हिंदी बीएफ सन 2021

छवि स्रोत,गंदा गंदा सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मनुष्य सेक्सी वीडियो: हिंदी बीएफ सन 2021, होटल में सैटल होने के बाद हम लोग नम्रता के परिवार के लोगों से मिले.

शादीशुदा औरत की सेक्सी चुदाई

उसने काफी देर तक भिन्न भिन्न आसानों में मेरी फुद्दी का भोसड़ा बनाने की पूरी क्रियाविधि को अंजाम दिया. सेक्सी पिक्चर चूत में लंड घुसादोस्तो, क्या बताऊं उसको बात करते देख मेरे लिट्ल उस्ताद (लंड) ने हरकत चालू कर दी.

मैंने भाभी की सुंदरता की खूब तारीफ की और कहा- हेमा भाभी तो आपके मुकाबले में कुछ भी नहीं है, उसके पट मैंने देखे हैं. अंग्रेजों की अंग्रेजी सेक्सी वीडियोकिसी ने मेरे कमरे के दरवाजे पर आकर नॉक किया तो अंदर से ही पूछा तो पता चला बाहर शिखा खड़ी थी.

फिर दूसरे शॉट में मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर एक जोरदार झटका दिया और मेरा आधा लंड अन्दर जा चुका था.हिंदी बीएफ सन 2021: तब भाभी ने कहा- उस दिन कौन सी कहानी पढ़ रहा था?मैंने नाटक करते हुए माफी मांगी और सॉरी कहने लगा.

अब हम दोनों पूरी तरह से गर्म हो चुके थे। उनका लण्ड मेरी चूत से रगड़ खा रहा था।राहुल ने अपना लण्ड मेरी चूत पर जोर-जोर से रगड़ना शुरू कर दिया और साथ ही मुझे प्यार करने लगे। कभी मेरी चूचियों को दबाते, कभी चूसते, कभी मेरे चूतड़ों को दबाते और सहलाते.जैसे ही फराज अंकल ने रवि से मेरी गांड मारने की बात कही, तो रवि बोले- अरे राज भाई बिल्कुल.

सेक्सी फिल्म मस्ती - हिंदी बीएफ सन 2021

इसीलिए मैं पूनम को याद करके अपना लंड सहलाया, जिससे वो पूरी तरह खड़ा हो गया.थोड़ा बोलने के बाद मैंने उनके होंठों पर होंठ रख दिये, वो साथ नहीं दे रही थीं, लेकिन विरोध भी नहीं कर रही थीं.

मैं दोनों हाथों से उसके चूतड़ दबा रहा था और कभी कभी उसके चूतड़ों पे थपकी भी मार देता था. हिंदी बीएफ सन 2021 फिर मैंने उसको पकड़ के खड़ा किया और पकड़े पकड़े उसके पीछे कान के पास चूमते चूमते बिस्तर पर ले गया.

कुछ देर बाद मैंने फोन किया और पूछा कि वो दोनों कहां हैं तो उन्होंने बताया कि वो स्टेशन से बाहर की तरफ निकल रहे हैं.

हिंदी बीएफ सन 2021?

घर की एक चाभी मेरे पास रहती है।मैं घर जाकर फ्रेश हो गया और मन में सोचने लगा कि बाहर जाकर डिनर करता हूँ। इतने में मेरे बाजू वाले घर में रहने वाली लड़की रेखा ने जो 21 साल की है, वो मुझे मामा कहती है, मैं उसे अपनी भानजी मानता हूँ. फिर एक दिन भैया का कॉल आया कि हमारे घर पर तुम्हारी भाभी के घर वाले आए हुए हैं. डेविड ने मेरी कच्छी हटा दी और अपनी दो उंगलियां सीधे अन्दर तक घुसेड़ दीं.

मैं उसके सामने किसी नंगी रंडी की तरह लेटी थी और वो मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरे मेरे गर्दन को चाट रहा था. वो अकड़ती रही, छटपटाती रही, मैं कुछ इस तरह से लगा रहा कि वो जैसे ही झड़ने को होती, मैं अपनी जीभ निकाल कर उसकी जांघों को चूमने लगता. आअह्ह … ओह … ओह्ह्ह … मेरी सांसों की गर्मी और उसका चुम्बन … उसकी उंगली मेरी गांड की दरार में और फिर गांड के छेद के पास गोल-गोल घूमने लगी.

