देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली

छवि स्रोत,बुड्ढा आदमी का बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेकसि विडीवो: देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली, उसकी मदमस्त आवाजें सुन कर मुझे फिर से जोश आ गया और मैंने फिर चुदाई शुरू कर दी.

सेक्सी वीडियो बीएफ एचडी मूवी

मैंने और दीदी ने भी गिलास हवा में उठाते हुए चियर्स किया और गिलास होंठों से लगा लिए. बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ फिल्ममैंने उसको रोका तो उसने मेरे हाथ झटक दिये और अगले ही पल मेरी पजामी खींच दी.

पति ने अपनी सारी कहानी बताई और बोले कि मुझे अभी 50 लाख रुपये दे दो. बीएफ फिल्म एचडी वीडियो मेंपूजा को गर्म करके मैंने उसकी चूत चोद दी और अब वह मेरी बीवी बन कर रहने लगी.

मैं ज़्यादा आकर्षक तो नही हूं लेकिन कुछ लड़कियां मुझे भाव दे देती हैं.देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली: मैंने भी बिना देर किए, अपने लंड पर थूक लगाया और भाभी की चुत पर लंड का सुपारा ऊपर नीचे रगड़ने लगा.

तो उसने मुझे इस सेक्सी अवतार में नहीं देखा। मैं घर बाहर से लॉक कर के निकल गई।बाहर निकलते ही काफी लोग मुझे घूरने लगे।मैंने ऑटो किया और स्कूल चल दी। स्कूल में अंदर जाकर मैंने उस मास्टर के बारे में एक महिला कर्मचारी से पूछा तो उसने जवाब दिया कि उनकी क्लास चल रही है.उसके बाद हम दोनों बाथरूम में गये और वहां पर रोमान्स करते हुए हमने एक बार फिर से बाथरूम सेक्स किया और भाई बहन की चुदाई का मजा लिया.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन की बीएफ - देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली

इससे पहले कि हम दोनों के बीच में उसकी चूत से पैंटी को नीचे उतारने को लेकर कोई समझौता होता.उसकी चूत तक तो पहुंच गया था अब उसकी चूत में लंड देने का काम बाकी रह गया था.

तभी मैंने उसके मम्मों को थोड़ी जोर से दबा दिया, तो वो एकदम से चिल्लाने लगी- आह … क्या कर रहे हो … मुझे दर्द हो रहा है अनु. देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली पापा बोले- तो फिर आशीष ने क्या बोला उस बात के बारे में?लवली- यही कि अगर 10 दिन में कुछ जुगाड़ नहीं हुआ तो वो मुझे छोड़ कर चले जाएंगे.

मेरे लंड का साइज बड़ा होने के कारण उसके मुँह से अभी भी कामुकता से भरी हुई तेज आवाजें निकल रही थीं.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली?

दोस्तो, आपको ये अन्तर्वासना मामी की चुदाई की कहानी कैसी लगी … कमेंट्स करके जरूर बताएं. अपने एक हाथ से मैं भाभी की गांड पकड़ कर चूत में बहुत तेजी से उंगली करने लगा. क्या बला की खूबसूरती थी उसमें!वो कहते हैं न कि बुड्ढा भी देख ले तो पानी छोड़ जाए.

मैं अपनी बहन के ऊपर लेट गया और उसके होंठों पर अपने होंठ ही रख दिये. मैं- जीजा जी मुझे माफ करना और आप जो सोच रहे हैं, वो बिल्कुल गलत है. फिर भाभी उधर से आगे को बढ़ गईं, मैं भी गिलास हाथ में लिए उनके पीछे जाने लगा.

मौसी मेरे लंड को पकड़ कर सहलाते हुए मुझे किस कर रही थी और मैं मौसी के चूतड़ों को भींचते हुए उसको चूस रहा था. मैं बोला- मां मेरी शादी के लिए भी बोल रही थी लेकिन मैंने मना कर दिया कि पहले पूजा की कर दो. मैं अपनी सहेली सपना और उसके भाई के सेक्स रिश्तों के बारे में सोचने लगी.

