एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,गांड चुदाई की वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की के बीएफ वीडियो: एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ, मैंने उनके कंधे को सहलाना शुरू कर दिया और वो मेरे लंड को मेरी लोअर के ऊपर से ही सहलाने लगीं.

देवर भाभी की नंगी सेक्सी

हालांकि मुझे तो उनका नाम पहले से ही पता था लेकिन बात जारी रखने के लिए मैंने पूछ लिया. xxx देसी videoइसके बाद चाहे उसे कमल की झपकी लगने के बाद वॉशरूम में जाकर वहां अपनी उँगलियों से या किसी पतली बोतल से अपनी चूत को मसाज क्यों न देनी पड़े.

उसने एक बार रोहन के चेहरे को देखा, तो उसे देख कर लगा कि वो निश्चिंत होकर सो रहा है. लंड की चुदाई सेक्सीउनके दोनों दूध को बारी बारी से मुँह में रख कर मैं कुछ देर तक चूसता रहा.

आज मैंने पहली बार किसी का लंड अपने मुँह में लिया था, तो मुझे भी कुछ देर बाद लंड चूसने में मजा आने लगा.एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ: विजय ने सरिता भाभी से कहा- मेरी जान चुदाई शुरू करें?सरिता ने भी मादक आवाज से कहा- हां मेरे राजा, आओ चोदो मुझे … मेरी इस चूत को फाट दो, इसका भोसड़ा बना दो … आह इसे अपने लंड से खूब चोदो.

मुझे भी बहुत तेज़ दर्द हुआ क्योंकि मेरे लंड की सील टूट गई थी … लेकिन मज़ा भी बहुत आ रहा था.मेरा मन आगे भी कुछ करने को हो रहा था लेकिन मैं डर रहा था कि कहीं रूपाली इस बात का बुरा न मान जाये.

भोजपुरी में एक्स एक्स एक्स - एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ

मैं बुरी तरह से हांफता हुआ उसके कोमल से बदन पर एक कटी हुई डाल की तरह गिर पड़ा.हालांकि आज भी अभय उसका बॉयफ्रेंड है, लेकिन मैं उसके ज्यादा करीब हूँ.

इस बार वो और जोर से चीखी, लेकिन उसके होंठ मेरे होंठों में बंद थे … तो आवाज़ बाहर नहीं आई. एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ उसने मुझे कार की पीछे वाली सीट पर लिटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर किस करने लगा.

चंचल ने अपनी मादक सीत्कार को दबा दिया और मस्त होकर अपनी आंखें बंद कर लीं- अह जीजू धीरे करो न!मैंने उसकी दोनों चूचियों को हॉर्न की तरह दबा कर मसला और मरोड़ दिया.

एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ?

मैं अच्छी तरह से देख सकता था कि उसकी पीठ भी कम्पन कर रही थी और पीछे से पीठ का हिस्सा, जो खुला हुआ था, उसकी थिरकन को मैं आराम से महसूस कर सकता था. मैंने तुरंत पूछा- मतलब तुमने भी तो देखी थी, तो कंट्रोल कैसे किया?उसने कहा- मेरे पास मेरा पति है. इस बात पर उनको गुस्सा आ गया और मेरा हाथ अपनी ओर खींचकर मुझे अपने पास बिठाते हुए बोले- साली रण्डी, जब से तेरा पति गया है तभी से तेरा नाटक देख रहा हूं.

लंड मेरे हलक तक जाने की वजह से मेरे मुँह से बहता हुआ थूक सत्यम के लंड से होकर उसकी गोलियों से टपक रहा था. कुछ दिन तक बस यूं ही हम दोनों एक दूसरे को देख कर मन भर लिया करते थे और हल्की सी स्माईल देकर घूम जाते थे. उस समय शायद वह कोई मेहनत का काम कर रही थी, जिससे उसके माथे पर पसीने की बूंदें चमक रही थीं.

