बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्म वीडियो बिहारी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो मोती: बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में, आलिया का कोई ब्वॉयफ्रेंड भी नहीं था और मेरा एक साल पहले अपनी गर्लफ्रेंड के ब्रेकअप हो गया था.

आदिवासी सेक्स सेक्स सेक्स

इस बार जब सब कुछ खुद करने का सोच लिया था, तो मैं इसमें पीछे क्यों रहती. किचन सेट खिलौनेये जानकर मन में थोड़ा दुख हुआ, पर उससे ज्यादा खुशी इस बात की हुई कि मुझे एक अनुभवी चोदने वाला मिला है.

मैंने ज़ोर से किस किया और इसी के साथ में मैंने उनकी चूची को मसलना शुरू कर दिया. डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सउसने भी जवाब दिया- हां राजा, अब जीना तुम्हारे साथ!अभी तक हम दोनों आमने सामने मिले भी नहीं थे.

उन्होंने मेरे तीनों छेदों को चोदा उस रात!तो यह थी अंतर्वासना पर मेरी दूसरी कहानी! आपको होटल में मेरी पूरी रात चुदाई की कहानी कैसी लगी? आप मुझे ईमेल कर सकते हैं, कहानी के नीचे कमेंट्स कर सकते है.बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में: मैं- आह … बिल्कुल मेरे पति जैसे कर रहा है, चोद साले चोद!रोहित- ले साली भाभी, ले चुद चुद.

मेरी इस हरकत से दीदी सातवें आसमान में पहुँच गईं और कामुक दीदी के कोमल लेकिन खूबसूरत बदन का भोग पाकर मैं भी बावरी होने लगी.मगर जब तक वो अपने चरम पर पहुंच कर खुद लंड लेने के लिए उतावली न हो जाये तब तक मैं किसी तरह खुद को रोके हुए था.

जिम का सेक्सी वीडियो - बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में

जब मैं थक जाता तो वो गांड हिलाती और वो थकती तो मैं अपनी कमर हिला रहा था.मैंने उसे भी उसकी बहादुरी का इनाम देते हुए एक चुम्मा लिया और उसी समय केले पर मैंने रक्तिम लाली देखी.

उसके बाद फिर वो अपने बाल संवारने लगीं और आंखों में काजल लगाने लगीं. बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में कुछ देर बाद वो जाकर बिस्तर पे लेट गए और मुझे अपने ऊपर लेटने को कहा.

मेरी मॉम के बारे में इससे पहले मैंने भी कभी ऐसा नहीं सोचा था लेकिन एक घटना ने मेरे देखने का नजरिया बदल दिया.

बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में?

खैर … मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और उनके सामने खड़े लंड हो हिलाने लगा. 5 मिनट की चुदाई के बाद सर का पानी निकल गया।फिर मैंने उन्हें गोद में उठाया और मैम की चूत में लंड डाल कर मैम की चुदाई करने लगा।उसके बाद उनके दोनों पैरों को कंधे पे रख कर चुदाई चालू रखी. हमारी चुदाई पारंपरिक तरीके से लेट कर हो रही थी, इसलिए संदीप चुदाई के वक्त भी मेरी जीभ चुभला रहा था.

इससे मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने दूसरी बार फिर से अपनी कोहनी उसके मम्मों पर कुछ जोर से दबाई. इतना सब खुल कर कहकर उन्होंने अपने शरीर से बचा कुछा पेटीकोट भी निकाल दिया और उन्होंने मुझे सीधा लेटा दिया. मैंने कहा- कुतिया, तू अभी नकली से मजे कर … चुदाई के बाद हम असली लंड से चुदाई के बारे में बात करेंगे.

ड्राइवर एक 35-40 साल का फिट बॉडी वाला मर्द था और देखने में भी हैंडसम था. दीदी की फ्रेंड- क्यों? एग्जाम खत्म हो गया क्या?मैं- हां आज हमारा एक ही शिफ्ट में एग्जाम था. ”कैसा प्रोजेक्ट?”जैसे किसी अमराई में कोई कोयल कूकी हो या किसी ने जलतरंग छेड़ दिया हो। कितने बरसों के बाद निशा जैसी (दो नंबर का बदमाश) मधुर आवाज सुनी थी।हे भगवान् … इसके गुलाबी रंगत वाले संतरे की फांकों जैसे होंठ और मोटी-मोटी आँखें और कमान की तरह तनी काली घनी भोंहें उफ्फ्फ … क़यामत जैसे मेरे सामने बैठी मुझे क़त्ल करने पर आमादा हो।ओह … बहुत खूबसूरत … आई मीन बहुत बढ़िया प्रोजेक्ट है.

