मूवी बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋ ಪಿಕ್ಚರ್ ಸೆಕ್ಸ್

तस्वीर का शीर्षक ,

इलाहाबाद के बीएफ सेक्सी: मूवी बीएफ हिंदी में, वो कोई और नहीं बल्कि शोभा ही थी और मुझे और युक्ता को देख कर हंस रही थी.

हिंदी सेक्सी गाने सेक्सी

उनके दोनों चूतड़ जब थिरक रहे थे, तो ऐसा लग रहा था … मानो एक दूसरे से बातें कर रहे हों. सेक्सी जवान वीडियोमुझे खुद पर बहुत शर्म आयी और जब वो मेरी तरफ आईं, तो मैं उनसे नज़र नहीं मिला पा रहा था.

कुछ देर मैंने उसको किस करने के बाद अपने से अलग कर दिया क्योंकि कभी कभी मेरे पड़ोस के लोग भी छत पर अपना कपड़े सुखाने के लिए आ जाते हैं. ब्लूटूथ सेक्सी सीनमैंने अपने उन रिश्तेदार को बताया कि लड़के की उम्र ज्यादा है, आप बात करके देखो, यदि बात बन जाए, तो साले की शादी हो जाएगी.

वो हाथ में मेरा लंड महसूस करके बोलने लगी- या अल्लाह … कितना लंबा और मोटा है.मूवी बीएफ हिंदी में: पांच मिनट बाद ही मेरे लंड से चुदते हुए वो सिसकारने लगी- आह्ह विक्की … आई लव यू … जोर से करो … मजा आ रहा है … आह्ह … आह्ह … उफ्फ … आह्ह। जानू चोद दे … आज से मैं तेरी हूं.

मेरा लंड तो उसकी बीवी की वजह से टाइट भी था और थोड़ा गीला भी हो गया था.कुछ देर तक उसके चूचों को पीने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत के छेद पर लगा दिया और एक जोर का धक्का लगा दिया.

भोजपुरी गाना नया नया - मूवी बीएफ हिंदी में

मेरी इस गर्म हिंदी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मुझे अपनी बहन की वासना के बारे में पता चला और मैंने बहन की चुदाई अपने एक दोस्त से करवायी.तुम्हारे जैसी औरत के साथ सेक्स करने को मेरा बड़ा जी करता है … मैं तुमको बहुत ज्यादा पसंद करने लगा हूं.

कोई एक घंटे तक दीदी की चूत को दो बार चोदने के बाद रोहण अपने कपड़े पहन कर चला गया. मूवी बीएफ हिंदी में अब उससे मेरा उसकी बुर को लगातार चाटना और चूसना सहा ही नहीं जा रहा था.

उसकी नर्म नर्म गोरी गोरी मांसल जांघें देखकर मेरे मन में लड्डू फूटने लगे.

मूवी बीएफ हिंदी में?

मैंने उससे मजाक मजाक अचानक में कह दिया- क्यों ना हम पति की अदला-बदली कुछ दिन के लिए करके कुछ नए तरीके से मस्ती करें. फिर उसने खुद ही मेरे कच्छे में हाथ दे दिया और मेरे लंड को मुट्ठी में भर लिया. साथ ही उसने प्रिया दीदी की बहुत सेक्सी दिखने वाली पेंटी भी फाड़ दी.

पांच दिन बाद मुझे जानकारी हुई कि मम्मी को अभी दो तीन दिन और लगेंगे. उसकी चूत में वीर्य को छोड़ कर जो आन्नद मुझे उस रात मिला वो मैं यहां पर बता नहीं सकता. हम दोनों ही पसीने से तरबतर हो गए थे और हांफते हुए एक दूसरे से चिपक कर पलंग में निढाल होकर गिर गए.

मैंने भी पूरा जोर लगा कर भाभी की तरफ अपने शरीर के वजन को आगे धकेल दिया. छोटे बाल, गदराया बदन, मखमली गोरी जांघें, भरा हुआ चेहरा, भरे भरे गाल. और जब मेरे भइया तुम्हारी दीदी को चोदते हैं, तो तुम्हारी दीदी को बहुत मजा आता है.