सीमा ने मेरे सिर को पकड़ कर अपनी जांघों के बीच में दबा दिया और मैं उसकी चूत में जीभ को घुसाने की कोशिश करने लगा. सुषी भी उम्म्ह… अहह… हय… याह… की सिसकारियों के साथ चुदाई का मजा लेने लगी थी. वह मुझे हग कर कर बैठा था, उसने मेरे लिप्स पर किस करना और स्मूच करना स्टार्ट किया.

उसकी पतली कमर और मोटी गांड देखते ही रवि ने बोला- आज तो कमाल लग रही हो ऋतु डार्लिंग … बिल्कुल सेक्सी रंडी की तरह दिख रही हो. दो मिनट बाद उसकी पकड़ ढीली पड़ गई, उसकी बुर ने अपना पानी छोड़ दिया था.

मैंने भी उसको चुम्मे वाली काफी स्माइली भेज दीं और उसको अपना नंबर भी भेज दिया.

दिन भर सबसे बात करते करते समय कैसे बीत गया और शाम हो गयी पता ही नहीं चला.

इस दौरान सलहज जोर जोर से सांसें लेने लगी और बड़बड़ाने लगी- जीजा जी और जोर से. तभी राधिका आंटी ने अपने आप लंड को चूत के छेद पर रख दिया और खुद से ही हल्का सा झटका दे दिया. मैं- हैलो?उत्तर- हैलो, क्या अमन से बात हो रही है?मैं- हां मैं अमन ही हूँ, तुम कौन?उत्तर- अरे भूल गए, मैंने तुमसे नंबर लिया था.

रिशु भी समझ गया कि मिशिका अब उसके लंड को अपनी चूत में लेने के लिए कह रही है. उसके मुँह से अब ‘आआहहह … ऊउम्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… आईईईई सीईईईसीई … आआआ …’ की आवाजें निकल रही थीं. उसके बाद भाभी और मैंने एक साल तक फ़ोन सेक्स किया, लेकिन अचानक भाभी ने मुझसे सम्बन्ध तोड़ दिया.

मैंने उनसे बोला कि ये क्या यार … केवल ऊपर ऊपर ज़ोर लगा रही हो, नीचे भी तो उंगली करो.

एक बार तो मिशिका पीछे की तरफ हटी लेकिन रिशु ने फिर से उसको अपनी तरफ खींच लिया. जब बार-बार आपको कोई बात परेशान करने लगे और आपको उसका कुछ समाधान न मिले तो फिर वह बात आपके अंदर घर कर जाती है. अब मैंने उसकी पैंट को गांड के नीचे कर लिया और उसकी गांड को किस करने और चाटने लगा.

अब तो सुजाता भी पागल होने लगी थी और अपने हाथ से अपना दूध पकड़ कर रमेश को पिलाते हुए कहने लगी- और चूसो प्लीज. मैंने एक उंगली को आंटी की गांड में चलाना शुरू किया और धीरे-धीरे आंटी की गांड में पूरी उंगली अंदर तक जाने लगी. मैं तृप्त हो गई लेकिन पंकज अभी भी मेरी चूत को चोदने में लगा हुआ था.

तकिया लगा देने से अब उनकी बुर का छेद एकदम सही जगह और सही पोजीशन में आ गया था.

मेरी जो 20 साल वाली बहन है उसका नाम मिशिका है और जिसकी उम्र 22 साल है उसका नाम राशिका है. थोड़ी देर बाद मैंने हाथ इधर-उधर घुमाना शुरू कर दिया और हाथ को पूरी कमर पर फिराते हुए भाभी की चूचियों को छुआने लगा.

हिंदी बीएफ सन 2021 लेकिन अब उसने मुझे साफ़ मना कर दिया और बात करने से मना कर दिया और मैं चुपचाप आ गया. करीब 5 मिनट तक चूत चाटने के बाद मैंने सीधा होकर अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया और उसकी चूत वाले भाग को अपने लिंग की टोपी से रगड़ने लगा.

हिंदी बीएफ सन 2021 अब उसने पूछा- आप परेशान क्यों हो?मैं- कोई जॉब नहीं मिल रही है और मुझे जॉब की सख्त ज़रूरत है क्योंकि मेरे पास पैसे भी नहीं बचे हैं. राहुल और सुरभि के साथ भी टाइम स्पेंड करें, उनके स्कूल, कॉलेज और फ्रेंड्स के बारे में उनसे बात करें … धीरे धीरे सब नार्मल हो जाएगा, आप टेंशन मत लें.

मैंने कहा- मामी, बस कपड़े पहनने के लिए ही जा रहा हूँ।मामी की नज़र जैसे मेरे बदन को ही निहार रही थी.

