साउथ वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,एक्स बीपी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

चूदाई फोटो: साउथ वीडियो बीएफ, तभी मिसेज रॉय ने मेरा परिचय मिसेज पाटिल से कराया- अरमान, ये मिसेज पाटिल हैं, मेरी फ्रेंड हैं … पुणे से अपने पति के साथ आई हैं, इनका पुणे में बड़ा कारोबार है.

அத்தைசெக்ஸ்

मैंने उसके पैंट के अन्दर हाथ डाला और उसकी मुलायम गांड को दबाने लगा. हिन्दी पोर्न सेक्स वीडियोवो दिखने में बहुत सुन्दर थी, जो भी उस औरत को एक बार देख ले, उसका लंड खड़ा हो जाए और उसे चोदने की सोचने लगी.

मैंने भाभी के घुटनों को थोड़ा मोड़ा और लंड को चूत के छेद पर सेट किया. દેશી ગુજરાતી વીડીયો બીપીतो मैंने उसकी बात मान ली और अपनी साड़ी कमर तक उठा कर पैंटी निकाल दी.

आज मैंने नामित को थोड़ा काम के लिए भेजा है, तो उसने मुझे बताया कि तुम घर पर अकेली हो, इसलिए उसने मुझे इधर भेजा है.साउथ वीडियो बीएफ: पति बाहर काम करने जाता था, कई दिनों में आता था, तो पहली पत्नी की शिकायत पर मंजू की पिटाई करता था.

मेरी चूत साफ करने के बाद डेविड उठकर कपड़े पहनने लगा, तो निक ने भी मेरी गांड से अपना लंड निकालकर मेरी चूत में घुसेड़ दिया और धक्के मारने लगा.मैंने एक हाथ से उनकी साड़ी और पेटीकोट निकाल फेंका और चड्डी के ऊपर से चूत को स्पर्श किया.

चुदाई वाली सेक्सी हिंदी में - साउथ वीडियो बीएफ

उनके जाने का दिल बिल्कुल भी नहीं था, मगर मीटिंग ज़रूरी थी, तो उनको जाना ही पड़ा.फिर अंडरवियर को नीचे करते ही उसका 7 इंच का फनफनाता हुआ लंड मेरे सामने आ गया.

तुझे याद है, जब मैंने लाईट ब्लू कलर का पंजाबी ड्रेस पहना था, तब मैं दो बार पीछे मुड़ी थी, उस वक्त मैंने तुम्हें वहां देखा था. साउथ वीडियो बीएफ मैंने भी अपने होंठों को उनके होंठों से मिला दिया और उनको पकड़ कर दीवार से चिपका दिया.

थोड़ी देर बाद वो भी मजे लेने लगीं और बोलने लगीं- और जोर से चोद दो … ज़ोर से चोदो मेरे राजा.

साउथ वीडियो बीएफ?

इधर डेविड ने मेरी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखी और मुझे लगातार पेलता रहा. उनके घर में आंटी अंकल मतलब भाभी के पापा मम्मी भाभी का भाई था, जो अपने हॉस्टल जा रहा था. मेरी सांसें बहुत तेज चल रही थीं कि कहीं वो लोग मुझे पहचान ना जाएं और किसी को कुछ बता ना दें, नहीं तो मैं किसी को कैसे मुँह दिखाऊंगी.

मैं उसके चूतड़ों को अपने हाथों से पकड़ कर उसका लंड अपनी चूत में धकेलने लगी. ‘शीला जी, पद्मा जी, आपकी और हमारी शादी तो हो गयी, पर हम आपको बता दें कि हमने कभी किसी औरत को हाथ भी नहीं लगाया और न ही कभी किसी को गलत नज़रों से देखा, आप दोनों तो फिर भी तजुर्बेकार हैं. मैं हफ्ते में जब तक दो तीन बार चोदाई नहीं कर लेता, तब तक रह नहीं सकता.

मैंने भी ओके बोल कर कॉल डिसकनेक्ट कर दिया और अपने ऑफिस के काम में फिर से लग गया. मेरे लहंगा चोली का जो दुपट्टा था, उसे भी सर में जल्दी से डाल लिया और सीधी हो गई थी. उसके फ़ोन कॉल्स के इंतजार और शादी की तैयारियों में कब दिन निकल गए, पता ही नहीं चला.

