बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ पिक्चर कुत्ता की

तस्वीर का शीर्षक ,

औरत बीएफ सेक्सी: बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो, इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी पढ़ने के लिए सभी का धन्यवाद।[emailprotected].

बीएफ देहरादून

थोड़ी देर बाद अंजुमन आंटी की चूत से नमकीन पानी निकलने लगा और मैं पी गया. रंडी खाना वाला बीएफमुझे सारे रास्ते रिट्ज की बड़ी बड़ी चुचियां और उसके कड़क निप्पल मेरी पीठ पर रगड़ कर मजा देते रहे.

अगर मैं उठने की कोशिश भी करता तो वो मुझे अपने से और ज्यादा जोर से चिपका लेती थी. बीएफ दिखाओ बीपीकुछ देर बाद मैंने कंडोम का पैक खरीदा और उधर से मम्मी को फोन कर दिया कि मम्मी आज रात मैं दोस्त के घर ही रुक रहा हूँ.

नंगी गर्लफ्रेंड स्टोरी में पढ़ें कि एक दिन मैं अपनी गर्लफ्रेंड के घर में था.बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो: मुझे चॉकलेट खाना पसंद तो थी लेकिन मैं बसंत से लेते समय कुछ सकुचा जाती थी.

फिर मैंने एक सिगरेट सुलगाई और कश खींचते हुए सुहैला की नंगी जवानी को देख कर मस्त होने लगा.खुले गीले बाल थे, जिसमें आकृति आंटी कोई पोर्न एक्ट्रेस से कम नहीं लग रही थीं.

वीडियो बीएफ पेली पेला - बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो

हम दोनों इस तरह लिपट कर चोदने में लगे थे जैसे दोनों के जिस्म एक हो गए हों.उसने भी मेरे लंड को अपनी गांड हिला कर इशारा दे दिया कि ये छेद तेरे लिए रेडी है.

अब ऊपर हिस्से में मेरा ब्लाउज उनके सामने था, जिसमें से मेरे गहरे गले से मेरी चूचियां उन्हें ललचा रही थीं. बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो एक मिनट बाद मैंने सीमा की नाइटी के ऊपर से ही उसकी एक चूची को मुँह में भर दिया और जोर जोर से खींचते हुए चूसने लगा.

मेरे ईमेल पर अपनी राय अवश्य दें।मेरी ई-मेल आई डी है[emailprotected].

बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो?

मैं कुछ समझता, इतने में ज़रीना मेरे पीछे से आगे आकर मेरा लंड हाथ में ले लिया. स्नेहा सबके सामने खुश थी, पर मुझे पता था उसके दिल पर क्या बीत रही थी. पहली बार लंड का सुख मुझे मिल रहा था।आकाश भी चुदाई में अव्वल था, मगर वो भी अपनी बीवी से सुखी नहीं था। इसलिए आज वो भी मेरी चूत का भोसड़ा बनाने पर आमादा था।वो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था.

मैंने पूछा- उसके साथ फिर से सेक्स करना है क्या?वो बोली- नहीं … पर मुझे उससे मिलकर बहुत बात करनी है. फिर कुछ देर बाद रिट्ज स्कूल से जब वापस आयी, तो हमने उसको उसके जन्म दिन का सरप्राइज दिया. उसे भी अपनी गांड उंगली से मजा आने लगा था और उसका डर खत्म हो गया था.

फिर कुछ देर आंटी की चूत चोदने के बाद मैंने उनको जरा सा उठने को बोला, तो वो समझ गईं. जैसे ही उसे मैंने अपने गले से लगाया, मेरे नथुनों में उसके गर्म और मांसल बदन की खुशबू भरने लगी और लंड ने एक अंगड़ाई ले ली. वो उस वक्त 26 साल का था और दिखने में भी काफी हैंडसम था।मेरी और उसकी उम्र में बस 7 साल का फर्क था।समय यूं ही बीतता गया और हम दोनों की नजरें एक दूसरे को निहारती रहीं। अब वो मुझे देखकर मुस्कराता भी था और मैं भी उसे देख कर मुस्करा देती थी।मतलब ये कि अब आग जोर पकड़ चुकी थी.