भाभी पोर्न

मैं पढ़ने जाती, तो टीचर या लड़के और खासतौर से बड़ी उम्र के आदमी मुझे देखते, उनकी प्यासी नजरें मुझे अलग ही दिखने लगती थीं. अब उसकी चुच्ची चूसते हुए मैं उसकी चूत में तेज तेज उंगली अन्दर बाहर लगा. उसके दांत मेरे चूचुकों को काट कर यह बता रहे थे कि आग अब दोनों तरफ बराबर की लगी हुई है जिस पर संभोग का पानी डालना अब बहुत आवश्यक हो गया है.

तभी पीछे तरफ से उन अंकल ने मेरे कुर्ता के अन्दर और समीज के अन्दर अपने दोनों हाथ डाल दिए और मेरी पीठ को अपने हाथ से सहलाने लगे. हर वक्त मैं इसी बात को लेकर परेशान रहने लगा था कि आखिर इस समस्या का इलाज हो तो हो कैसे. मैंने कभी ये काम करवाया नहीं था पर सहेलियों और भाभियों से सब सुन चुकी थी कि जब पहली बार लड़की की चुदाई होती है, तो खून निकलता है और जब सील टूटती है, तो बहुत दर्द होता है.

उन्होंने एक डॉक्टर से मेरी लंड पर पियर्सिंग (बिधना) भी करवाई, इससे मुझे काफी दर्द हुआ, लेकिन आगे सेक्स मजे के लिए अच्छा है.

वैसे तो मेरी कई गर्लफ्रेंड भी रह चुकी हैं लेकिन मैंने काफी दिनों से सेक्स नहीं किया था इसलिए मैं जल्दी ही झड़ भी गया था. वो अपनी कमर उठा कर मेरे सिर को एक हाथ से पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी. थोड़ी ही देर बाद मेरी आंखों में देख कर वो बोली- दीदी आपने तो कहा था आपके और किशोर के बीच अब कुछ नहीं रहा?मैं चुपचाप पड़ी रही … वर्षा से आंखें नहीं मिला पा रही थी.

मेरी दो बहनें हैं जिनमें से एक की उम्र 20 साल है और दूसरी की उम्र 22 साल है. बोल साली छिनाल कितने लंड गए है तेरी चुत में?इस पर पूनम ने कहा- साले भैन्चोद … मेरी चुत तो चुदने के लिए ही बनी है. खैर, सिगरेट खत्म हुई, मैंने भी स्कूटर स्टार्ट किया और अपने कमरे पर चला गया.

पहले तो मैं हिचकिचाता रहा, पर उसकी घुड़की से मैं उसके सामने झुक गया और उसे अपने सेक्स सम्बन्धों के बारे में बताने लगा. मैंने जीन्स के अन्दर कुछ नहीं पहना, परफ्यूम लगाया और सोचा चलो कुछ करते हैं.

मुझे कुछ तसल्ली हुई कि आख़िर मेरा भी कोई ‘कद्रदान’ कमरे में मौजूद है. मैंने उससे बोला- मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है, बस तू अपने घर पर पूछ ले. उसकी गांड इतनी मखमली, कोमल और गर्म थी कि जल्दी ही मैंने अपना वीर्य उसकी गांड में भर दिया.

वाणी तो जैसे तैयार ही बैठी थी, फ़ौरन से उठी और उसके बराबर में घोड़ी बन गयी.

जब उनकी ओर से कोई हरकत नहीं हुई तो मैंने अपना हाथ उनके मम्मों की ओर बढ़ाया लेकिन उन्होंने मेरा हाथ पर अपना हाथ रख दिया, मेरी तो जैसे जान ही निकल गयी. फिर वन्द्या की चूत से ख़ून क्यों निकल रहा है?तब अब्दुल बोला- अगर मेरे लंड से लड़की की चूत से खून नहीं निकले, तो क्या मतलब हुआ मेरे पठान होने का?मुझे बहुत असहनीय दर्द हुआ, पर अब्दुल को कोई फर्क नहीं पड़ा. मैंने पूछा- कितने देर में आ रहो आप?उसने कहा- बस पहुंच ही रहा हूं … तुम कहां पर खड़े हो?मैंने कहा- मैं यहीं हुड्डा मेट्रो स्टेशन के नीचे ही खड़ा हूँ।उसने कहा- ठीक है, मैं गाड़ी लेकर बस 5 मिनट में पहुंच रहा हूँ।लगभग 10 मिनट बीत जाने के बाद फिर से फोन रिंग करने लगा, मगर अबकी बार किसी दूसरे नम्बर से फोन आया था.

