बीएफ वीडिओ

छवि स्रोत,देहाती सेक्सी वीडियो सूट सलवार में

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती देसी हिंदी बीएफ: बीएफ वीडिओ, पर इससे ज्यादा कुछ न हो पाता था क्योंकि मम्मी घर पर ही रहती थीं तो उनका डर रहता था.

घड़ी सेक्सी सेक्सी सेक्सी सेक्सी

उसका एक हाथ पूजा के सर के ऊपर और दूसरा अपनी चूचियों को मसलने में लगा था. हिंदी मूवी देसी सेक्सीबोलीं- मैंने तुम्हारे भैया का कभी मुँह में नहीं लिया है।फिर मेरे मनाने पर भाभी मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने चाटने लगीं। फिर हम 69 की पोजीशन होकर एक-दूसरे का गुप्तांग चूसने-चाटने लगे।बस 5 मिनट के बाद भाभी बोलीं- अब मत तड़पाओ।मैंने अपने लंड को भाभी की चूत पर रखा और जोर से धक्का मारा,भाभी की चूत में लंडघुसने से उनके मुँह से चीख निकल गई, भाभी बोलीं- आह.

तू तो बड़ी होशियार है रे, वैसे बात तेरी सही है उसको डराना नहीं है, मज़ा देना है। एक काम कर तू. चूत वाली सेक्सी वीडियो हिंदीमेरा ध्यान अब उसके लंड पर नहीं लग रहा था…वो फिर गुस्से में बोला- साली रंडी, मन भर गया क्या तेरा मेरा लंड पकड़ते-पकड़ते? नखरे मत कर और चुपचाप मेरी पैंट की चेन खोल!मैंने कुछ ना बोलते हुए चलती बाइक पर उसकी पैंट की जिप खोल दी.

अपने लंड पर मैंने थोड़ी सी पेस्ट्री की क्रीम लगाई और आंटी की चुत में लंड डालने लगा.बीएफ वीडिओ: मैंने अपनी कुर्सी स्नेहा के बगल में रख ली और उसके गले में हाथ डाल के उसे किस करने लगा और मैक्सी में हाथ घुसा के उसके दूध टटोलने लगा, वो भी मेरा साथ देने लगी, जल्दी ही वो मेरा लंड पैंट के ऊपर से ही मसलने लगी.

दोस्तो, मेरी कहानी के आठ भाग आप पढ़ चुके हैं, मुझे काफी मेल आये औऱ सभी ने कहानी की तारीफ की है, मैं आपको बता दूँ कि यह कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है.पिंक कलर की फूली हुई उसकी चुत और उस पर हल्के-हल्के बाल उगे हुए थे।मेरा लंड तो उसको चोदने के लिए एकदम लोहे जैसा सख़्त हो गया।वहाँ एक चटाई पड़ी थी, मैंने उसे चटाई पर बिठा दिया। वो बैठ कर मेरा पैन्ट खोलने लगी। मेरी पैन्ट खोल कर उसने जैसे ही मेरी अंडरवियर नीचे खींची, मेरा लंड तोप की तरह खड़ा हो गया।वो मेरे लंड का साइज़ देख कर डर गई और बोलने लगी- रोहित नहीं.

वीडियो सेक्सी अंग्रेज की - बीएफ वीडिओ

सुकांत सेकन्ड ईयर में था। मेरी उम्र तब यही कोई बाईस तेईस की रही होगी.इतना कह कर हम दोनों हंसने लगे और फिर से मैंने उसे अपने से चिपका लिया और उसके बूब्स पकड़ लिए और बोल उठा- भाभी, आपके मोम्मे तो सभी आंटियों में फेमस हैं और इतने दिन से इसे सिर्फ़ देखकर ही काम चला रहा था.

और कहा- इस लंड से मेरी गांड चोदो!मैंने तुंरत ही अपने मांग रख दी- ये तो मेरे लिए है… मैं लूंगी इसे!‘ठीक है. बीएफ वीडिओ थोड़ी देर के बाद मैंने उसकी चड्डी उतार दी, अब उसकीफूली हुई चूतसामने थी, आंटी की चुत पूरी साफ थी.

जब हम दोनों अलग हुए तो मैंने देखा कि मेरी चुत से मेरा और मुरुगन का मिला-जुला वीर्य और रज बह रहा था.

बीएफ वीडिओ?

कॉम पर यह मेरी पहली फैमिली सेक्स स्टोरी है जिसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपने मामा की बेटी को उसकी शादी के कुछ दिन पहले चोदा. क्योंकि मैं विरोध नहीं करता था।वैसे हॉस्टल में सभी मस्ती के मूड में रहते थे. मेरा लंड भी काफी देर से खड़ा है इससे मेरे पेट में हल्का सा दर्द भी होने लगा है.

जब तू चुदाई करता है मेरी तब तो बड़ा प्यार जताता है साला अब मुझे रंडी बोल रहा है!वीरू- अरे यार आपस में झगड़ा मत करो, वैसे टीना चुदाई के वक़्त तो तू खुद कहती है मुझे गालियाँ दो. गोल, कड़ी और कसी चूची थी मैडम की… देख देख कर मेरा दिमाग खराब हो रहा था. अब तक आपने इस सेक्सी स्टोरी में जाना था कि संजय अपनी मुँहबोली बहन की कमसिन लड़की पूजा के साथ अपने वासना का खेल शुरू करने वाला था।अब आगे.