मैंने पूछा- तुम्हारे पास कोई टच वाला मोबाइल है, उसमें मैं अपने छोटू का फ़ोटो भेज देता हूं. कार्तिक के लंड पर हाथ रखते ही मेरे बदन में मानो तेजी से बिजली चमकते हुए अन्दर तक चली गयी थी. मेरी बात खत्म होने पर आंटी बोलीं- तुमको तो पता ही है आकाश कि तुम्हारे अंकल का होना या ना होना बराबर ही है.

पांच मिनट में हम दोनों की चुदाई अपनी ऊंचाइयों पर आ गई और हम दोनों किसी से कम नहीं रहने वाले हो गए थे. उसकी बिना बालों की चिकनी गुलाबी चूत गर्म हो गई थी।मैं समझ गया कि वो साड़ी के साथ ब्रा और पैंटी भी उतार कर आई है।उसने अपना हाथ मेरे लोवर में डाल कर लंड को सहलाना शुरू कर दिया।अब दोनों गर्म हो गए थे.

क्या आप मेरी वैसी लाइफटाइम बेस्ट फ्रेंड बनेंगी?मैंने भाभी को प्रपोज़ कर डाला.

उन्होंने तकरीबन 50 धक्के मारे तो मैंने महसूस किया कि जेठजी की छाती पर पसीना आ गया था.

हम दोनों एक दूसरे से बात करने लगे, तो वो मेरा हाथ पकड़ कर एक तरफ वीराने में ले गई. मैं सोच रहा था कि काश इस डंडे की जगह मेरा लंड मामी की चूत में जा रहा होता. उन दोनों ने मुझे घुटने के बल बैठा दिया और मैं दोनों के लंड एक एक करके चूसने लगी.

सत्यम से चुदवा कर मुझे दो बेटियां भी पैदा हुईं, जिनको मेरे हस्बैंड अपनी बेटियां समझते थे कि ये उनकी औलादें हैं, लेकिन ये तो मुझे मालूम था कि इन दोनों बेटियों के पापा सत्यम हैं. उसके सेक्स का राज खुलने के बाद हम दोनों की छिपी हुई वासना भी उजागर होने लगी और उसी की ये इंडियन वाइफ चीटिंग कहानी आपके सामने पेश है. आपको ये इंडियन सेक्सी चुदाई कहानी कैसी लगी इसके बारे में आप अपनी राय जरूर दें.

पता नहीं, इस बात से मुझमें ऐसा क्या जोश भर गया था कि मैं उसको किस करते हुए ऊपर चला गया और जोर जोर से होंठों पर चुम्बन करने लगा, उसके होंठों को काटने लगा.

वो पजामे के ऊपर से मेरा लंड पकड़ने लगी तो मैंने पजामा और टी-शर्ट दोनों को खोल दिया. तब मैंने नवाब से पूछा कि तू क्या करता है?नवाब मेरे दूध मसक कर बोला- तुझ जैसी रंडियों को चोदना ही मेरा काम है. मैंने भाभी को लिटाया और उनकी गांड के नीचे एक पिलो रख कर फुद्दी को चूम लिया.

मामी बोलीं- मैंने तुमसे कुछ मांगा था, याद है न!मैंने बोला- हां मैंने भी कहा था कि आपके लिए मेरी जान भी हाजिर है. वो मुझसे नाराज हो गया कि बिना बताए दोनों साथ में कैसे घूम रहे हो वगैरह वगैरह. एक दिन जब मैं अपने स्कूल से अपनी सहेलियों के साथ निकली, तो वो सब दूसरी तरफ को जाने लगीं.

इस बार मैंने भी बेड पर 69 में लेट कर आसिफा की मुलायम और चिकनी चूत पर अपना मुँह रख दिया.

मगर ऐसा कुछ नहीं हो रहा था बल्कि उसके उलट मेरा लंड उसकी चूत में और अंदर घुस जाता था. कुछ देर बाद मैंने उसको बिस्तर पर खींचा और अपने नीचे किया और उसके ऊपर चढ़ गया.

एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ बाद में बताया कि उन्होंने कॉल इसलिए किया है क्योंकि उनकी लड़की पुणे आ रही थी. उस दिन अनिकेत ने इतनी दारू पी ली थी कि वो तुरन्त ही गहरी नींद में सो गया.

एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ उसकी लचकती और बलखाती कमर पर करीब दस मिनट तक मैंने अपने दोनों हाथों से रगड़ कर मालिश की. फिर नासिर जी बोले- बात ये है कि वो ग्राहक है, उसे औरतें बहुत पसंद हैं.

करीब 10 मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद उसको पीछे की तरफ घुमा दिया औऱ वापिस चुत पर लंड लगा दिया.

सनी लियोन की बीएफ फिल्म फुल एचडी में

मैं उसके दूध चूसता हुआ उसकी चुत को भोसड़ा बनाने के जैसे झटके मार रहा था. फिर मैंने लंड चूत से निकाल लिया और बेड पर सीधा लेट गया; मायरा को इशारा किया और उसे अपने ऊपर ले लिया. मैंने जीजू का नंबर सेव कर लिया था और उनके साथ व्हाट्सैप व्हाट्सैप पर बातें शुरू हो गईं.

अब हम दोनों वाशरूम में जा कर फ्रेश हुए और कपड़े पहन कर जाने को रेडी हो गए. आपा अंगूठी देख कर खुश हो गई क्योंकि उसे उम्मीद ही नहीं थी कि चुदाई से पहले उसे गिफ्ट मिलेगा. लेकिन तू मुझे हमेशा प्यार करेगा ना … कहीं मेरे पति जैसे ये तो नहीं कहेगा कि मैं मोटी हूँ, इसलिए छोड़ देगा.

उनकी उम्र 43 साल है, लेकिन दिखने में वो 30-32 से ज्यादा की नहीं लगती हैं.

उसी समय मैं उसके कमरे में किसी काम से गया, तो मुझे उसकी लिखी हुई चिट्ठी दिखी. इस तरह से हमने किस करते हुए, चूची दबाते और पीते हुए लगभग आधा रास्ता काट दिया था. उन्होंने मेरे एक दूध को अपने मुँह में भर लिया और मेरे निप्पल को अपने मुँह में लेकर खींचते हुए चूसने लगे.

मैं पिज़्ज़ा का टुकड़ा अपने होंठों में दबा कर उसके होंठों में पकड़ाता, जिससे हम पिज़्ज़ा के साथ एक दूसरे के होंठों का भी रसपान कर रहे थे. फिर मैंने भाभी का शर्ट उतार दिया और ब्लैक ब्रा के ऊपर से ही उनके दूध मसलने लगा. मेरी पिछली सेक्स कहानी का लिंक खोल कर आप उस सेक्सी बहू जेठ की कहानी का पूरा मजा ले सकते हैं, जिसमें मैंने उसे अपनी फंतासी के चलते राहुल के लंड से चुदने की कल्पना लिखी थी.

सारा ने एक हॉट एल्बम लगा कर लाईट बहुत धीमी कर दी और स्टेप्स लेने शुरू किये. मैंने फिर एक धक्का मारा और मेरा पूरा 7 इंच का लंड उसकी चूत में चला गया.

जैसा कि मैं पहले ही बता चुका हूँ कि ये उसका पहली बार का सेक्स था तो लंड को अन्दर जाने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी. ये सुनकर पूजा डर गई और बोली- चल ठीक है … मैं मम्मी को कुछ नहीं बताऊंगी, तू भी मत बताना. पर फिर भी उसने मुझे इस बारे में नहीं बताया था, ये मेरे लिए थोड़ा असहज करने वाला मामला था.

कुछ ही पलों बाद शेखर ने कुसुम को अपने नीचे लेटाया और उसके ऊपर चढ़ गया.

मैं अपनी नाइटी लेकर नंगी ही उन दो अंकलों को अपने जिस्म को दिखाते हुए अपने कमरे में आ गयी. दोस्तो, आपको मेरी यह हसबैंड फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं, मेरी ईमेल आईडी है. मैं पैंटी को सूंघते हुए मैं उनके बाथरूम में मुठ मारने लगा और मेरा वीर्य वहीं ज़मीन पर पड़े उनके कपड़ों पर छूट गया.