मैं खुद को रोकने का प्रयास करती रही कि शायद मेरे ठंडे और नकारात्मक व्यवहार से उसकी उत्तेजना कम हो जाए, पर वो रुक नहीं रहा था बल्कि और अधिक उत्तेजना से मेरे होंठों को चूसते चूमते हुए मेरे स्तनों को दबाने सहलाने लगा था. मैंने कभी किसी लड़की से सेक्स करने के बाद उसकी प्राइवेसी किसी के साथ शेयर नहीं की थी.

इतने में ही आंटी घूम गई और आंटी के घूमते ही मेरे होंठ आंटी के होंठ से मिल गए.

मतलब जिस मर्द के नाम की पर्ची मेरे हाथ में होगी, वो मेरे और उन चारों औरतों में से किसी एक के साथ संभोग करेगा.

दीदी की चूचियों की मस्त और सेक्सी क्लीवेज और ब्लैक ब्रा में कसे हुए दूधिया रंगत वाले दीदी के मम्मे मुझे गरम करने लगे थे. शाम को खाने के वक्त मामी ने सुबह वाली बात का जिक्र करते हुए कहा- सुबह के लिए सॉरी रोहित. अन्दर दो लड़कियां थीं, उन्होंने मुझे कपड़े उतार कर एक जगह लेटने को कहा.

एक घंटे बाद जब मैं वापस आया, तो अंतरा अपने रूम में बैठ कर पढ़ रही थी. मेरा दिल तो खुशी के मारे पागल हो रहा था क्योंकि मैं दोबारा सुहागरात मानने जा रहा था … वो भी एक कुँवारी कली के साथ।मैंने बिस्तर पर पहुँच कर उसका घूँघट उठाया तो उसको देखता ही रह गया. हम दोनों ने तीन साल चुदाई के न जाने कितने ही मैच खेले और उसके बाद फिर दीदी की शादी तय हो गई.

बीवी की अदला बदली की अन्तर्वासना कहानी पढ़ कर मैंने अपने पति से पूछा कि अगर उन्हें किसी दूसरी लड़की को चोदने का मौक़ा मिले तो मेरे सामने चोद देंगे उसे?मेरा नाम आकांक्षा जैन है, नाम बदला हुआ है मेरी उम्र 27 साल है.

उसने बोला- ऐसा क्यों?मैंने बोला- क्योंकि वो कमरा नजमी के कमरे से दूर है … और तुम्हारी अम्मी के कमरे से आवाज बाहर नहीं आती है. थोड़ी देर बाद राकेश नीचे आ गया और मुझसे बोला- जा यार … अब तो इस साली की गर्मी तू ही शांत कर सकता है. दूसरा राउंड बीस मिनट तक चला और इस राउंड में हम दोनों एक साथ ही झड़ गये.

मैंने उसकी जींस का बटन खोल दिया, फिर ज़िप भी खोल दी और जीन्स को नीचे सरका दिया. मुझे अभी शायद 5 से 7 मिनट हुए होंगे झड़े हुए कि मैं फिर से झड़ने को तैयार हो गई थी. मेरा सुपारा दीदी की चूत में उतर गया तो दीदी चीख पड़ी- उम्म्ह … अहह … हय … ओह … मर गई हरामी.

रवि ने निर्मला के विशाल चूतड़ों को दोनों हाथों से थपथपाया और अपना मुँह निर्मला की योनि से चिपका कर उसे चाटने लगा.

उस पर शारीरिक दबाव भी होता है और मानसिक भी … पहली डिलीवरी के समय तो मानसिक तनाव बहुत ज्यादा रहता है क्योंकि स्त्री प्रसव में होने वाले दर्द से भयभीत रहती है. मैं दो बजे रात को उठा, तो मेरा लौड़ा टाइट था और बिल्कुल लोहे के रॉड की तरह कड़क था.

मूवी बीएफ हिंदी में जिस किसी का भी लिंग मूत्र निकलते हुए ढीला पड़ने लगेगा, वो हार जाएगा. लेकिन चुदाई खत्म होने के बाद ये सब पता लगता है कि क्या-क्या हुआ।वो बोली- सर, चुदाई में सचमुच बहुत दर्द होता है क्या?मैंने कहा- नहीं, ये चुदाई करने वाले के ऊपर निर्भर करता है कि उसको ये कला आती है या नहीं.

