बीएफ वीडियो बच्चा वाला

छवि स्रोत,सेक्स करते हुए वीडियो दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बुर चोदते हुए: बीएफ वीडियो बच्चा वाला, थोड़ी देर बाद वो लंड से चुत निकाल कर उठ गई और लंड को पकड़ कर अपनी गांड में दबाने लगी.

टांग उठा कर चुदाई

सविता आंटी ने मेरे करीब आकर मेरे कान में धीरे से कहा- मुझे भी मेहनतकश लड़के पसंद हैं. मेरा लैंड खड़ा नहीं होता हैब्रा खुलते ही उसके जरूरत से ज्यादा बड़े स्तन, जो उसके मर्द ने बहुत दबाए थे, खुलकर सामने आ गए.

मैडम ने सपाट शब्दों में पूछा कि व्हिस्की पीते हो?मैंने हां में सर हिला दिया. तालिबान सेक्स वीडियोजब रघु ने श्रेया को ये सब बताया, तो श्रेया बोली- मतलब वो सेक्स करेगा, तभी रोल देगा.

उसने मेरे मम्मों को देखते हुए कहा- मैं नवीन हूँ, बैंक एजेंट हूँ और आपके पापा ने मुझे किसी काम से बुलाया था … उन्हें मुझसे कुछ बैंक का काम था.बीएफ वीडियो बच्चा वाला: मैं उसके लंड पर अपने लंड को रगड़ते हुए उसको चोदने की स्टाईल में ऊपर नीचे होता हुआ जम जम कर अपने लंड को उसके लंड पर रगड़ रहा था.

मैंने ऑटो में बैठते ही आशीष को कॉल किया और उससे पूछा- कहां हो?उसने बोला- बस, अभी घर से निकला हूँ.उन्होंने मेरे सामने ही अपने कूल्हों तक लोशन लगाकर मुझे अपना सामान दिखाया.

सेक्स वीडियो सील तोड़ने वाला - बीएफ वीडियो बच्चा वाला

मैंने हॉल में हल्की रोशनी कर दी और मैं अपने कमरे में आ कर दरवाजा उड़का कर बिस्तर पर लेट गई और ओमी अंकल से अपनी चूत चुदवाने का तरीका सोचने लगी.अब अब्बू ने मुझे अपनी गोद में बिठा लिया और मेरी बुर के मुँह से अपना लण्ड सटाकर मुझे अपनी ओर खींचा.

तीसरे दिन मैंने उसको लंड पर बिठाया और उसकी गांड के छेद को लंड पर रखा. बीएफ वीडियो बच्चा वाला मैंने एक बार फिर से भाभी के मुँह में लंड को डाल कर चिकना किया और उन्होंने भी मेरे कहने पर लंड पर बहुत सारा थूक लगा दिया था.

पहले तो मैंने उसके चुचे खूब दबाए और उनको मजे से चूसा, जिससे ज़ीनिया गर्म होने लगी.

बीएफ वीडियो बच्चा वाला?

मेरा लंड उनकी बच्चेदानी पर टक्कर मार रहा था, शायद इसीलिए उनका ये हाल हो रहा था. अब तक मैं उसकी दीदी, बहन, भाई सभी से मिल चुका था लेकिन उस दिन मैंने उसकी मां को पहली बार देखा था. क्या बताऊं दोस्तो, उसका कोमल शरीर मेरे बदन से सट गया था और उसके बड़े बड़े स्तन मेरी छाती को छू रहे थे.

धीरे धीरे वो मेरे सामने मटक रही थी और यह देख कर मेरा छोटा भाई फिर से सलामी देने लगा. मैं उसके करीब जाकर उसके ठीक पीछे खड़ा हो गया; उससे लगभग चिपक सा गया. उन्होंने भी आव देखा ना ताव … फटाक से मुझे नंगा करके अपने बिस्तर में लेटा दिया.

कुछ मिनट तक चुत चाटने के बाद रूबी आंटी फिर से चुदने को पागल हो गईं; वो चोदने के लिए कहने लगी थीं. ये देख कर मेरे होश उड़ गए कि मेरी जीएफ़ किसी और को ‘आई लव यू’ लिखती है. निशा- हां, चूस भोसड़ी के … और जोर से चूस मां के लवड़े … पी जा सारा चूत का रस … आह आज तुझे मैं अपना मूत भी पिलाऊंगी साले गांडू.

