपने मुँह में घुसेड़ने लगी. जब मैंने ध्यान से देखा, तो मां नंगी होकर वरुण के लंड पर कूद रही हैं. मैं तो उसके घर से आ गया मगर मेरे जाने के बाद भी शायरा सोचती रह गयी.

मेरे दोनों चूचों के निप्पल्स उस स्किन कलर की नाइटी में साफ दिख रहे थे. फिर उसको बांहों में लिया और उसकी गांड को दबाते हुए उसको किस करने लगा.

इस दशा में उसकी अड़तीस इंच साइज़ की गुदाज़ गाँड इधर उधर हिलते हुए ग़ज़ब का नजारा पेश कर रही थी. तभी अचानक से आंख खुल गयी और याद आया कि बियर की बोतलों वाला थैला तो अब पड़ोसन भाभी के घर में जा चुका है. रवि के जाने के बाद पिंकी पार्लर हो आई और नेल पॉलिश भी नया लगा लिया.

तो मैंने सायरा के कूल्हों को कसकर पकड़ा और उसकी गांड के बीच अपनी नाक लगाकर सूंघने लगा.

कुछ देर तक ऐसा करने के बाद मानवेन्द्र ने मेरी गांड के छेद को चौड़ा करना चालू किया. मैं और जोश में आ गया और लन्ड को पूरी रफ्तार से तेज़ी से अंदर-बाहर करने लगा।अब फच्च फच्च सटसट सटसट की आवाज तेज हो गई।मेरा लौड़ा पूरा अकड़ गया और तेज़ पिचकारी छोड़ दी. ये सब आपको दूसरी सेक्स कहानी में लिखूंगा कि कैसे मैंने मामी को लंड चुसाया और उनकी गांड मारी.

मैं आपका आजाद गांडू एक बार फिर से अपनी आपबीती गांड मराने की गे सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ. कुछ दिन ठहर कर एक मकान और दुकान देख कर मैंने अनु और कमल को मुम्बई बुला कर शिफ्ट कर दिया.

मादरचोद सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं एक बार मेरा मां मुझसे चुदवा चुकी थी. मौसी अपनी गांड की चुदाई से खुश होकर बोली- आज मालूम पड़ा कि पीछे से करवाने में उतना ही मजा है, जितना आगे करवाने में. वो ये सुनकर बोलीं- ओके अब बोल, तू हम दोनों के साथ क्या क्या करना चाहता है?मैं बोला- हां मेरी रंडी बुआ, मैं तुम्हें और ऊपर में सो रही मेरी चुदक्कड़ बुआ को चोदना चाहता हूं.

1 मिनट की सेक्सी

पूर्व की भांति यह सेक्स कहानी भी मेरे और मेरी पतिव्रता सुंदर बीवी संजना के जीवन पर ही आधारित है.

मजा आया … जब लौड़ा गांड में ऐसे ट्विच करता है, तो गांड को लगता है कि पानी आ गया और गांड शांत हो जाती है. mp3][/audio]मैं और जॉन्सन दोनों ही चुदाई करने के लिए बिल्कुल ही तैयार हो चुके थे।दोनों ही पूरी तरह से गर्म हो गए थे. वो बिल्कुल मेरे सामने वाली टेबल पर बैठा करती थी।वो ज्यादा जीन्स और टॉप ही पहनती थी।मैं जहाँ बैठा करता था वहाँ से उसके टेबल के नीचे से उसके कमर के नीचे का पूरा हिस्सा मुझे साफ साफ दिखाई देता था।पहले मेरे दिल में उसके लिए गलत ख्याल नहीं आते थे.

मैं- वो तो ठीक है … पर मुझसे ये तुम्हारे हां करने की खुशी बर्दाश्त नहीं हो रही है. उधर से उसने भी मेरे लंड को मुंह में भर लिया और जोर जोर से चूसने लगी. सेकसी वीडीयो साडीवालासुबह जब नींद खुली … तो मानवेन्द्र मेरे सिरहाने ही बैठा था और मुझे ही देख रहा था.

धीरे-धीरे उन्होंने पूरा दूध पी लिया।फिर मैंने अपने हुस्न को थोड़ा और उभारा। अपने स्तनों को अपनी नाइटी से थोड़ा और बाहर निकाल लिया. ये कहते हुए मैंने काफ़ील को आंख दबा कर इशारा किया कि आपकी बीवी आपके सामने कुछ असहज महसूस कर रही हैं.

