बांग्लादेश बांग्ला बीएफ

छवि स्रोत,गांव सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

कंडोम लगाकर बीएफ वीडियो: बांग्लादेश बांग्ला बीएफ, लेकिन हम कैमरे से एक रिकार्ड कर रहे थे जिसके बारे में ना मां को पता था ना कि अनिकेत भैया को!विवेक मोबाइल का वीडियो तत्काल प्लान को सही करने के लिए बना रहा था.

ससुर की बहू की बीएफ

फिर मैंने प्रिया की पर्मिशन से उसका टॉप थोड़ा ऊपर उठाया और लालिमा वाली जगह पर क्रीम लगाने लगा. सेक्स बीएफ पिक्चर वीडियो मेंउधर जिया दीदी का बदन भी एकदम लाल पड़ गया था और उनकी चुत भी गीली दिख रही थी.

भाभी- कभी किसी के साथ किया है?मैं- नहीं भाभी जी … लेकिन कोशिश कर रहा हूं. मौसी की चुदाई बीएफ सेक्सीइसके चक्कर में पढ़ना अब बेकार है, सो मैंने उससे मिलना कैंसिल कर दिया.

हसित बोला- रीना डार्लिंग, अब मुझे भी तो अपने मादक जिस्म का दीदार करवाओ.बांग्लादेश बांग्ला बीएफ: मगर मैं सरिता को और तड़पाना चाहता था, मैं उसके ऊपर से उठकर 69 पोजीशन में आ गया.

उन्होंने मुझे सोफे के सहारे झुकने को कहा और मेरी साड़ी कमर तक ऊपर कर दी.उनका हाथ लंड से टच हो रहा था तो बाइक चलाते समय मेरा ध्यान कुछ भटकने लगा था.

बीएफ सेक्सी दिखाओ हिंदी में - बांग्लादेश बांग्ला बीएफ

एक बार मेरे घर में कोई प्रोग्राम था और मेरे घर में काम भी चल रहा था तो मैं रीता को दो दिन पहले ही घर ले आया था.एक दिन मैंने अपने हस्बैंड को कहा- पड़ोस वाली भाभी की तबीयत खराब है.

हज़ीरा- आह मेरी जान वो मैं उसे सब बता दूंगी कि कैसे रमेश सर ने मेरी चूची चूसी थीं और इसी वजह से बड़ी हो गई हैं. बांग्लादेश बांग्ला बीएफ मैं उसके कपड़ों के ऊपर से उसकी चूची पर ही अपना मुँह रगड़ने लगा और दांतों से निप्पल को काटने लगा.

पूरे कमरे में भाभी की आवाज गूंजने लगी थी- आहहह आईईई … हाहहह … उम्म उम्म्म हाय!फिर भाभी ने अपना पानी छोड़ दिया और भईया भी थोड़ी देर बाद उनकी चूत के अन्दर ही झड़ गए.

बांग्लादेश बांग्ला बीएफ?

उन्होंने अपने हाथ से मेरे लंड को चुत में सैट किया और मुझे इशारा कर दिया. जब मुझे बहुत नींद आने लगी तो मैं किचन की लाइट बंद करके रूम में चला गया. मैं पहली बार लंड चुत में ले रही थी और वो आनन्द शब्दों में तो बयान ही नहीं किया जा सकता.

कुछ देर बाद मैंने चुपके से देखा कि वो ब्लाउज खोलकर अपने एक चुचे से उसे दूध पिला रही थीं और उनका बेबी भाभी के निप्पल चूसता हुए साफ दिख रहा था. कोरोना के कारण अभी कॉलेज नहीं खुले हैं तो मैं अभी अपने शहर उन्नाव (उत्तर प्रदेश) में ही हूं।शुरू में जब मैं घर वापस आया था तो समय नहीं कटता था. मैंने चाची की चूत में अन्दर तक जीभ डालकर उनकी चूत को चाटना और काटना शुरू कर दिया.

