कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,कार्टून पॉर्न

तस्वीर का शीर्षक ,

বিএফ পিকচার: कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ, चाची कामुक आवाज करने लगीं और मेरे बालों को अपने हाथों से खींचने लगीं.

सेक्सी मराठी सेक्सी मराठी

कुछ देर बाद मैं उठी और बाथरूम में जा कर अपने आपको अच्छी तरह से साफ किया और कपड़े डाल कर वापिस घर आ गई. स्त्री पुरुष संभोगयह जानने के लिए कि पिंकी और उसका होने वाला पति कैसे चुदाई करते हैं, मैंने एक सीसी कैमरा उसके बेडरूम में लगा दिया, जिस पर सब कुछ दिखे और सब कुछ रिकॉर्ड भी हो जाए.

इस वक्त मैं अपनी दीदी के देवर के साथ अफेयर में थी, तो मैं सोच रही थी कि मैं अपनी दीदी के देवर के साथ ही सेक्स करूँगी. सेक्स टाइम बढ़ाने के लिएउनको मैंने पूरी नज़र से नहीं देखा, बस मैं बोला- मैडम जी, फ़ाइल लेने आया हूँ.

तो उसने बड़े आराम से सब कुछ सुयोजित किया और भाई बहन सेक्स की योजना के मुताबिक सबसे पहले उसने बड़े भाई पर लाइन मारना चालू किया.कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ: और जब मेरे पास मरवाने के लिए लिए चूत है तो मैं क्यों गांड में लंड डलवाऊं? असल में बात यह है कि तुम सब मर्द एक जैसे हो.

करीब 6-7 लेडीज थी और 10-12 जेन्ट्स!जब मैं लेटी तो करीब 10:30 बजे रात का समय हो चुका था पर मुझे बिल्कुल नींद नहीं आ रही थी, मेरे को सुबह के बाद अंकित भी नहीं दिखा, पता नहीं कहाँ चला गया था.तभी भाभी ऊपर को उठीं और उन्होंने मुझे अपने स्तन देखते हुए पकड़ लिया और बोलीं- क्या देख रहे हो?मेरी फट गई, मेरे मुँह से शब्द नहीं निकले.

न्यू गोल्डन डे सागर रिजल्ट - कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ

दस मिनट बैठकर हम दोनों ने थोड़ी सेक्सी बातें की, फिर मैं भाभी को किस करने लगा.माइक ने भी पूछा- क्या तुम्हें मजा आया?उसने उत्तर दिया कि ये मेरे जीवन का मेरा सबसे अच्छा पल था.

यह सुनते ही उन्होंने मुझे बेड पे पटक दिया और अपना लंड मेरी चुत में डाल दिया. कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ रशीद का लंड सात-आठ इंच का लम्बा और बहुत ही मोटा व झांटों से भरा हुआ था.

कुछ ही देर में मैं उनके मुँह में और वो मेरे मुँह में अकड़ कर झड़ गईं.

कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ?

यहां चौकीदार रहता है बाकी वो देखता रहेगा, ये लीजिये चाभियां!” अदिति के चाचाजी बोले और चाभियों का गुच्छा मुझे थमा दिया. उनके एकदम पास जाकर उनकी चोटी को अपने एक हाथ से पकड़कर उनके होंठों पर अपने होंठों को रखकर किस करने लगा और दूसरे हाथ से उनके शरीर को सहलाने लगा. मेरी यह बात सुनकर उसने मुझे सहारा दिए रखा और जब मैंने कमजोरी का सा दिखावा जारी रखा, तो उसने मुझे गोद में उठा कर कहा- चलो मैं तुम्हें वहाँ पेड़ के नीचे लिटा दूं.

उसका फायदा वह उठाने लगा और सीधे मेरी चूत में अपना हाथ रख कर मेरी चूत में अपनी उंगली जल्दी-जल्दी डालने लगा, निकालने लगा और ऐसे जकड़ लिया था कि मैं कुछ कर नहीं सकती थी, और जोर दो-तीन मिनट ऐसे रगड़ा मेरी चूत को कि जो मुझे गुस्सा आ रहा था जिसके कारण मैंने उसके कंधे पर अपने दांतों से काट भी दी थी, वह गुस्सा अब मेरा न जाने कहां गायब होने लगा, मुझे इस खेल में मजा सा आने लगा. संपत जी ने मेरी मम्मी की नंगी चुत में अपनी उंगली पेल दी और अन्दर बाहर करने लगे. कभी उसके हाथ मेरी गर्दन को सहलाते, तो कभी पीठ को सहलाते हुए मेरे चूतड़ों तक पहुंच जाते.

