बोलो बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,सुहाग वाला सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी ओपन दिखाइए: बोलो बीएफ फिल्म, इस कारण मेरी मां अपनी बहन पर पूरा विश्वास करती थी कि मेरी बेटी बहन के पास सुरक्षित रहेगी.

सेक्सी गंदा गाना

अगले ही मिनट में दीदी कमरे में एक ट्रे में दारू की बोतल, गिलास और नमकीन के साथ अन्दर आ गईं. सेक्सी फिल्में अंग्रेजी सेक्सीमनोहर अपने हाथों में भर कर मेरे बड़े बड़े चूचे दबा रहा था और बीच बीच में मेरे चूतड़ों पर थप्पड़ मार रहा था.

मैंने पहले उसकी कुर्ती निकाली, जिसके नीचे उसने काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी. सेक्सी video'sऔर मेरी सहेलियों से कहा कि वो सब संभाल लें।फिर मैं विवेक के पास चली गई। वो मुझे लेने एयरपोर्ट आया। हम एक-दूसरे को देखते ही जोड़ से गले लग गए।वो मुझे लेकर अपने एक होटल ले गया और मुझे एक शानदार सा कमरा रहने के लिए दिया।उसने बताया कि ये उसके सभी होटलों में सबसे शानदार कमरा है.

इस डंडे को कभी कभार बैलों को हांकने के लिए इस्तेमाल कर लिया जाता था.बोलो बीएफ फिल्म: चाहे उनके वक्ष हों या गांड, उनके बदन का हर अंग, हर हिस्सा बहुत ही कोमल और मदहोश कर देने वाला था.

शायद आज ही वो दिन था जब मेरे लिंग की हस्तमैथुन होने की शुरूआत होनी थी.सुबह 9 बजे से 12 बजे तक रहूंगा और फिर मैं घर न जाकर आपके यहां आ जाया करूंगा.

सट्टा कपूर की सेक्सी - बोलो बीएफ फिल्म

वो मेरे तंबू को घूरने लगी और फिर हंसते हुए बोली- तू तो अब बड़ा हो गया है.फिर मुझे बेड से नीचे बिठाया गया और तीनों ने अपने लंड मेरे मुंह में ठूंसना चाहा.

जो तुम विजेता रही तो तुम जो कहोगी हम दोनों करेगे और मैं जीता तो आज हम दोनों में से कोई एक आज रात को तुम्हारी गांड चोदेगा. बोलो बीएफ फिल्म आह क्या मज़ा आने लगा था दोस्तो … मेरे दोस्त की सास लंड बहुत अच्छा चूसती थीं.

वो बार बार मेरी जांघ पर हाथ मार देती थी।फिर मैं हिम्मत करके और उससे और चिपक कर बैठ गया.

बोलो बीएफ फिल्म?

मैंने सुपारा चुत की फांकों में फंसाया और उनसे पूछा- दीदी आप चुदने के लिए तैयार हो न?दीदी- यस … पेलो. मेरी पिछली कहानी थी:दोस्त की सेक्सी बुआ की चुदाई की कहानीहुआ यूं कि एक दिन मुझे अपने दोस्त पीयूष का फोन आया. मैंने भी वक़्त की नज़ाकत को समझते हुए भाभी को अपने पास बुलाया और उनको इशारों में समझाया तो भाभी मेरे इशारों को समझ गई और एक आज्ञाकारी बच्चे की तरह अपनी ननद के होंठों को चूसने लगी.

पति ने भी लगभग 15 मिनट की पारी खेली और फिर मेरे जिस्म का भोग लगा कर प्रसाद के रूप में मेरी चूत में अपना वीर्य भर दिया. उसके ब्रा के हुक अपने दांतों से खोलकर मैंने उसके बूब्स आज़ाद कर दिए।फिर मैं उसके बूब्स को चूसने लगा और एक हाथ से उसके दूसरे बूब्स को रगड़ कर लाल कर दिए। फिर मैं उसके पेट पर चूमने लगा और उसकी नाभि को अपने जीभ से चोदने लगा।अब वो भी जोश में चिल्ला रही थी और बिन पानी मछली की तरह तड़प रही थी।फिर मैंने उसकी पैंटी निकाल कर फेंक दी. वो मदहोश करने वाली आवाजें निकाल रही थी।मैं और तेजी से उसके मम्में दबाने लगा.

