गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ

छवि स्रोत,bf.xx सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ 9 साल: गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ, आज भाभी की चूत के बारे में सोचकर मेरे लंड में अलग ही तनाव बना हुआ था.

अमेरिकन का सेक्सी वीडियो

मैं पूरा लंड ले भी नहीं पा रही थी … मगर वे दोनों जबरदस्ती लंड पेले दे रहे थे. एचडी नया सेक्सी वीडियोकुछ देर चूचियों का रस पीने के बाद राज अम्मी की चूत पर अपनी जीभ लगाने लगा.

इसलिए आप सामाजिक रिश्ते के बारे में तो सोचो ही मत।वो बोली- नहीं, ये नहीं हो सकता है. हॉट वाली सेक्सी हिंदीमुखिया सुमन के घर से सीधा एक मकान में जा पहुंचा, जहां पहले से दो आदमी एक आदमी को पकड़े हुए बैठे थे.

मैं बोला- आप सीधे सीधे पूजा भाभी से मत कहना। उनको कैसे पटाना है वो सब मैं देख लूंगा ।आप तो बस समय समय पर मदद कर देना।उन्होंने कहा- हां, ठीक है.गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ: उसने तुरंत उठकर मुझे दीवार से हवा में ऊपर की तरफ चिपका दिया और आखिरी के धक्के ताबड़तोड़ जड़ना शुरू कर दिए.

जैसे ही बाथरूम के दरवाजे पर पहुंचा तो मुझे सिसकारियों जैसी आवाजें सुनाई दीं। अंदर भाभी ही हो सकती थी क्योंकि और तो घर में कोई था ही नहीं.मैं पीठ के बल बेड पर गिरा था और संगीता मुँह के बल मुझ पर गिरी हुयी थी.

सेक्सी वीडियो एचडी मस्त - गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ

इतना मजा दुनिया की किसी और चीज में नहीं है जितना कि एक जवान सेक्सी लड़की की चुदाई करने में है.मैंने उनसे कहा कि ये आप क्या कर रही हैं मम्मी जी!उन्होंने कहा- यही तो आज की परीक्षा है बेटे जी, आपको मुझे पांच दिन तक अपने इसी लंड से संतुष्ट करना होगा.

धोती में ही मोटा मूसल उछल कूद करके धोती को जैसे उतार फेंकना चाह रहा था. गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ उसको बेड पर ही खड़ी कर लिया और घुमाते हुए उसकी सारी साड़ी खींच डाली.

आपने सुमन से बात कर ली होगी ना!मुखिया- कहां कर पाया हूँ, उसका पति आ गया था और मुझे मौका ही नहीं मिला.

गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ?

मैं समझ गया था कि अब्बू अब अम्मी का ब्लाउज़ उतार कर उन्हें पूरी नंगी कर देंगे. मैं उसके लाल सुपाडें को मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगा।वो भी मेरी गांड में मुंह देकर उसको चाटने लगा. कभी मेरी बेटी को बिना दुपट्टा के घर के बाहर देखा है तूने? हां आज वो शहर में पढ़ाई कर रही है, वहां भी वो अपनी तमीज़ और तहज़ीब नहीं भूली है.

अब वो नीचे चला और मेरे झांटों के पास चूमते हुए उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगा. अब राहुल ने अपने लौड़े को जहां तक अन्दर गया, वहीं तक रहने दिया और मेरे होंठों, मेरे बोबों मेरे चूचुकों को चूसने लगा. क्योंकि मुझे पता था कि उसने मुझे चादर उढ़ाया था और टीवी भी उसी ने ऑफ किया था.

फिर मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया और धीरे धीरे उसकी चूत में लंड को चलाने लगा. इसी बीच उसने बताया कि शादी के बाद अब तक उसने किसी के साथ कोई चुदाई नहीं की है. राजेश आँखें बंद करके जोर से सिसकारियां ले रहा था- आह्ह … हाय … ओह्ह … हम्म … आह्ह … मजा आ गया प्रेम।उसका मजा साफ पता लग रहा था.

मौसी ने पूछा- क्या हुआ बेटा डीडी? तुम्हें इतनी ज्यादा सर्दी कैसे लग रही है?मैंने कहा- पता नहीं मौसी, मुझे भी कुछ समझ में नहीं आ रहा है. तभी वो बोला- अंदर आऊं या दरवाज़े से ही भगाओगे?तब मुझे होश आया और मैं बोला- आ जा जानी … आज याद आयी है मेरी? कहाँ रहते हो आजकल? न मिलना, न कोई मुलाकात?उसने उदास होकर कहा- क्या बोलूं यार … घर की स्थिति ठीक नहीं है.

