चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी नंगी चुदाई वीडियो दिखाइए

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी भाभी की मस्त चुदाई: चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ, मैंने उनसे साफ़ भाषा में पूछना ठीक समझा- क्या आप मेरी चूत में अपना लौड़ा डालोगे?उन्होंने हां में जवाब दिया.

आपण सेक्सी व्हिडिओ

फिर बहूरानी अपने फोन से किसी का नंबर डायल कर बात करने लगीं; अंग्रेजी में हुई उस वार्तालाप का सारांश इतना है कि अदिति ने किसी होटल में रूम भी ऑनलाइन बुक किया हुआ था और उसी होटल के कस्टमर केयर से अपने पहुंचने की सूचना दे रहीं थीं. गांव का सेक्सी देहातीउसने मुझको कई बार मैसेज किया लेकिन मैंने उसके मैसेज को कोई जबाब नहीं दिया.

नेहा- क्या करती रहती है तू, तेरी चूत का भोसड़ा बना हुआ है?ममता- जब मेरी इस चूत में लंबा चौड़ा लंड जाएगा तो इसका भोसड़ा तो बनेगा ही. सेक्सी वीडियो भाभी की चोदा चोदीमैं भी उसके सामने बिल्कुल नार्मल हो गया … जैसे मैं भी चुदाई की घटना से बिल्कुल अनजान हूं.

उस दिन के बाद जब भी हमें मौका मिलता, हम दोनों एक बार जरूर चुदाई कर लेते.चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ: गीत का ब्लाउज हटते ही लाल रंग की जालीदार ब्रा से बाहर निकलने की कोशिश करती हुई उसकी चूचियों को मैंने झट से आजाद कर दिया.

मैं- अब ऐसा क्या कर दिया उन्होंने?पूनम बुआ- शराब पी पी कर वो पहले ही अपना शरीर बेकार कर चुके हैं.क्योंकि कुछ दिन बाद मैं फिर से वापस जाने वाला था, मेरी छुट्टियां ख़त्म होने को वाली थीं तो मैंने उससे आने की हां कह दी.

छोटी लड़की की देसी सेक्सी वीडियो - चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ

मैं भी नीचे से अपने हाथों से उसकी गांड को सहारा देते हुए अपनी गांड हिला हिला कर कृति का साथ देने लगा.उसका अब भी कोई विरोध न पाकर मैंने उसे दोनों हाथों से दबा लिया और उसके होंठों पर किस करने लगा.

वो बोला- मैडम लंड तो आप मुँह में लोगी नहीं … तो थोड़ा सा हाथ से ही मसल दो ताकि अच्छे से कड़क हो जाए. चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ मेरी बड़ी दीदी यानि जिनकी बच्ची थी, वो काफी खूबसूरत थीं और बहुत ही ज्यादा गोरी भी.

पापा जी नमस्ते!” पानी का गिलास मुझे पकड़ा कर बहूरानी बोलीं और फिर विधि पूर्वक मेरे पावों छू कर नज़रें नीची करके खड़ी रहीं.

चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ?

अपनी पैन्ट, शर्ट व बनियान उतार कर चड्डी के ऊपर से ही मैंने अपना लण्ड सहलाया और बेड पर आ गया. मैंने अपना एक पैर उसके पैरों पर रखा और हल्के हल्के ऊपर नीचे करने लगा. वो बोले- साली कुतिया, नौटंकी मत कर मादरचोदी … मैं जानता हूँ कि तू छिनाल औरत है.

ये बोल ही रही थी मैं … कि सागर ने बचा हुआ लंड भी चूत में पेल दिया।इस बार तो मैं बदहवास सी हो गई; मेरी आँखों से आंसू आ गए।अचानक से सागर मेरे होंठों को चूसने लगा और लंड मेरी की चूत में डाले रखा. उसी समय चाची चिल्लाईं- इतनी देर तक कौन सोता है … उठ जाओ केदार!मेरा सपना टूट गया और मेरी आंख खुल गयी. चाय नाश्ते के बाद मैं वहाँ से निकल लिया।उस दिन के बाद से लोलिशा और मेरी सेटिंग हो गयी.