भाभी जहां भी जाती थीं, वो उधर अकेली ही रहती थीं क्योंकि जिस आदमी से उनकी दूसरी शादी हुई थी, उसके परिवार वालों के साथ भाभी की जमती नहीं थी. पर रोहन को ये नहीं पता था कि उसकी मॉम लंड देखते ही उसे चूसने तक पहुंच जाएगी.

लॉकडाउन के बाद मेरी बहन जीजा के पास चली गई और मेरी बीवी मेरे पास आ गई.

आपकी आंखें आपसे भी ज्यादा सुन्दर हैं, जी करता है कि आपको और आपकी आंखों रोज देखता रहूँ.

नमस्ते, आप सभी को मेरी भानजा मामी सेक्स कहानीमामी की चूत और गांड का आनन्दपसंद आयी, उसके लिए बहुत धन्यवाद. मैंने उसके मुँह से हाथ हटाया तो वो लम्बी लम्बी सांस लेते हुए मुझे देखने लगी. बात इतनी बढ़ गई कि वो मुझे बाबू जानू कहने लगीं और मैं भाभी जी से कभी कभी जान और अन्वेषी कहने लगा.

सागर मेरी चूचियों के साथ खेलता, कभी मेरी चूत चाटता तो कभी मैं उसका लौड़ा चूसती. मेरी बहन ने गांड उठाते हुए पूछा- कब से कर रहे हो ये सब?मैंने बताया- जबसे मैं जवान हुआ, तभी से कर रहा हूं. मैंने तुरंत घर का मुख्य दरवाजा बंद किया, फिर अपने रूम का दरवाजा बंद कर लिया.

आपको लड़की की अन्तर्वासना कहानी कैसी लगी इस बारे में आप अपने कमेंट्स में लिखें.

मैंने उसके बोबों को मसलते हुए जोर से धक्के लगाए और एक जोरदार हुंकार के साथ लौड़े ने अनगिनत पिचकारियां उसकी कोमल सी चुत में भर दीं. अब वो गांड आगे पीछे करके लंड लेने लगी। मैं उसके बूब्स दबाने लगा और वो खुद लंड पर गांड चलाने लगी।मैंने उससे पूछा- क्या तुम्हारे पति नहीं चोदता?वो बोली- चोदता है लेकिन मेरी आदत हो गई नये नये लंड लेने की!अब मैं उसे और तेज़ तेज़ झटकों से चोदने लगा मैं समझ गया कि इसको जमकर चोदना पड़ेगा।मैंने उसे लंड मैं बैठ कर चुदवाने को कहा. भाभी- अरे हमारे ऐसे नसीब कहां, वो तो काम को ही अपना सब कुछ मानते हैं.

दोनों का गोरा बदन, रसीले स्तन, हल्के हल्के बालों से छिपी गुलाबी चूत … आह आह करते हुए मैं झड़ गया और मेरी आंखें खुल गईं. हम दोनों सुबह उठे और साथ में ही नहाए … एक दूसरे को नहलाया और लंड और चूत साफ किए. वो हाथ पांव मारने लगीं, तो मुझे ध्यान आया कि लंड सारा का सारा मुँह में है, तो मैंने थोड़ा सा लंड बाहर निकाला और फिर से अन्दर को एक स्ट्रोक मारा.

पूजा- तो भैया … क्या मैं कुछ करूं आपके लिए … जिससे आपको संतुष्टि मिल जाए?मैं- क्या तुम मेरे आगे अपने कपड़े उतार कर खड़ी रह सकोगी?पूजा ने शरमाते हुए कहा- ठीक है भैय्या आप कहते हो तो …मैंने झट से अपने सारे कपड़े उतार दिए और उसके आगे अपने लंड को हाथ में लिए हिलाने लगा.

उसने अपनी अदाओं में कमल को ऐसा लपेटा कि कमल को रात को बिना सेक्स के नींद नहीं आती थी या यूं कहिये कि सारा बिना सेक्स किये उसे सोने नहीं देती. यद्यपि मेरी उम्र 45 साल है, फिर भी मुझे यह सब कुछ ऐसा लग रहा था, जैसे मैं कोई कुंवारी कन्या हूं.

बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो चाची चुदते हुए बोली- आह्ह … आहाह … ऊईई … ओह्ह … फट गयी … आह्ह आराम से चोद … हरामी … आह्ह फाड़ दी चूत मेरी।मैंने चाची की बातों पर ध्यान नहीं दिया और उसकी चूत को चोदता रहा. फिर मेरी पैंटी को साइड करके आपने अपने लंड को पीछे से मेरी चूत में डाल दिया.

बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो अब फिरंगी और इंडियन मतलब जॉन और रॉय मेरे मम्मों को दबाने लगे और मुझे किस करने लगे. उस जोड़े में भाभी जी अपने पति के सामने ऐसी लगती थीं, जैसे खंडर के सामने ताजमहल हो.

उसे देखकर पहली नजर में ही मैं तो उस पर लट्टू हो गया था क्योंकि मेरी होने वाली बीवी बिल्कुल वैसी ही थी जैसा मैंने सोचा था.

सेक्सी फिल्म इंग्लिश में एचडी

लकी को विदा करके सारा कपड़े चेंज करके बेड पर पहुंची तो कमल मुस्करा रहा था. तुम ऐसी सब फिल्स देखते हो … और तुम रात में गेस्टहाऊस में अकेले रहते हो, तो कन्ट्रोल कैसे कर लेते हो. मैंने भाभी को घोड़ी बनाया और उनकी गांड के छेद पर लंड रखकर तेल लगा कर सुपारे से गांड की मालिश की.

फिर मैंने पीछे मुड़कर देखा, तो उन दोनों भाभियों की सीट पर कुछ अजीब सा रखा हुआ था, जिसको देखते ही मेरी आंखें सिकुड़ गईं. मैंने अपना चेहरा उठा कर जेठजी की आंखों में देखा तो जेठजी ने मुझे बैठने का इशारा किया. मॉम हंस दीं और बोलीं- तेरा मन नहीं भरा क्या?मैंने कहा- मॉम, इतनी लवली चुत मारने के बाद कौन ऐसी रसमलाई सी गांड को छोड़ेगा.

वो अंदाज़ा लगाने लगी कि तम्बू के हिसाब से उसके बेटे का हथियार कितना बड़ा होगा.

रोहन जब 18 वर्ष का था, तब उसे आगे की पढ़ाई के लिए हॉस्टल भेज दिया गया था. उसको ऐसे देखना अब आम बात हो गई थी।जीजा जी मुझसे कहते कि जिस दिन तुम शादी करोगे उस दिन तुम्हारीबीवी को खूब चोदूंगा।नेहा भी ये सुनकर खूब हंसती थी।इस तरह से हम तीनों की दोस्ती हो गयी और अब दीदी हम दोनों से चुदने लगी।दोस्तो, आपको मेरी ममेरी बहन की चूत चुदाई कहानी अच्छी लगी हो तो बताना. आज वो ब्यूटी पार्लर जाकर अपने आपको सजा संवार रही थी, वो खुद को आज की रात को स्पेशल बनाने के लिए तैयार कर रही थी.

आपको तो समझ आ ही गया होगा कि मुझे जो चाहिए था, वो शायद आज मुझे मिलने वाला था. मैं अपनी साड़ी बदल कर आ गयी और मैंने वो नयी ड्रेस पहनी जो मैं बाजार से लायी थी. मैंने उन्हें धीरे से बेड पर लिटा दिया और फुद्दी को मसलकर उन्हें गर्म करने लगा.

अपने गुप्तांगों के बाल साफ कर लिए ताकि मेरा सांवला रंग होने के बावजूद मेरे जिस्म का हर अंग मेरे यार को अच्छा दिखे. तो मैंने अगले दिन सुबह मम्मी को जाकर बोल दिया कि मेरे इंस्टिट्यूट का पेपर हो रहा है जिसको मैं छोड़ नहीं सकती.

प्लीज़ … रुक जाओ … आहह … उम्हह … ओहह … प्लीज़ … रुको।लेकिन हरीश जी नहीं माने और उन्होंने प्रिया को दर्द देते हुए उसकी चूत को चाटना जारी रखा।करीब एक मिनट से थोड़ी ज्यादा देर तक उन्होंने प्रिया की चूत को चाटा।वक्त भले कम था लेकिन इतने में ही प्रिया की हालत बहुत खराब हो गई. इस आसन में मैं ज्यादा देर नहीं टिक पाई और मेरी चूत ने अपना पानी छोड़ दिया. कुछ देर बाद उसने मुझे सीधे लिटा दिया और मेरी गर्म हो चुकी चूत को अपनी जीभ से चाटना शुरू कर दिया.