फिर कुछ देर बाद हमने खाना खाया और रात दस बजे घर की ओर वापस निकल पड़े. सच कहूँ दोस्तो, तो मुझे अब जिंदगी जीने में फिर से मज़ा आने लगा था और मौसी भी ये खेल पूरा खुल कर खेलती थीं.

अंत में मैं सुशी जी के मुंह में ही झड़ गया और वो मज़े के साथ रस को पीने लगी थीं.

वो अपने पति की बांह में अपनी बांह डाली हुई थी, जिससे साफ़ मालूम चल रहा था कि ये आदमी इसका पति है.

अभी मैंने थोड़ा सा लंड ही चुत में डाला था मगर उसकी चीख सुनकर उसी पोजीशन में रुक गया और उसे सहलाने लगा. अब उसकी आवाज लड़खड़ाने लगीं और मेरा लौड़ा उसकी चूत के मैदान में सरपट दौड़ने लगा. इस बार मुझे दर्द कुछ कम था, तो मैं भी अपनी गांड चुदाई में उसका साथ देने लगी.

मैंने जैसे ही बेडरूम का दरवाजा खोला तो रूम को देखकर मैं दंग रह गई क्योंकि रूम पूरी तरह से फूलों से सजा था. क्योंकि मैं एक 55 साल के मर्द से चुद रही थी, वो भी मेरे जीजू के पापा से. जो मुझे चूसने में और मजा दे रही थी क्योंकि चुत के रस का टेस्ट काफी अच्छा लग रहा था … तो मज़े से पूरे रस को पी गया.

उन्होंने मुझसे मेरी पढ़ाई के बारे में पूछा तो मैंने मैडम को बता दिया.

इसके तुरंत बाद उसने अपना लंड का टोपा मेरी गांड के छेद पर रख दिया और वो लंड गांड में धंसाने लगा. आख़िर घर वाले घर वालों के काम नहीं आएंगे, तो कौन आएगा!ये सुनकर मौसी बहुत खुश हो गईं और हम दोनों एक दूसरे से कस कर चिपक गए. नाज जब भी मेरे साथ बिस्तर पर होती तो मैं उससे कहता- एक बच्चा तुम भी कर लो.

कैसे? और उसके बाद आंटी की बहन उनके घर आयी तो उसे भी मैंने लंड का मजा दिया. फिर वो रुमाल को बाथरूम की खिड़की से बाहर फैंक आईं और वापस कम्बल में आकर लेट गईं. वो काफी गर्म हो चुकी थीं और अपना हाथ मेरे लंड पर ले जाकर उसको पकड़ कर दबा रही थीं.

नवीन- आअहह दिशा … साली तेरी मक्खन सी गांड मुझे ललचा रही है … आह और तेरी चुत बहुत टाईट है कुतिया … तुझे चोदने में बहुत मज़ा आ रहा है.

मैंने भी 69 में आने का फैसला ले लिया और उसकी चूत को जीभ से चाट कर साफ कर दिया. सिक्युरिटी गार्ड ने अन्दर किसी को कॉल किया और दस मिनट बाद अन्दर जाने को बोला.

बीएफ वीडियो बच्चा वाला क्योंकि वो मेरे सम्मानित रिश्ते में से थी तो मैंने उसे चुदाई की नजर से नहीं देखा था. पर जैसे ही मैं वापस आने को हुआ तो मैंने देखा कि मेरी बीवी उसे किस कर रही थी और उसके लंड को पैंट के ऊपर से सहला रही थी.

बीएफ वीडियो बच्चा वाला उसने मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूस कर साफ़ कर दिया और अपनी चोली और घाघरा पहन लिया. मैंने साबुन उठा कर उनकी गांड पर बहुत सारा झाग बनाया और उनकी गांड के छेद में धीरे धीरे अपनी उंगली अन्दर बाहर करने लगा.