मेरा दोस्त अपने गांव गया था और वो एक दूसरे दोस्त को चाभी दे गया था. जैसे ही लंड खड़ा हुआ मैंने उसे बिस्तर में पटक दिया और चूत के मुंह में लंड को रख कर रगड़ने लगा. मैं आपकी रंडी और रखैल बन कर रहूंगी ज़िन्दगी भर। आप जिससे बोलोगे उसी से चुदूँगी!फिर उन्होंने मुझे घोड़ी बनाया और अपना लम्बा मूसल लौड़ा मेरी चूत के मुँह पर रख कर एक हल्का सा झटका दिया।ऐसा लगा मुझे जैसे आज मेरी सुहागरात है।मुझे हल्का सा दर्द हुआ तो मैंने बर्दाश्त कर लिया।फिर उन्होंने एक ओर झटका दिया जिससे आधा लंड मेरी चूत को चीरता हुआ अंदर चला गया।इस झटके ने मुझे दिन में तारे दिखा दिए थे.

अब आगे बहू सेक्स की कहानी:आधे से ज्यादा मेहमान तो वरमाला होते रात में ही निकल लिए थे; बस वर वव्हू पक्ष के कुछ नजदीकी खास रिश्तेदार ही विदाई होने की प्रतीक्षा में रुके हुए थे. अपनी हैदराबाद सेक्स कहानी में मैं आप सभी पाठकों का स्वागत करता हूँ.

देसी फैमिली की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी बेटी के यार से चूत मरवाने के बाद उससे गांड भी मरवा ली.

[emailprotected]प्रिंसेस सेक्स कहानी का अगला भाग:तीन राजकुमारियों के साथ सुहागरात- 2.

आप सबसे विनती है कि अपने घरों में ही रहें और स्वयं को सुरक्षित रखने के साथ ही दूसरों को भी सुरक्षित रखें. मैंने चूमते चूमते उसकी चोली खोल कर ब्लाउज़ उतार दिया और ब्रा में चूचियों को दबाने लगा. मैं भी नीचे से लंड को और अन्दर तक घुसाने की कोशिश कर रहा था, पर मुझे कुछ खास मज़ा नहीं आ रहा था.

अदिति की चूत से झरती वो विशिष्ट गंध मुझे चुदाई के लिए व्याकुल करने लगी तो मैंने अधीरता से बहू की चूत के होंठ खोल लिए और अपनी दाढ़ी बहू की चूत के खांचे में रगड़ने लगा. जब मुझे लगा कि भाभी जी को नींद लग गयी है तो मैंने भी नींद का बहाना करते हुए उनकी चुत से अपने लंड को सटा दिया और आगे पीछे होकर धीरे धीरे अन्दर डालने की कोशिश करने लगा. अभिनव के लिए नीम्बू का मीठा वाला अचार भी आप भेज देतीं क्योंकि मम्मी आपको पता ही है कि अभिनव को नाश्ते में परांठे और नीबू का मीठा अचार ही पसंद है.

देसी गांड चुदाई कहानी में पढ़ें कि ओरल सेक्स के बाद मैं मौसी की जेठानी की गांड मारना चाहता था.

मैंने उसकी चूचियों पर अपने हाथ जमा दिए और अपनी गांड उठा कर उसकी चुदाई चालू कर दी. सुरजन ने जुबान चूत में घुसा कर ज़ोर ज़ोर से मेरी चूत चूसनी शुरू कर दी. उसने अपना फ़ोन उठाया और मुझे उसमें पिक्स दिखाने लगी जिसमें उसने मुझे प्रज्ञा की और अपनी एक फोटो दिखाई.

इस तरह उस रात राजेश ने मुझे बार बार चोदा और हर बार मेरी चूत में लंड की पिचकारी से गर्म गर्म वीर्य छोड़ा. उनसे इस तरह कि बात करने में मुझे भी मजा आता और मैं उनके साथ खूब बातें करती. जब दोपहर को मैं वापस आयी तो दरवाज़ा खुला था और रुबिका और शहज़ाद दोनों नंगे लेटे थे.

हमारे बीच प्रेम की बातें होने लगी थीं मगर अब तक हम दोनों ने एक दूसरे के साथ शारीरिक सम्बन्ध नहीं बनाए थे; हालांकि मैं उससे चुदने के लिए मन बना चुकी थी.