फिर अपने खड़े लंड में कंडोम लगा कर उसकी चुत में रखा और एक तेजी से शॉट मार दिया. ऐसा कहते हुए भाभी ने मेरे फनफना रहे लंड को एक बार फिर से अपने हाथ में ले लिया.

पहले धीरे धीरे … उसके बाद वो अपने शरीर को इतनी तेज गति से मेरे लंड पर घुमा रही थी कि लंड उसकी चूत में घूम घूम कर चुदायी कर रहा था.

मैंने पूछा- क्यों, सुहागरात नहीं मनाई क्या?तो वो बोली- उनका ठीक से खड़ा नहीं होता तो बड़ी मुश्किल से अंदर जाता है.

मैंने उस दिन साड़ी नहीं पहनी क्योंकि मैं डर रही थी कि अगर वहां कुछ गड़बड़ हुई, तो साड़ी पहनने में ज्यादा टाइम लगेगा. तूने उसको न जाने क्या नशा पिला दिया है कि वो तेरे सिवा किसी को देखता ही नहीं है. उन्होंने कहा- अगर किसी ने हमें यहां अकेले बात करते देख लिया, तो ऐसी वैसी बातें होने लगेंगी.

मैं भी उनकी मुस्कुराहट का मतलब समझ रही थी, फिर भी मैं आराम आराम से ही खाने में लगी रही. मैंने पूछा- क्यों भैया का तगड़ा नहीं है क्या?प्रिया- उसका तगड़ा होता, तो आपके लौड़े को मैं घास भी नहीं डालती. मैं उसके बगल मैं बैठ गया और पीठ पर हाथ फेरते हुए बोला- ज़ेबा क्या तुम्हें यह शादी पसंद नहीं है.

मैंने उनको बेड पर चित लेटा दिया और चाची की टांगों के बीच में आ गया.

मैं सोचने लगा कि क्या नसीब था उन पानी की बूंदों का … जो ऐसे नायाब शरीर पर थीं. वो बोली- दामाद जी, तुम तो बड़े कमीने हो कि तुम दारू पीकर सब कुछ भूल जाते हो. फिर उन्होंने मुझे कुतिया बनने का इशारा किया और मैं अच्छी बच्ची की तरह उनकी बात मान कर कुतिया बन गयी.

थोड़ी देर चोदने के बाद उसने मुझे गोद में उठा लिया और चोदते चोदते मुझे बेड पर ले गया. तो मेरा भी मन केले रूपी संदीप के लंड को जड़ तक लेने का हुआ, लेकिन मेरी इस असफल कोशिश ने मुझे तड़पा कर रख दिया. जोर देकर मैं बोली- नहीं बता, मुझे जानना है?वो बोला- मैंने उसे एक पेन ड्राइव दी थी, उसकी करतूतों का चिट्ठा था उसमें.

दीदी जीजा जी के होंठों को चूमने लगीं और इधर मैं आलिया के होंठों को चूम रहा था.

मोमबत्तियों को बुझाने के बाद, वसुंधरा के बहुत मना करने के बावज़ूद मैं सभी जूठे बर्तन डाइनिंग टेबल पर से उठा-उठा कर किचन में सिंक में रखने लगा और वसुंधरा किचन में कॉफ़ी बनाने लगी. दूसरी सवारी को दोनों सीटों के बीच वाली जगह पर बैठना था और वहाँ पर गियर हैंडल भी था.

बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में मैंने पूछा- तूने आशू के कानों में उस दिन ऐसा क्या कहा था जो वो अगले ही दिन मेरे पैरों में गिर गया था?वो बात पलटने की कोशिश करते हुए बोला- छोड़ो न दीदी. उसने मेरी तरफ देखा और मुझे फिर से उकसाया- मैंने अपनी न्यूड फोटो भी भेजी थीं, उसमें तो तुमने मुझे पूरा देखा था.

बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में जीजा जी ने एक ही सांस में पैग हलक के नीचे उतारा और दोबारा पैग बनाने लगे. मैंने कभी सोचा नहीं था कि लड़की भी किसी मर्द के जिस्म की इतनी प्यासी हो सकती है.

और मुझे भी इस बात से कोई दिक्कत नहीं थी क्योंकि ऐसी सर्दी में कोई फुदी को गर्म करने वाला मिल जाए तो मज़ा आ जाता है.