मैंने धीरे से उसके एक निप्पल को मुँह में ले लिया और उसको जीभ से चुभलाने लगा जिससे कोमल अपने शरीर को ऐंठाने लगी.

एम एम एस सेक्स वीडियो

अचानक से मेरी गांड पर कुछ मोटा सा गर्म सा महसूस हो रहा था क्योंकि मैं उनकी गोद मैं था. मैंने पूछा- तुम अपने पति के अलावा किसी और से चुदवाती हो?वो बोली- मेरी ससुराल में पति तीन भाई हैं. शायद मेरे इस प्रतिक्रियाहीन रवैये को उसने हां समझा और एक जोरदार रगड़ से उसने मेरे कंधे पर अपना पूरा लिंग दबाकर मुझे महसूस करा दिया.

उसका असली नाम मैं यहां नहीं लिख सकता हूँ, उसकी प्राइवेसी की बात है. अब मैं उनकी चुत चाट रहा था और वो मेरा लंड चूस रही थी। उन्होंने मेरा लंड चूसा और उसे पूरा लाल कर दिया।फिर उन्होंने कहा- नील अब मुझसे रहा नहीं जा रहा, प्लीज मुझे चोदो!मैंने कहा- हाँ मेरी प्यारी प्रियंका भाभी, मैं भी कब से तुम्हारी प्यारी चूत में मेरा लंड गाड़ना चाहता हूँ।भाभी चेहरे पर कामुक हँसी थी. उसने मुझे देख कर एक स्माइल के साथ कहा- सौरभ, तुम इस समय यहाँ?मैंने कहा- जो मेरा काम बाकी राह गया था उस दिन … वो आज पूरा करना है.

वो उसको नंगा करके उसके दूध पी रहा था और उसके बाद उसने उसकी चूत भी चाटी.

अब तक मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था, जिसे भाभी ने मेरी पैंट के ऊपर से तना हुआ देख लिया था. तभी उसने अचानक मुझसे कहा- मनु भाई आपने गर्लफ्रेंड क्यों नहीं बनाई?मैं तपाक से बोल पड़ा- तुम्हारी जैसी बहन के होते हुए किसी और के पीछे जाऊं … ये मुझसे नहीं हो सकता है. अब हमेशा ही आशीष हम तीनों बहनों की लेता और उसने हम तीनों बहनों को चोद चोद कर पूरी रांड बना दिया.

वो नीचे फ़ाइल उठाने झुकी तभी उसके गोल गोल सफेद मलाई जैसे दूध दिख पड़े. वो जब नहाकर बाथरूम से बाहर निकली, उसकी गीली जुल्फों के कारण उसकी टी-शर्ट कुछ गीली हो गई थी और उसके एकदम से टाइट चूचे थे, बिना ब्रा के साफ़ नुमाया हो रहे थे. मैंने आपको अपनी पिछली सेक्स कहानी में अपने एक प्रशंसक दोस्त से चुदवाकर अपनी चुत चुदाई का पूरा मजा दिया था.

सिर्फ उसकी आंखें और हल्की सी मुस्कान मेरे सामने थी जिसके जवाब में मैं उस वक़्त पता नहीं क्यों … पर उसकी तरफ देख कर मुस्कुरा दी. अर्शिया की गांड और बोबे देख कर ही अच्छे अच्छे लड़कों का पानी छूटने पर आमादा हो सकता है.

अब अब्बू ने मुझे अपनी गोद में बिठा लिया और मेरी बुर के मुँह से अपना लण्ड सटाकर मुझे अपनी ओर खींचा. सीलपैक गर्ल की चुदाई कहानी के पिछले भागकुंवारी लड़की के साथ 69 सेक्समें अब तक आपने पढ़ा था कि निशा मेरी कामना के अनुरूप ही गंदा सेक्स पसंद करने वाली जवान लौंडिया थी. अब वो आंख बंद किए हुए मेरे लंड को हिलाती रहीं और मैंने भी उनकी पैंटी को साइड में करके उनकी चुत को दो उंगलियों से रगड़ने लगा.

मैंने जल्द ही कार्तिकेय के साथ ही उसके एक दोस्त से भी चुत चुदवा ली.