अपनी बनियान उठा कर अपना शरीर दिखा कर मुझे चूत चुदवाने के लिए उकसाने लगा. कुछ देर बाद मैंने लंड चुत से बाहर निकालकर फिर से एकदम से डाला, तो वो चिल्ला पड़ीं. दीदी ने रूम का दरवाजा खोला तो मैं उनको देख कर हतप्रभ रह गया।मैंने सरिता दीदी को जब साड़ी में देखा तो देखता रह गया.

खिड़की से अन्दर पहुंचते ही उसने मुझे जोर से गले लगा लिया और मैंने उस पर चुम्बन की बरसात कर दी. उसने जैसे ही मुझे देखा तो उसका चेहरा मानो जैसे खिल सा गया हो और वो फौरन मेरे पास आया और बोला- यहां क्या कर रही हो?मैं बोली- मैं तो अपने कपड़े उतारने आयी थी.

मैं- बहुत मजा आया भोसड़ी के … चल अब तू आजा चोद दे भड़वे मुझे रंडी की तरह.

अगले दिन फिर मैं सासू मां की चूत के बालों की सफाई करने में लगा हुआ था.

क्योंकि रिश्ता पसंद करने का पूरा फैसला मेरे छोटे भाई और उस लड़की के पास था. उन्होंने मुझसे कहा कि अब रहा नहीं जाता, मुझे चोद दो मेरे राजा … और मेरी इस प्यासी निगोड़ी चुत का बाजा बजा दो. पहले में धीमे से धक्के लगा रहा था, लेकिन धीमे धीमे करके मेरी स्पीड बढ़ गई और साथ में दीदी भी जोरों से कामुक आवाज़ करने लगीं.

लेकिन मैंने अपना पूरा लंड मामी के मुँह में डालकर उनके मुँह को तब तक चोदा, जब तक मेरे लंड माल उनके मुँह में फच्च फच्च करके झड़ नहीं गया. उसके कातिलाना नैन नक्श और मस्त उभारों से लग रहा था कि उसकी चूची की साइज 36 इंच की तो होगी ही. आंटी ने कहा- हां लेकिन उसे उधर कुछ काम भी था, जो होना पक्का नहीं था.

मैंने कहा- आपकी आंखों के आंसू तो कुछ और कह रहे हैं भाभी जी … प्लीज बताइए ना … आखिर क्या ऐसा हुआ है?तब उन्होंने कहा कि तुम्हें क्या बताऊं … तुम अभी नहीं समझ पाओगे.

मैं दो तीन मिनट तक बुआ के दोनों स्तनों को बारी बारी से चूसता और मसलता रहा. मौसी की पैंटी को मैंने खींचने की कोशिश की लेकिन उनकी भारी गांड के नीचे दबी हुई थी. मैंने एक पल भी नहीं लगाया और कह दिया- हां हां अंकल, क्यों नहीं … मैं राजी हूँ.

मैंने पूछा- क्या?उन्होंने लंड मसलते हुए कहा- ये … जो मुझे चुभ रहा है. मैंने कोमल दीदी को हाथों से पकड़ कर खड़ा किया और उनके कान के पास बोला- दीदी आज तक मैंने चूत में से टॉयलेट निकलते हुए नहीं देखा. मौसी को कुछ पता नहीं चलने दिया कि मेरे और मौसा के बीच में प्यार की कोंपलेंफूट चुकी हैं.

मैंने दीदी के सिर को पकड़ लिया और एक दो धक्के उसके मुंह में दिये कि तभी मेरे लंड से वीर्य निकल पड़ा जिसको दीदी ने अपने मुंह में अंदर ही पी लिया.

मैंने पूछा- काम हो गया क्या?वो मुस्कराकर बोली- हां, कुछ कुछ बन रहा है. मेरी बेचैनी देख कर वो हंसने लगीं और बोलीं- तुम्हारी मामी ही कहती हैं कि तुम उन्हें अपनी गर्लफ्रेंड कहते हो और मामा को भी पता है.

बोलो बीएफ फिल्म पापा की पर्सेनेलिटी अच्छी है। गोरा रंग, चौड़ी छाती जो बालों से भरी हुई रहती है. मैं पागलों की तरह भाभी के मम्मों को दबाने लगा और उनके भूरे निप्पलों को मुँह में दबाकर चूसने लगा.

