बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्में वीडियो हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

बिपी सेकस: बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती, मॉम की बाहर को निकली बड़ी सी गांड, कुछ फूला हुआ सा पेट और बड़े बड़े बूब्स थिरक रहे थे.

ऑनलाइन साड़ी सेल

उस भिखारी ने स्पीड और बढ़ा दी और अचानक से वो मेरी मॉम के ऊपर चिपक कर रुक गया. अफ्रीकन सेक्स मूवीवो धीरे से बोली- कैसी जरूरतें?मैंने कहा- ये सब अभी कैसे बता सकता हूँ कि मुझे आपसे किस चीज की जरूरत होगी?वो समझ गई और मुस्कुरा दी.

एक कोने में सोने के लिए एक गद्दा बिछाया हुआ था और दूसरे कोने में खाना बनाने का सामान और गैस चूल्हा रखा था. सेकसी मारवाड़ीवो गली से अन्दर आया और अन्दर पुरुषों वाली तरफ घुसते हुए अन्दर चला गया.

बस स्टेंड पर हमारी बस रूकी तो मैं अपनी सास के साथ ऑटो रिक्शा में बैठ गई।और वो भी वहां से निकल गया।उसने मुझे शाम को फोन किया.बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती: भगवान के आशीर्वाद से हमने समय से पहले ही उस ऑर्डर को पूरा भी कर लिया.

तकरीबन बीस मिनट की ताबड़तोड़ गांड चुदाई के बाद वो मेरी गांड में ही झड़ गया.तीसरे दिन भाभी के साथ किचन में उन्हें किचन की स्लैब के ऊपर बैठाकर जमकर चोदा.

जय और वीरू वाली जोड़ी - बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती

थोड़ी देर बाद मैंने अपना हाथ उसके बूब्स पर रख दिया और धीरे धीरे अपनी छोटी बहन के दूध दबाने लगा.दीदी ने अपनी साड़ी के पल्लू से पीठ ढकी हुई थी, फिर वो पल्ला छाती से ले जाकर दूसरी तरफ अपनी कांख में फंसा लिया था.

उसने एक मिनट तक मेरे निप्पल को उमेठा और जब मैंने उससे कहा कि दूसरी तरफ भी कीजिए न!तो उसने मेरी दूसरी चूची के निप्पल को भी मींजा. बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती मेरा नाम जब आया तो मैम मेरा अच्छा खासा वाइवा लेने के लिए तैयार थीं.

मेरी गांड को फाड़ डाला … अहह अहह अहह … बता तो देते … आह दर्द हो गया है.

बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती?

अब मैंने पूछा- पहले तुमने कभी सेक्स किया है!वो बोली- नहीं, पर मैंने मास्टरबेट बहुत किया है … और मैंने आपको भी हाथ चलाते देखा है. मेरी पिछली कहानी थी:टाकीज़ में मिली चुदक्कड़ आंटीमैं आपको सास दामाद Xxx कहानी के किरदारों के बारे में बताता हूं. भाभी ने मुझे धक्का देते हुए सोफे पर लिटा दिया और मेरे सीने के ऊपर लेटती हुई बोलीं- दक्ष, मैं बहुत प्यासी हूँ, तुम आज मेरे साथ सुहागरात मनाकर मुझे पूर्ण कर दो और मां का सुख दे दो.

मैं उससे बोला- अब तो हम अकेले है ना!उसके चेहरे पर थोड़ी शर्म, थोड़ी सी मस्ती, थोड़ी सी मुस्कुराहट थी. [emailprotected]इंडियन देसी सेक्स गर्ल कहानी का अगला भाग:बेटी ने सालों तक चुद के चुकाया पिता का क़र्ज़- 2. मैं हंस दिया- अरे भाभी वो तो …भाभी मेरी बात काटती हुई बोलीं- वो तो वो तो … कुछ नहीं, अभी तुम मेरी बात सुनो बस.