तभी वह जम के मेरे पिछवाड़े में लहंगे के ऊपर से ही अपना लंड दबाने लगा और दबाते दबाते 2 मिनट के बाद मेरे कान में बहुत दबी सी आवाज में बोला कि उधर चल … बहुत जम के करेंगे. कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए नीचे दी गई मेल आई-डी का प्रयोग करें.

अब आगे:सलोनी की कमनीय कंचन काया सिर्फ ब्रा और पेंटी में मेरे सामने थी और मैं अभी भी जींस में था. अब डेविड ने कहा- मैं इसके पूरे मजे लेना चाहता हूँ … मुझे 2 घंटे के लिए पूरी तरह ये अकेली चाहिए. फिर मैंने अपना हाथ थोड़ा सा साइड में कर के नीचे से उसके टॉप के अन्दर ले गया और उसकी ब्रा के ऊपर से उसकी चुचियां दबाने लगा.

सेक्सी वीडियो हिंदी सेक्स वीडियो

मैंने पूछा- तुमने तीन लोगों का खाना पैक क्यों करवाया?वह बोली- यही तो सरप्राइज है.

हां … इन 29 सालों में इतना तो किया कि मजदूरी करने से ऊपर उठकर एक 10′ गुणा 20′ का एक आशियाना बना लिया, जहां पहली मंजिल पर मैं रहता हूँ और नीचे छोटी सी दुकान चलाता हूँ. इस बार मैंने अपना प्यार दिखाया और उसके दोनों मम्मों को पकड़कर धीरे धीरे मसलने लगा. उनको देख कर मैं तो बस पागल ही हो जाता और उनके जाने के बाद मुझे दो तीन बार मुठ मारनी पड़ती थी.

मैंने उसे अपने हाथ से अपनी चूची पकड़ कर पिलाई, तो वो मस्ती से मेरे एक निप्पल को अपने होंठों के बीच दबा कर जोर जोर से खींचते हुए पीने लगा. मैंने भाभी की पेंटी को अपने बैग में पैक किया और बिना कुछ बोले घर से बाहर निकल गया. सेक्सी भाभी की चोदा चोदीएक दिन मैंने उसके सामने अपना लंड का उभार दिखाया, तो उसने हाथ रख कर पूछा भी था- क्या लौड़े में आग लग रही है.

मैंने उसकी गांड में लंड घुसेड़ा और शीला चूतड़ उठा उठा कर गांड मरवाने लगी. मुझे बहुत मजा आ रहा था, पर उसने मेरे मुँह पर हाथ रखा और एकदम जोर से धक्का लगा दिया.

उसने गहरे गले की कुरती पहनी थी … और टाइट ब्रा थी, फिर भी इतने बड़े बूब्स को ढक पाना मुश्किल था. इस का मतलब … ये लंड भी इसमें पूरा चला जायेगा?” उसने हैरानी से पूछा. इतना बोलकर मैंने अपनी शर्ट और पतलून उतारी तो फटे कच्छे से लंड फड़फड़ा कर बाहर आ गया और फटी बनियान से मेरे दोनों निप्पल दिखने लगे.

चलो अगर तुमको शर्म आती है तो पहले मैं तुम्हारे सामने अपने कपड़े उतार देता हूँ. मैं मामी की चूचियों को इतनी जोर से मसल रहा था कि उनकी चूचियां एक की दो हो गई थीं. मैंने कहा- क्या बात करती हो? मैंने ना जाने कितनी सुहागरात मनाई हुई हैं तुम्हारे पति और अपने पति से.

मेरे अन्दर की इच्छाएं जाग चुकी थीं, दिल से एक टीस आ रही थी कि बस इनका ये हाथ रुके न.

फिर कुछ देर बाद में वो अचानक से बोली- एक मिनट रुको, मैं सुसु करके आती हूँ. उसकी गीली और गर्म चूत की चुदाई करते हुए मैं जन्नत के मजे लेने लगा था.

उसने बिल्कुल आराम से मेरी चूत पर हाथ रख कर अपने लंड को अपने हाथों से पकड़ कर मेरी चूत में पूरी तरह फिट करके अपना लौड़ा मेरी चूत में डाल दिया. कल की बात से भी कोई नाराज़गी नहीं है और मैं भी गुस्सा खत्म कर दूंगा. रात को मेरे पति प्रीतम रोज़ की तरह पीकर आये और उनकी बांहों में मैंने बड़े प्यार से कहा- जानू, मुझे आज ही पता चला कि मेरी स्कूल की सहेली अमनजोत यहीं पास रहती है, फेसबुक पर उससे मेरी आज बात हुई है.