मूवी बीएफ हिंदी में इस बात पर वो थोड़ी नाराज हुई और बोली- आप कैसे इंसान हैं? एक औरत आपको बुला रही है और आप हैं कि औरतों की तरह ही नखरे कर रहे हैं?मुझे उसका इस तरह से बोलना बड़ा अच्छा लग रहा था क्यूंकि उसकी हिंदी ज्यादा अच्छी नहीं थी. लेकिन अब मेरे मन में हमेशा दीदी की गांड ही रहती कि क्या मैं कभी दीदी के साथ सेक्स कर पाऊंगा या नहीं.

वो बोली- मेरी पेंटी मेरे मुँह में ठूंस दो और जल्दी से लंड चूत के अन्दर डाल दो.

देहाती भोजपुरी सेक्सी फिल्म

भाइयों मेरा तो यह कहना है कि किसी लड़की को पटाने से अच्छा है, किसी आंटी या भाभी को पटा लो, उनके दोनों छेद बहुत मजा देते हैं. ’फिर मैंने भी देर ना करते हुए उसकी नाइट ड्रेस खोल दी और काव्या मेरे सामने सिर्फ़ सफेद ब्रा और पेंटी में लेटी हुई थी. मेरे मन में आ रहा था एकदम से इसकी चूत में अपना लंड पेल दूं, लेकिन मैं जानता था कि अभी यह बिना चुदी हुई है … इसलिए बहुत प्यार से चोदना पड़ेगा.

मैंने 10 मिनट के अन्दर उनकी चुत का सारा पानी अपने मुँह में पी लिया. तभी मैंने अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए अपने लंड को पूरा बाहर खींचकर एक जोरदार ठाप दे मारी, तो मेरा लंड उसकी चूत में पूरा समा गया. उम्म्ह … अहह … हय … ओह … मैंने एक हाथ से पीछे सहारा लिया और उसकी चूत में अपनी गांड के सहारे से लंड को धकेलते हुए उसकी चूत की चुदाई करने लगा.

जब वो उलटा लेट कर एक्सरसाइज करती, तो उसके चूतड़ों के बीच की दरार को देखने लगता.

प्रिया ने मेरे कान में कहा- आज तुम्हारी 22 साल की बहन की चुदाई होने वाली है, चूत की सील टूटने वाली है, मेरी चुदाई देखना और मजे लेना. मैंने उस दिन तय कर लिया था कि आज रात अपनी मॉम को अपना बना लूंगा उन्हें अपनी पहली पत्नी का दर्जा दूंगा. पर मैं कुछ नहीं बोल सकती थी क्योंकि मेरे किरदार के हिसाब से मालिक कमलनाथ था और मुझे हर कष्ट बर्दाश्त करना था.

जबकि कुछ देर पहले उसने मुझे न सिर्फ नंगी देखा था, बल्कि अपने मित्रों के साथ कामक्रीड़ा में संलग्न भी देखा था. भाभी पूछ बैठी- आपको अभी से नींद आ रही है क्या?मैंने कह दिया कि नींद तो नहीं आ रही लेकिन जाकर लेट जाऊंगा तो आ जायेगी. आप इस बात को समझ ही सकते होंगे की मेरी मां की गांड कितनी शेप में होगी.

निधि पूरे जानवरों की तरह मेरे होंठों पर टूट पड़ी, लग रहा था जैसे वह मेरे होठों को खा जाएगी। मुझे ऐसा लग रहा था जैसे निधि ने सालों से किस नहीं किया है. मैंने थोड़ा झिझक कर रिप्लाई दे दिया- वीडियो चैट क्यों करनी है? हम दोनों की बात हो चुकी है, नम्बर भी मिल गये हैं फिर आपको वीडियो चैट क्यों करनी है?मेरी इस बात में उसे बेरुखी लगी और उसने रिप्लाई देना बंद कर दिया.

गर्लफ्रेंड … और मेरी? हो ही नहीं सकता है मैडम!” मैंने उसकी बात का जवाब देते हुए कहा. उसने अपने दाएं हाथ को मेरे चूतड़ से अलग किया और पीछे से मेरे बालों को पकड़ मेरे सिर को खींच कर मेरे होंठों से हाथ लगा कर चूसने और चूमने लगा. सेक्स के बारे में जब बात शुरू हुई तो लड़की ने मुझसे सवाल करने शुरू कर दिये.