हनीप्रीत कॉलेज से वापस लौटी तो जसविंदर का हुलिया और बेडशीट पर लगे खून और वीर्यं के दाग देखकर समझ गई कि आज जसविंदर कौर भी चुद गई. उसकी आंख से आसू निकल रहे थे, खून की कुछ बूंदें उसकी चूत से निकल कर मेरे लंड और वृषण से होते हुए नीचे टपकने लगी थीं.

चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ तब मैंने उसे बिस्तर पर उल्टा लिटा दिया और अपना लंड उसकी चूत में हल्के से डालने लगा. उन्होंने मुझे बस एक मुस्कान दे दी और अपने आपको बाथरूम में जाकर साफ करने लगीं.

चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ वो दर्द से बिलबिला उठी और उसने मुझे इतनी जोर से जकड़ा कि उसके नाखून मेरी पीठ में घुस से गए. बड़ी बहन छोटी को अपने ममेरे भाई बहन के आपस में सेक्स की घटना बता रही है.

मैं उत्तेजित होने लगा और अपने हाथ उनके सर के पीछे ले जाकर उनके बालों को पकड़ कर उन्हें अपनी तरफ खींच लिया.

बीएफ चाहिए सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ

उन्होंने लंड निकाला खड़े हो गए और बोले- तू तो झड़ गई पर मेरा क्या होगा?मैंने मुस्कुराते हुए कहा- मामा मैं आपकी बहू हूँ, आपका पूरा ख्याल रखूगी. थोड़ी देर बाद अहमद के खर्राटे गूंजने लगे, मैं समझ गई कि अब वो नहीं उठने वाले. दीदी ने पूछा- मजा आया?मैंने कहा- दीदी, मैं तो आपको सनी लियोनी समझ कर चोद रहा था, सच में आप बहुत मस्त माल हो.

अफ़रोज़- अब क्या करना दरवाज़ा बंद करके आपा … तुमने तो सब देख ही लिया है. मैं उन्हें सब बता दिया कि डैड अब मॉम के सिर्फ पति भर हैं वो उन्हें सेक्स में संतुष्ट नहीं कर सकते हैं और घर में दादा दादी जी भी हैं. कल तक मैं अपनी चुत आइने में देखती थी और सोचती थी कि कब इस चुत में लंड जाएगा और आज देखो कैसी चार बच्चे वाली औरत जैसी चुत हो गई है.

कमरे में कूलर की आवाज़ के बावजूद हम दोनों के तेज़ी से धड़कते दिलों की धड़कन को आसानी से सुना जा सकता था.

हम दोनों पति पत्नी सेक्स में खुले विचारों के हैं, खुल कर चुदाई का मजा लेते हैं. जिसके कारण हम दोनों की जांघें आपस में टकरा रही थीं और पट पट की मादक ध्वनि उत्पन्न कर रही थीं. पांच मिनट बाद गीत मेरे पास आयी और पानी देती हुई पूछने लगी- आप क्या लेंगे कॉफ़ी या चाय?मैंने कहा- आपने चाय पर बुलाया था तो चाय ही लेंगे.

मेरे काफी देर समझाने के बाद वो नार्मल हुई और बोली- आपने भी मेरा दिल तोड़ दिया … अब मैं क्या करूं!मैं रुक गया और उसे दिलासा देते हुए उससे कहा- अच्छा गीत, तुम एक चाय और पिलाओ. इसके बाद से हम दोनों कई बार संभोग कर चुके हैं … और अब भी करते आ रहे हैं. वो अपनी मदमस्त वाली चुदाई करवाने लगी और अपनी गांड उठा उठा कर लंड चुत में लेने लगी.

इसी लिए उन्होंने एक बड़े की हैसियत से मुझे आगाह भी किया था कि तू झुक कर काम करती है तो लोग तुझे घूर कर देखते हैं, ये तेरे लिए अच्छा नहीं है. फिर जब मैंने आंखें खोलीं, तो पाया मां अपनी गांड को मेरी तरफ सो रही हैं.

कृति को इस बात की बहुत खुशी थी कि उसका विवाह बलशाली आल्फा यानि मेरे साथ हो रहा था. मैंने चाची के मम्मों को निचोड़ना शुरू कर दिया और तेजी से चोदने लगा. पिता जी मेरे छोटे भाई के जन्म के दो साल बाद एक कार हादसे में नहीं रहे थे.

