बीएफ स्कूल गर्ल

छवि स्रोत,बिएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी भाभी के साथ: बीएफ स्कूल गर्ल, फिर अपने आपको कंट्रोल करते हुए मैंने कहा- मैम, चलिए काम शुरू करते हैं.

जबरदस्ती बुर की चुदाई

मैंने अपनी जान के संतरे जैसे चूचे उसकी कमीज के ऊपर से ही मसलने शुरू कर दिये. सेक्सी ब्लू फिल्म दिखा दोवो आज भी बहुत सेक्सी दिख रही थी।महेश ने अपनी बेटी को अपनी बांहों में भर लिया और अपनी बेटी के रसीले होंठों को चूसना शुरू कर दिया।फिर महेश अपनी बेटी की पेंटी को सूंघने लगा।पिताजी, आपको किसकी गंध ज़्यादा अच्छी लगी, मेरी पेंटी की या चूत की?” ज्योति बोली।अरे बेटी, दोनों ही बहुत मादक हैं.

फिर भी आंटी की सेक्सी बॉडी की चाह में मैंने हां कह दिया- सोच लिया … मैं तैयार हूँ. लड़कियों की सुसुमनोज ने धीरे से उसके कान पर से बाल हटाये और कान को जीभ से चाटा और दांत से दबाने की कोशिश की.

एकदम से लंड घुसने से वो चिल्लाने लगी- आहह मांम्मह … मर गई निकालो … दर्द हो रहा है.बीएफ स्कूल गर्ल: मैं ये नहीं कहूंगा कि मेरा लंड बहुत बड़ा है, पर फिर भी मेरे लंड ने अच्छी अच्छी औरतों का पानी निकाला हुआ है.

वो तो भला हो टीवी का … जिसकी आवाज़ से यहाँ से आने वाली पच पच की आवाज़ दब गयी थी।अब मैंने पूरे जोश में अपने लंड से चूत रगड़ना चालू कर दिया और उसी जोश में उनके पेट पर रखा हाथ सीधे उनके बूब्स पर रख कर दबा दिया.मैंने भी अपने बैग से सुहास की पसंद का रेड ब्रा पैंटी का सैट निकाला.

बूब्स चूसने - बीएफ स्कूल गर्ल

मैंने उसको बोला- अमन?और जैसे ही वो मेरी आँखों पर से हाथ हटा कर मेरे सामने आया तो मुझे झटका लगा.कोई 5 मिनट बाद मैंने मेरा पूरा लंड अन्दर पेला, तो वो धीरे से चीख उठीं और लंड को जज्ब करने लगीं.

मामी मेरा लंड दबाते हुए बोलेंगी- तो ठीक है, किचन में मेरी चूचियों को और ज्यादा चूसने आ जाना. बीएफ स्कूल गर्ल मेरे दस झटकों के बाद वो एकदम से अकड़ गयी और मेरी कमर पर अपने पैरों को फंसा कर सिसियाते हुए चुतरस छोड़ने लगी … वो झड़ गयी थी.

मैंने आंटी के बालों को पकड़ा और ज़ोर ज़ोर से लंड को उनके मुँह में आगे पीछे करने लगा.

बीएफ स्कूल गर्ल?

पर आज तो मैं बस खूब चुदना चाहती थी।हमने इस पोजीशन में 15-20 मिनट तक सेक्स किया. फिर पापा कहने लगे- बेटी, अगले हफ्ते में तेरा जन्मदिन है तो मुझे कुछ गिफ्ट देना चाहता हूं. मेरी लाइफ के बारे में जानकर वो थोड़ा सा सेंटी हो गया और मुझे दिलासा देने के लिए मेरे हाथ को अपने हाथ में ले लिया और अपने कंधे पे मेरा सर रख दिया।मैं भी यही चाहती थी कि कोई मुझे इस तरह का सहारा दे। इधर उधर देखकर उसने भी मौके का फायदा उठाना शुरू किया, मेरे होंठ को किस किया, मैंने भी उसको करने दिया।पहली बार इतने कम उम्र के लड़के को मैंने किस किया था.