अब मैंने उसे डॉगी स्टाइल में आने को बोला, तो वो अपने घुटनों के बल आ गयी. राहुल भी मेरे जाल में फंस गया और मेरे होंठों को चूसते हुए मेरी गांड को दबाने लगा. मैंने दोनों निप्पलों को एक साथ मुँह में ले लिया और चूसने लगा और काटने लगा.

हिंदी बीएफ सन 2021 वो बोलीं- ये सब फिर क्यों कर रहे हो, अब जल्दी से अपना लंड मेरी चुत में डाल दो. मैंने गुस्से से कहा- नहीं आंटी, मैंने बहुत इन्तजार कर लिया, बस कल आप मेरा पैसा वापस कर देना.

देवर भाभी सेक्सी वीडियो एचडी

मैंने कहा- ये टॉप उतार दो तुम, उसके बाद मैं ज्यादा अच्छी तरह से कर पाऊंगा. फिर जब मेरी चेतना लौटी और मेरी आंखें खुलीं तो मैं उसको किस करने लगी. तुम भी मजे लो, एक बार कोशिश तो करो, इसकी गांड मारने में बहुत मजा आएगा झा जी.

मैं इतनी छोटी उम्र में यह जान गई कि लड़की शादी के बाद जब पहली बार ससुराल से आती है, तो उसमें क्यों चमक आ जाती है और उसके फिगर में बदलाव क्यों आ जाता है. मैंने किसी तरह के फिजिकल रिलेशन के बारे में बिल्कुल भी नहीं सोचा था. सेक्सी फिल्म टीवीपापा मम्मी की चूचियां पीने लगे, मम्मी को किस करने लगे, मैं खड़ी-खड़ी देखती रही, मुझे उस दिन कुछ अच्छा लगा.

बातों बातों में मैंने उससे उसके बारे में पूछा तो वो बोली- मैं क्यों बताऊं, चलो मैं बता दूंगी, पहले तुम अपने हिसाब से सोच के बताओ कि मेरी उम्र क्या होगी और वो सब भी बताओ जो तुम मेरे बारे में सोच रहे हो?उसकी यह बात सुनकर मैं पूरा कन्फ्यूज्ड हो चुका था.

एक दिन शाम को जब मैं ऑफिस से निकल रहा था तो तभी सुषी का कॉल आ गया और वह फोन पर मुझसे मेरा हाल पूछने लगी. वो भी समझ गयी और बोली- ऊ ऊउ हुँ कोई नहीं … गीता जल्दी से काफ़ी पी लो बाहर गाड़ी तुम्हारा इन्तज़ार कर रही है.

उन्होंने अपनी चूत को मेरे लंड के ऊपर कुछ बार रगड़ा, जिससे मैं पागल हो गया और फिर माँ से अपने लंड को उनकी चुत में डालने की भीख माँगी।मम्मी मुझ पर हंसी और फिर मेरे लण्ड को सीधे हाथ से पकड़ कर धीरे-धीरे बैठने लगी जब तक उनकी चूत ने मेरे लण्ड को गहराई तक नहीं निगल लिया। मम्मी धीरे-धीरे ऊपर-नीचे हो रही थी। मम्मी के 36″ आकार के स्तन उनके साथ ऊपर-नीचे हो रहे थे. अभी तेरे भाई को बोलता हूँ, कहीं अच्छा रिश्ता ढूंढे … तेरा भाई तो कब से कह रहा है, पर मैं ही उसको टालता रहता था कि माया अभी छोटी है. नामित बोला- बेडरूम क्यों … यहीं आओ सोफे में, हम भी तो है … हमारे लौड़े में भी तो आग लगी हुई है.

मैं खुश हो गया … इसलिए नहीं कि मुझे लंड मिलने वाला था बल्कि इसलिए कि मेरा रात में रुकने का जुगाड़ हो गया था.

मुझे एक ख्याल आया, मैंने उससे पूछा- चॉकलेट है क्या तुम्हारे पास?वो बोली- नहीं है … लेकिन क्यों चाहिए तुमको?मैं बोला- चूत पे लगा कर तुम्हारी चूत चाटनी है. वो मुझसे पूछने लगा- सर आप मदन से इतने घुल मिल कैसे गए?तो मैंने कहा- तू ज्यादा दिमाग मत लगाया कर … और मैंने कहा था न कि अन्तर्वासना पढ़. मेरे प्रिय दोस्तो, कैसे हो आप सब … आशा करता हूँ कि आप सभी मस्त होंगे और होना भी चाहिए.

