बीएफ एचडी सनी

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स मुंबई वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

चाची सेक्सी स्टोरी: बीएफ एचडी सनी, करीब 15 मिनट चोदने के बाद मैंने उनसे बोला- आपकी गांड को देखकर मेरा मन कर रहा है कि मैं आपकी गांड भी मार लूँ.

मुसलमानों की सेक्सी बीएफ

दोस्तो, उम्मीद करता हूं कि मेरी ये रण्डी की गांड की सेक्स कहानी आप सभी लोगों को पसंद आएगी. सेक्सी हिंदी बीएफ सेक्सीजो किसी भी लौंडिया या भाभी की चूत का पानी निकालने के लिए हर वक्त पूरी तरह से तैयार रहता है.

हम दोनों की नजरें एक दूसरे से बचते हुए एक दूसरे को ही देखने में लगी रहीं. क्सक्सक्स सेक्सी हिंदी विडिओमैं तो समझ गया था कि अब एक दो दिन में आराम से भाभी की चूत चोदने को मिल जाएगी.

उनका घर एक बंगला था जिस पर सिक्योरिटी गार्ड ने गेट खोला और गाड़ी सीधी अंदर चली गई.बीएफ एचडी सनी: मैं समझ गया था कि भाभी का मन करने लगा है कि वो मेरे लंड को अपनी चूत में घुसवा ले.

मैंने उसके मुँह में ही अपना पानी निकाल दिया … उसने मेरा पानी पी लिया और लंड को चूस चूस कर साफ कर दिया.टाइट चूत की चुदाई कहानी मेरे दोस्त की मौसी की कसी चूत की बड़े लंड से चुदाई की है.

सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी - बीएफ एचडी सनी

गीता दो बार झड़ चुकी थी लेकिन मेरा लंड इतनी जल्दी स्खलित होने वाला नहीं था.चूत रस निकलने के कुछ पल बाद उसने मेरे पीठ पर अपनी उंगलियां धंसा कर कस लिया था.

मैंने बोला- अच्छा ठीक है … बोलो!बहन ने कहा- भैया क्या तुमने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स किया है?भैया ने कहा- हां मैं तो रोज ही करता था. बीएफ एचडी सनी भाभी की पतली कमर देखकर मेरा लंड उफान मार रहा था और भाभी के बड़े बड़े गोल स्तनों को देखते ही लंड में भाभी को चोदने की बेचैनी हो रही थी.

जिससे वो कामुक सिसकारियां लेने लगी और मेरे बालों में हाथ फेरने लगी.

बीएफ एचडी सनी?

मेरा ब्वॉयफ्रेंड अपने एक दोस्त को लेकर आया और मुझसे बोला कि इसकी शादी होनी है. उस काले सांड को मेरी गोरी सुंदर बहन के साथ देख कर मुझे तो गुस्सा आ गया. थोड़ी देर बाद मैंने खुद ही पूछ लिया कि आपकी पत्नी कहां है?उन्होंने बोला कि वो बाथरूम में है, थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा.

धारा ने आज से पहले बस दो बार ही अपनी गांड में लंड डलवाया था और यही वजह थी कि उसकी गांड ने अब तक लंड लेने की आदत नहीं लगवायी थी और अब भी किसी कुँवारी गांड की तरह तंग ही थी. देर से दाखिला लेने की वजह से वो पाठ्यक्रम में मुझसे थोड़ा पीछे थी, इस हिसाब से मैं उसका सीनियर हुआ. हम दोनों भी पूरी तरह से कामावासना में डूब कर प्रणयक्रीड़ा करने में जुट गए थे.

अब आगे पेनफुल एनल सेक्स:मैं- चूस ले रंडी … चाट साली अपने मालिक के टट्टे बहन की लौड़ी … मेरी गांड पर अच्छी तरह से जीभ घुमा वर्ना इसी बेल्ट से बांध कर तेरी नूरानी गांड का फीता काट दूंगा. फिर सुबह जैसे ही उसका पति जॉब पर गया, उसने मुझे खिड़की से इशारा किया कि आ जाओ, मेरा पति चला गया है. पर मेरा हमेशा उसके घर जाना सम्भव नहीं था तो मैंने उससे कहा कि ज़रूरत पड़ने पर वो खुद मेरे ऑफिस आ जाया करे.