मुन्ना ने जल्दी से कपड़े डाले और बोला- मैं अभी गोली खरीद लूँगा और तुमको सुबह सुबह दे दूँगा ताकि अगर प्राब्लम होगी तो भी उससे छुटकारा मिल जाए. कुछ देर तक प्रिया वैसे ही पड़ी रही और फिर धीरे से उसने करवट बदल कर अपना मुँह मेरी तरफ कर लिया. मैं उसको बोली- तुम अपने ऑफिस क्यों नहीं गए?तो वो बोला- मुझे काम करने का मन नहीं करता है.

तो मैंने दिल की मानकर फिर से पगडंडी ढूंढना शुरू किया तो कुछ दूरी पे मुझे एक पगडंडी दिखाई दी, जिधर ढूंढ रहा था उसके उल्टी साइड में। शायद मैं गलत दिशा में था पहले, तो अब मैंने उसी पगडंडी पर बाइक दौड़ा दी, लगभग 15 मिनट बाद मेरी मंजिल मेरे सामने थी।मैंने झोंपडी के पास जाकर आवाज लगाई तो कोई जवाब नहीं आया, फिर से आवाज लगाई तो भी आवाज नहीं आई. क्योंकि तेरा लौड़ा बहुत बड़ा है और हर लड़की बड़े लंड से ही चुदाई करवानी पंसद करती है.

जब वो सेक्सी आवाजें करने लगी थी, तब उसका मतलब यही था कि वो अब पूरी तरह से गर्म हो गयी थी.

इसी तरह लगभग बीस मिनट तक एक-दूसरे को जोर जोर से चूसने और चाटने के बाद अशोक ने अपना लोहे जैसा खड़ा लंड अपने जवान बिनब्याही बेटी की चूत में डाला और जोर-जोर से पेलने लगा.

राज अंकल बोले- वाह मेरी जान सोनू, तूने तो हम सबका दिल जीत लिया है, तू मना भी करती तो भी हम एक साथ ही तुझे चोदते, पर तूने खुद से यह कहकर साबित कर दिया कि सच में तू बहुत सेक्सी, बहुत मस्त. वो बोलीं- तुम क्यों नहीं?अब वो अपना ब्लाउज खोलने लगीं, खोलने क्या लगीं, खोल ही दिया और ब्रा समेत उतारकर नीचे फेंक दिया. शीतल- मालिश कर दूँ तेरे बदन की?मयूरी- हाँ माँ… प्लीज कर दो… बहुत दुःख रहा है.

फिर मैंने अपनी तरफ से उनकी चूत में अपने लंड को फंसा कर एक जोरदार झटका मार दिया. फिर मैंने उसको 15 मिनट तक चोदा और फिर हमने कपड़े ठीक किए और किस करने लगे. मैं आह करके चिल्ला दिया तो उन्होंने मेरे मुँह पे हाथ रख के गांड में लंड पूरा पेल कर झटका देते हुए मेरी गांड मारने लगे.

इतना करने के बाद मैंने पलंग पर पड़े कपड़े, मिठाई के डिब्बे एक के ऊपर एक रख के ढेर लगा दिया और अदिति के लेटने लायक जगह बनाई और उसे पलंग पर गिरा कर मैं उसके ऊपर सवार हो गया.

मैंने लंड भी बाहर निकाल कर चूत के छेद पर लगा कर जोर का झटका दे मारा. वो लड़का भी अपने पापा का बिज़नस देखता था और वो हफ्ते में दो दिन फ्री रहता था. मैंने उसकी थोड़ी तारीफ की और कहा- मुझे आप बहुत अच्छी लगी हो, क्या मैं आपका नम्बर जान सकता हूँ?वो मुस्कुराते हुए बोली- किस चीज का नम्बर?मैंने अचकचा गया और कहा- फोन का नम्बर दे दीजिएगा.

सच बता कितने लोगों से अब तक में चुदवा चुकी हो? कितने लन्ड ले चुकी हो वन्द्या? बताओ वन्द्या?यह कहते हुए अंकित जोर-जोर से मेरी चूत को चाटने लगा. औरत स्नेह, ममता, वात्सल्य, आत्मीयता और अपनत्व, का अथाह सागर होती है. मैंने उसकी चुत को एक हाथ से पकड़ कर जोर जोर से चोदना शुरू किया, फुल स्पीड में धकाधक चोदने लगा, जूही बार बार बोल रही थी- राज चोद डालो … और जोर से … फाड़ डालो मेरी चुत।उसकी ये वासना भरी बातें मेरे जोश बढ़ा रही थी और मैं जोर जोर से उसकी चुत का बाजा बजा रहा था।कमरे में एक टेबल था मैंने जूही को उसपर बिठाया दोनों पैर ऊपर करके। जूही ने अपने हाथ मेरे गले में डाल लिए.