बोलो बीएफ फिल्म वो इतनी गर्म हो गयी कि मुझसे उसकी चूत में लंड डालने के लिए मिन्नतें करने लगी. ऐसा कैसे हो सकता है?”अपने चूतड़ उछाल उछाल कर मेरे लण्ड का मजा लेते हुए रेखा विस्तार से बताने लगी:ये बात तब की है, जब मेरी शादी की डेट फिक्स हो गई और अपनी पारिवारिक मान्यता के अनुसार मैं शादी से पहले अपने ननिहाल गई, हम लोगों में शादी से पहले लड़की ननिहाल जाती है और ननिहाल के सारे खानदान से मिलकर आती है.

पर उन्होंने कहा- नहीं … ऐसा कुछ नहीं है … बस ऐसे ही घर में कभी कभी तो कुछ अनबन हो ही जाती है.

बुर की चुदाई सेक्सी एचडी

एक दिन मैंने उसे मिलने को बोला और वो तुरंत मान गई।मुझे यकीन नहीं हुआ क्योंकि लड़की से पहली बार मिलने जा रहा था और मेरी फट रही थी।अगले दिन सुबह उसने कॉल किया और मेरे को मिलने फॉनिक्स मॉल बुलाया।जब मैं वहां पहुचा तो उसे देखता ही रह गया क्या लग रही थी वो?5’6″ हाईट, 34-28-34 फिगर, दूध जैसा सफेद रंग, किसी को अंदर से हिला दे!एक पल तो लगा कि वो शादीशुदा नहीं है. सुभाष बोला- वो यहां नहीं है, चल अब निकल यहां से … मेरे घर पार्टी चल रही है. फिर इसे उठा कर इसकी साड़ी पेटीकोट समेत निकाल दिए … बस फिर आराम से बैठ कर इसके बदन से खेलना शुरू कर दिया.

फिर उन्होंने मेरी बीवी के जिस्म से हर एक कपड़ा अलग करके उसको नंगी कर दिया और खुद भी नंगे हो गये. मेरा लन्ड एक झटके में ही उसकी बुर में चल गया।अब मैं दीदी के ऊपर चढ़कर उसकी चूत में लंड पेलने लगा. उसके मुंह से सिसकारियां अब बहुत तेज हो गयी थी- आआह्ह … ऊहह … आईई … याह्ह … उम्म … आह … आह्हआ … आआआ आह्ह … करके वो अपनी चूत को चुसवाते हुए मदहोश हो गयी.

मैंने चौंकते हुए पूछा- ये क्या कर रहे हो, मामा?तुझे चोदने की तैयारी कर रहा हूँ.

मेरे लौड़े के सलवट खुलने शुरू हो गए, पर सब कुछ अचानक से नहीं हो सकता था. एक दिन मैंने देखा कि बुक में एक भाई बहन सेक्स स्टोरी थी जिसमें बहन की चुदाई हो रही थी. आंटी के पति किसी प्राइवेट बैंक में जॉब करते थे और उनके कोई औलाद नहीं थी.

वो बोली- मुझे भी जो मजा तेरे लंड से चुदने में आता है वो दुनिया के किसी और मर्द के लंड से चुदने में नहीं आ सकता है. मैं अच्छी तरह जान गया हूं कि ये सब तुम दोनों मां-बेटी की ही मिलीभगत है. रेशमा- आपको मुझमें क्या सुंदर लग रहा है?मैं जोश जोश में बोल पड़ा- आपकी …रेशमा- आपकी क्या … बोलो?मैं- नहीं नहीं भाभी.

जब उसकी चूत चिकनी हो गई तो मैंने अपने लंड पर कॉन्डम चढ़ाया और उसकी चूत के छेद पर लगाकर एक धक्का मारा. मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अन्तर्वासना की मस्त सेक्स कहानी मजा ले रहे होंगे.