भाभी की हाइट 5 फुट 7 इंच थी और उनके शरीर का आकार 34-26-36 (बाद में भाभी ने बताया) हो गया था.

सुमन- क्यों मुखिया जी … वहां क्या है?मुखिया- देखो तुम शहर से आई हो, वैसे तो ये बातें तुम्हें बताऊंगा तो चूतिया लगूंगा … मगर गांव वाले मानते हैं कि वहां भूत रहता है.

सुमन- मेरे राजा आज तुमने गोली लेकर बहुत मस्त चुदाई की है, इसी लिए अब लंड को चूस कर और ऐसी आवाजें निकाल रही हूँ ताकि आपको जल्दी से जोश आ जाए और ये लंड फिर खड़ा हो जाए. राहुल ने अपनी जीभ रूचि के मुँह में डाल दी तो रूचि अपने प्रेमी राहुल की जीभ को चूसने लगी. सुमन- क्यों मुखिया जी … वहां क्या है?मुखिया- देखो तुम शहर से आई हो, वैसे तो ये बातें तुम्हें बताऊंगा तो चूतिया लगूंगा … मगर गांव वाले मानते हैं कि वहां भूत रहता है.

मैंने भी समय नहीं गंवाया और अपना लंड उनकी चूत पर लगाकर एक धक्का दे मारा … लेकिन लंड फिसल गया. बहू के नर्म हाथों से मालिश पाकर ससुर को बहुत आनंद आ रहा था। ससुर अपने जांघिया के फीते को पकड़ उठ खड़े हुए. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]विलेज गर्ल की चूत कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 4.

रोशनी मेरे पास पूछने आई- तुमसे एक तरफ ले जाकर क्या बोल रहा था?मैंने कहा- कंडोम दे रहा था … तुम बस ज्यादा शोर ना मचाना.

अपने सारे कपड़े उतार लेने के बाद वह एक बार फिर से मेरी गांड पर सवार हो गया. मेरे पास पूरी मूवी थी, मतलब वो सीन भी पूरे थे, जिनमें वो नंगी हुई या सेक्स किया गया था. रवि- देखो डॉक्टर साहब मैं सब बता तो दूंगा … मगर आप किसी को कुछ बताना मत!सुरेश- मैं डॉक्टर हूँ.

आंटी ने हंसते हुए कहा- मगर सांप और पानी तो अपना रास्ता खुद ही बना लेते हैं. 10 मिनट के बाद भाभी बाहर आ गयी और मुझसे बोली- अंदर तुम्हारी दुल्हन तुम्हारा इंतजार कर रही है. जब मेरी उत्तेजना खत्म हुई, तब भी वो मेरे लंड को अपने मुँह से चूस रही थी.

सुरेश ने मन में सोचा कि क्यों ना इस कच्ची कली को चोदकर इसकी सील तोड़ने का मज़ा लिया जाए.

मगर मैं तो समझ चुका था कि मोनिषा नीचे क्यों सोने के लिए बोल रही थी … क्योंकि कल रात को मैंने मोनिषा की पैन्टी में हाथ डालकर उसकी चूत मैं उंगली डाल दी थी. मैंने फिर उसको बेड पर पटका और उसके गुलाबी होंठों को जोर से चूसने लगा.

गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ मैं लिफ्ट में घुसने को ही था कि उसने कहा- अन्दर आ रहे हो या लिफ्ट का दरवाजा बन्द कर दूं?मैंने कहा- नहीं रुको … मैं भी नीचे ही जा रहा हूँ. हम दोनों की सांसें तेजी से चलने लगी थीं और किस करते-करते दोनों हाँफने लगे थे.

गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ सुरेश- देर मत कर मीता, जैसे मैंने तुम्हारी फुन्नी को चाटा, तू भी लंड को चूस … और देख कैसे मज़ा आएगा. शुरू में वह मुझ पर जोर से चिल्लायी- तुम यहाँ? यह सब क्या कर रही हो??जवाब में मैंने वो सारी बातें कह डालीं जिनको मैंने आज तक नोटिस किया था.

