एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ

छवि स्रोत,कुत्ता और छोरी की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

आईपॉर्नटीवी: एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ, अब मैं आपको लोगों को उसके आगे की कहानी बताती हूं कि की मैंने खुला सेक्स का मजा लिया.

राजस्थानी बहन भाई की सेक्सी वीडियो

देसी लवर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे अपनी क्लास की एक लड़की पसंद आ गयी, उससे दोस्ती हो गयी. सेक्सी वीडियो दिल्ली की वीडियोमैंने काफी दिनों से ऐसा सम्भोग नहीं किया था, जिसमें मैं संतुष्टि प्राप्त कर रही थी.

उसके बाद बूढ़े ने मेरा फोन नंबर लिया और हम दोनों एक स्माइल के साथ अलग हो गये. गुंडे सेक्सी वीडियोऐसी कभी कल्प्ना मैंने अब तक कभी नहीं की थी कि एक औरत मेरे साथ जबरन मैथुन करने पर उतर आएगी.

अभिषेक ने मेरी सहेली को पकड़ा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और एक बहुत तगड़ा वाला स्मूच किस करने लगा.एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ: अनीता तेज स्वर में बोली- पूरी रात नींद नहीं आयी … चल परे हट … अब मुझे सोने दे … और हां दुकान जाते समय बच्चियों को लेते जाना.

जब अनामिका की चूत जब तीन उंगलियां आराम से अन्दर लेने लगी … तो प्रियंका ने साथ में अपना मुँह भी चुत में लगा दिया.मैं उसकी पीठ और चूतड़ों को सहला रहा था और उसके चूतड़ों की दरार के बीच उंगली डाल रहा था.

हिंदी सेक्सी वीडियो ब्लू एचडी - एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ

रोहिणी स्टूल खींच कर मेरे सिराहने आकर बोली- अभी दस बजे मैं घर चली जाऊंगी … शाम को फिर से आऊंगी.जब मैंने एक बुजुर्ग से मामला पूछा तो उस बुजुर्ग ने मुझे बताया कि इस पार्क में लोग गलत हरकते करते हैं और ये लड़का और लड़की भी एक झाड़ी की ओट में बैठ कर गलत काम कर रहे थे.

एक दिन प्रिया भाभी का फोन आया कि तुम्हारे भैया आज चार दिन के लिए बाहर जा रहे हैं; ये चार दिन मैं तुम्हारे साथ बिताना चाहती हूं, इसलिए सूरज के जाने के बाद, मैं घर से अपने मायके का बहाना करके निकल जाऊंगी. एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ मुझे पता नहीं क्यों, ऐसा लगा कि सुरभि हमारे बारे में अब जान चुकी है और वो अनजान बने रहने का नाटक कर रही है.

तुम अपनी नाइट ड्यूटी यहीं लगवा लो।अब हम दोनों चुदाई का मज़ा लेने लगे.

एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ?

मुझे उससे अलग होने का मौका मिला तो मैंने उसे झटके से अपने ऊपर से गिरा दिया और उठ कर भागने लगी. मेरी गोरी नंगी जांघें भाईजान के सामने थीं और मुझे देखकर उनका मौसम बन रहा था. उसमें पीछे से मेरी ब्रा की दोनों पट्टियां दिखाईं दे रहीं थीं लेकिन मुझे मालूम नहीं था.

मेरी आंखों में आंसू आ गए थेमेरे आंखों में आंसू देखकर दोनों ने अपने लंड बाहर निकाले, तब मुझे सांस आयी. पहले तो मालूम नहीं चला कि क्या कपड़ा है परन्तु थोड़ी देर में उसमें से रानी की चूत की वह विशेष सुगंध नाक में आनी शुरू हुई. आप बस लंड हिलाना छोड़ कर पहले मेल करो कि मेरी मौसी सेक्स स्टोरी कैसी लग रही है.

परंतु आप सब तो जानते हो कि सेक्स की आग एक ऐसी आग है, जो बुझाए नहीं बुझती, उल्टा और बढ़ती ही चली जाती है. और तब से मैं रोज़ सोते समय ब्रा उतार कर सोती थी।मैं अपना नाईट सूट लाना भूल गयी थी तो दीदी ने अपनी गाउन दे दी थी. काव्या ने मेरा सारा रस पी लिया और मैंने उसका अमृत कलश अपने मुँह में खाली कर लिया.