उसने पेटीकोट को नीचे करके रीना के पेट पर किस की, उसकी नाभि को अपनी जीभ से सहलाया और नाभि के आस पास की जगह को किस किया. थोड़ी देर उचकने के बाद, रवि उसका लंड रिंग निकालने की विनती करने लगा, सोनम ने रिंग निकाल दिया, तो रवि झड़ गया. मैंने बाइक स्टार्ट की और जैसे ही आगे बढ़ा, तो उसको झटका सा लगा और उसने एकदम से मेरे एक कंधे को पकड़ लिया.

रीना के दोनों मम्मों से कुछ देर खेलने के बाद हसित नीचे को उतरा और उसने रीना की नाभि के अन्दर अपनी जीभ डाल दी. लेकिन सरिता को चलना भारी पड़ रहा था, दर्द की वजह से वो ठीक से चल नहीं पा रही थी.

फिर उसकी आंखें खुल गईं, उसने मुझे देखा तो मैं नींद में होने का नाटक करने लगा.

वो जल बिन मछली की तरह तड़प रही थी, इधर उधर उछलती और जोर लगाकर छूटने की कोशिश कर रही थी.

पाठिकाओं के लिए बता दूँ कि मेरा लंड 6 इंच का है और मैं अपने लंड की रोज तेल से मालिश करता हूँ. फिर पता नहीं उसकी आंखों में देखते ही मुझे क्या हो गया था कि मुझसे रुका ही नहीं जा रहा था. कुछ देर बाद मैंने अम्मी से पूछा- अम्मी, मुझसे चुदवा कर कैसा लगा?अम्मी बोलीं- बेटा बहुत अच्छा लगा.

दोस्तो, यह सेक्स कहानी लिखते हुए मेरा लंड एकदम से उत्तेजित हो गया है. फिर जिसे मैंने लंड पर क्रीम लगाते देखा था, वो पास आया और मुझे खींच लिया. उनका बैकलेस और स्लीवलेस ब्लाउज उनकी सेक्सी फिगर में चार चाँद लगा देता था.

उसने मेरे लंड पर दबाव बनाये रखा और मेरा पूरा लंड कुछ ही पलों में उसके गले तक घुस गया था.

भाभी- कभी किसी के साथ किया है?मैं- नहीं भाभी जी … लेकिन कोशिश कर रहा हूं. मैंने अपने प्यारे पति को अपनी तरफ खींच लिया और उनका तना हुआ लंड मुँह में लेकर चूसने लगी. उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था तो उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर लगा कर सीधा ही खुद को नीचे धक्का देने लग गयी, जिससे मेरा आधा लंड उसकी चूत में चला गया.

अपनी मम्मी की गर्म आवाजें सुनकर गगन भी किचन में आ गया और गगन ये सब देखने लगा. मेरी चुदास बढ़ चुकी थी और मैं विलियम के साथ अब खुल कर मजे लेना चाहती थी. मेरा मन करता था कि मैं उससे बात करूं मगर उससे बात करने का कोई मौका नहीं मिल रहा था.

वो अब बहुत आवाजें कर रही थी और चिल्लाने लगी थी- आंह चोदो … आंह फाड़ दी … मेरे राजा … आंह बेबी फास्ट चोदो मुझे मजा आ रहा है.

उसकी आंखों में देखने से पता चल रहा था कि वो अब मेरे लिए अपना मन पक्का कर रही है. उस रात हमने 4 बार चुदाई की और सुबह भी आंटी के स्कूल जाने से पहले एक बार चुदाई की.

बांग्लादेश बांग्ला बीएफ इस पर मैंने उसे किस किया और कहा- अभी नहीं जान, अभी तो तुमसे बहुत काम है. मैं अपनी मम्मी से बोल दूंगी कि अगम मुझे मेरी फ्रेंड के यहां छोड़ आएगा और ले आया करेगा.

बांग्लादेश बांग्ला बीएफ तभी कोमल बोली- मुझे सुसु के लिए बाहर जाना है, एक बार हटो … मुझे कपड़े डालने दो. आंटी बोलीं- तुमको मुझमें क्या ख़ास लगता है?मैंने कहा- आप बहुत हॉट और सेक्सी लगती हैं.

मैं एक घंटे में आ जाऊंगी … और अगर मुझे आने में समय ज्यादा हो जाए तो परेशान न होना, मैं आ जाऊंगी … तुम मुझे अकेली छोड़कर घर न चले जाना.

