हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश

छवि स्रोत,एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

𝒕𝒂𝒎𝒊𝒍𝒔𝒆𝒙: हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश, दीदी मुझे लेटने की कह कर बाथरूम में चली गईं और दो मिनट बाद मेरे साथ लेट गईं.

सेक्सी बीपी वीडियो हिंदी सेक्सी

मैंने चुदाई करते हुए कहा- क्या बात है मेरी रंडी … सीधा कुत्ते से राजा बना दिया!वो हंस कर बोली- अब तूने काम ही कुछ ऐसा किया है … लगा रह और फाड़ता रह मेरी चूत. हिंदी सेक्सी पिक्चर साड़ी वाली भाभीउसने कहा- किसने कहा कि खरीद कर ही दिया जाता है?मैं उसकी तरफ देखने लगी.

लोलिशा घर में कुछ काम करने लगी तो तभी मैंने उसे पीछे से पकड़ लिया और उसे गोद में उठाकर कमरे में ले गया और उसके चूचों को दबाने लगा।फिर मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. भाभी की सेक्सी इंडियनअब वो मेरी नाभि के छेद में अपनी जीभ की नोक से मुझे गर्म करने लगा था.

मैंने भी उसे बांहों में भर लिया और उसके चुंबन का जवाब उसके बालों में उंगलियां घुमा कर देने लगी।जब जतिन ने अपनी जुबान मेरी नाभि में डाली तो मैं जैसे कामवश में होकर मदमस्त हो गई।जतिन ने पूरी मेहनत से मेरे पूरे शरीर को चूमा।अब जतिन अपने लंड पर कंडोम चढ़ा कर मेरी टांगों के बीच में आकर बैठ गया। मेरी दोनों टांगें फैला कर जतिन ने अपना लंड मेरी चूत के छेद पर रखा कर धक्का लगाया.हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश: मेरी छुट्टी बढ़ने की बात मालूम होते ही भाभी के चेहरे पर खुशी देखते ही बनती थी.

फिर अपनी पूरी ताकत लगा कर मैंने फुल स्पीड में उसे चोदना शुरू कर दिया.उर्वशी बात करने लगी पर उसे दर्द होने की वजह से अच्छे से नहीं बोल पा रही थी.

वीडियो को चोदा वीडियो सेक्सी - हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश

खाने के दौरान ही हमने रिवरफ्रंट पर घूमने का तय किया और खाने के बाद सीधे वहीं चले गए.मैंने कमरे की लाइट बन्द करके बस बाहर आंगन का एक बल्ब जलाए रखा जिससे अन्दर तक हल्की रोशनी आती रहे.

जोया ने अपना मुँह रुमाल से साफ किया और विवेक की तरफ देख कर हंसने लगी. हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश अगर उसे पता चला कि उसके पीठ पीछे उसकी बीवी की चूत में लंड ना जाने कितनों के जाते हैं … तो पता नहीं क्या होगा.

मगर जब मौसी बाहर आईं तो मैं भी अपनी नजरें चुराता और लंड छुपाता हुआ बाथरूम में चला गया और अपने आपको साफ करके वापस आ गया.

हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश?

मैंने 30 सेंकड के अन्दर उनका ऊपर से शर्ट उतार दिया और सलवार भी निकाल दी. तो मेरा सुपारा सट्ट से उसकी गीली चूत में निर्विघ्न प्रवेश कर गया और उसके मुख से एक आनंदभरी आह निकल गई. और अपने पांव ऊपर उठा कर मेरे लंड के सुपारे को अपनी झंटियल चूत के खांचे में चार पांच बार ऊपर से नीचे रगड़ कर लंड को अपनी चूत के प्रवेश द्वार पर दबा दिया और हल्के से अपनी कमर को उचकाया.

तुझे अपने भोसड़ी से निकालने के लिए पता नहीं कितने लंड खाये होंगे मां ने, तब तू पैदा हुई कुतिया. अभय ने चूत को छोड़ कर अपना मुँह आगे करके एक निप्पल मुँह में ले लिया और चूसने लगा. बहू सेक्स की कहानी का अगला भाग:मेरी बहू रानी को पुनः भोगने की लालसा- 3.

वरना फोन नहीं मिलेगा।मुझे अब और ज्यादा गुस्सा आ गया तो मैं पैर पटकते हुए बाहर जाने लगी. मैंने कुछ सोचा, तो वो बोली कि ज्यादा मत सोचो और शांति से वो करो, जैसा मैं बोलती हूँ. ”ठीक है, मैं अमूमन दस बजे घर से निकलता हूँ, कल आपके घर की तरफ से होते हुए अपने ऑफिस निकल जाऊँगा.