अब शाम हो चुकी थी, मैं भाभी का इंतजार कर रहा था कि अब वो मुझे मोबाइल नंबर कैसे देंगी. मैंने तुरंत लंड को जल्दी से बाहर खींचा और एक झटके में पूरा चूत में घुसेड़ दिया. मां- ऐसे उल्लू की तरह क्या देख रहा है … क्या तू नहीं चाहता कि तेरी भाभी की दिक्कत ठीक हो जाए!मैं- पर मां, मैं भाभी का दूध कैसे पी सकता हूँ?मां- क्यों बचपन में मेरा नहीं पीता था क्या?मैं- मैं तो आपका बच्चा हूँ ना मां!इस पर भाभी बोलीं- तो तुम भी मेरे बच्चे समान ही हो ना देवर जी.

सावी ने कहा- मुझसे क्यों मिलना चाहते हो?मैंने कहा- मैं आपसे प्यार करता हूं इसलिए नजदीक से आपका अहसास करना चाहता हूँ. मैंने कहा- तो?फिर उसने आगे कहा कि धीरे धीरे मुझे प्यार की जरूरत महसूस होने लगी.

मैंने उसे फोन किया।स्वाति इसी शहर में नौकरी कर रही थी और एक फ्लैट किराए पर लेकर रहती थी। उसके परिवार के लोग गांव में हैं.

कुछ टाइम तक तो सब नार्मल ही चल रहा था, पर फिर मुझे चुदाई की इच्छा होने लगी और मैं रोज बाथरूम में अपना लंड हिलाने लगा.

आपको अब तक की न्यूड गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे जरूर बताएं, आपके मेल्स का मुझे इंतज़ार रहेगा. विकी ने मॉम के चुचों को देख कर अपनी आंखों को फैलाया ही था कि मेरी मॉम ने अपनी गांड को उठा कर विकी के हाथ पर रख दी. मैं हमेशा अपनी एक कॉमन फ्रेंड स्मिता को साथ लेकर उसके कमरे पर जाता था.

पर किसी को इस बारे में बताना मत!मैंने आंटी से कहा- आंटी, ठीक है।तब तक मेरा लंड मुरझा चुका था।आंटी ने मेरा लंड अपने मुंह में लिया और चूसना शुरू कर दिया. मुझे वो पोर्न चुदाई वाली वीडियो भेजने लगा … और अक्सर यही कहता रहा कि एक दिन तुम भी मुझसे ऐसे ही करोगी और मैं भी तुम्हारे साथ ये सब करूंगा. ये दोनों लड़कियां पूरी तरह शराब के नशे में धुत्त थी और मुझे इन्होंने इसलिए पकड़ लिया कि उस जगह पर मैं ही अकेला खड़ा था.

फिर मैंने मधु को सीधा किया और उसकी बुर से प्लास्टिक का लंड खोल कर चुत में अपना लंड डाल दिया.

बेस्ट ओरल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी साली को मैं फोटोशूट के बहाने अपने स्टूडियो में लाया. मेरे शरीर पर कोई अतिरिक्त चर्बी नहीं है, जो कि मेरे प्रति लड़कियों व भाभियों को आकर्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रखती है. वो आ रही होगी, तो उसे भी लेकर तेरे रूम पर आता हूँ, फिर तीनों चलते हैं.

तभी मौसी ने कहा- तेरे लिए जगह छोड़ रखी है ऋषि … तू मेरी टीम में आ जा. मैंने नये साथी लड़के की तलाश शुरू करने का फ़ैसला किया।मैंने सुरक्षित सेक्स के बारे में इंटरनेट से पढ़ा।अब तक मैं समझ चुका था कि मुझे लड़कों में ही रुचि है और मैं गे सेक्स ही पसंद करता हूं।इसलिए मैं एक गे वेबसाइट का सदस्य बना. मैं बहुत खुश था क्योंकि मुझे ये बहुत अच्छा मौका नजर आ रहा था क्योंकि मैं और मेरी बहन एक साथ लेटने वाले थे.

बस मेरा मन तुमसे मिलने का हुआ तो मैं चला आया।अच्छा किया आपने … मैं कपड़े बदल कर आती हूँ।”आप तो ऐसे ही अच्छी लग रही हैं। बैठी रहिये कुछ करने की जरूरत नहीं है मेम!”लेकिन मैं चली गयी और गाउन पहन कर आ गयी।मैं समझ गयी कि अंकल की नज़रें मेरी बड़ी बड़ी चूचियों पर टिकी हैं.