भारत की सेक्सी हिंदी

मैं उनकी गदरायी गांड देख कर खुद को रोक नहीं पाया और उनकी गांड को चूमने लगा. उस वक्त 6 बज रहे थे और फेसबुक पर लवी के 20 से ज़्यादा मैसेज पड़े थे कि कहां हो कब तक आओगे. मोहन ने सोनू को समझाया कि अपने पति का लंड लेते समय गांड ढीली करना, इससे तुम्हें आसानी होगी.

तो सरिता मेरी तरफ देखकर बोली- देवर जी, क्या आपने उनको फोन लगाया था … आप अकेले बोर हो गए क्या?सरिता ने हंसते हुए मुझे आंख मारकर कहा तो मैंने भी कहा- हां भाभी जी. लेकिन अब उनके दिमाग में कुछ और ही चल रहा था।मैंने फ़ोन लेकर बात पूरी की. इस बार छुट्टियों में सभी छात्र अपने अपने घर चले गए थे तो मैं भी चला गया.

यदि किसी की इमेज से आप तुलना करना चाहें तो मैं अलीना डिक्रूज की तरह दिखती हूँ.

ऐसा कह कर मामी ने मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर जोर जोर से चूमना शुरू कर दिया. वो मेरे पास आई और झट से मेरी गोद में बैठ गई, मेरे गाल पर किस करके बोली- आई लव यू शुभम! आज के बाद मुझे कभी अकेले में मम्मी मत कहना अब!मैंने कहा- तो क्या कहूं मेरी जान?मेरा नाम लिया करो मेघा … जैसे हर कोई पति अपनी पत्नी का लेता है. फिर वो लाल चोली दिखा कर बोलीं- ये ले जाऊं या तुम्हें चाहिए?मैं- मुझे तो आप चाहिए.

भाई भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने भाई के घर रहने गया तो मैंने कई बार भैया भाभी को चुदाई करते देखा. मैं पूरा लंड अन्दर पेल कर कुछ देर उसे किस करता रहा और बूब्स दबाता रहा. जब मैं नहा धोकर बाहर आया तो दीदी अभी भी वैसे ही चूत फैलाये हुए लेटी हुई थी.

सुबह गांड की छेद में उंगली से तेल अन्दर तक लगाना है, जिससे मल त्यागने में ज़ोर न लगाना पड़े. मुझे अपने हाथों पर उसके किस से इतनी खुशी मिली कि मेरी चूत नीचे गीली हो गई.

इस तरह से वो दस मिनट की चुदाई में झड़ गई।वो इस वक्त दोबारा गर्म हो चुकी थी. शायद दो बार में उसने अपने दिल सारे अरमान पूरे कर लिए थे इसलिए चुत थोड़ा सूख गयी थी. लंड की लंबाई अच्छी है और ये तीन इंच मोटा है जो किसी भी औरत की चुत में जाकर हाहाकार मचा सकता है और उसकी प्यास बुझा सकता है.

मैं खड़े खड़े ही भाभी के चूचे को चूसने लगा और भाभी मेरा सिर दोनों हाथों से सहलाने लगीं.

तो मैंने भाभी को मैसेज किया- सॉरी भाभी, गलती से आपके पास मैसेज आ गया. समय बीतने पर प्रकाश और विशाल ने अपना व्यवसाय और घर बेच दिया और बहुत दूर खेती और फार्म हाउस खरीद लिया. भाभी बोलीं- क्या ये सही है यश … मेरी बहनों को नीचे सुला दिया?मैंने बोला- भाभी मैंने तो कहा था कि बेड पर सो जाओ, मैं नीचे सो जाता हूँ.

मैंने मजा लिया न्यूड हॉट सेक्स इन ट्रेन का! एक बार नहीं … कई बार! मुझे अनजान लड़कों का लंड लेने में बहुत मजा आता है. तभी कोमल बोली- मुझे सुसु के लिए बाहर जाना है, एक बार हटो … मुझे कपड़े डालने दो.

मैं अपना लंड उसके मुँह के पास ले गया तो वो समझ गयी और होंठ खोल कर मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. थोड़ी देर बाद मैं किचन में गया और देखा कि आंटी अपनी ब्रा और चड्डी ढूँढ रही थीं. मैं उसके एक मम्मे को मुँह में लेकर चूसता और दूसरे मम्मे को हौले से दबा देता.