सेक्सी इंग्लिश आदिवासीबीच-बीच में उसका लिंग झटके देकर अपने उतावलेपन को जता दे रहा था कि वह मेरी योनि में जाने के लिए कितना बेताब है. आंटी मेरे लंड को सहलाने लगी और मैंने भी उनकी चूत में उंगली डाली तो वह कराहने लगी.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीपी

उसके मजबूत कठोर हाथों में जाकर मेरे बदन में एक गर्मी सी पैदा होनी शुरू हो गई थी. मैंने उसको कोई शक ना होने दिया और उसके बाद वो औरत भी अपने घर चली गई. मैंने सुनील जी को जवाब दिया कि मैं इस शहर (यहां नाम नहीं बता सकती) की रहने वाली हूं और मुझे आपका लंड बहुत ही ज्यादा पसंद आया है.

भाई जब तक एक महीने की छुट्टी से वापस आए तो भाभी प्रेग्नेंट हो गई थी. मैंने उसे एक धौल जमाते हुए कहा- नहीं बे … उसकी नीचे की उसमें शॉट मारने की बात कर रहा हूँ. लेकिन मुझे वो मां बनने का सुख नहीं दे सकते हैं, इसलिए यह घटना घटी थी.

इंदु ने कहा- क्या करूँ जीजा जी, एक ही स्वेटर है, वो मैंने धोने को डाला था अब ये बरसात ना जाने कब रुकेगी और स्वेटर सूखेगा. मैं 21 साल का एक युवक हूँ। मैं महाराष्ट्र के धुले डिस्ट्रिक्ट मैं रहता हूँ। मैं दिखने में सामान्य हूँ और पतला हूँ पर जिम जाने की वजह से मेरी बॉडी टोंड है।यह कहानी तब की है जब मैं 12 क्लास पास करके कॉलेज में आया था। हमारे कॉलेज में यों तो कई सुंदर लड़कियाँ हैं पर उनमें से जिस लड़की की तरफ मेरा ध्यान गया उसका नाम था अंजलि(नाम बदल हुआ)।अंजलि दिखने में एकदम गोरी, उसकी हाइट 5. ऊपर से शॉवर से पानी गिर रहा था और हम दोनों चिपके हुए बियर पी रहे थे.

पहले तो मैंने ज़्यादा ध्यान नहीं दिया लेकिन थोड़ी देर तक ऐसे ही करते रहने के बाद मैंने उसकी तरफ देखा तो देखा कि वो फिल्म नहीं मुझे ही देख रही थी. मैं अपने कमरे में ऊपर की तरफ सीढ़ियों पर जा ही रहा था कि कोमल दीदी मुझसे इंटरव्यू के बारे में पूछने लगी.

उसने बिल्कुल आराम से मेरी चूत पर हाथ रख कर अपने लंड को अपने हाथों से पकड़ कर मेरी चूत में पूरी तरह फिट करके अपना लौड़ा मेरी चूत में डाल दिया.

मेरी योनि तप रही थी और उस पर अमित का गर्म लिंग मेरी वासना की अग्नि को और भड़का रहा था. ब्लू फिल्म दिखाएं सेक्सी चुदाई वालीजब वो गर्म हो गयी तो मैंने उनकी ब्रा को पूरा खोल दिया।भाभी कहने लगी- तुम तो बहुत तेज हो, सीधे मेरे मम्मे दबाने लगे।मैंने कहा- भाभी आप बहुत खूबसूरत हो और मैं आपको कबसे चोदना चाहता था. हिंदी मे सेक्सी ब्लू पिक्चरमुझे तो लगा कि भाभी का यह बच्चा भी मनोहर का ही है क्योंकि जिस तरह भाभी मनोहर को प्यार कर रही थी उससे तो यही लग रहा था कि भाभी ने मनोहर से बहुत बार चुदवाया होगा. मैंने कहा- आंटी, मैं जिस भैंस की बात कर रहा था वह तो यहाँ पर दिखाई ही नहीं दे रही.

मैंने पूछा- आपके पति कहाँ हैं?वो बोलीं- वो बंगलौर किसी काम से गए हुए हैं.