होटल में सैटल होने के बाद हम लोग नम्रता के परिवार के लोगों से मिले. मैं एकदम से हैरान हो गया कि इतनी ज़ल्दी कैसे मेरे लंड को मुँह में ले लिया.

फिर मैंने अपनी उस उंगली से शिल्पा की गांड के छेद पर क्रीम लगा कर अपनी उंगली अन्दर डालने लगा.

इधर मेरा कॉन्ट्रैक्ट ख़त्म हो गया था लेकिन मुझे छुट्टी नहीं मिल रही थी क्योंकि मेरे रिलीवर की फ्लाइट मिस हो गई थी.

वो मुझे प्रथम श्रेणी के उस केबिन में ले गया जिसमें सिर्फ दो ही बर्थ होते हैं और बोला- आप यहाँ आराम कीजिये, मैं यात्रियों की टिकट चेक करके आता हूँ. कुछ ही देर में मैं झड़ने वाला था तो मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और थोड़ी देर तक मैंने लंड को मुंह में ही रहने दिया और उसने मुझे जोर से धक्का देकर हटा दिया और थोड़ा वीर्य पी गयी मेरी प्यारी बहन. मैंने धीरे-धीरे सोनू के पेट के निचले हिस्से पर हाथ फिराना चालू रखा.

उस दिन का नाश्ता भी जग ने ही बनाया था और मेरे पति जाने से पहले जग को बोल गए थे कि मेरे पूरा ध्यान रखे और उस दिन जग ने वैसा किया भी. फिर पुनीत पहले उठ गया और उसने अपना लंड मेरी गांड से निकाल कर किसी कपड़े से साफ कर अपने कपड़े पहन लिए. इसलिए अगर कोई ग़लती आप लोगों को मिल जाए तो मैं उसके लिए आप सब से पहले ही माफी मांग लेता हूँ.

प्रीति की बहन के ब्वॉयफ्रेंड ने भी मुझे बताया कि प्रीति आपसे ही नहीं, मोहल्ले के कई लड़कों को फंसा चुकी हैं और अपनी रातें रंगीन कर चुकी हैं.

उसके बाद आंटी ने मुझे उठने के लिए कहा और खुद मुझे नीचे लेटने के लिए बोला. आंटी बोली- तो फिर अपने लंड को मेरी चूत में डाल दो न, तुम देर क्यों कर रहे हो? मैं अब और नहीं रुक सकती. अत: मैंने अपने दोनों हाथ उसके पैरों के नीचे से ले जाकर उसके दोनों पांव ऊपर उठा लिए, जिससे उसकी बुर ऊपर की ओर उठ गई तथा लंड उसकी बुर के बिल्कुल सामने आ गया.

तब आशीष बोला कि मैंने जब से तुम्हें देखा है, मुझे कुछ और अच्छा नहीं लग रहा है. वह ऐसे हुआ कि एक रोज़ लता भाभी शनिवार को, जब मेरी छुट्टी होती थी, मेरे कमरे में ऊपर आई और मैंने फटाफट दरवाज़ा बंद करके, अपना लोअर निकाला और उन्हें बेड पर लिटा कर, उनकी साड़ी ऊपर करके चोदने लगा. मुझे उसके धक्कों में वो ताकत नहीं महसूस हो रही थी, जो इस वक़्त मुझे जरूरत थी.

मैं इन लोगों की परेशानी समझ गयी, पर मेरी परेशानी कौन समझेगा, यही सोचते हुए मैंने बात की- ये सब तो ठीक है मम्मी जी पर वंश कैसे बढ़ेगा आपका … जब हितेश कुछ करेगा ही नहीं तो?सासू माँ ने लंबी सांस लेते हुए कहा- ये जरूरी तो नहीं ना बेटा कि हितेश ही कुछ करे, तो ही हमारा वंश आगे बढ़ेगा.

बुआ- तेरी गर्लफ्रेंड तो बहुत खुश रहती होगी, उसे रोज ऐसे चुदाई मिलती होगी. मैं अपने कपड़े उतार कर अन्दर नहाने चला गया और अभी मैंने शॉवर चालू ही किया था कि गीता मेरे पीछे आ कर मुझसे चिपक गयी.

साउथ वीडियो बीएफ बड़े शहर में एकदम से घर मिलना कितना मुश्किल होता है, ये तो आप जानते ही हो. अब देरी मत कर, जल्दी से बंध्या की तड़प मिटा दे … डाल दे इसकी चुत में अपना लौड़ा.