चेयर को थोड़ा पीछे किया मैंने और यामिना का हाथ पकड़ कर उसे पीछे मोड़ा और स्कर्ट उठा कर, थोड़ा उसकी पैंटी को साइड में करके, लण्ड को चूत में डाल कर अपने ऊपर बैठा लिया.

मैंने कमरे की लाइट बन्द करके बस बाहर आंगन का एक बल्ब जलाए रखा जिससे अन्दर तक हल्की रोशनी आती रहे. उसने आगे कहा- क्या सोच रही हैं आप? यही कि आपके स्तनों का दूध प्रसाद में प्रयोग हो सकता है या नहीं. गोविन्द ने मुझे अपनी गोद में खींच लिया और मुझे बिंदु के सामने ही प्यार करते हुए मेरे बूब्स दबाने लगा.

वो दोनों बस दिखने में अच्छी थीं, हमें लग रहा था कि उसमें शायद एसी भी होगा. इतना पक्का था कि उन आठों में से एक मेरा भाई था, एक मेरे पति थे और एक मेरे जीजू थे.

सर ने लंड गांड के छेद पर दबाना शुरू किया … तो चाची कराहते हुए बोलीं- आहह आह छोड़ दो ना यार … काफी दर्द हो रहा है आईइ ईईई बस रुको मर गई ईईई आह. मैं दस मिनट तक लौड़े की सवारी करती रही … फिर मैं झड़ गई, तो उसने मुझे अपने नीचे ले लिया और मेरी चुत को चोदते हुए आह आह की आवाजें निकालने लगा. थकान के कारण हम तीनों, नंगे ही एक दूसरे को लिपटे हुए पलंग पर लेट गए.

वीडियो में बीएफ सेक्सी दिखाइए

जब दोपहर को मैं वापस आयी तो दरवाज़ा खुला था और रुबिका और शहज़ाद दोनों नंगे लेटे थे.

भाभी मुस्कुराकर बोलीं- अच्छा देवर जी … इतना प्यार करते हो मुझे!मैं- हां भाभी … मैं भैया से भी ज्यादा आपको प्यार करता हूँ. यूं ही दस मिनट तक हमने एक दूसरे के लंड चुत को चूस चाट कर बेहद गर्म कर दिया था. कुछ दिन बाद जब दीदी की बच्ची पैदा हुई थी, तब से मुझे उनको चोदने का और मन करने लगा था.

ममता- हां पर एक बात है …अभय बीच में बात काट कर बोला- उंगली करती है … है ना!ममता- वो तो करती ही हूँ पर …अभय- पर क्या बहना?ममता- मैंने लेस्बियन कई बार किया है. आप तो मेरे लंड के मजे लो बस … आह आह भाभी सच में आपकी चुत बड़ी टाईट है. सेक्सी वीडियो तापमानमैंने बिंदु को छेडते हुए पूछा- कैसी रही सुहागरात?बिंदु ने शर्माते हुए मेरे गले लग कर मुझे थैंक्स कहा.

जब तक तुझे पूरी नंगी करके, तेरा एक एक अंग चाट चाट के चूम चूम कर तुझे चोद न लूं मुझे तसल्ली नहीं होगी. शहजाद की ये बात सुनकर मैंने खिड़की से आवाज दे दी कि शहजाद तुम चिंता मत करो हम सब तुम्हारे सहारे ही हैं.

कभी कभी तो मैं उसकी कमर में हाथ डाल देता हूँ, पर तब भी वह कुछ नहीं कहती है. अब दोनों एक दूसरे को चोदने लगे।तब मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा. साथियो, ये मेरी पहली रियल ऑफिस गर्ल Xxx कहानी है, जिसे मैंने अन्तर्वासना के लिए पेश की है.

चाची सर के बदन को सहलाते हुए बोलीं- बाप रे … आपने कितनी बुरी तरह चोदा है. उसने मेरे फोन का उत्तर न मिलने के कारण मेरे ऑफिस में मेरे कुलीग को फ़ोन करके पूछा कि मैं कहां हूँ. अपने लंड पर लगाया और तुरंत उसे चोदने लगा।वो अपनी आवाज दबाते हुए बोली- थोड़ा तो रुक जाते।मैं उसे बिना रुके चोदने लगा और वो मेरी पीठ पर मुक्के मारने लगी.

स्टेशन पहुंच कर मैंने प्लेटफोर्म टिकट लिया और अन्दर जाकर ट्रेन की प्रतीक्षा करने लगा.