ऐसा 2-3 बार हुआ और हर रगड़ के बाद वो मेरी आंखों में सवाल भरी नजरों से देखता. उसने मुझे कमर से कस लिया तो मैं उसका सिर पकड़ कर अपने होंठों से लगा कर चूसने लगी. और अब तो खुशबू बिना पानी के मछली के जैसे तड़पने लगी।मैंने उसके होठों को चूसना शुरु कर दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा।अब फिर मौक़ा देखकर मैंने जोर से एक धक्का और लगाया तो अब मेरा लंड पूरा का पूरा खुशबू की चूत के अन्दर घुस चुका था।खुशबू दर्द और मजे के मिलेजुले प्रभाव से से मचलने लगी थी.

लेकिन मुझे अन्वेषी भाभी की चूत का रसपान करना था और जन्नत की सैर करनी थी, तो मना भी नहीं कर सकता था. मैंने बिना रानी की इजाजत लिए नीचे बैठा और धीरे से उसके पेटीकोट को ऊपर करने लगा.

आह … वो हलचल मैम की उंगलियों की थी जो पैंट के ऊपर से लंड को महसूस करने की नाकाम कोशिश कर रही थी. मैंने उससे बोला- आज स्कूटी लेकर तू आशीष के साथ चली जा, मेरी कुछ तबीयत ठीक नहीं है. लेखक की पिछली कहानी:सोते पति के सामने भाभी की चुत चुदाईदोस्तो, मेरा नाम सौरभ है.

सेक्सी नंगी वीडियो फिल्म

वो बिना शर्ट पहने बाहर निकलने लगा, तो मैंने भी सोचा कि इतनी तेज बारिश में कौन मिलेगा.

मुझे अभी यह समझ में नहीं आ रहा था कि निशा के साथ चुदाई की शुरुआत कैसे की जाए. लेकिन मैं कहाँ रुकने वाला था, मैंने उसको अब खड़ा किया और टेबल पर सिर रख के पीछे से चूत की फांकों में लण्ड फंसा के चोदना शुरु किया. साथ ही उन दोनों का लड़का गोगी को भी मैंने इस सेक्स कहानी में एक रोल दिया है.

ये सब इतना जल्दी हुआ था कि रमा मैडम की चीख भी ठीक से नहीं निकल पाई. मेरा तो पानी निकला नहीं था … तो लौड़ा रह रह कर उसकी चूत को ठोकर मार रहा था. पुलिस वाले की सेक्सीथोड़ी देर चूसने के बाद सलमा उठी और मेरे सीने पर चुम्बन करते हुए बोली- विजय अब डाल दो, अब न तड़पाओ, आओ राजा, मेरी बुर तुम्हारा लण्ड लेने को बेताब है.

दीदी की मस्त चिकनी गांड देख कर विक्की ने झट से दीदी की पैंटी को भी नीचे कर दिया. यही सोचते हुए मैंने अपने एक हाथ से निशा का हाथ अपने हाथ में ले लिया.

हालांकि मैं थोड़ा शर्मीला हूँ तो सुबह से उसने ही बात करने की पहल की. उन्होंने एक दूसरा कंडोम मुझे दिया जिसमें दाने बने हुए थे।मैंने उनके खड़े लंड पर कंडोम लगा दिया।उन्होंने मुझे एक टेबल पर लिटा दिया. फिर दस मिनट बाद मेरा दर्द हल्का हुआ तो मेरी रोने की आवाज बंद हो गई.

मैंने पूछा- मां आज कहीं बाहर जा रही हो क्या?मां ने कहा- तू मूवी देखने चला जाएगा तो मैं घर पर अकेली क्या करूंगी … इसलिए मैं अपनी सहेलियों के साथ शॉपिंग को जा रही हूं. उसने मुझे बताया कि वो पैरामेडिकल की स्टूडेन्ट है और उसके अब्बू सरकारी नौकरी करते हैं. इससे डॉक्टर विवेक और भी उत्तेजित हो रहा था और अपने धक्कों की स्पीड को और भी ज्यादा बढ़ाने लगा था.