फिर भी तुझे लगता है कि मेरे साथ तुम खुश नहीं रहोगी तो फिर मैं यहाँ कभी नहीं आऊंगा. मैं रुचिका की दोनों चूचियों को बारी बारी सहला सहला कर चूस रहा था, रुचिका भी भरपूर मज़ा ले रही थी. उसकी चुत चलनी की तरह पानी झाड़ने लगी।राधा- आह ससस्स काका का लंड कितना बड़ा है.

डॉक्टर के कहे मुताबिक़ मैं 7 बजे क्लीनिक गया और डॉक्टर ने फिर से मेरी तेल से मसाज की और हमने ओरल सेक्स किया. जो कि मेरे घुटनों से काफ़ी ऊपर उठा था और गाउन के नीचे ब्रा पेंटी भी नहीं पहनी थी।मैं दरवाज़े की तरफ़ गई और गेट खोला।जैसे ही डिलीवरी बॉय अन्दर आया, उसने आते ही मुझे हग कर लिया और ज़ोर से मेरे मम्मों को दबा दिया। मेरे मुँह से ‘आह.

हैलो अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानियाँ पढ़ने वाले मेरे दोस्तो, मेरी तरफ आप सभी को नमस्ते.

गौरव ने मेरी गांड में केवल दस बारह मिनट से ही लंड डाला था, लेकिन टाईट गांड में रगड़ खाकर लंड घुसने की वजह से उस तेइस साल के लड़के का और टिक पाना मुश्किल हो गया.

तभी मैंने उसकी योनि पर हल्के से चिकोटी भर दी जिससे वो उचक गई और उसकी जांघें जो कस के सिकुड़ी हुई थीं अब हल्के से खुलीं. मगर इस चूसा चुसाई में मेरा लुल्ला फिर से तन गया, जिससे मुझे दर्द होने लगा. मैं झिझकते हुए एक बार फिर बाथरूम में घुसा तो देखा की माला ने अपने शरीर को अपनी गीली साड़ी से ढक लिया था जो उसके जिस्म से बिल्कुल चिपकी हुई थी.

मेरे भी आनन्द की सीमा न थी मैं भी सिसकार रहा था- हाय मेरी रंडी, तुम्हारी बुर कितनी टाइट और गर्म है, ओह मेरी प्यारी बहन, लो अपनी बुर में मेरे लंड को… ओह ओह. लेकिन फिर भी मेरे ज़ोर देने पर वो पूछने को राज़ी हो गया।अगले दिन मैंने उससे पूछा- क्या हुआ और क्या बोला तमन्ना ने?तो तरुण ने कहा- नहीं भैया, वो बोलती है कि आप बहुत बड़े हो, मुझे नहीं करनी आपसे…मैंने मन ही मन सोचा- बड़ा हूँ तो क्या हुआ, मेरा लंड भी तो बड़ा है. कुछ अजीब लग रहा है।मैंने सुना तो अकचका गया। मुझे लगा जैसे वो जान जाएगी।मैं झट से गुप्ता जी को हटा कर वहां बैठ गया और बोला- कुछ नहीं डार्लिंग, तुम ज्यादा व्याकुल हो ना.

मैं आँख बंद कर के ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेने लगी और सोचने लगी अगर गांड चटवाने में गांड के अंदर इतनी गुदगुदी हो रही है तो गांड मरवाने में कितना मज़ा आएगा.

तब मेरा एक हाथ उसकी चूची पर आ गया था, एकदम नरम और ऐसी कि हथेली में समा ही नहीं रही थी. डिल्डो अभी भी पूजा की बुर में धंसा हुआ था और पूजा का रस बुर में से रिस रहा था. तो उन्होंने मेरा खड़ा हो चुके लंड को हल्के से दबा दिया और एक शॉर्ट सी किस देकर बोली- छुट्टी के बाद मिलना!और चाबी मेरी जेब में डाल दी.

पहले उसने सोचा ऐसे ही उसके सामने जाए, फिर ना जाने क्या सोच कर उसने ब्रा और पेंटी भी निकाल दी. तभी उसके पति का कॉल आया- किधर हो… इतनी देर कैसे लग गई?अब आगे क्या होता है वो मैं आपको इस देसी सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगा… आपके मेल का इन्तजार रहेगा. वहीं बस स्टैंड की साइड में कुछ झाड़ियाँ थीं जहाँ पर बस अड्डे की हल्की हल्की रोशनी आ रही थी, वो जाकर वहाँ पर पेशाब करने लगा और ठीक उसके साथ ही मैं भी जाकर खड़ा हो गया.

रयान को तो डबल बेडरूम फ्लैट चाहिए था जिससे आज नहीं तो कल निष्ठा आ ही जाएगी वो आराम से रह सकें.

बिल्कुल साफ़ और गुलाबी, गर्म होने वजह से फूली-फूली थी। मेरा जी कर रहा था कि खा जाऊं।मैं चुत की चुम्मी लेने को बढ़ा, तभी प्रिया ने मना कर दिया। वो कहने लगी- प्लीज़ पहले मेरी चूत में अपना लंड डाल दो और मुझे अपने में समेट लो; प्लीज़ जल्दी करो. वो भी मेरे लंड को अन्दर तक ले जा रही थी जो उसके गले के अंत तक जाकर उसकी दीवारों से टकरा रहा था.

बीएफ वीडिओ ऋतु मचल पड़ी और उसके मुंह से सिसकारी फूट पड़ी- आआह… म्म्म्म ममम… जोऊऊर… से ए ए… आआहहह!मेरी लम्बी जीभ ऋतु की चूत कुरेदने में लग गई. वो भी पूरी स्पीड में अपनी चूत चुदवाती हुई अपने मुंह से सिसकारियाँ निकाल रही थी, बोल रही थी- उई आः सी सी चोदो हाँ ऐसे ही.