उन्होंने पूछा- पूरा बोल न … यदि तू मेरा पति होता तो क्या?मैंने कहा- कुछ नहीं … बस …तो वो बोलीं- क्या सच में मैं तुझे इतनी पसंद हूँ?मैंने कहा- हां चाची … सच में आप मुझे बहुत सुन्दर लगती हो. फिर भी कंट्रोल करके मैंने धीरे धीरे पैंटी के अंदर हाथ देने की कोशिश की. मैं अपनी पैंट की जिप खोलने लगा तो भाभी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली कि मुझे करने दो.

इस दौरान मुझे जब भी मौका मिला, मैंने करिश्मा के तने हुए चूचों को बड़ी कामुकता से देख कर अपनी आंखों से नई भाभी की चुदाई की.

मैं सोच ही रही थी कि वो बोल पड़ा- क्या हम यहां पर थोड़ी देर बैठ सकते हैं?उसने छत पर एक तरफ बने स्टोर रूम की ओर इशारा करते हुए कहा. 5 मिनट बाद ही उसका दर्द मजे में बदल गया तो मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी. लेकिन मोसी कपड़े अंदर रूम में भूल गई थी तो नंगी मोसी कपड़े लेने जा नहीं सकती थी क्योंकि मैं रूम के बाहर ही बैठा था।मोसी- अरे तू मेरे कपड़े ले आ!जब मैं अंदर से कपड़े लेकर आ गया और देने गया.

ब्रा निकालते ही वो ऊपर से नीचे तक पूरी नंगी हो गयी और मैंने जोर से लंड को रगड़ डाला और मेरा पानी निकल गया. पांच मिनट तक लंड चुसवाने के बाद मैंने उनको बेड पर पटक लिया और उनकी चूत में लंड देकर उनकी टांगों को पकड़ कर चोदने लगा.

हम दोनों एक दूसरे को किस करने में इस तरह से मशगूल हो गये थे कि हम दोनों में से किसी को पता नहीं चला कि कब आकाश सर दोबारा से रूम में वापस आ गये. ये बात मैं अब इसलिए बता रहा हूँ क्योंकि मैंने उन ननद-भाभी की चुदाई के चक्कर में इन दोनों पर ठीक से ध्यान नहीं दिया था. कल रात में जब मैं जिया मेम को चोद रहा था तो उसके बारे में सोचते ही मेरे लंड में कड़ापन आ गया.

रानी मुखर्जी सेक्सी चुदाई

मैंने तुरंत मामी को डॉगी स्टाइल में झुका दिया और उनके चूतड़ों को फैलाकर उनकी गांड के छेद में अपना लंड रख दिया.

जिया ने सर के लंड को हाथ में ले लिया और उसको एक दो बार आगे पीछे करने के बाद उसको अपने मुंह में भर लिया. करीब 5 मिनट के बाद मैंने अंजना के गेट पर दो बार दस्तक दी, तो वो खुद ब खुद खुल गया. पूरा रूम भाभी की सिसकारियों से गूंज उठा- आह्ह … चोदो राहुल, आज मेरी गांड को फाड़ ही दो.

मेरा तजुरबा है कि लड़के अक्सर लड़कियों की ब्रा और पैंटी से खेलते हैं. धीरे धीरे निशा की चूत के करीब पहुंचता जा रहा था मेरा हाथ और इसी फीलिंग के कारण मेरे लंड का बुरा हाल हो चुका था. मां के साथ जबरदस्ती सेक्सीपूजा आंटी- अंजना, तू अपने बेडरूम में जा … इस लड़के को हम देख लेंगे.

मुझे देखते ही सब समझ में आ गया।वहाँ एक बड़ा सा बेड था और बहुत खूबसूरत सजावट थी।मुझे ऐसा लगा कि जैसे आज मेरी सुहागरात की चुदाई कहानी लिखी जायेगी!वो मुझे बेड पर ले गया और मुझे चूमने लगा. उसके बाद मैंने उसे गुड मॉर्निंग और गुड नाइट के मैसेज भेजने शुरू कर दिये.

मैं अपनी पहली बार बुर चुदाई का वाकिया आप सब से शेयर करना चाहती हूँ. सोचती हूं कि कोई ऐसा मिले जो मेरी शारीरिक और भावनात्मक दोनों ही जरूरतों को पूरा कर सके. हरि और राज मेरे बूब्स चूसने लगे और विशाल ने मेरी गांड पर काटना और चूमना शुरू कर दिया.

