हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी नेपाली पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी बीएफ चोदा: हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ, तो वो चली गई … मतलब घर से 8 घंटे के लिए दूर।हमारे पास काफी समय था क्यूंकि मेरी भी उस दिन छुट्टी था।भाभी ने मुझे फोन करके अपने घर बुला लिया और कहने लगी- छत की तरफ से आना।मुझे समझते देर ना लगी कि मेरा काम बन गया.

फुल सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी

उसने मुझसे पूछा- इस समय यहाँ?तो मैंने कहा- कुछ समझना था!वो मेरे पास आया और समझाने लगा. दिव्या भारती की नंगी तस्वीरमैं सबसे देर से वापस जाता था, पर आज मोनिका और राधिका भी नहीं गई थीं.

मैंने अपनी जीभ को सीमा जी की चुत के अन्दर घुसेड़ दिया और पूरी मस्ती से चुत को चूसने चाटने लगा. सेक्सी वीडियो भोजपुरी एचडी वीडियोथोड़ी देर बाद उसने रुकने को बोला लेकिन मैं अपनी स्पीड बरकरार रखकर काम करता रहा.

आधे घंटे बाद हम वहां से निकल गए और उसके बाद हम दिल्ली शहर घूमने लगे.हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ: अंदर पहुंचने से पहले ही सुराज ने मनुषा की गांड पर लंड लगा दिया और उसको दबोच लिया.

उसकी चूचियां उसकी ब्रा में ऐसे फंसी हुई थी जैसे थोड़ा सा दबाते ही बाहर उछल कर आ जायेंगी.मेरी चूत का पानी किस तरह निकालना चाहोगे तुम? (अपनी चूत को रगड़ते हुए).

नंगी और सेक्सी - हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ

मैं उठ कर दीदी के पास गया, तो दीदी ने अपने कपड़े उतार दिए और मेरे लंड को पकड़ लिया.मामी के कहने पर मैंने धीरे धीरे जोर लगाया और आहिस्ता आहिस्ता अपना पूरा लंड उनकी चूत में उतार दिया.

वो कहने लगी कि मेरी टांगों में और बाकी शरीर में बहुत दर्द हो रहा है. हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ मगर वो जिद करने लगा; कहने लगा कि अगर मोबाइल नहीं लिया तो वो मुझसे बात नहीं करेगा.

आख़िरी बार हमने उसके घर पर सेक्स किया था, जब उसके मां बाप घर से कुछ दिन के लिए बाहर गए थे.

हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ?

उसने हाथ हटाया नहीं बल्कि टोह कर लण्ड के साइज का अंदाजा लगा लिया और बोली- ताऊजी, आज जाने दो कल रात को आ जाऊंगी. मैंने देर करना उचित न समझा और अपना 7 इंच का मोटा लंड उसकी चुत पर रख दिया. कुछ देर बाद उस मिस्त्री ने मेरी बीवी को उसकी दोनों टांगों में हाथ डाल कर उसे अपनी गोद में ऊपर उठा लिया और वो खड़ा हो गया.

दीदी कुछ मिनट बाद झड़ गईं और मुझे इतनी जोर से जकड़ा कि मैं अब धक्के भी नहीं लगा पा रहा था. हमारे पास मां की चुदाई के वीडियो का प्लस प्वाइंट था इसलिए मां ने अपनी चुदाई के लिए हां कर दी थी वरना मां इतनी आसानी से मानने वाली नहीं थी. उस समय तक मैं भी चुदाई देखते 2 इतनी गर्म हो चुकी थी कि मुझे पता नहीं क्या हुआ मैं वहाँ से हटी नहीं बल्कि मैंने उसे इशारे से आँख मार कर लगे रहने का बोल दिया.

उसके बूब्स को चूसने के बाद मैंने फिर से उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. ऐसा लग रहा था जैसे उनके बीच कुछ है ही नहीं लेकिन मैं अंदर ही अंदर बहुत घुटन महसूस कर रही थी. मैंने प्यार से लंड को सहलाते हुए उसको दिलासा दिया- थोड़ा सब्र कर बेटा, चूत जल्दी ही मिलने वाली है तुझे.

तो वहाँ पता चला कि उसकी बहन अपने मामा के घर गई है और उसके ममी पापा बंगलौर जा रहे थे जरूरी काम से. उसके बाद मैंने दीदी के ऊपर चढ़कर चुत पर लंड सैट किया और फिर धक्का लगा दिया … लेकिन मेरा लंड फिसल गया.