बीएफ वीडिओ मूसल जैसे दो-दो लंडों से एक साथ चूत और लंड में चुदते हुए नाता आनंद के अतिरेक में आसमान में उड़ने लगी, अपनी आँखें बंद कर जोर-जोर से सिसकारियां भरने लग गई. हम एक-दूसरे को 10 मिनट तक किस करते रहे। थोड़ी देर बाद वहाँ सविता आई और उसने हम दोनों को चूमते हुए देख लिया।सविता ने कहा- टाइम बहुत हो गया है, अब चलो।वो दोनों वहाँ से चली गईं.

अब आप भी अपना दिखा दीजिए।तो मामा हंस कर बोले- क्या दिखा दूँ?वो मेरे मुँह से लंड शब्द सुनना चाह रहे थे.

मिया खलीफा जैसा और कॉन्टेंट

जमीला क्या कर रही है?तो रफीक बोला- भाई हम भी मस्ती कर रहे हैं, जमीला टीवी देखते हुए मेरा लंड चूस रही है. हम रूप नगर के चीते है और शिकार पर ही जीते हैं, और तुम हो हमारा शिकार. थोड़ी देर में मैंने सारा माल पेंटी में छोड़ दिया और पेंटी को साफ़ करके टाँग दी, थोड़ी देर बाद में नहाकर बाहर आ गया.

इस पर मैंने गुस्से का नाटक करते हुए चिड़चिड़ाती आवाज़ में कहा- मुझे कोई शौक नहीं है किसी पराये आदमी से चुदने का… तेरी ही गांड फ़टे जा रही थी कि मोना तुझे किसी और से चुदते देखना चाहता हूँ… मेरे को नहीं चुदाई करनी, ना राज से ना किसी और से!इतना बोल के मैं भुनभुनाती हुई दूसरे कमरे में भाग आई. सॉरी!मोना- अगर आपको पता लगे आपके पुराने दोस्त की जान को ख़तरा है तब भी आप मुझे नहीं बताओगे?सुधीर- ये आप क्या बोल रही हो. मैंने जल्दी से मैक डी से बर्गर पैक कराये और उसको चलने के लिए बोला पर वो किसी और ही मूड में थी, बोली- देखो जस्सी, बर्गर खाने का जो मज़ा यहाँ बैठ कर है, वो चलते चलते खाने में कहाँ.

अभी से सो रही है। मैंने धीरे से परदा हटाया और देखते ही दंग रह गई। ऊषा आंटी को पड़ोस वाले अंकल चोद रहे थे। मैं अचम्भे में रह गई कि ये क्या हो रहा है। मैं उनको देखने लगी.

अड़ोसी-पड़ोसी और इमारत के बाकी सब लोग क्या कहेंगे?अम्मा बोली- लोगों का क्या है वे तो जो मन में आएगा वही बोलते रहेंगे. एक दिन मैं जब मेरी बहन के रूम पर गया तो जीजा जी को मेरी बहन से अपने ऑफिस के काम से कहीं जाने की बात करते हुए सुना. तू हर बार उल्टी बात करता है।सुमन- अरे आप अब झगड़ो मत, और चलो टाइम हो गया है।यहाँ भी ऐसा कुछ नहीं हुआ जो बताऊं तो जाने दो। गोपाल घर आ गया होगा उसी के पास देख आते हैं शायद कोई काम की बात मिले।मोना तो पूरी रात की चुदाई से थकी हुई थी तो मस्त सो रही थी। जब गोपाल आया तो उसे जगाया और पूछा कि क्या हुआ।मोना- कुछ नहीं.

चाची और मेरे माँ की बहुत बनती है, चाची माँ से दो साल छोटी है, जी मेरे चाचा से चाची दो साल बड़ी है, अधिक समय दोनों (माँ और चाची) साथ में रहती हैं और बात भी करती रहती हैं. अगले दिन सुबह मेरी नींद जल्दी ही खुल गई और मैंने जब छेद से ऋतु के रूम में देखा तो वहाँ अँधेरा था. तू पति सुख से वंचित थी। यहाँ आकर तुझे थोड़ी संतुष्टि हुई है मगर जल्दी तू यहाँ से चली जाएगी और तेरी कुंडली का दोष तेरे पति को खा जाएगा.

उसने मेरे लंड के सुपारे को निकाला और जीभ से चाटने लगी। मुझे लगा जैसे मेरी जान निकल जाएगी. उनका पति रात को देर से घर आता था और मेरे ख्याल से वो जल्दी सो भी जाता था.

जब मैंने पैन्टी में हाथ डालना चाहा तो आंटी ने रोक दिया और बोली- अभी नहीं, अभी तो तुम्हारे लंड की स्पेशल तेल से मालिश करके इसको 8 इंच का बनाना है. उधर स्नेहा की बेचैनी बढ़ती जा रही थी और अब अपना निचला होंठ दांतों से दबाये मिसमिसाते हुए नीचे ऊपर खिसकने लगी और खुद चूत को उठा उठा के लंड से लड़ाने लगी और फिर उसे न जाने क्या सूझा कि उसने मेरा लंड अपने हाथ से कसके पकड़ लिया और सुपारा चूत के छेद पर दबाने लगी. लड़की हवस में पागल हो गई और कमर अपनी सीट से लगाकर आँख बंद करके आराम की मुद्रा में बैठ गई.