चूत चटवाना भी मेरा पहला अनुभव था। मेरे शौहर ने कभी मेरी चूत भी नहीं चाटी थी।आज से पहले मैं मेरे शौहर को और उनके सेक्स को अच्छा समझती थी लेकिन आज उसके बाप से पता चला कि बाप आखिर में बाप ही होता है।मेरा शौहर एक फुद्दु इंसान था. मुझे आज पहली बार ऐसा लगा, जैसे पूनम बुआ का झुकाव मेरी तरफ बढ़ रहा है.

मेरा गाढ़ा लावा भाभी ने अपने मुँह में ले लिया और किसी रंडी की तरह पी गईं.

फिर हम सुबह के समय सड़क पर अंधेरे का सहारा लेकर किसी कोने में भी सेक्स करने लगे.

मैंने एक को अपने हाथ में ले लिया और मसलने लगा और दूसरे के ऊपर मुँह रख दिया. क्या अनूठा अनुभव था दोस्तो … मैं आनन्द के समंदर में गोते खा रहा था और पूनम बुआ भी उसी समंदर में डूबती जा रही थीं. जाते समय वो मेरी मम्मी को बोलकर गईं- प्रार्थना, मैं तुझे मैसेज कर दूंगी.

तभी मालिक की पत्नी कार से निकल कर आई, पूरी बात सुनी और पंप मैनेजर से कहा- साहब की बाइक में तेल कम डाला गया है या ज्यादा, भूल जाओ. चाची ने थोड़ी देर तक ऊपर से ही लंड सहलाने के बाद मेरी टी-शर्ट के अन्दर हाथ डाला. हालांकि वो कभी मुझसे खुल कर कुछ नहीं बोलती थीं कि उनको मेरे लंड से चुदना है.

मुझे लगा कि शायद वह लाइट ऑफ़ करना भूल गया है, मैं ही बंद कर देती हूँ.

हस्बैंड एंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि पुरानी सहेलियाँ शादी के बाद मिली तो उन्होंने क्या गुल खिलाये. ये सुन मैं बहुत दुखी हुआ क्योंकि पहले ही तो चुदाई सही से नहीं हो रही थी और अब तो जो समस्या सामने आ गई थी, उससे वो भी नहीं हो पाएगी. भाभी- देख मैं इसे तेरा दूध पिलाने तैयार करूंगी … लेकिन तुझे मेरे सामने ही इसे दूध पिलाना होगा … मंजूर हो तो बोलो?बंगालिन भाभी- ठीक है जैसे भी हो मेरा दूध बस निकल जाए, बड़ा दर्द रहता है.

अब मेरी बारी आ गई थी लेकिन भाभी ने मुझे काटने से और सेक्स करने से मना कर दिया. तुम्म यहां क्या कर रही हो!ममता- नींद नहीं आ रही थी तो सोचा तुम अभी जाग रहे होगे, तो तुमसे थोड़ी देर बात कर लूं. अब मैंने फ़लक से कहा- सॉरी फ़लक यह नहीं हो सकता, आप तो पढ़ाई लिखाई में बिल्कुल ही पुअर हो.

मां ने मुझे समझाया- बेटा तू परेशान ना हो, मैं रात को तेरे पास छत पर आ जाऊंगी.

अगले दिन मैं कारखाने से आते समय मां की रिपोर्ट ले आया, जिसमें लिखा था कि मां पेट से हैं. आपको मेरी ये हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लगी इस बारे में जरूर लिखें.

हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश मुझे भी कुतिया की चूत चाटने दे।सुन्दर ने अपना मोटा लंड मेरे मुख में पेल दिया और मैं भी चूसने लगी. मां बोलने लगीं- अरे बेटा ये क्या किया … तूने मेरे बदन को भी तेल लगा दिया.

हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश हम दोनों ने उसके बाद कुछ मिनट तक गांड चुदाई का मजा लिया और अब झड़ने की बेला आ गई थी. मैंने चुदाई की पोजीशन ले ली और अपनी दीदी की चूत के अन्दर लंड को डाल दिया.

ममता- हां पर एक बात है …अभय बीच में बात काट कर बोला- उंगली करती है … है ना!ममता- वो तो करती ही हूँ पर …अभय- पर क्या बहना?ममता- मैंने लेस्बियन कई बार किया है.