चुदाई के समय भी मेरी गांड फट रही थी।हम कमरे में लौटे तो कपडे़ उतारे जब अंडरवीयर बनियान में थे.

रमा ने मुझसे कहा कि मैं यहां की खास मेहमान हूँ … इसलिए मैं ही केक काटूँ. मेम जब भी सामने होतीं, तो मेरा ध्यान उनके होंठ और मम्मों पर ही ज्यादा जाता था. मगर मैं आपकी जानकारी के लिए उसके फीगर का नाप अभी बता दे रहा हूं ताकि आपको पता लग सके कि वो दिखने में कैसी रही होगी.

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम कुश है, यह मेरी पहली अन्तर्वासना सेक्स कहानी है दोस्त की साली की चुदाई की … कुछ गलत दिखे, तो मुझे माफ कर देना. वो बोली- अरे यार तू समझता क्यों नहीं है … कोई आ जाएगा तो!मैंने कहा- इसी लिए तो गेट पर ताला बंद करवाया है … और सलमा नजमी 5 बजे आएंगी.

हालांकि स्कूल के समय बारहवीं क्लास में मेरी एक गर्लफ्रेंड थी, लेकिन उसने मुझे धोखा दिया और वो मुझे छोड़ कर चली गयी. मैंने कहा- मैं आपकी निजी जिंदगी के बारे में क्या बोल सकता हूँ?वो बोली- छोड़ो, मैं भी क्या बात लेकर बैठ गई. भारत में तो सामान्य रिवाज है कि प्रसूति के चालीस दिन तक तो स्त्री को पूरा आराम दिया जाता है.

lucy सेक्सी

अभी तक मेरी भांजी की शादी नहीं हुई है और हम तीनों साथ साथ ही चुदाई का मजा ले रहे हैं.

उस दिन पापा घर से बाहर गए हुए थे और मेरा भाई कॉलेज के टूर पर गया था. पर इस चक्कर में उसके जोर लगाने से उसका खड़ा मस्त लंड मेरी गांड के छेद पर बार बार हल्के हल्के धक्के भी दे जाता था तो मुझे मजा आ जाता था. मैं बिना कोई परवाह किये पूरा का पूरा लंड भाभी की रसीली चुत में डालने लगा.

अनिल उसकी चूत में अपना प्यासा फन फनाता लंड डाल कर धक्के पर धक्के दे रहा था. थोड़ी देर में ही हम सेक्स करते करते झड़ गए, हमारा पानी निकल गया था और हम दोनों थक कर बिस्तर पर लेट गए थे. नीलकमल का सेक्सी वीडियोउन्होंने पहले मालिश से शुरुवात की, फिर तरह तरह की क्रीम बदन पर मले.

कमलनाथ बोला- अच्छा ठीक है … पैसे ले लेना, कितने लेगी बोल?मैंने रमा के सिखाए अंदाज में बोला- एक शॉट का 5000, बिना कंडोम 7000 और चूसने का 1000 अलग से लगेगा. मैं 5 मिनट तक मॉम को किस करता रहा और उनके मुँह का सारा पानी अपने मुँह में ले लिया.

वो मेरे होंठों को चूसते हुए अपनी चूत में लंड को लेती रही और मैं उसकी चूत में धक्के लगाता रहा. इतना कह कर वो नेता भीतर चला गया और इधर रमा ने मुझे पैग भीतर ले जाने को कहा और इशारों इशारों में मुझसे हाथ जोड़ विनती करते हुए सब संभाल लेने को कहा. आप इस बात को समझ ही सकते होंगे की मेरी मां की गांड कितनी शेप में होगी.

मेरे होंठ आंटी की चूत पर लगे तो उसके मुंह से एक आह्ह निकल गई और उसने मेरे होंठों को अपनी चूत पर दबा दिया. उनका प्रेम प्रसंग पहले से था, शादी से पहले कविता कुंवारी थी और रवि शादीशुदा था. सुरेश बोला- तो मेरा लंड का माल खा ले साली रांड … तुझे प्रोटीन भी मिल जाएगा.

मैंने उसकी चिकनी चूत में जीभ देने की सोची लेकिन कुछ सोच कर रुक गया और उसको वहीं बेड पर लिटा दिया.