अब जब दस साल से पति बाहर हैं, कभी कभार आते हैं तो तो मेरी सेक्स की इच्छा अधूरी ही है और वैसे भी मेरे पति को सेक्स में ज्यादा इंटरेस्ट नहीं है, मुझे अभी सिर्फ़ साल में 2-3 बार ही सेक्स का सुख मिल पाता है, जिससे मैं बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हूँ.

जब भी मैं अपने पति से चुदवा लेती हूँ, तो मैं पति के साथ झड़ जाती हूँ. तुम्हारी चूत बहुत ही मस्त है और देखो ना कैसे अपना मुँह खोल कर मेरा लंड गपा गप खा रही है.

कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ तो जिस दिन औरतें निकलने वाली थीं, उसी दिन बीवी ने पायल को कहा कि आज सामान भेज दो. दोस्तो, मेरा नाम रोहन है और काफ़ी टाइम से मैं सेक्स कहानियाँ पढ़ता आ रहा हूँ.

कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ उस पर बैठना मना है; अरे मत बैठो अभी कोई टोक देगा आकर!” मैंने कम्मो को मना किया. मतलब साफ़ था कि आंटी मेरा ध्यान अपनी ओर खींचने का प्रयास कर रही थीं.

मैं भी अब अपने आप में नहीं था और उसकी चूत में उंगली घुसा दी, जिसकी वजह से उसके मुँह में तेज सिसकारियां निकलने लगीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो बीएफ सेक्सी एचडी

हम दोनों की सिस्कारियां अब चीखों में बदल गयी और हम दोनों झड़ने वाले थे. तभी वो मेरे पास आई और बोली कि इधर मेरा मन नहीं लग रहा है, मुझे कहीं बाहर ले चलो. मैंने कहा- तेरे पास खुद का फ़ोन नहीं है क्या?तो बोली- सिम तो है लेकिन फ़ोन खराब हो गया.

पर जब सोहेल नहीं माना, तो पायल ने घर से ही किराना सामान का बिजनेस शुरू किया. अब मैं अपने पति का लंड मुठ्ठी में पकड़ कर खींचने लगी और कहने लगी- डालो भी यार अपना लंड मेरी चुत में डाल दो. फिर वो बेड पर सीधी लेट गईं और मैं डीवीडी शुरू करके उसके पास बैठ गया.

अन्दर बिस्तर पर चाची पूरी नंगी चित लेटी हुई थीं और चाचा उनकी चूचियों पर टूटे पड़े थे.

शीतल एक घरेलू काम-काजी महिला थी पर अन्य औरतों की तरह उम्र का असर उसके शरीर पर ज्यादा हुआ नहीं था. मामी- मुझमें क्या ख़ास लगता है?मैंने लंड पर हाथ फेरते हुए कहा- सब कुछ ख़ास है आपका. पूरे शरीर पर बाल का कोई निशान नहीं, पानी उनके शरीर पर फिसल रहा था और उसकी वजह से पूरा बदन हीरे की तरह चमक रहा था.

मैंने महसूस किया था कि मेरे देखने से वो भी कुछ इस तरह से देखने लगती थी, जिससे ऐसा लगता था कि शायद उसके मन में मेरे लिए भी कुछ है. मैंने दुबारा अपने लंड के टोपे पर थूक लगाकर उसकी चूत में लंड के टोपे को घुसा कर घुसाने लगा. दोनों ने तनिक भी समय नहीं गंवाया और फुर्ती के साथ अलग होकर तारा ने कुतिया की भांति आसन ले लिया.

इस वजह से मेरी ‘जान पहचान’ दीदी के देवर के साथ कुछ ज्यादा ही हो गयी थी. यह तू कल देख लेना सोनू कि तेरी मम्मी को कैसे विश्वास में लेना है, मुझे आता है.

इस बार वो फिर से बिन जल तड़पती हुई मछली सी हो गयी और मुझसे छूटने की भीख मांगने लगी. क्योंकि उसकी चुत अब भी कसी हुई थी जिस कारण उसको दर्द हो रहा था और अब वो रोने लगी थी. तभी उसकी गांड ने मेरे लंड को एक झटका सा मारा, मैं समझ गया कि इसको लंड की चोट चाहिए.

मुझे लगा भी कि खून आ गया है लेकिन वो तो मेरे होंटों को और जोर से चूमने लगी और मेरे कटे हुए होंठ को मस्त जोर जोर से चूसती रही और खून बंद कर दिया.

