साड़ी वाली भाभी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ टार्जन

तस्वीर का शीर्षक ,

సెక్స్ తెలుగు బ్లూ ఫిలిం: साड़ी वाली भाभी बीएफ, लंड ने 8-10 तेज पिचकारीं चूत में ही छोड़ दीं और हम दोनों ऐसे ही चिपके पड़े अपनी सांसों को नियंत्रित करते रहे.

सेक्स बीएफ इंग्लिश सेक्सी

इंडियन चूत की सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे भाभी ने अपनी ननद से मेरी सेटिंग करायी और चुदाई का पूरा इंतजाम किया. बीएफ वीडियो भेजो हिंदी मेंमेरी अम्मी की आंखों की पुतलियां फ़ैल गईं और उनकी आवाज उनके हलक में ही अटक गई.

इधर बलविंदर अलीमा के चूचों को चूसे जा रहा था और बारी बारी से एक चूची को चूसता, दूसरे को दबाता. सेक्सी बीएफ कॉलेज की लड़कियों कीपता नहीं दिमाग में क्या आया कि मैंने उसकी चूचियों को वहीं पर दबाना शुरू कर दिया.

बड़े गड्ढों की वजह से बस बहुत ज़ोर से उछली और इस का पुरज़ोर फायदा उठाकर मैंने उछलकर उसके सीने के ऊपर मेरा सिर झोंक दिया.साड़ी वाली भाभी बीएफ: फ़रज़ाना दीदी बोली- मज़ा आ गया यार … तेरे लंड से अपनी चूत चुदवाकर! उंगली से चोद चोद कर बोर हो गयी थी। साला लंड में जो मज़ा है वो उंगली में नहीं।फिर हम दोनों ऐसे ही नंगे पड़े थे कि अचानक मेरे घर से फ़ोन आया.

हिंदी गांड मारी कहानी में पढ़ें कि मैंने गे सेक्स चैट के द्वारा एक अंकल से बात की.वे तड़प कर बोली- आह्ह … डाल दे अब … जल्दी कर।मैंने भी देर नहीं की और फिर एक झटके के साथदीदी की चूत में लंडको उतार दिया.

सेक्सी बीएफ जंगल मंगल - साड़ी वाली भाभी बीएफ

वो बोली- ब्रा के हुक क्यों खोल दिये?मैं बोला- ये हाथ में लग रहा था.पति का साथ छोड़ देने के बाद कैसे मैंने अपने बदन की वासना पूरी की?अन्तर्वासना एक्स कहानी के सभी पाठकों को मेरा हार्दिक अभिनन्दन.

कभी उसकी चूचियों पर हल्का सा मारता तो कभी उसके चूचों को जोर से खींच देता. साड़ी वाली भाभी बीएफ फिर एकदम से अचानक उन्होंने धक्का मार दिया और अपने होंठों को मेरे होंठों पर कस दिया.

देसी भाभी की चूत कहानी में पढ़ें कि कैसे पड़ोस में रहने वाली एक भाभी के घर गया तो मैंने उन्हें अधनंगी देख लिया.

साड़ी वाली भाभी बीएफ?

उस दिन मैंने उसके साथ बहुत से पोज़ कपल वाले में फ़ोटो खिंचवायी।कुछ देर बाद हम सब नीचे आ गए. आंटी फिर से एक बार गर्मा गई थीं और बड़बड़ाने लगीं- आह फाड़ दो … ओह आआह इ ईईई उउई उम्मम … कितना अन्दर तक पेल रहे हो. वो मेरे पास आया और बोला- चलेगी क्या?मैंने कहा- कहां चलना है?वो बोला- तू चल तो सही … मैं बताता हूं.

सेठ जी का लंड अब उनके बस में नहीं था; वो हवस की आग में जल रहे थे।तो सेठ बोला- चल संतो, मैं तेरा सारा कर्जा माफ कर दूंगा. फिर अचानक से उसने मेरे गाल पर किस कर दी और अपने हाथ से मेरी गान्ड पर हाथ फेर कर चला गया. रानी ने जल्दी से शर्ट को अपने चूचों पर ढक लिया।उस आदमी ने पहले तो मेरी बहन को गाली दी- बहनचोद … रंडी … कॉलेज में पढ़ने आती है या चुदवाने? रुक जा, मैं सबको यहीं पर बुलाता हूं.