अभी मेरे पीरियड चल रहे हैं, अभी मेरी चूत आपके नसीब में नहीं!शुभम ने कहा- तो बहन जी, तुम अपने प्यारे भाई का लंड अपने मुँह में ले ही सकती हो न!लेकिन मैंने मना करते हुए कहा- यार बस 2 दिन की बात है। इतना तो तू रुकेगा ही.

फिर पता नहीं कब सेक्स करने का मौका मिले, इसलिए हम दोनों पूरे मजे से चुदाई का आनन्द ले रहे थे.

खून के सारे रिश्तों को भूल कर हम तीनों को एक नये रिश्ते की शुरूआत करनी चाहिए. इस सब धक्का मुक्की में मेरे शिथिल लिंग को धरातल की रगड़ लगने से जलन होने लगी. उसके बाद आकाश और सोनिया दोनों ने ही मिल कर पुणे जाने का प्लान बना लिया.

फिर दस मिनट बाद मैंने उसकी टांगें फैला दीं और एक उंगली चुत में डाल कर चुत चाटने लगा. वो बोली- क्या मतलब भाईजान?मैं बोला- कुछ नहीं … तुम अन्दर जाओ … मैं बाद में बताऊंगा. उनका चेहरा देखते हुए मुझे बहुत मजा मिल रहा था और मेरे लंड में झटके लग रहे थे और मैंने पूरा माल बूंद बूंद तक निचोड़ कर अपनी मां की चूत में पूरा का पूरा खाली कर दिया था.

दीदी बोलीं- अरे वो मुझे पीरियड्स में खून आता है … तो कपड़े खराब ना हो जाएं, इसलिए पैड लगाया था.

लव यू मेरी जान।फिर हम दोनों बाथरूम में जाकर एक दूसरे के सामने पेशाब करने लगे. जब उनसे करवा सकती हो तो मेरे भाई और अपने सगे बेटे का लंड लेने में क्या परेशानी है?फिर मां ने कहा- नहीं, समाज इसको नहीं मानता है, ये पाप है. सोनिया बोली- वाह भैया, इससे अच्छी बात क्या हो सकती है कि मां की चूचियों को दबाने का मौका मिला है मुझे.

उसके मन में भी शायद वही सब उथल पुथल चल रही थी जो आसिफ के मन में चल रही थी. मैं उसके जिस्म का आनंद ऐसे लेना चाहती थी जैसे मैं अपने पति के साथ चुदाई का आनंद लिया करती थी. उसके बाद जब वो बड़ा हुआ तो अपनी मां समेत बाकी सारी भैंस को भी वही चोदता रहता है.

मैंने देर ना करते हुए उसके सारे कपड़े उतार दिए और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

अगले दिन जब मैं उससे मिला तो हम दोनों एक दूसरे से नजर नहीं मिला पा रहे थे. हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे के नंगे जिस्मों को बांहों में लपेटे हुए लेटे रहे.

हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ मैं आप सबको अपने बारे में बता दूँ, मैं मेरा नाम प्रज्ज्वल है और मैं महाराष्ट्र में रहता हूं. मामी- तो फिर मेरी जान … आराम से कर ना! न तो मैं कहीं भागी जा रही हूँ और न तेरी ही ट्रेन छूट रही है।मैंने उनके चूचों को आराम से पीना शुरू कर दिया और मामी भी आहें भरने लगी- आहह … ह्म्म्म … ऐसे ही चूस्स … और चूस्स … हाँ ऐसे ही म्ममा … आ…आ आहाह अहह आऐसे करते हुए मामी मस्त हो गयी.

हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ उस पर पहले से खून के दाग पड़े थे।सिम्मी ने उसे मेरे हाथ से खींचा और अपने पास रख दिया और अपने कपड़ों को पहनने लगी. फिजा भी आहिस्ता से उसके सीने में अपने सिर को छिपाते हुए धीरे से बोली- आई लव यू टू भाईजान.

हम दोनों एक दूसरे को बाथरूम में शॉवर के नीचे कुछ मिनट तक ऐसे ही नहाने का मजा लेते रहे.