यह कहते हो उन्होंने दो-तीन और तेज झटके मारे फिर धीरे-धीरे उनके झटके हल्के हो गए. सुंदर हसीनाओं को भोग लेने के पश्चात उस भारी देह की युवती के शरीर पर आकर्षित होने लायक बहुत कम चीजें थीं.

पीछे से सुनील ने मेरी गांड को फैलाया और मेरी गांड के छेद में लंड को डाल दिया.

उसकी सांसों की खुशबू मेरे फेफड़ों में जाने से मुझे अजीब सा एक सुखद अहसास होने लगा.

एक रात मैंने चोरी छिपे देखा कि मेरे पापा, मेरी मम्मी की जबरदस्त चुदाई कर रहे थे. उसकी सांसें तेज़ तेज़ चल रही थीं और इसके फलस्वरूप चूचियां भी उतनी ही तेज़ी से ऊपर नीचे हो रही थीं. भाभी मेरी जीभ को अपने रसीले होंठों में लेकर आईसक्रीम की तरह चूसने लगीं.

क्या तुम मेरे बच्चे की मां बनोगी?”बोलो जानू … तुम बनोगी मेरे बच्चे की मम्मी? तुम बनोगी मेरी चुदक्कड़ पत्नी और मेरे बच्चे की मम्मी?”विजय जोर जोर से चिल्लाए जा रहा था और यह सब बोले जा रहा था और यह सब बातें मोबाइल में रिकॉर्ड हो रही थी।मैं भी बहुत खुश हो रही थी कि विजय मुझे अपना बच्चा देना चाहता है. उसकी इन आवाजों से मैं भी उत्तेजित हो गया और उसे जोर से पकड़ कर तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा. वो मेरे साथ बैठ गईं और बोलीं- तुम्हें मुझमें क्या पसंद आ गया है, जो तुम मेरी और अपनी उम्र का ख्याल भूल गए हो.

अब आगे की सेक्सी भाभी न्यूड स्टोरी:मैंने भाभी को नीचे खड़ा किया और अपने दोनों कपड़े उतार कर बिल्कुल नंगा हो गया.

मेरी बढ़ती स्पीड के साथ भाभी की सिसकारियां भी तेज होती गयीं- ओह्ह … यस … और जोर से … आह्ह … फक मी हार्ड अंश … आह्ह … चोदो डार्लिंग … आह्ह और चोदो … आईई … उफ्फ … ऊईई … ओह्हह यस … लव यू बेबी।इस तरह से 20-25 मिनट के लगभग मैं सेक्सी भाभी की चुदाई मजे लेकर करता रहा और फिर हम दोनों ने पोजीशन बदल ली. विजय मेरी गांड के छेद को जोर जोर से चाटने लगा और अपनी जीभ मेरी गांड के छेद के अंदर घुसाने लगा. मैं भी कुछ देर तो उसके इंतजार में खड़ा रहा, फिर शायरा के आते ही हम दोनों घर से निकल गए.

मैं उम्मीद करता हूं कि तीन-चार दिनों में आपको थोड़ा सा मेरे ऊपर विश्वास हो गया होगा. इसलिए प्रमिला और एकता ने मुझे पीछे अपने अपने बूब्स चूसने के लिए मेरे मुंह में देना चालू कर दिए थे. भाभी मेरी तरफ झुक गई और मैंने थोड़ा टेढ़ा होकर उनका एक मम्मा मुंह में भर लिया और दूसरे को हाथ से मसलने लगा.

दोस्त सेक्स चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी पिछली कहानी से मुझे एक बहुत अच्छा दोस्त मिला.

आपने सख्त मना किया है हमारे लिये।मैंने धीरे से कहा- दीपिका जी, आपके लिए कोई भी मनाही नहीं है, आप जहां चाहें वहाँ बैठ सकती हैं, घूम सकती हैं, बालकॉनी तो क्या आप मेरे कमरे को भी अपना ही समझें, लेकिन घोष बाबू?इतने में ही वो हंसने लगी और बोली- थैंक्स, मुझे आप बहुत अच्छे लगे. मेरे लंड को दीदी की चूत की ऐसी लत लगी थी कि किसी भी लड़की को चोद कर सन्तोष नहीं होता था.

एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ लैपटॉप लाने के लिए वो जैसे ही पलटी, मेरी नजर उसकी मचलती गांड पर पड़ी, क्या मस्त माल थी वो. तभी महिला पुलिस बोली- तुझे मैं भेजूं क्या अंदर?और मारने की धमकी देने लगी.

एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ अब दोनों की (जिया और विनोद) का लव अफेयर चालू हुआ और उन्होंने शादी भी कर ली. दोस्तो, आप मेरे बारे में तो जानते ही हो, मेरे पति आर्मी में हैं और मैं जालंधर के पास ही एक गाँव में अपने सास-ससुर के साथ रहती हूँ.

अब जैसे ही संजय के लंड ने अपना स्खलन ख़त्म किया तो नेहा ने संजय का लंड अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

सेक्सी चुदाई मूवी फिल्म

वो अब शांत हो गई।मैंने लंड निकाल लिया और उसे बिस्तर से नीचे बैठाकर उसके मुंह में लंड डाल दिया. वैसे तो मम्मी मुझे भेजती नहीं है इसलिए कि कहीं नीलम की सील ना टूट जाये क्योंकि दीदी के घर में किराये पर कमरा लेकर पढ़ने वाले लड़के रहते हैं. उसका हाथ लगते ही मेरी फुद्दी के दोनों होंठ खुल गये और उसकी उंगलियाँ मेरी मेरी गीली फुद्दी में समाने लगी.

अंडरवियर उतारते ही उनका लिंग किसी स्प्रिंग की तरह हिल रहा था; बहुत लम्बा और मोटा था. मैंने भी उनकी चूची मसल कर कहा- बताओ न भाभी … आपकी नजर में तीसरी कौन है?भाभी हंसकर बोलीं- देवर जी इतने बेचैन न हो. जिस पर रश्मि बोली- नहीं, मैं तेरे लिए रात को ही नंगी होऊंगी, अभी कोई आ भी सकता है.

छोटी चाची बोलीं- तेरी गर्लफ्रेंड ने अपनी चुत में कितनी बार इसको लिया है.

कमल बोला- वो मौसी जी, आज फूफाजी पहली मेरे घर बार आए है ना … तो दिन में ले ली थी. मेरे दोस्त का नाम कपिल है (बदला हुआ) कपिल की बीवी मनीषा (बदला हुआ नाम) है. मुझे देखने के लिए दीदी भी अपनी ससुराल से कुछ दिनों के लिए आ गयीं थी।भैया बाहर ही बैठे रहते थे, मम्मी या भाभी मेरे साथ अन्दर रहती, मैं गाउन पहन कर जाती थी जिसमें ऊपर तनियाँ होती हैं और ऊपर से खुला होता है.

शायरा की आंखों में देख कर ऐसा लग रहा था कि जैसे किसी ने शायरा के बदन से उसकी आत्मा अलग कर दी हो. मैंने कई बार देखा था कि अभिषेक मेरी सहेली को देख कर एक आंख दबा देता था और होंठों को गोल करके उसे चूमने का इशारा कर देता था. मैंने अनीता से पूछा- तुम्हें मेरे लंड का पानी पीना बुरा नहीं लगा?वो मुस्कुराते हुए बोली- यह तो अब मेरी आदत हो गयी है.

मैं उसके ऊपर लेट गया और उसके होंठों को चूसते हुए तेज-तेज उसकी चूत में लंड को पेलने लगा. उसके लंड को मैं अपने होंठों पर लिपस्टिक जैसे रगड़ती हुई उसके एक आड़ू को पूरा का पूरा मुँह में भरके चूसने लगी.

फिर भाभी को दरवाज़े से चिपका कर उनके सूट को ऊपर कर मैं घुटनों के बल बैठ गया और उनके दूध पीने लगा. अब मेरा दिमाग और खराब हो गया क्योंकि ‘यार पीरियड का दर्द तो सामान्य बात है’ और वह हर लड़की को होता ही है. मैं- ठीक है भैया … और कोई आ भी गए, तो मैं बोल दूंगा कि भैया बाहर गए हैं … वो कल आएंगे.

इससे पहले कि मैं कुछ समझ पाती, उसके लंड ने वीर्य छोड़ दिया और इसके बाद ढीला पड़ कर छोटा हो गया.

अभी तक ऐसा कुछ नहीं हुआ था लेकिन अब मेरी सहेली का एक बहुत ही मस्त लड़का ब्वॉयफ्रेंड बन गया था. ठीक एक दिन बाद मुझे कॉल आया, तो मैंने कॉल उठा कर पूछा- कौन?तो वह बोली- मैं डेज़ी हूं. कविता भाभी ने मुझे भी बेड पर खींच लिया और मेरे होंठों को चूस चूस कर लाल कर दिया.