कि कैसे फटी मेरी चूत पहली बार!इस सेक्स कहानी के पहले भागजवान होते ही मेरी बुर लंड मांगने लगीमें आपने मेरे बारे में सभी बातें पढ़ी थीं और जाना था कि कैसे मेरी और राहुल की दोस्ती हुई. लंड मुँह में घुसा, तो साले ने अपनी कमर हिलाते हुए मेरे मुँह को ही चुत समझ लिया और धकापेल चोदने लगा. उसने अपने एक हाथ से उसकी कमर को पकड़ा और दूसरे हाथ में उसकी एक टांग को उठा कर अपना गर्मागर्म लौड़ा रानी की जलती हुई चूत में घुसा दिया।साहिल का लौड़ा मानो किसी धारदार चाकू की तरह किसी की चमड़ी में घुसा हो.

मैंने अपनी चड्डी को प्रीति के मुँह में वापस डाल दी और अपना लंड उसकी चूत पर सैट करके धक्का मारने लगा. जब पूजा भाभी चलती है तो उनके चूतड़ बहुत ज्यादा मटकते हैं।अब मैंने सोच लिया था कि बस अब पूजा भाभी की गांड का गोदाम बनाना है.

मैम ने उसी लड़के का नाम बताकर उसके पास जाने को बोला जिसको मुझे फंसाना था।मैं फूली नहीं समा रही थी क्योंकि मेरा काम बन गया था.

इस बार का फव्वारा इतना ज्यादा था कि ठाकुर भी खुद को रोक ना सका और वो भी झड़ने लगा.

अब भी सर को जब भी अपनी गांड मरवाने का मन होता है, वो मुझे रुकने को बोल देते हैं और सबके जाने के बाद मैं सर की गांड मार कर उनकी हवस पूरी कर देता हूँ. कुछ देर बाद साहिल रागिनी को छोड़ मुझे घोड़ी बना कर मेरी गांड पेलने लगा. तो दोस्तो, मुझे जरूर बताइयेगा कि कहानी कैसी लगी? अगर आपको अच्छी लगी होगी तो मैं मेरी ज़िंदगी के कुछ और पन्ने भी पक्का खोलूंगी आप लोगों के सामने।मुझे मेरी ईमेल पर मैसेज करें.

मैंने उसी में अपनी दो उंगलियां घुसा दीं और आगे ले जाकर पैंटी को चूत के ऊपर से छेड़ने लगा. मैंने आंटी की दोनों टांगें ऊपर करके अपना लंड उनकी चूत पर सैट कर दिया. मैंने उसके मुंह के पास लंड लाकर कहा- चूसना चाहोगी मेरी जान इसे?उसने खुद ही मुंह खोल दिया और मैंने उसके मुंह में लंड दे दिया.

मगर वो कैसे चुदी और प्रियंका के साथ और क्या क्या हुआ वो सब मैं आपको अगली गरम सेक्स की स्टोरी में बताऊंगा.

वो अलीमा को कुछ इस तरह से चोदना चाह रहा था कि वो आगे भी उसके लंड से चुदने के लिए मचलती रहे. जल्द ही मेरी ब्रा भी निकाल दी गई और दोनों ही एक एक करके मेरे दूध को दबाते और चूसने लगे. यही डर रहता है कि लोग क्या सोचेंगे?मगर हम सबकी जिन्दगी में कुछ न कुछ ऐसा होता है जहां पर हम दिल की बात खुलकर रख सकते हैं.

कुछ देर इसी आसन में ठोकने के बाद साहिल ने राजसी की पीठ को पकड़ कर अपने सीने से उसकी छाती को चिपका लिया. उसने कहा- आप खाने की क्यों चिंता करते हो … वो तो आपकी पूरी सेवा होगी. झड़ते समय मैं इतना मदहोश था कि अपने लंड को पजामे के अन्दर करना ही भूल गया.

तुम्हारी जैसी लड़की शायद ही मुझे दुबारा मिले इसलिए मैं आज तुम्हें जी भरकर चोदना चाहता हूँ.

उसने मेरी बहुत देर तक गांड मारी और अपना सारा वीर्य मेरी गांड में निकाल दिया. अमन ने मेरी साड़ी के ऊपर से ही मेरी चुत को टटोला और मेरे कान में बोला- हां जान, आज लंड कुछ ज्यादा ही बेचैन हो रहा है.

