साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,देसी भाभी सेक्स वीडियोस

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ: साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ, हम दोनों को जल्दी थी कि कहीं समीना जग न जाए … वरना हम दोनों की ही चुद जाती.

गोरी गोरी opn gaand cudai

वो बोली- क्या विचार है प्रकाश और एक बार मन है तो अब घर चलें?मैं हामी भर दी. हिंदी ब्लू बीपीममता की उस गहरी गुफा की गर्मी अपने लंड पर पाकर मैं तो जैसे पागल ही हो गया था.

रूचिका- सन्नी बेटा तुझे बुखार है क्या?मैं- आंटी इतनी ओवेरक्टिंग भी मत करो. हिंदी बिपीरिसेप्शन वाली लड़की ने मुझे थोड़ी इंतज़ार करने को बोला।3:10 हो गये लेकिन कोई रेस्पॉन्स नहीं मिला।फिर मैं थोड़ी गुस्से में उस लड़की से पूछा- क्या हुआ? इतना टाइम क्यों लग रहा है?उसने किसी को कॉल की; फिर मुझे बोली- सॉरी मेम, नीलम जिस दुल्हन को तैयार करने गयी थी। वो अभी उसे नहीं छोड़ रही है।मैं बोली- कोई बात नहीं.

चलो अभी तो अपने कपड़े उतारो, मैं तुम्हारी चुत का पूरा इंतज़ाम करके ही आई हूँ.साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ: फिर वो मेरे हाथ से मग लेकर मेरे लंड और जांघों पर गर्म पानी छोड़ने लगी.

मैंने अनन्या से उसको इंट्रोड्यूस करवाया कि यह मेरी बुआ का लड़का है और कुछ दिनों तक यहीं रहेगा.उसके सीने को चूमते व काटते हुए मैं उसकी पैंट के ऊपर से उसके लंड को सहलाने लगी.

ब्लू फिल्म वीडियो भेजिए - साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ

तभी मैंने कहा- एक ही प्लेट में?वो बोली- मेरे साथ खाना खाने को नहीं चलेगा क्या … चूत चाट ली तब तुझे कुछ नहीं हुआ?तभी मैं शांत हो गया, तो बोली- क्या हुआ प्रकाश एकदम क्यों शांत हो गए.हेलीमा भी मेरे सिर को पकड़ कर चुम्बन का मजा लेने लगी और मेरे बाल सहलाने लगी.

वो- क्यों?मैं- वो मैं आपके नाश्ते के टेस्ट को खराब नहीं करना चाहता. साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ पर मेरा लंड तो अब भी वैसे ही फटने को हो रहा था।अब भाभी उठ कर बाथरूम गयी और अपनी चूत साफ़ कर के बाहर आयी।वे पास आ कर मेरे पास लेट गयी और बोली- दीपू, तुमने आज जो अभी तक मुझे जो सुख दिया है, वो मेरी लाइफ का सबसे बेस्ट मोमेंट था, जिसे मैं जिंदगी भर नहीं भूल सकती। सच कहूँ तो मैंने सिर्फ आज तक सुना था कि चूत चटवाने में मजा आता है.

क्योंकि मेरा लंड जाएगा तो‌ ममता की चूत में, मगर पानी तो शायद शायरा की चूत से भी निकाल ही देगा.

साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ?

लेखक की पिछली कहानी थी:सर ने मेरे दूध चूसकर मुझे दूधवाली बना दियाअब इस नई कहानी ‘सेक्स इन लव रिलेशन’ का मजा लें. मैंने आँटी को बेड पर लिटाया और उनके दोनों घुटनों को मोड़कर उनकी चूत को देखा. हम दोनों ही एक दूसरे को पसंद करते थे लेकिन कभी हमारी आमने सामने बात नहीं हुई थी.

आज मेरा मन ऑफिस में नहीं लगा, मैं जल्दी ही घर आ गया और खाना बना कर छत की तरफ चल दिया. उसको पूरा गर्म करके चुत को पूरी रसीली बना दिया, तो टांगें खोल कर लंड के लिए आ गई. और मैंने ये सब थोड़ा गुस्से में कहा तो वो बोले- जान सॉरी, मगर मुझसे अब और ज्यादा बर्दाश्त नहीं हो रहा.