मैं ऊपर से नीचे तक कांप रही थी।वे दोनों मेरे स्तन भी देख रहे थे तो मुझे बहुत शर्म आ रही थी।लगभग पौन घंटे आपरेशन चला. उसकी बातें मेरे कानों में पड़ीं, तो मैं सन्न रह गयी और डर से शान्त हो गयी.

वो बोली- राज, तुम मस्त चुदाई करते हो!मैंने अब और तेज़ तेज़ झटके मारने शुरू कर दिए. धीरू अंकल बोले- लंड खड़ा करना तो तेरे हाथ में है!मैंने यह सुनते ही उनके लंड को फिर से मुंह में ले लिया और उनके खुट्टे चाटने शुरू कर दिए. मैंने कहा- भाईजान, माल निकलने वाला है क्या?वो बोले- हां, बस आने वाला है … आह्ह … तेरी चूत में ही निकालूंगा डार्लिंग।मैं बोली- नहीं, मेरे मुंह में निकालना.

नया सेक्सी वीडियो चोदा चोदी

मैंने हेलो बोला तो उधर से बहुत ही रसीली मधुर आवाज आई- राज जी, नमस्कार, मैं दीपिका बोल रही हूँ.

ये कहते हुए उसने अपने नीचे के कपड़े पहने और लैपटॉप को बन्द करके बिस्तर पर लेट गयी. वो बोलने लगी- राहुल आराम से प्लीज!मैंने बोला- दीदी बहुत दिनों से इस पल का इंतज़ार किया है. भाभी ने कहा- हम्म … कोई बात नहीं अब तो बताओ कि आप कैसे हैं?मैंने- मैं ठीक हूँ भाभी.

मैंने इस मौके का फायदा उठाते हुए उसकी साड़ी ऊपर की और पैंटी हटा कर उसकी चुत में उंगली करने लगा. मैंने पूछा कि क्या हुआ?तो भाभी बोलीं- कुछ नहीं … रवि को अपनी दौलत दिखा कर ठंडा कर दिया. ओडीशा सेक्सीप्रियंका धीरे धीरे करके अपनी तीनों उंगलियों को अन्दर तक घुसेड़ने लगी … अन्दर बाहर … अन्दर बाहर …फच्च फच्च की आवाजें बाथरूम से होते हुए कमरे में भी गूंज रही थीं.

मैंने विजय के लण्ड को और उसके आण्डों को जोर जोर से चाट चाट कर पूरा गीला कर दिया. मैं अपने गांव में भी अक्सर शादीशुदा औरतों को छुपकर नहाते हुए देखकर अपने लन्ड को सहलाया करता था.

लेकिन ये बात मुझे बिल्कुल भी मालूम नहीं थीं।डाक्टर ने मुझे देखा और कहा- अब ठीक हो नीलम … बस थोड़ी देर रुको।मैं बाहर बैठ कर अपनी बारी का इंतजार करने लगी।अस्पताल के बाकी डाक्टर भी जा चुके थे. मैंने लण्ड निकाला और आँटी के चूतड़ों को थोड़ा फैला कर नीचे से चूत में लण्ड डाल दिया. भाभी के शरीर की मालिश करने से लेकर फ़ोरप्ले और सेक्स करते हुए मुझे एक घंटा से भी ज्यादा हो चुका था.

और जब भी मेरे पति शहर से बाहर जाते तो रात भर वो मेरे साथ ही रहते।उनके मिलने से अब मुझे किसी दूसरे मर्द की जरूरत नहीं महसूस होती थी. फिर राहुल ने अपना लंड मेरे पास किया और मेरी चुत को चूम कर उसके ऊपर रख दिया. मैंने नैना का कुरता थोड़ा सा ऊपर उठा कर उसके पेट पर चूमा, तो वो चिहुंक उठी.

फिर मैंने चादर में हाथ घुसा कर उसके नितम्ब सहलाते हुए बीच की दरार अपनी उंगली से सहलाते हुए उसकी चूत तक ले गया और वहां गोल गोल घुमाने लगा.

जैक निशि के बूब्स को दबाने लगा और रोनित उसके गोल चूतड़ों को मसल रहा था. अब इसके आगे की सेक्स कहानी में आपको अनामिका और प्रियंका की चुदाई की कहानी का रस पढ़ने को मिलेगा.