साड़ी वाली भाभी बीएफ सुबह जब बस चाय के लिए रुकी तो मैंने उसके पास जाकर बात करने की कोशिश की लेकिन उसने मुझे घास नहीं डाली. उसके बाद बात सेक्स और चुदाई तक कैसे बढ़ी?दोस्तो, मेरा नाम रोहन है और मैं राजस्थान के भीलवाड़ा जिले का रहने वाला हूँ.

साड़ी वाली भाभी बीएफ मेरे रूम में आकर उसने दरवाजे को अंदर से लॉक कर दिया और चलकर बेड पर आ गयी. ये सब मुझे पागल कर रहा था। मैं अपने खड़े लण्ड को छत की तरफ इशारा करते हुए नहीं रोक पा रहा था।मुझे टेंशन थी कि वह मेरे इरेक्शन को नोटिस ना कर ले।उन्होंने बैग से अपनी ब्रा निकाली और पहन ली और फिर वह कपड़े पहनने लगी।फिर भी मेरा लण्ड पूरी तरह से खड़ा था। मैं वहाँ बिलकुल असहाय पड़ा था।मम्मी तैयार हो गई थी.

फिर जैसे ही हेमा चाची को चाचा के बाहर आने की आहट महसूस हुई, तो वो जल्दी से अन्दर चली गईं.

हिंदी गुजराती बीपी

महिलाओं का तो मुझे पता नहीं लेकिन मर्द तो औरत के जिस्म को ताड़ने का कोई मौका नहीं छोड़ते. तभी उसने अभय को कॉल किया और कहा- सुन भड़वे … अपने लन्ड को खड़ा करके मेरे घर के बाहर आओ. वो बोली- अब मैं सोच रही हूं कि तुम्हारी और रीति की शादी करवा देती हूं.

मैंने भाभी को नजदीक खींचा और उनकी ब्रा के ऊपर से भाभी का एक दूध मुँह से पीने लगा … दूसरा दूध मसलने लगा. इसी तरह थोड़ी देर चोदते हुए मुझे अपने लण्ड पर दी का माल फील हुआ।उसकी चूत का थोड़ा सा पानी मेरे लण्ड के साथ चूत के बाहर आया. पोर्न मॉम हॉट स्टोरी में पढ़ें कि होटल के कमरे का ए सी बंद होने से मैं ओर मेरी मम्मी दोनों ने अपने सारे कपड़े उतार दिए.

मैं- ये ले जान … आह्ह … आह्ह … ले मेरे लंड के धक्के … आह्ह … और ले … आह्ह … पूरा घुसा ले तेरी चूत में मेरी रानी.

मैंने झट से उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं … और लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा. उसका ये रूप देख कर मैं भी समझ गई कि ये पूरी तरह से खुल चुकी है और किसी के साथ भी चुदने को तैयार रहती है. बस एक ही बात की वजह से उस गांव को चुना गया था क्योंकि उसके आस पास के बहुत सारे गांवों को हम एक बार में ही पूरा कवर कर सकते थे.

मैंने हिमानी को बेड पर अपनी गोदी में बिठा लिया और उसकी कड़क गांड में अपना मस्त लंड दबाते हुए उसे प्यार करने लगा. मैंने उसकी चिल्लपौं को नजरअंदाज करते हुए लंड गांड के अन्दर डाल कर उसकी आवाजों को और तेज़ कर दिया. उसने मुझसे पूछा- सोडा के साथ लेगी या पानी के साथ!मैंने कहा- पानी के साथ.

मेरे खड़े लंड को देख कर भाभी ने अपने दांत से अपने होंठों को काट दिया. मेरे पूरे बाल खुल गए और उसने मेरे बालों में अपना हाथ घुमा कर पूरे अपने हाथ में मेरे बालों को फंसा लिया.

अब आगे की भाई की साली को चोदा कहानी:झड़ने के बाद कुछ देर तक हम लेटे रहे. एक ने बोला- इतना मजा तो कभी नहीं आया … जितना आज तुमने हम चारों को दिया है. करीब 5 मिनट के इंतजार के बाद हिमानी भी वहां आ गई और बोली- अनुराग मुझे डर लग रहा है.

उसने कहा- ठीक है, तो फिर कल तुम काली ब्रा और काली ही पैंटी पहन कर आना.

