बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स सेक्सी फिल्म हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

बन्दूक फोटो: बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी, मैं उन्हें गांव से शहर लाने की तैयारी करने लगा, लेकिन शायद तब तक देर हो चुकी थी.

बंगाली चूत

वो जोर जोर से गर्दन इधर उधर पटकने लगी मगर मैं अपने काम में लगा रहा. पेशाब करती लडकीऐसे ही एक बार उनके एक सीनियर ने उनसे नशे में पूछ लिया था- मिस्टर मिस्त्री … आपका प्रमोशन हुए कितना टाईम हो गया है?मेरे पति बोले कि बहुत टाईम हो गया सर.

तभी उसकी मां बोलीं- तुम बैठो और चाय पियो, मुझे पड़ोस में जरा काम है, मैं अभी थोड़ी देर में आती हूँ. चुदाई की वीडियोयदि आप लोगों ने मेरी पहले की सेक्स कहानीचाची को चोदापढ़ी होगी, तो आप सरिता चाची के बारे में आप जानते होंगे.

नंगी गर्ल की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरा दिल कॉलेज की सबसे मस्त लड़की पर आ गया.बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी: एक तो पहली बार सेक्स करने का जोश था और दूसरी ओर उसका हल्का विरोध तोड़ने के लिए उसके साथ जोरा जोरी करने में भी बहुत मजा आ रहा था.

उसके उरोजों की गोलाइयों को मैं अपने हाथों की हथेलियों से नापने लगा.मैं डिनर करके बंगाली भाई साहब के साथ बाहर बैठा बातें कर रहा था और साइड वाले अंकल का नीचे जाने का इंतज़ार भी।मैंने इतने दिनों मे एक चीज़ और नोटिस की कि हर दिन बंगाली भाई साहब (गोपाल घोष) दारू पीकर टुन्न रहते थे.

एक्स एक्स वीडियो पंजाबी - बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी

घर की छत पर रात को मैंने कैसे उसे चोदा?हैलो फ्रेंड्स, मैं दीपक फिर से एक बार आपके सामने भाई बहन की चुदाई की कहानी के अगले भाग के साथ हाजिर हूँ.मैं आंख बंद करके अपना ये चेहरा खुद देख रही थी, जिस पर गुलाबीपन खिल कर बिखरा हुआ था.

इसमें धन्यवाद कैसा … और कोई खास काम हो, तो बताओ!सुमन इठलाती हुई बोली- काम तो है मुखिया जी, मगर उसमें समय बहुत लग जाएगा. बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी मेरे हाथ में जो टमाटर की थाली थी, उसका थोड़ा सा पानी उसके सूट के ऊपर लग गया, लेकिन उसने मुझे संभाल लिया.

मैंने फ़ोन उठाया, तो मैडम कहने लगीं- विक्की क्या तुम सो गए थे?मैंने कहा- अभी नहीं … नींद नहीं आ रही थी.

बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी?

फिर मैंने अपने दांतों से मम्मी की गोरी गोरी चूचियों पर भूरे कलर के कड़क हो चुके निप्पलों को बारी बारी से काटने लगा. इस बार उसने मुझे दीवार से चिपका कर खड़ा कर दिया और मेरा एक पैर उठाकर मुझे चोदने लगा. मैंने जैसे ही पारिज़ा की ब्रा हुक खोला, वैसे ही उसने मेरी ओर सेक्सी नजर से देखते हुए अपनी ब्रा निकाल कर दूर फेंक दिया.

उसके इस तरह के कमेन्ट पर मुझे थोड़ा अजीब सा लगा, पर फिर लगा कि ये तो टेलर्स की सामान्य सी भाषा है. मैंने अपने एक हाथ से उसकी गांड पर सहलाना शुरू किया और अंगूठे से उसकी गांड को दबाना शुरू कर दिया. मैंने भी उनकी आज्ञा का पालन करते हुए अपना लंड उनकी चूत में डाल दिया.

मैंने भाभी को कभी भी कामुक दृष्टि से नहीं देखा था, लेकिन तीन माह पूर्व ऐसी घटना घटी, जिससे मेरी कामुकता भाभी में बहुत बढ़ गयी. सुमन तो बस ये सुनते ही मुखिया के मूसल से लौड़े पर टूट पड़ी और बड़े मज़े से लंड चूसने लगी. मैंने उससे कहा कि मुझे बड़ी ख़ुशी होगी, यदि आप वो मुझे ड्रेस अभी ही पहन कर दिखाएं.