मैं दीदी की कोमल टांगों को अपनी हथेलियों से टटोलने लगा और दीदी को बिस्तर में घुमाते हुए ही उनकी पूरी साड़ी निकाल दी. इतने में प्रीति भी आ गयी तो ससुर जी ने उसे कुछ नहीं पूछा और प्रीति को फिश धोने के लिए बोल कर मेरे पास आकर बैठ गए.

बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती सुबह होने के बाद मैंने उसको फोन किया तो उसने मुझे अपने घर का एड्रेस दे दिया. मैंने उसे अपनी बांहों में जकड़ लिया और उसके गालों पर चुम्बन रख दिया.

बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती अब मैं हर रात को अपनी भाभी की चुचियां चूस लेता हूँ और मेरा लंड खड़ा हो जाता है, तो भाभी अपने हाथ से मेरे लंड की मुठ मार देती हैं. धीरज बोला- हां मां की लौड़ी, आज मेरे सर तुझे चोद चोद कर तेरी चुत का पूरा भोसड़ा बना डालेंगे.

काफ़ी देर तक चुदाई के बाद सेक्स ख़त्म हुआ और हम दोनों झड़ कर एक दूसरे से चिपक कर लेट गए.

ससुराल बहू की सेक्सी कहानियां

मगर उस समय सब बाथरूम भरे थे, तो फिर हम दोनों एक रेडीमेड कपड़ों के शोरूम में घुस गए और उधर ट्रायल रूम में घुस कर कपड़े ट्राई करने लगे. मैंने उससे पूछा- तुम कौन हो और यहां कैसे आए?तो उसने बताया कि मेरा नाम नील है और मैं इसी अपार्टमेंट के एक फ्लैट में रहता हूँ. अब मैं कैसे शिवानी को पेलूंगा, ये सेक्स कहानी के दूसरे भाग में देखिए.

तभी तुमने उस अपने नाग को बाहर निकालकर हिलाना शुरू कर दिया, जिसे मैं अपनी आंखों के सामने देखकर बिल्कुल दंग हो गयी और बस फिर तो उसे पाने के लिए बेताब हो गयी. हम दोनों ने कैसे सेक्स शुरू किया?हैलो फ्रेंड्स, मैं नील आपको अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड उमैय्या के साथ हुई सेक्स कहानी को सुना रहा था. मैं सासू मां के ऊपर चढ़ गया और अपने लंड को उनकी चूत की फांकों में रगड़ने लगा.

कुछ देर बाद पापा ने मम्मी की चड्डी के अन्दर उंगली डाल दी तो मम्मी की एक आह निकल गई.

मुझे उसका लंड देख कर सनसनी होने लगी और मेरा हाथ भी मेरी चुत पर चलने लगा. उम्मीद है आपको मेरी आपबीती पसंद आई होगी मुझे भाई बहन की सेक्सी कहानी के लिए मेल जरूर करें. थोड़ी देर के बाद भाभी नाईटी में ही बाहर निकलीं और मुझे देखकर एकदम से चौंक गईं और वापस कमरे में जाकर कपड़े बदलकर बाहर आकर पूछने लगीं.

एक ही गिलास खाली करने में मैंने ड्रामा किया कि मुझे चक्कर से आने लगे हैं. केसर मिल्क पीने के बाद बाद मैंने उसको खड़ा कर दिया और उसके एक एक कपड़े उतारने शुरू कर दिए. एक दिन एग्जाम के टाइम में पढ़ाई करते हुए मैं बोर हो गया तो फेसबुक चलाने लगा.

मैंने उसकी जांघों पर हाथ फेरना चालू कर दिया, वो कुछ नहीं बोल रही थी. तब मैंने ही हिम्मत करके बोला- आप कौन सी क्लास में हो?मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा था कि क्या बोलूं, तो मैंने ये ही पूछ लिया.

अब मैंने अपनी सासू मां को बेड पर लेटा दिया औऱ उनकी चूत को चाटने लगा. तो क्यों ना हम दोनों एक दूसरे के सामने ही मुठ मारें … जिससे तुझे भी मजा आएगा और मुझे भी. मेरी अम्मी ने उसे अपने कमरे में बुला लिया और मुझे भी आवाज देकर बुलाया.

अब भाभी ने भी एक सिगरेट सुलगाई और कश लेती हुई बोलीं- मैं तुम्हें कैसी लगी?मैं- भाभी, मैंने अपनी जिंदगी में ऐसा कभी नहीं सोचा था कि मुझे तुम्हारी जैसी गर्लफ्रेंड मिलेगी.