उन्होंने जाते ही उसको अपनी बांहों में भर लिया और उसके होंठों को चूसने लगे. मैंने उन्हें अपनी तरफ खींच लिया और टेबल पर बैठा कर उनकी चुत को चूसना चालू कर दिया.

तभी मेरा माल झड़ने को हुआ तो मैंने उसको इशारा किया कि मेरा आने वाला है.

प्रिय पाठको, क्या कभी आपने आपकी खूबसूरत बहन और जीजा जी की चुदाई देखी है? क्या कभी आपने अपने बहन के मम्मों को छुआ है? क्या कभी आपने अपनी बहन को ब्रा में देखा है? क्या कभी आपने अपनी बहन को कपड़े बदलते देखा है?मुझे आप कमेन्ट या मेल करके जरूर बताना.

लवली में जरूर कुछ अलग था जो पापा उसके लिए ये कदम उठाने के लिए तैयार थे. चूत और लंड के मिलन और दोनों के वीर्य के मिश्रण से नीचे का एरिया पूरा गीला हो गया. जिसके कारण उसकी पढ़ाई में भी बाधा आयी।उसने बताया कि वह आगे पढ़ना चाहती है पर आर्थिक स्थिति उसे ऐसा करने से रोक रही है.

ये सेक्स कहानी मेरे एक दोस्त की सास की चुदाई की कहानी है, जो मेरे शहर से कुछ दूर एक दूसरे कस्बे में रहती हैं. चुत पर मेरी जुबान का स्पर्श पाते ही आंटी तो आऊट ऑफ कंट्रोल हो गई थीं. अब मुझसे भी बर्दाश्त न हुआ और मैं भी उठ कर उसके लंड को अपने हाथ में लेकर मसलने लगी और उसके होंठों को चूसने लगी.

जब तक नहा धोकर फ्रेश होकर मैंने नाश्ता किया तो तब तक मेरी मौसी भी नानी के घर आ पहुंची.

ससुराल में चुदाई का मजा लेने के बाद मैं अपनी पत्नी को लेकर घर आ गया. ऑफिस की मीटिंग दोपहर के बाद थी, तो मैंने सोचा इसी बहाने तुमसे भी मिलना हो जाएगा. चाटते चाटते वो मेरी चूत तक पहुंच गया और मेरी चूत में मुंह घुसा कर जोर जोर से मेरी चूत को चाटने लगा.

मैं और मेरे हस्बैंड, हम दोनों दूसरे रूम में आ गए।रूम में आते ही मेरे हस्बैंड ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे माथे पर किस करके बोले- बहुत तड़पाया है तुमने, आज तो तुम्हें खा जाऊंगा।हम एक दूसरे को किस करने लगे। हमने एक दूसरे के कपड़े निकाल दिए और रजाई ओढ़ ली. यद्यपि किसी भी अध्यापक को मेरी शिक्षा या मेरे ज्ञान को लेकर कोई संदेह नहीं है किन्तु बलविंदर जी का मानना है कि अगर मैं गणित के लिए विशेष प्रयत्न करूँ तो आगे जाकर मेरे लिए वो लाभप्रद होगा. होटल में हमने रिसेप्शन पर फॉर्मेलिटी पूरी की और अपने रूम में घुस गए.

मैं गहरी नींद में सो रहा था एकदम से टांगें फैला कर मस्त नींद में था.

अब मैं सिसकारी भरने लगी थी- आह्हह … ऊऊयम्म … सीसीस … आह्हहय … या … ह्हह … करके मैं अपनी चूत और गांड चटवाने का मजा ले रही थी. उसके बाद उसने मुझे घोड़ी बना के चोदा।फिर उसने मुझे उल्टा लिटाया और मेरे नीचे तकिया रख दिया.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली मौसा जी ने लंड को मामी जी की चूत की फांकों में रख कर एक ज़ोर का झटका मारा. उसके बाद मैंने दीदी के हाथों को ऊपर उठा कर उनके समीज को निकलवा दिया.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली हरि- कुतिया … कैसा लगा तुझे इतना बड़ा लंड लेकर … आज तक तो तू तेरे शिबू का ही 6 इंच का लंड लेती थी. उसके मुँह से एक मस्त तेज आह निकली और उसने अपनी टांगों को हवा में उठाते हुए पूरा खोल दिया.