मुसलमानों की बीएफ हिंदी

घर आकर वो कहने लगा- अगर आप मेरा साथ दो तो मैं आपका दामन खुशियों से भर दूंगा. मुझे अपने कमेंट्स के जरिये बताना न भूलना कि आपको मेरी यह इन्सेस्ट सेक्स स्टोरी कैसी लगी. उसके बाद मैंने पीछे से उसकी चूत में घोड़ी बनाकर अपना पूरा लंड डाल दिया और उसके बाद मैंने उसके कूल्हों पर चपत लगाना शुरू कर दिया.

फिर मैंने उसे पोजीशन में लिटाया और अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया. रीना थोड़ी शरमाई और फिर मुस्कराते हुए बोली- थैंक्स।अब डेरिक उत्तेजित महसूस कर रहा था और इसी उत्तेजना में उसने मेरी बीवी से कह दिया- मेरा बहुत दिनों से मन है कुछ करने का. मोनिका बोली- शिव, मुझसे भी न हो सकेगा … मैं बहुत थक गई हूँ … मगर मैं तुम्हारे लंड को अपने मुँह में लेकर झाड़ दूंगी … तुम मेरे पास आ जाओ.

बहुत देर तक एक ही पोजीशन में चोदते रहने पर मुझे मजा नहीं आ रहा था तो मैंने उसे घोड़ी बन जाने के लिए कहा.

वो मुझसे बोली- तुमको इस टॉपिक पर कुछ आता भी है?मैंने ना में सर हिला दिया. उसके एकदम गोरे चूतड़ औरगांड का गुलाबी छेददेख कर तो मन करता था कि इसकी गांड में जीभ डाल कर इसकी गांड जीभ से ही चोद दूँ. बीच बीच में लंड को मुंह से निकाल कर वो मेरे टट्टों को भी चूसने लगी थी.

मैंने ओके बोलते हुए उससे पूछा कि आपके घर में और कौन कौन है?उसने कहा- मैं अकेली ही रहती हूँ. मैंने पूछा- तो तुम्हारे और पापा के बीच में ये सब कब से चल रहा है?वो बोली- शादी के एक साल बाद से ही. उसकी चुत पर हल्के बाल थे और उसकी चुत एकदम गुलाब की पंखुड़ियों के जैसे पिंक थी.

अब तो राजीव और इब्राहिम अपने दोस्तों को घर में लाते हैं और हम तीनों बहनों से सेक्स करवाते हैं. मैंने उससे पूछा- तेरी चुत में पानी आ गया है … तो अब तू क्या करेगी?वो मेरी तरफ देख कर हंसने लगी.

पर मेरी बीवी एक पतिव्रता स्त्री है, इसलिए वो सिर्फ़ मुझसे चुदवाना पसंद करती है. और नीचे फोन नंबर लिखा हुआ था।मैंने एकदम नंबर सेव करके व्हाट्सएप्प पे उसको मैसेज भेजा. फिर मैंने दराज को ओपन किया, जिसमें कंडोम के कई किस्म के पैकेट थे, उसमें से मैंने एक पैकेट बाहर निकाला और खोल कर अपने लंड पर लगा लिया.

सुराज के हाथ उसकी चूचियों को दबा रहे थे और ऊपर से मनुषा के हाथ सुराज के हाथों को ही दबा रहे थे.

वो ये सब देख कर बहुत खुश हुई और बोली- ये सब क्यों किया?मैंने उसे साड़ी दी और बोला- ये लो … आज तुम्हारा बर्थडे गिफ्ट है. वो खाना खा कर अपने रूम में सोने की तैयारी कर रहे थे कि तभी उनके रूम में से कुछ आवाजें आने लगीं जैसे वो किसी को धमका रहे हों। मैंने उन पर ध्यान नहीं दिया और मुठ मार कर सो गया।मैं रोज की तरह सुबह 5 बजे उठा और सोचा कि ऊपर छत पर घूम लेता हूँ. फिर कुछ एक हफ्ते बाद मैडम और मालिक काफी रात को घर आए थे, तो मैंने गेट खोला.

यदि कहानी के बारे में कुछ और कहना चाहते हैं तो नीचे दिये गये मेरे मेल पर मुझे मैसेज भी कर सकते हैं. हमारे पड़ोस में एक लड़की है आसिफा; उम्र 19-20 साल होगी; दूध सी गोरी, बहुत ही प्यारी, जो भी देखे प्यार हो जाये, बला की खूबसूरत! और उसके भाई ज़ुबैर सबसे छोटा और अय्यूब जिसकी उम्र 18 साल के आसपास है.