तो भाभी ने कहा- इसका कुछ करो … नहीं तो ये पैंट फाड़ के बाहर आ जायेगा.

मैंने नाज को लिटा लिया, उसकी चूत में लण्ड पेल दिया और मुमताज की चूत चाटने लगा. इतना बोलकर उन्होंने अपनी गांड उठा दी और मैंने फाटक से उनकी पैंटी निकालने लगा.

मैंने उससे कहा- तुम्हारी बड़ी बहन कैसी है … क्या वो मेरे लौड़े को सेवा का मौका देगी?सरोज बोली- दीदी तो रांड है … वा तो कुत्ते का भी लंड घलवा लेवे. इस फेंटेसी Xxx स्टोरी में मैंने तारक मेहता का उल्टा चश्मा वाले सोढी और उसकी बीवी की गांड चुदाई की कल्पना की है. वो मुझे अपनी बांहों में कस कर चिपक गई और बोली- राज अपना पूरा वीर्य अन्दर बच्चेदानी में निकाल दे!मैंने दो तीन झटके लगाकर लंड का सारा वीर्य अन्दर बच्चेदानी में निकाल दिया और उसके ऊपर चढ़ कर लेट गया.

इसलिए मैंने उसे आंखों से ही चोदा और बाथरूम में जाकर उसकी दो मर्दों से एक साथ चुदाई की याद करके मुठ मार ली. चूंकि हल्की सर्दी का मौसम था तो शायद वो धूप में बैठकर मालिश कर रही थी. अब भाभी छटपटा रही थीं और मुझसे छूटने की कोशिश कर भी रही थीं और मुझे पकड़े हुए भी थीं.

बीएफ वीडियो बच्चा वाला नील ने आगे कहा- मुझे आपका तो नहीं पता … लेकिन मुझे आपसे बहुत प्यार हो गया है. बहुत दिनों से चुदाई ना होने के कारण मेरी जीएफ मुझे सरप्राइज देना चाहा और वो उसी समय मेरे रूम में पहुंच गई.

सेक्सी ब्लू पिक्चर बढ़िया

उन्होंने मुझे अपने पीछे पाया तो वो मेरा विरोध करने लगीं और मेरा हाथ हटाने लगीं. उठे हुए मस्त गोल गोल चूतड़ों को देख कर मन करता है कि अभी दांत से काट लूं … पर किसी तरह कंट्रोल कर लेता हूँ. जेठजी को मस्ती सूझने लगी और उन्होंने मेरे पैरों के ऊपर अपने पैर रख दिए और मुझे छेड़ने लगे.

मेरी बीवी ने उस डायरेक्टर की तरफ देखा और मुस्कान मारती हुई उसे हाय करने लगी. भाभी के जाते ही मैंने जिज्ञासावश निशा के मोबाइल को उठा कर देखा, तो समझ में आया कि उसने लॉक भी नहीं लगा रहा था. सेक्सी हेयरमुझे नहीं पता था कि मेरी पड़ोसन लड़की इतनी सेक्सी होगी और उसकी चुदाई का ऐसा मौका मुझे मिलेगा.

शब्बो ने अपनी कहानी बड़े विस्तार से सुनाई थी कि तमाम कोशिशों के बावजूद उसके अब्बू उसे चोद नहीं पाये थे.

कुछ ही देर में सरोज थक चुकी थी, तो मैंने भी उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और ऊपर आकर चोदने लगा. मैंने उनकी सफाचट चुत की तरफ देखा तो भाभी मुस्कुराती हुई बोलीं- इसी को साफ़ करने में दस मिनट लग गए.

इस भाग में बस इतना और जान लीजिए कि मेरी लंड चुसाई सिर्फ एक लंड तक ही सीमित नहीं रही थी. दो साल हो गए थे हमारे रिलेशनशिप को … मगर हमारे बीच नजदीकियां नहीं थीं. मैं चाचा के घर छुट्टियां बिताने गया तो अपनी चचेरी बहन की जवानी देख मेरा लंड खड़ा हो गया.

आपको मेरी सिस्टर हॉट सेक्स स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करके बताएं.