चूंकि मैं लड़कियों से जब तक मिला नहीं होता हूँ तब तक थोड़ा रिजर्व रहता हूँ. जितना जोर से विक्रम संजू पेलता, उतना ही जोर से संजू मेरे लंड को चूसती. उसका भी साइज 36-34-36 था, रंग की बिल्कुल गोरी, मोटी सेक्सी आंखें, हाथ की सुंदर नरम उंगलियां, थोड़ा नाटा कद, दरअसल यामिना भी पहाड़ों की ही रहने वाली थी और उसका रंग रूप, चाल ढाल और अदायें लिली की तरह ही थीं.

वो टावल उठाते हुए बोली- ऐसे क्या देख रहा है, कभी लड़की नहीं देखी क्या?मैं बोला- देखी है भाभी, लेकिन आप जैसी नहीं. तो राहुल ने उससे कहा- ये जगह मेरे दोस्त ने शादी के लिए रेंट पर अरेंज की है.

उसका लण्ड मेरी नंगी गांड में दबते ही मेरे मुंह से जोर से ‘आहहह विजय!’ निकल गया.

मुझे तो कुछ खास फर्क नहीं पड़ा क्योंकि मैं खुद चाहती थी कि कविता मुझसे दूरी बना ले.

वो किसी तरह अपनी बातों में मुझे फंसाना चाहती थी और मैं बचने में लगी थी. हमारी जिस दिन शादी हुई, उस दिन रचना सुहागरात के लिए तैयार होकर बैठी थी. दोस्तो, मैं रूपा अपनी सेक्स कहानी में आपका एक बार फिर से स्वागत करती हूँ.

जैसे ही उसमें से एक बाबा ने गेट बजाया, तो मैं उसी टॉवल में गेट खोलने चली गयी. अगली सुबह उसका फोन आया कि मुझे ‘वो’ (पोर्न) वाली फिल्म देखनी हैं तेरे फोन में. उसका लंड मेरे मुँह में ही सख्त होने लगा, मैं चूसते हुए उसे जीभ से भी सहला रही थी जिससे उसे और जोश आ रहा था.

उन्होंने मुझसे कुछ नहीं बोला, तब मैं समझ गया कि शायद अब मुझे संभोग करने की हरी झंडी मिल गयी.

जल्दबाजी करते हुए उसने कुछ ही पल में मेरी पैंट का बेल्ट और बटन खोल कर मेरी पैंट नीचे सरका दी. सुबह फिर से मुझे गांव आना था लेकिन आज आने का मन नहीं कर रहा था क्योंकि दिव्या का इवेंट कल ही ख़त्म हो गया था. आपको ये फोन सेक्स चैट कहानी पसंद आई हो तो अपना फीडबैक दें और मुझे मेरे ईमेल पर बतायें.

मेरी साँस अटक सी गई थी।इतना ज्यादा दर्द हो रहा था कि बयां करना मुश्किल है।लंड मेरी बुर में बुरी तरह धंस गया था।उन्होंने आधा लंड बाहर निकाल कर फिर से अंदर पेल दिया। ऐसा उन्होंने कई बार किया. वो गांड मरवाने की आदी थी तो कुछ ही देर की पीड़ा के बाद उसने लंड को अपनी गांड में झेल लिया. वो मेरा लंड अपनी चूत में अन्दर बाहर देखती हुई बोल रही थी- हर्षद अभी तो लंड दो इंच और बाहर है.

एक दिन मैंने कहा- आप मुझे भी घर के काम बता दिया करो, मैं आपकी हेल्प कर दिया करूँगा.

विपिन मुस्कुराया और वो धीरे धीरे नीचे झुकते हुए अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा. यह मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई की कहानी है जिसको मैंने दिल से लिखा है.

साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ मैं पहले दिन से ही समझ गयी थी कि कविता मेरी तरफ आकर्षित थी और अपनी कामवासना मुझसे पूरी करना चाहती थी. वो झट से मेरे करीब आई और बोली- अंकित, क्या देख रहा है, इधर दे इसे!इतना कहकर भाभी ने मेरे हाथ से किताब ले ली और उनका चेहरा शर्म से लाल हुआ जा रहा था.

साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ चूंकि भैया मुंबई में फंस गये थे तो उनका मेरे पास फोन आया कि घर में किसी सामान वगैरह की जरूरत हो तो तुम दे आना. शायद वो जानबूझ कर ऐसे सैट ले रही थीं … ताकि मुझे वो अपने मदमस्त यौवन को दिखा सकें.

हल्के से मैंने उसके अन्दर एक उंगली घुसा दी जिससे उसके मुँह से आह की आवाज निकली.

भाभी की चूत मारते दिखाओ

मेरी बेटी ने सुरेश का कच्छा खींचना चाहा मगर उसके कच्छे के इलास्टिक के साथ ही उसका लण्ड भी खिंचता चला गया. मैंने कुछ पल देखा और लंड की पुरजोर मांग पर तय कर लिया कि आज लौंडिया का काम उठा देना चाहिए. फिर मैंने राकेश को अपनी बांहों में लेकर रोना शुरू कर दिया और बोली- प्लीज़ मुझे माफ़ कर देना, मैं ये सब उसे मज़ा देने के लिए कर रही थी ताकि उससे हमें चैक मिल जाए.

एक ही धक्के में मेरा आधा लंड मम्मी की चूत को फाड़ता हुआ अन्दर चला गया. पहले झटके में आधा और दूसरे झटके में पूरा लण्ड मामी की चूत में समा गया. मैंने चाची जी की बड़ी सी गांड को खूब जोरों से मसलते हुए उनकी चुत चाट कर चिकनी कर दी.

उसने आते ही कहा- दीदी चलें क्या?मैं एकदम से समझ नहीं पायी तो मैंने पूछा- कहां चलें?वो बोला- अरे वहीं गन्ने के खेत में.

अब मैंने रचना को बेड पर लिटाया- रचना जान, मेरा सांप तेरे बिल में जाने वाला है. जब मेरा पूरा लंड अंदर चला गया तो मैंने उसके पैरों को अपने कंधों से उतार दिया और मोड़ दिया. मेरे गाल और कंधे से टच होने लगे और हमारी टांगें एक दूसरे से टच करने लगीं.

कई औरतों को वीर्य मुंह में जाने पर उबकाई होती है और उल्टी भी हो जाती है, लेकिन आपको पता है मुझे वीर्य पीना बहुत ज्यादा पसंद है … और इसी से मेरा बदन खिला-खिला रहता है और मैं जवान बनी रहती हूं. कुछ देर तक तो हम शर्म से बैठे देखते रहे, पर जैसा कि हम सभी औरतें ही थीं, तो हमारे बीच में ज्यादा देर शर्म नहीं रही. तभी मैंने कहा- एक ही प्लेट में?वो बोली- मेरे साथ खाना खाने को नहीं चलेगा क्या … चूत चाट ली तब तुझे कुछ नहीं हुआ?तभी मैं शांत हो गया, तो बोली- क्या हुआ प्रकाश एकदम क्यों शांत हो गए.

इस चक्कर में मेरी चूचियों की अच्छी खासी घाटी भी उन्होंने जी भर कर देखी. मैंने एक चमकीली काले रंग की ड्रेस पहनी थी जो मेरी गर्दन से लेकर घुटनों तक आ रही थी.

आआ आआहह … आअहह … हाआय यइईई … बस्स … अब कुछ आगे भी करऊओ ओह आग लग गई है. अगले दिन से मैंने ध्यान दिया कि कविता बहुत कम मुझसे बातें करने लगी थी. फिर दूसरे दिन पार्क में घूमते समय आंटी के पांव में अचानक से मोच आ गई … और किस्मत देखो कि जहां मैं बैठा था, वहीं पास में आंटी के साथ ये हादसा हुआ.

उसका गर्म लंड एकदम से पूरा मेरे जिस्म के अंदर चला गया।वो अब मेरे बूब्स को चूसने और चाटने लगा। मेरे शरीर में गुदगुदी सी भरने लगी।मैंने भी प्रत्युत्तर में अपनी छातियों को उसके हाथों से दबवा दिया.