पहले गन्दे तो हो लें दोनों!और फिर दी को अपनी गोद में सीधा बिठा लिया हमारे बीच बिल्कुल गेप नहीं था। उनकी बड़ी चूची मेरे छाती पर चिपकी हुई थी।मैंने दी के बाल पकड़े और किस करने लगा। मैं ऐसे किस कर रहा था मानो वो मेरी गर्लफ्रैंड हो और हमारे बीच बहुत ज्यादा प्यार हो। मैं बहुत आराम से उनके होंठों को चूमने लगा. इतने में ही सोनिया की चूत को पीछे खींच कर मैं बोली- मैं अब तुम्हारा पूरा साथ दे रही हूं. उसके चेहरे के भावों को देख कर ऐसा लगा जैसे उसे उसका मनचाहा सामान मिल गया हो.

बीएफ बीएफ इंग्लिश मूवी

मैं अब इन सबकी भरपाई करने की कोशिश कर रहा था, मैं अब किसी भी हद तक जा सकता था.

रिंकू और शिवम दोनों ने भी अपने अपने कपड़े पहन लिये और वहां से निकलने की तैयारी करने लगे. और मेरे पति ने मुझसे बताया- राज मजाक मजाक में मुझे कहता है कि भाभी बहुत मस्त है। मैं एक बार भाभी के साथ सेक्स करना चाहता हूं. मैं चुत चूसने में इतना पागल हो गया था कि यह भूल ही गया था कि ये मेरी अपनी दीदी की चुत है.

ऐसा करते करते मैंने उन्हें नंगी कर दिया और उन्होंने भी मुझे चड्डी के अलावा पूरा नंगा कर दिया. थोड़ी देर बाद मोनिका बेड पर गिर गई और पलट कर बोली- बस शिव और ज्यादा नहीं … अब तुम कोमल दीदी की चूत में डाल दो … उनकी प्यास भी बुझा दो. तमन्ना भाटिया sexवो चुत चुसवाने से बहुत जल्दी गर्म हो गई और मेरा मुँह अपनी चूत पर दबा रही थी.

मोनिका का पति शराब पीता था और उस दिन उसके पति के साथ उसकी जबरदस्त लड़ाई हुई थी. वो हकलाने लगी थी और हकलाते हुए बोली- भाईजान, प्यार तो मैं भी आपसे बहुत करती हूं.

मैं बोला- दीदी, मुझे भी बस आज आपको ही प्यार करना है … राधिका को फिर कभी ये सब सिखाएंगे. मैंने दीपा भाभी को कैसे चोदा, ये बताने के लिए मैं जल्द ही इस कहानी की अगली कड़ी पेश करूँगा. मैं उसके साथ मजे लेना चाहती थी लेकिन कहीं मेरे हस्बैंड मुझे करैक्टरलेस ना सोचें, इसलिए मैंने कभी अपने मुंह से यह बात नहीं कहीं।एक रात जब मेरे पति मुझे चोद रहे थे तो उन्होंने मुझसे कहा- आज हम राज को लेकर फील करते हैं कि तुम राज से चुदवा रही हो और मैं तुम्हें देख रहा हूं.

इसके बाद मैंने भाभी की चूत को कैसे चोदा? जानने के लिए यह स्टोरी पढ़ें. वो भी मजा लेने लगी और आंखें बंद करके अपने बूब्स को अपने ही हाथों से मसलने लगी. जैसे कि मैंने पिछली बार भी आपको लिखा था कि मेरे भाई का लंड आठ इंच का था.

वो सिसकारते हुए बोला- आह्ह… डिम्पल डार्लिंग, एक बार इसको मुंह में भी ले लो.

उसने मेरे मूड होने वाली बात से एक बार आंख दबाने वाला स्माइली भेजा और लिखा कि हां मैंने सेक्स किया है … पर 3 साल पहले किया था. उन्हीं में से एक थी नमिता जी … जो मेरी कहानी की नायिका है।वो भोपाल के रहने वाली थी और यहां अपनी 19 वर्षीय कमसिन सी कली बेटी रावी के साथ यहां मेडिकल की तैयारी करवाने के लिए आयी हुई थी।और मेरी नजर उन दोनों माँ बेटी पे थी कि बस किसी तरह वो मेरे नीचे आ जायें और मैं उनका सारा यौवन चूस लूं।इसी तरह मैं उन पे डोरे डालने लगा.