मैं उसके लंड को पकड़ते हुए बोली- ये साला तो हमेशा ही तैयार रहता है मेरी फाड़ने के लिए. कुछ पल तक हमारे हाथ एक दूसरे के अंगों पर चलते रहे और फिर होंठ मिले तो ऐसे मिले कि एक दूसरे को निचोड़ने लगे. फिर जब मैं उसकी गोद से उतरी, तो उसने अपने लंड को सही किया और अंगड़ाई लेकर बोला- मेरी फीस!आज अभिषेक ने मुझे ज़्यादा सुख दिया था और ज़्यादातर प्रोजेक्ट उसने ही बनाया था.

पर करूं तो क्या करूं?शायरा वैसी लड़की नहीं थी जो कि आसानी से हाथ आ जाए. मैं समझ गया कि वो भी मुझे नंगा देखना चाहती है।फिर मैंने दो मिनट के अंदर अपने कपड़े उतार फेंके. मैं- ठीक है तो जैसा तुम चाहो, पर मैं तुम्हें हमेशा प्यार करता रहूँगा.

फिर थोड़ी देर चुदने के बाद अब मैं पूरी तरह से इंजॉय कर रही थी।करीब 10 मिनट तक विक्की लगातार मुझे चोदता रहा.

पुण्या कसमसा रही थी और चूचियों में हो रहे दर्द को बर्दाश्त करती जा रही थी. लेकिन मैं भी उनकी बात क्यों मानता, मैंने फिर से मां के मुँह में लंड दे दिया और जोर जोर से उनके दूध मसलने लगा.

लेकिन उसे पता चला तो?वो बोली- किसी को पता नहीं चलेगा मेरे राजा!अब मैं उसे जोर जोर से चोद रहा था।फिर मैंने उसे बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और उसके ऊपर आ गया और लन्ड को चिकनी गुलाबी मखमली चूत में घुसा दिया।हम दोनों मस्ती से चुदाई का मज़ा लेने लगे और एक दूसरे को चूमने लगे।वो नीचे से गांड उठा उठा कर लंड लेने लगी. वो भी गर्म होकर कसमसाने लगी और बोली- क्या कर रहा है? आ जायेगा कोई, इतना बहुत है, अब छोड़ मुझे. उस समय भी वो दर्द और आनंद दोनों को ही अपने कर्तव्यपालन के भाव में छिपा ले गयी थी।मेरी वही संस्कारी पत्नी आज अधनंगी होकर अपनी चूचियां और चूत-गाँड सब मसलवा रही थी.

आज मैं फिर से अपनी पिछली मादरचोद सेक्स कहानीगलतफहमी में मां ने मुझसे चुदाई करवाईका आगे का किस्सा सुनाने के लिए हाजिर हूँ. यानि बस मिलो, पेलो और दफा हो लो!”मानवेन्द्र ने मेरे शर्ट के बटन खोलते हुए ही मुझे गाल पर से गर्दन तक किस करना चालू कर दिया. मैं- पहली बार मैं और वे खलिहान में लेटे थे … उन्होंने मुझे चोद दिया था, पर जांघों के बीच वे छेद में नहीं डाल सके थे.

बिजली बीएफ दूसरी बार उसने मुझे बहुत देर तक अलग अलग पोजीशन में चोदा।शाम को मां पापा के आने से पहले तक उसने मुझे तीन बार चोदा और मेरी चूत सूज गयी पूरी. मेरी मां किसी बाजारू रांड के जैसे चुदाई के इतने नशे में थीं कि झट से पलट कर कुतिया बन गईं.

डॉक्टर सेक्सी चुदाई वीडियो

एक तो शायरा की चुत पहले ही गीली होकर चिकनी हो रखी थी … ऊपर से मैंने भी अपने लंड पर काफी थूक लगा लिया था. टेबल साफ़ करके जब पिंकी कमरे में आई तो रवि ने उसे भींच लिया और लगा बेतहाशा चूमने. हैलो मैं सन्नी वर्मा, एक बार फिर से थ्रीसम सेक्स में चुत चुदाई का मजा लेकर हाजिर हूँ.