अवधेश प्रेमी का सेक्सी वीडियो

उसने मेरी टांगों को फैला दिया और मेरी चूत पर अपनी जीभ की नोक को फिराने लगा. अब मेरी बहूरानी के मायके में शादी थी तो उनके मामा (वधू के पापा) हमारे घर आकर भी निमंत्रण दे गए और सपरिवार आने का बारम्बार आग्रह कर गए. वो कहने लगी- आपने कुछ नहीं पहना है?मैंने कहा- हां गर्मी लग रही थी, इसलिए सब कपड़े उतार दिए.

मैं- पर भाभी!भाभी- अब मैं और कुछ नहीं सुनना चाहती … तू वही करेगा, जो मैं कह रही हूँ. इतने टाइम में चुदाई के कम से कम दो राउंड तो बड़े आराम से लग सकते हैं; पर होगा कैसे??मैंने बहूरानी की ओर देखा वो मेरे कंधे पर सिर रखे ऊंघने लगीं थीं. वो सिसकारने लगी- आह्ह … विशाल … ओह्ह … विशाल … आह्ह … स्स्स … जोर से … आह्ह … यस … आई लव यू … आह्ह।उसकी ये सिसकारियां सुनकर मैं उसके निप्पलों को काटने लगा था और वो अधिक ज्यादा कामुक होती जा रही थी.

वो बोली- तूं इबै नीचे आ।मैं जल्दी से गेट बंद करके नीचे आ गया।उसने कहा- सामने जो डिजायर खड़ी … उसमै बैयठ जा जाकै!मैं डर के मारे जल्दी से बैठ गया.

मम्मी ने कहा- हटो ये सब बातें मत करो … मुझे तो शर्म आती है कि तुम अपने बेटे से … हिष्ट गंदा काम. देखने में तो टीटीई महोदय अभी भी मस्त लगे रहे थे पर बीमारी का क्या कर सकते हैं, यही सब सोच कर मैंने उससे हाथ मिलाया. उन लड़कियों के साथ वाले एक लड़के ने कहा- चलो, हम सब कैंटीन में चल कर बात करते हैं.

नीतू ने भी बिना कोई सवाल किए दवा पानी से गटक ली फिर मैं दूसरे कमरे में जा कर सो गया।थोड़ी देर बाद हंसने की आवाजों से मेरी नींद टूट गई. हुआ यूं था कि जब शादी के बाद मैं अपनी ससुराल आई तो मुझे मेरे हस्बैंड से बहुत प्यार मिला. मैं उनकी ग्रीवा चूम रहा रहा, कान के नीचे चाट चाट कर चूमे जा रहा था.

इससे मैं समझ गया कि मां सोयी नहीं हैं और ये सब मां को पंसद आ रहा है. अफ़रोज़- आपा, मेरी किस्मत तो देखिए कितनी झांटू है … जिस चुत के लिए मैं इतने दिनों से तड़प रहा था, उसी चुत में मेरा लंड घुसा पड़ा है, पर मैं उसे चोद नहीं सकता.

पापा जी, चलो स्टेशन से बाहर निकलते हैं होटल की गाड़ी आती ही होगी वो हमें होटल छोड़ देगी. उर्वशी आगे बोली- मैं अपने आपको शान्त करने के लिए एक क्रीम भी लायी हूँ, जिसे पुसी पर लगाने से वो और टाइट हो जाती है. कुछ देर बाद वो अलग हुई और बाथरूम में चली गई। वापस आकर मेरी बांहों में फिर से बैठ गई।मैं- क्यों मेरी जान, मज़ा आया न?मृणालिनी- हाँ दामाद जी, सच में ऐसा मज़ा आज तक नहीं आया था।फिर मैंने उसे लोलिशा की नंगी तस्वीरें और लंड चूसते हुए वीडियो दिखाई।मृणालिनी गुस्सा होते हुए बोली- ये क्या दामाद जी, किसके साथ है ये?वो हैरान थी लेकिन अब मैं उसको सच बताना चाहता था.

मैंने फ़ोन रखा ही था कि तुरंत सादिका के फोन पर मेरी बीवी का कॉल आया.