साउथ वीडियो बीएफ मैं बस गिरने ही वाली थी कि जग ने मुझे गोद में उठा लिया और बाथरूम तक ले गया. मैं शादी में गया और भाभी को जब स्टेज में ला रहे थे, तो मैं भैया के पास भाभी वहीं कुर्सी में बैठा था.

उसने मेरी पैंट का हुक खोल दिया और मेरे अंडरवियर की पट्टी वाली जगह पर एक हल्का सा किस कर दिया.

बीएफ सेक्स नेपाली

दस मिनट तक मेरी गांड बजाने के बाद राजिंदर ने मेरे चूतड़ों के बीच में सफेद फव्वारा छोड़ दिया. प्रिया ने भी ऐसे किया और उसने मेरी जींस में से मेरी निक्कर में हाथ डाल कर मेरे नितंबों को ज़ोर ज़ोर से मसलना चालू कर दिया. मौका देख कर कभी उनकी गांड दबा देता, तो कभी चूची मसल देता, तो कभी चूम लेता.

मैं जैसे ही अंदर गया उसने मुझे गले से लगा लिया और फिर दरवाज़ा बंद कर लिया. मैंने एक बात नोट की है कि एक बार जब औरत अपना पानी छोड़ देती है, उसके बाद उसे सेक्स का असली मज़ा आता है. मैंने कहा- तो क्या आपके पहले पति ने आपकी आधी सील ही तोड़ी थी?वह बोली- हां, बाकी की आधी भी वह तोड़ना चाहते थे लेकिन मैंने मना कर दिया था.

उस उम्र में तजुर्बा ना होने की वजह से मेरा लंड घुसते ही सम्पूर्णतः आनंदमय होकर पुनः छोटा हो गया। आप समझ सकते हैं कि पहली बार नारी के बदन का भेदन करने पर भला कौन होगा जो खुद पर इतना कंट्रोल रख पाए.

जब मैं मस्ती से अपने बॉयफ्रेंड के लंड पर कूद रही थी, तो मेरी चूचियां हवा में हिल रही थीं. कुछ देर यूं ही मस्ती करने के बाद हम सभी अपने अपने घरों को वापस आ गए. अब मुझे ये तो नहीं मालूम था कि ये कल्पना ही है या कोई और? इसलिए मेरी कुछ भी बोलने या पूछने की हिम्मत नहीं हुई और मैं बस चुपचाप बैठा रहा.

अगर ये मदद कर दे तो … मैंने सोचा और उसकी तरफ मुड़कर बोली- कैसी तैयारी है संदीप?ठीक है … तुम्हारी?” उसने शराफ़त से जवाब देकर पूछा. कुछ देर बाद पापा नीचे की तरफ आए और मम्मी की टांगों को थोड़ा ऊपर करके मम्मी की चूत को चाटने लगे. उनका यह काम लगभग दो-चार दिन के बाद मैं देख लेती थी और मुझे उस में मज़ा आने लगा था.

वाणी ने ऐसा ही किया और 2 मिनट में गीता फ़िर झड़ने को आ गयी और उसकी टांगें हिलने लगीं तो मैंने एकदम से लंड बाहर निकाल लिया और वाणी को बोला- चलो अब तुम्हारी बारी. बाहर से तो यह हांडी देखने में बड़ी अच्छी दिखती है लेकिन इसमें जो भी कुछ पकता है उसका स्वाद तो इस खिचड़ी को चखने वाला ही बता सकता है न.

मैं बोला- अच्छा भाभी कहां हैं?कमला- वो सब्जी लेने गई हैं, आप बैठो वो अभी 5 मिनट में आ जाएंगी. मैं और मेरी सास पूरे 12 साल लिव इन रिलेशनशिप में रहे, जिसके बाद काम्या उसे अपने साथ ले गयी और मैंने भी एक तलाकशुदा से शादी करके घर बसा लिया. जैसे सब लड़कियां शुरुआत में लंड चूसने से मना करती हैं, अविका भी मना कर रही थी.

मैंने प्रमिला को एकता के सामने बैठने का इशारा किया, जिसे प्रमिला ने समझ लिया.