थोड़ी देर में वो केवल पेंटी में थीं… शायद वो बाथरूम से पहन आई हों।मैंने उनके बूब्स चूसने और मसलने शुरू किए तथा एक हाथ से उनकी चूत में उंगली कर रहा था और उनके चूत के दाने को खींच व मसल रहा था.

वो बहुत गलत है।फिर भाभी मेरे पास कभी सोने नहीं आईं। मैं उस दिन के बाद जैसे पागल सा हो गया। मेरे दिमाग में सिर्फ भाभी ही रहती थीं।कुछ दिन बाद मैंने भाभी से कहा- मेरा लंड बहुत दर्द कर रहा है।तो भाभी ने कहा- कभी-कभी मुठ मार का लंड को हल्का कर लिया करो. मैंने क्या किया? प्लीज़ आप मुझे ऐसे डराओ मत।संजय- सुमन ये तुम्हें डरा नहीं रहे. अरमान तुरंत बोल उठा- अरे वाओ, हम तो सोच ही रहे थे कि कैसे किया जाये, क्या तुमने भी कोई प्लान बना रखा है?अंशिका बोली- हाँ जी, हमने भी बनाया हुआ है प्लान!कहकर वो दोनों नीचे भाग गईं और नेहा उठ कर टेबल को गद्दों के पास करने लगी.

फिर ऋतु ने एक ही झटके में पूरा डिल्डो पूजा की नाजुक बुर में उतार दिया. तब तक तुम मेरे लिए चाय लेकर आओ।मोना चाय बनाने चली गई और काका पुराने ख्यालों में खो गया।ये दोनों कुछ सोचें.

बहुत जलन हो रही है, पता नहीं आज इतनी खुजली कैसे हो गई।टीना- अरे कुछ नहीं मेरे सोना. 5 इंच की थी।हम चारू और भाभी की कामुक चुदाई देख के बिन पानी मछली की तरह तड़पने लगी, एक दूसरी को सहलाने की जगह मसलने लगी, दबाने लगी, खरोंचने लगी।उधर चारू सर ने अपनी गति बढ़ा दी थी, उसने भाभी के लटकते भारी मम्मों को थाम लिया और अपनी गति पल प्रति पल बढ़ाते चले गये, भाभी के कूल्हों से चारू की जांघों के टकराने से मन को भेदने वाली सुरमयी ध्वनि निकलने लगी. चाची जल्द ही मेरा लंड पकड़ के चूत पर रगड़ने लगीं और धीरे से कान के पास काटते हुए बोलीं- अब डाल भी दो बेटा, और इन्तजार नहीं होता.

जोधपुर वीडियो सेक्सी

वो अपनी गर्म जीभ से धीरे धीरे उसे चाटने लगी फिर अचानक वो मेरा पूरा हाथ साफ़ करने के बाद बोली- यम्मी… मुझे तुम्हारा रस बहुत स्वाद लगा और काफी मीठा भी… क्या तुम मेरे रस के साथ अपने रस को चखना चाहोगे?मैं- हाँ हाँ… क्यों नहीं!फिर वो थोड़ा पीछे हठी और उसने अपना गाउन आगे से खोल दिया… मैं देख कर हैरान रह गया… वो अन्दर से पूरी तरह नंगी थी.

ये कहते हुए उसने मुस्कुराते हुए एक और जोर से झटका मारा, मेरी बहन ने जोर से सिसकारी लेते हुए कहा- आह. कीकू ने खुद ही उसका हुक खोल दिया और उसके दोनों गुलाबी बोबे आज़ाद हो गए. उसने लगभग पारदर्शी लाल रंग का कुर्ता पहना था और ब्रा भी नहीं पहनी थी.

यह कह कर मैं सीट से उठा तो वो मेरा हाथ पकड़ कर बोली- बैठो आराम से!फिर दो मिनट के बाद फिर से बोली- क्यों डर गये? मैं तो मजाक कर रही थी और मुझे एक नॉटी सी स्माइल दे दी. जिस लड़की को में पिछले 4 साल से पक्का दोस्त मानता था, आज मेरे साथ वो सब कुछ बांट रही थी. हिंदी सेक्सी वीडियो फुल आवाज मेंअब उसका दोस्त खड़ा हुआ और मेरे मुँह में लंड डाल के लंड चुसवाने लगा.

अब रोज़ दिन में मामी बेटे को सुलाकर मेरे पास आ जाती और मैं रोज़ मामी की चुदाई करता!एक दिन मामी ने कहा- तुम अपना सारा माल अपनी चूत में छोड़ देते हो, इससे मैं तुम्हारे बच्चे की माँ बन जाऊंगी. अब मेरा हाथ सिर्फ़ और सिर्फ़ उसकी गर्दन पर था एक तरह से वो आज़ाद थी और मेरे ऊपर गिरी होने की वजह से कभी भी जा सकती थी पर वो तो जैसे चाहती ही वही थी.

सुमित ने उस लड़की को कर में बैठाया, थोड़ा आगे गए तो उसने एक दारू की दुकान के पास गाड़ी रुकवाई और बाहर चला गया. गुलशन जी अब हावड़ा मेल की स्पीड से चुदाई करने लगे थे और अनिता इस हमले को सह नहीं पाई, उसकी चुत का झरना बहने लगा. फ्लॉरा एकदम घबरा गई और जॉन को ढूँढने लगी, उस वक़्त जॉन किचन में नाश्ता बना रहा था.