मैं- अरे दीदी आपको ये क्या गया है … अचानक से कार सीखने का भूत कब से सवार हो गया?दीदी- वीरा, मैं सब लड़कियों को कार चलाती देखती हूं, तो मेरा भी मन करता है कि मैं भी कार चलाऊं. सच में क्या खूबसूरत सी गहरी और गोल नाभि थी मानो वो खुद में गोते लगाने का आमंत्रण दे रही हो. विकी मेरी मॉम के बूब्स दबा रहा था और मॉम आंख बन्द करके मजे ले रही थीं.

तो मैं ज्यादातर उसके आस पास रहने की कोशिश कर रहा था ताकि कभी तो मेरी इच्छा पूरी हो और वो मुझसे किसी काम के लिए कहे. जब सोनू माधवी को गले लगी, तो भिड़े ने माधवी की ब्रा जो अब भी उसके बूब्स की हिफाज़त कर रही थी, उसका हुक खोल दिया और उसकी ब्रा निकाल फैंकी.

मैंने उसकी गांड के नीचे एक तकिया लगाया और पैरों को मम्मों की तरफ करते हुए फोल्ड सा किया. अब तक मुठ तो मैं मारता था लेकिन आज जो मजा मुझे आंटी के हाथ से आ रहा था, वो मुझे आज तक नहीं आया था. मैंने अम्मी से कहा- काश आपकी तरह मुझे भी कोई गर्लफ्रेंड मिल जाए, जो इतनी हॉट हो.

फर्स्ट टाइम सेक्सी वीडियो इंडियन

मैंने कहा- फिर क्या हुआ भाभी?भाभी- फिर कुछ देर बाद मैंने तुम्हें अपने ऊपर से हटाया और मैं तुम्हारी एक साईड में लेटकर तुम्हारे ऊपर अपने पैर और हाथ रखकर थोड़ी देर के लिए रुक गयी.

उसकी कमीज इतनी टाइट थी कि उसमें से उसके मोटे चूचे और गांड का उभार साफ दिख रहा था. तभी मैंने अपना लंड उसकी चुत में से निकाल दिया और उसके मुँह के पास लाकर रख दिया. लेकिन माधवी के इस पोजीशन में झुके होने के कारण भिड़े की नज़रें उसके कुर्ते के बटन खुले होने के कारण अन्दर तक झांक चुकी थीं.

फिर जैसे ही मैंने अपना लंड भाभी की चूत में डाला, तो भाभी के मुँह से आवाज़ आने लगी. मेरे मामा को एक दिन किसी काम से एक हफ्ते के लिए मुंबई जाना था तो उन्होंने मेरी मम्मी को फ़ोन करके कहा- मैं कुछ दिन के लिए बाहर जा रहा हूँ. बाबा रामदेव का पतामेरा लौड़ा आंटी की चुत में अन्दर बच्चेदानी तक जाने लगा और नफीसा आंटी को इसमें बहुत मज़ा आ रहा था.

उसने मुझे चूमते हुए कहा- हां डार्लिंग मैं मानती हूँ कि मैंने ये सब किया है. नवीन ने अम्मी की चूत चौड़ी की और अपना मूसल लंड एक धक्के में अन्दर कर दिया.

भिखारी ने मॉम की गांड के छेद में उंगली फेरी और बोला- ये वाला!मॉम बोली- हां … इस छेद को चाटो. मैं भी उनके साथ बाहर निकला और उनसे कहा- व्हिस्की मत लाना; मैं स्कॉच ले कर आया हूँ. करीब 20 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मेरा पानी निकलने वाला हो गया था.

थोड़ी देर में मैंने अपना पूरा लंड चुत के अन्दर पेल दिया और धीरे धीरे चोदने लगा. मगर मैं जानता था कि आज अगर नहीं हुआ, तो ये फिर कभी नहीं चोदने देगी. उनको भी लंड का स्वाद चखे दो साल हो गए थे और मुझे भी अपनी गर्लफ्रेंड से जुदा हुए 10 महीने हो गए थे.

मैंने कहा- सॉरी मतलब?वो बोला- व्वो म…मैं अपनी टांग खुजा रहा था, इसलिए मेरा हाथ आपकी टांग को लग गया.