उन्होंने मुझसे पढ़ाई के बारे में पूछा, फिर मेरे गेम्स के बारे में … क्योंकि मैं हैंडबाल और बेडमिंटन भी कालेज की तरफ से खेलता था.

दीपा की सेक्सी

ये बताते हुए उनकी नजर मेरे लोवर पर थी, जिसमें मेरा लंड बिल्कुल सीधा खड़ा था और उस जगह पर गीला भी था. मैं- लवली कहती थी कि अगर मुझे अपने पापा के पास तुम नहीं भेजना चाहते हो तो मुझे अभी संतु्ष्ट करो. कुछ देर बाद उन्होंने पूछा- तूने कभी सेक्स किया है?उनकी आवाज सुनकर मैं सकपका गया और मैंने मोबाइल बंद करके उनकी तरफ देखा.

सब लोगों से मिलते जुलते मैं अपने उस साले और सलहज से भी मिले, जिनके बच्चा हुआ था. लंड घुसते ही आंटी के मुंह से जोर की चीख निकली और मैंने उनके मुंह को हाथ से ढक लिया. शायद वो इससे पहले भी चुद चुकी थी इसलिए इतनी उतावली हो रही थी लंड लेने के लिए.

मैंने अपने मोबाइल पर लेस्बियन पॉर्न खोल कर पॉज़ कर दिया था और स्क्रीन का लॉक खुला छोड़ दिया था.

उसने मां की गांड पर लंड को रगड़ना शुरू किया और उसके छेद पर सुपारे को हल्का हल्का अंदर धकेलते हुए मां की गांड के छेद की मसाज करने लगा. माँ बोली- अच्छा?निखिल- हां यार, तेरी चूत बहुत चोदी है लेकिन गांड नहीं मारी. मैंने उन्हें बिस्तर से नीचे खड़ा किया और बड़े प्यार से उनकी चुनरी उतार कर ब्रा को निकाल फेंका.

मेरे दोस्त की मम्मी की सिसकारी निकल गई- अह्ह … मर गई … अम्म्म … सीईई. मैंने उसके लंड को दबाया और आगे की तरफ किया, तो उसके सुपारे से प्री-कम की धार सी बहने लगी. फिर मुझे अच्छा लगने लगा। अब मैं भी उसका साथ देने लगी।धीरे-धीरे उसने अपनी पकड़ ढीली कर दी और मुझे तेज़ी से चोदने लगा। वो बेड भी अपनी उछाल की वजह से हमारी चुदाई में मदद कर रहा था। उसका लंड मेरी चूत में काफ़ी अंदर तक जा रहा था जितना अंदर पहले कोई नहीं पहुँचा था।मैं इतने में झड़ गई.

थोड़ी देर बाद मैंने अपना लंड बुआ की चूत से बाहर निकाला और उनकी चूत को चाट चाट कर साफ कर दिया. खैर … हम दोनों में धीरे धीरे प्यार हो गया और हमने अकेले में मिल कर सेक्स कर लिया.

15 मिनट तक वो मेरे लंड को चूसती रही और मैं उसकी चूत की चुसाई करता रहा. उन्होंने पूछा- पूरा बोल न … यदि तू मेरा पति होता तो क्या?मैंने कहा- कुछ नहीं … बस …तो वो बोलीं- क्या सच में मैं तुझे इतनी पसंद हूँ?मैंने कहा- हां चाची … सच में आप मुझे बहुत सुन्दर लगती हो. मेरा बदन बहुत गोरा है और मेरा साईज कुछ यूं है बड़े बड़े 34 इंच के मम्मे हैं.

इस तरह मैंने उन दोनों को खूब लूटा और मेरी बेटी भी चुदाई में माहिर हो गयी.

दीदी- ओहो … नसीब वाला तो तू है साले … जो तुझे मेरे साथ सेक्स करने का मौका मिला. फिर मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और धीरे धीरे उसके नर्म कोमल हाथ को सहलाने लगा. लवली बोली- मैं आपसे प्यार करती हूं पापा, इसलिए ये सब किया है मैंने.