मेरी मां एक पतली सी नाइटी में थीं जो कि उनके घुटनों से ऊपर तक की ही थी. आपका आशीषधन्यवाद[emailprotected]हॉट बेब सेक्स स्टोरी का अगला भाग:हॉट मधु की चूत का मधु निकाला- 2.

‘आआ आआ मम्मीई मम्मी मुझे नहीं करना … आआह मम्मी जाने दो मुझे नहीं करना … बाहर निकालो आआ …’अब मैंने थोड़ी कड़क आवाज में कहा- चुप्प मादरचोद रंडी.

रोहन भी मुझे बहुत घूरता था और हसरत भरी निगाहों से मेरे दूध देखता था.

फिर मैंने सुपारे को बाहर करके अपनी जुबान उसके नुकीले सुपारे के छोटे से छेद पर रख दी. [emailprotected]देसी चूत सेक्स कहानी का अगला भाग:मनचली गर्म लड़की की सेक्सी चुदाई यात्रा- 2. मगर गांव का माहौल था, जरा सी बात पर बखेड़ा खड़ा हो सकता था और मैं वो सब नहीं चाहता था.

मैं भी अपने घुटनों के बल आ गया और लंड बाहर निकालकर अन्दर डालने लगा. हैलो फ्रेंड्स, मैं मानस पाटिल, आपको एक गांडू लौंडे की बहन की चुदाई की कहानी सुना रहा था. मैं लगा रहा और वो आंह आंह करती रही अपनी चूत मेरे मुँह में देती रही.

मैं भी उस चुंबन में बिल्कुल खो गयी थी और बड़ी शिद्दत से आसिफ के होंठों को चूमने लगी थी.

दोनों ने अपने अपने बारे में बताया और एक दूसरे को समझा जिससे हमारे बीच दोस्ती और भी गहरी हो गई. मैंने भी अपनी टांगें फैला दीं और गांड उठाकर उस मास्टर से अपनी चूत चुसाई का मजा लेने लगी. पांच मिनट तक चोदने के बाद उसने अपना मुँह मेरी चूत में घुसा दिया और जोर जोर से चूत चाटने लगा.

चाची को देखा तो मन हुआ कि अभी इनकी गांड में लंड डाल कर चोद दूँ लेकिन मैं ऐसा नहीं कर सकता था. मेरे गले में अपनी बांहों का हार डालते हुए उसने मेरी आंखों में देखा और अगले ही पल उसके होंठ मेरे होंठों पर आपके मुझे चूमने लगे. अब जब मैं उसको अपने साथ अपने एक क्लाइंट पाटिल जी के सामने ले गया तो उनकी लार रेशमा की फड़कती चूचियों और उठी हुई गांड पर टिक गई.

वो छूटने का ड्रामा करती हुई बोलीं- मैं तुम्हारी चाची हूँ, कुछ तो शर्म करो.

मैंने कहा- क्या वो घर मुझे देखने मिल सकता है?मॉम मुस्कुरा दीं और बोलीं- हां जरूर दिखा तो दूंगी … पर अभी मिलेगा नहीं. मैंने आपको पहले भी बताया है कि जब से मेरा मेरे भाई के साथ चुदाई का सिलसिला शुरू हुआ है तबसे मैंने पैंटी पहनना बंद कर दिया है.

बीएफ एचडी सनी दूसरे दिन सुबह चाची मेरे घर आईं तो मैं उनके सामने सिर्फ एक तौलिया पहन कर नहाने जाने लगा और चाची से कहा- आप मेरे लिए कुछ नाश्ता बना दो चाची, मुझे एग्जाम देने जाना है. मैंने कहा- क्या रास्ता है?वो बोलीं- अगर तू मुझे खुश कर देगा तो मैं वादा करती हूं कि किसी से कुछ नहीं बोलूंगी.

बीएफ एचडी सनी मैं कुछ जोरदार धक्के मारकर अपनी चरमसीमा पर पहुंच गया और लंड से वीर्य की पिचकारियां देविका की चूत की गहराई में मार दीं. कुछ देर मौसी के बदन को निहारने के बाद मैं मौसी को फिर से किस करने लगा.

फिर कुछ लड़कों से मेरी बात भी हुई और हमारी क्लास का एक ग्रुप भी बना व्हाट्सअप पे.