कभी अपने हाथ से मेरे लंड की मुठ मारती तो कभी अचानक से फिर मेरे लंड को अपने मुंह में ले के चूसने लग जाती. इधर मीरा के दिमाग में रितेश के लंड से उसी की भतीजी को चुदवाने का प्लान घूम रहा था कि वो किस तरह से रीमा को रितेश से चुदवा दे और चारो लोग खुल कर चुदाई का मजा ले सकें.

मैं किसी और के पास जाती भी नहीं हूँ, तो भला मैं किसी से क्या कहूंगी!उन्होंने सिगरेट सुलगाई और धुंआ छोड़ती हुई मुझसे बोलीं- मनीषा तुम्हारी जिंदगी की सारी जरूरतें पूरी हो सकती हैं. चाची भी खूब हंस हंस कर उनका जवाब देती।अब इतनी बच्ची तो मैं भी नहीं थी, मुझे लगने लगा के तोमर साब और चाची में कुछ न कुछ चल रहा है।पर अभी तक ये ज़ाहिर नहीं हुआ था मगर कब तक छुपता।एक दिन मैं ड्राइंग रूम में पोंछा लगा रही थी और चाची किचन में बर्तन धो रही थी कि अचानक ज़ोर से बर्तन गिरने की आवाज़ आई. आपको मेरी ये हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी इस बारे में जरूर लिखें.

अपनी टांगें फैला कर चाची ने मेरे सर को अपनी चुत पर दबाया तो मैं चुत पर थूक लगा कर चाटने लगा, जीभ अन्दर डालने लगा, उनकी क्लिट से खेलने लगा. ”ठीक है, मैं अमूमन दस बजे घर से निकलता हूँ, कल आपके घर की तरफ से होते हुए अपने ऑफिस निकल जाऊँगा. वो मेरे पास एकदम करीब आकर बैठ गईं और मेरा हाथ पकड़ कर बोलीं- कल रात के बारे में सोच रहे हो न!मैंने हां में सर हिलाया और कहा- सॉरी मौसी … वो मुझसे गलती हो गई थी.

चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ मेरी आंखें इस समय किसी मदमस्त शिकारी की आंखों से नशे में बोझिल थीं. मैं- आज पूरी रात मजा करेंगे मां, जल्दी से खाना बना लो, मैं जरा दुकान से कुछ सामान लेकर आता हूँ.

हिंदी बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

मैंने अपनी दो उंगलियों को चूस कर गीला किया और उनकी चूत पर रख कर उनकी चूत सहलाने लगा. मगर दीदी की हाईट थोड़ी कम है, वो 4 फुट 7 इंच की ही हैं, मगर मेरी दीदी दिखने में बहुत सेक्सी हैं. घर वालों के लाख जोर देने के बावजूद भाभी ने दूसरी शादी करने से मना कर दिया था.

मां अपने भाई यानि हमारे मामा से दिल खोल कर चुदवाती हैं और बापू भी अपनी बहन हमारी संगीता बुआ की ले चुके हैं. और उसने चुदाई की गति बढ़ा दी।वो धीरे धीरे आधे से ज्यादा लंड निकालता और फिर झटके से पूरा अंदर तक डाल देता।उसका हर झटका मुझे ऊपर को हिला देता और मेरे मुंह से आहह … अहह … आहह … आई … आई … स्सस्सी … स्सस्सी … स्सस्सी … आहह … अजय निकलने लगी।ऐसे ही वो मुझे 4-5 मिनट तक चोदता रहा और फिर थोड़ी देर बाद रुक गया और हांफते हुए सांस भरने लगा।अब तक मेरा दर्द भी काफी कम हो गया था और हल्का हल्का मजा भी आने लगा था. इंडिया सेक्सी पिक्चर हिंदी मेंइसी दौरान उनकी चुत गीली हो गयी थी … तो मैंने उंगली डाल कर चुत का सारा पानी भी निकाल दिया था.

उसका ऊपरी हिस्सा हवा में जोर जोर से हिल रहा था और चुत में से जोरदार पच-पच की आवाज आ रही थी.

जब मैं ज्यादी ही जोश में चूसने लगी तो वो बोले- बस बस … आह्ह … रुको. एक बार मुझे सोनिया भाभी को कुलदीप की गैरहाजरी में मोटरसाइकिल पर बिठा कर डॉक्टर के पास लेकर जाना पड़ गया.