दोस्तो, इस सेक्स कहानी के अगले भाग में जब सुरेश के सामने गीता की चुदाई का राज खुलेगा, तो क्या होगा.

बड़े बूब्स वाली सेक्सी

रघु- अच्छा किया बाबूजी आपने, अब हमें क्या करना है?सुरेश- बताऊंगा भाई … इतनी जल्दी क्या है. चलती बस में सुमन भाभी के साथ मस्ती होते होते किस तरह से उनकी चुत चुदाई का मजा आएगा, मैं बस यही सोचे जा रहा था. जब कोई लड़की औरत या प्रिय भाभी लंड मुँह में लेती है, तो वो अनुभव अलग ही होता है.

देसी लंड की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे डॉक्टर की बीवी को नए देहाती लंड से चुदाई का मजा लेने का शौक चढ़ा था. भाभी ने मुस्कुराते हुए कहा- ऐसा करने से क्या होगा?मैंने कहा- करो तो यार!उन्होंने कर लिया, अब मुझे थोड़ी आजादी मिल गई. वाटर कूलर कॉरीडोर के आखिरी वाले रूम में रखा था, वो मेरे रूम के पास ही था.

अब वो लंड पर कूदने लगीं … इससे उनके बड़े बड़े चूचे जोरों से हिलने लगे.

उसने मुझे फर्श पर लिटा लिया और अपनी गांड खोलकर मेरे लंड पर चूत को रख दिया. बाहर आने के बाद मामी ने पानी की खाली बाल्टी उठाई और हम घर की ओर चल पड़े. यंग हॉट लेस्बियन फ्रेंड स्टोरी के पहले भागजवान लड़की के कामुकता भरे अरमानअब तक आपने पढ़ा था कि मैंने राहुल से मिलने के बाद अपने जिस्म में आग सी लगती महसूस कर ली थी, जिसे मैं खुद ही अपने बिस्तर पर बुझाने का प्रयास कर रही थी.

फिर नखरे दिखाते हुए आखिरकार भाभी चुदाई के लिए तैयार हो ही गई!दोस्तो, मैं रोहित अपनी देसी भाभी Xxx चुदाई स्टोरी का तीसरा और अंतिम भाग आपके लिए लेकर आ गया हूं. इधर सुरेश भी कोई तगड़ा मर्द नहीं था, वो तो पहले ही बहुत ज़्यादा उत्तेजित था. वहां काम करने वालों की नज़र जब सुमन पर गई, तो उनके लंड उसको देख कर सलामी देने लग गए.

इस पार्ट में मैंने ज्यादा गालियों का इस्तेमाल नहीं किया है, पर अगला पार्ट बहुत ही गर्म और कामुक है. रूपांगी बेटा, चल अब तू मेरे ऊपर आ के मेरे ऊपर राज कर!” मौसा जी बोले और मुझे अपनी बाहों में समेट कर पलट गए उनका लंड अभी भी मेरी चूत में धंसा हुआ था.

सबसे पहले मैं अपना परिचय देना चाहूंगा। मेरा नाम रहमान खान है और मैं हापुड़ का रहने वाला हूं. आपका चुदने का बहुत मन होता होगा, तो कैसे करती हो?वो बोलीं- मैं क्या कर सकती हूँ. रघु- हां मीनू, ये तो हमारी मदद कर रहे हैं … इनसे कैसी शर्म!मीनू- अब उधर सूजन नहीं है … और दर्द भी नहीं हो रहा है.

उसकी सुडौल जांघें देखकर बार बार मेरा ध्यान उसके बदन की ओर खिंचा चला जा रहा था.

ऐसा लग रहा था जैसे वो लंड की भूखी है और मेरे लंड को काटकर खा ही जायेगी. बस अब क्या था भाभी ने मेरा लंड मुँह में ले लिया और पूरा अन्दर लेने की कोशिश करने लगीं. मगर पब्लिक में किसी जवान लड़की के साथ ऐसी हरकत करना बहुत मुश्किल होता है जब तक कि उसकी खुद की सहमति न हो.

वो धीरे धीरे पीठ से हाथ को गीता के चूतड़ों पर ले गया और उनको सहलाने लगा. अब मुझे और मत तड़पाओ … आह्ह … मेरी जवानी की प्यास बुझा दो मेरे मर्दों … मेरी प्यास बुझा दो।फिर सोनू ने मेरी घाघरी को उठा लिया और मेरी चूत को नंगी कर लिया.