शिल्पा शेट्टी हीरोइन सेक्सी वीडियो

फिर मैं उससे बोला- चल अब घोड़ी बन जा!लेकिन उसने सोचा कि मैं उसकी गांड मारूंगा इसलिए वो बोली- नहीं नहीं साहब पीछे से मत करिए, वहां बहुत दर्द होगा. हम दोनों के कपड़े अभी भी वहीं छत पर पड़े थे, पर इस वक़्त कपड़ों की किसको पड़ी थी!नंगी किरण किसी लावारिस कुतिया की तरह मेरे पीछे पीछे नीचे आयी. Xxx पंजाबी चुत की चुदाई कहानी में पढ़ें कैसे एक कामुक जवान कामवाली बाई को चोदकर मैंने अपनी हवस मिटाई। वो मेरे रूम की सफाई करने आती थी.

सोनम फ्रंट सीट पर बैठकर मेरे लन्ड को पैंट के ऊपर से पकड़ कर दबा रही थी और साथ में रास्ता भी बता रही थी।कुछ देर कार ड्राइव के बाद हम दोनों सेलेक्ट सिटीवॉक मॉल पहुंच गए. मैं कभी उनकी गर्दन पर किस करता तो कभी उनके कान पर अपनी जीभ चलाता और कान के निचले हिस्से को चूसता. मैंने अनुराग को वॉशरूम का पूछा और वॉशरूम चला गया। वहां मैं अपने मसाज वाले कपड़े पहन कर बाहर आ गया।फिर मैंने अपने बैग से तेल और क्रीम निकाल कर बेड के रख दी और अनुराग से बोला- मैं तैयार हूं!तो अनुराग बोला- ओके स्टार्ट करो!और अनुराग वही साइड में एक कुर्सी पर बैठ गया.

मैंने उसके एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया और जोर जोर से चूसने लगी.

मैं उनका तात्पर्य समझ नहीं पाई, मैंने खुद पढ़ा है ब्रीज़र और बीयर दोनों में ही 4-6% शराब होती है. थोड़ी देर में मेरी बहन सोनी आ गई और उसने हमें गांड रगड़ते हुए देख लिया. मेरी प्यास बुझा दो … बहुत दिनों से चुदी नहीं हूं, आज मेरी वासना मिटा दो.

भाभी ने भी मेरी अंडरवियर उतार दी और लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी. कभी उसे दांतों से दबा लेती तो कभी उसके छेद में जीभ को नुकीला करके मनीष को तड़पा रही थी. उस दिन में अपने कमरे में आ गया और खाना आदि के प्रबंध के बारे में सोचने लगा.

मैंने जल्दी से कंडोम लिया और सीधा होटल रूम में आ गया और बिस्तर पर आकर बैठ गया. आज उसकी जवान बहन एक जवान लड़के से चुद गयी थी और उस लड़के का वीर्य उसके बहन की कोख़ में गिर गया था.

चूत का रस धारा के गांड के छेद को पूरी तरह से भीगा चुका था, ऊपर से शेखर की ज़ुबान की छुअन ने धारा को उन्माद से भर दिया. मैंने कहा- हां तो ठीक है, मैं मामा जी से कह दूँगा कि रात को हम दोनों यहीं रुकेंगे. उन विशाल चूतड़ों के नीचे रेशमा का मुँह पिचक गया होगा, जिस वजह से वो कुछ नहीं कर सकी.

बीस मिनट तक अपनी बहन की चूत चोदने के बाद उसने अपना सारा वीर्य मेरे मुँह में भर दिया.

मैंने पूछा- कैसा लगा भाभी?भाभी ने बताया- आज मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. वो नंदा का हाथ पकड़ कर बाहर ले गयी और बोली- ओके मॉम जैसी तुम्हारी इच्छा … पर मेरा एक सवाल है. थोड़ी देर बाद उसने अपने दोनों हाथों से मेरी चूत के दोनों होंठों को फैला दिया और अपनी जीभ और दांतों से मेरी चूत और भग्नासा को काटने चाटने लगा.