मुट्ठी मारने की वीडियो

ये बोलते बोलते मेरे मुँह से यह भी निकल गया- मैं तो आपको बहुत प्यार करता हूँ. फिर धीरे से मैंने उनके ब्लाउज और ब्रा को उतार दिया और चूचियों को चूसने लगा. पुहा यार … तुम अपना मजा लो, मीना सो रही है, उसके जागने की चिन्ता न करो.

मैंने मीना को पूछा- तुम्हें अच्छा लग रहा है ना?वो कुछ ना बोली और हंसने लगी. थोड़ी थोड़ी ठंड भी लग रही थी, पर चुदाई करने से शरीर में गर्मी भी बहुत आ गई थी. वो मुझे गुस्से से देखने लगी और बोली- आपको मुँह चोदने की तमीज़ नहीं है क्या? आपने तो मुझे मार ही डाला था.

उसकी आवाजें निकलने लगी थींमैं बोली- चुप रहो यार … मेरा भाई भी है घर पर ज्यादा आवाज़ मत करो.

मैंने उसकी दोनों टांगें उठा कर अपने कंधों पर रखीं और चुदाई की पोजीशन में आ गया. राजन ने कहा- हाँ मुझे मालूम है … पर मैं मजबूर हूँ, अब मैं तुम्हें अपने से अलग नहीं कर सकता. मैं- तू कहना चाहती है कि तूने देरी करके कोई गलती नहीं की, तेरे हिसाब से सारा दोष मेरा ही है.

अब मुझे भी मज़ा आने लगा था उन दोनों आदमियों की हरकतों पर! और मैं भी उन दोनों की इन हरकतों को एंजाय करने लगी।अब सामने वाला मेरे थोड़ा साइड में हुआ और अपनी कोहनी से मेरे बूब्स को दबाने लगा. उसने इतना कहा और मैंने गुस्से में पूरा लंड उसकी चुत में डाल दिया था. उसकी आंखों में सेक्स का ऐसा नशा मैंने देखा कि अगर अब मैं उससे किसी भी गैर मर्द का लंड उसकी चूत में डलवाने के लिए कहती तो वो बिना सोचे ही अपनी चूत को चुदवाने के लिए तैयार हो जाती.

वो हाँफते हुए कह रहे थे- मैं बहुत दिनों से तुम्हारी चूत को चोदने की फिराक में था रिया. मैंने कहा- टाइम फिक्स नहीं कर सकता लेकिन रोज किसी भी समय एक घंटा पढ़ा दिया करुंगा.

अब हम उपहार लेकर उसके दुकान से निकल गए और वो दूर तक हमें देखता रहा. मेरे दुकान पर एक लड़की आई और उसने मुझसे पूछा- आपके पास काम मिलेगा क्या?तो मैंने उससे पूछा- आपने कहीं काम किया है पहले?वो बोली- हां किया है लेकिन वहां का माहौल कुछ ठीक नहीं है इसलिए उस काम को मैं छोड़ना चाहती हूं. कुछ देर बाद हमने खाना मंगवाया और खाना खाने के बाद हम एक बार फिर से तैयार थे सेक्स करने के लिए!मुझे भी सेक्स बहुत पसंद है इसलिए मेरा भी फिर से चूत चुदाई का मन करने लगा था।मैंने उसके सोए हुए लंड को जगाने की कोशिश की.

मेरी सलहज मेरे साले का लंड चूस रही थी और मेरा बड़ा साला आंखें बंद करके आह-आह कर रहा था.

मेरी जीभ चुभलाते हुए भी उसके हाथ निरंतर मेरी कमर और कूल्हों को सहला रहे थे और दबाने मसलने का भी पूरा प्रयास किया जा रहा था. जिंदगी में पहली बार मैंने किसी की चूत देखी थी, वो भी 19 साल की गदराई हुई कली जैसे चुत मेरे लंड के मरी जा रही थी. सागर- क्या हुआ तुम मुझे पसंद नहीं करती क्या?मैं- करती हूं … पर ये सब बहुत जल्दी हो रहा है … मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है.

अपने क्लाइंट में मैं इतना खो जाता हूं कि उसको पूरा मजा दे देता हूं. अब मैंने उसके चूचों को छोड़ दिया और मेरे पति ने श्वेता के चूचों को मुंह में भर कर चूसना शुरू कर दिया.