ये मेरी पहली चुदाई की कहानी मेरे और मेरी भाभी के बीच की है कि कैसे देवर ने भाभी को चोदा. ये देखकर मैं समझ गया था कि आज हेमा चाची को चरम सुख की अनुभूति हुई है. फिर मैंने पूछा- आपको मोमबत्ती से मजा आता है क्या?दीदी- अरे भाई, जब लंड ना हो तो उंगली भी डालनी पड़ती है।इस तरह से उस रात दीदी और मेरे बीच में सेक्स संबंध बन गये.

कितनी खुशी की बात है।दीदी बोली- चल कर ले। वैसे मुझे मज़ा नहीं आएगा. मगर मैं उससे कमरे में आने का बोल कर अपने रूम में चला गया और उसका इंतजार करने लगा.

तभी मैंने उसके हाथ से टी-शर्ट ली और अपने बदन पर पहनने की कोशिश करने लगा. उसकी गोरी चूचियों की एक झलक ही मिली थी कि उसने अपने दोनों हाथों से अपने लड्डुओं को ढक लिया. लेकिन मेरे दिमाग अब बस यही चल रहा था कि मुझे भी अब शांति आंटी की चूत को भोसड़ा बनाना है.

ब्लू सेक्सी बीएफ देसी

उसने कहा- आप खाने की क्यों चिंता करते हो … वो तो आपकी पूरी सेवा होगी.

मुझे समझ नहीं आ रहा था कि ये सब सच में हो रहा है या मैं कोई सपना देख रहा हूं. मैं बेड पर लेट गया। मैडम ने टिशू पेपर से मेरा लन्ड और अपनी चूत साफ की और मेरे साथ लेट गई।हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे। मुझे मैडम के घर गए लगभग डेढ़ घंटे के करीब हो चुका था। मैं उठा और बाथरूम में जाकर नहाकर वापस कमरे में आ गया. बड़े गड्ढों की वजह से बस बहुत ज़ोर से उछली और इस का पुरज़ोर फायदा उठाकर मैंने उछलकर उसके सीने के ऊपर मेरा सिर झोंक दिया.

मैंने उसको लगातार काफी देर तक चोदा और फिर हम दोनों तीन-चार बार झड़कर बेहाल हो गये. वो भी सिसकारते हुए मजे से चुदने लगी- आह्ह … हाह … ओह्ह … आह्ह … वाऊ … ओह्ह … आह्ह … यस … हम्म … उम्म … और स्पीड में।मैं उसको तेजी से चोदने लगा. हिंदी सेक्सी बीएफ देदिल तो कर रहा था कि इसी तरह लगे रहें दोनों।अब मैंने अपनी चोदने की स्पीड बढ़ा दी और थोड़ी देर में ही रानी झड़ गयी.

आज जो गाँव में चुदाई की कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूँ, वो 2 साल पुरानी एक सच्ची घटना है. आंटी बोलीं- आज न जाने कितने दिनों के बाद मेरे चेहरे पर ख़ुशी आ सकी है.

सलमान- अब तो कोई फ़िक्र नहीं है न!अम्मी- न अब कोई फ़िक्र नहीं है अब बस तू पहले एक बार मेरी चुत को जल्दी से ठंडा कर दे … साली बड़ी आग लगी है. उस रात को मैं छत के रास्ते से चाची के घर में आ गया था और उनको नंगी करके मस्ती करने लगा था. अगले ही पल मैंने बोला- हां चाची … मैं आपकी रसीली चूचियों को मुंह में लेकर उनके निप्पल काटना चाहता हूं.

चलो अच्छा है इस वीर्य को मैं अपनी त्वचा पर मलूंगी, तो मेरी त्वचा कोमल और मुलायम बन जाएगी. एयरपोर्ट से मैं सीधा पार्लर गई और वहां मैंने अपनी पूरी बॉडी की वैक्सिंग करवाई. वो बोली- शिखा कहां है?मैंने कहा- वो तो स्कूल गई है।उसने कहा- मैं तो स्कूल के कुछ काम से आई थी.

मगर मैंने उसकी किसी बात का उत्तर देना उचित नहीं समझा बस उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उसे चूमने लगा.