इसके बाद हम दोनों एक दूसरे को रोज टच करने लगे थे और वो मुझे कटीली स्माइल देने लगी थी. जोया बोल रही थी- राज, अब नहीं रहा जाता यार … अब चोद दो मुझे … मैं वर्षों से तुम्हारे लंड का इंतज़ार कर रही हूँ.

कैसे हुआ ये सब?दोस्तो, ये सेक्स कहानी बस के सफर में मिली एक सेक्सी लड़की की नंगी चुदाई की कहानी है. अब मेरा वीर्य निकलने वाला था इसलिए मेरे धक्कों की स्पीड बहुत ज्यादा हो गयी थी. खैर … लंड का इंतजाम करने में माहिर भाबी ने दूध वाले के जाते ही अपनी शिकारी नजरों को दौड़ाना शुरू कर दिया था.

खेसारी लाल का बीएफ

कुछ देर में आंटी का फ़ोन आया तो मैं बोला कि मैं आपके घर के बाहर खड़ा हूँ.

लेकिन मैं रुकने वाला नहीं था, मैं जोर-जोर से उसके मम्मों को दबाने लगा और एक निप्पल को चूसने लगा. भाभी भी मेरे अंडरवियर में फूले हुए लौड़े को बड़ी ललचाई नजरों से देख रही थीं. वो बोली- मगर अमन तुम्हें मेरी कसम है कि ये बात सिर्फ तुम्हें और मुझे पता है.

ननिहाल में मेरे नाना (70), नानी (65) और उनकी छोटी बहू अपनी बेटी के साथ रहती थी. रमेश भी अब अंजलि की साड़ी का पल्लू हटा कर उसके ब्लाउज के ऊपर से ही मम्मों को दबाने लगा था. செக்ஸி சூடாய்अभय मुझसे अभी भी बात करता है लेकिन हमारे बीच पहले जैसी दोस्ती नहीं है.

कुछ ही देर बाद जेठजी ने एक ज़ोर से धक्का लगाया और उनका शरीर अकड़ गया. रूम की लाइट बंद करके मैंने छोटा वाला बल्ब जला दिया जिसके कारण मैं उसके पास जाकर उसे अच्छे से देख सकूं.

अपनी बीवी की बात सुनकर मुझे याद आया कि हां उस रात बीवी की गीली चूत में लंड डालते समय मुझको अहसास हुआ था कि मेरी बीवी की चुत इतनी गीली और खुली हुई कैसे है. मैं गेट पर गया तो एक लड़की एक्टिवा पर ब्लू टाइट जींस और टॉप में मेरा इंतजार कर रही थी. मुझे उसकी बात में दम लगी और मैं बोली- ठीक है, मैं तैयार हूँ … बाद में बताऊंगी, अभी तुम मुझे चोदो.

थोड़ी देर बाद मैंने जेठजी का सर अपने हाथों से छोड़ दिया और जेठजी के बड़े बड़े हाथों के ऊपर रख कर उनके हाथों को अपने हाथों से दबाने लगी ताकि जेठजी मेरे स्तनों को और जोर जोर से मसलें. लौड़ा बुरी तरह से चुत में जकड़ चुका था, या यूं कहें कि चूत ने लौड़े को अपने अन्दर कस लिया था. मेरी बहन दर्द के मारे छटपटा रही थी लेकिन पंकज नहीं रुका और वो मेरी बहन को धकापेल चोदने लगा.

मैं हमेशा से बहुत खुले और एकदम सेक्सी कपड़े पहनती हूँ, जिसमें मेरा फिगर पूरी तरह से उभर कर दिखता है.

मैंने कहा- तो बोलने में मां चुद रही थी?मेरी गाली सुनकर वो भो बोली- साले चुदुर चुदुर मत कर काम कर … फ़ालतू में समय खराब मत कर. ऊपर से उन्होंने अपनी टांगों को क्रॉस करके मेरे गले को भी बांध लिया था.