शेखर ने कुसुम से कहा कि कुसुम तुम दोनों के मन में जो हो, वो करो … मेरी तरफ से तुम दोनों को खुली छूट है.

अपनी मॉम की चूचों को रोहन बारी बारी से अपने मुँह में लेकर चूस रहा था. कुछ 10-11 किलोमीटर बाद खेत के रास्ते से होती हुई वो मुझे किसी फार्म हॉउस पर ले गयी. मैंने भी जबरदस्ती नहीं की और उसकी टांगों को कंधे पर रख कर लंड को चूत पर सैट कर दिया.

एक दिन नवाब ने मेरे शौहर का फोटो मेरे फोन में देखा और बोला- यह कौन चूतिया है?मैं बोली- यह मेरा शौहर है क्यों क्या हुआ?नवाब बोला- यह फेन्सी है क्या?मैं बोली- मतलब … समझी नहीं!नवाब ने अपने फोन में से मुझे कुछ फोटो दिखाईं, जिन्हें देख कर मैं दंग रह गयी. उसने अपनी पिता को कॉल कर दिया था कि वो रात के 10 बजे तक पहुंच जाएगा.

मंजू बड़ी मस्ती से अपनी गांड मरवा रही थी और अंजलि ये सीन देखे जा रही थी. कुसुम के गले लगते ही रोहन को अपने सीने में अपनी मॉम के 38 साइज के बूब्स का बहुत मादक अहसास हुआ. नीचे से मेरी गीली चूत में सत्यम का लंड छप छप की आवाज़ करते हुए मस्त संगीत बिखेर रहा था.

మలయాళం సెక్స్

हम दोनों एक दूसरे को इस प्रकार से किस करने लगे मानो एक दूसरे को खा रहे हों.

वो उस वक्त 26 साल का था और दिखने में भी काफी हैंडसम था।मेरी और उसकी उम्र में बस 7 साल का फर्क था।समय यूं ही बीतता गया और हम दोनों की नजरें एक दूसरे को निहारती रहीं। अब वो मुझे देखकर मुस्कराता भी था और मैं भी उसे देख कर मुस्करा देती थी।मतलब ये कि अब आग जोर पकड़ चुकी थी. मैं जोर जोर से उनकी चुत मसल रहा था और वो फुल जोश में मुझे चूम रही थीं. तभी लवली मेरी सिचुएशन को समझ गई कि ये तो बिल्कुल अनाड़ी है इसलिए जो भी करना है, उसे ही करना पड़ेगा.

वो बोला- हां मेरे पास है, वो तुम्हारी कोई खास हो, तो मेरे घर आकर ले लो. मुझे मालूम है कि तुम जो सुरेश से चाहती हो, वो तुम्हें नहीं दे रहा है. मैडम सेक्सी बीएफमुझे उनसे बात करने में अच्छा लगा तो अब हमारी रोज ही बात होने लगी थी.

एक दिन अपनी बेहन को चोदते समय मैंने उसे गाली दी- साली, एक दिन तेरे दोनों छेद में लंड पेल का तुझे मजा दूंगा. किन्तु लज्जावश बिल्लो बोली- मना किसने किया किया है, खोलकर देख लीजिए न.

अब सुबह करीब 4 बजे मैं अपनी गाड़ी के पास आई, तो वही पर एक हैंड पम्प लगा था. मेरी चाची के घर पर रंगीन टीवी था और हमारे घर पर ब्लैक एंड व्हाइट टीवी था. [emailprotected]मामी की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:सबसे छोटी मामी जी को बीहड़ में पेला- 3.

इसी तरह बात करते हुए एक दिन उसने कहा कि मुझे तुमको देखने का बहुत मन कर रहा है. मैं जैसे ही जाने के लिए उठा तो आंटी ने रिट्ज को मेरे बारे में बताया कि मैंने कैसे उनकी मदद की. मुझे बस पेपर देने जाना होता था तो मैं ज़्यादातर अपने घर पर ही रहती हूँ या घूमती रहती हूँ.