चाहे जो‌ कुछ भी मगर आज ये तो पता चल ही गया था कि शायरा भी प्यासी थी. मैं किचन में चाय बनाने के लिए गयी तो अंकल मेरे पीछे पीछे किचन में आ गए और एकदम मेरे पीछे खड़े होकर मुझसे बात करने लगे. सिस्टर सेक्स्क्स स्टोरी में पढ़ें कि कमसिन जवान लड़की में मन में सेक्स को लाकर क्या क्या विचार उभरते हैं.

बसन्त जी बोले – अरे, ये कोई गैर थोड़े ही है अपना बच्चा ही तो है और फिर यह है भी तुम्हारा ही रिश्तेदार, तो करो एडजस्ट इसे. मैं अब अपनी आगे की पढ़ाई का सोच रहा था और फिलहाल घर में ही रह रहा था.

बुआ ने मेरे लंड को मुँह में लेते हुए कहा- आह इतने बड़े लंड को मैं कबसे अपने चूत में लेना चाहती थी. सोनी के मम्मी पापा ने उसे 2-3 दिन घूमने के लिए रोहण के पास भेजने का पक्का किया था. मेरी गर्दन और पीठ के हिस्से पर मैंने गुच्ची का इत्र लगाया हुआ था जो मुझे महका रहा था.

खूबसूरत लड़कियों की चुदाई

फिर तो उसके मुंह से आनंद की सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … और करो … आह्ह … मजा आ रहा है … और करो।कुछ ही देर में वो झड़ भी गयी.

रचना जोर से चिल्लाई- जानूऊऊ प्लीज निकाल लो … जल्दी निकालो ना … बहुत दर्द हो रहा है. मैंने धीरू अंकल की तरफ देखा तो वह इशारे से मुझे गांड मरवाने के लिए तैयार करने लगे. वो हंस कर बोलीं- नहाने भी नहीं दोगे क्या?मैंने कहा- साथ में नहाते हैं न.

कूपे की नर्म बर्थ पर आज रेशमा जैसे गदराये बदन की मालकिन, मेरे लौड़े के नीचे नंगी लेटी थी. थोड़ी देर के बाद अदिति अपनी गांड आहिस्ता आहिस्ता ऊपर नीचे करने लगी तो मैं समझ गया कि अब ये सामान्य हो गयी है. क्सक्सक्स हांड़ी[emailprotected]सिस्टर सेक्स्क्स स्टोरी का अगला भाग:लंड चुत गांड चुदाई का रसिया परिवार- 4.

मैं नहीं चाहती हूँ कि मेरा अगला साथी मुझसे कुछ ऐसी बातें पूछे, जिसका जवाब देने में मुझे अच्छा ना लगे. उन्हें यूँ ही ऊपर कंधों पर और बीचों बीच में किस करते करते मजा लेने और देने लगा.

मित्रो, आप इस सेक्स कहानी के पिछले भागमेरी बीवी ने अपनी भाभी को मुझसे चुदवायामें मेरी बीवी और सलहज के साथ सेक्स का मजा ले रहे थे. वो दिन ऐसे ही गुजर गया और उस दिन के बाद मेरा नजरिया अपने ताई के लिए बदल गया था. उस वक्त एक नया बैच आया था और उसमें संजीव नाम के एक लड़के ने भी ज्वाइन किया था.

तभी जौहरा चुदाई में मस्त होकर मुझे गाली देने लगी- चोद भोसड़ी के … मुझे मेरी चूत को साले आज फाड़ ही दे. मैंने भाई से कहा- मेरा क्या होगा?भाई ने कहा- लंड खड़ा हो जाने दो … आपको भी चोद देता हूँ. उनका फिगर 34-30-36 है। वो लगभग मेरी ही उम्र की है। वो थोड़ी मोटी है.

मुझे तो अभी तक भी यकीन नहीं हो रहा था कि‌ शायरा ने‌ मुझसे बात की और अपने घर ले जाकर खुद अपने हाथों का‌ बना नाश्ता करवाया.

मेरा नाम सिर्फ़ उस कॉलेज में चलता है बाक़ी मैं हमेशा हॉस्टल की ही टीम के साथ प्रैक्टिस करती और खेलती हूँ. मैंने भाभी से कहा कि मेरी एक गर्लफ्रेंड पहले थी … पर अभी मैं सिंगल हूँ.