मैंने कुच्ची से पूछा कि क्या चक्कर है बे?उसने कहा- तुझे भूख लगी थी न … चल पहले खाना खाते हैं. उसके बाद वो मेरे होंठों को किस करते हुए मेरे सभी अंगों को चाटने लगी थी. ममता खांसती हुई बोली- क्या भैया, आपने तो मेरी जान ही निकाल दी, कोई अपनी बहन के साथ इस तरह भी करता है क्या? बहन हूँ मैं तुम्हारी, कोई रंडी नहीं.

दोस्तो उस रात उस लड़के ने मेरी मम्मी और शीला आंटी की दो दो बार चूत चोदी. टीटीई इस कमरे के बाहर वाले लाउंज में पड़े सोफे पर बैठा था और वो माल भुनभुनाती हुई बाथरूम में घुस गई थी.

इससे मुझे चाची के गहरे गले के ब्लाउज में से उनके मम्मों की दूधिया घाटी देखने का मौक़ा मिल जाता था. तभी मैंने उसकी पैन्टी नीचे खिसका कर अपनी तर्जनी उसकी बुर में डाल दी. चाची- फिर तुमने करते करते क्यों एकदम से रुक गए थे?मैं- आप अचानक से टोक दिया था ना!चाची- सॉरी सॉरी.

తమిళనాడు సెక్స్ తమిళనాడు సెక్స్

टीटीई इस कमरे के बाहर वाले लाउंज में पड़े सोफे पर बैठा था और वो माल भुनभुनाती हुई बाथरूम में घुस गई थी.

टाइट ब्लैक जॉगिंग ट्रैक और ऊपर ऑरेंज टी-शर्ट में उसके शरीर का हर एक उभर कर साफ साफ दिख रहा था. उसने कहा- भाभी आपने पांच लीटर दूध देने का वायदा किया था!मैंने कहा कि मैं दूध और पैसे देने में असमर्थ हूं. अभय ने हाथ बढ़ा कर ममता के अधपके टिकोरे पर रख दिया और उसके मटर जैसे निप्पल को अंगूठे ओर उंगली के बीच लेकर चुटकी से मसलने लगा.

मैंने शाम छह बजे तक ही अपने घर का सारा काम खत्म कर लिया था और मैं अपनी चुत की झांटें वगैरह साफ़ करके एकदम मस्त तैयार हो गई थी. कभी कभी मम्मी रात को उनके यहां ही रुक जाती थीं और कभी कभी रात को आंटी भी हमारे घर रुक जाती थीं. बीपी सेक्सी व्हिडिओ इंग्लिशएक ही झटके में वो नंगा हो गया और उसका मोटा लंड भन्नाता हुआ बाहर निकल आया.

जैसे ही वो जागा, मैं बाहर आ गयी और अपनी नाइटी पहन कर चाय बनाने लगी. कॉलेज Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे किसी दूसरे कॉलेज में हम दोस्तों ने दो लड़कियों को अपने यारों से चुदती देख लिया.

मैंने भी चिल्ला चिल्ला कर उसे पूरा खुल्ला छोड़ दिया था- आह चोद और तेज चोद दे मेरी चुत को … आह तू चाहे मेरी चुत फाड़ भी दे. मैं शीना को दवाई देते हुए बोला- चलो चूत में ना सही, अपने मुंह में तो ले लो!शीना- हां अंकल, ये कर सकती हूं अभी!ये बोलकर शीना मेरे लोअर में से लन्ड निकाल कर नीचे बैठ कर चूसने लगी. हम दोनों नंगे हो गए और एक दूसरे को चूमने लगे।वो बोली- सर अब बैडरूम में चलो!और फिर हम दोनों उसके बैडरूम में आ गए।बिस्तर पर आकर दोनों एक-दूसरे को पागलों की तरह चूमने लगे दोनों एक दूसरे के शरीर से खेलने लगे।अब धीरे धीरे मेरा लन्ड खड़ा होने लगा था.

मैंने उसके हाथ से बोतल ले ली और उसे अपने दूध पर वोडका टपकाते हुए पिलाना शुरू कर दी. इधर अभय तो सोच कर पागल हुआ जा रहा था कि उसकी सगी बहन उसका लंड चूस रही है. करीब पांच मिनट में ही भाभी अकड़ उठीं और उन्होंने मेरे मुँह पर ही अपनी चुत का रस झाड़ दिया.

और तभी मेरी उत्तेजना इतनी बढ़ गयी कि मेरे पूरे शरीर में आनंद की लहर सी मारने लगी.