पर उसकी कहानी सुनने के बाद मेरे मन से उसे चोदने का ख्याल चला गया था. जब मैंने घूम कर देखा, तो मेरे पीछे मेरा भाई कासिब नंगा खड़ा था और उसका गर्म लंड मेरे नंगे चूतड़ों पर चुभ रहा था. ये कोई परीक्षा नहीं है, बस मैंने जब से तुम्हें देखा है, तब से हम दोनों बहनों ने ही ये योजना बनाई थी कि दामाद जी को अपने वश में रखना है.

बीएफ इंग्लिश सेक्सी वीडियो

मैं रात में मीनाक्षी से भले बात करता हूं, पर दिल दिमाग पर आप ही छाई रहती हैं.

मैंने मामी से कहा कि दांत दर्द का बहाना कर लो और हम डेंटिस्ट के पास चलते हैं. इसी बीच मैंने उनकी गांड के छेद में मेरी उंगली घुसा दी। उंगली घुसाते ही वो एकदम से सिहर उठी और तुरंत उंगली को बाहर निकालने के लिए कहने लगी. अपने चूतड़ उठाकर जब मैं पूरी ताकत से सर के लंड पर पटकती तो चट्ट … चट्ट … फट्ट … फट्ट की जो आवाज हो रही थी वो और ज्यादा सेक्स को बढ़ा रही थी.

अगली सेक्स कहानी में मैं बताऊंगा कि कैसे मैंने अपने दोस्त की बीवी और साली को चोदा. वो पानी लेकर आयी, तो पानी लेते समय मैंने उसके हाथ को जोर से दबा दिया. सेक्सी वीडियो इतिहासमैंने नीचे जाकर दीवार की छोटी भुरकी से देखा तो नजारा चौंकाने वाला था।ससुर पलंग पर बैठ अपनी बहू को जांघों पर बैठाकर उसकी गोरी कमर को पकड़े हुए थे।मैं समझ गया कि ससुर और बहू के बीच इस चांदनी रात में सेक्स करने का माहौल तैयार हो रहा है।उसको चाचा फिर लेटा दिए और एक जोर का चुम्बन कर दिये। चाचा तो अकेले-अकेले ही चोदने के मूड में थे.

वो पूरी कोशिश कर रही थी मगर कभी कभी मेरे लंड पर उसके दांत लग जाने से मैं कसमसा जाता था. लंड घुसाकर चाचा बोले:तेरी जवानी का पी जाऊंगा आज रात सारा रस,अपने मोटे लन्ड से बुर को कर दूंगा तहस-नहस।खाली तू मोटे लंड के प्रहार को सहती जा,आह्ह … उह्ह … अह्ह … यही शब्द सिर्फ तू कहती जा।शायरी समाप्त कर वे उसकी जांघों को पकड़कर फिर से चूतड़ों को आगे-पीछे करने लगे। मैं तो उनके 65 साल के जोश को देखकर दंग रह गया.

धीरे धीरे मैंने खुद को उन्हीं के अनुरूप ढाल लिया यही सोच के बैठ गयी कि सेक्स ऐसा ही होता होगा. वो मादक सीत्कार लेते हुए बोलीं- आंह जानू … अब आप अपना लंड मेरे हाथ में दे दीजिए, मैं उसे सहलाऊंगी. वो न्यूयॉर्क में ही रहती है और उसके साथ बेक्रअप के बाद भी हम दोनों के बीच एक बार सेक्स हुआ था, वो आपको मैं किसी और सेक्स कहानी में बताऊंगा.

मैं झड़ने के बाद एक मिनट वैसा ही खड़ा रहा और पूरा शांत होने के बाद फ्रेश होकर बाहर आ गया. मैं उठा और बाहर आया, पर मेरी उनसे नजरें मिलाने की हिम्मत ही नहीं थी. उसका लंड मेरे थूक से पूरा सना हुआ था और काफी चिकना था इसलिए फिसल कर अंदर जा धंसा.

वो बोला- क्या बात है, नीचे से चड्डी पहनने लगे हो?मैंने मुस्कराते हुए कहा- क्या करें … आजकल लन्ड ज्यादा ही शैतान हो गया है.