मैंने पल्लवी से कहा- क्या तुम घोड़ी बनोगी?वो हां बोली तो मैंने लंड चुत से खींच लिया. पहले तो मैंने सोचा कि सुनील ऐसे ही बोल रहा होगा, वो क्यों अपनी सगी बहन को मुझसे चुदवाएगा और वैसे भी मेरी दीदी युविका इसके लिए राज़ी नहीं होने वाली थीं. वो फिर भी कुछ नहीं बोली, बस उसकी चुत की कसावट बढ़ गई और चुदाई में तेजी आ गई.

अचानक से दरवाज़ा खुलने की आवाज़ आयी और एक पल में मम्मी उस कमरे में घुस आईं. मैंने उसे जाते हुए देखा, तो उससे ठीक से चलते नहीं बन रहा था मगर वह आराम आराम से चल रही थी. मैं आपको प्रिया की चुत चुदाई की कहानी अगली बार लिखूंगा, अभी तो आप मेरी बहन की चुदाई की कहानी का मजा लो.

एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ मगर उन दोनों ने दोनों तरफ से मेरे लंड पर अपने हाथ रखे और उसको सहलाने लगीं. गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरे दोस्त की उसकी गर्लफ्रेंड से अनबन हो गयी.

पानी के बीएफ

किसी से सीधे मुंह बात करना तो दूर किसी की ओर आसानी से देखती भी नहीं थी. क्या आप मुझसे दिल्ली में मिल सकती हैं!चूंकि हमारी बातें रोज ही होती रहती थीं और मुझे कभी भी ऐसा नहीं लगा कि वे बुरे व्यक्ति हैं. कहीं नहीं जा रही … मगर मेरी प्यास आज अच्छे से बुझा दे … मैं बहुत दिनों से सूखी ही तड़प रही हूं.

सेक्सी बहू की कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी मुझे अपने जेठ से मतलब मेरे बड़े भाई के साथ सेक्स की बात अपने मुंह से बता रही है. कुछ देर बाद जब सरिता भाबी से रहा नहीं गया तो वो बोली- आह … अब डाल भी दो ना अपना लंड मेरी चूत में … आह इसमें बहुत खुजली हो रही है … जल्दी करो चोदो मुझे. क्सक्सक्स विद्याओमैंने उसे दिलासा दिया कि जो प्यार आपका पति आपको नहीं दे रहा, वह प्यार मैं आपको दूंगा.

मैंने उनके कंधे को सहलाना शुरू कर दिया और वो मेरे लंड को मेरी लोअर के ऊपर से ही सहलाने लगीं.

उन्होंने अपने होंठों से मेरे होंठ चूम लिए और मुझे 5 मिनट तक फ्रेंच किस किया. उसकी आंखें तो ऐसी हैं कि एक बार नजरें मिला कर बात कर ले, तो कोई भी मर्द उसका दीवाना हो जाए.

अब उसकी गांड से मेरी जांघें पूरी की पूरी टकरा रही थीं और चुदाई में पट पट … पट पट … की आवाज होने लगी थी. अपने गुप्तांगों के बाल साफ कर लिए ताकि मेरा सांवला रंग होने के बावजूद मेरे जिस्म का हर अंग मेरे यार को अच्छा दिखे. थोड़ी देर बाद मैंने अंजुमन को बेड पर लिटा दिया और उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख दिया.

इस मौके का फायदा उठाकर वो मेरे होंठों को चूसने लगे और मुझे भी अच्छा लगने लगा.

मेरी पतली सी चिकनी कमर और लचकती और थिरकती मोटी सी गांड ऐसा कहर बरपाती है कि किसी मुर्दे के लंड में भी पानी ला दे. उसके हाथ लगाते ही मेरा लंड पैंट फाड़ने को तैयार हो गया लेकिन मैंने जानबूझकर अपना पैंट नहीं निकाला. मैं 9 बजे बिल्डिंग के कंपाउंड का गेट बंद करके अनीषा मैडम के फ्लैट में आ गया.