बुर चोदने वाली सेक्सी पिक्चर

धीरे धीरे मैं उसकी चूत में लंड को चलाता रहा और वो शांत होती चली गयी.

एक दिन भैया को हॉस्पिटल में व्यस्त होने के कारण घर आने देरी हो रही थी और भाभी को बाजार से कुछ ज़रूरी सामान खरीदना था. इस बार सोनाली सिहरकर बोली- ओह हर्षद … दर्द हो रहा है!मैं दूसरे हाथ से गांड सहला रहा था. मैंने अपना लंड दीदी की चूत के मुंह पर रखा और एक धक्के में लंड को जड़ तक दीदी की चूत में डाल दिया.

एकदम से दीदी के मुंह से निकला- आह्ह … सैम थोड़ा धीरे कर!मैंने दीदी की चूत में अपनी उंगलियां अंदर बाहर करना चालू रखा. अब मेरे बैठने के लिए सिर्फ एक जगह बची थी, आगे की सीट पर ड्राइवर वाली जगह पर. बिहार की लड़की की बीएफमैं- भाभी एक बार दिखाओ ना प्लीज?भाभी- अरे तुम्हारी मम्मी आ गईं तो!मैं- वो मार्केट गई हैं.

चाची मीठे दर्द से कराह रही थीं मगर लंड को अन्दर से बाहर निकालने की कोशिश नहीं कर रही थीं. शब्बो- हमने इतना कर दिया कि तुम्हारी बात करा दी … अब चोदना चुदाना तुम दोनों तय कर लो … समझे!उसका इतना बोलना था कि कुच्ची ने फोन ले लिया और उन दोनों की अपनी बातचीत शुरू हो गई.

अब पारुल सीधी हुई और जैसे ही अनिल का लंड पारुल की चूत से बाहर निकला, उसके साथ ही सफ़ेद सफ़ेद पानी उसकी चूत से बहने लगा जो जांघों से होकर एड़ी तक बह चला था. मैं बोला- क्या बात है मां, आज इतना टेस्टी और पोषक खाना?मां बोली- आजकल तू इतनी मेहनत जो कर रहा है! जॉब भी करता है. अन्दर वाले एक हिस्से में सारे लोग रहते हैं, बाहर वाले में मैं अकेला रहता हूँ.

चाची ने भी मुझे उस लड़के को निकलते देख लिया था और वो समझ गई थीं कि मुझको पता चल गया है कि वो लड़का उनके घर क्यों आया था. उसे बाइक पर लाते समय बहुत बार मुझे मेरी पीठ पर उसके बूब्स टच होते थे. मोनू ने अपनी पैंट भी उतार फैंकी और वो दोनों ब्लू फिल्म के स्टार्स के जैसे खड़े हो गए.

मेरी नजरें उस व्यक्ति से मिलीं, उसकी आंखों में एक अजीब सी पा लेने वाली इच्छा दिख रही थी.

मामी की बेटी को मैं पहले ही चोद चुका था उसकी मम्मी के सामने!नमस्ते दोस्तो,कहानी के दूसरे भागममेरी साली की कुंवारी बुर खोलीमें अब तक आपने देखा कि कैसे मैंने पहले मामी सास मुग्धा फिर साली अंगिका को चोदा।अब आगे मामी की गांड मारी:मैं- तुम दोनों मेरी पत्नी हो. जिया दीदी- अभी डांस करना चाहते हो!मैं- मैं आज की रात को सबसे खास रात बनाना चाहता हूं.

हम खाना भी खा चुके थे पर अभी लाइट नहीं आई थी और मेरे घर का इनवर्टर भी खराब था इसलिए भाभी ने कहा- विजेंद्र, तुम आज रात मैं यहीं पर ही सो जाओ. हम दोनों बस किस करने ही वाले थे कि तभी मुझे कुछ आवाज़ आई जैसे कोई कार आ रही हो. हम भाई बहन हैं, न कि पति-पत्नी!मैं- मगर पति के साथ भी तो आप करती होगी.