जैसे ही उसकी उंगली मेरी चूत में गई तो मेरे मुंह से आह निकल गई और मेरा मुंह खुलते ही विवेक ने अपनी जीभ मेरे मुंह में डाल दी. 5 मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद उसने मुझे सीधा कर दिया और एक झटके में लंड मेरी चूत में उतार दिया और मेरे चूचुकों को काटते हुए दनादन मुझे चोदने लगा. सेक्स करने के लिए जोश से ज्यादा महत्व मैं सेक्स करने के तरीके को देता हूं.

कैमरा सेक्सी फोटो

वो अंकल के लंड से चुद जरूर रही थीं पर उनको मजा की जगह दर्द हो रहा था.

उसके बाद एक बार मैंने उसको अपने दोस्त के घर में भी चोदा, ये कहानी मैं आपको आगे बताऊंगा. मैंने अपना पल्लू नीचे गिराया … क्योंकि उसके लंड से निकलने वाली मलाई मेरे कपड़े ख़राब कर देती. मेरे इशारे को समझते हुए वो मेरी बांहों की कैद में आ गयी और अपने दोनों पैरों को फैलाते हुए बैठने लगी.

मगर हम लोग सड़क के किनारे पर ही थे इसलिए ज्यादा देर रुक नहीं सकते थे. उन दोनों को अलग से एक रूम में सोने के लिए दे दिया और हम दोनों अपने रूम में आ गए. सुपर कैमराविवेक ने मेरे दूधों को पकड़ कर जोर मेरी गांड में लंड को पेलना शुरू कर दिया.

उसके कपड़े तो थोड़े से गन्दे लग रहे थे लेकिन नैन-नक्श से सुंदर लग रही थी. मैंने अपनी जीभ को छुटकी चूत से बाहर निकाल कर अब उंगलियों का प्रयोग करना शुरू कर दिया.

उसके बाद राकेश को समझा दिया गया और ज्योति का दूसरे चौथे दिन मेरे यहाँ आना जारी है. फिर दीदी चली गई … मैं फिर दीदी के कमरे में गया और दीदी का लिखा उस पत्र को पढ़ने लगा. मैं बाहर गई और देखा तो पूरा घर खाली था केवल वह नौकर और हम तीन लड़कियां ही बची थी.

मैं अब ये समझ गया कि आज रात जो कुछ भी होने जा रहा था, वो उन अंकल के लिए बिल्कुल ही रंगीन रात जैसा होने जा रहा था. मैं उसे चोदने लगा, वो बोल रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्महह आह आह आह … ज़ोर से चोद … और जोर से!कमरे में फच फच फच की आवाज आ रही थी. वात्सायन के अनुसार किये गए नारी वर्गीकरण के हिसाब से वसुंधरा सर्वश्रेष्ठ ‘पद्मिनी’ वर्ग की स्त्री थी और निःसंदेह एक अमूल्य नारीरत्न थी … ऐसी स्त्रियों की योनि की संर्कीणता प्रकृतिप्रदत्त होती है अर्थात् ‘पद्मिनी’ वर्ग की स्त्री की योनि कभी ढीली नहीं पड़ती.

इस पर परमीत ने जोर का ठहाका लगाया और कहा- तुम दोनों मुझे ये बताओ कि कोई इंसान जिस काम से बहुत आनंदित हो, वो भला उस काम के लिए दुखी क्यों होगा.

इस पर उसने कहा- देखिए मैं आप लोगों को काफी समय से देख रहा हूँ, आप लोग दुकानों में गए और निकल आते हैं, ऐसे में आप बिना पसंद या जानकारी के उपहार पसंद नहीं कर सकते. आलिया- थैंक्स!मैं- इन छुट्टियों में क्या प्लान है?आलिया- मॉम-डेड एक हफ्ते के लिए दुबई जा रहे हैं.

उन्होंने एक दो बार तो अपना हाथ भी मेरी दीदी की गांड पर टच कर दिया था. लेकिन मैं उसे चुदाई के समय कौमार्य भंग का सुख देना चाहती थी क्योंकि मैं उससे प्यार भी करती थी. उन्होंने मुझसे कंडोम देखने के लिए मांगा- दिखाना जरा कौन सा फ्लेवर है?मैंने चाची के हाथ में कंडोम का पैकेट दे दिया.

वो सिसकारियों के साथ साथ गाली भी दे रही थी- चोद चोद … फाड़ दे मेरी चूत … अब यहीं हूँ, मैं आज से मैं तेरी पत्नी … चोद दे मुझे … फाड़ दे अपनी पत्नी की चूत … आह आह. नमस्कार दोस्तो, यह मेरी पहली सच्ची घटना है मामी की चुत चुदाई की; अगर कुछ गलती हो जाए तो नजरअंदाज कर दीजिएगा. फिर चाची बोलीं- अपने मन की कर ली हो, तो अब मेरे मन की भी कर दो … मुझसे रहा नहीं जा रहा है … क्यों मुझे तड़पा रहे हो.

बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में लंड का टोपा अन्दर जाते ही भाभी को दर्द हुआ और उनकी जोर की ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… उईई … मम्मी रे … मर गई. वो थोड़ी छिटकी और खिलखिला कर हंसते हुए बोली- ओ…हो … थोड़ा सब्र कीजिए … मैं आपकी सलहज नहीं हूँ.

સેક્સી ચૌદા ચૌદી

सच में अब मैं उससे चुदवाना चाहती थी मगर पानी निकलने के बाद मैं शांत हो गई।रात को फिर मुझे आफताब की बहुत याद आई। मेरे शौहर तो अपने बिजनेस के सिलसिले में बाहर गए थे. मैं तो तैयार ही थी और वासना के वश में होकर खुद को उसे सौम्प दिया।मुझे लिटाते ही वो मेरे ऊपर आ गया और मेरे होंठों पर होंठ लगा दिए और चुसने लगा मैं भी साथ देने लगी वो मेरे चूचियों को भी दबाने लगा. आप सभी ने मेरी पिछली सेक्स कहानीपहली बार गांड मरवाने की तमन्नापढ़ी थी और आप लोगों मुझे काफी सारे मेल भेजे थे, जिसके लिए आप सभी का शुक्रिया.

वो मेरी मम्मी की चूचियां दबाते हुए बोला- तेरी चुत शांत हुई या नहीं?मम्मी ने उसके हाथ से सिगरेट ली और कश लेते हुए उसके लंड को पकड़ कर हिलाते हुए कहा- बड़ी राहत मिल गई तेरे लंड से … मजा आ गया. मगर जब तुमने मेरे पेनिस को सक करने के लिए अपने मुंह में लिया तो मुझसे रहा न गया. बंगला सेक्सी वीडियोज्योति से पूछताछ करते करते मेरा लण्ड खड़ा हो गया था और मैं उसको चोदने के बारे में सोचने लगा.

मुझे उसके दांतों से काटने से बहुत जलन हो रही थी … लेकिन मजा भी आ रहा था.

अब तक की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं रात को स्वीटी आंटी के ऊपर चढ़ गया था तभी उनके पति का फोन आ गया कि वो नीचे आ गए हैं. यह बात तब की है जब मैं फर्स्ट ईयर में था। छुट्टियों में घर आया हुआ था.

बहुत किस्मत वाले होंगे वो लौड़े जो इस गर्म चूत के अंदर तक घुसे होंगे. शादी के बाद कुछ साल तो सब ठीक चला … पर बाद में हमारे झगड़े बहुत होने लगे कभी पैसों को लेकर तो कभी बेसिक सुख सुविधाओं को लेकर!मैंने भी और मेहनत करनी शुरू कर दी ताकि मैं और पैसे कमा सकूं और निधि को और ज्यादा सुख सुविधायें उपलब्ध करा सकूं. अंदर आकर वो बोली- बताओ भैया क्या करना है?एक बार तो मेरे मुंह से निकलने ही वाला था- चुदाई!मगर किसी तरह मैंने जुबान संभालते हुए उससे कहा- सफाई!उसने देखा कि रूम में किसी ने उल्टी की हुई थी.

उधर उसके जिस्म के सारे गैरज़रूरी बालों को रिमूव करवा के वैक्सिंग और मसाज करवा दिया.

मैंने उसके अधरों का रस पीते हुए उसकी चूत में अपनी उंगली से चोदन शुरू कर दिया. तो वह मेरे चेहरे को पीछे घुमा कर मेरे मुंह में अपनी जीभ घुसा देता था. परन्तु मेरा मानना है कि ये सब सेक्स में इंटरेस्ट के ऊपर निर्भर करता है और अपने आप ही सब होता चला जाता है और आपको पता भी नहीं चलता कि ये सब अपने आप ही हो रहा है.

सेक्स सोनालीमैंने जीजा को कह दिया कि अगर मैंने ज्यादा चुदाई करवा ली तो फिर मुझे मेरे पति से चुदाई करते वक्त सब कुछ झूठ कहना पड़ेगा. अब नजारा यह था कि मेरा एक बूब आगे वाला दबा रहा था और दूसरा बूब पीछे वाला मसल रहा था.