साली जी के गोल गोल गोरे चिकने नितम्ब उस हल्की सी रोशनी में भी दमक रहे थे, मैंने अनायास ही झुक कर उन्हें चूम लिया और उसकी मांसल चिकनी जाँघों को सहलाते हुए नितम्बों पर चार पांच चपत लगा कर पैर खोलने का प्रयास करने लगा. फिर उसने अपनी लैगिंग भी नीचे खींच दी और अपनी सफेद कॉटन की पैंटी को दिखाने लगी जिसने उसके चूतड़ों को कवर किया हुआ था. तभी रश्मि के हंसने की आवाज आई और साथ ही उसका कुर्ता जमीन पर गिर गया.

शायरा तो उसकी धक्का लगवाने की बात से शर्म पानी‌ पानी ही हो गयी थी … मगर इन सब बातों में मैं पक्का बेशर्म हूँ इसलिए मैं मजा लेता रहा. भाभी- आह संजय, तुम तो गजब हो यार, इतना मस्त मज़ा तो मैंने दो साल की शादी में कभी फील नहीं किया … आह सच में सेक्स का अपना मज़ा है यार … बस साथी मस्त होना चाहिए. वो- अच्छा होंठों को चूम कर बांहों में भरके … और क्या करोगे!मैं- तुम्हारे बदन के एक एक हिस्से को प्यार से चूमूंगा.

एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ मैं बहुत किस्मत वाला हूँ।ओह्ह शालू … मैं तुम्हें अपने बच्चे की मां बनाना चाहता हूं … अपने लण्ड की निशानी हमेशा के लिए तुम्हें देना चाहता हूं. मेरी जीभ के पैंटी के ऊपर से ही चूत को छूने से शायरा के मुँह से गर्म सीत्कार निकल गयी.

स्टार सेक्सी व्हिडिओ

उसने हमें अपने लाइव सेक्स चैट सेशन के बारे में बताया जो अन्जना नाम की एक खूबसूरत, 24 साल की हॉट देसी मॉडल के साथ हुआ था. इंडियन सेक्सी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन आंटी मुझसे से खुली हुई थी. मैंने प्रवीण का लंड मुंह में ले लिया; धीरू अंकल मेरी चूत में लंड डालकर धक्के देने लगा.

एक बार, दो बार और जब‌ मैं लगातार उसके हाथ को ही चूमता रहा तो शायद मेरे प्यार की तपिश से उसका हाथ भी जल उठा. हालांकि मेरे मन में दुविधा की एक कड़ी सी अभी भी बनी थी कि ये एक समलैंगिक रिश्ता था. इंडियन सेक्सी व्हिडीओ सनी लियोनइसलिए मैं अपने दोस्तों से चैट करके अपना ध्यान वहां से हटाने की कोशिश करता था.

आज भाभी भैया के लंड से चुदने जा रही थीं, पर उनकी चुदाई नहीं हो पाई थी.

इसलिए अभिषेक मेरी सहेली से छुट्टी में मिलता था या सुबह ही मिल लेता था. सुबह जब विजय जाने लगा तो उसको दही और परांठे का नाश्ता करवाया और चुपके से विजय के गले लग गई.

मैंने पूछ लिया- बाहर कौन जा रहा है?अब्बू ने कहा- तुम्हारे दोनों चाचा काम के सिलसिले में चार दिन के लिए बंगलोर जा रहे हैं. आंटी ने मुझसे पूछा- अच्छा यह बताओ, ये जो नीचे मेरी गाय घूम रही हैं इनमें से तुम्हें कौन सी पसंद है?मैं आंटी की आंखों की तरफ देखने लगा. कुछ देर में लंड की सफाई हो गई और मैं और अनु दोनों वॉशरूम में चले गए.

वैसे खाना बहुत टेस्टी बनाती है आप … कसम से आपका‌ खाना‌ खाकर मुझे मेरी भाभी‌ की याद आ जाती है.

मैं जिस रिश्ते से भाग रही थी, उसी रिश्ते को मैंने अब स्वीकार कर लिया था. जैसे ही मेरी योनि से मूत्र की धार छूटी तो उसकी आंखों में एक अलग तरह की ललक दिखी. महेश, राहुल और करनजीत से गांड मरवाने के चार दिन तक मेरी गांड दर्द करती रही.