मेरी सहेली ने बताया था कि उसका पति गांड मारता है, तो उसे बहुत ज्यादा दर्द होता है. पूरे कमरे में भाभी की आह की धीमी आवाज गूंज रही थी, वो चूतड़ को उठा के अपने पैरों में मेरे सिर को फंसा कर मजे लेती हुई चूत चटा रही थी.

मुझे न जाने क्यों भाभी से बात करने में बड़ी शर्म आती थी, जिस कारण से मैं उनसे कुछ बोल नहीं पाता था. कभी उनका पति शहर से बाहर जाता तो मैं मैम ज्योति के पास आ जाता और हम दोनों सेक्स करते. मेरा लौड़ा अब टाइट होकर जींस फाड़कर कोमल की चूत के अन्दर तक जाने को बेकरार था.

फुल सेक्सी झवाझवी व्हिडिओ

चूत के पानी की मदद से मेरा लंड लौड़ा अब साबिरा की फुद्दी की तंग दीवारों से रगड़ने लगा और पहली बार चुदाई का मजा लेती साबिरा की चूत ने भी अब खुलना चालू कर दिया.

लखनऊ पहुंच कर और लखनऊ की ट्रेन में क्या हुआ, वो मैं आपको अपनी चुदाई की कहानी के अगले भाग में लिखूँगी. उसने भी अपने घर पर बोल दिया कि फ्रेंड्स के साथ रात को मूवी देखने जाऊंगी और उसके बाद उन्हीं के पास ही रुक जाऊंगी. इससे मौसी कुछ ज्यादा ही पागल हो गईं और जोर जोर से मेरे लंड पर कूदने लगीं.

इतने में सोहम के रोने की आवाज आयी तो सरिता भाभी भागकर अन्दर गयी और सोहम को बाहर लेकर आ गयी. कुछ समय बाद उनके घर में कुछ आर्थिक दिक्कत होना शुरू हो गई थी जिस वजह से भाभी अपना मकान बेच कर अपने गांव चली गयी. बीएफ बीएफ पिक्चरउस दिन में अपने कमरे में आ गया और खाना आदि के प्रबंध के बारे में सोचने लगा.

उसमें रेशमा की क्या मर्जी थी और उसने मेरी बात को मानकर क्या क्या न किया. जैसे जैसे लंड गांड में अन्दर बाहर हो रहा था, थप थप थप की आवाज़ तेज तेज आने लगी थी.

यदि आपको लगता है कि मैं और अच्छा लिख सकता हूँ, तो आप प्लीज अपनी राय मुझे नीचे दिए गए किसी भी माध्यम से दें. अब वो बोले- क्या मैं तुम्हारे नंगे बदन को छू सकता हूँ?मैंने कहा- अभी कैसे छू सकेंगे भैया?वो बोले- अभी नहीं, कभी और तो छू सकता हूँ ना?इस पर मैंने बोल दिया- ठीक है आप छू लेना, मैं आपकी ही तो बहन हूँ. मेरा लंड एकदम सीधा खड़ा था और उसी अवस्था में सामने को निकला हुआ था.

अचानक चुदाई रुक जाने से साबिरा को अपनी चूत में खालीपन महसूस हो गया और उसने भी आश्चर्य से मेरी तरफ देखा. मैं भी आंटी की चूचियों को मसलने लगा और तेज तेज अन्दर बाहर अन्दर बाहर झटके लगाने लगा. अब जब मैं उसको अपने साथ अपने एक क्लाइंट पाटिल जी के सामने ले गया तो उनकी लार रेशमा की फड़कती चूचियों और उठी हुई गांड पर टिक गई.

सेक्स कहानी पूरी तरह से उनके द्वारा ही लिखी गई है और मेरे द्वारा किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है.

उसका फिगर 34C 28 34 था, बिल्कुल टाइट बॉडी दूध की तरह गोरी, देख कर मेरा लंड टाइट होने लगा।श्वेता मेरे पास आई मुझे किस करने लगी. फिर उसने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और चुदाई की पोजीशन बना कर अपना लंड मेरी चूत पर रख कर रगड़ने लगी.

मैं कहां कुछ सुनने वाला था; मैंने चाची को उल्टा करके डॉगी स्टाइल में किया और उनकी गांड में लंड रगड़ने लगा. गीता अपने आपको रोक ना सकी और उसकी चूत ने ढेर सारा गर्म चुतरस छोड़ दिया था. मैंने उससे कहा- क्या हुआ … क्या पहली बार ले रही है?उसने कराहते हुए हां कहा.