लण्ड को अन्दर बाहर करने के दौरान मैंने जोर से ठोकर मारी तो उसकी चूत की झिल्ली फट गई. दस मिनट तक गांड चाटने के बाद मैंने भाभी जी को सीधा करके जैसे ही चुत पर जीभ लगाई, डर्टी भाभी मेरा सर अपनी चुत में घुसेड़ने लगीं.

मैं घर में गया तो देखा कि रमेश और दीदी फोटो सेशन चला रहे थे और रूम का दरवाजा लॉक था. ये कह कर उसने ममता का सिर लंड पर दबा दिया- चल अब तेरी बारी … लंड चूस कर ठंडा कर दे चल जल्दी से अपने भैया का लंड ले ले. उसके घर में मुझे फिजियो तथा योगा इन्स्ट्रक्टर के रूप में जाना जाता था.

इतनी देर में उसकी चूत से पानी निकल कर उसकी जांघों को भिगोने लगा था. उसने मेरे गाल और टाइटली पकड़ लिए और जोरदार झटका देकर लंड इतना अन्दर घुसा दिया कि मेरी आंखों से पानी निकलने लगा. अमित ने हम दोनों के लिए एक ही रूम बुक कर दिया, मुझे कोई आपत्ति नहीं थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश मुझे अन्दर की आवाजों से साफ़ समझ आ रहा था कि चाची चुत में कुछ डालकर मजा ले रही हैं, मस्त आवाजें आ रही थीं. उसने मुझे बेड पर लिटा दिया और फिर लंड को कुछ देर पूरी तन्मयता से चाट चाट कर चूसा जिससे मेरा लंड तमतमा कर छत की ओर मुण्डी उठा कर खड़ा हो गया.

ப்ளூ செக்ஸ்ய்

मैंने राजकुमारी मीना की दोनों टागें अपने कन्धों पर लेकर कुछ इस तरह से उसे लटकाया था, जिससे उसकी चुत मेरे मुँह से लगी थी. तो प्रस्तुत है मेरी उसी ऑफिस Xxx हिंदी कहानी का अगला भाग:यामिना को उसके घर के पास छोड़ने के बाद मैं अपने रूम पर आ गया और उसकी बेटी फ़लक की चुदाई की कल्पना करते हुए रात को सो गया. इस लड़की का नाम जीनिया था, कद करीब छह फीट, तीखे नैन नक्श, रंग चमकीला काला, चूचियों का साइज 38 इंच, चूतड़ 42 इंच और वजन कम से कम सौ किलो रहा होगा.

हैलो भाई लोगो और चुदक्कड़ भाभियो, मैं पंकज आपको आज अपनी माँ बेटे का सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ. उसने टाइट जीन्स और ढीला सा टॉप पहन रखा था जिसमे से उनके मम्मों का जानलेवा उभार साफ साफ चुनौती देता सा खड़ा था. घोड़ा की लड़की की सेक्सी फिल्ममैं उनकी तरफ देखने लगा तो मां वासना से बोलीं- चल अब इस हथियार को चला भी दे … देख ना मेरी चड्डी कैसी गीली हो गयी है.

मेरी बात का किसी ने विरोध नहीं किया और मैंने दूसरे दिन जाने का प्लान बना लिया.

मैंने उसके नर्म नर्म होंठों को किस करना शुरू किया और वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. दोस्तो, मेरे यार कुच्ची ने मेरे लौड़े के लिए मस्त जमीला की चुत का इंतजाम करने की तैयारी कर दी थी.

अब मैं उसकी टांगों के बीच में मुंह देकर लेट गया और उसकी चूत में जीभ देकर उसको चूसने लगा. क्योंकि मैं भी घर पर ही रहता था तो मेरी भी नवीषा से अक्सर बात हो जाया करती थी।दो-तीन दिन में मेरी और नवीषा की एक दोस्तों वाली बात हो गई थी. ममता अपने भाई के हाथ को अपनी चुत पर महसूस करके एक बार को तो गनगना गई … मगर उसने हाथ का मजा लेना शुरू कर दिया.

तू धो लेना।वो बोला- ठीक है दीदी, अभी लाकर देता हूँ।मेरा भाई तुरन्त एक चुन्नी ले आया।मैंने कहा- चल पीछे मुँह करके खड़ा हो जा.

दीदी ने तनिक जोर से कहा- ये क्या बोल रहे हो तुम … तुमको शर्म नहीं आती. मेरा गाढ़ा लावा भाभी ने अपने मुँह में ले लिया और किसी रंडी की तरह पी गईं. हालांकि उन्हें ज्यादा बड़े मम्मे तो नहीं कह सकते थे, पर लौंडियों के नजरिये से उसके मम्मे मीडियम साइज से थोड़े बड़े थे और बिल्कुल गोल थे.