मैं वो मेरे सीने पर हाथ मलने लगी, तब मुझे अहसास हुआ कि उसके हाथ काफी ठंडे हो रहे थे. काफी समय पहले मैंने एक चुत चोदी थी मगर उसके बाद से कोई आइटम मिला ही नहीं.

ये सुनकर मैं समझ गया कि लड़की अभी प्यासी ही है, इसे चोदने में भी बहुत मजा आएगा. मैं भाभी की दोनों टांगों के बीच में आ गया और उनकी चुत के मुँह में अपना लंड रख कर रगड़ने लगा. आह क्या मजा आ रहा था … ऐसा लग रहा था, जैसे मैं स्वर्ग का मजा ले रहा हूँ.

इस तरह से दोनों खूब हंसते इस खेल को खेलते समय।मेरे सुझाव से मोहिनी ने मुंह में चॉकलेट लेकर मेरा लंड चूसा और वीर्य पीया. कोमल को इस धमाकेदार चुदाई के बाद इतना ज्यादा थकावट महसूस हो रही थी कि वो हिल भी नहीं रही थी. मैंने कहा- बेबी टेस्ट पसंद नहीं आया क्या?मोनिका बोली- पसंद तो है … लेकिन मेरे साथ ऐसा ही होता है.

बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती फिर आंटी ने अपनी नजरें नीचे कर लीं, पर में अभी भी उनको ही देख रहा था. मम्मे!”हाँ, तुम्हारे मम्मे बहुत खूबसूरत हैं।”बाबूजी ने मुझे ब्रा और पैन्टी पहना दिए और बोले- थोड़ा चल कर दिखाओ।मेरे मन की बात कर दी बाबूजी ने!मुझे तो उनको तड़पाने में बड़ा मजा आ रहा था.

सेक्सी वीडियो mp3 सेक्सी

फिर वो अपने पेटीकोट का नाड़ा खोलने लगीं और पेटीकोट उतार कर साइड में रख दिया. इतना कहकर मैं अपने कपड़े उतारने लगा और अगले कुछ ही पलों मैं पूरा नंगा हो गया. भाभी ने भी कुछ नहीं कहा और वो बोलीं- मैं तुम्हारे पास कुछ काम से गई थी.

कुछ समय बाद मैंने उसकी चूत से मुँह हटाया तो कोमल ने अपनी आंखें खोलीं और अपनी थकी हुई आंखों से मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखा. उसकी मोटी मोटी गदराई हुई मांसल जांघों को मैं अपने हाथों से रगड़ने और सहलाने लगा. सेक्सी हिंदी पिक्चरमुझे थोड़ा गुस्सा भी आया लेकिन कुछ मिनट बाद फौजिया का कॉल आया और उसने भी सेक्स करने की इच्छा जाहिर की.

अगर मुझे ये सब घर में ही मिलने लगेगा, तो मैं बाहर क्यों मुँह मारने जाऊंगा.

अब लंड ने अपनी रफ़्तार पकड़ ली और गांड से थप थप थप की आवाज आने लगी।आंटी ने बताया कि आज वो बहुत खुश हैं. इससे माधवी की चुत एकदम से खौल गई- अहो चलिए न, उंगली बहुत चला ली … अब लंड पेल कर चुदाई करो.

फिर धीरे से मौसी ने अपना हाथ मेरे लंड की तरफ किया और लोअर के ऊपर से ही लंड पर हाथ रख दिया. आपका लन्ड तो पता नहीं क्या धमाल मचाएगा?मेरी रानी, असली मजा तो तुम्हें तब ही आएगा!”ये बोल कर मैं खड़ा हुआ और एक सिगरेट जलाई और प्रीति की नंगी जाँघों पर सिर रख कर लेट गया और सिगरेट के कश लगाने लगा. उस पर छोटे छोटे बहुत सारे दिल बने हुए थे और ऊपर एक पिंक कलर की टी-शर्ट डाली हुई थी.

इनके मुँह से खुद ब खुद सारी जानकारी विस्तार से मिलेगी, तब ही मजा आएगा.

अपनी बात कह कर भाभी एक पल के लिए रुकीं, फिर कहने लगीं- हालांकि मुझे भी बड़ी गहरी नींद आती है. मैंने फुल स्पीड से 5 मिनट तक आंटी की चुत चोदने के बाद अपने लंड का पूरा माल आंटी की चुत में भर दिया. फिर उसने एक पल के लिए रुक कर मेरी तरफ देखा और दोनों के ही सारे कपड़े उतार दिए.