लेकिन शेखर इतनी मुद्दत के बाद सच हुए अपने सपने को टूटने भी नहीं देना चाहता था. मैंने भाभी की गांड पर एक थप्पड़ मारा और उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया. मैं- ले मादरचोद गांडू, चूस भैन के लंड अपने मालिक का लौड़ा चूस बहनचोद … आज देख कैसे तेरा जीजा तेरी रंडी बहन को तेरे सामने चोदेगा कुत्ते, मुँह खोल भोसड़ी के.

बीएफ एचडी सनी मैं एकदम आगे बैठी थी तो समर सर मुझे देख कर पूछने लगे- तुम कर लेती हो?मैंने हां में जवाब दिया. आसिफ ने खुद फातिमा का हाथ मेरे हाथ में दिया और बोला- ये ले बहन, आज से मैं तुम दोनों के प्यार के बीच में नहीं आऊंगा.

सेक्सी वीडियो खाली

मेरे निप्पल्स को चूसते हुए ही वो मेरी बुर पर भी अपने हाथ को फेर रहे थे. लिप लॉक होते ही मैंने अपनी जीभ को उसके मुँह में डाल दिया और उसने उसे लॉलीपॉप की तरह चूसना शुरू कर दिया. मैं दोनों की बातें सुनकर हंसने लगा और बोला- मेरी रंडी मौसी और मॉम झगड़ा मत करो.

मैंने बिना हाथ लगाए अपनी जीभ, दोनों निप्पलों पर बारी बारी से गोल गोल घुमायी, तो गीता के मुँह से तेज तेज मादक सिसकारियां निकलने लगी थीं- आह ओह ऊह ऊहं हूँ आह ऊ हू!उसके निप्पल तनकर कड़क हो गए थे. इस सबका नतीजा यही होने वाला था कि आज एक बहन अपने नामर्द भाई के सामने ग़ैरमर्द के नीचे टांगें खोल कर खुल कर चुदेग़ी. तमिल एसएक्सईमैं इतनी गीली हो चुकी थी कि क्या कहूँ … ऐसा लगने लगा था, जैसे मेरी जान ही निकल जाएगी.

मैं बहुत ही हल्के से अपने चूतड़ को कभी कभी थोड़ा सा ऊपर कर देता था, बर्दाश्त ही नहीं हो रहा था।भाभी समझ चुकी थी कि चूत की हवस जाग गई है।वो बोली- मैं कुछ हेल्प कर दूं क्या इस तंबू को और ऊंचा करने में?मैंने कहा- जो मन करे, करो!भाभी बोली- इसे बाहर निकाल दूं क्या?मैंने कहा- निकाल दो!जैसे ही मैंने कहा, भाभी तुरंत मेरे बड़े से लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया.

अब जो लड़का फ्री था, उसने प्रिया के बोबे मसल ने शुरू कर दिए और प्रिया की चूत में अपना लन्ड डालने लगा. मैंने भी अपनी गांड थोड़ी ऊपर उठाते हुए उसको कच्छा नीचे करने में मदद कर दी.

वो बोलीं- मेरे पति हमेशा काम के वजह से बाहर रहते हैं और मुझे शारीरिक सुख नहीं दे पाते हैं. उन्होंने मुझसे पूछा- मेरी बहू को अपने ससुर का लंड कैसा लगा?मैंने भी मुस्कुराते हुए कहा- बहुत अच्छा ससुर जी. इस सेक्स कहानी में मेरी मौसी, पड़ोसी, मेरे जीजा, डैडी की सेक्रेटरी के अलावा और भी बहुत लोग जुड़ते चले गए.

मैंने उनके सामने डांस करते हुए भैया से अपने खूब सारे वीडियो बनवाए, जिसमें मैंने शॉर्ट्स और टी-शर्ट ही पहन कर बनवाया था.