मैं रुआंसा हो गया, तो भाभी बोलीं- अरे पहली बार के लिए ये बहुत सही प्रयास है … पहली बार तो मेरे पति मेरे दूध पीते पीते ही खलास हो गए थे. थोड़े ही दूर में बैठा संदीप बार-बार मुझे ही ताड़ रहा था और नजरें बचा कर मैं भी उसे निहार रही थी. अब उन्होंने भी मेरा धीरे धीरे साथ देना शुरू कर दिया था, मैंने अपनी पूरी जीभ चाची के मुँह में दे दी और उनके मुँह में फिराने लगा.

और इतना कह कर उन्होंने मेरी जीन्स का बटन खोल के एक ही झटके में पैंटी ओर जीन्स उतार दी. वो तो भला हो टीवी का … जिसकी आवाज़ से यहाँ से आने वाली पच पच की आवाज़ दब गयी थी।अब मैंने पूरे जोश में अपने लंड से चूत रगड़ना चालू कर दिया और उसी जोश में उनके पेट पर रखा हाथ सीधे उनके बूब्स पर रख कर दबा दिया. यह कह कर वो छत पर बिछे बिस्तर पर लेट गयी और उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया.

पर सच कहूं तो संदीप का साथ मुझे अच्छा लग रहा था और ऐसा ही कुछ मैंने संदीप की आंखों में भी देखा. वो चिल्ला उठी- प्लीज प्लीज स्लो … (धीरे-धीरे करो)उसके बाद मैंने उसकी गांड में लंड को और अंदर धकेल दिया.

वो अकड़ते हुए बोली- आह मेरे आशिक … मजा गया … आह ऐसे ही … और जोर से!इतना सुनना था कि रोहित की स्पीड इतनी तेज हो गई कि मेरा बिस्तर भी हिलने लगा.

अब बात कुछ इस तरह की है कि एक दिन मैं भाभी के घर पर सर्विस दे रहा था … मतलब कि उन्हें चोद रहा था कि तभी उनकी भाभी ने हम दोनों को सेक्स करते हुए देख लिया.

अब किस बात का डर है?इतना कहकर उन्होंने मेरी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया. इशिता … इशिता कुछ ज्यादा ही नशा करने लगी है … कल रात भी नशे में घर आई थी. जब लेडी डॉक्टर ने अपने शरीर से कपड़े हटाये तो मेरी साली उसके बूब्स को देख कर हैरान रह गई.

जैसे ही उनका दर्द कम हुआ, तो मैंने उनसे पूछा कि आगे की कार्रवाही शुरू की जाए. भाभी ने सब कुछ वही बताया जो मेरी पड़ोसन के भाभी के बारे में मैं जानता था. वो लगभग हर दूसरे दिन नशे में धुत्त घर आती, लेकिन मामी उसे कभी नहीं डांटती थीं.

देखो तुमने मुझे बनियान उतारने के लिए कहा, मैंने उसको फ़ौरन उतार दिया.

मेरे दाखिल होते ही मोहतरमा ने दरवाजे की कुण्डी लगा दी और मेरी तरफ देख कर मुझे चाय कॉफ़ी के लिए पूछा. वो इतनी अधिक चुदासी हो गयी थी कि उसने धीरे से मेरे कानों के पास पप्पी करके कहा कि थोड़ा जोर जोर से दबाओ. जीजा की बातें सच निकली, यह विवेक का लौड़ा तो बिल्कुल लोहे की पाइप जैसा बड़ा मोटा है और बहुत मजेदार है.

उसने अपने चूतड़ों को मेरी तरफ करते हुए अपनी गांड को उठा लिया और उसकी चूत मेरे सामने आ गयी. फिर मेरे हस्बैंड हम सबके लिए कुछ ठंडा लेकर आए और हमने फिर आराम किया. 2 मिनट बुर चाटने के बाद वो मेरे ऊपर आया और मुझे किस करते हुए बोला- बाबू तुम मेरा लन्ड लेने के लिए तैयार हो?तो मैंने उसे बोला- तुम मेरे ऊपर चढ़े हुए हो और हम दोनों नंगे हैं.

इसी तरह साकेत भैया दीदी को इमोशनली सैट करते जा रहे थे और दीदी भी सैट होती जा रही थी.

मैंने कहा- मैं विश्वास दिलाता हूं कि ये बात मैं किसी से नहीं कहूंगा. उसने सीधा अपना हाथ मेरे लंड पर रखा और मैंने उसके ऊपर बैग रख दिया, जिससे ये खेल किसी को दिखे नहीं.

