बीएफ फिल्म देसी चुदाई

छवि स्रोत,चोदने की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

সেক্স ফিলম সেক্স ফিলম: बीएफ फिल्म देसी चुदाई, फिर मेरी बहन बोली- मेरे भाई, अब तुम मुझे और मत तड़पाओ … मेरी चुत में जल्दी से अपना लंड डाल दो और मेरी चुत चोद दो.

हिंदी बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो

शाम का धुंधलका भी जल्दी हो जाता था और देखते ही देखते रात होने लगती थी. बीएफ डॉक्टर वीडियोमैं अब अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ने लगा और तेल की मालिश लंड पर करके सोने लगा.

इस तरह करीबन 20 मिनट हमारी चुदाई का कार्यक्रम चला जिसमें मैंने उसे और उसने मुझे पूरी तरह संतुष्ट किया. व्हिडिओ मे बीएफमुझे याद आ गया कि भाबी ने भैया को कॉल किया था, तो शायद वहीं से मेरा नंबर उन्हें मिल गया होगा.

कल हम किसी काम से दिन में निकलेंगे और 2 घंटे में चुदाई का खेल खेल कर आ जाएंगे।उस समय मेरी पत्नी शिवानी बाहर गई हुई थी। बाजार से उसे आने में थोड़ा वक्त था तो प्रिया मुझे कस के किस करने लगी।वो बोली- झटपट में एक बार मेरा काम निपटा दो!मैंने कहा- क्या कर रही हो? शिवानी आ जाएगी.बीएफ फिल्म देसी चुदाई: 10 मिनट तक हानिया ने तसल्ली से मेरा लंड चूसा, उसके बाद मेरा पानी उसके मुंह में निकल गया जिसे हानिया ने पी लिया और फिर जाकर अपने आप को साफ़ करके आ गयी और कपड़े पहनकर जाने लगी.

मैंने उसकी चुत में तेल डालने के बहाने उसकी गांड के पास से तेल डाला और गांड को भी चिकनी कर दिया.वो टाइम देख कर बोला- हां नंबर भी मेरे लैंडलाइन का है, जहां तक मुझे याद है इस टाइम में तो मैं दुकान से चला गया था, मेरा बेटा बैठा था.

बीएफ सेक्सी वीडियो वाला - बीएफ फिल्म देसी चुदाई

आपने इसके पिछले भागबबीता और अय्यर की गर्म चुदाईमें पढ़ा था कि अय्यर अपनी बीवी बबीता और जेठालाल के बीच बढ़ती हंसी ठिठोली से परेशान हो गया था.वो मेरा दर्द कम होने तक रुका रहा और मुझे सहलाता रहा, मेरे मम्मों को चूसता रहा.

एक मिनट में ही उसे लंड से मजा आने लगा और वो गांड उचकाने लगी तो मैंने एक और झटका मारकर पूरा लंड अन्दर तक पेल दिया. बीएफ फिल्म देसी चुदाई मैं एक प्राइवेट कम्पनी में मैनेजर के रूप में काम करता हूं और उत्तराखंड का रहने वाला हूं.

उसने मेरे हाथों को अपने मम्मों पर महसूस किया तो झट से अपनी टी-शर्ट को निकाला फैंका और अपने दूध मेरे सामने हिलाने लगी.

बीएफ फिल्म देसी चुदाई?

वो कुतिया बनीं तो मैं पीछे से लंड चुत में पेल कर मेम की चुदाई करने लगा. मेरी बहनें आरिफा और ज़ाकिरा मुझे चुम्मी करती हुई मेरे जिस्म से अपने दूध रगड़ रही थी. इसलिए मैंने तुम्हें और जेठालाल को सबक सिखाने का फैसला किया जिससे तुम दोनों फिर कभी भी मेरे कुछ बोल न सको.

वो मुझे भी चलने को बोल रहे थे, पर मैंने सोचा कि मैं तो तुम्हारी मां के साथ खेलूंगा. करीब पांच मिनट तक मैं बुरचट्टे की तरह उस खट्टे रस का रसपान करता रहा. थोड़ी देर हम ऐसे ही चिपके खड़े रहकर एक दूसरे की धड़कनों को महसूस करते रहे.