मैं- ठीक है … तो मैं तुम्हारी सारी कुंवारी बहनों को चोदना चाहता हूँ. मैंने उसी के साथ एक होटल में खाना खाया और दोस्त को बाय बोलकर निकल गया. वो गांड हिलाती हुई बोली- आह चाट मेरी गांड अह्ह … और जोर से अक्षय … मेरी जान चाट लो … अह्ह अह्ह.

उसने कार सुधरने की बात पूछी तो मैंने कह दिया कि आज तो कोई मिस्त्री मिला नहीं, कल गाड़ी ठीक करवा के तेरे पास पहुंच जाऊंगा.

मैं जब तक कुछ समझ पाती कि वो अपने दूसरे हाथ से मेरी चूचियों को दबाने लगा. अपनी मेहनत से मैंने बहुत जल्द तरक्की भी कर ली और उसकी कारखाने में मैं सुपरवाइजर बन गया. ऐसा लग रहा था कि वह मेरी बात ही नहीं सुन रहा था … बस अपनी कहे जा रहा था.

बेवफ़ा से वफ़ा सेक्सीउन्होंने रोहन अंकल के लंड को अपने माथे से लगाया और मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. ह्म्म्मम … ठीक है पापाजी, डू व्हाट यू लाइक!” बहूरानी बोली और मेरे कंधे से सिर टिका दिया.

शिल्पी राज के बीएफ फिल्म

उन्होंने मुझे वाशबेसिन के प्लेटफार्म पर लिटा दिया और अपना गर्म लंड मेरी चुत में डाल दिया. अब तो अंकल मेरी चूत के अलावा मेरी गांड में भी अपना लौड़ा डालने लगे थे. वो मेरे से शुरूआत से ही बहुत खुली हुई थीं, कभी कभी वो अपना हाथ मेरे सीने पर रख देतीं.

कुछ देर बाद मुझसे रहा न गया तो मैंने उसका मुँह पकड़ा और अपने लंड को उसके हलक तक उतार दिया. मेरी उसके साथ दोस्ती हुई और कुछ ही दिनों उसकी मुझसे रोज बात होने लगी. मैंने मिहिका की चूत में लंड डाल कर फिर से जोर का झटका मारा तो मिहिका की हल्की चीख निकल गयी.

मैंने धीरे धीरे बात बढ़ाते हुए दोस्ती शुरू की, तभी उसकी रूम पार्टनर भी आ गई. सर्रररर की आवाज के साथ मूतने के बाद ऐसे ही झुकी खड़ी रही, जिससे पीछे से ममता की पूरी चूत और गांड का गुलाबी छेद अभय को दिखने लगा. उसको भी आज काफी दिनों बाद निखिल से चुदने का मौका मिला था तो वो भी एकदम गर्म थी.

लेकिन अब मैं कहां उसकी सुनने वाला था।उसकी गान्ड में अपनी उंगली घुसा दी और वो ‘उईई ईईई ऊईई ऊईई निकाल’ बोल कर चिल्लाने लगी. मैंने अपना एक पैर उसके पैरों पर रखा और हल्के हल्के ऊपर नीचे करने लगा.

तभी आज आपको हटा कर आपकी जगह ले ली।नीतू- कोई बात नहीं रूपाली, जितना मेरा हक़ है राहुल पर, उससे कहीं ज्यादा तुम्हारा है.

फिर मैंने अपने लंड का सुपारा गांड में डालने की कोशिश की पर लंड अन्दर नहीं जा रहा था. हिंदी गावरान सेक्सी”मैं समझा नहीं कि समस्या क्या है और मुझसे क्या मदद चाहिए?”बात दरअसल यह है कि जया की शादी को तीन साल हो गये हैं और अभी तक कोई बच्चा न होने के कारण उसकी सास रोज ताने देती है. एक नई सेक्सी वीडियोमैं वो बच्चा पैदा नहीं कर सकती थी इसलिए उसको मैंने इलाज के द्वारा रोक दिया. मैंने उसके मम्मों की तरफ देखा तो वो झुक कर बोली- क्या सालम खाने का इरादा है मेरी जान!तो मैंने कहा- हां, इरादा तो कुछ ऐसा ही है.