जाते समय मैं पाण्डेय सर से वादा करके गयी थी कि पति के पास जाते ही दूसरे दिन मैं उनको अपने घर पर बुला लूंगी. मैं कल्पनाओं के सागर में डूब कर कभी अपनी निगोड़ी चूत को शीशे के सामने सहलाती, तो अपने बोबों को दबाती, निप्पलों पर अपना थूक लगा कर उंगलियों से सहला सहला कर हल्का हल्का सा खींच कर खड़ा करती.

सुरेश- उफ़फ्फ़ आह चाटो मीनू … अच्छे से साफ कर दो … आज बहुत मज़ा आया. मन का पंछी अपनी मर्जी से यहां वहां उड़ने लगा था और मौसाजी के साथ आया वो चुदाई का मज़ा, उस आनंद के बारे में सोच सोच मेरी चूत फिर से रसीली हो उठी. लेकिन आपको कैसे पता चला कि मेरी ये टाइट हैं!तो मैंने कहा कि भाभी मैं चूची देख कर ही समझ जाता हूँ कि वो कितनी टाइट हैं.

तो दोस्तो, मेरी मौसी की चुदाई की ये गर्म कहानी कैसी लगी? आशा करता हूं कि सभी लौड़े पानी छोड़ चुके होंगे और चूतों ने भी उंगलियों से चुदवाकर अपना मुंह लाल कर लिया होगा. मेरी शादी हो गयी और सुहागरात भी आ गयी जिसका मुझे कई वर्षों से इंतज़ार था. मगर मैं इस बात पर हैरान हो रहा था कि जब अवनी ने पहले ही उनको सब कुछ बता दिया था तो वो मुझसे दोबारा ये सब पूछने क्यों आई थी?वो मुझसे अधिक खोद खोदकर पूछ रही थी.

गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ एक दिन मैंने देखा कि वो बाथरूम से नहाकर निकल रही थी तो उसके बाहर आते ही मैं नहाने के बहाने बाथरूम में घुस गया. सही है ना?सुमन की बात सुनकर कालू के चेहरे पर मुस्कान आ गई और शर्माते हुए उसने हां में सिर हिला दिया.

सेक्सी वीडियो बीएफ एचडी वीडियो

दोस्तो क्या बताऊं! उसकी गर्म गर्म चूत में जब मेरा सख्त लौड़ा जा रहा था तो मैं जैसे स्वर्ग में था. अब उसके लंड में ताक़त नहीं बची थी, जो चुत की गर्मी से खत्म हो गई थी. मैंने शादी में काले रंग का सूट पहना था, मैंने भाभी के साथ भी सेल्फी कैमरे से फोटोज भी खींची.

फिर ऐसे ही देखते देखते मैंने उसकी चूत में लंड चलाते हुए पूरा अंदर सरका दिया. मैंने उनकी नाइटी को घुटनों तक ऊपर किया और उनके गोरे चिकने पैरों पर हाथ फेरने लगा. हिंदी में सेक्सी ब्लू पिक्चर चाहिएमैंने भी ताव में आकर कहा- रुक जा छिनाल, अभी तेरी चूत की गर्मी निकालता हूं.

अब हम दोनों के दोनों एक दूसरे के सामने पूरे के पूरे नंगे ही खड़े थे.

सुरेश- सुबह जो गधे का लंबा सा लटक रहा था, उसको क्या बोलते हैं … तुम्हें पता है?मीता- पहले तो मुझे उसका नाम नुन्नू पता था. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]वासना की कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 5.

मैंने हांफते हुए पूछा- वीर्य कहां निकालना है?उसने कुछ जवाब नहीं दिया बस केवल जोर जोर से मुझे चूमते हुए चुदती रही. चाय वगैरह पीने के बाद मैं आग के सामने बैठ गया ताकि बदन को थोड़ी गर्माहट महसूस हो सके. मुझे उस वक्त उनके चूचे अपनी आंखों के बिल्कुल सामने दिख रहे थे, जिससे मेरा लंड एक बार फिर तन गया.

नमस्ते मेरे प्रिय पाठको और पाठिकाओ, मैं आपको एक बार फिर से गाँव की न्यू चूत की सेक्स कहानी की नदी में डुबकी लगवाने आ गई हूँ.

बीस मिनट तक रणजीत ज़बरदस्त चुदाई करता रहा, उसके बाद दोनों एक साथ झड़ गए. मैं उनकी चूत में उंगली से चोदता रहा और वो किसी तरह बर्दाश्त करती रहीं. मुझे चोदने के बाद मौसा जी का फोन अक्सर आता रहता और कई बार वो किसी न किसी बहाने से हमारे घर भी आ के दो तीन दिन रुक जाते और मौका देख हम चुदाई के अपने अरमान पूरे कर लेते.