मुझे देखकर मुस्कराते हुए बोली- मार लिया मैदान?मैंने उसे कविता की कच्छी दिखाते हुए आंख मार दी तो कातिल सी मुस्कान देने लगी। मैंने उसके सामने कविता की कच्छी को अपनी जिप वाले भाग पर लंड पर रख कर रगड़ दिया. इस बार उसने मुझे दीवार से चिपका कर खड़ा कर दिया और मेरा एक पैर उठाकर मुझे चोदने लगा.

जो होना था वो ईश्वर की मर्जी थी, आप ही तो कहते थे कि बिना उनकी मर्जी के तो पत्ता भी नहीं हिलता संसार में.

अब तक की हॉट वाइफ स्टोरीमेरी हॉट बीवी की उसके अब्बू संग चुदाई- 1में आपने पढ़ा कि मेरी बीवी चुदास से गर्म हुई पड़ी थी और उसके अब्बू उसे चोदने के लिए उसके सामने आ गए थे.

मैडम को किस करते करते मैं उनके मम्मों को भी दबा रहा था और एक हाथ से उनकी चूत को भी मसल रहा था. कहते हुए भाभी मेन गेट लॉक कर आई और आकर मेरे पीछे खड़ी होकर उन्होंने मेरा लंड को अपनी मुट्ठी में भर लिया. एक बार मैंने उसके दूध दबा दिए, तो वो एक बार को तो सहम गई और मुझे देखने लगी.

मैंने भी देर नहीं करते हुए अपना लंड सरिता चाची की चूत पर टिकाया और एक जोरदार शॉट दे मारा. अब चुपचाप लेटी रह और नखरे मत कर!उसने उठ कर फटाक से दरवाजा अंदर से लॉक किया और मेरे ऊपर आकर मुझ पर टूट पड़ा. तुझे कितनी बार कहा है कि तू अपने पति की बहन को ला … उसका क्या हुआ?सन्नो- मुखिया जी, आपने गांव की सब औरतों को तो चख लिया है … वो अभी छोटी है … थोड़ा सब्र करो.

मेरा एक एक धक्का उसकी चूत को चीरता हुआ उसके पेट तक जा रहा था और मुझे महसूस हो रहा था कि जैसे मेरा शिश्न अन्दर किसी और चीज से रगड़ रहा हो.

हे भगवान् इतना बड़ा?मैंने उनके लंड को अपनी मुट्ठी में महसूस करते हुए सोचा. मगर फिर भी सुरेश ने कन्फर्म करने के लिए अपनी एक उंगली गीता की छूट में घुसाई, जो बड़ी आसानी से चुत में घुस गई. मैंने भी उनकी चुत के पानी को उंगली से लेकर जीभ से लगाया और टेस्ट किया.

मतलब मैं पारिज़ा को एकदम से चुदाई की पोजीशन में लाकर उससे इमोशनली बात करने लगा. इसे भी करने दे इंजॉय।मैं- अच्छा बंदरिया! तू तो बहुत आगे निकली मुझसे. खूबसूरत लड़की और उसकी मस्त मस्त नंगी चूचियों को देखकर मेरा लंड सलामी देने लगा.

मैंने अपने हाथ से उसका मुँह बंद कर दिया और उसके अन्दर सारा माल निकाल दिया.

मुझे आशा है कि आपको यह सेक्सी बीबी की चुदाई कहानी जरूर पंसद आई होगी. वो लंड घुसवाते ही ‘अह्ह्ह … अह्ह्ह्ह …’ करने लगी थी और ऊपर नीचे होकर उछलने लगी.

बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी मैं उसे चूमते हुए बीच बीच में दांतों से काट भी लेता था जिससे वो हल्की चीख से मुझे और भी ज्यादा मदहोश कर देती थी. फिर मैं उससे इधर उधर की बातें करने लगा और दाएं बाएं देखकर हाथ अंदर कर उसकी चूत की तरफ तेज़ी से हाथ बढ़ा दिया तो वो हड़बड़ा कर पीछे हटी और गेट से टकरा गई।अंदर से छोटे भाई ने पूछा- दीदी क्या हुआ?ये सुनकर मैं जल्दी से बाहर की ओर भागा। 15-20 मिनट के बाद वापस लौटा तो वो फिर वहीं खड़ी किताब पढ़ती दिखी.

बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी एक दिन मैंने देखा कि हमारी क्लास का एक लड़का मेरी स्कूल की दोस्त अंजू पर लाइन मार रहा था. उसकी चूत से निकलने वाले कामरस का मैं पान कर रहा था और वो बिन पानी मछली की तरह तड़प रही थी.

मैंने उसको सूंघा तो मुझे उसकी खुशबू बहुत अच्छी लगी और मेरी चूत में पानी सा आना शुरू हो गया.

विदेशी सेक्स वीडियो विदेशी

मैं अपना एक हाथ धीरे धीरे सुनयना भाभी के ब्लाउज के ऊपर ले गया और उनके मोटे और नरम बूब्स को दबाने लगा. मेरी गंदी कहानी मेरे और मेरी और मुझे एक डेटिंग साइट पर मिली लड़की के बीच की है. मैंने एक ब्लैक और रेड कलर की ट्रांस्पेरेंट साड़ी डाली हुई थी जिसमें मेरा गोरा बदन एकदम साफ चमक रहा था। लेडीज़ वाला मेरा परफ्यूम पूरे रूम में महक रहा था। मुझे इस तरह तैयार हुई देखकर रोहित की आंखों में तो जैसे चमक आ गई थी।फिर रोहित मेरे पास एक पानी का गिलास लेकर आया और मुझसे पानी पीने के लिए पूछा.

सुमन भी हंस दी और मुखिया जी को अन्दर आकर बैठने के लिए कह कर वो उनके लिए चाय बनाने किचन में चली गई. मेरी कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी के पिछले भागमेरी जिन्दगी की हसीन दास्तान- 2में आपने पढ़ा:अब आगे की कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी:मैंने ओके का इशारा किया और भाभी पीछे की सीट पर जाकर लेट गईं. जब मैं गांव में चाची के घर आया, तो देखा कि घर में गांव की एक बूढ़ी औरत थी, जो चाची से बात कर रही थी.

मैंने मोनिषा से कहा- मुझे भूख नहीं है, तुम खाना खा लो, मैं तब तक बाहर से घूम कर आता हूं.

थोड़ी देर के बाद उसने फोन रखा तो मैंने कहा कि आप ऐसे किसी को मत बताइये कि आप यहां पर रुकी हुई हैं और वो भी किसी और मर्द के साथ में!मेरी बात सुन कर वो हंसने लगी. मेरी गर्लफ्रेंड की सेक्स चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं एक लड़की को पसंद करता था. वो झट से मेरे लंड के ऊपर चढ़ गई और अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चुत पर सैट करने लगीं.

फिर मैं अपना एक हाथ भाभी के पैरों के पास ले गया और उनकी साड़ी में हाथ डालकर साड़ी ऊपर उठाने लगा. अब हम लेटे लेटे ही बातें करने लगे और एक दूसरे को वासना से देखने लगे. मैंने उससे पूछा- रेखा जी आपका कोई ब्वॉयफ्रेंड बन गया है या नहीं!वो बोली- हां भाभी एक है.

मैं दिल्ली में जॉब के लिए शिफ्ट हुआ था और अपने एक दोस्त के साथ किराय के मकान में रह रहा था. कोई 5 मिनट बाद मैंने अपने लंड को उनकी गांड से थोड़ा सा बाहर निकाला और फिर उसपर थूककर अन्दर कर दिया.

अगले ही पल भाभी ने गर्म आहें भरते हुए मेरे चेहरे पर ही पानी छोड़ दिया. मुझे डाउट हो गया कि यार ये शादीशुदा है भी या नहीं? बूब्स देख कर तो यही लग रहा था कि अभी तक कुँवारी है ना कि शादीशुदा? खैर, मैं उनके बूब्स पर एक भूखे भेड़िये के जैसे टूट पड़ा और एक बोबे को मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे को दूसरे हाथ से दबाने लगा. बस आप ये बताएं कि आपको पैसे कब चाहियें?उन्होंने अपनी आवश्यकता तुरंत की बताई.

पहली बार जब मैंने उसे देखा था, तो मुझे भी ऐसा ही लगता था कि उसे सर से लेकर पांव तक चाट कर खा जाऊं.