वो मस्ती से बड़बड़ाने लगी- ओ ऊपरवाले … क्या लौड़ा दिलाया है तूने … आह मेरे खुदा अपना करम यूं ही बनाए रखना … मेरे सरताज के लंड पर अपनी मेहर अता फरमा.

अब मैंने उसे व्हॉट्सैप्प मैसेज किया- आप ही ने फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी न … मैंने आपकी फ्रेंड्स रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली है. इसलिए मैंने पूनम बुआ को समय देना सही नहीं समझा; मैंने देर ना करते हुए लंड पर थोड़ा जोर लगाया और देखते ही देखते मेरा लंड पूनम बुआ की चुत में घुस गया था. दीदी मुझे लेटने की कह कर बाथरूम में चली गईं और दो मिनट बाद मेरे साथ लेट गईं.

मैं मिहिका के ऊपर आकर उसके होंठों को चूसने लगा, उसे मेरे होंठों में लगा अपनी चूत का रस बड़ा ही मस्त लग रहा था. मैंने उसी क्षण बड़ी तेजी से एक्शन लिया, चुत से लंड निकाला और गांड में डाल दिया. ममता सिसकारी लेती हुई बोली- हाय क्या कड़क मस्त गांड है तेरी!दोनों बहनों की चूत गीली हो गई.

बीएफ सेक्स जबर्दस्त वीडियो

जब पानी निकलने वाला था तो मैंने उसके मुँह में पूरा लंड अन्दर घुसा दिया. लंड खड़ा हो गया। मैंने सोच लिया कि आज अपनी जवानी से इनका जोश वापस लाऊंगी. दस मिनट तक मैं उसके होंठों का रस पीता रहा, फिर मैंने उसकी चड्डी में हाथ डालकर चुत में उंगली करना शुरू कर दिया.

अब मेरा शरीर भी अकड़ने लगा था और मैंने अपने लौड़े को तेजी से अन्दर-बाहर करना चालू कर दिया.

मैंने ऐसे ही लंड फंसाए रखा और दीदी के होंठों को, मम्मों को चूमने लगा, सहलाने दबाने लगा.

कुछ ही देर में मिहिका अपनी टांगों को हवा में उठाने लगी तो मैं समझ गया कि वो झड़ने को है. अब तो अदिति बिटिया की चुदाई और सिर्फ चुदाई होगी बस!” मैंने बहू को आश्वस्त किया. ओपन सेक्सी व्हिडिओजशन्नो की कामुक आवाजें बढ़ने लगीं और वो उम्म आह उह करके गांड आगे पीछे करने लगी.

भाभी भी सिसकारियां और तेज हो गईं- ओह्ह ओह्ह यस्स ओह्ह!वे जोर जोर से चिल्लाने लगी थीं कि पूरे घर में उनकी आवाज गूंज रही थी. दोस्तो, मेरे यार कुच्ची ने मेरे लौड़े के लिए मस्त जमीला की चुत का इंतजाम करने की तैयारी कर दी थी. उसने भी बताया कि मैंने भी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ तीन बार सेक्स किया था, लेकिन फिर हम दोनों ने और सेक्स न करने के लिए तय कर लिया था.

यदि किसी लड़की की झिल्ली फटी हुई होती है तो उसकी चुत से खून नहीं निकलता है. सुबह उठकर मैं सास से बोली- मां, अब तो मुझे गांव जाने दो?इससे पहले वो बोलती ससुर जी मुझे देखते हुए बोले- हाँ गोरी, क्यों नहीं … तुम्हें काफी दिन हो गये हैं.

अफ़रोज़- सच आपा?मैं- हां … अच्छा एक बात बताऊं, तू इस बात का अफ़सोस ना कर कि तेरे पास सिर्फ़ एक ही बहन है.

मैं उनके पीछे से देख रहा था और मैंने पीछे से ही उनके कंधे पर सर रखा था. अफ़रोज़- हां आपा … बल्कि मैं तो ये भी सोच रहा हूँ कि भगवान ने मुझे सिर्फ़ एक बहन क्यों दी. कॉलेज सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि एजुकेशन ट्रिप में हम एक इंस्टिट्यूट में गए.

नेहा भाभी सेक्सी मुझे देख कर आंटी बोलीं- बेटा क्या बात है … तुझे कुछ चाहिए?मैंने कहा- आंटी, मुझे अकेले सोने की आदत नहीं है. मैं सोच रहा था कि मुझे उर्वशी से ज्यादा प्रज्ञा पसंद थी और ये बात उर्वशी को भी पता थी.