मैंने धीरे से चुपके-चुपके खिड़की के अंदर झांका तो देखा कि मिशिका और रिशु दोनों एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे. हम दोनों लोग ओरल सेक्स करने लगे वो मेरी चूत को चाटने के बाद मुझे अपना लंड चूसने के लिए बोला और मैं उसका लंड चूसने लगी. वह अपने लण्ड को जड़ तक पेले हुए मेरी पसीने से भीगी हुई काखों के पसीने को चाट रहे थे.

इधर थोड़ी देर बाद बारात आने लगी, तभी मेरे पास अंकित और मौसी का बड़ा लड़का निहाल आए. वह बोला- मुझे नींद नहीं आ रही, अगर तुम मेरे पास होते तो मैं तुम्हें हग करके सोता. लंडखोरी चूतों को मस्त लंड मिल रहे थे इसलिए सब खुश थे और लंड भी कभी इस चूत में तो कभी उस चूत में लंड डाल डाल कर मज़े कर रहे थे.

ધ પરથી નામ 2022

वो बहुत गुस्से में थी तो मैं बहुत ज्यादा डर गया और डरते-डरते अंदर गया तो उन्होंने दरवाज़े को बंद किया. जब भाभी थोड़ी सहज हो गई तो मैंने भाभी की गांड चुदाई करना शुरू कर दिया. जहां शीला ने मेरा सारा वीर्य पी लिया, वहीं मैंने पद्मा की चूत का पानी पिया.

देख लीजिए सर … अब इसकी जिंदगी और इज़्ज़त आपके ही हाथ में है!” मैडम भी कुछ अजीब से तरीके से उनकी ओर देखकर मुस्कराई।पूछ तो रहा हूँ … क्या करूँ? ये कुछ बोलती ही नहीं …” उनकी वासना से भरी आँखें लगातार मेरे बदन में ही गड़ी हुई थी.

वो एकदम ज्यादा उत्तेजित होने लगीं और मेरे सिर को अपनी चुत पर जोर से दबाने लगीं.

उस दिन मैंने उसके दूध दबा कर कह दिया था- हां यार, अब इसको कोई नई चूत चाहिए. राज अंकल ने कसके मेरे बाल पकड़ कर अपने लंड का गरम गरम लावा मेरी गांड में भर दिया. हिंदी सेक्सी वीडियो नंबर वनदोस्तो, हम एक संयुक्त परिवार में रहते हैं और मेरे परिवार में मुझे मिलाकर 25 लोग हैं.

उन्होंने मुझे बैठने को कहा और एक नशीली आवाज में पूछा- क्या लेना पसंद करंगे?मैं थोड़ा चौंक गया और कहा- बस एक ग्लास पानी. हम दोनों बहुत तेज रफ्तार से चुदाई कर रहे थे, जिससे हम दोनों काफी थक गए थे. मैं भी उसको देख रही थी कि अचानक उसने मुझे देख लिया और मैं वहां से अपने कमरे में जाकर लेट गई.

मेरी आंखें खुल बंद हो रही थीं … क्योंकि मेरे पति ने मुझे कभी न तो मसला था और ना ही मेरी चूत को अपने हाथ या मुँह से छुआ था. सच कहूँ तो एक बार मैं बुरी तरह से डर गई एवं अनहोनी की आशंका से मेरा रोम रोम कांप उठा क्योंकि उसके हाथ में एक प्लॉस्टिक का डिल्डो था जो कि बिल्कुल इंसान के लंड जैसा था.

वहां भाभी की चड्डी और ब्रा दिखी तो मैंने उन्हें सूंघ कर मुठ मारी और सारा माल चड्डी में गिरा दिया.

तीन चार दिन यूं ही निकल गए लेकिन कुछ नहीं हुआ, सिर्फ चड्डी सुंघ कर मुठ मार लेता था. आनन्द से कभी गर्दन पर तो कभी कान के लौ को चूमता-चूसता हुआ मैं सलोनी को और ज्यादा गर्म करने लगा. एकता तो पहले ही लंड के वीर्य के टेस्ट की दीवानी थी, तो उसने पहले अपने मुँह का तो गटक ही लिया.

वीडियो गांव का सेक्सी वीडियो मुझे सारा याद आ गयी इसलिये मैं अपने लंड को ज़रीना की चूत से निकालने जा रहा था कि वो बोली- क्या कर रहे हो? निकालो मत, बस मुझे चोदते जाओ. हम दोनों के होंठ आपस में एक दूसरे के होंठों को चूसने में लगे हुए थे.