दिल्ली की लड़की सेक्सी फिल्ममेरा लण्ड फुल स्पीड से हनीप्रीत की चूत बजा रहा था कि तभी जसविंदर अपनी छत पर आकर यह नजारा देखने लगी. वैसे मेरी चूत पर कभी बाल होते ही नहीं हैं, फिर भी साफ कर ली क्योंकि मुझे कुछ अंदेशा था कि आज कुछ होने वाला था.

पंजाबी सेक्सी पंजाबी सेक्सी फिल्म

मेरी जान … यहां कोई नहीं आता, तू टेंशन मत ले, अपने पास समय कम है और काम ज्यादा है!” मैंने कहा और अपना लंड निकाल कर उसकी चूत के खांचे में घिसने लगा और फिर धीरे से टोपा चूत में घुसेड़ दिया. अदिति का ये अप्रत्याशित व्यवहार मुझे समझ नहीं आ रहा था कि आखिर उसके मन में चल क्या रहा है. इधर राजकुमारी पूजा मेरे निप्पल चूसे जा रही थी और मीना मुझे किस किए जा रही थी.

उनकी टांगें, जो मेरी कमर पर थीं, नीचे हो गईं और मुझे अपनी बांहों में भरते हुए मेरे होंठों को चूमने लगीं. पूजा दूसरी राजकुमारी का नाम है, ये उस वंश की दूसरी रानी की बेटी है. जीजू ने अपने कपड़े पहने और छत पर चले गए।उनका वीर्य मेरी गान्ड के छेद से रिस कर निकल रहा था।मेरी अब ऐसी हालत नहीं लग रही थी कि मैं वापस छत पर जा सकूं। मैंने वहीं पर एक चादर ओढ़ी और सो गई।अगली सुबह मुझे दीदी उठाने आई.

मैंने अमित से पूछा- डॉक्टर ने तुम्हारे कान में क्या बोला था?अमित बोला- कुछ नहीं यार … वो बोला था कि कल तुम नीचे से खुली वाली ड्रेस पहन कर आना. मैंने भी जानबूझ कर अपना कमरा लिए रखा था ताकि कोई दूसरा उन्हें परेशान न करे … और कोई दूसरा उनकी मजबूरी का फायदा न उठा सके. मेरे लंड को खड़ा होते देख कर मामी मेरी गोद से उठीं और अपनी सलवार का नाड़ा खोलने लगीं.

मैंने कहा- नहीं मामा जी … कल बाइक से गिरने के कारण शरीर दुख रहा है, इसलिए अभी थोड़ा आराम करूंगा. अभय- मतलब?ममता- उंहूं भैया … समझा करो मुझे कुछ अंडरगारमेंट्स लेने हैं.

मेरी वह पड़ोस वाली भाभी बोलीं- हां, अब हम आराम कर लेते हैं … और यहीं पर सब सो जाते हैं.

अब जब भी सवाल का उत्तर गलत होता तो वो मेरी गांड पर एक बहुत जोर का झन्नाटेदार चमाट मार देते. गीता भाभी सेक्सी व्हिडीओहैलो फ्रेंड्स, मैं सोनिया कमल एक बार फिर अपनी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत करती हूँ. हिंदी सेक्सी बियामां ने अपने दोनों हाथों को मेरी गांड पर रखे और मुझे जोर से धक्के मारने को बोलने लगीं. कहां डालूं?मैंने सोची कि यार अभी तो मैं अपने होने वाले बच्चे के मिशन पर हूँ.

मैं उसे बार बार रोकने की कोशिश करता … मगर वो और जोर से नौंचने लगती.

उन्होंने सेकेंड फ्लोर पर भी एक वन रूम सेट बना रखा था जिसमें हमेशा कॉलेज स्टूडेंट्स रहती थीं. ”मैंने आपको कॉल तो इसलिये किया है कि आपका एड्रेस जान लूँ ताकि आपको नये साल की डायरी, कैलेण्डर आदि भेज सकूँ. कभी कभी मम्मी रात को उनके यहां ही रुक जाती थीं और कभी कभी रात को आंटी भी हमारे घर रुक जाती थीं.