मैं बोला- दे दूंगा मेरी जान, तू टाइम तो निकाल, जिन्दगी का असली मजा चुदाई में ही है. ये सब कैसे हुआ?पाठको, मैं संजू आपको अपनी शादीशुदा सहेली अंकिता के साथ हुई घटना को सेक्स कहानी के रूप में लिख रहा था. सेक्स कहानी आगे लिखने से पहले मैं आपको उन तीनों के फिगर बता देता हूँ.

भाई बोला- तो आप पापा को भी साथ मिला लो न!मां बोली- तुम्हारे पापा जान गए तो जानते भी हो कि क्या होगा, कुछ पता भी है तुमको! कितनी आसानी से कह दिया कि पापा को भी मिला लो. उसी ने मुझसे कहा था कि अक्कू को मेडिकल कॉलेज जगदलपुर मिला है … तुम उधर उसका एडमिशन करा देना, वो जगदलपुर कभी गई ही नहीं है. फिर मैंने खरीदारी की सारी लिस्ट बनवा ली और मैंने पीहू के साथ मिलकर पूरा काम निपटा लिया.

साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ हमारे खेत गांव से थोड़े दूर हैं, हमने अपने खेत एक बंदे को बटाई पर दे रखे हैं. वो ‘आह आहह …’ करके अपनी कमर चलाने लगी और मैं तेजी से लंड अन्दर बाहर अन्दर बाहर करके चोदने लगा.

ब्लू सेक्सी एचडी मूवी

अपनी चूत की सफाई करने के बाद मॉम ने एक प्लास्टिक का लंड लिया और उसे चूस कर अपनी चूत में डालने निकालने लगीं. ये सब सोचते सोचते मैं धीरे धीरे आगे बढ़ ही रहा था कि तभी पीछे से मुझे शायरा भी आती हुई दिखाई दी. मेरी सांसें तेज होने लगीं और मैं और तेज कदमों के साथ शैली की तरफ बढ़ने लगा.

मैंने उसके चेहरे को अपने हाथों से थामा और उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए. अब उसकी शादी होने वाली है लेकिन कहती है कि उसको बच्चा मेरे से ही चाहिए. ಸೆಕ್ಸ್ ಪಿಚ್ಚರ್ ಬಿಎಫ್तुमने कभी बताया भी नहीं … वरना यह तुम्हारी भाबी अब तक तो न जाने क्या कुछ ना कर भी देती और किसी को कानों कान खबर भी ना होती.

वो मेरी चूत इतनी अच्छी तरह से चाट रहे थे कि मैं तभी उनके मुंह पर अपनी चूत मारते मारते झड़ गयी.

बीच बीच में हम कभी चोरी चोरी मिल कर किस वगैरह कर लेते थे पर सेक्स का प्रोग्राम नहीं बन पा रहा था. अब आगे मेरी बेटी की चुत की कहानी:धीरे धीरे सुरेश ने सोनी को इतना गर्म कर दिया कि उसे कुछ पता ही नहीं चल रहा था कि सुरेश क्या करने वाला है उसके साथ?सुरेश ने धीरे से सोनी की गांड अपनी छाती की तरफ घुमाई और सोनी का सिर सुरेश के पेट की तरफ हो गया।सोनी ने अपने गाल ठीक उसके उभरते हुए लण्ड के ऊपर टिका दिए.

मैंने उसके शरारती मुँह को हाथ में पकड़ लिया और उसके मुँह में स्ट्राबेरी घुसेड़ दी. उसका लंड संजू के चूत के पानी तथा उसके प्रीकम के वजह से पूरा लसलसा हो गया था. अनन्या ने शादी के बाद अपनी कम्पनी से रिज़ाइन करने की जब सोची तो उसके बॉस ने कहा- अगर तुम चाहो, तो घर से काम भी कर सकती हो.

मैंने पूछा- क्या वो भी स्पोर्ट्स इवेंट में प्रतिभाग कर रहा था?वो बोली- नहीं.