थोड़ी देर के बाद मैंने देखा कि सुरीली की छटपटाहट काफी कम हो गयी थी और वो भी चुदाई के लिए अपना पूरा ज़ोर लगा रही है.

वो जैसे ही बैग के लिए आगे बढ़ीं, मैंने उनको पीछे से पकड़ लिया और उनकी गर्दन पर चुंबन करने लगा. राज़ ने मुझसे कहा- जोया क्या तुम तैयार हो अपनी गांड फटवाने के लिए?तो मैंने भी हां कह दिया क्योंकि मैं अपने प्यार को नाराज़ नहीं करना चाहती थी.

क साथ नहाते हुए फिर से हमारा मूड बन गया, तो फव्वारे के नीचे भी एक बार चुदाई कर ली. फिर इसके दो बार प्रयास करने के बाद जब लंड चुत में नहीं गया तो मैंने उसके दोनों पैरों को अपने कंधे तक उठाया और अपना लंड चुत कि फांकों में सैट कर दिया. मेरा ब्लाउज आगे से और पीछे से दोनों तरफ से काफी खुला सा रहता है, जिसमें मेरे मम्मे अच्छे ख़ासे दिखते हैं और सभी को कामुकता से भर देते हैं.

करीब साढ़े बारह बजे मैंने अपनी फ्रेंड से कहा- यार अपने पापा से कह कर मुझे घर छुड़वा दो. उसके साथ मैंने क्या क्या मजे किये और उसने मुझे किस तरह से इस्तेमाल किया. शहर इधर से लगभग 20 किलोमीटर दूर था, तो हम दोनों बातें करते हुए चलने लगे और रास्ते में ब्रेक लगाने से समीक्षा के चूचे मेरी पीठ से रगड़ रहे थे.

बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो समीक्षा के पास मेरा नंबर था, अगर उसे कोई प्रॉब्लम या परेशानी होती थी, तो वह मुझे कॉल कर देती थी. मेरी बहन ने गांड उठाते हुए पूछा- कब से कर रहे हो ये सब?मैंने बताया- जबसे मैं जवान हुआ, तभी से कर रहा हूं.

ब्लूटूथ ओपन रिजल्ट

मुझको जब भी समय मिलता था, तभी मैं सुरीली के चुच्चों को दबाने और चूसने के काम में लग जाता था. इस बार भाभी अपनी गांड हिला हिला कर मेरा साथ दे रही थीं और ‘आह ऊऊह आह उह आह. मेरी बहन मेरे लंड से चुदने के मजे लेने लगी और बोली- साले तू अभी इतना छोटा है … मगर तेरा लंड काफी मोटा और लम्बा है … ये कैसे हुआ?मैंने अपनी बहन को चोदते हुए उसे बताया- पूजा, मैं हैंडप्रेक्टिस करता हूं, इसलिए मेरा लंड इतना बड़ा है.

मैंने आस पास देखा कि जब कोई नहीं देख रहा था, तो थोड़ा सा शटर उठा कर उसमें घुस गया. उन पर किस करते हुए वो होंठों को ऐसे चूसने लगा मानो वो मेरी तरफ से भी बदले में कुछ चाह रहा था; शायद मेरे मुँह के खुलने का इंतजार कर रहा था कि कब मेरा मुँह खुल जाए और वो अपनी जीभ को मेरे होंठों के अन्दर सरका कर मेरे रस का स्वाद ले सके. बीएफ पिक्चर चोदने वाला बीएफकाफी देर की लंड चुसाई के बाद मैंने आंटी को खड़ा किया और बड़े प्यार से एक एक करके उनके सारे कपड़े उतार कर उनको नंगी कर दिया.

मैं तो अभी ये सोच कर डर रही हूँ कि जब घर जाऊंगी, तो मेरा क्या होगा.

मैंने उसके चेहरे को थोड़ा सा ऊपर उठाया और उसके कोमल से होंठों को धीरे से अपने होंठों से छुआ. फिर मैंने उनको मज़े से चोदा।जीजा जी नेहा दीदी को रण्डी बोल बोलकर गाली दे रहे थे।सुबह तक फिर हम तीनों नंगे लेटे थे.