सेक्सी जानवर के साथमैंने अपना एक हाथ उसके गले में डाल दिया और उसे अपने करीब खींच लिया. मैंने तुरंत मेरे मुंह से चुद रही नेहा, जो अभी पूरी तरह चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी, को बेड पर पटका और उसकी दोनों टांगों को अपने कन्धों पर रखकर उसकी चूत में अपना लौड़ा उतार दिया.

सेक्सी भाभी होट

अब मैं थोड़ा थका हुआ महसूस करने लगा था, तो थोड़ी देर आराम करना चाहता था. पांच मिनट बाद अचानक से ही आंटी ने बहुत तेज स्पीड पकड़ ली और ज़ोर ज़ोर से मेरे लंड पर गांड उछालने लगीं. उसकी आधी बाहर निकली चूचियों का नज़ारा किसी के भी लंड को खड़ा करने के लिए काफी था.

मैं अपने काफ़ी देर से सख्त अकड़न से दुखी होते लंड को सहलाता हुआ रानी के लौटने की बाट देखने लगा. साथ ही गीत भी अपनी टांगों को सिकोड़ रही थी क्योंकि उसकी चूत में पहले से ही डिल्डो घुसा हुआ था. इसके बाद बड़ी चाची कम्पयूटर की तरफ़ बढ़ीं और उन्होंने कम्पयूटर चालू कर दिया.

उस पर ये मखमली बाल और लंड को तो पूछो मत … मैं तो जन्नत में चली गयी हूँ यार. जैसा कि मैंने आपको बताया था कि गांव से दूर उनकी स्टेशनरी की दुकान थी. रोहिणी जैसे ही बाहर निकलने को हुई वैसे ही उसकी बहु और मां विमला टिफिन लेकर आ गईं.

आंटी ने भी मेरी कमर में बांहें डाल ली और अपनी चूचियां मेरी जांघों में रगड़ने लगी. दो ही मिनट मैंने अपने इस मर्द दोस्त से गांड मराने के सारे सपने देख लिए.

किस करता हुआ मैं उसके पेट पर चूमने लगा, उसकी नाभि में जीभ डाल कर घुमाने लगा.

एक बार मैंने फिर से उसको पकड़ लिया और गालियां देते हुए उसके मुंह पर थप्पड़ मारने लगा. व्हिडिओ का सेक्सी व्हिडीओमैंने भाभी से कहा- भाभी, यहाँ मुझे रात को वाशरूम की दिक्कत होती है. सेक्सी हार्ड हार्डथोड़ी देर के बाद मैंने उनको ऊपर उठाते हुए खड़ा किया और उनके चूचों को चूसने लगा. उसके हाव भाव से पता लग रहा था कि हर चाहने वाले को वह अपना सेक्सी फिगर दिखाना कुछ ज्यादा ही पसंद करती थी.

जब तक वो दर्द से चीख न उठे, तब तक न किसी मर्द को मजा आता है … और न मेरे जैसी औरत को मजा आता है.

यह बात आप किसी को नहीं बताइयेगा।रेहाना का हाथ पकड़ कर खींचते हुए रमेश बोला- अरे कहाँ चली, जिस काम के लिए पैसे लिये हैं उसे पूरा तो करती जा?रेहाना- नहीं अंकल, यह गलत है. मेरे सब्र का बांध टूट रहा था, तो मैंने केक को पूरा खत्म किया और उसके चेहरे को पकड़ कर उसके होंठों को चूम लिया. बिल बनाते हुए मैं सोच रहा था कि इस सेक्सी माल को गर्म कैसे किया जाये.

अगर यह डील कैंसिल हो गयी, तो हमारे एंप्लॉइज की नौकरी चली जाएगी और हमारी कंपनी को भी बहुत बड़ा नुकसान हो जाएगा. घुंघरुओं की दो तरह की आवाज़, रानी की सिसकारियों की आवाज़, मेरी आहों की आवाज़, लंड के छूट में अंदर बाहर होने पर फचाक फचाक फचाक की आवाज़, तगड़े शॉट लगने पर दो शरीरों की आपस में टकराने की आवाज़, ये सब आवाज़ें आपस में ऐसी मिक्स जो गयी थीं को कोई भी आवाज़ अलग से नहीं आ रही थी. वो बोली- अब तुम पिओगे?मैं बोला- हां, तुम नहीं पिओगी क्या?उसने कहा- नहीं, मैंने कभी नहीं पी.