बीएफ स्कूल गर्ल मैंने मासी की तरफ देखा, तो उन्होंने 69 पोजीशन में सेक्स करने का कहा. इसी तरह साकेत भैया दीदी को इमोशनली सैट करते जा रहे थे और दीदी भी सैट होती जा रही थी.

बीएफ स्कूल गर्ल इसी बीच मेरे लंड ने अंदर तक घुसने के मुकाम को हासिल कर लिया था और ऐसा लग रहा था जैसे मैंने किसी बर्फ के खाने में अपने लंड को दे दिया हो. उन्होंने दोनों हाथों से मेरी चूचियों को पकड़ लिया और जोर से ऐसे दबाने लगे जैसे उनका दूध निकाल देंगे दबा-दबा कर.

मैं सीधे रसोई में चली गयी, वहां की सभी अस्त व्यस्त चीजों को फिर से सही किया और खाना गर्म करने लगी.

गर्ल ग्रुप जॉइन

मैं कोई पहली दफा चूत में उंगली नहीं कर रही थी, पर आज पता नहीं क्यों, एक अलग अहसास से मेरा मन रोमांचित हो रहा था. थोड़ी देर बाद मुझे एक हलचल सी महसूस सी हुई, मैंने हल्की सी अपनी आँखें खोली, देखा कि सायरा उठकर बैठी, अपने बालों का जूड़ा बनाया, मुझे ऊपर से नीचे देखा. मुझे बड़ी जलन सी हुई, लेकिन उसने मुझे काजू खिला दिए, ताकि दारू की कड़वाहट खत्म हो जाए.

उन दोनों के जाने के बाद मैंने अपनी चूत को देखा तो मेरी चूत फट चुकी थी. उस गिफ्ट में एक छोटी सी वेस्ट्रन ड्रेस थी, उस ड्रेस के साथ ब्रा नहीं पहनी जाती थी. हमारे चेहरे एक दूसरे के करीब आए और अगले ही पल मेरे होंठ उसके होंठों पर थे.

नमस्कार दोस्तो, मैं प्रकाश सिंह एक बार फिर आपके सामने अपनी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

हर एक धक्के के साथ मैंने पूरे लंड को उसकी चूत में फंसा दिया और वो मेरे विशाल लंड को अब आराम से चूत में लेने लगी. पिंकी ने हैण्ड शावर से मोटी धार सेट करके सबकी चूत की मालिश की तो सभी ने नायरा के मम्मे दबाये. उसकी कातिल मुस्कान देखकर तो कभी कभी मन करता था कि इसको यहीं पटक कर चोद दूं.

लेकिन हुआ ये कि मैं और ऋतु (मेरे क्लास की एक लड़की) गाड़ी में पीछे बैठे थे और साथ में दो और लोग थे. तभी दरवाज़ा खटका।मम्मी गयी- शैली अभी सो रही है, उसे उठाती हूँ और तैयार होने को बोलती हूँ. ” कह कर मैंने उसे एक बार फिर से चूम लिया और जोर से बांहों में भींच लिया। गौरी तो उईईईई… करती ही रह गई। मेरा लंड पायजामे में उछलने लगा था। उसके गुलाबी होंठों को देखकर अपना लंड चुसवाने को करने लगा था।गौरी एक बात बोलूं?”हम्म” कहकर गौरी ने मेरी नाक को चूम लिया।तुमने अगर वो मुहांसों की दवा नहीं ली तो ये मुहांसे फिर से हो जायेंगे.

दीदी का चेहरा बिल्कुल लाल सेव की तरह हो गया था और आंखों से आंसू आने लगे थे. उन्होंने मेरे लंड को हिलाकर कहा- कहां खो गए?मैंने सॉरी बोला और कहा- कहीं नहीं.

जो नए पाठक हैं, उनसे मैं कहना चाहूंगा कि वे मेरे नाम से प्रकाशित अन्य कहानियों को पढ़ लें, ताकि उनको मेरी दीदी और मेरे बारे में जानकारी हो सके. अपने घर आकर मैंने उसको मैसेज करके सब बता दिया कि मुझे सब पता चल गया है कि तुम दोनों ने मिल कर मेरा शोषण किया है, मैं पुलिस में जाऊँगी. पर अब वो मूसल सा लंड उसके हाथ में था और उसने उसका सुपारा चाटना शुरू किया.