सेक्सी गॉडअब अपने काम से शहर जाता हूँ, फिर वापस यहीं आ जाता हूँ और मौका देख कर उस लड़की के ऊपर ऊपर से मज़े ले लेता हूँ. मुझे सामान्य सेक्स से ज्यादा वाइल्ड सेक्स पंसद है … क्योंकि मैं लड़की को नग्न अवस्था में देखकर बेकाबू हो जाता हूँ.

एचडी बीएफ वीडियो सेक्सी

मैंने कहा- पोर्न देख कर और क्या क्या सीखा है जान?वो हंस दी और मेरे गालों को फिर से चूमने लगी- मुझे तुम बहुत अच्छे लगते हो. वो सिहर गयी और मेरे सिर को पीछे खींचने लगी लेकिन मैं जोर लगाकर उसकी चूत के आसपास चूमता रहा. प्रिय पाठको, आपको एक संस्कारी लड़की की गर्म जवानी की कहानी में मजा तो आ रहा है ना?[emailprotected]लड़की की गर्म जवानी की कहानी का अगला भाग:अब और न तरसूंगी- 3.

उसने लाकर वो बैग एक तरफ रख दिया और हाथ मुंह धोने अंदर वॉशरूम में चला गया. अब उसके मुंह से जोर जोर से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … संदीप … अम्म … ओह्ह … वाऊ … आह्ह … चूस लो … आह्ह … चूस लो यार … और जोर से … आईस्स … या … आह्ह … हम्म … चूसते रहो यार!मैं उसकी चूचियों को कई मिनट तक चूसता रहा और वो मेरे सिर के बालों को सहलाती रही. सुमन- कैसे मर्द हो आप, एक हसीना आपके सामने बिछने को तैयार है … और आप मना कर रहे हो.

यहां सभी मुझे बड़े प्यार से रख रहे थे। सभी मेरी हर इच्छा को पूरी करने की कोशिश करते थे लेकिन अब मैं किसी को कैसे बताता कि मुझे चूत चाहिए!मुझे इनके यहां रहते हुए 4 दिन हो गए थे लेकिन मेरे लन्ड को अभी तक कोई चूत चोदने का जुगाड़ नहीं दिख रहा था. अब मेरा लंड बेकाबू हो गया था और आंटी की चूत में सुपरफास्ट ट्रेन के जैसे दौड़ने लगा। थोड़ी देर बाद मेरे लौड़े ने तेज़ पिचकारी छोड़ दी और अंदर चूत में वीर्य भर गया था. उसने आगे हाथ लाकर मेरी दोनों चूचियों को पकड़ लिया और मेरी गांड में नीचे से धक्के लगाने लगा.

राहुल ने झट से उसे रिप्लाई लिख दिया- हाई!रूचि- कभी का मैसेज किया हैं मैंने … क्या कर रहे थे इतनी देर से?राहुल- अरे यार अभी अभी डिनर हुआ है जैसे मैसेज देखा, तो तुरंत रिप्लाई दे दिया. एक तो इतना कोमल बदन, ऊपर से उसकी मादक सुगंध मुझे मदहोश किये दे रही थी.

फिर हमने सर को चाय पानी कराया और उसके बाद मैं खाना बनाने में व्यस्त हो गयी.

उसने जब पूछा कि अब क्या करें?तो मैंने कहा- मेरे रूम के रास्ते में कुछ होटल हैं, वहां देखते हैं. हरियाणवी सेक्सी एक्स एक्स एक्ससुरेश- सुबह जो गधे का लंबा सा लटक रहा था, उसको क्या बोलते हैं … तुम्हें पता है?मीता- पहले तो मुझे उसका नाम नुन्नू पता था. सेक्सी चाहिए खुला खुलादोस्तो, मेरी बहू की चुदाई की कहानी का ये पहला भाग यहीं रोक रहा हूँ. मोनिषा अब मुझे देख रही थी, मगर मैं रात की गलती के कारण उससे नज़रें नहीं मिला रहा था.

अभी भाई की आंख खुल जाती, तो क्या होता!मगर अब ये खुजली भी तो बढ़ गई है.