ये सुनकर वो मुस्कराने लगी लेकिन लंड उसने मुंह में रख कर चूसना चालू रखा. फिर बाहर आने के बाद वो तौलिया में ही मुझे गुदगुदी करने लगी और मुझे हंसा कर ही मानी. सर्दियों के दिन थे और सभी घरवाले किसी रिश्तेदार की शादी में गए हुए थे, तो मैं घर पर अकेली थी.

वो गांड इधर उधर हिला कर और उछला कर मुझे खुद से हटाने की नाकाम कोशिश करती रही।मैंने जल्दी से अपने लंड पर थूक लगाया और उसकी गांड में घुसाने लगा. उसने लिंग पर ऊपर नीचे होना शुरू कर दिया और मैं दोनों हाथों से उसके चूचों को दबाते हुए नीचे से हल्के धक्के भी लगाने लगा.

मेरे चूतड़ों और चूचियों को देख कर सभी कामुक लोगों का लंड खड़ा हो जाता है. मौसी की गांड को तैयार करने के बाद मैंने उसकी गांड के छेद में थूका और उसको चिकना किया. मुझे काफ़ी टाइम बाद चुदाई में इतना मज़ा आया था और शायद उसे भी मेरे लंड ने सुकून दे दिया था.

सनी लियोन सेक्सी इमेज

मैं जब बाहर आई, तो मयंक बोले कि रूम में कोई पर्दे के पीछे कोई को खड़ा किया है?मैंने उन्हें टीवी रूम में ले जाकर सब बता दिया.

मैंने पूछा- जी … आपके परिवार में कोई नहीं दिख रहा है?वो बोली- ये जी जी करके बात करना बंद कीजिए. रोड सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि मुझे मर्दों के मोटे लंड से चुदाई का बहुत शौक है. इसी बीच अंगिका का एक पैग ख़त्म हो चुका था और धीमा धीमा नशा उसकी आँखों में दिखाई देने लगा था.

”फिर एक काम हो सकता है कि मनीषा को मेरे घर के एक कमरे में शिफ्ट कर दीजिये, आप लोग एक एक करके मिलने भी आ सकते हैं. उन्हें देख कर मैं चौंक गयी और समझ गयी कि ये इन दोनों का कोई प्लान था. देहाती चुदाई वीडियो मेंउसे पति अच्छा मिला मगर …दोस्तो, मैं तरूण हम भाई बहन के सेक्स की कहानी आपको बता रहा था.

‘महक … महक … तू ठीक तो है ना?’इस आवाज से मेरा ध्यान टूटा, जो उस हुस्न परी के सीने पर नजरों में गड़ा हुआ था. मुखिया गीता के ऊपर से हटा, तो लौड़े के बाहर आते ही खून और वीर्य चुत से बहने लगा.

मैं उससे कुछ कहती, तब तक वो बोला- अब कुतिया बन जाओ भाभी … आपको कुतिया बना कर चोदूंगा. थोड़ी देर में गीता फिर से गर्म हो गई और लौड़े को बेदर्दी से चूसने लगी. गर्लफ्रेंड लंड देख कर बोली- उई मम्मी … तो बहुत बड़ा है … ये तो एक बालिस्त से भी बड़ा लग रहा है.

उसने बिना कुछ बोले अपनी मां के हाथ से सामान लिया और तेज़ तेज़ चढ़कर ऊपर चली गई।मुझे देखते ही उसकी मम्मी ने पूछा- भैया जी, कुछ चाहिए क्या?मैं बोला- नहीं, बाथरूम किधर है?रोज़ी की मां ने सामने इशारा किया और खुद किचन में चली गई।मैं बाथरूम गया और अपने तने हुए लंड को पैंट की बेल्ट के नीचे से आजाद किया. वो बोला कि दारोगा को दूसरी पार्टी ने पैसे खिला दिये हैं इसलिए उनकी तरफ से अब केस मजबूत हो गया है. अबकी बार एक ही बार में पूरा लंड घुस गया।चूंकि मेरा वीर्य पहले भी उसकी चूत में निकल चुका था इसलिए लंड आसानी से चूत के अंदर फिसलता चला गया.