मैंने शिल्पा को थोड़ा चिढ़ाने के लिए बोला- भाभी क्या आप भी ना!अंजलि भाभी बोलीं- अब क्या हो गया … मैंने क्या किया?मैंने बोला- आपने मुझे उठाने के लिए अपनी बहन को भेज दिया. रीना खड़ी हो गई और उसने अपनी साड़ी की पिन हटाने के बाद साड़ी उतार कर कुर्सी पर रख दी. सामान लेने के बहाने वो थोड़ा और आगे को होते, जिससे थोड़ा दबाव बनता और उनका लंड मेरी गांड में और ज़्यादा टच होने लगता.

बांग्लादेश बांग्ला बीएफ जवानी में उनके चले जाने से सासू माँ काफी आहत हुई थी मगर उन्होंने खुद को किसी तरह सम्भाल लिया क्योंकि ससुरजी का बिजनेस चल रहा था तो पैसे की परेशानी नहीं हुई. सुबह किसी ने दरवाजे पर दस्तक दी तो एक उठा और बिना कपड़े पहने दरवाजे की तरफ चल दिया.

ठाकुर सेक्सी फोटो

मैंने उससे कुछ ना बोलते हुए उसके चेहरे को पकड़ा और अपने लंड के ऊपर ले आया. अब तक जो सब धीमे धीमे म्यूजिक बज रहा … उसको मैंने धीरे धीरे स्पीड बढ़ाते हुए उसकी चूत में कोहराम मचा दिया. क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैं अम्मी से बोला- तुम हो, बहनें भी हैं.

जब मैं आऊंगा, तब क्या तुम उसे किसी काम के लिए एक घंटा के लिए बाहर भेज सकोगी?वो बोली- क्यों तुम्हें तबला बजाने में एक घंटा लगेगा क्या?मैं हंस दिया कि गांड मारने को तबला बजाने की कह रही है. नंगी लड़की की Xx कहानी में पढ़ें कि कैसे हम दो सहेलियों ने एक सर्राफ को उसकी दूकान में उसके जेवर पहन नंगा फोटो शूट करवाने के लिए मनाया. नेपाली एचडी बीएफमैंने सोनाली की चूत पर हाथ से सहलाते हुए कहा- अब इसका दर्द कैसा है सोनाली?उसने कहा- हां अभी थोड़ा दर्द कम हुआ है.

मैं सिर्फ स्कर्ट में गाड़ी की डिक्की में थी और आधा सामान गाड़ी में और आधा बाहर था.

मैं उसके जिस्म पर जीभ फिराने लगा, जिससे वो गर्म आहें भरने लगी, उसकी हल्की हल्की मादक आवाजें निकलने लगीं. लेकिन उसने मेरा हाथ हटा दिया और कहा- मैं आज चुदाई का काम नहीं करूंगी क्योंकि मेरी बहन बगल के कमरे में सो रही है.

लंड इतना सख्त ही गया था कि मैं जब उसे पैंट से बाहर निकाल रहा था तो मुझे बड़ी दिक्कत हो रही थी. अब जब भी मैं अपनी अम्मी देखता था तो मेरे अन्दर अजीब सी हलचल होने लगती थी. मैंने भी देर न करते हुए अपना मोटा लंड भाभी की चूत की फांकों में सैट किया और रगड़ने लगा.

उनका लंड जब गांड में घुसा, तब पता लगा कि कितना मोटा मजबूत हथियार है.

मां की ब्रा की साइज 38 है निकली हुई पीछे गांड उनके शरीर को और सेक्सी बनाती है. मुझे ज्यादा मजा नहीं आया तो मैंने उसे लेटा दिया और उसकी चूत को चाटने लगा. होंठों को चूमते हुए हम दोनों एक दूसरे के गाल और गर्दन को भी चूमने लगे.

बीएफ फुल सेक्सी एचडीअब दीदी ने हाथ आगे बढ़ाकर मेरे लंड को पकड़ लिया और मेरे लंड को सहलाने लगी. मैंने अंकल के सिर को पकड़ कर अपनी चुत पर दबा दिया और कहने लगी- आंह और चाटो अंकल और चाटो … मजा आ रहा है.