सेक्स सेक्स एचडीवो अहमदाबाद से कॉलेज में पढ़ने के लिए राजकोट आई थी और हॉस्टल में रह कर पढ़ाई कर रही थी. उसने पहले दरवाजे की ओर देखा, फिर मुझसे अपना हाथ छुड़वा कर बोली- दो तीन बार अपने बीएफ के साथ किया है.

करडा सेक्सी व्हिडिओ

मैं छत पर इयरफोन लगाकर बस प्रकृति का नजारा देख रहा था, तभी किसी ने मेरे कान का इयरफोन हटा दिया. मैं अपने पति के सिवाए आज तक किसी से नहीं चुदी हूँ और मेरी गांड तो आज तक कुवांरी है. मैं लेने में शर्मा रहा था मगर भाभी नहीं मानी और उन्होंने मुझसे चिपक कर मेरे गले में चैन पहना दी.

मैंने उसे दो तीन दिन तक रोज देखा, वो रोज मेरे घर के पास चक्कर लगाता था. इसी बीच मेघा ने मेरा तौलिया हटा दिया और मुझे नंगा कर दिया क्योंकि मैंने नहाने की बाद केवल तौलिया ही लपेटा था. उसने अपने थरथराते हुए हाथों से सोनू की टी-शर्ट को पकड़ा और ऊपर उठाने लगा.

काफी देर तक पार्क में घूमने के बाद हम दोनों बच्चों को लेकर घर की तरफ रवाना हो गए. एक बार उन्होंने मुझसे मेरी बीवी को चोदने की बात कही तो मैंने कहा- यदि वो राजी होगी, तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है. मॉम भी चिल्ला चिल्ला कर उससे तेज तेज चोदने को बोल रही थीं- आंह और तेज़ चोदो … और जोर से … फाड़ दो मेरी गांड!थोड़ा खून भी मॉम की गांड से निकल रहा था.

मैं- ये तो शिवानी ही बताएगी?शिवानी- मैं क्या बताऊं? मुझे कोई आइडिया नहीं है. उसके तेवर देख कर मेरा दिल जोर जोर से धड़कने लगा था क्योंकि अब मेरी मॉम की चुदाई होने वाली थी.

वह हमेशा मुझे किसी सूनी गली में ले जाकर मेरे शरीर को सहलाता और मुझे अपनी बांहों में लेकर प्यार करता.

‘उम्मम्म अह … मुंऊउं’वह मेरे होंठों को अपने होंठों में दबा कर चूस रही थी और मैं भी ऐसा ही कर रहा था. सेक्सी मूवी गांव कीउन्होंने अपने शहर में मेरे लिए कुछ लड़कियां देखीं, मगर बात नहीं बनी. लिंग की लंबाईभाबी- ओह मेरे राजा … आपकी ये मस्त रांड कब से मर रही थी आपका लंड लेने के लिए … प्लीज अब ज्यादा समय ना लो … जल्दी से पेल दो अपना लंड इसमें. [emailprotected]गांड में डिल्डो सेक्स कहानी का अगला भाग:भिखारी और मैंने मॉम की थ्रीसम चुदाई की- 2.

मेरा लंड कुंवारा था तो उसमें हल्का हल्का सा दर्द होने लगा और हल्का सा खून भी आ गया.

मैं जब आंटी के घर से वापस अपने घर आता, तो रूपाली आंटी को याद करके मुठ मारनी पड़ती थी. मेरा लन्ड देख कर वो घबरा गई और बोली- ऊई मम्मी … जीजू आपका डिक (लन्ड) तो बहुत बड़ा और मोटा है, मुझे तो बहुत दर्द होगा. मॉम ने अपनी गांड ऊपर की और भिखारी से बोलीं- सुनो, मेरे पीछे ध्यान से देखो … उधर एक छेद है!मॉम अपने दोनों कूल्हों को फैला कर भिखारी को अपनी गांड का छेद दिखाने लगीं.