भाभी का ध्यान पड़ने से पहले मैंने पानी की बाल्टी फेंक दी थी और जैसे ही हमारी नजरें मिलीं, सेक्सी भाभी ने अपने आपको ढकने के लिए एकदम से तौलिया लपेट लिया. मैंने उससे पूछा- तुम मुझे अपनी बड़ी बहन समझ कर सब कुछ बताओ, मैं तुम्हारी पूरी सहायता करूँगी. मेरी चूत लिसलिसी हुई पड़ी थी, जिससे उनका लंड मुझे धकापेल चोद रहा था.

भाभी आते ही बोलीं- देवर जी, ऐसे अकेले खेल से भाग जाना अच्छी बात नहीं. मैंने स्वाति को बेड पे पटका और उसके ऊपर आकर उसे किस करने लगा, वो भी मेरा पूरा पूरा साथ दे रही थी.

तो वो उठकर चार पैरों पर किसी प्यासी रंडी की तरह जीभ बाहर निकालकर मेरे लौड़े को देखने लगा. जो मैं अपनी कुंडली दिखाऊं?वो बोलीं- हाँ जिसके चक्कर में तुम यहाँ पहुंचे, वो तो मेल मिलाप वाला आदमी ही था. होने वाली बहू के सारे जेवर बहुत ही सुन्दर सुन्दर डिजाईन के थे और चढ़ावे के कपड़े, शादी का जोड़ा सब कुछ फर्स्ट क्लास लगा.

एक्सएक्सएक्स पंजाबी

देखा है तो इतना मजा भी तो दिया है, वैसे मेरा क्या देखना है तुमको?” मैंने भी सेक्सी आवाजें निकलते हुए कहा.

उसने बड़े मजे से मेरे लंड के रस को निगल लिया और फिर से चूसना चालू रखा. और अच्छे से मेरी चिनमिनी शांत कर दे इस चींटी से मुझे निजात दिला दे. मेरी पिछली कहानीगया था बिज़नेस करने, भाभी को चोद दियामें आपने पढ़ा:मैं कोलकाता में शेखर भैया के घर बिज़नेस सीखने के लिए तीन महीने रहा और अनेक बार मधु भाभी को तरह तरह से चोदा.

तभी प्रिया ने लंड के आगे की चमड़ी को खींचकर पूरा पीछे कर दिया और सुपारे को बाहर निकाल लिया, जो कि एकदम लाल होकर चमक रहा था. फिर एक दिन आपकी कहानी पढ़ी, जिसको पढ़ कर ऐसा लग रहा था कि आपकी ये कहानी सच्ची है, तो आपके ईमेल पे संदेश भेजा, जिसका आपने उत्तर दे कर मेरा मन खुश कर दिया. ज्वालामुखी मूवीमुझे आगे वाले ने मेरे मम्मों को पकड़ कर मुझे सहारा सा दिया हुआ था, जिससे मुझे काफी राहत मिल रही थी.

दोनों के माथे से पसीना बहने लगा था और दोनों के चेहरे पे अब शिकन दिखने लगी थी. बैठिये, आप कुछ लेंगे ठंडा या गर्म?मैं- नहीं, मैं तो बस आपसे ऐसे ही बात करने आया था.

अब तक जैसा कि मैं सोच रहा था कि उसने पहले भी ये सब किया होगा वैसा लग नहीं रहा था. कहीं दिल के कोने में मुझे खुशी भी हो रही थी कि इतने सारे जवान लड़के मेरी गांड मारने और मुझे अपने लंड चुसाने के लिए बेताब थे. फिर मैंने देर ना करते उसकी चुत पर लंड टिका दिया और अन्दर डालने लगा.

वो तो ठीक है, लेकिन मुझे वहाँ का माहौल देखना पड़ेगा और वैसे भी अगर मेरे पति का लंड ठीक और मजेदार हुआ, तो फिर तो मुश्किल हो जाएगी. जो उसने मेरी गांड को खोल कर डाल दी और कुछ अपने लंड के ऊपर ऊपर लगा ली. मान जा बेटा, तू तो मेरी अच्छी सी प्याली प्याली गुड़िया रानी है न!”नहीं नहीं नहीं … मुझे जाने दीजिये बस या फिर अंधेरे में कर लो!” वो अपनी जिद पर अड़ी रही.

इसका भाई लालजी, ये अंकित सब झूठे निकले, जो बोल रहे थे कि ये बहुत चुदाई करा चुकी है.

जैसे ही मैंने उसको हैलो किया तो वो बोली- मीता, तुम्हारा पति तो चूत को भोसड़ा बनाने वाला है. पिंकी को बिल्कुल घरेलू लड़की की तरह से सजाया था ताकि उसका असली रूप उनको ना दिखे.