शेखर बार-बार अपने होठों पे अपनी जीभ फिराकर अपनी प्यास बुझाने की नाकाम कोशिश कर रहा था. अब आगे हार्ड फक़ नेक्स्ट डोर गर्ल का मजा:मैंने उसे देखा तो लगा कि आज पहली बार देख रहा हूं. आइए चलते हैं इस कहानी के अगले और अंतिम भाग की ओर …बिस्तर पे असहाय बंधे हुए शेखर के सामने एक और रोमांच खड़ा था … अपने चेहरे को पूरी तरह से मास्क से ढक कर एक झीनी साई छोटी नाइटी में!शायद शेखर के रोमांच की सभी इच्छाओं की पूर्ति आज ही हो जानी थी.

नौकरानी की बीएफतान्या ने दुबारा से मेरा मेकअप सही कर दिया और इसके बाद वो एक तेल की बोतल रख कर कमरे से चली गयी. मैंने भी देर न करते हुए भाभी की बड़ी बहन की दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसना शुरू कर दिया.

पंजाबी में सेक्सी मूवी

बस जरा चूत चोदना सिखा देना!वो खुश हो गईं और बोलीं- मैं तुझे चोदना सिखा देती हूँ. अब हमारी फोन पर भी बात होने लगी और हम दोनों रोज एक साथ ही घर जाते थे. ऑफिस स्टाफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक दिन बरसात में मुझे मेरी सहकर्मी लड़की का फोन आया.

उसने मुझे अपने हाथों से रोका, नहीं तो मैं वास्तव में उससे टकरा जाता. शेखर को कुछ समझ में आता … इससे पहले ही धारा ने राजधानी की स्पीड से अपनी चूत में शेखर का लंड निगलना शुरू किया. अब मैंने उसे घुटनों पर लाते हुए घोड़ी बना दिया और उसके चूतड़ों को पकड़ कर तेज तेज धक्के मारने लगा.

’‘क्यों क्या हुआ?’‘ऐसे में तो बहुत अन्दर तक घुस रहा है आआह …’‘कुछ नहीं … बस तू मजे ले. मैंने पीछे से उसके बाल पकड़े और एक बार में ही अपना पूरा लंड उसकी चूत में घुसेड़ दिया, इससे उसकी फिर से आह निकल गई. मैं अपना पेपर देने जब जब जाती थी, तो मेरे वो दोनों सर मुझे अपने साथ कहीं बाहर ले जाते थे.

मैंने और सुची ने आंख मारी और हाथ को एक जैसे करने लगे तब सोनी का ओड हो गया. और दूसरा यह भी था कि ना मैं आंटी में दिलचस्पी ले रहा था ना आंटी मुझमें!फिर भी पेमेंट के लिए तो मुझे रुकना ही था.

तकरीबन 20 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मेरे लंड से माल निकलने लगा और मैंने अपना पूरा माल उसकी चूत में डाल दिया.

पहले तो मैंने इसे नजरअंदाज किया लेकिन बाद में मैंने इसे अपनी जिंदगी का एक हिस्सा बना लिया. माँ बेटी की चुदाईमैंने उसे अपनी दोनों बांहों भर लिया और उसे बेतहाशा गर्दन पर चूमने लगा. हिंदी हिंदी बीएफ फुल एचडीपूरी तरह संतुष्ट होने के बाद मैंने लाइट्स ऑन कर दीं और सोनी को बता दिया. मैं भाभी के बूब्स चूसने लगा और धीरे धीरे नीचे आता हुआ उनके पेट में उनकी नाभि में जीभ फेरने लगा.

कहानी के पिछले भागमेरा लंड प्राइवेट सेक्रेटरी की कुंवारी गांड मेंमें अब तक आपने पढ़ा था कि रेशमा की गांड में मेरा लंड पूरा घुस चुका था और उसकी गांड फट चुकी थी.

अभी कुछ दिन पहले की एक घटना हुई, उसी की MILF सेक्स कहानी मैं आज आपसे साझा करने वाला हूँ. मैंने चूत की फांकों में लंड का सुपारा सैट किया और पूरी ताकत से पेल दिया. बस फिर क्या था, मुझे भी अपनी हवस मिटानी थी … तो मैंने उससे कुछ नहीं कहा.

दोस्तो, मैं कोमल मिश्रा अन्तर्वासना के सभी पाठकों का स्वागत करती हूं. अब किरण दो-दो लौड़े चूस रही थी जो रेशमा की चूत और गांड से बाहर आए थे. जब मैं उसके साथ बाजार या कहीं शादी पार्टी में जाता हूं, तो लोग उसकी तरफ बड़ी गंदी निगाहों से देखते हैं.