मैं अपने घर गया और दरवाज़ा खुला छोड़ कर वहीं पास में खड़ा हो गया उसके इंतज़ार में. अब आगे मैं ज़मीन में बैठी और उसकी चैन खोल कर जैसे ही उसका लन्ड बाहर निकाला तो उसका लन्ड देख कर मेरी गांड फट गई।साहिल का लन्ड काफी लम्बा और मोटा था.

थोड़ी देर बाद चाची पीछे बाथरूम में आ गई और मेरे लौड़े को चूसने लगी।मैंने कहा- मम्मी आ गई तो दोनों मरेंगे!वो बोली- डरो मत, दीदी रोटी बना रहीं हैं।मैंने उसकी साड़ी ऊपर करके घोड़ी बनाया और चोदने लगा। लंड को सटासट सटासट अंदर तक पैलने लगा।मैं नीचे लेट गया वो मेरे लौड़े पर बैठ कर चुदवाने लगी।वो लंड पर उछल उछल कर गांड पटकने लगी. मैंने साड़ी बहुत सेक्सी अंदाज़ में … लेकिन इस तरह पहनी कि घर वालों के सामने खराब न लगे. अब उसके लन्ड की नस और उसके हाथों का मेरे सर पर दबाव धीरे धीरे कम होने लगे।उसने अपना हाथ हटा लिया.

चार जाम के बाद उन्होंने एक छोटी बोतल और निकाली और उसे उन दोनों ने ही खत्म की. उसकी चूत से खून की छोटी सी धार बह चली और उसकी चूत का उद्घाटन हो गया. मेरा लंड अभी आधा ही चुत में गया था कि वो चीखने लगी- आह मर गई … निकालो इसको … आह बहुत दर्द हो रहा है.

साड़ी वाली भाभी बीएफ कुछ देर के बाद रूम के बाहर निकल कर मैं उसके रूम की तरफ बढ़ा पर उसके रूम का गेट सटा हुआ था और वो लोग अंदर थे।मैंने हल्का सा गेट खोला और अंदर झाँक कर देखा. मेरी चूत बहुत प्यासी है बुझा दे मादरचोद अपनी कुतिया की चुत की प्यास.

टकाटक बीएफ

मैंने उसकी तरफ देखा और अपने मन की बात को आंखों से कहने की कोशिश करने लगा. वो दर्द से रोने लगी- मर गई रे … आह निकाल ले हरामी …माँ के लौड़ेफ्री की मिल गई साले. मन कर रहा था कि अभी लंड निकालूं और सीधा साली के चेहरे पर मुठ मारकर गिरा दूं.

पल्लू के नीचे मेरे दोनों चूचे एक गहरे गले वाले ब्लाउज में से अपनी दूधिया घाटी का खुल कर प्रदर्शन करने लगते थे. साक्षी मेरे कानों में बड़बड़ाने लगी- जरा आराम से करो न … दर्द हो रहा है मुझे … आह्ह … धीरे प्लीज!फिर मैंने उसके ब्लाउज के बटन खोले और ब्लाउज को एक ओर फेंक दिया. चूत लंड की वीडियो बीएफमैं भी किसी और से चोदने के नाम को लेकर उतावली हो जाती थी और उनसे अपनी चूत खूब जमकर चुदवाती थी.

उस तरफ से आवाज आते ही मैं बोली- जय सर, मैं खुशबू वाली मोबाइल शॉप से अंजलि बोल रही हूँ.

सुरभि कहने लगी- यह छेद तो बहुत टाइट है … इसमें आपका लंड कैसे समाएगा?मैंने कहा- इस छेद में भी चला जाएगा बन्नो. मैंने उसी में अपनी दो उंगलियां घुसा दीं और आगे ले जाकर पैंटी को चूत के ऊपर से छेड़ने लगा.

नीचे देखा तो रानी अपनी सहेलियों के साथ पार्क में बैठी थी जो हमारे घर के सामने ही था. कुछ देर बाद उसने मुझे टेबल के सहारे से हटाया और मुझे हवा में ही झुका कर मेरी गांड एक बार फिर से पेलने लगा. कुछ ही देर में उसकी आहों में मुझे अलग ही किस्म का सुख प्राप्त हो रहा था.

धीरे से मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाली, जिसे उसने प्यार से चूसा और अगले ही उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी, जिसे मैंने भी प्यार से चूसा.