उसने मेरी कमर में हाथ डाल रखा था और मुझे सहारा देने के बहाने वो मेरे बूब्स छू रहा था. मुझे समझ आ गया कि ये तो मौक़ा हाथ लग गया है और मुझे इस मौके का फायदा उठाना चाहिए. राजेश ने मुझे प्रमोद के ऊपर बैठा दिया अब प्रमोद का लंड मेरी चूत में था और राजेश अपना लंड मेरी गांड में देने को तैयार था.

फिर हम साथ में घर जाएंगे और बबीता की स्पेशल साउथ इंडियन डिश खाएंगे. आप लोग जानते हो कि गांव में बेसिन वगैरा नहीं होता तो गांव की महिलायें जमीन पर बैठकर बर्तन धोती हैं।मुझे वो देख नहीं रही थी.

इतने सुनते ही अम्मी ने कहा कि अभी उनकी सैलरी नहीं आई है, 10 दिन बाद ही रूपए मिल पाएंगे.

मेरे मां-बाप नहीं थे। मेरी जरूरतें बढ़ने लगीं तो एक दोस्त ने मुझे कॉलबॉय बनाने ले गया। वहां मैडम ने मेरा टैस्ट लिया.

भाभी अभी और कुछ देर तक लंड को अपनी चूत में भोगना चाहती थीं पर अचानक से भैया के इस प्रकार से झड़ जाने से वो कुछ खुश नहीं थीं. लेकिन उसका मुँह छोटा था और मेरा लंड लंबा और 3 इंच मोटा है तो लंड उसके मुँह में नहीं जा रहा था. आरिफा प्यार से ज़ेबा से बोली- बेटी जेबा, ये तेरे चाचा नहीं … असली अब्बू हैं.

मैंने मन में सोचा कि हां आपने लंड चूस कर अच्छे से सफाई कर दी थी मॉम, मैंने देखा था. मैं बार बार उसकी चुत से मुँह हटा लेता था तो वो कसक उठती थी- मामा, मुँह क्यों हटा लेते हो … लगातार चूसो न!मगर मुझे मालूम था कि ये झड़ जाएगी तो लंड नहीं लेगी और भाग जाएगी. जैसा कि आपने मेरी पिछली सेक्स स्टोरीकामुक अम्मी अब्बू की मस्त चुदाईमें पढ़ा था कि अम्मी अब्बू से कैसे कैसे चुदती थीं.

’वो बोल भी रही थी- आंह चोद भाई चोद … आज तुम्हारी बहन तुझसे चुदना चाहती है.

इसलिए मैं तुम्हें डॉक्टर की कहानी सुनाती थी ताकि तुम खुद मुझे प्रपोज करो. इसके बाद मैंने अपने हाथ हानिया की कमर में ले जाकर उसकी ब्रा उसके जिस्म से अलग कर दी. उसने नटखट अंदाज में कहा- बदमाश कहीं के … रात भर इन्हें मसला है … फिर भी मन नहीं भरा?मैंने फटाक से पूछा- तुम्हारा मन भर गया क्या?तो प्रिया बोली- सच कहूं तो नहीं … क्योंकि मैं इतनी प्यासी हूं.

वो फिर से चार्ज हो गई थी और गांड हिलाती हुई चूत चुदाई का मजा ले रही थी. मैंने उसके एक दूध को मसलते हुए कहा- क्षमा, लड़की की चूत, प्रकृति की एक ऐसी देन है … जिसका कोई जवाब नहीं है. अफ़सर मुझको देखकर खुश हो गया मगर मुझको वो बुढ़ऊ अफ़सर बिल्कुल पसंद नहीं आया.

वो कराह उठी और बोली- जीजू धीरे धीरे करो … मजा लेने आई हूँ, दर्द न दो.

इधर ठाकुर साहब के लंड ने ज्यादा ज़ोर मारा और उनकी पत्नी जो गर्भ से थी, ने भी सेक्स करना बंद कर दिया. मैंने उसके गालों पर हाथ फेरा, तो वो मेरे जिस्म से चिपक गई और अपने मम्मों को मेरे सीने से रगड़ने लगी.