सेक्सी 2020 के सेक्सी

दुकानदार बोला- जब ये साड़ी आपकी मैडम पहनेंगी तो लोग आपका नाम लेकर कहेंगे कि क्या साड़ी खरीदी है आपके हसबैंड ने!भाभी धीरे से बोली- ये तुम्हें मेरा पति समझ रहा है!और कहते हुए मुस्कुरा दी।मैं कुछ नहीं बोला क्योंकि मैं तो कब से भाभी का पति बनने की चाह रखे हुए था दिल में!फिर भाभी कुछ अंडर गारमेंट दिखाने के लिए बोली. जब मेरे ऑफिस में काम की वजह से समय की दिक्कत आ रही थी, उसी वक्त वो भी ऑफिस के कारण थोड़ा मायूस रहती थी. अचानक से ससुर जी रसोई में आए और पीछे से मुझे जकड़ लिया और मेरे गाउन को कमर तक उठा लिया.

हमारे रिश्तेदार के घर शादी थी, मेरे घर के सब लोग एक हफ्ते के लिए जाने वाले थे.

कुछ मिनट की और चुसाई के बाद उसकी चूत ने झरना बहा दिया, मैं उसके चूत के रस को पी गया.

मैम ने हमारे बैच का एक ग्रुप बनाया था और उसकी वजह से मेरे पास उनका नंबर आ गया था. मॉम ने मेरी नजरों का पीछा किया और अपने एक हाथ से मेरे एक हाथ को पकड़ कर अपने मम्मों पर रखवा दिया. ಲ್ಯೆಂಗಿಕ ಕ್ರಿಯೆइधर मेघना ने बॉस की चड्डी में अपना एक हाथ डाल दिया था और उसके लंड को चड्डी के अन्दर ही सहला रही थी.

वो सब भी हमेशा मुझसे यही बोलते थे कि जिससे तुम्हारी शादी होगी, वो बड़ा किस्मत वाला होगा. कुछ मिनट चूत चाटने में वो गर्म हो गईं और बोलीं- मुझे पेशाब आ रही है … मैं मूत कर आती हूँ. मुझे हमेशा से ऐसा लगता है कि लोगों ने सेक्स को एक बहुत बड़ा गोपनीय मसला बना रखा है.

जैसे ही रोहन लेटा और उसके ऊपर बैठकर मैंने उसका लंड अपनी चूत में भरा, मेरे भाई ने पीछे से आकर अपना लंड भी मेरी चूत में घुसा दिया. एक्स एक्स एक्स सिस्टर हॉट कहानी में मेरी छोटी बहन ने मुझे उत्तेजित करके अपनी सीलबंद बुर में मेरा कड़क लंड घुसवा लिया.

मैंने देविका की चूत पर अपने मुँह से ढेर सारा थूक दिया और अपने लंड के सुपारे से थूक मलकर लबालब कर दिया.

देविका मुझे अपने बांहों में कसकर सिसकारियां लेने लगी- उई मां ऊउफ्फ हूँ हुं आह स् स् स्ह स्ह हर्षद बहुत शैतान हो तुम … इतने जोर से भी कोई पेलता है क्या? मेरी चूत में कितना दर्द हो रहा है. पहले मैं एक कंपनी में काम करता था, जहां मुझे सिरोही में किसी प्रोजेक्ट के काम के लिए जाना पड़ा. रेशमा का हाथ अपने हाथ में लेकर उन्होंने उसको चूम कर रेशमा की तरफ देखा और मुस्कुराने लगे.

बड़े बूब्स वाली भाभी की चुदाई ’‘क्या अन्दर तक चला जाता है?’वो हंसी और बोली- आपका वो!मैंने कहा- मेरे वो का कुछ नाम भी रख दे. मैंने सोहम को भाभी के पास सौंप दिया और भाभी से कहा- मैं ऊपर जाकर आराम करता हूँ.