चुदाई वाली फिल्म वीडियोलेकिन अन्वेषी भाभी कभी कभी छुट्टी वाले दिन को दिन में भी बुला लिया करती थीं. अब तक मैं भी दर्द से निजात पा चुकी थी और उसके लंड के मजे लेने लगी थी.

देहाती ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ

ऐसा बोलते हुए मैं अपनी बीवी की चूचियों को बुरी तरह से मसले जा रहा था. तो उसने अपनी भोंसड़ी मेरे मुंह पर रख दी।मैंने पहले उसकी चूत की दरार को चूमा और फिर अपनी जीभ की नोक से उसकी चूत की दरार के अंदर डाल कर फेरा. पीयूष- कोई बात नहीं, यही पहन कर रखो, धीरे धीरे तुमको मजा आने लगेगा.

उसकी उंगलियों ने मेरी सलवार का नाड़ा पकड़ कर खींच दिया और अगले ही पल मेरी सलवार नीचे गिर गई. कुछ देर बाद वो बोली- वरुण प्लीज़ जल्दी कुछ करो, अब रहा नहीं जा रहा है. मैं अपने हाथों को उनके बलिष्ठ भुजाओं को सहला कर मर्द के आलिंगन का पूर्ण अनुभव कर रही थी.

मैंने उससे कहा- मैं तुम्हें कभी भी बुला सकता हूँ, तुम दोनों तैयार रहना. इस बार मैं शाम की तरह चुदाई नहीं चाहती थी कि जेठ जी अपना लंड चुत में डाल कर पड़े रहें और झड़ जाएं. उन्होंने पीछे से अपना मुँह लगाया और मेरी गांड, चूत के छेद को चाटने लगे.

पापा खेतों पर चले जाते थे और हम दोनों बेहन भाई पढ़ने की कह कर पीछे के दरवाजे से वापस कमरे में आ जाते थे. अब मैंने उसके ऊपर पानी डाला और अपने लंड को साफ करके उसे नीचे बिठा दिया.

जब भी मैं उसकी दुकान पर जाता तो वो मुस्कुरा कर मेरा स्वागत करती और जानबूझ कर अपने मादक जिस्म की नुमाइश करने लगती.

अब मैंने मामी से कहा- अब आप बाथरूम में जाकर जल्दी से मेरी दुल्हन बन कर आ जाओ. चोदा चोदी सेक्सशेखर- बेटा तुम्हें कब निकलना है?रोहन ने जवाब दिया- जी कल सुबह छह बजे. सेक्स सेक्सी एचडीमैंने अपनी मॉम को उन्हीं के बिस्तर में कैसे चोदा, इस सेक्स कहानी में आपको पढ़ने मिलेगा. उसने ऐसा पहली बार किया होगा लेकिन उसकी खुशी को अपने समय में कैद कर लिया.

फिर उसने मुझे थैंक्स बोला।उस दिन के बाद दीदी अब मुझसे काफी ज्यादा खुल गयी थी.

मैंने रात होने का इंतजार किया और शाम को अपने तय समय पर उस लड़की को छोड़ कर सभी एक एक करके चली गईं. थोड़ी देर बाद सारा ने लकी के लंड को अपनी चूत पर सेट किया और घुसा लिया अंदर. पिछले भागमेरी बढ़ती कामवासना ने मुझे पागल कर दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि सत्यम नाम का एक जवान लौंडा मेरी जवानी पर मर मिटा था.

मैंने अभी दूसरी सांस ही ली थी कि जेठजी ने एक उंगली मेरी गांड में डाल दी. माधवी भाभी बोलीं- ये आप क्या बोल रहे हैं?मैंने बोला- शॉर्ट में कहूं तो बिन फेरे हम तेरे … हम आपके दोस्त बनना चाहते हैं. उसके इस खुलासे से मैं एकदम से चौंक गई- क्या … ये तुम क्या कह रहे हो बसंत! मैंने खुद उसे देखा है उसके पास सब कुछ है.