बीएफ फिल्म देसी चुदाई इतना सुनते ही मैंने भाभी के होंठों पर फिर से लिप किस करना शुरू किया. मेरी उंगली गांड में चल रही थी और उसकी छाती को मैं जोर से चूस रहा था.

बीएफ फिल्म देसी चुदाई वो मेरे हाथ का स्पर्श पाकर कुछ शर्मा गई और बोली- आप बैठिए, मैं आपके चाय लेकर आती हूं. मुझसे चुद चुकी सनोबर, फरहीन, ज़ाकिरा, आरिफा, वाजिहा मेरी चुदक्कड़ रखैलें पूरी नंगी थीं और मुझसे लिपट चिपक कर चुम्मी कर रही थीं.

आंटी का शरीर एकदम गदराए आम के फल का सा था, सख्त ही नर्म भी … ऐसे आम को खाने में बड़ा ही आनंद आता है जितना पका हुआ खाने में नहीं आता।मैं उनकी चूत को उंगली से चोद रहा था, साथ ही मैं उनकी टाइट निप्पल को चूस रहा था.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ चुदाई

पायजामे के ऊपर से ही उन्होंने भैया के लिंग को सख्त तरीके से पकड़ लिया और पायजामे के ऊपर से ही ऊपर नीचे करने लगीं. ‘आह … आह्ह … चोदो मुझे ओह … आह चोद चोद कर मेरीचूत का भोसड़ाबना दो भाई … आह्ह्ह … आह्ह्ह. उस रात को फिर से भाभी की फोटोज देख देख कर ख्याली पुलाव बनाते हुए मुठ मारकर सो गया.

मैंने भाबी से बात करना शुरू की तो पता चला कि भाबी ने भी उसी कॉलेज से पढ़ाई की है, जिससे मैंने. अब उसकी सिसकारियां और उसके गांड पर मेरे लंड के बार बार अन्दर बाहर होने से फॅक फकच की आवाज़ आने लगी थी. आपा ने इशारों में मुझे ऐसा ना करने के लिए कहा लेकिन मैंने उनकी कुछ ना सुनी और अपने मुरझाए हुए लंड को उनके मुंह में देकर झटके देने शुरू कर दिए.

अपने एक हाथ से मौसा जी ने मौसी की चड्डी को जांघों के नीचे सरका दिया और मौसी के गाउन को पेट के ऊपर कर दिया.

हॉट सिस्टर फक स्टोरी में पढ़ें कि मेरी आपा को मुझसे और मेरे दोस्त से चुदने के बाद चुदाई का शौक पड़ गया था. क्षमा वासना से तड़पने लगी और बोली- अब डालो भी?मैंने भी एक झटका दे दिया. अगले दिन भाबी का मैसेज आया- तुम कितने बजे उठ जाते हो?मैंने कहा- अगर जल्दी सो जाऊं तो 6 बजे तक उठ जाता हूं.

दोस्तो, आपको मेरी देसी गर्लफ्रेंड की चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल जरूर करें. कुछ एक मिनट बाद मैंने लंड को बाहर निकाला और भाबी की चूत के साथ उंगलियों से खेलने लगा था. कुछ ही देर में वो भी मजा लेने लगी और बोली- इस बार तुम अपने लंड का माल मेरे मुँह में गिराना.

यदि वो मुझे डांट देती या प्यार भरी नजरों से देख लेती तो मुझे आगे बढ़ने या पीछे हटने में निर्णय लेने में सहूलियत हो जाती. मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से दबाया और एक जोर का धक्का दे दिया.

पंकज का लंड मेरे लंड की तरह नार्मल था तो वो आसानी से आपा के मुंह में जा रहा था. फिर वह दिन भी आ गया, जिस दिन हम दोनों को अपनी जवानी की प्यास बुझानी थी. मैं जोर जोर से कमर से झटके लेती हुई अपनी गांड उचकाने लगी तो अनिकेत ने मेरे हाथ खोल दिए और मेरी गांड के नीचे हाथ का झूला सा बना कर मेरी दोनों टांगें अपने कंधे पर रखवा लीं.