मगर मेरे कानों में उसकी मीठी सीत्कारें मानो शहद घोल रही थीं- आह आह जान और चूसो साले … खाजा भैन के लौड़े … मेरी चुत को मस्त कर दे … हरामी … आह उफ़ पूरी चूस ले … उफ्फ्फ अब बर्दाश्त नहीं होता … साले जल्दी से लंड डाल दे प्लीज़.

उस छेद में मैंने अपने लंड को घुसा दिया और एक पीस रसमलाई को अपनी गांड में दबा लिया. इन्होने तो ये बोल दिया, पर मैंने न ही कभी मार्डन टाईप ब्लाउज पहना था और न ही मेरे पास ऐसे ब्लाउज थे.

वो रोने लगी कि अभी थोड़ी देर के लिए रुक जाओ … मुझको बहुत दर्द हो रहा है. मेरे मुहांसे देख कर मेरी क्लासमेट्स मुझे छेड़तीं कि ‘रूपांगी तेरी चूत अब लंड मांग रही है. वो आराम से गांड मरवा लेती थी और मेरी सेक्स की प्यास पूरी हो जाती थी.

फिर मैंने लंड पर भी थूक लगाया और अपना लंड मौसी की गांड में घुसाने लगा. उसने अपने कपड़े उतार कर एक तरफ फेंक दिए और जिन हील्स को पहन कर वो बाहर से आई थी, उन्हीं हील्स में आगे बढ़ कर उसने मेरी चड्डी पर हाथ फेर दिया. उसका आठ इंच का लंड फुंफकार मारता हुआ सुमन की आंखों के सामने लहरा रहा था.

बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी मैंने कहा- मैं क्या करूं, ये बता?तुली- अब पापा हम कैमरा के सामने सेक्स करेंगे. हम दोनों ने कपड़े पहन लिये और उसके कुछ देर के बाद ही उसकी दोस्त ने रूम के दरवाजे पर अपनी दस्तक दे दी.

सनी लियोन की एक्स एक्स एक्स फोटो

जल्दी से मैंने उसकी गांड पर तेल लगाया और थोड़ा तेल अपने लंड पर लगाया. मैंने कहा- खाना आपके हाथ का बना होता और आपके हाथ से खाने मिलता तो अच्छा लगता. इसलिए मैं भाग कर उससे लिपट गयी और वहीं पर खुले में उसके होंठों को चूसने लगी.

मैंने उन्हें अन्दर बुलाया और छत की सफाई करने को बोलकर उन्हें छत पर भेज दिया. मैंने उसकी चूचियों को दबाना सुरू कर दिया और उसने मेरे लंड को लोअर के ऊपर से पकड़ कर सहलाना शुरू कर दिया. हिंदी वीडियो xxxउनके इस तरह मेरी चूत चाटते ही मैं जैसे आनंद के सागर डूबने उतराने लगी पर साथ ही मेरी आत्मा चीत्कार कर रही थी और आत्मग्लानि से मैं मन ही मन ईश्वर से प्रार्थना करने लगी कि हे भगवान् मुझे इसी क्षण मृत्यु दे दो, ये सब सहने, महसूस करने से पहले मैं मर ही क्यों न गयी! हे राम … इस पाप का बोझ लेकर मैं बाकी ज़िन्दगी कैसे जी सकूंगी … काश मुझे अभी के अभी मौत आ जाय.

सुनयना भाभी ने इतना बोल कर मेरे गालों पर किस किया और बाथरूम में चली गईं.

फिर मैंने दराज ओपन की और उसमें से कंडोम निकाला और अंकल का हाथ पकड़कर अंकल को बेड के पास ले गया. मैं हरियाणा के भिवानी के पास से हूं और मैं दिल्ली में जॉब करता हूं.

इतने दिनों से मैंने अपने शेर लंड को इतनी चूतों का रस पिलाया था, इसलिए अब उसको बिना चूत के मुंह लगे चैन नहीं आने वाला था. उसके बाद आखिरी झटका दिया जिससे मेरा लंड उसकी चूत में अंदर तक जगह बनाने में कामयाब हो गया।लंड को पुरा घुसाने के बाद मैं थोड़ी देर बस वैसे ही रुका रहा. मेरी कुछ विशेषताओं में से एक बड़ी विशेषता ये है कि मुझे मसाज करना बहुत अच्छे से आता है.

मुखिया ने आव देखा ना ताव और झट से अपना आठ इंच का लंड उसकी चुत में एक ही झटके में अन्दर तक पेल दिया.