मैंने उससे पूछा कि उसको मेरी सर्विस कहां पर चाहिए तो उसने बताया कि वह दिल्ली में ही मिलना चाहती है. आंटी ने मेरी तरफ शरारत भरी नजर से देखा और वहाँ से चलकर सीधी सामने वाले गन्ने के खेत में जा घुसी. फिर उन्होंने ऊपर आकर अपनी चूत को मेरे मुँह पर रख दिया और बोलीं- अब इसको चूस मेरे लाल, इसको इतना चूस कि मेरी चूत का दाना लाल हो जाए, मेरा पानी छूट जाए और मैं बस हवस की अंधी होकर तेरे लौड़े से इस चूत को निहाल कर दूं.

आंटी की चूत चोदने में जो मजा उस वक्त आया वह किसी और चीज में नहीं आ सकता था. वो मेरे लहंगे के ऊपर से ही मेरी कमर के नीचे, जहां मेरी चूत है, वहां पर दबाने लगा.

मैंने प्रमिला को एकता के सामने बैठने का इशारा किया, जिसे प्रमिला ने समझ लिया. मैंने पोज़िशन बना ली और उसकी गांड और चूत के छेद पर अपना लंड फिराने लगा. उसने नीचे हाथ डाल के अपना साया ऊपर किया और कहा- आ जाओ मेरे छोटे भैया, चढ़ जाओ मेरे ऊपर और प्यास बुझा दो मेरी चूत की.

बिहार बीएफ फिल्म

अब तुम इसे भी एक बार पकड़ कर ज़रूर चोद दो, वर्ना यह कहीं भी हमारी बात बता सकती है.

उसने फिर पूछा- बताइये न रीना जी? मैं आपके जवाब का इंतजार कर रहा हूँ. जब उसने मेरा देखा तो घबरा गई, मैंने अपना लण्ड उसके हाथ में दिया और उसे मुँह में लेने को कहा. हम दोनों ने सेक्स करते हुए अपनी पोजीशन को बदल दिया और अब मैं अपने बॉयफ्रेंड के ऊपर आ गयी.

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे सारे कपड़े निकाल दिए और मैं उसके सामने ब्रा और पेंटी में हो गयी. फिर मैंने अपने लंड से कंडोम निकाल दिया और एकता को प्रमिला के ऊपर डॉगी स्टाइल में सैट कर दिया. भोजपुरी सेक्सी मेंलेकिन मैं उससे बात नहीं कर सकती थी क्योंकि हम दोनों लोग एक दूसरे से इस तरह से नहीं खुले हुए थे.

उसको अपनी आगे की पढ़ाई के लिए कोई अच्छी कोचिंग में दाखिला दिलाना है और यहां ऐसी कोई कोचिंग मिल नहीं रही है. वो आकर पलंग पर बैठ गई और पूछा- कैसा लगा सरप्राइज?मैंने सुषी का हाथ पकड़ कर कहा- इससे अच्छा सरप्राइज मुझे आज तक नहीं मिला.

गीता भी मान गयी और मैं वाणी को अपने ऊपर लेकर लेट गया और गीता को बोला- चल शुरू हो जा. उसने धक्कों की अपनी रफ्तार तेज कर दी और अब वो मेरी गहराई तक वार करने लगा. वो मेरे दोस्त जो आंगन में बैठे हैं, सबको तेरी झाड़ी वाली करतूत बता देंगे … और फिर तुझे दिक्कत हो जाएगी.

निहाल नया लड़का था, तो उसका लौड़ा बहुत बड़ा और कड़क महसूस हो रहा था. तभी निहाल अब मेरे कान के पास बोला- सोनू तुझे मजा आ रहा है ना?मैं कुछ नहीं बोली तो उसने आगे हाथ से चूत को फिर दबा दिया और बोला कि देखो मैं तेरे लिए पागल हो रहा हूं. अब मैं उसके ऊपर लेट कर अपने मुँह से उसके होंठों को किस किया और उसकी चूत में लंड रगड़ने लगा.

फिर एक भूचाल सा आया और मयूर ने एक ही झटके में अपने लंड मेरी फुद्दी में अन्दर तक डाल दिया.

पहले तो मुझे भरोसा नहीं हुआ, जब शौहर ने खुद ये बात पक्का कर दी, तो मानो सारी उम्मीद खत्म हो गईं. पापा रोते हुऐ मेरे माथे पे हाथ फेरते बोले- मेरी बच्ची मुझे माफ़ करना, मेरी भूल हो गई … मैं तेरे जज्बात समझ नहीं पाया.