जब मोसी मेरा लंड चूस रही थीं, तब मुझे मानो जन्नत का सुख मिल रहा था.

आशीष ने पूछा- क्यों, ऐसा कैसे हुआ?मैं बोली- किस्मत से उसी वक्त मवेशियों को चारा डालने के लिए चरवाहा वहां पर आ गया था. कुछ देर आराम के बाद उसने मेरे लंड को चूसा और खुद अपनी गांड खोल कर चूतड़ों को हिलाने लगा. मैं आपको आज मेरे जीवन की सच्ची घटना को एक गंदी कहानी के माध्यम से बताने जा रहा हूँ.

फिर वो पूछने लगी- आप कितनी फीस लेते हो?मैंने सोचा- अगर अभी इनको सच बता दिया तो शायद भाभी मुझे देखते ही मना कर दे. उनके जांघिए से बड़ा सा काला लंड ढेर सारे बालों के बीच से बाहर निकल आया उनका लंड लगभग एक हाथ का था.

गीत ने दोबारा से कहना शुरू किया- अब बीच में टोकना मत, पूरी बात सुनो, अब मुझे भी बताने में मजा आ रहा है. हम दोनों ने गाड़ी में एक बार 2-3 मिनट तक चुम्बन किया और घर की ओर चल पड़े. कुछ ही देर बाद पूजा ने अमित के लन्ड को छोड़ मुझे दोनों हाथों से कस लिया.

भाभी सेक्सी फिल्म

मैं भी उनको चूमने के साथ ही अपने एक हाथ से मैम के 36 इंच के मम्मों को व दूसरे हाथ से उनकी चूत को सहलाए जा रहा था.

दोस्तो, मेरा नाम देवेन्द्र नायक है, मैं बुरहानपुर मध्य प्रदेश का रहने वाला हूं. मेम पीले रंग की साड़ी पहने हुए थीं और काले रंग का बिना आस्तीन का ब्लाउज उन पर बहुत सुंदर लग रहा था. वो दाने को छेड़ने से ही चिहुंक उठी थी, जब मैंने दाने को दो उंगलियों की मदद से मींजा, तो उसकी वासना चरम पर पहुंच गई.

मैं क्या देखूँगा?भाबी ने अचानक से उन्होंने भैया के पेंट की जिप खोली और उनका लंड हाथ से बाहर निकाल कर बोलीं- साले बहनचोद … तू ये देखता है न!मैं हैरानी से उनको देखने लगा कि वो ये क्या कर रही हैं. तुम्हारी चुचियों को छूना, उन्हें दबाना, उन्हें फील करना मेरे हाथों ने आज तक कभी इतनी ज्यादा खूबसूरत और सेक्सी चीज को नहीं छुआ. देसी पोर्न फिल्मकमरे का दरवाजा तो बंद था, मगर एक खिड़की का पर्दा हल्का सा हटा हुआ था.

कोई 10-15 मिनट बाद उसका कॉल आया और उसने मुझे अपने घर की लोकेशन बताई. तभी भाभी जी ने पीछे से आवाज दी और मुझसे पूछने लगी कि मैं किस रास्त से ऑफिस जाऊंगा तो मैंने उनको अपना रास्ता बता दिया.

ऐसे ही चुम्मा चाटी करते हुए स्कूल पूरा हो गया लेकिन हम कभी चुदाई नहीं कर पाए. फिर वो पूछने लगी- औरत की चूत चुदाई के बारे में कहां से सीख कर आया है?मैंने कहा- पोर्न सेक्स वीडियो देख कर सीखा है बुआजी. इतने में हनी ने मुझको गले से लगा लिया और अपने प्यार का इजहार करने लगा.

मैंने कहा- मैं विश्वास दिलाता हूं कि ये बात मैं किसी से नहीं कहूंगा. बस कुछ ही पलों में हम दोनों चुदाई करते करते झड़ने लगे और हम दोनों एक दूसरे को जोर से किस करने लगे. मैं कुछ मिनट लगातार मेम की चूत चाटी, तो मेम की चूत ने जूस छोड़ दिया.