फिर उसके हाथों को एक हाथ से पकड़ कर अपने एक हाथ से उसका ब्लाउज उतारने लगा. मैं जोर जोर से अपनी कमर हिलाते हुए अपनी जांघों को उसकी चूत पर पटक पटक कर मार रहा था. उनकी बेटी मेरे लंड पर मस्ती से कूदती रही और आखिर में हम दोनों झड़ने की कगार पर आ गए.

सेक्सी भाभी देवर काउसकी बिल्कुल टाइट चूचियां एकदम उठी हुई थीं … और उनके ऊपर ब्राउन कलर के निप्पल एकदम कड़क हो गए थे. जैसे मैंने उनके हाथों को छोड़ दिया, भाभी ने मुझे कसकर गले से लगा लिया.

इंडियन कॉल गर्ल

पहले मैंने उनकी चुत पर लंड रगड़ा तो वो बोलने लगीं- अब नौटंकी ना करो … जल्दी अन्दर डालो. दिखने में मैं बिल्कुल फिट हूँ। अपने शरीर का काफी ध्यान रखता हूं और हल्की फुल्की कसरत भी कर लेता हूं. वहां थोड़ी रोशनी थी और मैंने देखा कि मॉम का बदन कई जगह से कीचड़ में सन गया था.

मैंने उससे शाम 6 बजे स्टेशन के पास ही एक रेस्तरां में मिलने का तय किया था. फिर उससे पूछा कि ये सब कैसे हुआ तो उसने बताया कि उसके पति ने उसको बहुत मारा है और उसको घर से ही निकाल दिया. क्या किया री तूने आज अपनी चूत में, टाइट करने वाली कोई दवा लगा रखी है का?; ससुरा पूरा लंड घुस ही नहीं रहा?” मौसाजी झल्लाये से स्वर में बोले.

रात को करीब साढ़े ग्यारह बजे मैंने मनीषा को व्हाट्सएप किया:प्रिय मनु, जब से तुम्हें देखा है, मैं अपने होश खो चुका हूँ. इसलिए जैसे ही मेरे हाथ में उसकी पैंटी आयी तो मैंने उसको छेड़ते हुए कहा- आखिर कितने कपड़े पहन कर सोती है तू? इसके नीचे पैंटी पहनना ज़रूरी था?ये सुन कर वो धीरे से मुस्करा दी. लीड अचानक से मोबाइल से अलग हुई, जिसकी वजह से ब्लू फिल्म में चुदाई की वजह से लड़की चिल्ला रही थी.

सुरेश- अरे मीता … वहां क्या देख रही हो?मीता- आ गए आप बाहर, बहुत देर कर दी ना चैक करने में. ये बात उसको पता चल गई और दिशा एक पल की भी देर ना करते हुए मेरे सामने घुटनों पर बैठ गयी.

फिर मैंने दुबारा उसे नीचे लिटाया और 69 पोजीशन में एक दूसरे के लंड चुत चाट कर गर्म करने लगे.

वो वैसे ही अपनी गांड में मेरी उंगली लिए कुतिया बन कर चली और बैग से कंडोम निकाल कर मुझे देने लगी. ट्रिपल एक्स एक्स वीडियोमेरे पास भी इतने पैसे नहीं थे तो मैंने कुछ पैसे फ्रेंड से लिये और वकील के पास गयी. पोर्न सेक्स इमेजनमिता और शैली सूखी लकड़ी जैसी हैं और बिल्कुल भी आकर्षक नहीं हैं, मनीषा को मैंने कभी देखा नहीं. कभी गर्दन पर तो कभी होंठों पर।मेरे लण्ड का तने हुए बुरा हाल हो गया था.

उसके लंड से पिलवाते हुए मैं बोली- पेल दो अपना लंड मेरी चूत में … कुत्ते … साले मादरचोद … मेरी चूत को फाड़ दे … आह्ह … और चोद भोसड़ी वाले … तेरे लंड को निचोड़ दूंगी मैं अपनी चूत में।मेरी गालियां सुनकर वो और तेजी से मेरी चूत को ठोकने लगा.