वो किचन में नाइटी में खड़ी थी और मैंने जाते ही उसकी गांड पर लंड सटा दिया. मुखिया- क्यों मेरी रानी, तुझे मेरा लंड बहुत पसंद आ गया क्या … जो सिर्फ़ मुझसे ही चुदेगी, उससे नहीं?गीता- ऐसी बात नहीं है मालिक, आपने एक बार कर लिया, ये बात सिर्फ़ आप तक है. मेरे भाई लिविंग रूम में सोफे पर बैठकर अपने लैपटॉप पर कुछ काम कर रहे थे.

उन्होंने दूसरे हाथ से ब्लाउज को जिस्म से अलग कर दिया और दोनों स्तनों को निकाल कर पूरा नंगा कर दिया. मुझे हल्का दर्द तो हुआ लेकिन नशे में ज्यादा कुछ पता नहीं चल रहा था. ये बात सुनकर एकदम मेरे मुंह से निकला- ओह्ह तो सील पैक चूत है! वाह … मज़ा आयेगा.

नेपाल के बीएफ वीडियो

उसको नंगी देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा, पर मैंने लंड को समझाया कि अभी शांत रह … थोड़ी देर बार तुझे छेद का सुख दिला कर खुश करता हूँ. शायद उसको भी अपनी बीवी की चुदाई गैर मर्द से होते हुए देखने में मजा आ रहा था. मगर मुझे पता नहीं था कि मोनिषा मां और पिताजी की चुदाई का खेल देख कर सो रही है.

फिर मेरे चूतड़ों को पकड़ कर आगे धकेलते हुए खुद ही मेरा लंड अपनी चूत में पूरा घुसवा लिया.

बड़ी अजीब बात है कितने लड़के और लड़कियां अचानक गायब हो गए, जिनका आज तक कोई सुराग नहीं मिला.

अब अगले दिन मामाजी और भैया के खेत पर जाने के बाद बड़ी मामी, उर्मिला मामी और अर्चना भाभी भी खेत पर चली गईं। अब घर में मैं, सीमा मामी और पूजा भाभी ही थे। पूजा भाभी को चोदने का इससे अच्छा मौका नहीं मिल सकता था. उस दिन मैं दिन में दीदी को पीछे से देख रहा था, तो उनके शर्ट में पीछे से ब्रा भी झलक रही थी. सेक्सी वीडियो नंगा सेक्सी वीडियो नंगादीदी- मैं तुमको कैसी लगती हूं?मैंने- बहुत अच्छी, आप ख्याल रखती हैं.

लंड के ऊपर की काली चमड़ी पीछे खिसकने से लंड का मछली के मुंह जैसा बिल पूरी तरह दिखने लगा. मौका पाते ही दोनों चोरी छुपे किसी कोने को पकड़ लेते थे और शुरू हो जाते थे. इसका क्या राज है?वो शर्माने लगीं- नहीं तो, ऐसी कोई बात नहीं … ऐसा तुम्हें लगता है?मैं- नहीं भाभी, मैं सच बोल रहा हूँ.

’राहुल चाहता तो मेरे मुँह को ढक कर आवाज को बाहर जाने से रोक सकता था, लेकिन उसने मानो जानबूझकर मेरी चिल्लाहट नहीं रोकी. मैंने कई बार तुम्हारी धोती में देखने की कोशिश की है, लेकिन वहां कभी तंबू नहीं बनता … ऐसा क्यों?कालू- हा हा हा मैडम जी, आप भी ना … मैं ऐसा-वैसा मर्द नहीं हूँ.

अब उन्हें भी मज़ा आने लगा था, तो वो मेरा सिर अपनी बगल में दबा रही थीं.

सुरेश- बस थोड़ी देर देख लो, उसके बाद तुम अपना लंड मीनू के मुँह में घुसा देना और बाद में इसकी चुदाई तुम्हें ही करनी है. काफी लम्बी चुदाई के बाद मैं अपनी चरम सीमा पर आ गया था, मैंने उसे बताया- अब मेरा झड़ने वाला है, कहां लेगा?मगर वो कुछ ना बोला. जिस सेक्सी चाची की चुदाई का सपना मैं देख रहा था, आज वो पूरा हो गया था.

ससुर की और बहू की सेक्सी वीडियो काफी देर की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मैंने मौसी की चूचियों पर काट लिया और मौसी ने भी मेरे होंठों को काट लिया. मॉम बोलीं- इतनी अच्छी कि तू मेरे पेटीकोट पर मुट्ठ मार कर चला जाता है!ये सुनकर मेरी सिट्टी-पिट्टी गुम हो गयी.