लेकिन वह जानबूझकर मुझे यह अहसास दिला रही थी कि उसको इस बात का जरा भी अंदाज़ा नहीं है।इस तरह से उस दिन का दिन खत्म हो गया और रात हो गयी. जहां इतनी देर जांघें फैलाये हुए अब मुझे मेरी जांघों में अकड़न होने लगी थी … वहीं कमलनाथ भी धक्के मारते हुए थकान महसूस करने लगा था.

की आवाजें भी तेज होने लगी थी लेकिन मैंने इसकी परवाह किये बिना उनकी चुदाई चालू रखी।एक समय आया जब भाबी कि चूत एकदम चिकनी हो गई और मुझे लंड अंदर बाहर करने में बहुत मजा आने लगा।तभी भाबी एकदम अकड़ गई और उन्होंने अपनी दोनों टांगें सिकोड़ ली तथा जोर से चिल्ला भी पड़ी- आईईई. दोपहर तक रमा भी यहां पहुंच गई थी और एक घंटे के बाद वापस जाने का टिकट हो चुका था. मम्मी की चूत पर बहुत बड़े बड़े और घने बाल थे और धीमी रोशनी में उनकी चूत बिल्कुल नजर नहीं आ रही थी.

मौका पाकर मैं झट से अनु के पास गया और उसको एक तरफ खींच कर अपनी छाती से सटा कर कहा- क्या बात है, मुझसे बात क्यों नहीं कर रही हो? दो दिन से तुम्हारा इंतजार कर रहा हूं. आंटी- तो तुम नहीं गये?मैंने कहा- नहीं आंटी, मुझे कॉलेज के प्रोजेक्ट का कुछ काम है इसलिए मैं नहीं गया. सीधे शब्दों में कहूं तो मैं दीदी पर लाइन मारने की कोशिश करता रहता था.

मूवी बीएफ हिंदी में भाई और तुम्हारी बातों को सुन कर मुझे तुम पर भरोसा था इसलिए मैं तुम्हारे साथ ये सब करने के लिए तैयार हो गई. इसलिए आप इस ग्रुप की सभी लड़कियों की चुदाई की कहानियों का मजा लेते रहें.

सेक्सी पिक्चर खुला वीडियो

मैं दो बजे रात को उठा, तो मेरा लौड़ा टाइट था और बिल्कुल लोहे के रॉड की तरह कड़क था. उसने भी मेरी बांहों में सर छिपाते हुए कहा- हां … वो तो मैंने भी देखी हैं. तब तक कॉफी आ गई, कॉफी पीते हुए मैंने उससे बोला- आगे क्या?वो समझ गई, पर कुछ नहीं बोली.

मैं उसकी चूत तक हाथ नहीं पहुंचा पा रहा था वरना उसकी चूत में उंगली देकर उसको अभी गर्म करके चोद देता मैं. उनके वजह से मुझे भी हवाई जहाज में सफर करने का आज अवसर मिलने वाला था. सेक्सी कहानी बहन भाई कीतो उस दिन मैंने देखा कि वो एक बस स्टैंड पर खड़ी हुई शायद बस का इंतजार कर रही थी.

पहले तो मैंने नहीं उठाया, फिर डरते डरते कॉल उठाया, तो सामने नलिनी थी.

एक टाइट वाली फ्रॉक पहन कर वो बाहर आई थी और उसके हल्के हल्के निप्पल के उभार उसकी इस टाईट फ्रॉक के ऊपर से दिख रहे थे. मगर मुझे मां की गांड बहुत अच्छी लगती थी और मेरा मन मां की गांड मारने का कर रहा था.

आंटी के मोटे चूचों को चूसकर मैंने उसकी बड़ी चूत की चुदाई की?मेरा नाम राहुल है और मैं पुणे में रहता हूं. वैसे तो उसने मुझे कई दिनों से परेशान कर रखा था लेकिन वो इस बात को नहीं जानती थी शायद कि चुदाई करवाने में दर्द भी झेलना पड़ता है. इस सफर में आप हमारे साथ जुड़े रहिये और आपको बारी बारी से हर लड़की की सेक्स कहानी और चुदाई की घटनाएं यहां पर पढ़ने को मिलती रहेंगी.