बस ये ध्यान रखियेगा कि प्रशासन को खबर न लगे, बाकी खाँसी, बुखार की दवा तो मैं दिला दूँगा. राहुल- अरे इमेजिन करो न जान … बोलो क्या नहीं मिलेगा!मैं- क्या इमेजिन करूं जान!राहुल- यही कि तुम और मैं साथ में हैं और तुम मेरा लंड चूस रही हो … मैं तुम्हारी चूत. मैंने बालकनी से नीचे झांक कर देखा तो नीचे पूरा पानी भर गया था और ऐसा लग रहा था जैसे ये बिल्डिंग किसी तालाब में खड़ी हो.

फिर मैं बाथरूम से निकलकर अल्पना के रूम पहुंच कर उसके डोर को नॉक किया. इससे उसकी चूत इतनी गर्म हो गयी कि मेरे लंड में भी गर्मी महसूस होने लगी. फिर वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड के ऊपर धीरे धीरे बैठ गयी और फिर अपनी गांड उठा उठा कर मेरे लंड को खाने लगी.

बीपी गुजराती सेक्सी

मौसा जी के आने के पहले ही मैं तो अपनी खुद की वासना की आग में जल ही रही थी और अपनी चूत में उंगली कर कर के झड़ने ही वाली थी कि वो आ धमके. मैंने मिनल के फोन से उसके पति का नम्बर निकाला और कॉल करके उससे मिलने का टाइम फिक्स किया. अब आगे की देवर भाबी सेक्स स्टोरी:मैंने अपना एक पैर उठाकर सुनयना भाभी के पैरों पर रख दिया और उनके गालों पर एक किस कर लिया.

मैंने राहुल को झूठ बोल दिया वरना उसे बुरा लग सकता था कि मैं राज के साथ बेडरूम शेयर कर रही हूं और अगर सच बोल देती, तो शायद वो मुझसे बात भी नहीं करता.

मैंने मैडम से पूछा- सिलेंडर में क्या प्रॉब्लम आ रही है?मैडम बोलीं कि हां इससे गैस लीक हो रही है.

मेरे सास ससुर का मेरे पास रोज़ फोन आता है और वो खुशखबरी के लिए पूछते हैं. कुछ 10-15 मिनट में मैं राज के किस और उससे मम्मों को दबवाने का मज़ा लेती रही. क्सक्सक्स+वीडियोजब उससे रहा न गया तो वो एकदम से उठी और मुझे नीचे गिरा कर मेरे लंड पर झुक गयी और उसने मेरे लंड को मुंह में भर लिया.

उसने कुछ नहीं कहा, तो मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैं उसके करीब होकर होंठों से होंठों को लड़ाने लगा और हम दोनों ने अपना आपा खो दिया. ऐसा लग रहा था जैसे चूत को उसने गुलाब की पत्तियों के नीचे छुपा रखा था. सच में दोस्तो, एक अलग ही आनंद की अनुभूति हुई मुझे मिकी की चुदाई करके.

वो भी आह आह करके बड़बड़ाने लगी- पेलो भैया … चोदो भैया फाड़ दो गांड … और जोर से चोदो … आह मजा आ रहा है भैया. तुम एक काम करो, कल सुबह 6 बजे अपने भैया के साथ जाकर ये कार्ड बाँट देना.

वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया.

मैंने ख्यालों में ही प्रेरणा भाभी को नंगी कर लिया और उनके चूचे पीने लगा. मैंने उसको मेकअप करने के लिए कहा क्योंकि मुझे औरत मेकअप में ज्यादा अच्छी लगती है. एक तो डॉक्टर की बीवी को देख लिया, ऊपर से तू कल अपनी ननद को ला रही है … मेरा जोश दुगुना हो गया था.

वीडियो ब्लू वीडियो ब्लू वीडियो ग्यारह बजे रेस्टोरेंट में मुलाकात हुई और साथ जीने मरने की कसमें खा लीं. पिछले भाग में मैंने अपनी चुदाई की कहानी बताई थी कि कैसे मेरे पुराने यार विकास ने मुझे बाथरूम में नंगी करके चोदा और अब वो मेरी गांड भी मारने की बात कहने लगा.

जब मुखिया ने अपने परिवार के बारे में सब बताया, तो सुमन बोली- अच्छा ये बात है. सभी के सोने के बाद प्रेरणा भाभी उठकर चुपके से उस कमरे में आई जहाँ मैं सोया हुआ था. देसी बुर की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी भतीजी को मुझसे अपनी चूत चुदवाने के बाद चुदाई का चस्का लग गया.