मामा का एक्सपोर्ट इम्पोर्ट का बिजनेस है इसलिए वो महीने में एक बार दुबई जाते रहते हैं. मैंने अपनी सीट का गेट थोड़ी देर खुला रखा इस उम्मीद में कि यदि सीट पर बैठने वाली कोई लड़की होगी तो उस पर लाइन ही मार लूंगा.

जब मैं उसके ऊपर से हटा तो देखा कि जितनी जगह पर वो थी उतना बिस्तर पसीने से भीग गया था और उसकी गांड के नीचे चादर पर खून का एक गोल घेरा बन गया था. सेक्सी नंगी गर्ल की स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं अपने देवर से चुद कर सेक्स का पूरा मजा लेना चाहती थी. कैसे हो मेरे प्यारे दोस्तो? मेरा नाम राज है, अंतर्वासना पर ये मेरी पहली X स्टोरी इन हिंदी है.

सेक्सी भाड़ में जाओ

उन्होंने मेरी उंगलियों से सिगरेट ले ली थी और एक पफ ले कर धुंआ मेरे लंड पर छोड़ दिया.

मैं, मेरी बीवी और पापा ने मिल कर एक प्लान बनाया जिसके मुताबिक मैंने मेरी चालू बीवी की चुदाई मेरी मां के सामने करनी थी. उनको मजा आया तो उन्होंने लंड को मुँह में अन्दर ले लिया और मजे से लंड चूसने लगीं. आपका खुमान सिंह[emailprotected]मेरी चालू बीवी की चुदाई कहानी जारी है.

दीदी को बेड पर सीधा लेटाया और उनकी चूची को निशाना बनाकर एक चूची को हाथ से दबाने लगा. आज की ये सेक्स कहानी मेरी और मेरे सामने रहने वाली नजमा आंटी (बदला हुआ नाम) के बीच हुई चुदाई की है. भोजपुरी बीएफ सेक्सी भोजपुरी बीएफ सेक्सीमैंने महसूस किया कि दीदी का पूरा बूब मेरे हाथ में नहीं आया था, इसका मतलब उनका दूध मोटा हो गया था.

मैंने उसकी पैन्ट की जिप खोली और हुक खोल कर उसकी पैन्ट नीचे सरका दी. उस आदमी ने कहा- जब पार्टी में शामिल किया है तो इनको भी पूरी पार्टी दिखाएंगे.

इसी उत्तेजना में मैंने अपना हाथ उसकी जीन्स की कमर के दोनों किनारों पर रखा और जीन्स को हल्का सा सरका दिया. लवली मेरे लंड को चूसने लगी और मैंने वहीं पर उसकी टांग उठा कर उसकी चूत में लंड पेल दिया और उसकी चूत वहीं पर चोदने लगा. कोमल दीदी हंसते हुए बोलीं- आराम से करो … तुम्हें कोई रोकने नहीं आएगा.

तभी उसने झटके से अपना लंड अम्मी की गांड से बाहर निकाला और सुनीता को झुका कर उसके गले में उतार दिया. वो अपने दोनों हाथों से अपने मेरा लंड हिला रही थी और मुँह से चूसे जा रही थी. आंटी सिसकारियां मारने लगी- आह्ह … आईई … हाए … ओह्ह … आह्ह … और जोर से चूसो।5 मिनट आंटी की चूचियों का रसपान करने के बाद मैंने उनकी चूत पर मुंह लगा दिया.

उनकी मैक्सी को मैंने थोड़ा ऊपर किया तो उनकी गोरी गोरी टांगें मेरे सामने निकल आईं.

लचीली सी कमर 30 इंच की है और पीछे थिरकती हुई बड़ी सी गांड 36 इंच की है. चूत में लंड लेने में कैसा दर्द होता है? कैसा मजा आता है? किसी लड़के के होंठों को चूसने में कैसा रस होता है? ये सब बातें मेरे दिमाग में पहली बार घूम रही थीं.