मैंने अपने हाथों और पैरों पर मेहंदी लगवाई और मेहंदी की डिजाइन में अमन का नाम भी लिखवाया. आप मेरी गांड मारोगे कि मैं आपकी मारूं?थोड़ी देर सोच कर सर बोले- तुम आज मेरी गांड मारो. पहले तो उसको थोड़ा अजीब लगा लेकिन फिर कुछ सोचकर उसने नम्बर दे दिया.

मैडम सेक्सी बीएफचाची के मुँह से ये सुनकर मेरी आस जाग उठी कि अगले एक हफ्ते तक हो सकता है कि मेरे लंड की शादी चाची की चूत से हो जाए. हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

काजल अग्रवाल का सेक्सी बीएफ वीडियो

दीदी उठ गयी और उन्होंने मेरा हाथ हटाकर नीचे मेरे पैर की तरफ रखवा दिया और फिर करवट बदल कर सो गयी. उसने तो पहले ही ब्रा पेंटी नहीं पहन रखी थी, बस ऊपर गाउन पहन रखा था. भाभी ने पूछा- जब कुछ करना नहीं है तो क्यों मिलना है?मैंने कहा- बस यूँ ही मिलने का मन है.

मैंने उसको फिर से लिटाया और उसकी चूत में बिना कॉन्डम के ही लंड पेल दिया. वो एक बार फिर से छटपटा उठी, रोई, गिड़गिड़ाई, पर मैंने लंड अन्दर ही फंसाये रखा. एक घंटे के बाद हम सब साहिल के घर आ गए।उनका घर भी साहिल के लन्ड जितना बड़ा था।उसने मुझको देखकर मेरा हाल पूछा.

मैंने उसको उसके कपड़े पहनाए और फिर उसको उठाकर उसके रूम में लिटा कर आ गया. उसे अभी तक ये अहसास था ही नहीं कि चुदाई के इस खेल में इतना मजा आता है. होंठों को चूसते हुए मैंने अपना एक हाथ उसकी टीशर्ट में डाल दिया और उसके बूब्स दबाने लगा।क्या मस्त बूब्स थे यार … रानी के।थोड़ी देर बाद हम दोनों पूरा गर्म हो चुके थे.

उसके गोरे सपाट पेट को चूमते हुए मेरी नजर उसकी जांघों के बीच में उसकी कमसिन चूत पर कसी पैंटी पर ही गड़ी हुई थी. मैं इसी तरह हेमा चाची के साथ सम्भोग करते समय लंड को लगातार चूत में घुसाए जा रहा था और हेमा चाची के कूल्हों को बार बार चौड़ाकर शीशे में हेमा चाची के गांड के छेद को देखे जा रहा था.

मैं बोली- कोई आ जायेगा!तो विशाल ने कहा- नितिन बाहर ही बैठा है, यहां कोई नहीं आ सकता.

चूत चोदने के बाद उसने बिल्कुल देर न करते हुए फटाक से गांड में लन्ड डाला और उसके बालों को पकड़ कर मेरी बहन की गांड चुदाई करने लगा. बीएफ फिल्म चाहिए बीएफ बीएफमहिलाओं का तो मुझे पता नहीं लेकिन मर्द तो औरत के जिस्म को ताड़ने का कोई मौका नहीं छोड़ते. जबरदस्ती बीएफ सेक्सी हिंदीफिर जो मैं झड़ा तो ऐसा झड़ा कि मेरे लंड का पानी मेरे पजामे के बाहर तो आ ही गया था और साथ साथ हेमा चाची की नाईटी से पार होता हुआ हेमा चाची की चूत तक पहुंच गया था. उसने दबा हुआ सा विरोध किया पर ज्यादा समय तक वो अपने आप को संभाल नहीं पाई.

मैंने एक हाथ पीछे ले जाकर उसे हटाना चाहा पर उसकी ताकत मुझसे कई गुणा ज्यादा थी.

हेमा चाची मुझे ऊपर छाती से लेकर नीचे लंड तक एकदम कामुक और वासना भरी नजरों से घूरने लगीं. राहुल का लंड मेरी गांड सहला रहा था तो विजय का लंड मेरी चूत को गर्मी दे रहा था. चाची को मैंने अपने आगे खड़ा करके टीवी के तारों को इधर उधर सैट करने लगा.