फ्लैट पर आते समय मैंने रास्ते से हम दोनों के खाने का और दारू का पार्सल ले लिया और फ़्लैट पर आ गए. फिर उसने अपने होंठों को मेरे होंठों से जोड़ कर मुझे चूमना शुरू कर दिया. मैंने उसके ब्लाउज को दोनों तरफ से अलग किया, तो उसकी पिंक ब्रा में कसे दोनों बोबे मेरे सामने थे, जो उसकी सांसों के साथ ऊपर नीचे हो रहे थे.

तभी मैंने वर्षा भाभी के ब्लाउज में हाथ डाल दिया और उनके दूधों पर रंग लगाते हुए दूध मसलने लगा,भाभी ने गुलाबी रंग की ब्रा पहनी थी.

ये सब करने के बाद अब इतना तो हो गया कि वो सारा के साथ हफ्ते में दो तीन दिन पोर्न मूवीज देखने लगा और उसके बाद वो सेक्स का जबरदस्ती का प्रयास करता. मित्रो, नमस्कार, मैं आकाश एक बार फिर से आकृति आंटी की बेटी रिट्ज की चुत चुदाई की कहानी को आगे लिख रहा हूँ. उनके होंठों को चूम कर मैं उठ गया क्योंकि रिट्ज भी उठ कर नीचे आ सकती थी.

गधे घोड़े वाली बीएफमुझे उसके बारे में बाद में मालूम हुआ कि ये लड़की इस बिल्डिंग में अकेली रहती थी. क्या मैं उसे देख आऊं?मम्मी बोलीं- हां हां क्यों नहीं, वह रूम में ही है.

जानवरों की सेक्सी पिक्चर चाहिए

मैं जेठजी को देख कर मुस्कुरा दी और अपने दोनों हाथों को फैला कर जेठजी को आगोश में लेने के लिए इशारा किया. भाभी ने मुझसे बोला कि आप तो इतने स्मार्ट और अच्छे दिखते हो, आपकी गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है … आप झूठ बोल रहे हो. दोस्तो, मैं नील आपके सामने अपनी चुदाई की कहानी लिख कर आपसे जानना चाहता हूँ कि आपको मेरी यह दास्तान कैसी लगी.

जब तक मेरी सांसें सामान्य नहीं हुई तब तक मैं उसकी चूत में लंड डाले पड़ा रहा. अब मैं तेरे नाना नानी के साथ तो मजाक कर नहीं सकती इसलिए आज थोड़ा हल्का महसूस कर रही हूं. मैं अपने दोनों हाथों से लंड पकड़ कर अपने मुँह से उनके लंड को चूस रही थी.

आज जो कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूं वो मेरी मौसी की चुदाई की कहानी है कि कैसे मैंने अपनी वासना के कारण अपनी मौसी को चोदा था।मैं यहां पर जगह का नाम और लोगों का नाम नहीं लिखूंगा क्योंकि मैं नहीं चाहता कि कल को कोई मेरी मौसी के बारे में कुछ बोले।अब मैं आपको मौसी के बारे में बताता हूं. उसने पूछा- कुछ खाओगे?मैंने कहा- इतनी रात को क्या मिलेगा?उसने फ्रीज से पिज़्ज़ा निकाल कर कहा- ये देखो!मैंने कहा- पूरी प्लानिंग लगती है. मेरी एक टांग नीचे करके मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से मेरी चूत में एक ही झटके में अपना मोटा लौड़ा घुसा दिया.

खाना खाने के बाद जैसे ही जेठजी उठे, मैं उनके बगल में साइड से उनके साथ खड़ी हो गई. रोहन को ये सब देख कर विश्वास ही नहीं हो रहा था कि ये सब क्या हो रहा है.

भाभी हंसने लगीं और बोलीं- क्या लड़कियां खा जाएगी तुम्हें?मैं कुछ नहीं बोला.

आज कमल ने लकी को उकसाया था कि भाई तू ही डांस कर मैं तो बस मटकता रहूँगा. बीएफ नंगी सेक्सी हिंदी मेंहमने कभी सोचा भी नहीं था कि ऐसा होगा।एक रोज दोपहर में जब हम सो रहे थे तो मेरा हाथ पर मामी का सिर के आ गया. पिक्चर सेक्सी हिंदी बीएफशेखर अपनी बीवी की ये बात सुनकर पहले तो चौंक गया, फिर वो खुश हो गया कि ये सही है. सरिता भाभी ने जब देखा कि रोमी का लंड तो बहुत शानदार है, तो वह तो फ़ौरन रोमी के पास आ गई और नीचे बैठ कर रोमी का लंड चूसने लगी.