हॉट अँड सेक्सी विडिओ

सुम्मी को अपनी चुत में अन्दर से लंड की चोट पड़ रही थी और बाहर अपने बेटे के हाथ की चमाट पड़ी तो वो कराह कर जमीन पर लेट गई. मुझे अब पता चला कि वो काफ़ी अच्छी हैं और किसी नए बंदे के साथ फ्रेंक होने में थोड़ा टाइम लगाती हैं. शादी के कुछ टाइम बाद भैया ने अपना खुद का बिजनेस स्टार्ट कर दिया।बिजनेस के काम से वे अधिकतर शहर के बाहर ही रहते हैं और कभी-कभी ही घर आते हैं.

जैसा कि आप लोगों ने मेरी पहली सेक्स कहानीचेन्नई एक्सप्रेस में मिली चुतपढ़ी थी. उसने पूछा- तू है तो पूरी रंडी, कितनी बार चुदी है?मैंने बोला- अभी तक कुंवारी हूँ … तेरी लंड की दीवानी हूँ. भाभी बोलीं- तुम दोनों को भूख लग आई होगी, तुम खाना जब तक खाओ, मैं अभी आती हूँ.

मैंने लवी से पूछा- ये क्या है?उसकी साइड में मुड़ा, तो मैं लवी को देखता ही रह गया. जब आधा लंड घुस गया तो उन्होंने एकदम से पूरा पेल दिया, मेरी चीख निकल गई- आ … आ … आह!मैं पूरी ताकत से जोर लगा रहा था, गांड ढीली किए था. बीच बीच में मैं अपनी उंगली भी उसकी चुत के अन्दर डाल देता था जिससे वो तड़प जाती.

हज़ीरा नीचे से धक्का मारती हुई बोली- अरे जान एक बार साली अपनी चुदाई देख लेगी … तो अपने आप चुदवाने के लिए तैयार हो जाएगी. मैं उसे रोकने के लिए उसके बाल पकड़ लिए और उसका सर अपनी चुत से हटाने की चेष्टा करने लगी.

करीब 5 मिनट बाद मैं भी उसकी चुत में झड़ गया और उसके ऊपर ही लेट गया.

तभी अंकल मेरे थोड़े और पास आए और दोनों मम्मों के बीच में लंड रखकर धक्के देने लगे. बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफप्रिया- आआहह … भैया … क्या कर रहे हो … आआ आअहह … पागल हो जाऊंगी मैं … आआअहह!मैंने प्रिया की जांघें और फैलाईं और उसकी चुत को और खोल कर चूसने लगा. बीएफ हिंदी फिल्म वीडियो मेंमैंने 15 मिनट धकापेल चुदाई की और अपना रस भाभी की चूत में ही छोड़ दिया. शब्बो पागल हो उठी और कामुकता में सिसकारने लगी- याल्ला हहह मालिक मैं मर गयी … अम्म्मीईई … आह्ह!इतने में ही शब्बो ने वीरू का मुँह अपनी चूत पर जोर देकर दबाया, अपनी जाँघों से उसका सिर दबाते हुए शब्बो मूतने लगी.

लेकिन चूत का इंतजाम हो जाने से अब कॉलेज खुलने के बाद भी वापस कानपुर जाने का मन नहीं करता है।मेरे पड़ोस में एक भाभी रहती हैं जिनका नाम मन्नत है.

मेरा सिर थोड़ा सा दर्द हो रहा था तो मैं कक्षा कक्ष में ही बैंच पर बैठा था कि तभी मैंने थोड़ा सा सिर ऊपर किया तो मैंने देखा कि वो मेरे सामने खड़ी थी. मेरी जीभ उसके दांतों, मसूड़ों, होंठ के अन्दर के हिस्से और उसकी जीभ को लगातार चाटे जा रही थी. उसने रीना की पीठ पर हाथ लगा कर उसको हल्का सा उठाया और ब्लाउज उतारकर अलग रख दिया.