निधि मेरे लंड को अपनी चूत पे सेट करने लगी। जब मैंने धक्का लगाया तो लंड फिसल कर बाहर निकाल गया।मैं- नित्या क्या बात है तुम्हारी चूत फिर से टाइट कैसे हो गई।निधि कुछ नहीं बोली.

वो उसको ऐसे निचोड़ रही थी जैसे उसको वीर्य पीना सबसे ज्यादा पसंद हो. कई लोगों ने कहानी को फेक बोला, कई लोगों को मनपसंद वाली सेक्स कहानी लगी.

मैंने अपने जन्मदिन का तोहफा पापा से मांगा कि पापा और भाई दोनों एक साथ मुझे चोदें. मेरे साथी ने टैक्सी वाले से चुन-चुन कर कुछ ऐसी जगह पूछी जहां पर आंखों को गर्म नजारे देखने के लिये मिल जायें. मैंने उसको मना कर दिया- अभी रात में चुदाई करना ठीक नहीं है क्योंकि पापा अभी देर तक जगे हुए हैं.

फिर दूसरे दिन पूरे दिन जब भी मेरा लंड खड़ा हुआ, मैंने अपनी बहन की चुत और गांड को जी भर के मारी. सोनिया- अच्छा मैं घर पहुंचने वाली हूं … थोड़ी देर बाद बात करती हूं. वो मुझे अपने रूम ले गयी और बोली- खुल कर साफ़ बताओ … क्या बात है?मैंने नेहा को बताया कि पहले मैं 2 साल से नहीं चुदी थी और इधर मुझे न जाने क्यों किसी भी लंड से चुदने का मन हो रहा है.

बीएफ स्कूल गर्ल मसाज पार्लर में फीमेल टू मेल मसाज और मेल टू फीमेल मसाज सर्विस उपलब्ध होती है. मेरी मासी बाथरूम में जाकर फ्रेश होकर आ गई थीं … और कपड़े पहन रही थीं.

फुल एचडी सेक्सी पिक्चर

फिर तो मामी और भी मेरे बांहों में मदमस्त होती चली जाएंगी और हम दोनों कामुकता के सागर में डूबते चले जाएंगे. दीदी- और अर्णव?श्वेता दीदी- अरे वो रात में आएंगे, तब तक अर्णव सो भी जाएगा. जब वो कप रखने के लिए नीचे झुकी तो उसके चिकने और बड़े चूचों की गहराई देख कर मैं अपना आपा खो बैठा.

ठंड लग रही थी लेकिन गर्म चूत को छूने से चुदास उतनी ही तेजी से बढ़ती जा रही थी. प्रिन्स ने पीछे से उसकी चूत में अपना मस्त लंड डाल के घमासान चुदाई चालू कर दी. एक्स एक्स वीडियो मराठीउन्होंने अपनी कामवाली से फोन पर जब ये कहा कि मुझे आने में देर हो जाएगी.

थोड़ी देर बाद मैंने उसे खड़ी होने को कहा तो वो बोली- रोक क्यों दिया जीजू? बहुत मजा आ रहा था तुम्हरा केला चूसने में!मैं बोला- डार्लिंग, मुझे भी तो तुम्हारी चूत के पानी को चखना है.

मैं भाभी को किस करने लगा … लेकिन वो मुझसे छूट कर वापस पीछे भाग गईं. आंटी ने तभी मुझे एक और ज़ोर से थप्पड़ मारा और बोलने लगीं- मादरचोद चीख … जब तू चोदता है तो मैं चीखती हूँ न … अब तू चीख मादरचोद.

अब आगे:बॉस को देखते हुए मैंने अपने बेडरूम में जाकर एक मिनी टॉप और छोटी सी स्कर्ट पहन ली. शायद पिंकी के हाथ में मुश्ताक का लंड भी था क्योंकि उसके हाथ ऊपर नहीं दिखाई दे रहे थे. मैंने चीखते हुए पूछा- आह्ह पापा, आप मां की चूत को भी ऐसे ही चोदते थे क्या?पापा ने सिसकारते हुए कहा- इस्स … नहीं मेरी बेटी, तेरी मां की चूत मैंने इस पोज में कभी नहीं चोदी.

मैंने उसे मेरे मुँह के ऊपर बैठ कर चूत चटवाने को बोला तो वो मान गयी.