काम की वजह से उनकी तबीयत ठीक नहीं रहती जिसकी वजह से अम्मी को शारीरिक सुख नहीं मिल पाता. मेरी तमन्ना कैसे पूरी हुई?दोस्तो, मैं कल्पना रॉय अपनी फैमिली सेक्स स्टोरी का दूसरा भाग लायी हूं. मैं उनकी मदद के लिए थोड़ा ऊंचा हो गया जिससे दीदी ने लोवर और मेरी चड्डी को नीचे कर दिया.

कल वो फोन पर बोल रहा था कि अभी उसे वापिस आने में पांच छह दिन और लगेंगे. जो वीडियो कलेक्शन मेरे पास था मौसा का, मैं सब कुछ उसी के मुताबिक कर रही थी. मैंने कोई पांच मिनट तक उन्हें हर तरह से चूमा चूसा, फिर बेड पर चित लेटा दिया.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली फिर देखने लगा कि हो क्या रहा है?मगर किसी की कोई आवाज नहीं आ रही थी. उस टाइम मेरे साथ मेरी पत्नी, मेरी बहन और मेरे 2 बच्चों के साथ मेरा भाई था.

अमेरिका की नंगी सेक्सी फिल्म

मगर मेरा माल अभी तक नहीं झड़ा था तो मैंने उसको बोला- रानी मेरा तो करवाओ?वो बोली- क्यों नहीं … अभी करवाती हूं मेरे राजा।मैंने पोजीशन बदल ली और उसको चारपाई के किनारे पर ले आया. अपनी चूत को उसके मुंह पर फेंकते हुए उसके मुंह को चूत में पूरा घुसाने की कोशिश करने लगी. आदमी बोला- मेरा एक दोस्त है, अगर तुम कहो तो उसे बुलाऊं?मां बोली- ठीक है कल बुला लेना.

मेरे मन में ख्याल आ रहे थे कि यदि इन दोनों में एक की चूत भी आज रात को चोदने के लिए मिल जाये तो मेरी जिन्दगी कुछ सुधर जाये. भाभी की गांड को देखते हुए मैं यही विचार लगा रहा था कि मुझसे रुका न गया और मैंने भाभी की गांड पर अपने लंड को सटा कर उसको पीछे से अपनी बांहों में जकड़ लिया. विदेश का बीएफमैंने उसकी चूत के छेद पर देसी लंड को सेट कर दिया और तेज झटके के साथ आधा लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

मैंने- वो क्यों चढ़ते हैं मामी?मामी तेज हंसते हुए कहने लगीं- तुझे नहीं मालूम कि तेरा मामा मेरे ऊपर क्यों चढ़ता है?मैंने उन्हें उकसाया- नहीं मामी मुझे नहीं मालूम … आप बताओ न … मामा आपके ऊपर क्यों चढ़ते हैं और कैसे चढ़ते हैं?मामी बोलीं- चल पहले खाना खा लेते हैं … मुझे बहुत भूख लग रही है.

लग रहा था कि जैसे किसी बरसों के भूखे कुत्ते के सामने हड्डी डाल दी गयी हो. निगार आंटी के घर में जब उनके हमल से होने बात पता चली, तो वे लोग भी बहुत खुश हुए.

अमन देखने में अच्छा था और मेरी चूत भी उसका लंड लेने का सपना देखने लगी थी. तुझे रघु से जो भी चाहिए था मैं दूँगा।वो मेरी बात समझ चुकी थी इसीलिए उसने दोनों हथेलियों में अपना चेहरा छुपा लिया. आकाश- मानव का तुम्हें चोदने का दोबारा मन कर रहा है और वैसे भी वो अच्छा लड़का है तो हम आज थ्रीसम का अनुभव करते हैं.

तो वो खुद ही कहने लगी थी- आह मेरे राजा कब चोदोगे अपनी इस रांड को … आंह जल्दी पेलो ना … फिर अम्मी आ जाएगी.

उसने कहा- क्या?मैंने कहा- ये बताओ कि अब तक तुमने कितने लंड चूसे हैं?उसने कहा- एक!मैंने कहा- किसका? और कैसे थोड़ा प्रैक्टिकल करके बताओ. अब मैं असली बात बताता हूं जिसने मुझे ये कहानी लिखने पर मजबूर कर दिया. जैसा कि आपने कहानी के इससे पिछले वाले भागमेरी चालू बीवी लंड की प्यासी-4में पढ़ा कि मेरे पापा और मेरी बीवी के जिस्मानी रिश्ते और गहरे होते जा रहे थे.