उन तीनों ने एक साथ पूरी ताकत से इतने जोर से लंड पेला और अन्दर तक घुसा दिया. इतनी जल्दी लंड पे कर चुदाई करने में मुझे आज मजा आता नहीं दिख रहा था. मैं मामी की टांगें फैला कर लंड अपने हाथ में पकड़ कर चोदने की पोजिशन में आ गया.

उसमें बहुत सी नंगी लड़कियों की फोटो थीं, जिसमें उन्होंने अपने मम्मों को दबा दबा कर दिखलाया था और कुछ ऐसी थीं, जिसमें वो अपनी चूत को खोल कर दिखा रही थीं. उसके बाद मैंने अपने कपड़े पहन कर बाथरूम में जाकर अपनी चूत साफ़ की और मेरा भाई कुछ देर मुझसे बातें करने के बाद अपने घर चला गया. रंडी समझा है क्या?मैं गुस्से में आ गया और मैं भी पूरे जोश में लंड पेलने लगा.

कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ मैं मौसी के होंठों को मुँह में भरते हुए उनकी गांड दबाते हुए होंठों को चूसने लगा. मैं रोज़ की तरह एक्सर्साइज़ कर रहा था कि मेरी नज़र पीछे वाले फ्लैट में पड़ी.

सुंदर लड़कियों की बीएफ

मैं करीब शाम को आठ बजे चाची के घर पहुंचा, चाची खाना बना रही थीं और चाचा हॉल में पड़े बिस्तर पर लेटे कोई किताब पढ़ रहे थे. यों तो हमने कई बार सेक्स किया था, लेकिन इस बार का कुछ ऐसा अलग हुआ जो मैंने भी सोचा नहीं था. कॉलेज में लंच के टाइम उसने अपने एक दोस्त को बोला कि मिलने के लिए रूम चाहिए, हमें रूम मिल गया.

तब मुझे समझ में आया कि चाचा मुझे बेचने के लिए लड़के लाता है और उनको मेरे को दिखाता है. यह सब में अपनी मर्ज़ी के बिना, डॉक्टर किस सलाह पर ही कर रही थी ताकि उसे होश आ जाए. मॉम डैड वॉलपेपरउसके कमरे का एक दरवाजा भाभी के कमरे में खुलता था, जिसे वह बंद रखती थी और दूसरे दरवाजे के बाहर एक कवर्ड बरामदा था, जिसमें से सीढियाँ नीचे उनके ड्राइंगरूम में जाती थी.

मैंने उनको खुद से दूर किया और एक नज़र ऊपर से नीचे तक दीदी के नंगे बदन को देखा.

मैंने उससे कहा- मेरी मम्मी ने राजमा चावल बनाए हैं … चलो हम दोनों पहले लंच कर लेते हैं … फिर कैरम खेलेंगे. जिन चुचियों को ब्लाउज के ऊपर से देखा करता था, आज वो दोनों कठोर मम्मे मेरी आंखों के सामने चमचमा रहे थे.

वो बोली- हरामी मैं कुतिया नहीं बनूँगी, चोदना है तो खड़े खड़े घोड़े की तरह चोद. माइक ने धक्के ऐसे मारने शुरू कर दिए कि उसके धक्कों की एक एक ठोकर मुनीर की योनि की गहराई में जाने लगा. फिर सब कपड़े पहनकर सामान्य माँ-बेटों की तरह तैयार हो गए क्योंकि मयूरी के घर आने का वक्त हो चला था.

तभी चाची की चूत से ढेर सारा पानी मेरे लंड को भिगोता हुआ बिस्तर तक बहने लगा.

शुरूआत में वैसे तो मेरे मन में उसके लिए कोई खराब विचार नहीं थे, पर ये सिलसिला उसके ब्वॉयफ्रेंड की वजह से शुरू हुआ. और उसी समय पापा मेरी गर्दन को पकड़ते हुए मुझे किस करने लगे। शुरू शुरू में मैं उन्हें दूर धकेलने का प्रयास करने लगी पर उनकी ताकत के सामने मेरा टिकाव नहीं लगा। पहले नीचे के फिर ऊपर के होंठों को चूसते हुए एक जबरदस्त किस देकर वे पीछे हटे।कैसा लगा?”यह सही नहीं है… मैं आपकी बेटी हूँ… हम यह गलत कर रहे हैं. मैं उन्हें चोद-चोद कर शान्त माहौल में उनकी सिसकारियों और करुण क्रंदन का निर्दयता पूर्वक आनन्द ले रहा था.