गुजराती गर्ल्स

जीजा जी अपनी बहन आलिया के मम्मों को सहलाते हुए उसके गालों को चूमने लगे. मैंने दोबारा से लंड को सेट किया और अबकी बार जोर लगाकर धक्का दिया तो मेरा लंड उसकी चूत में जा घुसा. सपना भाभी देखने में इतनी आकर्षक थी कि कोई भी देख कर उसे चोदने के लिए तत्पर हो जाए.

उसने कहा- यार बस तीन घंटे? इतने टाइम में क्या होगा यार! मेरा तो मन भी नहीं भरेगा इतने टाइम में!तो मैंने हंसते हुए कहा- तो फिर सुबह तक तुम्हारे पास ही रहती हूँ. वैसे भी मैं भीगा नहीं हूं, मुझे जरूरत नहीं है”चूंकि छोटे कपड़े तो मैं घर में भी पहनती थी। वैसे भी नंगी तो वो मुझे देख ही चुका था। उसे रिझाने का ये मौका मैं कैसे गंवा देती।मैं कपड़े बदलने गयी तब तक उसने होटल वालों से कह कर अलाव का इंतजाम करवा लिया था। कुछ देर आग के सामने बैठे हुए हम बातें करते रहे। आग की गर्मी से हमें कुछ राहत मिली. 30 का टाइम होगा, फैक्ट्री में ओवरटाइम करवा के जब मैं घर वापस आ रहा था तो मुझे एक लड़की या ये कहिये एक महिला ने हाथ देकर रोका.

जब मैं नहा कर आई तो मैंने अपने बदन पर हल्की हल्की मैक्सी डाल रखी थी जिसमें मेरा सारा बदन ऐसे ही दिखा रहा था. बातें करते करते उसने मुझको बताया कि उसको मुझसे नगर निगम का एक काम करवाना है. मैं जब भी कहीं बाहर जाती हूँ तो सभी मर्दों की नज़र मेरे मोटे मोटे और गोल मटोल चूतड़ों, मेरी पतली कमर और 34 साइज़ के मम्मों पर ही टिकी रहती है.

सब विभा मैम पर टूट पड़े मैं और सर मैम की दोनों चूची चूस रहे थे, मैम की सहेली नाज़िमा मैम की चूत चाट रही थी।फिर सर ने अपना लण्ड विभा मैम के मुँह में डाल दिया. आलिया का कोई ब्वॉयफ्रेंड भी नहीं था और मेरा एक साल पहले अपनी गर्लफ्रेंड के ब्रेकअप हो गया था.

उसने कहा कि मोबाइल नंबर वो नहीं दे सकती है और एड्रेस भी वो बुधवार शाम को ही ईमेल पर भेज देगी।मैंने उसे बोला- मुझे अपना एक फोटो तो भेज ही दो.

जब वो अपने कपड़े उतार रहे थे तो मैंने देखा कि चाचा की बॉडी देखने में कुछ खास नहीं लग रही थी. সেক্সি ভিডিও ইংরেজিवैसे मेरी गर्लफ्रेंड बहुत सुंदर थी, लेकिन उसके पिता को पता चलने पर उन्होंने मेरी गर्लफ्रेंड का कॉलेज ही चेंज करवा दिया था और साथ में मुझसे मिलने के लिए मना कर दिया. सेक्सी व्हिडिओ 2018 काअपनी अविवाहित बहनों को देख कर मैं अकेले में सोचता था कि मुझसे खुद सेक्स के बिना नहीं रहा जाता, तो मेरी दीदी लोग कैसे रहती होंगी. मैं फिर से उसकी चुत चाटने लगा और वो फिर से मेरा सर अपनी चुत में दबाने लगी.

वो चैट में इससे लंड चुसवाता था, इससे ब्रा पैंटी में इसकी पिक्स मांगता था.

मैंने आव देखा न ताव उसका लोअर झट से नीचे उतरा और अपनी नाइटी उतार फेंकी, अभी मैं पूर्ण रूप से नंगी थी बस गले में मंगल सूत्र था. काफी देर तक हम दोनों एक दूसरे के सेक्स अंगों को चाटते और चूसते रहे. रीना की चूत पर मैंने अपने लंड को लगा दिया और उसकी चूत के दाने को लंड से रगड़ने लगा.