फिर अपनी उंगलियों से भाभी की चूत को सहलाते और रगड़ते हुए गांड को जीभ से चाटने लगा. लाल नाख़ूनी और लिपिस्टिक और काजल आदि लगा कर बालों की पोनीटेल बांध ली. हालांकि इस सफ़र के दौरान उसने मेरे साथ सेक्स को लेकर बात करने में बड़ा संकोच दिखाया था.

गाना सेक्सी फोटोमेरी बीवी की गांड टाइट होने कारण राजू भी जल्दी ही झड़ने पर आ गया और उसने भी मेरी बीवी की गांड में पानी छोड़ दिया. उसके साथ मस्ती करते करते मेरी नजरें कई बार उसके बोबों पर चली जाती हैं और उसी वक्त मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

ब्लू फिल्म भेजो ब्लू

मेरे लंड का साइज 6 इंच है और मोटा 2 इंच है … वो अपनी औकात में आ गया था. मुझे इस हरकत की प्रतिक्रिया यह मिली कि उसका हाथ मेरी साड़ी और पेटीकोट के ऊपर से दोनों जांघों के बीच गरमायी और भभकती योनि पर आ गया. रंगोली जोश में अपने होंठ चबाने लगी औऱ उसने चादर को हथेली से भींच लिया.

मगर उस दिन उसको कुछ काम से बाहर जाना था तो वो ये बोला- यार, मैं आज तुमसे माफ़ी चाहता हूँ. लिंग को ढीला छोड़कर मैंने अपनी तर्जनी उंगली उसके लिंग के छिद्रित भाग पर ले आई. वहां जाकर मैंने देखा कि उन्होंने एक दूध का गिलास रखा था और साथ ही में कमरे में बिस्तर को ऐसे सजा रखा था जैसे उनकी आज सुहागरात हो.

‘ये लेस्बियन है इसका क्या मतलब हुआ?’‘मतलब उसे लड़कियां अच्छी लगती हैं. दीदी बोलीं- तेरा कबसे इंतजार कर रही थी … आज कितने दिन बाद मुझे अपने भाई के लंड का स्वाद मिलेगा. उन्होंने लंगड़ाते हुए दरवाजे का सहारा लिया और मुझे अन्दर आने को कहा.

उसने उसी पल अपना ब्लाउज के बटन खोल दिए ब्लाउज उसके मम्मों से हट कर झूलने लगा. दोस्तो, मैं जयपुर से राज सिंह आपको अपनी पड़ोसन भाभी की लौंडिया निशा की चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ.

मुझे हर रात उनकी बांहों में सोने की आदत थी और उनके न होने से बहुत ज्यादा अकेलापन महसूस होता था, खास कर रात को.

कैसे मैंने उसकी सील तोड़ी?देसी लड़की Xxx कहानी के पिछले भागजुम्मन की हसीं बीवी भी चुद गयीमें आपने पढ़ा कि मैंने नाज की अम्मी की चुदाई भी कर दी. ब्लू पिक्चर नंगी बताओअलीज़ा की मादक सिसकारियां जैसे जैसे बढ़ रही थीं, मेरे लंड की स्पीड भी उतनी ही बढ़ रही थी. सेक्सी रंडी चूत देतीकुछ देर बाद मैंने लंड निकाल लिया और सरोज को घोड़ी बना कर उसकी गांड में बिना थूक के झटके से लंड घुसा दिया. शायद ये व्हिस्की का असर था या मेरा वहम, पर बातों ही बातों में वो अपना हाथ मेरी पीठ पर सहला रहे थे.

इधर अरविन्द मेरे दोनों बूब्स को बारी बारी से खींच खींच कर चूस रहे थे.

वो धीरे से बोली- अब क्या करना है? आप इसको मेरे अन्दर से बाहर निकाल दो, मैं किसी से कुछ नहीं बोलूंगी. आंटी बोलीं- हट जा … मुझे नहीं करवाना कुछ भी … तुमने गांड में लंड क्यों डाला!मेरा लंड उनकी गांड से निकल गया. इस बार रोशन ने जैसे तैसे करके खुद को संभाला, लेकिन इस बार गोगी ने अपनी मां को ठीक से देख ही लिया था.