जब मैंने अपनी अम्मी की चुत पर अपनी जीभ को रखा, तो अम्मी अपना शरीर टाइट करके सिहर उठीं- आइ … इस्स … आ आह …मैं अपनी जीभ से अम्मी की चुत के लाल वाले हिस्से को सहला रहा था. मैंने बहुत सोचने के बाद आंटी को बताया कि आप मेरी मम्मी से बोलो कि एक लड़का है, जिसका लंड ठीक राजेश के जैसा है. [emailprotected]फ्रेंड वाइफ चीट स्टोरी का अगला भाग:भाभी की प्यासी चूत और बच्चे की ख्वाहिश- 3.

गन्ने के खेत वाली सेक्सी

मैंने हामी भर दी और हम दोनों ने सुबह टहलने की जगह मिलने का प्रोग्राम बना लिया. उन्होंने आंख दबाते हुए कहा- मेरा कोई इरादा भी नहीं है अपने देवर से छूटने का … आ जाओ सब साफ़ सफाई मिलेगी. उसने रीना की पीठ पर हाथ लगा कर उसको हल्का सा उठाया और ब्लाउज उतारकर अलग रख दिया.

मैंने सरिता से कहा- एकाध कपड़ा दे दो … नहीं तो कोई पुराना टॉवेल दे दो.

अब मैं सरिता की दोनों टांगों के बीच अपने घुटनों के बल बैठ गया और अपनी चुदाई की पोजीशन में आ गया.

वो बोली- क्यों क्या हुआ?मैंने कहा- तुम इतनी गुस्सा क्यों हो?उसने कहा- मुझे इस बारे में कोई बात नहीं करनी है. समय बीतने पर प्रकाश और विशाल ने अपना व्यवसाय और घर बेच दिया और बहुत दूर खेती और फार्म हाउस खरीद लिया. देसी फिल्में बीएफइस पर फूफा जी ने मेरी चुत पर अपने लंड को सैट किया और हल्का सा दबाव डाला.

इस बीच उन्होंने बताया कि एक दिन हम लोग सबके साथ अमरकंटक भी चलेंगे, जिसमें तुम भी चलना. इसी तरह से मैंने उससे चूत लंड गांड चुदाई सब बुलवाया और फिर से उसकी चूत को कुरेदने लगा. हमारी कहानी में एक नया मोड़ आ गया था अनिकेत भैया अब मेरे चूतड़ों के दीवाने हो चुके थे.

मैंने उसका कमीज और ब्रा ऊपर करके चूचियों को बाहर निकाला और चूसने लगा. फिर अगले दिन मैं सुन रहा था तो दीदी को जीजू बता रहा था कि वो दोनों भी राजी हैं.

अगर मैं जिया दीदी से पूछ भी लूं कि आपने आखिरी बार कब सेक्स किया था, तो वो भी बिना शर्माए बता देंगी.

मेरा जी चाहने लगा था कि अपनी मम्मी को यहीं इसी बारिश में भीगते हुए कहीं किनारे रोक कर जी भरके चोद लूं. मैं उसे देखकर भौंचक्का रह गया कि ये कौन है?मैंने उससे पूछा, तो उसने बताया कि बाबू जी मैं यहां की नई नौकरानी हूँ. मेरे फोन रखते ही कुच्ची ने बताया कि आज शाम को करीब 6 बजे शब्बो के मुमाने में किसी का इंतकाल हो गया है.

हिंदी बीएफ चुदाई साड़ी वाली अंगिका- पर रुकिए तो ओहो … हो!मैं ‘साली मादरचोद’ कहते हुए मैं उसके बूब्स चूसने लगा।थोड़ी देर बाद मैंने उसे छोड़ दिया. मैंने उसे कसम देकर पूछा- अब बोलो कि तुमको नहीं पता ये क्या है?वो बोली- रुको अभी बताती हूँ.

उधर भाभी की चुत थोड़ी टाइट थी तो उनकी दर्द के कारण आवाज़ निकल गई- आह … आह आराम से जान … तेरी ही हूँ … कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. फूफा जी ने कह दिया कि कुमकुम तुम आगे बैठ रही हो और ड्राइवर के बगल में बैठ रही हो, तो तुम्हें सोना तो बिल्कुल नहीं है … मुझसे बातचीत करते रहना ताकि सुबह का टाइम है, मेरी भी झपकी ना लगे. कुछ देर बाद मैंने उसी ब्रिज पर उसी जगह बाइक रोक दी जहां हम दोनों ने कल खड़े होकर बात की थी.