अब आगे मोटी लड़की की चुदाई कहानी:अब उसने एक पतली सी चुन्नी ली और उससे अपनी छाती ढक कर अपना टॉप खोल दिया. तभी भाभी ने मुझे पास पड़ी कुर्सी पर धक्का देकर बिठा दिया और बिना देर किए मेरे विकराल रूप धारण किए लिंगराज के दर्शन के लिए चड्डी रूपी फाटक को उतार फैंका. उनके हाथ से बोतल लेकर पापा ने भी चार घूंट खींचे और मुझे बोतल पकड़ा दी.

हिंदी सेक्सी बीपी सेक्सी बीपी

मैंने हां कर दी और अब मैं आंटी के साथ झूलों का आनन्द लेने के लिए तैयार हो गया. थोड़ी देर बाद मैं शिवानी के नंगे बदन पर उठा और उसकी तरफ प्यार से देखने लगा. मॉम नंगी ही किचन में चली गईं और उधर से आइस्क्रीम का डब्बा लेकर कमरे में अन्दर घुस गईं.

इतने मस्त फोरप्ले में अब तक मेरा लंड भी तन कर खड़ा हो गया था और बॉक्सर में मुड़ कर लंड दर्द दे रहा था.

पन्द्रह मिनट की धकापेल चुदायी में उमैय्या एक बार और झड़ चुकी थी और एक ही पोजीशन में होने के कारण उमैय्या की टांगें कांपने लगी थीं.

भाबी कामुक स्वर में बोलीं- हां हूँ मैं रंडी … मेरे को चोदोगे ना मेरे राजा!मैंने भाबी का तौलिया निकाला और रसोई के फर्श पर फेंक कर बोला- हां आज मैं तुझे जरूर चोदूंगा साली रंडी … पर उससे पहले थोड़ा मजा तो ले लेने दे मेरी जान!इतना कह कर मैं नंगी भाबी को बालों से घसीटते हुए उनके लिविंग रूम में ले गया और दीवान पर पटक दिया. काले रंग की ब्रा में उसके सफेद चूचे बेहद ही खूबसूरत और दिलकश लग रहे थे. राजस्थानी सेक्सी मूवी वीडियोवो दोनों एक दूसरे के एकदम नजदीक आ गए थे और एक दूसरे के होंठों पर होंठ रख कर चूमने लगे.

ये सुन कर कार्लोस बोला- यस मैडम, आज आपके दोनों छेदों को पूरा मजा मिलेगा. इतने में साई ने पीछे से आकर मेरी गांड में लौड़ा डालना चालू कर दिया. उनकी बात से मुझे लगा कि मौसी कह रही हैं कि ऋषि का लंड बहुत बड़ा हो गया है.

मैं- मगर मैं तो चाहता हूँ कि तुम किसी और के साथ चुदाई करो, तुम्हें पूरी छूट है. थोड़ी देर बाद चाची ने पूछा- मज़ा आया?मैंने कहा- मत पूछिए चाची … मैं तो जन्नत में ही चला गया था.

फिर मैं 2-4 झटके में खाली हो गया गर्म गर्म रस पाकर भाभी की चूत को ठंडक मिल गई.

आंटी की गांड से मेरे लंड के टट्टे लगते तो ‘थप थप थप थप …’ की मधुर और तेज आवाज़ आने लगी. घर पहुंचा तो मेरी गाड़ी की आवाज सुनकर भाभी बाहर आई और थैंक्स बोलकर चली गई. आह्ह … इतनी शानदार खुशबू!मैं तो मदहोश होने लगा था … मैं पूरी शिद्दत से शिवानी की कसी हुई चूत चाटने लगा.

लौंडिया लंडन चलाएंगे रातभर डीजे बजाएंगे उसकी आंखों में चुदास थी और अपनी चुत उठा कर मुझे चुदाई का मूक आमंत्रण दे रही थी. उसने अपने घर की लोकेशन भेज दी थी तो मुझे उधर पहुंचने में कोई दिक्कत नहीं हुई.

थोड़ी देर बाद मैंने उससे पूछा- नीचे नींद नहीं आ रही क्या?उसने कुछ नहीं कहा. अगली सुबह मैं लेट उठा।मैं बालकनी में गया तो देखा कि भाभी और मेरी मम्मी बातें कर रहे थे. मैं झड़ने को हुआ तो दीदी ने अपनी मैक्सी लंड पर लगा दी ताकि वीर्य छत के फर्श पर ना गिरे या चटाई पर … क्योंकि चटाई पर दाग पड़ जाते, तो उसे धोना मुश्किल था.