और मेरे सामने आकर बैठ गई, अपना मुंह खोलकर मेरे फड़कते हुए लंड को अपने मुँह के अन्दर ले लिया और उसे चूसने और चाटने लगी. फिर मैंने कहा- बाबू इसको मुँह में डालो!पहले तो मना करने लगी, पर बाद में उसे मुँह में डाल कर प्यार से चूसने लगी, साथ ही धीरे-धीरे पूजा ने मेरे गोलियों को सहलाना शुरु कर दिया. सीधे सीधे रेंगिंग दो, नहीं तो पूरा साल परेशान रहो।फ्लॉरा- हे कूल गाइस.

वो चूत पर थोड़ा सा थूक देता और फिर जीभ से उसे चूत पर फ़ैलाने लगा!इस प्रक्रिया में मेरी जानेमन को बहुत मजा आने लगा, वो जोर-जोर से सिसकारी भरने लगी.

जिससे वो बच्चा पैदा कर नहीं पाएँगे और इसका कोई इलाज भी नहीं है।यह सुनकर दीदी रोने लगी. मैंने आदी से कहा- ये क्या कर रहे हो? मैं तुम्हारी भाभी हूँ।आदी ने कहा- भाभी इतना बनने की जरूरत नहीं है, मुझे पता है आप भी यही चाहती हो।मैंने कहा- ये गलत है।आदी ने कहा- कुछ गलत नहीं है…और मुझे और कस कर पकड़ लिया, मेरे बूब्स मसलने लगा और साथ ही साथ किस भी कर रहा था.

मैं चाहता था कि पहली बार अपना माल उनकी चूत में ही निकालूं इसलिए मैंने अपना लंड उनके मुँह से निकाल लिया. बीच-बीच में वो जोर के झटके मार कर पूरे लंड को मेरी बहन के अन्दर-बाहर करने लगा. दोस्तो, ये मेरी लाइफ की रियल स्टोरी भाई बहन का सेक्स की है जो मैं किसी अपने से शेयर नहीं कर सकती थी और ना ही अपने मन में दबा कर रख सकती थी, तो मैंने डिसाइड किया कि मैं अपनी सेक्स स्टोरी अन्तर्वासना के साथ शेयर करूँगी ताकि मैं अपने मन को हल्का कर सकूं।मेरा नाम सपना है, मैं बी.

अंत में बची लड़की की निगाहें जब मुझसे मिली तो वो हौले से मुस्कुरा दी और पीछे सर करके लेट गई. ये क्या चल रहा है। एक बाप अपनी बेटी से कैसे खुल कर नंगी सोने को बोल रहा है। ना ना ज़्यादा सोचो मत. आपको बुरा तो नहीं लगा ना?मोना ने झुक कर अपने दूध हिलाते हुए कहा- अरे मैंने अभी तो कहा.

बीएफ वीडिओ कॉफ़ी पीते पीते मैं यही सोच रही थी कि आज तक मैं कितने लड़कों से चुदी थी मगर एक रात में 5 बार मुझे बजाने वाला कोई ना मिला था और मैंने भी अपनी जिंदगी में चुत से इतना पानी कभी नहीं छोड़ा था. ऐसा करने से उसको बहुत जल्दी नींद आ जाती है और एक बार वो सो जाए तो ढोल नगाड़े भी बजा दो.

सेक्सी मेहरारू

अपने क्लाइटोरिस पर इस तरह लंड की रगड़ उसे बर्दाश्त नहीं हुई और वो एकदम से डिस्चार्ज हो गई, झड़ने लगी. ब्रा की इलास्टिक चाची की कमर और बगल पर लगे, तो उनके मुँह से जोर से चीख निकल गई. मैंने उसके मम्मों को दबाते हुए एक हाथ से उसकी पैंट के साथ पैंटी भी निकाल दिया.

जमीला- डार्लिंग राजेश, ये बताओ कि साबुन लण्ड वाली रानी से लगवाओगे या चूत वाली से? हा हा हा…मैं- चलो यार आज दोनों मिलकर नहलाओ. मेरी गर्म कहानी के प्रथम भागसदाबहार मुस्कराहट वाली गोरी गुड़िया-1में आपने पढ़ा कि कैसे मेरी बीवी को क्सक्सक्स xxx मूवी में गांड चुदाई यानि एनल सेक्स की ब्लू फिल्म में काम करने का मौक़ा मिला. जलवा सेक्सी वीडियोमेरी चूत में दर्द के साथ जलन भी हो रही थी और मुझसे उठा भी नहीं जा रहा था.

मुझे पता है कि आप यह भी जानना चाहोगे कि अगली सुबह क्या हुआ… मगर वो बात मैं आपको तब बताऊँगी जब आप मुझे मेल करोगे और पूछोगे कि मेरी प्यारी सेक्सी कोमल भाभी अगली सुबह क्या हुआ था…तो अब मेरी तरफ से आपके प्यारे प्यारे लौड़ों को बाइ बाइ…[emailprotected].

मानसी मेरा हाथ पकड़ते हुए- मान भी जा मेरी जान, बता कहाँ चलना है?मैं- कहीं नहीं जाना अब तेरे साथ ओये. एक बड़ा बेटा तो दिल्ली में जॉब करता था और छोटा बेटा विक्की यहीं घर में रहता था.