मैंने उसको फोन पर ही कह दिया था कि आज हम दोनों प्रतीक को सब कुछ बता देते हैं. मैं जोर से भाई का लंड चूस रही थी कि अचानक से भाई की आंख खुल गई और वो मेरे सिर को अपने लंड पर दबाने लगे. बीवी की अदला बदली की मेरी सेक्स कहानी के पहले भागबीवी की बड़े लंड की चाहत-1में अब तब आपने पढ़ा कि कैसे मेरी बीवी होटल के कमरे में मेरे दोस्त के लंबे लन्ड से चुदी और अपनी मन की इच्छा पूर्ति की। यह तब सम्भव हुआ था जब मेरी पत्नी को प्राइवेसी देने के लिए मैं निक्कू (रॉकी की वाईफ) को लेकर घूमने निकल गया था.

सेक्स मम्समुझे उसके कमेंट का बुरा नहीं लगा बल्कि मैं तो चाहती थी कि वो मेरी तारीफ करे. उनके कपड़े पूरे गीले थे तो मैंने सोचा कि ऐसे तो पापा की तबियत खराब हो जायेगी.

काली माता के वॉलपेपर

मेरी पिछली कहानीक्लासमेट की बुर की चुदाई की रियल सेक्स स्टोरीआपने पढ़ी होगी. तभी अभय ने आगे से मेरी चूत में पूरी ताकत के साथ अपना लौड़ा जोर से घुसाना चालू कर दिया. वही ऑफिस पॉलिटिक्स शुरू हो गई कि किसका किसके साथ चल रहा है, कौन किससे चुद रहा है.

बॉस ने आंखें खोल कर देखा, विनय नीचे बैठ कर मेरी गांड को मन लगा कर चाट रहा था. मैं उसको तुम्हारे साथ सेक्स के लिए कैसे तैयार करूंगी?वो बोले- वो तुम्हारा काम है. मैंने सिनेमा हॉल के पास बाइक पार्किंग में लगा दी और हम दोनों टिकट लेकर मूवी देखने सिनेमा हॉल के अन्दर आ गए.

मेरे दाएं हाथ ने उसकी बायीं चूची को हथेली में भर रखा था, लेकिन मेरा एक हाथ उसकी पूरी चूची को हथेली में नहीं भर पा रहा था. मैंने कहा- शालिनी जी मैंने तो सब कुछ देख लिया, अब अपनी चूत और चुचियों का दीदार करा भी दो. मेरा लौड़ा एकदम से सख्त हो चुका था और मेरे लंड ने कामरस छोड़ना शुरू कर दिया.

”बोलो?”गौरी तुमने कल तो कमाल का डांस किया … बहुत खूबसूरत डांस करती हो. सारी कॉलोनी शांत थी, घरों के भीतर से कुछ कुछ कुकर की सीटी इत्यादि की आवाजों के अलावा कुछ नहीं था.

मेरी चूत ऊपर की ओर थी जबकि मेरी चूचियां नीचे की तरफ लटक कर झूलने लगी थीं.

उसने हंस कर मुझे चूमा और बोली- जरा जोर से चोद भोसड़ी के … क्या पुल्ल पुल्ल कर रहा है. इंग्लिश सेक्सी पिक्चर नंगीऔर हां दोस्तो, मैं आपको उन भाभी के बारे में अपनी अगली स्टोरी में बताऊंगा कि मैंने उनके साथ क्या किया और कैसे किया. एक्स एक्स वीडियो इंग्लिशफिर आशीष बोला कि बंध्या तुम ये तो जानती ही होगी कि साली आधी घरवाली भी होती है. हाँ, पर अब तक केवल जीजाजी के साथ ही सेक्स किया था किसी और के साथ नहीं.

मैंने रोका भी लेकिन वो नहीं रुकी!मैंने उषा को कहा- तुम्हारी चूत से मेरा वीर्य गिरता हुआ गया था.

मैंने पूछा- क्यों नहीं हो सकती?वो बोला- मैंने मां से तुम्हारी और मेरी शादी के बारे में बात की थी लेकिन उसने साफ मना कर दिया. फिर मैंने उन्हें अपनी गोद में बिठा कर ऊपर उठाया और उनके मम्मों को सहलाते हुए और चूमते हुए उनकी ब्रा के हुक्स खोल दिए. मैंने हौले से उनके एक दाने को चुटकी में लेकर धीरे से मसला और फिर अपने थरथराते होंठ उस निप्पल पर रख दिए.