मैंने उसकी बुर को चाटना और चूसना चालू किया, तो वो भी मेरे लंड को चूसने लगी. थोड़ी तक खड़े होकर अम्मी को देखते हुए मुस्कुराते हुए अपना लंड सहलाने लगे. ये कहते हुए भाभी झुक गईं और उन्होंने मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर मुँह को आगे-पीछे करने लगीं.

कैटरीना बीएफ सेक्सी

रविवार के दिन मैं बाथरूम में कपड़े धो रहा था कि किसी ने दरवाजा खटखटाया. सुरेश- मीनू मैंने समझाया था ना … मुझसे मत शर्माओ, ऐसे तो कभी नहीं सीख पाओगी. मेरे झांट और मेरी लंड की गोटियां अभी भी बनियान के नीचे छुपी हुई थीं.

मैं अपने एक हाथ से उनके चेहरे को पकड़े हुए था और दूसरा हाथ उनके मम्मों पर फेर रहा था. तो गुस्सा तो मुझे आज भी आया, पर मुझे पता था कि ये गुस्सा कहां निकालना है … और कैसे निकालना है.

उसकी चूचियों को मैंने एकदम से मुंह में भर लिया और जोर जोर से चूस कर पीने लगा.

पढ़ कर मजा लें कि मैंने फेसबुक से एक भाभी से दोस्ती करके उनके साथ फोन पर गर्म कामुक बातें की. अभी थोड़ी शराब बाकी थी लेकिन मुझे नशा ज्यादा हो गया था तो मैंने पीने से मना कर दिया. फिर भी उत्सुकतावश उसने हिम्मत करके कोने से परदा हटाया और अन्दर का नजारा देख कर उसकी आंखें फटी की फटी रह गईं.

अब मेरी स्पीड बढ़ने लगी और मामी के मुंह से कामुक आवाजें भी और तेज होने लगीं- आह्ह … राजू … आईईई … आह्ह … मार ही डालेगा तू तो … आह्ह मेरी चूत … आह्ह मजा आ रहा है राजू … चोदता रह … ऐसे तो कभी तेरे मामा ने भी नहीं चोदा. जब मेरे साथ यह घटना हुई तो मैं भी फिर यकीन करने लगा कि मर्द और औरत के बीच में चूत और लंड का रिश्ता ही होता है. लेकिन फिलहाल जो अभी हालात चल रहे हैं, उसको लेकर एक सत्य घटना घट गई.

मैंने दरवाजा खोला, वो मुझे देखने लगे और बोले- ये क्या पहन रखा है?मैंने कहा- वो मैं बाथरूम में थी, जल्दी में पहन ली.

गांव की सेक्सी पिक्चर बीएफ: जब पता चला कि जीजाजी का एक्सीडेंट हो गया है, तो खुशी ने मुझे भाभी के साथ भेज दिया. मेरे कम मार्क्स की वजह से मुझे अगली क्लास में भी आर्ट्स में ही एडमिशन मिल सका.

मैंने कासिब का हाथ पकड़ लिया और धीरे से कहा- भाई, मेरे यहां बहुत खुजली हो रही है. अपने पति सोनू से मैंने जॉब करने के लिए पूछा तो उन्होंने हां कर दी और मैं भी फिर काम पर जाने लगी. मैं उनके मुँह से लंड सुनकर एकदम से गर्म हो गया और बोला- मेरा लंड देर तक शंटिंग करता है, आप झेल लोगी?भाभी- मुझे भी ऐसे ही लंड की जरूरत है.

उसने पूछा- फिर उसके साथ रिलेशनशिप का क्या हुआ?वैसे दोस्तो, मैं रिलेशनशिप में कभी नहीं रहा.

पैंटी हटाते ही मेरे सामने रोशनी की नंगी चुत चुदने के लिए खुली पड़ी थी. सुरेश- अरे वो तेरे सामने शर्माएंगे, तू छिप कर सुन लेना … ठीक है ना!मीता ने हां में सर हिला दिया और सुरेश अन्दर चला गया. तभी अशोक जोर से चिल्लाने लगा और गालियां देते हुए उसने नीला की चुत को पानी से सींच दिया, पूरा भर दिया.