सोनी उसके लंड से बचने के लिए लगभग पूरे बेड पर घड़ी की सुईं की तरह घूम रही थी. तो मैं आपसे कह रहा हूं कि आप मेरी आपबीती को पढ़ें और फिर खुद ही बतायें कि मैंने जो कहा है क्या वो सही है या मेरे साथ जो हुआ वो कितना गलत है।फैसला आप खुद कर सकते हैं. सनी बोला- देख क्या रहा है साले गांडू? तेरी गांड की सर्विस करेंगे आज हम.

ट्रिपल सेक्स मुव्हीललिता भाभी अपनी चूत में मेरे लंड को कसने लगी और उछल उछल कर अपनी गांड पटक रही थी. मैं विजय को धीरे से बोली- विजय जी, दूसरों की बीवी के शरीर को इस तरह ताड़ना भी पाप है.

सेक्सी वीडियो चुदाई चुदाई

मैंने अपने तने हुए लिंग को नारियल के तेल में डुबोकर लिंगमुण्ड उसकी गुदाद्वार पर रखा।वो शायद इस हमले से अंजान थी. मैंने उससे उसका फोन नंबर भी नहीं लिया था … न कोई और कॉन्टैक्ट ले सका था. इसी तरह पूरे एक हफ्ते तक हम वहीं रहेऔर इस बीच मैंने भाभी का खूब ख्याल रखा, जिससे भाभी बड़ी खुश थीं.

मैंने नीचे से उनकी टी-शर्ट में हाथ डाला और उनके एक चुचे को दबाने लगा. इससे अनामिका जैसे पागल हो उठी और सीत्कार भरते हुए बोली- आह जीजू … चूस लो अपनी जान के रसील आम … आपको बहुत पसंद हैं ना … आह पूरा रस निकाल लो. लेकिन जिस दिन मैं वापस आया, मम्मी के चहरे पर उस दिन अलग ही ख़ुशी नजर आ रही थी.

अब मेरा पूरा लंड अदिति की चूत में घुसकर उसके गर्भाशय के मुँह पर दस्तक देने लगा. कुछ देर जांघों को चूमने के बाद मैं उनकी चूत को चड्डी के ऊपर से ही किस करने लगा और चूत सूँघने लगा. इतनी देर में कुकर की सीटी खुल गई और ढक्कन उसी में गिरने की हल्की सी आवाज आई.

मैंने उसे दूर से देख कर ही अपने लीडर को कह दिया कि इसे ले लो अपनी टीम में और वो मान गए. मैं डर के सीधे ऊपर उनके बगल में आ गया।कुछ समय बाद मैं अपना हाथ उनकी गदरायी हुई चूची पर रख दिया और धीरे धीरे दबाने लगा।तभी मुझे थोड़ा अहसास हुआ कि चाची शायद जगी हुई है परन्तु कुछ बोल नहीं रही।मैंने सोचा कि ऐसा बढ़िया मौका फिर शायद नहीं मिलेगा।तो मैंने धीरे से उनके ब्लाउज के बटन खोलने शुरू कर दिए।अब उनकी चूची सिर्फ ब्रा में थी।मैं उनकी ब्रा को बिना हूक खोले ऊपर करने लगा.

वो आवाज ऐसी मीठी लगी कि उसके बाद मेरी रातों की नींद और दिन का चैन खत्म हो गया.

फिर मैंने हेलीमा को घोड़ी बना दिया और गुलजान को कोल्ड क्रीम लाने को बोला. एक्स एक्स वीडियो कॉलेजअब कॉलेज वापस घर जाने लगा, तो शायरा पहले की तरह ही आज भी मुझे बस स्टॉप पर खड़ी मिली … मगर मैं अब भी पैदल चलकर ही घर आ गया. मोटी औरतों कीतो भाभी ने धीरे से हाथ मेरे लौड़े पर रखा तो लौड़ा पूरे जोश में उछल गया. संजीव का मुंह मेरी पैंटी पर आ लगा और वो मेरी चूत के रस को सूंघने लगा.

यह मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई की कहानी है जिसको मैंने दिल से लिखा है.

और हम दोनों तो बता कर आए हैं ना!मैं जानबूझ कर उसको परेशान करने के लिए नकली नखरे करती रही और उसे कुछ ऐसे ही टालती रही. मैं सोसाइटी में घुसा तो गार्ड चिल्लाया- ग्लव्स पहन कर रखो अमित भाई, वायरस लग जाएगा आपको. ये देख कर उसकी साथ वाली ने उससे कुछ कहा तो आंटी ने मुझे आवाज लगाई- एक्सक्यू मी.