वो ‘ऑक्…’ करके रह गई और मुस्कुराते हुए बोली- मजा आ गया।मुझे भी अब लगने लगा कि मेरा लंड से भी कुछ बाहर आने वाला है, इस चक्कर में सुधा को जोर-जोर से चोदने लगा, सुधा भी आह-ओह करती जा रही थी, हम दोनों के शोर से मरियम की आँखें खुल गई और वो हम दोनों की चुदाई देखने लगी. मेरे ओके बोलते ही वो अपने बेड पर घोड़ी बन गई और सलवार खोल कर उन्होंने अपनी गांड मेरी तरफ कर दी. उसमें मैंने बताया था कि कैसे सपना आंटी ने, जब मैं मात्र 18 वर्ष का था तो मुझसे चुदवा कर मुझे चोदने में ट्रेंड किया था.

टीना- अगर तू मेरी बात माने तो तुझे मैं एक बहुत ज़्यादा मज़ा लेने का आइडिया दूँ?सुमन- हाँ दीदी बताओ, मैं आपकी बात कैसे नहीं मानूँगी.

ये क्या चल रहा है। एक बाप अपनी बेटी से कैसे खुल कर नंगी सोने को बोल रहा है। ना ना ज़्यादा सोचो मत. ‘अंकल जी, आप मेरे मुहाँसे ठीक करने के लिये इतना कुछ कर रहे हैं मेरे लिये… मेरा भी तो आपके प्रति फ़र्ज़ बनता है अब! आप जो कहोगे वो मैं करूंगी. आते ही मैं सीधा बाथटब में लेट गई और हाथ देकर रोहित को भी अंदर बुला लिया.

हिंदी में सेक्सी विडियो हिंदीचाची की दूसरी चुदाई करने के बाद चाची की सांसें अभी भी तेज चल रही थी. शराब का सुरूर छा रहा था और पीटर की उंगलियाँ मेरी चुत और गांड में भूकंप मचा रही थी.

नेपाली सेक्सी फुल एचडी में

फिर हम दोनों अलग हुए, मामा जी फ्रेश होने बाथरूम चले गये, मैं पूरे कपड़े पहन कर किचन में चाय नाश्ता बनाने लगी. ?’वो बोली- अब वो मेरी चूचियों को देख कर अपना मोटा लंड निकाल कर हाथ से सहला रहा है।मैं समझ गया कि अब वो भी फैन्टेसी में जा चुकी है, मैं बोला- और बोलो डार्लिंग. उसने भी एक हाथ रेलिंग पर रखा और दूसरा हाथ से मेरे कंधे का सहारा ले लिया.

आपने तो अंधेरा कर दिया, कुछ दिख नहीं रहा।संजय- अरे पगली दोपहर का टाइम है लाइट की क्या ज़रूरत है और अंधेरे में ज़्यादा मज़ा आएगा. ?भाबी अपनी चुत पर हाथ फिरा कर बोलीं- अगर दिखा दोगे, तो देख लेंगे।मैं मन ही मन में खुश हुआ।मैंने भाबी से बोला- आप दरवाजा बंद करके मेरे रूम में आ जाओ।वो बोलीं- ओके आती हूँ।वो जब तक मेरे रूम में आतीं. मेरी नज़र जब मामा जी लंड पे पड़ी, मैं सहम सी गयी, इस बार सबसे ज़्यादा विशाल और मोटा लग रहा था, एकदम कड़ा सा ऊपर की ओर तना हुआ था.

इस बार प्लान हमने मनोज के घर का बनाया क्योंकि मेरे घर में छुटियों की वजह से कोई न कोई आता रहता है. ऋतु भी धीरे-धीरे मेरे सामने आ कर बैठ गई, उसका चेहरा मेरे लंड से सिर्फ एक फुट की दूरी पर रह गया. तेरे लिए ही अकड़ के फौलाद के रॉड जैसा हो गया है ये सण्ड मुसण्ड… आजा फटाफट.

मैं मना करने लगी और बोली- आज बहुत मोटा और लंबा है, मुँह में नहीं जा पाएगा. मगर उसने भी ठान लिया था आज वो सुधीर से पूछ कर ही जाएगी तो उसने एक चाल चली और सुधीर उसमें फँस गया.

ऐसे मैंने चड्डी इसलिए निकाली कि तेरे मज़ा रस से ये खराब ना हो।पूजा- वो तो ठीक है मामू मगर आपकी फुन्नी आर्यन से कितनी बड़ी और मोटी है!संजय- तूने कब देखी आर्यन की फुन्नी?पूजा- मॉम उसको नहलाती हैं.

उसने अपने चूतड़ थोड़ा उठाए और मैंने जीन्स को निकाल दिया। अब वो ब्लैक कलर को पेंटी में बड़ी ही खूबसूरत लग रही थी। मैंने ऊपर से उसकी चुत के ऊपर हाथ फेरा. गांव की देसी ब्लू फिल्म सेक्सीजब देखो चुत और लंड की बातें लेकर बैठ जाती है।टीना- अबे चुप साले बहनचोद मुझे ज़्यादा ज्ञान मत दे. सनी लियोन वीडियो सेक्सी हिंदीकोई दो मिनट तक कॉमन छेद को चोदने के बाद मैं अपनी बिल्ली की गांड में ट्रान्सफर हो गया और मजे के साथ अपना टोपा आसानी से अन्दर घुसा दिया. पाँच मिनट के बाद उसने मेरे ऊपर उठ कर बैठ कर अपने कूल्हों को हिलाया और जब मेरा लिंग उसकी योनि के अन्दर ठीक से सेट ही गया तब वह उचक उचक कर उसे योनि के अन्दर बाहर करने लगी.