मैं उनके इस स्वागत से बहुत खुश हो गयी थी और ड्रिंक्स बनाकर बातें करते हुए हम अन्दर सोफे पर बैठ गए. आंटी अन्दर से सिसिया रही थीं- आह रॉकी प्लीज़ … और जोर से … यस बड़ी आग लगी है … आह जल्दी से अन्दर तक चाटो प्लीज़ अपनी आंटी की चुत चाट लो. दो मिनट बाद मैंने लौड़े को चूत से बाहर निकाला और चूत में भरे हुए अपने ही लौड़े के पानी को पूरा चूस चूस कर अपने मुँह में भर लिया.

आंटी की चूत की चुदाई

उनकी पैंटी उतारने लगा ही था कि मैं उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर रुकने को कहा और बेड से उठ कर जाने लगीं. इससे पहले आज तक किसी ने मुझे छुआ तक नहीं था पर मैं उसको दूर नहीं कर पाई. बहुत देर तक मैं अर्शिया की चुत चोदता रहा, अर्शिया भी गांड को हिला हिला कर अपनी चुत चुदवा रही थी.

हम दोनों की टिकट कन्फर्म हो गयी थी … पर मेरी बर्थ अलग कंर्पाटमेंट में थी और उसकी अलग कंर्पाटमेंट में थी.

पहले एक फिर दो फिर तीन उंगलियों से मैंने मैडम की गांड को ढीला किया.

मैंने जैसे ही उसे पहली बार देखा … मेरी नज़रें उस पर ही टिक ऐसे गईं मानो समय रुक सा गया हो और आस पास का शोर गायब हो गया हो. पहले मैं अच्छे से नहा कर आई और फिर अपने शादी का लाल रंग का लहंगा निकाला, मैचिंग का बैकलेस लाल ब्लाउज़ लिया और अपने सारे गहने निकाल कर तैयार होने लगी. एक्स एक्स एक्स पुणेये सुनकर वो बोली- राज, तू क़िस्मत वाला है कि बिहारी होकर हरियाणा की जाटनी चोद रहा है.

उसने कहा- क्यों?मैंने कहा- अंदर डालूँगा तो कंडोम अलग कर ही डालूँगा. ये कुछ सेकंड की छुअन मेरे 44 साल के जीवन में पहला अनुभव था जिसमें सिर्फ छुअन से मेरे बदन के तार झनझना गए थे. आंटी ने कुछ नहीं कहा तो मैं समझ गया कि अब इन्होंने मुझे पूरी तरह से फ्री कर दिया है.

मैंने अपनी कमर उठा कर उसके लंड को चुत में लेने की कोशिश की, तो उसी समय उसने धीरे से धक्का लगा दिया. शायद वो भी यही सोच रही थी, पर हम दोनों ही मजबूर थे कि सब कुछ मिलते हुए भी चुदाई का सुख नहीं ले पा रहे थे.

[emailprotected]गाँव की देसी चूत चुदाई कहानी का अगला भाग:मकान मालकिन की बेटी चुदाई कराने आयी- 2.

तो उन्होंने मुझे समझाया कि ये सामान्य सी बात है कुंवारी लड़कियों की चुत की सील टूटने के कारण ऐसा होता है. मैं- हां … चुत चाहिए है और चुत चोदनी है … तो कुछ मेहनत करना ही पड़ेगी. आज मैं बहुत खुश था कि हरियाणा की जाटनी को उसके घर में मेरे बिहारी लंड ने हरा दिया.

कुवारी चुत लण्ड के धकाधक अन्दर बाहर होने से फच्च फच्च की आवाज से कमरा गूंजने लगा. उसे अपने करीब खींचते हुए मैंने उसकी चोली की डोरी खींच दी तो फड़फड़ाते हुए कबूतर मेरे सामने आ गए.

भाभी मेरे बदन से बदन रगड़ने से कसमसाती हुई मछली की तरह छटपटाने लगीं; मेरे बदन पर नाखून घुसाने लगीं; मेरे बालों को नौंचने लगीं और मेरे मुँह में मुँह डालकर और जोर से स्मूच करने लगीं. निशा ने मुझे अपनी नशीली आंखों से देखा और अपने पतले और लाल होंठों से मेरे मुँह पर लगे उसकी चूत के रस को चाटने लगी. कुछ देर के बाद जेठ जी ने चुदाई का तरीका बदल दिया, वे मुझे पीछे से चोदने लगे.

