देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,ई-मेल बीएफ इंग्लिश

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स फिल्म करते हुए: देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ, ये बात साल 2008 के शुरू की है, जब जनवरी के महीने में हल्की हल्की सी ठंड पड़ना शुरू हो जाती है.

देसी बीएफ हिंदी भाषा में

रवि ने फिर से धक्का मारा और मेरी चूत में लंड फंसा कर उसको आगे पीछे करने लगा. चोदा चोदी हिंदी वीडियो बीएफमैंने उसकी चूत पर ऊपर से नीचे तक कई बार लंड फिराया और वो चुदने के लिए तड़प उठी.

[emailprotected]मेरी चालू बीवी की चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरी चालू बीवी लंड की प्यासी-2. बीएफ इंडियन सेक्स बीएफमैंने भी कहा- मेरा तो सब ठीक चल रहा है भाभी जी … पर आप बताइए … आप बड़ी दुखी लग रही हैं … और दोपहर को जब मैं घर आया था, तो घर का माहौल भी दुखी सा लग रहा था.

मैंने तुरंत अपना पैंट उतारकर टांग दिया और अंडरवियर के अन्दर उनकी पैंटी पहन ली.देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ: मुझे पता था कि तुम मुझे चोदने के लिए ले जा रहे हो लेकिन मैं मना नहीं कर पाई.

दीदी तो इस समय पूरी तरह से गर्म हो चुकी थीं लेकिन मैं अपने हथियार को चुदाई के लिए तैयार कर रहा था.काफी चुदने के बाद जब वो भी अकड़ गई और अकड़ कर जैसे ही वह झड़ कर फ्री हुई.

नीग्रो बीएफ सेक्स वीडियो - देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ

अब आप सोच रहे होंगे कि मेरी ताई हमारे साथ क्यों रहती हैं तो मैं आपको बता देता हूं कि मेरे ताऊ जी की मृत्यु हो चुकी है.मैंने हल्का सा झटका दिया तो मौसी थोड़ी कसमसा गयी और बोली- आराम से करना.

उसने कहा- तुम खुद जाओ क्योंकि कोई शिकायत नहीं चाहिए।आगे उसने कहा- वो हमारी प्रीमियम गेस्ट है और हमेशा हमारे यहां रुकती है. देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ उस दिन और रात और उसके अगले आधे दिन हमने खूब चुदाई की। खास कर मैंने उसकी गांड खूब मारी क्योंकि मुझे लड़की को गांड चुदाई के बाद लंगड़ाते हुए चलते देखने में आनंद आता है.

मैंने उसका पूरा वीर्य निगल लिया और उसके लंड को और भी अच्छे से चूस कर साफ कर दिया।इधर नीरव ने भी मेरी चूत में अपना माल छोड़ने के बाद भी लंड को फंसाए रखा.

देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ?

मेरी आंखों के सामने जैसे मेरी मां की चुदाई का वो सीन अभी भी लाइव चल रहा था. और फिर एक के बाद एक करीब नौ दस गर्म तेज फुहारें माँ की चूत के अंदर गहराई में समाती चली गयीं।इसके साथ ही माँ की पकड़ भी ढीली पड़ती गयी. फिर पूछा- क्यों कर रहे थे ऐसा?मैंने डरते हुए बोला- जब इतनी खूबसरत लड़की इतने पास हो, तो कभी कभी खुद पर काबू नहीं रहता.

वो तीनों ही बिल्कुल नंगी होकर बिन पानी के मछली के जैसे तड़प रही थीं और लंड से चुदने के लिए तरस रही थीं. मेरी पिछली कहानीबहन ने मुझे चोदना सिखायामें मैंने आपको बताया कि दीदी की शादी से पहले मैंने दीदी को उसके यार पंकज के साथ चुदते हुए पकड़ लिया था. मेरी हालत उस कुत्ते के समान हो गयी थी जो हीट पर होती है और उसे हर कुत्ता पूंछ के नीचे सूंघता है चोदने से पहले।उसके चूतड़ों के बीच में से एक निहायत ही मस्त करने वाली गंध आ रही थी जो मिक्स थी- जिसमें पेशाब, माँस और पुरुष को उत्तेजित करने वाली गन्ध शामिल थी। मेरा तो मन यहाँ तक हुआ कि साली की गांड का छेद चाट लूँ.