कुछ मिनट तक चूत का रस पीने के बाद उसने अपना लंड मेरी चूत की फांकों में फंसाया और एकदम से घुसा दिया. वो बोली- मूसल रख लूं साब?मैंने कहा- मूसल सा लगता है क्या?वो हंसी और बोली- हां मूसल सा ही तो है आपका!मैंने कहा- मेरा मूसला सा क्या है?वो हंसी और बोली- वही आपका वो!मैंने कहा- अबे यार, अपनी चूत में लंड ले रखा है तूने … और लंड को वो वो कह रही है. जब मैं पेशाब करने के बाद वापस बाहर आया तो मेरी नज़र भाभी की छत पर चली गई.

सेक्सी वीडियो आदावासी सेक्सी

मैंने भी उसका गुस्सा बढ़ाने के लिए जानबूझ कर वो वीडियो बार बार उसको दिखाई और शिराज को भला-बुरा कहता रहा. वो अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों निप्पलों को अपनी मुठ्ठी में भर कर दबाने लगी. मैं अभी कुछ कहती, तब तक भाई ने मेरे मुँह पर हाथ से मेरी आवाज दबा दी.

उस दिन के बाद अगले दिन जब मैं घर पर अकेली हुई तो समीर भैया को उनके घर से बुला लायी. मैं बोला- भाभी वादा तो कर लिया आपने … मगर आपको पता है ना कि जीएफ क्या होती है और बीएफ का क्या हक होता है?भाभी- हां सब पता है.

मेरी आंखों में गुस्सा देख कर उसने चुपचाप मेरा लौड़ा अपने हाथ में लिया.

लंड की टोपी के चमड़े को नीचे करके उसने पहले तो उसे बहुत प्यार से किस किया. इतने दिनों से लंड की प्यासी मेरी चूत ने कुछ ही झटकों में लंड को जज्ब कर लिया और मैं मजा लेने लगी. अब मैंने आंटी के पैरों को मोड़कर चोदना शुरू कर दिया, इससे आंटी दर्द से ‘आहहह उईई …’ करके चिल्लाने लगीं.

बचपन से खेतों में काम करने की वजह से मेरी देहयष्टि भी काफी आकर्षक है. लंड को चूत से मुहाने पर रखती हुई वो धीरे धीरे नीचे बैठती चली गयी और मुश्किल से दस सेकंड के अन्दर लौड़ा फिर से उसकी भोसड़ी में ग़ायब हो गया. तो वो बोली- मैं भी घर वालों को कब से यही बोल रही हूँ कि मुझे अब नया लॅपटॉप दिला दो.

मेरे ऑफिस में कुछ दिन बाद काम बढ़ जाने से मुझे समय की किल्लत होने लगी.

बीएफ एचडी सनी: इतना तय कर धारा सीधी हुई और एक बार फिर से अपनी हथेली में थूक लेकर शेखर के बाहर बचे आधे लंड पे जड़ तक मल दिया और एक लम्बी से साँस लेकर एक ज़ोर का झटका देकर अपने चूतड़ को पूरा दबा दिया. जब लड़की चुदाई के समय गालियां देती है तो चुदाई का मजा दुगना बढ़ जाता है.

मैंने उसके दोनों आमों को हाथों में जकड़ लिए और ज़ोर ज़ोर से लंड अन्दर बाहर करने लगा. थोड़ी देर बाद हम सबने मिलकर कमरे का माहौल बनाना शुरू किया और कुछ ही पलों बाद पूरा कमरा हल्के से संगीत और वाइन के साथ तैयार हो गया. मेरी नींद रात में खुली, तो मैंने पाया कि मौसी दूसरी तरफ मुँह करके सो रही थीं.

मैं जब भी फ्री होता तो कभी अम्मा जी के पास बैठकर बातें करने लगता तो कभी कभी दिव्या के साथ खेलने लगता.

कुछ देर बाद मैंने ब्रा पैंटी छोड़ कर भाभी के सारे कपड़े एक-एक करके उतार दिए और अपने भी उतार दिए. कुछ देर तक हल्के हल्के से दूध सहलाने के बाद मैंने उसके एक मम्मे को अपनी पूरी मुट्ठी में भरकर थोड़ा जोर से दबा दिया जिससे उसके मुँह से आह निकल गयी. सन्नी के साथ आप कितनी बार चुदी हो?मॉम ने मेरे मुँह से ‘कितनी बार चुदी हो …’ शब्द सुने, तो मॉम हिल गईं और बोलीं- ये क्या बकवास कर रहे हो?मैंने कहा- ठीक है, मत बताओ.