ಸೆಕ್ಸ್ ಬಿಪಿ ಸೆಕ್ಸ್

इस बार मुझे अपने उसी बिजनेस के सिलसिले में किसी काम के लिए दिल्ली जाना पड़ा. चूंकि हमारे पास कोई ख़ास सामान तो था नहीं, बस वो एक बड़ा सा हैंडबैग लिए थी … और मैं एक थैला लिए था, जिसमें मेरे एक जोड़ी कपड़े थे. मैं उनके दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसता रहा और वह मुझे पागलों की तरह किस करती रहीं.

विजय ने कुछ कहे बिना ही सरिता भाभी को गोद में उठा लिया और अपने रूम में ले गया. मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा और आंख मार कर अश्लील भाव से मुस्कुरा दी.

पीछे पीछे बुआ भी आईं, उन्हें लगा कि मैं कमरे के बाथरूम में जाकर छुपा हूँ तो उन्होंने प्लेट में रखी हल्दी को थोड़ी सी अपने हाथ में ली और बिस्तर पर प्लेट रख कर बाथरूम की तरफ बढ़ने लगीं.

फिर एकदम न जाने क्या हुआ कि तेज हवा चलने लगी और दरवाजे खुले होने के कारण कुछ धूल से अन्दर आ गई. मैंने उसका सर पकड़कर अपने लौड़े पर दबाव बनाया और नीचे से तेज झटके मारने लगा. हम लोग पूरा दिन वहीं रहे और मैं पूरे दिन सिर्फ बुआ को ही देखता रहा और उनकी चूची और गांड को थिरकते मचलते देखता रहा.

थोड़ी देर में मेरे लंड से पिचकारी निकली और बाथरूम के फर्श पर गिर गयी. दोस्तो, अगली कहानी में मैं आपको अपनी मां और पापा के दोस्त अंकल के बीच हुई धुआंधार चुदाई लिखूंगा, जिसमें मैंने अपनी मां को एक पोर्न ऐक्ट्रेस की तरह चुदते हुए देखा था. निशा- कपड़े तो उतार दो मेरे राजा!मैं- भोसड़ी वाली तू ही उतार दे न!इसी के साथ निशा ने मेरे पजामे को नीचे सरका दिया और पैरों से निकाल कर अलग कर दिया.

मैंने तुरंत उसकी पैंटी साईड में करके अपनी उंगली को अरुणिमा की चुत में घुसा दी.

बीएफ वीडियो बच्चा वाला: हॉट स्टूडेंट सेक्स कहानी मेरे पास अंग्रेजी पढ़ने आने वाली खूबसूरत लड़की की है. उसने मुझसे कहा कि कल्पना मैं तुम्हारे साथ कुछ स्पेशल शुरुआत करना चाहता हूँ.

मैंने कुछ देर आंटी के चूचे दबाए पर कुछ देर बाद आंटी ने मेरा हाथ झटके से हटा दिया और मेरी नींद खुल गई. तो क्या शादी के बाद आपके शौहर ने आपके साथ ताल्लुकात नहीं बनाये?”वो बताने लगी:बनाये … लेकिन ऐसे बनाये कि बताने में शर्म आ जाये. मुझे बाद में याद आया कि मैं नाइटी में हूँ तो जल्दी से अपने रूम में आ गयी.

मैंने उसकी ब्रा को उतारा और उसके एक मम्मे को अपने मुँह में भर लिया.

मुझे एकदम से इतना जोर से दर्द हुआ, जैसे मेरे अन्दर किसी ने चाकू घुसा दिया हो. क्योंकि चुत बहुत गीली हो चुकी थी तो लंड सरसराता हुआ अन्दर तक घुसता चला गया. लगभग 30 मिनट बाद उसका मैसेज आया- सो गई?मैंने जवाब दिया- नहीं, नींद ही नहीं आ रही है.