ऊपर से शॉवर से पानी गिर रहा था और हम दोनों चिपके हुए बियर पी रहे थे. मेरा लंड फटने वाला था, मैंने कहा- तुम जवान हो और क्या तुमने भाई बहन के सेक्स की कहानियां नहीं पढ़ीं हैं?बोली- हां मगर!मैं कहा- बस कुछ नहीं बोलो … मैं तुमको बहुत पसंद करता हूँ. थोड़ी ही देर में हम पार्किंग में पहुंच गए, तब उस महिला ने मुझे लिफ्ट के पास जाकर इंतजार करने को बोला.

मैं आंटी के बेडरूम में जाकर बिस्तर पर लेट गया, कुछ ही देर में मुझे नींद आ गई. रास्ते में उसने मुझसे कहा- फिर कब करोगे मेरी चुदाई?तो मैंने कहा- जब तुम्हारा मन होगा. मैंने उसे फिर से बुलाया तो वह थोड़ी पास आई, पर मुझसे दूरी पर खड़ी होकर हंसने लगी.

साउथ वीडियो बीएफ यह देख उसने अपना लण्ड मुझे मेरे हाथ में दे दिया। मैं भी जोश में आ गयी और लण्ड को पूरे जोर से दबा कर मसलने लगी।हम दोनों एक-दूसरे के शरीर से खेलने लगे। कभी वो मुझे चूमते, कभी मैं उन्हें. एक तो मैं इतना मोटा, ऊपर से मेरी हवस … मैंने बहुत बेदर्दी से उनकी चुदाई जारी रखी.

बीएफ वीडियो फिल्म हिंदी में

हालांकि हम दोनों लोग एक दूसरे से कई बार रास्ते में मिले थे, चूंकि वो मेरा पड़ोसी था तो हम दोनों लोग कभी कभी रास्ते में मिल ही जाते थे. केवल डॉली और अन्नू की सेवा ही करते रहोगे क्या?मैंने कहा- ऐसी बात नहीं है, वो दोनों मुझे छोड़ती ही नहीं, बस और कुछ नहीं वरना … आप जैसी लेडी के हुस्न का दीदार कौन नहीं करना चाहेगा. सीमा ने देखा कि मुझे सर्दी लग रही है तो उसने अपना शॉल मुझे ओढ़ने के लिए दे दिया.

मुझे लगा कि मैं मर गई हूं और सब रो रहे हैं, मेरा क्रियाकर्म करने मुझे उठा के ले जा रहे हैं. हँसते-हँसते वह लोटपोट हो गई और मुझसे बोलने लगी- रुको मैं अक्का (दीदी-घर की मालकिन) को बताऊँगी, तुम्हारे साथियों को बताऊँगी. एक्स एन एक्स कॉमइस बार मैं उस जगह बैठ गई थी, जिधर से मुझे अपनी मम्मी की हरकतें दिखने वाली थीं.

हम दोनों पसीने से लथपथ हांफते हुए एक दूसरे को संतुष्टि भरे भाव से देखते रहे.

मेरा लंड अब बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था, मैंने भाभी को लंड मुँह में लेने को कहा, लेकिन भाभी ने मना किया. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सौरभ है, मैं अन्तर्वासना का पुराना पाठक हूँ.

अगले 3 दिन बाद क्या हुआ और मैंने क्या गिफ्ट दिया सलहज को … और उसने मुझे कैसे खुश किया, वो सब अगली कहानी में बताऊंगा. ये सब बोलते बोलते मेरी गांड तो फट रही थी, लेकिन मैंने सोचा कि अगर ये मौका मेरे हाथ से चला जाएगा तो फिर कभी मुझे उसकी चूत के दर्शन नहीं होंगे. संध्या गर्म हुई और मेरा लौड़ा चूसने लगी फिर मुझे लेटने को कहा और मेरे लौड़े को अपनी चूत के अंदर लेकर ऊपर से मुझे चोदने लगी.

वे बात करने लगे तो मैंने कहा- आज भैया आपकी सुहागरात है, आप तो उसकी तैयारी करो.

लेकिन वो समझ गई कि मैं आने वाला हूँ, तो उसने और मजबूती से लंड को पकड़ लिया. आंटी भी गरमा गई, वो मादक सिस्कारियां भरने लगी- आआह … इस्स … ऊउह … ओह … और जोर से दबा दे. नहाने के बाद मैं सिर्फ तौलिया लपेट कर मयूर के सामने आ गई और उसके साथ हंसी मजाक करने लगी.