तो उन्होंने मेरी आंखों में देख कर मुस्कुरा कर कहा- तो किसने रोका है?फिर मैंने हाथ पीछे ले जाकर नसरीन आपा की ब्रा उतार दी.

मैंने पूछा- क्यों तेरा खसम नहीं चोदता तुझे?वो बोली- तेरे लंड से आधा लंड है उसका … वो तो किसी तरह से काम चला रही हूँ वरना अब तक तो कभी की मर जाती. अब मेरी बीवी की चूत में अमित का एक हाथ लग गया था और दूसरा हाथ उसके मम्मों पर था. सुनीता की आंखें लाल हो गईं, उसने चम्मच से निवाला मुँह में डाला हुआ था और चम्मच को जोर से पकड़ कर निवाले को बिना चबाए रखे हुई थी.

उनकी स्खलन सीमा नजदीक आ गई थी और वो तेज तेज आवाजें निकालती हुई लंड पर कूद रही थीं. इस तिहरे हमले से नीरजादेवी पागल होने लगीं, जोर जोर से थरथराते हुए झड़ने लगीं.

एक तो नई भाभी आने की खुशी थी और दूसरी हिमानी के साथ बिताए उन पलों की याद मेरे जहन में बसी हुई थी. फिर वो भाभी मेरे लंड के सुपारे को अपनी जीभ से सहलाने लगी और धीरे धीरे मुँह में लंड लेने लगी. बगलों में हाथ डालकर उठाने में मेरी बड़ी-बड़ी चूचियां भी प्रकाश के हाथों में आ गईं.

பிஎஃப் படம் பிஎஃப்

हालांकि मैंने कपड़ों के ऊपर से विशाल को लंड कई बार सहलाया था और उसने भी कपड़ों के ऊपर से मेरी चूत और मेरे बूब्स कई बार सहलाए थे.

लेकिन जो लोग मुझे नहीं जानते हैं उन्हें मैं अपने बारे में थोड़ा सा बता देती हूँ. फिर मजाक का सिलसिला यूं ही चलता रहा और मैं भी जोर जोर से उसकी बातों पर हंसने लगी. फिर केस चला तो डॉक्टर पर कोई केस बनता ही नहीं था तो उस डॉक्टर को और नर्स समेत को सभी को जमानत मिल गई.

फिर मैंने कैसे भी करके मन को समझाया और मामा के बेटे के साथ खेत पर चला गया. मैंने अपने हाथ को रोहित के सर पर रख दिया और उससे अपने दूध चुसवाने लगी. एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ बीएफफिर मैंने पंकज को इशारा किया तो वो उछलता हुआ आया और एक झटके में आपा ने जिस चादर से अपना जिस्म ढाका हुआ था उसे खींचकर हटा दिया.

अब रेशमा ने बोला- तुम शायद जानते नहीं हो कि तुम्हारी भाभी और मैं आपस में पक्की सहेलियां हैं और मुझे सब कुछ मालूम है. भाभीजी- अरे क्या हुआ अपनी फ़ोटो नहीं भेजी … या डिलीट कर दी?मैं- आपने देख तो ली.

दोस्तो, ऐसे ही अलग अलग अंदाज में मैंने चुदायी का खेल खेल कर मीनू की चूत के अन्दर काफी जगह खोल दी थी. जैसे ही वो उनके जिस्म को ऊपर नीचे से अपनी जिह्वा से चाटते, भाभी के जिस्म से सिहरन की लहरें उठनी शुरू हो जाती थीं. अम्मी ने अब्बू के होंठ छोड़ दिए और सिस्कारते हुए चिल्लाने लगीं- हाय हाय आह आह आह हाय असगर के अब्बू … मैं मर जाऊंगी.

फिर कुछ देर बाद मैंने भाभी को अपनी गोद में उठाया और उन्हें बेड पर लेटा दिया. हम दोनों ऐसे मस्ती कर रहे थे जैसे दो प्रेमी समुद्र में गोते लगाते हुए महसूस कर रहे हों. 143दीदी की गांड चुदाई की कहानी का अगला भाग:मेरी बहन को मुझसे चुदकर चुदाई की लत लग गयी- 9.