उसने मेरे करीब आकर कहा- अगर आगे से खिड़की से झांक कर मुझको देखा, तो मैं तेरे घर पर बोल दूंगी. उन्होंने मुझसे पूछा कि अभी तुम कहां रहते हो?मैंने कहा कि मैं आनन्द में रहता हूँ. मैं दीदी को कभी किस करता, कभी उनकी टी-शर्ट में हाथ डाल कर ब्रा खींचता.

दो बार ये समस्या आने के बाद से अब हम जब भी मिलते हैं, तो कंडोम इस्तेमाल करते हैं … ताकि कोई खतरा न रहे. उसने पहले ही रूम को हीटर से गर्म किया हुआ था और उसके जिस्म की गर्मी मेरे लंड को फाड़ देने को तैयार थी.

फिर मैं नीचे बढ़ा, बूब्स की नाली यानि क्लीवेज चाटी क्योंकि ब्रा पहने हुए थी इसलिए पेट पर चला गया.

फिर उसकी गर्दन पर किस करने लगा और अपने दोनों हाथ उसकी कमर पर रख कर दबाने लगा जिससे जीन्स थोड़ी ढीली हो जाये और उसको हटाने में आसानी हो.

मोसी की चूत; मोसी के बूब्स!मोसी के स्तन लटक रहे थे और चूत पर एक भी बाल नहीं था. मेरा लन्ड एक झटके में ही उसकी बुर में चल गया।अब मैं दीदी के ऊपर चढ़कर उसकी चूत में लंड पेलने लगा. मुझे उनकी आंखों में अजीब सी कशिश दिख रही थी, जो मुझे मोहित किए जा रही थी.

उसने मेरी गांड के दोनों ओर अपनी टांगें लपेट लीं और नीचे से अपनी गांड को उठा उठा कर मेरी ओर करने लगी. उसने अपनी जीभ को अम्मी की गले तक उतार दिया और अम्मी ने भी उसकी जीभ को बुरी तरह से चूसना शुरू कर दिया. कैसे हो मेरे प्यारे दोस्तो? मेरा नाम राज है, अंतर्वासना पर ये मेरी पहली X स्टोरी इन हिंदी है.

कहानी के बारे में अपने विचार देने के लिए मुझे नीचे दिये गये ईमेल पर अपने मैसेज भेजें.

मैंने उसकी नजरों को भांप लिया और कुछ देर के बाद हमारी नजर आपस में मिलने लगीं. मेरी उंगलियां इतनी धीरे से चूत को सहला रही थी कि जरा सा भी दबाव न पड़े. कपड़े वाशिंग मशीन में डाल कर हम दोनों कक्ष में आकर ऐसे ही जांघिया पहने हुए लेट गये.

उनके मम्मे दबा कर उनसे जल्द ही आकर दोस्त की सास की चूत चुदाई करने का वादा किया और वापस आ गया. आखिर वो पल आ ही गया था जिसके बारे में सोच सोच कर मैं पिछले 6 घंटे से परेशान था. मेरे धक्कों की स्पीड तेज होने के साथ ही जिया की सिसकारियां भी तेज हो गयीं.

दोस्त की मम्मी पूछने लगी- अरे तेरी बीवी कहां है? वो तेरे साथ में नहीं रहती क्या?ये पूछ कर आंटी ने जैसे मेरी दुखती हुई रग पर हाथ रख दिया.

जीन्स टाइट होने की वजह से मेरी गांड मेरी जीन्स में एकदम से भिंच गयी थी. लड़कों को सील पैक चूत चोदने के लिए मिला करें और लड़कियों को भी लम्बे मोटे लंड अपनी चूत में लेने के लिए मिलते रहें.

देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ और वो बेड की उछाल जो मुझे वापस लंड की तरफ़ धकेल रही थी।इस तरह मैं कई बार झड़ गई और वो भी मेरे अंदर ही झड़ गया।पूरी रात हमने कई बार चुदाई की. मेरी xxx ग्रुप सेक्स पार्टी स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने क्लासमेट को पटाकर अपनी बुर चुदवाई.

देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ ट्रेन चलने से दस मिनट पहले एक अच्छी खासी मस्त भाभी मेरे सामने वाली खिड़की के पास बैठ गईं. उनके मुंह से सिसकारियां निकलना शुरू हो गयीं- अम्म … ऊह्ह … आह्स्स… करते वो मेरे मुंह को अपनी चूचियों में दबाने लगी.

ये कहानी मेरी और दो अनजान आंटियों के बीच हुई चुदाई की कहानी है, जिनसे में अचानक से ही मिला था.

सेक्स वीडियो हिंदी सेक्स वीडियो सेक्सी

उन्होंने अपना आधा बदन मेरे ऊपर रखकर मेरी छाती पर सर रख दिया और मुझसे चिपक कर लेट गईं. वो बोल रही थी कि आपको बुला रही हैं मगर आप जा नहीं रहे हो?बात करते करते मेरे हाथ उनके पैरों को दबा रहे थे. काम की वजह से उनकी तबीयत ठीक नहीं रहती जिसकी वजह से अम्मी को शारीरिक सुख नहीं मिल पाता.

फिर देखने लगा कि हो क्या रहा है?मगर किसी की कोई आवाज नहीं आ रही थी. वो कभी मेरी चूत में जीभ घुसा रहा था और कभी उसकी फांकों को अपने दांतों से पकड़ कर खींच रहा था. इस कहानी को लिखने का मेरा मकसद यही है कि मैं आपको बता सकूं कि कैसे मैंने सेक्स के बारे में ज्ञान प्राप्त किया और चुद चुद कर कैसे में चुदक्कड़ औरत बन गयी.

उत्तेजना इस कदर बढ़ गयी कि लंड की मुठ का नजारा सामने उस आदमी की सीट पर बैठी दूसरी लड़की को दिखाऊं.

मैं भी उनका साथ देने लगा और उनके होंठों को चूसते हुए उनके कपड़े खींचने लगा. [emailprotected]आंटी की सहेली की चुदाई कहानी का अगला भाग:दो आंटियों को चुदाई और औलाद का सुख दिया-4. वो मेरे तंबू को घूरने लगी और फिर हंसते हुए बोली- तू तो अब बड़ा हो गया है.

पिताजी ने एक पुराने दिखने वाले पक्के घर के आगे अपने वाहन को रोका और मुझे अपना सामान लेकर उतर जाने को कहा. मेरी मामी की चूचियां ज्यादा बड़ी नहीं थीं … लेकिन उनकी कमर और गांड भरी हुई थी. मॉम बोलीं- मंजू बना देगी न!मैं- नहीं, मैं बना लूंगा … मंजू खाना बना रही होगी.

मैं सुबह कॉलेज के लिए कह कर घर से निकल गया और 11 बजे नजमा आंटी के घर में आ गया. मैं बोला- नहीं, तेरे अंदर बहुत आग है न … आज मैं तेरी इस आग को शांत करने के बाद ही छोड़ूंगा तुझे.

फिर उन्होंने मेरी पैंट निकाल कर मेरा लंड बाहर निकाला और मस्ती से उससे खलने लगीं. जल्दी ही दोनों गर्म हो गये और उठ कर मैंने अपनी मैक्सी और ब्रा को नीचे कर लिया. एक हाथ से मैं लंड को हिला रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चूत को छेड़ रहा था.

पन्द्रह मिनट हो गए तो सुभाष ने कहा- अबे तिवारी देख तो … ये कंडक्टर की औलाद क्या कर रहा है.