ब्लू फिल्में बढ़िया वालीजब वह खाना खत्म करके जाने लगी तो जाते हुए भी मेरी तरफ ही देख रही थी. मैंने उनसे कहा- आप जानती हैं ठीक है, पर मैं आपके साथ कैसे करूँ और क्यूँ?उसने कहा- नेहा के साथ क्यूँ करते हो?मैं चुप ही रहा.

सेक्सी जंगली बीएफ

मेरी चुचियां दबाते हुए मेरे गाल चूमने लगा और मेरे लहंगे का नाड़ा खोल दिया. अगले दिन मैं जब दोपहर का खाना खाने के लिए जा रहा था तो दीदी ने कहा- खाना खाने जा रहे हो?मैंने कहा- जी दीदी. सुषी ने मुझे कस कर पकड़ लिया और मैं तेजी के साथ उसकी चूत में लंड को अंदर-बाहर करते हुए उसकी चूत को चौड़ी करने लगा.

आंटी ने दोनों हाथों से मेरे चूतड़ों को पकड़ कर अपनी चूत की तरफ धकेलने की कोशिश की. अब मैं भी वैसे ही उससे बात करने के लिए कभी कभी उसके रूम पर चली जाती थी. फिर एकदम से मेरे शरीर ने अकड़ना शुरू कर दिया और मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया.

पापा ने पलंग के नीचे देखा, फिर पलंग को हाथों से उठा कर उल्टा कर दिया. लगभग दस मिनट की लंड चुसाई के बाद मैंने अपना माल भाभी के मुँह में ही निकाल दिया और वो एक प्यासी औरत की तरह सारा का सारा माल एक ही घूंट में पी गईं. अब चुदाई तक की स्थिति लगभग बन चुकी थी, पर हमें सेक्स करने के लिए मौका नहीं मिल रहा था.

इसलिए संजना नहीं चाहती थी कि मैं शीना से बात करूँ या उसके आस-पास रहूँ. आपने अब तक की कहानी में पढ़ा था कि मैं सुखबीर के साथ सम्भोग करने में लगी थी.

वैसे रात में जब मेरे पति आए, तो मैंने उनको बोल दिया कि भैया का कॉल आया था, वो जग को यहां भेजने की बात कर रहे थे.

मैं तो पहले ही चाहता था, अतः यही सोचकर कि कहीं लता को बुरा न लगे, मैं हेमा के साथ पहल नहीं कर रहा था. முஸ்லிம் எக்ஸ் வீடியோधीरे धीरे मेरा हाथ उसकी 32 साइज़ की चूचियों की तरफ बढ़ने लगा और फिर से मैं उसके मम्मे दबाने में लग गया. नई ब्लू फिल्मेंफिर हम दोनों शॉवर लेकर फ्रेश हुए और हम ज्यादा थकने की वजह से एक साथ सो गए. मैंने उन्हें भी संतुष्ट किया और डॉली को संतुष्ट करना तो मेरी जॉब ही थी.

अब दोस्तो, मैं आप लोगों को कल्पना की कहानी बताना चाहूंगा, जो उन्होंने मुझे बताया था, पर मैं यह उनकी कहानी उनके ही शब्दों में लिखूंगा.

उसको दर्द तो हुआ पर कुछ देर के बाद वो सहज होकर अपनी गांड उठा उठा कर धक्के दे रही थी- चोद डाल अपनी इस रानी की मुनिया को … आह … मेरी चूत का भोसड़ा बना दो मेरे राजा … मुझे औरत बना दे. एकता ने झट से डॉगी बन कर अपने अड़तीस साइज़ के गोल गोल हिप्स ऊपर उठा लिए और मुझे अपनी रस भरी चुत दिखा के आमंत्रण देने लगी. साथ ही मैं प्रमिला की भी हेल्प कर रहा था, प्रमिला और एकता ऊपर एक दूसरे को किस भी कर रही थीं और एक दूसरे के मम्मों को भी दबा रही थीं.