इसलिए पहले तो मैंने खुद को, अपने मन को, अपने बेतरतीब श्वासों को एकाग्रचित्त किया और फिर गहरे-गहरे सांस अपने फेफड़ों के ऊपरी सिरे तक भर कर अपने मुंह के रास्ते वसुंधरा की योनि के ठीक ऊपर जोर से छोड़ने लगा. अपने क्लाइंट में मैं इतना खो जाता हूं कि उसको पूरा मजा दे देता हूं. मैंने तेल लगे हुए लंड को भाभी की चूत पर लगा दिया और एक झटके में ही भाभी की चूत में घुसा दिया.

सेक्स करने के लिए क्या खाना चाहिए

और मेरे आगे वाला पीछे दबाव डाल डाल कर मेरे बूब्स को अपनी पीठ से रगड़ रहा था. बहुत किस्मत वाले होंगे वो लौड़े जो इस गर्म चूत के अंदर तक घुसे होंगे. थोड़़ी ही देर में मम्मी पर लुढ़क जाते हैं फिर मम्मी उनको हटाकर बाथरूम चली जाती है, पापा निरोध उतारकर पेपर में लपेट देते हैं और पजामा पहनकर सो जाते हैं.

अगले दिन सुबह जब उठा तो एक बार फिर से टट्टी करते हुए मैंने भाभी के बारे में सोचते हुए मुठ मारी.

”क्या पापा आप भी?”सही कह रहा हूं, इसमें गलती इस साले लंड की है जो मुझे बैचेन किये जा रहा है।”सायरा मेरी तरफ घूमते हुए बोली- पापा, आप अपने उत्पाती लंड को कभी भी शांत कर सकते हैं.

थोड़ी ही देर में पिचकारी की तरह गाढ़ा वीर्य का फव्वारा निकला, जो उसके मुँह के ऊपर, उसके चूचियों पर, कंधों पर गिरा. कुछ किस्से मेरे साथ भी यात्रा के दौरान घटित होते है जिसको मैं आपके सामने कहानी के रूप में ले कर आता हूँ. बड़े बच्चों को पढ़ाने का तरीकाजब ब्लाउज निकाला तो देखा कि उसने नीचे से एक सेक्सी काली ब्रा पहनी हुई थी.

करीब 5 मिनट बाद वो मुझे पलंग से नीचे ले गए और मेरे पीछे आ गए और मेरी कमर पकड़ के पूरा लंड उतार दिया मेरी प्यासी फुद्दी में! और मेरी गोरी गोरी पीठ को चूमते हुए मेरी चुदाई करने लगे. उसने अन्दर आते ही मेरे मम्मों को दबाना चालू कर दिया, जिस वजह से मैंने डोर लॉक नहीं कर सकी. मेरे हाथों ने डिल्डो को दीदी की चूत में अचानक ही अन्दर तक घुसेड़ दिया और सीधे जड़ तक पेल कर वहीं रोक दिया.

तो उसने कहा- कहाँ जाएंगे, लाइट बन्द कर के यहीं बदल लीजिए।मैंने भी कहा- ठीक है!और कपड़े उतार के सिर्फ बरमूडा पहन लिया।चूंकि वो इतनी हॉट थी मेरा लन्ड बैठने का नाम ही नहीं ले रहा था, और नाईट बल्ब की हल्की रोशनी में शायद उसे एहसास हो गया था. तो मैंने उस भाभी की चुत पर अपनी नाक लगा कर चुत की महक को अपने अन्दर समा लिया.

उसने भी कहा- मुझे भी चरम सुख प्राप्त हुआ संजय … मैंने तुम्हारी आभारी रहूंगी.

मुझे अच्छा लगा तो कुछ पल के बाद मैंने जीभ अन्दर तक डाल दी, जिससे भाभी गांड उछालने लगीं. मैंने एक हाथ से उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और अपना हाथ उसकी पेंटी में घुसा दिया. जैसे ही उसने जोर लगा कर मेरी ब्रा को खींचा तो उसकी इलास्टिक टूट गई.

सूट के डिजाइन दिखाइए वो लाल रंग की नाईटी में थी, जो सिर्फ एक डोरी से आगे से बंधा होता है. अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ और मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे पागलों की तरह एकदम जंगली तरीके से किस करने लगा.

प्रीति का हाथ मैंने अपने लंड पे जैसे ही रखा, प्रीति ने अपना हाथ हटा लिया और कहने लगी- बहुत मोटा है तुम्हारा!लेकिन मैं माना नहीं, प्रीति का हाथ फिर से अपने लंड पे ले गया और बोला- इसे अब तुमको ही संभालना है, अब ये तुम्हारा है. यहां आधुनिकता से अलग, किन्तु एक मोहक अंदाज में जन्मदिन मनाया जा रहा था. दरअसल मैं एक मर्द के जिस्म के हर अंग को छूकर उसकी प्रतिक्रिया को देखना चाह रही थी कि एक पुरुष के किस अंग पर क्या प्रतिक्रिया होती है.