वो जब काले रंग के सूट में स्कूल आती थीं, तो मन करता था कि उसी वक़्त पकड़ कर मैडम को चोद दूं. मैंने भी कहा- मेरा तो सब ठीक चल रहा है भाभी जी … पर आप बताइए … आप बड़ी दुखी लग रही हैं … और दोपहर को जब मैं घर आया था, तो घर का माहौल भी दुखी सा लग रहा था. तो मुझे एकदम से हल्की सी छर्र की आवाज आई और मैं समझ गया कोई लड़की पेशाब कर रही है.

न चाहते हुए भी मेरी नजर अक्सर मेरी मां के चूतड़ों पर ही जाती रहती थी.

इधर मैं बात तो साले साहब से कर रहा था लेकिन मेरी नजरें भाभी की चूचियों पर ही टिकी थीं. उसने भी लंड पकड़ लिया और बोली- इतना बड़ा और इतना मोटा … मैं अन्दर कैसे ले पाऊंगी.

मेरी चूत को वो परम सुख मिलने लगा जिसके सपने मैंने इतने महीनों से देखे थे. मेरा शरीर फिर अकड़ने लगा और जितनी ताकत मेरे शरीर में थी मैंने पूरी लगा दी और लंड को मां की चूत में घुसा दिया. अब उसने मेरे दस इंची लंड को ऊपर किया और लगातार मेरे लंड की गोटियों को गांड के छेद को चूसने और चाटने लगी.

पर अब तक शायद आंटी की निगाह मेरी खिड़की पर कभी गई ही नहीं थी, इसलिए वो इस बात पर बिल्कुल ध्यान नहीं देती थीं कि कोई उनको ताक रहा है. फिर मैंने हंसते हुए आंटी की तरफ देखा और अपने पजामे को नीचे खींचकर उतारने लगा. अन्दर का नजारा दंग कर देने वाला था क्योंकि मैंने देखा कि बाथरूम में आंटी और उनकी एक फ्रेंड थीं.

बोलो बीएफ फिल्म कुछ देर चुत चूसने के बाद उसने मुझे ऊपर खींचा और मेरे होंठों पर किस करने लगी. मेरे से कुछ काम था या कुछ नयी माल सैट की है?मैं- डीएसपी साहब माल ही के लिए फोन किया है … बड़ी हॉट है … कितना दोगे?मुकेश- आप आधे घंटे में उसे उसी वाले होटल में पहुंचा दो … फिर देखता हूं.

करीना कपूर हीरोइन के सेक्सी वीडियो

उन्होंने 50 साल की उम्र में समय से पूर्व ही रिटायरमेन्ट ले लिया था. थोड़ी देर तक भाभी के इसी पोजीशन में सोने से मेरी तो हालत खराब होने लगी थी. मैं उनकी चुत को उनके होंठों की तरह किस करने लगा और उनकी क्लिट पर भी हल्के से बाईट करने लगा.

अगर इतने दिन रख दिया तो एक रात में कुछ नहीं होगा। इतना कह कर मौसा ने अपने से मुझे चिपका दिया।चलती बस में मेरी लैगी को खोल कर मेरी चूत को चाटने लगे. पर पढ़ने का मन किसी का भी नहीं था और फिर हरकतें भी वैसी ही होना शुरू हो गईं. सेक्सी वीडियो मर्डरमैंने 8-10 बार उंगली अन्दर बाहर की ही थी कि वो लेटे लेटे ही जोर से अकड़ गईं और हल्का सा ऊपर कमर उठा कर फिर लेट गईं.

मकान मालिक ने पूछा कि कौन रहेगा तो मैंने उसको बता दिया कि मैं और मेरी वाइफ रहेंगे.

फिर मौसी ने खुद ही हल्की सी गांड उठाई और पैंटी को खींच कर अपनी जांघों में फंसा छोड़ दिया. पिंकी प्यास शांत करने वाले मर्द की बात सुनकर वासना में गर्म होने लगी.

वो मेरे होंठ चूस रही थी, मैं भी उसका साथ दे रहा था।मैं तो दुबारा नहीं झड़ा था तो मैंने कहा- सेक्सी तुम एक बार मेरे साथ वैसे ही सेक्स करो जैसे फिल्मो में हीरोइन हीरो के ऊपर बैठ कर करती है. मैंने अपने लंड को उससे मुँह में लेने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया. कुछ देर बाद मैंने उसके होंठों के बाद गाल पर किस करते हुए उसके कान में कहा- आई लव यू.