सेक्सी पिक्चर बनाने का वीडियो

मैंने उसे एक दिन पूरा यही समझाया कि हम दोनों नाम का रिश्ता था, वो मेरी गर्लफ्रेंड सिर्फ नाम भर के लिए थी. दादी के गोरे गोरे चूतड़ और गांड के गुलाबी चुन्नट देखकर मैं दादी की गांड मारने के लिए बावला हो गया. मैं कभी गीतिका के क्लीटोरियस को चूसता, कभी पूरी चूत को मुंह में लेकर दांतों से काट कर चूसने लगा।गीतिका आनंद के सागर में गोते लगा रही थी.

अगली सुबह इतवार था तो सुबह उठ कर मैंने दीदी की दो राउंड चुदाई और की.

रॉबर्ट से चुदाई करवा कर मुझे अच्छा नहीं लगा था, पर थॉमस के मोटे लंड से चुदने में मुझे बहुत मजा आया था.

आंटी ने अपनी आंखें खोलीं और मुझसे नजर मिलाने से पहले उसकी नजर मेरे लौड़े के उभार को देखने लगी. मैं नीचे से अपनी कमर उचका कर लंड ऊपर नीचे करता, तो भाभी आह आह करने लगतीं. हिंदी बातें करते हुए सेक्सी वीडियोवो एकदम से तड़फ उठी और बोली- क्या हुआ … और करो न … कितना अच्छा लग रहा था.

उस इंडियन मॉडल गर्ल ने पहले मुझे अपना आइडिया बताया और फिर कुछ टिप्स भी दिये कि कैसे मैं अपने वीर्य के वेग को देर तक रोके रख सकता हूं. फिर मैंने जैक और रोनी को, निशि ने कमल और रोनित को, रोहिणी ने अरुण और नील को नंगा किया. नहा धोकर मैंने एक लाल रंग की स्लीवलेस नाइटी पहन ली जो मेरे घुटने तक आ रही थी.

खैर … मैं तो फिर और कभी तुमसे मिल लूंगी … क्योंकि मुझे हड़बड़ी का काम पसंद नहीं. एक दिन उसकी जीन्स से बाहर निकली पैंटी दिखी मुझे! तो क्या हुआ?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम मानव (बदला हुआ) है.

हमारे दोनों के मम्मी पापा घर पर नहीं हैं और दोनों के ही मम्मी पापा कल आने की बोल कर जयपुर गए हैं.

मेरी फुद्दी तो पहले से खुली पड़ी थी, बूढ़े का लंड एक ही झटके में मेरी फुद्दी में समा गया. तो दोस्तो कैसी लगी मेरी आंटी की गर्म चुदाई की कहानी … मुझे मेल करके बताइएगा. मैंने कैसे उस बुर्कानशीं लड़की की मदद की?प्यासी चूत एक लड़की की कहानी के पिछले भागमज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 1अब आगे की एक लड़की की प्यासी चूत कहानी:मुझे लगा कि वह खुद ही श्योर नहीं थी कि उसे चाहिये क्या।मुझे लगा था कि अब वह कल ही शकल दिखायेगी.

ख्रिश्चन सेक्सी कुछ देर बाद मैडम लंड पकड़ कर बोलने लगीं- आप इसे इसके साथी से मिला दो. उसकी गालियां सुनकर हम दोनों और भी जोश में आ गयी और उसका लंड, आँड सब चूसने लगीं.

पर उसके बाद ये अंतर बढ़ जाता है … और बच्चे पैदा होने के 1-2 साल बाद तो पति-पत्नी में सेक्स की चाह घटती चली जाती है. मैंने हेलो बोला तो उधर से बहुत ही रसीली मधुर आवाज आई- राज जी, नमस्कार, मैं दीपिका बोल रही हूँ. किसी अंग्रेजी ब्लू फिल्म की तरह अनु दीदी लगातार पांच मिनट तक कमर नचाती हुई चुत के हर कोने में लंड के झटके महसूस करते हुए असीम आनन्द में सिसकारियां भरने लगी थीं.