आदिवासी एक्स एक्स एक्स बीएफअमिता अन्दर थी और मुझे शुरू से ही इसका अंदेशा था, पर मैं हालात के आगे मजबूर हो गया था. मैंने अपना सामान अपने रूम में रखा और फिर अपने दोस्तों को पटाने के लिए फ़्रिज से बियर निकाली.

जीजा और साली की सेक्सी पिक्चर हिंदी में

फिर मैंने अपने घर फोन कर दिया कि मैं पानीपत आ गया हूँ, मुझे रात को आने में देर हो जाएगी. मैं भाई के पास जाकर पैसे मांगने लगी और मजाक करते हुए उसकी पीठ पर चढ़ गयी. फिर अगले दिन मैंने परिवार में चुदाई की कहानी और भाई बहन की चुदाई की कहानी वाली किताबें अपने बेड पर छोड़ दीं और ऑफिस चला गया.

उसने अपने तपते होंठों को मेरे प्यासे होंठों पर रख दिया और मेरे होंठों को जोर जोर से चूसने लगी. मैंने मामी से पूछा- आपने भी नहीं खाया?मामी बोलीं- मैं तुम्हारा इंतजार कर रही थी कि तुम आ जाओ, तो साथ में खाते हैं. दोस्तो, मेरी बेटी और मेरी चूत चुदाई की स्टोरी आपको अच्छी लगी हो तो मुझे बताना.

अपनी चूत के छेद में मेरी उंगलियों को पाकर मौसी को मानो मज़ा सा आ जाता था. कुछ देर के बाद मैंने उसको खड़ा किया और खुद नीचे बैठ कर उसका लन्ड बड़ी तसल्ली से चूसने लगी. क्योंकि मेरी ये बर्थ दो लोगों के लिए थी और मुझे नहीं मालूम था कि दूसरा कौन भोसड़ी वाला आएगा.

मुश्किल से मैंने 5 मिनट ही ऐसा किया होगा तभी साधना का दर्द थोड़ा कम हुआ और मजा आना शुरू हुआ. इस वक्त लंड चूसना मुझे ज़रा भी अच्छा नहीं लग रहा था क्योंकि मोहित अंकल अपना लौड़ा मेरे गले में फंसा रहे थे और उनके लंड का टेस्ट भी मुझे अजीब लग रहा था.

ललिता की जांघें पकड़ कर मैंने ठोकर मारी तो मेरे लण्ड का सुपारा ललिता की चूत के लबों में फंस गया.

एकदम से खींचने से उसको मीठा मीठा दर्द होता और बंद होंठों से बीच में ही आवाज करती- अम्म … ऊह्ह … उम्म।उसे काफी दर्द दे चुका था मैं जिसे अब कम भी करना था. हॉट इंडियन बीएफकुछ देर बाद बस चल पड़ी और हम बस में छत से लटकने वाली रॉड पकड़ कर खड़े हो गए. होली का बीएफ सेक्सीमगर करिश्मा जैसी हसीना से अपने होंठों पर चुम्बन पाना मेरे लिए एक सौभाग्य जैसा था. रजामंदी होने के बाद मैंने दीदी को दरवाजे के पास ही दीवार से सटा दिया.

उनके आने के बाद कैसे करना है फिर?पापा बोले- करना क्या है, लवली ने प्लान बनाया हुआ है.

मेरी गांड नीचे से उठ उठ कर और अंदर तक लंड को आने का न्यौता देने लगी थी. मैंने कहा- किस बात का धन्यवाद!वो बोली- आप नहीं होते, तो ठंड में मैं जम जाती. आपने मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागहॉट गर्ल की बुर चुदाई की कहानी-1में पढ़ा कि करण ने मेरी चुत पर अपना हाथ रगड़ना शुरू कर दिया था.