उसकी आंखों से प्यार को पा लेने के आंसू झड़ रहे थे और मैं भी उसे अपने सीने में चिपकाए हुए एक अजीब सा सुकून पा रहा था. पहले तो उसने सेक्स टॉय साइट से अपने लिए एक डिल्डो मंगवाया और फिर अपनी चूत को डिल्डो का मजा दिया. जब आसिफा वापस लौटी तो देखा ज़रीना (बेहद खूबसूरत आसिफा जैसी … बस थोड़ी छोटी कद की थी.

मैंने रात वाला अहसास फिर से लेना था इसीलिए मैंने उसको पास नहीं आने दिया. घर में सुल्ताना और शबनम एक साथ बोलीं- आपा, आप तो कल सुबह आने को कह रही थीं. कभी हम पोर्न देख कर चुदाई करते, तो कभी बस ऐसे ही एक दूसरे से लिपट जाते.

हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ डायमंड शेप का टॉप जिसके पीछे सिर्फ डोरी थी या ये समझो एक रूमाल जिसको तिरछा करके बांधा गया हो और नीचे एक बहुत ही शॉर्ट स्कर्ट जो मुश्किल से उसकी गांड को ढक पा रही थी. फिर एक रूम में राजीव शबनम चले गए और दूसरे कमरे में इब्राहिम और सुल्ताना चले गए.

सेक्सी बीएफ सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो

फिर मैंने उसकी गर्दन पर किस करना शुरू किया।किसी भी लड़की की सबसे बड़ी कमज़ोरी यही होती है।जैसे ही मैंने उसकी गर्दन चाटनी शुरू की, उसकी उह्ह्ह… आह्ह… जैसी कामुक आवाजें निकलने लग गयी. गुरी ने पहले तो भूमिका के टॉप्स को उतारा उसके अंदर उसने देखा की भूमिका ने ब्लैक कलर की ब्रा पहन रखी है. सुराज- तो कैसी रही तुम्हारी शूटिंग?मनुषा- फर्स्ट क्लास, बहुत मजा आया.

शिवम ने मेरी बहन की चूत में मुंह लगाया हुआ था और वो उसकी चूत को चाटने में लगा हुआ था. मैंने दोबारा उनको फोन किया तो वो कहने लगी कि वो दो दिन के बाद वापस आयेंगी. தமிழ் ஸ்கூல் செஸ் விதேஒஸ்जब रोहित ने आलिया का बैग खोला उसकी अलग अलग रंगों की ब्रा और पैंटी उसमें रखी हुई मिली.

एक बात और, लड़की और भाभियों की लिस्ट बनाना नहीं तो आप भूल जाओगे कि आपने कितनी आइटम लड़कियों भाभियों को पटाया है.

सुबह कॉलेज में मैंने तान्या को रात की चुदाई के बारे में सब बता दिया. मेरा कुतुबमीनार पूरे उफान पर था, पर मैं शबनम को अभी और तड़पाना चाहता था.

तुम्हारे अंकल तो काफी काफी दिन बाद आते हैं तो मुझे अपनी प्यास को दबा जाना पड़ता है. सुनीता भी गर्म हो गयी और मस्ती में खुद ही अपनी चूचियों को मसलने लगी. इस गर्म सेक्स कहानी के बाद मैं अगली बार लिखूंगा कि कैसे मैंने मेरी बुआ को चोदा और उनकी गांड भी मारी.

मैं- मैं कैसे सोता माँ? आवाज़ ही कुछ ऐसी आ रही थी कि मुझे फिर नींद नहीं आई.

रोज रोज मैं रंडी तो नहीं चोद सकता ना, अब तुम ही बताओ, मैं घर में सौतन तो ला नहीं सकता हूं. पानी पीते हुए भी डेरिक मेरी बीवी के बूब्स को घूर रहा था और तभी उसने कह भी दिया- तुम्हारे तो बहुत बड़े हैं. मैं बहुत बड़ी समस्या में हूं कि भाई-बहन के बीच में अगर ये रिश्ता हुआ तो समाज क्या बोलेगा.