उसका मोटा लंड मेरी चूत जब अन्दर तक चोट करता था, तो मेरी चूत पानी से गीली हो जाती थी. पति के दोस्त के बारे में बताऊं तो वो अमिताभ बच्चन से भी ऊंचा होगा … तक़रीबन छह फुट सात इंच की हाइट होगी उसकी … और उसकी छाती भी काफी लंबी चौड़ी थी, एकदम गठीला बदन था. इधर थोड़ी देर बाद बारात आने लगी, तभी मेरे पास अंकित और मौसी का बड़ा लड़का निहाल आए.

दूध पिलाने वाली सेक्सी बीएफ

शायद वो मेरी इस हालत को पहचान गयी क्योंकि वो मेरे पैंट को देख रही थी. फिर कुछ देर बाद में वो अचानक से बोली- एक मिनट रुको, मैं सुसु करके आती हूँ. जब उसने कमरे की लाईट जलाई तो मैं दंग रह गई, दीवारों पर जगह जगह गंदे गंदे शब्दों के प्रिन्ट और बहुत सारी उसकी और हमारी कम्पयूटर से एडिट की गई नग्न फोटो लगी थी.

मैंने फिर से ना में हाथ हिलाया तो उसने मुझे पीछे तरफ से कमर पकड़ के चिपका लिया और अपना लंड मेरी गांड में लहंगे के ऊपर से दबाने लगा.

फ़िर मैंने वाणी के कान में कहा कि इस गीता को बीच में लेकर कसके मसलते हैं.

मेरी पिछली कहानियाँ थीलुटने को बेताब जवानीनौकरानी के पति से तन की आग बुझाईकई वर्षों के बाद आपकी रीना फिर हाज़िर है अपनी दास्तां लेकर. उसका पूरा लंड मेरी बीवी की बच्चेदानी तक चला गया था और उसकी बच्चेदानी तक चोट मार रहा था. जंगल की एक्स एक्स एक्स वीडियोमैं उसे थोड़ा छेड़ने भी लगा, हमारे बीच जैसे एक चुम्बक सी काम करने लगी.

राहुल का लण्ड ज्यादा बड़ा नहीं था लेकिन एकदम सख्त लोहे की रॉड की तरह तना हुआ खड़ा था. घर पर आकर मैंने कपड़े बदले और हॉल में सोफे पर आकर बैठ गया तो मेरी नज़रों के सामने राधिका आंटी की दिनभर की हरकतें आने लगीं और मैं उत्तेजित होने लगा. उसका कोई न कोई बॉयफ्रेंड उसको कॉल करता रहता था और वो मेरे सामने खुलकर उनसे चुदाई की बातें करती रहती थी.

झड़ते हुए उसने गीता को कस कर सीने से चिपका लिया और एक टांग उसके ऊपर रख कर उसे नीचे से भी दबा लिया. किसी लड़की को आधा अधूरा चोद कर नहीं छोड़ देने का दर्द मैं पहली बार आज महसूस कर रही थी.

मेरे शौहर एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में कार्यरत थे, तो उनका घर से बाहर आना जाना लगा ही रहता था, कभी कभार उन्हें विदेश भी जाना पड़ता था.

तभी पटेल बोला- सही बोलता है तू!उसने तुरंत अपना मुँह वहीं मेरी चूत में लगा दिया. यही तो मज़ा है ठंड का, घर जाकर नहा कर सीधे आरुशी की चूचियां पियूँगा, मस्त चूचियां है यार उसकी, आज मज़ा आएगा चुदाई का. जब वो लंड निकाल कर मेरी चूत चूसने लगता तो मैं पीछे हो कर उसका लंड भी चूस लेती थी.

लड़की की चुदाई वीडियो केवल डॉली और अन्नू की सेवा ही करते रहोगे क्या?मैंने कहा- ऐसी बात नहीं है, वो दोनों मुझे छोड़ती ही नहीं, बस और कुछ नहीं वरना … आप जैसी लेडी के हुस्न का दीदार कौन नहीं करना चाहेगा. मेरा बॉयफ्रेंड अभी भी चूत को चाट रहा था और साथ में अपनी उंगली मेरी चूत में डाल रहा था.

हम तीनों नंगे ही छत पर चले गए और फ़िर चियर्स कर के हम सबने दो तीन घूँट में ही बियर खत्म कर दी. ऐसा कहते हुए उसने मेरे लंड को अपने हाथ में लिया और अपनी चूत पर सेट करते हुए मेरे लंड पर बैठ गई. देख मेरा अच्छा दामाद है न, प्लीज, सिर्फ एक बार चूत लंड का मिलन करवा दे, मुझ पर रहम कर.