जब मैं गुड़गांव आ रहा था तो चाची रोने लगी।मां उनको समझाने लगी- उसका काम है तो जाएगा. मेरे हिसाब से पहले एक की गांड में लंड जाता है और फिर वो दूसरा पहले वाले की गांड चोदता है. अब आगे की आंटी की Xxx चुदाई कहानी:मैंने आंटी के दरवाजे पर नॉक किया और एक मिनट बाद दरवाजा खुल गया.

बीएफ फिल्म चूत चुदाई

मैं अपने हाथ से ज्योति की बुर को सहलाने लगा। उसकी बुर पर हाथ फिराते हुए बहुत मजा मिल रहा था. जिसके बाद रागिनी का मुंह लेकर उसमें लन्ड में घुसा दिया।अब हम दोनों बहनें बारी बारी साहिल का लन्ड चूस रही थी. अभी तक मैं एक लंड को पाने के लिए तड़पती थी मगर मुझे पहली ही चुदाई में दो-दो लंड से चुत चुदाई का सुख मिल गया था.

चिकनी चुत देख कर कोई नहीं बोल सकता था कि भाभी शादीशुदा हैं और एक बच्चे की मां हैं.

सलमान हंसने लगा- तो क्या हुआ जान … मुझे भी तो कुछ सीलपैक छेद चाहिए न?‘वो सब बाद में.

मैं अक्सर आदीबा को कहीं भी ले जाकर होटल या अपने दोस्तों के रूम पर चोदता था. उस रात गर्मी बहुत ज्यादा हो रही थी तो मेरे पापा बोले- आज गर्मी बहुत है, हम सब हॉल में ही सोएंगे. तालिबान की बीएफइस समय वो मुझे अपनी गोद में लिटा कर किसी बच्चे के जैसे दूध पिला रही थी.

फिर हेमा चाची की ब्रा की खुशबू लेते हुए उनकी चूचियों का ध्यान करने लगा. मैं- ये ले जान … आह्ह … आह्ह … ले मेरे लंड के धक्के … आह्ह … और ले … आह्ह … पूरा घुसा ले तेरी चूत में मेरी रानी. इसी स्थिति में बलविंदर अंकल ने अलीमा की आंखों में देखा, तो उसकी आंखों से आंसू आ रहे थे.

अपने हाथ को पौंछने के लिए वहां मुझे बिस्तर पर कोई कपड़ा नहीं मिला, तो मैंने अपने हेमा चाची की चूत के पानी से भीगे मेरे चिपचिपे हाथों को चाची के बालों से ही पौंछ लिया. दूसरी बार झड़ जाने से हम दोनों की हवस शांत हो गई और इसी तरह चिपचिपे सफेद पानी में भीगी चूत और लंड के साथ हम दोनों कुछ मिनटों तक लेटे ही रहे.

वो भी सिसकारते हुए मजे से चुदने लगी- आह्ह … हाह … ओह्ह … आह्ह … वाऊ … ओह्ह … आह्ह … यस … हम्म … उम्म … और स्पीड में।मैं उसको तेजी से चोदने लगा.

मुझे लगा कि अब तो बुआ भी गांव चली जाएंगी, इससे मेरा मन उदास हो गया. मैंने धीरे से पैन्टी में हाथ डाल दिया, तो देखा कि मेरी बीवी की चूत काफी खुली हुई थी. मैं तुम्हें अब दिक्कत नहीं होने दूंगा।बुआ फिर से मेरे लौड़े को सहलाने लगी और मेरा हाथ पकड़ कर बुआ ने अपने अपने मम्मों पर रख दिया।मैंने उन्हें उठाकर बिस्तर पर गिरा दिया और लंड को मुंह में डाल दिया.

फ्री देसी बीएफ अम्मी ने अपनी जीभ को सलमान ने मुँह में डालकर उसे मजा देना शुरू कर दिया. अब आगे की सेक्सी चुत की कहानी:इसके अगले दिन मैं अपनी कॉन्फ्रेंस अटेंड कर रहा था कि दोपहर में बारह बजे मंजुला का फोन आया.

मैं बोला- क्यूं साली, बहुत घमंड है न तुझे अपनी जवानी पर! तेरी ये जवानी मैं सारी दुनिया को दिखा दूंगा. फिर दीदी ने हम दोनों को खाना खाने के लिए बुलाया और हमारा खाना लगाया. चाची मुँह फुला कर बोलीं- उस समय मैं क्या कह देती जब तुमने फोन पर कह ही दिया था कि मैं अभी आता हूँ.