बीएफ सेक्सी पिक्चर इंडियन

मैंने कहा- मैं नहीं ढक रहा, जब तक तू नहीं देगी … तब तक मैं कुछ नहीं मानूँगा. कुछ दिन बाद एक दिन अचानक से मेरे पेट में बहुत तेज़ दर्द होने लगा, तो मैं डर गई कि कहीं कुछ बच्चे वाली दिक्कत तो नहीं हो गयी. दोनों किस में खोए हुए थे और रोहन का लंड कुसुम की जांघों पर टक्कर मार रहा था.

मैंने अंदर देखा तो वो लंड को लगातार हिला रहे थे और बार बार कह रहे थे- चूस साली मेरे लंड को … साली नेहा … चूस इसे.

मेरा लंड फिर खड़ा हो गया, जो अभी मेरी गोद में बैठी पल्लवी की गांड में घुसने की कोशिश कर रहा था.

मैं बोली- जय साले कुत्ते यह क्यों किया बे … इतनी जल्दी झड़ गया!जय बोला- यार मेरी यह कमजोरी है. आज मैं जेठजी की हर इच्छा को पूरी करने को तैयार थी और उन्हें अपने हुस्न के जादू में फंसा लेना चाहती थी. हिंदी चुतधीरे धीरे शीना का विरोध भी खत्म हो गया और वो अब जोर जोर से मादक सिसकारियां ले रही थी जो पूरे कमरे में गूंज रही थीं.

कोमल के होंठों को अपने मुँह में लिए हुए मैं उसको ताबड़तोड़ चोद रहा था. अब इस तरह से आंटी से मेरी धीरे धीरे बहुत अच्छी बनने लगी और रिट्ज से भी. बाद में मैंने उसकी टांगें ऊपर उठा दीं और उसकी गांड के छेद में जीभ लगा दी.

शायद इसका एक ही सबब था कि वो मेरे लंड की परफ़ॉर्मेंस से बड़ी खुश थीं. उसके पूरे बदन को चूमते हुए मैंने उसको बेड पर पटक दिया और खुद नीचे ज़मीन में बैठ गई.

उनका 36-30-38 के लगभग का फिगर बड़ा कातिल था और हाइट 5 फ़ीट 8 इंच की थी.

’हम दोनों का जिस्म पसीने से भीग गया था और अमित मुझे लगातार बिना रुके चोदे जा रहा था. मेरी सेक्सी बीवी की कहानी के पिछले भागमेरी बीवी की चूत में मेरे बड़े भाई का लंडमें अब तक उसने मुझे बताया था कि उसके जेठ ने उसकी ताबड़तोड़ चुदाई चालू कर दी थी. मैं बोला- पहले तुम पर तुम्हारी चुचियां दिखाने की उधारी चढ़ी हुई है, तुम अपनी बड़ी बड़ी चुचियां मुझे दिखाओ.

सेक्सी पिक्चर फिल्म नंगी मैं उनको वहां से लेकर निकला और रास्ते भर उनके मोटे मम्मों का स्पर्श अपनी पीठ पर लेता रहा. अभी तो तुमने कहा था कि मैं तुम्हारा लंड मुँह में ले सकती हूं, फिर चूत में लेने से क्या हो गया.

वो बोल रही थी कि शायद उसे याद भी नहीं है कि कब मेरी जमकर चुदाई हुई थी. दूसरे ही पल बसंत ने बड़ी बेरहमी से एक और झटका दे मारा और अब मेरी आवाज निकल पड़ी- आआहह मम्मी मर गई … आहह. अब धीरे से जेठजी अपना दाहिना हाथ नीचे की तरफ ले गए और मेरी गांड के नीचे से लेते हुए मेरी चूत के चारों ओर अपनी उंगली फेरने लगे.

मोटी औरत का बीएफ फिल्म

वो बोली- अब जब तूने सब देख ही लिया है तो पूछ क्यों रहा है?मैं भी मुस्करा दिया. पूजा- अच्छा, मुझे तो मालूम ही नहीं था कि तुम भी मेरी गांड के दीवाने हो. अब उसने पहले बोला- क्या लोगे … ठंडा या गर्म?मैंने कहा- मैं कुछ नहीं लूंगा, आपको जो पूछना है वह पूछो.