मेरी हॉट हिंदी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कॉलेज में मेरी जवानी मुझे चूत चुदाई का मज़ा मांग रही थी.

कोई पंद्रह मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मैंने उसकी चूत में ही अपना सारा वीर्य छोड़ दिया. चूंकि वो लड़का रात को जॉब करने जाता है, इसलिए मैं उससे दोपहर में बात कर लेती हूँ. हम दोनों लोग कभी कभी एक दूसरे से बात नहीं कर पाते थे, तो एक दूसरे को देख कर स्माइल कर देते थे.

सेक्सी वीडियो गूगल सेक्सी वीडियोजब मानव ने मेरी नाभि में अपनी जुबान डाली तो मैं खुशी के मारे चिल्ला उठी लेकिन मानव ने मुझे चूमने का सिलसिला जारी रखा. फिर उसके बाद उस पर्दानशीं भाभी की चुदाई मैंने कैसे की?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को नमस्कार.

सेक्स एंड सेक्सी मूवी

तो मैंने उसे कैसे सब कुछ समझाया?मेरा नाम रोहन है और मैं गोरखपुर से हूं. जैसे ही मैं झड़ने लगा, वो मुझे बहुत ही ज़ोर से किस करने लगी और मुझे बहुत सुकून मिलने लगा. इधर मेरे पति अपना पैसा निकलवाने के लिए कुछ सरकारी अधिकारियों की खातिरदारी करने की योजना बना रहे थे और वे 3-4 दिन रामगढ़ में ही रहने वाले थे.

फिर कमरे में ला कर मैंने दीदी को पेनकिलर गोली दी, ताकि ज्यादा दर्द ना हो. उसकी पैंटी को निकाला तो उसकी सांवली सी चूत मेरी आंखों के सामने नंगी हो गई. नेता जी ने मेरे हाथ से गिलास लिया और फिर एक हाथ से पकड़ कर मुझे अपनी जांघों पर खींचकर बिठा लिया.

कुछ देर ऐसा करने के बाद मैंने उसे उठ कर घुटनों के बल घोड़ी बन कर बैठने को बोला. मेरा लंड राकेश के हाथ में देख कर वो बोली- ये क्या राकेश? तुम्हें भी चाहिए क्या निहाल का लंड?ये कह कर वो हंसने लगी. ये शायद हमारी सम्भोग क्रिया का सबसे कामुक पल था, जिससे मेरा रोम रोम रोमन्चित हो उठा था.

अम्मा ने कहा- बेटे मैं थोड़ी देर के लिए शीला चाची के पास जा रही हूँ, तू सो जा, मैं अभी आती हूँ. लोगों को पर्सनल ट्रेनिंग देने के लिए, जिसमें लड़के और लड़कियां, आदमी और महिलाएं सब आते थे.

’ बोला और कहा- मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि कोई मेरे साथ इतने प्यार से सेक्स करेगा और मुझे इतना एन्जॉयमेंट मिलेगा.

वो मेरी गुलाम बन के रहेगी, मैं उसे किसी से भी चुदवाऊंगी, कितने भी कस्टमर चढ़वाऊंगी … तेरे को उससे कोई मतलब नहीं रहेगा. देसी सेक्सी देवर भाभी कीतभी भाभी ने प्यारी सी आवाज़ में कहा- अरे अजय … तुम आ गए मम्मी जी का फ़ोन आया था कि अजय आ रहा है. ರೋಮ್ಯಾನ್ಸ್ ಸೀನ್जब सामने नंगी चूत हो तो लंड को पता रहता है कि उसकी मंजिल कहां पर होती है. मगर मैंने उनकी चिल्लपौं को अनसुना कर दिया और उनके ऊपर छाते हुए पूरा लंड चुत में पेल दिया.

मैंने भी उसको बोल दिया- लाओ मैं अच्छे से तेल लगा कर मालिश कर देता हूं.

वो लहंगा उठा कर मेरी जांघों पर बैठ गयी और झुककर फिर से लंड को चूसने लगी. उस रात से हमारे जवान जिस्मों के बीच में जो संबंध बनने की शुरूआत हुई तो फिर हमने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा. मैं कहने लगा कि मैं तुम लोगों के लिए एक जुगाड़ करवा सकता हूं लेकिन उसमें थोड़े पैसे लगेंगे.