यह ब्रदर सिस्टर सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी आप इसके बारे में मुझे बतायें. फिर हम दोनों मां बेटी ने मिल कर सक्सेना के कपड़े उतार दिये और दोनों बारी बारी से उसका लंड चूसने लगीं. मुझे उनकी हंसी से राहत मिली और मैं समझ गया कि लौंडिया हंसी मतलब फंसी.

यह मेरे लिए ग्रीन सिग्नल था, जो मुझे इशारा कर रहा था कि आओ और मेरे चूचों को रगड़ रगड़ कर मुझे चोद डालो. वो शायद आपस में एक दूसरे को होंठों को चूस रहे थे या फिर जिस्मों को चूम रहे थे.

मैं- दीदी के खुशी के लिए अपनी जान भी दे सकता हूं … लेकिन यह बिल्कुल गलत है. मैंने भाभी के दूध सहलाने शुरू कर दिए थे और वो भी मेरे साथ मस्ती करने लगी थीं. मैं अकेला खाना खाने लगा, इस समय मुझे दीदी की याद रही थी क्योंकि मेरी अन्दर चुदाई की प्यास बढ़ रही थी.

गुगल सेक्सी व्हिडिओ

मगर राजेश नहीं माना और ज़बरदस्ती अपना लंड उसने मेरे मुँह में ठेल दिया.

लैगी में उनकी जांघें देख कर मेरा लंड और भी सख्त हो गया, जो शायद चाची ने देख लिया था. कुछ पल के बाद ही उसके शरीर में झटके लगने लगे और वो शांत होता आ गया. मैंने पूछा- अंकल का कितना बड़ा है?आंटी ने कहा कि तुम्हारे अंकल का लंड बहुत ही छोटा है.

जिन्दगी में पहली बार मैं किसी लड़की को अपने सामने इस तरह से नंगी देख रहा था. उस दिन आंटी जैसे ही अपने रूम में आईं, तो मैंने उनको छिप कर देखा, पर मैं बाहर नहीं गया. होली एचडी बीएफआपके घर में सरसों का तेल है क्या?आंटी- हाँ है, पर क्यों?जैसे आंटी जान गयी थी कि उनको पता है कि मैं उनकी मालिश करने वाला हूं.

मैंने भी जानबूझ कर अपने हाथों से उसकी टांगों को सहलाते हुए, कमर दबाते हुए टॉप पकड़ा और ऊपर धीरे धीरे लेकर जाते हुए बूब्स पर हाथ छुआते हुए उतार कर जमीन पर डाल दिया. लण्ड को ललिता की चूत में सेट करने के लिए मैंने थोड़ा सा बाहर निकाला तो खून से सना लण्ड देखकर मैं भी घबरा गया लेकिन यह घबराने का नहीं बल्कि मौज उड़ाने का समय था.

वो मेरे बारे में ऐसे खयाल कैसे ला सकता है, मुझे पाने के बारे में कैसे सोच सकता है?वो बोले- ठीक है फिर, तुम ये मान लो कि तुम उसकी मां नहीं हो. बहन बनी बीवी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी बहन के साथ गोवा में हनीमून मनाया और उसको रंडी बना दिया. स्कूटी चलाते हुए मैं जान बूझ कर ब्रेक लगा देती थी और मौसा को अपने बदन से चिपकाने की कोशिश करती.

मैंने भी उसके लंड पर खूब सारा थूक दिया जिससे उसका लंड और मेरी चूचियों की घाटी दोनों ही चिकने हो गये. थोड़ी देर बाद उसे मैंने घोड़ी बनने को बोला और चूत को पीछे से चोदने लगा. चटाई पर लिटा कर मामा ने मेरी टांगें अपनी जांघों पर खींच लीं और मेरी चूत का मुंह अपने लण्ड के करीब ले आये.

फिर जब मेरी चूत में वासना की आग लगी तो …अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा हार्दिक अभिनन्दन.

कमरे को ठीक करते समय पास की दराज के ऊपर रखे कंडोम के पैकेट को भी उसने हाथ में उठाया और उनको देखकर शर्माने लगी. मैं काफी खुशकिस्मत था कि मुझे इस तरह से एक हॉट कपल की लाइव चुदाई देखने का मौका मिल रहा था.