हिंदी सेक्सी मूवी फुल सेक्सी

[emailprotected]इंडियन देसी सेक्स गर्ल कहानी का अगला भाग:बेटी ने सालों तक चुद के चुकाया पिता का क़र्ज़- 2. मैं कुछ समझ नहीं पाया कि अभी तो भाभी कुछ चिंता सी दिखा रही थीं और अब मुस्कुरा रही हैं. बीच बीच में मैं उसको किस भी कर रहा था, उसके रसभरे मम्मों को भी दबा रहा था.

‘उउऊऊ उम्माह … ऊम्मम …’मेरे होंठों को अपने होंठों में दबा कर किस के साथ काशिफ मेरी गांड पर थप्पड़ भी लगाए जा रहा था. मैं सोचता हूँ कि उसे कैसे किस करूं … और मैंने किसी तरह उसे किस किया भी, तो पता नहीं उसको अच्छा नहीं लगा, तो खामखां इन्सल्ट और हो जाएगी.

मैंने उसके मुँह में फिर से अपना लंड डाल दिया और ख़ुद उसकी बुर को पैन्टी के ऊपर से ही किस करने लगा.

उसने एक हाथ से पैंटी को पकड़ा और दूसरे हाथ से जींस को नीचे खींच कर घुटनों तक कर ली. पहले तो उसने डर के कारण शायद ध्यान नहीं दिया मगर जब उसे किस का ध्यान आया … तब तक वो भी गर्म हो चुकी थी. मैंने मामला सम्भालते हुए जगप्रीत अंकल से कहा- आप हम लोग के लिए कॉफ़ी ले आओ.

वो बहुत देर से मशक्कत कर रही थी और मैं उसके झूलते हुए बोबे देख रहा था. मैं समझ गया कि अब ये झड़ने वाली हैं … और मैंने एक उंगली उनकी चुत में घुसा दी और चाटता भी रहा. पीने के बाद हम खाना खा कर बैठे ही थे कि तभी सब लोग भी पार्टी से वापिस आ गए.

ऐसा नहीं था कि भिड़े ने माधवी की चूत नहीं देखी थी लेकिन माधवी का यह बिंदास स्वरूप वो आज पहली बार देख रहा था.

बीएफ वीडियो फुल एचडी देहाती: मगर मेरी सासू मां ने अपने उभारों को न तो ढकने की कोशिश की और न ही किसी तरह की लज्जा दिखाने की चेष्टा की. मगर कभी कभार जब उमैय्या मेरे दोस्त के साथ ही घर पर आ जाती थी तो हम लोग ठीक ठाक तरीके से रहने लगते थे.

बाद में जब अपना चिकना बदन छुओगे, तब दर्द भूल जाओगे।वैक्सिंग के बाद मैंने अपनी छाती छूकर देखी और आईने में देखा. कुछ देर बाद डिनर के लिए भाभी ने मुझे फोन किया, कहा- मेरे घर आ जाओ, यहीं खाना खा लेना और यहीं सो जाना. उनकी सांसें धौंकनी की तरह चल रही थीं, रुक ही नहीं रही थीं, सांसों ने पूरी रफ्तार पकड़ी हुई थी.

आह जीजू … बस करो … ओह उफ़ जिजुऊ … जल्दी करो न … मैं मर जाऊंगी!”उसने अपने एक हाथ से मेरे मुंह को अपनी नाभि से हटा दिया.

जैसा कि आपको पता है कि मुझे साई नाम का एक आदमी पुणे में मिला था, वो 35 साल का था. इससे आंटी मस्त भरी आहें भरने लगीं- आआह … आआ … उफ्फ … इस्स … चाट ले मादरचोद … मेरी चुत चाट ले. तू बहुत मस्त लड़की है यार! मेरा लण्ड किसी ने इस तरह नहीं चूसा। हाय रे … बड़ा अच्छा लग रहा है। तू मेरी जान है यार मेघना! तू बुर चोदी बड़ी मस्त चीज है यार! तेरे हाथों में लण्ड काबू से बाहर हुआ जा रहा है। ओ हां … हो ऊँ आ आ … लगता है मैं निकल जाऊँगा मेघना! लौड़ा बाहर निकाल लो.