मगर जब मौसी बाहर आईं तो मैं भी अपनी नजरें चुराता और लंड छुपाता हुआ बाथरूम में चला गया और अपने आपको साफ करके वापस आ गया. अदिति ने अपनी सासू माँ से सब बातें बतायीं और पूछा कि आप कहो तो वो ग्वालियर चली जाये?अब बात थ्रू प्रॉपर चैनल मेरे पास तक तो आनी ही थी:जरा सुनिये, अखबार फिर पढ़ लेना!” रानी (मेरी धर्मपत्नी) ने अधीरता से कहा. मेरी कामुक हरकतों का वो कोई विरोध नहीं कर रही थी जिसका मतलब साफ था कि वो भी कुछ करना चाह रही थी.

सेक्सी वीडियो कॉल डाउनलोड

मैं चाहती थी, वह खुद मेरे इस दर्द का इलाज करें; इसलिए मैंने अपने ब्लाउज के दो हुक्स खोल दिए थे. मैं धीरे से मामी जी के कमर के पास बैठ गया और उनके चूतड़ों पर साड़ी के ऊपर से ही सहलाने लगा. इसलिए मैं उससे बोली- अरे यार, तूने मेरी चुत की अपने ख़्यालों में इतनी पूजा की है … और तुमने अपना वादा भी निभाया है … इसलिए मैं अपने प्यारे भाई का दिल नहीं तोड़ूँगी.

बातें करते करते पता ही नहीं चला कि कब हम टीचर स्टूडेंट के रिश्ते से निकल कर गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्ते में आ गए.

मेरे लंड का सुपारा काफ़ी मोटा है, पर मामी जैसी चुदक्कड़ को थोड़ी सी भी परेशानी नहीं हुई.

उन्होंने रोहन अंकल के लंड को अपने माथे से लगाया और मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. मैंने उनके पूरे शरीर पर अपने होंठों को फरेना शुरू किया और भाभी को चूमने चाटने लगा. भीलवाड़ा जिले का सेक्सी वीडियोवो सोच रही थी आज भैया से अपनी चूत चुदवा लूं … तो भैया का मुठ मारना भी बंद हो जाएगा और बाहर की गंदी औरतों से भी बच जाएंगे.

उसका वीर्य मेरी चूत से निकल कर मेरी जांघों से होते हुए जमीन पर फैल रहा था. इतना पक्का था कि उन आठों में से एक मेरा भाई था, एक मेरे पति थे और एक मेरे जीजू थे. नेहा ने पूछा- वो कैसे?ममता ने कहा- वो सब बाद में … पहले तुझे ठंडी कर दूं.

मैंने उसको अपने आगोश में समा लिया और मेरी चुत रो पड़ी … चुत से पानी निकल गया. फिर हम लोगों ने साथ मिल कर डिनर किया और मैं और मीतू मेरे कमरे में चले गए.

जसविंदर की चूत पर जीभ फेरकर मैंने उसकी भट्ठी की तपिश को महसूस किया और अपना भुट्टा भूनने के लिये डाल दिया.

शीना- हां अंकल, मैं भी चाहती हूँ हर पोज़ ट्राय करना, पर डरती हूँ कि दर्द बहुत होगा. मेरी देसी गांड चूत चुदाई कहानी में पढ़ें कि घर में काम करने आये मिस्त्री ने मुझे चोद दिया था. मैं उसकी तरफ देखने लगा कि ये किस तरह से मेरी मनी प्रॉब्लम को दूर करेगी.

छोटे छोटे बालकों की सेक्सी वीडियो रमेश ने मेरी दीदी की चूचियों को मसलते हुए और अपना लंड दीदी की चुत पर रगड़ते हुए कहा- तुम बहुत हॉट आइटम हो यार … फोटो शूट के समय ही मेरा तुमको चोदने के मूड बन गया था. मैंने पास रखी तेल की कटोरी में उंगली डाल कर भिगोई और उसकी गांड में डाल दी.

वो मानी नहीं और मुझसे बोली- मुझे पता है कि मैं तुमको पसंद नहीं हूँ. मैं उससे सर झुका कर बोला- प्लीज़, ये बात किसी को मत बताना, नहीं तो सबकी जिंदगी बिगड़ जाएगी. वो लड़का राहुल अपना मुँह ऊपर दीवार की तरफ मुँह करके लंड खोल कर खड़ा था.