देहाती नेपाली सेक्सी

ममता जी की जांघों पर खून देखा, तो मेरा ध्यान खुद की तरफ भी चला गया. मैंने सलोनी भाभी को सीधा होने को बोला, तो भाभी सीधी होकर पीठ के बल लेट गईं और मुझसे बोलीं- जादूगर, एक प्रार्थना है. उसने अपने पैरों को मेरी कमर में लपेट लिया और झटके मारने लगी।वो बोली- बताओ किस किस को?मैंने कहा- अपनी चाची, बुआ को, दोस्त की बहन को, पड़ोसन आंटी और बुआ, मकान मालकिन की बेटी को और तीन चार अजनबी औरतों को।वो बोली- तभी दुकान से मेरे पीछे पड़ा हुआ था।अब हम दोनों के झटके तेज होने लगे और आह हहह उम्मह की आवाज गूंज रही थी।उसकी चूत ने मेरे लंड को जकड़ लिया और लंड फंसने लगा.

मैंने फिर कहा- आपने बताया नहीं दीपिका जी?दीपिका धीरे से बोली- मुझे नहीं पता, अब फोन पर कैसे बताऊं?मैं- चलो, आ कर बता देना. रानी ने आते ही अपनी चूत को लौड़े के सुपारी पर टिकाया और थोड़ा सा नीचे को चूत सरकायी जिससे लंड का टोपा चूत में चला गया.

मेरी इस नई फ्री चैट गर्ल स्टोरी के सभी पात्र और जगह का नाम आदि काल्पनिक हैं.

मैंने उसकी जंघा को सहलाया, उसकी पीठ सहलाई … और उसके कंधे पर चुंबन अंकित कर दिया. रानी थक के हाथ पैर कम हिला रही थी इसलिए घुंघरुओं के ध्वनि मद्धम हो गयी थी. और जब लण्ड बाहर निकाला तो पूरा एक फुट लंबा लण्ड सपल सपल करके बाहर निकला और उसके साथ ही निकला ढेर सारा वीर्य और चूत का पानी.

सलोनी भाभी स्नानघर से वापस आकर 5 मिनट के लिए मेरे साथ बेड पर मेरी बांहों में लेट गईं और मेरे चेहरे पर हर जगह ढेर सारे चुम्बन करने के बाद मुझे देखने लगीं. ब्रा पहनने के लिए डाक्टर ने मना कर दिया था।डाक्टर ने कहा कि पट्टी बदलवाने के लिए आना पड़ेगा. उसने अपने पैरों को मेरी कमर में लपेट लिया और झटके मारने लगी।वो बोली- बताओ किस किस को?मैंने कहा- अपनी चाची, बुआ को, दोस्त की बहन को, पड़ोसन आंटी और बुआ, मकान मालकिन की बेटी को और तीन चार अजनबी औरतों को।वो बोली- तभी दुकान से मेरे पीछे पड़ा हुआ था।अब हम दोनों के झटके तेज होने लगे और आह हहह उम्मह की आवाज गूंज रही थी।उसकी चूत ने मेरे लंड को जकड़ लिया और लंड फंसने लगा.

शाही सर ने मुझे शमा को कपड़े उतारने में हेल्प करने को कहा और अपने दोस्तों को मोबाइल पर वीडियो बनाने को कहा.

एक्स एक्स वीडियो ब्लू बीएफ: तभी सोनम ने मेरे मुँह से लंड निकाल कर अपने मुँह में ले लिया और मुझसे बोली- आह भैनचोदी … चल अब मेरी चुत चाट. आपका विन तालन[emailprotected]देसी भाभी गांड कहानी का अगला भाग:भाभी और उनकी सहेली के साथ सेक्स का मजा- 2.

जब देखा कि लंड पूरा अन्दर नहीं जा रहा है तो मैंने अपने दोनों हाथ उसके नितम्बों के नीचे रख कर उसे ऊपर नीचे करने लगा. रोहिणी और निशि के ग्रुप के बाकी लोग भी दो-दो के ग्रुप में अलग अलग कमरों में रुके हुए थे. इससे मुझे आगे आने वाले समय में भाभी की चुदाई के लिए एक संकेत मिल चुका था.

इतना कह कर उसने फिर से मुझे खींचा और मेरे चूतड़ ऊपर को उठा कर पीछे से मेरी योनि चाटने लगी.

ठरकी डॉक्टर की कहानी में आपको मजा आ रहा है या नहीं? मुझे मेल से और कमेंट्स में बताएं. अपनी जीभ को गोल करके मैंने मामी की गांड में जीभ को घुसाना शुरू कर दिया. (बालकॉनी की साइड से वे लोग दरवाजा बन्द रखते थे) जाली के दरवाजे पर दीपिका ने नॉक किया तो मैंने मुड़कर देखा.