नंगी सेक्सी वीडियो 2021

लेकिन अभी आप सब ही बताइए कि अगर जवान लड़का घर पर अकेला हो और उसे गांड मराने का शौक हो, तो वो पढ़ाई थोड़ी करेगा. सीमा भी अपना एक हाथ पीछे ले जाकर मेरी पैंट के ऊपर से लंड मसलती रही. विलास ऊपर से नीचे तक अपनी उंगलियां चलाने लगा था और बीच में ही लंड को दबा देता था.

भाभी की पीठ पर, मम्मों पर, निप्पलों पर, पेट पर मेरे दांत के काटने के निशान बने हुए थे. मैंने उसे कपड़ा दिया तो उसने अपनी चुत, गांड और जांघें साफ कर लीं, तकिया कवर निकाल कर बाजू में फैंक दिया और कपड़े से बेडशीट भी पौंछकर साफ कर दिया.

परंतु आपको ये जानकर अजीब लगेगा कि मैं शादी से पहले गे था … मतलब अभी भी हूँ.

फिर मैंने दीदी की बैक में मोनू के काटने के निशान को देखा, जो हल्का सा लाल सा दिख रहा था. अब मेरा भी निकलने वाला था तो मैंने दीदी से पूछा- कहां पर निकालना है?तो दीदी ने भी लंड को मुंह से निकाल कर कहा- मेरे मुंह में ही गिरा दो. मगर मैं हिम्मत नहीं कर पाया और वहीं पर खड़ा रहकर अपने लंड को मसलने लगा.

मुझे उसने रास्ते में बताया कि उसकी फ्रेंड की दीदी ही उन दोनों को पढ़ाती है. मैंने सोचा कि साला अब ये सब जान चुका है और शनाया का भी दोस्त है तो इसे चोदने देने में कोई दिक़्क़त नहीं है. मैं अलमारी से कंडोम का पैकेट निकाल लाया जो मैंने तीन महीने पहले खरीदा था.

वो बाकी के लंड को भी गांड के अन्दर करना चाहता था इसलिए सोहल ने हनी से झूठ बोलकर उसका दर्द खत्म कर दिया था कि पूरा लंड अन्दर चला गया है.

बांग्लादेश बांग्ला बीएफ: उसकी बड़ी गांड और तने मम्मों को देख कर हमेशा ही मेरा लंड खड़ा हो जाता था. एक दिन रीना बोली- आशीष, मुझे घर पर बड़ी बोरियत होती है, अगर तुम कहो तो मैं कोई जॉब कर लूँ?मैंने कहा कि तुमको जॉब करने की क्या जरूरत है?वो बोली- जरूरत तो कुछ नहीं है, बस मेरा समय पास हो जाएगा.

रीना ने उसे रोक दिया, तो हसित रीना के मम्मों पर ब्रा के ऊपर से किस करता हुआ नीचे उतर आया. प्रकाश सोनम के पीछे चिपक कर खड़ा था, वह सोनम के स्तन दबाने और गर्दन चूमने लगा. मेरी भी सांसें रुक गयी थीं, जब आंटी ने मेरे सर को छोड़ा … तब जाकर मैंने अच्छे से सांस ली.

नमस्कार मित्रो, मैं मोटे लंड वाला ऋषि देवगन अन्तर्वासना की इस कहानी में आपका स्वागत करता हूं।मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूं।यह मेरी प्रथम चुदाई की कहानी है, इसके बाद मैं किसी भी चूत को चोदने का मौका नहीं छोड़ता हूं।यह हॉट इंडियन भाभी Xxx कहानी 3 जनवरी 2021 की है।मैं 21 वर्षीय BSC द्वितीय वर्ष का विद्यार्थी हूँ.

मैंने वीडियो में देखा था कि पेलने के पहले चूत पर थूक लगा कर ही पेलते हैं. जो मर्द मेरी चुत में धक्के लगा रहा था, उसने पानी मेरी चुत में ही छोड़ दिया और अलग हो गया. उस पूरी रात मैं सोया ही नहीं, सिर्फ मम्मी की जवानी को देख देख कर ही लंड सहलाता रहा.