मैं भाभी को चूमते चूसते उनकी चूत पर आ गया और जोर-जोर से चूत चूसने लगा.

रिश्तों में चुदाई की इस स्टोरी में चाहे मैंने मामी को चोदा नहीं … पर हम दोनों को मजा बहुत आया. वो अपने दोनों हाथ मेरी छाती पर रखते हुए बोली- अमन जी, मुझे भी मार्केट ले चलो. मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया और कॉन्डम हटाते ही उसकी चूत पर मेरे लंड ने जोरदार फव्वारा छोड़ दिया और मैं उसकी चूची को चूसते हुए उसी के ऊपर गिर गया.

बीपी सेक्सी डांसवो गान्ड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी और मैं उसको जोर जोर के धक्कों के साथ चोदे जा रहा था. फिर मैंने अपने लंड को तीन चार झटके दिए और लंड का पूरा माल उनके मुँह में निकाल दिया.

सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडि

वो मदहोश करने वाली आवाजें निकाल रही थी।मैं और तेजी से उसके मम्में दबाने लगा. मैंने पूछा- किधर चलना है?मामी ने कॉलोनी में होली के प्रोग्राम के बारे में बताया. मैंने बुआ को जब से सजा संवरा देखा था, उसके बाद से पूरी शादी में मैं उनको ही देखता रहा.

पूरी यात्रा के मध्य में मैं गांव के खेतों को सिमटते उनकी जगह को छोटी छोटी सी झुग्गी झोपड़ियों में बदलते हुए देख रहा था. उसने मुझे बताया कि तुम आज घर पर ही रुक सकते हो … मम्मी पापा कल आएंगे. मुझे क्लास में कई लड़कों ने प्रपोज भी किया था, पर मैंने किसी को भाव नहीं दिया.

दो दिन बाद मैंने चाची को कॉल किया तो उन्होंने कहा- पांच दिन बाद इमरान और उसके पापा दो दिन के लिए बाहर जा रहे हैं, तब तुम आ जाना. फिर धीरे धीरे 4 इंच तक मैं अपने लंड को उसकी चूत में अंदर बाहर करता रहा. उसकी चूचियां तेजी से हिल रही थीं क्योंकि उसकी सांसें बहुत तेजी से चल रही थीं.

मैंने उसी क्षण निर्णय ले लिया कि अब मैं भी किसी की परवाह नहीं करूंगी. मैं उसके दूध ऐसे निचोड़ रहा था, जैसे मैं उसके थनों से दूध निकाल रहा हूँ.

आप बाथरूम में ब्रा और पैंटी लेकर मत जाओ और फिर अंदर जाकर उसे अपने भाई से बहाना करके मंगवाओ.

तभी उसने कहा- अभी नहीं!मैं समझ गया कि गांड के बाद चूत की खुजली बढ़ गयी है इसकी. जानवर सेक्सी जानवर सेक्सी वीडियोपापा बोले- नहीं, ये नहीं हो सकता है, तुम किसी भी तरह यहीं पर रहने के लिए मनाओ उसको, चाहे कुछ भी करो. नागा का सेक्सी वीडियोबातों ही बातों ने निगार आंटी ने कहा- सलमान, अगर तुम मुझे प्रेगनेंट कर दोगे, तो जो तुम मांगोगे, जैसा बोलोगे … मैं वो दूंगी … और वो ही करूंगी. उनके इस रूप को देख कर मुझसे रहा न गया और मैंने दो मिनट में ही उनको नंगी कर दिया.

अगली रात दीदी मेरी गोद में बैठी मेरे खड़े होते लंड को महसूस करने लगी थीं.

उसके बाद उसने मां को घोड़ी बनाया और उसकी गांड में अपना लंड दे दिया. बड़े करीने से बंधी रेखा की साड़ी उसके जिस्म से अलग करके मैंने रेखा को गोद में उठा लिया और उसके होठों पर अपने होंठ रख दिये. मैं नजदीक में था तो उनकी खुसर फुसर और अन्य आवाजें मेरे कानों तक पहुंच रही थी.