कुछ ही देर में इतना लंबा और मोटा खीरा अब उनकी चुत में पूरा घुस गया था. राजशेखर ने रमा के ब्लाउज के ऊपर से उसके स्तनों को दबाना शुरू कर दिया था. बल्लू ने बिजली बंद कर दी और भाभी ने बल्लू को दूसरे रूम में जाने के लिए चुपके से बोल दिया.

न्यू हॉलीवुड मूवी सेक्सी

बल्लू- हां यार, क्या बताऊं, मैंने बहुत सी लड़कियों और औरतों को पटा कर चोदा हुआ है लेकिन यह जो सर्विस देती है वो कोई और नहीं देती. उसने फोन काटा, लेकिन मुझे मस्ती सूझी, तो मैंने ऐसे रिएक्ट किया कि फोन अभी चालू है और काजल को सुनाते हुए फोन में कहा कि हां हां मलाई भी खिला दूँगा. फिर उनके उठते ही मैंने उनको दीवार से लगा दिया और उनकी चूची जोर जोर से दबाने लगा.

मेरा बदन जिम जाने के कारण काफी आकर्षक है।यह एक बिल्कुल सच्ची घटना है जिसे मैं नहीं चाहते हुए भी लिखने को मजबूर हूँ.

ठंड का टाइम चल रहा था और मेरी तबियत भी थोड़ी खराब थी इसलिए मैं अपने कमरे में जल्दी चला गया.

उस लड़के से कई बार आते-जाते मेरी बात हो जाती थी तो मुझे उनके बारे में पता चला. उस समय उसकी सांसें बहुत तेज़ चल रही थीं और इसी वजह से उसकी चुचियां बहुत तेज़ी से ऊपर नीचे हो रही थीं. ऑडियो कहानियांमैंने उनके होंठों चूसे और नाइटी के ऊपर से ही उनकी चूचियां भी दबाने लगा.

मैं दोबारा से अरशी को देखने लगा तो उसने मेरा हाथ पकड़ कर मेरे मुंह को दूसरी दिशा में पलट दिया मगर मैंने उसके हाथ को चूम लिया. चैटिंग करने की बात अलग होती है … क्योंकि वो कल्पना केवल कल्पना होती है. मेरी पोर्न को लेकर दीवानगी का आलम ये है कि जब तक मैं सेक्स ना कर लूं, तब तक मुझे चैन नहीं मिलता है.

जब मैंने उस परिधान को पहनने के लिए अपनी साड़ी, ब्लाउज और पेटीकोट उतारे … तो निर्मला बोली- बहुत गठीला बदन है तुम्हारा. हालांकि वो इस वक्त चरम पर आने को था, लेकिन तब भी वो मुझे पूरा जोर लगा कर चोद रहा था.

रवि ने उसकी टांगें पकड़ कर अपने कंधों पर रख लीं और घुटनों पर आकर अपना मुँह रमा की योनि से लगा दिया.

उधर काव्या भी बहुत गर्म हो गयी थी और बार बार ‘आअहह … उफफ्फ़ … हइईए निहाल … यार आआहह. मैं इतनी तेज झड़ रही थी कि अपनी योनि सोफे के कोने पर आगे को धकेलने लगी थी, जिसकी वजह से कमलनाथ बार-बार मेरी कमर पकड़ कर पीछे खींचते हुए धक्के मार रहा था. वह रोते हुए बोलने लगी- यह क्या हो गया … ऐसा खून क्यों बह रहा है?मैंने उससे कहा- कुछ नहीं तुम्हारी सील टूटी है … तुमने आज पहली बार सेक्स किया है ना … इसलिए ऐसा होता है.

காலேஜ் ஸ்டூடண்ட் செக்ஸ் राकेश ने रिसेप्शन पर ही एक दारू के लिए बोल दिया, जो कि बहुत महंगी थी. मैं बस ये देख रही थी कि तुम कितना सब्र रखते हो और कब खुद मुझे ये सब बोलते हो.