उस समय मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे मेरे लंड में उस चुदाई से सूजन आ गयी हो. तभी ताई की आवाज अंदर से आई- अरे पंकज, मैं अपने कपड़े बाहर भूल आई हूं. मैं भाभी की चुत को ताबड़तोड़ चोद रहा था और अब तक भाभी भी 2 बार झड़ चुकी थीं.

मैंने फिर से उनसे कहा- मनीषा रानी मेरा लंड अपने मुँह में फिर ले लो. जिससे वो ज़्यादा गर्म हो गयी और मेरी बेल्ट खोल कर पैंट उतारने की कोशिश करने लगी. वर्मा ने मुझे अपनी ओर खींच लिया और अपने सीने से चिपका कर मेरी गांड को दबाने लगा.

देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ बुआ मुँह से पागलों की तरह गों गों करते हुए लंड सकिंग सेक्स का मज़ा ले रही थीं. चाहे उनके वक्ष हों या गांड, उनके बदन का हर अंग, हर हिस्सा बहुत ही कोमल और मदहोश कर देने वाला था.

हिंदी सेक्सी पिक्चर वीडियो राजस्थानी

ये ट्रेन कोई स्पेशल ट्रेन थी, जो अभी ही चली थी और इसका किसी को मालूम ही नहीं था. मैं टहलते टहलते बाहर गया और अच्छा मौका देखकर मैंने वो पर्ची उठा ली. खैर … हम दोनों में धीरे धीरे प्यार हो गया और हमने अकेले में मिल कर सेक्स कर लिया.

मैंने प्रीति को इग्नोर करते हुए कहा- प्रिया … मुझे होटल के लिए देर हो रही है. ऐसे ही करीब 10-12 मिनट और चोदने के बाद मेरा और निगार आंटी का साथ में ही रस निकल गया. की बीएफ एचडीसोच कर रह जाता था कि यदि मां ने पापा को बता दिया तो मुझे घर से ही निकाल देंगे.

धीरे से धक्के लगाते हुए मैंने जिया मेम की चूत को चोदना शुरू कर दिया.

उसने मम्मों पर केवल कप रखे थे … चैन खुलते ही वो नीचे गिर गए और उसके चूचे आजाद हो गए. घर आकर खाना खाने के बाद बातें करने लगे और मैंने उसे बताया कि ऐसी चीजों के लिए संकोच करने की जरूरत नहीं है.

फिर मैंने पिंकी को उल्टा किया और उसके बाल हैंड शॉवर चलाकर साफ करने लगा. कुल मिलाकर वो गर्म माल थीं, जो मेरे जैसे मस्त लंड वाले लौंडे के लिए अपनी चुत खोलने के लिए राजी थीं. उस के लैपटॉप में कई ब्लू फ़िल्में थीं मैं एक फिल्म को वॉल्यूम बंद करके देखने लगा.

मैंने उनको बोल दिया कि भाई जैसा कोई मिलेगा तो कर लूंगी।वो बोली- अब मां को बताने के लिए हम दोनों को कुछ ऐसा करना चाहिए कि मां को हम दोनों पर खुद ही शक होना शुरू हो जाये.

बीच बीच में लौड़े को मुंह से निकाल कर कहती- आह्ह … गजब का लौड़ा है।फिर से लंड चूसने लगती. इतना कहकर मैंने अपना कोट उतारा और टेबल के नीचे जाकर उसकी टांगों को सहलाने चूमने लगा. लवली कहने लगी- आशीष अब सब जान गये हैं और ये तभी राज़ी होगें जब उनको कोई चूत मिले.

सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्स वीडियोअब मैं अपने कमरे की खिड़की खोल कर रखता, जैसे ही आंटी सामने वाले रूम में आतीं, मैं उनको देखने लगता. मम्मी उस वक्त अपनी चूत और चूचियों को कपड़े से ढकने का असफल प्रयास कर रही थी.