ममता कुलकर्णी के बीएफ

प्रिया का दूध से ज्यादा सफेद, चिकनी बगलें, साफ़ बेदाग़ बदन देख कर मेरा तो भेजा ही आउट हो गया. तभी वाणी भी आ गयी और बोली- अरे इतनी देर से आये क्या … अभी तक काफ़ी भी नहीं पी?हम दोनों मुस्करा दिये और बोले- समय नहीं मिला बनाने का. 10 मिनट तक मैंने उसके होंठों को चूसा और उसके बाद मैंने कान के पीछे से चूमा.

मैंने नीचे हाथ ले जाकर उसकी बेल्ट को खोलना चाहा मगर उसके भारी-भरकम शरीर का वजन कुछ ज्यादा ही था. मेरे धक्कों में भले पहले की तरह ताकत न लग रही हो, पर मैं धक्के मारना छोड़ नहीं रही थी.

कुछ देर तक यह दौर चला, फिर दोनों झड़ गईं और मेरा लंड और मुँह उनके पानी से भीग गया.

मैंने फिर पूछा- क्या उसका लंड साइज में छोटा है या वो जल्दी डिस्चार्ज हो जाता है?वो बोली- नहीं ऐसा भी नहीं है, उसका लंड काफी बड़ा और मोटा है. वो बाथरूम में चली गई और कुछ मिनट बाद वो आकर फिर से मेरे बाजू में बैठ गई. उसने कहा- यह तो ख़ुशी की बात है, नाम बताओ कौन है, मैं बात करती हूँ उससे.

फिर भैया जैसे ही भाभी को माला डाल रहे थे, वैसे ही मेरे बाजू खड़ी एक लड़की ने भाभी को पीछे खींच लिया और जैसे ही भाभी पीछे खिंची, तो भाभी और मैं एक दूसरे से टकरा गए. उसके बाद मैं मकान के पीछे की तरफ गया और मैंने देखा वहाँ पर पीछे की तरफ एक खिड़की बनी हुई थी. ऐसा कहते हुए उसने मुझे और तेज जकड़ा और पीछे से पकड़ कर मेरी गांड से लिपटने लगा.

मैंने देखा कि उसकी नेवी ब्लू पैंट में कुछ आकृति उठ कर एक आकार लेने लगी थी.

साउथ वीडियो बीएफ: वैसे मैं पढ़ाई मैं ज्यादा तेज तो नहीं हूँ पर औरों के मुकाबले होशियार हूँ। मैंने उसे एग्जाम में मदद की और फिर हमारी दोस्ती गहरी होती गयी।उस साल मेरी किस्मत भी मेरे साथ थी क्योंकि इत्तेफाक से वो भी मेरे ही प्रक्टिकल ग्रुप में थी। मैं उसे मदद करने के बहाने उसे छू लेता, कभी उसके हाथ से मैं अपना हाथ टकरा देता तो कभी उसकी गांड के पास अपना लंड सेट कर देता. फिर मुझे अपने बेडरूम में ले गयी, मुझसे पूछा- तुम मेरी बेटी के साथ ये सब कितने दिनों से कर रहे हो?तो मैंने बोला- कल पहली बार ही था आंटी.

कुछ मामलों मेरे पीहर का परिवार थोड़ा पुराने विचार का था, लड़कों से दोस्ती की सख़्त मनाही थी. फिर उस दिन के बाद से हम दोनों में भाई बहन का नहीं, मियां बीवी का रिश्ता बन गया. ऐसा कहते हुए उसने मुझे और तेज जकड़ा और पीछे से पकड़ कर मेरी गांड से लिपटने लगा.

इसके बाद तो उसकी सेक्स लाइफ में हमेशा-हमेशा के लिए बंसती बयार बहने लगी.

उसने मेरा सिर अपने दोनों पैरों के बीच में दबाया, मैं समझ गया कि वह अपनी चूत चाटने को कह रही है. पर मुझे न तो मैडम ही दिखाई दी और न ही ‘सर’कहाँ हैं मैडम?” मैंने पीऊन से पूछा।अंदर चली जाओ. उसने मेरी पीठ पर हाथ फेरते हुए कहा- टेंशन न ले राजा … आज सब सिखा दूंगी कि चूत को क्या क्या चाहिए होता है.