கை அடிக்கும் வீடியோ

दूसरे दिन से हम दोनों ने अपने इस टूर को हर दिन बिना कंडोम के चुदाई करके सेलिब्रेट किया. मेरी पिछली सेक्स कहानीठरकी मामा ने की सेक्सी भांजी की चुदाईव इससे पूर्व प्रकाशित अन्य कहानियाँ आपने पढ़ीं और उनको सराहा, मुझे ढेर सारा प्यार दिया और जाने कितने प्रशंसकों की ईमेल भी मुझे आईं. डैड- अरे ये कलूटा सांड कौन है … और तुम सब कहां पर हो इस हालत में नंगे क्यों हो?मॉम- जब तू वापस आएगा, तब देख लेना मेरे गुलाम.

फिर फुर्ती से उसकी जीन्स और पैंटी घुटनों तक खिसका दी और उसके चिकने गुलाबी गोल गोल नितम्ब सहलाने लगा और उन पर चपत लगाने लगा. लेखक की पिछली कहानी:शादी से पहले मंगेतर की चूत गांड चुदाई का मजाहैलो फेंड्स, मेरा नाम पुष्पेंद्र सिंह है, आज मैं आपको अपने जीवन की एक अनोखी सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूं.

फिर मैंने उसे नीचे लिटा लिया और उसके पेट को चूमते हुए नाभि से होकर शॉर्ट्स के पास आ गया.

हम तुम्हारे दोस्त विजय से चुदवाने जा रहे हैं, जेन्टलमैन है यार, ऐसे जेन्टलमैन से सील तुड़वाना हमको अच्छा लगेगा. फिर हम तीनों ने दोपहर का खाना साथ खाया और वो शहज़ाद को लेकर छत पर चली गयी. अब दोनों को चुदाई का मज़ा आने लगा था।मालती बोली- मादरचोद चोदने बुलाते हैं और लंड में दम नहीं! राज जैसा लंड हो तो बुलाओ भडुओ मादरचोदो … आओ फाड़ो मेरी गान्ड! एक बिहारी हरियाणा पुलिस वाली को चोद रहा है.

अरे अदिति बेटा, मेरे ऊपर से अपने पांव तो हटा तभी तो मैं तुझे चोद पाऊंगा न!” मैंने कहा. पहले तो आप सभी से मैं माफी चाहूंगी कि आप सबकी रिक्वेस्ट के बाद भी मैं कोई नई सेक्स कहानी नहीं लिख पाई. वहां मैं अपनी बहन को मिलने गया तो देखा कि वो अपने बॉयफ्रेंड से चुद रही है.

उसके मुँह से ‘आह आह …’ की आवाज निकलने लगी, तो मैं समझ गया कि ये चुदवाने के लिए तैयार है.

हिंदी बीएफ सेक्सी इंग्लिश: यह बोल कर मैंने शीना की बुर को चूमा और अपने लन्ड मुंड को उसकी बुर के मुंह पर लगाया. अपने लण्ड की खाल को चार बार आगे पीछे करके बहार की बुर के लब खोले और अपना सुपारा रख कर बहार से कहा- बहार, अपना गिफ्ट सम्भालो.

जब मैं हल्की सी झुकी, तो उन्होंने मुझे मेरे दोनों हाथ मेज़ पर टिकाने को बोला. ओह … क्या दिलकश नज़ारा था!शीना की बुर साइज में छोटी सी थी, बिल्कुल गोरी!मैंने उसकी बुर को खोला तो देखा अंदर से बिल्कुल लाल जैसे गुलाब का फूल आधा खिला हो. पर हल्का हल्का डर भी रही थी, पर डर से ज्यादा हवस थी।आज मेरे पास मौका था, जगह थी, जबर्दस्त इच्छा थी, और किस्मत से सेक्स करने के लिए लड़का भी था.

आप तो मेरे लंड के मजे लो बस … आह आह भाभी सच में आपकी चुत बड़ी टाईट है.

जब भी उसकी जीभ मेरे लन्ड के टोपे पर लगती तो मैं मस्ती से उसके मम्में दबा देता. मीना ने अपनी चुत पर मेरे मूसल लंड का अहसास करते हुए ही एक बार कमर को ऊपर नीचे करके लंड की रगड़न का मजा लिया और अपनी चुदने की व्याकुलता को प्रदर्शित किया. अभय ने जब उसके मुँह से गाली सुनी, तो उससे रहा नहीं गया और पूरा लंड ममता की चूत से बाहर खींच कर फिर एक शॉट में जड़ तक पेल दिया और वो दनादन अपनी छोटी बहन को चोदने लगा.