इंदौर की हिंदी सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- तो मुझे भी खेलने दे नौटंकीबाज! बता जल्दी क्यों बहाने कर रही है अब? वरना मैं तुझे चोद दूंगा अभी. फिर हम दोनों मां बेटी ने मिल कर सक्सेना के कपड़े उतार दिये और दोनों बारी बारी से उसका लंड चूसने लगीं. तकरीबन पांच मिनट चुत चाटने के बाद वो कहने लगीं- अब और मत तड़पाओ … मैं पागल हो रही हूँ.

वो बोला- ये भाई साहब कौन हैं सुभाष?सुभाष हड़बड़ा कर बोला- दोस्त है पुराना?वो बोला- तो इन्हें भी पार्टी में शामिल करो भई, इन्हें भी जन्नत घुमाओ. सर का एक हाथ जिया मेम की कमर पर था तो दूसरा हाथ जिया मेम के हाथ में था. उसके साथ दो-तीन बारगर्लफ्रेंड से सेक्सभी हुआ लेकिन मुझे कुछ खास मजा नहीं आया.

पूजा ने भी आंखें बंद किये हुए ही कहा- जान, आपने रात में मुझे तीन बार चोदा है. एक जवान लड़की टॉपलेस होकर केवल ऊपर से ब्रा और नीचे से जीन्स में मेरे सामने खड़ी हुई थी. उस बाऊंसर का मूसल लौड़ा मेरी गांड में झड़ रहा था और गर्म गर्म वीर्य की पिचकारी मार रहा था.

तभी अचानक से पर्दा हटा और वही भाभी मेरी बर्थ पर लेटने के लिए अन्दर आ गई. ये सुनकर मैंने निगार आंटी को बधाई दी तो आंटी बोलीं- लेकिन सलमान मुझे डर लग रहा है.

थोड़ी देर बाद रोहित की कॉल आयी लेकिन मैंने रिसीव नहीं की।दो तीन और कॉल आने के बाद कॉल आना बंद हो गयी।उसके कुछ देर बाद रोहित आया और बोला- भाभी बहुत नखरे कर रही हो? आपका प्यार देवर आपको प्यार करना चाहता है। और एक आप हो कि कुछ रिसपॉन्स ही नहीं दे रही हो।मुझे घर के अन्दर डर लगता है।”ठीक है.

फिर उसने मेरी चूत को काफी देर तक चूसा और मेरी टांगों को चौड़ी करके मेरी चूत में अपना लंड पेल दिया. बीएफ हिंदी वीडियो एचडी बीएफमैं ये सुनकर एकदम से चौंक गया कि दीदी मेरे साथ सेक्स करने के लिए तैयार है. जानवर वाला बीएफ पिक्चरउसके बाद दीदी ने मेरे लंड को मुँह में ले लिया और दो मिनट तक चूसती रहीं. फिर एक दिन सभी लोगों को शायद किसी रिश्तेदार के यहां निकाह में जाना था.

मेरी चूत एकदम गीली हो गई थी। रोहित ने धीरे-धीरे करके अपना लौड़ा मेरी चूत में डाल दिया और वह धीरे-धीरे करके मेरी चूत में धक्के लगाने लगा.

दीदी ने रूम का दरवाजा खोला तो मैं उनको देख कर हतप्रभ रह गया।मैंने सरिता दीदी को जब साड़ी में देखा तो देखता रह गया. दस मिनट तक आरज़ू मेरा लंड चूसती रही … तो मेरे लंड का माल गिरने वाला हो गया. एक हाथ से मैं लंड को हिला रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चूत को छेड़ रहा था.

उसकी बात सुन कर मैं जोर से हंसने लगा और बोला- कोई बात नहीं, तुझे भी सिखा दूंगा. और बता कैसी लगी मैं तुझे?फिर घूम कर वो मुझे अपनी अदाएं दिखा कर बोली- क्यों मोंटू हूँ न मैं मस्त माल!उसने नीचे सेक्सी ब्रा और पैंटी के सिवा कुछ नहीं पहन रखा था. जैसे ही उजाला हुआ तो देखा कि एक आदमी जो कि लगभग 35 साल का था, वो मेरी सासू मां की चूचियों को मसलने में लगा हुआ था.