लेकिन मेरा लौड़ा अभी पूरी तरह से शांत नहीं हुआ था, उसमें अभी भी आग बाकी थी.

मैं उनको टीचर टीचर करके बोल रहा था तो उन्होंने मुझे टोक दिया- अब तुम बड़े हो गए हो … मुझे मेरे नाम से बुलाओ. लगभग 10 मिनट उसकी चुदाई करने के बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा तो हानिया समझ गयी कि मैं झड़ने वाला हूँ तो तुरंत उसने अपनी चूत में से मेरा लंड निकाल दिया.

अब हम दोनों उठकर बेड पर टिक कर बैठ गए और रात के बारे में बात करने लगे. मेरी मां अल्फ नंगी बिस्तर पर पड़ी थी टाँगें फैला कर …विपिन खड़ा अपना मोटा लंड सहलाता हुआ बोला- जानेमन, देख मेरा शेर कैसे भूखा तुझे देख रहा है।पहली बार किसी का लंड देख मुझे अजीब सा हुआ. बबीता अय्यर के सामने पूरी नंगी बेड पर लेटी थी और अय्यर एक भूखे शेर की तरह उसे घूर रहा था.

मम्मी ने पहले लकड़ी से आग बाहर की तरफ की, तो अंकल अपने नाड़े को देखते हुए बोले- इसे भी तो ढीला कर दे. उन्होंने मुझे नहीं देखा, पर मुझसे आड़ में लगा पर्दा थोड़ा खुला छूट गया. प्रकाश को अपनी तरफ़ देखता पाकर मैं बोली- क्या देख रहा है प्रकाश … मेरे लंड को देख रहा है क्या ….

बीएफ फिल्म देसी चुदाई कजरी सब साफ करके मेरे पास आयी और बोली- मालिक चले गए, पर आज मुझे मजा आपने ही दिया. धीरे धीरे हमारी बातें आपस में सेक्स पर भी होने लगीं और हम कभी कभी फोन पर भी बात कर लेते.

पंजाबी सेक्स पोर्न

आँटी की साड़ी घुटनों तक उठी हुई थी।मैं अपने मोबाइल का फ़्लैश लाइट ऑन करके उनकी टांगों करीब से देखने लगा. कहानी के पहले भागक्लासमेट की चूत लेने के लिए उसकी मदद कीमें अब तक आपने पढ़ा था कि कीर्ति वाशरूम में गई तो मैंने उसके पैग में कामोत्तेजक दवा मिला दी. अब वो ज़ोर ज़ोर से मदहोशी वाली आवाज़ निकालने लगी- आह आह आह आह उह!मैंने काफी देर तक उसको चोदा.

मैं पहली बार आपा को बुर्के के ऊपर से किस किए जा रहा था और उनके बूब्स दबा रहा था. पर पटाऊं कैसे?” मैं ये सोचने लगा।आँटी का दिमाग बहुत खराब था क्योंकि वो जिस मकसद से गांव आयी थी वो मकसद पूरा नहीं हुआ. सेक्सी बीएफ फुल एचडी सेक्सीभाबी बोली- हां मेरा भी मन हो रहा है … मगर मेरे पल्ले एक भौंदू किस्म का देवर पड़ गया है.

बबीता की गांड बहुत टाइट थी पर फिर भी अय्यर बबीता की गांड में अपना पूरा लंड घुसा कर गांड मारने लगा.

आपा ने मुझे देखा और प्यार से मुझे किस करते हुए बाथरूम में जाने लगी. अय्यर बबीता के एक बूब को हाथ से मसलने लगा और दूसरे बूब को मुँह में लेकर चूसने लगा.

जब मैं भाभी के पीछे था तो वे अपनी गांड मटकाती हुई मुझे और उतावला कर रही थीं. नंगी भाभी की मटकती गांड देखकर मेरा उसे चाटने का मन किया, मैंने कहा. मुझे नहाने जाना था तो मैं उधर गया, तब तक वो भी अपनी बाल्टी लेकर आ गई.

दिल लगाना कोल्हापुर वालों से सीखना चाहिए, हम कोल्हापुरी वायदे के एकदम पक्के होते हैं.