मैंने रात को अपनी बहन की पैंटी के अन्दर हाथ डाल दिया और उसकी चूत को सहलाने लगा जिससे उसको भी मज़ा आने लगा और वो मादक सिसकारियां निकालने लगीं.

मैंने उससे फिर से पूछा- बता न!वो बोली- बाद में बता दूंगी … अभी डाल जल्दी से. हम दोनों दस मिनट तक ऐसे ही लेटे रहे। उसका लंड मेरी चूत में ही सिकुड़ कर बाहर आ गया था। अब वो उठ गया. उसके बाद उसने नंगी ही टेबल पर पिज़्ज़ा लगाया और मेरी गोद में आकर बैठ गयी.

भाभी महीने में दो तीन बार मुझे अपने पास एक दो रात के लिए बुला लेती थीं. मंजू बड़ी मस्ती से अपनी गांड मरवा रही थी और अंजलि ये सीन देखे जा रही थी. शायद रजनी कपड़े बदल रही थी।अंधेरे में कुछ पता नहीं चला में चुपचाप लेटा रहा.

15 वर्ष की लड़की की सेक्सी वीडियो

मैंने उनसे अपना लौड़ा चूसने को बोला तो वो झट से नीचे आ गईं और हाथ में लंड लेते ही सकपका गईं. मैं नहाते समय आंटी की बात को याद कर रहा था, जब उन्होंने मुस्कुरा कर मुझसे कहा था कि अन्दर आकर ले लो … मैं बस आंटी की लेने की ही सोचने लगा था. फिर जब सुबह मेरी आंख खुली तो मैं मामी की चुदाई के बारे में ही सोच रही थी.

वो कहने लगी- आह जीजू और ज़ोर से चोद दे मुझे … आह मादरचोद जीजू साले फाड़ दे मेरी चूत को.

मैंने बहुत देर तक उसके होंठों को चूसा और वो भी मेरे होंठों को चूसती रही.

भाभी ने दर्द से कराहते हुए मुझसे कहा- रुक क्यों गए … धीरे धीरे करते रहो … मेरी चूत फाड़ दो. कुछ ही देर में उन्होंने मेरे मुँह में अपना ढेर सारा पानी छोड़ दिया और निढाल होकर सोफे पर ही पसर गईं. बीएफ फिल्म गानामगर मुझे किसी भी मर्द की परफ़ॉर्मेंस को चैक किए बिना उसकी तारीफ़ करना पसंद नहीं है.

उसकी बड़ी बड़ी नंगी चूचियां मेरे हाथ में और उसकी चूत मेरे लंड के सामने बिल्कुल चिकनी राजभोग जैसे फूली हुई और गुलाबी कलर की नजर आ रही थी. वो बार बार अपना ध्यान अपनी मॉम की गांड पर से हटाना चाह रहा था … पर बार बार उसका ध्यान अपनी मॉम की सेक्सी गांड पर ही चला जा रहा था. मैं सेक्स का इस कदर दीवाना था कि मुझे बस गांड मारने की चुल्ल होती थी.

मैं अपनी गांड लंड पर हिलाने लगी तो वो समझ गए कि लौंडिया चुदने को मचल रही है. जेठजी ने अपने दोनों बड़े बड़े हाथों से मेरे सर को पकड़ कर अपनी कमर से धक्का मारा और उनका लंड मेरे मुँह में 3 इंच अन्दर घुस गया.

जब मैंने उससे मेरी पसंदीदा आइसक्रीम वनीला मांगी, तो वो अपनी कुर्सी से उठ कर काउंटर से होती हुई जैसे ही निकल कर डीप-फ्रीजर के जैसे पास पहुंची, तो आंटी की विशालकाय गांड देख कर मैं एकदम से मचल गया.