हॉस्टल के सेक्सी वीडियो

उसने कहा- क्या?मैंने कहा- ये बताओ कि अब तक तुमने कितने लंड चूसे हैं?उसने कहा- एक!मैंने कहा- किसका? और कैसे थोड़ा प्रैक्टिकल करके बताओ. ये बात गर्मियों के दिनों की है, मेरे कॉलेज की छुट्टियां चल रही थीं, तो मैं बिल्कुल फ्री था. हमने 3 सीट बुक कर ली और शाम को हम बस स्टॉप पर पहुंच गए जहाँ पर हमारी बस लगी हुई थी.

अगर इतने दिन रख दिया तो एक रात में कुछ नहीं होगा। इतना कह कर मौसा ने अपने से मुझे चिपका दिया।चलती बस में मेरी लैगी को खोल कर मेरी चूत को चाटने लगे.

वो मेरे तंबू को घूरने लगी और फिर हंसते हुए बोली- तू तो अब बड़ा हो गया है.

मैंने कुर्सी को पीछे की टांगों को फैलाकर उसे उठाया और टेबल पर बिठा कर उसके होंठों को चूसने लगा. हम दो लोग लास्ट में थे सबसे।मैं समझ गया कि ये तीनों की तीनों एक ही बस की सवारी हैं. रानी चटर्जी बीएफ वीडियोदोनों मम्मों पर बारी-बारी चारों ओर से किस किया उसने!तो वहीं मनोहर मेरी दायीं जांघ को पकड़कर सहलाता, किस करता.

मैंने उसकी टांगों को चौड़ी कर लिया और उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा जिससे उसके शरीर में वासना की जोरदार लहरें उठने लगीं. तुझे रघु से जो भी चाहिए था मैं दूँगा।वो मेरी बात समझ चुकी थी इसीलिए उसने दोनों हथेलियों में अपना चेहरा छुपा लिया. आह क्या मज़ा आने लगा था दोस्तो … मेरे दोस्त की सास लंड बहुत अच्छा चूसती थीं.

मैं भी जोर जोर से हाँफने लगा और मेरे लंड से झटके के साथ ही वीर्य निकलने लगा. ये कहते हुए पूजा आंटी ने अपना डिल्डो मेरी गांड के छेद के ऊपर टिकाया और मेरी आंखों से आंखों को मिलाते हुए एक स्माइल दी.

बाथरूम, छत, गार्डन, किचन, हॉल!लेकिन कभी भी मंजू ने चुदाई करने नहीं दी.

हम दोनों भले ही एक छत के नीचे हैं लेकिन हम लोगों के रिश्ते अब बदल गये हैं. वो बोली- तुझे इसका कुछ इलाज नहीं मिला क्या?मैं बोला- जब इलाज घर में ही है तो मैं कहीं बाहर ढूंढने के लिए क्यों जाऊं?इतने में ही मां किचन में आ गयी. ऊपर से नीचे जाते हुए फिर मैं उनके हर अंग को चूमता हुआ उनकी चूत पर पहुंच गया.

सेक्सी बीएफ पानी वाली अब मैं कहानी पर आता हूँ। आपको अपने जीवन में घटी एक सच्ची घटना के बारे में बताता हूं. उनकी मखमली साड़ी के ऊपर से उनकी चूचियों को दबाने का अहसास बहुत ही उत्तेजित करने वाला था.

मैं दर्द के मारे तड़फ गई- आह … नहीं धीरे कर ले … अब नहीं बोलूंगी … आहह … आहहहह … मर गई … आहहह. अंजना- हैलो दीपक, आज मेरे मॉम डैड दोनों 2-3 दिनों के लिए बाहर जा रहे हैं. मेरा कोई प्रतिरोध नहीं देख दीदी मेरे हाथ के ऊपर अपना हाथ रख कर अपने हाथ को दबाने लगी.