बड़े मामा की शादी 2005 में हुई थी और उनका एक बेटा भी था, जो अभी चार साल का था. मैं बोला- क्या तुम्हारे एथलिटिक फिगर का राज यही है? या फिर तुम जिम में जाकर भी लौड़े खड़े कर देती हो?रोजी- हां, जब मैं जिम में वर्क आउट करती हूं तो जवान लड़के मेरी तरफ लार टपकाते रहते हैं. भाभी जी की सेक्ससाला मादरचोद मेरी बीवी को मेरे सामने चोदता है … और खुद की बीवी की बारी आई … तो अब उसकी मां चुद रही थी.

मेरी योनि से पानी अभी भी सूखा नहीं था और वो दोबारा से गीली होनी शुरू हो चुकी थी.

मैंने भाभी को पलंग के सहारे झुका कर घोड़ी बना दिया और पीछे से भाभी की चूत में अपना लंड डाल कर उन्हें चोदने लगा. राजू चाचा ने संध्या चाची की दोनों चूंचियां थामते हुए कहा- ये जरा फिर से बता मेरी रखैल … क्या सच में तूने भाभी की चूत देखी है?संध्या चाची गांड उछालते हुए रुक गईं और बोलीं- इसमें झूठ बोलने की क्या बात है.

उसके बाद चाचा जी अक्सर हमारे घर आने लगे और हमने कई बार सेक्स किया।बाद में जब उनकी शादी हो गयी तब उनका मेरे से मिलना काम हो गया. उसने भी टांगें खोल दीं … तो मैंने दो उंगलियों को चुत के अन्दर कर दिया. इतनी आवाज मत कर!फिर वो मुझसे बोली- राज … अगर तुमने इसकी गांड से लंड को दस मिनट से पहले निकाला तो मैं तुम्हारे लंड को नहीं बख्शूंगी.

उसने मेरे कान में कहा- मजा आया?मैंने कहा- हां बहुत … पर अब उठो और मुझे सीधे होने दो.

मुझे आज अपनी बीवी बनाकर चोदो मेरे राजा!मैं जोश में आ गया और लन्ड को तुरंत चौथे गियर में डाल दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।फिर मैं बोला- भाभी जी, आपका राज आज आपको कली से फूल बना देगा!वो बोली- भाभी नहीं, अफसाना बोलो। आज से तुम मेरे शौहर हो, मैं तुम्हारी रखैल हूं. तो उस समय फिल्म में पति तो केवल शॉर्ट्स में ही बाहर चला गया और गेट खोल कर दोस्त को सिटिंग रूम में बिठा आया. जरा बताना तो कितनों की गांड मार रखी है तुमने!सनी मेरे होंठों को चाटते हुए बोला- मेरी जान तुम्हें तो सब पता ही है.

हँसाने फ्रेंड जोक्सलड़की की पहली चुदाई कहानी के पिछले भागपहली चुदाई के लिए बॉयफ्रेंड ने लंड ढूंढामें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे ब्वॉयफ्रेंड सूरज के चाचा जी ने मुझे चोदने के लिए नंगी कर दिया था. मौसी काम कला की ज्ञाता थीं, वो लंड के साथ लंड के आजू बाजू ऊपर नीचे चूस रही थी.

झारखंड का सेक्सी वीडियो भेजो

इतने में सन्नी अपनी बियर पूरी करके न्यासा के पास आ गया और वो उसकी जानघों को सहलाने लगा. मैंने सोच लिया था कि यहां से जाने से पहले मामी की चुदाई करके ही जाऊंगा. दोस्तो मैं चन्दन सिंह, मेरी पिछली सेक्स कहानीअतृप्त भतीजी और उसकी मौसी सास की चुदाई- 5में आपने पढ़ा था कि मैंने साले की बेटी और उसकी मौसी सास की चूत गांड की चुदाई किस तरह की थी.

मैं आप लोगों से भी कहना चाहता हूं कि आप भी एक बार शनाया को जरूर आजमायें. कुछ देर बाद रोहित वापस नीचे आ गया तो शिवम ऊपर खिसक कर उसके होंठों तक पहुंच गया और अब वह उसके होंठों का मर्दन करने लगा और हिना उसके साथ भी ठीक उसी तरह सहयोग करने लगी जैसे रोहित के साथ कर रही थी।इसके होंठ कितने सेक्सी हैं। रोहित ने उखड़ती हुई सांसों के साथ कहा।चोद लो. मैं- मैंने सोचा तो था कि तुमसे अब कभी नहीं मिलूंगा और चुपचाप घर चला जाऊंगा.