जानवर वाला सेक्सी वीडियोघर में उसके पिता अशोक (45 साल), माता जिनका नाम शीतल (41 साल), बड़ा भाई विक्रम (21 साल) और छोटा भाई रजत (18 साल) जैसे सदस्य थे. फिर मैंने उसे कपड़े पहनाये, इतने में चाची आ गईं और बोलीं- चलो दोनों नाश्ता कर लो.

ভিডিও বিএফ ভিডিও বিএফ ভিডিও বিএফ

मगर बैक साइड से उसके उठे हुए चूतड़ मुझे बुला रहे थे कि मैं आ कर उन्हें चूम लूँ. अंकल का गर्म हाथ घुंडियों को रगड़ने से मेरे मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं- उफ … उफ … उई … इस्स … उह … उम … ओह … और चूसो अंकल!थोड़ी देर की चुसाई के बाद मेरी पूरे देह में चुनचुनी उठने लगी … मानो चींटियां रेंग रहीं हों. भाभी ने बोला- पास में एक झाड़ है, उसके पत्ते ले आओ, उनके रस से मालिश करूँगी, तो ठीक हो जाएगा.

फिर उसने मेरी तरफ देखकर बोला- हां अब बोलो, क्या तुम्हें मेरी चुत की सीटी सुननी है और क्या तुम्हें मेरी चूत से पेशाब निकलते हुए देखना है?मैंने जब हां किया तो पूजा बोली- चलो टॉयलेट के फर्श पर लेट जाओ. वो इस माहौल से एकदम से कांप उठी और एक बार फिर से उसकी थिरकती हुई गांड मेरे लंड को छूने लगी. मैं- मानसी … अब देर किस बात की? चलो खेल शुरु करते हैं।मेरा अब उसकी माँ के सामने उसे चोदने का अब प्रोग्राम था.

मैंने नेट पर बहुत पढ़ा था कि जी स्पॉट को कैसे ढूंढते हैं और कैसे लड़की का ओर्गास्म करवाते हैं. छोटे-छोटे टिश्यू फ़ैल और सिकुड़ रहे थे और खुद मेरी विश्वासपात्र पत्नि की गांड सांप के बिल की तरह से खुली हुई थी!थोड़ा सा आराम देने के पश्चात् दीमा ने दुबारा अपना लंड अन्दर घुसेड़ दिया और उसका अनुसरण करते हुए मेरा लंड भी उसके लंड से गले मिलता हुआ कॉमन छेद की चुदाई में लग गया. हम लोग बहुत घूमे और उसी दौरान हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे के करीब आ गए.

कि तभी सड़क पर बाईक के सामने एक कुत्ता आ गया और मैंने जोर से ब्रेक लगा दिए. पर मैंने एक शर्त रखी कि मैं आऊंगा पर आपके घर नहीं बल्कि किसी होटल में रुकूँगा.

जगत देव अंकल ने अपना लंड जरा सा निकाल कर पूरी ताकत से मेरी चूत में फिर से घुसा दिया था.

वो दो लोग थे। फिर मैंने साहिल से पूछा- ये लोग कौन हैं?तो उसने कहा- बाद में सब पता चल जाएगा, तुम पहले केक काटो. सेक्सी पिक्चर वीडियो राजस्थानीतो उसने सीधा फोन लगाया और उनको बोला कि सीमा तैयार हो गई है, अब और किसी को मत बोलना. सेक्सी वीडियो फिल्मेंजैसे ही मेरे होंठों में लन्ड छुआ, उसकी एक अजीब सी महक मेरे नाक में समा गई, इतना गर्म था अंकित का लन्ड कि लगा जैसे मेरे होंठ जल जायेंगे. फिर मैंने एक प्लान बनाया और सोने की कोशिश करने लगा था कि मैं कल सुबह जल्दी उठ कर दोपहर को अपने प्लान पर काम कर सकूं.

मैंने फिर तीसरी मंजिल पर आकर मनीषा के रूम में जाकर देखा, मनीषा निढाल होकर सो रही थी.

इतने में जो सबसे एजेड अंकल थे, वे आए और सीधे मेरी चूत में अपना मुँह रख दिए और बोले- इसकी तो चूत बहुत बह रही है. उधर प्रिया मस्ती में बोलती- और चोदो और जोर से चोदो … आआह!इधर मेरी स्पीड बढ़ जाती. मैं 5 फुट 11 इंच की हाइट का एक बहुत ही गोरा और एथलीट बॉडी का मालिक हूँ.