ಕನ್ನಡ sex storiesपहले शादी फिर बच्चे, फिर पति की मौत, फिर बच्चों की परवरिश, इन सब में ही सारी जिन्दगी निकल गयी थी. … उनके रसीले मम्मे … हाय … ऐसे मम्मे तो मेरी गर्लफ्रेंड के भी नहीं थे.

बीएफ डीजे में

भूरे घुंघराले बालों से भरी चूत के लबों को फैलाकर मैंने अपने लण्ड का सुपारा रख दिया और दिव्या से चूतड़ ऊपर उठाने को कहा. मैं राधिका को बेहद पसंद करता था मगर मुझे मोनिका की चुदाई करने में भी बड़ा मजा आता था … क्योंकि अब तक एक वही थी, जिसकी मैंने गांड भी मारी थी. मैं बोला- क्यों नाटक कर रही है साली?मेरे कहने पर मां ने मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

थोड़ी देर में जब मेरी बीवी का दर्द कम हुआ, तो उसने भी अपने दोनों हाथ सोफे से हटा कर मिस्त्री के कंधों पर रख दिए, जो इस बात का इशारा कर रहे थे कि आ बैल अब मुझे पूरा चोद दे. मेरी कहानी के पिछले भागभाई-बहन का लिव इन रिलेशन-1में मैंने आपको फिजा और उसके भाई आसिफ के बारे में बताया था. एक दिन उन्होंने मुझसे पूछा कि आप क्या काम करते हो?मैंने उनसे झूठ बोल दिया कि मैं जॉब करता हूँ और अहमदाबाद में एसजी हाईवे पर ही मेरा आफिस है.

उसकी बूब्स की शेप देख कर मेरा मन कर रहा था कि यहीं पर इसको नंगी कर लूं. तभी बाथरूम से कुछ बदली हुई आवाज आने लगी वो जोर जोर से आह उह हम्म मम्म आहह की आवाज़ कर रहा था. अचानक हुए इस प्रहार को वह झेल नहीं पाई और घोड़ी बनी बनी ही बिस्तर पर गिर गई.

पूरे रास्ते मैंने भगवान से प्रार्थना की कि हे भगवान सिर्फ एक बार मैं इसको चोदना चाहता हूं. उसकी हालत देख के सेजल को समझ आ गया कि क्या हुआ है। उसने भूमिका को दो चार थप्पड़ लगा दिए।लेकिन क्योंकि भूमिका की अभी तक चुदाई पूरी नहीं हुई थी और वो भंग के नशे में थी इसलिए वो अपनी माँ को वापस चांटा मारा और वहाँ से भाग गयी गुरी के साथ।गुरी अपने दोस्त के साथ ही आया था बाइक पे!अब गुरी बाइक चला रहा था और भूमिका बीच में थी.

ओह्ह … आहाह … हाय … स्स… आह्ह करते हुए दोनों चुदाई में मशगूल हो गये.

इतना कह कर फिजा ने अपनी मैक्सी को नीचे करके अपने पैरों को मोड़ लिया. सेक्सी फोटो डाउनलोड करनाउन्हें नन्हीं सी आयु से सेनेटरी पैड की जकड़न से मुक्ति और बिना किसी संकोच के नग्न विचरण का लाभ मिलता होगा. सेक्सी ब्लू पिचरकोमल दीदी बोलीं- अरे मुझे लगा सेक्स करने की वजह से थोड़ा लेट हो गया होगा … फिर मैं भूल गई. उसका दूध सा सफेद रंग, सीधे किए हुए काले लंबे बाल और उसके मस्त कसे हुऐ चुंचे देखकर दिल बोला कि ऐसी हसीना अगर चोदने को मिल जाए … तो जीना सफल हो जाए.

ऐसा करते करते मैंने उन्हें नंगी कर दिया और उन्होंने भी मुझे चड्डी के अलावा पूरा नंगा कर दिया.

मैंने फिर से लंड उसकी चूत पर लगाया तो इस बार लंड का टोपा उसकी चूत में घुस गया. मैंने उसकी चुत में उंगली डाली, तो मुझे पता ही नहीं चल रहा था कि कितनी बड़ी है. उन्होंने बर्तन साफ किए और बोलीं- तुम पढ़ने आए हो क्या?मैंने कहा- हां.