एक दिन हम गप्पें लगा रहे थे, तो वे यादों में डूब गए- आप नसीम भाई को जानते हैं?मैं- हां लम्बे गोरे स्लिम … बहुत खूबसूरत हैं. उसने अपनी गांड ऊपर उठाई और सिर को नीचे बेड पर टिका कर चूतड़ ऊपर उठा लिये. डेजी बोली- मुझे तो 40 मिनट तक नचाया था इसने, तेरी चूत में 20 मिनट में ही कैसे झड़ गया?मैंने डेजी को समझाया- जान … तेरी चूत मेरे मुंह में थी.

अब मैंने वादा कर लिया था, सो मुझे अपनी पजामी और पैन्टी को उतारकर सामने की दीवार पर उसकी तरफ पीठ करके खड़ा होना पड़ा. इब के करेगा? जा कोई आ जावगा?मैं बोला- लंड न ठंडा तो कर दे इब।चाची बिना बोले बाहर गई, चारों तरफ देखा, फिर अन्दर आ गयी और लंड पकड़ कर हिलाने लगी।मैंने चाची का मुंह पकड़ कर होंठ मिला लिए और मैं जोर जोर से चूसने लगा.

मगर वो बस लगा हुआ था; किसी भी तरह वो झड़ने की हालत में नहीं लग रहा था।कुछ देर बाद एक बार फिर वो रुका, मैं समझ गई कि ये फिर अपना आसन बदलने वाला है।वो मेरे ऊपर पूरी तरह से झुक गया एक बार मेरे होंठों को चूमा और मेरे दोनों हाथों को अपने गले में डाल लिया.

तो उन्होंने बताया कि उन्हें एक बार बहुत ही वाइल्ड सेक्स करने का मन है, जिसमें कोई मजबूत मर्द उन्हें एकदम रगड़ कर चोदे और उनकी हर इच्छा को पूरी कर दे. नेपाली वाला सेक्सपर मैं भी क्या करता? मैंने अपना हाथ ऐसे ही तुमसे मजाक करने के लिए उठाया था, पर तुम्हारे उस डरे हुए प्यारे से चेहरे को देखकर मेरी तो तुमसे मजाक करने की भी हिम्मत नहीं हुई. सेक्स वीडियो फुलअचानक मेरे पूरे बदन‌ में ज्वार की एक‌ लहर सी‌ उठी और वो‌ लहर पूरे बदन में दौड़ते हुए मेरे लंड पर आ थमी. रास्ते में जहां कहीं सड़क पर अंधेरा आता, तब अनु मेरे लंड को सहलाने लगती.

प्रियंका की आह निकल गई … और वो भी अब आंखें बन्द करके उंगली के मजे लेते हुए बड़बड़ाने लगी- छिनाल साली, बड़ी जल्दी गर्म हो जाती है … अभी तेरी जवानी किसी ने चूसी नहीं है ना … रुक कल आ रहा है तेरा जीजू, जो तेरी सारी जवान चूस लेगा.

यदि आप कुछ और बात करना चाहते हैं तो मुझे मेरी ईमेल पर भी लिख सकते हैं. मेरी ड्रेस आगे से पूरी तरह से मेरी चूत के पानी में भीग चुकी थी।अनिल चुपचाप बिस्तर के सामने लगे सोफ़े पर बैठा हुआ अपनी चिर अभिलाषा को पूरी होते देख रहा था. जब मैं हंसती हूं तो मेरे गालों पर डिम्पल दिखाई पड़ते हैं, मगर अंदर से मैं बहुत ही चतुर और शरारती औरत हूं और मुझे मर्दों को सजा देना और तड़पाना बहुत पसंद है.