15 मिनट तक विक्रांत ने मेरी चूत को इसी स्पीड से चोदा और फिर हम दोनों साथ में ही झड़ गये. मैं बोली- लेकिन आपके सामने?वो बोला- मेरी बाकी सभी क्लाइंट्स भी करती हैं. मैंने आंटी की गर्दन को चूमते हुए मम्मों पर हाथ रख दिया और सहलाने लगा.

सेक्सी वीडियो बताइए नंगी पिक्चर

मुझे लगने लगा था कि कोई मेरी गांड में कोई मोटा डंडे जैसी चीज घुसा दे … मगर ये मैंने कहा नहीं. मैंने मनोहर के सीने पर अपने कोमल हाथ से फिराते हुए कहा- तुम्हें मेरी चूचियां कैसी लगती हैं?वो बोला- मैं तो पहले दिन से ही आपको पसंद करता हूं लेकिन फिर पता चला कि आप शादीशुदा हैं इसलिए कभी कुछ कहा नहीं. वो अपने घर के जीने से नीचे जाते हुए बोली- रात को 8 बजे के करीब मेरे घर आना … मुझे तुमसे थोड़ा सा काम है.

भाभी से बात करने में मुझे रस आने लगा था और यही स्थिति भाभी की तरफ से भी थी.

रिश्तो में चुदाई की इस स्टोरी में पढ़ें कि मैं होली खेलने मामा के घर गया तो मामी अकेली थी.

उसकी नाभि से नीचे का वो भाग जिससे थोड़ी ही नीचे उसकी चूत का एरिया शुरू हो रहा था. जब हम दोनों करीब सात बजे उठे तो आंटी ने बोला- तुम आज रात को यहीं सो जाना. बिहार के सेक्सी वीडियो वीडियोहमने घर का कोई कोना नहीं छोड़ा था जहां मैंने अपनी बीवी की चूत में लंड नहीं डाला हो.

मैं बहुत ख़ुश हो रहा था कि अब अपनी मीनू जान को चोदने का मौका जरूर मिलेगा. मैंने सरिता दीदी को अपनी बांहों में लेते हुए कहा- कहीं जाने के लिए तैयार हो क्या?वो बोली- नहीं, कहीं नहीं जाना. उसकी आंखें खुली की खुली रह गयी थी क्योंकि वो और बड़ा होकर बाहर आना चाह रहा था।मैंने उसका ध्यान न हटाकर दूसरा सवाल पूछा- आज तक आपने कितने मर्दों को नंगा देखा है?वो चुप रही और अपनी पीठ मेरी तरफ कर दी.

मुझे रघु की लुल्ली लेने की जरूरत थोड़ी पड़ती फिर?मैं बोला- गलती हो गयी मां. बाजुओं से फिसलते हुए और उन्हें पकड़ कर उसके हाथों को मैंने ऊपर उठा दिया.

पापा को लवली ने कह दिया था कि मम्मी के नीचे के कपड़े उतार कर उनको नंगी कर देना और उनकी चूत को चाटने में ज्यादा समय लगा देना ताकि आशीष को उनकी चूत को निहारने का ज्यादा समय मिल सके.

यूं ही बदल बदल कर मैंने गुड़िया बुआ के दोनों मम्मों को खूब चूसा और मसला. मैं बोला- आंटी अगर बात सिर्फ़ कमज़ोरी और शरीर टूटने की है तो आप मुझ पर छोड़ दो. जिनके किस्से मैं अपनी हर एक कहानी में आपको बताऊंगा।आज मैं आपको अपनी सबसे पहली चुदाई के बारे में बताता हूँ जो मैंने 19 साल की मदमस्त पंजाबन के साथ की। अपनी पढ़ाई के बाद मैं जॉब करने पंजाब आ गया।मेरा स्वभाव बहुत मिलनसार है जिससे थोड़े समय में ही सबके साथ घुलमिल गया। कंपनी की तरफ से मुझे एक रूम दिया गया जो वहीं के निवासी का था.

गैलरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो मैंने जब से लवली और सासू मां सुधा के साथ चुदाई की है तब से ही मैं बहुत सेक्सी वीडियो देखने लगा था. फिर मैंने अपने लंड को उनकी चूत पर सेट कर दिया और धक्का देने ही वाला था कि लवली आ गयी.