स्कूल एक्स वीडियो

चाची हंसने लगीं और ब्रा की तरफ इशारा करके बोलीं- मैं सिर्फ यही पहनती हूं. तो दोस्तो, यह था एक 60 साल की औरत ने मुझे एक महीने के लिए चुदाई के लिए बुक किया था. अब मैंने ज्यादा इंतजार नहीं किया और कुछ पल बाद ही झटके से गांड में पूरा लंड घुसा कर उसकी पीठ पर लिपट गया और उसकी चूचियों को दबाते हुए गर्दन पर चूमने लगा.

https://thumb-v8.xhcdn.com/a/n1X46GBu4Xs1PB0NRkP7pQ/017/338/878/526x298.t.webm. मैं लंड को चुत पर रगड़ने लगा, तो सुनयना भाभी कहने लगी कि प्लीज़ और मत तड़पाओ … जल्दी डालो ना … नहीं तो मैं मर जाऊँगी.

जब उससे रहा न गया तो उसने मुझे बेड पर पटका और मेरी टांगों को अपने कंधों पर रख लिया.

मुझे ऐसा लग रहा था कि मेरे हाथ में ब्रा नहीं मानो चाची की चूचियां हैं. जैसे ही उसने चूत को चाटना शुरू किया उसी क्षण पूजा के मुंह से निकला- सीईईई … ईईई … स्सस … आह्हहा … ऊईई … या!अब मनोज ने अपने हाथ से उसकी चूत की फाँकों को हटाया और अपनी जीभ उसकी गर्म चूत के अंदर डाल दी. जब तक तू अपनी चूत में किसी का मोटा लंड नहीं पिलवाएगी ये मुहांसे जाने वाले नहीं!’उनके मुंह से चूत लंड जैसे गंदे शब्द सुन के मुझे बहुत शर्म आती और उन पर गुस्सा भी बहुत आता.

इस पर मां ने कहा- तो आपको मजा नहीं आता क्या जब मैं आपके लंड पर मूतती हूं?वो बोले- आता है जान … तुम्हारा गर्म गर्म मूत लंड पर गिरता है तो बहुत मजा देता है. भाभी की साड़ी का पल्लू उनके ब्लाउज के ऊपर से मैंने हटा दिया और उनके मम्मों को ऊपर से ही पकड़ लिया. मैंने भाभी से बोला- कैसा लगा?भाभी बोलीं- तुमने तो मेरी जान ही निकाल दी … तुमगन्दी चुदाईकरते हो पर मज़ा बहुत देते हो.

आज मैं आपको एक ऐसी मस्त डॉटर फादर रोल प्ले सेक्स स्टोरी बताता हूं, जिसे पढ़ कर आप भी मुँह में उंगली डाल दोगे.

बीएफ चुदाई सेक्सी हिंदी: उसके बाद अपना 8 इंच का लौड़ा उनकी गांड में और बुर में घुसा कर काफी देर तक लगातार अन्दर बाहर करना, डर्टी हार्ड सेक्स मुझे बहुत पसंद है. करीब एक मिनट बाद उसने मुझे जकड़ लिया और एक लंबी सी आह … के साथ निढाल हो गयी.

उनको लंड चुसवाते हुए ही मैंने उनका सर पकड़ा और उनके मुँह को चोदने लगा. मैं उठने लगा, तो काटते वक़्त टमाटर का थोड़ा सा पानी जो नीचे गिर गया, वो दिखा नहीं. मेरी पिछली कहानीसगी भाभी की कामवासनाको लेकर आप लोगों ने जो प्यार दिया उसके लिए सबका धन्यवाद।अब मैं अपनी क्लाइंट सेक्स रिलेशन स्टोरी शुरू करता हूं.

आपको मेरी हॉट सेक्स मॉम स्टोरी कैसी लग रही है? प्लीज़ मेल करके जरूर बताना.

जल्दी से मैंने उसकी गांड पर तेल लगाया और थोड़ा तेल अपने लंड पर लगाया. फिर मैंने उसके हाथ को हटा कर अपना हाथ उसके चूतड़ों पर रखा और बंदर की तरह अपना लंड उसकी गांड में ऊपर नीचे करने लगा. आह क्या मस्त बूब्स थे यार … गोरे और भरे हुए दूध और उन पर पिंक निप्पल एकदम कड़क हो उठे थे.