मैं यही सब सोचते हुए अपनी चूत सहला रही थी कि इतने में ही पंकज मेरे पास आकर झुककर अपने दोनों हाथों से मेरी चूचियाँ दबाते हुए मेरे बेचैन रसीले होंठों को चूसने लगा।अचानक हुए इस हमले से मेरी चूत ने बेसाख़्ता ही फिर से पानी छोड़ दिया और मैंने भी तुरंत ही एक हाथ से उसकी पीठ सहलाते हुए सीधे हाथ से उसके लंड को टटोलते हुए पैंट के ऊपर से ही पकड़ लिया और उसे प्यार से सहलाने लगी. पर रात को 2-2 लड़कियां और 2-2 लड़कों की जगह एक लड़की एक लड़का हो जाते थे. मेरे घर के लोग मेरे साथ नहीं हैं … और पड़ोस की भाभी ने मुझे अकेला कभी लगने नहीं दिया.

इंडियन ब्लू फिल्म सेक्सी इंडियन

अब मेरा लंड ढीला पड़ने लगा तो मोना बोली- ले डेजी, तेरा आशिक तो अब ठंडा पड़ने लगा. मैं रुक गया तो उसने पूछा- क्या हुआ?मैंने बोला- कंडोम महसूस नहीं हो रहा है. विज्ञापन में लिखा हुआ था- ओपन माइंडेड और किंकी मॉडल रोज़ी से मिलें.

वो बोली- हां यह बात तो है … लेकिन हमें भी तो अपने घर का डर होता है कि कहीं किसी को पता ना चल जाए.

ऊपर से भैया की पिटाई से मेरा पैर भी टूट गया था, जिससे मैंने कहीं भी दाखिला नहीं लिया था.

आप बस इतना समझ लीजिए कि ये नाइटी बस नाम के लिए एक कपड़ा था, जो मेरे बदन पर था. वो- अच्छा तो ये सोच रहे थे तुम!मैं- अगर ये सोचता मोहतरमा … तो बताता नहीं. हिंदी सेक्सी फिल्म भेजिएअपनी चूत से मन ही मन कह रही थी कि सहेली अब इंतज़ार ख़त्म हो गया है … और मेरे पिया ने तुम्हारे लिए नए करारे नौ इंच के लंड का इंतज़ाम कर दिया है.

मैं झट से उठ गई और लपक कर अयान के लोवर के ऊपर से लंड के उभार को छूने लगी. भाभी को अपनी सेक्स जरूरत को पूरा करने के लिए एक नहीं दो लंड की जरूरत थी, इसलिए उसने हम दोनों को एक साथ ही बुक कर लिया था. मदहोशी में मैंने अपने आपको कांच की दीवार में सटा दिया और उसके सर को अपने हाथों से अपने पेट में घुसा लिया.

उसके आने के बाद मैंने भी बाथरूम में जाकर कपड़े उतारे और लंड धोकर एक बाथरोब पहन लिया. मैंने अनामिका की फोटो देखीं और जबाव दिया- हम्म … माल सी तो लग रही है … और इसके चूचे भी कुछ अलग ही दिख रहे हैं … ऐसा क्यों!प्रियंका- मैं आपको अनामिका की ब्रा की पिक भेजती हूँ.

उधर से- गुड आफ्टरनून मैम। रिसेप्शनिस्ट ने बताया कि आपने कुछ देर पहले ही चेक-इन किया है.

ऊपर मेरे मुँह पर अनु अपनी चुत चटवा रही थी और नीचे मौसी मेरे लंड को अपनी चुत से मत रही थी. पहले तो उसने मेरी गांड के छेद को खूब बढ़िया से चाट कर एकदम गीला कर दिया. जब तक वो आता, मैंने जानबूझ कर अपना दरवाज़ा हल्का सा खोल दिया … इससे उसको मेरे कमरे के अन्दर का सब नज़र बाहर साफ दिख जाता.

लड़के की शादी में क्या गिफ्ट देना चाहिए यह कह कर मैंने उसे गोद में उठाया और पर्दे के पीछे, बेड वाले पोर्शन में ले गया. मेरी तो गांड ही फट गयी और वह फिर से सोने लगी।अब मैं थोड़ी देर अपने मोबाइल में देखने लगा.

मैंने कहा- अभी तो कुछ किया ही नहीं और आप अभी तृप्त हो गईं!भाभी बोलीं- कर लो यार जो करना है … मुझमें तो अब जान बची नहीं है. मैं उसकी इस बात से हैरान था कि इस दौरान उसने मुझसे नजरें मिलाये रखीं. अब मैं गाड़ी में ऊपर से नंगी बैठी थी, अगर कोई चादर हटा देता तो मेरी सारी फिल्म दिखने लगती.