तभी दरवाजा खुलने की आवाज सुनकर श्वेता दीदी कमरे से बाहर आ गई और दीदी से पूछने लगी- क्या हुआ प्रिया … कहां जा रही हो?दीदी- कुछ नहीं. उसने बरमूडा और टी शर्ट डाली, पर दीपा को तो सुहागरात के लिए तैयार होना था. फिर अपनी शर्ट उतार दी और दोनों को वहीं पास में एक खूंटी पर टांग दिया.

सेक्सी पिक्चर पुरानी पिक्चर

मैंने अपने एक हाथ से नीचे उसकी चूत को सहलाना जारी रखा ताकि उसको दर्द भी होये, तो उसका मज़ा बना रहे. उनका लंड इतना बड़ा था कि दीदी के मुँह में पूरी तरह से नहीं आ रहा था. इसका नतीजा यह हुआ कि हम दोनों एक बार फिर से ज़ोरों से चिल्लाते हुए चीखते हुए अपने चरम की ओर बढ़ रहे थे.

तुम बोलो क्या बात करनी थी?कुमार मेरे हाथ को पकड़ कर बोला- आई लव यू तन्नू.

अतः इस रास्ते में मैंने विस्तार से उसे याराना का तीसरा दौर की कहानी सुनाई जिसमें कि मैंने उसे बताया कि कैसे विक्रम और वीना ने मुझे अपने साथ अदला-बदली के खेल में शामिल किया और कैसे हमने रीना के साथ उसका जन्मदिन मनाया.

एक दिन उसने मुझे पार्टी के लिए बुलाया- मेरे पास पार्टी के लिए दो टिकट्स हैं, तू चलेगा?मैं- लेकिन मैं अभी तक पार्टी में गया नहीं हूँ. उसने भी मस्ती में कहा- आपका ये दीवाना थोड़ी देर में आपकी खिदमत में हाजिर हो जाएगा जानेमन. मारवाडी बिपीदो मिनट के बाद उसने जब लंड को बाहर निकाला तो उसकी लार से पूरा लौड़ा चमक उठा था.

और मेरे? मेरे नितम्ब नहीं अच्छे लगे आपको?” ज्योति बोली।तुम्हारे नितम्ब तो बिल्कुल जानलेवा हैं बेटी. उसने होटल की तरफ बाइक घुमा दी और कुछ ही देर में हम दोनों होटल के रिसेप्शन पर थे. ” ज्योति ने वैसे ही शर्म से अपना कन्धा नीचे किये हुए कहा।पोर्न हिंदी स्टोरी अगले भाग में जारी रहेगी.

भाई को पापा के साथ वो सब देख कर ठीक नहीं लगा और वो उठ कर अन्दर चले गये. ये थी मेरी फर्स्ट टाइम सेक्स की कहानी … मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको पसंद आई होगी.

इधर आगे से अभय एक हाथ से मेरा मुंह पूरा दबाए हुए था और एक से दूध पकड़े हुए था.

उन्होंने भी देर ना करते हुए लंड को चूत में घुसा दिया और हचक कर चुत चोदने लगे. जैसे जैसे सुनील स्पीड बढ़ता वैसे वैसे ही दीपा मनोज का लंड लप लप करती. विनया मोसी का फिगर एकदम भरा हुआ और मादकता से इतना अधिक भरपूर है कि कोई भी उन्हें एक बार देखने से ही उनको चोदने का मन बना लेगा.

पंजाबी चाची की चुदाई वो अपने मम्मे मेरी तरफ तानते हुए बोली- दूध के बर्तन कैसे लगे?मैंने एक आह भरी और उसके दूध घूरते हुए कहा- एकदम मस्त खरबूजे हैं. तो ऐसे ही सितंबर के महीने में हमारे स्कूल को अन्य दूसरे स्कूलों के साथ वाद विवाद में प्रतियोगिता में हिस्सा लेना था.

अब वो धीरे धीरे अपनी गांड को आगे पीछे करके मेरे लंड को अपनी चुत में चलाने लगी थी. पर मैंने आज तक कभी ऐसी कहानियां पढ़ी नहीं थीं, इसलिए मुझे किसी साइट का भी पता नहीं था. मैंने ये पूछने के लिए फ़ोन किया कि क्या तेरे पास घर की चाबी है?मैं सुनकर बहुत खुश हुई- हां माँ मेरे पास घर की एक्स्ट्रा चाबी है.