जिस टॉय में मुझे ज़्यादा मज़ा आता, वह भी उस टॉय का मॉडल नंबर लिख लेता. जब हम दोनों को लगा कि रोहित सही लड़का है तो एक दिन मेरे पति ने उससे लंड दिखाने के लिए कहा. तेरे मामा में ज्यादा पॉवर नहीं है, वो दो मिनट में झड़ जाते हैं और इसीलिए वो घर में कम रहने लगे हैं.

बीएफ चाहिए बीएफ इंग्लिशमैं उससे बोला- बस एक बार और बर्दाश्त कर लेना … उसके बाद सिर्फ मजा ही मजा आएगा. मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी ब्रा झटके से खींच दी, ब्रा के हुक टूट गए … उसके मम्मे एकदम से बाहर उछल कर आ गए.

सेक्सी पिक्चर ब्लू पिक्चर दिखाइए

इतना बोलकर भाभी ने मेरे एक गाल को अपने हाथ की दो उंगलियों से खींचा और बोलीं- मेरा देवर बहुत जोश में लग रहा है. क्यूँकि महीने में मुझे सिर्फ चार बार ही रंडीबाजी करनी थी तो इतने रूपए तो बनते ही थे. अब्बू हंस कर बोले- अच्छा ऐसे बोलूंगा कि मेरी रानी आज तेरी मां चोद दूँगा.

इसमें मैं ये बात बताना चाहता हूं कि मैंने अपनी मॉम की चुत को तो पहली बार चोदा, पर चुत के साथ उनकी गांड को भी चोद दिया. सारे दिन में मुझसे ज्यादा बात नहीं करती मगर रोज रात को मेरी तरफ गांड करके सो जाती. मेरी इस हॉट सिस्टर सेक्स स्टोरी पर अपनी राय मुझे[emailprotected]पर बताएं.

वो लंड लेने की खुशी से मचल रही थी और दर्द से रोती तड़पती चीखती चिल्लाती हुई मजा ले रही थी. फिर अम्मी बोलीं- बेटा इतनी देर तक नहीं जागते, दस बजे तक सो जाया कर ताकि नींद पूरी रहे. करीब बीस मिनट तक मेरी गांड चोदने के बाद उसका रस झड़ने लगा और उसने अपना गर्म वीर्य मेरी गांड में छोड़ दिया.

इस मस्त Xxx कजिन सेक्स के बाद मैंने रानी को किस किया तो उसने भी मुझे अपने सीने से लगा लिया. मैंने पूछा- इसका मतलब तुम्हारे मम्मी पापा भी घर पर नहीं हैं?उसने हां कहा.

थोड़ी देर बाद जब उन्हें मजा आने लगा तो वो भी जोश में मेरा साथ देने लगीं.

रेशमा बोली- हां तुम्हारी भाभी से मैं मिलना चाह रही थी और संडे को आने का सोच रही थी लेकिन इसका फोन आ गया कि आज ही आ जाओ, तो मैं आज ही इधर आ गई. राजस्थान सेक्सी बीएफ वीडियोमैं- कौन सा वाला … क्या बात कर रही हो आप?ये सुनकर ऋतु मेम बेडरूम से चली गईं. बीएफ दिखाइए नंगीइस तिहरे हमले से नीरजादेवी पागल होने लगीं, जोर जोर से थरथराते हुए झड़ने लगीं. मैंने सीधी सीधे पूछ लिया- भाभी आप मुझे एक बात बताओ, वो शादी से पहले नशा करते थे, तो आपने उनसे शादी क्यों की?भाभी मेरी बात सुनकर चुप हो गईं.

उसने अपने होंठ मेरी छाती पर मेरे गुलाबी निप्पलों पर लगा दिए और वो मेरे दूध चूसने लगा.

क्या अप्सरा सी लग रही थी वो … मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि राजश्री इतनी सुन्दर है. मैंने महसूस किया कि मेरी दोनों चूचियों में एक मीठा सा दर्द होने लगा. कुसुम और मैं आपस में बहुत अच्छे दोस्त थे तो जहां भी टाइम मिलता, वहां बातें करना शुरू कर देते.