अंग्रेजी बीएफ सेक्सी वीडियो

कई बार तो ऐसी औरतें टकराती हैं जिनको देखकर तो क्या … चूत पर रगड़ने से भी लंड खड़ा न हो. इस दमदार चुदाई के बाद मुझे उन चारों ने नहलाया और मैं नंगी ही रूम में आ गई. दो मिनट बाद मैं नजर बचाकर सावधानी से उसके घर में पीछे के गेट से घुस गया.

ये बात मैं कई दिनों से बोलना चाहता था लेकिन मौका नहीं मिला।मैं उसे अपने ऊपर से हटाने की नाकामयाब कोशिश करने लगी लेकिन मज़ा तो मुझे भी आ रहा था क्यूंकि मुझे जो चाहिए था मुझे आज मिलने वाला था।मगर मैं नाटक करने लगी और बोली- मैं वर्जिन हूं. फिर तुम्हारे बूब्स में अपना लण्ड डालकर तुम्हारे चूचे चोदना अच्छा लगा.

मामा के धक्के तेज होने लगे और लंड से चुदने का मुझे पहला मजा मिलने लगा.

उसके बाद भी मैंने कई बार तुझे छत पर मेरी चूचियों को घूरते हुए नोटिस किया था. अब बताने के बाद साहिल ने अपना हाथ पीछे किया और रानी से फिर से लिखने को बोला।अबकी गलती करने पर साहिल अपने दोनों हाथों को उसके हाथों के नीचे से ले जाकर कीबोर्ड पर टाइप करने लगा जिसकी वजह से साहिल का हाथ रानी के चुचों को मसल रहा था।अगले पल साहिल ने फिर से रानी से लिखने को बोला. मैंने उसकी गर्दन को चूमना शुरू किया तो वो साली सिसकारी भरने लगी- उफ्फ आह … ओह्ह … आह्हा।मैं उसके शर्ट के ऊपर से ही उसकी चूची दबाने लगा.

इसी तरह की मादक और कामुक आवाजों के साथ दस मिनट तक धकापेल चुदाई का मंजर हम दोनों को लस्त पस्त करता रहा. मेरे लंड से गर्म वीर्य की धार फूट पड़ी और मेरे पूरे बदन में कंपकंपी तैर गयी. मैं- आप खुशबू को ऑर्डर देने के लिए बोले थे!जय- हां … मगर मैं बिजी होने के कारण उसे दुबारा फोन नहीं लगा सका.

साहिल ने जैसे ही तौलिया देने के लिए आगे हाथ बढ़ाया, राजसी ने उसको अंदर खींच लिया और अब वो भी उसके साथ शावर के पानी से भीगने लगा.

साड़ी वाली भाभी बीएफ: राहुल और दीपक ने अपना अपना लंड मेरे दोनों हाथों में दे दिए और मैं उन दोनों लौड़ों को जोर जोर से हिलाने लगी. रूबी की उम्र लगभग 28 साल थी उसकी कुछ महीने पहले ही शादी हुई थी, रूबी के बदन का साइज 38-34-40 का था.

मैं अब रोए जा रही थी और वो मेरे आंसू पौंछते हुए बोला- घबराओ नहीं जान … अब बहुत धीरे करूंगा. फिर विस्तार से बताते हुए उसने कहा कि इस मेल एस्कॉर्ट लाइन में मजे के साथ साथ पैसा भी बहुत है. मैंने लंड मुँह से निकाल कर चूत पर रख दिया और पूरे लंड को झटके में चुत के अन्दर पेल दिया.

रूम में अजीब तरह की कुर्सी और सब समान था। एक जगह टेबल पर बड़े-बड़े नकली लंड रखे हुए थे.

मेरी पहले की कहानियोंसीधी सादी लड़की प्यार से चुद गयीके लिए जो आप सभी ने प्यार दिया, उसका मैं तहे-दिल से शुक्रगुजार हूँ. भाभी बोलीं- सिर्फ तुम ही मजा लोगे क्या … मुझे कुछ मजा नहीं दोगे?मैंने कहा- हां हां मेरी प्यारी भाभी … क्यों नहीं आ जाओ. अब मैं पूरी जिन्दगी मोमबत्ती तो नहीं पेल सकती ना? चूत को लंड तो चाहिए ही होगा.