और कुछ दिन ऐसे ही गुज़र गए।एक दिन मैं छत पर बने अपने रूम में सोकर देर से उठा.

वो देखने में बहुत खूबसूरत थी, उसकी लंबाई थोड़ी कम थी लेकिन मस्त चूचियां और उठी हुई गांड बहुत सेक्सी थी. हाँ मानती हूँ मैं संजय को पसंद करती हूँ मगर उसकी वजह क्या है ये तो सब को पता ही है। अब ये उसको चोद कर छोड़ दे या प्यार करे. प्लीज मुझे इस सेक्स स्टोरी पर मेल करके जरूर बताना।[emailprotected].

सुमित तो इतना ज़्यादा उत्तेजित हो गया था कि फिर से साले ने मेरी चुदाई कर डाली. मैं पूरी ताकत से आंटी की चुत चोद रहा था, मैं झटके मार रहा था और थोड़ी देर बाद मेरा पानी निकलने वाला था तो आंटी की चुत में ही पानी छोड़ दिया. थोड़ी देर हम लेटे, फिर मेरा लंड तैयार हो गया, मैंने उनकी चूत में अपना लंड रखा और एक झटका दिया पूरा लंड चूत में चला गया.

वीडियो लड़कियों की

फिर ऋतु ने एक ही झटके में पूरा डिल्डो पूजा की नाजुक बुर में उतार दिया. फिर भी डरते डरते कई बार उसे कोचिंग के टाइम बाइक पर बैठा कर दूर जंगल में ले जा के या पास में बांध की तलहटी में चोद कर उसकी प्यास बुझाई भी!इसके लिए मैंने उसे टिप्स दीं थी कि वो सिर्फ सलवार कुर्ता पहन के आयेगी और इनके नीचे ब्रा या पेंटी नहीं पहनेगी साथ में मैंने उसे ये भी सिखाया कि चूत के सामने जो सलवार का हिस्सा होता है वो वहाँ की सिलाई उधेड़ दे जिससे बिना कपड़े उतारे उसकी चूत में मैं लंड पेल सकूं. 10 मिनट के बाद वो झड़ गयी पर मैं अभी झड़ा नहीं था, मैं लगातार शॉट लगा रहा था.

और वो लड़का भी दूर के एक कोने की तरफ अपनी भारी सी गांड मटकाता हुआ और अंगड़ाई लेता हुआ पेशाब करने के लिए चला जा रहा था.

टीना- अरे वो तो अभी छोटा है, कभी किसी असली मर्द का चूस कर देख, फिर कहना तुझे कैसा मज़ा मिलता है.

अब आज के बाद बस तू मज़े ही लेना।राधा कुछ ना बोली, बस मुस्कुरा कर काका को देखने लगी। इधर मोना भी संतुष्ट हो गई थी, वो राजू के सर पे बड़े प्यार से हाथ घुमा रही थी।मोना- आह. आगे की कहानी अगले भाग में… आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते हैं साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते हैं. बंदर और लड़की की सेक्सी वीडियोतुम बताओ मेरे लंड के रस को मैं किधर निकालूँ?मैंने कहा- भाई जहाँ आपका मन हो.

बस दो मिनट बाद उन्हें भी मजा आने लगा और भाभी के मुँह से आवाज आने लगी- जोर से. लड़की सीधी होकर बैठ गई और लड़के ने अपना आधा सोया हुआ लंड जिप के अंदर वापस डाल लिया और दोनों पहले वाली पॉजिशन में आराम से बैठ गये. टीना के साथ-साथ सब हंसने लगे।साहिल- टीना ये क्या फिल्मी डायलॉग मार रही थी तू?टीना- अरे मजाक यार.

मैंने बड़ी उत्सुकता से पूछा- तो यहाँ से बाहर निकलने वाली सभी लड़कियाँ क्या चुदवाती हैं?वो बोला- अरे नहीं रे पगले, ज़्यादातर तो अपने दोस्तों के साथ ही होती हैं, हम तो कोई एक ढूंढते हैं, जो अकेली हो. उसकी बात सुन कर मुझे एक बार तो झटका लगा लेकिन अपने को सम्हालते हुए मैंने कहा- अम्मा, आप यह क्या कह रही हो.

तब तक संजय ने लंड गांड में डाल दिया था। एक दर्द की लहर फ्लॉरा के पूरे जिस्म में दौड़ गई।संजय अब ‘दे घपाघप.

मैं थोड़ी देर बैठा रहा और फिर मैंने अन्दर जाकर देखा तो वहां कोई नहीं था. उधर सामने से जग्गी अपना लंड मेरे मुंह में पेले जा रहा था और मदमस्त हो रहा था. उसने मुझे फिर बिस्तर पे लेकर दो बार और चोद दिया और हम दोनों वहीं बिस्तर पर एक दूसरे की बाहों में सो गए.

इंडियन सेक्सी वीडियो हीरोइन और अगर कोई दिक्कत होगी तो मैं हूँ न!उसी समय चाची आ गई चाची बोली- हाँ बेटी, अब ठीक हूँ… वैसे अशोक ने पूरा ख्याल रखा है. रफीक- आहह… भाईजान जोर से फाड़ो मेरी गांड को और जोर से… आज तुम मेरी बहन सबीना की गांड भी ऐसे ही चोदना.

मामी ‘आ हह हां आह आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… अहह हह हा’ की आवाज़ कर रही थी. बांधने के बाद उसने डंडा एक तरफ फेंका और मुझे अपने पास बुलाने का इशारा किया. अन्तर्वासना की टीम को प्रणाम जिनकी वजह से आप तक हिंदी सेक्स स्टोरीज पहुँच पाती हैं.