फिर तिवारी बोला- नहाने से पहले मैं तुम्हारे शरीर की मालिश करके तुम्हारी सफ़र की थकान दूर कर देता हूँ. मैंने क्षिति से एक दूरी बना कर रखी हुई थी ताकि मुकेश को किसी प्रकार का कोई शक ना हो. फिर भाबी गुस्से भरे शब्दों में बोलीं- क्या तुम नहीं जानते … मैं क्या कर रही हूं.

ब्लू बीएफ बीएफ

यदि गांड दर्द से संकुचित (टाइट) हो गयी, तो चोदने के समय दर्द ज्यादा होगा और गांड के छेद मे चोट भी लग सकती है. तब मैंने सोचा कि चलो ये तो अपने भैया हैं, कोई परेशानी होगी तो संभाल लेंगे. कुछ मिनट बाद जब वो झड़ने वाली थीं तो उन्होंने अपनी चुत को मेरे मुँह पर दबा दिया और मेरे बाल पकड़ लिए.

मैं बोला- तूने ये सब और किसी के साथ भी किया है?वो बोली- हां गन्नू के बापू मुझे उठा कर खेत में ले जाकर ये सब करते हैं.

मैं शीतल को अपने पीछे आते देख कर चौंक गया और मैंने उससे पूछा- तुम यहां क्या कर रही हो?उसने कहा- मैं तुम्हारे लिए चाय लेकर आई हूं.

मैंने भी मौका देख कर जोर से अपना पूरा लंड राजन की गांड में घुसा दिया. मामी- तुम्हारी कोई जीएफ है?मैं- मामी क्यों पूछ रही हो?मामी- है क्या! हो तो बताओ. बिहार का सेक्स वीडियो बीएफकुछ देर बाद मुझे थकावट सी महसूस होने लगी और मेरी चूत पूरी गीली हो गई.

देसी भाबी Xxx कहानी में पढ़ें कि अस्पताल में मैंने कैसे एक गर्म भाभी की चूत चोदकर मजा लिया. थोड़ी देर चूत चटवाने के बाद हानिया ने मुझे रोक दिया और हम दोनों69 की पोजीशन में ओरल सेक्सकरने लगे. मैंने पहली बार अपने पति के अलावा किसी और मर्द का इतना बड़ा लंड देखा था.

मोहित की उंगलियों और मेरी चूचियों के बीच करीब पांच मिनट तक ये खेल चलता रहा. पर मैंने झटका देकर अपनी नाक बाहर निकाली और मैं मम्मी की चूत चाटने लगा.

मेरा कोई जवाब न पाकर वो बोलीं- कहीं बाहर आवाज़ नहीं जा रही है … ऐसे गूंगे बने रहोगे या कुछ बोलोगे भी?मैंने कहा- अब तो बस मुझे आपके चूचे मुँह में डाल कर चुप ही हो जाना ठीक लग रहा है.

मैंने कहा- मैं बहुत चुदासी हूँ रोहित … आज तुम मुझे अपने बड़े लंड से जल्दी से चोद दो. कुछ ही देर में उनका लंड तनकर खड़ा हो गया और तनाव के कारण अब लंड की साइज बढ़ चुकी थी. अम्मी की बातों को सुनकर मैं सोचने लगा कि यार अम्मी इतनी कामुक हैं कि गाली सुनकर चुदती हैं और खुद कहती हैं कि गांड मारो.

बाथरूम सेक्स बीएफ उन्होंने कहा- पहले उससे कहां मिलते थे … और हां अब ये मत बोलना कि कॉलेज में. अब कल्लू ने अपनी धोती उतार कर अपना लंड उस लड़की के हाथों में पकड़ा दिया.

मेरे हाथ उसके घुटनों तक आ गए और उसका पेटीकोट ऊपर हो गया जिससे क्षिति को शर्म आ गई और उसने अपने पैर सीधे कर लिए. वरना आपा इतनी सीधी और शरीफ थी कि मुझे नहीं लगता कि उन्होंने खुद भी कभी अपनी चूत में उंगली की होगी. एक महीने के बाद जब हमारे पेपर हुए तो उनमें कीर्ति ने काफ़ी अच्छा परफॉर्म किया था.