शायरा तो अपना दर्द हल्का करने के लिए मकान मालकिन के पास चली जाती थी … मगर मैं सारा दिन अपने कमरे में ही पड़ा रहता था. वो मेरे बालों को पकड़ कर सिर को हटाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़ा और अपने लंड पर रखवा दिया. फिर जब थोड़ा थक गए तो उसने लंड निकाल लिया और साइड में लेट कर हम दोनों थोड़ा सुस्ताने लगे.

वीडियो सेक्स ब्लू सेक्स

मेरे अब्बू काम के सिलसिले में बाहर रहते हैं और अम्मी सरकारी टीचर हैं. उनके कुतिया बनने पर मैंने उनकी गांड पर थप्पड़ बजाते हुए पीछे से उनकी चूत में लंड पेला और धक्के लगाने चालू कर दिए. अब आगे सेक्सी बीवी चुदाई स्टोरी:मेरे खड़े लंड को देखकर मेरी पतिवत्रा बीवी ने विक्रम का लंड छोड़ दिया और मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया.

जब मैं वापस आया तो मेरा लंड मेरे अंडरवियर में तनकर एक तरफ निकला हुआ था और उसने वो भी देख लिया मगर मुझे जाहिर नहीं होने दिया कि वो भी देख रही है.

मेरे दोस्त ने मुझे कनाडा से फोन किया और मुझसे शादी की सारी तैयारी करने के लिए बोला.

मैं ढीली होकर राज के बदन से लिपट गयी और जय के लंड के धक्के मेरी गांड में लगते रहे. फिर एक घंटे बाद आंख खुली तो देखा मनोज का लंड फिर से खड़ा है पर मेरी चुदने की हिम्मत नहीं हुई तो मैंने उसके लंड को चूसा और माल को मुँह में पी गई. हिंदी सेक्सी फिल्म दिखाईयेक्लास के उन तीनों लड़कों ने मुझे अगले शनिवार को मुझे अपनी बर्थडे पार्टी में आने को बोला.

इस बार कॉलेज का एक टूर्नामेंट वाराणसी से दूर एक गांव में हो रहा था. फिर चाची जी की गांड पर थपकी मारकर मैंने उन्हें लंड पर बैठने का इशारा किया. आपकी रूपा रानी[emailprotected]विडो सेक्स कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 6.

मेरी बीवी संजू और मेरा दोस्त विक्रम दोनों पूर्ण नग्न अवस्था में थे और संजू घुटने के बल बैठकर विक्रम के विशालकाय लंड को बेतहाशा चूसे जा रही थी. मुकेश- नहीं, पहले ठीक से नाश्ता करो, फिर कॉलेज जाना … और पढ़ाई कैसी चल रही है तुम दोनों की?चिराग एक आमलेट उठा कर जल्दी जल्दी खाते हुए- पापा एकदम बढ़िया चल रही है … और मेरी ही नहीं इस भूतनी को भी पढ़ाना पड़ता है मुझे.

उन्होंने रेड कलर की ब्रा और रेड कलर की ही जालीदार पैंटी पहनी हुई थी.

अगर आप चाहते हैं कि आपके साथी को भी चरम सुख की प्राप्ति हो, तो उससे धीरे धीरे गर्म कीजिए. आज उसी अर्चना के साथ रीना, रंजू और अनु दीदी को दोनों भाई आंखें फाड़कर देख रहे थे. वह भी सिसकारी भर रही थीं और मेरे लंड को ज्यादा से ज्यादा अन्दर लेने का प्रयास कर रही थीं.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो फिल्म उसकी गान्ड पैंटी में समा नहीं रही थी।मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसके होंठों को चूसने लगा. आँटी एक हाथ से नीचे मेरे लंड को सहलाती रही और मैं एक हाथ से उनकी पाव रोटी की तरह फूली चिकनी चूत को सहलाता रहा, उसके बीच में अपनी उंगली चलाता रहा.