ये सोचते ही मैं गेट खोलकर बाहर आकर बैठ गया और उधर 5 मिनट बैठकर, फिर से गेट बंद करके रूम में आ गया. और मेरी सहेलियों से कहा कि वो सब संभाल लें।फिर मैं विवेक के पास चली गई। वो मुझे लेने एयरपोर्ट आया। हम एक-दूसरे को देखते ही जोड़ से गले लग गए।वो मुझे लेकर अपने एक होटल ले गया और मुझे एक शानदार सा कमरा रहने के लिए दिया।उसने बताया कि ये उसके सभी होटलों में सबसे शानदार कमरा है. मैंने प्रिया के सेक्सी होंठों को चूसने के बाद कहा- कल के लिए भी कुछ छोड़ दो.

सेक्सी हिंदी चूत चुदाई वीडियो

पूजा आंटी- अंजना, तू अपने बेडरूम में जा … इस लड़के को हम देख लेंगे. ताई की चूत बहुत गर्म थी ऐसा लग रहा था जैसे उनकी चूत से गर्म गर्म भांप निकल रही हों. साड़ी उतारने के बाद मैंने पहले उसका ब्लाउज उतारा और फिर उसका पेटीकोट.

मैंने पूछा- बुरा मत मानना, लेकिन मैं ये जान सकता हूँ कि मैं ही क्यूँ? तुमको तो तुम्हारी उम्र के बहुत से लड़के मिल जाएँगे और तुमको बहुत सारा प्यार भी करेंगे. उसकी टाइट लैगिंग में उसकी चूत की शेप को देख कर मुझसे मुठ मारे बिना नहीं रहा जाता था.

फिर कपड़े उतार कर मैं नीचे जाने लगी तो देखा कि सीढियों में वो बुड्ढा आ रहा था.

ये सोचते ही मैं गेट खोलकर बाहर आकर बैठ गया और उधर 5 मिनट बैठकर, फिर से गेट बंद करके रूम में आ गया. मुझे उसकी जांघों के बीच से एक सख्त सी चीज अपनी जांघों पर चुभती हुई महसूस हो रही थी. एक दिन मैं बाइक से मां के स्कूल गया और बाहर छिप कर खड़ा होकर उसकी जासूसी कर रहा था.

मैं- दीदी के खुशी के लिए अपनी जान भी दे सकता हूं … लेकिन यह बिल्कुल गलत है. मैंने हैरानी से कहा- ये तुम बोल रही हो?वो बोली- हां, मुझे आपसे प्यार करना है. उनकी चुदाई से जो फच-फच की आवाज हो रही थी वो पूरे कमरे में गूंज रही थी.

उसने आगे से मेरी टांग उठाई और मेरी चूत में लंड देकर मुझे बांहों में पकड़ लिया.

बोलो बीएफ फिल्म: मौसी भी मेरी पीठ पर अपने नाखूनों को चुभा रही थी जिससे पता चल रहा था कि मौसी को मेरा लंड लेने में कितना मजा आ रहा था. और शाम को बाइक से उनके यहां चला गया, तो उन्होंने मेरा बहुत स्वागत सत्कार किया.

उन्होंने 50 साल की उम्र में समय से पूर्व ही रिटायरमेन्ट ले लिया था. सब को बिठाने के बाद मैं सामान वगैरह सेट करवा कर मैं खुद भी पीछे की ओर चला गया. मैं- नहीं …इतना कहकर मैंने दीदी को फिर से लेटा दिया और उनके फोन को बाजू की डेस्क पर रख कर बिना देर किए लंड को चुत में घुसा दिया.

अगले दिन पिताजी को बोला, तो वो भड़क गए, बोले- सगे सम्बंधियों के न्यौते के बाद चले जाना.

अचानक मैंने उसके टॉप को पीछे से थोड़ा उठाकर अपने हाथ को अंदर घुसा लिया और उसकी मखमली सी पीठ को सहलाने लगा. उस रिक्शा वाले ने मेरी चूत बुरी तरह से रगड़ दी थी और मेरी चाल थोड़ी लंगड़ी हो गयी थी. मम्मी के पास पहुंचने की आहट सुनकर लवली जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी- आह्ह चाटो जान, और तेज से चाटो… आह्ह मैं तो पागल हो जाऊंगी.