जैसे ही मैं देख लेता कि आंटी रूम में आ गई हैं, तो मैं पूरा गेट खोलकर बाहर ही बैठ जाता और आंटी को ताकता रहता. मां जोर जोर से चीखने लगी- आह्ह … आईई … आई मा … नहीं … छोड़ दो … आह … बहुत दर्द हो रहा है. मेरी वैक्स की गयी चिकनी चूत से पर्दा उठने लगा और वो कोमल सी कुंवारी कच्ची कली जिसमें बीच में एक छोटा सा चीरा लगा था वो मौसा के सामने बेपर्दा हो गयी.

कैटरीना का सेक्सी फिल्म वीडियो

वो भी गांड को हिला हिला कर अपनी चूत में अपने ही ससुर का लंड लेने लगी. फिर मैं आंटी के पास बेमन से उठ कर चला गया और जल्दी ही वापस भी आ गया. मैंने उनसे बोल दिया- क्या आप मुझसे शादी करेंगी?मेरी इस बात पर मनीषा बुआ एकदम से सन्न रह गई.

मेरी चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैं मेरी सहेली को डिलीवरी के लिए अस्पताल ले गयी.

उसके अगले दिन पापा मेरे सामने ही मेरी बीवी को गोद में उठा कर अपने रूम में ले गये.

मेरा सरसराता हुआ दीदी की चुत में सरक गया और मैं धीमे धीमे करके दीदी की चुदाई करने लगा. मैंने कहा- अरे नहीं सर, बस मैं रोज थोड़ी एक्सरसाइज कर लेता हूं इसलिए मेहनत करने की आदत सी हो गयी है. ब्लू पिक्चर बीएफ सेक्सी एचडीमैं अकेला खाना खाने लगा, इस समय मुझे दीदी की याद रही थी क्योंकि मेरी अन्दर चुदाई की प्यास बढ़ रही थी.

मैंने आंटी को अपनी बांहों में लिया और पीछे हाथ डालकर उनकी ब्रा का हुक खोल दिया. पर इतने में मैंने अपने होंठ उसकी गुलाबी चूत की पंखुड़ियों पर रख दिए. तो उसने मेड को बताया कि मैं उसके मायके से उसके लिए करवाचौथ की सरगी ले कर आया हूँ.

थोड़ी देर आराम करने के बाद भाभी मेरे लंड से खेलने लगी और मैं उनकी चूची की घुंडी को धीरे धीरे दबाने और चूसने लगा. मेरे लिये अब ये एक चेलेंज बन गया था क्योंकि मैंने आंटी को गर्म करने की ठान ली थी.

मगर बात को संभालते हुए मैंने फ़ौरन ही उसको एक स्माइल दी जिससे कि वो डरे न। मैं नहीं चाहता था कि ये देखने दिखाने का खेल बंद हो जाये क्योंकि मुझे भी इस सब में मज़ा आ रहा था और कॉलेज वाले दिन याद आ गये थे.

चाहे उनके वक्ष हों या गांड, उनके बदन का हर अंग, हर हिस्सा बहुत ही कोमल और मदहोश कर देने वाला था. हम दोनों थोड़ा पास खड़े थे, तो मैंने मौके का फायदा उठाया और उनकी गांड पकड़ कर उनको अपनी ओर खींचा. वो सिसकारने लगे- हमम्म … अच्छा लग रहा है राहुल, बहुत ठंडक पहुंच रही है.

भोजपुरिया सेक्सी वीडियो बीएफ फिर जोर से सिसकारते हुए बोली- अब चोद दे प्लीज … और नहीं रुक सकती मैं. उनकी चुदाई से जो फच-फच की आवाज हो रही थी वो पूरे कमरे में गूंज रही थी.

परिवार चिंतित था मेरी लम्बाई पिछले 3 वर्षो में केवल 2 इंच ही बढ़ी थी जो कि उचित दर से नहीं बढ़ रही थी. तो इनकी पहली चुदाई यादगार बनाने की ज़िम्मेदारी मेरी हुई न!मैं फिर सीधे होकर लेट गई और बोली- चलो, फिर से खेल शुरु करते हैं।सब मुस्कुराए और उठकर बैठ गए।मैं भी उठी तो मनोहर मेरे सिरहाने जाकर घुटने पर बैठ गया।उसने कहा- अबकी बार ऊपर से लंड चूस।मेरे अगल बगल में सनी और विश्वजीत था। रोहन और पूरन, दोनों नीचे की ओर थे।मैं मुँह ऊपर करके मनोहर का लंड चूसने लगी. क्या माल थीं यार वो … उनकी उम्र करीब 42 के आस पास होगी, पर चेहरे पर चमक एकदम 30-32 की उम्र की भाभी जैसी थी.