मुझे डर लगता रहता है कि कोई ये बात जान न जाए कि मैं चुदवाती हूँ, लेकिन फिर भी मैं किसी न किसी से चुदवाती रहती हूँ. उसके इस चाहत भरे खुशामदी व्यवहार को मैं समझ रहा था कि उसे कल मेरे साथ मार्केट जा के नया फोन जो लेना था. यह आपकी भाभी नहीं, आपकी एक अच्छी सी परिवार की एक फ्रेंड पूछ रही है।इसके बाद प्रीति बैठ गयी और उन्होंने साईट एंटर की.

बीएफ देना बीएफ

फिर जब हम आफिस में मिले तो वो बिल्कुल नार्मल थी और जैसे वो रोज मुझसे बाते करती थी वैसे ही बात कर रही थी।उस दिन के बाद हम 4 बार और उसी होटल में गए और उसी रात की तरह हमने बियर पी और पूरी रात चुदाई के मजे लिए।लेकिन अब वो वापस अपने गांव जा चुकी हैं शायद उसकी शादी होने वाली है, मुझे नहीं लगता कि अब हम दोबारा मिल पाएंगे।दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी थी. पब्लिक पार्क, एक गार्डन और एक क्लब भी गए, काफी देर तक हम दोनों ने समय व्यतीत किया. वो अन्दर आके सोफे पे बैठी और मैंने उन्हें रेट लिस्ट और मसाज के टाइप और उनके बारे में बताया.

और दिल्ली में जाओ और चुदाई ना करो तुम तो मजा कहां आता है!मैं जिस होटल में रुकता हूं, उस होटल में भी कॉल गर्ल की व्यवस्था है.

यह सुनते ही उन्होंने मुझे बेड पे पटक दिया और अपना लंड मेरी चुत में डाल दिया.

मैंने नोटिस किया कि मनीषा भी मेरे लंड को कनखी निगाहों से देख रही है. उसके बाद मैं अपने हाथ बैगों के नीचे से ले जाकर उसकी जांघों पर फिराने लगता. एचडी हिंदी सेक्सी मूवीडीके को अपनी ओर खींच कर उसने अपने ऊपर पेट के बल लिटा दिया और उसे चूमने लगा.

खैर फ़िलहाल तो आपको ये एडल्ट स्टोरी कैसी लगी, ये मुझे मेल करके बताना ना भूलें. उनका हमारे घर से बहुत अच्छा व्यवहार है और हम लोग तकरीबन रोज मिलते हैं. अशोक बड़ी ही उत्सुकता से- हाँ फिर?मयूरी- फिर मुझे लगा कि अगर ऐसा है तो फिर तो मेरे इस खूबसूरत शरीर पर आपका भी हक़ होना चाहिए और उस मायने में आपको भी ये शरीर और ये हुस्न मिलना चाहिए.

हम दोनों ने चुदाई का भरपूर मजा लेने के लिए अपने अपने घरों झूठ बोला और 3 दिनों के लिए खजुराहो का प्लान बनाकर अपने घरों से चल दिए. बस थोड़ी से कसर रह गयी है फिर तू पूरी तरह से मेरी हो जायेगी, बस जरा सी देर और!” मैंने उसकी पैंटी के ऊपर से चूत की दरार में उंगली फिराई.

उसके पानी की वजह से इतनी जबरदस्त चिकनाहट हो गई थी कि लंड पूरा बाहर निकल जाता था.

बहूरानी ने सामान वाले कमरे का ताला खोला और हम दोनों झट से कमरे में घुस गये और दरवाजा भीतर से लॉक कर लिया. इससे पहले कि मैं कुछ बोलता, मनीषा ने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया. मैंने दुबारा अपने लंड के टोपे पर थूक लगाकर उसकी चूत में लंड के टोपे को घुसा कर घुसाने लगा.

फ्री फायर फोटो वॉलपेपर मैं वैसे तो बहुत बार चुदवा चुकी थी लेकिन मुझे अपने दीदी के देवर से चुदवाने में थोड़ा अजीब सी फीलिंग आ रही थी. चूत चुदाई की रफ्तार इसी तरह चल रही थी, इसी बीच वे एक बार झड़ गई और मुझे पूरा कसकर पकड़ लिया और अपनी गांड उचकाने लगी और वे मुंह से आह आह आह करने लगी.

मतलब इस रूप में देख कर कोई ऋषि-मुनि भी अपना तप छोड़ कर मयूरी के इस खूबसूरत और क़यामत शरीर में खो जाता।खैर, अपना कपड़ा लेने के बहाने वो अपने कमरे में गयी जहाँ उसका छोटा भाई रजत अब भी अपने बिस्तर पर लेटा हुआ था. कुछ देर लंड चूसने के बाद उसने लंड बहर निकाल दिया और बोली- अब मेरी चुत में डालो. कारण थी एक लड़की … जिससे दोनों भाई प्यार करते थे और उसने दोनों को बेवकूफ बना कर मजे ले लिए.