इससे मुझे अब तकलीफ होने लगी तो मैं उन्हें रोककर बोली- अंकल मुझे तकलीफ हो रही है. मैं क्या बोलूंगी पापा को कि मैं जिससे शादी करना चाहती हूँ, वो एक दुकानदार है? फिर जब मेरी जॉब पर्मानेंट हो जाएगी और मैं अपने पैरों पर खड़ी हो जाऊंगी, तब कोई भी मुझे किसी भी फैसले के लिए फ़ोर्स नहीं कर पाएगा. मेरी तरफ से तो हमारी शादी से पहले भी हाँ थी और आज भी मेरी तरफ से हां ही है.

सेल्फी राजा वायरल वीडियो

मैं उसकी चूचियां देखते हुए बोला, तो वो बोली- यहां मेरे पास खड़े रहो और बातें करो. उसने भी सोनी को पापा से बात करने को बोला और खुद भी उसका साथ देने या बात शुरू करने को भी तैयार था. नीता बोली- तुम कुछ देर आराम कर लो हर्षद, मैं बर्तन मांजकर अभी आती हूँ.

चूसने के साथ ही निप्पलों को बारी बारी से दांतों से काटते हुए मजा लेना और आंटी के पूरे दूध को मुँह में डालने कोशिश करते हुए चूसना. मैंने कम से कम दस बार प्रयास किया लेकिन सिर्फ लंड का सुपारा ही अन्दर जा पा रहा था.

वो भी बड़ी इठला कर बात कर रही थी और अपने दूध दिखा दिखा कर मेरे लंड में आग लगा रही थी.

मैंने फ़ोन उठा कर उसको अनलॉक किया और देखा कि मेरे मकान मालिक का मैसेज है. मीटिंग से आने के बाद सोनी ने मुझे बताया कि उसे लड़का पसंद नहीं आया और उसे लगता है कि ये रिश्ता भी कैंसल हो जाएगा. फिर उसने मेरी गांड के छेद को उंगली से टटोला और फिर अपने हाथ पर थूक लेकर मेरी गांड में मसलने लगा.

कुछ टाइम बाद सब बारी बारी से बाथरूम में गए ओर फ्रेश होकर बेड पर बैठ गए. क्या कर रहा है मारेगा क्या? आराम से कर ना … आह कितने दिन बाद तेरा ले रही हूँ. मैंने उसे पीछे से बांहों में ले लिया- ज़ारा!ज़ारा- बोलो!मैं- नाराज हो?ज़ारा- मेरी नाराजगी से आपको क्या फर्क पड़ता है?मैं- यार मुझे तुम रूठी हुयीं बिल्कुल अच्छी नहीं लगतीं.

उसने फिर मेरे मुंह में जीभ घुसा दी और जोर जोर से मैंने उसकी लार को अपने मुंह में खींचना शुरू कर दिया.

साउथ हीरोइन के सेक्सी बीएफ: उस समय मेरी नजरें उसके मस्त मम्मों पर पड़ीं तो लंड ने अपना कमीनपन दिखा दिया. वसुंधरा भाभी ने कपड़े पहने, मुझे एक जोरदार किस किया और प्यार भरी नजरों से मुझे देखती हुई अपने कमरे में चली गईं.

उन्होंने अपने किचन में बिस्तर लगा कर पूरी चुदाई की प्लानिंग कर रखी थी. वो भी थोड़ी सहज होती जा रही थी और मेरी बातों के सही तरीके से बिना हिचके जवाब देती थी. अब मैं रुक रुक कर धक्के मारने लगा, पर इस समय उन्होंने मेरी टांगों को अपनी टांगों में कस कर जकड़ लिया था और गांड उठाते हुए ऊपर को धक्के मारने लगी थीं.

मुझे तो कुछ खास फर्क नहीं पड़ा क्योंकि मैं खुद चाहती थी कि कविता मुझसे दूरी बना ले.

आह पेलो इसको जीजू प्यारे … आह और अच्छे से पेलो … पूरी दम से चोदो अपनी रंडी साली को. मेरे पूछने पर वो शर्माती हुई बोली- मुझे बहुत जोरों से बाथरूम लगी है. चूंकि उसे ज्यादा दिन की छुट्टी नहीं मिल पा रही थी इसलिए वो शादी के एक दिन पहले ही भारत आ पा रहा था.