आखिर वो अपने स्तनों को सबसे बड़ा बनाना चाहती थी तो मैं इसमें उसकी मदद कर रहा था. भाभी ने भी अपनी नशीली आंखों से विजय को देखा और कहा- इरादा तो कच्चा खा जाने का है मगर इधर दरवाजे पर खड़ी रखोगे, तो कैसे खा पाऊंगी?विजय ने दरवाजे से हटते हुए भाभी को अन्दर आने का इशारा करते हुए कहा- कितना अन्दर आओगी जान … मेरी तो नली ही टूट जाएगी.

बस मेरे ब्वॉयफ्रेंड ने मेरे टॉप के अन्दर हाथ डाल दिया और मेरे मम्मों को सहलाने मसलने लगा.

मैंने उससे कहा- बसंत तुम ये क्या कर रहे हो … छोड़ दो, जाने दो मुझे!बसंत- निधि तू अपने दिल की बात मुझसे कह सकती हो. मेरा नीचे का कमरा था तो खिड़की खोलने पर बगल की गली पड़ती थी, जिसमें से कोई भी आसानी से अन्दर आ सकता था. प्लीज़ … रुक जाओ … आहह … उम्हह … ओहह … प्लीज़ … रुको।लेकिन हरीश जी नहीं माने और उन्होंने प्रिया को दर्द देते हुए उसकी चूत को चाटना जारी रखा।करीब एक मिनट से थोड़ी ज्यादा देर तक उन्होंने प्रिया की चूत को चाटा।वक्त भले कम था लेकिन इतने में ही प्रिया की हालत बहुत खराब हो गई.

मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और फच्च फच्च उईई आआहह उईई आआहह उईई आआहह की आवाज तेज हो गई. दूसरी बोली- और मैं नाजिया हूँ, अब नाम की जानकारी हो गई हो तो चालू हो जाओ. रमेश ने और 15 मिनट मेरी गांड मारी और लंड का पानी मेरी गांड में छोड़ दिया.

वो मुझे फिर से किस करने लगा और खुद ही ज़ोर-ज़ोर से मेरी चूचियों को दबा रहा था.

एचडी में बीएफ हिंदी में बीएफ: उन दिनों मैंने 12 वीं का एग्जाम दिया था और कुछ काम ढूँढ रहा था, जिससे मैं भी घर पर कुछ पैसे दे सकूं. मैंने खुद को बगुला की तरह एक टांग पर खड़ा कर रखा था कि कभी तो मछली फंसेगी.

आंटी बोलने लगीं- अरे इसका अकेले जाना ठीक नहीं है, तुम भी साथ चले जाओ. मैंने उसकी चूत में उंगली चलानी शुरू कर दी और वो मेरे लंड को हाथ से सहलाने लगी. जैसे ही उसकी स्पीड कम होती मैं उसको नीचे से धक्का दे देता और स्पीड तेज कर देता.

मॉम को नंगी देख कर मेरा मन कर रहा था कि मम्मी को वहीं पटक कर चोद दूं … लेकिन मेरी उन के साथ कुछ भी की हिम्मत नहीं हो रही थी.

मैं भाभी को चोदने के चक्कर में कंडोम लेने अपने घर से करीब 5 मील दूर गया, वैसे जहां मैं रहता हूँ … वहां बहुत से मेडिकल स्टोर हैं … लेकिन वो सब मुझे जानते थे, तो मैं अपनी पहचान छिपाने को लेकर दूर गया था. तब मैंने अपना लंड एक ही धक्के में लवली की चूत में पेल दिया।मैंने धीरे धीरे धक्के लगाए तो लवली मजे से बड़बड़ाने लगी- हाँ विशु, ऐसे ही थोड़ा तेज़ … और तेज़ … हाँ इसी तरह धक्के लगा!और लवली का शरीर ऐंठने लगा और वो फिर से एक बार झड़ गई. वह मेरी दोनों चुचियों को बारी-बारी से खूब मसल रहा था और हम दोनों अभी तक एक दूसरे के होंठों को चूमे चाटे जा रहे थे.