सेक्सी घोड़ा वाली फिल्म

राजू चाचा भी थोड़ी देर में संध्या चाची की चूत में झड़ गए और दोनों निढाल पड़ गए. मनीषा ने अचानक म्यूजिक बदल कर कोई सेक्सी इंटिमेट म्यूजिक एलबम लगा दी थी जिसमें लड़के लड़कियां बीच साइड पर जबरदस्त चूमा चाटी का डांस कर रहे थे. मैंने उसकी दोनों टांगें फैला कर मैं अपना लंड उसकी बुर पर घिसने लगा.

मैं कभी उसकी उठी हुई गांड पर फेरता, तो कभी उसकी पूरी पीठ को महसूस करता. ’संध्या चाची- हां बस ऐसे ही पेलते रहो मेरे राजा … चोदो और जोर से चोदो अपनी भाभी की चूत फाड़ दो … आआआआह रे और जोर से चोद सूअर की जने … नहीं तो तेरी बहन को किसी हाथी के लंड से चुदवा दूंगी हरामी रंडी के मूत … भड़वे रांड के पिल्ले … मार मेरी चूत … आंह हां मैं मैं गईईई ईई.

शायद उसको मुझसे प्यार हो गया था और मुझे तो उससे पहली नज़र में ही प्यार हो गया था।एक दिन मैंने उसको अपने दिल की बात बता दी.

मैंने उससे कहा कि मैं तेरी बड़ी बहन हूँ, तू भी चाहे तो ये सुख ले सकती है. मैंने पीछे से उसको पकड़ कर डांस किया तो उसको मेरा खड़ा लंड अपनी गांड में चुभा. फिर वो कमरे के बाहर गयी और ऐसे दिखाने लगी कि जैसे वो अपने भाई के रूम में जा रही है जो अकेले में मुठ मार रहा है.

मैंने दिल में ही सोचा कि उन पैड को तो उस दिन मैंने ममता जी को दे दिया था. यह न्यू स्टोरी ऑफ़ सेक्स तब की है जब मैं 18 साल से कुछ महीने ऊपर का हो गया था. काफ़ी कम उम्र में ब्याह के बाद मैंने ही उसकी अनछुई चूत की सील तोड़ कर किलाभेदन किया था.

अब आगे ससुर ने बहू को चोदा:फ्रेश होकर आने के बाद मैंने उसके हाथ से रूई ली और उसकी चूत पर लगे अनचाहे बालों को साफ करने लगा.

बिजली बीएफ: मदहोशी में मैंने अपने आपको कांच की दीवार में सटा दिया और उसके सर को अपने हाथों से अपने पेट में घुसा लिया. मेरा मन भी उसका साथ देने के लिए उसके कंधों को पकड़ कर उसके होंठों को मेरे होंठों की खुली आज़ादी दे रहा था.

मैं उठ गया था, आपको आवाज दी, आप नहीं आयीं, मुझे डर लगा तो मैं दुबारा सो गया. अब जब भी वो हाथ नीचे करता तो मेरी जांघ पर ही रख देता और सहलाने लगा. मैंने भी अपनी तरफ से टमाटर सॉस की बोतल, टिश्यू पेपर … ऐयरफ्रेशनर … एक सिगरेट की डिब्बी, दस समोसे का पार्सल बंधवाया और सब सामान लेकर वापस चल दिया.

मैंने उनकी गांड में से अपना लंड बाहर निकाला और हम दोनों पलंग पर बैठ कर चाय पीने लगे.

वहां की एक खास बात ये थी कि आप सस्ते में दिन भर के लिए ऑटो रिक्शा या वैन बुक कर सकते हो, जो दिन भर में आपको लगभग 7-8 जगह घुमा देगाहमने भी 400-400 ₹ में दिन भर के लिए 3 ऑटो बुक किए. लंड को आजाद करने के बाद वो महीनों से भूखी औरत उसको अपने हाथों से प्यार से सहलाने लगी. अभी तुम बाहर जाओ।मैंने भी उसको सीधा किया और बोला- देख जल्दी चूस दे.