एचडी हिंदी सेक्सी मूवी

वैसे तो लॉज हमें बाप-बेटी के रूप में मिला था और मेरे जीजा हैं भी मेरे से उम्र में 20 साल बड़े, लेकिन उन्होंने मेरी चूत चोद दी. कुछ पल का विराम देकर मैंने उसके चूचों को जोर से दबाया और उसके साथ ही एक झटका देकर उसकी गांड में लंड को आधी लम्बाई तक फंसा दिया. मैं रात को देर तक रुक कर अपना कार्य पूरा करता ताकि दिन में उसको समय दे सकूँ.

मैं- वो क्या होता है?मैंने वैसे दो पोर्न वीडियोज में देखा था कि ये स्लेव सेक्स क्या होता है. अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाते हुए जीजा बोले- देख बंध्या, तेरी चूत के लिए मेरा लंड कैसे खड़ा रहता है.

राहुल भी पूरे जोश में आ गया और अपने लंड को धकाधक रीमा के मुँह में पेलने लगा.

मेरी फ्रेंड समझ गयी और बोली- क्या प्लान है?मैं बोला- कुछ नहीं यार … मैं तो तेरे से मिलने आया हूँ. थोड़ी देर में जैसे ही मेरा निकलने को हुआ, तो वो मेरे ऊपर लेट गयी और मेरे होंठों चूसते हुए चूतड़ हिलाने लगी. मैंने अपने एक हाथ से नीचे उसकी चूत को सहलाना जारी रखा ताकि उसको दर्द भी होये, तो उसका मज़ा बना रहे.

मैं समझ गयी कि हो ना हो जेठजी अभी थोड़ी देर पहले जो कुछ हुआ, उसी के बारे में सोच रहे हैं और शायद जेठजी बुरा महसूस कर रहे हैं. चाची हंसने लगीं और कहने लगीं- दीपू तुमने आज जो सेक्स का असली मजा दिया है न … वो मजा आज तक मेरे पति ने कभी नहीं दिया. तभी कोमल ने कहा- एक बार फिर सोच ले … कहीं बाद में मुकर गई या हम पर जबरदस्ती का इल्जाम लगाना हो, तो चैलेंज मत ले.

फिर कुछ पल हॉट भाभी मादक अंगड़ाई लेते हुए उठ बैठीं और मेरा सर अपनी चूत में जबरदस्ती डालने लगीं.

बीएफ स्कूल गर्ल: पीछे की तरफ हमारे रहने का मकान था और बीच में खाली जगह और आगे वाले हिस्से में किरायेदार रहते थे. एक दिन हम दोनों बात कर रहे थे, तो मैंने उससे पूछा- शान एक बात बताओ तुम्हें सबसे ज्यादा किस में दिलचस्पी है? लड़की में या औरत में?उसका झट से जवाब आया- औरत में.

तभी मुझे ख्याल आया कि मेरे मोबाइल फोन में औरत की गांड चुदाई के कुछ वीडियो होंगे. मैं मेम की गांड को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा और उनकी चूत में जीभ डालकर चूसने लगा. प्रिय पाठको, आप लोगों को मेरी यह कहानी कैसी लगी बताइयेगा जरूर … मुझे आपकी मेल और हेंगआउट्स का इंतजार रहेगा.

वह पूरे जोश से झड़ रही थी और कह रही थी- आह … यू आर टू गुड, फक मी लाइक एनीथिंग (तुम बहुत अच्छे हो, मुझे पूरे जोर से चोदो).

अगले दिन जब समीर ऑफिस चला गया और नीलम सोने चली गई तो महेश धीरे से अपनी बेटी ज्योति के बेडरूम में घुस गया।वहाँ ज्योति अभी-अभी बाथरूम से नहा कर निकली थी और सिर्फ पेंटी और ब्रा में ही थी. इतना कह के रानी पलंग पे टांगे चौड़ी करके, पैर फर्श पे टिका के बैठ गई. हाय दोस्तो, मैं निशा फिर से आपके लिए सेक्स का नया सफर करने को तैयार हूं.