नाना के सेक्सी वीडियो

मैं मन ही मन सोचने लगा कि मौका अच्छा है अगर चोद नहीं सकता कम से कम उस कामदेवी के फिगर को देख कर मुठ ही मार लूंगा. फिर मैंने सोचा कि तब तक ये किताबें ही देख लूं … काहे की किताबें हैं. मुझे उसकी इस बात पर थोड़ा गुस्सा आया और मैंने उसको थोड़ा मुँह बना कर देखा।अब वो समझ गया कि मुझे उसकी बात अच्छी नहीं लगी.

उसका एक कारण यह भी था कि वो अपने परिवार से दूर यहां पर अकेले रहते थे. उसके कामुक जिस्म को देख कर मेरा लंड सेक्सी माँ बेटे का सेक्स आनन्द के लिए बार बार उछल रहा था.

भरे हुए चूचे, सुराहीदार गर्दन, केले की तरह तने के जैसी मांसल और भरी हुई जांघें.

उसकी बात सुनकर मैं प्यार से उसके लंड को अंडरवियर के ऊपर से सहलाने लगी. लेकिन मेरा मन नहीं भरा था क्योंकि उसकी फिगर में उसकी गांड का शेप गजब था. मेरी उंगलियां इतनी धीरे से चूत को सहला रही थी कि जरा सा भी दबाव न पड़े.

मेरा हाथ और ऊपर की ओर जाना चाहता था क्योंकि आखिरी मंजिल तो मौसी की चूत ही थी. बड़ी मुश्किल से मैंने उसको रोक कर कहा- मेरी जान … अब मेरी चूत को अपने लंड का स्वाद चखा दे. वो बोली- तुझे इसका कुछ इलाज नहीं मिला क्या?मैं बोला- जब इलाज घर में ही है तो मैं कहीं बाहर ढूंढने के लिए क्यों जाऊं?इतने में ही मां किचन में आ गयी.

पैंट उतारने पर मेरा सांप जैसा फुला हुआ लौड़ा उसके सामने था, लेकिन लंड फ्रेंची में कैद था.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली: वो बोली- तो मेरे यहां से ले गये होते?मैंने बोला- हां भाभी, बस यही तो गलती कर दी. इतना सब होने के बाद अब वह ये भी नहीं कह सकती है कि तुम लोग हरामी हो गये हो क्योंकि मम्मी खुद ही पापा के लंड से चुदते हुए रंगे हाथ पकड़ी जा चुकी है.

वो सुबह 8:00 बजे मेरे घर आती है और दोपहर दो बजे अपने घर वापिस चली जाती है. और उसके साथ ही मैंने भी अपना माल उसकी चूत में ही छोड़ दिया पर लंड को अन्दर ही डाले रखा. आपका राज[emailprotected]भाई बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:जीजा ने भाई से बहन की चूत चुदवाई-2.

लवली मैक्सी पहन कर तैयार हो गयी और अपनी मां के पास आकर बोली- मां, कुछ दिन रुक जाओ.

मोनिका ने पैंटी निकाल दी और मैंने उसे पोजीशन में लेकर उसकी चुत में अपना लंड अन्दर डाल दिया. मैंने जाकर दरवाजा खोला तो सामने मेरे हस्बैंड थे लेकिन आज वो अकेले नहीं थे। उनके साथ उनका एक दोस्त था जो अक्सर घर पर आता जाता रहता था।हस्बैंड को देखकर मैं बोली- आप?वे बोले- क्यूं, किसी और का इंतजार कर रही थी क्या?हस्बैंड ने मुस्करा कर पूछा. उसके मुंह से जोर जोर से आवाजें आने लगीं- आह्ह … स्सस … उफ्फ … याहह … ओह्हह … कमॉन … हम्म … हए … आह्ह.