फिर उसने वो डंडा अपनी चूत में डाल लिया और उसको धीरे धीरे आगे पीछे करने लगी. फिर उसने मेरी कमर पकड़ कर मुझे गोल गोल घुमाया और मेरी गांड पर 4 से 6 थप्पड़ मारे. मैंने अपने शौहर से लड़ाई की और कहा कि या तो एक अलग घर ले या मुझे तलाक दे दे.

भाई-बहन की बीएफ एचडी में अब मुझमें कहीं ना कहीं गुस्सा बढ़ चुका था, लेकिन मैंने रिप्लाई नहीं किया. उसने मेरी चूचियों को पूरी तरह से नंगी करने के लिए ब्रा को खोल दिया.

करीब 8 बजे सुनील और सुरीली अपने घर में कुछ बहाना बना कर होटल पहुंच गए थे. मैंने कहा- क्यों तुम्हें क्या लगता है क्या मैं किसी काम का नहीं हूँ. मुझे मालूम है कि तुझे भी मर्द की जरूरत होती है, तुझे भी मैं कुछ पैसे दे दिया करूंगा.

सेक्सी फिल्म पिक्चर देखने वाली

कुछ देर बाद अब रोमी ने कहा- मैं अब तुम्हारी गांड चूसूंगा और चाटूंगा. कुछ देर में अमित भी अपना पूरा माल मेरे अन्दर ही उड़ेल दिया और मेरे ऊपर ही लेट गया. मैंने अपनी दुकान पहुंच कर उसके बारे में काफी सोचा और उसे फोन न मिलाने का निर्णय ले लिया.

चंचल बोली- प्लीज जीजू दे दो ना किताब … ये मेरी सहेली की किताब है, गलती से मेरे पास आ गई है. वो अचानक उठते हुए मुझसे चिपक गईं तो मैं समझ गया कि भाभी झड़ने वाली हैं.

उसने मुझे वहां के बारे में बहुत कुछ बताया और कई सारी सलाह दीं।एक महीने के बाद मेरे जाने का समय हो गया था.

कार्तिक अपने लंड को हाथ में पकड़ कर मेरी गीली चूत पर धीरे धीरे रगड़ने लगा और चूत की फांकों में लंड का सुपारा रख दिया. वो सब बहुत दिनों से यही प्लान बना रहे हैं … और उन सबके पास आपकी बहुत सारी नंगी फ़ोटो भी हैं. कुछ देर के दर्द के बाद मेरे धीरे धीरे धक्के मारने से उसे मज़ा आने लगा.

मुझे ये सब सेक्स वीडियो में देख कर बहुत मन करता था कि कोई मेरी चुत चाटे. कभी मैं उसके ऊपर चढ़ कर चुदाई करने लगता, तो कभी वो मेरे लंड के ऊपर बैठ कर चुत चुदवाने लगती. मैं धीरे धीरे हिलते हुए उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा।वो मेरे बदन से लिपट रही थी.

जेठजी के लंड को मैंने दोनों हाथों में कसके पकड़ा और जेठजी के सुपारे के ऊपर चुम्बन कर दिया.

बिहार की बीएफ सेक्सी वीडियो: एकाएक सत्यम के सांसें उखड़ने लगीं और उसकी रफ्तार नियमित गति से दुगनी हो गयी. आप सबको मेरी ये देसी GF सेक्स कहानी कैसी लगी, कृपया कमेंट/ फीडबैक अवश्य दें.

मुझे समझ नहीं आया कि मैंने जो आसिफा की अम्मी से साथ किया था, वो क्या वो सब इन दोनों को पता है और शायद इसी वजह से अब आसिफा भाव खा रही है. इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी मेरी दोस्त की एक मस्त माल सहेली की है. वो अगली कहानी में!कैसी लगी मेरी देसी आंटी सेक्स कहानी? जरूर बताएं।[emailprotected].

ये हॉट वाइफ फंतासी स्टोरी एक साल पुरानी है … जो एक हकीकत पर आधारित है.

अचानक से कुसुम के हाथ से एक चम्मच छूट कर नीचे गिर गई, जिसे उठाने के लिए वो नीचे झुकी. भाभी ने कहा- हां तो!मैंने बातें बनाते हुए कहा- आपको पता ही होगा कि ओ. लेकिन वो केवल बोलकर मना कर रही थी, उसने मेरा हाथ हटाने की कोशिश भी नहीं की.