उसने तब एक पत्थर मारा, तो दोनों एक दूसरे को खींचते हुए बिल्डिंग के दरवाजों के पास से थोड़ा दूर हुए. मैं पहुंची तो उसने मेरे सामने मेरी पेंटी को निकाला और मुझसे बोला- इधर मेरे पास आओ. ” सर ने अपनी मजबूरी जता दी।जी ठीक है …” मैं कहकर बाहर निकली और ऑफिस के सामने पहुँच गयी.

वीडियो दीजिए सेक्सी

पर मेरा झड़ना अभी बाक़ी था, सो मैं ज़ोर-ज़ोर से लंड को उसकी बुर के अंदर-बाहर करता रहा. एक हाथ से बूब्स दबाते हुए संध्या को चूम रहा था, उसकी जीभ मुंह में लेकर चूसने लगा. मैं जिस मोहल्ले में रहता हूँ, वहाँ ज्यादा घर नहीं हैं, सब कुल गिने हुए 25 घर हैं.

मैं कुछ भी कहने की हालत में नहीं थी और वह मेरे पिछवाड़े में जोर से रगड़ने लगे. मैंने उसका इशारा समझ लिया और उसकी जांघों से चूमना चालू करते हुए उसकी चुत के चारों तरफ जीभ को घुमाना शुरू कर दिया.

मैंने अब अपना लंड उसकी चुत में से निकाला और उसकी गांड में डाल दिया.

इसी तरह दिन बीतते रहे और पूनम और मेरा दोस्त मेरे कमरे में चुदाई करते रहे, लेकिन मैंने एक बात नोटिस की, पूनम अब पहले से ज़्यादा चिल्ला चिल्ला के चुदाई का मज़ा लेती थी. पूषी बोलीं- हां जल्दी आओ, मैं भी चुदने के लिए पिछले एक घंटे से बेचैन हूँ, तेरा लंड इतना सुहावना है कि मन ही नहीं भर रहा, पता नहीं काम्या बेटी को अपना कैरियर विदेश में ही क्यों बनाना था, यहाँ रहती तो लम्बे लंड का मजा भी लेती रहती और कैरियर भी बना लेती, खैर काम्या न सही, काम्या की माँ की किस्मत में इस लंड का मज़ा लिखा था. मैं उसकी बालों वाली छाती पर हाथ रख कर ऊपर नीचे होने लगी और चुदाई का आनन्द लेने लगी.

मेरी चूची को चूसने के बाद उसने मेरी पेंटी निकाल दिया और मेरी पेंटी पर लगे मेरी चूत के पानी को वो चाटने लगा. उसने मेरी कामोत्तजना इस प्रकार और अधिक बढ़ा दी क्योंकि अब उसका लिंग हर धक्के पर मेरी बच्चेदानी को चूम रही थी. जब मैंने लंड को उसकी गांड से बाहर निकाला तो माल के साथ-साथ थोड़ा खून भी लगा हुआ था मेरे लंड पर.

वह बोला- तो फिर दोस्ती के नाते अब यह भी बता दो कि मैं आपको किस तरह से हैंडसम लगा?उसके इस सवाल पर मैं शरमा गई.

हिंदी बीएफ सन 2021: नहाते समय भाभी ने दरवाजे पर दस्तक दी लेकिन मैंने उनकी तरफ ध्यान नहीं दिया क्योंकि खड़े लंड पर धोखा मुझे बर्दाश्त नहीं हो रहा था. सभी मेरे क्लोज रिलेटिव्स और आस पास के जो भी मुझे देखता, तो वो भूखी नजरों से मुझे घूरता रहता.

मैं पहले तो सकते में आ गया, फिर मैंने सर झुका कर उससे धीरे से कहा- यार प्लीज ये सब किसी को मत बताना. उस दिन मेरे मन में लड्डू फूटने लगे थे और मैं ख़ुशी से उसकी चुदाई के सपने देखने लगा. अगर आप लोगों को पसंद आती है … तो ही मैं दूसरा पार्ट लिखूंगा, जिसमें धारा की गांड चुदाई हुई और कैसे मैंने श्वेता को अपने लंड के ज़ाल में फंसाया.

अब तीनों अंकल का काम खत्म हो गया था, पर मेरी चुदाई की प्यास नहीं बुझी थी, क्योंकि मेरी चूत का रस नहीं निकला था.

कुल मिला के उसका मारू फिगर 32-28-34 का किसी को मदमस्त कर देने व़ाला था. कल की बात से भी कोई नाराज़गी नहीं है और मैं भी गुस्सा खत्म कर दूंगा. उसके मुँह से अब ‘आआहहह … ऊउम्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… आईईईई सीईईईसीई … आआआ …’ की आवाजें निकल रही थीं.