हिंदी सेक्सी फिल्म वीडियो

और मसाज करने लगा। फिर एकदम से भाभी की ब्रा का हुक खोल कर हाथों को आगे ले जाकर उनका नाड़ा खोल दिया।भाभी ने भी मदद की तो मैंने जल्दी-जल्दी उनकी सलवार उतार दी।भाभी ने नीचे पैंटी नहीं पहनी थी. सुलेखा बार बार अपने पैर से मेरे पैर को दबा रही थी जबकि मैं रीना रानी की नंगी जांघें सहला रहा था. जैसे ही सुलेखा नंगी हुई तो रुचिका ने थोड़ा सा केक उठा कर उसकी गांड में लगा दिया और बोली- अब देख, तेरी तो गांड भी फाड़ दी मैंने!इधर अरमान नेहा की चूचियाँ चूसने में मग्न था, नेहा भी आँखें बंद करके सिसकार सिसकार के मज़े ले रही थी.

डॉक्टरआंटी ने करीब 10 मिनट मेरे लंड को चूसाऔर मैंने भी उनके मुँह को चूत की तरह चोदते हुए उनका मुंह अपने वीर्य की पिचकारियों से भर दिया. तभी चाची भी वहाँ आ कर बिस्तर पर बैठ कर मुझसे मुंबई वाली मामी के बारे में बहुत सी बातें पूछने लगी.

फूफा जी का एक हाथ मेरे गले में था और दूसरा हवा में लटक रहा था, जब में उनको बेड के ऊपर लिटाने लगी तो उनका वजन ज़्यादा होने के कारण संभाल नहीं पाई और खुद भी उनके ऊपर ही गिर गई.

उन लोगों ने मुझे जूनागढ़ से लौटते समय बड़ौदा 2 दिन उनके साथ रुकने का निमंत्रण दिया था और वादा भी लिया कि मैं जरूर आऊं. ऐसी परिस्थिति से मैं परिचित था तो उसके दर्द की परवाह किये बगैर मैं उसे अपने नीचे दबोचे रहा और लंड को हिलाता डुलाता रहा. क्योंकि अब चाची को आनन्द आने लगा था इसलिए उत्तेजना वश वह भी तेज़ी से उचकने लगी थी और उनकी योनि में रुक रुक कर संकुचन होने लगा था.

और मेरे सामने आकर बैठ गई, अपना मुंह खोलकर मेरे फड़कते हुए लंड को अपने मुँह के अन्दर ले लिया और उसे चूसने और चाटने लगी. कुछ सोचा फिर कहा- ठीक है।वो बहुत खुश हो गया और बोला- ऐसे हाँ करने से नहीं चलेगा. दोस्तो, पाठकों द्वारा रवि के साथ मेरे रिश्ते के बारे में बार-बार पूछे जाने को लेकर मुझे यह गे सेक्स स्टोरी आगे बढ़ानी पढ़ रही है क्योंकि पाठकों की इच्छा है कि मैं रवि और मेरे रिश्ते का हर पहलू आप अंतर्वासना पर उजागर करूं इसलिए यह कहानी वहीं पर खत्म नहीं हुई थी… पाठकों की मांग पर मैं फिर से इसको बढा़ने जा रहा हूँ.

नीचे सफ़ेद रंग के उसके ब्रा में उसे विशाल बोबे बड़े मुश्किल से फंसे थे.

बीएफ वीडिओ: रोते रोते मैं अपना हाथ पीछे ले गई तो पाया कि अभी तो उसके लंड का केवल सुपारा ही मेरी गांड में घुसा है. माला के ब्लाउज के ऊपर वाले दो बटन ही सिर्फ बंद थे और सोते हुए ऊपर सरक जाने के कारण उसके दोनों उरोज उसमें से बाहर निकल गए थे.

आप चेंज करो, मैं अभी फ्रेश हो जाती हूँ।गोपाल- जान ये कमरे का हाल ऐसे क्यों है? चादर नीचे पड़ी है सब अस्त-व्यस्त सा है. नहीं तो तुम्हारी मॉम आ गई तो सुबह सुबह शुरू हो जाएगी।फ्लॉरा- ओके पापा उठती हूँ मगर आप अन्दर कैसे आए डोर तो बंद था?जॉय- तेरा सर बंद था. नाख़ून अच्छे से तराशे हुऐ और उन पर पर्पल शेड की नेल पोलिश लगी थी जो उसके गोरे हाथों पर खूब जम रही थी.

अब मैंने चुदाई की स्पीड और बढ़ाई और कुछ देर बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया.

’उसके ऐसे कहने से मेरे में दुगना जोश आ गया और मैंने जीभ उसकी चुत के अन्दर तक फिराने लगा। वो जोर-जोर से मुझे गालियां देने लगी- आआहह. अब तक की इस सेक्स स्टोरी इन हिंदी में आपने पढ़ा था कि मोना की पड़ोसन मीना उसके लिए एक कमसिन काम वाली तलाश कर लाई थी और ये दोनों उसीलौंडिया की मचलती जवानीको लेकर चर्चा कर रही थीं. वो पीछे जो पार्क है ना, वहीं रुक जाना, मैं से जल्दी वहाँ आकर तुझे अपने साथ ले जाऊंगा और हाँ बैग में अपनी कोई पुरानी टी-शर्ट रख लेना याद से.