गांडू सेक्सी बीएफ

एक दिन मैं अपने घर में झाड़ू लगा रही थी और वो लड़का मेरे घर के सामने अकेला था. अंकल जी कितने ऊंचे ऊंचे मकान हैं न यहाँ पर?” वो आश्चर्य से भर कर बोल पड़ी. मेरी प्यासी चूत की कहानी के पहले भागशादी में चूत चुदवा कर आई मैं-1में आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने पति के साथ राजस्थान के एक गाँव की शादी में आई.

कुछ मिनट यूं ही मौसी के चिपके रहने के बाद मौसी ने उठने का कहा तो मैं उनके ऊपर से हट गया. कुछ देर बाद हम दोनों पिचोला लेक पहुंच गए और उधर पर बैठ कर बातें करने लगे.

इस बार मैंने थोड़ी हिम्मत करने की सोची और …अच्छा कम्मो चलो अब जरूरी काम की बात करते हैं; ये बताओ तुम्हें फोन कौन सा चाहिये?” मैंने पूछा और उसकी पीठ पर हाथ रख कर अपना मुंह उसके मुंह के पास ले जा कर मध्यम स्वर में पूछा.

अशोक ने अपने दोनों हाथों से मयूरी की कमर पीछे से पकड़ कर एक जोरदार झटका उसकी गांड पर मारा. ऐसा करते समय पैर की उंगली को अपनी उंगली और अंगूठे के बीच दबा कर घिस देता. बहूरानी का निचला होंठ संतरे की छोटी फांक की तरह मोटाई लिए रसीला है जिसे चूसने में गजब का मज़ा आता है.

मैंने एक लड़की से पूछा कि इस तरह की छानबीन किस तरह से करनी होती है?वो लड़की शादीशुदा थी, मगर उसका जवाब सुन कर मैं हैरान हो गई. इधर आगे से राज अंकल ने मेरी टांगों को चौड़ा कर एक टांग अपने कंधे पर चढ़ा ली और अपना लौड़ा मेरी चूत के छिद्र में ऊपर से रगड़ने लगे. उसने जाते समय मुझसे अलग से घर बुला कर चुदाई की बात तय कर ली थी, मैं भी राजी था.

मैंने भी सबको अच्छे से विश किया क्योंकि वो लोग हमारे पड़ोसी थे, जो मौसी के घर के अलग आजू बाजू के हिस्से में रेंट पर रहते थे.

कुंवारी लड़की का सेक्सी बीएफ: और मेरी चूत के नीचे हाथ लगाकर सबको दिखाया कि देखो यारों वन्द्या की चूत का ढक्कन आज जगत भाई ने खोला. फिर वो आगे बोली- रजत, जब तुम मेरी चूचियों को जोर-जोर से उमेठ रहे थे तो सच कह रही हूँ कि मुझे भी बहुत मजा आया… तुम्हारे लंड से निकले हुए पानी के एक-एक बून्द का स्वाद मुझे तृप्त कर रहा था.

मैं भी पहले बहुत सीधा साधा इंसान था, जब तक मेरी गर्लफ्रेंड मुझे छोड़ कर नहीं गई. मैंने उससे पूछा- तुम्हारे घर वाले मानेंगे?वो बोला- हां मान जायेंगे मगर आपको उनके पास जाना पड़ेगा. वो मेरी दोनों टांगों को खोल कर मेरी चूत के अन्दर तक अपनी जीभ डाल कर मेरी चूत चाट रहा था.

पर मैंने इस विषय में बहुत सोचा, और फिर इस निर्णय पर आयी कि मैंने तुम दोनों से हमेशा एक जैसा प्यार किया है.

थोड़ी देर में सब लोग बाहर हॉल में आ गए, सब लोग सामान्य दिखने का प्रयास कर रहे थे पर अंदर से सब एक दूसरे से कुछ छुपा रहे थे. मैंने कहा- ठीक चल रहा है भैया!मैं अक्सर घर में टाइट लेगिंग और टीशर्ट पहनती हूँ जिससे मेरे दूध साफ उभरे हुए नजर आती हैं, वो भैया शायद मेरे दूध को ही देख रहे थे. पर गलती से उसका सर मयूरी के तौलिये से टकराया जिसकी गांठ पहले से ही मयूरी ने कमजोर कर रखी थी और वो लगभग खुलने ही वाली थी.