मेरे बदन पर इस समय सिर्फ एक लुंगी ही थी जिसके नीचे मैंने कुछ भी नहीं पहना था. जब नहीं रहा गया तो आख़िर में मैंने उसके नाम की मुठ मार ली और लंड का पानी निकाल दिया. मैंने पूछा कि बताओ न … वो आपको क्यों नहीं चोदते थे?मौसी ने कहा- उस साले का बाहर कहीं चक्कर था.

बीएफ बीएफ 2019

मेरी सास अब मुझसे खुश रहती थी और मेरे ऊपर किसी तरह की पाबंदी नहीं थी. कुछ देर आराम करने के बाद हम दोनों ने पूरा घर ठीक किया और उधर से निकल आए. वो बोले- शबनम लंड कैसा लगा?मैं लंड चाटती हुई बोली- ये तो अहमद के लंड से ज्यादा बड़ा है.

अगले दिन राजेश और गोविन्द ने हम दोनों के लिए दुल्हन का लिबास लिया और हमें ब्यूटी पार्लर में सजने संवरने के लिए छोड़ गए. अंदर आते ही फ़लक ने मुझे गुड मॉर्निंग की और हाथ मिलाने के लिए अपनी सुन्दर नाजुक उँगलियों वाली हथेली मेरी ओर कर दी.

शीना ने भी अपने जीभ मेरी जीभ से मिलानी शुरू कर दी और मैं उसकी गांड पर हाथ फेरने लगा.

उसने मेरे लण्ड का सुपारा चाटना शुरू किया तो मेरी जीभ उसकी काली काली बुर के होंठ चाटने लगी. मैंने गर्म पानी से भरा हुआ कटोरा उठाया नीतू के पास चला गया।नीतू अभी भी वैसे ही आँखें बंद करके चादर ओढ़े पड़ी हुई थी।मैंने उसे जगाया और चादर उसके शरीर से हटा दी। मैंने उसकी एक टांग को उठा कर अपने कंधे पर रख लिया और उसकी चूत का मुआयना करने लगा।उसकी चूत कई जगह से सूज गई थी, दाने के पास भी एक दो जगह कट गया था. मेरे बिना कहे तुम्हें मेरी ख्वाहिशों का पता चल जाता है … यू आर सो नाईस.

लेकिन सुबह तक कोई नहीं देखता था और मुझे मन मारकर बिना लंड लिए उठना पड़ता. चाची की आवाज़ ज्यादा ना निकले इसलिए उन्होंने अपने हाथ को अपने मुँह पर लगा लिया था. पर इसके लंड से चुदवाने के बारे में मत सोचना, वो मेरा देवर है और बस मुझे ही चोदेगा.

पापा जी नमस्ते!” पानी का गिलास मुझे पकड़ा कर बहूरानी बोलीं और फिर विधि पूर्वक मेरे पावों छू कर नज़रें नीची करके खड़ी रहीं.

चुदाई हिंदी सेक्सी बीएफ: छोटी सी टेबल के कारण उसका सिर पीछे को लटक गया था, मैंने उसे वो भी ठीक नहीं करने दिया. बस हमें ऐसा तरीका आना चाहिए, जिससे हम सब एक दूसरे की जरूरत पूरी कर सकें.

अपने बेडरूम से अटैच टॉयलेट से मैं नहाकर निकला तो बहार जूस का गिलास पकड़े खड़ी थी. इधर अभय तो सोच कर पागल हुआ जा रहा था कि उसकी सगी बहन उसका लंड चूस रही है. मैंने आज तक कभी भी इन्हीं तीनों के अलावा किसी को बुलाया भी नहीं है.

धीरे धीरे बड़ी दीदी भी मुझे प्यार करने लगीं और हमारे बीच काफी मजाक होने लगा था.

आपको मेरी सेक्स विद क्यूट गर्लफ्रेंड की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें. मेरी 15 मिनट तक गांड बजाने बाद उसने मुझे सीधा किया और सारा माल मेरे मुँह पर छोड़ दिया. वो हंसने लगे और बोले- अब कुछ देर बाद तू बोलेगी प्लीज माल छोड़ दो मेरी चूत में ….