मैंने कभी असल जिन्दगी में इतना दमदार और तगड़ा लंड हाथ में लेकर नहीं पकड़ा है. ये बताओ, होटल में चलोगी या पब में?वो बोली- मुझे बस एक बार लंड अंदर लेना है. इस तरह नाइटी में उन्हें देख कर मैं पागल सा हो गया। उनकी नाइटी घुटनों तक ही थी और ऊपर से बरसात का मौसम हो रहा था।मैंने जैसे-तैसे खुद को संभाला और उनके पास गया।मैं- गुड मॉर्निंग मामी!मामी (गुस्से में)- गुड मॉर्निंग!मैं- क्या हुआ मामी, आप गुस्से में हो?बहुत ही प्यार से मैंने पूछा.

भोजपुरी हीरोइन के बीएफ वीडियो

मैंने कहा- हां, मुझे रिंकू सिंह का अहसान मानना चाहिए जो तुम्हें मुझसे मिलवाया. धीरे धीरे करके उसने पूरा लंड गांड के अन्दर डाल दिया और एक पल रुकने के बाद वो मेरी गांड चोदने लगा. मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था और मन कर रहा था की मां की चूत में लंड दे दूं.

आज मैंने लिखा- क्या कर रही हो?तो बोली- कुछ नहीं … बस मोबाइल देख रही थी … और आप क्या कर रहे हो?मैंने कहा- आपको याद कर रहा हूं.

उसकी गोरी गोरी जांघों के बीच में उसने जो नीले रंग की पैंटी पहनी हुई थी उसको देख कर तो मैं पागल सा हो गया.

सौरभ- पिछली बार तो बिना कॉन्डोम के ही चुदी थी न … इस बार कॉन्डोम क्यों?अंजलि- अरे बिना कॉन्डोम के ही आ जाओ तुम … मत लाना साले कंजूस, अब खुश!सौरभ- आज सारे धागे खोल देंगे तुम्हारे. मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी सीनियर को गर्लफ्रेंड बनाकर उसकी चुदाई की. जौनपुर का सेक्सी वीडियोउसकी गांड चूसते चूसते मैंने फिर से भाभी को पलट दिया और उसकी चिकनी चुत मेरे सामने थी.

इस सेक्स कहानी के पहले भागअमेरिकन दोस्त ने बीवी की चुदाई करायी-1में आपने जाना कि मेरे अमेरिकन दोस्त ने खुद मुझे अपनी बीवी चोदने का ऑफर दिया था. मैंने कहा- जान मैं आराम से डालूंगा … और अब तो मैं तुझे लुगाई के जैसे ही चोदूंगा. वापिस आते ही देखा कि भाभी डब्ल्यू-सिटिंग पोज़िशन में बैठी हुई हैं और हवस की नज़रों से मुझे पीछे मुड़कर देख रही हैं.

उसका ध्यान मालिश करने पर नहीं था अब। उसके स्तन फूल कर मोटे हो गए थे और उसकी चूचियों के निप्पल बिल्कुल टाइट हो चुके थे, मुझे वो अपनी पीठ में गड़ते हुए लग रहे थे. मैंने कहा- आपकी सेक्स लाइफ कैसी है चाची?चाची बोली- क्या खाक सेक्स लाइफ है मेरी परीमल, तुम्हारे चाचा तो इस मामले में बहुत ही पीछे हैं.

वो बोला- इतनी भी खूबसूरत कोई होता है … आपके होंठ पतले पतले गुलाब की तरह कैसे हो सकते हैं.

मोनिका- शिव अगर स्कूल से बंक करके सबके ड्यूटी जाने के बाद वहां जाया जाए, तो कोई नहीं देखेगा. मैंने वहीं सोफे पर रीना को लिटाना चाहा तो उठ खड़ी हुई और अन्दर वाले कमरे में आ गई. मैं मस्ती से सुमन की चुत चाटते हुए पद्माकर के लंड से अपनी गांड की खुजली मिटवा रहा था.

s सेक्सी वीडियो करीब आधा घंटे चोदाई करने के बाद मैं भी निढाल हो गया और अपना लंड का पानी उनके कहे अनुसार उनकी नाभि में ही छोड़ दिया. मेरे पड़ोस में एक शादीशुदा महिला रहती थी जिसका नाम मोनिका (बदला हुआ) था.

मैंने अपनी घटना को पिछले भागगलती किसकी-4में जहां खत्म किया था वहीं से शुरू करती हूं. अचानक दीदी ने नीचे से जोर से धक्का दिया … और कुछ बोला, पर उनके होंठों से आवाज बाहर नहीं निकल सकी. उसकी बातों से कोई भी इन्सान सामाजिक बन्धनों को तोड़ने के लिए प्रेरित हो सकता है.