शिल्पा शेट्टी की एक्स एक्स एक्स वीडियो

उसकी बड़ी बड़ी चूची, गोल मटोल गांड ऐसे मादक हैं, जो किसी बूढ़े के लंड में भी आग लगा दें. उन्होंने कहा- मैं इस समय तुम्हारा पति हूं और पत्नी को पति की बात माननी चाहिए. लगभग 40 मिनट के मेरे 80-90 शॉट लगने के बीच ज़ेबा दो मर्तबा झड़ चुकी थी.

ध्यान से देखा, पिंकी ने सिर्फ साड़ी पहन रखी थी, नीचे ब्रा एवम् ब्लाउज भी नहीं था. भाभी ने मेरे तने हुए लंड को पकड़ कर जोर से अपनी तरफ खींचते हुए कहा- इसमें मेरी जान बसती है.

मैंने रेशमा के सुर में सुर मिलाते हुए कहा- हां पूनम, तुम काम खत्म कर लो.

इस तरह करते-करते वो कब मेरे ऊपर से हट गयी और कब हम दोनों का तौलिया भी हमारे जिस्म से अलग हो चुका था, पता ही नहीं चला।मजे की बात तो यह थी कि दोनों तौलिये भी एक दूसरे के ऊपर ही थे तो मेरी हल्की सी हँसी छूट गयी।इस बीच सायरा मेरे लंड से खेलने लगी, कभी वो मेरे लंड को मुंह के अन्दर तक भर लेती, तो कभी सुपारे पर अपनी जीभ चलाती, तो मेरे अंडों को कस-कस कर मसल देती. कुछ देर घंटी जाने के बाद मेरे भैया ने फोन उठाया, तो परमीत ने ‘भैया नमस्ते कहा’ और बोला कि दीदी आपसे बात करेंगी. मैंने भी देर नहीं की, मैं उसको बोला- थोड़ा गीला कर दे!मेरा लन्ड उसने मुंह में लिया और थोड़ा चूस के गीला किया.

मुझे दर्द हो रहा था, मैं छः रही थी कि अंकल अपना लंड मेरी चूत में से निकाल लें. सुमित बोला- कितने दिन के लिए?सामने से जवाब मिला- महीना भर तो चल जायेगा भाई तेरा. मैं कुछ बोल पाता, इससे पहले ही मामी ने मेरी बनियान पकड़ कर मुझे खींचा और लिप किस कर लिया.

प्रीत ने आदी से कहा- कल रात में तुमने मेरी आंख पर पट्टी बांध कर मेरा लंड चुसाई की थी … आज बिना पट्टी के लंड चूसना चाहोगे?ये सुन कर आदी मेरी तरफ देखने लगा.

बीएफ फिल्म पिक्चर हिंदी में: वो खुद बेबी होने के बाद 34 से 36 नाप के हो गए हैं … और मेरे हिप्स भी अब 36+ के हो गए हैं. उसके बाद जीजा ने धीरे-धीरे करके मेरी चूत में अपना लंड पूरा घुसा दिया.

वो लगभग कांपती आवाज में बोली- आंह … हां भैया … और जोर से … आह … आपकी बहन आ…. तुम्हारा मस्तक मुझे तब बड़ा ही दिलकश लगता है, जिस पर गुस्से में बल पड़ जाते हैं. लेकिन तभी उसने मेरी गांड के छेद को छुआ … और छुआ क्या … उसमें क्रीम लगाने लगा.

इस मंच पर लेखक लेखिकाएँ अपनी कहानियों को अपने अनुभव को आपके समक्ष प्रस्तुत करते हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं होना चाहिए हम किसी की भी निजी जानकारी को आपके समक्ष रख दें.

वो बोली- तो फिर बाहर मुँह मारने की जरूरत ही नहीं पड़ती, घर में ही इतना हॉट लौड़ा मिल जाता. नताशा- जिया मजा आया न … अपने भूतपूर्व ब्वॉयफ्रेंड से चुदने में?जिया- क्या भाभी आप भी ना!जीजा जी- चलो अब दूसरा राउंड शुरू करते हैं. यहां आधुनिकता से अलग, किन्तु एक मोहक अंदाज में जन्मदिन मनाया जा रहा था.