हिंदी सेक्सी फिल्म नई

अलीज़ा मेरे पैर पकड़ कर बोली- अंजलि जी … प्लीज़ मुझे माफ कर दो, ये बात आप किसी से मत कहना, आप जो बोलोगी … मैं करूंगी. एक हाथ से उसकी चूची दबाता रहा और दूसरे हाथ से उसका टॉवेल ऊपर करके उसकी गांड सहलाता रहा. मैंने पूछा तो बोली कि उसको मुझसे ज्यादा जल्दी थी दूध पिलाने की इसलिए उसने पहले से ही ब्रा और पैंटी दोनों ही निकाल कर रखी हुई थी.

मौसा जी बीच बीच मैं मामी की दोनों चूचियों को बारी बारी से चूस रहे थे. धीरे धीरे वो फिर से कमर उठाने लगीं तो मैंने लंड पर थूक लगाया और उसकी चुत पर सैट करके उसे चोदना शुरू कर दिया.

जैसे ही मैंने हाथ में लंड लिया उसका आकार ऐसा था कि वो मेरे हाथ की गोलाई में समा नहीं रहा था.

अब मुझसे रुका नहीं जा सकता था और मैंने उसकी चूत को उसकी चड्डी के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया. कब उसका लंड मेरी मुटठी में आ चुका था, मुझे पता ही नहीं चला।तभी रोहित बोला- भाभी मजा आया?बहुत!!”बस इतना ही शब्द निकल पाया था. घर आया तो सबसे पहले मैंने बाथरूम में घुस कर जोर जोर से लंड की मुठ मारी और वीर्य गिराने के बाद ही मुझे और मेरे लौड़े को चैन मिला.

उस समय मंजू के पास मेरा माल पीने या न पीने का कोई भी विकल्प नहीं था. मैंने पूछा- अगर मैं तुम्हारी बीवी होती तो तुम क्या करते?इतना सुनना था कि वो सीधा बोलने लगा- अगर आप मेरी बीवी होती तो मैं आपको दिन रात चोदता. उसके बाद सलहज ने मुझसे अपनी चूत की प्यास कैसे बुझवायी?दोस्तो, आप सभी को मेरा प्रणाम.

उसका लंड खडा था तो उसने क्या किया?हाय दोस्तो, मैं आराध्या अपनी देसी सेक्सी भाभी की हिन्दी पोर्न स्टोरी का अंतिम भाग आपको बता रही हूं.

देसी चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफ: मगर न तो आज तक उसे फोन किया था और न मैसेज। उस दिन मैंने उसे पहली बार कॉल किया. मैं पहली बार किसी लड़की को इस तरह असलियत में नंगी देख रहा था और वो भी इतने करीब से.

क्योंकि अभी तक हम लोगों ने ओरल सेक्स नहीं किया था, वो इससे कुछ गंदा महसूस करती थी. चूंकि मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ इसलिए मेरी सेक्स कहानी भी यहीं से ही जुड़ी हुई है. फिर मैं अगले दिन मामी की दूसरी वाली ब्रा भी उठा लाया और उसमें भी शाम तक में तीन बार मुठ मारी और उसको छुपाकर रख दिया.

तो मैंने उन्हें कैसे मनाया सेक्स के लिए?हाय फ्रेंड्स, अपनी फैमिली सेक्स स्टोरी के पिछले भागविधवा ताई ने मेरी वासना जगायी-1में मैंने आपको बताया था कि एक दिन मैं मेरी ताई के साथ घर पर अकेला था.

अंकल का लंड मुँह में लेते ही मुझे लगा जैसे कोई एक नमकीन मूसल मेरे मुँह में डालकर मेरा मुँह बंद कर दिया गया हो. उसके बाद उन तीनों ने मुझे बेड के किनारे पर कुतिया की पोजीशन में कर लिया. मेरे मन में अलग उलझन थी कि अवकाश के समय जो खेल प्रतियोगिताएं व आवारागर्दी के मेरे प्रायोजित कार्यक्रम थे वो सब बेकार हो जाएंगे.