ब्लाउज थोड़ा कसा सा था, जिसकी वजह से मेरे स्तन उभर कर बाहर निकलने जैसे हो रहे थे. जब भाभी से रहा न गया तो भाभी ने पीछे हाथ ले जाकर बल्लू के लंड को उसकी पैंट के ऊपर से पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी. लेकिन चुदाई खत्म होने के बाद ये सब पता लगता है कि क्या-क्या हुआ।वो बोली- सर, चुदाई में सचमुच बहुत दर्द होता है क्या?मैंने कहा- नहीं, ये चुदाई करने वाले के ऊपर निर्भर करता है कि उसको ये कला आती है या नहीं.

केबिन रजिस्ट्रेशन

रमा और रवि लड़की के चाचा और चाची बन गए और मैं अकेली बची, तो मैं लड़की की माँ बन गई. फिर मैंने जींस उतारकर लॉन्ग टी-शर्ट और पजामा पहन लिया … तब उसे अन्दर बुला लिया. कुछ समय तक उसके मम्मों को चूसने के बाद मैं नीचे आया और उसकी टांगें फैलाकर देखा, तो उभार लिए हुए उसकी चूत पानी से भीगी हुई थी.

मैं बस ये देख रही थी कि तुम कितना सब्र रखते हो और कब खुद मुझे ये सब बोलते हो. मैंने लगभग 15 मिनट तक उसकी चूत को चोदा और फिर जब किसी भी तरह से खुद पर नियंत्रण करना मुश्किल हो गया तो मेरे लंड ने भी मेरा साथ छोड़ दिया.

मैं रूम में आकर सुरेश के साथ किस वाले पल को याद करने लगी और मेरी चूत गर्म होने लगी.

इसी वजह से मेरे अगल बगल क्या हो रहा, मुझे उसकी न कोई चिंता थी, न कुछ नजर आ रहा था. धीरे धीरे उनका दबाव बढ़ने लगा और देखते ही देखते अंकल का लंड मेरी चूत में घुसता हुआ पूरा का पूरा अंदर समा गया. मैं बाहर सोफे पर बैठा यही सोच रहा कि आज तो अपूर्वा को पकड़ ही लूंगा … उसे पेल ही दूंगा.

मैंने दीदी के कान के पास अपने होंठ ले जाकर फुसफुसाते हुए पूछा- डाल दूं क्या अंदर?दीदी ने मेरी पीठ पर अपने नाखून गड़ा कर अपनी मंजूरी दे दी. इस तरह करीब आधा घंटे तक प्रेमालाप करने के बाद हम दोनों का जिस्म पूरी तरह से गर्म हो गया था. जब भी सासु मां मतलब बीजी आती हैं, मेरे से जरूर चुदवाती हैं, लेकिन ये बात मेरी बीवी को आज भी पता नहीं है.

रमा और रवि लड़की के चाचा और चाची बन गए और मैं अकेली बची, तो मैं लड़की की माँ बन गई.

मूवी बीएफ हिंदी में: और मैं ये भी जानती हूं कि तुम उस दिन टॉयलेट में मुठ मार रहे थे मेरे नाम की! सच कहूँ तो मैं भी उस दिन चुदना चाहती थी लेकिन मौका नहीं मिला. अब मैं आंटी के एक बोबे को हाथ से मसलने लगा और दूसरे बोबे को मुंह में लेकर चूसने लग गया.

मैं हकलाते हुए बोला- हां … हां … बिल्कुल! हम आज उसी टॉपिक के बारे में बात करेंगे. कहीं कट गयी तो?मैंने कहा- अगर तुम अपने हाथ से करोगी तो कट जायेगी लेकिन मैं करूंगा तो आराम से सफाई कर दूंगा. एक दिन ऐसे हुआ कि मेरी बीवी और बच्चे मेरी ससुराल में छुट्टियों में गए हुए थे.

उसने कहा- मैं वही चाहती हूं, जो आपने मुझसे कहा था, लेकिन पता नहीं मुझे उस टाइम क्या हो गया था.

उसकी सील टूटने की बात उसने मुझे बताई थी, पर वो कहानी मैं बाद में बताऊंगा. मेरे लंड ने एकदम से उसकी चूत में पिचकारी मार दी और मैं झटके दर झटके झड़ता चला गया. किसी तरह बहुत विनती करने के बाद वो मुझे छोड़ा और बगल में लेट गया और मुझे अपनी ओर खींच कर सीने से लगा लिया.