नागपुर गंगा जमुना की बीएफ

मेरी बहन भी एक बार फिर से बच्ची बन गयी थी और मां के बूब्स को मुंह में लेकर चूसने लगी. मैंने उनकी तरफ देख कर सवालिया अंदाज में देखा, जैसे मैं उनसे जानना चाहता हूँ कि तो मैं क्या करूं. ऐसा करते हुए उन्होंने मुझे देख लिया और मुस्करा कर चलीं गईं।फिर शाम को घर जाने का समय हुआ और लेबर 5 बजे ही अपने घर को चली गई.

वो मुझे पकड़ कर अपने ऊपर खींचने लगी लेकिन मेरा मन उसकी चूत को पीने का था. एक पल बाद भाभी कमरे में चाय लेकर आ गईं और मुझसे बोलीं- तुम्हें फिल्म कैसी लगी?मैंने चेहरे पर जा सी मुस्कान लाते हुए कहा- अच्छी थी.

मैं सोच में पड़ गया कि कौन हो सकता है?तभी एक और मैसेज आया- आप हरप्रीत को कबसे जानते हो?मैं- कौन हरप्रीत, मैं किसी हरप्रीत को नहीं जानता.

मैंने पूछा- क्यों पहली बार में क्या चोदाई की टाइमिंग कम रहती है क्या?रिया- हां मुझे लगता है कि लड़के के लंड में सनसनी ज्यादा होती है, इसी वजह से वो जल्दी झड़ जाता है. जैनब ने मुस्कुराते हुए मुझे देखा और सबसे पहले अपने बॉक्स में से एक पेन निकाल कर मेरी तरफ बढ़ा दिया. मैंने उनकी तरफ देख कर सवालिया अंदाज में देखा, जैसे मैं उनसे जानना चाहता हूँ कि तो मैं क्या करूं.

कोमल दीदी बोलीं- शिव कल सन्डे है … तो मैं तुम्हें आराम से सब कुछ बताऊंगी. क्यों तुझे पसंद है क्या?तो मैंने बोल दिया- नहीं यार … बस ऐसे ही!कुछ दिनों बाद कॉलेज में चुनाव होने थे जिसमें प्रत्येक क्लास से एक CR चुना जाना था. अब रिंकू ने मेरी बहन की चूत पर अपना लंड रगड़ना चालू कर दिया और शिवम अब सपना के होंठों पर लंड फिराने लगा.

जब उसने देखा कि मैं उसकी चूचियों को घूर रहा हूं तो हल्के से मुस्कराने लगी.

हिंदी सेक्सी राजस्थानी बीएफ: मैं हंस दिया और कहा- मैडम अगर इच्छा हो तो बन्दा उसकी व्यवस्था भी कर सकता है. मैं काफी समय से अन्तर्वासना साइट पर सेक्स कहानी पढ़ता चला आ रहा हूँ.

तभी वहां पर आये एक अफ्रीकन क्लाइंट ने बोला कि मेरे साथ चलो, मैं तुम्हें तुम्हारे घर तक पहुंचा देता हूं. जैसे ही मेरी बहन ने उसे अपनी एक उंगली से इशारा करते हुए अपने ऊपर आने का इशारा किया, वो किसी शिकारी कुत्ते की तरह बेड पर छलांग लगा कर मेरी बहन के ऊपर चढ़ गया. और अपना लन्ड भी चुसाया और आंटी कीचूत चाटने का मजाभी लिया।वो कहानी अगली बार लिखूंगा।[emailprotected].

कहानी में प्रयुक्त शब्द और कैरेक्टर केवल कल्पना मात्र हैं जो केवल मनोरंजन की दृष्टि से लिखे गये हैं.

फिर मैंने उन्हें सब बातें बताई और समझा बुझा कर चोदने के लिए राजी किया।श्वेता दी ने कहा- गोलू को सो जाने दो. मैं भी उस की चूत को ठीक से नहीं देख पा रहा था लेकिन उसकी चूत पर हाथ फिराते हुए बहुत मजा मिल रहा था. अब तुम्हें जलन क्यों हो रही है?वो बोली- अब ये मुझे प्यार नहीं करते हैं.