सेक्सी बीएफ हॉट

मैं- ये क्या होता है?भाभीजी- क्यों, आपका नहीं है क्या?मैं- शर्माते हुए, अरे यार आप भी. वो बोली- मेरी जान के वास्ते निकाल लो इसे!पर मैंने अनसुना करके आपा को धक्का देकर आगे लेटा दिया और मैंने लंड को ज़रा भी नहीं हिलाया. निशा आधुनिक कपड़े में स्मार्ट और सुंदर लग रही थी, अंग्रेज़ी फ़र्राटे से बोलती थी.

लॉबी में आते ही नेहा भाभी ने मेरा हाथ पकड़ा तो मानो 440 वाट का झटका लगा. मेरे दिल की धड़कनें बहुत तेज तेज चल रही थीं और दिमाग में एक ही ख्याल चल रहा था कि मैं मेम को अगर एक किस भी कर लूं तो जीवन सफल हो जाए.

मैंने हंस कर कहा- हां बन जा साली … जल्दी से तेरी गांड का गड्डा बना देता हूँ, फिर कहीं फैजान आ गया तो कुछ नहीं हो पाएगा.

उसके बाद तो हम दोनों का जब मन करता, सुबह शाम रात खूब चुदाई कर लेते हैं. अंकल पूछने लगे- इसके पापा कहां रहते हैं?मम्मी ने अंकल को सारी बात बताई. केक के साथ मेरा एक बार फिर से माल निकल गया और मौसी के मुँह में निकल गया.

मीनू अब मुझसे खुलकर बात करने लगी थी- क्यों आज का क्या मूड है … बच्चा अंकित का … या तुम्हारा?मैं- इरादा तो मेरा ही देने का है, बोलो तो आज कंडोम की पर्त हटा दूं. मैंने लंड को चुत की फांकों में सैट किया और पूरी ताकत लगा कर अन्दर पेलना चाहा. थोड़ी देर बाद मैं नहाने आ गया और तैयार होकर अपने काम के लिए निकल गया.

अब तुम चूत से लंड निकालो और मेरी मोटी गांड में पेल दो, नहीं तो चूत की गर्मी से तुम्हारा लंड झड़ जाएगा.

बीएफ फिल्म देसी चुदाई: उन्होंने तभी घूम कर खिड़की की तरफ को मुँह किया तो मैं घबरा कर वापस आ गया. क्षिति मेरी ओर मुंह करके खड़ी थी, हल्की सी मुस्कान और हल्के गुस्से के साथ मुझे देखते हुए बोली- यह क्या कर दिया?अब मैं उसके बूब्स की बीच में बने घाटी को अच्छी तरीके से देख रहा था जिस पर उसका ध्यान नहीं था.

अब उसने गाली देते हुए लंड अन्दर बाहर लेना शुरू कर दिया- हां अब चोद माँ के लौड़े … और ज़ोर से चोद बहनचोद!मैंने भी उसे गाली देते हुए पेलना शुरू कर दिया. मतलब वो इतने बुड्ढे नहीं थे मगर मेरे हिसाब से उनकी उम्र थोड़ी ज्यादा थी. वो बड़े अच्छे से मेरा लंड चूस रही थी जैसे कोई पोर्न ऐक्ट्रेस ब्लूफिल्म में लंड चूस रही हो.

मुझे टाइटैनिक का वो सीन याद आ रहा था जिसमें हीरो हीरोइन के पीछे समुद्री जहाज पर खड़ा हो जाता है और हीरोइन उसे किस करती है.

फिर मैंने हानिया की गांड उसकी पैंटी के ऊपर से सहलानी शुरू कर दी और मैं उसके पूरे जिस्म को अपने हाथ से सहला रहा था. तो अब अगर इसे पैसे देने से बचना है तो बदले मेंमुझे भी चूत चाहिए!ये सुनते ही नसरीन आपा ने शर्म से सर झुका लिया. मुझे लगा कि क्या पता उसका फोन बिगड़ गया होगा, या फोन नहीं चलाती होगी.